मंगलवार, 3 दिसंबर 2019

कैबिनेट बैठक में 34 प्रस्तावों पर मुहर

लोकभवन में कैबिनेट की बैठक खत्म


कैबिनेट में 34 प्रस्तावों पर लगी मुहर
बृजेश केसरवानी


लखनऊ। औद्योगिक विकास के 5 प्रस्तावों पर मुहर, नोएडा में बिल्डर और बॉयर्स पर निर्णय, समस्याओं को देखते हुए निर्णय लिया गया। प्रोजेक्ट्स को जीरो पीरियड का लाभ मिलेगा,
सरकारी आदेशों से लंबित प्रोजोक्ट्स को लाभ,लिटेगेशन में फंसी जमीनों को जीरो पीरियड का लाभ।बिल्डर, डेवलपर बॉयर्स से सरचार्ज नहीं ले सकेगा।छूट का लाभ बिल्डर भी अपने बॉयर्स को देगा। नोएडा में 14.95 किमी मेट्रो परियोजना को मंजूरी।सेक्टर 71 से नॉलेज पार्क तक मेट्रो रेल,2682 करोड़ रुपए लागत की परियोजना मंजूर,रक्षा उत्पाद रोजगार संशोधन प्रस्ताव पास।एरोस्पेस नीति में संशोधन का प्रस्ताव पास। डिफेंस इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर को लेकर फैसला,100 फीसमुहरढब्सिडी देने का फैसला पास
सड़क, बिजली और पानी पर मिलेगी सब्सिडी 
सरकार उद्योगों को देगी सब्सिडी।जूनियर हाईस्कलों में भर्ती संशोधन प्रस्ताव पास,मुहरढकीय सहायता प्राप्त जू हाईस्कूलों का मामला।TET, बीएड, स्नातक में 50% अंक अनिवार्य,अस्थाई नियुक्तियों को समाप्त करने का निर्णय 
नियुक्तियों में प्रबंध तंत्र का दखल समाप्त। पॉवरलूम बुनकरों को विद्युत दर में छूट मिलेगी। PWD की सड़कों के नियंत्रण मार्गों पर स्थापना। ईंधन स्टेशनों की स्थापना की योजना 
अनापत्ति प्रमाणपत्र जारी करने की नीति प्रस्ताव पास,सीतापुर के एक मामले में प्रस्ताव पास, बृहद दंड पर कैबिनेट का प्रस्ताव पास,3 तत्कालीन तहसीलदारों पर कार्रवाई चल रही।जवाहरलाल श्रीवास्तव, सुनील कुमार शुक्ला,लव कुमार सिंह पर अनुशासनिक कार्रवाई।
वर्तमान में तीन अलग-अलग जिलों में SDM
प्रयागराज, जालौन और अयोध्या में एसडीएम हैं।नई नगर पंचायत बनाने के प्रस्ताव पास,महराजगंज का बृजमनगंज नई नगर पंचायत,बस्ती का भानपुर कस्बा नई नगर पंचायत 
लखीमपुर खीरी का निघासन नई नगर पंचायत, 
नगर पालिका के सीमा विस्तार का प्रस्ताव पास,खलीलाबाद नगर पालिका का सीमा विस्तार होगा।सीतापुर की तंबौर अहमदाबाद का प्रस्ताव पास, रायबरेली की महराजगंज नई नगर पंचायत। जालौन की कोंच नई नगह पंचायत बनेगी
मैनुपरी के बरनाहल की नई नगर पंचायत,सिद्धार्थनगर के बिस्कोहर बाजार नई पंचायत, जौनपुर के कचगांव नई नगर पंचायत,संतकबीरनगर के बाघनगर नई नगर पंचायत,
प्रतापगढ़ के सुवंशा बाजार नई नगर पंचायत,नगर पंचायत कपिलवस्तु बनाने का प्रस्ताव पास,सुल्तानपुर सदर तहसील के ग्रामों का प्रस्ताव। 29 राजस्व ग्राम हलियापुर में शामिल होंगे।


किन्नर ने समाज में आदर्श स्थापित किया

अलवर। राजस्थान मे लगातार शर्मसार की होने घटना थमने का नाम नहीं ले रही, लोग बेटियों और बहुओ को अपनी बहन बेटी नहीं समझ रहे। जिसका खामियाँजा बेटियाँ भुगत रही है। अभी अभी राजस्थान के टोक जिले के अन्दर एक मासूम बालिका से बलात्कार के बाद उसकी हत्या कर दी गई, जिससे राजस्थान शर्मसार हो गया।


लेकिन कुछ सामाजिक लोगो मे एक किन्नर समाज की महिला ने बेटियों के सम्मान मे अच्छी पहल देखने मे आया है। तहसील रैणी के पास गाँव पिनान की किन्नर कशिश देवी ने, जिनके ऊपर से पिता का साया उठ चुका है, उनको गोद लेकर उनकी शादी बडे धूमधाम करा रही हैं। जिस तरह जिस के माता-पिता अपनी बेटियों की शादी करते हैं। उसी तरह कशिश देवी ने जो कि किन्नर है, बारात का स्वागत किया, दहेज का पूरा सामान दिया।


श्रद्धालुओं की बस हादसे का शिकार, घायल

पीलीभीत। पूरनपुर हाईवे पर आज सुबह सत्संग को जाते हुए श्रद्धालुओं की बस में सामने से आ रहे कंटेनर ने मारी टक्कर। बस आज सुबह सवार सभी श्रद्धालु पूरनपुर क्षेत्र के गाँव प्रसादपुर से बरेली सत्संग में जा रहे थे तभी बिठौरा कलां के पास पहुंचते ही सामने से आ रहे कंटेनर से आमने सामने टक्कर हो गयी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कंटेनर व बस दोनों बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए बस में सवार 60 लोगों में से 40 लोग बुरी तरह घायल हो गए जिससे मौके पर चीख पुकार मच गई चीख पुकार पर मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों व राहगीरों ने पुलिस को खवर की और घायलों को बाहर निकाला ।सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को एम्बुलेंस बुलाकर जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां काफी लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है ।जानकारी के अनुसार सुबह मौसम ख़राबी के कारण यह हादसा घटित हुआ।
ज़ाहिद अली


खिलाड़ी के सम्मान में चांदी का सिक्का जारी

बर्न। टेनिस दिग्गज रोजर फेडरर स्विट्जरलैंड में पहले ऐसे जीवित व्यक्ति होंगे, जिनके सम्मान में चांदी का स्मारक सिक्का जारी किया जाएगा। स्विटरजरलैंड की संघीय टकसाल स्विसमिंट ने फेडरर के सम्मान में उनकी छवि के साथ एक 20 फ्रैंक का चांदी का सिक्का बनाया है।इतिहास में यह पहली बार है, जब स्विसमिंट ने किसी जीवित व्यक्ति के सम्मान में चांदी का स्मारक सिक्का जारी किया है।


स्विसमिंट ने सोमवार को एक बयान में कहा, "फेडरल मिंट स्विसमिंट रोजर फेडरर को समर्पित करता है। इतिहास में पहली बार ऐसा हो रहा है जब एक जीवित व्यक्ति के नाम पर सिक्का जारी करके उन्हें सम्मानित किया जा रहा है।"फेडरर के बैकहैंड करते हुए फोटो वाले 55 हजार सिक्के बनाए गए हैं। स्विसमिंट 50 फ्रेंक वाले सिक्के मई में जारी करेगा। 20 बार के ग्रैंड स्लेम विजेता फेडरर ने इसके लिए स्विट्जरलैंड की सरकार का शुक्रिया अदा करते हुए लिखा, "इस शानदार सम्मान के लिए स्विट्जरलैंड और स्विसमिंट का शुक्रिया।


"38 वर्षीय फेडरर स्विटजरलैंड के सबसे सफल व्यक्तिगत खिलाड़ी हैं। उन्होंने अब तक 20 ग्रैंड स्लेम और 28 एटीपी मास्टर्स 1000 खिताब जीते हैं। वह रिकॉर्ड 310 सप्ताह तक एटीपी रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर रह चुके हैं। फेडरर अब विश्व रैंकिंग में नंबर-3 स्थान के इस साल का समापन करेंगे।


 


एयरपोर्ट पर यात्री बैग से 5 कारतूस बरामद

पटना। इस वक्त की बड़ी खबर राजधानी पटना से आ रही है। जहां बताया जा रहा है कि इंडिगो के फ्लाइट से बेंगलुरु जा रहे यात्री के बैग से 5 जिंदा कारतूस बरामद किया गया है।


ताजा जानकारी मिल रही है कि मुजफ्फरपुर का रहने वाला शख्स मुकुंद कुमार के बैग से यह कारतूस बरामद हुआ है। बताया जा रहा है कि यह तब पकड़ में आया जब बैग स्कैनिंग के दौरान एयरपोर्ट प्रशासन ने कारतूस की बरामदगी की। युवक को सीआईएसएफ ने एयरपोर्ट थाने की हवाले किया गया है। वहीं, पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है। आपको बता दें कि बीते दिनों पहले भी एक युवक के बैग से कारतुस बरामद हुआ था।


पटना से विक्रांत की रिपोर्ट


बिना चीर-फाड़ के तैयार होगी पीएम रिपोर्ट

नई दिल्ली। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने मंगलवार को राज्यसभा में कहा कि पोस्टमार्टम (शव परीक्षण) के लिए नई तकनीक खोज ली गई है जिसमें पार्थिव शरीर की चीर फाड़ करने की आवश्यकता नहीं होगी। डा. हर्षवर्धन ने सदन में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न के उत्तर में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने मिलकर शव परीक्षण के लिए एक ऐसी तकनीक तैयार की है जिसमें पार्थिव शरीर की चीर फाड़ करने की जरुरत बंद हो जाएगी।


उन्होंने कहा कि छह माह में एम्स में इस तकनीक से शव परीक्षण शुरू हो जाएंगे। इस तकनीक से तमाम सूचनाओं और जानकारियों को डिजिटल रूप में रखा जाएगा। इससे फिर कभी जरूरत पडऩे पर इसका इस्तेमाल किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि यह तकनीक पहले नई दिल्ली के एम्स में लागू की जाएगी और फिर देश के अन्य अस्पतालों को भी उपलब्ध करायी जाएगी। उन्होंने कहा कि इसके लिए एम्स डाक्टरों और कर्मियों को प्रशिक्षण भी देगा। मंत्री ने कहा कि नई तकनीक में मानवीय दृष्टिकोण को ध्यान में रखा गया है। दक्षिण एशिया में इस तकनीक का इस्तेमाल करने वाला पहला देश है। यह तकनीक जर्मनी, नार्वे, इजरायल, स्वीडन, ब्रिटेन और हांगकांग में इस्तेमाल की जा रही है।



नागरिकों का खुले तौर पर हो रहा शोषण

जनता का खुले तौर पर हो रहा शोषण
अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद। नगर पालिका लोनी के संबंध में जितने कसीदे कैसे जाएं, कम है। जनता को खून के आंसू रुलाने के अलावा कोई काम नहीं किया जा रहा है। नगर एवं नागरिकों को सुख सुविधा मुहैया कराना तो बहुत दूर की बात है। जनता का खुले तौर पर शोषण किया जा रहा है। जनता को इस प्रकार से कष्ट कर दिया गया है कि लोग अपने घरों में कैद हो गए हैं। बारिश, तूफान,बवंडर कुछ भी नहीं है फिर भी जनता किस त्रासदी से गस्त है। जिस साफ-सफाई के नाम पर करोड़ों रुपए महीने सरकार खर्च कर रही है क्या यही वह साफ-सफाई है।
ज्ञात हो सिंचाई एवं नहर विभाग के द्वारा नहर में पानी छोड़ देने से नगरीय क्षेत्र में स्थित संगम विहार के सैकड़ों मकानों में पानी भर गया है। नगर पालिका के सामने कई बार यह समस्या आती रही हैं, लेकिन भ्रष्टाचार में व्यस्त किसी ने भी समस्या की समाधान पर ध्यान नहीं दिया।
नगर पालिका लोनी की सबसे बड़ी समस्या जल निकासी की है। जिसके स्थाई समाधान करने की दिशा में कोई सार्थक कदम नहीं उठाए गए हैं। नहर में कभी भी बहाह तेज हो सकता है, पानी का स्तर बढ़ सकता है। जन-मानस के जीवन को प्रभावित करने वाली इस समस्या का नगर पालिका के पास कोई समाधान नहीं है। जनता को इस कष्ट से उभारने के लिए जिला अधिकारी को समस्या की गंभीरता पर ध्यान आकर्षित करने की सख्त जरूरत है।


डीएम गाजियाबाद ने लिया घटनास्थल का जायजा

लोनी नगर के संगम विहार वार्ड 19 में विगत दिवस नहर टूटकर बस्ती में पानी भर जाने को लेकर जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय गंभीर


तहसील संपूर्ण समाधान दिवस के उपरांत मौके पर पहुंचकर किया गया स्थल निरीक्षण


दोषी अधिकारियों की जिम्मेदारी का निर्धारण करते हुए की जाएगी कार्यवाही


पूर्वी गंगा नहर  की टेल में रात नहर विभाग के अधिकारियों द्वारा अचानक पानी छोड़ने से वार्ड 19 में पानी भरा


नगर पालिका के द्वारा मौके पर 10 पंप लगाकर पानी निकासी की, की जा रही है कार्यवाही


अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय जनपद की विभिन्न समस्याओं एवं घटनाओं को लेकर तत्परता के साथ कार्यवाही सुनिश्चित कर रहे हैं। विगत दिवस देर रात्रि पूर्वी गंग नहर की टेल में नहर विभाग के अधिकारियों द्वारा अचानक पानी छोड़ने से लोनी नगर पालिका क्षेत्र के संगम विहार वार्ड 19 में टेल टूट जाने के कारण बस्ती में पानी भर गया था। जिला अधिकारी के द्वारा इस घटना को बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर कार्रवाई सुनिश्चित की गई है। जिलाधिकारी द्वारा लोनी में तहसील समाधान दिवस समाप्ति के उपरांत मौके पर पहुंचकर स्थल निरीक्षण किया गया। जहां पर टूटी हुई टेल को ठीक करने का कार्य संचालित किया जा रहा है। टेल का पानी मरम्मत करते हुए बंद करने की कार्रवाई सुनिश्चित कर ली गई है। 10 पंप लगाकर बस्ती का पानी निकाले जाने की कार्रवाई नगरपालिका के अधिकारियों द्वारा  की जा रही है। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने इस मौके पर पहुंचकर स्थल निरीक्षण किया जहां पर उन्होंने अधिशासी अभियंता पूर्वी गंगा नहर संजीव कुमार को स्पष्ट निर्देश दिए कि उनके द्वारा जब पानी छोड़ा गया तो अन्य अधिकारियों को जानकारी क्यों नहीं दी गई। इसकी जिम्मेदारी निर्धारित की जाएगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस घटना में जो भी अधिकारी एवं कर्मचारी दोषी पाया जाएगा उसके विरूध कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी। जिलाधिकारी ने मौके पर नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि क्षेत्र में व्यापक स्तर पर सफाई के लिए विशेष अभियान संचालित किया जाए और जहां पर कूड़ा करकट पड़ा हुआ है। उसका निस्तारण तत्काल प्रभाव से सुनिश्चित किया जाए। ताकि किसी प्रकार की आगजनी की घटना न होने पाए। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि उनके द्वारा भी बस्ती में किसी प्रकार की संक्रामक बीमारी न फैलने पाए। इसके लिए छिड़काव आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।


राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गाजियाबाद।


 


हरियाणा में स्मार्ट मीटर खरीदने की योजना

राणा ओबरॉय


चण्डीगढ़। हरियाणा में बिजली विभाग अब स्मार्ट मीटर खरीदने की योजना बना रहा है। प्रदेश में करीब 20 लाख स्मार्ट मीटर और खरीदने की योजना का खाका तैयार हो रहा है। ये ऐसे मीटर हैं, जिनमें उपभोक्ता खुद से रिचार्ज कर सकेंगे। पहले चरण में ऐसे दस लाख स्मार्ट मीटर लगाए जा रहे हैं। विभाग ने शुरुआती चरण में गुरुग्राम और करनाल में करीब 70 हजार स्मार्ट मीटर लगाए जा चुके हैं। अब दूसरे चरण में पंचकूला, पानीपत और फरीदाबाद में लगाने की योजना है। दूसरे चरण की योजना में करीब 20 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का प्लान है जिसके लिए अब जल्द ही टेंडर निकलेगा। स्मार्ट मीटर की यह खासियत है कि आप जितना बिजली का खर्च करते हैं, उतने ही पैसे का आपको रिचार्ज करवाना होगा। इस प्रकार के मीटरों में आपके मोबाइल रिचार्ज की तरह काम करेगा और रिचार्ज खत्म होने पर आपकी लाइट बंद हो जाएगी। इसके बाद रिचार्ज करने के बाद ही बिजली की व्यवस्था काम करेगी।
स्मार्ट मीटर का एक यह भी फायदा है कि अगर आप ज्यादा समय तक घर से बाहर रहते हैं, तो भी आपके ऊपर महीने का ज्यादा बिल नहीं पड़ेगा। क्योंकि आप जितनी बिजली खर्च करोगे उसी हिसाब से आपको रिचार्ज करवाना होगा। इसके लिए मीटर में अलग-अलग व्यवस्था होगी।


सेना ने मुठभेड़ में खूंखार आतंकी को किया ढेर

ईटानगर। भारतीय सेना ने नगा विद्रोहियों के नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (रिफॉर्मेशन) के एक खूंखार आतंकी को मुठभेड़ में ढेर कर दिया है। इस आतंकी को अरुणाचल प्रदेश के चंगलांग जिले में शनिवार शाम को ढेर किया गया. मारे गए आतंकी का नाम अखम चांग है।
आतंकी खुद के नाम के आगे मेजर लगाता था। पुराने शाल्लंग के जंगलों में भारतीय सेना को जानकारी मिली थी कि 4 आतंकी छिपे हुए हैं।
इसके बाद सेना ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया, तो आतंकियों ने गोलीबारी कर दी। इसका सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया। इस दौरान आतंकी अखम चांग मारा गया। सेना ने घटनास्थल से भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किया है।
अरुणाचल के कुछ इलाकों में नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (रिफॉर्मेशन) सक्रिय है, जिनके खिलाफ सेना लगातार अभियान चलाती है। इस ताजा मुठभेड़ में किसी जवान के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं हैं।


ऑक्सीजन के अभाव में दो मासूमों की मौत

मैनपुरी। उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले में सोमवार को एक नर्सिंग होम में अक्सीजन न मिलने से, दो नवजात शिशुओं ने दम तोड़ दिया। परिजन आक्सीजन के लिए गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन चिकित्सकों का दिल नहीं पसीजा।
मामला शहर के उत्तम नर्सिंग होम से जुड़ा है। जनपद एटा के थाना जैथरा क्षेत्र के ग्राम मानिकपुर निवासी सत्यपाल पुत्र महेश चंद्र ने रविवार रात 9:30 बजे गर्भवती पत्नी सीमा को डिलेवरी के लिए भर्ती कराया था। आरोप है कि डिलेवरी कराने के नाम पर डा. उत्तम यादव व डा. रीतू गुप्ता ने 30 हजार रुपये पहले जमा करा लिए। बाद में 25 हजार रुपये और मांगे गए। रात 10:30 बजे सीमा ने दो जुड़वा पुत्रों को सामान्य रूप से जन्म दिया।
बच्चों को ऑक्सीजन लगाने की गुहार की गई तो उन्हें ऑक्सीजन नहीं लगाई गई। हालत बिगड़ने पर पीड़ित बच्चों को लेकर जिला अस्पताल पहुंचा। जहां चिकित्सकों ने हालत गंभीर होने पर बच्चों को सैफई रेफर कर दिया। सैफई ले जाते समय एक बच्चे ने रास्ते में तो दूसरे ने सैफई अस्पताल में दम तोड़ दिया।


अनुष्का की हत्या से पहले रेपः पीएम रिपोर्ट

मैनपुरी। नवोदय विद्यालय की छात्रा अनुष्का पांडेय की हत्या के मामला में नया खुलासा हुआ है। आगरा विधि विज्ञानं प्रयोगशाला की रिपोर्ट के मुताबिक छात्र की मौत से पहले उसके साथ रेप हुआ था। विधि विज्ञान प्रयोगशाला के वैज्ञानिकों को स्लाइड में मेल स्पर्म मिले थे। लैब ने 15 नवंबर को ही इसकी रिपोर्ट मैनपुरी पुलिस को दे दी थी। लेकिनर संदिग्धों से डीएनए मैच कराने की बजाय पुलिस ने इस रिपोर्ट को ही दबा दिया। बता दें परिवार पहले से ही दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाता रहा है।


डीएम-एसपी पर कार्रवाईः हत्याकांड की जांच और कार्रवाई को लेकर लापरवाह बने रहे आला अधिकारी अब सरकार के निशाने पर आ गए हैं। नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय को तो हटा ही दिया गया था। सोमवार को जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय को भी हटा दिया गया। इन दोनों अधिकारियों ने रेप पीड़िता की मौत के मामले में बड़े तथ्य छुपाए थे। परिजन शुरू से ही दुष्कर्म के बाद हत्या की बात कर रहे थे, लेकिन तत्कालीन एसपी मैनपुरी अजय शंकर राय लगातार आत्महत्या की दुहाई दे रहे थे। बहरहाल दोनों अधिकारी अब सरकार के निशाने पर हैं एसपी के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं।



पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुई छेड़छाड़ः अनुष्का की मौत के बाद पुलिस ने जो पंचनामा किया था उसमें अनुष्का के बदन पर चोटों के निशान पाए थे, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह सब नहीं दर्शाया गया। आगरा विधि विज्ञान प्रयोगशाला की जांच रिपोर्ट आने के बाद रेप पीड़िता के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई। इससे साफ जाहिर होता है कि पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर भी इस पूरे मामले में सम्मिलित थे। यही वजह रही कि पंचनामा में चोटों के निशान होने के बावजूद पोस्टमार्टम रिपोर्ट में चोटों के निशान गायब कर दिए गए। अनुष्का की हत्या को मौत में बदलने के लिए पूरे जिले का कुनबा शामिल था। क्या पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों पर भी अब जांच होगी यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा?


छात्रा के साथ हुआ था दुष्कर्मः रेप पीड़िता हत्याकांड में एक और बड़ा खुलासा हुआ है। मैनपुरी की छात्रा से दुष्कर्म हुआ था। आगरा विधि विज्ञान प्रयोगशाला में हुई जांच में वैज्ञानिकों को स्लाइड में मेल स्पर्म मिले थे। लैब ने 15 नवंबर को ही इसकी रिपोर्ट मैनपुरी पुलिस को दे दी थी। मगर संदिग्धों से डीएनए मैच कराने की बजाय पुलिस इसे दबाए रखी। एसआईटी की अध्यक्षता कर रहे आईजी कानपुर मोहित अग्रवाल ने पूरे मामले की जानकारी पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह को दी।
सीएम की नाराजगी के बाद हुई कार्रवाई


सीएम की नाराजगी के बाद पुलिस अधीक्षक और जिलाधिकारी को तो हटा दिया लेकिन अभी और भी वह मछलियां हैं, जिन पर कार्रवाई होनी बाकी है। अपर पुलिस अधीक्षक और सीओ भोगांव कोतवाल यह वह अधिकारी हैं जो इस हत्याकांड की जांच कर रहे थे। आखिरकार इन अधिकारियों ने भी पूरे मसले पर चुप्पी क्यों साधे रखी? क्या इस हत्याकांड को आत्महत्या देने के लिए प्रशासन किसी के दबाव में काम कर रहा था? यह तो एसआईटी की जांच पूरी होने के बाद ही पता लग पाएगा।


तहसील दिवस में आप का, पीएम को ज्ञापन

हैदराबाद में हुए पशु चिकित्सक पियंका की निर्मम हत्या को लेकर आम आदमी पार्टी की उत्तर प्रदेश महिला उपाध्यक्ष डॉ छबी यादव ने तहसील दिवस में प्रधानमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन


आम आदमी पार्टी की महिला प्रकोष्ठ की पदाधिकारी ने की पीड़िता को इंसाफ दिलाने की मांग


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। मंगलवार को तहसील दिवस पर लोनी तहसील में पिछले सप्ताह हैदराबाद के तेलंगाना में महिला पशु चिकित्सक प्रियंका 26 वर्षीय के साथ सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले को लेकर जमकर नारेबाजी की तथा   तहसील में आम आदमी पार्टी की नेता डा. छवि यादव व भावना बिष्ट ने महिला कार्यकर्ताओ के साथ मिलकर प्रधानमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन। पीड़िता प्रियंका के हत्यारों के लिए फांसी की मांग की। तहसील दिवस मे पिछले हफ्ते हुए प्रियंका 26 वर्षीय पशु चिकित्सक की हैदराबाद के तेलंगाना में दर्द नाक प्रकरण को लेकर, तहसील पर धरना प्रदर्शन करते हुए जामकर नारेबाजी की और हत्यारों को फांसी देने की मांग की। वही पूरे देश में लोग दरिंदों के लिए फांसी की मांग कर रहे हैं। वही लोग कैंडल मार्च निकाल कर अपना गुस्सा रोड पर जाहिर कर रहे हैं। हालांकि इसमें राजनीत से लेकर सामाजिक संगठन और आम आदमी भी इस तरह के मामले में, ऐसे कड़े कानून की मांग कर रहे है।  जो ऐसे दरिंदों को सरकार द्वारा तुरंत फांसी दी जाए या इनको जनता के हवाले किया जाए। जिससे इस तरह की घटनाएं कभी देश में ना हो। वैसे तो सरकार का नारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का फेल होते हुए नजर आ रहा है। क्योंकि देश में कहीं ना कहीं इस तरह की दरिंदगी की घटनाएं से महिलाएं और बेटियां इस इस कदर से सहमी हुई है कि रातों की नींद भी खराब है। वैसे तो देश और प्रदेश में इस तरह की घटनाएं लगातार हो रही है। लेकिन वहीं सरकार जागने का नाम नहीं ले रही है। घटना होने के बाद कुछ समय तक तो चर्चाएं होती है। लेकिन थोड़े दिनों बाद मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता है। ऐसे दरिंदों के लिए सरकार द्वारा तत्काल और फास्टट्रैक कानून बनना चाहिए जिससे ऐसे दरिंदों को जल्द से जल्द सजा मिल सके और पीड़ित महिला व बेटियों को इंसाफ मिल सके। कुछ साल पहले इसी तरह की घटना दिल्ली में हुई थी और लोगों ने पूरे देश में कैंडल मार्च निकालकर धरना प्रदर्शन कर लोगों ने आक्रोश जताया था। हालांकि उस समय उन दरिंदों को के लिए कार्यवाही हुई लेकिन एक मजबूत कानून नहीं बना जिसके चलते हैदराबाद की पशु चिकित्सक प्रियंका को झेलना पड़ा। और दरिंदों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार करके और उसे जलाकर मौत के घाट उतार दिया। अगर यही स्थिति देश में रही तो और ऐसे अपराधियों के हौसले बुलंद होंगे। महिला सुरक्षा के लिए अगर सख्त से सख्त कानून नहीं बना तो शायद हमारे देश में महिलाएं और बेटियां सुरक्षित नहीं रहेगी और इस तरह की घटनाएं हमेशा होती रहेगी। इसलिए सरकार को ऐसे दरिंदों के लिए सख्त से सख्त कानून बनाए और हो सके तो तत्काल फांसी की सजा होनी चाहिए। वही आम आदमी पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष डा• छवि यादव व भावना बिष्ट के नेतृत्व में पार्टी की पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं के सैकड़ों महिलाओं के साथ मिलकर तहसील दिवस में अधिकारी ओ को ज्ञापन सौंपा कर और हत्यारों के लिए फांसी की सजा की मांग की है। इस अवसर पर डा॰छवि यादव , भावना बिष्ट,विभा सिंह, नीलाम शुक्ला,,रुपा शेख नीरज,  शर्मा, नमिता गुप्ता,संजना, नर्मदा संगीता भट्ट वैजयंती नीलम,आदि सैकड़ों महिलाएं उपस्थित रही।


कर्नाटक उपचुनाव गिरा सकते हैं सरकार

तारिक जकी


बेंगलुरु। विधायकों के इस्तीफे से खाली हुईं कुल 17 सीटों पर चुनाव होना है। मगर दो सीटों का मामला कोर्ट में होने के कारण फिलहाल 15 सीटों पर ही पांच दिसंबर को उपचुनाव हो रहा है। उपचुनाव के नतीजे 9 दिसंबर को आएंगे। इस समय कर्नाटक में कुल 207 विधायक हैं। बहुमत के लिए जरूरी 104 से एक अधिक 105 विधायक भाजपा के पास हैं। अब 15 और विधायकों के चुनाव के बाद सदन की सदस्य संख्या 222 हो जाएगी। ऐसे में बहुमत के लिए भाजपा को 112 विधायक चाहिए। लिहाजा इस उपचुनाव में सात सीटें जीतने पर भाजपा की येदियुरप्पा सरकार को बहुमत हासिल हो जाएगा, लेकिन भाजपा कम से कम आठ सीटें जीतना चाहती है।


गौरतलब हो कि 224 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस और जनता दल (सेकुलर) के कुल 17 विधायकों के इस्तीफा देने से बीती जुलाई में कुमारस्वामी की गठबंधन सरकार गिर गई थी। वहीं इन विधायकों के इस्तीफे के कारण बहुमत के आंकड़े के कम होकर 104 पहुंच गया और उसके बाद भाजपा ने 105 विधायकों के साथ सरकार बनाई थी।


पार्टी ने कम से कम आठ सीटें जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। हालांकि भाजपा के नेता उपचुनाव में सभी 15 सीटों पर क्लीन स्वीप का दावा कर रहे हैं। भाजपा ने उपचुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। बीएस येदियुरप्पा मंत्रियों व संगठन पदाधिकारियों के साथ विधानसभा क्षेत्रों में दिन-रात कैंप कर रहे हैं। भाजपा महासचिव पी. मुरलीधर राव बतौर कर्नाटक प्रभारी उपचुनाव की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। कई दफा वह राज्य में भाजपा कोर कमेटी की बैठक लेकर पार्टी नेताओं को चुनाव प्रबंधन का पाठ पढ़ा चुके हैं।


पी. मुरलीधर राव ने कहा, 'उपचुनाव में सिर्फ स्थिर सरकार ही एक मुद्दा है। जनता भाजपा को वोट देकर बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व में स्थिर सरकार चाहती है, क्योंकि वह कांग्रेस-जेडी(एस) की सरकार का हश्र देख चुकी है। कांग्रेस राज्य को मध्यावधि चुनाव में झोंकना चाहती है, जिसे जनता भली-भांति जानती है।' राव ने सभी 15 सीटें जीतने का दावा किया है।


यूपी में बनी रहेगी बसपा शासन की छाप

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में यातायात पुलिस के जवान अब गहरे नीले रंग की पैंट और सफेद रंग की शर्ट में दिखेंगे। यातायात पुलिसकर्मी यह वर्दी प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की सरकार में पहनते थे। पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि इसका उद्देश्य महाराष्ट्र और दिल्ली जैसे अन्य राज्यों के साथ एकरूपता लाना है। इन राज्यों में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी सफेद शर्ट और गहरे नीले रंग की पैंट है।


अधिकारियों के मुताबिक, मायावती ने 2008 में अपने शासन में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी सफेद शर्ट-सफेद पैंट से बदलकर सफेद शर्ट और नीली पैंट कर दी थी। उनका मानना था कि सफेद पैंट जल्दी गंदे हो जाते हैं। यह वर्दी बीएसपी की एक फ्रंटल शाखा बहुजन वॉलनटिअर्स फोर्स (बीवीएफ) जैसी होने के कारण विवाद की संभावनाओं को देखते हुए यह निर्णय वापस ले लिया गया था। इसके बाद प्रदेश में समाजवादी पार्टी (एसपी) की सरकार आने पर अखिलेश यादव ने ट्रैफिक पुलिस की वर्दी बदलकर सफेद शर्ट और खाकी पैंट कर दी थी।


अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ट्रैफिक) पुर्णेंदु सिंह ने कहा कि वर्दी बदलने पर सहमति अक्टूबर में बनी और दो महीने का समय नई वर्दी की तैयारियों के लिए दिया गया। उन्होंने कहा कि नया ड्रेस कोड राज्य में सभी ट्रैफिक उप-निरीक्षकों के साथ-साथ ट्रैफिक निरीक्षकों पर भी लागू होगा।


दादी की मौत, सिपाही को छुट्टी नही, खुदकुशी

सुल्तानपुर। पुलिस ट्रेनिंग सेंटर के बैरक नंबर पांच में शनिवार सुबह रिक्रूट मोहम्मद नदीम का शव मफलर के फंदे से लटका मिला था। पड़ताल के बाद इसे आत्महत्या करार दिया गया। लेकिन देर रात पहुंचे परिजनों ने पुलिस महकमे पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है। कहा- दादी की मौत पर रिक्रूट को छुट्टी नहीं दी गई थी, जिससे आहत होकर उसने यह आत्मघाती कदम उठाया है। संभव है कि, उससे साथ कोई अनहोनी हुई हो। फिलहाल पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है।


शहर से सटे दादूपुर के पास पुलिस ट्रेनिंग सेंटर है। 18 अगस्त 2019 बैच में पुलिस विभाग में भर्ती हुए मुरादाबाद निवासी मोहम्मद नदीम की यहां ट्रेनिंग चल रही थी। शनिवार को सिपाही नदीम की लाश फंदे से लटकती मिली। नदीम बैरक पांच में अन्य साथियों के साथ रहता था। प्रतिसार निरीक्षक शमीउल्ला ने बताया कि नदीम काफी पढ़ालिखा था। वह अक्सर अपने साथियों से बड़ा अधिकारी बनने की बात करता था। साथियों के अनुसार इन दिनों वह तनाव में चल रहा था।


परिजनों के मुताबिक शनिवार रात करीब 11 बजे नदीम ने घर वालों से सही मूड में बात किया था। दो दिन पहले उसकी दादी की मौत पर छुट्टी मांगी थी। छुट्टी नहीं मिलने की वजह से कुछ विचलित हुआ था। तबीयत खराब होने की वजह से उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सब ठीक होने की वजह से उसे डॉक्टरों ने छुट्टी दे दिया था। शनिवार की सुबह वह परेड में भी शामिल हुआ था, लेकिन करीब साढ़े सात बजे उसकी लाश बैरिक में फंदे से लटकती मिली। परिजनों ने कहा कि बैरिक में सैकड़ो ट्रेनी सिपाही रहते हैं। ऐसे में यह भी बड़ा सवाल है कि सब की मौजूदगी में कोई फांसी कैसे लगा सकता है? मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए। सुल्तानपुर एसपी हिमांशु कुमार ने प्रकरण में बारीकी से जांच कराने का दावा कर रहे हैं। एसपी ने बताया कि उन्होंने खुद ट्रेनिंग सेंटर का निरीक्षण किया है। प्रथमदृष्टया खुदकुशी का मामला प्रतीत हो रहा है। रिक्रूट ने ऐसा कदम क्यों उठाया, इसकी जांच की जा रही है।


अलवर पुलिस ने मोस्ट वांटेड को पकड़ा

अलवर पुलिस को मिली बड़ी सफलता।


सुरेश से बड़ा इनामी मोस्ट वांटेड अरशद मेव पकड़ा गया।
1 लाख का इनामी मोस्ट वांटेड अरशद गिरफ्तार।
अलवर। प्रदेश के टॉप 20 की सूची में मोस्ट वांटेड है। अरशद को निवासी गदरवास गाँव, थाना खोह, जिला भरतपुर से गत रात घर पर दबिश देकर अलवर पुलिस ने गिरफ्तार किया।
पुलिस दो पिकअप गाड़ी को तिरपाल से ढक कर रात को पहुंच गई थी अरशद के घर। पूरे गांव से संघर्ष करने के बाद अलवर पुलिस दबोच लाई अरशद को। पुलिस ने मौके से एक कट्टा (इंग्लिश मेड) और 20 राउंड का बेल्ट जप्त किया।
अरशद पर 1 लाख का इनाम घोषित था, राजस्थान से 50 हजार,उत्तर प्रदेश से 30 हजार, और हरियाणा से 20 हजार का इनामी मोस्ट वांटेड है।
भरतपुर रेंज कार्यालय से 10 हजार भी इनाम घोषित है और
जयपुर मुख्यालय की अपराध शाखा ने भी इनाम घोषित है।
लूट, डकैती, वाहन चोर, भैंस चोरी, गौ-तस्करी और फायरिंग जैसे कई बड़े मामले है दर्ज। 40 से ज्यादा मुकदमे दर्ज,सभी में फरार चल रहा था अरशद। अलवर पुलिस अपना भेष बदलकर पहाड़ की चोटी पर 3 दिन तक तैनात रही ।
मौका मिलते ही कल रात को अरसद को उसके घर से गिरफ्तार कर लाई।


पुलिस टीम में सीओ साउथ दीपक कुमार, एसएचओ गोविंदगढ़ महेश, राजगढ़ एसई जितेंद्र यादव, एसएचओ रामगढ़ भरत महर, एसएचओ नौगावाँ मोहन सिंह व सीईयू की टीम ने पूरी कार्यवाही को अंजाम दिया।


नौ दिवसीय जन संदेश रथ यात्रा संपन्न

भिवानी। दिल्ली के लाल किला मैदान में आयोजित गीता प्रेरणा महोत्सव में भिवानी के हनुमान जोड़ी धाम मंदिर के महंत चरण दास महाराज के नेतृत्व में अनेक श्रद्धालु भिवानी से दिल्ली के लाल किला मैदान पहुंचे। दिल्ली पहुँचने पर आरएसएस के सर प्रमुख मोहन भागवत, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला,खेल मंत्री संदीप सिंह ,विधायक घनश्याम सर्राफ ने सभी श्रद्धालुओं, संत महात्माओं,चिकित्सकों और समाजसेवियों का आभार व्यक्त किया। भिवानी से दिल्ली पहुंचे रथ का स्वागत किया गया और भिवानी के महंत चरण दास महाराज का भी विशेष रूप से मंच पर स्थान देकर अभीनंदन किया गया। सद्भावना एवं समरसता से भरे इस राष्ट्रीय स्तर के गीता प्रेरणा महोत्सव में भिवानी से हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे।महन्त चरणदास महाराज,डॉ विनोद अंचल,कृष्ण कृपा सेवा समिति भिवानी के पदाधिकारी ओपी नंदवानी,खुशहाल ग्रोवर,चन्द्रप्रकाश और राष्ट्रीय युवा पुरस्कार अवॉर्डी अशोक भारद्वाज,समाजसेवी रमेश सैनी ने दिल्ली पहुंचे सभी चिकिसकों, सामाजिक कार्यकर्ताओ,धार्मिक संगठनों,पंडितों,युवाओं व सन्तों का आभार व्यक्त किया। कहा कि दिल्ली में आयोजित गीता प्रणाम महोत्सव हर धर्म ,हर समाज के लिए प्रेरणा स्त्रोत रहा है।  उन्होंने कहा कि लाल किला मैदान एक प्रकार से धार्मिक स्थल बन गया था, यहां पर देश भर के प्रत्येक प्रदेशों से लोग हजारों की संख्या में पहुंचे थे। इसी श्रंखला में छोटी काशी नगरी से पहुंचे सैकड़ों युवाओं ने कार्यक्रम में संकल्प लिया है कि वे गीता के प्रचार प्रसार में आगे रहेंगे और गीता के श्लोकों को अपने आचरण में उतारने का काम करेंगे। महंत चरण दास महाराज ने कहा कि उन्होंने भिवानी जिले सहित अनेक स्थानों पर गीता प्रेरणा  महोत्सव को लेकर जनसंदेश रथ यात्रा निकालकर लोगों को गीता जयंती के लिए प्रेरित किया था,जिसको को 9 दिन पहले जिला उपायुक्त सुजान सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। जिसका असर लाल किला मैदान में देखने को मिला और सैकड़ों की संख्या में अनेक सामाजिक संगठनों से जुड़े हुए व युवा वर्ग दिल्ली पहुंचे इसलिए वे सभी का आभार व्यक्त करते हैं की उन्होंने दिल्ली के कार्यक्रम को भव्य रूप देने का काम किया। आज 9 दिवसीय यात्रा सम्पन हो गई है।


पिता की मौत, 7 साल की बेटी को पगड़ी

जयपुर। शहर के एक परिवार ने पिता की माैत के बाद उसकी 7 साल की बेटी काे पगड़ी पहनाकर नई मिसाल पेश की है। यह देखने के बाद समाज ने भी बेटे- बेटी के बीच अंतर खत्म करने वाली इस खबर का प्रशंसा की है। जयपुर के सोडाला के रहने वाले राजेन्द्र वर्मा आटाे चलाते थे। बीमारी के चलते 19 नवंबर काे उनका निधन हाे गया था। राजेन्द्र के तीन बेटियां हैं, हीना, ईशा और प्रियंका। 30 नवंबर काे जब परिवार में पगड़ी की रस्म की बात आई ताे कई लाेगाें ने बेटे काे ही बाप की पगड़ी पहनाने की बात दाेहराई। लेकिन राजेन्द्र की ताे तीन बेटियां ही हैं।


नई मिसाल पेश की 
परिवार के कई लाेगाें ने इससे किनारा ही कर लिया। तब राजेन्द्र के ससुराल पक्ष ने राजेन्द्र की बड़ी बेटी 7 वर्षीय हीना काे पगड़ी पहनाकर रस्म पूरी की। हीना प्रथम कक्षा में पढ़ती है। अलवर निवासी नाना सुंदरलाल व रमेश तंवर ने कहा कि अाज बेटियां हर क्षेत्र में सक्षम हैं, इसलिए हमने बेटी काे बाप की पगड़ी बंधवाई।


कई रोगों से रक्षा करते हैं एंटीऑक्सीडेंट्स

ऐंटीऑक्सिडेंट्स ऐसे कंपाउंड्स या सब्सटेंस होते हैं जो सेल डैमेज को रोकते हैं। ये सेल डैमेज फ्री रेडिकल्स से होता है। ये फ्री रेडिकल्स शरीर में इक होकर ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस बढ़ाते हैं जिससे कैंसर, हार्ट डिजीज, टाइप 2 डायबीटीज जैसी खतरनाक बीमारियां होने का खतरा रहता है। अलग-अलग फल सब्जियों में अलग तरह के ऐंटीऑक्सिडेंट्स पाए जाते हैं। अगर आप ऐंटीऑक्सिडेंट रिच फूड खाते हैं तो हेल्दी और फिट रहते हैं। यहां हैं ऐसे 6 फूड्स जिन्हें आप अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं।
डार्क चॉकलेटः चॉकलेट को हेल्थ के लिए अच्छा नहीं माना जाता लेकिन डॉर्क चॉकलेट के मामले में ऐसा नहीं है। डार्क चॉकलेट काफी न्यूट्रिशस होती है और मिनरल्स, ऐंटीऑक्सिडेंट्स से भरपूर होती है। कोको में मौजूद ऐंटीऑक्सिडेंट्स से कई फायदे होते हैं और यह कार्डियोवस्कुलर डिजीज को रोकने भी मदद करती है।
बीन्सः बीन्स आसानी से मिल जाते हैं और काफी हेल्दी होते हैं। इनमें फाइबर्स और ऐंटीऑक्सिडेंट्स काफी मात्रा में होते हैं। ये आपको हेल्दी रखत हैं और कब्ज से भी बचाते हैं। बीन्स को डायट में शामिल करने से शरीर में कैंसर वाली सेल्स की ग्रोथ कम होती है।
चुकंदरः चुकंदर में फाइबर, पोटैशियम, आयरन, फॉलेट और ऐंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं। इस सब्जी में बेटालेन्स नाम के ऐंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं, यह इनफ्लेशन कम करने के साथ डाइजेस्टिव ट्रैक्ट और कोलन कैंसर का खतरा कम करते हैं।
ब्लूबेरीजः ब्लूबेरीज कैलरीज ज्यादा नहीं होतीं और न्यूट्रिएंट्स और ऐंटीऑक्सिडेंट्स का रिच सोर्स हैं। स्टडीज की मानें तो ब्लूबेरीज में किसी भी दूसरे फल और सब्जी की अपेक्षा ज्यादा ऐंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं।
पालकः पालक में विटमिन्स, ऐंटीऑक्सिडेंट्स और कैलरी कम होती है। पालक में ल्यूटीन और जियाजैंथिन दो ऐंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं जो आपकी आंखों को खतरनाक यूवी लाइट्स से बचाते हैं।
स्ट्रॉबेरीजः स्ट्रॉबेरीज काफी लोगों को पसंद होती हैं और इनमें विटमिन सी और ऐंटीऑक्सिडेंट्स भरपूर मात्रा में होते हैं। इसमें ऐंथोसायनिन होता है जो कि हार्ट डिजीज के खतरे को कम करता है और बैड कॅलेस्ट्रॉल घटाता है।


खाना खाने के अहम टाइम फैक्टर

खाना खाना एक सिंपल काम लग सकता है लेकिन छोटी-छोटी गलतियां इससे होने वाले फायदों पर बड़ा असर डाल सकती हैं। यह जानना जरूरी है कि जब खाने की बात आती है तो इसका टाइम सबसे अहम फैक्टर है। वक्त का ध्यान रखकर आप वजन पर नियंत्रण रखने के साथ दूसरी हेल्थ प्रॉब्लम्स से बच सकते हैं।
जानें, खाने का बेस्ट टाइम


कई बार आप ब्रेकफस्ट में देर कर देते हैं या वर्काउट के बाद खाना स्किप कर देते हैं। कई बार आप बिस्तर पर जाने के ठीक पहले खा लेते हैं। दिन में कई बार खाने के बीच में लंबा गैप हो जाता है। खाने का बेस्ट टाइम कब हो यह पता लगाना ट्रिकी हो सकता है, यहां है आपके के लिए हैं कुछ टिप्स…
ब्रेकफस्टः सुबह सोकर उठने के 30 मिनट के अंदर ब्रेकफस्ट कर लें। ब्रेकफस्ट करने का सबसे अच्छा टाइम सुबह 7 बजे होता है। 10 बजे के बाद तक नाश्ते का टाइम डिले न करें। ध्यान रखें कि आपके नाश्ते में प्रोटीन हो।
लंचः लंच करने का बेस्ट टाइम 12: 45 मिनट है। ब्रेकफस्ट और लंच के बीच कम से कम 4 घंटे का अंतर रखें। लंच का टाइम 4 बजे तक डिले न करें।
डिनरः डिनर करने का बेस्ट टाइम शाम 7 बजे है। रात के खाने और सोने के बीच कम से कम 3 घंटे का फर्क रखें। 10 बजे तक डिनर डिले न करें। सोने से पहले खाने से आपकी नींद डिस्टर्ब हो सकती है।
वर्काउटः कभी भी खाली पेट वर्काउट न करें। वर्काउट के पहले खाने के लिए सबसे सबसे अच्छे ऑप्शंस प्रोटीन सैंडविच, प्रोटीन शेक, होल वीट ब्रेड के साथ स्क्रैम्बल्ड एग, पीनट बटर सैंडविच वगैरह हैं। 


शीत लहर चलेगी,कड़ाके की ठंड पड़ेगी

नई दिल्ली। मौसम विभाग ने देश में सर्दियों के दिनों में पूरे उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ेगी। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, दिसम्बर से फरवरी के बीच पूरे उत्तर भारत में जबरदस्त शीत लहर चलेगी और कड़ाके की ठंड पड़ेगी और पूरे सर्दियों के मौसम में यह परेशान करेगी। कड़ाके की ठंड और शीत लहर महसूस किए जाने वाले राज्यों में पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, हिमांचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, चंड़ीगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, तेलंगाना, जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, मराठवाड़ा, विदर्भ और महाराष्ट्र शामिल हैं ,मौसम विभाग के मुताबिक दिसम्बर की शुरुआत में तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी और लक्ष्यद्वीप के तटीय इलाकों में भारी बारिश की संभावना है।
 दक्षिण भारत में कम ठंड पड़ने के आसार हैं। बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से आने वाली नमीयुक्त हवा के चलते सर्दियों के मौसम में दक्षिण भारत के अधिकतर इलाके में बादल छाए रहेंगे। बारिश भी होती रहेगी, लेकिन ठंड सामान्य से कम रहेगा।


यूपी में 12 आईपीएस अफसरों का तबादला

लखनऊ। यूपी में 12 आईपीएस के ट्रांसफर किए गये हैं। मंगलवार काे जारी हुई, सूची में सहारनपुर की एसपी ट्रैफिक अपर्णा गुप्ता का नाम भी शामिल है। अपर्णा काे कानपुर सिटी की जिम्मेदारी दी गई है। सहारनपुर एसपी ट्रैफिक के पद से उनका स्थानांतरण कानपुर एसपी सिटी के पद पर हुआ है।


इनका हुआ तबादलाः रवीना त्यागी काे एसपी सिटी कानपुर से एसपी सीबीसीआईडी कानपुर भेजा गया है। कमलेश्वरी चंद्र, पुलिस अधीक्षक सीबीआईडी कानपुर से पुलिस ट्रेनिंग सेंटर मेरठ भेजा गया है। अपर्णा गुप्ता काे एसपी ट्रैफिक सहारनपु से एसपी साऊथ कानपुर नगर भेजा गया है। सहारनपुर पुलिस अधीक्षक मधुरा अंकुर अग्रवाल काे एसपी सिटी नोएडा बनाया गया है। पुलिस अधीक्षक जाैनपुर रवि शंकर छवि काे पुलिस अधीक्षक वूमैन पावर लाइन 1090 बनाया गया है। अशोक कुमार क्षेत्रीय पुलिस अधीक्षक अभिसूचना बरेली काे एसपी जौनपुर बनाया गया है। वीरेंद्र कुमार मिश्र एसपी अम्बेडकरनगर काे पुलिस अधीक्षक सर्तकता (लखनऊ) भेजा गया है। पुलिस अधीक्षक हरदाेई आलोक प्रियदर्शी काे एसपी अम्बेडकरनगर बनाया गया है। पुलिस अधीक्षक एसटीएफ वाराणसी अमित कुमार काे एसपी हरदोई बनाया गया है। लखनऊ एसपी देहात विक्रांत वीर काे एसपी उन्नाव बनाया गया है। पुलिस अधीक्षक उन्नाव माधव प्रकाश वर्मा काे एसपी यूपी 112 बनाया गया है। अपर पुलिस अधीक्षक मुरादाबाद आदित्य लंगे काे एसपी ग्रामीण लखनऊ बनाया गया है।


सऊदी किस हद तक ट्रंप का साथ देगा

रियाद। ईरान के साथ वार्ता के प्रयास के दायरे में यमन के युद्ध को खत्म करने के लिए सऊदी अरब के प्रयासों से इस बात में संदेह पैदा हो गया है कि सऊदी अरब ईरान के खिलाफ अमरीकी प्रतिबंधों में किस हद तक ट्रम्प का साथ देगा।
सऊदी शासकों को आशा है कि ओमान और ब्रिटेन की मध्यस्थता से जो बात चीत हो रही है वह हौसियों और अब्दो रब्बे मंसूर की सरकार के बीच वार्ता पर खत्म होगी।  सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस ने अपने छोटे भाई, खालिद बिन सलमान को यमन युद्ध को खत्म करने की ज़िम्मेदारी सौंप दी है। इस तरह से अब यह कहा जा रहा है कि सऊदी अरब विदेश और रक्षा नींतियों में पहले की सतर्कतापूर्ण शैली की ओर वापस लौट रहा है और इसका मुख्य उद्देश्य, आरामको में होने वाले हमले जैसी किसी भी आगामी घटना से बचना है विशेषकर इस लिए भी कि फार्स की खाड़ी के तटवर्ती देशों की सुरक्षा के अपने वादे का अमरीका ने भी पालन नहीं किया। दर अस्ल सऊदी अरब, यमन युद्ध और खाशुकजी की हत्या के बाद पड़े अपनी छवि के दाग धब्बे मिटाने का प्रयास कर रहा है ताकि सन 2020 में गुट-20 का प्रमुख बन सके। आरामको पर यमन के हौसियों द्वारा मिसाइल और ड्रोन हमलों पर ट्रम्प ने जो रवैया अपनाया था उससे यह स्पष्ट हो गया कि फार्स की खाड़ी की सरकारें संकट में अमरीका पर भरोसा नहीं कर सकतीं। हालांकि अमरीका का यह आग्रह था कि इस हमले के पीछे ईरान का हाथ है।  
हालांकि बहरैन में हालिया सम्मेलन के दौरान सऊदी अरब और यूएई  वरिष्ठ अधिकारियों ने ईरान के खिलाफ जम कर बयान दिये हैं और सऊदी अरब ने आरामको पर हमले का आरोप ईरान पर एक बार फिर लगाया लेकिन फार्स की खाड़ी में जो हवा चल रही है उससे साफ महसूस हो रहा है कि एक साथ कई मोर्चों में तनाव कम करने का प्रयास शुरु हो गया है लेकिन फिर भी यह एक ठोस हक़ीक़त है कि मध्य पूर्व में हालात उसी समय सामान्य होंगे जब ईरान और अमरीका के बीच तनाव खत्म होगा।
इन सब के बावजूद हालिया महीनों में सऊदी अरब और यूएई ने कई ऐसे क़दम उठाए हैं जिनसे यह पता चलता है कि वह यमन के साथ ही नहीं बल्कि ईरान और क़तर के मामले में भी तनाव कम करने में दिलचस्पी ले रहे हैं।
कुवैत के उप विदेशमंत्री खालिद अलजारुल्लाह ने कहा है कि क़तर में आयोजित फार्स खाड़ी फुटबॉल कप में सऊदी अरब, यूएई और बहरैन की टीमों की भागीदारी, इन देशों के मध्य तनाव खत्म होने का स्पष्ट संकेत है।
उधर यूएई ने यमन से अपने सैनिकों को वापस बुला लिया और आरामको पर हमले या यूएई के तट पर धमाकों का ज़िम्मेदार ईरान को नहीं बताया और इसी के साथ यूएई के अधिकारियों ने फार्स की खाड़ी की सुरक्षा पर चर्चा के लिए ईरान की यात्रा भी की।
निश्चित रूप से विशेष ईरान के साथ तनाव कम करने के लिए फार्स की खाड़ी के तट वर्ती देशों की कोशिशों से ईरान के खिलाफ अमरीकी प्रतिबंध कमज़ोर होंगे जो अमरीका किसी भी दशा में नहीं चाहेगा लेकिन यमन युद्ध का अंत और ईरान से वार्ता निश्चित रूप से दो बड़ी महत्वपूर्ण घटना होगी।


बीमारी के चलते मुशर्रफ अस्पताल में भर्ती

इस्लामाबाद। दिल की बीमारी और बल्ड प्रेशर की समस्या से जूझ रहे पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ को दुबई के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार, मुशर्रफ अमीलॉइडोसिस जैसी गंभीर बीमारी से पीडि़त हैं, जिसका इलाज चल रहा है। इसी के रिएक्शन के चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है, मुशर्रफ की बीमारी के बारे में पिछले साल अक्टूबर में पता चला था, जिसके इलाज के लिए उन्हें हर तीन महीने पर लंदन जाना पड़ता है, वो लगातार कमजोर हो रहे हैं और उन्हें चलने-फिरने में काफी दिक्कतें हो रही हैं।


फिलहाल अभी उनकी बीमारी को लेकर कई अधिकारिक बयान नहीं आया है।
आपको बता दें कि मुशर्रफ मार्च 2016 से दुबई में रह रहे हैं, उन पर 2007 में संविधान को स्थगित करने के एक मामले में राजद्रोह के आरोप लगाए गए हैं, साल 2014 में इस मामले में न्यायालय ने उन्हें आरोपी माना है। वहीं अभी तक वापस देश नहीं लौटे है। ऐजेंसियां उनका स्वदेश लौटने का इंतजार कर रही है।


सीएम आगमन पर प्रशासन चाक-चौबंद

देवरिया। बहोर गांव में कोने कोने में रहेगी पुलिस की नजर मुख्यमंत्री को पत्रक देने के बहाने कई संगठन कर सकते विरोध 1000 अधिकारियों एवं पुलिस कर्मी को लगाया जाएगा सुरक्षा का पूरी तरह से ध्यान रखा जा रहा है। 


प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 3 बजे भलुअनी क्षेत्र के बहोर गांव आएंगे। मुख्यमंत्री के आगमन को देखते हुए सोमवार को दिनभर डीएम अमित किशोर और एसपी डॉ.श्रीपति मिश्र आलाधिकारियों के साथ गांव में सुबह से ही डटे रहे। जिलाधिकारी ने पुरोहित रामानुज त्रिपाठी के परिजनों से मिलने के साथ हर एक बिंदु का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री की सुरक्षा में एक अपर पुलिस अधीक्षक, छह सीओ, 15 एसओ, 100 दरोगा, 500 सिपाही, 100 महिला सिपाही और दो कंपनी पीएसी तैनात की गई है।


हेलीपैड से लेकर पुरोहित के घर तक कोने कोने पर सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम किया गया हैं। 
मुख्यमंत्री तकरीबन तीन बजे के बाद बहोर गांव पहुंचेंगे। भलुअनी विकास खंड में पहली बार किसी गांव में मुख्यमंत्री का आना हो रहा है। इसे लेकर लोगों में उत्सुकता है। प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी तैयारी में कोई कमी न रह जाए, इसे लेकर काफी चौकन्नें हैं। उधर खुफिया एजेंसियों को इनपुट मिला है कि कुछ संगठन के लोग पत्रक देने के बहाने मुख्यमंत्री के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर सकतें है। इसकी भनक मिलने के बाद प्रशासनिक अधिकारियों की बेचैनी बढ़ गई है। अधिकारी ऐसे लोगों को रोकने की रणनीति बनाने में जुटे हैं।


हेलीपैड के आसपास से हटवाए गए पेड़
भलुुअनी। क्षेत्र के बहोर गांव में सीएम के तय कार्यक्रम को लेकर महकमा उड़न खटोला उतारने के लिए पंचायत भवन स्थित मैदान में हेलीपैड बनवाया है। क्षेत्रीय वन अधिकारी राणा प्रताप सिंह कर्मियों के साथ पेड़ों की डालियां आदि की साफ-सफाई कराया। लोग यह भी बता रहे हैं कि हेलीपैड के समीप नीम का पेड़ होने से अड़चन आ रही थी। जिसे विभाग ने कटवा दिया है।


शिक्षा-विभाग को सुधरेंगे, सीएम योगी

लखनऊ। उत्तरप्रदेश के लखनऊ शहर में बेसिक शिक्षा विभाग का एक ओर कारनामा। उ.प्र. के मुख्यमंत्री आदित्य योगीनाथ की सरकार ने बेसिक शिक्षा विभाग को सुधारने के लिए तमाम कोशिशें कर रही है। विभाग को सुधारने के लिए प्रभावी मानीटरिंग के लिए महानिदेशालय बनाया गया, शिक्षकों की सेल्फी उपस्थिति लागू करने से लेकर प्रेरणा ऐप जैसे तमाम प्रयास किए, लेकिन विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के कारण विभाग और इसके विद्यालय मीडिया की सुर्खियों में लगातार बने रहते है।


सर्व शिक्षा अभियान के तहत प्रदेश की सभी सरकारी प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को दो सेट निशुल्क यूनिफार्म वितरित की जाती है। इस काम के लिए विभाग ने मानक तय कर रखे है, जो कि मुम्बई टैक्सटाइल कमेटी द्वारा तय किए गए है। आपूर्ति करने वाली फर्मों को इन मानकों के अनुरूप ही यूनिफार्म देनी होती है। पर, लखनऊ में मेसर्स गुप्ता वस्त्रालय, सादातगंज तथा प्रेम वस्त्रालय मिर्जागंज मलिहाबाद, लखनऊ ने यूनिफार्म की आपूर्ति की लेकिन इन फर्मों द्वारा आपूर्ति की गई यूनिफार्म मानक पर खरी नहीं उतरी, लिहाजा बीती 30 सितम्बर को बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा इन फर्मों का भुगतान रोक दिया गया।


इसके बाद इन फर्म के नुमाइन्दों ने बेसिक शिक्षा विभाग में भागदौड़ शुरू कर दी। कुछ ही समय बाद बीती 22 नवंबर को बेसिक शिक्षा अधिकारी लखनऊ अमरकांत सिंह ने इन फर्मों का भुगतान महज एक प्रतिशत की कटौती के साथ किए जाने की मंजूरी दे दी। इस संबंध में बेसिक शिक्षा अधिकारी लखनऊ का कहना है कि इन फर्माें द्वारा आपूर्ति की गई यूनिफार्म मानक से 98 से 99 प्रतिशत कम थी, इसलिए इनके भुगतान में एक प्रतिशत की कटौती के साथ भुगतान करने की मंजूरी दी गई है।


सिल्वर स्क्रीन पर वापसी करेगी अंजना

मुंबई। निखिल आडवाणी की मल्टीस्टारर फिल्म सलाम-ए-इश्क के बाद रोहित शेट्टी की गोलमाल रिटर्न में दिखाई दीं ऐक्ट्रेस अंजना सुखानी लगभग फिल्म इंडस्ट्री से गायब हो गईं। पिछली बार वह साल 2017 में आई सुनील ग्रोवर की फिल्म कॉफी विद डी दिखाई दी थीं। अब अंजना ने यह स्वीकार किया है कि वह निजी कारणों से फिल्मों से दूर हो गई थीं। 
लगभग 2 साल पहले अंजना की मौसी की कैंसर से मौत हो गई। इसके बाद उनकी नानी की भी मौत हो गई जिसके कारण वह अपने काम पर फोकस नहीं कर पा रही थीं। अंजना ने कहा, मेरी मौसी की शादी नहीं हुई थी, इसलिए मैं उनके साथ हमेशा हॉस्पिटल में रही। उनका कष्ट देखकर मेरे अंदर बहुत बदलाव आया।


अंजना को पता नहीं चला कि वह कब डिप्रेशन में चली गईं। उन्होंने कहा, मैंने अपने भाई से कहा कि कुछ दिन में खोई हुई रहती हूं और किसी से फोन पर बात नहीं कर सकती जबकि दूसरे दिन में नॉर्मल रहती थी। तब मेरे भाई ने मुझे सलाह दी कि मुझे सायकॉलजिस्ट की मदद लेनी चाहिए। इसके बाद अंजना का 4 महीने तक लगातार इलाज और काउंसलिंग चलते रहे।
अजंना ने बताया कि उनके इलाज में म्यूजिक ने बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने सेमी-क्लासिकल सिंगिंग सीखनी भी शुरू की थी। अब अंजना ने अपना पहला गाना भी रिकॉर्ड कर लिया है। यह रोमांटिक पार्टी ट्रैक कुछ महीने में रिलीज किया जाएगा।


जल्द ही अंजना, करण जौहर की फिल्म गुड न्यूज से सिल्वर स्क्रीन पर वापसी करने जा रहे हैं। 27 दिसंबर को रिलीज हुई इस फिल्म में अंजना ने अक्षय कुमार की बहन का किरदार निभाया है जो एक वकील है और अपने भाई को सलाह देती है। वैसे अंजना इससे पहले गोलमाल रिटर्न में करीना और खतरों के खिलाड़ी में अक्षय के साथ काम कर चुकी हैं। इस फिल्म के अलावा अंजना, जॉन अब्राहम और इमरान हाशमी के साथ फिल्म मुंबई सागा में भी दिखाई देंगी।


खास अंदाज में छुट्टियां मना रही नेहा

 मनोज सिंह ठाकुर 


खास अंदाज में छुट्टियां मना रही हैं नेहा शर्मा
हवाई। बॉलीवुड एक्ट्रेस नेहा शर्मा इन दिनों छुट्टियां मना रही हैं और इस दौरान की कई तस्वीरें वो अपने फैंस के साथ शेयर कर रही हैं। इन तस्वीरों में नेहा शर्मा का काफी हॉट अंदाज नजर आ रहा है। आप तस्वीरों में देख सकते हैं कि नेहा ब्लैक बिकिनी में नजर आ रही हैं। नेहा इन दिनो हवाई में हैं और वहीं छुट्टियां मना रहे हैं। नेहा की इन खास वेकेशन्स की और तस्वीरें देखने के लिए आप आगे की स्लाइड्स का रुख कर सकते हैं। ये पहली बार नहीं है नेहा शर्मा अक्सर सोशल मीडिया पर अपनी ऐसी ही बोल्ड तस्वीरें शेयर करती रहती हैं।


वहीं, वर्कफ्रंट की बात करें तो नेहा शर्मा ने साल 2010 में इमरान हाशमी के साथ फिल्म क्रूक से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। इससे पहले वो तेलुगु फिल्मों में डेब्यू कर चुकी थीं। हिंदी सिनेमा की बात करें तो वो ज्यादा फिल्मों में नजर नहीं आईं हैं। क्रुक के बाद वो जयंतभाई की लव स्टोरी और तुम बिन 2 जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी हैं। फिल्मों में भले ही नेहा शर्मा ज्यादा एक्टिव न रहती हों लेकिन वो सोशल मीडिया पर खासा एक्टिव रहती हैं।


स्ट्रीट डांसर को प्रमोट कर रहे हैं वरुण

मुंबई। वरुण धवन को हाल ही में बेहद खास अंदाज में मुंबई में स्पॉट किया गया। इस दौरान वरुण काफी रिलेक्स्ड और कॉन्फिडेंट नजर आ रहे थे। वरुण धवन इस दौरान शिमरी ग्रे कलर की आउटफिट में नजर आए। इसे उन्होंने प्लेन ब्लैक टी शर्ट के साथ कैरी किया था। वरुण अपनी आउटफिट के जरिए अपनी आने वाली फिल्म स्ट्रीट डांसर को प्रमोट करते नजर आए। उनकी ब्लैक टीशर्ट पर सफेद रंग से स्ट्रीट डांसर लिखा हुआ था।


इसके साथ उन्होंने गले में एक मोटी चेन पहनी हुई थी। वरुण ने अपने इस लुक डार्त सनग्लासेस के साथ कंप्लीट किया था। आपको बता दें कि इन दिनों वरुण अपनी फिल्म स्ट्रीट डांसर 3डी के अलावा फिल्म कुली नंबर 1 की भी शूटिंग कर रहे हैं। हाल ही में वो फिल्म के सेट पर एक हादसे का शिकार होते-होते बचे हैं। फिल्म में स्ट्रीट डांसर 3डी में उनके साथ श्रद्धा कपूर नजर आएंगी।


बॉबी देओल के बेटे की बॉलीवुड में एंट्री

मुंबई। सनी देओल के बेटे करण देओल की बॉलिवुड डेब्यू के बाद अब सबकी नजरें बॉबी देओल के बेटे आर्यमन की तरफ हैं। करण ने जहां हाल ही में पल पल दिल के पास फिल्म से बॉलिवुड में एंट्री मारी, वहीं बॉबी आर्यमन को लॉन्च करने की जल्दी में नहीं हैं। 
बॉबी से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आर्यमन को अपने पसंद के करियर को चुनने की छूट है। हालांकि, बॉबी देओल ने यह भी कहा कि उन्हें यकीन है कि उनका बेटा ऐक्टर ही बनना चाहता है। उन्होंने यह भी कहा कि आर्यमन अभी 18 साल का ही और वह जो चाहे वह कर सकता है।
इस बारे में और बातें करते हुए बॉबी ने कहा कि आर्यमन फिलहाल मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रहा है और फिलहाल पढ़ाई में डूबा है। उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि उनका बेटा यह तय करने में खुद ही सक्षम हो कि उसे आगे क्या करना है। 
जैसा कि हम सभी जानते हैं देओल परिवार बॉलिवुड का एक अहम हिस्सा रहा है और हेमा मालिनी से लेकर धर्मेन्द्र, सनी देओल, बॉबी देओल, ईशा देओल जैसे सभी कलाकारों ने इंडस्ट्री में अपना अहम योगदान दिया है। करण देओल इस फैमिली का तीसरा जेनरेशन हैं, जिसने इस परम्परा को आगे बढ़ाया है। बता दें कि करण देओल की फिल्म पल पल दिल के पास का निर्देशन सनी देओल ने ही किया था। फिल्म को दर्शकों और क्रिटिक्स की ओर से मिलाजुला रिस्पॉन्स मिला।


फ्लाइट में तीन को हार्टअटैक, एक की मौत

इस्लामाबाद। पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस के विमान में तीन यात्रियों को दिल का दौरा पड़ने से अफरा तफरी मच गई। पायलटों को सूचना देकर विमान की आपातकालीन लैंडिंग कराई गई। मगर इलाज के दौरान एक महिला यात्री की मौत हो गई जबकि विवाहित युगल को बचा लिया गया।
घटना उस वक्त हुई जब जहाज जेद्दाह से इस्लामाबाद आ रहा था। पीआईए की विमान संख्या पीके-742 में 225 यात्री सवार थे। मगर तीन यात्रियों को छाती में दर्द की शिकायत के बाद विमान को कराची एयरपोर्ट पर आपातकालीन स्थिति में उतारा गया। इस दौरान नागर विमानन प्राधिकरण अधिकारियों को मामले की जानकारी दी गई और उनसे तत्काल मौके पर सुविधा पहुंचाने को कहा गया। इसके बाद यात्रियों के इलाज के लिए एंबुलेंस, डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों की टीम को भेजा गया। स्वास्थ्य कर्मियों ने एंबुलेंस से मरीजों को इमरजेंसी वार्ड में शिफ्ट किया। इस दौरान एक यात्री को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। महाला बीबी नाम की यात्री की मौत जहाज की लैंडिंग से पहले ही हो चुकी थी। विवाहित युगल को बचा लिया गया।


दो बच्चों की हत्या कर तीनों कूदे, दो की मौत

अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद! इंदिरापुरम में दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। आठवीं मंजिल से पति और उसकी दोनों पत्नियां कूद गईं। इस घटना में पति और उसकी एक पत्नी की मौत हो गई, जबकि एक पत्नी की हालत गंभीर बताया जा रहा है। छत से छलांग लगाने से पहले पति और दोनों पत्नियों ने अपने दोनों बच्चों का गला भी दबा दिया था।


पुलिस का कहना है कि घरेलू कलह और पैसे की तंगी होने से आत्महत्या की गई है। बहरहाल, मामले की जांच में पुलिस जुटी है।पुलिस शव का पंचनामा कर पीएम के लिए भेज दिया है। घटना मंगलवार सुबह 5 बजे की है। अपार्टमेंट के गार्ड ने पुलिस को इस घटना की जानकारी दी। वैभव खंड के कृष्णा सफायर अपार्टमेंट में रहने वाले तीन लोगों ने छलांग लगाई थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल पर एक पुरुष और दो महिलाओं को पाया।


नाबालिक को लिफ्ट देकर, सामूहिक दुष्कर्म

भुवनेश्वर। एक नाबालिग को लिफ्ट देने के बहाने ले जाकर पुरी के पुलिस क्वार्टर्स में सामूहिक दुष्कर्म किये जाने की एक सनसनीखेज घटना उजागर होने के बाद राज्य की राजनीति में उबाल आ गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने आरोपित कांस्टेबल जीतेन्द्र सेठी को गिरफ्तार कर लिया है। तीन अन्य लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घटना सोमवार देर शाम की है। पुरी के आरक्षी अधीक्षक व सेंट्रल रेंज के डीजी स्वयं इस घटना के जांच की निगरानी कर रहे हैं।


पीड़ित नाबालिग है और उसके बयान के अनुसार वह भुवनेश्वर में रहती थी । सोमवार को वह अपने घर काकटपुर जा रही थी। निमापडा में दोपहर के बाद होटल में भोजन करने के पश्चात वह बस की प्रतीक्षा में खड़ी थी। उसे अकेला देख कर आरोपित जीतेन्द्र व उनके तीन साथी आ कर लिफ्ट देने की बात कही लेकिन जब वह राजी नहीं हुई तब उसने पुलिस होने का प्रमाण पत्र दिखा कर विश्वास प्राप्त किया । इसके बाद वह भरोसे में आकर उनकी कार में बैठ गई ।


जीतेन्द्र ने उसे काकटपुर की बजाय पुरी लेकर आया । वहां वह उसे अपने सरकारी क्वार्टर में ले गया । जीतेन्द्र की पत्नी भी पुलिस में होने के कारण उसे एक क्वार्टर मिला है । वहां चारों ने उसके साथ गलत व्यवहार किया। इसके बाद एक कमरे में लाक कर दोनों वहां से चले गये । इसके बाद जीतेन्द्र व उसके एक साथी ने उसके साथ दुष्कर्म किया । पीड़ित का कहना है कि उन्होंने शराब पीने के बाद दुष्कर्म किया तथा उसकी वीडियो रिकार्डिंग भी की है । हालांकि काफी नशे का सेवन करने के कारण कुछ समय बाद उनमें होश नहीं रहा। तभी उसने बाहर जा रहे एक व्यक्ति को बोल कर दरबाजा खुलवाया व आरोपित कांस्टेबल का पर्स लेकर वहां से भाग निकली। इस पर्स में जीतेन्द्र के कागजात थे। इसके बाद पीडित पुरी के कुंभारपडा थाने में पहुंची ।


स्थिति की गंभीरता को देखते हुए एसपी उमाशंकर दास समेत महिला डीएसपी व कुभांरपडा थाने के थानाधिकारी ने जांच शुरू की । जांच के तुरंत बाद जितेन्द्र को गिरफ्तार कर लिया । तीन लोगों को और हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही । पीड़ित की डाक्टरी चिकित्सा की जा रही है। सोमवार देर शाम राज्य के विभिन्न राजनैतिक दलों ने इस मामले में विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। विभिन्न राजनैतिक पार्टी के नेता सड़क पर उतरे व एसपी से इस मामले में बातचीत की। एसपी ने उन्हें कड़ी कार्रवाई किये जाने का आश्वासन दिया है ।


नौसेना ने संदिग्ध 'चीनी पोत' को खदेड़ा

पोर्ट ब्लेयर! भारतीय नौसेना ने अंडमान-निकोबार के समीप अपने जलक्षेत्र में अवैध रूप से घुसे संदिग्ध चीनी पोत को खदेड़ दिया। बताया गया कि संदिग्ध चीनी जहाज  शी यान 1 एक अनुसंधान पोत था जिसकी खोज भारतीय निगरानी विमान पी8आई ने किया। यह जलपोत पोर्ट ब्लेयर के पास भारतीय जल क्षेत्र में कथित रूप से अनुसंधान गतिविधियों को अंजाम दे रहा था। सूत्रों के अनुसार ऐसी आशंका जताई गई कि चीन इस पोत के जरिए भारतीय क्षेत्र में नौसेना की गतिविधियों की जासूसी कर सकता है। क्योंकि, चीन आक्रामक रूप से हिंद महासागर क्षेत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की कोशिश कर रहा है। 


सुरक्षा एजेंसियों ने जैसे ही पता लगाया कि एक चीनी पोत भारतीय विशेष आर्थिक क्षेत्र में अनुसंधान गतिविधियों को अंजाम दे रहा है वैसे ही भारतीय नौसेना सक्रिय हो गई। नौसेना ने अपने एक युद्धपोत को इसकी निगरानी के लिए भेजा। 


भारतीय कानून के अनुसार कोई भी विदेशी जहाज भारतीय जल क्षेत्र में किसी भी प्रकार का शोध या अन्वेषण गतिविधि को अंजाम नहीं दे सकता। इसके बाद भारतीय नौसेना के युद्धपोत ने पूरा संयम बरतते हुए चीनी अनुसंधान पोत को भारतीय जल क्षेत्र से बाहर जाने के लिए कहा।  भारतीय नौसेना का आदेश पाते ही चीनी जलपोत भारत के जलक्षेत्र से बाहर भाग गया। 


बता दें कि भारतीय नौसेना मलेशिया के पास स्थित मलक्का जलडमरूमध्य से हिंद महासागर क्षेत्र में प्रवेश करने वाले सभी चीनी जहाजों पर निरंतर निगरानी रखती है। कुछ दिनों पहले ही नौसेना के खोजी विमान पी8आई ने चीनी नौसेना के सात युद्धपोतों का पता लगाया था जो हिंद महासागर क्षेत्र में सक्रिय थे। 


हिंद महासागर क्षेत्र में युद्धपोतों और परमाणु शक्ति युक्त पनडु्ब्बियों के गश्त को लेकर चीन बार-बार यह दलील देता है कि ये समुद्री लुटेरों के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कार्रवाई बल का हिस्सा हैं। कभी-कभी ये जहाज भारतीय जलक्षेत्र में भी प्रवेश कर जाते हैं। लेकिन जानकारों के अनुसार, समुद्री लुटेरों के खिलाफ कभी भी पनडुब्बियां कार्रवाई नहीं करती हैं। जो चीन की चालाकियों कोदर्शाता है।


गुजरात में आतंकरोधी कानून 'गुजसीटॉक' लागू

अहमदाबाद! गुजरात में आज से से गुजरात संगठित अपराध एवं आतकंवाद नियंत्रण विधेयक (गुजसीटॉक) को पूरे राज्य में लागू कर दिया गया। यह कानून महाराष्ट्र के मकोका की तर्ज पर बना है। इसके तहत पुलिस को किसी का फोन टैप करके उसे अदालत में बतौर सबूत पेश करने सहित कई नई शक्तियां दी गई हैं| महाराष्ट्र के मकोका कानून के बाद गुजरात आतंकवाद निरोधक कानून वाला दूसरा राज्य बन गया है।
बता दें कि इस कानून को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पांच नवंबर को मंजूरी दी थी। जबकि इससे पहले देश के तीन पूर्व राष्ट्रपतियों ने इस कानून में कोई न कोई तकनीकी खामी बताकर लौटा दिया था। इस विधेयक को पहली बार 2003 में तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में गुजरात विधानसभा ने पारित किया था। लेकिन, राष्ट्रपति ने कुछ खामियां बताकर इस वापस लौटा दिया था। इसके लिए विशेष अदालत का गठन और लोक अभियोजकों की नियुक्ति भी की जाएगी।


 


नासा ने चंद्रमा पर ढूंढ निकाला 'विक्रम'

न्यू जर्सी! इस साल सितंबर में भारत के महत्वकांक्षी चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर के मलबे को अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने ढूंढ निकाला है। नासा ने मंगलवार सुबह अपने लूनर रेकॉन्सेन्स ऑर्बिटर (एलआरओ) से ली गई एक तस्वीर जारी की है। जिसमें विक्रम लैंडर से प्रभावित स्थान दिखाई दे रहा है। नासा ने एक बयान जारी करते हुए कहा चंद्रमा की सतह पर विक्रम लैंडर मिल गया है।


तस्वीर में नीले और हरे डॉट्स के जरिए विक्रम लैंडर के मलबे वाला क्षेत्र दिखाया गया है। बयान में नासा ने कहा है कि उसने 26 सितंबर को क्रैश साइट की एक तस्वीर जारी की थी और लोगों को विक्रम लैंडर के संकेतों की खोज करने के लिए बुलाया था। जिसके बाद शनमुगा सुब्रमण्यन नाम के व्यक्ति ने मलबे की सकारात्मक पहचान के साथ एलआरओ परियोजना से संपर्क किया।


जिसके बाद एलओआरसी की टीम ने पहले और बाद की छवियों की तुलना करके लैंडर साइट की पहचान की पुष्टि की। शनमुगा ने क्रैश साइट के उत्तर-पश्चिम में लगभग 750 मीटर की दूरी पर स्थित मलबे की पहचान की। यह पहले मोजेक (1.3 मीटर पिक्सल, 84 डिग्री घटना कोण) की स्पष्ट तस्वीर थी। नंवबर मोजेक में इंपैक्ट क्रिएटर, रे और व्यापक मलबा क्षेत्र को अच्छी तरह से दिख रहा है। मलबे के तीन सबसे बड़े टुकड़े 2x2 पिक्सल के हैं।


इसरो से टूट गया था चंद्रयान-2
अक्तूबर में नासा ने बयान जारी करके बताया था कि उन्हें ऑर्बिटर से मिले ताजा फोटो में चंद्रयान-2 के लैंडर का पता नहीं चला है। नासा ने कहा था कि हो सकता है जिस समय हमारे ऑर्बिटर ने तस्वीर ली उस समय लैंडर किसी छाया में छिप गया हो। नासा की एक परियोजना के वैज्ञानिक ने बताया था कि हमारे ऑर्बिटर ने 14 अक्तूबर को चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडिंग साइट की फोटो ली थी लेकिन वहां हमें ऐसी कोई त्सवीर नहीं मिली जिसमें विक्रम लैंडर-2 को देखा जा सके। बता दें कि चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर विक्रम लैंडर ने सॉफ्ट की बजाए हार्ड लैंडिंग की थी जिसके कारण उसका इसरो से संपर्क टूट गया था।


लंदन में भारतीय रेस्तरां पर लगा जुर्माना

लंदन । एक भारतीय रेस्तरां ने ड्राईफ्रूट्स से एलर्जी वाली ब्रिटेन की किशोरी को मूंगफली परोस दी, इससे किशोरी को एलर्जी हो गई। उसकी शिकायत पर भारतीय रेस्तरां पर  मूंगफली परोसने के लिए 3,767 पाउंड (लगभग 3,5 लाख रुपये) का जुर्माना लगाया गया है। भारतीय रेस्तरां ने जिस किशोरी को मूंगफली का सेवन कराया, उसे ड्राईफ्रूट्स से एलर्जी थी। रेस्तरां में की गई जांच के बाद कई लापरवाही भी पाई गई, जिसके बाद यहां के मालिकों पर 3,5 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया। रिपोर्ट के अनुसार, न्यूकैसल के पास टाइनमाउथ में स्थित रेस्तरां 'गुलशन' के कर्मचारियों ने 16 साल की लड़की को खाना परोसा था और उसे व उसके परिवार को भरोसा दिलाया कि यह खाना सुरक्षित है। कुछ कौर खाने के बाद लड़की को एलर्जी के कारण जीभ में झनझनाहट और सूजन होने लगी। लड़की को नॉर्थ टाइनसाइड जनरल हॉस्पिटल और फिर क्रैमलिंगटन में नॉर्थम्ब्रिया स्पेशलिस्ट इमरजेंसी केयर हॉस्पिटल ले जाया गया। स्थानीय प्राधिकरण के खाद्य सुरक्षा दल के अधिकारियों ने चिकन करी के अवशेषों को परीक्षण के लिए लिया। इसमें एक स्तर पर मूंगफली प्रोटीन पाया गया, जो ड्राईफ्रूट एलर्जी से पीड़ित किसी व्यक्ति के लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है।



पंकजा 12 को करेगी समर्थकों की बैठक

मुंबई । महाराष्ट्र में भाजपा को स्थापित करने वाले दिवंगत गोपीनाथ मुंडे की बेटी, भाजपा की फायरब्रांड नेता और राज्य की पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे की एक फेसबुक पोस्ट से महाराष्ट्र के राजनीतिक हलके में एक बार फिर उथल-पुथल के संकेत मिल रहे हैं। पंकजा मुंडे ने अपने समर्थकों को गोपीनाथ मुंडे की जयंती पर 12 दिसंबर के दिन बीड के गोपीनाथगढ़ पहुंचने को कहा है। उम्मीद की जा रही है कि उस दिन वह कोई बड़ा विस्फोट कर सकती हैं।
विधानसभा चुनाव में शिकस्त के बाद वह दबी जुबान में महाराष्ट्र भाजपा के आला नेताओं के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर कर चुकी है। ताजा फेसबुक पोस्ट से उन्होंने संकेत दिया है कि वह चुप नहीं रहेंगी? ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या वह देवेंद्र फड़नवीस के खिलाफ अपना गुस्सा खुलकर जाहिर करेंगी? पंकजा मुंडे मराठावाडा की परली सीट पर अपने चचेरे भाई धनंजय मुंडे से हाल ही में विधानसभा का चुनाव हारी हैं। अपनी इस हार को पंकजा पचा नहीं पा रही हैं। वह पब्लिक के सामने और अपने समर्थकों के बीच तब से खामोश हैं। लेकिन भाजपा के कई बड़े नेताओं के समक्ष वह अपनी व्यथा जाहिर कर चुकी हैं। बड़े नेताओं को पंकजा यह बता चुकी हैं कि वह चुनाव हारी नहीं हैं, उन्हें चुनाव हरवाया गया है।
पंकजा ने ऐसी कई बातें वरिष्ठ नेताओं को सबूत के साथ बताई हैं कि किस तरह उन्हें चुनाव हरवाने के लिए काम किया गया। सूत्र बताते हैं कि वरिष्ठ नेताओं के समक्ष व्यथा व्यक्त करते वक्त पंकजा का सारा रोष पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के खिलाफ रहा है।
अपनी हार से आहत पंकजा मुंडे ने फेसबुक पर एक भावुक पोस्ट लिखकर अपने समर्थकों को 12 दिसंबर के दिन गोपीनाथ मुंडे की जयंती पर बीड के गोपीनाथगढ़ पहुंचने को कहा है। ऐसे में सवाल यह है कि क्या उस दिन पंकजा वही सब कहेंगी, जो वह भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को बता चुकी हैं? क्या वह इस बात का खुलासा करेंगी कि उनकी हार में किस-किस का हाथ है? क्या वह इस बहाने राज्य की ओबीसी राजनीति में कोई नया कार्ड प्ले करने जा रही हैं?
बीजेपी के कुछ बड़े नेताओं का कहना है कि पंकजा मुंडे नाराज जरूर हैं, लेकिन ऐसा नहीं लगता कि वह पार्टी के खिलाफ कुछ करेंगी। हालांकि इन नेताओं का कहना है कि किसी व्यक्ति विशेष के बारे में अगर उनके मन में गुस्सा है, तो वह उसे अपने समर्थकों के समक्ष प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से व्यक्त कर सकती हैं। उस पर टिप्पणी के लिए पंकजा से बात करने की कोशिश की गई तो उससे संपर्क नहीं सका।



मासूम से रेप के बाद हत्या की आशंका

इन्दौर। इन्दौर जिले के महू थाना क्षेत्र में सोमवार को चार साल की एक मासूम बच्ची का शव बरामद हुआ। आशंका है कि बालिका के साथ दुष्कर्म कर उसकी निर्मम हत्या की गयी है।प्राप्त जानकारी के अनुसार बच्ची अपने माता-पिता के साथ महू के रेलवे स्टेशन के समीप पुल के नीचे कल रात सो रही थी। इसी बीच आज सुबह बच्ची अचानक लापता हो गयी। इसकी सूचना पुलिस को दी गयी, जिसके बाद एक होटल के सामने स्थित खंडहर से बच्ची का शव पुलिस ने बरामद किया। मृत बच्ची के शरीर पर चोट के निशान पाए जाने से आशंका जताई जा रही है कि बालिका के साथ दुष्कर्म कर उसकी निर्मम हत्या की गयी है। पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


दिसंबर 04, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-120 (साल-01)
2. बुधवार, दिसंबर 04, 2019
3. शक-1941, मार्गशीर्ष- शुक्लपक्ष, तिथि- अष्टमी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:48,सूर्यास्त 05:46
5. न्‍यूनतम तापमान -11 डी.सै.,अधिकतम-24+ डी.सै., आसमान साफ रहेगा।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...