शुक्रवार, 24 नवंबर 2023

राष्ट्रीय राजमार्गों को बेहतर बनाने हेतु मंजूरी दी

राष्ट्रीय राजमार्गों को बेहतर बनाने हेतु मंजूरी दी 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कहा कि पंजाब, अरुणाचल प्रदेश तथा असम में राष्ट्रीय राजमार्गों को बेहतर बनाने के लिए करीब 2700 करोड रुपए की मंजूरी दी गई है।
गडकरी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘एक्स’ पर कहा, “अरुणाचल प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग-913 के जिदो-सिंघा खंड तक फैली हार्ड शोल्डर वाली करीब 47 किलोमीटर लंबी ग्रीनफील्ड इंटरमीडिएट लेन रोड के निर्माण के लिए 740.11 करोड़ रुपए के आवंटन को मंजूरी दी गई है और इसका निर्माण इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण-ईपीसी मोड के तहत किया जाएगा।”
उन्होंने कहा कि इसी के तरह से असम में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-17 को 4-लेन बनाने के लिए 1338.61 करोड़ रुपए के आवंटन को मंजूरी दी गई है। यह सड़क चापर बाईपास से पहले मोवतारी के पास से बिलासीपारा-गुवाहाटी कॉरिडोर के तुलुंगिया खंड तक है। करीब 26 किमी इस सड़क सुधार का उद्देश्य बिलासीपारा और तुलुंगिया के बीच कनेक्टिविटी को बढ़ाना है।
इससे राष्ट्रीय राजमार्ग-27 के जरिए पश्चिमी असम और निचले असम तक बेहतर यातायात सुविधा प्रदान की जा सकेगी और मेघालय तथा पश्चिम बंगाल जैसे पड़ोसी राज्यों के साथ इसके निर्माण से कनेक्टिविटी बेहतर हो सकेगी। गडकरी ने कहा, “अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सियांग जिले में स्थित यह रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण मार्ग भारत-चीन सीमा पर निर्बाध कनेक्टिविटी प्रदान करेगा तथा इससे अरुणाचल के सीमावर्ती क्षेत्रों में सामाजिक गतिविधियां बढ़ेंगी और आर्थिक विकास को गति मिल सकेगी।’’
उन्होंने कहा कि पंजाब में राष्ट्रीय राजमार्ग 354 के साथ 4-लेन बाईपास के निर्माण के लिए 539.37 करोड़ के आवंटन को मंजूरी दी गई है। इस लेन पर कुल 17.19 किमी लम्बी सड़क को विकसित किया जाना है और इसका निर्माण भी ईपीसी मोड पर किया जाना है। उन्होंने कहा कि इसके निर्माण का उद्देश्य फिरोजपुर शहर में भीड़भाड़ को कम करना और राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात के निर्बाध, सुरक्षित तथा सुविधाजनक बनाना है।

हैरतअंगेज: गुड्डे से शादी, गर्भवती हुईं महिला

हैरतअंगेज: गुड्डे से शादी, गर्भवती हुईं महिला

सुनील श्रीवास्तव 
ब्रासीलिया। इस दुनिया में भांति-भांति के लोग हैं। कुछ अच्छे हैं तो कुछ बुरे भी हैं, तो कुछ अजीबोगरीब सोच वाले भी हैं। ऐसी ही एक अजीबोगरीब सोच वाली महिला आजकल काफी चर्चा में है, जिसने एक कपड़े के गुड्डे से शादी करके सबको आश्चर्यचकित कर दिया था। 
अब उसने एक अजीबोगरीब पार्टी रखी है। ये पार्टी उसने क्यों रखी है, इसका भी खुलासा किया है, जो काफी हैरान करने वाला है। महिला का नाम मेरिवोन रोचा मोरेस है। वह 38 साल की है और ब्राजील की रहने वाली है।
दरअसल, महिला ने खुलासा किया है कि वह एक बार फिर से मां बनने वाली है और उस बच्चे का पिता वही कपड़े का गुड्डा है।न्यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला ने जेंडर रिवील पार्टी रखी है‌। उसने दावा किया है कि वो गर्भवती है और इस बार वह एक बेटी को जन्म देने वाली है। 
हैरानी की बात तो ये है कि उसने इस पार्टी में कई सारे मेहमानों को भी बुलाया था और उसने बाकायदा केक भी काटा और अपने पति यानी कपड़े के गुड्डे के साथ खूब एंजॉय भी किया।महिला ने अपने इंस्टाग्राम पर इस अनोखी पार्टी का एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें उसका बेबी बंप भी नजर आ रहा है।

'मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह' कार्यक्रम का आयोजन

'मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह' कार्यक्रम का आयोजन

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में विवाह के बन्धन में बधें 624 जोडे़

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का भरवारी में किया गया आयोजन

कौशाम्बी। मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना “मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना” के अन्तर्गत शुक्रवार को भवन्स मेहता विद्याश्रम, भरवारी में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 624 जोडे़ विवाह के बन्धन में बधें, जिसमें 05 जोड़े मुस्लिम समुदाय के भी सम्मिलित हैं। सांसद श्री विनोद कुमार सोनकर, जिलाधिकारी सुजीत कुमार एवं मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 रवि किशोर त्रिवेदी ने नवविवाहित जोड़ों को आर्शीवाद देते हुए परमपिता परमेश्वर से सफल एवं सुखमय दाम्पत्य जीवन की कामना की। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम इतने भव्य एवं व्यवस्थित तरीके से आयोजित कराने के लिए सांसद विनोद सोनकर ने जिला प्रशासन को धन्यवाद दिया। उन्होंने नव-विवाहित जोड़ों को आर्शीवाद देते हुए ईश्वर से सफल एंव सुखमय वैवाहिक जीवन की कामना करते हुए कहा कि हम लोग सौभाग्यशाली हैं कि केन्द्र में मोदी जी की एवं प्रदेश में योगी जी की ऐसी सरकार है, जहॉ देश की बड़ी से बड़ी समस्याओं का समाधान कर देश का नाम पूरी दुनिया में गौरवान्वित करने का कार्य कर रहें हैं।
जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना शासन की महत्वाकॉक्षी योजना है, जिसके द्वारा जो परिवार अपने पुत्रियां के विवाह करने में सक्षम नहीं हैं, उन सभी के पुत्रियों का विवाह, इस योजना के अन्तर्गत कार्यक्रम आयोजित कर किया जा रहा है। उन्होंने सभी लोगों से कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा अनेक योजनायें संचालित की जा रही है, इन योजनाओं के प्रति जागरूक होकर लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं को पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने के लिए निरन्तर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत विवाहित जोड़ों को दाम्पत्य जीवन में खुशहाली एवं गृहस्थी की स्थापना के लिए सहायता राशि के रूप में 35000 (पैतीस हजार) रूपये कन्या के खाते में हस्तान्तरित की जाती है तथा विवाहित जोड़ों को विवाह संस्कार के लिए आवश्यक सामग्री (कपडे़, विछिया, पायल, बर्तन, ट्राली बैग, दीवार घड़ी) दिया जाता है। प्रत्येक विवाहित जोड़े पर शादी व्यवस्था के लिए रूपये 06 हजार खर्च करने का प्रावधान है। इस प्रकार कुल 51 हजार रूपये प्रत्येक जोड़े पर व्यय किये जाने का प्राविधान है इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 रवि किशोर त्रिवेदी एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी दिलीप कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण तथा शंकर लाल केसरवानी, यशपाल केसरी, प्रवेश केसरवानी, रत्ना केसरवानी, सोनिया राजपूत, श्रीमती शालिनी केसरी, ज्योति केसरवानी एवं गिरीश पाण्डेय आदि गणमान्य उपस्थित रहें।
राजू सक्सेना

10 अपराधियों को कड़ी सजा दिलाने के निर्देश दिए

10 अपराधियों को कड़ी सजा दिलाने के निर्देश दिए 

संदीप मिश्र 
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गृह विभाग को हर जिले के टॉप 10 अपराधियों को कोर्ट में प्रभावी पैरवी कर कड़ी सजा दिलाने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी के निर्देश को अमल में लाते हुए प्रमुख सचिव (गृह) ने सभी जनपदों के जिलाधिकारियों, एसपी व पुलिस कमिश्नरों को पत्र जारी करते हुए कहा है कि वे अपने-अपने जनपद के टॉप-10 अपराधियों को सजा दिलाने के लिए कोर्ट में प्रभावी पैरवी सुनिश्चित कराएं।
इसके साथ ही, उन्होंने कार्रवाई से शासन को अवगत कराने के निर्देश दिए हैं। 
ताकि इसकी नियमित समीक्षा कर मुख्यमंत्री के समक्ष रिपोर्ट प्रस्तुत की जा सके। प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद ने सभी अधिकारियों को अपने-अपने जिले के चिन्हित टॉप-10 अपराधियों को सजा दिलाने के लिए कोर्ट में शत-प्रतिशत गवाहों की उपस्थिति कराने, गवाही कराने व प्रभावी पैरवी सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये हैं, ताकि उन्हे सलाखों के पीछे भेजा जा सके। उन्होंने प्रदेश के 46 जिलों द्वारा टॉप-10 अपराधियों को दोषसिद्ध कराने को लेकर रुचि न लेने पर नाराजगी जाहिर करते हुए शासन के आदेशों का पालन कड़ाई से करने का निर्देश दिया है।
मालूम हो कि अभियोजन निदेशालय द्वारा 25 मार्च 2022 से लेकर 31 अक्टूबर 2023 तक सिद्धार्थनगर में 7, मेरठ में 6, कौशाम्बी में 6, उन्नाव में 4, रायबरेली में 4, अयोध्या में 4, प्रयागराज में 3, हापुड़ में 3, देवरिया में 4, लखनऊ में 3, बलरामपुर में 2, कन्नौज में 2, इटावा में 2, गौतमबुद्धनगर में 102, फतेहपुर में 2, मुरादाबाद में 2, ललितपुर में 2, जालौन में 2, अमेठी में 2 सजा कराई गई है। इसी तरह कुशीनगर, अम्बेडकरनगर, महाराजगंज, सीतापुर, बिजनौर, बदांयू, कुशीनगर, जौनपुर, बस्ती, एटा द्वारा 1-1 सजा कराई गई है।

श्याम निशान यात्रा में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा

श्याम निशान यात्रा में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा

भानु प्रताप उपाध्याय 
मुजफ्फरनगर। श्री गणपति खाटू श्याम मंदिर भरतिया काॅलोनी में श्री श्याम निशान यात्रा में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा। निशान यात्रा में महिलाएं और बच्चे उत्साह के साथ शामिल हुए। रास्ते में श्रद्धालुओं में फूलों की वर्षा हुई।
निशान यात्रा को लेकर सुबह से ही श्रद्धालुओं में उत्साह रहा। निशान यात्रा शिवचौक से प्रारंभ होकर शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए गणपति धाम मंदिर प्रांगण में संपन्न हुई। निशान यात्रा में शामिल श्रद्धालुओं में उत्साह देखते ही बन रहा था। रास्ते में कई स्थानों पर श्रद्धालुओं पर पुष्प वर्षा हुई। हजारों की संख्या में श्रद्धालु शामिल रहे।
इस अवसर पर पुलिस प्रशासन ने यात्रा को लेकर विशेष व्यवस्था की थी। निशान यात्रा को लेकर एक दिन पहले ही भक्त जनों को निशान वितरित कर दिए गए थे। शाम के समय मंदिर प्रांगण में भजन संध्या का आयोजन किया गया। भजन संध्या देर शाम तक चली। यहां बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। 24 नवंबर को यहां चल रहे कार्यक्रमों को भंडारे के साथ समापन होगा। निशान यात्रा में राज्य मंत्री कपिलदेव अग्रवाल, उद्यमी भीमसेन कंसल, अनिल गर्ग आदि मौजूद रहे।

334 सैन्यकर्मियों की टुकड़ी भारत पहुंची

334 सैन्यकर्मियों की टुकड़ी भारत पहुंची 

अखिलेश पांडेय 
नई दिल्ली/काठमांडू। नेपाल के 334 सैन्यकर्मियों की एक टुकड़ी 17 वें संयुक्त सैन्यभ्यास सूर्य किरण में हिस्सा लेने के लिए शुक्रवार को भारत पहुंच गई। आज से शुरू हो रहा यह अभ्यास सात दिसंबर तक उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में होगा। यह सैन्यभ्यास वार्षिक कार्यक्रम है और दोनों देशों में बारी-बारी से आयोजित किया जाता है। 
अभ्यास में हिस्सा लेने वाली 354 सैन्‍य कर्मियों की भारतीय टुकड़ी का नेतृत्व कुमाऊं रेजिमेंट की एक बटालियन द्वारा किया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ नेपाल सेना की टुकड़ी का प्रतिनिधित्व तारा दल बटालियन कर रही है। सैन्‍यभ्यास का उद्देश्य शांति स्थापना अभियानों में संयुक्त राष्ट्र चार्टर के मुताबिक जंगल युद्ध, पर्वतीय इलाकों में आतंकवाद विरोधी अभियानों और मानवीय सहायता तथा आपदा राहत में संचालन प्रक्रिया में तालमेल को बढ़ाना है।
यह सैन्‍यभ्यास ड्रोनों की तैनाती और ड्रोन-रोधी उपायों, चिकित्सा प्रशिक्षण, विमानन पहलुओं और पर्यावरण संरक्षण पर केंद्रित होगा। इन गतिविधियों के माध्यम से सैनिक परिचालन क्षमताओं को बढ़ाएंगे, युद्ध कौशल को निखारेंगे और चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में समन्वय मजबूत करेंगे। यह सैन्‍यभ्यास दोनों देशों के सैनिकों को विचारों और अनुभवों के आदान-प्रदान के लिए एक मंच उपलब्‍ध करायेगा।
सूर्य किरण सैन्‍यभ्यास भारत और नेपाल के बीच मैत्री, विश्वास और सांस्कृतिक संबंधों की मजबूती का प्रतीक है। अभ्यास का उद्देश्य साझे सुरक्षा लक्ष्‍यों को प्राप्त करना और दो मित्रवत पड़ोसियों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देना है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-35, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. शनिवार, नवंबर 25, 2023

3. शक-1945, कार्तिक, शुक्ल-पक्ष, तिथि-त्रयोदशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:36, सूर्यास्त: 05:18।

5. न्‍यूनतम तापमान- 15 डी.सै., अधिकतम- 24+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...