शनिवार, 22 फ़रवरी 2020

महाराष्ट्र के सीएम की पीएम से मुलाकात

आकाशुं उपाध्याय


नई दिल्ली। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की । इस मुलाकात के बाद उद्धव ठाकरे ने कहा कि पीएम मोदी के साथ महाराष्ट्र से जुड़े मुद्दों पर अच्छी चर्चा हुई । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ सीएए, एनपीआर और एनआरसी पर चर्चा की । किसी को सीएए से डरने की जरुरत नहीं है । राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) किसी को देश से बाहर नहीं करेगी।
महाराष्ट्र की कमान संभालने के बाद उद्धव ठाकरे पहली बार दिल्ली पहुंचे थे । उद्धव के साथ उनके बेटे आदित्य ठाकरे ने पीएम मोदी से मुलाकात की। उद्धव ठाकरे ने कहा, ”हमने नागरिकता संशोधन अधिनियम, नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर पर चर्चा की है । मैंने पहले ही इन मुद्दों पर अपना रुख साफ कर दिया है । किसी को सीएए से डरना नहीं चाहिए ।”


मीडिया से बातचीत करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा, ”सीएए कानून किसी से किसी की नागरिकता लेने के लिए नहीं है । बल्कि यह तो पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का कानून है ।’ जब उद्धव मीडिया को संबोधित कर रहे थे तो उनके साथ पार्टी के सीनियर नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत भी मौजूद थे ।
गठबंधन में कोई मतभेद नहीं
इसके साथ ही उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में गठबंधन सहयोगियों के बीच कोई मतभेद नहीं है. उन्होंने कहा कि हम महाराष्ट्र सरकार पांच साल तक चलाने वाले हैं । गौरतलब है कि महाराष्ट्र में शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस की मदद से सरकार बनाई।
मुख्यमंत्री बनने के बाद उद्धव ठाकरे की पीएम मोदी से ये दूसरी मुलाकात थी । इससे पहले पिछले साल जब पीएम मोदी पुणे पहुंचे तो बतौर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी को रिसीव किया था । मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद ही उद्धव ठाकरे ने कहा था कि वे दिल्ली जाकर अपने ‘बड़े भाई’ पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे ।


डासना जेल में संगीत कार्यक्रम आयोजित

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। डासना की जिला जेल में इंडिया विजन फाउंडेशन के तत्वावधान में एक म्यूजिकल कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें गाजियाबाद नोएडा बरेली सहित अन्य जिलों के बंधुओं ने प्रतियोगिता में भाग लेकर अपने अपने हुनर का जौहर दिखाए। मुख्य अतिथि के तौर पर डीजी जेल आनंद कुमार एवं आईजी मेरठ जोन त्रिपाठी, जेल सुपरिटेंडेंट विपिन कुमार मिश्रा, डासना जिला जेल के जेलर आनंद कुमार शुक्ला नोएडा जिला जेल के जेलर सत्य प्रकाश सिंह सहित नोएडा गाजियाबाद के जिला जेल के डिप्टी जेलर बंदी रक्षक और अन्य सामाजिक संगठनों के लोगों ने भाग लिया और डीजी जेल आनंद कुमार ने बर्तन प्रतियोगिता में प्रथम द्वितीय तृतीय स्थान पाने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत कर उनका हौसला अफजाई किया है।


IAS अधिकारियों का ट्रांसफर, DM सस्पेंड

यूपी में 13 IAS अफसरों के हुए तबादले


 


लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार में 13 आई ए एस अधिकारियों को स्थानांतरित करते हुए ,जिला अधिकारी उन्नाव देवेंद्र पांडे को निलंबित किया है l सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जीरो टेलरेंस ,भ्रष्टाचार व स्कूलों के कंपोजिंट ग्रांट में घपले को लेकर निलंबित किया l


रविंद्र कुमार प्रथम को उन्नाव का नया डीएम बनाया


जसजीत कौर को डीएम शामली बनाया गया


अखिलेश सिंह को डीएम सहारनपुर बनाया गया


आंध्रा वामसी को डीएम झांसी बनाया गया


रूपेश कुमार को डीएम प्रतापगढ़ बनाया गया


भूपेंद्र एस चौधरी को डीएम कुशीनगर बनाया गया


अमित सिंह बंसल को डीएम बांदा बनाया गया


आलोक कुमार पांडे को विशेष सचिव चिकित्सा विभाग बनाया गया


राकेश कुमार मिश्रा को डीएम कन्नौज के पद पर तैनात किया गया


शिव सहाय अवस्थी को विशेष सचिव एवं अपर आयुक्त जीनियम गन्ना विकास विभाग बनाया गया


मार्कंडेय शाही को विशेष सचिव चिकित्सा शिक्षा विभाग बनाया गया


अनिल कुमार सिंह को विशेष सचिव गृह एवं कारागार बनाया गया


हीरालाल को अपर प्रबंध निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन लखनऊ बनाया गया.


उत्तर प्रदेश की आज की बहुत बड़ी खबर


डीएम उन्नाव देवेंद्र पांडेय सस्पेंड किए गए


कंपोजिट ग्रांट घोटाला मामले में बड़ी कार्रवाई


शासन की जांच में दोषी पाए गए डीएम


फंड को लेकर DM ने गलत फैसले लिए


IAS अफसर देवेंद्र पांडेय सस्पेंड किए गए


नीतीश के नेतृत्व में बदल रहा 'बिहार'

पटना। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सीएम नीतीश कुमार की खुले दिल से तारीफ की है। उन्होनें कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार तरक्की कर रहा है।अपने भाषण में उन्होनें अपने उन पुराने दिनों को भी याद किया जब वे पटना में रहा करते थे। 


जेपी नड्डा ने कहा कि मेरा बिहार से पुराना नाता है। मैंने पुराना बिहार भी देखा है अब नया बिहार देख रहा हूं जहां चारों तरफ ब्रिज बन रहे हैं। ओवरब्रिज-अंडरब्रिज, मेट्रो रेल सबकुछ बन रहा है। बिहार में विकास नजर आता है। सीएम नीतीश कुमार के कुशल नेतृत्व में बिहार तरक्की कर रहा है वहीं पीएम मोदी भी केन्द्र की तरफ से कोई कोर-कसर बिहार के विकास के लिए बाकी नहीं रख रहें। 


बीजेपी अध्यक्ष ने पुरानी यादों का ताजा करते हुए कहा कि आपने पटना का एलसीटी घाट देखा है कि नहीं देखा पर मैंने देखा है मैं वहां  गया हूं वहां से कभी गाड़ी चढ़ायी है और रक्सौल जाने पर में पूरा दिन लगाया है। लेकिन आज तस्वीर बदल गयी है खासकर पिछले दस सालों में बिहार का जबरदस्त विकास हुआ है। अब सड़कों पर धड़ाधड़ गाड़िया दौड़ रही हैं। कही भी आने-जाने में कोई परेशानी नहीं रह गयी है।


जेपी नड्डा ने कहा कि बिहार के विकास के लिए पीएम मोदी हजारों करोड़ रुपये दे रहे हैं। केन्द्र सरकार लगातार बिहार में सड़कों-पुलों के साथ-साथ रेलवे का भी विस्तार कर रही है। वहीं पटना में अब मेट्रो रेल भी बनने लगा है। सब पीएम नरेन्द्र मोदी की बिहार के प्रति विशेष स्नेह-प्रेम का नतीजा है। बिहार के विकास में केन्द्र सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगी ।  उन्होनें कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि आने वाले चुनाव में नीतीश कुमार के नेतृत्व में पूरी शिद्दत के साथ लग जाना है  ताकि कोई कोर कसर बाकी न रह जाए।


छात्रा का अपहरण, तीन नामदर्ज 1 अरेस्ट

अतुल त्यागी जिला प्रभारी  रिंकू सैनी रिपोर्टर  


परीक्षा देकर लौट रही छात्रा का अपहरण, तीन नामदर्ज पुलिस ने किया एक आरोपी को गिरफ्तार 


हापुड। थाना बाबूगढ़ क्षेत्र में दो दिन पूर्व इंटर के पेपर घर लौट रही एक छात्रा का कालेज के निकट तीन युवकों ने अपहरण कर लिया। पीड़ित भाई ने तीनों के विरुद्ध नामदर्ज रिपोर्ट करवाई है।पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
   जानकारी के अनुसार थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव हरनाथपुर कोटा निवासी डालचंद  की नाबालिग पुत्री 20 फरवरी को गांधी स्मारक इंटर कालेज से इंटर का पेपर देकर घर लौट रही थी। पीड़ित भाई राहुल ने आरोप लगाया कि कालेज के पास खड़े तीन युवकोंमोहित,महकार ,मनोरी ने दिनदहाड़े उसकी बहन का अपहरण कर ले गए थे। जिसका अभी तक पता नहीं चल सका है।
थाना प्रभारी उत्तम सिंह राठौर ने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर तीनों युवकों के विरुद्ध अपहरण का मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी मोहित को गिरफ्तार कर लिया गया है।शीघ्र ही छात्रा व अन्य आरोपियों को पुलिस बरामद कर लेगी।


ओवरलोड के खिलाफ सघन अभियान

    अतुल त्यागी जिला प्रभारी, रिंकू सैनी रिपोर्टर हापुड़  


परिवहन मंत्री उत्तर प्रदेश के निर्देश पर चलाया गया ओवरलोड के खिलाफ अभियान 
जिसमें पांच वाहन आज टीपी नगर चौकी में सीज किए गए
हापुड। माननीय परिवहन मंत्री उत्तर प्रदेश श्री अशोक कटारिया के एवं जिलाधिकारी हापुड़ श्रीमती अदिति सिंह के निर्देश पर ओवरलोड वाहनों के विरुद्ध सघन अभियान हापुड़ जनपद में चलाया जा रहा है। इस अभियान को महेश शर्मा एआरटीओ प्रवर्तन हापुड़ के द्वारा अपने प्रवर्तन दल के साथ चलाया गया। इस अभियान पर हाईवे पर चल रहे दो गन्ने के ओवरलोड ट्रकों को टीपी नगर चौकी थाना हापुड़ में सीज किया गया। गन्नों को भरकर ओवरलोड चलने की शिकायतें पूर्व से भी प्राप्त हो रही थी। इनके विरूदध समय-समय पर इसी प्रकार का अभियान चलाया जाता है। इसके अतिरिक्त तीन अन्य ट्रकों जिनमें रोड़ी मोरंग इत्यादि भवन सामग्री भरकर संचालन किया जा रहा था को भी ओवरलोड के अभियोग में टीपी नगर चौकी थाना हापुड़ में निरुद्ध किया गया। ओवरलोड के खिलाफ इसी प्रकार का अभियान निरंतर चलाया जाएगा और हापुड़ जनपद के अंदर ओवरलोडिंग को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया जाएगा।


बोर्ड परीक्षा लिखते 62 लोग गिरफ्तार

अतरौली। नकल के लिए बदनाम अतरौली में एक बड़े गोरखधंधे का भंडाफोड़ हुआ है। गुरुवार दोपहर की पाली में अतरौली के गांव तेवथू में भाजपा नेता व स्कूल प्रबंधक के घर में प्रशासन की टीम ने एसडीएम और सीओ के नेतृत्व में छापा मारकर 62 लोगों को इंटरमीडिएट यूपी बोर्ड परीक्षा की कॉपी लिखते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया। यहां से करीब सौ और कॉपियां भी मुहर लगी हुई बरामद हुई हैं। पुलिस ने केंद्र व्यवस्थापक और प्रधानाचार्य को हिरासत में ले लिया है।
अतरौली थाना क्षेत्र के गांव तेवथू के बौहरे किशनलाल इंटर कॉलेज के प्रबंधक राज कुमार शर्मा का घर स्कूल के ठीक सामने बना हुआ है। पुलिस और प्रशासन को कई दिनों से सूचना मिल रही थी कि राज कुमार शर्मा के साथ रहने वाले व उनके भतीजे भाजपा नेता के घर में यूपी बोर्ड परीक्षा की कापियां लिखी जाती हैं। गुरुवार को इंटरमीडिएट रसायन विज्ञान की परीक्षा थी। पुलिस ने सूचना को गंभीरता से लिया और एसडीएम शिवकुमार व सीओ सुरेश कुमार मलिक ने फोर्स के साथ बताए गए घर पर छापा मार दिया। घर को चारों ओर से घेर लिया गया। सूचना इतनी सटीक थी कि जिस कमरे में कॉपी लिखी जा रही थीं, पुलिस ने सीधा उसी कमरे को घेरा। जैसे ही पुलिस को देखा तो उनमें भगदड़ मच गई और कॉपियां आदि छोड़कर भागने लगे। 


यहां तक कि वह लोग पुलिस से भी भिड़ने लगे। सीओ और उनके चालक सुधीर चौधरी को अपनी रिवाल्वर व सुरक्षा गार्डों को अपनी राइफल तक निकालनी पड़ गई, तब जाकर यह लोग काबू में आ सके। पकड़े गए लोगों में 53 युवक, तीन पेपर सॉल्व करने वाले, तीन किशोर के साथ तीन युवतियां भी शामिल हैं। इनकी कुल संख्या 62 है। पुलिस इनके खिलाफ कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने मौके से गनियावली कालेज के प्रबंधक राम कुमार शर्मा को भी पकड़ा है। कॉलेज प्रबंधक का भाई डीआईओएस दफ्तर में लिपिक के पद पर तैनात है। इधर, सहायक जिला विद्यालय निरीक्षक की तहरीर पर 59 लड़कों और तीन लड़कियों, कॉलेज प्रबंधक के खिलाफ नकल अधिनियम व धारा 384 के तहत रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। भाजपा जिलाध्यक्ष देवराज सिंह के मुताबिक राज कुमार शर्मा के भतीजे भूवेन्द्र शर्मा उर्फ चुनमुन भाजपा के सदस्य हैं।


परीक्षा केंद्र को डिबार करने की होगी कार्रवाई
डीआईओएस धर्मेंद्र शर्मा का कहना है कि परीक्षा केंद्र को डिबार करने, परीक्षा निरस्त करने की कार्रवाई कराई जाएगी। मामला बेहद गंभीर है, सख्त से सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। 


तीन-तीन हजार करते थे वसूल
परीक्षार्थी गोपाल मिश्रा, प्रदीप कुमार व विशाल ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि तेवथू के कॉलेज प्रबंधक राजकुमार शर्मा, उनके भाई शिवकुमार शर्मा व उनके बेटे तथा गनियावली के कॉलेज प्रबंधक रामकुमार शर्मा उनसे कॉपी बदलवाने के नाम पर तीन तीन हजार रुपये वसूलते थे। रुपये नहीं देने पर फेल कराने की धमकी देते थे। तीन परीक्षार्थियों की तहरीर पर राजकुमार शर्मा, शिव कुमार शर्मा व उनके बेटे आदि और राम कुमार शर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अतरौली कोतवाली में दर्ज मुकदमें में धारा 384 के तहत मारपीट कर धमका कर वसूली और नकल अधिनियम की धारा लगाई गई है।


पीएम मोदी ने आईजेसी का उद्घाटन किया

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में अंतरराष्ट्रीय न्यायिक सम्मेलन (आईजेसी) का उद्घाटन किया। इसके अलावा पीएम मोदी आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पहली बार खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स के उद्घाटन समारोह को भी संबोधित करेंगे। आईजेसी का आयोजन सुप्रीम कोर्ट कॉम्प्लेक्स में किया जा रहा है। आईजेसी के उद्घाटन के बाद शाम को, पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ओडिशा के भुवनेश्वर में 22 फरवरी से 1 मार्च तक आयोजित होने वाले खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स के उद्घाटन समारोह को भी संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री शाम सात बजे खेलो इंडिया उद्घाटन समारोह को संबोधित करने वाले हैं। ओडिशा सरकार के सहयोग से भारत सरकार द्वारा खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स शुरू किया जा रहा है। यह भारत में विश्वविद्यालय स्तर पर आयोजित सबसे बड़ी प्रतियोगिता है और इसमें भाग लेने वाले देश के 150 से अधिक विश्वविद्यालयों के लगभग 3,500 एथलीट होंगे। आयोजन में तीरंदाजी, एथलेटिक्स, मुक्केबाजी, तलवारबाजी, जूडो, तैराकी, कुश्ती, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, फुटबॉल, हॉकी, टेबल टेनिस, टेनिस, वॉलीबॉल, रग्बी और कबड्डी जैसे कुल 17 खेल होंगे।


मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकी ढेर

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में शनिवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के शीर्ष कमांडर सहित दो आतंकवादी मारे गए। बता दें कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के आधार पर राष्ट्रीय राइफल, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल तथा जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान दल के जवानों ने शुक्रवार की देर रात अनंतनाग जिले के संगम में संयुक्त रूप से घेराबंदी तथा तलाश अभियान शुरू किया। इस दौरान सुरक्षा बलों के जवानों की वहां छुपे हुए आतंकवादियों से मुठभेड़ हो गयी। सूत्रों ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान शनिवार तड़के लश्कर के दो आतंकवादी मारे गए। सूत्रों के अनुसार घटना स्थल से मारे गये आतंकवादियों के शव और हथियार तथा गोलाबारूद बरामद किए गए हैं। मारे गए आतंकवादियों में से एक की पहचान लश्कर के शीर्ष कमांडर फुरकान के तौर पर हुई है। सूत्रों ने बताया कि किसी तरह के प्रदर्शन को रोकने के लिए आस-पास के इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया है।


'किसान मांग-पत्र' को लेकर कांग्रेस सक्रिय

गांव गांव पहुंचकर कांग्रेसी ग्रामीणों के भर रहे किसान मांग पत्र,मांग पत्र भरने को बड़ी संख्या में ग्रामीण ले रहे हिस्सा


राजुल गुप्ता/अमनदीप सिंह/डीएस राणावत



पलियाकलां-खीरी।आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता अभी से ग्रामीणों के बीच जाकर उन्हें पार्टी की नीतियों के साथ किसान मांग पत्र का महत्व बताते हुए उसे भरवाने के कार्य में जुट गये हैं। इसी क्रम में बीते दिवस स्थानीय कांग्रेस ने वरिष्ठ नेता बलराम गुप्ता, रिसाल अहमद आदि दर्जनों कार्यकर्ताओं के साथ मझगई,नगला क्षेत्र के विभिन्न गांवों में पहुंचे और ग्रामीणों के साथ चौपाल लगाकर पार्टी द्वारा भेजे गये किसान मांग पत्र भरवाये जाने का कार्य किया।
गांवों में किसान मांग पत्र भरवाने के दौरान आयोजित ग्रामीणों की चौपाल में कांग्रेस नेता बलराम गुप्ता ने कहा कि कांग्रेस एक ऐसी पार्टी है जो धर्म जात से ऊपर उठकर सभी का सम्मान करते हुए जमीनी विकास करने का कार्य करती है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में केंद्र व प्रदेश सरकार सिर्फ और सिर्फ हवा हवाई बातें करने का कार्य कर रही है। उन्होंने मौजूद किसानों ने पूछा कि माननीय प्रधानमंत्री ने आप सभी से चौदह दिनों के अंदर पेमेंट कराने जाने का जो वादा किया था क्या वह पूरा हुआ जिस पर किसानों ने एक स्वर में उसे हवा हवाई करार दिया। चौपाल को पीसीपी सदस्य अजय दरोगा, युवा कांगेस नेता दिनेश जिंदल, दिनेश वर्मा, रामेंद्र गुप्ता, विजय कुमार मिश्रा, रिसाल अहमद आदि ने भी सम्बोधित करके पार्टी को निटोयाँ बताई।
उधर नगर के चीनी मिल के पास हुई जमसभा में कांग्रेसी नेता रिसाल अहमद व विधान अध्यक्ष आबिद हुसैन, सचिन शाह ने कांग्रेस पार्टी की नीतियां बताकर इलाके में पार्टी की सरकार द्वारा कराए गए विकास कार्यो को बताया।नेताओ ने कहा कि भजपा सरकार पिछले साल का बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान अभी तक नही दिला पाई है। गन्ना किसान ह हताश और परेशान हैकिसान बच्चों के स्कूल की फीस नगीन जमा कर पा रहे है। वह कर्ज लेकर अपना जीवन यापन करने को मजबूर हो गए है। और प्रदेश की आकार चुप्पी साधे हुए किसानों को बर्वाद कर रही है।


बाहुबली अतीक के बेटे पर 2 लाख का इनाम

प्रयागराज अतीक अहमद के बेटे उमर पर सीबीआई ने दो लाख का इनाम घोषित किया मोहम्मद उमर बिल्डर मोहित जयसवाल को देवरिया जेल में पीटे जाने के मामले में आरोपी हैं उमर को खोजने के लिए पुलिस ने उमर की पोस्टर लगवाया है।                                         


प्रयागराज। कद्दावर व बाहुबली विधायक व सांसद रहे अतीक अहमद वर्तमान में गुजरात के अहमदाबाद सेंट्रल जेल में बंद है। उनके पुत्र मोहम्मद उमर को सीबीआइ ने दो लाख रुपये का इनामी अभियुक्त घोषित कर दिया है। हाइकोर्ट से गिरफ्तारी पर रोक की याचिका खारिज होने के बाद अब सीबीआइ उस पर शिकंजा कसने के लिए जगह-जगह इनामिया पोस्टर चस्पां कर रही है।


21 वर्षीय उमर चर्चित देवरिया जेल कांड में अपने पिता अतीक के साथ नामजद आरोपित है। 26 दिसंबर 2018 को लखनऊ के रीयल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल को लखनऊ से बंधक बनाकर देवरिया जेल ले जाया गया था। तब वहां बंद रहे अतीक और उनके करीबियों ने उन्हेंं जमकर पीटा था। मोहित से कई करोड़ की संपत्ति के कागजात पर जबरन दस्तखत करा लिए गए थे। चंगुल से छूटने पर मोहित ने लखनऊ के कृष्णा नगर थाने में अतीक अहमद और मोहम्मद उमर समेत 12 अन्य के खिलाफ अपहरण, मारपीट, धमकी का मुकदमा लिखाया था। 23 अप्रैल 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने जांच सीबीआइ को सौंपकर अतीक को अहमदाबाद जेल भेजने का आदेश दिया था। अब सीबीआइ ने उस पर दो लाख रुपये इनाम रख दिया है। मंगलवार को हाईकोर्ट से  गिरफ्तारी पर रोक की याचिका खारिज होने से उमर की मुश्किल बढ़ गई है। उधर, उमर के चाचा पूर्व विधायक अशरफ पर दर्ज चार मुकदमों में गिरफ्तारी के लिए कुर्की हो चुकी है।


बृजेश केसरवानी


पुलिस परामर्श केंद्र ने फिर से मिलवाया

पंकज राघव संवाददाता 
संभल। परिवार सुलह समझौता पुलिस परामर्श केंद्र की एक मीटिंग का आयोजन आज पुलिस लाइन बहजोई में महिला सेल प्रभारी इस्पेक्टर अंजू भदौरिया की देखरेख में किया गया। इसमें पति-पत्नी के बीच हुए आपसी मनमुटाव को समझौते के आधार पर दूर कर 2 परिवारों को मिलाया गया। कुल 35 पत्रावली सुनकर 4 पत्रावलियों का निस्तारण किया गया। 1 पत्रावली को आवेदक द्वारा बल ना देने के कारण निरस्त किया गया तथा 1 पत्रावली में विधिक कार्रवाई किए जाने की संस्तुति की गई। मिलाये गए परिवारों ने सुखी जीवन व्यतीत करने का वचन लिया गया। इस अवसर पर काउंसलर लव मोहन वार्ष्णेय  एडवोकेट श्रीमती संगीता भार्गव तथा कांस्टेबल  रिंकी,रेखा ,अमरवतीआदि उपस्थित रहे।


'अंतर्राष्ट्रीय भाषा दिवस' पर प्रतियोगिता

अपनी मूल भाषा पर हो अभिमान विजेंदर त्यागी


अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद। जन शिक्षण संस्थान गाजियाबाद के तत्वाधान में लोनी विधानसभा क्षेत्र के राम बिहार मे अंतरराष्ट्रीय भाषा दिवस के शुभ अवसर पर संस्थान के प्रतिभागियों द्वारा एक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में मेहंदी प्रतियोगिता में 60 प्रतिभागियों ने भाग लिया। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कुमारी रिंकू, द्वितीय स्थान कुमारी बबीता, तृतीय स्थान अमृता ने प्राप्त किया। पोस्टर प्रतियोगिता में 30 प्रतिभागियों ने भाग लिया प्रथम स्थान कुमारी नीलम, द्वितीय स्थान कुमारी पूनम, तृतीय स्थान कुमारी शालवी ने प्राप्त किया। निबंध प्रतियोगिता में 42 प्रतिभागियों ने भाग लिया। जिसमें प्रथम स्थान कुमारी खुशी, द्वितीय स्थान कुमारी निधि, तृतीय स्थान कुमारी रितु ने प्राप्त किया। बाकी प्रतिभाग करने वाले  प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र दिया गया इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भाजपा नेता और वरिष्ठ समाजसेवी विजेंदर त्यागी विशिष्ट अतिथि वार्ड सभासद विजयपाल बैंसला, रहे  इस अवसर पर बोलते हुए  विजेंदर त्यागी ने बताया कि हमें अपनी मूल मातृभाषा पर गर्व होना चाहिए हर राज्य के अनुसार अपनी अपनी भाषा होती है हर क्षेत्र के अनुसार अपनी अपनी भाषा होती है इसका हमे गर्व होना चाहिए। अंतर्राष्ट्रीय भाषा दिवस जो बंगाल के छात्र-छात्राओं ने एक आंदोलन शुरू किया था उस आंदोलन को लेकर पूरे विश्व मे सबको अपनी मूल भाषा की आजादी मिली और पूरे विश्व मे अंतरराष्ट्रीय भाषा दिवस मनाया जाने लगा आज  21 फरवरी 2020 को जो  बंगाल प्रांत के जो शहीद इस आंदोलन में शहीद हुए छात्र-छात्राएं उनको मैं अपनी विनम्र श्रद्धांजलि देता हूं जिन्होंने अपना प्राण देकर अपने जीवन का त्याग कर इतने बड़े आंदोलन की शुरुआत की थी  कार्यक्रम में संस्थान के कार्यक्रम अधिकारी गुरुदीन ने संस्थान के विषय में बताएं अंतरराष्ट्रीय भाषा दिवस क्यों मनाया जाता है इस पर भी प्रकाश डाला उन्होंने बताया कि कोस कोस पर पानी बदले 4 कोस पर बानी इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि भारत  विभिन्नता का देश है 25% से भी कम भाषाएं ऐसी ह जो 1000 से भी कम लोग बोलते हैं हालिया रिपोर्ट के अनुसार भारत में फिलहाल 1365 मातृभाषा है जिनका क्षेत्रीय आधार पर अलग अलग अलग अलग जानकारी दी संस्थान के संचालक सिस्टर बिना मोल जोसेफ ने सभी प्रतिभागी और आए हुए अतिथियों का आभार प्रकट किया कार्यक्रम में सहभागिता श्रीमती सेललमा  के के श्रीमती शोभा यादव श्रीमती मोनिका शर्मा, अभिषेक, रामराज,केन्द्र की संचालिका दीपशिखा  आदि ने किया कार्यक्रम में श्रीमती शशि चौहान कुमारी श्रीमती अरुणा चौहान, प्रीति देवी ,श्रीमती सुषमा त्यागी,सरोज  सैनी ,रोहित कुमार, श्रीमती पूनम शर्मा ने भी भाग लिया।


पहले पनपा, तेजी से बढ़ रहा भ्रष्टाचार

राणा ओबराय
भाजपा सरकार में पिछ्ले 5 वर्षों में पनपा था जो भ्रष्टाचार, अब तेजी से बढ़ रहा है लगातार ;- कुमारी शैलजा

चण्डीगढ़/हिसार। हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा ने कहा कि भाजपा सरकार में पिछ्ले 5 वर्षों में जो भ्रष्टाचार पनपा था, वह निरंतर बढ़ता जा रहा है। अब भाजपा-जजपा की गठबंधन सरकार के विधायक ही लगातार इस सरकार की पोल पट्टी खोल रहे हैं और भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगा रहे हैं। इससे प्रदेश में फैले व्यापक भ्रष्टाचार का अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। यह बातें कुमारी सैलजा ने हिसार के अर्बन स्टेट स्थित अपने निवास स्थान पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं से बातचीत के उपरांत कही। इस दौरान उन्होंने सरकार में शामिल एक विधायक द्वारा यह कहने पर कि कम से कम पेंशन में इतनी बढ़ोतरी तो की जाए कि वह मुंह दिखाने लायक तो रहें पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सरकार में शामिल दलों के द्वारा प्रदेश की जनता से किए गए झूठे वायदों ने सरकार में शामिल विधायकों को ही मुंह दिखाने लायक नहीं छोड़ा है। विधायकों को जनता के बीच जाने में डर लग रहा है और विधायक सरकार को झूठे वायदों पर आईना दिखा रहे हैं। वहीं सरकार में शामिल विधायक की सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगा रहे हैं। कुमारी सैलजा ने इस दौरान पंचकूला में धान घोटाले की निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज करने और किसानों को हिरासत में लेने की कड़े शब्दों में निंदा की। उन्होंने कहा कि जिस तरीके से प्रदेश की भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार धान घोटाले की निष्पक्ष जांच करवाने में कतरा रही है, उससे साफ है कि भाजपा सरकार किसी भी कीमत पर इस घोटाले पर पर्दा डालना चाहती है।
उन्होंने कहा कि जो आंकड़े सामने आ रहे हैं, उससे साफ पता चल रहा है कि प्रदेश में बड़ा धान घोटाला हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 2 लाख 25 हजार 145 किसानों ने लगभग 9 लाख 10 हजार 700 एकड़ धान का पंजीकरण करवाया था। प्रदेश की मंडियों में धान की 4 लाख 34 हजार 783 मीट्रिक टन सरकारी और 64 लाख 68 हजार 576 मीट्रिक टन प्राइवेट खरीद हुई। जिसकी औसतन पैदावार 75 क्विंटल होती है, जितनी पैदावार प्रति एकड़ होना संभव ही नहीं है। प्रदेश में 30 क्विंटल प्रति एकड़ धान से ज्यादा औसतन पैदावार संभव नहीं है। जिससे पता चलता है कि कितने बड़े स्तर पर प्रदेश में धान घोटाला हुआ है। लेकिन सरकार शर्मनाक तरीके से कह रही है कि प्रदेश में कोई घोटाला नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से प्री-बजट चर्चा दिखावा है। कांग्रेस पार्टी द्वारा विधानसभा में बेरोजगारी, एसवाईएल, धान घोटाला, किसानों को फसलों के उचित दाम, कम पेंशन, अपराध में बढ़ोतरी, कर्मचारियों की अनदेखी, युवाओं में बढती नशाखोरी, सरकार के दलित विरोधी रुख समेत अनेक जनहित के मुद्दे उठाए जाएंगे।
इस अवसर पर कई संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता बजरंग गर्ग के नेतृत्व में कुमारी सैलजा से मुलाकात की और प्रदेश की समस्याओं से उनको अवगत कराया।
इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता बजरंग गर्ग, एचपीएससी के पूर्व सदस्य जगरनाथ, सीनियर एडवोकेट लाल बहादुर खोवाल, हिसार विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी रामनिवास राड़ा, बरवाला विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी भूपेंद्र गंगवा, कांग्रेस के वशिष्ठ नेता हरि कृष्ण, बलवंत सैनी, सुधीर बिश्नोई भुना, कृष्ण कुमार सहारण, चंद्र हर्ष आदि प्रतिनिधि भारी संख्या में मौजूद थे।


'राष्ट्रीय कृषि मेले' का आकर्षण कड़कनाथ

रायपुर। तुलसी बाराडेरा में रविवार 23 फरवरी से आयोजित तीन दिवसीय राष्ट्रीय कृषि मेला में पशुधन विकास से संबंधित विभिन्न उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। मेले में प्रदर्शनी के साथ ही उत्पादों का विक्रय भी किया जाएगा। पशुपालन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय कृषि मेले में स्वादिष्ट और औषधीय गुणों से भरपूर कड़कनाथ मुर्गे की विशेष मंाग होगी। कड़कनाथ मुर्गे के बारे में बताया गया है कि – इसका खून, मांस और शरीर काले रंग का होता है। अन्य मुर्गों की तुलना में इसके मीट में प्रोटीन अधिक मात्रा में होता है और कोलेस्ट्रोल का स्तर कम होता है। इसमें 18 तरह के आवश्यक अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं। इसके मीट में विटामिन बी-1, बी-2, बी-6, बी-12, सी और ई की मात्रा भी अधिक पाई जाती है।


यह औषधि के रुप में नर्वस डिसऑर्डर को ठीक करने के काम में भी आता है। इसके रक्त से कई बीमारियां ठीक हो जाती हैं।कड़कनाथ मुर्गा के पालक छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के अलावा महाराष्ट्र, तमिलनाडू, आंध्रप्रदेश में भी अच्छी-खासी कमाई कर रहे हैं।  कड़कनाथ या काली मासी भारतीय नस्ल का मुर्गा है। यह मुख्यतः पश्चिमी मध्य प्रदेश के झाबुआ और धार जिलों में पाया जाता है। कड़कनाथ मुर्गे में उच्च प्रोटीन और न्यून वसा पाया जाता है, जिसके कारण इसका मांग काफी ज्यादा है। कड़कनाथ मुर्गी का मांस कम चरबी युक्त होता है। देसी मुर्गी होने के कारण ये पाचन के लिए बॉयलर मुर्गी के चिकन से हल्का होने के कारण कड़कनाथ मुर्गा का चिकन महंगा मिलता है।


कड़कनाथ मुर्गे से अमर पटेल हर महीने कमा रहे हैं 80 हजार रूपये


कड़कनाथ अपने स्वाद और औषधीय गुणों के लिए मशहूर है। कड़कनाथ प्रजाति से प्रभावित होकर रायगढ़ जिले के पुसौर विकासखण्ड के ग्राम कोसमंदा निवासी अमर पटेल ने वर्ष 2017-18 से कड़कनाथ मुर्गा पालन का ईकाई स्थापित किया है। उन्नत व्यवसाय के पूर्व कृषि कार्य करते थे। उन्होंने पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के मार्गदर्शन में 200 कड़कनाथ चुजों से मुर्गा पालन चालू किया। धीरे-धीरे उन्हीं मुर्गियों द्वारा दिये अंडों को ’स्वयं के द्वारा’ निर्मित हेचरिंग मशीन जिसमें आटोथरमोकर लगाकर 100 वाट के बल्बों से गर्मी पैदा कर तथा हेचींग मशीन मे ह्यूमिडिटी मेंटेन करने हेतु व्यवसाय बनाकर दिन में तीन बार अंडो को मैन्यूवली 45 डिग्री में टर्न कर हेचींग कार्य किया जा रहा है।


पटेल इस समय 600 मुर्गियाँ एवं चूजों का पालन कर एवं चूजा उत्पादन कर चूजों को रानीखेत का टीकाकरण कर प्रति चूजे 100 रूपये की दर से विक्रय कर अतिरिक्त आय का साधन बना लिया है एवं मुर्गों को 600 रूपये किलोग्राम के दर से बेच रहे हैं और हर महीने लगभग अस्सी हजार रूपये की कमाई कर रहे हैं।


हिमाचल की गाय को राष्ट्रीय पहचान

पालमपुर। हिमाचल की पहली गाय को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिल गई है। अलग-अलग राज्यों की तर्ज पर अब हिमाचली पहाड़ी गाय प्रदेश की पहली मवेशी नस्ल होगी। नेशनल ब्यूरो ऑफ एनिमल जेनेटिक रिसोर्सेज (एनबीएजीआर) करनाल की नस्ल पंजीकरण समिति ने हिमाचली पहाड़ी को प्रदेश की पहली मवेशी नस्ल के रूप में पंजीकृत किया है। पंजीकरण होने की जानकारी चौधरी सरवण कुमार कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के कुलपति प्रोफेसर अशोक कुमार सरयाल ने दी है। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय के पशु चिकित्सका वैज्ञानिकों ने विस्तार शिक्षा निदेशक डॉ. वाईपी ठाकुर, जोकि पशु जेनेटिक्स और ब्रीडिंग के प्रोफेसर भी हैं, की अगुवाई में इस नस्ल को अनूठी विशेषताओं के साथ प्राप्त करने के लिए अनुसंधान कार्य किए। कुलपति ने बताया कि हाल ही में पंजीकृत सात मवेशी नस्लों में से 8,00,000 की अनुमानित आबादी वाली “हिमाचली पहाड़ी” को मुख्य रूप से राज्य के उच्च पर्वतीय क्षेत्रों जैसे कुल्लू, चंबा, मंडी, कांगड़ा, सिरमौर में वितरित किया गया था। यह दूध, सूखे और खाद के स्रोत के रूप में पहाड़ी पशुधन उत्पादन प्रणाली के अनुकूल है। दैनिक दूध की उपज एक से तीन किलोग्राम और दुग्ध उत्पादन की उपज 350 से 650 किलोग्राम तक होती है। कुलपति को उम्मीद है कि इस नस्ल के पंजीकरण के साथ, अनुसंधान और संरक्षण कार्य में तेजी आएगी। उन्होंने कहा कि कांगड़ा, चंबा और पंजाब के कुछ हिस्सों में पाली जा रही गोजरी नस्ल की भैंस भी NBAGR karnal से पंजीकृत है, जोकि प्रवासी गुर्जरों द्वारा पाली जाती है।


एमएनएस ने चलाया विवादास्पद अभियान

पुणे। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के कार्यकर्ताओं ने बांग्लादेशियों के खिलाफ विवादास्पद अभियान चलाया हुआ। जिसके तहत मनसे कार्यकर्ता मुंबई के बाद पुणे में शहर के उन इलाकों में जा रहे हैं, जहां कथित रूप से बांग्लादेशी रहते हैं। ये मनसे कार्यकर्ता उन जगहों पर जाकर लोगों से उनकी नागरिकता का सबूत मांग रहे हैं। बताया गया कि शनिवार को मनसे के एक दर्जन से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने शहर के धनकवड़ी इलाके में जाकर घर-घर जांच की और लोगों के आईकार्ड चेक किए। इस दौरान हैरान करने वाली बात यह थी कि इन मनसे नेताओं के साथ पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे।इस जांच के बारे में पूछे जाने पर मनसे कार्यकर्ताओं ने बताया जांच के दौरान एक युवा के पास दो वोटर आईडी कार्ड मिले हैं। मनसे कार्यकर्ता उसे पुलिस स्टेशन लेकर गए हैं। ऐसे ही कई लोग शहर में रह रहे हैं, इसलिए इनकी जांच जरुरी है। बता दें कि कुछ दिन पहले पुणे में पार्टी की ओर से पोस्टर लगाए गए थे। इनमें लिखा था- ‘बांग्लादेशी निकलो वरना मनसे स्टाइल से निकाले जाओगे।’ इन पोस्टरों में मनसे ने लिखा है कि भारत मेरा देश है, मेरा मेरे देश पर प्रेम है। घूसखोरी करने वाले मेरे बंधु नहीं और ना ही वो भारतीय हैं। उन्हें इस देश से निकाल देना चाहिए। वहीं 9 फरवरी को महाराष्ट्र नव निर्माण सेना ने CAA-NRC के समर्थन में एक विशाल रैली की थी। इस रैली में मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने अवैध बांग्लादेशियों को शहर से बाहर करने की मांग की थी। राज ठाकरे ने कहा कि घुसपैठियों को देश से बाहर निकालकर देश को साफ-सुथरा किया जाना चाहिए। राज ने चेतावनी दी थी कि अगर कुछ लोग सिर्फ शक्ति प्रदर्शन करने के लिए सीएए-एनआरसी के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं, उन्हें जवाब दिया जाएगा।


नेताजी रिसर्च ब्यूरो की चेयरपर्सन का निधन

कोलकाता। प्रतिष्ठित शिक्षाविद, पूर्व टीएमसी सांसद और नेताजी सुभाषचंद्र बोस (Netaji Subhash Chandra Bose) के भतीजे शिशिर बोस की पत्नी कृष्णा बोस का शनिवार को कोलकाता के अस्पताल में का कार्डियक अरेस्ट के कारण निधन हो गया। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि कृष्णा सम्मानित समाज सुधारक और प्रसिद्ध कवयित्री थीं।


शिक्षक से राजनीतिज्ञ बनीं कृष्णा बोस 89 वर्ष की थीं और उम्र संबंधी बीमारियों से पीड़ित थीं। कृष्णा बोस के निधन के समय उनके बेटे सुगत और सुमंत बसु वहां मौजूद थे। उनके दो बेटे और एक बेटी हैं। कृष्णा बोस नेताजी रिसर्च ब्यूरो की चेयरपर्सन भी थीं। बोस साल 1996 में कांग्रेस के टिकट पर जादवपुर से जीतने के बाद लोकसभा की सदस्य बनी थीं। बाद में उन्होंने 1998 और 1999 में तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में उसी निर्वाचन क्षेत्र से जीत हासिल की थी। कृष्णा के बेटे सुमंत्रा बोस ने बताया कि कुछ दिनों पहले उन्हें दूसरा स्ट्रोक आया था और वह आईसीयू में भर्ती थीं।


जय रामः मंत्रिमंडल का होगा विस्तार

मंडी। जयराम मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर काफी समय से उहापोह की स्थिति बनी हुई है। मंडी शिवरात्रि का शुभारंभ करने पहुचे सीएम जयराम ठाकुर से नेरचौक में जब मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि इस संबंध में जल्द ही तारीख तय करके मंत्रिमंडल का विस्तार कर दिया जाएगा।  इससे पहले सीएम ने नेरचौक मेडिकल कॉलेज में 45 करोड़ की लागत से बनने वाले कैंसर सेंटर भवन की आधारशिला और 2 करोड़ 16 लाख की लागत से बने पीएचसी लेदा के भवन का उद्घाटन किया।जयराम ठाकुर ने बताया कि कैंसर सेंटर केंद्र सरकार द्वारा स्वीकृत किया गया है और इस भवन को एक वर्ष के भीतर बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों को कैंसर के उपचार की यहीं पर बेहतरीन सुविधा उपलब्ध होगी और उन्हें प्रदेश से बाहर नहीं जाना पड़ेगा। बता दें कि यह कैंसर सेंटर आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। अभी प्रदेश में सिर्फ आईजीएमसी शिमला में कैंसर के उपचार की सुविधा उपलब्ध है जबकि एक वर्ष के बाद मंडी में भी यह सुविधा उपलब्ध हो जाएगा। जयराम ठाकुर ने कहा कि मेडिकल कॉलेज नेरचौक प्रदेश में स्वास्थ्य क्षेत्र का तीसरा बड़ा संस्थान बनकर उभरा है। आईजीएमसी और टांडा मेडिकल कालेज पहले से बेहतरीन सेवाएं दे रहे हैं लेकिन मेडिकल कालेज नेरचौक भी अब बेहतरीन सेवाएं देने वाला संस्थान बन गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 6 मेडिकल कालेज संचालित हो रहे हैं जिनके माध्यम से लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने का प्रयास किया जा रहा है। इसके बाद सीएम ने चक्कर में 13 करोड़ की लागत से बनने वाले आधुनिक मिल्क प्रोसेसिंग प्लांट की आधारशिला रखी। उपरांत इसके 3 करोड़ 89 लाख की लागत से बने फायर स्टेशन के नए भवन और वल्लभ कालेज मंडी में वर्चुअल क्लास रूम का शुभारंभ किया। वहीं मेधावी छात्र-छात्राओं को सरकार की तरफ से लैपटॉप भी प्रदान किए गए। इस मौके पर सीएम के साथ जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर, ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर, सांसद राम स्वरूप शर्मा, विधायक कर्नल इंद्र सिंह, विनोद कुमार, हीरा लाल, इंद्र सिंह गांधी, राकेश जम्वाल, जवाहर ठाकुर और प्रकाश राणा भी मौजूद रहे।


सैनिकों को मैडल, किया शौर्य का सम्मान

बीकानेर। सप्त शक्ति कमांड का अलंकरण समारोह आज यहां छावनी क्षेत्र स्थित रणबांकुरा डिवीजन के अनन्त विजय ऑडिटोरियम में आयोजित हुआ। दक्षिण पश्चिम कमांड के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ आलोक क्लेर ने सैनिकों को मैडल और सेना की विभिन्न यूनिट्स को प्रशंसा पत्र भेंट कर उनके शौर्य को सम्मानित किया। इस अलंकरण समारोह में एक युद्ध सवा मैडल, 20 सेना मैडल (परम), 2 सेना मैडल (विशिष्ट सेवा) आर 6 विशिष्ट सवा मैडल भेंट किए गए। 
पैराट्रूपर मुकुट बिहारी मीणा और सिपाही मंदीप सिंह का ऑपरेशनल गतिविधि के दौरान सर्वोच्च बलिदान के लिए मरणोपरान्त वीरता पुरस्कार दिए गए। समारोह में सेना की 21 यूनिट्स को राष्ट्र और भारतीय सेना के लिए उनके अमूल्य योगदान देने पर यूनिट प्रशंसा पत्र दिए गए। यूनिट के कमांडिंग ऑफिसर और सूबेदार मेजर ने इन प्रतिष्ठित पुरस्कार ग्रहण किए। समारोह के सम्पन्न होने पर दक्षिण पश्चिम कमांड के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ आलोक क्लेर ने सभी पुरस्कार विजेताओं और उनके परिवारजनों के साथ बातचीत की और भारतीय सेना के लिए उनके योगदान की सराहना की। इस अवसर पर मीडियाकर्मियों से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि इन पुरस्कारों की महता न सिर्फ सेना के लिए बहुत है बल्कि पूरे राष्ट्र के लिए गौरव की बात है। क्योंकि सैनिक ही हर विपत्ति के दौरान राष्ट्र के लिए अपना सबकुछ त्याग देता है। आपदा के दौरान सहायता करनी हो, देश की बाहरी और अन्दरूनी सुरक्षा हो, सैनिक हर कत्र्तव्य को बहादुरी और साहस के साथ निभाता है। बहादुरी के साथ बेहतर सेवा को ही ये गैलेन्ट्री एवार्ड दिया जाता है।


कट्टर तालिबान से दोस्ती करेगा अमेरिका

नई दिल्ली। तालिबान अपनी कट्टर सोच और आतंकी गतिविधियों के लिए पूरी दुनिया में कुख्यात रहा है। अमेरिका हमेशा से तालिबान के टारगेट में रहा है लेकिन आश्चर्यजनक रूप से अमेरिका अपने कट्टर दुश्मन के साथ दोस्ती करने जा रहा है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ट्वीट कर कहा है कि लंबे समय के बाद तालिबान के साथ बात सफल हुई है। इससे अफगानिस्तान में हिंसा रुक सकेगी। उन्होंने यह भी कहा कि अफगानिस्तान में हिंसा रोकने के लिए एक समझौते पर अमेरिका 29 फरवरी को हस्ताक्षर करेगा। ये समझौता दोहा में अमेरिका और तालिबान के प्रतिनिधियों के बीच होगा। ऐसा माना जा रहा है कि अमेरिका और तालिबान के बीच शांति वार्ता के सफल होने से भारत की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। देखना होगा कि दो कट्टर दुश्मनों के बीच दोस्ती किस मुकाम तक पहुंचती है और अफगानिस्तान में इस समझौते के बाद कब तक शांति कायम रह सकती है।


मॉडल ने तैयार किया फीमेल वियाग्रा

सिडनी। सुपरमॉडल के रूप में चर्चित एले मैकफर्सन ने ऐसा पाउडर लॉन्च किया है। जिसे उन्होंने महिलाओं के लिए वियाग्रा के बराबर असरकारक पदार्थ बताया है। ऑस्ट्रेलिया की रहने वाली एले ने इस पाउडर की बिक्री भी शुरू कर दी है और 14 दिन के कोर्स के लिए इसकी कीमत उन्होंने 7900 रुपये रखी। सुपरमॉडल ने तैयार किया फीमेल वियाग्रा, कपल ने शेयर किया अनुभव सुपरमॉडल ने तैयार किया फीमेल वियाग्रा, कपल ने शेयर किया अनुभव एले ने नए पाउडर का नाम द सुपर बूस्टर वुमेन लिबिडो एंड हार्मोन सपोर्ट रखा है। एले लाइफस्टाइल ब्रांड चलाती हैं, जो दुनियाभर में पॉपुलर है। सुपरमॉडल ने तैयार किया फीमेल वियाग्रा, कपल ने शेयर किया अनुभव द सन की रिपोर्ट के मुताबिक, 55 साल की एले का कहना है कि इस पाउडर की वजह से उनकी अपनी सेक्स लाइफ भी काफी बेहतर हो गई है। उन्होंने बताया कि जब वह लो फील करती हैं या फिर उन्हें तनाव महसूस होता है तो ये पाउडर मदद करता है। सुपरमॉडल ने तैयार किया फीमेल वियाग्रा, कपल ने शेयर किया अनुभव एले का कहना है कि ये पाउडर पूरी तरह हर्बल है और प्राकृतिक तौर से महिलाओं के हार्मोन और एनर्जी को बैलेंस करने का काम करता है। सुपरमॉडल ने तैयार किया फीमेल वियाग्रा, कपल ने शेयर किया अनुभव केले और एडम नाम के कपल ने द सुपर बूस्टर को ट्राई करने के बाद बताया कि उनके अनुभव काफी अच्छे रहे। केली ने कहा कि उन्हें इससे काफी एनर्जी मिली और उनका लव मेकिंग करीब दो घंटे तक चला।


सोने की रखवाली कर रहे हैं कठोर विषधर

लखनऊ। यूपी के सोनभद्र में गुरुवार को मिले सोने के भंडार ने पूरी दुनिया को चौंका दिया है। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण की एक रिपोर्ट के मुताबिक यहां सोना करीब 3,000 टन है, जो भारत के पास मौजूदा स्वर्ण भंडार का करीब पांच गुना है। सोने के ये भंडार सोन पहाड़ी और हरदी इलाकों से मिले हैं, जिसकी अनुमानित कीमत करीब 12 लाख करोड़ बताई गई है। अब आपको यह जानकर हैरानी होगी कि सोने के भंडार के अलावा यहां दुनिया के सबसे जहरीले सांप भी मौजूद हैं। जो पल भर में इंसान को मौत की नींद सुला सकते हैं। रसेल वाइपर के अलावा कोबरा और करैत भी बेहद ही खतरनाक सांप माने जाते हैं। इनका जहर न्यूरोटॉक्सिन होता है, जो इंसान के स्नायु तंत्र को शून्य कर देते हैं, जिससे उसकी मौत हो जाती है। इसमें कोबरा की खासियत ये होती है कि वो जिस जगह पर काटता है, वहां सूजन हो जाती है जबकि करैत जिस जगह पर काटता है, वो तो देखने से पता भी नहीं चलता है। लेकिन जल्द ही सोनभद्र की पहाड़ियों से सोना निकालने की प्रक्रिया शुरू होगी, लेकिन इसका प्रभाव इन सांपों के अस्तित्व पर पड़ सकता है। उनका बसेरा खत्म हो सकता है। कुछ इसी तरह की स्थिति ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में भी बनी थी, जब कोयले की खदानों का खनन हो रहा था, लेकिन सांपों के अस्तित्व को देखते हुए खनन प्रक्रिया पर रोक लगा दी गई थी।


कृतिम-रासायनिक दूध रोग का घर

दूध के नाम पर जहर पी रहे हैं। 


नई दिल्ली। वर्तमान समय में भारत दूध के रूप में जहर पी रहा है और ये जहर कैंसर में तबदील हो रहा है। यदि हाल यही रहा तो भविष्य में 2025-30 तक भारत में रहने वाले अनुमान से अधिक लोग कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी के शिकार हो जाएंगे। यह विश्व स्वास्थ्य संगठन का मानना है। उनका मानना है कि देश में बिकने वाला 67.7 फीसदी दूध मिलावटी है। इसके पीछे तर्क दिया जा रहा है कि देश में दूध का उत्पादन 14 करोड़ और खपत 64 करोड़ लीटर है तो क्या हम और आप दूध के नाम पर जहर पी रहे हैं। त्योहारों के सीजन में दूध की बनी मिठाइयां बिकती हैं, लेकिन कहीं इनमें जहर तो नहीं?एनिमल वेलफेयर बोर्ड इंडिया के सदस्य मोहन सिंह अहलूवालिया ने भी जताया कि देश में दूध से इतने बड़े पैमाने पर ऐसी चीजें कैसे बन रही हैं जबकि इतनी मात्रा में दूध होता ही नहीं है। दूध माफिया दूध की मात्रा बढ़ाने के लिए पानी मिलाते हैं। इसके अलावा यूरिया, स्किम्ड मिल्क पाउडर का भी इस्तेमाल होता है। नकली दूध बनाने में डिटर्जेंट पाउडर, साबुन, सिंथेटिक का भी इस्तेमाल होता है। दूध में फैट दिखाने के लिए वेजिटेबल ऑयल और फैट का इस्तेमाल होता है। दूध को फटने से बचाने के लिए हाइपोक्लोराइड्स, क्लोरामाइंस, हाइड्रोजन पैराऑक्साइड, बोरिक एसिड का इस्तेमाल होता है। दही, पनीर, मक्खन और क्रीम बनाने में भी हानिकारक रसायनों का इस्तेमाल किया जाता है। तमाम केमिकल से बना ये नकली दूध सेहत के लिए कितना हानिकारक होता है, इसे लेकर वरिष्ठ न्यूट्रीशियन डॉ. मंजरी चंद्रा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि दूध में केमिकल की मात्रा ज्यादा होने पर नुकसानदायक होता है। अगर रोज इस तरह से केमिकल वाले दूध पीते हैं तो बच्चों में न्यूरो, मेंटल इलनेस, विकास की कमी और कैंसर जैसी बीमारी भी हो सकती है।


साल की आखरी अमावस्या है खास

फाल्गुन अमावस्या पर करें ये काम


फाल्गुन माह की अमावस्या तिथि है। हिंदू पंचांग के अनुसार ये साल की आखिरी अमावस्या है। ये महाशिवरात्रि पर्व के बाद आती है। इस अमावस्या का खास महत्व है। धार्मिक तीर्थों पर स्नान करने से शुभ लाभ मिलता है और अक्षय पुण्यों की प्राप्ति होती है। ये है फाल्गुन अमावस्या का शुभ मुहूर्त 22 फरवरी को अमावस्या तिथि का शुभ आरंभ 19 बजकर 4 मिनट पर होगा। 23 फरवरी को अमावस्या तिथि  21 बजकर 3 मिनट पर समाप्त होगी। फाल्गुन अमावस्या पर करें ये काम। अमावस्या के दिन पीली त्रिकोण आकृति की पताका विष्णु मंदिर में ऊंचाई वाले स्थान पर इस तरह लगाएं कि वह लहराता रहे। कर्ज का मर्ज नहीं करेगा परेशान। इसके अतिरिक्त प्रति रविवार को भैरव स्त्रोत का पाठ मंदिर में बैठकर करें तो अत्यंत लाभप्रद रहेगा। कभी-कभी व्यक्ति रोजगार-व्यापार चलाने के लिए व्यक्ति विशेष बैंक से ऋण लेता है। किसी भी वजह से रोजगार-व्यापार न चले तो यह प्रयोग अमावस्या से आरंभ करके नियमित रूप से चालीस दिन तक करें। एक सेर भुने चावल, एक पाव शक्कर और आधा पाव घी इन सबको मिलाकर प्रात:काल के समय निम्न मंत्र पढ़ते हुए चींटी के बिल पर डालें। मंत्र- ॐ नमो नमन चींटि महावीर, हूंपूरो तोरी आशा तू पूरो मेरी आशा। रोगों से मुक्ति के लिए सूर्य देव को अर्घ्य दें, सूर्य चालीसा का पाठ करें और विधि-विधान से उनकी पूजा करें। नमक न खाएं। पितरों की तृप्ति और उनकी आत्मा की शांति के लिये इस दिन दान, तर्पण और श्राद्ध करने का विधान हैं। कहते हैं की शरीर छोड़ने के बाद आत्मा पितृ लोक जाती है। जब तक यमराज उनके प्रति कोई निर्णय नहीं लेते तब तक उन्हें यहां कुछ समय के लिए रहना पड़ता है। इस दौरान वे गहरे दर्द से गुजरते हैं क्योंकि उनमें कुछ भी ग्रहण करने की क्षमता नहीं होती। अमावस्या तिथि पर इन आत्माओं के सगे-संबंधी, नाते-रिश्तेदार, वंशज या कोई भी उनका अपना उनके लिये श्राद्ध, दान अथवा तर्पण करता है। जिससे उनकी आत्मा को शांति मिलती है। पितरों को प्रसन्न और तृप्त करने के लिए ये दिन बहुत सौभाग्यशाली माना गया है। पितृ दोष दूर करने के लिए लाल मीठी चीजों का दान करें।


चीन विमान भेजने में कर रहा है देरी

नई दिल्ली। चीन में कोरोना वायरस अपना कहर बरपा रहा है। एक ओर जहां चीन के वुहान प्रांत में कोरोना से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। वहीं चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भारत की ओर से मुहैया कराए जा रहे। सहायता लेने के इच्छुक नहीं हैं। दरअसल कोरोना वायरस से प्रभावित चीन के वुहान प्रांत जाने के लिए भारतीय वायुसेना का सी-17 ग्लोबमास्टर तैयार है। लेकिन अभी तक चीन की तरफ से इस विमान को मंजूरी नहीं दी गई है। जानकारी के अनुसार चीन जानबूझकर भारतीय विमान को मंजूरी नहीं दे रहा है। बता दें कि भारत ने 17 फरवरी को एलान किया था कि वायुसेना का सबसे बड़ा सी-17 ग्लोबमास्टर विमान मेडिसिन लेकर चीन जाएगा। यह विमान वापसी में न केवल भारतीय बल्कि वहां फंसे पड़ोसी देशों के नागरिकों को भी लेकर आएगा। लेकिन इस विमान को उड़ान भरने को लेकर चीन ने अभी तक हरी झंडी नहीं दिखाई है। इस महीने की शुरुआत में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को लिखे पत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि भारत कोरोना वायरस की चुनौती से निपटने में चीन के लोगों और सरकार के प्रति एकजुट है और देश को सहायता मुहैया कराने की पेशकश दी। मामले से जुड़े एक सूत्र ने कहा कि मुसीबत की घड़ी में दूसरों की मदद करने के हमारे लोकाचार को देखते हुए। राहतसामग्री की पेशकश की गई, जबकि भारत में खुद इनकी भारी कमी है। जिन सामान की आपूर्ति की जानी है उनमें दस्ताने, सर्जिकल मास्क, फीडिंग पम्प और डिफिब्रिलेटर्स हैं जिनकी आवश्यकता चीन ने जताई थी। एक अनुमान के मुताबिक, वुहान में अभी 100 से अधिक भारतीय रह रहे हैं। कई देशों ने चीन से अपने नागरिकों को निकाल लिया है और वहां कोरोना वायरस के मद्देनजर लोगों और सामान की आवाजाही पर रोक लगा दी है।


खातों में आए 3 हजार से ₹35 हजार तक

वर्धमान। साइबर ठगी के जरिए बैंक खातों से रुपए निकाले जाने की खबरें तो आपने बहुत सुनी होंगी, लेकिन जरा सोचिए कि अचानक आपके मोबाइल पर एक मैसेज आए कि आपके बैंक खाते में किसी ने 35 हजार रुपए जमा कर दिए हैं, तो आपको कैसा लगेगा। पश्चिम बंगाल के बर्दवान इलाके में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां कुछ लोगों के खातों में 3 हजार रुपए से लेकर 35 हजार रुपए तक जमा होने का मैसेज उनके मोबाइल पर आया। मैसेज देखकर जब लोग बैंक पहुंचे और उन्होंने अधिकारियों से इन रुपयों के बारे में पूछा तो उन्हें भी इसके बारे में कुछ नहीं पता था। इसके बाद लोगों ने अपने खातों से इन रुपयों को निकालना शुरू कर दिया।


3 हजार से लेकर 35 हजार रुपए तक हुए जमा


मामला पश्चिम बंगाल के बर्दवान इलाके में बैंक ऑफ इंडिया और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (ग्रामीण) की शाखाओं का है। खाता धारकों में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब कुछ लोगों के मोबाइल में उनके बैंक खातों में रुपए जमा किए जाने का मैसेज आया। मैसेज देखकर जब लोग अपनी पासबुक में एंट्री कराने के लिए बैंक पहुंचे तो पता चला कि अलग-अलग खातों में 3 हजार से लेकर 35 हजार रुपए तक जमा हुए हुए हैं। लोगों ने जब बैंक अधिकारियों से पूछा कि उनके खाते में ये रुपए कहां से जमा हुए तो बैंक अधिकारी भी कुछ नहीं बता पाए।


बैंक अधिकारी भी हैरान, कहां से आए रुपए


बैंक खातों में रुपए जमा होने की बात से बैंक अधिकारी भी हैरान हैं। अभी तक इन बैंक खातों में रुपए जमा करने वाले सोर्स का कुछ पता नहीं चल पाया है। हालांकि जिन लोगों के खाते में रुपए जमा हुए हैं, उनमें से कुछ का मानना है कि ये रकम इंश्योरेंस कंपनियों ने उनके खाते में जमा की है। वहीं, बैंक के अधिकारी इस बारे में पुख्ता तौर पर कुछ नहीं कह पा रहे हैं। दूसरी तरफ बैंक खातों में पैसे आने के बाद लोग काफी खुश हैं और कुछ लोगों ने अपने बैंक खातों से इन रुपयों को निकालना भी शुरू कर दिया है।


साल भर पहले भी जमा हुए लोगों के खाते में रुपए


आपको बता दें कि बैंक खातों में अंजान सोर्स से पैसे जमा होने की यह कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी एक बार इसी इलाके में ऐसी घटना हो चुकी है। दरअसल जनवरी 2019 में यहां अचानक लोगों के पास उनके बैंक खातों में 5 हजार रुपए से लेकर 50 हजार रुपए तक जमा किए जाने का मैसेज आया। जानकारी के मुताबिक करीब 150 लोगों के बैंक खातों में इस तरह रहस्यमय तरीके से रुपए जमा किए गए। बैंक अधिकारियों से जब इस बारे में पूछा गया तो वो ये बताने में नाकाम रहे कि आखिर ये रुपए किसने इन लोगों के खाते में जमा किए हैं।


यूपी के मुरादाबाद में खातों में जमा हुए 10-10 हजार रुपए


वहीं, पिछले साल मार्च में यूपी के मुरादाबाद में भी ऐसा ही मामला सामने आया था। यहां करीब ढ़ाई हजार लोगों के खातों में 10-10 हजार रुपए अचानक पहुंच गए। खातों में रुपए जमा होने की सूचना जैसे ही लोगों के बीच फैली, लोग अपनी-अपनी पासबुक उठाकर बैंक की तरफ दौड़े। बैंक पहुंचकर पता चला कि करीब ढाई हजार लोगों के जनधन खातों में 10700 रुपए की एंट्री हुई है। इसके बाद लोगों ने अपने-अपने खातों से रुपए निकालने शुरू कर दिए। बैंक में लोगों की बढ़ती भीड़ देखकर कर्मचारियों के भी पसीने छूट गए और भीड़ बढ़ती देख कर्मचारी शाखा बंद कर निकल लिए।


बैंक अधिकारियों को बंद करनी पड़ी थी शाखा


अपने खातों से रुपए निकालने के लिए बैंक के बाहर बड़ी संख्या में लोग पहुंच चुके थे और जब भीड़ काबू से बाहर होने लगी तो बैंक के कर्मचारी सेंटर बंद कर वहां से निकल गए। सेंटर बंद होता देख लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। लोग चाहते थे कि उनकी पास बुक में एंट्री की जाए, ताकि वो अपने खाते में आए रुपए निकाल सकें। बैंक अधिकारियों ने आनन-फानन में इस सेंटर के खातों से रुपए निकालने पर तत्काल रोक लगाते हुए मामले की जांच करनी शुरू कर दी। हालांकि तब तक कुछ लोग अपने खातों से रुपए निकाल चुके थे।


आंध्र-प्रदेश में ₹450 करोड का घोटाला

अमरावती। आंध्र प्रदेश के सतर्कता और प्रवर्तन विभाग ने कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) में 2014-19 के बीच 404.86 करोड़ रुपये के घोटाले का पता लगाया है। उस समय राज्य में तेलुगु देसम पार्टी की सरकार थी। सतर्कता विभाग की रिपोर्ट में कहा गया है कि बीमा चिकित्सा सेवा (आइएमएस) के तीन निदेशकों-बी रवि कुमार, सीके रमेश कुमार और जी विजय कुमार को ईएसआइसी योजना लागू करने में बड़े पैमाने पर अनियमितताओं का दोषी पाया गया है। इन तीन निदेशकों के अलावा पांच संयुक्त निदेशकों और कई अन्य कर्मचारियों को भी घोटाले का दोषी पाया गया है।


राज्य के श्रम मंत्री जी जयराम ने कहा कि सतर्कता विभाग की रिपोर्ट के आधार पर घोटाले में शामिल सभी लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती चंद्रबाबू नायडू सरकार के श्रम मंत्री के अचननायडू और अन्य शीर्ष अधिकारियों को भी कानून के दायरे में लाया जाएगा और घोटाले की राशि बरामद की जाएगी। जयराम ने बयान जारी कर कहा कि उन्हें जेल भेजने में भी हमें कोई हिचक नहीं होगी। 
चिटफंड घोटाले में असम से एक और गिरफ्तार


सिलीगुड़ी। चिटफंड घोटाला मामले में एक और आरोपित की गिरफ्तारी हुई है। असम के साथ-साथ सिलीगुड़ी सहित पूरे बंगाल में रियल एस्टेट के नाम पर चिटफंड के जरिए करोड़ो रुपये हड़पने के आरोप में सीबीआइ उत्तर बंगाल की टीम ने उसे असम से गिरफ्तार किया है। वह सेवा रियल एस्टेट लिमिटेड नामक कंपनी का प्रबंध निदेशक है। यह कंपनी असम की ही है। सीबीआइ ने आरोपित सिद्धार्थ नाग को शुक्रवार को ट्रांजिट रिमांड पर लिया। पहले उसकी पेशी असम के एक अदालत में हुई और सीबीआइ उसे ट्रांजिट रिमांड पर लेकर सिलीगुड़ी आई है। से शनिवार को सीबीआई सिलीगुड़ी स्पेशल कोर्ट में पेश किया जाएगा। सीबीआइ उसे रिमांड पर ले सकती है।


सिद्धार्थ ने 2013 से 2017 तक आमलोगों को इस कंपनी ने घर बनाकर देने के नाम पर चूना लगाया। उसने आमलोगों से से 9.14 करोड़ रुपये की उगाही की। मुख्य रूप से असम की यह कंपनी सिलीगुड़ी में भी अपना कारोबार कर रही थी। यहां बता दें कि इन दिनों सीबीआइ चिटफंड घोटाले की जांच कर रही है। इस संबंध में कई मामले दर्ज होने पर इसकी जांच सीबीआइ को सौंप दी गई। इसी क्रम में सिलीगुड़ी के थाने में भी इस कंपनी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी।


दिल्ली-नोएडा आवागमन को 'एक सड़क'

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वातार्कारों ने लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को शाहीनबाग के प्रदर्शनकारियों से मिलकर उनसे बातचीत की। हालांकि तीसरे दिन भी बातचीत का कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकला। वार्ताकारों ने पुलिस से प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा की बात पूछी। पुलिस की तरफ से कहा गया कि हम प्रदर्शनकारियों को सुरक्षा देंगे। इस बात पर प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हमें पुलिस पर भरोसा नहीं है। पुलिस लिखित में लिखकर आश्वासन दे।


वहीं शाहीन बाग में महिला प्रदर्शनकारियों ने उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त वार्ताकारों को शुक्रवार को बताया कि जब इलाके की कई दूसरी सड़कें खुली हुई हैं तो उन्हें किसी दूसरी जगह जाने को क्यों कहा जा रहा है। वार्ताकरा हेगड़े ने कहा, आज शिवरात्रि है। बोलने का हमारा अधिकार है, बोलिए। आप जो कुछ भी कहना चाहते हैं कहिए। यहां प्रभावित सभी पक्षों के लिये एक संयुक्त फैसला लेते हैं। वार्ताकारों ने मामले पर प्रदर्शनकारियों से चर्चा के लिये दिल्ली पुलिस को भी मौके पर बुलाया। 
दिल्ली पुलिस ने स्वीकार किया कि प्रदर्शनकारियों ने समानांतर सड़क अवरुद्ध नहीं की है लेकिन उन्होंने प्रदर्शन स्थल पर सुरक्षा देने के लिये बैरिकेट लगाए हैं। पुलिस ने बताया कि एम्बुलेंस और स्कूल बसों जैसे जरूरी वाहनों को ही इस सड़क से जाने की अनुमति दी जा रही है। पुलिस के एक अधिकारी ने वार्ताकारों को बताया कि समानांतर सड़क के साथ ही कुछ अन्य सड़कों को भी प्रदर्शन स्थल को सुरक्षा मुहैया कराने के लिये बंद किया गया है।


पुलिस अधिकारी ने कहा, हमनें प्रदर्शन स्थल की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये समानांतर सड़क पर बैरीकेड लगाए हैं। अगर सड़क यात्रियों के लिये खोल दी जाती है तो हम प्रदर्शनकारियों के लिये दोगुनी सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे। वहीं सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त वार्ताकारों ने कहा ‘यहां हमने देखा कि नोएडा से फरीदाबाद वाला रास्ता पुलिस ने बंद कर रखा है जबकि उसका शाहीन बाग से कोई लेना-देना नहीं है। हमारे कहने पर वह रास्ता खोला भी गया लेकिन थोड़ी देर बाद पता चला कि पुलिस ने उसे दोबारा बंद कर दिया। हम कभी नहीं मानेंगे आपने सारे रास्ते बंद किए। वार्ताकारों ने कहा कि, हम खुश थे कि सुबह पुलिस नोएडा-फरीदाबाद मार्ग को खोल देगी लेकिन बाद में फिर निराशा हुई क्योंकि पुलिस ने फिर से बैरिकेड लगा दिए।


80 डिग्री पर सिग्नेचर ब्रिज की लिफ्ट

सिग्नेचर ब्रिज के 154 मीटर ऊपर व्यू गैलरी से दिल्ली दर्शन अभी दूर
श्रम विभाग की इलेक्ट्रिकल ब्रांच जारी करती है अनुमति



नई दिल्ली। यमुना पर बने सिग्नेचर ब्रिज के 154 मीटर ऊपर व्यू गैलरी से दिल्ली दर्शन करने की सुविधा कानूनी अड़चन में फंस गई है। ब्रिज पर व्यू गैलरी तक ले जाने वाली चारों लिफ्ट के टेढ़े चलने से उसको श्रम विभाग के इलेक्ट्रिकल ब्रांच ने अनुमति जारी करने से इंकार कर दिया है। दरअसल एलिवेटर एंड लिफ्ट एक्ट के नियमों के अनुसार लिफ्ट वर्टिकल अप एंड डाउन चलने का प्रावधान है। सिग्नेचर ब्रिज की लिफ्ट कानूनी प्रावधान में कवर नहीं होना है। बता दें दिल्ली में लिफ्ट चलाने के लिए श्रम विभाग का इलेक्ट्रिकल ब्रांच अनुमति जारी करता है। अब इस मामले में दिल्ली पर्यटन एवं परिवहन विकास निगम (डीटीटीडीसी) के अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे है।


वहीं, श्रम विभाग के इलेक्ट्रिकल ब्रांच के अधिकारियों का कहना है उन्होंने कानून के प्रावधानों के साथ संबंधित विभाग को जानकारी उपलब्ध करा दी है।  सिग्नेचर ब्रिज में व्यू गैलरी तक ले जाने में चार लिफ्ट लगाई गई है। इन लिफ्ट के संचालन की अनुमति जारी करने के लिए डीटीटीडीसी ने श्रम विभाग के इलेक्ट्रिकल ब्रांच में आवेदन किया था। इसके साथ ही लिफ्ट की डिजाइन की ड्राइंग भी सबमिट की थी। एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया की एलिवेटर एंड लिफ्ट कानून के प्रावधानों के अनुसार सिग्नेचर ब्रिज में लगी लिफ्ट न एलिवेटर के प्रावधानों में कवर हो रही है ना ही लिफ्ट में। इसमें दो लिफ्ट 60 डिग्री और दो 80 डिग्री पर चलने की तकनीकी पर स्थापित हुई है। जबकि कानून के प्रावधानों के अनुसार लिफ्ट वर्टिकल अप एंड डाउन ही चल सकती है। देश में पहली बार सिग्नेचर ब्रिज में नई डिजाइन की लिफ्ट की है।


ट्रंप के सामने प्रस्तुति देंगे कैलाश खेर

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ 24 फरवरी को दो दिवसीय भारत यात्रा पर आ रहे हैं। इस दौरान उनकी बेटी इवांका भी डोनाल्ड ट्रंप के साथ होंगी। डोनाल्ड ट्रंप अहमदाबाद में 'नमस्ते ट्रंप' में शिरकत करेंगे। वहीं इस दौरान भारतीय सिंगर कैलाश खेर, डोनाल्ड ट्रंप के सामने अपनी प्रस्तूती देंगे। बता दें कि गुजरात के अहमदाबाद में डॉनल्ड ट्रंप के स्वागत की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। एएनआई के साथ खास बातचीत के दौरान सिंगर कैलाश खेर ने बताया कि अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में वो अपनी परफॉर्मेंस देने जा रहे हैं।


कैलाश का कहना है कि 24 फरवरी को डोनाल्ड ट्रंप के सामने वह 'जय-जय कारा, जय-जय कारा स्वामी देना साथ हमारा' गाने से अपनी कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे। वहीं, प्रोग्राम का समापन 'अगड़ बम-बम लहरी' गाने से किया जाएगा। कैलाश खेर इस खास मौके के लिए काफी ज्यादा उत्साहित हैं। उनका कहना है कि कार्यक्रम के दौरान वो अपने गानों पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को नचाना भी चाहते हैं। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे। इसके बाद वह साबरमती आश्रम भी जाएंगे। डॉनल्ड ट्रंप आगरा में ताजमहल का दीदार भी करेंगे। इसके बाद वह 25 फरवरी को ट्रंप राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धा सुमन अर्पित करने के साथ ही हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय वार्ता करेंगे।


भारत गड रहा है विकास की नई परिभाषा

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय न्यायिक सम्मेलन (आईजेसी) का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उद्घाटन किया। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद भी मौजूद रहें। पीएम मोदी ने आईजेसी सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि परिवर्तन के इस दौर में भारत नई ऊंचाई भी हासिल कर रहा है, नई परिभाषाएं गढ़ रहा है और पुरानी अवधारणाओं में बदलाव ला रहा है। पहले कहा जाता था तेजी से विकास और पर्यावरण की रक्षा एक साथ होना संभव नहीं है। भारत ने इस अवधारणा को भी बदला है। पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्फ्रेंस 21वीं सदी के तीसरे दशक के शुरुआत में हो रही है। ये दशक भारत सहित पूरी दुनिया में होने वाले बड़े बदलावों का है। ये बदलाव सामाजिक, आर्थिक, और तकनीकी हर क्षेत्र में होंगे। ये बदलाव तर्क संगत और न्याय संगत होने चाहिए। ये बदलाव सभी के हित में होने चाहिए।
पीएम मोदी ने कहा कि हर भारतीय की न्यायपालिका पर बहुत आस्था है। हाल में कुछ ऐसे बड़े फैसले आए हैं, जिनको लेकर पूरी दुनिया में चर्चा थी। फैसले से पहले अनेक तरह की आशंकाएं व्यक्त की जा रही थीं। लेकिन हुआ क्या? सभी ने न्यायपालिका द्वारा दिए गए इन फैसलों को पूरी सहमति के साथ स्वीकार किया। उन्होंने कहा कि तमाम चुनौतियों के बीच कई बार देश के लिए संविधान के तीनों पिलर ने उचित रास्ता ढूंढा है। हमें गर्व है कि भारत में इस तरह की एक समृद्ध परंपरा विकसित हुई है। बीते पांच वर्षों में भारत की अलग-अलग संस्थाओं ने, इस परंपरा को और सशक्त किया है।


मुकबधिर से दोस्ती के बाद रेप, गर्भपात

विकास जायसवाल


भिलाई। पॉलीटेक्नीक कॉलेज दुर्ग में पढ़ाई के वक्त युवती से दोस्ती की फिर शादी का झांसा देकर दोस्त के घर में दैहिक शोषण किया। जब वह गर्भवती हो गई। तब युवती के परिजनों से कोर्ट में शादी करने का विश्वास दिलाकर उसका गर्भपात करा दिया। इसके बाद शादी से इनकार कर दिया। पुलिस ने आरोपी आशीष साहू, पिता गिरधर साहू और माता इंदू साहू के खिलाफ बलात्कार का प्रकरण दर्ज किया है।


तीन माह की गर्भवती हो गई युवती
नेवई थाना पुलिस ने बताया कि जुलाई साल 2019 में आरोपी आशीष साहू और पीडि़ता दुर्ग पॉलीटेक्नीक कॉलेज में पढ़ाई कर रहे थे। इसी बीच दोनों दोस्ती हुई। आशीष ने उससे शादी करने का वादा किया। वह विश्वास में लेकर उसे रिसाली अपने दोस्त के घर ले गया। जहां उसके साथ जबरिया बलात्कार किया। जब वह घर में बता देने की बात कही। तब आशीष उसे बहला फुसला कर विश्वास में ले लिया। जब युवती तीन माह के गर्भ से हो गई तब युवती ने अपनी बहन को पूरी घटना बताई।


कोर्ट में नहीं आया आरोपी युवक
युवती के परिजन आरोपी आशीष के पिता गिरधार साहू और माता इंदू से बातचीत करने गए। दोनों मूकबधिर होने की वजह से युवक व युवती के परिजनों ने आपसी सहमती बन गई। आशीष के पिता ने गिरघर ने 20 फरवरी को कोर्ट में शादी कराने की तिथि लिया। जब युवती के परिजन कोर्ट पहुंचे तो वहां आशीष के माता पिता कोई नहीं था। कोर्ट में युवती के परिजनों को पता चला कि वह शादी करने से इनकार कर दिया है। तब युवती के परिजन उसके घर गए। जहां ताला मिला। इसके बाद युवती ने परिजनों के साथ थाने में शिकायत की।


'द हिंदू हड़ल 2020' में पहुंचे सीएम भूपेश

नीलमणि पाल


बेंगलुरू। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बेंगलुरू में आयोजित ‘द हिंदू हडल 2020’ कार्यक्रम में शामिल होकर केंद्र पर जमकर निशाना साधा। सीएम ने बेरोजगारी की समस्या को काफी गंभीर बताया। उन्होंने कहा कि देश में केंद्र सरकार को बेरोजगारों के लिए सोचना जरुरी है। बेरोजगारी दूर नहीं हुई तो यूथ क्या करेंगे। उनके लिए रोजगार की व्यवस्था होगी। लोगों का जवाब देते हुए सीएम ने छत्तीसगढ़ की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरुवा, घुरवा बारी के बारे में भी जानकारी दी। आपको बता दें सीएम बघेल अमेरिका दौरे से लौटने के बाद सीधे बेंगलुरू पहुंचे हैं। आज शाम तक वे रायपुर लौटेंगे।


किसानों की समस्याओं पर विशेष ध्यान

किसान बन्धुओं की समस्याओं/शिकायतों का निस्तारण पर विशेष ध्यान दें अधिकारी-डीएम।


सुलतानपुर। जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती की अध्यक्षता में आज विकास भवन प्रेरणा सभागार में किसान दिवस का आयोजन किया गया। किसान दिवस में उपस्थित कृषकों ने अपनी एवं क्षेत्रीय समस्याओं को रखा, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि कृषकों की समस्याओं का निराकरण प्राथमिकता के आधार पर करना सुनिश्चत करें तथा शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं का लाभ कृषकों को मुहैया कराया जाये। 
किसान दिवस में जिलाधिकारी को गत बैठक 21 जनवरी की परिपालन आख्या  उप कृषि निदेशक शैलेन्द्र शाही ने पढ़कर सुनाया। किसान दिवस में राम अयुग पाण्डेय द्वारा शिकायत की गयी कि ग्राम लामा बनकट मोतिगरपुर को बढैनाडीह क्रय केन्द्र को 100 बोरा धान कट्टा दे दिया गया है, परन्तु अभी तक धान की खरीद नहीं हुई है। सत्य नारायन तिवारी द्वारा शिकायत की गयी कि कुड़वार क्रय केन्द्र पर धान की खरीद नहीं की जा रही है। जगदीश सिंह करौंदीकला द्वारा शिकायत की गयी कि नरायण नागनाथपुर में 23 कृषकों एवं कटघर पूरे चैहान में 30 कृषकों का बिल अभी अपलोड नहीं हुआ है। 
बैठक में राकेश कुमार पाठक भदैयाॅ द्वारा शिकायत की गयी कि कामतागंज क्रय केन्द्र जो कृषक 50 रूपया देता है। उसके धान की खरीद की जा रह है। शेष किसानों का धान नहीं खरीदा जा रहा है एवं उनके द्वारा यह भी शिकायत की गयी कि राइस मिलों के परिचितों के खातों में 2 लाख रूपया भेजा जाता है, उन्हीं का धान खरीदा जा रहा है। राम अयुग पाण्डेय द्वारा अवगत कराया गया कि मोतिगरपुर ब्लाक में अस्पताल के विद्युत पोल का तार ढ़ीला है। विनय त्रिपाठी धनपतगंज द्वारा शिकायत की गयी कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सराय गोकुल में विद्युत का तार ढ़ीला हो गया है कोई भी हाथ से छू सकता है। उमेश चन्द्र मिश्रा द्वारा अवगत कराया गया कि रामपुर माइनर की सफाई नहीं हुई है। जिलाधिकारी द्वारा उपरोक्त कृषकों की शिकायत पर असंतोष व्यक्त करते हुए किसानों की शिकायतों को तत्काल दूर करने का निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। 
जिलाधिकारी द्वारा जिला कृषि अधिकारी को निर्देशित किया गया कि किसान क्रेडिट कार्ड का कैम्प लगाकर कार्ड बनवाये जायें। बैठक में अनुपस्थित सहायक आयुक्त सहकारी समितियाँ का स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिये। उनके द्वारा जिला गन्ना अधिकारी को निर्देशित किया गया कि किसानों का गन्ना जल्द से जल्द डाइवर्जन कार्यवाही करें, किसानों को पीने का पानी एवं छाॅव के टीन शेड की व्यवस्था तत्काल सुनिश्चित की जाये। जिलाधिकारी ने अधिशाषी अभियन्ता विद्युत को निर्देशित किया कि जनपद में जर्जर एवं ढ़ीलों तारों को तत्काल दुरूस्त करायें तथा बकाये बिलों के भुगतान हेतु किसानों का रजिस्ट्रेशन भी करना सुनिश्चित करें।
बैठक में बताया गया कि सहकारी समिति दशगर पारा ग्राम सहाबुद्दीनपुर में सचिव के नियुक्त न होने के कारण समिति बन्द है। जगत पुत्र रामेश्वर ग्राम टेयरी विकास खण्ड कूरेभार का 20 हजार रूपये गन्ने का पैसा अभी तक प्राप्त न होने पर उसकी जाॅच कराकर कार्यवाही करने का निर्देश डीएम ने दिया। जगदीश सिंह ग्राम करौंदीकला द्वारा शिकायत की गयी कि 04 किसानों द्वारा इन-सी टू योजनान्तर्गत लाभ प्राप्त किया गया था। बैंक द्वारा किसानों की जमीन बन्धक बना ली है। जिलाधिकारी ने इस प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए जाॅच हेतु भूमि संरक्षण अधिकारी प्रबन्धक जिला अग्रिणी बैंक को निर्देशित किया कि जाॅच कर रिपोर्ट उपलब्ध करायें। उन्होंने समस्त अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसान दिवस में प्राप्त शिकायतों का त्वरित गति से निस्तारण सुश्चित किये जायें।  
मुख्य विकास अधिकारी रमेश प्रसाद मिश्र, जिला कृषि अधिकारी विनय कुमार, भूमि संरक्षण अधिकारी आशीष कुमार, अधिशाषी अभियन्ता सिंचाई विभाग पंकज गौतम, एलडीएम आर0पी0 अरोड़ा, जिला उद्यान अधिकारी रणविजय सिंह, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 रमा शंकर, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत, जिला गन्ना अधिकारी, सहायक अभियन्ता लघु सिंचाई सहित सम्बन्धित अधिकारी व किसान बन्धु आदि उपस्थित रहे।


डीएम ने दी हिदायत, की जनता से अपील

जिलाधिकारी ने सफाई अभियान में किया प्रतिभाग


पॉलीथिन का प्रयोग न करने की दी हिदायत गंगा को स्वच्छ व निर्मल रखने के लिए भी सभी से की अपील


कानपुर। जिलाधिकारी डॉ० ब्रह्मदेव राम तिवारी ने सफाई अभियान में प्रतिभाग करते किया जिसमें परमट मंदिर में गंगा विचार मंच तथा गंगा टास्क फोर्स व गंगा सुरक्षा दल बिठूर द्वारा सफाई अभियान चलाकर सफाई की गई जिलाधिकारी ने इस सफाई अभियान में प्रतिभाग करते हुए परमट मन्दिर में सफाई का जायजा लिया। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी को चाहिए कि मां गंगा को स्वच्छ व निर्मल बनाने की जिम्मेदारी सभी गणमान्य लोगों की है इस हेतु माँ गंगा को स्वच्छ रखने के लिए  फूल व अन्य वस्तुवें गंगा में न प्रवाहित करें यह जिम्मेदारी सभी की है उन्होंने सभी को शपथ भी दिलाई उन्होंने कहा कि मैं अपने क्षेत्र के गंगा तटीय स्थान को,  साफ-सुथरा रखूंगा एवं यहां रहने वाले लोगों को, गंगा स्वच्छ रखने के लिए, प्रेरित करूँगा मैं गंगा में, कूड़ा कचरा व पॉलीथिन नहीं डालूँगा मैं हमेशा,कपड़े के थैले  का, प्रयोग करूँगा। मै घरो के गंदे पानी के प्रभाह के लिए सोख्ता गड्ढा बनवाऊंगा। मैं गंगा में बची हुई,  पूजा सामग्री व केमिकल से बनी हुई मूर्तियां विसर्जित नहीं करूंगा मैं बची हुई पूजा सामग्री को खाद के रूप में प्रयोग में लाऊंगा। मैं खुले में शौच के स्थान पर शौचालय का प्रयोग करूंगा। मैं एक बार प्रयोग के बाद फेंक दी जाने वाली वस्तुओं का प्रयोग नहीं करूंगा। इसी के साथ जिलाधिकारी ने गंगा घाटों व गंगा तट पर पड़ी गंदगी देख बिफरे कहा यहां गंदगी कतई दिखना नहीं चाहिए गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए गंगा तट पर खुशबू वाले सुंदर पौधे लगाने को भी कहा गया वही गंगा टास्क फोर्स के जवानों के साथ गंगा सुरक्षा दल बिठूर टीम के सदस्यों को देख अति प्रसन्न हुए। जिलाधिकारी ने काहाँ सदैव आप सब स्वयंसेवकों को मेरा सहयोग मिलता रहेगा।


वायरसः अंडा-चिकन की खपत कम

कविता गर्ग


नई दिल्ली। चीन में फैले जानलेवा कोरोना वायरस का असर अब भारत पर भी दिखने लगा है। पिछले एक महीने में अंडे और चिकन की कीमतों में 30 फीसदी की गिरावट आ चुकी है। अंग्रेजी के बिजनेस न्यूज पेपर इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक, सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस के कुछ मैसेज लगातार शेयर हो रहे हैं। वॉट्सऐप और फेसबुक जैसे प्लेटफार्मों पर कोरोना वायरस को लेकर तरह-तरह के मैसेज से लोगों को डराया जा रहा है। इसके चलते देश में अंडे और चिकन की डिमांड गिर गई है, इसीलिए कीमतों में भी गिरावट आई है।


सस्ता हुआ अंडा और चिकन- नेशनल एग कोऑर्डिनेशन कमेटी (NEC) के आंकड़ों के अनुसार, अंडे की कीमतें एक साल पहले के मुकाबले लगभग 15 फीसदी कम हैं। नेशनल एग कोऑर्डिनेशन कमेटी (NECC) के आंकड़ों के हिसाब से अहमदाबाद में अंडे की कीमतें फरवरी 2019 के मुकाबले 14 फीसदी कम हैं, जबकि मुंबई में यह 13 फीसदी, चेन्नई में 12 फीसदी और वारंगल (आंध्र प्रदेश) में 16 फीसदी कम है।


दिल्ली में अंडे की कीमतें (100) 358 रुपये पर आ गई है, जबकि पिछले साल इस दौरान 441 रुपये के आसपास थीं। दिल्ली में ब्रॉयलर चिकन की कीमतें इसी साल जनवरी के तीसरे सप्ताह के मुकाबले 86 रुपये से गिरकर 78 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गईं। इसी तरह दूसरे शहरों में भी चिकन के दाम गिरे हैं। आमतौर पर सर्दियों के महीनों में आम तौर पर पोल्ट्री और अंडे की अधिक मांग देखी जाती है।


इस डर से गिरी डिमांड!


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, थोक बाजार में चिकन और अंडे की कीमत में 15-30 फीसदी की गिरावट आ चुकी है। पोल्ट्री फॉर्मिंग यानी मुर्गी पालन से जुड़े कारोबारियों का कहना है कि कारोबारियों पर फिलहाल दो तरफा मार पड़ रही है। मुर्गियों को खिलाने वाला दाना महंगा हो गया है। पिछली सर्दियों के मौसम की तुलना में मुर्गी चारे की कीमतें 35-45 फीसदी अधिक हैं। इससे मुर्गी पालन कारोबार की लागत बढ़ी है। वहीं, डिमांड गिरना किसानों के लिए नई मुसीबत खड़ी कर रहा है। उन्होंने बताया कि तरह-तरह के मैसेज से लोगों को डराया जा रहा है। इसके चलते देश में अंडे और चिकन की मांग में कमी आई है।


एचडीएफसी ग्राहक करें नया ऐप डाउनलोड

कविता गर्ग


नई दिल्ली। एचडीएफसी बैंक ने अपने ग्राहकों के लिए अलर्ट जारी कर बताया कि अगर उनके पास बैंक का पुराना मोबाइल ऐप हैं तो उसे अपडेट कर लें वरना वो ऐप बंद हो जाएगा। इसके बाद ग्राहक इस ऐप के जरिये पैसे ट्रांसफर नहीं कर पाएंगे। एचडीएफसी बैंक ने अपने ग्राहकों को मैसेज भेजकर अगाह किया है कि वे गूगल प्ले स्टोर या ऐप स्टोर से बैंक का नया मोबाइल ऐप डाउनलोड कर लें। 29 फरवरी, 2020 से पुराने वर्जन वाला मोबाइल ऐप काम नहीं करेगा। आपको हर हाल में 29 फरवरी से पहले अपने ऐप को अपडेट करना होगा। बता दें कि इससे पहले मोबाइल ऐप में कई तकनीकी खराबी आई थींं, जिससे यूजर्स को पैसे भेजने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।


यूजर्स इस मोबाइल ऐप से पैसा ट्रांसफर करने के साथ क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा बैंक इस ऐप के जरिए अपने ग्राहकों को फिक्सड डिपॉजिट के साथ पासबुक से जुड़ी जानकारी देगा। इसके अलावा यूजर्स इस ऐप के जरिये पेमेंट की जानकारी भी चेक कर सकेंगे।


एचडीएफसी बैंक के ऐप का नया वर्जन गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है, जहां से आप इसे फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं। साथ ही यूजर्स को बैंक के इस मोबाइल ऐप में कई सारे नए फीचर्स मिलेंगे, जिससे पैसा ट्रांसफर आसानी से कर पाएंगे। इसके अलावा इस मोबाइल ऐप में यूजर्स का निजी डाटा पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा।


एसबीआईः 28 फरवरी तक पूरी करें केवाईसी

कविता गर्ग


नई दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में अकाउंट तो ये खबर पढ़ना आपके लिए जरूरी है। SBI ने अपने ग्राहकों को SMS भेजकर अलर्ट किया कि वो अपना केवाईसी 28 फरवरी 2020 तक जरूर पूरा करा लें। अगर ग्राहक ऐसा नहीं करवाता हैं, तो उसका बैंक खाते से लेनदेन रोक दिया जाएगा। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सभी बैंक अकाउंट के लिए केवाईसी को जरूरी बना दिया है।


जानिए क्या होता है KYC?


KYC यानी (Know Your Customer) को साधारण हिंदी में परिभाषित करें, तो कहेंगे कि कस्टमर के बारे में पूरी जानकारी। केवाईसी कराना सभी के लिए जरूरी है। एक तरह से बैंक और ग्राहक के बीच KYC रिश्ते को मजबूत करता है। बिना केवाईसी निवेश मुमकिन नहीं है, इसके बगैर बैंक खाता भी खोलना आसान नहीं है।


इस वजह से बंद हो जाएगा लेनदेन


SBI ने ग्राहकों को SMS भेजकर अलर्ट करते हुए केवाईसी पूरी करने के लिए कहा हैं। SMS में कहा गया हैं कि RBI के दिशा-निर्देशों के अनुसार आपके खाते में KYC दस्तावेजों को अपडेट किया जाना है। SBI ने कहा है कि कृपया नवीनतम केवाईसी दस्तावेजों के साथ अपनी SBI शाखा में जाकर संपर्क करें। केवाईसी पूरी नहीं किए जाने की स्थिति में आपके खाते में भविष्य में किए जाने वाले लेन-देन पर रोक लगाई जा सकती है।


कराने के लिए जरूरी हैं ये डॉक्यूमेंट


SBI की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, केवाईसी के लिए ग्राहक को अपना पहचान पत्र देना होगा। पहचान पत्र में पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार पत्र/कार्ड, नरेगा कार्ड, पेंशन भुगतान आदेश, डाकघरों द्वारा जारी पहचान पत्र, ऐसे जन प्राधिकरण संस्थाओं द्वारा जारी पहचान पत्र जो अपने द्वारा जारी पहचान पत्रों का रिकॉर्ड रखती हैं।


इसके अलावा पते का प्रमाण पत्र भी देना होगा। जिसमें टेलीफोन बिल (जो 3 महीने से अधिक पुराना न हो), बैंक खाता विवरण (जो 3 महीने से अधिक पुराना न हो), मान्यता प्राप्त सरकारी प्राधिकारी द्वारा जारी पत्र, बिजली का बिल (जो 6 महीने से अधिक पुराना न हो), राशन कार्ड, विश्वसनीय नियोक्ताओं द्वारा जारी पहचान पत्र, आयकर/सम्पदा कर मूल्यांकन आदेश, क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट (जो 3 महीने से अधिक पुराना न हो), पंजीकृत लीव & लाइसेन्स करार /सेल डीड/लीज एग्रीमेंट की प्रतियां, विश्वविद्यालय/संस्था के हास्टल वार्डेन द्वारा, अपने यहाँ रहने वाले छात्र को जारी पत्र, जिसे रजिस्ट्रार, प्रिंसपल/ डीन –छात्र कल्याण द्वारा प्रति हस्ताक्षरित किया गया हो। छात्रों के मामले मे, यदि वे अपने नजदीकी संबंधी के साथ रह रहे हों तो उस संबंधी की घोषणा के साथ उनका पहचान पत्र और पता प्रमाण पत्र दें।


13 पुलिसकर्मियों पर एफआईआर दर्ज

 यूपी के जौनपुर में 13 पुलिसकर्मियों पर FIR दर्ज
 
कविता गर्ग


जौनपुर। यूपी के जौनपुर में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज (FIR) करके उन्हें जेल भेजने वाले 13 पुलिसकर्मियों खुद कानून के शिकंजे में आ गए है। ये पुलिसकर्मियों विभागीय आवास पर कब्ज़ा करने का जुर्म किया है। इन पर राजकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया गया है। इन सभी आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ शहर कोतवाली तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है। फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है।


दरअसल पवन कुमार उपाध्याय ने तहरीर दी कि कोतवाली परिसर व पुलिस चौकी भंडारी परिसर में बने सरकारी आवास में उप निरीक्षक इंद्र बहादुर सिंह वर्तमान तैनाती प्रतापगढ़, हेड कांस्टेबलगण सेराज अहमद वर्तमान तैनाती बलिया, इंद्रदेव मिश्रा, ओम प्रकाश पाल, बालेंद्र यादव, कांस्टेबलगण राज किशोर यादव वर्तमान तैनाती वाराणसी, सीताराम पांडेय वर्तमान तैनाती प्रयागराज, संतोष वर्मा वर्तमान तैनाती मऊ, माया शंकर सिंह वर्तमान तैनाती बलिया, अनिल सिंह वर्तमान तैनाती आजमगढ़, हेड कांस्टेबल रमा शंकर राम वर्तमान तैनाती गाजीपुर, कमलेश यादव वर्तमान तैनाती जीआरपी अकबरपुर, वीरेंद्र यादव वर्तमान तैनाती अयोध्या जनपद से स्थानांतरण के बाद भी अनधिकृत रूप से कब्जा किए हुए हैं।


जर्जर हो चुके सरकारी आवास खाली करने के लिए बार-बार निर्देशित किए जाने और नोटिस जारी करने के बाद भी आवास खाली नहीं किए। राजकीय संपत्ति को क्षति पहुंचाने का इनका यह कृत्य आपराधिक प्रवृत्ति की श्रेणी में आता है। मुकदमा की विवेचना एसआई गोविद देव मिश्र को सौंपी गई है।


मीका सिंह की मैनेजर ने की आत्महत्या

मुंबई। लोकप्रिय गायक मीका सिंह की मैनेजर सौम्या खान ने मुंबई के अंधेरी में कथित तौर पर नींद की गोलियां खाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने यह जानकारी दी। आत्‍महत्‍या के कारणों का अभी पता नहीं चला है। सौम्‍या ने कोई सुसाइट नोट (Suicide Note) भी नहीं छोड़ा है, जिस कारण पुलिस सभी संभावित कारणों को लेकर जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि हमें इस मामले में किसी साजिश की आशंका नजर नहीं आती है और दुर्घटनावश मौत का मामला दर्ज किया गया है वर्सोवा पुलिस थाने के वरिष्ठ निरीक्षक राघवेंद्र ठाकुर ने बताया कि सौम्या खान, मीका सिंह के अंधेरी स्थित चार मंजिला बंगले की पहली मंजिल के स्टूडियो में रहती थी। घटना 2 फरवरी 2020 की है. उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए पंजाब में रहने वाले उसके परिजनों को सौंप दिया गया था, जहां उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया है। सौम्या के माता-पिता नहीं हैं और उनके दादा-दादी पंजाब में रहते हैं। सौम्‍या की मौत के बारे उनके पति जोएब खान और सिंगर मीका सिंह दोनों ने इंस्‍टाग्राम पर पोस्‍ट भी किया। सौम्‍या की मौत पर दुख जताते हुए मीका सिंह ने इंस्‍टाग्राम पर पोस्‍ट लिखा। उन्‍होंने सौम्‍या की तस्‍वीर के साथ पोस्‍ट किया, ‘वाहेगुरु का खालसा वाहेगुरु जी की फतेह। यह बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि हमारी प्‍यारी सौम्‍या हम सभी का साथ छोड़ दूसरी दुनिया में चली गई है। वह बहुत ही कम उम्र में अपने पीछे बहुत सी प्‍यारी यादें छोड़ गई है। ईश्‍वर उसकी आत्‍मा को शांति दे।


मिलेनिया के लिए ट्रंप प्लेबॉय जैसा था

नई दिल्ली। डोनाल्ड ट्रंप और मेलेनिया ट्रंप दो दिनों बाद 24 फरवरी को भारत के दौरे पर आ रहे है। जिसके बाद पूरे भारत में नमस्ते ट्रंप के पोस्टर और गली-गली में ट्रंप के आने की चर्चा हो रही है।


 मेलेनिया ट्रंप के बारे में आपको कुछ खास बताते बताते है, जो शायद आप उनके बारे में नहीं जानते होंगे। डोनाल्‍ड ट्रंप से शादी करने से पहले मेलेनिया का नाम मेलेनिया नॉस था। 2005 में शादी के बाद वे मेलेनिया ट्रंप बनीं। डोनाल्‍ड की पहली पत्‍नी इवाना के बेटे डोनाल्‍ड ट्रंप जूनियर से मेलेनिया 8 साल छोटी हैं। मेलेनिया और डोनाल्‍ड की शादी में बिल और हिलेरी किलंटन पहुंचे थे। उस समय मेलेनिया ने एक लाख डॉलर की ड्रेस पहनी थी, जिसे बनाने में 550 घंटे का समय लगा था। मेलेनिया यूगोस्‍लोवाकिया में पलीं और वे पांच भाषाएं-स्‍लोवेनियन, इंग्लिश, फ्रेंच, सर्बियन और जर्मन बोल सकती हैं।


मेलेनिया अमेरिका के इतिहास में आज तक की ऐसी पहली फर्स्‍ट लेडी हैं, जिसने न्‍यूड फोटोशूट कराया है। फ्रेंच भाषा  की एक मेंस मैग्‍जीन के लिए मेलेनिया ने यह फोटोशूट कराया था। प्रसिद्ध मैगजीन “जीक्यू” में मेलेनिया की एक फ्रेंड ने बताया कि शुरू में डेटिंग के बाद भी वह ट्रंप पर कतई भरोसा नहीं करती थीं। उनके दिलोदिमाग में ट्रंप की छवि एक प्लबॉय की ही बनी रहती थी। 1999 में उनमें अंतरंग संबंध तो बने लेकिन फिर जल्दी ही ब्रेकअप भी हो गया।


हालांकि कुछ ही महीने बाद दोनों फिर साथ दिखने लगे। अबकी बार दोनों की डेटिंग पांच साल से कुछ ज्यादा चली। तब एक दिन ट्रंप ने 1.5 मिलियन डॉलर की हीरे की बेशकीमती अंगूठी मिलेनिया की अंगुलियों में पहनाते हुए शादी के लिए प्रोपोज किया। ट्रंप से शादी से पहले मेलेनिया को भी वही करना पड़ा, जो ट्रंप की दोनों पूर्व पत्नियों ने किया था। शादी से पहले ही उन्हें ऐसे करार पर साइन करना पड़ा था, जिसमें ये लिखा था कि अगर उनका तलाक होता है तो वो ट्रंप की संपत्ति में कोई हिस्सा नहीं मांगेंगी। मिलेनिया ने भी ऐसा ही किया। 22 जनवरी 2005 को उनकी शादी हो गई। इस शादी से एक बेटा है बैरन ट्रंप।


भाइयों पर रेप का आरोप, परिजन दोषी

 युवती ने लगाए अपने सगे भाइयों पर रेप का आरोप, बताया भाभी और पिता भी बराबर के दोषी हैं


कविता गर्ग


मथुरा। उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में एक युवती ने अपने सगे भाई पर रेप का आरोप लगाया है। पीड़िता का आरोप है कि इस अपराध में उसकी भाभी और पिता भी बराबर के दोषी हैं। पुलिस ने मामले में आरोपी भाई और पिता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। महावन क्षेत्र के पुलिस उपाधीक्षक विनय सिंह चौहान ने बताया, ‘कोतवाली सुरीर के एक गांव में रहने वाले ग्रामीण की पत्नी ने 28 वर्ष पहले दो जुड़वां बच्चों को जन्म दिया था जिसमें एक बेटा और दूसरी बेटी थी। कुछ साल बाद दोनों अलग हो गए और पति ने बेटे को तथा पत्नी ने बेटी को रख लिया।’


उन्होंने बताया, ‘बाद में दोनों ने फिर से शादी की। इस बीच दोनों के ही जीवनसाथी का देहांत हो गया। जिसके बाद पति पत्नी में सुलह हो गई और दोनों अपने बच्चों के साथ रहने लगे। बेटे और बेटी की शादी हो चुकी थी लेकिन पति से विवाद के कारण बेटी मायके में रह रही थी।’


आरोप है कि भाभी की अनुपस्थिति में उसके भाई ने उसे बुआ से मिलाने के बहाने थाना राया के एक अनजान गांव में ले जाकर उससे रेप किया। वापस लौटने पर उसने मां को आपबीती कही और थाने पहुंचकर लिखित शिकायत देकर सख्त कार्रवाई की मांग की। थाना प्रभारी सूरज प्रकाश शर्मा ने बताया, ‘युवती के चिकित्सकीय परीक्षण में दुष्कर्म की पुष्टि होने के बाद उसके भाई के खिलाफ भादवि की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। मामले में भाभी एवं पिता के खिलाफ भी साजिश रचने में सहयोग के आरोप हैं, जिसके चलते पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है।


मोहल्लों में महिला सुरक्षा गार्ड होगा तैनात

नई दिल्ली। दिल्ली में प्रचंड बहुमत के बाद अरविंद केजरीवाल एक्शन मोड में आ गए हैं। अब दिल्ली सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए शानदार कदम उठाया है।
केजरीवाल सरकार ने सत्ता संभालने के बाद अपने वादों पर अमल करना शुरू कर दिया है। सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध रही है। अब इसी दिशा में दिल्ली सरकार के महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय ने महिला सुरक्षा को लेकर बड़ा फैसला लिया है। महिला सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए सरकार मोहल्ला मार्शल तैनात करने जा रही है। इसके तहत हर मोहल्ले में महिलाओं की सुरक्षा के लिए मार्शल तैनात किए जाएंगे। ऐसा दिल्ली के चप्पे चप्पे पर महिलाओं को सुरक्षित माहौल देने के लिए सरकार कर रही है। केजरीवाल ने महिलाओं की सुरक्षा का वादा अपने घोषणापत्र में किया था। जिसपर सरकार ने सत्ता संभालते ही अमल करना शुरू कर दिया है। सरकार के इस कदम की सोशल मीडिया पर काफी तारीफ हो रही है।


रेप पीड़िता से 5 ने किया गैंगरेप

उन्नाव। शर्मसार करनेवाली घटना सामने आई है। यहां गैंगरेप पीड़िता से पांच लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। पीड़िता ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवायी है। इस मामले में दो लोगों की गिरफ्तारी की गयी है और तीन लोग फरार है। पुलिस के मुताबिक गैंगरेप पीड़िता को न्याय दिलवाने के बहाने पांच लोगों ने महिला के साथ दरिंदगी की। महिला ने सभी आरोपियों पर जान से मारने की कोशिश का आरोप लगाया है। घटना जिले के बांगरमऊ थाने की है।


घटनाक्रम के बारे में महिला ने बताया कि 10 दिसंबर 2012 को उसकी शादी हुई। 13 अक्तूबर 2017 को पति ने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर उसके साथ दुष्कर्म किया। जान से मारने के लिए जहरीला पदार्थ खिला दिया था पर वह किसी तरह बच गई। उसने पति समेत तीनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। इस मामले में पुलिस पति को गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है।


पीड़िता का आरोप है कि इस घटना में न्याय दिलाने के बहाने नवराज सिंह, अनूप सिंह, दिलीप यादव, विश्व नारायण मिश्र व सतीश कुमार ने उससे कहा कि 20 दिन के अंदर न्याय दिला देंगे। पांचों ने उससे 6000 रुपए लिए और सादे कागजात पर अंगूठा लगवा लिया। आरोप है कि पांचों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। महिला ने 19 फरवरी को पांचों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज करा दी।


एसपी विक्रांतवीर का कहना है कि आरोपी महिला की पैरवी कर रहे थे। महिला ने उनके खिलाफ गैंगरेप की शिकायत की थी। रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम का गठन किया गया है। दो को पकड़ लिया गया है बाकी भी जल्द पकड़े जाएंगे। पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया गया है।


महिला ट्रेनियो के कपड़े उतरवाकर टेस्ट

भुज। गुजरात के भुज के बाद सूरत में भी महिलाओं के साथ ज्यादती की एक शर्मनाक घटना सामने आयी है। सूरत नगर निगम (एसएमसी) ने कथित तौर पर राज्य द्वारा संचालित अस्पताल में 100 महिला क्लर्कों को अपने कपड़े उतारकर लंबे समय तक 10-10 के समूह में खड़े होने के लिए मजबूर किया गया। केवल यही नहीं, उनका गायनोकॉलॉजिकल फिंगर टेस्ट किया गया और निजी सवाल पूछे गए। मामला सामने आने के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। आयोग ने कार्रवाई करने के लिए पत्र लिखा है।


जानें पूरा मामला नगरपालिका आयुक्त के पास एसएमसी कर्मचारी संघ की दर्ज शिकायत के मुताबिक, लगभग 100 कर्मचारियों को उस समय जोरदार झटका लगा जब वे अपने अनिवार्य फिटनेस परीक्षण के लिए सूरत म्यूनिसिपल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च पहुंचीं। वरिष्ठ निगम कर्मचारी ने कहा, महिला कर्मचारियों को एक कमरे में लगभग 10 के समूहों में एक साथ नग्न खड़े होने के लिए मजबूर किया गया, जहां उनकी गोपनीयता का कोई ख्याल नहीं रखा गया था। दरवाजा ठीक तरह से बंद नहीं था और केवल पर्दे लगा हुआ था, जिससे बाहर के लोग अंदर न देख सकें। नौकरी के लिए टेस्ट जरूरी बताया जाता है कि महिलाओं को विवादित टू फिंगर टेस्ट से भी गुजरना पड़ा। अविवाहित महिलाओं से भी कथित तौर पर पूछा गया कि क्या वह कभी गर्भवती हुई थीं। कुछ महिलाओं ने आरोप लगाया है कि महिला डॉक्टर जिन्होंने गायनोकोलॉजी का टेस्ट किया, वह उनके साथ अशिष्ट व्यवहार कर रही थी। वहीं, पुरुष प्रशिक्षुओं को एक सामान्य फिटनेस टेस्ट से गुजरना पड़ता है, जिसमें एक समग्र जांच के अलावा आंख, ईएनटी, हृदय और फेफड़े के परीक्षण शामिल होते हैं। तीन साल का प्रोबेशन पूरा होने के बाद कर्मचारी की सेवा की पुष्टि के लिए उसका फिटनेस टेस्ट जरूरी होता है।


 


बांड को वैश्विक सूचकांक में शामिल करना

नई दिल्ली। बजट में किए गए उल्लेख की मांग विदेशी निवेशक बहुत समय से कर रहे थे। बजट में वित्तमंत्री ने कहा था कि कुछ विशेष वर्ग की सरकारी प्रतिभूतियों को घरेलू निवेशकों के लिए उपलब्ध होने के अलावा अप्रवासियों के लिए भी पूरी तरह खोल दिया गया है। ये प्रतिभूतियां सूचकांक पर सूचीबद्ध हैं और इनके लिए लॉक इन पीरियड की जरूरत नहीं है। रिजर्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को बताया कि सरकारी बॉन्ड को वैश्विक सूचकांक में शामिल कराने के लिए कई संस्थानों से बातचीत की जा रही है। इस कदम से भारत में बड़ी मात्रा में विदेशी बॉन्ड लाने में मदद मिलेगी, क्योंकि वैश्विक सूचकांक को ट्रैक करने के लिए कई विदेशी बॉन्ड की जरूरत होती है। आगे कहा कि हमारी यह कोशिश सफल रही तो विदेश से बड़ी मात्रा में निष्क्रिय निवेश मिल सकेगा और उद्योगों के लिए घरेलू पूंजी उपलब्ध होगी। इस दिशा में हमारा काम जारी है और हम कई ऐसे संस्थानों से बातचीत कर रहे है, जो वैश्विक सूचकांक की देखरेख करते हैं। हालांकि, इसकी कोई समय सीमा तय नहीं की जा सकती लेकिन जितनी जल्दी संभव होगा, हम इसे पूरा कर लेंगे। केंद्रीय बैंक एनबीएफसी सेक्टर को मुश्किलों से निकालने के लिए 50 एनबीएफसी पर करीबी नजर बनाए हुए है। करीब एक साल की समीक्षा के बाद हमें लगता है कि केवल कुछ ही एनबीएफसी को नकदी संकट का सामना करना पड़ रहा है। उनकी समस्याओं को दूर करने के लिए हम प्रबंधन और प्रवर्तकों के साथ बातचीत कर रहे हैं और बाजार के जरिये अतिरिक्त पूंज उपलब्ध कराने में मदद कर रहे हैं। इन कोशिशों के असर से पिछले कुछ महीनों में पूरे एनबीएफसी क्षेत्र की स्थिति में सुधार दिखने लगा है। अधिकतर एनबीएफसी अब बाजार से पूंजी जुटाने में सक्षम बन रही हैं।


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सभी देशवासियों को होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।


दुनिया में सबसे अधिक परेशान देश है 'अमेरिका'

वाशिंगटन डीसी। कोरोना महामारी की शुरुआत के साथ ही दुनिया भर में सबसे अधिक परेशान देश अमेरिका है। वैश्विक मामलों का आंकड़े की लिस्ट में पहले ...