जम्मू कश्मीर लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
जम्मू कश्मीर लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 30 जून 2022

शिवलिंग: 5,700 श्रद्धालुओं का दूसरा जत्था रवाना

शिवलिंग: 5,700 श्रद्धालुओं का दूसरा जत्था रवाना

इकबाल अंसारी

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर में स्थित अमरनाथ गुफा मंदिर में पवित्र शिवलिंग का दर्शन करने के लिए जम्मू से 5,700 श्रद्धालुओं का दूसरा जत्था कड़ी सुरक्षा के बीच रवाना हुआ है। ‘‘बम बम भोले’’ का उद्घोष करते हुए श्रद्धालु बृहस्पतिवार तड़के 230 वाहनों के काफिले में भगवती नगर आधार शिविर से रवाना हुए। अमरनाथ गुफा मंदिर के लिए 43 दिनों तक चलने वाली यह तीर्थयात्रा 11 अगस्त को रक्षा बंधन के दिन संपन्न होगी।

अधिकारियों ने बताया कि दूसरे जत्थे के साथ ही जम्मू से अमरनाथ यात्रा के लिए रवाना होने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़कर 10,700 हो गयी है। उन्होंने बताया कि अमरनाथ यात्रा के लिए देशभर से जम्मू में 5,000 से 6,000 और श्रद्धालु पहुंचे हैं। कोविड-19 महामारी के कारण वार्षिक अमरनाथ यात्रा दो साल के अंतराल के बाद हो रही है। दक्षिण कश्मीर के पहलगाम में 48 किलोमीटर लंबे पारंपरिक नुनवान मार्ग और मध्य कश्मीर के गांदेरबल में 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से यह यात्रा बृहस्पतिवार को शुरू हुई।

सोमवार, 27 जून 2022

बीएसएफ के जवानों ने घुसपैठिए को मार गिराया

बीएसएफ के जवानों ने घुसपैठिए को मार गिराया

इकबाल अंसारी 
श्रीनगर। जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास सोमवार को सुबह सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने एक घुसपैठिए को मार गिराया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। बीएसएफ के प्रवक्ता ने बताया कि क्षेत्र में मौजूद जवानों ने घुसपैठिए को बाड़ की दिशा में बढ़ते देखा था।
उन्होंने कहा, ‘‘हमारे जवानों ने उसे रुकने के लिए कहा लेकिन उसने चेतावनी को अनसुना कर दिया और बाड़ की दिशा में लगातार बढ़ता रहा।’’ प्रवक्ता ने बताया कि बीएसएफ के जवानों ने घुसपैठिए पर तीन राउंड गोली चलाई और कहा कि उसका शव बाड़ के नजदीक पड़ा मिला। शव को पुलिस को सौंप दिया गया है।

मंगलवार, 21 जून 2022

अभियान: सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया

अभियान: सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। कश्मीर घाटी में मंगलवार को दो अलग-अलग आतंकवाद विरोधी अभियानों में सुरक्षा बलों ने 3 आतंकवादियों को मार गिराया है। जिनमें सब इंस्पेक्टर (एसआई) फारूक मीर का हत्यारा भी शामिल है। संबंधित अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर में पुलवामा जिले के तुज्जन इलाके में हुई मुठभेड़ में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए हैं। जिनमें माजिद नजीर नाम का आतंकवादी भी शामिल है। जिसे सब इंस्पेक्टर (एसआई) फारूक मीर का हत्यारा माना जा रहा है।
उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर के अवंतीपोरा से 18 जून को पुलिस उप निरीक्षक (एसआई) फारूक मीर का गोलियों से छलनी शव की बरामदगी हुई थी। जम्मू-कश्मीर पुलिस के सब-इंस्पेक्टर मीर का शव धान के खेत में पड़ा मिला। कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने ट्वीट करते हुए कहा,“सब-इंस्पेक्टर फारूक मीर का हत्यारा जैश-ए-मोहम्मद का आतंकवादी माजिद नजीर पुलवामा मुठभेड़ में मारा गया है।
” इसके अलावा, उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के तुलीबल सोपोर बस्ती में एक और आतंकवादी को मार गिराया गया है। अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले में सोपोर कस्बे के तुलीबल इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद आतंकवाद विरोधी अभियान शुरू किया गया।
सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई के दौरान मुठभेड़ हुई। एक सुरक्षा अधिकारी ने कहा,“जैसे ही सुरक्षा बलों की संयुक्त टीमों ने संदिग्ध स्थानों की घेराबंदी की, छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलियां चला दीं। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई के कारण एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया।” पुलिस ने ट्वीट कर जानकारी दी,“एक आतंकवादी मारा गया है। सुरक्षा बलों का अभियान जारी है। आगे के निर्देशों का पालन किया जाएगा।

सोमवार, 20 जून 2022

अभियान: पुलवामा में मुठभेड़, 1 आतंकी की मौंत

अभियान: पुलवामा में मुठभेड़, 1 आतंकी की मौंत 

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार तड़के हुई एक मुठभेड़ में एक आतंकवादी की मौंत हो गई है। जिसकी जानकारी अधिकारियों ने दी। उन्होंने कहा कि यहां के चटपोरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में मिली खुफिया जानकारी के आधार पर घेराबंदी और तलाशी अभियान चलाया गया, जिस दौरान मुठभेड़ हो गई।
एक सुरक्षा अधिकारी ने कहा, 'जैसे ही सुरक्षा बलों की संयुक्त टीम ने संदिग्ध स्थान की घेराबंदी की, छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलियां चला दीं, जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई। इसमें एक आतंकवादी मारा गया है। पुलिस ने ट्वीट कर कहा, 'एक आतंकवादी ढेर हुआ है। आगे की जानकारी के मिलने की प्रतीक्षा है।'यह रविवार के बाद से तीसरी मुठभेड़ है। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा और कुलगाम जिले में रविवार को हुई दो मुठभेड़ों में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के एक पाकिस्तानी सहित दो आतंकवादियाें को मार गिराया गया था।

गुरुवार, 16 जून 2022

ऑपरेशन: सेना ने 2 आतंकियों को ढेर किया

ऑपरेशन: सेना ने 2 आतंकियों को ढेर किया 

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में गुरुवार के दिन सेना ने आतंकियों की नापाक साजिश को एक बार फिर ध्वस्त कर दिया। कुलगाम में चले ऑपरेशन में सेना ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है कि ये आतंकी हिन्दू महिला शिक्षक रजनी बाला की हत्या में शामिल थे। उधर, अनंतनाग में भी हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के होने की जानकारी मिली है। सेना ने इलाके की घेराबंदी करते हुए ऑपरेशन शुरू कर दिया है। कश्मीर जोन पुलिस अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक, कुलगाम में बुधवार से आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाया गया था। 24 घंटे से ज्यादा चले इस ऑपरेशन में सेना के जवानों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है कि ये आतंकी हिन्दू शिक्षक रजनी बाला की हत्या में शामिल थे। 
बताते चलें कि बीती 31 मई को महिला शिक्षक रजनी बाला को कुलगाम जिले के गोपालपोरा हाई स्कूल में आतंकवादियों ने निशाना बनाया था। आतंकियों ने स्कूल में घुसकर उनका शरीर गोलियों से छलनी कर दिया था। इस कायराना हमले में उनकी मौत हो गई थीं। आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि अनंतनाग जिले के हंगलगुंड इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई है। रिहायशी इलाकों में दो से तीन आतंकियों के छिपे होने की आशंका जताई जा रही है। उन्होंने बताया कि अनंतनाग के कोकरनाग इलाके में हिबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादी छिपे हैं। उनके साथ मुठभेड़ जारी है।

मंगलवार, 14 जून 2022

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी मारें गए

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी मारें गए

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। श्रीनगर में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी नागरिक सहित लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘श्रीनगर शहर के बेमिना इलाके में श्रीनगर पुलिस ने मुठभेड़ में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया। मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी भी मामूली रूप से घायल हो गया।’’ उन्होंने बताया कि मुठभेड़ सोमवार देर रात हुई।
 महानिरीक्षक विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से बरामद दस्तावेजों और अन्य संदिग्ध सामग्री से मारे गए एक आतंकवादी की पहचान अब्दुल्ला गौजरी के तौर पर हुई है, जो पाकिस्तान के फैसलाबाद का निवासी था। अधिकरी ने कहा, ‘‘ ये वही लोग थे जो सोपोर मुठभेड़ में बच निकले थे। हम उनकी गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे।’’ उन्होंने बताया कि मारे गए दूसरे आतंकवादी की पहचान आदिल हुसैन मीर उर्फ सुफियां के तौर पर हुई है, जो अनंतनाग जिले का निवासी था। कुमार ने कहा, ‘‘ पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, वह 2018 में ‘विज़िट वीजा’ पर वाघा से पाकिस्तान गया था।

शनिवार, 11 जून 2022

सुरक्षाबलों ने 6 संदिग्ध दहशतगर्दों को गिरफ्तार किया

सुरक्षाबलों ने 6 संदिग्ध दहशतगर्दों को गिरफ्तार किया

इकबाल अंसारी    
श्रीनगर। सुरक्षाबलों ने कश्मीर में तीन कैंपेन्स में दो सक्रिय आतंकवादियों और तीन ‘हाइब्रिड आतंकवादियों’ सहित 6 संदिग्ध दहशतगर्दों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि दो सक्रिय आतंकवादी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हैं और उन्हें बारामूला जिले से गिरफ्तार किया गया है।
गिरफ्तार किए गए इरशाद अहमद मीर और जाहिद बशीर घोषित आतंकवादी हैं और पट्टन क्षेत्र के नेहलपोरा के निवासी हैं। इनके पास से आपत्तिजनक सामग्री, दो चीनी पिस्तौल, 18 जिंदा गोली और दो मैगजीन बरामद की गई हैं।
अधिकारियों ने कहा कि लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े दो अन्य ‘हाइब्रिड आतंकवादियों’ को बारामूला जिले के सोपोर इलाके के गुरसीर में पुलिस, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और सेना द्वारा संयुक्त रूप से स्थापित एक चौकी पर गिरफ्तार किया गया था।

रविवार, 5 जून 2022

2 गांवों में यातायात का मार्ग परिवर्तित किया

2 गांवों में यातायात का मार्ग परिवर्तित किया 

इकबाल अंसारी
श्रीनगर। सेना ने उत्तरी कमान से गुजरने वाली और जम्मू कश्मीर के उधमपुर जिले में 2 गांवों से जुड़ने वाली सड़क पर यातायात के मार्ग को बदले जाने के मुद्दे को सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझा लिया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। सेना ने सुरक्षा मुद्दे को ध्यान में रखते हुए ‘टाइगर हिल गेट-कोटली और मगियानी गांवों’ में यातायात का मार्ग परिवर्तित किया।
एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘सैन्य प्रतिष्ठान में गांव के सरपंच और नागरिक प्रशासन के प्रतिनिधियों के साथ टाइगर हिल गेट-कोटली और मंगियानी गांवों में सुरक्षा कारणों से यातायात का मार्ग परिवर्तित करने के मुद्दे पर एक बैठक हुई।’’ बैठक में आपसी सहमति बनी। उन्होंने कहा कि यह निर्णय लिया गया कि ग्राम प्रधानों और सेना के अधिकारियों के बीच मासिक बैठकें नियमित रूप से की जाएंगी। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘भारतीय सेना जम्मू कश्मीर के लोगों के साथ है और अपने नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है।’’

शुक्रवार, 3 जून 2022

समूह ने लगातार दूसरे दिन भी प्रदर्शन जारी रखा

समूह ने लगातार दूसरे दिन भी प्रदर्शन जारी रखा

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा लक्षित हत्याओं से नाराज सरकारी कर्मचारियों के एक समूह ने लगातार दूसरे दिन भी उन्हें कश्मीर से अपने गृह जिलों में स्थानांतरित करने की मांग को लेकर प्रदर्शन जारी रखा। प्रदर्शनकारियों में ज्यादातर शिक्षक शामिल हैं। वे मंगलवार को दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के एक स्कूल में अपनी सहयोगी रजनी बाला की आतंकवादियों द्वारा गोली मारकर हत्या करने के बाद जम्मू लौट आए हैं।
‘जम्मू आधारित रिजर्व श्रेणी कर्मचारी संघ’ के बैनर तले प्रदर्शनकारियों ने बृहस्पतिवार को प्रेस क्लब से आंबेडकर चौक तक मार्च निकाला। इसके बाद शुक्रवार को शहर के बीचों-बीच पनामा चौक पर धरना दिया। धरने में शामिल सुरिंदर कुमार ने कहा, “हम लक्षित हत्याओं के मद्देनजर मौजूदा खतरनाक परिस्थितियों में अपने कार्यों को फिर से शुरू करने के लिए कश्मीर नहीं लौटेंगे। हम वापस जाने के बजाय यहां मरना पसंद करेंगे।
” प्रदर्शनकारियों ने सरकार से उनके विरोध पर ध्यान देने और कश्मीर से जम्मू क्षेत्र में उनका स्थानांतरण सुनिश्चित करने का आग्रह किया। कुमार ने कहा कि वह पहले ही 15 साल से कश्मीर में अपनी सेवाएं दे रहे हैं और “आतंकवादियों के हाथों मारे जाने के लिए घाटी में लौटने को तैयार नहीं हैं।” वहीं, एक महिला प्रदर्शनकारी ने कहा, “कश्मीर में सुरक्षित क्षेत्र कहां हैं। हमें बाहर जाना होगा, बच्चों को स्थानीय स्कूलों में डालना होगा और अपने कर्तव्यों का पालना करना होगा।
” उन्होंने कहा कि वह पिछले एक दशक से कश्मीर में स्थानीय आबादी के साथ हंसी-खुशी रह रही थीं, लेकिन हाल के महीनों में हुई लक्षित हत्याओं ने उनके दिलो-दिमाग में डर पैदा कर दिया है।

शुक्रवार, 27 मई 2022

लश्कर-ए-तैयबा के 4 आतंकियों को मार गिराया

लश्कर-ए-तैयबा के 4 आतंकियों को मार गिराया

इकबाल अंसारी  

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने दो अलग-अलग मुठभेड़ों में महिला टेलीविजन कलाकार की कथित हत्या में शामिल लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकवादियों को मार गिराया हैं। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी हैं। पुलिस ने आज यहां बताया कि अवंतीपोरा और श्रीनगर में हुई दो अलग-अलग मुठभेड़ों में ये आतंकवादी मारे गए हैं। पुलिस महानिरीक्षक ने बताया कि अवंतीपोरा में दो स्थानीय आतंकवादियों को ढ़ेरकर 24 घंटे में टीवी कलाकार अमरीन भट्ट की जघन्य हत्या के मामले को सुलझा लिया गया। उन्होंने बताया कि इन आतंकवादियों की संगठन में नई भर्ती की गई थी और इनकी पहचान शाहिद मुश्ताक भट और फरहान हबीब के रूप में हुई। इन्होंने लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर लतीफ के निर्देश पर टीवी कलाकार की हत्या की थी।

उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में बुधवार शाम आतंकवादियों ने 35 वर्षीय अमरीन भट्ट की गोली मारकर हत्या कर दी थी। हमले में उनका दस वर्ष का भतीजा फरहान जुबैर भी घायल हुआ था। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गुरुवार देर रात अवंतीपोरा के अगनहंजीपोरा में हुई मुठभेड़ में दोनों आतंकवादी मारे गए। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षा बलों की टीम जैसे ही छिपे हुए आतंकवादियों की ओर बढ़ी, तभी आतंकवादियों ने अपने स्वचालित हथियारों से सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने भी इस पर जवाबी कार्रवाई की, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए हैं।”

बुधवार, 25 मई 2022

सुरक्षाबलों ने 3 पाकिस्तानी आतंकी मार गिराए

सुरक्षाबलों ने 3 पाकिस्तानी आतंकी मार गिराए  

इकबाल अंसारी      

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के बारामूला में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। यहां एक ऑपरेशन में सुरक्षाबलों ने 3 पाकिस्तानी आतंकी मार गिराए हैं। वहीं इस ऑपरेशन के दौरान एक जवान शहीद हुआ है। बताया गया है कि आतंकियों से बड़ी संख्या में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया है। जम्मू-कश्मीर पुलिस की तरफ से ये जानकारी दी गई है।

सीमा पार से हथियारों की सप्लाई...
जानकारी के मुताबिक इस वक्त कश्मीर घाटी में आतंकी अपने मंसूबों को अंजाम देने की कोशिश कर रहे हैं। लगातार घुसपैठ की कोशिशें हो रही हैं, जिन्हें भारतीय सेना नाकाम करने का काम कर रही है। बताया गया है कि मारे गए पाकिस्तानी आतंकी भी इसी तरह की कोशिश में थे। सरहद पार से बड़ी मात्रा में हथियार भेजे जा रहे हैं, पिछले दिनों आतंकियों ने अमरनाथ यात्रा को लेकर भी धमकी दी थी। इसीलिए सुरक्षाबल लगातार एक्टिव हैं और ऐसी हर हरकत पर नजर बनाए हुए हैं।


शनिवार, 14 मई 2022

पैतृक आवास समेत 12 ठिकानों पर छापेमारी की

पैतृक आवास समेत 12 ठिकानों पर छापेमारी की  

इकबाल अंसारी

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर क्षेत्र में राज्य अन्वेषण ब्यूरो द्वारा टेरर फंडिंग के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है और लगातार छापामार कार्यवाही की जा रही है। जांच एजेंसी की इस कार्यवाही में आइपीसी में एपीएचसी पाकिस्तान के अध्यक्ष के पैतृक आवास समेत 12 ठिकानों पर छापेमारी की। अधिकारियों ने बताया कि गांधीनगर पुलिस थाने में एक मामला दर्ज किया गया था, जिसके बाद इसे गहन जांच के लिए एसआईए को सौंप दिया गया।अधिकारियों के मुताबिक, जांच एजेंसी के कर्मियों ने स्थानीय पुलिस की मदद से जम्मू, कठुआ, डोडा और कश्मीर के दर्जनभर ठिकानों पर छापे मारे। उन्होंने भद्रवाह के मस्जिद मोहल्ला इलाके में स्थित एक मकान की भी तलाशी ली।

रिपोर्ट के अनुसार, इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद बेचने वाले एक व्यक्ति के आवास और दुकान पर छापे मारे गए। अधिकारियों ने बताया कि एसआईए ने मस्जिद मोहल्ला इलाके में जुबैर खतीब के मकान की तलाशी ली। बताया जाता है कि जुबैर का पिता हुसैन खतीब 20 वर्षों से अधिक समय से पाकिस्तान में है। वह प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़ा हुआ है। खबरों के मुताबिक, जुबैर की दुकान से एक वाई-फाई राउटर जब्त किया गया है।

शुक्रवार, 6 मई 2022

सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़, 1 आतंकी मारा गया

सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़, 1 आतंकी मारा गया 

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में शुक्रवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक अनंतनाग जिले के पहलगाम क्षेत्र के श्रीचंद वन क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में मिली खुफिया जानकारी के आधार पर सुरक्षाबलों ने वहां घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू किया।
पुलिस अधिकारी के अनुसार सुरक्षाबल जब एक विशेष क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे, तो वहां पहले से मौजूद आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की। पुलिस अधिकारी के अनुसार मुठभेड़ में अब तक एक आतंकवादी मारा गया है। मारे गए आतंकवादी की पहचान और वह किस संगठन से संबद्ध था, इसका पता लगाया जा रहा है।

शुक्रवार, 22 अप्रैल 2022

मुठभेड़: 2 आतंकी ढेर, 1 जवान शहीद हुआ

मुठभेड़: 2 आतंकी ढेर, 1 जवान शहीद हुआ  

इकबाल अंसारी
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच जारी मुठभेड़ में शुक्रवार को दो आतंकी ढेर हो गए‌।इस मुठभेड़ में एक सुरक्षाबलों का एक जवान भी शहीद हो गया और चार घायल हुए हैं। जम्मू जोन के एडीजीपी मुकेश सिंह ने समाचार एजेंसी से कहा है कि हुई मुठभेड़ में कुल दो आतंकवादी मारे गए हैं। उन्होंने कहा कि हमने घेराबंदी कर इलाका खाली करा दिया है। मुठभेड़ जारी है। ऐसा लग रहा है कि आतंकी घर में छिपे हुए हैं।
बताया जा रहा है कि विजयपुर के पल्ली गांव में प्रधानमंत्री के दौरे से ठीक पहले सुरक्षा एजेंसियों द्वारा पकड़े गए संदिग्धों के तार देश विरोधी गतिविधियों से जुड़े हैं। 
23 जनवरी 2021 को बार्डर आउट पोस्ट पानसर में मिली टनल मामले में देश विरोधी गतिविधियों के तहत दर्ज एफआईआर में दोनों के नाम शामिल कर लिए गए हैं। एफआईआर संख्या 8/2021 के तहत आईपीसी की धारा 120 बी,122,121 ए और 16/18/38 यूएलए(पी) के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है।
अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे इलाकों में कुछ लोगों की संदिग्ध मूवमेंट के भी लगातार इनुपट मिल रहे थे जिसके बाद पुलिस, सीआरपीएफ और एसओजी ने आईबी से सटे गांव लच्छीपुर, ग्याल बंड, महेशे चक, मंडाला में तलाशी अभियान चलाया। दबिश के दौरान पांच लोगों को संदिग्ध मूवमेंट में पकड़ा गया, जिसमें से तीन को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया जबकि दो को जांच के लिए जम्मू भेज दिया गया। वीरवार को सुबह दोनों को वापिस राजबाग थाने लाया गया, जिसके बाद उनके खिलाफ देश द्रोह सहित आधा दर्जन मामलों में एफआईआर दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी गई है।

रविवार, 10 अप्रैल 2022

जवानों के बीच मुठभेड़ में 1 आतंकी मारा गया

जवानों के बीच मुठभेड़ में 1 आतंकी मारा गया 

इकबाल अंसारी       
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में इन दिन आतंकियों की गतिविधियां काफी बढ़ गई है। आए दिन सुरक्षा बलों क साथ मुठभेड़ हो रही है। बीते दिन कुलगाम और अनंतनाग में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई थी। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में लश्कर-ए-तयेबा का एक स्थानीय सरगना निसार डार मारा गया था। श्रीनगर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों पर हाल में हुए हमले में शामिल एक और आतंकवादी को जवानों ने रविवार को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। वहीं मुठभेड़ में तीन सुरक्षाकर्मी भी घायल हो गए है।
आतंकवादियों के छुपे होने की मिली थी सुचना :
घटना को लेकर इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था, जिसके बाद आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। जिसके बाद भारतीय जवानो ने भी मुँह तोड़ जवाब दिया।अब तक कुल दो आतंकवादियों को सेना ने मार गिराया है जिनमे एक की पुष्टि निसार डार के तौर पर हुई है और दूसरे की शिनाख्त अभी नहीं हो पाई है।
जम्मू कश्मीर पुलिस का ये मानना है कि हाल फ़िलहाल के दिनों में कश्मीर में मिलिटेंट्स की घुसपैठ बढ़ गयी है जो श्री नगर शहर के आस पास वाले इलाको में हो सकते हैं। पुलिस हलाकि कहा है कि इनको किसी भी हाल में इनके इरादों को अंजाम देने नहीं दिया जायेगा और हर हाल में इन्हे खोज कर मार गिराया जायेगा।बहरहाल मुठभेड़ अभी ख़त्म हो गयी है लेकिन CRPF और कश्मीर पुलिस का सर्च ऑपरेशन ज़ारी रहेगा।

बुधवार, 6 अप्रैल 2022

सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के दौरान 1 आतंकी मारा

सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के दौरान 1 आतंकी मारा 

इकबाल अंसारी         
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अवंतीपोरा में सुरक्षाबलों ने बुधवार को मुठभेड़ के दौरान एक अज्ञात आतंकवादी को मार गिराया।
अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में अवंतीपोरा उप-जिले के त्राल इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के बार में सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने संयुक्त रूप से घेराबंदी तथा तलाश अभियान शुरू किया। एक सुरक्षा अधिकारी ने कहा, "जैसे ही घेराबंदी की जा रही थी, आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों के जवानों पर गोलीबारी शुरू कर दी। अब तक दो आतंकवादी मारे गये हैं।
पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने बताया कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान अंसार गजवत-उल-हिंद (एजीयूएच) के सफत मुजफ्फर सोफी उर्फ मुआविया और लश्कर-ए-तैयबा के उमर तेली उर्फ तल्हा के रूप में हुयी है।
उन्होंने ट्वीट कर कहा, "त्राल क्षेत्र में स्थानांतरित होने से पहले दोनों आतंकवादियों श्रीनगर शहर में कई आतंकवादी अपराधों में शामिल थे, जिसमें खानमोह श्रीनगर में सरपंच (समीर अहमद) की हाल ही हुयी हत्या का मामला भी शामिल है।
उल्लेखनीय है कि सरपंच समीर अहमद भट की नौ मार्च को श्रीनगर जिले के खोनमोह में हत्या कर दी गई थी। कुछ दिनों बाद पुलिस ने कहा था कि 16 मार्च को श्रीनगर के बाहरी इलाके नौगाम में एक मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकवादी श्री समीर की हत्या में शामिल थे।

रविवार, 3 अप्रैल 2022

लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़

लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़   

इकबाल अंसारी          
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने रविवार को उत्तरी कश्मीर में दो अलग-अलग स्थानों पर छापा मारकर लश्कर-ए-तैयबा (लश्कर ) के आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़ करने और हथियार बरामद करने का दावा किया। पुलिस ने कहा कि प्रतिबंधित लश्कर के संगठन के आतंकवादियों के पांच सहयोगियों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा तथा हाजिन में छापेमारी के दौरान उनके कब्जे से तीन हथगोले और अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई हैं।
पुलिस ने कहा कि, बांदीपोरा में आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़, लश्कर के आतंकवादियों के पांच सहयोगियों को गिरफ्तार किया गया। उनके कब्जे से तीन हथगोले और अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई। इस संबंध में बांदीपोरा और हाजिन थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी। आगे की जांच की जारी है।

शुक्रवार, 20 अगस्त 2021

घाटी में सुरक्षाबलों व आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुईं

श्रीनगर। घाटी में शुक्रवार को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जानकारी दी है कि सुरक्षाबलों ने फिलहाल पूरे इलाके की घेरा बंदी कर ली है और मुठभेड़ अभी भी जारी है। दरअसल अवंतीपोरा के पंपोर इलाके में मुठभेड़ में मारा गया आतंकी कौन है और किस आतंकी ग्रुप से जुड़ा हुआ था। फिलहाल उसकी पुष्टि नहीं हुई है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हमें पंपोर इलाके में कुछ आतंकियों के छुपे होने की खबर मिली थी। इसके बाद जब हमारे जवान इलाके में सर्च ऑपरेशन करने गए तो आतंकियों ने उन पर गोलीबारी की। जवाबी कार्रवाई में जब सुरक्षबलों ने गोली चलाई तो एक आतंकी मारा गया।

रविवार, 8 अगस्त 2021

वित्तपोषण के मामले में 40 स्थानों पर छापे मारे

श्रीनगर। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आतंकवाद के वित्तपोषण के मामले में रविवार को जम्मू-कश्मीर के 14 जिलों में 40 से अधिक स्थानों पर छापे मारे। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की सहायता से एनआईए अधिकारियों ने जमात-ए-इस्लामी के कुछ धर्मार्थ ट्रस्टों के कार्यालयों और इसके सदस्यों के आवासों पर छापे मारे।
केंद्र ने आतंकवादियों के साथ संबंध रखने के मामले में जमात-ए-इस्लामी संगठन को 2019 में प्रतिबंधित कर दिया था। एनआईए ने छापे की कार्रवाई आज तड़के करीब पांच बजे शुरू की। सूत्रों ने बताया कि श्रीनगर, बड़गाम, गंदेरबल, बारामूला, कुपवाड़ा, बांदीपुर, अनंतनाग, शोपियां, पुलवामा और कुलगाम में छापे मारे गए।
उन्होंने कहा, “जम्मू डिवीजन में रामबन, डोडा, किश्तवाड़ और राजौरी जिलों में छापे मारे गये।” सूत्रों ने बताया कि ये छापे जम्मू-कश्मीर में जमात-ए-इस्लामी की गतिविधियों की जांच करने के लिए मारे गए।

शुक्रवार, 6 अगस्त 2021

सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 2 आतंकी मारे गए

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में शुक्रवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के आधार पर सेना, अर्द्धसैनिक बल और पुलिस की संयुक्त टीम ने सुबह थन्नामंडी इलाके की घेराबंदी की। इसी दौरान वहां छिपे आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी की। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा बलों ने भी गोलियां चलायीं। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में दो आतंकवादी ढेर हो गये जबकि दो आतंकवादियों के अभी वहां छिपे होने की रिपोर्टें हैं।

मुजफ्फरनगर: चेकिंग के दौरान, 3 वाहन चोर अरेस्ट किए

मुजफ्फरनगर: चेकिंग के दौरान, 3 वाहन चोर अरेस्ट किए  भानु प्रताप उपाध्याय मुजफ्फरनगर। जनपद में बृहस्पतिवार को चेकिंग के दौरान पुलिस न...