गुरुवार, 4 मई 2023

बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी 

बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी 


मुख्यमंत्री ने बुद्ध पूर्णिमा पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। बृहस्पतिवार को यहां जारी एक शुभकामना संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा बुद्ध का अहिंसा, करुणा और मैत्री का संदेश सम्पूर्ण मानवता के लिए अमूल्य निधि है। उन्होंने चित्त की शांति तथा हृदय में करुणा की शिक्षा दी। वर्तमान समय में महात्मा बुद्ध के बताये मार्ग पर चलकर विश्व में शांति एवं सद्भाव का वातावरण सृजित किया जा सकता है। महात्मा बुद्ध का संदेश मानव मात्र के लिए हमेशा प्रासंगिक बना रहेगा।

मख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा बुद्ध की शिक्षा हम सभी को जीवन में धर्म का आचरण करने, नैतिक मूल्यों और अपने कर्तव्यों के प्रति जागरूक रहने के लिए प्रेरित करती है। महात्मा बुद्ध ने विश्व कल्याण के लिए मैत्री भावना तथा बिना किसी भेदभाव के संगठित रहने पर बल दिया। साथ ही, अतीत या भविष्य का चिंतन न करके वर्तमान का सदुपयोग करने की शिक्षा दी।

गौशालाओं की उचित व्यवस्था के संबंध में बैठक  

गौशालाओं की उचित व्यवस्था के संबंध में बैठक  

पंकज कपूर 

देहरादून। मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने गुरुवार को सचिवालय में राज्य स्तर पर निराश्रित गौवंश के रहने के लिए गौशालाओं की उचित व्यवस्था के संबंध में बैठक ली। मुख्य सचिव ने शहरों में निराश्रित गौवंश के लिए गौशालाओं के निर्माण किए जाने हेतु जिलाधिकारियों को भूमि चिन्हित किए जाने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने कहा कि योजना से पूरे प्रदेश को अच्छादित करना है। उन्होंने विशेषकर चारधाम यात्रा मार्ग में आने वाले शहरों में घूम रहे गौवंशों को गौशालाओं में रखे जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शहरी विकास विभाग, नगर निगम और पशुपालन विभाग इस सम्बन्ध में अपने अपने निर्धारित कार्य करें, ताकि किसी प्रकार का संशय न हो।

मुख्य सचिव ने कहा कि गौशालाओं का संचालन एनजीओ के माध्यम से कराया जाए। उन्होंने सभी नगर निगमों और नगर पालिकाओं में जानवरों को उठाने के लिए हाइड्रोलिक वाहनों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। कहा कि इससे जानवरों को लिफ्ट करने में घायल होने से बचाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी, नगर निगम, नगर पालिकाएं और नगर पंचायतें इस कार्य के लिए एनजीओ सहित भूमि की तलाश शुरू करें।

मुख्य सचिव ने कहा कि गौशालाओं के लिए भूमि लीज पर दिए जाने का अधिकार जिलाधिकारियों को दिया जाएगा। पुरानी गौशालाओं के विस्तारीकरण और नई गौशालाओं के निर्माण के लिए जिलाधिकारी निर्णय ले सकेंगे। जिलाधिकारी यह भी सुनिश्चित करेंगे कि नगर निगम, नगर पालिकाएं एवं नगर पंचायतें पूरी तरह से आच्छादित हो गई हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे स्थान जहां बायो गैस बनाई जा सकती है, उन स्थानों में बायो गैस योजनाएं शुरू की जाएं।

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव श्री आनन्द बर्द्धन, सचिव श्री नितेश झा, डॉ. बी.वी.आर.सी. पुरुषोत्तम एवं अपर सचिव शहरी विकास श्री नवनीत पाण्डेय सहित अन्य उच्चाधिकारी एवं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलाधिकारी उपस्थित थे।

नाइजीरियन नागरिक सहित 4 लोगों को अरेस्ट किया

नाइजीरियन नागरिक सहित 4 लोगों को अरेस्ट किया

अकांशु उपाध्याय/कविता गर्ग 

नई दिल्ली/मुंबई। मुंबई में पुलिस ने एक नाइजीरियन नागरिक सहित चार लोगों को 32 लाख रुपये की ड्रग्स के साथ गिरफ्तार किया है। इन आरोपितों को कोर्ट ने 6 मई तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया है। इस मामले की छानबीन कर रहे एक पुलिस अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि 22 अप्रैल को गोरेगांव में ड्रग पेडलर शशिकांत जगताप (31) को 5 लाख रुपये मूल्य के ड्रग्स के साथ पुलिस टीम ने गिरफ्तार किया था।

इस आरोपित की निशानदेही पर नाइजीरियन नागरिक सहित चार आरोपितों को मुंबई के विभिन्न इलाकों से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किए गए आरोपितों की पहचान सूरज हबीब शेख, जहीर वहाबुद्दीन कुरैशी, रियाज नासिर अली सय्यद और नाइजीरियन नागरिक संडे जॉन अंबाजेज के रूप में की गई है। इन सभी आरोपितों से गहन छानबीन जारी है और मुख्य ड्रग तस्कर के बारे में जानकारी इकठ्ठा की जा रही है।

अंधविश्वास: स्वर्गदूतों से बातें कर सकती हैं महिला

अंधविश्वास: स्वर्गदूतों से बातें कर सकती हैं महिला


डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत 

लंदन। दुनिया में अंधविश्वास फैलाने वाले लोगों की कोई कमी नहीं है। हर जगह आपको ऐसे तमाम लोग देखने को मिल जाएंगे, जो ये अंधविश्वास फैलाते रहते हैं कि उन्होंने भूत-प्रेतों को देखा है और कुछ लोग तो ये भी दावा करते हैं कि वो आत्माओं से बातें भी करते हैं। ऐसे अजीबोगरीब दावे अक्सर ढोंगी बाबा टाइप लोग ही करते हैं और भारत में तो ऐसे ढोंगी बाबाओं की कोई कमी नहीं है। ये बाबा टाइप लोग आम लोगों को ऐसे ही अंधविश्वास के जाल में फंसा कर लाखों रुपये भी लूट लेते हैं, पर ये सोचने वाली बात है कि क्या सच में कोई आत्माओं से बातें कर सकता है ? ब्रिटेन की रहने वाली एक महिला ने कुछ ऐसा ही दावा करके सभी को हैरान कर दिया है।

महिला का नाम क्लोए स्मिथ है और वह अभी महज 25 साल की है। क्लोए दावा करती हैं कि वह मरे हुए लोगों के साथ-साथ एंजेल्स यानी स्वर्गदूतों से भी बातें कर सकती हैं। क्लोए की इस ‘अद्भुत शक्ति’ के बारे में जानने के बाद अब उनके पास दुनियाभर से लोग आने लगे हैं, जिसमें बड़े-बड़े सेलिब्रिटी और उनके रिश्तेदार भी शामिल हैं। बड़े-बड़े लोग बन गए हैं, क्लाइंटक्लोए दावा करती हैं कि उनकी दादी के मरने के बाद उन्हें अपनी इस ‘शक्ति’ के बारे में पता चला कि वो आत्माओं को भी देख सकती हैं और उनसे बातें कर सकती हैं।

वो कहती हैं कि करीब एक साल पहले उन्होंने अपनी इस ‘शक्ति’ के बारे में दुनिया को बताना भी शुरू किया था और तब से उनके पास बड़े-बड़े लोगों की लाइन लग गई है, जो उनकी मदद लेते नजर आते हैं। क्लोए पहले फ्री में ही अपनी इस विशेष ‘शक्ति’ के इस्तेमाल से लोगों की मदद किया करती थीं, लेकिन इस साल से उन्होंने इसे अपना बिजनेस बना लिया है। वह एक आत्मा से बात करने के बदले लोगों से 35 डॉलर वसूलती हैं।

वह कहती हैं कि उन्हें किसी भी इंसान की आत्मा से जुड़ने और उससे बातें करने के लिए उसकी फोटो की जरूरत पड़ती है। आमतौर पर भूत-प्रेतों का नाम सुनते ही लोग डर जाते हैं, लेकिन क्लोए कहती हैं कि उन्हें आत्माओं से बातें करने में कोई डर नहीं लगता।

व्यवस्थाओं एवं मतदान की स्थिति का जायजा लिया

व्यवस्थाओं एवं मतदान की स्थिति का जायजा लिया


पुलिस कमिश्नर, डीएम व मुख्य विकास अधिकारी ने अति संवेदनशील बूथों का किया निरीक्षण

बृजेश केसरवानी 

प्रयागराज। पुलिस आयुक्त रमित शर्मा व जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार खत्री, मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार ने गुरूवार को नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन-2023 के मतदान के अवसर पर अति सम्वेदनशील बूथों मजीदीया इस्लामिया इंटर कॉलेज व दौलत हुसैन मुस्लिम इंटर कॉलेज बने मतदान केन्द्रों का भ्रमण कर मतदान केन्द्रों पर की गई व्यवस्थाओं एवं मतदान की स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने मतदान प्रक्रिया को सकुशल, निष्पक्ष एवं पारदर्शी ढंग से सम्पन्न कराये जाने हेतु सम्बंधित को निर्देशित करते रहे।

उन्होंने वहां पर प्रत्येक मतदेय स्थल का निरीक्षण किया और वहां पर सुरक्षा व्यवस्था, उस समय तक के मतदान की स्थिति, मतदान अभिकर्ता की उपस्थिति, कितने बजे मतदान प्रारंभ हुआ आदि की जानकारी ली तथा विजिटिंग शीट पर हस्ताक्षर भी किए। पुलिस आयुक्त रमित शर्मा व जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार खत्री ने गुरूवार को नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन-2023 के मतदान के अवसर पर आदर्श पिंक बूथ मेरी वानामेकर गर्ल्स इंटर कॉलेज व सी.ए.वी. इंटर कॉलेज में बने केन्द्रों का भ्रमणकर मतदान केन्द्रों पर की गई व्यवस्थाओं एवं मतदान की स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने मतदान प्रक्रिया को सकुशल, निष्पक्ष एवं पारदर्शी ढंग से संपन्न कराएं जाने हेतु सम्बंधित को निर्देशित करते रहे।

पुलिस आयुक्त रमित शर्मा व जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार खत्री ने गुरूवार को नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन-2023 के मतदान के अवसर पर आदर्श पिंक बूथ मेरी वानामेकर गर्ल्स इंटर कॉलेज व सी.ए.वी. इंटर कॉलेज, केसर विद्यापीठ इंटर कॉलेज में बने केन्द्रों का भ्रमणकर मतदान केन्द्रों पर की गई व्यवस्थाओं एवं मतदान की स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने मतदान प्रक्रिया को सकुशल, निष्पक्ष एवं पारदर्शी ढंग से सम्पन्न कराये जाने हेतु सम्बंधित को निर्देशित करते रहे।

यूपी में 'माफिया' की कोई जगह नहीं: सीएम 

यूपी में 'माफिया' की कोई जगह नहीं: सीएम 


वेस्ट यूपी में था अनिल दुजाना का खौफ, एनकाउंटर के बाद सीएम योगी का बड़ा बयान

संदीप मिश्र 

लखनऊ। गैंगस्टर अनिल दुजाना एनकाउंटर के बाद सीएम योगी का बड़ा बयान सामने आया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी में माफिया की कोई जगह नहीं। इससे पहले बिजनौर में ढाई लाख का इनामी आदित्य राणा मुठभेड़ में मारा गया था। बता दें, कि पुलिस ने कुख्यात अनिल दुजाना को गुरुवार को मेरठ में मुठभेड़ में मार गिराया। बताया गया कि मेरठ में भोला झाल पर सक्रिय होने की पुख्ता जानकारी होने के बाद एसटीएफ ने उसे चारों ओर से घेर लिया था।

इस दौरान उसने पुलिस पर फायरिंग करते हुए भागने की कोशिश की लेकिन पुलिस की टीम ने उसे चारों ओर से घेर लिया। इसी बीच पुलिस की गोली लगने से वह ढेर हो गया।कुख्यात बदमाश अनिल दुजाना का वेस्ट यूपी में खौफ था। बृहस्पतिवार दोपहर को मेरठ में भोला की झाल पर एसटीएफ के साथ मुठभेड़ में मारा गया। अनिल दुजाना वेस्ट यूपी में खौफ का पर्याय बना हुआ था। उस पर लूट डकैती हत्या समेत 60 से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे। मेरठ में एसटीएफ के एसपी बृजेश सिंह के नेतृत्व में टीम ने उसे गंगनहर पर लोकेशन मिलने के बाद घेर लिया, अनिल दुजाना ने एसटीएफ की टीम पर फायरिंग की, जवाबी फायरिंग में वह मारा गया।

प्रत्याशी प्रभा के कार्यालय का उद्घाटन, आह्वान 

प्रत्याशी प्रभा के कार्यालय का उद्घाटन, आह्वान 

राशिद खान 
पिलखुवा। नगर के वार्ड नंबर 18 में सभासद के प्रत्याशी प्रभा गहलोत के कार्यालय का उद्घाटन भाजपा विधायक धर्मेश तोमर एवं चेयरमैन प्रत्याशी विभु बंसल के द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। इस अवसर पर विधायक धर्मेश सिंह तोमर ने सभी वार्ड वासियों से चैयरमेन पद के प्रत्याशी विभु बंसल व प्रभा गहलोत को विजयी बनाने का आह्वान किया। इस अवसर पर भारी संख्या में वार्ड वासी एकत्रित हुए। जिसमें बबलू सिसोदिया, कटार सिंह चौधरी, प्रवीन रावत, राजेश चौधरी, राजकुमार चौधरी, सिद्धांत रावत, सोनू, वैद्य, ललित वेध, पंकज गर्ग, धीरज गर्ग, भगवान गोयल, कमल कुमार कंसल, बृजमोहन पिन्नी, वैभव गर्ग, कुशाग्र कंसल, मोंटू राम, गजेंद्र सिसोदिया, केशव शर्मा, हिमांशु शर्मा आदि उपस्थित रहे। 
डोर-टू-डोर अभियान भाजपा प्रत्याशी ने मांगे वोट
नगर के वार्ड नंबर 15 में चेयरमैन प्रत्याशी विभु बंसल एवं सभासद प्रत्याशी कमलेश देवी के लिए वोट मांगने के क्रम में डोर टू डोर जनसंपर्क किया गया। इस दौरान सभी वार्ड वासियों का स्नेह प्राप्त हुआ। इस अवसर पर दिनेश पंसारी, मनीष माहेश्वरी, कमल कुमार कंसल, नरेश तेवतिया, मंगू राम प्रजापति, प्रेम प्रजापति, डॉक्टर सुभाष, वसीम मलिक, मंगलू मलिक, आयुष सिरोही, संजय तोमर, सोनू तोमर, नत्थू प्रजापति, प्रकाश प्रजापति, सोहनलाल, चमन, चंद्रपाल, धर्मवीर, धर्मेंद्र, नंदू, मोनू आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

'कलम के सिपाही' सम्मान समारोह का आयोजन 

'कलम के सिपाही' सम्मान समारोह का आयोजन 


अन्य पिछड़ा आयोग दिल्ली सरकार द्वारा विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस के अवसर पत्रकारों को सम्मान

अकांशु उपाध्याय/पुनीत गोस्वामी 

नई दिल्ली। अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग, दिल्ली सरकार द्वारा 'विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस' के अवसर पर "कलम के सिपाही" सम्मान समारोह का आयोजन नई दिल्ली स्थित अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग के मुख्य कार्यालय में किया गया। जिसमें आयोग के चेयरमैन जगदीश यादव, आयोग के सचिव रंजीत सिंह, प्रबुद्ध समाजसेवी डा.भरत झा द्वारा पत्रकारों एवं मीडिया कर्मियों को सम्मानित किया गया। इस मौक़े पर स्वामी शैलेशानंद जी महाराज वेदाश्रम पीठाशीश्वर, फैस्टा के अध्यक्ष परमजीत सिंह पम्मा, डॉक्टर धर्मपाल भारद्वाज अतिथि रूप में उपस्थित रहे।

साथ ही कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोगी के रूप में निष्ठा ध्वनि एवं आके-देख नेटवर्क से संदीप कुमार और सलोनी गुलाटी का योगदान रहा। सम्मान समारोह में आयोग द्वारा स्मृति चिह्न व प्रस्सति पत्र प्रदान कर करीब 50 मीडिया कर्मियों को सम्मानित किया गया। जिसमें गीता प्रकाशन से पंकज अग्रवाल, उत्तर प्रदेश कृषि अनुसंधान परिषद के मीडिया सलाहकार पुनीत गोस्वामी, ए.बी.पी. न्यूज़ चैनल से रंजीत कुमार, भारत एक्सप्रेस न्यूज़ चैनल से कपिल गौर, पंजाब केसरी से ब्यूरो चीफ सत्येंद्र त्रिपाठी, सांध्य वीर अर्जुन से विजय शर्मा, मेट्रो मीडिया से नवीन गौतम, आज तक न्यूज़ चैनल से मनोरंजन कुमार, दैनिक भास्कर से राजेश जॉन पौल, मौलिक भारत से योगी राजकुमार नाथ एवं शिवानी शर्मा, टीवी 100 से सुनील परिहार एवं वंदना ठाकुर, अमर एकता से सुधीर चौहान, सूचना और प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार से राजन शर्मा आदि पत्रकारों को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष जगदीश यादव सहित सचिव रणजीत सिंह, पूर्व फायर चीफ दिल्ली राष्ट्रपति अवार्ड से सम्मानित डॉक्टर धर्मपाल भारद्वाज भी मौजूद रहे। कार्यक्रम के मुख्य रूप से आयोजक जगदीश यादव ने कहा की प्रेस किसी भी समाज का आईना होता है। लोकतांत्रिक देश में प्रेस की स्वतंत्रता एक मौलिक जरूरत है। इस अवसर पर आयोग के सचिव रंजीत सिंह जी ने कहा की समय-समय पर ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन होना चाहिए। क्योंकि जो लोग पत्रकारिता क्षेत्र में निष्पक्ष कार्य करते हैं। उनके प्रोत्साहन के लिए यह सम्मान जरूरी है।

ज्योतिष: आज लगेगा साल का पहला 'चंद्र ग्रहण'

ज्योतिष: आज लगेगा साल का पहला 'चंद्र ग्रहण'

सरस्वती उपाध्याय 

सूर्य ग्रहण के बाद साल का पहला चंद्र ग्रहण वैशाख माह की पूर्णिमा तिथि को लगने जा रहा है। साल का यह पहला चंद्र ग्रहण 5 मई को लगेगा। इस ग्रहण का सूतक काल मान्य नहीं होगा। वैशाख माह की पूर्णिमा तिथि पर लगने वाले इस चंद्र ग्रहण पर 130 वर्षों बाद दुर्लभ संयोग बनेगा, दरअसल 130 साल बाद बुद्ध पूर्णिमा और चंद्र ग्रहण दोनों का संयोग बन रहा है। आपको बता दें कि 15 दिनों के अंतराल पर यह साल 2023 का दूसरा ग्रहण होगा। इसके पहले 20 अप्रैल को साल का पहला सूर्य ग्रहण लगा था। इस ग्रहण को भारत में नहीं देखा जा सका था।

अब बुद्ध पूर्णिमा के दिन साल का पहला चंद्रग्रहण लगेगा। यह ग्रहण एक उपच्छाया चंद्र ग्रहण होगा। जिसमें चांद की सतह पर धूल भरी आंधी के रूप में नजर आएगा। साल का पहला चंद्र ग्रहण भारतीय समय के अनुसार 5 मई को रात 8 बजकर 44 मिनट से शुरू हो जाएगा। जो आधी रात को यानी 1 बजकर 1 मिनट तक चलेगा। ग्रहण का उच्चतम काल रात 10 बजकर 52 मिनट पर होगा। 

धार्मिक नजरिए से जब भी उपच्छाया चंद्रग्रहण लगता है तो इसको ग्रहण की श्रेणी में नहीं रखा जाता है ऐसे में इस चंद्र ग्रहण का सूतक काल मान्य नहीं होगा। आपको बता दें कि सूर्य ग्रहण के होने पर ग्रहण शुरू होने से 12 घंटे पहले सूतक काल आरंभ हो जाता है जबकि चंद्र ग्रहण होने पर 9 घंटे पहले सूतक शुरू हो जाता है। सूतक काल में किसी भी तरह का शुभ काम और पूजा-पाठ नहीं किया जाता है। सूतक की समाप्ति के बाद ही सभी तरह के धार्मिक कार्य दोबारा से शुरू होते हैं। 

आइए जानते हैं साल के पहले चंद्र ग्रहण का समय, सूतककाल और इसे कहां-कहां पर देखा जा सकेगा। खगोल विज्ञानियों के अनुसार साल का पहला चंद्र ग्रहण यूरोप, एशिया के ज्यादातर हिस्से, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, प्रशांत, अटलांटिक, अंटार्कटिका और हिंद महासागर में दिखाई देगा। जहां तक भारत में इस चंद्र ग्रहण के दिखाई देने का मामला है तो ज्यादातर खगोल शास्त्र के जानकारों और हिंदू पंचांग की गणनाओं के आधार पर यह चंद्र ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा। लेकिन टाइम एंड डेट डॉट काम के अनुसार भारत के कुछ हिस्सों में इस चंद्र ग्रहण को देखा जा सकता है।

साल का पहला चंद्र ग्रहण उपच्छाया चंद्र ग्रहण होगा। खगोल विज्ञान के अनुसार जब सूर्य और चंद्रमा के बीच पृथ्वी आ जाती है, तो तब ये तीनों एक सीधी लाइन में कुछ देर के लिए आ जाते हैं। इस घटना को ही चंद्र ग्रहण कहते हैं। जब पृथ्वी की परछाई सीधी चंद्रमा पर न पड़े तो इसे उपच्छाया चंद्र ग्रहण कहते हैं।

21 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का शुभारंभ 

21 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का शुभारंभ 


मार्ग चौड़ीकरण मरम्मत और पुल पुलिया निर्माण सहित लगभग 21 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का विधिवत पूजा पाठ कर शुभारंभ 

धरसीवां विधायक अनिता योगेन्द्र शर्मा ने 21 करोड़ के विकास कार्यों का शुभारंभ किया

धरसीवां विधायक अनिता योगेन्द्र शर्मा ने क्षेत्रवासियों दी करोड़ों की सौगात

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। धरसीवां विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा के द्वारा बृहस्पतिवार को अपने विधानसभा क्षेत्र ग्राम पंचायत नवागांव-बेलटुकरी-भड़हा मार्ग चौड़ीकरण मरम्मत और पुल-पुलिया निर्माण सहित लगभग 21 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का विधिवत पूजा पाठ कर शुभारंभ किया। धरसीवां विधायक अनिता योगेन्द्र शर्मा ने कहा, आज का दिन यहां के निवासियों लिए ऐतिसाहिक दिन था और लगातार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में गांव-गांव तक सड़क संपर्क को मजबूत और आवागमन को सुगम बनाने सड़क और पुलों के कामों में तेजी आई है।

साथ ही राज्य सरकार द्वारा समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए विभिन्न योजनाएं शुरू की गई है। इन विभिन्न योजनाओं से उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार हो रहा है। बुनियादी सुविधाओं के साथ ही तेजी से आर्थिक विकास सरकार की प्राथमिकता है और इस दिशा में ठोस कार्य हो रहा है इसी तरह यहां पर रोड बनने से इन ग्राम पंचायतों का बृहद रूप में विकास होगा और आवागमन के लिए ग्राम वासियों को एक अच्छी सौगात मिलेगी।

इस अवसर में ग्रामग्राम वासियों ने धरसीवां विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा का आभार जताया। बृहस्पतिवार को इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से जनपद सदस्य मुकेश भारद्वाज,ग्राम पंचायत सरपंच सीमा संतराम टंडन, भारत बंजारे,तिलक चेलक,राजकुमारी चेलक,शत्रुघन देवांगन, बबलू भाटिया, निक्की यादव,मोहन जांगड़े,सीता चौहान, खूबी डहरिया,सहित लोक निर्माण विभाग के समस्त अधिकारी कर्मचारी गण और समस्त ग्रामवासी भारी संख्या में उपस्थित रहे।

40 अरब डॉलर से अधिक का निवेश किया: कंपनियां 

40 अरब डॉलर से अधिक का निवेश किया: कंपनियां 

अकांशु उपाध्याय/अखिलेश पांडेय 

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में भारत की 163 भारतीय कंपनियों ने अबतक 40 अरब डॉलर से अधिक का निवेश किया है। जिससे देश में करीब 4,25,000 नौकरियां पैदा हुई हैं। एक सर्वेक्षण में यह तथ्य सामने आया है। भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के ‘इंडियन रूट्स, अमेरिकन सॉयल’ शीर्षक वाले सर्वे को बुधवार को अमेरिका में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने जारी किया। इस अवसर पर भारत में अमेरिका के नामित राजदूत एरिक गार्सेटी भी मौजूद थे। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय कंपनियों ने अमेरिका में कॉरपोरेट सामाजिक दायित्व पर लगभग 18.5 करोड़ डॉलर खर्च किए हैं। अमेरिका आधारित शोध एवं विकास परियोजनाओं में उनका वित्तपोषण करीब एक अरब डॉलर है। संधू ने इस मौके पर बड़ी संख्या में उपस्थित भारतीय कंपनियों के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘अमेरिका में भारतीय कंपनियां मजबूती, जुझारूपन और प्रतिस्पर्धा ला रही हैं। ये रोजगार पैदा कर रही हैं और स्थानीय समुदायों को समर्थन दे रही हैं।’’ 

भारतीय कंपनियों के प्रतिनिधि यहां एक सम्मेलन में भाग लेने आए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 163 भारतीय कंपनियों ने अमेरिका में 40 अरब डॉलर से अधिक का निवेश किया है। इससे देश में लगभग 4,25,000 नौकरियां पैदा हुई हैं। सीआईआई के महानिदेशक चंद्रजीत बनर्जी ने कहा, ‘‘भारतीय कंपनियों ने अमेरिकी बाजार में अपनी जुझारू क्षमता और प्रतिबद्धता का प्रदर्शन किया है। उन्होंने यहां निवेश बढ़ाने के साथ रोजगार का भी सृजन किया है और विभिन्न क्षेत्रों में विविधीकरण किया है।’’ 

भारतीय कंपनियों द्वारा सृजित नौकरियों से लाभान्वित होने वाले शीर्ष दस राज्यों में टेक्सास (20,906 नौकरियां), न्यूयॉर्क (19,162 नौकरियां), न्यू जर्सी (17,713 नौकरियां), वॉशिंगटन (14,525 नौकरियां), फ्लोरिडा (14,418 नौकरियां), कैलिफोर्निया (14,334 नौकरियां), जॉर्जिया (13,945 नौकरियां), ओहियो (12,188 नौकरियां), मोंटाना (9,603 नौकरियां), इलिनॉयस (8,454 नौकरियां) हैं। 

बिहार: जाति आधारित गणना पर 'एचसी' की रोक

बिहार: जाति आधारित गणना पर 'एचसी' की रोक

अविनाश श्रीवास्तव 

पटना। पटना उच्च न्यायालय ने बिहार सरकार द्वारा किए जा रहे जाति आधारित गणना पर बृहस्पतिवार को रोक लगा दी। अदालत मामलें की सुनवाई अब तीन जुलाई को करेगी। उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के विनोद चंद्रन और न्यायमूर्ति मधुरेश प्रसाद की खंडपीठ ने कई याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए सरकार को जाति आधारित सर्वेक्षण को तुरंत रोकने और इस सर्वेक्षण अभियान के तहत अबतक एकत्र किए गए आंकडों को सुरक्षित रखने का निर्देश दिया।

पीठ ने सरकार को यह भी निर्देश दिया कि मामले में अंतिम आदेश पारित होने तक इन आंकड़ों को किसी के भी साथ साझा नहीं किये जाएं। अदालत मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख तीन जुलाई तय की है। अदालत ने कहा, ‘‘हमारी राय है कि याचिकाकर्ताओं ने राज्य सरकार द्वारा जाति आधारित सर्वेक्षण की प्रक्रिया को जारी रखने के खिलाफ तथा आंकडे की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाया है, जिसका सरकार की ओर से विस्तृत समाधान किया जाना चाहिए।’’

बिहार के महाधिवक्ता प्रशांत कुमार शाही ने अपने अधिवक्ताओं की टीम के साथ सरकार की ओर से बहस की जबकि याचिकाकर्ताओं का प्रतिनिधित्व वरिष्ठ अधिवक्ता अभिनव श्रीवास्तव, धनंजय कुमार तिवारी और अन्य ने किया। बहस के दौरान याचिकाकर्ताओं के वकीलों ने राष्ट्रीय कानूनी सेवा प्राधिकरण के फैसले का हवाला देते हुए अदालत को बताया गया कि जाति आधारित गणना में ट्रांसजेंडरों को एक जाति के रूप में दर्शाया गया है, जबकि ऐसी कोई जाति श्रेणी वास्तव में मौजूद नहीं है। हालांकि सरकार ने स्पष्ट किया है कि ट्रांसजेंडरों को जाति के रूप में वर्गीकृत नहीं किया जाएगा पर अधिसूचना में इसे जाति की सूची में रखा गया है। अदालत ने कहा कि प्रथम दृष्टया हमारी राय है कि राज्य के पास जाति आधारित सर्वेक्षण करने की कोई शक्ति नहीं है, जिस तरह से यह किया जा रहा है, जो एक जनगणना के समान है, इस प्रकार संघ की विधायी शक्ति पर अतिक्रमण होगा।

अदालत ने राज्य विधानसभा में विभिन्न दलों के नेताओं के साथ सर्वेक्षण के आंकड़े साझा करने की सरकार की मंशा के बारे में कहा कि यह निश्चित रूप से निजता के अधिकार का सवाल है, जिसे उच्चतम न्यायालय ने जीवन के अधिकार का एक पहलू माना है। पीठ ने यह स्पष्ट किया कि राज्य एक सर्वेक्षण की आड़ में एक जातिगत जनगणना करने का प्रयास नहीं कर सकता है, खासकर जब राज्य के पास बिल्कुल विधायी क्षमता नहीं है और उस स्थिति में न ही भारत के संविधान के अनुच्छेद 162 के तहत एक कार्यकारी आदेश को बनाए रखा जा सकता है।

अदालत ने कहा कि जनगणना और सर्वेक्षण के बीच आवश्यक अंतर यह है कि जनगणना सटीक तथ्यों और सत्यापन योग्य विवरणों के संग्रह पर विचार करता है। सर्वेक्षण का उद्देश्य आम जनता की राय और धारणाओं का संग्रह और उनका विश्लेषण करना है । इसने कहा कि एकत्र किए गए आंकडे के विश्लेषण में दोनों परिणाम जो जनगणना के मामले में अनुभवजन्य हैं, जबकि सर्वेक्षण में ज्यादातर तार्किक निष्कर्ष होते हैं। बिहार राज्य द्वारा वर्तमान कवायद को केवल सर्वेक्षण के नाम पर जनगणना करने के प्रयास के रूप में देखा जा सकता है। उच्च न्यायालय ने यह भी माना कि राज्य सरकार द्वारा जारी अधिसूचना इस तरह के सर्वेक्षण को करने के लिए किसी भी प्रत्यक्ष वस्तु का खुलासा नहीं करती है। यह भी तर्क दिया जा रहा है कि आंकडे़ सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्य द्वारा लागू कोई उपाय भी नहीं है, भले ही आंकड़ों का संग्रह स्वैच्छिक आधार पर हो।

पीठ ने कहा कि ऐसे आंकड़ों का कोई सार्वजनिक उपयोग नहीं हो सकता है, जो फिर से किसी व्यक्ति की निजता के अधिकार का उल्लंघन करेगा, भले ही ये स्वेच्छा से दिये गये हों। बिहार में जाति सर्वेक्षण का पहला दौर 7 से 21 जनवरी के बीच आयोजित किया गया था। दूसरा दौर 15 अप्रैल को शुरू हुआ था और 15 मई तक जारी रहने वाला था। उच्च न्यायालय के समक्ष याचिकाएं सामाजिक संगठन और कुछ व्यक्तियों द्वारा दायर की गई थी, जो पिछले महीने उच्चतम न्यायालय गये थे।

अदालत का निर्णय आने से पूर्व आज दिन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनकी सरकार द्वारा की जा रही जाति आधारित गणना को लेकर कुछ हलकों से विरोध पर नाराज़गी जताई थी। नीतीश ने पटना उच्च न्यायालय में जाति सर्वेक्षण को चुनौती देने वाली एक याचिका पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा था कि याचिकाकर्ताओं के साथ-साथ सरकार ने भी अपनी दलीलें रखी हैं। अब हम फैसले का इंतजार कर रहे हैं। पता नहीं क्यों इसका विरोध हो रहा है। इससे तो पता चलता है, कि लोगों को मौलिक चीज की समझ नहीं है।

लखनऊ बेंच ने पूर्व आईपीएस सेन को जमानत दी 

लखनऊ बेंच ने पूर्व आईपीएस सेन को जमानत दी 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। पशुपालन घोटाले के मामलें में पिछले 2 साल से जेल में बंद पूर्व आईपीएस अफसर अरविंद सेन को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने जमानत दे दी है। अदालत ने जमानत के मामले पर सुनवाई करते हुए गबन के 20,00000 रुपए याचिकाकर्ता को देने का आदेश दिया है। बृहस्पतिवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने पिछले 2 साल से जेल में बंद चल रहे पूर्व आईपीएस अफसर अरविंद सेन की पशुपालन घोटाले के मामलें में जमानत स्वीकार कर ली है। 

अदालत ने पूर्व आईपीएस की जमानत अर्जी पर सुनवाई करते हुए याचिकाकर्ता को गबन के 20 लाख रुपए देने का आदेश दिया है। जमानत पाने वाले आईपीएस अफसर अरविंद सेन वर्ष 2021 की 27 जनवरी से राजधानी लखनऊ की जेल में बंद रहे हैं। पशुपालन घोटाले के इस मामले में आरोपी बनाए गए 17 लोगों में से अभी तक चार आरोपियों को अदालत द्वारा जमानत दी जा चुकी है। जमानत पाने वालों में शामिल सुनील गुर्जर की भूमिका नहीं होने पर हाईकोर्ट की बेंच ने उसे जमानत दे दी थी।

एससी ने इलाहाबाद एचसी के आदेश पर रोक लगाई 

एससी ने इलाहाबाद एचसी के आदेश पर रोक लगाई 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को इलाहाबाद उच्च न्यायालय के उस आदेश पर रोक लगा दी, जिसमें उत्तर प्रदेश के स्कूलों को 2020-21 के शैक्षणिक सत्र के दौरान ली गई "अतिरिक्त" फीस का 15% वापस करने या समायोजित करने का निर्देश दिया गया था, जब कोविड-19 महामारी में उन्हें फीस के लिए बंद करने के लिए मजबूर किया था। 

भविष्य में भुगतान किया जाए, शीर्ष अदालत के समक्ष याचिकाकर्ता, एक निजी स्कूल ने उक्त निर्देश को चुनौती दी, यह दावा करते हुए कि यह खुद को या किसी अन्य निजी स्कूल को अवसर प्रदान किए बिना पारित किया गया था।

मेरठ: एसटीएफ ने दुजाना को मुठभेड़ में ढेर किया 

मेरठ: एसटीएफ ने दुजाना को मुठभेड़ में ढेर किया 

सत्येंद्र पंवार 

मेरठ। मेरठ एसटीएफ के साथ जानी थाना क्षेत्र की भोला झाल पर मुठभेड़ के दौरान अनिल दुजाना मुठभेड़ में ढेर हो गया। हाल ही में जेल से छूटा था। गुरुवार को एसटीएफ के स्थापना दिवस पर एसटीएफ ने अनिल दुजाना को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। अनिल पर यूपी समेत कई राज्यों में लगभग 50 हत्या, रंगदारी, फिरौती आदि के मुकदमे दर्ज हैं।

जिला गौतमबुद्ध नगर के ​​​​​​​बादलपुर का दुजाना गांव कभी कुख्यात सुंदर नागर उर्फ सुंदर डाकू के नाम से जाना जाता था। सत्तर और अस्सी के दशक में सुंदर का दिल्ली-एनसीआर में खौफ था। उसने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को भी जान से मारने की धमकी दी थी। इसी दुजाना गांव का अनिल नागर उर्फ अनिल दुजाना रहने वाला है। पुलिस रिकॉर्ड में 2002 में गाजियाबाद के कवि नगर थाने में इसके खिलाफ हरबीर पहलवान की हत्या का पहला मुकदमा दर्ज हुआ।

‘सत्ता के लोभ की राजनीति’ को जिम्मेदार ठहराया 

‘सत्ता के लोभ की राजनीति’ को जिम्मेदार ठहराया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस ने मणिपुर में हिंसा भड़कने के लिए भारतीय जनता पार्टी की ‘सत्ता के लोभ की राजनीति’ को जिम्मेदार ठहराते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पूर्वोत्तर के इस प्रदेश में शांति एवं सामान्य स्थिति बहाल करने पर ध्यान देना चाहिए। पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मणिपुर के लोगों से शांति और संयम बरतने की अपील भी की। खरगे ने ट्वीट किया, "मणिपुर जल रहा है।

भाजपा ने समुदायों के बीच दरार पैदा की और इस खूबसूरत राज्य की शांति को भंग कर दिया है।'' उन्होंने आरोप लगाया, "भाजपा की नफरत और विभाजन की राजनीति तथा सत्ता का लोभ इस समस्या के लिए जिम्मेदार है।" कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "हम सभी पक्षों के लोगों से संयम बरतने और शांति को एक मौका देने की अपील करते हैं।" राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मणिपुर में तेजी से बिगड़ती कानून की व्यवस्था की स्थिति को लेकर चिंतित हूं। प्रधानमंत्री को वहां शांति और सामान्य स्थिति बहाल करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। मैं मणिपुर के लोगों से भी शांति का आग्रह करता हूं।’’

उल्लेखनीय है कि आदिवासी आंदोलन के दौरान हुई हिंसा को लेकर मणिपुर के आठ जिलों में बुधवार को कर्फ्यू लगा दिया गया और पूरे पूर्वोत्तर राज्य में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गईं। मैतेई समुदाय को अनुसूचित जनजाति (एसटी) की श्रेणी में शामिल करने की मांग का विरोध करने के लिए छात्रों के एक संगठन द्वारा आहूत ‘आदिवासी एकता मार्च’ में हिंसा भड़क गई थी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-203, (वर्ष-06)

2. शुक्रवार, मई 5, 2023

3. शक-1944, बैशाख, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पूर्णिमा, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:40, सूर्यास्त: 06:23। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 18 डी.सै., अधिकतम- 26+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

चीन ने तरीके नहीं बदले, परिणाम भुगतना होगा

चीन ने तरीके नहीं बदले, परिणाम भुगतना होगा अखिलेश पांडेय  ब्रुसेल्स। नाटो के प्रमुख जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा है कि चीन यूक्रेन के खिलाफ रूस...