रविवार, 10 मार्च 2024

विभाग ने अगले दो दिन प्रदेश के लिए भारी बताएं

विभाग ने अगले दो दिन प्रदेश के लिए भारी बताएं

पंकज कपूर 

देहरादून। उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम ने करवट ले सकता है। मौसम विभाग ने अगले दो दिन प्रदेश के लिए भारी बताएं है। बताया जा रहा है कि पहाड़ से लेकर मैदान तक मौसम के बदलने का असर दिख सकता है। कई जिलों में हल्की बारिश और बर्फबारी का अलर्ट है।

वहीं, मौसम विभाग की मानें तो हल्की बारिश और बर्फबारी से ठंड एक बार फिर से लौटकर आने वाली है। 10 से 11 के बीच मौसम करवट ले लेगा। प्रदेश में रविवार शाम तक पश्चिमी विक्षोभ के दस्तक देने की उम्मीद है, जिससे पर्वतीय क्षेत्रों में मौसम बदल सकता है। कहीं-कहीं पर गरज के साथ हल्की बारिश होने का पूर्वानुमान है, जबकि मैदानी क्षेत्रों में आंशिक बादलों के साथ धूप खिली रह सकती है।

वहीं 11 और 12 मार्च को उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़ और बागेश्वर में कहीं-कहीं हल्का हिमपात भी हो सकता है। जबकि अन्य जिलों में मौसम शुष्क रहेगा। वहीं 13 मार्च को प्रदेश के सभी जनपदों में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना है जिसके चलते राज्य के अधिकांश हिस्सों में गरज-चमक के साथ बारिश और ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी होगी जिसको लेकर मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है।

'जय जवान जय किसान' मंच की बैठक संपन्न

'जय जवान जय किसान' मंच की बैठक संपन्न 

देश एक संविधान एक तो चुनाव भी सब एक साथ होने चाहिए--सुशील जयहिंद

सुशील जय हिंद ने कहा कि नलकूप का बिल माफ करने के बाद भी किसानों का नहीं हुआ कोई लाभ

कौशाम्बी। 'जय जवान जय किसान' मंच की एक बैठक रविवार को चायल तहसील में संपन्न हुई। बैठक में किसानों के मुद्दे पर चर्चा हुई और कहा गया कि नलकूप का बिल माफ करने के बाद भी किसानों को लाभ नहीं मिल सका है। सरकार को किसान और बेरोजगारों के लिए योजनाएं चलाई जानी चाहिए। लेकिन सरकार किसान और बेरोजगार के हित में योजनाएं चलाने के लिए गंभीर नहीं है। जिससे बेरोजगारी बढ़ी है और बेरोजगार युवक के साथ-साथ किसान परेशान है। बैठक की अध्यक्षता संगठन के संयोजक सुशील जय हिंद ने किया। 
उन्होंने कहा कि जब देश एक है। संविधान एक है, तो फिर चुनाव भी सब एक साथ होने चाहिए लेकिन बार-बार चुनाव करा करके आम जनता पर बोझ डाला जा रहा है। हर 6 महीने पर कोई न कोई चुनाव जनता की पीड़ा बना हुआ है। जिसकी वजह से देश का विकास नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि इलाहाबाद से कई साल पहले कौशांबी जनपद का गठन हुआ था। लेकिन आज भी कौशांबी जनपद विकास के नाम शून्य है, ना कोई यहां स्वास्थ्य की अच्छी सुविधा है और ना यहां कोई उद्योग धंधे लगाए गए कौशाम्बी में बेरोजगारी चरम सीमा पर है रोजगार के चलते कौशांबी के बेरोजगार पंजाब हरियाणा गुजरात राजस्थान महाराष्ट्र पलायन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने जहां नलकूप का लोगों का कर्ज माफ किया है। इससे आम किसान को कोई फायदा नहीं हुआ है। आम किसान नलकूप वाले से 100 रुपया प्रति घंटा की दर से अपने खेतों की सिंचाई करता है। नलकूप वाले 100 रुपया से कोई भी पैसे कम नहीं लेते हैं, आज भी गरीब किसान दुखी है। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बेरोजगार रो रहा है, बेरोजगार नौजवान रो रहा है, देश का किसान रो रहा है। सरकार को बेरोजगारी के खिलाफ कठोर कदम उठाने चाहिए तथा गरीब किसानों को राहत हेतु नई-नई योजनाएं और स्कीम लानी चाहिए। बैठक में भरत लोचन, विपिन पटेल, वीरेंद्र चौरसिया, अतुल, शिवलाल, अनिल यादव, सुभाष केसरवानी, सुरेन्द्र पासी, अजय पासी, संतलाल, कमलेश, अखिलेश तथा संगठन के सैकड़ो लोग मौजूद है।
गणेश साहू 

122 योजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास किया

122 योजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास किया 

पंकज कपूर 
देहरादून। रविवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने देहरादून से वर्चुअल के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न विभागों की 8275.51 करोड़ की 122 योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। जिनमें टिहरी जिले की भी 51.75 करोड़ की योजनाएं शामिल है। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने सशक्त उत्तराखंड समृद्ध उत्तराखंड बनाने में सभी की भागीदार का आह्वान किया।
रविवार को जिला सभागार में आयोजित मुख्यमंत्री के वर्चुअल के माध्यम से कार्यक्रम का लाइव प्रसारण हुआ। सीएम ने 13.2 करोड़ से बनी प्रतापनगर पंपिंग पेयजल, 17.74 करोड़ की धनोल्टी की आनंद चौक ग्राम समूह पंपिग योजनाओ का लोकार्पण तथा 8.11 करोड़ के चंबा-जौल-बहेड़ा-नकोट-कुडियालगांव- नागदेव पत्थल्ड मोटर मार्ग, 7.63 करोड़ के अदवाणी-बेरनी, 5.25 करोड़ के मिण्डाथ बोरगांव-कुंड-चलपाल मोटर मार्ग के अपग्रेडशन कार्यो का शिलान्यास किया।
जिले की प्रतापनगर और आनंद चौक पंपिंग योजना का काम पूरा होने के बाद क्षेत्र वासियों को पीने का पानी मिल सकेगा। यह दोनों योजनाएं लंबे समय से निर्माणाधीन थी। जिसके चलते ग्रामीणों को पेयजल संकट से निजात मिलेगी । सीएम के वर्चुअल कार्यक्रम में जिलाधिकारी मयूर दीक्षित, मुख्य विकास अधिकारी डॉ.अभिषेक त्रिपाठी,भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश नौटियाल, प्रमुख जाखणीधार सुनीता देवी, पीडीडीआरडीए विवेक उपाध्याय, डीएसटीओ साक्षी शर्मा, एडीएसटीओ दारा सिंह, ईई लोनिवि योगेश कुमार, डीपीआरओ एमएम खान, जिला मीडिया प्रभारी डॉ. प्रमोद उनियाल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं जन प्रतिनिधि उपस्थित थे।

होली के अवसर पर बनाएं मावा भरी गुजिया, रेसिपी

होली के अवसर पर बनाएं मावा भरी गुजिया, रेसिपी 

सरस्वती उपाध्याय 
इस साल होली का त्योहार 25 मार्च को मनाया जाएगा और इस मौके पर घरेलू मिठाइयां तैयार करना अत्यंत महत्वपूर्ण है। होली के इस खास मौके पर गुजिया हर घर में बनाई जाएगी, खासकर मावा भरी गुजिया की रेसिपी को अपनाकर। यहां है इस खास मिठाई की ट्रेडिशनल रेसिपी...

सामग्री:

2 कप मैदा
घी
1 कप खोया
1 कप चीनी
1 चम्मच छोटी इलायची पाउडर
1 चम्मच कद्दूकस किया बादाम
4 चम्मच किशमिश
पानी

कैसे बनाएं गुजिया ?

सबसे पहले आटा बनाएं, जिसके लिए थोड़ा घी और पानी के साथ मैदा को अच्छे से गूंथ लें। आटा को आधे घंटे तक ढककर रखें ताकि वह सेट हो सके।
इस बीच, खोया को हल्की आंच पर भूनें और उसमें कद्दूकस किया बादाम, इलायची पाउडर, किशमिश और चीनी मिलाएं।
आटे को गूंथे हुए गोल पूरी बनाएं और उसमें बनाए गए मिक्सचर को भरें। गुजिया की किनारों पर हल्का पानी लगाकर उसे बंद करें।
फैंसी कटर की मदद से गुजिया को शेप दें और बनाएं और बनाएं।
एक कढ़ाई में घी गरम करें और गुजिया को हल्की आंच पर तलें। तब तक तलें जब तक वे हल्के भूरे रंग की नहीं हो जाएं।
चाश्नी वाली गुजिया के लिए, एक पैन में चीनी और पानी डालकर चाश्नी तैयार करें। तली हुई गुजिया को चाश्नी में डालें।
गुजिया को प्लेट में निकालें और ठंडा होने पर कंटेनर में स्टोर करें।
इस तरीके से आप बड़ी आसानी से घर पर होली के लिए मावा भरी गुजिया बना सकते हैं और इस त्योहार को और भी रंगीन बना सकते हैं।

चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण शुरू होगा

चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण शुरू होगा 

पंकज कपूर 
देहरादून। बदरीनाथ और केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि घोषित हो चुकी है। गंगोत्री और यमुनोत्री की तिथि अभी बाकी है। ऐसे में पर्यटन विकास परिषद मार्च माह के आखिरी सप्ताह से चारधाम यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू कर देगा।
बदरीनाथ के कपाट 12 मई और केदारनाथ के कपार्ट 10 मई को खुलेंगे। बोर्ड के सूत्रों की मानें, तो ऋषिकेश ट्रांजिट कैंप और अन्य स्थानों पर 15 अप्रैल से ऑफलाइन पंजीकरण शुरू हो सकते हैंं। इसके लिए पर्यटन विकास की एजेंसी को दो दिन ऑफलाइन पंजीकरण का ट्रायल करना है।
अक्षय तृतीया 10 और 11 मई को है। अभी तक गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर समिति की ओर से कपाट खोलने की आधिकारिक तिथि घोषित नहीं की गई है। तिथि घोषित होने के बाद ही चारधाम यात्रा के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन पंजीकरण की आधारिक तिथि घोषित की जाएगी। मार्च माह के आखिरी सप्ताह में ऑनलाइन पंजीकरण और अप्रैल मध्य में ऋषिकेश ट्रांजिट कैंप और अन्य स्थानों पर पंजीकरण शुरू हो सकेगा।
अभी तक गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर समिति की ओर से आधिकारिक रूप से कपाट खुलने की तिथि तय नहीं की गई है। मार्च आखिरी सप्ताह तक ऑनलाइन पंजीकरण शुरू हो सकेगा। 15 अप्रैल के बाद ऑफलाइन पंजीकरण शुरू हो सकेगा।

पीएम मोदी ने हवाई अड्डों का उद्घाटन किया

पीएम मोदी ने हवाई अड्डों का उद्घाटन किया

इकबाल अंसारी 
आजमगढ़। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रव‍िवार को वर्चुअल माध्यम से कई स्थानों पर हवाई अड्डों का उद्घाटन क‍िया और और विभिन्न विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा, “आज केवल आजमगढ़ ही नहीं, बल्कि पूरे देश के लिए कई विकास परियोजनाओं का शुभारंभ यहां से हो रहा है। जिस आजमगढ़ को देश के पिछड़े इलाकों में गिनते थे, आज वही देश के लिए विकास का नया अध्याय लिख रहा है। आज आजमगढ़ से कई राज्यों में करीब 34 हजार करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है।”
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आज आजमगढ़ का सितारा चमक रहा है। एक जमाना था जब दिल्ली से कार्यक्रम होता था और देश के अलग-अलग जगहों से लोग जुड़ते थे। आज आजमगढ़ में कार्यक्रम हो रहा है और देश के अलग-अलग जगहों से लोग जुड़े हैं।''
पीएम ने कहा, “पिछले कई दिनों से मेरे समय की मर्यादा के कारण मैं एक ही स्थान से देश के अनेकों प्रोजेक्ट्स का लोकार्पण कर रहा हूं। जब लोग सुनते हैं कि देश में एक साथ इतने हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन, आईआईएम, एम्‍स लोग अचरज हो जाते हैं। लोग कहते हैं कि ये चुनाव का मौसम है, चुनाव के मौसम में पहले क्या होता था? पहले की सरकारों में बैठे लोग जनता की आंख में धूल झोंकने के लिए घोषणाएं कर देते थे, कभी-कभी इनकी हिम्मत इतनी होती थी की सदन में भी रेलवे की घोषणाएं घोषित कर देते थे।”
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “आज से 10 साल पहले आजमगढ़ की पहचान क्या थी? जिस आजमगढ़ को पिछली सरकारों के कारण अपराध और माफिया गतिविधियों का गढ़ बना दिया गया था आज प्रधानमंत्री उसी आजमगढ़ में आकर पैसे की बौछार कर रहे हैं। हजारों करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देने पीएम आजमगढ़ आए हैं।”

प्रधानमंत्री मोदी ने मंदुरी से 34. 700 करोड़ की कुल 782 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसमें रेलवे के 11, सिविल के 15,जलशक्ति के आठ, हाउसिंग एंड अर्बन व रूरल के 746 और स्टेट सेक्टर की दो परियोजनाएं शामिल हैं।
शिलान्याय व लोकार्पण की परियोनजाओं में उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में 108.06 करोड़ से नवनिर्मित महाराजा सुहेलदेव राज्य विश्वविद्यालय और 31.10 करोड़ रुपये से गाजीपुर (एसएच-0.67) मार्ग के किलोमीटर 60 से महाराजा सुहेलदेव राज्य विश्वविद्यालय यशपालपुर आजमबांध तक फोरलेन सड़क का लोकार्पण के अलावा महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक की भी परियोजनाएं शामिल हैं। इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत 3702 करोड़ रुपये की 744 सड़कों का शिलान्यास व लोकार्पण शामिल है। इसमें आजमगढ़ में 99 करोड़ की 31, बलिया में 17.29 करोड़ की पांच, चंदौली में 8.39 करोड़ की तीन, गाजीपुर में 61.97 करोड़ की 14, मऊ में 30.76 करोड़ की सात, मीरजापुर में 49.70 करोड़ की 14 सड़कें शामिल हैं।

देश के 15 एयरपोर्ट का लोकार्पण-शिलान्यास

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंदुरी एयरपोर्ट से उत्तर प्रदेश के पांच सहित अन्य प्रांतों के 9802.99 करोड़ रुपये के कुल 15 एयरपोर्ट का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इसमें कर्नाटक के बेलागवई में 322.00 करोड़ रुपये, आंध्र प्रदेश के कडपा में 266.00 करोड़ रुपये और कर्नाटक के हुबली में 320.00 करोड़ रुपये के एयरपोर्ट का शिलान्यास शामिल है। जबकि उत्तर प्रदेश लखनऊ में 2400.00 करोड़ रुपये, अलीगढ़ में 29.40 करोड़ रुपये, आजमगढ़ में 27.52 करोड़ रुपये, चित्रकूट में 31.58 करोड़ रुपये, मुरादाबाद में 28.93 करोड़ रुपये और श्रावस्ती में 31.22 करोड़ रुपये से बने एयरपोर्ट और सुदृढ़ीकरण योजना के तहत विकसित 475 करोड़ रुपये से महाराष्ट्र के पुने व 250 करोड़ रुपये से कोल्हापुर, मध्य प्रदेश के ग्वालियर में 496 करोड़ रुपये व 412.24 करोड़ रुपये से जबलपुर, 4600 करोड़ रुपये से दिल्ली(टीआइ) और पंजाब के आदमपुर में 115 करोड़ रुपये से बने एयरपोर्ट का लोकार्पण शामिल है।

रेलवे की 8176.00 करोड़ की 12 परियोजनाओं का लोकार्पण–शिलान्यास

पीएम मोदी मंदुरी एयरपोर्ट से रेलवे की 8176.00 करोड़ रुपये की 12 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। इसमें बहराइच में 342.00 करोड़ रुपये के बहराइच-नानापारा-नेपालगंज राेड का विद्युतीकरण कार्य का शिलान्यास शामिल है। जबकि, आजमगढ़ में 360 करोड़ रुपये की 29.82 किमी आजमगढ़-सठियांव टू गेज लाइन, बलिया में 600 करोड़ रुपये की फेफना-रसड़ा-इंदारा डबल लाइन और विद्युतीकरण, वाराणसी में 1600 करोड़ रुपये की बनारस-झूंसी डबल लाइन और विद्युतीकरण (बनारस-माधोसिंह-प्रयागराज डबल लाइन परियोजना का हिस्सा), सीतापुर में 2560.00 करोड़ रुपये से रोसा-सीतापुर-कैंटबुराहवल स्टेशन तक डबल लाइन और विद्युतीकरण, बलिया में 637.00 करोड़ रुपये की बलिया-बकुल्हा डबल लाइन और विद्युतीकरण, देवरिया में 67 करोड़ रुपये की भटनी-पैकोल बाेर्ड गेज बाईपास लाइन, इटाह में 98 करोड़ रुपये से विद्युतीकरण, शिकोहाबाद में 182 करोड़ रुपये से विद्युतीकरण, इटावा में 80 करोड़ रुपये से विद्युतीकरण, गाजीपुर सिटी में 1650.00 करोड़ रुपये से गाजीपुर सिटी ब्राड गेज लाइन और गाजीपुर सिटी में गाजीपुर सिटी और टारीघाट स्टेशन का कार्य का लाेकार्पण शामिल है।

प्रयागराज, जौनपुर व इटावा में 1114.24 करोड़ की जलशक्ति परियोजना

प्रधानमंत्री मोदी जलशक्ति की तीन परियोजनाओं का लोकार्पण किया। इसमें प्रयागराज के नैनी, फाफामऊ व झूंसी में 767.59 करोड़ रुपये की तीन परियोजना, जौनपुर में 206.05 करोड़ रुपये की एसटीपी और इटावा में 140.60 करोड़ रुपये का सीवरेज प्लांट का लोकार्पण शामिल है।

लखनऊ और रांची में 264.90 करोड़ की हाउस परियोजना

प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के लखनऊ में 130.90 करोड़ रुपये और झारखंड के रांची में 134 करोड़ की हाउसिंग और अर्बन परियोजना का लोकार्पण किया।

सड़क परिवहन व राजमार्ग की पांच परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास

प्रधानमंत्री ने 11475. करोड़ रुपये की सड़क परिवहन व राजमार्ग की पांच परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। इसमें मेरठ मेें 2901 करोड़ रुपये से मेरठ-नजीबाबाद एनएच-119 पर पैकेज 11 पर 39.24 से 86.19 तक, प्रयागराज में 1470 करोड़ रुपये से फोरलेन, मुरादाबाद में 646 करोड़ रुपये से रामपुर रुद्रपुर सेक्शन कनेक्टिंग का शिलान्यास और प्रयागराज में 52.05.5 करोड़ रुपये से चकरी-इलाहाबाद सेक्शन और शामली में 1253 करोड़ रुपये से फोर लेन पर पानीपत से शामली सेक्शन के निर्माण का लोकार्पण शामिल है।

डीएम-एसएसपी ने क्षेत्रों का फ्लैग मार्च किया

डीएम-एसएसपी ने क्षेत्रों का फ्लैग मार्च किया 

भानु प्रताप उपाध्याय 
मुजफ्फरनगर। डीएम अरविंद मल्लप्पा बंगारी और एसएसपी अभिषेक सिंह ने मीनाक्षी चौक, खालापार समेत अन्य संवेदनशील क्षेत्रों का केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल के साथ फ्लैग मार्च किया। बूथों पर जाकर निर्वाचन की व्यवस्था को देखा। डीएम अरविन्द मल्लप्पा बंगारी और एसएसपी अभिषेक सिंह ने थाना कोतवाली में समाधान दिवस में शिकायतों को गंभीरता पूर्वक सुना। कोतवाली नगर स्थित वल्नेरबल बूथ तस्मिया जूनियर हाई स्कूल व जैनेबिया इंटर कॉलेज का निरीक्षण किया।
सुरक्षित एवं शान्तिपूर्ण मतदान को मतदान केन्द्र पर बूथ लेवल अधिकारी, सुपरवाइजर एवं सेक्टर मजिस्ट्रेट को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रखने, मतदान केन्द्र के आसपास से ईंट-पत्थर आदि हटाने, मतदान केन्द्र पर सीसीटीवी कैमरों की दशा व दिशा सही करने, चिह्नित स्थानों पर बेरिकेडिंग करने, मतदान केन्द्र, आसपास के क्षेत्रों में ड्रोन कैमरे से निगरानी रखने, मतदान केन्द्र तक सुगम आवागमन व्यवस्था बनाने, दिव्यांगों के लिए रैंप बनाने को निर्देशित किया गया।
पुलिसबल के साथ मीनाक्षी चौक, खालापार, फक्करशाह चौक, चालीस फुटा रोड, रहमतनगर पर फ्लैग मार्च करते हुए सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। एडीएम प्रशासन नरेंद्र बहादुर सिंह, पुलिस अधीक्षक नगर सत्यनारायण प्रजापत, क्षेत्राधिकारी नगर संत प्रसाद उपाध्याय मौजूद रहे।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-142, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. सोमवार, मार्च 11, 2024

3. शक-1945, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 07:13, सूर्यास्त: 06:52।

5. न्‍यूनतम तापमान- 16 डी.सै., अधिकतम- 25+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। इस समय देश में सभी देशवासियों का गर्मी से हाल बेहाल है और अभी...