शुक्रवार, 11 फ़रवरी 2022

773 अंक लुढ़का सूचकांक सेंसेक्स, गिरावट दर्ज

773 अंक लुढ़का सूचकांक सेंसेक्स, गिरावट दर्ज    

कविता गर्ग       

मुंबई। वैश्विक बाजारों में जारी बिकवाली के दबाव में आए घरेलू शेयर बाजारों में शुक्रवार को आईटी एवं वित्तीय शेयरों में बेहद खास गिरावट देखी गई। जिससे मानक सूचकांक बीएसई सेंसेक्स 773 अंक लुढ़क गया। कारोबारियों ने कहा कि अमेरिका में मुद्रास्फीति के आंकड़ों के अनुमान से कहीं ज्यादा रहने से विदेशी निवेशकों ने जमकर बिकवाली की। इससे बीएसई और एनएसई में कारोबारी धारणा कमजोर हुई। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिवस के अंत में 773.11 अंक यानी 1.31 प्रतिशत गिरकर 58,152.92 अंक पर आ गया। इसी तरह एनएसई का सूचकांक निफ्टी भी 231.10 अंक यानी 1.31 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,374.75 अंक पर खिसक आया।

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में से टेक महिंद्रा को करीब तीन प्रतिशत का सबसे अधिक नुकसान हुआ। इन्फोसिस, एचसीएल टेक, एसबीआई, कोटक महिंद्रा बैंक और एचडीएफसी के शेयर भी घाटे के साथ बंद हुए। मुनाफे में रहने वाले शेयरों में मुख्य रूप से इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी और टाटा स्टील शामिल रहे। एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग, सोल और शंघाई के शेयर बाजार भी नुकसान में रहे। 

यूरोपीय बाजारों में भी दोपहर सत्र में बिकवाली का भारी दबाव देखा गया। अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.43 प्रतिशत बढ़कर 91.80 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। इस बीच विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने पूंजी बाजार में बिकवाली का सिलसिला जारी रखा है। शेयर बाजार से मिली जानकारी के मुताबिक, एफआईआई ने बृहस्पतिवार को 1,732.58 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की बिक्री की।

तुलसी की चाय का सेवन करना फायदेमंद, जानिए

तुलसी की चाय का सेवन करना फायदेमंद, जानिए    

सरस्वती उपाध्याय        

सभी लोग चाय और कॉफी से ही अपनी दिन की शुरुआत करते हैं। चाय और कॉफी के बिना मानों उनकी जिंदगी अधूरी-सी है। खासकर चाय में तो कई तरह के फ्लेवर मौजूद हैं। किसी को ग्रीन टी पसंद है तो कोई कडक़ चाय या नींबू की चाय का जायका लेना पसंद करता है। वहीं तुलसी की चाय पीने वालों की भी कमी नहीं है। क्योंकि, इस चाय का सेवन शारीरिक समस्याओं से राहत देने में बेहद फायदेमंद है। आइए इस चाय को बनाने का तरीका और इसके फायदे जानें।

तुलसी की चाय बनाने का तरीका...

सामग्री: तुलसी की 5 से 6 पत्तियां, एक कप पानी, एक चौथाई चम्मच चायपत्ती, थोड़ा सा दूध (वैकल्पिक), चीनी या शहद (स्वादानुसार)।
चाय बनाने का तरीका: सबसे पहले एक पैन में पानी को अच्छे से गर्म करें, फिर उसमें चायपत्ती डालें और जब पानी में उबाला आ जाए तो तुलसी की पत्तियां और दूध डालकर फिर से उबालें। अब चाय को एक कप में छानकर निकालें और इसमें शहद या चीनी मिलाकर इसका सेवन करें।

सांस से जुड़ी समस्याओं के जोखिम को करें कम: तुलसी की चाय का सेवन सांस से संबंधित कई समस्याओं से राहत दिलाने में काफी मदद कर सकता है। एक शोध के अनुसार, यह चाय एंटी-ऑक्सीडेंट गुण से समृद्ध होती है, जो ब्रोंकाइटिस, अस्थमा और इओसिनोफिलिक लंग्स डिजीज (फेफड़े से जुड़ी बीमारी) आदि बीमारियों के जोखिम को कम कर सकती है। इसलिए सांस की बीमारियों से ग्रस्त लोगों के लिए तुलसी की चाय का सेवन करना चाहिए। ब्लड प्रेशर को बेहतर तरीके से संचालित रखने में भी तुलसी की चाय का सेवन फायदेमंद है। एक शोध के मुताबिक, तुलसी की चाय में एंटी-ऑक्सीडेंट के साथ-साथ कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जिस कारण इसका पर्याप्त मात्रा में सेवन ब्लड प्रेशर को सही ढंग से संचालित करने में मददगार है। अगर कोई ब्लड प्रेशर से संबंधित दवा का सेवन कर रहा है तो डॉक्टर की सलाह लेकर उसकी जगह तुलसी की चाय का सेवन कर सकता है।

मौसमी एलर्जी को दूर करने में है सहायक: अगर मौसम में बदलाव होते ही आपको एलर्जी की समस्या हो जाती है तो इससे बचाव के लिए तुलसी की चाय का सेवन लाभकारी सिद्ध हो सकता है। दरअसल तुलसी की चाय में रोजमेरिनिक एसिड सम्मिलित होता है जो एंटी-एलर्जेनिक के साथ-साथ एंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रभाव से युक्त होता है। ये दोनों प्रभाव मिलकर मौसमी एलर्जी से बचाव करने में सहायक हो सकते हैं। इसलिए सीजनल एलर्जी को दूर करने के लिए इस चाय को डाइट में शामिल किया जा सकता है।

मधुमेह ग्रसितों के लिए है बेहद लाभकारी: मधुमेह के जोखिमों को कम करने में भी तुलसी की चाय का सेवन कारगर है। एक शोध के अनुसार, इसमें एंटी-हाइपरग्लाइसेमिक एजेंट होते हैं, जो शरीर में शुगर के स्तर को नियंत्रित कर मधुमेह के जोखिम को कम करने में सहायक साबित हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार, तुलसी की चाय शरीर में इंसुलिन का स्तर बनाए रखने में मदद करती है, जिससे खून में शुगर को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

आंगनबाड़ी केंद्रों के 'दिवसीय' प्रशिक्षण का आयोजन

आंगनबाड़ी केंद्रों के 'दिवसीय' प्रशिक्षण का आयोजन   

गणेश साहू              
कौशाम्बी। शुक्रवार को समग्र शिक्षा अभियान के अंतर्गत बीआरसी मंझनपुर में समेकित शिक्षा के अंतर्गत परिषदीय विद्यालयों के प्रांगण में स्थित आंगनबाड़ी केंद्रों के कार्यकत्रियों का ब्लॉक स्तरीय एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य 1 से 5 वर्ष तक के दिव्यांग बच्चों के प्रारंभिक स्तर पर स्क्रीनिंग एवं पहचान करके उनकी बाधाओं के दर को न्यूनतम करना है।
प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन खंड शिक्षा अधिकारी मंझनपुर चंद्र मोहन सिंह द्वारा किया गया। इस अवसर पर उन्होंने बहुमूल्य सुझाव दिया कि आरंभिक अवस्था में विशिष्ट आवश्यकता वाले बच्चों की स्क्रीनिंग एवं उपचार से बच्चों में पढ़ने लिखने एवं बुनियादी संक्रियाएं करने की क्षमता में तेजी से विकास होता है। कार्यक्रम में सीडीपीओ मंझनपुर श्रीमती रेनू वर्मा भी उपस्थित रही। उन्होंने आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों की स्क्रीनिंग एवं पहचान हेतु गतिविधियों के नियमित क्रियान्वयन पर जोर दिया। 
कार्यक्रम में ओम दत्त त्रिपाठी (ए आर पी), श्रद्धा सिंह (स्पेशल एजुकेटर), राजीव कुमार तिवारी( स्पेशल एजुकेटर) मास्टर ट्रेनर के रूप में उपस्थित रहे। कार्यक्रम में प्रोजेक्टर के माध्यम से दिव्यांगता के विभिन्न प्रकारों के विषय में विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यक्रम को सफल बनाने में सुपरवाइजर श्रीमती मंजू सिंह का उल्लेख योगदान रहा तथा समस्त बीआरसी स्टाफ का भी सराहनीय योगदान रहा।

पुलिस 'महानिरीक्षक' द्वारा क्षेत्र का निरीक्षण किया

पुलिस 'महानिरीक्षक' द्वारा क्षेत्र का निरीक्षण किया     
बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। शुक्रवार को पुलिस महानिरीक्षक, प्रयागराज परिक्षेत्र डॉ. राकेश सिंह द्वारा रेंज के जनपद प्रयागराज के थाना करछना, औद्योगिक क्षेत्र एवं नैनी का भ्रमण एवं निरीक्षण किया गया।
आईजी रेंज प्रयागराज द्वारा सर्वप्रथम जनपद प्रयागराज के थाना करछना का भ्रमण/निरीक्षण किया गया।
इस दौरान परिसर का भ्रमण, परिसर की साफ-सफाई, कार्यालय की साफ सफाई, कार्यालय में रखे रजिस्टरों का रख-रखाव, महिला हेल्पडेस्क, जीडी बुक, आगंतुक रजिस्टर, कम्प्यूटर कक्ष, भोजनालय कक्ष, चुनाव रजिस्टर तथा अपराध रजिस्टर सहित अन्य महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिए गए।
ततपश्चात आईजी रेंज प्रयागराज द्वारा जनपद प्रयागराज के थाना औद्योगिक क्षेत्र का निरीक्षण किया गया। इस दौरान परिसर एवं कार्यालय के सभी शाखाओं की साफ-सफाई, कार्यालय में रखे रजिस्टरों का रख-रखाव, महिला हेल्पडेस्क, जीडी बुक, आगंतुक रजिस्टर, कम्प्यूटर कक्ष, भोजनालय कक्ष, चुनाव रजिस्टर तथा अपराध रजिस्टर का निरीक्षण किया गया तथा आवश्यक निर्देश दिए किये।

यूके: 24 घंटे में कोरोना के 510 नए मामलें मिलें

यूके: 24 घंटे में कोरोना के 510 नए मामलें मिलें    


पंकज कपूर          

देहरादून। उत्तराखंड में वैश्विक महामारी कोविड-19 का प्रकोप बना हुआ है। पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के सभी 13 जनपदों में कोरोना वायरस के कुल 510 नये मामले सामने आए है। वहीं, प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 8 कोरोना संक्रमित मरीजों की उपचार के दौरान मौत हुई है। शुक्रवार को उत्तराखंड स्टेट कंट्रोल रूम देहरादून द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना के कुल 510 नए मामलें सामने आए है। जबकि, राज्य में 1,348 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। 

वही, दैनिक पॉजिटिविटी रेट की बात करें तो 02.68 फ़ीसदी पर पहुंच गई है। जनपदवार आंकड़ों पर नजर डालें तो देहरादून जिले से 148 ,हरिद्वार से 45, नैनीताल जिले से 25, उधमसिंह नगर से 17, पौडी से 44, टिहरी से 21, चंपावत से 06, पिथौरागढ़ से 31, अल्मोड़ा 85, बागेश्वर से 10, चमोली से 49, रुद्रप्रयाग से 17, उत्तरकाशी से 12 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं। जारी आंकड़ों के मुताबिक राज्य में 1 जनवरी 2,022 से अब तक कोरोना से संक्रमित कुल 87,787 मरीजों में से 78,093 मरीज ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं। 3,057 संक्रमित राज्य से बाहर जा चुके, हैं। 225 संक्रमित की मौत हो चुकी है। राज्य में वर्तमान में कोविड-19 के एक्टिव केस 6697 है। इधर रिकवरी रेट 88.96 प्रतिशत पहुंच गया है।

राजभवन के 'रोज होने वाले दौरे' की ओर इशारा

राजभवन के 'रोज होने वाले दौरे' की ओर इशारा   

कविता गर्ग         

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के साथ निकटता के लिए शुक्रवार को भाजपा पर कटाक्ष करते हुए विपक्षी पार्टी के नेताओं के राजभवन के ”लगभग रोज होने वाले दौरे” की ओर इशारा किया। ठाकरे ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के किसी नेता का नाम लिए बिना कहा कि, विपक्ष में रहते हुए हम साल में एक या दो बार राजभवन जाते थे, लेकिन रोज-रोज नहीं। शिवसेना के नेतृत्व वाली महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार और राज्यपाल के बीच संबंध 2019 में गठबंधन के सत्ता में आने के बाद से तनावपूर्ण रहे हैं।

ठाकरे और कोश्यारी राजभवन में एक समारोह में एक साथ थे जहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नवनिर्मित दरबार हॉल का उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री ने चुटकी लेते हुए कहा कि राजनीतिक तूफान के बावजूद राजभवन की हवा हमेशा ठंडी होती है। ठाकरे ने कहा कि राजभवन के साथ ”संवाद” टूटा नहीं है। कोश्यारी और एमवीए सरकार कई मौकों पर भिड़ चुकी है। हाल में राज्यपाल ने शीतकालीन सत्र के दौरान विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव की अनुमति नहीं देते हुए ध्वनि मत के माध्यम से इसे आयोजित करने के सरकार के फैसले पर आपत्ति जताई थी। 

कोश्यारी ने पूर्व में मुख्यमंत्री से पूछा था कि राज्य सरकार कोविड-19 लॉकडाउन समाप्त होने के बाद राज्य में मंदिरों को फिर से क्यों नहीं खोल रही है। उन्होंने इस मुद्दे पर ठाकरे की हिंदुत्व विचारधारा पर भी सवाल उठाया था। राज्यपाल ने विधान परिषद में नामांकन के लिए भेजे गए 12 नामों को भी अब तक मंजूरी नहीं दी है।

जिन पर आरोप है, वे समाजवादी में नहीं: अखिलेश

जिन पर आरोप है, वे समाजवादी में नहीं: अखिलेश   

संदीप मिश्र        

उन्नाव। यूपी के उन्नाव में दलित युवती के मर्डर केस मामले में अब सियासत शुरू हो चुकी है। इस मामले में पूर्व सपा नेता का नाम आने पर समाजवादी के सुप्रीमो अखिलेश यादव ने भी बयान दिया है। अखिलेश का कहना है कि जिन पर आरोप है, वे समाजवादी में नहीं है। बल्कि उनके पिताजी समाजवादी पार्टी में हुआ करते थे। मगर बीते चार वर्ष पहले उनकी मौत हो चुकी है। ऐसे में आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए और और उन्हें जेल भेजा जाए।

दरअसल, पिछले दो माह से लापता दलित युवती का शव समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री रहे फतेह बहादुर सिंह के बनवाए आश्रम के पास खाली जमीन से बरामद किया गया। इस पूरे मामले में मुख्य आरोपी रजोल सिंह दिवंगत सपा नेता फतेह बहादुर का बेटा है। दलित युवती का शव बरामद होने के बाद लगातार विरोधी पार्टियां समाजवादी पार्टी पर हमला कर रही हैं। इसी बीच अखिलेश ने भी अपना एक बयान दिया। उन्होंने कहा कि जो आरोपी है। वह सपा पार्टी के नहीं है।

राजद अध्यक्ष लालू ने पीएम-सीएम पर साधा निशाना

राजद अध्यक्ष लालू ने पीएम-सीएम पर साधा निशाना    

अविनाश श्रीवास्तव       

पटना। वंशवादी राजनीति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई हालिया आलोचना के बाद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी पर और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री से प्रधानमंत्री मोदी की उस टिप्पणी के बारे में पूछा गया था। जिसमें उन्होंने इस हफ्ते के शुरू में वंशवादी राजनीति की आलोचना की थी। प्रधानमंत्री ने परिवार के किसी सदस्य को राजनीति में नहीं लाने को लेकर लालू प्रसाद के चिर प्रतिद्वंद्वी एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सराहना की थी।

राजद नेता ने कहा कि, मोदी के बच्चे नहीं हैं। नीतीश का एक बेटा है, जो राजनीति करने का इच्छुक नहीं है। बस, यही प्रार्थना की जा सकती है कि उन्हें संतान प्राप्त हो। जो उनकी राजनीतिक विरासत को आगे ले जा सके।  लालू प्रसाद के साथ उनके छोटे बेटे और राजनीतिक उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव भी थे। जो 2015 में राज्य में महागठबंधन की सरकार के तहत उपमुख्यमंत्री थे। हालांकि, महागठबंधन की तत्कालीन सरकार का नेतृत्व भी जनता दल (यूनाइटेड) नेता नीतीश ही कर रहे थे।

लोकतंत्र में सुशासन का महत्वपूर्ण पहलू: राष्ट्रपति

लोकतंत्र में सुशासन का महत्वपूर्ण पहलू: राष्ट्रपति    

कविता गर्ग          

मुंबई। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को कहा कि ‘दरबार’ शब्द आजादी से पहले के दौर में राजसी सत्ता से जुड़ा था। लेकिन इसकी आधुनिक अवधारणा पारदर्शिता को बढ़ावा देती है। जो लोकतंत्र में सुशासन का सबसे महत्वपूर्ण पहलू है। वह यहां राजभवन में नवनिर्मित दरबार हॉल का उद्घाटन करने के बाद एक सभा को संबोधित कर रहे थे। राष्ट्रपति ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में राष्ट्रपति भवन की तरह मुंबई में राजभवन दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं का संवैधानिक प्रतीक बन गया है।

उन्होंने कहा कि, स्वतंत्रता से पहले दरबार शब्द राजसी सत्ता से जुड़ा था। जबकि वर्तमान समय में यह लोकतंत्र से जुड़ा है। दरबार की आधुनिक अवधारणा पारदर्शिता को बढ़ावा देती है। जो किसी लोकतांत्रिक व्यवस्था में सुशासन का सबसे महत्वपूर्ण पहलू है। रामनाथ कोविंद ने कहा कि, दरबार में कुछ भी निजी या गुप्त नहीं होता है। सब कुछ जनता की नजरों में होता है, सभी को साथ लेकर। यहां तक ​​कि निर्वाचित प्रतिनिधि भी लोगों से जुड़ने के लिए ‘जनता दरबार’ आयोजित कर रहे हैं। यह तरीका लोकप्रिय हो रहा है। इस संदर्भ में, नया दरबार हॉल नए भारत, नए महाराष्ट्र और हमारे जीवंत लोकतंत्र का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि यह धरोहर स्थल अंग्रेजों की विरासत हो सकता है। लेकिन इसका वर्तमान और भविष्य महाराष्ट्र तथा देश के बाकी हिस्सों के गौरव से जुड़ा है।

टॉस: क्रिकेटर रोहित ने बल्लेबाजी का फैसला लिया

टॉस: क्रिकेटर रोहित ने बल्लेबाजी का फैसला लिया   
मो. रियाज       
नई दिल्ली। भारत और वेस्टइंडीज के बीच 3 मैच की सीरीज का आखिरी वनडे शुक्रवार को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला गया है। क्रिकेटर रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया है। भारतीय टीम आज 4 बदलाव के साथ उतरी है। केएल राहुल, दीपक हुड्डा, शार्दुल ठाकुर और युजवेंद्र चहल को आज टीम से बाहर किया है। वहीं, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, दीपक चाहर और कुलदीप यादव की टीम में वापसी हुई है। सीरीज के शुरुआत दोनों वनडे भारत ने जीते हैं। इस मैच में टीम इंडिया के पास क्लीन स्वीप करने का मौका है।
विराट कोहली भी आउट हो गए हैं। जोसेफ ने उन्हें चौथे ओवर की पांचवीं गेंद पर आउट किया। इसी ओवर में जोसेफ ने रोहित को आउट किया था और एक गेंद बाद उन्होंने कोहली को पवेलियन की राह दिखाई है। कोहली खाता तक नहीं खोल पाए। लेग स्टम्प पर पटकी गेंद पर कोहली ने फ्लिक करने की कोशिश की लेकिन गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर के हाथों में चली गई।

अभिनेता अनिल ने 'वर्कआउट' की तस्वीर शेयर की

अभिनेता अनिल ने 'वर्कआउट' की तस्वीर शेयर की  

कविता गर्ग      

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता अनिल कपूर ने सोशल मीडिया पर अपने वर्कआउट सेशन की तस्वीर शेयर की है। अनिल कपूर अपने लुक और स्टाइल को लेकर काफी चर्चा में रहते हैं। अनिल कपूर अक्सर सोशल मीडिया पर वर्कआउट सेशन की तस्वीरें शेयर करते रहते हैं। अनिल कपूर ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल पर श्रीलंका टूर की तस्वीरें साझा की है।इन तस्वीरों में अनिल कपूर समंदर किनारे टहलते हुए दिख रहे हैं। वहीं, एक अन्य तस्वीर में वह अपने बाइसेप्स फ्लोट करते हुए पोज देते हुए दिख रहे हैं।

अनिल कपूर ने हाल ही में अपनी डेब्यू फिल्म के 43 साल पूरे होने पर खुशी जाहिर करते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर किया था। जिसमें वह फिल्म के अपने को-स्टार के साथ शूट को फिल्माते दिख रहे हैं। तस्वीरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर उन्होंने लिखा, 'कभी कभी खुद को याद दिलाना पडता है कि जर्नी कहां से शुरू हुई थी, ताकि पैर हमेशा जीमन पर रहे और हौसले आसमान को छूते रहे हैं। मेरी पहली फिल्म हमारे तुम्हारें को 43 साल हो गए। दर्शकों का भी धन्यवाद।

सस्पेंस-थ्रिलर फिल्म 'ए थर्सडे' का टीजर रिलीज

सस्पेंस-थ्रिलर फिल्म 'ए थर्सडे' का टीजर रिलीज 

कविता गर्ग     

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री यामी गौतम की आने वाली सस्पेंस-थ्रिलर फिल्म 'ए थर्सडे' का टीजर रिलीज कर दिया गया है। यामी गौतम की फिल्म 'ए थर्सडे' का टीजर रिलीज कर दिया गया। टीजर में एक राइम बोलते हुए यामी के किरदार की झलक दिखायी गयी है। अ थर्सडे का निर्देशन बेहजाद खंबाटा ने किया है, जबकि इसके निर्माता रॉनी स्क्रूवाला हैं। टीजर में एक किंडरगार्टन स्कूल की झलक दिखाई गई है। जिसमें ट्विंकल-ट्विंकल लिटिल स्टार गाते हुए बच्चों की आवाज सुनायी देती है। 

फिर यामी इसी राइम को दोहराते हुए एंट्री लेती हैं और गोली चलने की आवाज आती है। फिल्म अ थर्सडे में यामी के साथ डिम्पल कपाड़िया, नेहा धूपिया, अतुल कुलकर्णी, माया सराओ और करणवीर शर्मा अहम भूमिकाओं में दिखेंगे। यह फिल्म ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज हो रही है।

अगला वैरिएंट ज्यादा संक्रामक हो सकता हैं: संगठन

अगला वैरिएंट ज्यादा संक्रामक हो सकता हैं: संगठन 

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। कोविड-19 का अगला वैरिएंट और भी ज्यादा संक्रामक हो सकता है। डब्ल्यूएचओ ने चेताया विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि कोरोना का अगला वैरिएंट ओमिक्रॉन की तुलना में ज्यादा संक्रामक और ज्यादा घातक हो सकता है। डब्ल्यूएचओ ने ये भी कहा कि वैक्सीन का असर भी कम हो सकता है। देश ही नहीं दुनियाभर में कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिेएंट के मामले तेजी से कम होने लगे हैं। लेकिन इसी बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने बड़ी चेतावनी दी है।

डब्ल्यूएचओ का कहना है कि कोरोना का अगला वैरिएंट ज्यादा संक्रामक और ज्यादा घातक हो सकता है। डबल्यूएचओ की महामारी विशेषज्ञ डॉ. मारिया वान केरखोव ने कहा कि महामारी अभी खत्म नहीं हुई और आने वाले वैरिएंट ओमिक्रॉन की तुलना में ज्यादा संक्रामक होंगे। उन्होंने ये बातें वीकली ब्रीफिंग में कहीं।उन्होंने कहा कि अगला वैरिएंट ज्यादा संक्रामक होगा और इसका मतलब ये है कि अभी जो तबाही मच रही है, उससे कहीं ज्यादा तबाही मच सकती है। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि अगला वैरिएंट ज्यादा गंभीर होगा या नहीं, ये अब भी बड़ा सवाल है। उन्होंने कहा कि अगला वैरिएंट इम्युनिटी को चकमा दे सकता है और वैक्सीन का असर भी कम हो सकता है। लेकिन उन्होंने ये भी कहा कि ओमिक्रॉन की लहर में हम देख चुके हैं कि वैक्सीन गंभीर बीमारी और मौत से बचाने में कारगर है। कोरोना का डेल्टा वैरिएंट पहली बार अक्टूबर 2020 में भारत में मिला था। इसे डब्ल्यूएचओ ने वैरिएंट ऑफ कंसर्न बताया था। अल्फा वैरिएंट की तुलना में डेल्टा 50 फीसदी ज्यादा संक्रामक था।

डेल्टा वैरिएंट की वजह से ही भारत में दूसरी लहर आई थी। इससे कोरोना के मामलों और मौतों की संख्या तेजी से बढ़ी थी। जून 2021 तक ये यूके, इजरायल, रूस, ऑस्ट्रेलिया समेत दुनिया के कई देशों तक पहुंच गया था। नवंबर 2021 के आखिर में दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन वैरिएंट मिला था। डेल्टा की तुलना में ओमिक्रॉन कम गंभीर है, लेकिन ये उससे 2 से 4 गुना ज्यादा संक्रामक है। डॉ. वान केरखोवे ने चेताते हुए कहा कि इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि समय के साथ कोरोना कमजोर पड़ता जाएगा। दक्षिण अफ्रीका के स्टीव बीको एकेडमिक हॉस्पिटल में हुई एक स्टडी में कोरोना महामारी के जल्द अंत की ओर इशारा किया गया है। इस स्टडी के आधार पर संभावना जताई गई है कि ओमिक्रॉन महामारी को एंडेमिक फेज में लेकर आ गया है।

टेलीग्राम में 'ट्रांसलेशन' फीचर की सुविधा उपलब्ध

टेलीग्राम में 'ट्रांसलेशन' फीचर की सुविधा उपलब्ध      

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली। टेलीग्राम ने पिछले कुछ समय में कई फीचर अपने यूजर्स के लिए पेश कियेें हैं। इमोजी एनिमेशन, थीम क्यूआर कोड, मैसेज रिएक्शन जैसे कई दूसरे फीचर शामिल हैं। इस ऐप ने हाल ही में इन-ऐप ट्रांसलेशन फीचर की सुविधा अपने यूजर्स को दी है। जिसके जरिए मैसेजेस को डिफॉल्ट लैंग्वेज से आसानी से अपनी भाषा में ट्रांसलेट किया जा सकता है। यह फीचर एंड्रॉयड और आईओएस दोनों तरीकों के यूजर्स के लिए उपलब्ध है। बता दें की ये फीचर्स डिफॉल्ट रूप से एक्टिव नहीं हो पाता है और इन्हें मैनुअली एक्टिव करना पड़ता है।

इसकी सुविधा को इस्तेमाल करने के लिए आपको सेटिंग्स में जाना होगा। वहां आपको लैंग्वेज का ऑप्शन मिलेगा, जिस पर क्लिक करके आप फीचर को ऑन कर सकते हैं। टेलीग्राम यूजर अरबी, कोरियाई, स्पेनिश, अंग्रेजी, फ्रेंच और जर्मन सहित 19 लैंग्वेज को आसानी से पड़ सकते हैं। अपने एंड्रॉयड या आईफोन पर टेलीग्राम ओपन करें। फिर वहां सबसे ऊपर आ रहे थ्री-लाइन आइकन पर टच करें। 

मेन्यू ऑप्शन में सैटिंग पर क्लिक करें। नीचे जाएं और लेंगवेज पर टैप करें। अब शो ट्रांसलेशन बटन पर टॉगल करें। उस डिफॉल्ट लैंग्वेज को चुने। जिसका आप ट्रांसलेशन नहीं करना चाहते हैं। उस पर्सनल चैट या ग्रुप चैट पर जाएं जहां आप किसी मैसेज का ट्रांसलेशन करना चाहते हों। उस मैसेज पर टैप करें जिसे आप अपनी डिफॉल्ट लैंग्वेज में पढ़ना चाहते हैं। पॉप-अप मेनू में, ट्रांसलेट पर टैप करें। फिर आपको आपकी भाषा में मैसेज मिल जाएगा। एसे ही कई अन्य फीचर के साथ टैलीग्राम अब अपडेट हो चुका है। जो की यूजर्स के लिए काफी सुविधाएं दे रहा है।

प्रचारकों की सभाओं के कार्यक्रम तय कियें: भाजपा

प्रचारकों की सभाओं के कार्यक्रम तय कियें: भाजपा


पंकज कपूर     

देहरादून। विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान के लिए 48 घंटे का समय ही रह गया है तो भाजपा ने इसके लिए पूरी ताकत झोंक दी है। अंतिम दो दिन के प्रचार के लिए पार्टी ने अपने स्टार प्रचारकों की सभाओं के ताबड़तोड़ कार्यक्रम तय कियें हैं। चुनावी सभाओं के साथ ही प्रचार के लिए इंटरनेट मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म का पार्टी भरपूर इस्तेमाल कर रही है। इसके साथ ही भाजपा ने बूथ प्रबंधन पर भी ध्यान केंद्रित किया हुआ है।

यह भाजपा की रणनीति ही है कि उसने चुनाव प्रचार के अंतिम तीन दिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सभाएं तय की हैं। श्रीनगर में उनकी सभा हो चुकी है। जबकि, शुक्रवार को अल्मोड़ा व शनिवार को रुद्रपुर में प्रधानमंत्री की सभाएं रखी गई हैं। चुनाव प्रचार के अंतिम दिन 12 फरवरी को उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की टिहरी, कोटद्वार और रुड़की और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की यमकेश्वर, सल्ट व रामनगर में सभाएं तय की गई हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत पूर्व मुख्यमंत्रियों और अन्य प्रांतीय नेताओं की सभाएं भी जगह-जगह निर्धारित की गई हैं।

तनाव: अमेरिकी नागरिकों को यूक्रेन छोड़ने की सलाह

तनाव: अमेरिकी नागरिकों को यूक्रेन छोड़ने की सलाह   

सुनील श्रीवास्तव    

मास्को/ वाशिंगटन डीसी। रूस एवं नाटो सेना के बीच तनाव इस मुकाम तक पहुंच गया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने अपने अमेरिकी नागरिकों को तुरंत यूक्रेन छोड़ने के लिए कहा गया है। जो बाइडन की ओर से कहा गया है कि अमेरिका एवं रूस की सेना के बीच अब किसी वक्त भी लड़ाई शुरू हो सकती है। रूस और नाटो सेना के बीच चल रहा तनाव इस मुकाम तक पहुंच गया है कि कभी भी अमेरिका और रूस की सेना के बीच सीधी लड़ाई शुरू हो सकती है। बिगड़ते हुए हालातों के मद्देनजर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने अपने नागरिकों से तुरंत यूक्रेन छोड़ने के लिए कह दिया है। एनबीसी न्यूज पर बात करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा है कि अमेरिका और रूस की सेना के बीच किसी भी वक्त सीधी लड़ाई शुरू हो सकती है। उन्होंने कहा है कि हम दुनिया की सबसे बड़ी सेनाओं में से एक के साथ इस समय टकराव की स्थिति में पहुंच चुके हैं। यह बहुत ही अलग हालात है।

जिसके चलते जल्द ही चीजें और बिगड़ सकती है। उन्होंने कहा है कि जल्द से जल्द अमेरिकी नागरिकों को अब यूक्रेन से बाहर निकल जाना चाहिए। यूक्रेन के भीतर सेना भेजने के सवाल पर अमेरिकी राष्ट्रपति की ओर से कहा गया है कि वहां पर सेना भेजने का अर्थ है कि विश्व युद्ध की शुरुआत होना। अमेरिकी थिंक टैंक यह चेतावनी भी जारी कर चुका है कि रूस की सेना पूरी क्षमता के साथ युद्ध शुरु करती है तो उसके टैंक सिर्फ 48 घंटे में यूक्रेन की राजधानी में दाखिल हो जाएंगे।

भारत के कई राज्यों में तेज बारिश के आसार, अलर्ट

भारत के कई राज्यों में तेज बारिश के आसार, अलर्ट  

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। उत्तर भारत के कई राज्यों में पिछले 2-3 दिनों में लोगों को कंपकंपी वाले मौसम से राहत मिली है। वहीं, मौसम विभाग का अनुमान है कि झारखंड और बिहार में एक बार फिर बारिश के आसार नजर आ रहे हैं। इधर दिल्ली और यूपी में अगले 5 दिनों के दौरान रात या सुबह के समय अलग-अलग इलाकों में घने कोहरे की स्थिति बन सकती है। मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में अभी मौसम का मिजाज करवट ले सकता है। दिन में तापमान में बढ़ोत्तर हो सकती है। जिससे ठंड कम होगी और लोगों को राहत मिल सकती है। वहीं शाम में ठंड बढ़ सकती है। आईएमडी के अनुसार आने वाले दिनों में दिल्ली में सर्द हवाएं भी वापसी कर सकती है। वहीं दिल्ली से सटे राज्यों पंजाब, हरियाणा समेत पश्चिमी यूपी में भी हल्की बारिश की संभावना जताई गई है। पश्चिमी झंझावत के कारण बंगाल में आज और कल कई स्थानों पर तेज बारिश हो सकती है। बारिश रुकने के बाद राज्य में ठंड बढ़ सकती है।

पंजाब के लोगों को फिलहाल ठंड से राहत नहीं मिली है. दरअसल पंजाब में सुबह में कोहरा छाने के बाद दिन में मौसम साफ जरूर हो जा रहा है, लेकिन ठंड बरकरार है। हालांकि धूप निकलने की वजह से दिन में ठंड कम महसूस होती है। इस बीच पिछले कुछ दिनों से तापमान में कोई बहुत बड़ा परिवर्तन नहीं हुआ है। प्रदेश में अभी औसत अधिकतम तापमान 20 तो न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस के आसपास है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक आने वाले दिनों में मौसम साफ रहने का अनुमान है। वहीं, मौसम विभाग की माने तो जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड आने वाले दो तीन दिनों तक बारिश हो सकती है। पहाड़ी इलाकों में गरज के साथ बारिश बर्फबारी के भी आसार हैं।दिल्ली। उत्तर भारत के कई राज्यों में पिछले 2-3 दिनों में लोगों को कंपकंपी वाले मौसम से राहत मिली है। वहीं मौसम विभाग का अनुमान है कि झारखंड और बिहार में एक बार फिर बारिश के आसार नजर आ रहे हैं। इधर दिल्ली और यूपी में अगले 5 दिनों के दौरान रात या सुबह के समय अलग-अलग इलाकों में घने कोहरे की स्थिति बन सकती है।

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में अभी मौसम का मिजाज करवट ले सकता है। दिन में तापमान में बढ़ोत्तर हो सकती है जिससे ठंड कम होगी और लोगों को राहत मिल सकती है। वहीं शाम में ठंड बढ़ सकती है। आईएमडी के अनुसार आने वाले दिनों में दिल्ली में सर्द हवाएं भी वापसी कर सकती है। वहीं दिल्ली से सटे राज्यों पंजाब, हरियाणा समेत पश्चिमी यूपी में भी हल्की बारिश की संभावना जताई गई है। पश्चिमी झंझावत के कारण बंगाल में आज और कल कई स्थानों पर तेज बारिश हो सकती है। बारिश रुकने के बाद राज्य में ठंड बढ़ सकती है।

स्टाफ कार ड्राइवर के पदों पर भर्ती, विज्ञापन जारी

स्टाफ कार ड्राइवर के पदों पर भर्ती, विज्ञापन जारी  

अकांशु उपाध्याय       

नई दिल्ली। भारतीय डाक विभाग के नई दिल्ली स्थित मेल मोटर सर्विस में स्टाफ कार ड्राइवर (ऑर्डिनरी ग्रेड) के पदों पर सीधी भर्ती के लिए विज्ञापन हाल ही में जारी किया गया है। विभाग द्वारा 17 जनवरी 2022 को जारी विज्ञापन के अनुसार, जनरल सेंट्रल सर्विस ग्रुप सी, नॉन-गजेटेड, नॉन-मिनिस्ट्रियल कैटेगरी में स्टाफ कार ड्राइवर की 29 पोस्ट के लिए योग्य उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं। विज्ञापित वैकेंसी की संख्या में 15 अनारक्षित हैं। जबकि 8 ओबीसी, 3 एससी और 3 ईडब्ल्यूएस उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं।

डाक विभाग दिल्ली के मेल मोटर सर्विस में स्टाफ कार ड्राइवर के पदों के लिए वे ही उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं, जिन्होंने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड मैट्रिक (10वीं) की परीक्षा पास की हो। साथ ही, लाइट एवं हैवी मोटर व्हीकल ड्राइविंग का लाइसेंस प्राप्त किया होना चाहिए। उम्मीदवारों की आयु 15 मार्च 2022 को 18 वर्ष से कम और 27 वर्ष से अधिक नहीं होना चाहिए। हालांकि, आरक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा में छूट दी गई है।

उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट पर भर्ती सेक्शन में दिए गए लिंक या नीचे दिए गए डायरेक्ट लिंक पर क्लिक करके स्टाफ कार ड्राइवर सीधी भर्ती विज्ञापन डाउनलोड कर सकते हैं। आवेदन के लिए अप्लीकेशन फॉर्म विज्ञापन में ही दिया गया है।इस फॉर्म को पूरी तरह से भरकर और मांगे गये डॉक्यूमेंट्स को संलग्न करते हुए निर्धारित आखिरी तारीख यानि 15 मार्च 2022 तक इस पते पर जमा कराएं – सीनियर मैनेजर, मेल मोटर सर्विस, सी-121, नारायणा इंडस्ट्रियल एरिया फेज-1, नारायणा, नई दिल्ली-110028।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-125, (वर्ष-05)
2. शनिवार, फरवरी 12, 2022
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-एकादशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:10, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 9 डी.सै., अधिकतम-21+ डी सै.।  बर्फबारी व शीतलहर की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, (प्रधान संपादक) राधेश्याम व शिवांशु, (सहायक संपादक) श्रीराम व सरस्वती के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
10.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालयः डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न    सुशील केसरवानी         कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी की अध्यक्षता में उद...