शुक्रवार, 14 अक्तूबर 2022

1.25 लाख करोड से ऊपर का निवेश: गुजरात 

1.25 लाख करोड से ऊपर का निवेश: गुजरात 

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा यहां उद्घाटन किए जाने वाले आगामी डिफेंस एक्सपो का पैमाना पिछली बार की तुलना में बहुत बड़ा होगा और सरकार को 1.25 लाख करोड रुपये से ऊपर के निवेश के लिए 400 से अधिक सहमतिपत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है। यह बात अधिकारियों ने शुक्रवार को कही। डिफेंस एक्सपो (डेफएक्सपो 2022) 18 से 22 अक्टूबर तक गांधीनगर में आयोजित की जाएगी। रक्षा सचिव डॉ अजय कुमार ने कहा, ‘‘डिफेंस एक्सपो का यह 12वां संस्करण देश में सबसे बड़ा होगा, इसका विषय ‘पाथ टू प्राइड’ (गौरव का पथ) होगा। यह रक्षा उत्पादन में आत्मनिर्भर बनने की हमारी प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करेगा।

इसका उद्घाटन 19 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।’’ कुमार ने कहा, ‘‘इस डिफेंस एक्सपो का पैमाना देश में इस तरह के किसी भी पिछले आयोजन से बड़ा होगा। एक्सपो के दौरान अब तक 400 एमओयू को हस्ताक्षर करने के लिए अंतिम रूप दिया जा चुका है, जिससे 1.25 लाख करोड़ रुपये का निवेश आएगा। यह निवेश प्रतिबद्धता और एमओयू संख्या पिछले एक्सपो में हुए समझौतों से दोगुने हैं।’’ उन्होंने कहा कि गुजरात की कंपनियां 33 एमओयू पर हस्ताक्षर करेंगी, जिससे राज्य में 5,500 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश की उम्मीद है। उन्होंने एक्सपो में 1,320 से अधिक रक्षा कंपनियां भाग लेंगी, जो एक लाख वर्ग मीटर से अधिक क्षेत्र में आयोजित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि करीब 1,028 कंपनियों ने पिछले रक्षा एक्सपो में हिस्सा लिया था, जबकि वर्तमान संस्करण में 25 देशों के रक्षा मंत्री और 75 देशों के प्रतिनिधि शामिल होंगे। कुमार ने कहा, ‘‘तीन चीजें एक्सपो की मुख्य विशेषताएं होंगी। एचएएल द्वारा स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित ट्रेनर विमान एक्सपो में पहली बार प्रदर्शित किया जाएगा, गुजरात के दीसा में नव विकसित हवाई अड्डे का डिजिटल तरीके से उद्घाटन किया जाएगा और रक्षा उत्पादन के लिए 75 चुनौतियां स्टार्ट-अप और उद्योगों के लिए खोली जाएंगी।’’

अतिरिक्त सचिव (रक्षा उत्पादन) संजय जाजू ने कहा कि भारत-अफ्रीका रक्षा वार्ता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में आयोजित की जाएगी, जिसमें 50 से अधिक अफ्रीकी देशों की भागीदारी होगी। उन्होंने कहा कि अलग से हिंद महासागर क्षेत्र प्लस (आईओआर+) सम्मेलन भी आयोजित किया जाएगा, जिसमें लगभग 40 देशों के प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे। सम्मेलन में चीन की भागीदारी के बारे में पूछे जाने पर जाजू ने कहा कि बीजिंग आईओआर प्लस का पक्षकार नहीं है। देश के सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण के लिए धन के सवाल पर रक्षा सचिव कुमार ने कहा, ‘‘सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण के लिए पर्याप्त धन उपलब्ध है।’’

उन्होंने कहा कि पांच दिवसीय आयोजन के दौरान, पहले तीन दिन व्यापार के लिए होंगे, जबकि 21 और 22 अक्टूबर आम जनता के सदस्यों के लिए होंगे। एक्सपो का आयोजन दो बार नहीं किया जा सका, पहला कोविड-19 महामारी के कारण और फिर रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण।

राम रहीम को एक बार फिर पैरोल की मंजूरी

राम रहीम को एक बार फिर पैरोल की मंजूरी 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। साध्वी यौन शोषण के मामलें में 20 साल की सजा काट रहे राम रहीम को एक बार फिर से पैरोल की मंजूरी मिली है। इस बार राम रहीम को 40 दिन की पैरोल मिली है। पैरोल के दौरान राम रहीम को सिरसा आश्रम में जाने की मनाही रहेगी, जबकि अन्य डेरों पर राम रहीम रह सकते है। माना जा रहा है कि इस बार राम रहीम यूपी के बागपत के अलावा अन्य डेरे में भी रुक सकते हैं। अभी जेल प्रशासन ने यह नहीं साफ किया है कि राम रहीम पैरोल पर बाहर कब आएंगे, मगर 40 दिन की पैरेाल की तो पुष्टि की गई है। डेरे में चल रहे विवाद को सुलझाने के लिए राम रहीम के पैरोल पर आने की चर्चा कई दिनों से बनी हुई थी।

सुनारियां जेल में सजा काट रहे राम रहीम को पैरोल एक बार फिर से पैरोल मिलेगी। इससे पहले भी राम रहीम को फरवरी माह में 21 दिन की फरलो मिली थी और उसके बाद 30 दिन की फरलो मिल चुकी है। राम रहीम ने तीन दिन पहले ही अपने वकीलों से जेल में मुलाकात की थी और उसके बाद पैरोल की अर्जी दी गई है।

विधि-विधान एवं मंत्रोच्चार के साथ बॉयलर पूजन संपन्न 

विधि-विधान एवं मंत्रोच्चार के साथ बॉयलर पूजन संपन्न 

भानु प्रताप उपाध्याय 

शामली। थानाभवन बजाज शुगर मिल में गन्ना पेराई सत्र के शुभारंभ के लिए शुक्रवार को हवन-यज्ञ कर बॉयलर पूजन किया गया। बजाज हिन्दुस्तान शुगर मिल परिसर में कर्मकांडी पं. राजकमल शास्त्री ने विधि-विधान एवं वैदिक मंत्रोच्चार के साथ बॉयलर पूजन संपन्न कराया। बॉयलर पूजन एवं हवन यज्ञ में शुगर मिल के यूनिट हेड जीवी सिंह, गन्ना महाप्रबंधक अभिषेक श्रीवास्तव, अनुपम खरे, एजीएम दुर्गेश तोमर , शिवचरण सिंह, जितेन्द्र सिंह राणा आदि शामिल रहे।

शुगर मिल में गन्ने की पेराई सत्र अक्तूबर माह के अंतिम सप्ताह में शुरू होने की उम्मीद है। बता दें कि शुगर मिल की पेराई क्षमता 90 हजार कुंतल की है। क्षेत्र में 75 में से 65 जगहों पर गन्ना तौल केन्द्र स्थापित कर दिए गए हैं।

भ्रष्टाचार: नोडल अधिकारी प्रशांत को पद से हटाया 

भ्रष्टाचार: नोडल अधिकारी प्रशांत को पद से हटाया 

भानु प्रताप उपाध्याय 

मुजफ्फरनगर। जिला चिकित्सालय में व्याप्त भ्रष्टाचार पर कडी कार्यवाही करते हुए पीसीपीएनडीटी नोडल अधिकारी डा. प्रशांत को उनके पद से हटा दिया है। सीएमओ के एक्शन से जिला चिकित्सालय में हडकंप मच गया। सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति के अंतर्गत कार्य में शिथिलता बरतने वाले पीसीपीएनडीटी नोडल अधिकारी को उनके कार्य से हटाया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार ने बताया कि पीसीपीएनडीटी कार्यालय में डॉ. अनुभव सिंघल, एमडी कार्डियोलॉजिस्ट के कार्य में विलंब करने पर सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति के अंतर्गत उनके द्वारा उपरोक्त के सम्बन्ध में संज्ञान लेते हुए डॉ. अनुभव सिघल के कार्य को तत्काल कराया गया तथा कार्य में शिथिलता बरतने वाले डॉ. प्रशांत कुमार पीसीपीएनडीटी, नोडल अधिकारी पर कठोर कार्रवाई करते हुए उन्हें कार्य से हटाकर उनके स्थान पर डॉ. विपिन कुमार उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पीसीपीएनडीटी का प्रभार दिया गया। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एम एस फौजदार ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में भविष्य में भी यदि किसी अधिकारी/कर्मचारी ने कार्य में शिथिलता बरती, तो उसके विरुद्ध भी कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

घर में घुसने करने की कोशिश, फायरिंग में 1 की मौंत

घर में घुसने करने की कोशिश, फायरिंग में 1 की मौंत

अश्वनी उपाध्याय 

गाजियाबाद। गाजियाबाद में अब लोगों ने खुद हथियार उठाना शुरू कर दिया है। दरअसल, गाजियाबाद के थाना टीला मोड़ क्षेत्र में सुबह करीब 4:30 बजे बदमाशों ने एक घर में घुसने करने की कोशिश की। मकान मालिक ने आहट सुनकर बदमाशों पर फायरिंग कर दी, जिसमें बदमाश की मौंत हो गई। इसके बाद मौके पर पुलिस पहुंची है। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

गाजियाबाद के थाना टीला मोड़ इलाके के जावली रोड में योगेंद्र मावी रहते हैं जो पेशे से प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं सुबह करीब 4:30 बजे के आसपास इनके परिजनों का कहना है कि आधा दर्जन बदमाश बांस के जरिए घर में घुस गए। आहट होने पर योगेंद्र जग गया और उसने से अपनी लाइसेंसी पिस्टल से फायर कर दिया। फायरिंग की आवाज सुनकर बाकी बदमाश भाग गए। लेकिन एक बदमाश को गोली लग गई, जिस की मौके पर ही मौत हो गई।

उसके बाद पुलिस को सूचना दी गई पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बदमाश के शव को कब्जे में ले लिया है और उसके पहचान की कोशिश की जा रही है। आपको बता दें कि गाजियाबाद में लगातार लूट डकैती हत्या जैसी वारदात से बढ़ रही है, जिसके बाद अब लोगों ने खुद ही हथियार उठा लिया है।

महिला-बच्चों के लिए 3000 मॉडल आंगनवाड़ी  

महिला बच्चों के लिए 3000 मॉडल आंगनवाड़ी  

गुवाहाटी। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज शुक्रवार को कहा कि महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा तथा विकास सभ्य समाज का संकेत है। राष्ट्रपति ने यह बात यहां विकास के विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास या उदघाटन करते हुए कही।इस यात्रा के दौरान उन्होंने प्रसिद्ध शक्ति पीठ माता कामाख्या का दर्शन किये।

इस क्षेत्र में प्रारंभ की गई स्वास्थ्य, शिक्षा, रेलवे, सड़क निर्माण, पेट्रोलियम और महिला सशक्तिकण से संबंधित विविध परियोजनाओं की सफलता की कामना करते हुए उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि इन योजनाओं के सफल कार्यान्वयन से व्यापार और रोजगार के नए अवसर सृजित होंगे, परिवहन सुविधाओं में वृद्धि होगी और असम सहित पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी।

राष्ट्रपति ने कहा कि बेहतर अवसंरचना किसी भी राज्य के विकास का आधार होती है। पूर्वोत्तर क्षेत्र भारत की 'एक्ट ईस्ट पॉलिसी' का केंद्र बिंदु है। उन्होंने इस बात पर प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की कि केंद्र सरकार इस क्षेत्र में ढांचागत सुविधाओं और कनेक्टिविटी पर विशेष ध्यान दे रही है।

राष्ट्रपति ने कहा कि असम का विकास समूचे पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास का इंजन सिद्ध हो सकता है।उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र प्राकृतिक संसाधनों की दृष्टि से समृद्ध है। उन्होंने इस बात पर गौर किया कि असम भारत में कच्चे तेल के कुल उत्पादन में 13 प्रतिशत का योगदान देता है। साथ ही भारत के कुल प्राकृतिक गैस उत्पादन का 15 प्रतिशत पूर्वोत्तर क्षेत्र से आता है।

उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि मोइनरबॉन्ड में आज जिस अत्याधुनिक डिपो का उद्घाटन किया गया, वह पूरी बराक घाटी के साथ-साथ त्रिपुरा, मणिपुर और मिजोरम की पेट्रोलियम उत्पादों की आवश्यकताओं को पूरा करने में मददगार साबित होगा।

राष्ट्रपति ने कहा कि केंद्र सरकार असम समेत सभी पूर्वोत्तर राज्यों में सड़क और रेल संपर्क पर विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सड़क और रेलवे से संबंधित जिन विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास या उद्घाटन किया गया है, उनसे क्षेत्र में व्यापार और परिवहन को बढ़ावा मिलने के अलावा पर्यटन के अवसरों में भी वृद्धि होगी।

राष्ट्रपति ने कहा कि असम में महिलाओं और बच्चों के लिए विभिन्न सेवाओं को और मजबूती प्रदान करने के लिए आज शुरू किए गए 3000 मॉडल आंगनवाड़ी केंद्र एक सराहनीय कदम है। उन्होंने चाय बगान श्रमिकों के बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से 100 मॉडल सेकेंडरी स्‍कूलों के शिलान्‍यास पर भी प्रसन्नता व्यक्त की।

एग्री कॉर्नीवाल 2022, 10 देशों के वैज्ञानिक शामिल

एग्री कॉर्नीवाल 2022, 10 देशों के वैज्ञानिक शामिल

दुष्यंत टीकम   

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अन्तर्राष्ट्रीय कृषि मड़ई ‘‘एग्री कार्नीवाल 2022’’ में आज भविष्य के लिए पर्याप्त भोजन की उपलब्धता और इसके लिए अपनायी जाने वाली आधुनिक तकनीक के उपयोग से फसलों की उपज में वृद्धि पर विचार-विमर्श के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस दौरान भावी पीढ़ी के लिए भोजन की पर्याप्त उपलब्धता को ध्यान में रखते हुए धान की रोग-प्रतिरोधक, सस्ती और यूजर फ्रेंडली वेरायटी के उत्पादन के लिए आधुनिक तकनीकी पर चर्चा और प्रस्तुतीकरण किया गया। कार्नीवाल में दस अफ्रीकी देशों युगांडा, जिम्वाम्बे, मेडागास्कर, सेनेगल, इथोपिया, नामिबिया, घाना, माली, सेशेल्स, साउथ एशियन देश नेपाल, बांग्लादेश, श्रीलंका और भारत सहित लगभग 15 देशों के कृषि वैज्ञानिक शामिल हुए।


उल्लेखनीय है कि फसल प्रजनन का यह कार्यक्रम एशिया और अफ्रीकी उप महाद्वीप में चावल प्रजनन कार्यक्रमों के आधुनिकीकरण में तेजी लाने की एक पहल है। इसका उद्देश्य अत्याधुनिक तकनीकों के विषय में क्षमता निर्माण, स्मार्ट प्रजनन प्रौद्योगिकियों, प्रजनन सूचना विज्ञान और लागत उपकरणों पर विशेषज्ञता विकसित करने के लिए विशेष व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान करना है। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर द्वारा राज्य शासन के कृषि विभाग, छत्तीसगढ़ बायोटेक्नोलॉजी प्रमोशन सोसायटी, अन्तर्राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान, फिलीपींस, नाबार्ड, कंसल्टेटिव ग्रुप ऑफ इन्टरनेशनल एग्रीकल्चरल रिसर्च, कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा), एनएबीएल तथा अन्य संस्थाओं के सहयोग से अन्तर्राष्ट्रीय कृषि मड़ई ‘‘एग्री कार्नीवाल 2022’’ का आयोजन किया जा रहा है। 14 से 18 अक्टूबर तक चलने वाले इस आयोजन में पहले दिन अन्तर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय स्तर के कृषि संस्थानों के निदेशकों, कृषि वैज्ञानिकों विभिन्न कृषि उत्पाद निर्माता कम्पनियों के वरिष्ठ अधिकारियों, स्टार्टअप्स उद्यमियों एवं बड़ी संख्या में प्रगतिशील कृषक शामिल हुए।अंतर्राष्ट्रीय धान अनुसंधान संस्थान, मनीला (फिलीपिंस) के कृषिविद् डॉ. संजय कटियार ने बताया कि हरित क्रांति के बाद लगभग 60 सालों से धान की नई किस्में लाने का काम हो रहा है। वर्तमान समय में जलवायु परिवर्तन (ग्लोबल क्लाईमेट चेंज) के कारण बाढ़, सूखा जैसी कई चुनौतियां सामने हैं। ऐसे में अच्छी और जल्दी पैदावार देने वाली रोग प्रतिरोधक फसलों की किस्मों की जरूरत है, जिससे भविष्य में बढ़ती आबादी और बदलते जलवायु के साथ भोजन की पर्याप्त उपलब्धता की चुनौतियों से लड़ा जा सकता है। इसके लिए आधुनिक ब्रीडिंग प्रोग्राम के तहत कई नई वेरायटी लाई जा रही है। उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन के खतरे को देखते हुए खाद्य सुरक्षा के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए दुनिया भर में चावल आधारित कृषि प्रणालियों में व्यापक परिवर्तन की आवश्यकता है। किसानों को जलवायु परिवर्तन के अनुकूल और उच्च उत्पादकता और बेहतर पोषण के साथ चावल की किस्मों की आवश्यकता है। उनकी इस जरूरत को जल्द पूरा करने के लिए आधुनिक तकनीक के माध्यम से कई नई धान की किस्में लाई जा रही है।

छत्तीसगढ़ में भी किसानों को नई किस्मों को लगाने के लिए जागरूक किया जा रहा है और सीड सिस्टम का नया एप्रोच उन तक पहुंचाया जा रहा है। यहां लगभग सभी जिलों के किसानों के लगभग 130 एकड़ खेत में आठ से दस प्रकार की नई वेरायटी को पुरानी वेरायटी के साथ लगाकर उन्हें उत्पादन का अंतर समझाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि साउथ अफ्रीका के कई देश में अब भी धान उत्पादन की आधुनिक तकनीक का विकास नहीं हो सका है। कार्नीवाल में छत्तीसगढ़ आए विभिन्न देशों के कृषि वैज्ञानिक यहां की तकनीक सीख कर अपने देशों में लागू करेंगे।

मां के साथ सोते हुए मासूम को उठाकर दुष्कर्म किया 

मां के साथ सोते हुए मासूम को उठाकर दुष्कर्म किया 

तारीक खान 

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में एक शर्मनाक मामला सामने आया है जिसे सुन इंसानियत भी शर्मसार हो जायेगी। मामला इंदौर के सिरपुर इलाके की है जहाँ रात को माँ के बगल में सो रही मासूम बच्ची को उसके पिता का दोस्त उठाकर ले गया और दुष्कर्म किया। दुष्कर्म करने के बाद आरोपी अधमरी हालत में बच्ची को छोड़कर भाग गया। बच्ची को न देख माता-पिता ने तत्काल पुलिस को शिकायत की और कुछ ही देर बाद सड़क पर बच्ची मिल गई। वही पांच घंटे की मशक्कत के बाद आरोपी को भी पकड़ लिया गया।

मिली जानकारी के अनुसार घटना इंदौर के सिरपुर इलाके की है। जहाँ रात करीब दो बजे मासूम को ट्रक ड्राइवर दिनेश डाबर (उम्र 38 वर्ष) अपने साथ उठाकर ले गया। ट्रक से ही उसे पांच-छह किलोमीटर दूर ले गया। फिर दुष्कर्म के बाद उसे अधमरी हालत में सड़क किनारे फेंक दिया। पुलिस ने पांच घंटे के अंदर दिनेश को गिरफ्तार कर लिया है। उस पर धारा 363, 366, 376 क, ख और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। लड़की का पिता एक निर्माणाधीन मकान में चौकीदार का काम करता है। रात करीब दो बजे उसकी पत्नी की नींद खुली तो देखा कि बच्ची नहीं है। वह शोर मचाने लगी। दोनों ने आसपास उसे खोजा। नहीं मिली तो चंदन नगर पुलिस थाने में शिकायत की। पुलिस ने तफ्तीश जारी रखी तो बच्ची रेतमंडी के पास मिली। वीडियो फुटेज में 15 मिनट के भीतर एक ट्रक आते-जाते दिखा। उसके नंबर से ट्रक मालिक को बुलाया गया। मालिक ने ड्राइवर को फूटी कोठी चौराहे पर बुलाया और वहां पुलिस ने दिनेश को गिरफ्तार कर लिया। दिनेश डाबर इंदौर में पीड़ित के घर के पास ही ट्रक पार्क करता था। उसका पीड़ित के घर आना-जाना भी था। उसने ही बच्ची को उठाया और ट्रक में उसे अपने साथ ले गया। मालिक के बुलाने पर भी वह बेखौफ था। उसे लग रहा था कि पकड़ा नहीं जाएगा। बच्ची भी मर गई होगी। तभी वह फूटी कोठी पहुंचा, जहां पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया।

गलत जगह हाथ लगने के कारण वीडियो वायरल

गलत जगह हाथ लगने के कारण वीडियो वायरल

कविता गर्ग

मुंबई। कई बार एक्ट्रेस को अपनी अजीबोगरीब या बोल्ड ड्रेस के कारण ऊप्स मोमेंट का शिकार होना पड़ता हैं। कई बार शो में गलत जगह हाथ लगने के कारण उनका विडियो चर्चा का विषय बना जाता हैं। कुछ ऐसा ही एक बार एक्ट्रेस नोरा फतेही के साथ भी हुआ था। नोरा फतेही कुछ समय पहले रियलिटी शो में बतौर मेहमान पहुंची थी, इस दौरान एक शख्स ने उन्हें गलत जगह टच कर दिया था। जिसके बाद उनका विडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ था।नोरा फतेही के साथ ये घटना रियलिटी शो ‘इंडियाज बेस्ट डांसर’ के दौरान हुई थी। शो में जब नोरा स्टेज पर पहुंची तो उनके साथ कुछ ऐसा हुआ, जिसे देखकर वहां मौजूद लोग हैरान हो गए।


सोशल मीडिया में वायरल हो रहे इस विडियो में इंडियाज बेस्ट डांसर शो के जज गीता कपूर और टेरेंस लुईस के साथ नोरा फतेही दिखाई दे रही हैं। विडियो में गीता सबसे आगे की तरफ खड़ी हैं, उसके बाद एक्ट्रेस नोरा फतेही खड़ी हैं जबकि सबसे पीछे टेरेंस लुईस खड़े हुए दिखाई दे रहे हैं।विडियो में वह खड़े होकर किसी को हाथ जोड़कर प्रणाम करते हुए दिखाई दे रहे हैं। इसी दौरान लुईस का हाथ गलती से नोरा के बैक पर लग जाता हैं।


विडियो में साफ-साफ़ दिखाई दे रहा हैं कि लुईस ने ये जानकर बुझकर नहीं किया हैं लेकिन सोशल मीडिया पर लोगों को इस विडियो के जरिए नोरा और लुईस को ट्रोल करने का मौका मिल गया हैं और इस विडियो को तेजी से वायरल किया जा रहा हैं।

बिना पुरुष महिलाएं कर सकेंगी हज और उमराह

बिना पुरुष महिलाएं कर सकेंगी हज और उमराह

राम मनोहर गुप्ता

रियाद। सऊदी किंगडम का बड़ा ऐलान बिना पुरुष गार्जियन के भी महिलाएं कर सकेंगी हज और उमराह। सऊदी किंग्डम ने फैसला किया है कि हज और उमराह के लिए महिलाओं को अब पुरुष गार्जियन या महरम के साथ की नहीं है जरूरत।

सऊदी अरब के हज और उमराह मंत्री तौफीक बिन फवजान अल-रबियाह ने एक बयान में कहा कि यह फैसले दुनियाभर के तीर्थयात्रियों पर होंगे लागू। सऊदी किंग्डम ने रियाद में इस ऐतिहासिक फैसले का किया ऐलान।
सऊदी किंग्डम ने कहा कि इस फैसले से सरल होंगे महिलाओं के जीवन।पहले महिलाओं और बच्चों को बिना गार्जियन के हज और उमराह करने की नहीं थी इजाजत। इसके लिए उन्हें एक पुरुष की पड़ती थी जरूरत जो पूरे हज के दौरान होते थे उनके साथ।

सऊदी किंग्डम का मानना है कि इस फैसले से सामाजिक आर्थिक समस्याओं से घिरीं महिलाओं के लिए हज और उमराह करना होगा आसाना। इस्लाम धर्म में कहा जाता है कि जो लोग इसके काबिल हैं या जो इसके खर्च कर सकते हैं वहन उनके लिए हज करना लाजिमी है। हज मंत्री के पूर्व सलाहकार इब्राहीम हुसैन ने कहा कि वे महिलाएं जो हज करना चाहती हैं कुछ के लिए महरम को साथ लाना मुश्किल हो सकता है और इसके लिए खर्च भी बढ़ सकते हैं।लेकिन इस फैसले से अब उनके लिए हज या उमराह करना हो जाएगा आसान।

सऊदी हज मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि पूरे क्षेत्र में साथ ही ट्रांसपोर्टेशन के सभी साधनों और बंदरगाहों पर बढ़ा दी गई है सुरक्षा। जिससे महिलाओं को हज और उमराह के दौरान मिल सकेगी सुरक्षा।
हज मंत्रालय ने यह भी बताया कि उत्पीड़न विरोधी ढांचे समेत एक मजबूत बुनियादी ढांचे को कानून में किया गया है लागू। महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिए गए हैं ये फैसले।इतना ही नहीं सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हवाई अड्डों, सीमा पार बंदरगाहों, ग्रैंड मस्जिद, पैगंबर की मस्जिद, और अन्य महत्वपूर्ण स्थलों में लगाए गए हैं सुरक्षा कैमरे।

गौरतलब है कि दुनिया में सऊदी अरब की, एक कट्टरवाद देश के रूप में थी पहचान, जिसे सऊदी किंग्डम बदलने की कर रहा है कोशिश। बताते चलें कि सऊदी अरब में महिलाओं को लेकर पहले भी उठाए गए हैं कई बड़े कदम।

मुंबई एयरपोर्ट पर 16 किलो सोना बरामद किया

मुंबई एयरपोर्ट पर 16 किलो सोना बरामद किया

कविता गर्ग

मुंबई। महाराष्ट्र के मुंबई से आ रही बड़ी खबर के अनुसार, यहां मुंबई एयरपोर्ट से कस्टम डिपार्टमेंट ने 16 किलो सोना बरामद किया है। वहीं इस बरामद सोने की कीमत करीब 8.40 करोड़ रुपए आंकी गई है।

खबर पर विवरण आना बाकी है। मिली जानकारी के मुताबिक, ये सोना एक भारतीय नागरिक के पास से मिला है, जो इथियोपिया से मुंबई पहुंचा था। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर लिया है और आगे की जांच शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि, बीते गुरूवार को ही, कस्टम विभाग ने मुंबई एयरपोर्ट से 15 किलो सोना और 22 लाख रुपए की वैल्यू की विदेशी मुद्रा को जब्त की थी। इस 15 किलो सोना और 22 लाख रुपए की विदेशी मुद्रा की कुल वैल्यू 8 करोड़ रुपए बताई गयी थी। वहीं इस मामले में अबतक 7 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

गुजरात: विश्वविद्यालय में पेपर लीक, विपक्ष का दावा

गुजरात: विश्वविद्यालय में पेपर लीक, विपक्ष का दावा

विमलेश यादव 

सौराष्ट्र। विश्वविद्यालय के बीबीए और बीकॉम परीक्षा के पेपर लीक हो गए हैं और पूरी व्यवस्था हिल गई है। चुनाव से पहले पेपर लीक का मामला एक बार फिर गरमा गया है। पेपर लीक को लेकर आम आदमी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। गुजरात में पारदर्शिता के साथ होगी तो इतिहास रचा जा सकता है। क्योंकि प्रदेश में हर रात पेपर लीक की घटना सामने आ रही है। फिर आज एक बार फिर पेपर लीक कांड की घटना सामने आईहै प्रदेश में लगातार विवादों में घिरे सौराष्ट्र विश्वविद्यालय के बीबीए और बीकॉम परीक्षा के पेपर लीक हो गए हैं। जिससे पूरा सिस्टम हिल गया है। पेपर लीक होने के बाद आम आदमी पार्टी के गुजरात सह प्रभारी राघव चड्ढा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी पर हमला बोला।

गुजरात के सह प्रभारी चड्ढा ने कहा कि बीजेपी ने अपनी भ्रष्ट राजनीति के तहत गुजरात के युवाओं और छात्रों को कुचल दिया। गुजरात में पिछले 6 साल में 12 से ज्यादा अहम पेपर लीक हो चुके हैं। सिर्फ गैर सचिवीय परीक्षा, कांस्टेबल परीक्षा ही नहीं, बल्कि अब बीकॉम और बीबीए जैसे पाठ्यक्रमों के पेपर फट रहे हैं। गुजरात में स्कूल-कॉलेज की सामान्य परीक्षा के पेपर भी फूटने लगे हैं। राजकोट स्थित सौराष्ट्र विश्वविद्यालय का बीकॉम और बीबीए का पेपर आज क्रैक हो गया है। सौराष्ट्र के 25 हजार छात्रों के भविष्य से भाजपा ने किया समझौता। गुजरात के अखबारों ने आज इस अखबार को पहले पन्ने पर छापा है। उन्होंने कहा, मैं आज गुजरात के लोगों को बताना चाहता हूं कि भारतीय जनता पार्टी ने आपके बच्चों की किस्मत खराब करने का काम किया है, कागज का नहीं। गुजरात के लोगों को भाजपा नेताओं की किस्मत को तबाह कर कागज के विनाश का जवाब देना होगा। अब ये नेता पांच साल में एक बार आते हैं, वह परीक्षा गुजरात विधानसभा चुनाव में आ रही है। राघव चड्ढा ने कहा कि इस चुनाव में आप सभी को भाजपा की किस्मत तोड़ने का संकल्प लेना होगा। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि अगर गुजरात में आम आदमी पार्टी की सरकार बनती है तो आम आदमी पार्टी 100 दिनों के भीतर पेपर लीक के खिलाफ सख्त कानून लाएगी। नतीजतन, इसमें शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी नेताओं के बच्चे विदेश में पढ़ने जाते हैं. जबकि मध्यम वर्ग और गरीब वर्ग के बच्चे यहां पढ़ते हैंहै इसके लिए लगातार काम कर रहे बच्चों के भविष्य से समझौता नहीं किया जाना चाहिए। यह कोई छोटा अपराध नहीं है। इससे राज्य भर के छात्रों का भविष्य खतरे में पड़ जाएगा।

8 बांग्लादेशियों को कोर्ट ने सजा सुनाई, घुसपैठ

8 बांग्लादेशियों को कोर्ट ने सजा सुनाई, घुसपैठ

कविता गर्ग

मुंबई। भारत में अवैध रूप से रहने वाले घुसपैठियों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। भारत के लगभग हर राज्य में आए दिन फर्जी रूप से भारत का नागरिक बनकर रहने वाले घुसपैठियों को पुलिस अपनी कार्रवाई में पकड़ती रहती है। अब ताजा मामला देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से आया है।

जहां फर्जी रूप से पिछले 4 सालों से मुंबई में रहने वाले 8 बांग्लादेशी नागरिकों को पुलिस ने पकड़ा था। अब मुंबई की एक कोर्ट ने इन बांग्लादेशियों को सजा सुनाई है। खबर के मुताबिक पकड़े गए बांग्लादेशी नागरिक साल 2018 से मुंबई में डेरा जमाए हुए थे। एंटी टेर्रररिज्म स्कवेड ऑफ महाराष्ट्र पुलिस ने कोर्ट में बताया कि आठ बांग्लादेशी साल 2018 से मुंबई के सबरबन कांदिवली में रह रहे थे।

टीम ने कार्रवाई करते हुए इन्हें पकड़ा था। एंटी टेर्रररिज्म स्कवेड ऑफ महाराष्ट्र पुलिस ने कोर्ट को यह भी बताया कि इनमें से कई नागरिकों का वीजा था लेकिन वीजा अवधि समाप्त होने के बाद भी यह लोग मुंबई में रह रहे थे। वहीं इनमें से कुछ बांग्लादेशियों पर फर्जी रूप से दस्तावेज बनाने के तहत भी पुलिस ने केस दर्ज किया है।

एंटी टेर्रररिज्म स्कवेड ऑफ महाराष्ट्र पुलिस की कार्रवाई में पकड़े गए बांग्लादेशियों को एडिशनल सेशन जज कोर्ट ने फर्जी रूप से भारत में रहने का दोषी पाया। कोर्ट ने आरोपियों को 4 साल कारावास की कड़ी सजा सुनाई है।

आरोपियों के नाम करीम शेख, अपन शेख, सोहेल शेख, मासूम शेख, सुजन शेख, शरिफुल शेख, तुहैल रहमान शेख और रिदोई राजो शेख हैं। एंटी टेर्रररिज्म स्कवेड ऑफ महाराष्ट्र पुलिस ने मुंबई में अपने अभियान को और तेज कर दिया है। मालूम हो कि मुंबई और पश्चिम बंगाल समुद्री सीमा से लगे हुए हैं।

ऐसे में यहां आए दिन फर्जी रूप से भारत में रहने वाले कई बांग्लादेशियों को पुलिस अपनी कार्रवाई में पकड़ती रहती है। इससे पहले भी कई बांग्लादेश नागरिक अलग अलग कार्रवाई में पकड़े गए हैं।

सरकारी स्कूल में 100 से अधिक छात्रों को उल्टी लगी

सरकारी स्कूल में 100 से अधिक छात्रों को उल्टी लगी

इकबाल अंसारी

कृष्णागिरी। कृष्णागिरी में एक सरकारी स्कूल में 100 से अधिक छात्रों को उल्टी और बेहोश होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अधिकारी कारणों का पता लगाने में जुटे हैं, जबकि माना जा रहा है कि जहरीली हवा के रिसाव के कारण ऐसा होना संभव है। दरअसल, मामला कृष्णागिरि जिले के होसुर के पास एक सरकारी माध्यमिक विद्यालय का है। जहां शुक्रवार को कक्षा 6 और 7 के छात्र-छात्राएं उल्टी करते हुए बेहोश हो गए। छात्रों की हालत के बारे में सूचना मिलते ही आनन-फानन में स्कूल के प्रिंसिपल ने एम्बुलेंस को फोन किया और सभी छात्रों को सरकारी अस्पताल ले जाया गया। फिलहाल अस्पताल में बच्चों का इलाज किया जा रहा है और आवश्यक चिकित्सा सहायता देने के लिए स्कूल में मेडिकल टीम को तैनात किया गया है।

उधर, सूचना मिलने पर जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारी स्कूल में पहुंचे, जो घटना के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। अधिकारियों को फिलहाल हवा में जहरीली गैसों का संदेह है। अधिकारी इस बात की जांच कर रहे हैं कि कहीं सेप्टिक टैंक से गैस का रिसाव तो नहीं हुआ या आसपास के उद्योग से कोई जहरीली गैस तो नहीं आई, जिसमें स्कूल में पढ़ रहे बच्चों ने सांस ली और उनकी ऐसी हालत हो गई।

हिमाचल चुनाव की घोषणा, गुजरात दिवाली के बाद

हिमाचल चुनाव की घोषणा, गुजरात दिवाली के बाद

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के कार्यक्रम के साथ गुजरात विधानसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा इसलिए नहीं की गई ताकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को और बड़े-बड़े वादे करने तथा उद्घाटन करने का समय मिल जाए।


पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया, ‘निश्चित तौर पर यह इसलिए किया गया ताकि प्रधानमंत्री को और बड़े-बड़े वादे करने तथा उद्घाटन करने का समय मिल जाए। यह हैरान करने वाला नहीं है। ’कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने दावा किया, ‘गुजरात के चुनावों की तारीख़ दिवाली के बाद घोषित होंगीं। तब तक सरकारी खर्चे पर प्रधानमंत्री मोदी खूब जी भर कर प्रचार कर सकते हैं, साथ ही रेवड़ियां भी बांट सकते हैं!’


बता दें कि चुनाव आयोग ने शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीख की घोषणा कर दी। इस पहाड़ी राज्य में एक ही चरण में 12 नवंबर को मतदान होगा जबकि आठ दिसंबर को मतगणना की जाएगी। आयोग की ओर से हालांकि गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं की गई। गुजरात विधानसभा का कार्यकाल अगले साल 18 फरवरी को समाप्त हो रहा है। हिमाचल प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल आठ जनवरी को समाप्त होगा।

जर्मनी ने यूक्रेन को वायु रक्षा प्रणाली संयंत्र प्रदान किए 

जर्मनी ने यूक्रेन को वायु रक्षा प्रणाली संयंत्र प्रदान किए 
सुनील श्रीवास्तव
वॉशिंगटन डीसी। रूस के हमले के बाद नाटो देशों ने यूक्रेन को दी जाने वाली सहायता बढ़ा दी है। यूक्रेन ने कहा है कि उसे जर्मनी से आईरिस टी एसएलएम वायु रक्षा प्रणाली मिली है। इसकी चार प्रणालियाँ हैं।

दावा किया जा रहा है कि यह एक परिष्कृत वायु रक्षा प्रणाली है, जिसका अभी तक उपयोग नहीं किया गया है। यह विमान, हेलीकॉप्टर, क्रूज मिसाइल या रॉकेट पर हमला करने से बचने के लिए मिसाइल को चकमा देता है। एक मध्यम आकार के शहर को ऐसी प्रणाली से संरक्षित किया जा सकता है। एसएलएम 20 किमी की ऊंचाई और 40 किमी की दूरी तक किसी भी लक्ष्य को लक्षित कर सकता है। यह प्रणाली रूसी हमलों को विफल करने में अहम भूमिका निभा सकती है। इससे पहले बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में भी 50 देशों के रक्षा अधिकारियों की बैठक हुई थी, जिसमें यूक्रेन को एयर डिफेंस सिस्टम देने पर चर्चा हुई थी।

यूक्रेन के ज़ापोरिज्ज्या परमाणु ऊर्जा संयंत्र में रूसी हमले के कारण पांच दिनों में दूसरी बार बिजली गुल हो गई है। ऐसा प्लांट को ठंडा रखने वाले डीजल प्लांट के लिए खतरे को देखते हुए किया गया है।

उपग्रह नष्ट करने वाली मिसाइलें बना रहा है चीन

उपग्रह नष्ट करने वाली मिसाइलें बना रहा है चीन

अखिलेश पांडेय

लंदन। रूस की आक्रामकता से पूरी दुनिया चिंतित है। इस बीच ब्रिटेन की खुफिया एजेंसियों ने चेतावनी दी है कि रूस नहीं चीन इन दिनों सबसे बड़ा खतरा है। डिजिटल करेंसी जैसी नई तकनीकों में चीन का दबदबा लगातार बढ़ रहा है। चीन इसका इस्तेमाल अपनी आबादी, पड़ोसी देशों और लेनदारों को नियंत्रित करने के लिए कर रहा है। ब्रिटिश खुफिया एजेंसी जीसीएचक्यू के प्रमुख सर जेरेमी फ्लेमिंग ने कहा कि अंतरिक्ष में चीन की ताकतकी बढ़ती। यह अंतरिक्ष को जीतने के लिए स्टार वार्स फिल्म जैसे हथियार विकसित कर रहा है। इसके Baidu सैटेलाइट नेटवर्क का इस्तेमाल किसी को भी कहीं भी ट्रैक करने के लिए किया जा सकता है। फ्लेमिंग ने चेतावनी दी कि रूस और चीन दोनों के पास उपग्रह रोधी हथियार हैं। ये सैटेलाइट मिसाइलों के समान हैं लेकिन चीन अब लेजर सिस्टम पर काम कर रहा है। यह संचार, निगरानी और जीपीएस उपग्रहों को नष्ट कर देता हैहो सकता है। यदि उपग्रह नष्ट हो जाता है, तो मिसाइल लक्ष्य का पता नहीं लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन को वैश्विक प्रौद्योगिकी पर हावी होने की चीन की नीति पर अंकुश लगाने की जरूरत है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-370, (वर्ष-05)

2. शनिवार, अक्टूबर 15, 2022

3. शक-1944, कार्तिक, कृष्ण-पक्ष, तिथि-षष्ठी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 06:18, सूर्यास्त: 06:15। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 22 डी.सै., अधिकतम-33+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)


बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...