सोमवार, 12 जून 2023

यमुना ब्रिज नैनी, कार्यों की प्रगति के संबंध में बैठक 

यमुना ब्रिज नैनी, कार्यों की प्रगति के संबंध में बैठक 

बृजेश केसरवानी 

प्रयागराज। डीएम संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में सोमवार को संगम सभागार में यमुना ब्रिज नैनी के मरम्मत कार्यों की प्रगति के संबंध में समीक्षा बैठक आयोजित हुई। बैठक में डीएम ने कहा कि यमुना ब्रिज पर मरम्मत अवधि के दौरान गिट्टी, मोरम एवं अन्य भारी वाहनों का प्रवेश पूर्णतः वर्जिंत रहेगा, नहीं तो सम्बंधित थानाध्यक्ष इसके लिए जिम्मेदार होंगे। उन्होंने सभी सम्बंधित थानाध्यक्षों को डायवर्जन प्लान को कड़ाई से लागू करने के निर्देश दिए है तथा बैरियर लगाकर उस पर रूर्ट चार्ट/डायवर्जन प्लान लगाये जाने के निर्देश दिए है।

डीएम ने एनएचएआई के अधिकारियों को कार्य में और तेजी लाये जाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि यदि मरम्मत के कार्यों में कोई कमी रहती है, तो आपकी जिम्मेदारी तय की जायेगी। उन्होंने मरम्मत कार्यों की प्रति सप्ताह प्रगति रिपोर्ट देने को कहा है। उन्होंने समयानुसार कार्य न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यों की प्रगति में तेजी लाये जाने के निर्देश दिए है। उन्होंने फेज-1 कितने कार्य हो चुके है तथा फेज-2 के क्या कार्य चल रहे है, की प्रगति रिपोर्ट मांगी है।

इस अवसर पर एडीएम सिटी मदन कुमार, डीसीपी यमुनापार संतोष मीना, सीओ, आरटीओ, खनन अधिकारी एवं सम्बंधित थानों के थानाध्यक्षों सहित अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

छत्तीसगढ़: संगठन की वार्षिक आमसभा संपन्न 

छत्तीसगढ़: संगठन की वार्षिक आमसभा संपन्न 


उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिला समूहों को विधायक अनीता योगेंद्र शर्मा ने किया सम्मानित

छत्तीसगढ़ आजीविका मिशन बिहान के वार्षिक अधिवेशन में शामिल हुई विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा

रायपुर। छत्तीसगढ़ आजीविका मिशन बिहान के अंतर्गत सोमवार को ग्राम पंचायत सिलयारी के शक्ति महिला कलस्टर संगठन की वार्षिक आमसभा संपन्न हुई। इस कार्यक्रम में बिहान समूह के समस्त कलस्टर के महिलाओं ने अपने कार्यों और उपलब्धियों को प्रस्तुत किया और आगामी कार्य योजना बनाई और इस इस अवसर में विधायक अनिता योगेन्द्र शर्मा के द्वारा महिला संगठनों को उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

इस कार्यक्रम की मुख्य अतिथि विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा ने कहा लगातार हमारी सरकार के द्वारा महिलाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए योजनाए महात्मा गांधी ग्रामीण औद्योगीक पार्क योजना (रीपा) के माध्यम से आज प्रदेश भर में महिलाओं को रोजगार के अवसर मिल रहे हैं, जिससे महिलाएं आत्मनिर्भर बनी है।

सोमवार को कार्यक्रम मे मुख्य रूप से जिला पंचायत अध्यक्ष डोमेश्वरी वर्मा,जनपद पंचायत अध्यक्ष उत्तरा कमल भारती, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष दुर्गेश वर्मा, जनपद सदस्य दुर्गा शेखर यादव, ग्राम पंचायत सरपंच भानमती मनीष मांडले, घनश्याम वर्मा, कन्हैया यादव,अजय वर्मा, ओम निचलानी, प्रकाश ठाकुर, कुमुदिनी चंद्रवंशी, संतोष शर्मा, मनोज शर्मा, कन्हैया निचलानी, शेखर यादव, राजू भोजवानी, श्री राम साहू, दीपक अग्रवाल, अशोक निचलानी, रोशन पुरी गोस्वामी,रवि लहरी सहित अन्य विभागीय अधिकारी और कर्मचारी सहित भारी संख्या में समूह की महिलाएं उपस्थित रही।

डार्क लिप्स को पिंक बनाएं, जानिए टिप्स

डार्क लिप्स को पिंक बनाएं, जानिए टिप्स

सरस्वती उपाध्याय 

हर कोई सुंदर दिखने के लिए क्या कुछ नहीं करता। कोई घरेलू नुस्खे अपनाता है, तो कोई पार्लर जाने का शौक रखता है या कह सकते तरह-तहर की क्रीम का इस्तेमाल करते हैं। चेहरे को सुंदर बनाने के लिए ज्यादातर लोग होंठ का भी खास ख्याल रखते हैं। काले होंठ हो जाने पर टेंशन ले लेते हैं। आज हम आपके लिए काले होंठों को कैसे गुलाबी बनाए, जिससे लोग देखते ही रह जाएं, तो इसी के लिए आज  टिप्स बताने जा रहे हैं। यहां हम आपको कुछ ऐसी टिप्स देने वाले हैं, जिन्हें अपनाकर आप अपने डार्क लिप्स को पिंक बना सकते हैं।

ऐसे बनाएं डार्क होंठों को पिंक...ये घरेलू नुस्खे
सिगरेट, चाय और कॉफी के सेवन से अक्सर होंठों का रंग काला पड़ने लगता है। होंठों के कालेपन को दूर करने का घरेलू उपाय हम आपको बताने वाले हैं।

चेहरे की सुंदरता बढ़ाने में होंठों का अहम रोल होता है लेकिन कुछ लोग अपने होंठों के कालेपन से परेशान रहते हैं और इन्हें पिंक यानी गुलाबी बनाने के उपाय खोजते रहते हैं। कुछ घरेलू नुस्खे हैं जिन्हें अपनाकर होंठों का गुलाबीपन वापस लाया जा सकता है। होंठों के काले यानी डार्क होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिनमें सिगरेट का पीना से लेकर खराब लाइफस्टाइल और पानी की कमी तक शामिल है। यहां हम आपको कुछ ऐसी टिप्स देने वाले हैं जिन्हें अपनाकर आप अपने डार्क लिप्स को पिंक बना सकते हैं।

होठों का कालापन ऐसे करें दूर...

चीनी का स्क्रब...
चीनी में शहद मिलाकर एक पेस्ट बनाएं और इस पेस्ट से अपने होंठों की हल्के हाथों से 2 मिनट तक मसाज करें। इसके बाद इसे पानी से धो लें। चीनी के इस स्क्रब से होंठों के ऊपर जमीं मृत कोशिकाएं हट जाएंगी, जिसके बाद आपके होंठ गुलाबी दिखने लगेंगे। इस स्क्रब को आप हफ्ते में 2 बार करें।

नींबू के रस का करें इस्तेमाल...
होंठों की रंगत निखारने के लिए नींबू के रस का इस्तेमाल करना सही रहता है। होंठों पर नींबू का रस प्राकृतिक ब्लीचिंग एजेंट का काम करता है और कालेपन को दूर करता है। नींबू के रस को शहद के साथ मिलाकर होंठों पर 20 मिनट के लिए लगाएं। ऐसा हफ्ते में 3 से 4 बार करें आपके होंठ पिंक दिखने लगेंगे।

होंठ पर लगाएं खीरे का जूस...
होंठों को प्राकृतिक गुलाबी बनाने के लिए खीरे के रस को बेसन में शहद के साथ मिलाकर लगाएं। इस पेस्ट को 20 मिनट तक होंठों पर लगा रहने दें और फिर मसाज करते हुए साफ कर लें। 

पीएम को मणिपुर का दौरा करना चाहिए: कांग्रेस 

पीएम को मणिपुर का दौरा करना चाहिए: कांग्रेस 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कहा है कि गृहमंत्री अमित शाह के दौरे के बावजूद मणिपुर भीषण हिंसा की चपेट में है और राज्य में जनजीवन पूरी तरह से चरमरा गया है, इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जनता का विश्वास बहाल करने के लिए वहां के हालात पर चुप्पी तोड़कर जल्द से जल्द मणिपुर का दौरा करना चाहिए। 

कांग्रेस संचार विभाग की प्रभारी जयराम रमेश, महासचिव मुकुल वासनिक मणिपुर के प्रभारी भक्त चरण दास ने सोमवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि शाह की यात्रा का हिंसा ग्रस्त मणिपुर पर कोई असर नहीं हुआ है, इसलिए मोदी को अब खुद मणिपुर की यात्रा कर लोगों को विश्वास में लेना चाहिए।

उनका कहना था कि केंद्र को हिंसाग्रस्त मणिपुर में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए सभी प्रयास करने चाहिए। उन्होंने कहा किसी ने मोदी की यात्रा के अलावा मणिपुर के हालात को काबू करने और स्थिति को समझने के लिए सभी प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने और प्रभावितों से मिलने के लिए एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल को भी मणिपुर भेजने की अनुमति दी जानी चाहिए।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि शाह के मणिपुर के तीन दिन के दौरे कोई असर हिंसाग्रस्त मणिपुर पर नहीं हुआ है। केंद्र की तरफ से उन्होंने मणिपुर में शांति के लिए कई कदम उठाने की घोषणा की लेकिन उनकी यात्रा के दो सप्ताह बाद भी मणिपुर जल रहा है। उन सभी क्षेत्रों में हिंसा और आगजनी जारी है, जहां जातीय हिंसा से प्रभावित दो समुदाय रहते हैं। कई जिलों में क्रॉस फायरिंग भी हो रही है।

केंद्र व संस्थानों पर गले में 'हिंदी' थोपने का आरोप 

केंद्र व संस्थानों पर गले में 'हिंदी' थोपने का आरोप 

इकबाल अंसारी 

चेन्नई। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने केंद्र और उसके संस्थानों पर गले में हिंदी थोपने का आरोप लगाते हुए सोमवार को न्यू इंडिया एश्योरेंस की ओर से जारी परिपत्र को तुरंत वापस लेने और इसके अध्यक्ष से नीरजा कपूर से माफी मांगने की मांग की।

स्टालिन ने एक ट्वीट में कहा कि जहां भारत का प्रत्येक नागरिक इसके विकास में योगदान दे रहा है, वहीं केंद्र सरकार और इसकी संस्थाएं हिंदी को अन्य भारतीय भाषाओं की तुलना में हर संभव तरीके से अनुचित और बेवजह लाभ दे रही हैं। इसके अलावा, वे अपने मूल्यवान संसाधनों को लागू करने पर खर्च करने पर आमादा हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि हिंदी हमारे गले में है, न कि लोक कल्याण के लिए।

इस सूची में नवीनतम न्यू इंडिया एश्योरेंस द्वारा जारी अन्यायपूर्ण सर्कुलर है और इसके अध्यक्ष नीरजा कपूर को गैर-हिंदी भाषियों के और उसके गैर-हिंदी भाषी कर्मचारियों के प्रति दिखाए गए अपमान के लिए माफी मांगने की जरूरत है। उन्होंने कहा,“इस सूची में नवीनतम न्यू इंडिया द्वारा जारी अनुचित परिपत्र है। इसे तुरंत प्रभाव से वापस लिया जाना चाहिए और इसकी अध्यक्ष नीरजा गैर-हिंदी व के प्रति दिखाए गए अपमान के लिए कपूर को माफी मांगनी चाहिए।

तूफान 'बिपारजॉय' के कारण उत्पन्न स्थिति, समीक्षा 

तूफान 'बिपारजॉय' के कारण उत्पन्न स्थिति, समीक्षा 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान 'बिपारजॉय' के कारण उत्पन्न स्थिति की सोमवार को यहां एक उच्च स्तरीय बैठक में समीक्षा की। बैठक में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह , केबिनेट सचिव, गृह सचिव, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, राष्ट्रीय आपदा मोचन बले और विभिन्न संबंधित एजेंसियों के अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

मौसम विभाग की ओर से बैठक में चक्रवाती तूफान के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। यह अनुमान लगाया जा रहा है कि यह तूफान 15 जून को गुजरात के तट से टकरा सकता है। विभिन्न एजेन्सियों ने चक्रवात की आशंका के कारण उत्पन्न स्थिति और उससे निपटने की तैयारियों तथा एहतियाती उपायों के बारे में बताया।

प्रधानमंत्री ने सभी अधिकारियों को स्थिति से तत्परता से निपटने तथा जोखिम और खतरे को कम से कम करने के निर्देश देते हुए कहा कि तूफान के कारण संचार व्यवस्था और बिजली आपूर्ति में आने वाली बाधा को दूर कर जल्द से जल्द स्थिति सामान्य करने की भरपूर कोशिश की जानी चाहिए। 

लोगों को ‘भय व आतंक’ में रखने हेतु प्रणाली स्थापित 

लोगों को ‘भय व आतंक’ में रखने हेतु प्रणाली स्थापित 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर। नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष एवं सांसद फारूक अब्दुल्ला ने सोमवार को आरोप लगाया कि जम्मू-कश्मीर में अधिकारियों ने लोगों को ‘भय और आतंक’ में रखने के लिए एक प्रणाली स्थापित की है। डाॅ. फारूक ने सोमवार को मध्य कश्मीर के बडगाम जिले में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आवाज उठाने और सच बोलने पर पूरी तरह प्रतिबंध है।

लोगों को सच बोलने से दूर रखने के लिए जम्मू-कश्मीर में ‘भय और आतंक’ की स्थिति पैदा की गई है। प्रेस की आजादी का गला घोंट दिया गया है और अखबार सरकार के मुखपत्र बन गए हैं और केवल सरकारी बयानबाजी करते हैं। उन्होंने कहा कि नशाखोरी ने युवा पीढ़ी को बर्बाद कर दिया है।

उन्होंने कहा कि अगर यह सिलसिला जारी रहा तो युवाओं का भविष्य काफी अंधकारमय हो जाएगा। उन्होंने समाज से नशे की बुराई को खत्म करने के लिए ठोस कदम उठाने की जरुरत पर बल दिया। उन्होंने कहा,“समाज से नशीली दवाओं के खतरे को रोकने के लिए हर किसी को अपनी भूमिका निभानी होगी। अगर यह प्रवृत्ति जारी रहती है तो यह पीढ़ियों को नष्ट कर देगी और देश को भविष्य में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-242, (वर्ष-06)

2. मंगलवार, जून 13, 2023

3. शक-1944, आषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि- दसमीं, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:45, सूर्यास्त: 06:55। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 25 डी.सै., अधिकतम- 42+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए  सरस्वती उपाध्याय  बेहद सुंदर और सुगंधित फूल 'गुलाब' गुणों की खान है और इसकी पं...