जम्मू कश्मीर लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
जम्मू कश्मीर लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बुधवार, 23 नवंबर 2022

स्नातक अनिवार्य होने की बात पर जोर दिया

स्नातक अनिवार्य होने की बात पर जोर दिया

ओमप्रकाश चौबे

श्रीनगर। जम्मू के महापौर राजेंद्र शर्मा ने पार्षद का चुनाव लड़ने के लिए न्यूनतम योग्यता के रूप में स्नातक अनिवार्य होने की बात पर बुधवार को जोर दिया। जम्मू नगर निगम के सदन ने शर्मा द्वारा लाए इस प्रस्ताव को पारित किया। शर्मा ने कहा कि प्रस्ताव को अब जम्मू-कश्मीर प्रशासन के पास भेजा गया है और वह उसे लागू किए जाने का इंतजार कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इसे पहले प्रशासन और फिर भारत निर्वाचन आयोग से मंजूरी मिलने के बाद ही पार्षदों के लिए स्नातक होने की अनिवार्यता एक कानून बन पाएगी। शर्मा ने जम्मू में पत्रकारों से कहा, ‘‘ हमने केंद्र सरकार से जेएमसी के सदन द्वारा पारित प्रस्ताव का संज्ञान लेने और निर्वाचित प्रतिनिधियों के लिए यह अनिवार्य करने के लिए एक कानून बनाने का आग्रह किया कि वे स्नातक होने पर ही चुनाव लड़ पाएं।’’ उन्होंने कहा कि संभवत: यह देश में किसी भी नगर निगम द्वारा उठाया अपने आप में ऐसा पहला कदम होगा। 

बुधवार, 26 अक्तूबर 2022

सुरक्षाबलों ने एक विदेशी आतंकवादी को मार गिराया

सुरक्षाबलों ने एक विदेशी आतंकवादी को मार गिराया

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा के पास सुदपोरा में सुरक्षाबलों ने एक विदेशी आतंकवादी को मार गिराया है। पुलिस ने आज यहां बताया कि कुपवाडा जिले में नियंत्रण रेखा के पास सुदपोरा मेें एक विदेशी आतंकवादी मारा गया है। सुरक्षाबलों को उसके पास से हथियार, गोला बारूद और आपत्तिजक सामग्री बरामद हुई है।

कश्मीर पुलिस ने ट्वीट पर लिखा, " कुपवाड़ा में एलओसी के पास सुदपोरा में एक विदेशी आतंकवादी मारा गया। हथियार और गोला-बारूद सहित आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुआ है। तलाशी अभियान जारी है।" उन्होंने कहा कि विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा है।

मंगलवार, 18 अक्तूबर 2022

ग्रेनेड हमले में 2 गैर स्थानीय प्रवासी मजदूरों की मौंत 

ग्रेनेड हमले में 2 गैर स्थानीय प्रवासी मजदूरों की मौंत 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में मंगलवार तड़के हुए ग्रेनेड हमले में दो गैर स्थानीय प्रवासी मजदूरों की मौंत हो गई। पुलिस ने बताया कि ग्रेनेड फेंकने वाले लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के एक स्थानीय 'हाइब्रिड आतंकवादी' को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने कहा कि हरमन शोपियां में उत्तर प्रदेश के मजदूरों पर उस समय ग्रेनेड फेंका गया था, जब वे अपने आवास पर सो रहे थे। पुलिस ने एक ट्वीट ने कहा,"आतंकवादियों ने हरमन शोपियां में हथगोला फेंका, जिसमें उप्र के दो मजदूर मनीष कुमार और राम सागर, दोनों कन्नौज, के निवासी घायल हो गए। उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। घटना के बाद में सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी। कश्मीर के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विजय कुमार ने कहा कि ग्रेनेड फेंकने वाले लश्कर के एक 'हाइब्रिड आतंकवादी' को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने कहा, "आगे की जांच और छापेमारी जारी है।" शोपियां जिले में गैर स्थानीय लोगों पर हमला आतंकवादियों द्वारा एक कश्मीरी पंडित पूरन कृष्ण भट की गोली मारकर हत्या करने के तीन दिन बाद हुआ है।

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ वर्षों में गैर स्थानीय लोगों और अल्पसंख्यकों की लक्षित हत्याओं में तेजी आई है। खासकर नई दिल्ली द्वारा अगस्त 2019 में जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के बाद। इस साल, जम्मू-कश्मीर के छह गैर स्थानीय, तीन कश्मीरी पंडित और तीन गैर मुस्लिमों सहित 17 नागरिक मारे गए हैं।

सोमवार, 10 अक्तूबर 2022

मुठभेड़ के दौरान सेना का कुत्ता गंभीर रूप से घायल 

मुठभेड़ के दौरान सेना का कुत्ता गंभीर रूप से घायल 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ के दौरान सेना का एक हमलावर कुत्ता गंभीर रूप से घायल हो गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने पर सुरक्षा बलों ने दक्षिण कश्मीर स्थित इस जिले के तंगपावा इलाके में रविवार देर रात घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू किया। सोमवार की सुबह सेना ने ‘जूम’ नाम के अपने हमलावर कुत्ते को उस घर के अंदर भेजा, जहां आतंकवादी छिपे हुए थे।

उन्होंने कहा कि जूम इससे पहले भी कई सक्रिय अभियानों का हिस्सा रहा है। अधिकारियों ने कहा कि इस बार के अभियान में आतंकवादियों की दो गोली लगने के कारण जूम घायल हो गया। अधिकारियों ने कहा, ‘‘जूम ने पहचान करने के बाद आतंकियों पर हमला किया जिस दौरान उसे भी दो गोलियां लगीं।’’ उन्होंने कहा कि जूम लड़ता रहा और अपना काम पूरा किया, जिसके परिणामस्वरूप दो आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया। अधिकारियों ने बताया कि इस बहादुर कुत्ते को सेना के पशु चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। इस मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को ढेर किया गया, हालांकि दो सैनिक भी घायल हुए हैं।

मंगलवार, 30 अगस्त 2022

शोपियां: सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर 

शोपियां: सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। सबसे पहले आतंकियों को आत्मसमर्पण करने की चेतावनी दी गई। लेकिन आतंकियों ने इसे अनसुना कर सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। मात्र 30 मिनट के अंदर अभी तक सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा आतंकी संगठन के दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। दोनों स्थानीय बताए जा रहे हैं। फिलहाल अभी तक इनकी पहचान नहीं हो पाई है।

जानकारी के अनुसार, दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिला के नागबल इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिलने के उपरांत पुलिस और सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान छेड़ा। इसी दौरान एक जगह पर छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने तुरंत मोर्चा संभालते हुए फायरिंग की और आधे घंटे के उपरांत ही दो आतंकी को ढेर कर दिया।

सोमवार, 22 अगस्त 2022

सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने राजमार्ग अवरुद्ध किया 

सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने राजमार्ग अवरुद्ध किया 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की एक कॉलेज छात्रा के पंजाब में मृत पाए जाने के बाद सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने सोमवार को सांबा जिले में जम्मू-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग अवरुद्ध कर दिया। अधिकारियों ने बताया कि सम्बा मंडल के मडकोली गांव की रहने वाली 20 वर्षीय छात्रा सांबा में ‘गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज’ से लौटते वक्त शनिवार को लापता हो गयी थी। उसका शव रविवार को लुधियाना में रहस्यमयी परिस्थितियों में मिला। उन्होंने बताया कि परिवार ने शनिवार की शाम को स्थानीय पुलिस थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करायी थी।

छात्रा का शव पाए जाने के बाद उसके कॉलेज के मित्रों समेत बड़ी संख्या में लोगों ने सांबा शहर के समीप राजमार्ग को अवरुद्ध कर दिया और उसकी मौत की उचित जांच कराने की मांग की। मृतक छात्रा के एक रिश्तेदार ने कहा, ‘‘उसका लापता होना और उसके बाद मौत किसी साजिश का इशारा करती है…हम न्याय चाहते हैं जो एक निष्पक्ष जांच के बाद ही मिल सकता है।’’ हालांकि, पुलिस और नागरिक प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों को शांत कराया तथा उन्हें आश्वासन दिया कि मामले की सभी पहलुओं से जांच की जाएगी। इसके बाद प्रदर्शनकारी वहां से चले गए।

शनिवार, 20 अगस्त 2022

भारतीय वायुसेना ने इजराइल के नागरिक को बचाया 

भारतीय वायुसेना ने इजराइल के नागरिक को बचाया 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। भारतीय वायुसेना (आईएएफ) ने शनिवार को लद्दाख के उच्च पर्वतीय क्षेत्र में इजराइल के उस नागरिक को बचा लिया, जिन्हें सांस लेने में कठिनाई हो रही थी। एक रक्षा प्रवक्ता ने यह जानकारी दी। रक्षा प्रवक्ता कर्नल इमरोन मुसावी ने बताया कि पूर्वाह्न 10 बजकर 40 मिनट पर 114 हेलीकॉप्टर इकाई को मार्खा घाटी के निकट निमालिंग शिविर से ‘केसवैक’ (आकस्मिक निकासी) के लिए एक कॉल आई।

कर्नल मुसावी ने बताया कि इजराइल के रहने वाले नोआम गिल को ऊंचाई वाले पर्वतीय क्षेत्र में सांस लेने में कठिनाई हो रही थी और उनका ऑक्सीजन स्तर 68 प्रतिशत तक गिर गया था। उन्होंने बताया कि उनकी गंभीर हालत को देखते हुए गिल को घाटी से हवाई मार्ग से सुरक्षित निकाल लिया गया। उन्होंने बताया कि विंग कमांडर आशीष कपूर के नेतृत्व में बचाव दल ने इस महत्वपूर्ण मिशन के लिए उड़ान भरी। कर्नल मुसावी ने बताया कि लगभग 45 मिनट में बचाव दल मौके पर पहुंच गया। उन्होंने बताया कि गिल को वहां से लेकर बचाव दल ने तुरंत उड़ान भरी और लेह में उतर गया।

बुधवार, 10 अगस्त 2022

विधानसभा चुनाव कराए जाने की कोई संभावना नहीं

विधानसभा चुनाव कराए जाने की कोई संभावना नहीं

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में इस साल विधानसभा चुनाव कराए जाने की कोई संभावना नहीं है। भारत निर्वाचन आयोग ने जम्मू-कश्मीर में मतदाता सूची के प्रकाशन की नई अंतिम तिथि 25 नवंबर निर्धारित की है। आयोग ने कहा कि एक अक्टूबर या उससे पहले 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले युवा केंद्रशासित प्रदेश में मतदाता बनने के पात्र होंगे। इससे पहले, निर्वाचन आयोग ने जम्मू-कश्मीर में अंतिम मतदाता सूची के प्रकाशन के लिए 31 अक्टूबर की समयसीमा निर्धारित की थी, जहां तीन साल के अंतराल के बाद विशेष सारांश संशोधन किया जा रहा है और परिसीमन में विधानसभा सीट की संख्या फिर से निर्धारित किए जाने के बाद यह इस तरह की पहली कवायद है।

निर्वाचन आयोग द्वारा तय की गई नयी समयसीमा के अनुसार, एक एकीकृत मसौदा मतदाता सूची 15 सितंबर को प्रकाशित की जाएगी। दावे और आपत्तियां दर्ज करने की अवधि 15 सितंबर से 25 अक्टूबर के बीच निर्धारित की गई है, इसके बाद 10 नवंबर को दावों और आपत्तियों का निपटान किया जाएगा। मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय ने निर्वाचन आयोग द्वारा जारी आदेश के हवाले से यहां कहा कि 25 नवंबर को अंतिम मतदाता सूची के प्रकाशन से पहले डेटाबेस अद्यतन करने, अंतिम प्रकाशन के लिए आयोग की अनुमति प्राप्त करने और अनुपूरक सामग्री की छपाई के काम के लिए 19 नवंबर की तारीख तय की गई है।

केंद्र सरकार ने मई में एक अधिसूचना जारी की थी, जिसमें कहा गया था कि परिसीमन आयोग का आदेश 20 मई से लागू होगा। परिसीमन आयोग ने केंद्रशासित प्रदेश में निर्वाचन क्षेत्रों की संख्या फिर से निर्धारित करते हुए जम्मू संभाग के लिए विधानसभा की छह अतिरिक्त सीट और कश्मीर संभाग के लिए एक अतिरिक्त सीट की व्यवस्था की थी। जम्मू और कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम 2019 के तहत स्थापित परिसीमन आयोग के आदेशों के अनुसार, केंद्रशासित प्रदेश में 90 विधानसभा क्षेत्र होंगे। इनमें जम्मू संभाग में 43 और कश्मीर घाटी में 47 विधानसभा सीट होंगी। इनमें से नौ सीट अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित होंगी। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने आश्वासन दिया था कि जम्मू-कश्मीर में मतदाता सूची के चल रहे संशोधन के पूरा होने के बाद विधानसभा चुनाव होगा। हालांकि, राजनीतिक पर्यवेक्षकों का मानना ​​है कि कश्मीर घाटी और चिनाब क्षेत्र में कड़ाके की ठंड खत्म होने के बाद बहुप्रतीक्षित चुनाव अगले साल तक टाला जा सकता है।

शनिवार, 30 जुलाई 2022

सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, 1 अज्ञात आतंकी मारा गया 

सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, 1 अज्ञात आतंकी मारा गया 

इकबाल अंसारी  

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले में शनिवार सुबह सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच शुरू हुई मुठभेड़ में एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि बारामूला जिले के वानीगाम बाला गांव में आज सुबह मुठभेड़ उस समय शुरू हुई जब सुरक्षा बलों की एक संयुक्त टीम ने इलाके में आतंकवाद विरोधी अभियान शुरू किया। सुरक्षा अधिकारी ने कहा, "तलाश अभियान के दौरान जब सुरक्षा बल आतंकवादियों के संदिग्ध ठिकाने की ओर बढ़ रहे थे तभी छिपे हुए आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से सुरक्षा बलों पर गोली चलानी शुरू कर दी।

सुरक्षा बलों के जवाबी कार्रवाई शुरू करते हुए मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया। मारे गए आतंकवादी की अभी पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस ने कहा कि इलाके में तलाश अभियान जारी है। पुलिस ने ट्वीट में कहा, "मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया है। तलाश अभियान जारी है। विस्तृत रिपोर्ट का इंतजार है।"

रविवार, 17 जुलाई 2022

आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला किया

आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला किया

गीता गोवंडके 
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर हमला कर दिया। घटना गोंगू इलाके की बताई जा रही है। जानकारी के मुताबिक, आतंकी हमले में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया है। फिलहाल, सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है और आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई में जुट गई है।
दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा में रविवार को आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला कर दिया। आतंकी हमले सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया है। बताया जा रहा है कि स्थानीय पुलिस और सीआरपीएफ के जवान नाके पर चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला कर दिया। घटना गोंगू क्रॉसिंग इलाके की बताई जा रही है।
आतंकी हमले के बाद सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाल लिया है और आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में गोंगू क्रॉसिंग के पास सर्कुलर रोड पर रविवार दोपहर पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम चेकिंग में जुटी थी। इसी दौरान आतंकवादियों ने हमला किया जिसमें सीआरपीएफ के एएसआई शहीद हो गए।
अस्पताल में शहीद एएसआई का पार्थिव शरीर
जम्मू-कश्मीर पुलिस की ओर से बताया गया कि आतंकियों ने क्रॉसिंग के पास स्थित एक सेब के बागीचे से फायरिंग की। इस दौरान सीआरपीएफ के एएसआई विनोद कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए। बताया गया कि घायल विनोद कुमार को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। अधिकारी ने कहा कि हमलावरों को पकड़ने के लिए इलाके की घेराबंदी कर दी गई है।

बुधवार, 13 जुलाई 2022

दर्शन: 6,415 तीर्थयात्रियों का 14वां जत्था रवाना

दर्शन: 6,415 तीर्थयात्रियों का 14वां जत्था रवाना  

इकबाल अंसारी 
श्रीनगर। कड़ी सुरक्षा के बीच 6,415 तीर्थयात्रियों का 14वां जत्था दक्षिण कश्मीर में 3,880 मीटर ऊंचाई पर स्थित पवित्र अमरनाथ गुफा के दर्शन के लिए बुधवार की सुबह रवाना हुआ। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अमरनाथ गुफा के पास आठ जुलाई को बादल फटने पर हुई भीषण बारिश के कारण अचानक बाढ़ आने से कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 40 से अधिक लोग अब भी लापता हैं।
इसके बाद यात्रा को रविवार को स्थगित कर दिया गया था और सोमवार को यात्रा फिर बहाल की गई। अधिकारियों ने बताया कि केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की कड़ी सुरक्षा के बीच 258 वाहनों में कुल 6,415 तीर्थयात्री यहां भगवती नगर यात्री निवास से रवाना हुए। उन्होंने बताया कि इन श्रद्धालुओं में 4,545 पुरुष, 1,744 महिलाएं, 43 बच्चे, 79 साधु और चार साध्वी हैं। उन्होंने बताया कि बालटाल आधार शिविर के लिए जाने वाले 2,428 तीर्थयात्री 88 वाहनों में तड़के करीब साढ़े तीन बजे सबसे पहले रवाना हुए।
इसके बाद कश्मीर में पहलगाम शिविर के लिए 3,987 तीर्थयात्रियों को लेकर 170 वाहनों का दूसरा काफिला सुबह करीब साढ़े चार बजे रवाना हुआ। बाबा बर्फानी के दर्शन के लिये 43 दिन की वार्षिक यात्रा दक्षिण कश्मीर के पहलगाम में पारंपरिक 48 किलोमीटर के नुनवान मार्ग और मध्य कश्मीर के गांदरबल में 14 किलोमीटर के बालटाल मार्ग से 30 जून को शुरू हुई थी। अधिकारियों ने बताया कि अभी तक 1.30 लाख से अधिक तीर्थयात्री पवित्र गुफा में बर्फ से बने शिवलिंग के दर्शन कर चुके हैं। अमरनाथ यात्रा 11 अगस्त को रक्षा बंधन के अवसर पर समाप्त होगी।

शुक्रवार, 8 जुलाई 2022

6,100 से अधिक तीर्थयात्रियों का दसवां जत्था रवाना

6,100 से अधिक तीर्थयात्रियों का दसवां जत्था रवाना 

इकबाल अंसारी 
श्रीनगर। जम्मू में शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच 6,100 से अधिक तीर्थयात्रियों का दसवां जत्था पवित्र अमरनाथ गुफा के दर्शन के लिए रवाना हुआ। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की कड़ी सुरक्षा के बीच भगवती नगर यात्री निवास से 249 वाहनों के काफिले में कुल 6,159 तीर्थयात्री रवाना हुए। इनमें 4,754 पुरुष, 1,220 महिलाएं, 35 बच्चे, 139 साधु और 12 साध्वी हैं।
अधिकारियों ने कहा कि सबसे पहले 95 वाहनों में सुबह साढ़े तीन बजे भगवती नगर शिविर से 2,037 तीर्थयात्री रवाना हुए। इसके बाद 154 वाहनों का दूसरा काफिला 4,122 तीर्थयात्रियों को लेकर पहलगाम के लिए रवाना हुआ। गत 29 जून से भगवती नगर आधार शिविर से कुल 63,487 तीर्थयात्री घाटी पहुंचे चुके हैं। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने 29 जून को तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था।। सालाना 43 दिन की यह यात्रा 30 जून को शुरू हुई थी। अब तक एक लाख से अधिक तीर्थयात्री पवित्र गुफा में बर्फ से बने शिवलिंग के दर्शन कर चुके हैं। अमरनाथ यात्रा 11 अगस्त को रक्षा बंधन के अवसर पर समाप्त होगी।

शुक्रवार, 1 जुलाई 2022

शिवलिंग: 6,440 श्रद्धालुओं का तीसरा जत्था रवाना

शिवलिंग: 6,440 श्रद्धालुओं का तीसरा जत्था रवाना

इकबाल अंसारी
श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर स्थित अमरनाथ गुफा मंदिर में पवित्र शिवलिंग का दर्शन करने के लिए यहां स्थित आधार शिविर से 6,440 श्रद्धालुओं का तीसरा जत्था कड़ी सुरक्षा के बीच शुक्रवार को रवाना हुआ। ‘‘बम बम भोले’’ का नारा लगाते हुए श्रद्धालु भगवती नगर आधार शिविर से 265 वाहनों के काफिले में तड़के रवाना हुए। अमरनाथ गुफा मंदिर के लिए 43 दिनों तक चलने वाली यह तीर्थयात्रा 11 अगस्त को रक्षा बंधन के दिन संपन्न होगी।
अधिकारियों ने बताया कि आज के इस जत्थे के साथ जम्मू से अमरनाथ गुफा के लिए रवाना हुए कुल तीर्थयात्रियों की संख्या 17,100 हो गई है। तीर्थस्थल की यात्रा के लिए देशभर के विभिन्न स्थानों से 7,000 से अधिक और तीर्थयात्री जम्मू पहुंचे हैं। मौके पर पंजीकरण के लिए तीन ‘काउंटर’ और टोकन लेने के लिए दो ‘काउंटर’ उपलब्ध हैं। इस प्रक्रिया के पूरी होने के बाद उन्हें 32 ठहरने के स्थल तथा आधार शिविरों में ठहराया गया है।
यात्रा दक्षिण कश्मीर के पहलगाम में पारंपरिक नुनवान मार्ग और मध्य कश्मीर के गांदरबल में बालटाल मार्ग से 30 जून को शुरू हुई थी। इस साल तीर्थयात्रियों की संख्या सामान्य से अधिक होने की उम्मीद है, क्योंकि यह यात्रा करीब तीन साल के अंतराल के बाद आयोजित की जा रही है। गौरतलब है कि वर्ष 2019 में केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद-370 के अधिकतर प़्रावधान को रद्द करने के बाद यात्रा बीच में ही स्थगित कर दी गई थी, जबकि वर्ष 2020 और 2021 में कोविड-19 वैश्विक महामारी की वजह से यात्रा का आयोजन नहीं किया गया था।

गुरुवार, 30 जून 2022

शिवलिंग: 5,700 श्रद्धालुओं का दूसरा जत्था रवाना

शिवलिंग: 5,700 श्रद्धालुओं का दूसरा जत्था रवाना

इकबाल अंसारी

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर में स्थित अमरनाथ गुफा मंदिर में पवित्र शिवलिंग का दर्शन करने के लिए जम्मू से 5,700 श्रद्धालुओं का दूसरा जत्था कड़ी सुरक्षा के बीच रवाना हुआ है। ‘‘बम बम भोले’’ का उद्घोष करते हुए श्रद्धालु बृहस्पतिवार तड़के 230 वाहनों के काफिले में भगवती नगर आधार शिविर से रवाना हुए। अमरनाथ गुफा मंदिर के लिए 43 दिनों तक चलने वाली यह तीर्थयात्रा 11 अगस्त को रक्षा बंधन के दिन संपन्न होगी।

अधिकारियों ने बताया कि दूसरे जत्थे के साथ ही जम्मू से अमरनाथ यात्रा के लिए रवाना होने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़कर 10,700 हो गयी है। उन्होंने बताया कि अमरनाथ यात्रा के लिए देशभर से जम्मू में 5,000 से 6,000 और श्रद्धालु पहुंचे हैं। कोविड-19 महामारी के कारण वार्षिक अमरनाथ यात्रा दो साल के अंतराल के बाद हो रही है। दक्षिण कश्मीर के पहलगाम में 48 किलोमीटर लंबे पारंपरिक नुनवान मार्ग और मध्य कश्मीर के गांदेरबल में 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से यह यात्रा बृहस्पतिवार को शुरू हुई।

सोमवार, 27 जून 2022

बीएसएफ के जवानों ने घुसपैठिए को मार गिराया

बीएसएफ के जवानों ने घुसपैठिए को मार गिराया

इकबाल अंसारी 
श्रीनगर। जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास सोमवार को सुबह सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने एक घुसपैठिए को मार गिराया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। बीएसएफ के प्रवक्ता ने बताया कि क्षेत्र में मौजूद जवानों ने घुसपैठिए को बाड़ की दिशा में बढ़ते देखा था।
उन्होंने कहा, ‘‘हमारे जवानों ने उसे रुकने के लिए कहा लेकिन उसने चेतावनी को अनसुना कर दिया और बाड़ की दिशा में लगातार बढ़ता रहा।’’ प्रवक्ता ने बताया कि बीएसएफ के जवानों ने घुसपैठिए पर तीन राउंड गोली चलाई और कहा कि उसका शव बाड़ के नजदीक पड़ा मिला। शव को पुलिस को सौंप दिया गया है।

मंगलवार, 21 जून 2022

अभियान: सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया

अभियान: सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। कश्मीर घाटी में मंगलवार को दो अलग-अलग आतंकवाद विरोधी अभियानों में सुरक्षा बलों ने 3 आतंकवादियों को मार गिराया है। जिनमें सब इंस्पेक्टर (एसआई) फारूक मीर का हत्यारा भी शामिल है। संबंधित अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर में पुलवामा जिले के तुज्जन इलाके में हुई मुठभेड़ में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए हैं। जिनमें माजिद नजीर नाम का आतंकवादी भी शामिल है। जिसे सब इंस्पेक्टर (एसआई) फारूक मीर का हत्यारा माना जा रहा है।
उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर के अवंतीपोरा से 18 जून को पुलिस उप निरीक्षक (एसआई) फारूक मीर का गोलियों से छलनी शव की बरामदगी हुई थी। जम्मू-कश्मीर पुलिस के सब-इंस्पेक्टर मीर का शव धान के खेत में पड़ा मिला। कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने ट्वीट करते हुए कहा,“सब-इंस्पेक्टर फारूक मीर का हत्यारा जैश-ए-मोहम्मद का आतंकवादी माजिद नजीर पुलवामा मुठभेड़ में मारा गया है।
” इसके अलावा, उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के तुलीबल सोपोर बस्ती में एक और आतंकवादी को मार गिराया गया है। अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले में सोपोर कस्बे के तुलीबल इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद आतंकवाद विरोधी अभियान शुरू किया गया।
सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई के दौरान मुठभेड़ हुई। एक सुरक्षा अधिकारी ने कहा,“जैसे ही सुरक्षा बलों की संयुक्त टीमों ने संदिग्ध स्थानों की घेराबंदी की, छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलियां चला दीं। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई के कारण एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया।” पुलिस ने ट्वीट कर जानकारी दी,“एक आतंकवादी मारा गया है। सुरक्षा बलों का अभियान जारी है। आगे के निर्देशों का पालन किया जाएगा।

सोमवार, 20 जून 2022

अभियान: पुलवामा में मुठभेड़, 1 आतंकी की मौंत

अभियान: पुलवामा में मुठभेड़, 1 आतंकी की मौंत 

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार तड़के हुई एक मुठभेड़ में एक आतंकवादी की मौंत हो गई है। जिसकी जानकारी अधिकारियों ने दी। उन्होंने कहा कि यहां के चटपोरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में मिली खुफिया जानकारी के आधार पर घेराबंदी और तलाशी अभियान चलाया गया, जिस दौरान मुठभेड़ हो गई।
एक सुरक्षा अधिकारी ने कहा, 'जैसे ही सुरक्षा बलों की संयुक्त टीम ने संदिग्ध स्थान की घेराबंदी की, छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलियां चला दीं, जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई। इसमें एक आतंकवादी मारा गया है। पुलिस ने ट्वीट कर कहा, 'एक आतंकवादी ढेर हुआ है। आगे की जानकारी के मिलने की प्रतीक्षा है।'यह रविवार के बाद से तीसरी मुठभेड़ है। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा और कुलगाम जिले में रविवार को हुई दो मुठभेड़ों में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के एक पाकिस्तानी सहित दो आतंकवादियाें को मार गिराया गया था।

गुरुवार, 16 जून 2022

ऑपरेशन: सेना ने 2 आतंकियों को ढेर किया

ऑपरेशन: सेना ने 2 आतंकियों को ढेर किया 

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में गुरुवार के दिन सेना ने आतंकियों की नापाक साजिश को एक बार फिर ध्वस्त कर दिया। कुलगाम में चले ऑपरेशन में सेना ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है कि ये आतंकी हिन्दू महिला शिक्षक रजनी बाला की हत्या में शामिल थे। उधर, अनंतनाग में भी हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के होने की जानकारी मिली है। सेना ने इलाके की घेराबंदी करते हुए ऑपरेशन शुरू कर दिया है। कश्मीर जोन पुलिस अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक, कुलगाम में बुधवार से आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाया गया था। 24 घंटे से ज्यादा चले इस ऑपरेशन में सेना के जवानों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है कि ये आतंकी हिन्दू शिक्षक रजनी बाला की हत्या में शामिल थे। 
बताते चलें कि बीती 31 मई को महिला शिक्षक रजनी बाला को कुलगाम जिले के गोपालपोरा हाई स्कूल में आतंकवादियों ने निशाना बनाया था। आतंकियों ने स्कूल में घुसकर उनका शरीर गोलियों से छलनी कर दिया था। इस कायराना हमले में उनकी मौत हो गई थीं। आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि अनंतनाग जिले के हंगलगुंड इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई है। रिहायशी इलाकों में दो से तीन आतंकियों के छिपे होने की आशंका जताई जा रही है। उन्होंने बताया कि अनंतनाग के कोकरनाग इलाके में हिबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादी छिपे हैं। उनके साथ मुठभेड़ जारी है।

मंगलवार, 14 जून 2022

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी मारें गए

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी मारें गए

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। श्रीनगर में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी नागरिक सहित लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘श्रीनगर शहर के बेमिना इलाके में श्रीनगर पुलिस ने मुठभेड़ में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया। मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी भी मामूली रूप से घायल हो गया।’’ उन्होंने बताया कि मुठभेड़ सोमवार देर रात हुई।
 महानिरीक्षक विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से बरामद दस्तावेजों और अन्य संदिग्ध सामग्री से मारे गए एक आतंकवादी की पहचान अब्दुल्ला गौजरी के तौर पर हुई है, जो पाकिस्तान के फैसलाबाद का निवासी था। अधिकरी ने कहा, ‘‘ ये वही लोग थे जो सोपोर मुठभेड़ में बच निकले थे। हम उनकी गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे।’’ उन्होंने बताया कि मारे गए दूसरे आतंकवादी की पहचान आदिल हुसैन मीर उर्फ सुफियां के तौर पर हुई है, जो अनंतनाग जिले का निवासी था। कुमार ने कहा, ‘‘ पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, वह 2018 में ‘विज़िट वीजा’ पर वाघा से पाकिस्तान गया था।

शनिवार, 11 जून 2022

सुरक्षाबलों ने 6 संदिग्ध दहशतगर्दों को गिरफ्तार किया

सुरक्षाबलों ने 6 संदिग्ध दहशतगर्दों को गिरफ्तार किया

इकबाल अंसारी    
श्रीनगर। सुरक्षाबलों ने कश्मीर में तीन कैंपेन्स में दो सक्रिय आतंकवादियों और तीन ‘हाइब्रिड आतंकवादियों’ सहित 6 संदिग्ध दहशतगर्दों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि दो सक्रिय आतंकवादी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हैं और उन्हें बारामूला जिले से गिरफ्तार किया गया है।
गिरफ्तार किए गए इरशाद अहमद मीर और जाहिद बशीर घोषित आतंकवादी हैं और पट्टन क्षेत्र के नेहलपोरा के निवासी हैं। इनके पास से आपत्तिजनक सामग्री, दो चीनी पिस्तौल, 18 जिंदा गोली और दो मैगजीन बरामद की गई हैं।
अधिकारियों ने कहा कि लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े दो अन्य ‘हाइब्रिड आतंकवादियों’ को बारामूला जिले के सोपोर इलाके के गुरसीर में पुलिस, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और सेना द्वारा संयुक्त रूप से स्थापित एक चौकी पर गिरफ्तार किया गया था।

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...