शुक्रवार, 26 अप्रैल 2019

18 छात्रों ने की आत्महत्या मानव अधिकार अयोग सख्त

18 छात्रों ने की आत्महत्या, मानवा‌धिकार सख्त


हैदराबाद ! तेलंगाना में इंटर का रिजल्ट आने के बाद 18 छात्रों के आत्महत्या करने की खबरों पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने शुक्रवार को राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब की है। गौरतलब है कि तेलंगाना बोर्ड ने इंटर का रिजल्ट घोषित किया था जिसमें तीन लाख छात्र फेल हो गए थे। इसके बाद मीडिया रिपोर्ट में रिजल्ट में गड़बड़ी की बात की गई थी जिस पर आयोग ने संज्ञान लिया।


वहीं घटना के बाद छात्र, परिजन और कुछ राजनीतिक पार्टियां भी विरोध पर उतर आई हैं। लोगों की मांग है कि आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दी जाए और भविष्य में ऐसा न हो इसका ध्यान रखा जाए। आयोग ने पूछा है कि क्यों प्रशासन ने हैदराबाद की निजी कंपनी ग्लोबलरेना टेक्नोलाजी को परीक्षा एनरोलमेंट का ठेका दिया। जबकि पहले इसे किसी सरकारी एजेंसी को ही दिया जाता था।


इसके साथ ही आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव एसके जोशी को नोटिस जारी कर चार सप्ताह में इसकी रिपोर्ट मांगी है। साथ ही बोला गया है कि आरोपियों के खिलाफ क्या किया गया और पीड़ित परिवारों की कैसे मदद की गई इसकी भी रिपोर्ट बना कर दें। आयोग ने कहा कि यदि मीडिया रिपोर्ट्स सही पाई गईं तो यह मानवाधिकार का बड़ा हनन होगा। हालांकि शिक्षा मंत्रालय ने इन सभी बातों का खंडन किया है।


universalexpress.page


वाराणसी से दूसरी बार पीएम मोदी ने किया नामांकन

दूसरी बार पीएम मोदी ने किया नामांकन


वाराणसी ! एक बार फिर जीत हासिल करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपना नामांकन किया है। पीएम मोदी के नामांकन के दौरान जनता दल (यूनाइटेड) के अध्यक्ष नीतीश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, अकाली दल के अध्यक्ष प्रकाश सिंह बादल समेत अन्य सहयोगी दलों के नेता भी साथ रहे।गुरुवार को प्रधानमंत्री ने रोड शो कर अपनी ताकत का एहसास कराया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी से अपना पर्चा दाखिल किया। उन्होंने स्थानीय डीएम को अपना हलफनामा भी सौंपा।इससे पहले प्रधानमंत्री ने बूथ अध्यक्ष और अन्य पदाधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा- मोदी सबसे ज्यादा वोट से जीते या न जीते, लोकतंत्र जीतना चाहिए। मोदी ने यह भी कहा कि काशी को तो कल ही जीत लिया। उनका इशारा गुरुवार को उनके द्वारा किए गए मेगा रोड शो में उमड़े जनसैलाब की ओर था।universalexpress.page


मुलायम सिंह की तबीयत हुई खराब

 मुलायम सिंह यादव की तबियत हुई ख़राब

लखनऊ! समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबियत अचानक बिगड़ जाने से उन्हें लखनऊ के पीजीआई में भर्ती कराया गया है। संजय गांधी पीजीआई में भर्ती कराया गया है। एसजीपीजीआइ में उनकी इलेक्ट्रोएन्सेफलोग्राम हो रही है। इसके बाद एमआरआइ भी होगी।


मुलायम सिंह यादव ने लोकसभा चुनाव 2019 में मैनपुरी से गठबंधन प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन दाखिल किया है। वहां पर 23 अप्रैल को मतदान था। मुलायम सिंह यादव 23 अप्रैल को इटावा के सैफई में मतदान करने गए थे। इटावा का सैफई मैनपुरी की जसवंतनगर विधानसभा क्षेत्र में आता है। मैनपुरी में मुलायम सिंह यादव अस्वस्थ होने के कारण अधिक देर तक जनसभा को संबोधित नहीं कर सके थे। मुलायम सिंह यादव की उम्र करीब 84 वर्ष हैं। वह लगातार मैनपुरी से लोकसभा चुनाव जीतते आ रहे हैं, मुलायम सिंह यादव तीन बार उत्तर प्रदेश के सीएम और एक बार देश के रक्षा मंत्री भी रहे हैं।universalexpress.page


मोदी के खिलाफ 178 किसान चुनाव मैदान में

पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने पहुंचे तेलंगाना के 50किसान


वाराणसी ! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव 2019 के रण में फिर वाराणसी से नामाकंन दाखिल करने से पहले गुरुवार को जब मेगा रोड शो कर रहे थे, तब तेलंगाना के निज़ामाबाद से करीब 50 किसान बस पकड़कर वाराणसी पहुंचने की तैयारी कर रहे थे। ताकि वो पीएम मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ने के लिए नामांकन दाखिल कर सकें।


वाराणसी लोकसभा सीट पर मतदान आखिरी चरण में 19 मई को होगा और इसके लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 29 अप्रैल तय है। इसी को ध्यान में रखते हुए ये किसान तेलंगाना से वाराणसी पहुंचे हैं। गौरतलब है कि ​निज़ामाबाद सीट से राज्य की सीएम केसीआर की बेटी कविता चुनाव मैदान में हैं और उनके खिलाफ 178 किसान चुनाव लड़ने के लिए पर्चा भर चुके हैं।


हालांकि कविता के खिलाफ नामांकन दाखिल करने वाले किसानों ने कहा कि पीएम मोदी के खिलाफ किसानों का चुनाव लड़ना किसी तरह के समूह या संगठन का फैसला नहीं है। ये भी दावा किया जा रहा है कि ये किसान राज्य की सत्ताधारी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति के समर्थक हैं।universalexpress.page


मोदी को देंगे मिट्टी कंकड़ वाला लड्डू दांत टूट जाएंगे: ममता

मोदी को देंगे मिट्टी-कंकड़ वाला लड्डू, टूट जाएंगे दांत: ममता


आसनसोल ! पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर विवादित टिप्पणी की है। उन्होंने कहा-'मोदी पहले बंगाल नहीं आए। अब चुनाव में उन्हें बंगाल से वोट चाहिए। हम मोदी को बंगाल का रसगुल्ला देंगे। हम मिट्टी से मिठाइयां बनाएंगे और उसमें कंकड़ डालेंगे जैसे लड्डू में काजू और किशमिश इस्तेमाल होता है। इससे दांत टूट जाएंगे।' ममता बनर्जी ने यह बात आसनसोल से कही है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार के साथ अपने गैर-राजनीतिक इंटरव्यू में कहा था कि ममता दीदी उन्हें साल में कुर्ते जरूर भेजती हैं। इस पर ममता बनर्जी ने कहा था कि वह पीएम मोदी को कुर्ते उपहार के तौर पर भेजती हैं। यह राजनीति से अलग है।ममता ने बिरभूमि जिले में गुरुवार को अपनी चुनावी रैली में कहा था कि मोदी बाबू कहते हैं कि मैं तोहफे के तौर पर उन्हें कुर्ते भेजती हूं, मैं पूछती हूं इसमें क्या गलत है। मैं सिर्फ मोदी को ही तोहफे नहीं भेजती बल्कि कई दूसरे लोगों को भी उपहार भेजती हूं। लेकिन हम इस बारे में बात नहीं करते हैं क्योंकि यह हमारी संस्कृति नहीं है। यह हमारा शिष्टाचार है।universalexpress.page


 


नया धर्मेंद्र गहलोत को जांच के प्रति भेजी

मेयर धर्मेन्द्र गहलोत को जांच रिपोर्ट की प्रति भेजी



अजमेर ! नगर निगम की बहुचर्चित 13 व्यावसायिक नक्शों के स्वीकृति के प्रकरण में मेयर धर्मेन्द्र गहलोत और उपायुक्त गजेन्द्र सिंह रलावता पर शिकंजा और कस गया है। स्वायत्त शासन विभाग के निदेशक एवं संयुक्त सचिव पवन अरोड़ा ने 26 अप्रैल को मेयर गहलोत को एक पत्र देकर स्पष्टीकरण मांगा है। अरोड़ा ने इस पत्र में लिखा है कि आरोपों को लेकर आपको जो नोटिस दिया गया था, उसका जवाब 26 मार्च को प्रस्तुत किया गया। आपने जांच रिपोर्ट की मांग की थी, इस पत्र के साथ जांच रिपोर्ट प्रेषित की जा रही है, आप अपना स्पष्टीकरण सात दिवस के अंदर प्रस्तुत करेंगे अन्यथा राजस्थान नगर पालिका अधिनियम 2009 की धारा 39 के अंतर्गत आपके विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। यहां यह उल्लेखनीय है कि विभाग ने जो उच्चस्तरीय जांच करवाई थी, उसमें 13 व्यावसायिक नक्शों की स्वीकृति में मेयर गहलोत उपायुक्त रलावता और निगम के चार इंजीनियरों को दोषी माना था। 26 अप्रैल को ही विभाग के संयुक्त सचिव पवन अरोड़ा ने एक पत्र निगम की आयुक्त सुश्री चिन्मयी गोपाल को भी लिखा है। इस पत्र में साधारण सभा के उस फैसले को रद्द कर दिया, जिसमें उपायुक्त को अधिकार देने की बात कही गई थी। पत्र में कहा गया है कि 14 और 15 फरवरी की साधारण सभा के प्रस्ताव संख्या 17 पर आयुक्त ने अपनी असहमति दर्ज करवाई थी। नियमों के मुताबिक जिन संस्थाओं में समिति का गठन नहीं किया गया उनमें भवन निर्माण की स्वीकृतियों की धारा 194 के अधिकार केवल आयुक्त को ही हैं। जबकि अजमेर नगर निगम की साधारण सभा में व्यावसायिक और आवासीय नक्शे स्वीकृत करने का अधिकारी उपायुक्त को दे दिया गया, चूंकि यह निर्णय नियमों के विपरीत है इसलिए नगर पालिका अधिनियम 2009 की धारा 49 (4)के अंतर्गत निरस्त किया जावे। संयुक्त सचिव के इस पत्र के बाद अब निगम के अधिकारियों पर और शिकंजा कस गया है, क्योंकि साधारण सभा के इसी निर्णय के अनुरूप उपायुक्त रलावता ने 13 व्यावसायिक नक्शों को स्वीकृत किया था। उल्लेखनीय है कि उपायुक्त रलावता के विरुद्ध चार्जशीट की कार्यवाही शुरू हो चुकी है और मेयर गहलोत निलंबन की कार्यवाही से बचने के लिए हाईकोर्ट की शरण में हैं। गहलोत को अभी तक भी हाईकोर्ट से कोई राहत नहीं मिली है। 26 अप्रैल को स्वायत्त शासन विभाग की जो कार्यवाही हुई उससे नगर निगम में खलबली मच गई है।
एस.पी.मित्तलuniversalexpress.page


चिकित्सा मंत्री के निर्वाचन क्षेत्र डॉक्टर की दिलेरी


चिकित्सा मंत्री के निर्वाचन क्षेत्र में डॉक्टर की दिलेरी



अजमेर ! राजस्थान के चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा का निर्वाचन क्षेत्र केकड़ी (अजमेर) है। केकड़ी के मतदाताओं को कोई परेशानी न हो, इसलिए विभाग के अधिकारियों को खास निर्देश दे रखे हैं। इन निर्देशों के तहत ही 21 अप्रैल को विभाग के विशिष्ट शासन सचिव डॉ समित शर्मा ने केकड़ी के अस्पताल का निरीक्षण किया। अस्पताल में भर्ती मरीजों का कहना रहा कि डॉ झामरलाल मेघवाल अस्पताल के बजाए अपने घर पर बने अस्पताल में मरीजों को देखने में रुचि रखते हैं। घर के अस्पताल में मरीजों को देखने के लालच में सरकारी अस्पताल में भी विलंब से आते हैं। डॉ शर्मा को जब यह पता चला कि डॉ मेघवाल ने घर पर अवैध तौर पर अस्पताल चला रखा है तो केकड़ी के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी गणपतपुरी को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। डॉ पुरी ने 22 अप्रैल को ही डॉ मेघवाल को कारण बताओं नोटिस जारी कर दिया। इस नोटिस में मरीजों के आरोपों का भी उल्लेख किया गया। चूंकि यह नोटिस चिकित्सा विभाग के सबसे बड़े अधिकारी के निर्देश पर जारी हुआ, इसलिए उम्मीद थी कि 10-15 दिन डॉ मेघवाल अपने घर के अस्पताल में मरीजों को नहीं देखेंगे। लेकिन डॉ मेघवाल ने नोटिस की परवाह न करते हुए घोषित कर दिया कि अब वे रोजाना 6 घंटे अपने निजी अस्पताल में ही मरीजों को देखने का कार्य करेंगे। डॉ मेघवाल ने दिलेरी दिखाते हुए अपने अस्पताल के बाहर सूचना चस्पा की और इसी सूचना को सोशल मीडिया पर पोस्ट भी किया। इस सूचना से केकड़ी के मरीजों को जानकारी दी गई कि वे दोपहर को 12 से 2 बजे, शाम को 4 से 5 बजे तथा रात को 7 से 10 बजे तक मरीजों को अपने घर के अस्पताल में देखेंगे। यानि सरकारी अस्पताल के मरीज कुछ भी कहें, लेकिन वे तो रोजाना 6 घंटे घर पर ही मरीजों को देखेंगे। इतना ही नहीं सूचना में इस बात पर दु:ख जताया गया है कि अब वे सीरियस मरीज को टेकल नहीं करेंगे। जाहिर है कि यह सूचना उस नोटिस का जवाब है जो डॉ मेघवाल को दिया गया। मेघवाल की दिलेरी दिखाती है कि उन्हें चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा की भी परवाह नहीं है। सवाल यह भी है कि जब चिकित्सा मंत्री के क्षेत्र में इतनी दिलेरी है तो फिर प्रदेश की चिकित्सा व्यवस्था का अंदाजा लगाया जा सकता है। नोटिस के संबंध में डॉ मेघवाल का कहना है कि वे कोई गलत काम नहीं करते हैं। मैं सेवा की भावना से मरीजों का इलाज करता हंू। नियमों के अंतर्गत ही घर पर मरीजों को देखता हंू। जो डॉक्टर एनपीए की राशि नहीं लेते हैं, वे अपने घर पर मरीजों को देख सकते हैं। केकड़ी के लोगों का कहना है कि डॉ मेघवाल ने अपने घर में ही 8-10 बैड का अस्पताल खोल रखा है। यहां प्राथमिक इलाज के लिए मरीजों को भर्ती भी किया जाता है। चूंकि डॉ मेघवाल का घर पर व्यवहार अच्छा रहता है, इसलिए मरीज घर पर ही इलाज करवाना पसंद करते हैं, भले ही कितनी भी फीस ली जाए या संबंधित दुकान से ही दवाई लाने का दबाव डाला जाए। नोटिस के बाद भी जब इतनी दिलेरी दिखाई जा रही है तो फिर केकड़ी के मरीज तो भगवान भरोसे ही हैं।
एस.पी.मित्तलuniversalexpress.page


मोदी ने किया संस्कृति का श्रद्धा के साथ प्रदर्शन

 मोदी ने किया संस्कृति का श्रद्धा के साथ प्रदर्शन
हिन्दुस्तान के प्रधानमंत्री से और क्या चाहिए?
वाराणसी ! प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यूपी के बनारस से अपना नामांकन दाखिल किया। नामांकन से पहले मोदी ने बनारस के काल भैरव मंदिर में पूजा अर्चना की। मान्यता है कि भगवान का ख्याल काल भैरव ही रखते हैं, इसलिए काल भैरव को शिव की नगरी का कोतवाल कहते हैं। मोदी ने हमारी सनातन संस्कृति की मान्यताओं के अनुरूप नामांकन से पहले कोतवाल से अनुमति ली। बनारस में जो लोग सनातन संस्कृति को मानते हैं वे कोई भी कार्य करने से पहले काल भैरव मंदिर जाकर कोतवाल से अनुमति लेते हैं। मंदिर के पुजारी राजेश मिश्रा की ओर से मोदी को अंगवस्त्र, रुद्राक्ष की माला, विजय शंख आदि सामग्री दी गई, ताकि दुश्मनों पर विजय प्राप्त की जा सके। इससे पहले 25 अप्रैल को ऐतिहासिक रोड शो के बाद मोदी ने गंगा आरती में भाग लिया। जिन लोगों ने टीवी पर लाइव कवरेज देखा, उन्होंने देखा होगा कि आरती के दौरान प्रधानमंत्री एक साधारण श्रद्धालुु की तरह तालियां बजा रहे थे। माथे पर चंदन का बडा तिलक गले में गमछा, भगवा कलर का कुर्ता पहने नरेन्द्र मोदी सही मायने में बाबा भोले नाथ के भक्त लग रहे थे। यानि दो दिन में मोदी ने हमारी सनातन संस्कृति का प्रदर्शन करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। मोदी ने देश को यह दिखाया कि उन्हें अपनी सनातन संस्कृति पर न केवल गर्व है, बल्कि भरोसा भी। सनातन संस्कृति पर आधारित हमारे वेद ग्रंथों पर अमरीका और इंग्लैंड जैसे देश रिसर्च कर रहे हैं। सनातन संस्कृति किसी चमत्कार से कम नहीं है। यदि देश के प्रधानमंत्री को अपनी संस्कृति पर इतना भरोसा है तो फिर हिन्दुस्तान के प्रधानमंत्री से और क्या चाहिए? वहीं प्रधानमंत्री देश की सही मायने में रक्षा कर सकता है जो अपनी संस्कृति के अनुरूप आचरण करें। आज जब दुनियाभर में आतंकवाद का बोलबाला है, तब दुनिया के लोग मानते है कि भारत की सनातन संस्कृति ही कारगर हो सकती है कि इस संस्कृति में सभी का समावेश हो सकता है। सनातन संस्कृति ही सबका कल्याण करने में भरोसा रखती है। हमारी इस संस्कृति में कट्टरपंथ की कोई गुंजाइश नहीं है। प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए नरेन्द्र मोदी दुनिया में हमारी संस्कृति के वाहक भी बने हुए हैं। चुनाव के परिणाम कुछ भी हो, लेकिन नरेन्द्र मोदी अपनी संस्कृति में भरोसा रखने वाले हैं।
राजनीतिक ताकत का भी प्रदर्शन:
मोदी ने 2014 में यूपी के बनारस के साथ-साथ गुजरात के बदौड़ा से चुनाव लड़ा था, लेकिन इस बार मोदी सिर्फ बनारस से ही चुनाव लड़ रहे हैं। यह मोदी का आत्मविश्वास भी दिखाता है, जबकि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी के साथ-साथ केरल के वायनाड़ संसदीय क्षेत्र से भी चुनाव लड़ रहे हैं। वायनाड़ में हिन्दुओं के मुकाबले मुसलमान और ईसाई मतदाताओं की संख्या ज्यादा है। 26 अप्रैल को मोदी के नामांकन के मौके पर एनडीए के घटक दलों के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। भाजपा की ओर से यह दिखाने का प्रयास किया गया कि एनडीए में शामिल सभी दल एक साथ है।
एस.पी.मित्तल


विधायक ने लिखा ऊर्जा मंत्री एवं डीएम को पत्र

 विधायक ने लिखा उर्जा मंत्री और डीएम को पत्र


गाजियाबाद !देश में एकतरफ लोकसभा चुनाव के मद्दनजर सभी जनप्रतिनिधि दूसरे क्षेत्रों में पार्टी के प्रचार में व्यस्त है तो दूसरी तरफ लोनी विधायक क्षेत्रवासियों से अपने प्रतिनिधि, फोन और सोशल मीडिया के माध्यम से जुड़े हुए है। गुरुवार को लोनी के मंडोला, मीरपूर हिंदू और अल्लीपुर गांव के किसानों की तैयार फसल बिजली के हाईटेंशन तार में स्पार्किंग के कारण नष्ट हो गई थी। खबर सोशल मीडिया पर आई और विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने खबर का संज्ञान लेते हुए प्रतिनिधि पंडित ललित शर्मा को मौके का जायजा लेने के लिए कहा जिसके बाद विधायक ने प्रदेश के उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा और जिलाधिकारी को किसानों की मदद करने के लिए पत्र लिखा है। विधायक ने पत्र में लिखा है कि आगजनी से किसानों की कई एकड़ फसलों को नुकसान पहुंचा है जिसकारणवश उनके सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है। ऐसे में जरूरी है कि विद्युत विभाग के नेतृत्व में एक टीम बनाकर नुकसान का आकलन कर संबंधित किसान भाईयों को उचित मुआवजा प्रदान कर उनकी मदद की जाए जिससे उनके संकट का निदान हो सकें। विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने बताया कि प्रदेश सरकार किसान हितैषी है । शॉट सर्किट से किसानों की खड़ी फसल के नुकसान होने का दुख है। हमारे क्षेत्र के किसानों के सुख-दुख में मैं हमेशा खड़ा हूं। किसान भाईयों की यथाशीघ्र मदद के लिए प्रशासन और शासन को लिखा गया है उम्मीद है कि बहुत जल्द उनकी सहायता की जाएगी।


universalexpress.page


गाजियाबाद के लोनी क्षेत्र मे फैला रहे प्रदूषण

गाजियाबाद ! लोनी से भाजपा नेता जिला महामंत्री अल्पसंख्यक मोर्चा अलीमूद्दीन अंसारी ने बॉर्डर थाना प्रभारी को एक शिकायत पत्र देकर अवगत कराया कि है कि लोनी में कुछ लोगों द्वारा बेजुबान जानवरों पर अत्याचार कर अवैध कार्य किए जा रहे हैं जिसमें जबरन जलाए जा रहे तारों को बेल बुगी पर भरकर ले जाते समय आज सुबह एक बैल वजन अधिक होने के कारण नहर में जा गिरा जिससे उसको काफी चोट आई वह मौके पर मौजूद लोगों ने क्रेन की सहायता से बेजुबान जानवर को निकाला जिससे उसकी जान को भी खतरा हो सकता था अलीमूद्दीन अंसारी भाजपा नेता ने पुलिस से कार्रवाई करने की बात कही है इस मौके पर अलीमूद्दीन अंसारी ने बताया कि कुछ लोग बेजुबान जानवरों पर जबरन जुल्म कर रहे हैं वहीं लोनी में तार जलाना लोगों की जान से खिलवाड़ का कार्य है जिस पर पुलिस को कार्यवाही करनी चाहिए माननीय विधायक नन्द किशोर गुर्जर पिछले काफी समय से ऐसे लोगों के खिलाफ लड़ाई लड़ते आ रहे हैं जिसमें भाजपा उनके साथ है किसी भी प्रकार का जनता को नुकसान देने वाला कार्य या जानवरों पर होने वाला अत्याचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा इस दौरान अलीमूद्दीन अंसारी ने गुलशेर रंजीत व एहसान के नाम से थाने में तहरीर दे मुकदमा दर्ज करने की मांग की है


पूर्व शिक्षा मंत्री तिवारी ने की झुंझुनू वालों को जिताने की अपील


पूर्व शिक्षा मंत्री तिवाड़ी ने की झुनझुनवाला को जिताने की अपील


 


 अजमेर! राजस्थान के पूर्व शिक्षा मंत्री वह कांग्रेस नेता घनश्याम तिवाड़ी बतौर स्टार प्रचारक अजमेर पधारें ।अजमेर में आकर उन्होंने स्वामी कॉन्पलेक्स में कांग्रेस प्रत्याशी रिजु झुनझुनवाला के पक्ष में एक प्रेस वार्ता को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान तिवाड़ी ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के चुनावी घोषणा पत्र के बारे में खुलकर चर्चा की। चर्चा के दौरान तिवाड़ी ने बताया कि 2019 का चुनाव जीतने पर कांग्रेस पार्टी 72000 रुपये सालाना के हिसाब से 5 करोड़ परिवारों को लगभग तीन लाख साठ हजार करोड रुपए की राशि सीधे उनके बैंक खाते में डालेगी।यह अपने आप में देश के आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग को सशक्त बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम होगा। वरिष्ठ पत्रकार अनुपम जैन के यह पूछने पर कि इस धनराशि का इंतजाम कहां से होगा ? कल राहुल गांधी ने तो यह कहा कि नीरव मोदी और अनिल अंबानी के खाते से यह राशि ट्रांसफर करेंगे ?तिवाड़ी बोले कि - यह राशि केंद्र सरकार द्वारा चलाये जाने वाले कार्यक्रमों में से बचे धन से ली जाएगी जिन योजनाओं का कार्य लगभग पूरा हो चुका है । जिसमें पूरे देश में शैक्षणिक ढांचे को मजबूत करने का कार्य जो कि लगभग पूर्ति पर है । इस तरह के सरकारी योकनाओं से बचे धन में से न्याय योजना पर खर्च किया जाएगा। तत्पश्चात अनौपचारिक बातचीत के दौरान जब वहां मौजूद पत्रकारों ने उनसे यह पूछा कि - क्या आपको लगता है कि वाकई शैक्षणिक ढांचा इतना मजबूत हो चुका है कि इसका धन अब न्याय योजना जैसे किसी और कार्यक्रम पर खर्च किया जा सके ? जिस का उत्तर तिवाड़ी केंद्रीय और राज्य सरकार के वित्तीय आंकड़ों पर आधारित गणना से देने लगे। जिस पर उन्हें पत्रकारों द्वारा यह बताया गया कि - आज भी सरकारी स्कूलों की हालत बहुत खस्ता है। राजस्थान तो क्या बिहार में भी कुछ ऐसी स्कूल्स है जिनमें कक्षा एक से लेकर चौथी तक के विद्यार्थी एक ही हॉल में बैठकर शिक्षा ग्रहण करते हैं।जिसका उत्तर देते हुए तिवाड़ी ने कहा कि - सिर्फ शिक्षा ही नहीं कई और भी ऐसे कार्यक्रम है जिससे अब सर प्लस धन निकाल कर न्याय योजना की तरफ लगाया जा सकता है। और यह कोई बहुत बड़ी मुश्किल बात नहीं है ।और बहुत आराम से यह लक्ष्य आने वाले समय में धन के सुनियोजन से प्राप्त किया जा सकता है।कुछ हल्के फुल्के मजाकिया पलों में जब तिवाड़ी से यह कहा गया कि - आपने अपना पूरा जीवन राजनीतिक सेवा को दिया है । और अब एक तरह से उम्र के आखरी पड़ाव में आकर आप अपने आप को कहां देखते हैं । क्या कांग्रेस पार्टी आप द्वारा दिए गए समर्थन से इस लोकसभा चुनाव में कुछ लाभ उठा पाएगी ?तिवाड़ी ने मुस्कुरा कर कहा - आप इसे इतनी जल्दी क्यो मेरी उम्र का आखिरी पड़ाव कह रहे हैं ?मैं आपको यकीन दिलाना चाहता हूं कि जिस तरह से पूरे देश भर में अन्ना हजारे और बाबा रामदेव कि अपनी अपनी मुहिम का फायदा सन 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा को मिला कुछ उसी तरह का राजनीतिक लाभ मेरे यात्रा और मेरे आंदोलनों की वजह से कांग्रेस पार्टी को इस चुनाव में मिला है। मैं अब पूरी तरह से कांग्रेस पार्टी को ही समर्पित रहूंगा ।जिस पर एक पत्रकार ने चुटकी लेते हुए कहा कि तो साहब जब इतना आप ने कर लिया है कांग्रेस पार्टी के लिए तो आप कोई उम्मीद भी कांग्रेस से रखनी चाहिए कि आपको कहीं ना कहीं सम्मानजनक पद पर बैठाया जाए। जिस पर वहां मौजूद कांग्रेस नेता ललित भाटी ने कहा कि आप बेफिक्र रहें बस इस चुनाव बाद यह भी हो जाएगा।universalexpress.page


 


नरेश राघानी


हंसराज के बाद अब दलेर मेहंदी भी भाजपा में शामिल

हंसराज के बाद अब दलेर मेहंदी भी भाजपा में शामिल


दिल्ली ! भारतीय जनता पार्टी में सितारों के आने का सिलसिला जारी है। मशहूर पंजाबी गायक दलेर मेहंदी दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी और केंद्रीय मंत्री विजय गोयल की मौजूदगी में शुक्रवार को दिल्ली कार्यालय में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए।


उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट से भाजपा उम्मीदवार हंस राज हंस, केंद्रीय मंत्री और चांदनी चौक से उम्मीदवार हर्ष वर्धन और पार्टी के अन्य नेता भी इस मौके पर मौजूद थे। कुछ दिन पहले ही हंसराज हंस भाजपा में शामिल हुए थे और उन्हें उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट से टिकट भी मिल गया। बता दें कि दलेर मेहंदी, हंसराज हंस के समधी हैं। मेहंदी की बेटी की शादी हंस के बेटे से हुई है।universalexpress.page


आसाराम का बेटा रेप में दोषी करार, 30 अप्रैल को सजा

आसाराम का बेटा रेप में दोषी करार, 30 अप्रैल को सज़ा


सूरत ! बलात्कार के मामले में आजीवन कारावास की सज़ा काट रहे आसाराम के बेटे नारायण साईं को सूरत सेशन कोर्ट ने नारायण साईं को साध्वी से रेप करने के मामले में दोषी करार दे दिया है। अदालत अब 30 अप्रैल को नारायण साईं को सज़ा सुनाएगी।नारायण साईं के खिलाफ साधिका ने बलात्कार का मामला दर्ज कराया था। आज अदालत ने उसे इस मामले में दोषी करार दिया गया है। इस मामले में नारायण साईं समेत दस आरोपी हैं। इनमें नारायण साईं के अलावा सभी फिलहाल ज़मानत पर बाहर हैं।


बता दें कि साईं को सूरत की एक महिला से दुष्कर्म करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उन पर आरोप है कि साईं ने महिला से उस वक्त दुष्कर्म किया, जब वे आसाराम के आश्रम में थी। साईं को दिसम्बर 2013 में लाजपोर सेंट्रल जेल भेजा गया था। आसाराम खुद दुष्कर्म के आरोप में राजस्थान की जोधपुर जेल में बंद हैं।आसाराम को एक लड़की से रेप के जुर्म में जोधपुर की विशेष अदालत ने दोषी ठहराते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। यह घटना पांच साल पहले आसाराम के आश्रम की है। स्पेशल कोर्ट ने इस मामले में दो अन्य लोगों को भी दोषी करार दिया, जबकि दो आरोपियों को बरी कर दिया गया।



मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर

मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर ।
गाजियाबाद ! मानकों के अनुरूप ही नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों का नवीनीकरण ।
गाजियाबाद जनपद में प्राइवेट नर्सिंग होम व हाॅस्पिटल उधोग में अग्नि सुरक्षा और संरक्षण एवं अन्य मानकों का अधिक महत्व है ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर होने के कारण नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों के प्रबंधक एवं संचालक से स्वास्थ्य अधिकारी सुरक्षा मानकों को पूरा नहीं करा पा रहें हैं ? जो एक गंभीर मामला है ? जो नर्सिंग होम व हाॅस्पिटल वर्षों से संचालित है उन्होंने भी आज तक सुरक्षा मानकों को पूरा नहीं किया है ? फिर भी मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय से नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों के नवीनी करण प्रति वर्ष हो रहें हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी अपने नीजी स्वार्थ के चलते कर्तव्यों को निर्वाह ठीक से नहीं कर रहे हैं ?
हम आपके संज्ञान में लाना चाहते हैं कि भारत में मरीजों की सुरक्षा के सवाल पर कोलकाता में शोक की लहर दौड़ गई थी । अस्पताल में सुरक्षा उपयोग की अनिश्चितता के कारण रोगियों और साथ ही 90 से अधिक व्यक्तियों की मृत्यु हो गयी थी ।
जिससे यह संपूर्ण घटना सरकार के साथ- साथ स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता के लिए आँख खोलने वाली बन गयी ?
मुख्य चिकित्सा अधिकारी न मालूम क्यों नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों की सुरक्षा मानकों की ओर सेआँखें मूदें बैठे हैं ?
जबकि जनपद के नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों के प्रबंधक व संचालक प्रदेश व देश में आग की घटित घटनाओं से सबक नही लेते हुए मरीज, तिमारदार, कर्मचारियों के साथ जीवन से खिलवाड़ कर रहे हैं । जब कोई अप्रिय घटना घट जाती है तो उससे फिर विभाग के साथ- साथ सरकार की भी छवि खराब होती है ।
नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों में सुरक्षा व्यवस्था में सुधार हेतु पानी का भूमिगत टैंक जिसकी क्षमता कम से कम 25000 किलो लीटरहोनी अनिवार्य है । भवन मानचित्र में स्वीकृति होनी चाहिए । भवन के सैट बैक भवन विनियावली के अनुसार सैट बैक सदैव अवरोध मुक्त होने चाहिए । पंप और पंप रूप होने चाहिए । दो पम्प जिसमें एक बिजली से दूसरा डीजल से चलने वाला होना चाहिए । नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों के संचालकों द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में पंजीकरण कराते समय प्राधिकरण से भवन निर्माण का सम्पूर्ण प्रमाण- पत्र एवं अग्नि शमन विभाग का अन्तिम अनापत्ति प्रमाण पत्र की प्रति लगानी आवश्यक हैं । वरना एक महिने में स्वीकृति स्वयं नियमानुसार निरस्त मानी जायेगी ।
नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों का निकास मार्ग उपविधि /एन0 बी0 सी 0 के अनुसार होनी चाहिए ।
क्योंकि प्राधिकरण का भवन निर्माण का सम्पूर्ण प्रमाण पत्र एवं अग्नि शमन विभाग से अन्तिम अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त किये बिना भवन का उपयोग नहीं किया जा सकता है ?
नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों में जनपद में वर्षों से संचालित नर्सिंग होम व हाॅस्पिटलों में प्रबंधक व संचालकों द्वारा उत्तर प्रदेश अग्नि निवारण एवं अग्नि सुरक्षा नियमावली व नेशनल बिल्डिंग आॅफ इंडिया- 2005 के अनुसार अग्नि शमन व्यवस्थाएँ पूर्ण नहीं है । जिन्हें पूर्ण करना नियमानुसार अनिवार्य है । सुरक्षा की दृष्टि से नियमों का पालन कराना स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की जिम्मेदारी है ?
सुरेश शर्मा


जीतेंगे मोदी ही, लेकिन सक' मिली-जुली धारणा

जीतेंगे मोदी ही, लेकिन शक', मिली-जुली धारणा


वाराणसी! पीएम नरेंद्र मोदी के रोड शो का काफिला जब वाराणसी के मुस्लिम बहुल मदनपुरा और सोनारपुरा इलाके से होकर गुजरा तो कार में सवार प्रधानमंत्री की एक झलक पाने के लिए हाफिज जमाल एक स्थानीय मस्जिद से बाहर निकल आए। इसी तरह से सोनारपुरा में एक अन्य मुस्लिम युवक ने पीएम मोदी की तरफ शॉल उछाला, जिसे पीएम ने शालीनता से स्वीकार कर लिया।


हाफिज जमाल ने हमारे सहयोगी इकनॉमिक टाइम्स से बातचीत में बताया, 'कोई और नहीं, बल्कि मोदी ही जीतेंगे। लेकिन मैं उन्हें वोट दूंगा या नहीं, यह नहीं कह सकता हूं।' इसी तरह से मदनपुरा इलाके में भी कई सारे मुस्लिमों ने इस बात को स्वीकार किया कि वाराणसी से पीएम मोदी ही जीतेंगे, लेकिन साथ ही कहा कि इसका मतलब यह नहीं कि उन्हें कोई आशंका नहीं है।मदनपुरा में रिजवान साड़ी आर्ट्स चलाने वाले शमीन अख्तर और नसीम अख्तर ने कहा, 'अगर मोदीजी लोगों को जोड़ना और अल्पसंख्यकों तक पहुंचना चाहते हैं तो फिर वह क्यों साध्वी प्रज्ञा जैसे लोगों को टिकट दे रहे हैं, जो खुलेआम बाबरी मस्जिद तोड़ने का दावा करती हैं।universalexpress.page


 


मुरादाबाद में छात्र ने लगाई तीन मंजिल से छलांग

मुरादाबाद में छात्र ने लगाई तीन मंज़िल से छलांग


 



मुरादाबाद- महानगर के थाना मुग़लपुरा क्षेत्र के अंतर्गत मंडी बांस स्थित महाराजा अग्रसेन इंटर कॉलेज में दो छात्रों के बीच एक किताब को लेकर कुछ तीखी नोकझोंक हो गई थी जिसको नूरे आलम नाम के छात्र ने संजीदगी से लेकर तीन मंज़िल से छलांग लगा ली इतनी देर में कोई नीचे से उसे बचाने के लिए ऊपर जाता तो उसने देखते ही देखते छलांग मार दी नूरे आलम निवासी बरवालान कक्षा 10th का छात्र था प्रधानाध्यापक रश्मि ठाकुर का कहना है जिस समय नूरे आलम जाल से नीचे की ओर लटका हुआ था उस समय मे नीचे से रोकने का प्रयास लगातार कर रही थी पर छात्र ने अपने प्रधानाध्यापक की एक ना सुनी और देखते ही देखते नीचे प्रधानाध्यापक के आगे आ गिरा तभी पूरे स्कूल में एक कोहराम सा मच गया तुरन्त ही प्रधानाध्यापक ने नूरे आलम को उपचार के लिए दिल्ली रोड स्थित साईं अस्पताल में भर्ती कराया नूरे आलम के परिजनों के साथ साथ प्रधानाध्यापक का भी रो रो कर बुरा हाल है प्रधानाध्यापक रश्मि ठाकुर का कहना है मेरे स्कूल में पड़ने वाला हर एक बच्चा मेरा अपना बच्चा है जैसे ही नूरे आलम नीचे गिरा मुझे ऐसा लगा कि जैसे मेरा बेटा गिर गया मौके पर पहुँचे फ़ैज़ गंज चौकी प्रभारी अश्वनी शर्मा ने मामले को संज्ञान में लेते हुए छलांग लगाने की असल वजह की जाँच शुरू कर दी है।universalexpress.page


आरपीएफ करमचारी पर किया जानलेवा हमला


  1. आरपीएफ कर्मचारी पर किया जानलेवा हमला

  2. रायपुर! शिवानंद नगर मे दो शासकीय कर्मचारियों के बीच मारपीट की घटनाएं हुई। आर पी एफ सेटलमेंट आफिस डब्लू आर एस रायपुर छत्तीसगढ़ में सिपाही पोस्ट पर नंदकुमार साहू कार्यरत हैं इनके साथ रेलवे के गार्ड अमित कुमार ने जानलेवा हमला कर घायल कर दिया सिपाही के सर चेहरे पर गंभीर चोटे आई है थाना खमतराई में शिकायत करने पर खमतराई पुलिस ने जिला अस्पताल में घायल सिपाही का डाक्टरी मुलायजा करवाया गया, सूत्रों के अनुसार विवाद आम रास्ता को लेकर हुई कहा जाता है कि रेलवे गार्ड ने शासकीय भूमि पर अवैध रूप से गेट लगा दिया है और अन्य लोगों को आने जाने से रोका जाता है इसी विवाद को लेकर आज मारपीट किया गया है थाना खमतराई पुलिस ने घायल सिपाही के शिकायत पर आरोपी रेलवे गार्ड के खिलाफ धारा भा,द,स, 294/506/323 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है समाचार लिखे जाने तक आरोपी पुलिस पकड़ से बाहर हैं । दिनेश चंद्र कुमार universalexpress.page


लोनी विधायक ने कहा ,दुनिया के सबसे बड़े लीडर है मोदी

लोनी विधायक ने कहा ,दूनिया के सबसे बड़े लीडर है मोदी


वाराणसी! मोदी ने नामांकन से पूर्व बनारस में एतिहासिक रोड शो किया। इस दौरान काशी की जनता और पूरे देश से पहुंचे लोगों ने नरेंद्र मोदी का भव्य स्वागत किया। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय, भाजपा के प्रदेश व देश के कद्दावर नेता, लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर, बागपत विधायक योगेश धामा, बढ़ौत विधायक केपी मलिक, गाजियाबाद जिपं अध्यक्ष पति पवन मावी, अशोक नागर आदि सैकड़ों समर्थकों के साथ प्रधानमंत्री के रोड शो को भव्य बनाने के लिए पहुंचे।वहीं लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कहा कि महोदव की पवित्र नगरी में जनता का जनसैलाब का सड़कों पर यशस्वी प्रधानमंत्री जी के स्वागत के लिए उमड़ना अपने आप में एक अद्भुत दृश्य था ! जो संयोग से देखने को मिलता है। आज का रोड शो एतिहासिक है! मैंने इतनी संख्या में लोगों का हुजूम आज तक नहीं देखा। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व के सबसे बड़े नेता है जिनके लिए जनसैलाब के रूप में भीड़ उमड़ती है। बहुत जल्द भारत नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विश्वगुरू बनेगा।


भाजपा कमेटी ने लखनऊ में किया चुनाव प्रचार

भाजपा कमेटी ने  लखनऊ में किया चुनाव प्रचार


लखनऊ ! लखनऊ लोकसभा माननीय श्री राजनाथ सिंह  के चुनाव प्रचार में वार्ड नम्बर 105 राजा बाजार मौलवीगंज मे नुक्कड़ सभा आयोजित की गई l सभा को श्री नीरज सिंह ने सम्बोधित किया उन्होने वहा के निवासियो से अपील की आने वाली 6 तारिक को कमल के निशान पर बटन दबाकर भारी से भारी मतो से माननीय राजनाथ सिंह को विजय बनाए ओर फिर से आदरणीय मोदी जी की सरकार बनवाए l नुक्कड़ सभा में मण्डल अध्यक्ष मध्य मुकेश रस्तोगी ,गाज़ियाबाद पार्षद सरदार सिंह भाटी ,मण्डल महामंत्री राजीव वाजपेयी पूर्व पार्षद नवीन बाबा मण्डल उपाध्यक्ष राकेश सिंह , पूर्व सेक्टर प्रमुख प्रशांत श्रीवास्तव पार्षद प्रत्यासी पूर्व किरण रस्तोगी ,कालीचरन पहलवान,अजय त्यागी ,रवि भाटी,पार्षद राजेन्द्र तितोरिया ,कैलाश यादव,दीपक ठाकुर, अजय चौधरी, सोमनाथ चौहान,आदी भाजपा कार्यकर्ता एवम क्षेत्र की सम्मानित जनता सभा में उपस्तिथ रहे!universalexpress.page


दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...