शुक्रवार, 2 अगस्त 2019

मुख्यमंत्री ने बस स्टेशन का किया लोकार्पण

284.58 लाख की लागत से निर्मित नौसढ़ बस स्टेशन का हुआ लोकार्पण
रिपोर्ट - अभिषेक मिश्रा
गोरखपुर । प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 284.58 लाख की लागत से निर्मित नौसढ़ बस स्टेशन का विधिवत लोकार्पण किया तथा बस स्टेशन से वाराणसी के लिए बस हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इसके पश्चात उन्होंने बस स्टेशन परिसर में वृक्षारोपण भी किया।
नौसढ़ बस स्टेशन से वाराणसी, प्रयागराज, मऊ, आजमगढ़, बड़हलगंज, दोहरीघाट इत्यादि स्थानों हेतु यात्रा सुविधा प्रदान की जायेगी। इस बस स्टेशन के संचालित होने से अस्थायी तौर पर पैडलेगंज से चल रही रोडवेज की बसों के कारण रोजाना लग रहे जाम की समस्या से निजात मिलेगी। नौसढ़ बस स्टेशन पर यात्रियों को अत्याधुनिक सुविधाएं मिलेगी यथा शुद्ध पेयजल, टिकट काउंटर, शौचालय आदि सुविधाएं उपलब्ध होगी। इसके अलावा पूछताछ केन्द्र व वेटिंग हाल का भी निर्माण किया गया है। एल.ई.डी. स्क्रीन पर बसों के आवागमन की जानकारी लगातार मिलती रहेगी।
नौसढ़ बस स्टेशन के निर्माण कार्य अक्टूबर 2017 में प्रारम्भ हुआ और कार्य पूर्ण करने की लक्षित तिथि जुलाई 2019 में थी, जो समय से पूर्ण हो चुका है। चहारदीवारी का कार्य भी पूर्ण है। बस स्टेशन का निर्माण राजकीय निर्माण निगम द्वारा कराया गया है।
इस मौके पर महापौर सीता राम जायसवाल, विधायक डा0 राधामोहन दास अग्रवाल, शीतल  पाण्डेय, विपिन सिंह, क्षेत्रीय अध्यक्ष डा0 धर्मेन्द्र सिंह, महानगर अध्यक्ष राहुल श्रीवास्तव, मण्डलायुक्त जयन्त नार्लिकर, ए.डी.जी. दावा शेरपा, जिलाधिकारी के0 विजयेन्द्र पाण्डियन, एम.डी. यू.पी.एस.आर.टी.सी. डा0 राजशेखर, सी.जी.एम. राजेश वर्मा, जी.एम. (एच.ओ.) राजीव चैहान, ई.ई. इरफान, आर.एम.   डीबी सिंह आदि उपस्थित रहे।


तस्करी के सोने के साथ तीन गिरफ्तार

 विक्रम सिंह यादव


मुजफ्फरनगर ! दुबई से तस्करी कर लाए जा रहे लाखों के सोने के बिस्किट के साथ क्राइम ब्रांच ने तीन लोगों को गुरुवार देर रात खतौली थाना क्षेत्र स्थित हाईवे से हिरासत में ले लिया। तीनों से पूछताछ की जा रही है। तस्‍करी कर सोना लाए जाने की सूचना से पुलिस के वरिष्‍ठ अफसरों में खलबली रही। इस मामले में कुछ अन्‍य लोगों को भी हिरासत में लिया जा सकता है।जनपद मुजफ्फरनगर में शहर से सटे बगोवाली बझेड़ी, ड्ढ़ेडू आदि गांवों के सैकड़ों लोग खाड़ी देशों में काम करते हैं। इन गांवों से दुबई व सऊदी अरब आदि देशों में आना जाना लगा रहता है। क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि दुबई में रहने वाले कुछ लोग सोने की तस्करी कर मुजफ्फरनगर पहुंचा रहे हैं। क्राइम ब्रांच ने रात करीब साढ़े दस बजे खतौली क्षेत्र स्थित हाईवे पर वाहनों की चेकिंग शुरू की। इसी दौरान एक गाड़ी से तलाशी में तस्करी कर लाए गए लाखों के सोने के बिस्किट बरामद हुए। क्राइम ब्रांच ने गाड़ी में सवार तीन लोगों को हिरासत में ले लिया। पुलिस व क्राइम ब्रांच तीनों से पूछताछ में जुटी है।शुरुआती जांच में सामने आया कि दुबई से कुछ लोग लाखों रुपये का सोना तस्करी कर लाए थे। वे एयरपोर्ट से भी बाहर आ गए और सोना तीन अन्य लोगों को सौंप दिया। क्राइम ब्रांच तीनों से पूछताछ कर रही है। हालांकि फिलहाल पुलिस कोई स्पष्ट जानकारी देने से बच रही है, लेकिन सूत्रों के अनुसार क्राइम ब्रांच को बड़ी सफलता मिली है। एसएसपी अभिषेक यादव ने सिर्फ सोना पकड़े जाने की पुष्टि की। एसएसपी का कहना है कि मामले में पूछताछ चल रही है। इसके बाद ही कुछ जानकारी दी जा सकेगी। सूत्रों के मुताबिक क्राइम ब्रांच ने जो सोना पकड़ा है उसमें 200 ग्राम के दो तथा एक 50 ग्राम का बिस्किट है।पुलिस अधिकारियों द्वारा अभी स्पष्ट जवाब न देने से यह कयास भी लग रहे हैं कि बरामदगी बढ़ भी सकती है और कुछ अन्य कनेक्शन भी निकल सकते हैं। क्राइम ब्रांच व स्थानीय पुलिस ने दिल्ली स्थित इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर तैनात कस्टम विभाग के अधिकारियों से संपर्क किया है। सूत्रों की मानें तो पुलिस इस तस्करी से जुड़े अन्य लोगों को दबोचने का भी प्रयास कर रही है। पुलिस व क्राइम ब्रांच के आला अफसर हिरासत में लिए गए तीनों आरोपितों से रातभर पूछताछ में जुटी रही। पुलिस कुछ अन्य लोगों को भी मामले में उठा सकती है। अधिकारी शुक्रवार को प्रेस वार्ता कर सकते हैं।पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपित रियाद में काम करते हैं। एक आरोपित अनवर निवासी गांव बागोवाली कोतवाली नाइमंडी मुज़फ्फरनगर, दूसरा आरोपित मुफीद निवासी सहारनपुर है। इन आरोपितों से पूछताछ के लिए कस्‍टम और एक्‍साइज की एक टीम शाम को मुजफ्फरनगर पहुंच जाएगी।


गंगाजल सप्लाई के लिए विधायक से गुहार

गाज़ियाबाद,साहिबाबाद! मोहननगर जॉन मे गंगाजल की आपूर्ति को लेकर पार्षद सरदार सिंह भाटी के नेतृत्व मे भाजपा पदाधिकारीयो का एक दल  साहिबाबाद विधायक  सुनील शर्मा से मिला और गंगाजल सप्लाई की मांग की l


पार्षद सरदार सिंह भाटी ने बताया साहिबाबाद क्षेत्र के मोहननगर जॉन मे 24 वार्ड आते है! जिसमे लगभग 15 लाख की आबादी रहती है! जिन्हे अभी तक शुद्ध पेयजल की आपूर्ति नहीं मिल पा रही है! कुछ वर्ष पहले भी विधायक सुनील शर्मा के नेतृत्व मे लाखो क्षेत्रवासियों ने गंगाजल की मांग करते हुए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया था! इसलिए हम सभी लोग विधायक से मांग रखने आए है कि उत्तर प्रदेश सरकार से जल्द से जल्द मोहननगर जॉन मे गंगाजल की सप्लाई चालू हो l विधायक सुनील शर्मा ने सभी पार्षदों और भाजपा पदाधिकारियों को आश्वासन दिया है की इस विषय मे माननीय मुख्यमंत्री और नगर विकास मंत्री से बात करूँगा और मेरा प्रयास रहेगा की जल्द से जल्द मोहननगर जॉन मे भी गंगाजल की आपूर्ति सुचारु रूप से चालू हो! यहाँ लाखो निवासियों को गंगाजल का पानी पीने के लिए प्राप्त हो l इस मोके पर पार्षद सरदार सिंह भाटी, पार्षद पवन रेड्डी, रवि भाटी प्रदेश मंत्री, मदनराय, हरिचन्द्र शर्मा, कालीचरण पहलवान,अरुण पंडित, वीरेन्द रावत, साहिल ठाकुर, सोमनाथ चौहान आदि लोग मौजूद रहे?


विधायक ने सुनी जन-समस्या किया जनसंपर्क

गाजियाबाद,मोदीनगर ! स्‍थानीय विधायक डॉ मंजू शिवाच ने नगर पंचायत फरीदनगर का दौरा किया! साथ ही भारतीय जनता पार्टी के सदस्य बनाओ अभियान के तहत अल्पसख्‍ंयक समुदाय के लोगों सहित लगभग 350 व्यक्तियों को भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराई! भाजपा पार्टी की नीती का प्रचार करते हुए क्षेत्र के विकास में किए गए कार्यों की जानकारी दी! कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है! जल्दी क्षेत्र की समस्याओं का निस्तारण कर दिया जाएगा! साथ ही विधायक ने वहां पर उपस्थित व्यक्तियों की जन-समस्याओं को भी सुना और समस्याओं का संबंधित विभागों के अधिकारियों को फोन करके उनका निस्तारण कराया! इस मौके पर सुभाष सांगवान, जितेंद्र चितौड़ा, टेमपाल पवार, चेयरमैन फरीदनगर अनवर अहमद, शरद शर्मा, पुनीत कंसल आदि लोग मौजूद रहे!


हिंदू और मुसलमानों में नहीं हुआ समझौता


अयोध्या में मंदिर निर्माण पर हिन्दू और मुसलमानों में समझौता नहीं हो सका। 
अब 6 अगस्त से सुप्रीम कोर्ट में रोजाना होगी सनुवाई। 

नई दिल्ली ! अयोध्या में भगवान राम के जन्म स्थल पर भव्य मंदिर बने इस पर मुस्लिम पक्षकारों की सहमति नहीं हो सकी है। इसलिए अब सुप्रीम कोर्ट में 6 अगस्त से रोजाना सुनवाई होगी। दो अगस्त को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि कोर्ट ने जो मध्यस्थता कमेटी बनाई थी, वह अपने उद्देश्य में कामयाब नहीं रही है। यानि अयोध्या में भगवान राम का मंदिर बनाए जाने पर मुस्लिम पक्षकारों ने सहमति नहीं दी। मुस्लिम पक्षकार इस विवादित भूमि पर फिर से बाबरी मस्जिद का निर्माण चाहते हैं। कोर्ट ने चार माह पहले जस्टिस कलीफुल्ला की अध्यक्षता में तीन सदस्य मध्यस्थता कमेटी का गठन किया था। इस कमेटी में आर्ट ऑफ लिंविग के प्रणेता श्रीश्री रविशंकर और जाने माने वकील श्रीराम पांचू को शामिल किया। कमेटी ने कई बार हिन्दू और मुसलमानों के प्रतिनिधियों से संवाद किया, लेकिन दोनों पक्ष अपनी अपनी मांग पर अड़े रहे। हिन्दुओं के प्रतिनिधियों का कहना था कि पुरातत्व विभाग की जांच में भी यह बात साफ हो गई है कि अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर था जिसे तोड़ कर मस्जिद का निर्माण किया गया। लेकिन मुस्लिम पक्षकार अपना मस्जिद का दावा छोडऩे को तैयार नहीं थे। जस्टिस गोगोई ने कहा कि जब मध्यस्थता कमेटी समझौता करवाने में कामयाब नहीं रही है तब अब 6 अगस्त से सुप्रीम कोर्ट में रोजाना इस मामले की सुनवाई होगी। यानि सुप्रीम कोर्ट अब विवादित भूमि पर मालिकाना हक के मामले पर सुनवाई करेगा। जस्टिस गोगोई ने साफ कर दिया है कि इस मामले पर जुड़े सभी पक्षकार अपनी अपनी तैयारी कर लें। जिन दस्तावेजों का अनुवाद करवाना है, उनका अनुवाद भी पांच अगस्त तक करवा लिया जाए। सुनवाई के पहले दौर में हिन्दू पक्षकार निर्मोही अखाड़ा और रामलाल विराजमान अपना पक्ष रख सकेंगे। उल्लेखनीय है कि मध्यस्थता कमेटी की सफलता के लिए जस्टिस गोगोई ने कमेटी की कार्यवाही की रिपोर्टिंग पर भी रोक लगा दी थी। जस्टिस गोगोई चाहते थे कि इस विवाद का निपटारा आपसी सहमति से कर लिया जाए, लेकिन कमेटी को इसमें सफलता नहीं मिली।
एस.पी.मित्तल


गहलोत की डिनर डिप्लोमैसी पर पानी फेरा


अशोक गहलोत की डिनर डिप्लोमैसी पर प्रो. जोया हसन ने पानी फेरा। 
सीपी जोशी की टिप्पणी ने किया आग में घी का काम। 
बसपा विधायक राजेन्द्र गुढा की टिप्पणी का मामला मायावती तक पहुंचा। 
गुढा ने प्रदेश प्रभारी धर्मवीर अशोक पर गंभीर आरोप लगाए। 

जयपुर ! 31 जुलाई की रात को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर स्थित सरकारी आवास पर सभी विधायकों का डिनर रखा। इसमें प्रमुख विपक्षी दल भाजपा के विधायकों को भी बुलाया गया। इसके पीछे सीएम गहलोत की मंशा विपक्ष के साथ सद्भावना के माहौल को और मजबूत करने की थी। सीएम की व्यक्तिगत पहल की वजह से भाजपा के अधिकांश विधायक डिनर में शामिल हुए। सीएम ने भी कांग्रेस के साथ-साथ एक-एक भाजपा विधायक का स्वयं स्वागत सत्कार किया। सीएम की इस मिलन सरिता की प्रशंसा प्रतिपक्ष नेता गुलाबचंद कटारिया ने भी की। लेकिन सीएम की इस डिनर डिप्लोमैसी पर अगले ही दिन एक अगस्त को पानी फिर गया। हुआ यूं कि विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की पहल पर राष्ट्रमंडल संसदीय संघ की राजस्थान शाखा और सीएसडीएस के तत्चावधान में विधायकों के लिए सेमीनार का आयोजन किया गया। कायदे से इस सेमीनार में वक्ताओं को विधायी कार्यों पर ही बोलना चाहिए था, लेकिन दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी की निदेशक प्रो. जोया हसन ने पूरा भाषण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा पर केन्द्रित कर दिया। प्रो. जोया ने कहा कि भाजपा के पांच वर्ष के शासन में ऐसा लगता है कि अब भारत हिन्दुओं का ही है। सीधे पीएम पर हमला करते हुए जोया ने कहा कि 2014 का चुनाव विज्ञापन के बल पर जीता गया तो 2019 का चुनाव सड़कों, भवन आदि के नाम बदल कर जीत लिया। जोया ने जिस तरह पीएम और भाजपा को निशाना बनाया, उस पर भाजपा विधायकों ने एतराज किया। इस पर विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि जिसे प्रो. जोया हसन का भाषण नहीं सुनना है, वह जा सकता है। इस पर भाजपा के सभी विधायक सेमीनार छोड़ कर बाहर आ गए। हंगामे के समय सेमीनार में सीएम अशोक गहलोत भी मौजूद थे। 
कांग्रेस की पक्षधर रही हैं जोया हसन:
जानकारों की माने तो सेमीनार में प्रो. जोया हसन को एक रणनीति के तहत बुलाया गया। जोया कांग्रेस की पक्षधर रही हैं। उनके पति को जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी का कुलपति कांग्रेस के शासन में ही बनाया गया। प्रो. जोया स्वयं भी राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग से जुड़ी रही हैं। कांग्रेस की गोष्ठियों, सेमीनार आदि में मुख्यवक्ता के तौर पर भाषण देती रही हैं। पूर्व में जिन कलाकारों, पत्रकारों, बुद्धिजीवियों आदि ने अवार्ड वापस किए, तब प्रो. जोया उनके समर्थन में खड़ी थीं। चंूकि सीपी जोशी विधानसभा अध्यक्ष बनने से पहले कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव भी रहे, इसलिए प्रो. जोया उनके सम्पर्क में थीं। यही वजह रही कि प्रो. जोया को रोकने के बजाए जोशी ने भाजपा विधायकों को ही सेमीनार से चले जाने को कह दिया। सवाल उठता है कि सेमीनार में विधायकों के लिए विधायी कार्य को समझाने के लिए हो रही है, उसमें प्रधानमंत्री और भाजपा की आलोचना क्यों की जा रही है? क्या सीएम अशोक गहलोत और विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की उपस्थिति में कांग्रेस और राहुल गांधी  की आलोचना की जा सकती है? 
गुढा की टिप्पणी मायावती तक पहुंची: 
इसी सेमीनार में उदयपुरवाटी के बसपा विधायक राजेन्द्र गुढा ने कहा कि मेरी पार्टी बसपा में पैसे लेकर टिकिट दिया जाता है। यदि पहले दावेदार से दूसरा ज्यादा पैसे देता है तो उसे उम्मीदवार बना दिया जाता है। गुढा ने जानना चाहा कि राजनीतिक दलों में इस बुराई को कैसे रोका जाए? हालांकि सेमीनार में गुढा के इस सवाल पर किसी ने भी जवाब नहीं दिया, लेकिन गुढा की यह टिप्पणी जब बसपा प्रमुख मायावती तक पहुंच गई। सूत्रों की माने तो मायावती ने गहरी नाराजगी जताई है। अब गुढा को कारण बताओं नोटिस भी दिया जा रहा है। हो सकता है कि गुढा को बाहर का रास्ता दिखा दिया जाए। राजस्थान में बसपा के 6 विधायक हैं। 
प्रदेश प्रभारी पर आरोप:
2 अगस्त को बसपा विधायक राजेन्द्र गुढा ने बसपा के प्रदेश प्रभारी धर्मवीर अशोक पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए। गुढा ने कहा कि धर्मवीर तो भ्रष्टाचार में आकंठ में डूबे हुए हैं। उन्होंने धर्मवीर को राजस्थान का प्रभारी बनाए जाने पर भी आपत्ति दर्ज की। वहीं गुढा ने राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत की जमकर प्रशंसा की। गुढा ने कहा कि गहलोत ही सबको साथ लेकर चल सकते हैं। वहीं बसपा विधायक दल के नेता लाखन मीणा ने कहा कि गुढा ने पैसे देकर टिकिट लेने का जो आरोप लगाया है वह उनकी व्यक्तिगत सोच है। उन्होंने कहा कि बसपा का टिकिट लेने के लिए उन्होंने कोई राशि किसी नेता को नहीं दी।
एस.पी.मित्तल


अजमेर की दुर्दशा,आनासागर के गेट खोले


अजमेर की दुर्दशा पर सांसद चौधरी ने जताई नाराजगी। 
आनासागर के चैनल गेट खोले। 
डूब क्षेत्र में रहने वालों को परेशानी



अजमेर ! भाजपा सांसद भागीरथ चौधरी ने दिल्ली से जिला कलेक्टर विश्वमोहन शर्मा से फोन पर संवाद किया। चौधरी ने एक अगस्त को हुई बरसात के बाद लोगों को होने वाली परेशानी पर नाराजगी जताई। सांसद का कहना है कि जब बरसात पूर्व नालों की सफाई कर दी गई थी, तो फिर तीन घंटे की बरसात में जल जमाव क्यों हुआ? सांसद ने कलेक्टर से कहा कि जल जमाव की समस्या से लोगों को जल्द राहत दिलवाई जाए। 
कलेक्टर ने दिखाई तत्परता:
2 अगस्त को कलेक्टर शर्मा ने भी तत्परता दिखाई। प्रशासनिक लवाजमे के साथ कलेक्टर ने सागर विहार क्षेत्र का दौरा किया। यहां अभी तक भी पानी भरा हुआ है। हालांकि पांच पम्प सेट लगाकर पानी को बाहर निकाला जा रहा है, लेकिन पानी की आवक अभी भी बनी हुई है। सागर विहार क्षेत्र की स्थिति को देखते हुए ही प्रशासन ने आनासागर के चैनल गेट खोलने का निर्णय लिया है। जैसे जैसे आनासागर से पानी की निकासी होगी, वैसे वैसे डूब क्षेत्र की कॉलोनियों में पानी कम हो जाएगा। आनासागर की भराव क्षमता 13 फीट है। एक अगस्त की बरसात में आनासागर लबालब हो गया। यही वजह रही कि आनासागर के किनारे बने मकानों में पानी घुस गया। डूब क्षेत्र में मकान भी गैर कानूनी तरीके से बनाए गए है। दो अगस्त को चैनल गेट खोलने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है। 
स्मार्ट सिटी की पोल खुली:
एक ही बरसात में स्मार्ट सिटी के कार्यों की पोल खुल गई है। सवाल उठता है कि जब जल निकासी की व्यवस्था ही नहीं है तो फिर अजमेर को स्मार्ट सिटी कैसे बनाया जा सकता है। केन्द्र सरकार ने स्मार्ट सिटी के लिए करीब दो हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। इसी में से 250 करोड़ रुपए की लागत का अजमेर में ऐलिवेटेड रोड बनाया जा रहा है। अब तक स्मार्ट सिटी का काम आनासागर के किनारे चौपाटी और पाथवे के रूप में नजर आ रहा है, लेकिन एक अगस्त की बरसात में जिस तरह से आनासागर का पानी उफन कर वैशाली नगर की सड़कों पर आ गया उससे प्रतीत होता है कि चौपाटी का काम भी सही तरीके से नहीं हुआ है। 
एस.पी.मित्तल


अमरनाथ यात्री तुरंत घाटी छोड़े:हाई अलर्ट

जम्मू-कश्मीर। जम्मू कश्मीर सरकार ने पर्यटकों और अमरनाथ यात्रियों को तत्काल घाटी छोड़ने के निर्देश दिये हैं। जम्मू-कश्मीर सरकार ने एक एडवाइजरी जारी कर तत्काल अमरनाथ यात्रियों को तुरंत घाटी छोड़ने को कहा है। एडवाइजरी में साफ तौर पर कहा गया है कि घाटी में आतंकी हमले का खतरा है।


आपको बता दें कि घाटी में आतंकी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में हैं, इसलिए हमने ग्राउंड पर ग्रिड को मजबूत करने की कोशिश की है! उन्होंने बताया कि अमरनाथ यात्रा के दौरान आतंकियों ने घाटी का माहौल बिगाड़ने की कोशिश की थी! आपको बता दें कि 4 अगस्त तक पहले ही सरकार ने अमरनाथ यात्रा रोक दी थी, लेकिन अब यात्रा पूरी तरह से रोक दी गयी है।आतंकियों के पास से एम-24 स्नाइपर राइफल बरामद की गई थी! एडवाइजरी में कहा गया कि राज्य में बड़े आतंकी हमले इनपुट है, इसलिए आप लोग जल्द से जल्द अपनी यात्रा को पूरी करके लौट जाएं! इसके साथ ही अमरनाथ यात्रा को रोक दी गई है!


रजिस्टार ऑफिस में चलाया सदस्यता अभियान

सुनील चौधरी निठौरा रविन्द्र पंवार कपिल पांचाल ने खन्ना नगर वकीलों को दिलाई भाजपा की सदस्यता


गाजियाबाद,लोनी ! भाजपा युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष सुनील चौधरी निठौरा जिला उपाध्यक्ष नितिन त्यागी मंडल अध्यक्ष रविन्द्र पंवार मंडल महामंत्री कपिल पांचाल के नेतृत्व में शुक्रवार खन्ना नगर रजिस्टार ऑफिस के बहार वकीलों को विशेष सदस्यता अभियान के तहत भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता दिलाई गई !जिलाध्यक्ष मंडल महामंत्री ने बताया की हम हर एक - एक व्यक्ति को भाजपा के साथ जोड़ने का कार्य करेंगे और हर एक व्यक्ति को भाजपा की सदस्यता दिलवाने का कार्य करेंगे और भारत को सर्वश्रेष्ठ भारत बनाने के लिए भाजपा के साथ आए देश बनाए !
खन्ना नगर लोनी में टोलफ्री  8980808080 नंबर से निःशुल्क मिस्ड कॉल के माध्यम से सदस्यता फार्म के साथ सदस्यता लेने वाले की पूरी डिडेल के साथ फार्म भरकर लोगों को भाजपा की सदस्यता दिलाई और अधिक से अधिक खन्ना नगर वकीलों के एक-एक चैम्बर पर जाकर भाजपा की सदस्यता दिला कर संगठन को अधिक शक्ति साली बनानें के लिए भारत मे अधिक से अधिक भाजपा की सदस्यता दिलवाने का पूर्ण रूप से अभियान चलाया गया है !देश व प्रदेश में भाजपा सरकार द्वारा चलाई गई जन कल्याणकारी योजनाओं विस्तार से बताया गया जोकि देश प्रदेश में जन कल्याणकरी योजनाओं का हर नागरिक लाभ ले सके l
मुख्यरूप से सुनील चौधरी जिला अध्यक्ष युवा मोर्चा, नितिन त्यागी जिला उपाध्यक्ष,ष अनुज त्यागी जिला महामंत्री, रविन्द्र सिंह पंवार मंडल अध्यक्ष, कपिल पांचाल मंडल महामंत्री ,पूरण सिंह जिला उपाध्यक्ष ,कृष्ण त्यागी जिला मंत्रीी, वरुण धामा मंडल अध्यक्ष, एडवोकेट राजिव भंडारी, सुभाष चन्द्र् पांचाल ,कपिल गुर्जर, गुलाब कशयप, बजरंगी लाल गुप्ता ,तहसीलदार ओमवीर वालमीकि आदि सैकड़ो उपस्थिति रहे!


किशोरी के साथ चार ने किया रेप:औरैया

किशोरी के साथ चार युवकों ने किया दुष्कर्म


 औरैया ! शहर कोतवाली क्षेत्र में बुधवार रात शौच क्रिया के लिए गई किशोरी से चार युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। उनकी दरिंदगी के चलते किशोरी बेहोश हो गई। आरोपित उसे निर्वस्त्र छोड़कर भाग निकले। काफी देर तक किशोरी के नहीं लौटने पर तलाश में निकली मां ने उसकी हालत देखी तो पैरों के नीचे जमीन खिसक गयी। शोर सुनकर लोग पहुंचे और पुलिस को सूचना दी गयी। पुलिस ने पीड़िता को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। दबिश देकर पुलिस ने दो आरोपितों को रात में ही हिरासत में ले लिया। पीड़िता के पिता की तहरीर पर पुलिस ने दो नामजद व दो अज्ञात के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में रिपोर्ट दर्ज की है। गुरुवार दोपहर इलाज के बाद पीड़िता को घर भेज दिया गया।
तहरीर में पिता ने बताया कि उसकी 14 साल की बेटी बुधवार रात शौच के लिए खेत गई थी। उसी समय मोहल्ले के आरिफ पुत्र सुलेमान व बंटी पुत्र वीरेंद्र ने अपने दो साथियों के साथ उसे दबोच लिया और उसका मुंह बंद कर दिया। इसके बाद चारों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। बेहोश होने पर आरोपित उसे निर्वस्त्र छोड़कर भाग निकले। काफी देर तक नहीं आने पर जब उसकी पत्नी खोजने गई, तो वह खेत में बेहोशी की हालत में मिली।


पिता की तहरीर पर पुलिस ने आरिफ और बंटी समेत चार के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। कोतवाल आलोक दुबे का कहना है कि रात में ही दबिश देकर दो आरोपितों को हिरासत में ले लिया गया है। पूछताछ की जा रही है। अन्य आरोपित भी जल्द गिरफ्तार कर लिए जाएंगे।


विद्यालय में रखी जाएगी शिकायत पेटीकाएं

विद्यालयों में रखी जाएंगी शिकायत पेटिकाएं


 औरैया,दिबियापुर ! नगर स्थित पीबीआरपी अकादमी में बालिका एवं सड़क सुरक्षा जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि एसपी सुनीति ने इसका शुभारंभ किया। उन्होंने छात्रओं को आत्मरक्षा के साथ ही विद्यालयों में शिकायत पेटिकाएं रखे जाने की जानकारी दी।
पुलिस अधीक्षक सुनीति ने बच्चों को बताया कि किसी भी शोषण से बचने के लिए विभाग से संवाद स्थापित करना चाहिए। हेल्पलाइन नंबर 1090,1076, 100, 181 के बारे में विस्तार से चर्चा की। छात्रओं को यदि कोई संदिग्ध नजर आए या किसी भी छात्र के साथ अप्रिय घटना की आशंका समझ में आए तो वह तुरंत पुलिस को उक्त नंबरों पर सूचित करे। सूचना देने वाली छात्र व महिला का नाम गुप्त रखा जाता है व संबंधित आरोपित के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाती है। आत्मरक्षा के गुर सीखने का भी आह्वान किया। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में शीघ्र ही शिकायत पेटिकाएं रखवाई जाएंगी। जिसकी चाबी पुलिस के पास होगी। छात्रएं शिकायत पेटिका के माध्यम से पहुंचा सकती हैं। उनका मुख्य उद्देश्य आत्म रक्षा एवं सड़क सुरक्षा के नियमों की जानकारी प्रत्येक छात्र व छात्रओं तक पहुंचाना है। इस मौके पर अजय शुक्ला, विद्यालय के संस्थापक संतोष पांडेय, विक्रांत दुबे, अपूर्वा उपाध्याय, संदीप योगी, साक्षी सिंह, पीयूष शोभिता, गो¨वद, गौरव दीक्षित आदि मौजूद रहे।


पालिका भ्रष्टाचार का दामन ना छोड़ेंगे

नगर पालिका का दामन हम न छोड़ेंगे
रिटायरमेंट के बाद भी नगर पालिका  में वर्चस्व


समर चंद्र


मिर्जापुर। पालिका ने उनसे अपना दामन मुद्दतों बाद छुड़ाया था। उनकी विदाई हो गई थी। तलाक की नौबत नहीं आई थी। सब कानून की रोशनी में हुआ था। अब सरकारें अपने मुलाजिमों को 50 साल बाद नहीं देखना चाहती हैं। उनका तो 60 साल पूरा हो गया था। फिर क्या था, सेवानिवृत्ति के पश्चात उन्होंने बड़ी हकदारी से अपना सारा पावना ले लिया था। उन्हें अब पेंशन मिलती है। अब उनका कुछ भी बाकी नहीं है। फिर भी वो पालिका के पीछे लगे हुए हैं। न जाने कौन सा हुस्न उन्होंने पालिका में देखा है। लोग एक बार पालिका से जाने के बाद पालिका की तरफ रुख नहीं करते, जनाब हैं कि अब भी दिन-रात पालिका के लिए जान दे रहे हैं। लोग कहते हैं कि जवानी पालिका के चौखट पर गुजारने के बाद अब कहां जाएंगे। बहरहाल, उनके पड़ोसी उनसे बचके रहते हैं। वो अक्सर गाली देने के बाद बड़ी विनम्रता दिखाते हैं। माफी तक मांग लेते हैं। उनका कोई मुकाबला नहीं है। हर बार अध्यक्ष बदल जाता है। अधिशासी अधिकारी बदल जाता है। जनाब का दिल भी हर बार मचल जाता है। जाने वाले लौट कर नहीं आते हैं, पर जनाब तो बार-बार लौट कर आते हैं। हाय! मोहब्बत जो न कराए। इधर बेताब इश्क, उधर पालिका की सदाबहार जवानी। पालिका के कशिश से बचना मुश्किल। दीवानगी ऐसी कि अचानक अपनी बातों का रेशमी रुमाल लहराने  लगते हैं। झुक झुक कर सलाम करने लगते हैं। उनका मुस्कुराना गजब ढाता है। मासूमियत इतनी कि हर कोई फिदा हो जाए। अदा अदा में जादू। उनके चक्कर का कोई टक्कर नहीं। एक से बढ़कर एक आशिकाना प्लान। 


किसी की भी इमेज बनाना और बिगाड़ना उनके हाथ में है। विरोधी भ्रमित रहते हैं और समर्थक पागल हो जाते हैं। लोग कहते हैं कुछ भी हो जनाब की बहुत जरूरत है। पालिका में समीकरण सही रहता है। मामला एक तरफा नहीं रहता। रस्साकशी के दौर में कुछ लोगों को मदद तो मिल जाती है। भटकते हुए लोगों को सहारा मिल जाता है। इधर पालिका कहती है कि छोड़ दो मेरा पीछा जमाना क्या कहेगा। लेकिन जनाब पान खाकर कहते हैं कि मैं दुनिया लुटा दूंगा तेरी चाहत में। लोग मजाक में कहते हैं कि न वो सपाई हैं, न भाजपाई हैं, न आईएसआई हैं, बेकरारी के आलम में खुदा कसम वो मिठाई हैं। पता नहीं इस मजाक में कितनी सच्चाई है। वैसे पालिका में एक से बढ़कर एक लोग हैं, पर उनके जैसा काम और नाम करने वाले कम हैं, पर हैं। खुदा खैर करे।


सड़क हादसे में थानाध्यक्ष,एसआई की मौत

सिद्धार्थनगर ! सड़क दुर्घटना में थानाध्यक्ष सहित एक उपनिरीक्षक की हुई मौत |हादसे में दो लोग गंभीर रूप से घायल होने के कारण पुलिस विभाग मे सभी के चेेहरो पर उदासी छाई हुुई है! चिल्हिया थानाध्यक्ष राजकुमार यादव व उपनिरीक्षक नित्यानंद यादव की हुई मौत |विभागीय कार्य से जा रहे थे इलाहबाद उच्चन्यालय |सुल्तानपुर के कूड़ेभार थाना क्षेत्र में हुआ हादसा |2013 बैच के थे थानाध्यक्ष राजकुमार यादव व 2016 बैच के थे उपनिरीक्षक नित्यानंद यादव |


एक्‍सएल-6 का अधिकारिक स्केच जारी

नई दिल्ली। देश की यात्री कार वर्ग की अग्रणी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने नये आने वाले बहुउद्देशीय वाहन एक्सएल 6 का आधिकारिक स्केच शुक्रवार को जारी किया । पहले आई रिपोर्टों के अनुसार मारुति एक्सएल-6 को 21 अगस्त को बाजार में उतारेगी। इस बहुउद्देशीय वाहन को अर्टिगा के आधार पर तैयार किया है जिसे नेक्सा शोरुम के जरिए बेचा जायेगा। कंपनी के विपणन और बिक्री विभाग के कार्यकारी निदेशक शशांक श्रीवास्तव ने कहा एक्सएल-6 प्रीमियम बहुउद्देशीय वाहन होगा जिसे नेक्सा शोरुम के जरिये बेचा जायेगा। उन्होंने कहा कि इसमें स्पोर्टी डिजाइन और प्रीमियम फीचर्स की एक साथ झलक मिलेगी। कंपनी को उम्मीद है कि यह वाहन अपने वर्ग में एक अलग स्थान बनाने में सफल होगा। श्रीवास्तव ने कहा कि स्थान, कम्फर्ट के अलावा उपभोक्ता की इच्छा के अनुरूप इसमें फंक्शन का भी पूरा ध्यान रखा गया है। एक्सएल-6 तीन पंक्तियों की सीट वाला वाहन है। कंपनी ने एक्सएल-6 के बारे में और अधिक विवरण नहीं दिया है।


स्वास्थ्य मंत्रालय रिपोर्ट पर करेगा बैठक

नई दिल्ली ! स्वास्‍थ्‍य मंत्रालय नेशनल डिजिटल हेल्‍थ ब्‍लूप्रिंट (एमडीएचबी) रिपोर्ट पर हितधारकों की टिप्‍पणियों और सुझावों के लिए स्‍वास्‍थ्‍य सचिव की अध्‍यक्षता में 6 अगस्‍त, 2019 को सुबह साढे दस बजे से स्‍पीकर हाल कांस्‍टीट्यूश्‍नल क्‍लब रफी मार्ग, भारतीय रिजर्व बैंक के पीछे, संसद मार्ग क्षेत्र, नई दिल्‍ली में हितधारक परामर्श बैठक आयोजित करने जा रहा है।राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य नीति 2017 के विजन को पूरा करने के लिए नेशनल हेल्‍थ स्‍टैक की रूपरेखा को लागू करने के बारे में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय द्वारा गठित समिति ने समग्र रूप से डिजिटल टेक्‍नालॉजी को अपनाने में वैश्विक श्रेष्‍ठ व्‍यवहारों का सर्वे करने के बाद नेशनल डिजिटल हेल्‍थ ब्‍लूप्रिंट का प्रस्‍ताव किया। सार्वजनिक टिप्‍पणियों के लिए रिपोर्ट को 15 जुलाई, 2019 को सार्वजनिक किया गया।


जुआ बाजार में पत्नी को दांव पर लगाया

जौनपुर ! सरकार महिलाओं पर अत्याचार और दुष्कर्म की घटनाओं को रोकने के लिए रोज नए- नए कानून बना रही है, लेकिन अपराधियों को न तो कानून से डर है और न ही पुलिस का भय। महिलाओं की इज्जत की लाज रखने या कहें कि उन्हें बचाने की जिम्मेदारी जिनके ऊपर होती है, उन्हीं ने उसके जिस्म को जुए के बाजार में बेच दिया। ताजा मामला है उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले का जहां पर एक शख्स ने अपने पत्नी का ही सौदा जुए के खेल में कर दिया।रिपोर्ट के अनुसार, एक शराबी पति ने जुए में हारने के बाद अपनी पत्नी को दोस्तों के हाथों सामूहिक दुष्कर्म करने के लिए छोड़ दिया। इसके बाद जब महिला ने घटना की शिकायत पुलिस में की तो, वहां पर रिपोर्ट दर्ज करने से मना कर दिया गया। थक- हार कर महिला ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और तब जाकर अदालत के आदेश पर पुलिस ने महिला की एफआईआर दर्ज की।


जानकारी के अनुसार, पीड़िता ने अदालत में प्रार्थनापत्र देते हुए कहा कि उसका पति शराबी और जुआरी हैं। ससुराल में पति के एक दोस्त और एक रिश्तेदार अमूमन घर पर आया करते थे। घर पर भी शराब पीने और जुआ खेलने का दौरा जारी रहता था। एक दिन रूपए खत्म होने के बाद पति ने उसको ही दांव पर लगा दिया और जुए में हार गया। इसके बाद दो लोगों ने महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। वह इस दुख को सह नहीं पाई और अपने मायके चली गई।पीड़ित ने कहा कि एक दिन पति मायके में आया और माफी मांगते हुए कहने लगा कि वह अब ऐसी गलती नहीं करेगा। इसके बाद वह पति के साथ जाने लगी, लेकिन अचानक उसने रास्ते में कार रोककर उन व्यक्तियों को बैठा लिया जिन्होंने उसका बलात्कार किया था। इसके बाद उन दोनों ने महिला के साथ फिर से बारी-बारी से बलात्कार किया।


बर्थडे केक काटने के लिए चलाई गोली

बागपत ! इस वक्त यूपी अपनी कानून व्यवस्था को लेकर लगातार सवालों के घेरे में है, तो वहीं इसी बीच एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है! जिसमें एक शख्स सरेआम हाथ में बंदूक लेकर अपने कुछ साथियों संग घूम रहा है और यही नहीं वो अपना केक काटने के लिए बंदूक का इस्तेमाल करता है! जब ठांय-ठाय करके बंदूक पर गोली चलाता है तो उसके साथी खुश होकर ताली बजाते हैं और जोर-जोर से चिल्लाकर 'हैप्पी बर्थडे टू यू' सॉन्ग गाते है।


वायरल हो रहा ये वीडियो बागपत के सरूरपुर खेरकी गांव का बताया जा रहा है! फिलहाल वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिलस महकमा एक्टिव हुआ, घटना को संज्ञान में लेते हुए बागपत सर्कल अधिकारी ओपी सिंह ने कहा कि जल्द ही आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की जाएगी. उन्होंने कहा, वीडियो हमारे संज्ञान में आया है और हमने जांच शुरू कर दी है, आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा क्योंकि वह एक अवैध हथियार का इस्तेमाल करते हुए दिखाई दे रहा है।


 


कश्मीर पर सिर्फ पाक से बात करेंगे:जयशंकर

नई दिल्ली। कश्मीर को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मध्यस्थता वाले बयान पर भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा भारत कश्मीर पर अगर चर्चा करेगा तो केवल पाकिस्तान से करेगा और उसे इसके लिए किसी भी देश की मध्यस्थता की जरूरत नहीं है।आपको बता दें आज बैंकॉक में अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो और भारत के विदेश मंत्री एस जशंकर की मुलाकात हुई। इस मुलाकात में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कड़ी आपत्ति जताई है। विदेश मंत्री ने कहा है कि कश्मीर का मसला द्विपक्षीय है और इसमें किसी तीसरे की मध्यस्था की जरूरत नहीं है।जानकारी के मुताबिक जयशंकर ने अपने अमेरिकी समकक्ष माइक पॉम्पियो को शुक्रवार को यह स्पष्ट किया कि यदि कश्मीर पर किसी वार्ता की आवश्यकता हुई, तो वह केवल पाकिस्तान के साथ होगी और द्विपक्षीय होगी। वह आसियान-भारत मंत्रिस्तीय बैठक, नौवें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में विदेश मंत्रियों की बैठक, 26वें आसियान क्षेत्रीय मंच और 10वें मेकोंग गंगा निगम मंत्रिस्तरीय बैठक समेत कई सम्मेलनों में भाग लेने यहां आए हैं।


बेपनाह दर्द,मुसीबत झेल रही बेटी:प्रियंका

नई दिल्ली। उन्नाव बलात्कार कांड को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने टवीट करके कहा, 'बेपनाह मुसीबतें झेल रही और दर्द से लड़ रही उन्नाव की बेटी को अब इंसाफ मिलने की उम्मीद जगी है। इस कांड को लेकर देश भर में गुस्सा देखने को मिल रहा है।बेपनाह मुसीबतें झेल रही और दर्द से लड़ रही उन्नाव की बेटी को अब इंसाफ मिलने की उम्मीद जगी है।उन्नाव की बेटी को न्याय दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रहे तमाम कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नागरिकजनों का धन्यवाद। आपको बता दें इससे पहले उन्होंने कहा था सुप्रीम कोर्ट की आभारी हैं, मामले में संज्ञान लेकर उत्तर प्रदेश में चल रहे जंगलराज का खुलासा करने के लिए। इसी बीच बीजेपी ने भी आखिर यह जाना कि उसने एक अपराधी को शक्तिशाली बना रखा था और अब ठीक करने को लेकर कुछ कदम उठाते हुए पीड़ित महिला को न्याय दिलाने की तरफ पहल की है।


सांसद साध्वी प्रज्ञा से मांगा जवाब:एचसी

भोपाल। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने भाजपा की निर्वाचित सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। भोपाल के रहने वाले राकेश दीक्षित ने चुनाव याचिका दायर कर साध्वी प्रज्ञा पर ये आरोप लगाया है। याचिका में मांग की गई कि प्रज्ञा ठाकुर का निर्वाचन शून्य किया जाए।आपको बता दें राकेश दीक्षित ने याचिका दायर कर प्रज्ञा ठाकुर का निर्वाचन शून्य करने की मांग की है। इस पर जस्टिस विशाल धगट की एकलपीठ ने साध्वी को 4 हफ्ते में जवाब पेश करने का आदेश दिया है। वहीं मामले की अगली सुनवाई आगामी 9 सितंबर को है!


जानकारी के मुताबिक प्रचार के दौरान साध्वी ने यह कहा था कि दिग्विजय सिंह ने भगवा आतंकवाद कहकर हिंदू धर्म को बदनाम करने की साजिश की है। बहरहाल, आरोपों के समर्थन में याचिका के साथ शिकायतकर्ता ने साध्वी के बयानों की सीडी, अखबारों की कटिंग और अन्य सामग्री भी कोर्ट में पेश की है।


नीति-आयोग का मसौदा तैयार:यूपी

लखनऊ ! राज्य नीति आयोग का मसौदा तैयार कर लिया गया है। जल्द ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष इसका प्रस्तुतीकरण करके, अंतिम रूप दिया जाएगा। इस दौरान सीएम से अगर कोई सुझाव मिलता है तो उसे मसौदे में शामिल कर, मंजूरी के लिए कैबिनेट में रखा जाएगा। वहां से हरी झंडी मिलने के बाद औपचारिक रूप से आयोग के गठन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। नीति आयोग के गठन से संबंधित कार्यवाही मुख्य सचिव की निगरानी में नियोजन विभाग कर रहा है।
बता दें, हाल ही में केंद्रीय नीति आयोग की टीम प्रदेश के दौरे पर आई थी। आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने मुख्यमंत्री के साथ बैठक के दौरान प्रदेश के समग्र विकास के लिए जल्द से जल्द राज्य नीति आयोग के गठन पर जोर दिया था। इसके बाद शासन स्तर पर राज्य नीति आयोग के गठन की प्रक्रिया तेज कर दी गई है।


मावा के 1468 सैंपल, 21 लाख जुर्माना

भोपाल। मध्यप्रदेश में सिंथेटिक दूध और दुग्ध उत्पाद की रिपोर्ट में चौकाने वाला खुलासा हुआ है। स्टेट फूड लेबोरेटरी की जांच में आधे सैंपल फेल हो गए हैं। अब तक कुल 40 सैंपल की जांच हुई है। जिसमें से 20 सैंपल फेल पाए गए हैं। इन 20 सैंपल में से दो में हानिकारक केमिकल मिले हैं, जबकि तीन मिस ब्रांडेड और 15 नमूने तय मानक के अनुसार नहीं निकले है।मिलावट खोरों पर बड़ी कार्यवाही, 3 मावा कारोबारियों पर लगाया गया 21 लाख का जुर्माना, 2016-17 में लिए गए थे सेम्पल, भोपाल लैब में पाए गए अमानक।रिपोर्ट के आधार पर प्रशासन ने मिलावटी खाद्य पदार्थ बेचने वाले इन 20 कारोबारियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। कारोबारियों के खिलाफ फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। साथ ही इन सबके खिलाफ क्षेत्रीय पुलिस थानों में भी एफआईआर दर्ज कराई गई है। आपको बता दें दूध और दूध से बने खाद्य उत्पादों में मिलावट का खुलासा होने के बाद प्रदेशभर से अब तक 1468 सैंपल लिए गए हैं। जिनकी अभी रिपोर्ट आना बाकी है।


दिव्यांगों को विवाह पर मिलेगा अनुदान

गोंडा ! दिव्यांग व्यक्तियों से विवाह करने पर दम्पत्ति व युवती को संयुक्त रूप में प्रोत्साहन पुरस्कार अनुदान प्रदान किया जायेगा। यह जानकारी देते हुए जिला दिव्यांगजन श्सशक्तीकरण अधिकारी मोतीलाल ने बताया कि ऐसे दिव्यांग दम्पत्ति जो भारत के नागरिक हों, दम्पत्ति उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी या कम से कम पांच वर्ष से उसका अधिवासी हो, दम्पत्ति में से कोई सदस्य किसी आपराधिक मामले में दण्डित न किया गया हो, शादी के समय युवक की आयु 21 वर्ष से कम तथा 45 वर्ष से अधिक न हो। युवती की उम्र 18 वर्ष से कम, 45 वर्ष से अधिक न हो, दम्पत्ति का विवाह सामान्य युवक/युवती अथवा दिव्यांग में प्रचलित समाज की रीति-रिवाज के अनुसार हुआ हो या सक्षम न्यायालय द्वारा कानूनी विवाह किया गया हो, दम्पत्ति में से कोई सदस्य आयकरदाता की श्रेणी में न हों, जिसके पास पूर्व से कोई जीवित पति या पत्नी न हो और उनके ऊपर महिला उत्पीड़न या अन्य आपराधिक वाद न चल रहा हो,। उन्होने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष एवं विगत वित्तीय वर्ष में सम्पन्न विवाह के ही आवेदन पत्र नियमानुसार अनुदान हेतु मान्य होगें, अनुदान की धनराशि दम्पत्ति में युवक के दिव्यांग होने पर सामान्य युवती द्वारा विवाह करने पर पन्द्रह हजार रूपये होगी तथा अनुदान की धनराशि दम्पत्ति में युवती के दिव्यांग होने पर सामान्य युवक द्वारा विवाह करने पर केवल बीस हजार रूपए होगी। इसी प्रकार अनुदान की धनराशि दम्पत्ति (युवक-युवती दोनों) के दिव्यांग होने की दशा में विवाह करने पर केवल पैंतीस हजार रूपये होगी। योजना का लाभ लेने वाले दिव्यांगजन विभागीय वेबसाइट http://divyangjan.upsdc.gov.in पर आनलाइन कराकर हार्ड कापी विकास भवन, गोण्डा में स्थित जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी, गोण्डा के कार्यालय में आवेदन जमा कर सकते हैं।


वित्त-मंत्रालय वैश्विक व्यापार बढ़ाने को प्रतिबद्ध

नई दिल्ली ! वित्त मंत्रालय का राजस्‍व विभाग वैश्विक व्‍यापार बढ़ाने की अपनी रणनीतिक प्रतिबद्धता के तहत 1 से 7 अगस्‍त के बीच भारत का प्रथम राष्‍ट्रीय 'टाइम रिलीज स्‍टडी (टीआरएस)'कराएगा। इसके बाद से हर साल इसी अवधि के दौरान इस कवायद को संस्‍थागत रूप प्रदान किया जाएगा। टीआरएस दरअसल अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर मान्‍यता प्राप्‍त एक साधन (टूल) है जिसका उपयोग अंतरराष्‍ट्रीय व्‍यापार के प्रवाह की दक्षता एवं प्रभावकारिता मापने के लिए किया जाता है और इसकी वकालत विश्‍व सीमा शुल्‍क संगठन ने की है।


उत्‍तरदा‍यी गवर्नेंस से जुड़ी इस पहल के जरिये कार्गो यानी माल के आगमन से लेकर इसे भौतिक रूप से जारी करने तक वस्‍तुओं की मंजूरी के मार्ग में मौजूद नियम आधारित और प्रक्रियागत बाधाओं (विभिन्‍न टचप्‍वाइंट सहित) को मापा जाएगा। इसका मुख्‍य उद्देश्‍य व्‍यापार प्रवाह के मार्ग में मौजूद बाधाओं की पहचान करना एवं उन्‍हें दूर करना है और इसके साथ ही प्रभावशाली व्‍यापार नियंत्रण से कोई भी समझौता किए बगैर सीमा संबंधी प्रक्रियाओं की प्रभावकारिता एवं दक्षता बढ़ाने के लिए आवश्‍यक संबंधित नीतिगत एवं क्रियाशील उपाय करना है। इस पहल के अपेक्षित लाभार्थी निर्यात उन्‍मुख उद्योग और सूक्ष्‍म, लघु एवं मध्‍यम उद्यम (एमएसएमई) होंगे जो तुलनीय अंतरराष्‍ट्रीय मानकों के साथ भारतीय प्रक्रियाओं के और अधिक मानकीकरण से लाभ उठाएंगे।इस पहल से भारत को 'कारोबार में सुगमता' विशेषकर सीमा पार व्‍यापार संकेतक के मामले में अपनी बढत को बरकरार रखने में मदद मिलेगी जो सीमा पार व्‍यापार की व्‍यवस्‍था की दक्षता को मापता है। पिछले वर्ष इस संकेतक से जुड़ी भारत की रैंकिंग 146वीं से सुधरकर 80वीं हो गई।इससे पहले व्‍यक्तिगत सीमा शुल्‍क संगठन बंदरगाह स्‍तर पर स्‍वतंत्र रूप से 'टीआरएस' यानी 'कार्गो जारी करने के समय से जुड़े अध्‍ययन' करते रहे थे। राष्‍ट्रीय स्‍तर पर किए जाने वाले टीआरएस ने इसे एक कदम और आगे बढ़ा दिया है तथा एकसमान एवं बहुआयामी क्रिया विधि विकसित की है जो कार्गो मंजूरी प्रक्रिया के नियामकीय एवं लॉजिस्टिक्‍स पहलुओं को मापती है और वस्‍तुओं के लिए औसत रिलीज टाइम को प्रमाणित करती है।


यह अध्‍ययन एक ही समय में 15 बंदरगाहों पर कराया जाएगा! जिनमें समुद्री, हवाई, भूमि एवं शुष्‍क बंदरगाह शामिल हैं और जिनका आयात संबंधी कुल प्रवेश बिलों ( (बिल ऑफ एंट्री)) में 81 प्रतिशत और भारत के अंदर दाखिल किए जाने वाले निर्यात संबंधी शिपिंग बिलों में 67 प्रतिशत हिस्‍सेदारी होती है। राष्‍ट्रीय स्‍तर वाला टीआरएस आधारभूत प्रदर्शन माप को स्‍थापित स्‍थापित करेगा और इसके तहत सभी बंदरगाहों पर मानकीकृत परिचालन एवं प्रक्रियाएं होंगी।टीआरएस के निष्‍कर्षों के आधार पर सीमा पार व्‍यापार से जुड़ी सरकारी एजेंसियां उन मौजूदा एवं सभावित बाधाओं को पहचानने में समर्थ हो जाएंगी जो व्‍यापार के मुक्‍त प्रवाह के मार्ग में अवरोध साबित होती हैं। इसके साथ ही ये सरकारी एजेंसियां माल या कार्गो जारी करने के समय को घटाने के लिए आवश्‍यक सुधारात्‍मक कदम भी उठाएंगी। यह पहल केंद्रीय अप्रत्‍यक्ष कर एवं सीमा शुल्‍क बोर्ड की अगुवाई में हो रही है।


पांच सूत्रीय मांगो को लेकर धरना:सपा

फिरोजाबाद। मुलायम सिंह यादव यूथ बिग्रेड  ने आज सुभाष  चौराहे पर उन्नाव  रेप केस के  संबंध में आंदोलन किया! साथ ही उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के नाम ज्ञापन समर्पित किया! ज्ञापन में लिखा है कि सरकार के मुख्यमंत्री व अन्य मंत्री गण भाषणों में महिला सुरक्षा का नारा लगाते हैं! कानून-व्यवस्था,किसान-कल्याण एवं अन्य योजनाओं व कार्यक्रमों की सुनती व बुनियाद घोषणाएं दिन-प्रतिदिन करते है! जबकि वास्तव में धरातल पर महिलाओं की सुरक्षा की दयनीय स्थिति है! निम्नलिखित समस्याओं को लेकर ज्ञापन दिया गया! 


1- उन्नाव रेप कांड में सरकार की उदासीनता
2-  समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न
3-  पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद आजम खां पर सरकार का तानाशाही  रवैया
4-  फिरोजाबाद में स्वास्थ्य विभाग की  बेहाल चिकित्सा व्यवस्था  से 1 बच्चों की मृत्यु
5- बिगड़ती कानून व्यवस्था
इन सभी मुद्दों को लेकर आज मुलायम सिंह यादव यूथ बिग्रेड के कार्यकर्ता व समाजवादी पार्टी के पदाधिकारी धरने पर बैठे और यूपी सरकार व केंद्र सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाए!


संवाददाता- रिहान अली 


पुलिसकर्मी ने लगाया डीएसपी पर आरोप

राणा ओबराय
रोहतक ! रोहतक में विजिलेंस विभाग के एक डीएसपी पर महिला पुलिसकर्मी के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगा है! जिसके बाद आरोपी डीएसपी के खिलाफ कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है! वहीं आरोपी डीएसपी को पंचकूला हैड क्वार्टर भेज दिया गया है। मामला विभाग से जुड़ा हुआ है! इसलिए पुलिस विभाग के अधिकारी भी ज्यादा कुछ नहीं बोल रहे हैं। जानकारी के मुताबिक रोहतक विजिलेंस में तैनात डीएसपी नरेंद्र कुमार पर उन्ही के विभाग की एक महिला पुलिसकर्मी ने छेड़छाड़ करने और अश्लील बातें करने का आरोप लगाया है। जिसके बाद रोहतक के अर्बन इस्टेट थाने में धारा 354, 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं पुलिस विभाग ने तुरंत ही आरोपी डीएसपी का तबादला भी कर दिया है। इधर पीड़ित महिला पुलिसकर्मी का कहना है कि उसे डीएसपी नरेंद्र कुमार परेशान करता है और उसके साथ अश्लील बातें करता है! वहीं कई बार छुट्टी के बाद भी रोक लेता है। महिला पुलिस कर्मचारी ने कहा कि उसकी सामाजिक प्रतिष्टा पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है तथा वह खुद ही मानसिक रुप से परेशान हो रही है। वहीं पुलिस ने आरोपी डीएसपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है और आरोपी डीएसपी को जांच में शामिल करने की बात कही है।


हाई-ऑपरेशन अलर्ट:इंडियन आर्मी-एयरफोर्स

मोदी सरकार ने 28 हजार अतिरिक्‍त जवान कश्‍मीर भेजे, हाई ऑपरेशनल अलर्ट पर आर्मी-एयरफोर्स


नई दिल्ली ! कश्मीर घाटी में सीआरपीएफ और अन्य पैरामिलिटरी जवानों की तेजी से तैनाती के लिए सरकार ने C-17 समेत भारतीय वायुसेना के विमानों को भी सेवा में लगाया है। वहीं, कश्मीर घाटी में मौजूदा हालात के मद्देनजर सरकार ने आर्मी और एयरफोर्स को हाई ऑपरेशनल अलर्ट पर रखा है।जम्‍मू-कश्‍मीर में पिछले लगभग 15 दिनों में भारी संख्‍या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। 10 हजार अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती के फैसले के हफ्ते के भीतर मोदी सरकार कश्‍मीर घाटी में 28 हजार और जवानों को भेज रही है। खबरों के मुताबिक, लगभग 28 हजार जवान शुक्रवार की सुबह से घाटी में पहुंचने लगे हैं और उन्हें राज्य के अलग-अलग इलाकों में तैनात किया जा रहा है।


मोदी सरकार इसे आतंकवाद विरोधी कार्रवाई को और मजबूती देने का कदम बता रही है। हालांकि, इतनी बड़ी संख्‍या में सुरक्षबलों की तैनाती को लेकर विपक्ष ने सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। गृह मंत्रालय का कहना है कि केंद्रीय बलों की तैनाती और वापसी लगातार चलने वाली प्रक्रिया है।


अर्थव्यवस्था 2 अंक फिसली, सातवा नंबर

नई दिल्ली ! भारत अर्थव्यवस्था की रैंकिंग में 5वें से 7वें नंबर पर फिसल गया है। वर्ल्ड बैंक ने जीडीपी के आधार पर देशों की 2018 की रैंकिंग जारी की। 2017 में भारत ने ब्रिटेन को पीछे छोड़ 5वां स्थान हासिल किया था। लेकिन, 2018 में ब्रिटेन और फ्रांस से पीछे हो गया। 20.5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के साथ अमेरिका टॉप पर है।
अर्थशास्त्रियों के मुताबिक मुद्रा में उतार-चढ़ाव और ग्रोथ में सुस्ती की वजह से रैंकिंग प्रभावित हुई। 2017 में डॉलर के मुकाबले रुपया 3% मजबूत हुआ था लेकिन 2018 में 5% गिरावट आई।


2018-19 में जीडीपी ग्रोथ 6.8% रही। यह 5 साल में सबसे कम है। आर्थिक सर्वे के मुताबिक बीते 5 साल में विकास दर औसत 7.5% रही। सर्वे के मुताबिक 2025 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल करने के लिए हर साल 8% ग्रोथ की जरूरत है। इसमें खपत और निवेश की अहम भूमिका होगी।


पाक को अमेरिकी मदद, चिंता का विषय

नई दिल्ली ! अमेरिका की तरफ से पाक सेना को 865 करोड़ रुपए की मदद दिए जाने के फैसले को भारत ने गंभीर चिंता का विषय बताया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि इस मामले को दिल्ली स्थित अमेरिकी राजदूत और वॉशिंगटन में ट्रम्प प्रशासन के सामने भी उठाया गया है।


सूत्रों के मुताबिक, अमेरिकी राजदूत को साउथ ब्लॉक में बुलाकर इस मामले में विरोध दर्ज कराया गया। दरअसल, अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने पिछले हफ्ते ही संसद को बताया था कि वह पाक को एफ-16 फाइटर जेट्स की निगरानी के लिए 865 करोड़ रुपए देगा। पेंटागन का यह फैसला पाक प्रधानमंत्री इमरान खान और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मुलाकात के ठीक बाद आया था।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, “अमेरिका ने बताया है कि प्रस्तावित सेल से पाकिस्तान के प्रति उसका रुख नहीं बदलेगा। पाक को यह मदद सिर्फ इसलिए दी जा रही है ताकि वह एफ-16 विमानों के रखरखाव की तकनीकी और संचालन से जुड़ी दिक्कतों को ठीक कर सके। अमेरिका आने वाले समय में भी पाक को किसी भी तरह की सैन्य मदद बंद रखेगा। पेंटागन ने दावा किया था कि पाक की प्रस्तावित मदद से क्षेत्र में कोई असंतुलन नहीं फैलेगा।”


ट्रम्प प्रशासन ने पाकिस्तान को रक्षा सहयोग देने के मामले पर जनवरी 2018 में रोक लगा दी थी। यह फैसला अभी भी बरकरार रखा गया है। दोनों नेताओं की मुलाकात के बाद केवल इतना बदलाव आया है कि अमेरिका का तकनीकी स्टाफ पाकिस्तान के एफ-16 प्रोग्राम पर नजर बनाए रखने के लिए 60 प्रतिनिधि देगा, जो कॉन्ट्रेक्ट बेस्ड होंगे।


25 करोड़ की हैरोइन बरामद:चंडीगढ़

चंडीगढ़ ! कपूरथला पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए एक बड़े तस्कर को पकड़ा है, जिसके पास से 25 करोड़ रुपए की हैरोइन बरामद की गई है। आरोपी की पहचान दिल्ली के महावीर नगर के रहने वाले कपिल अरोड़ा के रूप में हुई है। डीजीपी दिनकर गुप्ता ने प्रैस नोट जारी करते हुए बताया कि कपिल दिल्ली के हरि नगर के रहने वाले दीपक कुमार के साथ मिलकर काम करता था। ये साबुन की डिब्बियों में हैरोइन लाकर कपूरथला के कुछ तस्करों को दिया करते थे। डीजीपी ने कहा कि एसएसपी कपूरथला सतिंदर सिंह की अगुवाई में एसपी मनप्रीत सिंह ढिल्लों की टीम ने ट्रैप लगाकर तस्कर को पकड़ लिया। उसके पास से पांच किलो हैरोइन बरामद की गई, जिसकी अंतराष्ट्रीय मार्किट में कीमत 25 करोड़ रुपए है।


तिहाड में आती है आवाजे,दिखता है साया

नई दिल्ली ! जेल अपने आप में खौफ वाली जगह है लेकिन तिहाड़ जेल में आजकल एक अफवाह फैल रही है, जिसने महिला कैदियों में और दहशत पैदा कर दी है। कुछ महिला कैदियों ने दावा किया है कि उनको रात में एक महिला का साया दिखाई देता है। तेज रोने की आवाज सुनाई देती है, जो उन्हें सोने नहीं देती। कुछ महिला कैदियों के मन में डर बैठ गया है। रात के दो बजते ही कैदी महिलाएं डरने लगती हैं और चीखने लगती हैं।


सूत्रों का कहना है कि दहशत का यह हाल इन दिनों तिहाड़ की महिला जेल नंबर-6 में हो रहा है। रात में चिल्लाने वाली इन महिला कैदियों का कहना है कि अधिकतर वक्त तो किसी महिला कैदी के रोने की यह आवाज रात के 2 बजे के आसपास ही सुनने को मिलती है, लेकिन कई बार कुछ महिला कैदियों ने इस तरह की आवाजें सुनने की शिकायत दिन के वक्त भी की है।महिला कैदियों के दावों और रहस्यमय आवाजों का क्या सच है, इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। जेल में तरह-तरह की अफवाहें फैलने लगी हैं। कोई कह रहा कि कैदी महिला ने यहां आत्महत्या की होगी, जिसका साया भटक रहा है तो कोई इसी में और बातें जोड़ दे रहा है कि आत्महत्या करने वाली कैदी महिला बेकसूर रही होगी, इसलिए ही यहां उसके रोने की आवाजें सुनाई दे रही हैं लेकिन साइंस के दौर में ये सब बातें बेमानी हैं।
बात यहीं खत्म नहीं हो रही है। इन महिलाओं के रात में चिल्लाने को लेकर ये बात भी फैल रही है कि रहस्यमय साया देखने वाली बात कुछ महिला कैदियों के मन का वहम है या फिर वे किसी बीमारी से ग्रसित हैं। इन अफवाहों से उन महिलाओं के मन में भी डर पैदा हो रहा है जिन्हें आवाजें सुनाई नहीं देतीं!


श्रीलंका नौसेना ने 4 मछुआरे किए गिरफ्तार

कोलंबो ! श्रीलंका की नौसेना चार भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार किया है। इन सभी मछुआरों को श्रीलंका के क्षेत्र में मच्छली पकड़ने के आरोप में हिरासत में लिया गया है। कोलम्बो पेज ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि चार लोग बुधवार को कोवलम लाइटहाउस से उत्तरी समुद्री क्षेत्र में मछली पकड़ रहे थे। उस दौरान क्षेत्र में नियमित गश्त पर निकले लंका के नौसैनिकों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और साथ ही उनके मछली पकड़ने वाले ट्रॉलर को भी जब्त कर लिया।पकड़े गए मछुआरों को श्रीलंका के तट रक्षक शिल्प में सौंप दिया गया था और बाद में नौसैनिक अड्डे SLNS एलारा में ले जाया गया। मछुआरों को आगे की कार्रवाई के लिए जाफना में सहायक निदेशक मत्स्य को सौंपने की उम्मीद है।


बता दें कि रविवार को भी श्रीलंका की नौसेना ने नेदुनतीवू तट पर तमिलनाडु के सात मछुआरों को उनके समुद्री क्षेत्र में मछली पकड़ने के आरोप में गिरफ्तार किया था। मछुआरों ने दावा किया था कि उन्होंने तेज हवाएं चलने और ऊंची लहरें उठने के कारण अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा पार की थी।


रवीश कुमार को रमन मैग्सेसे पुरस्कार

नई दिल्ली। रवीश कुमार को रमन मैग्सेसे पुरस्कार से नवाजा जाएगा। 15 साल बाद ये मौका आया है, जब किसी पत्रकार को ये प्रतिष्ठित पुरस्कार से नवाजा जाएगा। एशिया का नोबेल कहे जाने वाले रेमन मैग्सेसे पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई है! साल 2019 में मैग्सेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाले 5 लोगों में भारतीय पत्रकार रवीश कुमार का भी नाम शामिल है। एनडीटीवी के रवीश कुमार को ये सम्मान हिंदी टीवी पत्रकारिता में उनके योगदान के लिए मिला है! रवीश कुमार ऐसे छठे पत्रकार हैं जिनको यह पुरस्कार मिला है!इससे पहले अमिताभ चौधरी (1961), बीजी वर्गीज (1975), अरुण शौरी (1982), आरके लक्ष्मण (1984), पी. साईंनाथ (2007) को यह पुरस्कार मिल चुका है! रवीश कुमार के अलावा म्यांमार के को सी विन, थाइलैंड की अंगहाना नीलपाइजित, फिलिपींस के रमेंड और दक्षिण कोरिया के किम जोंग की को भी मैग्सेसे अवॉर्ड देने की घोषणा की गई है! 12 साल बाद किसी भारतीय पत्रकार को यह पुरस्कार मिला है! रवीश से पहले 2007 में पी साईनाथ को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्यों के लिए मैग्सेसे पुरस्कार मिला था!


क्या है रमन मैग्सेसे पुरस्कार: रमन मैग्सेसे पुरस्कार सालान तौर पर दिया जाने वाला पुरस्कार है, जो फिलीपीन के पूर्व राष्ट्रपति रमन मैग्सेसे की याद में दिया जाता है! यह पुरस्कार अपने क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए प्रदान किया जाता है! यह पुरस्कार ऐसे व्यक्तियों और संगठनों को दिया जाता है जो नस्ल, पंथ, राष्ट्रीयता और लिंग की परवाह किए बिना अपने क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करते हैं. साल 1958 से दिए जाने वाले इस पुरस्कार को एशिया का नोबेल पुरस्कार भी कहा जाता हैं! मुख्‍‍यतौर पर यह पुरस्कार सरकारी सेवा, सार्वजनिक सेवा, सामुदायिक नेतृत्व, पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला और शांति और अंतर्राष्ट्रीय समझ जैसे क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य कर चुके व्यक्ति और संस्थाओं को दिया जाता है!


मथुरा,बुलंदशहर,नोएडा में बारिश की संभावना

आज इन 10 राज्यों में आ सकती है तूफानी बारिश आईएमडी ने जारी किया अलर्ट


नई दिल्ली ! भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने देश के 10 राज्यों में भारी बारिश की आशंका व्यक्त की है, आज देश के गुजरात कोंकण,गोवा, कर्नाटक ,राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल में *भारी से बहुत ज्यादा भारी बारिश* होने की आशंका है जबकि देश के बाकी सभी स्थानों पर मॉनसून सक्रिय ही रहेगा।


तो वहीं दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार को आसमान में बादल छाए रहने के साथ-साथ हल्की बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया है, उसके मुताबिक दिल्ली एनसीआर का अधिकतम तापमान लगभग 34 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है, आईएमडी ने बताया कि गुरुवार को दिल्ली-एनसीआर के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश दर्ज की गई। भारतीय मौसम विभाग ने कहा है कि अगले दो सप्ताह में भी अच्छी बारिश होने की संभावना है और बारिश के उसके आकलन में नौ फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है।


स्काईमेट के मुताबिक इस समय मॉनसून कि अक्षीय रेखा पश्चिमी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, जो दक्षिण पूर्व की ओर बंगाल की मध्य-पूर्वी खाड़ी तक फैली हुई है इसलिए अगले 24 घंटों के दौरान, कोंकण-गोवा, उत्तरी तटीय कर्नाटक, राजस्थान के उत्तर-पश्चिमी और दक्षिण-पूर्वी भागों तथा इससे सटे पंजाब और हरियाणा में मॉनसून के सक्रीय रहने की उम्मीद है।


इसके अलावा दिल्ली, दक्षिणी गुजरात, तटीय कर्नाटक, तेलंगाना, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, उत्तरी और उत्तर-पूर्वी मध्य प्रदेश, उत्तरी छत्तीसगढ़ और झारखंड के भागों मॉनसून की सामान्य स्थिति में रहने की संभावना है जबकि भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक चंद घंटों के भीतर यूपी के बुलंदशहर, मथुरा, ग्रेटर नोएडा समेत कई इलाकों में भारी बारिश की आशंका है ।


आज का दिन भाग्यशाली रहेगा:कन्या

राशिफल


1-मेषराशि(Aries)-आज का दिन अच्छा रहेगा। आय में वृद्धि होगी। अपरिचित व्यक्ति पर अधिक भरोसा ना करे।नये कारोबार बारे सोच-विचार करेंगे।मेहनत करेगें तो सफलता मिलेगी।आज कोई पुरानी घरेलू समस्याओ का समाधान निकलेगा।अपने परिवार की सहमति से कार्य करे।माता पिता की सेवा करके अच्छा फल प्राप्त करें!


2वृषराशि(tauras)- परिवार के साथ समय अच्छा गुजरेंगा।बच्चो के भविष्य बारे उचित सोचे।आज आपका कोई नजदीकी रिश्तेदार आपकी मदद करेगेंअचानक धन लाभ का योग है।आज परेशानी से निजात पाने के लिये कोशिश करेंगे।किसी भी व्यक्ति पर अधिक विश्वास नही करे।कारोबारी यात्रा का योग बन रहा हैं।सफलता मिलेगी।योगा व सुबह की सैर अवश्य करें ।
3 मिथुन राशि (gemini)-आपके विचार स्करातमक हो।किसी बारे नकारात्मक ना सोचे।आज गरीबों की मदद करके परमार्थ कमाइए।आपकी बेटी का रिश्ता अच्छे परिवार में होगा।वर उच्च सरकारी पद पर आसीन होगा।आज यात्रा का योग सुभ होगा।सच्चाई का मार्ग अपनाए।लड़ाई झगडे से बचने की कोशिश करे।माता पिता की सेवा करे।रक्तदान का मौका मिले तो अवश्य करें।


4कर्क राशि ( cancer)-आज अचानक धनलाभ का योग है।कोई पुराना मित्र आपके कारोबार मे आपकी मदद करेगा।लड़ाई झगड़े से बचे।रिश्तेदारों को नाराज नहीं करे।आपकी पुत्री के लिये अच्छा रिश्ता आएगा।माता का की सेवा करना आपका धर्म है।इसे पूरी तरह से निभाए।स्वास्थ्य के लिए सुबह की सैर अवश्य करें ।
5सिंह राशि(leo)- आज कुछ ऐसा होगा जिससे आपको सफलता प्राप्त होगी।धनलाभ का योग है।परेशानी से छुटकारा पाने की कोशिश करें।अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।वरिष्ठ अधिकारी की नाराजगी से निजात पाये।अच्छी सेहत के लिये सुबह योगा या व्यायाम अवश्य करे।बुजुर्गो की सेवा करना आपका कर्तव्य है।दायित्व निभाए।
6कन्या राशि( virgo)-आज का दिन भाग्यशाली होगा।मनचाहा कार्य सफल होगा।धनलक्ष्मी का योग है।आपके पुत्र को सरकारी नौकरी मिलने का योग है।आज परेशानी से निजात पाने की कोशिश करें।रोजाना अच्छे स्वास्थ्य के लिये व्यायाम करें या सुबह की सैर करे।अपने दैनिक जीवन में नियमितताअपनाए।


7-तुला राशि (libra)- किसी अनजान व्यक्ति से दुरी बनाएँ रखना उचित होगा।आज किसी से लड़ाई झगड़ा ना करे।अपने व्यवसाय की सफलता के राज अपने निजी व्यक्ति को ही बताए।धन लाभ का योग है।अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।रोजाना कसरत या व्यायाम करना जरुरी है।
8-वृश्चिक राशि(scorpion)-आपका व्यवहार अन्य लोगों के लिये आदर्श साबित होगा।दूर स्थान की यात्रा लाभदायक सिद्ध होगी।आज पुराने मित्रों से मुलाकत अच्छी-खासी लाभकारी होगी।अच्छा सोचे।बुरे विचार त्यागे।गरीब रिश्तेदारों की मदद अवश्य करें।
9धनु राशि(Sagittarius)- अधूरे कार्य पूरे करे।रिश्तेदारों से अच्छा व्यवहार करे।कोशिश करें कि आप उन्हें नाराज ना करे।माता पिता की सेवा करके अपना फर्ज निभाए।अचानक उधार मिलने के योग है।आज यात्रा टालना आपके लिए हितकारी होगा।
10-मकर राशि(capricon)-आपका व्यवहार सबके साथ मीठा और सौहार्दपूर्ण होना चाहिये।अहंकार व क्रोध से बचने की कोशिश करें।आज अटका हुआ धन प्राप्त होगा।रेगुलर स्वास्थ्य की जांच अति आवश्यक है।डाक्टर की सलाह अवश्य माने।सबको साथ लेकर चलने की आदत बनाये।
11कुम्भ राशि(Aquarius)-सबसे मीठा और अच्छा व्यवहार करे।क्रोध व ईर्ष्या से निजात पाये।धनलाभ का योग है।नया कार्य शुरू करने से पहले विचार विमर्श करे।अनुभवी व्यक्तियों की सलाह अनुसार कार्य करे।सेहत के लिए सावधानी बरतनी चाहिए।अपने बच्चों की शिक्षा पर ध्यान दें।
12-मीन राशि ( pisces)-अपने माता-पिता की सेवा करना अपका दायित्व है।किसी भी व्यक्ति पर अधिक भरोसा नहीँ करे।अपने ब्च्चॉ के भविष्य बारे कदम उठायें।लड़ाई झगड़े से बचने की कोशिश करें।। आपकी बेटी के लिये अच्छा वर योग है विवाह की तैयारियाँ शीघ्र करे।धनलाभ का योग है।


कुंडलिका (जलेबी) का इतिहास

जलेबी उत्तर भारत, पाकिस्तान व मध्यपूर्व का एक लोकप्रिय व्यंजन है। इसका आकार पेंचदार होता है और स्वाद करारा मीठा। इस मिठाई की धूम भारतीय उपमहाद्वीप से शुरू होकर पश्चिमी देश स्पेन तक जाती है। इस बीच भारत,बांग्लादेश, पाकिस्तान, ईरान के साथ तमाम अरब मुल्कों में भी यह खूब जानी-पहचानी है। आमतौर पर तो जलेबी सादी ही बनाई व पसंद की जाती है, पर पनीर या खोया जलेबी को भी लोग बडे चाव से खाते हैं। जलेबी भारत की राष्ट्रीय मिठाई हैं।


इतिहास
कुछ लोगों का मानना है कि जलेबी मूल रूप से अरबी शब्द है और इस मिठाई का असली नाम है जलाबिया। यूं जलेबी को विशुद्ध भारतीय मिठाई मानने वाले भी हैं। शरदचंद्र पेंढारकर (बनजारे बहुरूपिये शब्द) में जलेबी का प्राचीन भारतीय नाम कुंडलिका बताते हैं। वे रघुनाथकृत 'भोज कुतूहल' नामक ग्रंथ का हवाला भी देते हैं जिसमें इस व्यंजन के बनाने की विधि का उल्लेख है। भारतीय मूल पर जोर देने वाले इसे 'जल-वल्लिका' कहते हैं। रस से परिपूर्ण होने की वजह से इसे यह नाम मिला और फिर इसका रूप जलेबी हो गया। फारसी और अरबी में इसकी शक्ल बदल कर हो गई जलाबिया। उत्तर पश्चिमी भारत और पाकिस्तान में जहां इसे जलेबी कहा जाता है वहीं महाराष्ट्र में इसे जिलबी कहा जाता है और बंगाल में इसका उच्चारण जिलपी करते हैं। जाहिर है बांग्लादेश में भी यही नाम चलता होगा।


 


तनाव के कारण और बचाव

जब कोई व्यक्ति अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में रुकावटों का सामना करता है तो वह तनावग्रस्त हो जाता है। यह अक्सर व्यक्ति में द्वन्द्व और निराशा की भावना पैदा करता है। प्रबल निराशा मिलने के कारण यह द्वन्द्व और भी तनावपूर्ण हो जाता है। आमतौर पर व्यक्ति द्वन्द्व में तब पड़ जाता है जब वह परस्पर विरोधी स्थिति का सामना करता है। उद्देश्य और परिस्थिति के स्वरूप पर निर्भर व्यक्ति जीवन में तीन प्रकार के द्वन्द्वों का सामना करता है।


(क) प्रस्ताव-प्रस्ताव द्वन्द्व
(ख) परिहार-परिहार द्वन्द्व
(ग) प्रस्ताव-परिहार द्वन्द्व
प्रस्ताव-प्रस्ताव द्वन्द्व : इस तरह का द्वन्द्व तब उत्पन्न होता है जब किसी व्यक्ति को दो या अधिक वांछित उद्देश्यों में से चुनाव करना पड़ता है। इस तरह के द्वन्द्व में दोनों ही लक्ष्यों की प्राप्ति की चाहत होती है। उदाहरण के लिए, एक ही दिन में दो विवाहों के निमंत्रण में से किसी एक का चुनाव करना।


परिहार-प्रस्ताव द्वन्द्व : इस तरह का द्वन्द्व तब उत्पन्न होता है जब किसी व्यक्ति को दो या अधिक अवांछित लक्ष्यों में चुनाव करना पड़ता है। इस तरह के द्वन्द्व को अक्सर 'एक तरफ कुआं और दूसरी तरफ खाई' वाली स्थिति कहा जाता है। जैसे कि कम शैक्षिक योग्यता वाले युवा को या तो बेरोजगारी का सामना करना पड़ेगा या फिर बहुत ही कम आय की अनचाही नौकरी को स्वीकार करना पड़ेगा। इस तरह का द्वन्द्व बहुत ही गम्भीर सामंजस्य की समस्याएं उत्पन्न करता है, क्योंकि द्वन्द्व का समाधान करने पर भी चैन की बजाय निराशा ही उत्पन्न होगी।


प्रस्ताव-परिहार द्वन्द्व : इस तरह के द्वन्द्व में किसी व्यक्ति में समान उद्देश्य का चुनाव करने एवं उसे नकारने दोनों के प्रति प्रबल रूझान होता है। जैसे कि एक युवा सामाजिक और सुरक्षा कारणों से विवाह करना चाहता है लेकिन उसी स्थिति में वह विवाह की जिम्मेदारियों और निजी स्वतंत्रता के खत्म हो जाने का भय भी रखता है। ऐसे द्वन्द्व का समाधान लक्ष्य के कुछ नकरात्मक और सकरात्मक पहलुओं को स्वीकृत करने से ही सम्भव है।


बहुसंख्यक विकल्पों के होने के कारण कभी-कभी प्रस्ताव-परिहार द्वन्द्व को "मिश्रित-अनुग्रह" द्वन्द्वों के संदर्भ में भी देखा जाता है।


कुंठा : (देखें, कुण्ठा) कुंठा एक प्रयोगात्मक अवस्था है जो कि कुछ कारणों के परिणामस्वरूप होती है जैसे


(क) बाहरी प्रभावों के कारण आवश्यकताओं और अभिप्रेरणाओं में अवरोध पैदा होना जो कि लक्ष्य में बाधाएं उत्पन्न करता है और आवश्यकताओं की पूर्ति होने से रोकता है।
(ख) वांछित लक्ष्यों की अनुपस्थिति द्वारा।
अवरोध व बाधाएं भौतिक एवं सामाजिक दोनों प्रकार की हो सकती हैं और ये व्यक्ति में निराशा या कुंठा का भाव उत्पन्न करती हैं। इस में दुर्घटना, अस्वस्थ अंतरवैयक्तिक संबंध, प्रिय की मृत्यु हो जाना। व्यक्तिगत् अभिलक्षण जैसे शारीरिक विकलांगता, अपूर्ण योग्यता और आत्मानुशासन का अभाव भी कुंठा की जड़ है। कुछ साधारण कुंठाएं हैं जो अक्सर कुछ निश्चित मुश्किलों का कारण बन जाती है। इनमें वांछित लक्ष्य की प्राप्ति में विलम्ब, संसाधानों का अभाव, असफलता, हानि, अकेलापन और निरर्थकता सम्मिलित है।


रुद्राक्ष महिमा एवं विभिन्न भेद

रुद्राक्ष की महिमा एवं विविध भेद
सूत जी कहते हैं, महाप्रज्ञ, महामति, शौनक अब मैं संक्षेप में रुद्राक्ष का महत्व बता रहा हूं सुनो! रुद्राक्ष शिव को बहुत ही प्रिय है, इसे परम-पावन समझना चाहिए! रुद्राक्ष के दर्शन से, स्पर्श से तथा उस पर जप करने से वह समस्त पापों का अपहरण करने वाला माना गया है! मुनि, पूर्व काल में परमात्मा शिव ने समस्त लोगों का उपकार करने के लिए देवी पार्वती के सामने रुद्राक्ष की महिमा का वर्णन किया था! भगवान शिव बोले, महेश्वरी, शिवा, मैं तुम्हारे प्रेम बस भक्तों के हित की कामना से रुद्राक्ष की महिमा का वर्णन करता हूं सुनो! पूर्व काल की बात है मैं मन को संयम में रखकर हजारों दिव्य वर्षों तक घोर तपस्या में लगा रहा! एक दिन ऐसा मेरा मन होता, परमेश्वरी मै संपूर्ण लोकों का उपकार करने वाला स्वतंत्र परमेश्वर हूं! अतः उस समय मैंने लीलावश अपने दोनों नेत्र खोले, खोलते ही मेरे मनोहर नेत्र से कुछ जल की बूंदें गिरी ,आंसू की उन बूंदों से वहां रुद्राक्ष नामक वृक्ष पैदा हो गया ! भक्तों पर अनुग्रह करने के लिए अश्रुबिंदु स्थावर भाव को प्राप्त हो गए! वे रुद्राक्ष मैंने विष्णुभक्त को तथा चारों वर्णों के लोगों को बांट दिए! भूतल पर अपने प्रिय रुद्राक्ष को मैंने गौड देश में उत्पन्न किया! मथुरा,अयोध्या,लंका, मलयाचल, सहस्त्र गिरी,काशी तथा अन्य देशों में भी उनके अंकुर उगाए! उत्तम रुद्राक्ष सहायता आवेदन करने वाले तथा सूचियों के बीच प्रेरक है! मेरी आज्ञा से वे ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र जाति के भेद से इस भूतल पर प्रकट हुए !रुद्राक्ष की ही जाति के सुभाक्ष भी है! उन ब्राह्मण आदि जाति वाले रुद्राक्ष के वर्ण श्वेत, रक्त, पित्,तथा कृष्ण जानने चाहिए !मनुष्य को चाहिए कि वह क्रम से वर्ण के अनुसार अपनी जाति का ही रुद्राक्ष धारण करें और मोक्ष की इच्छा रखने वाले चारों वर्णों के लोगों और विशेषत: शिव भक्तों को शिव-पार्वती की प्रसन्नता के लिए रुद्राक्ष के फलों को अवश्य धारण करना चाहिए! आंवले के फल के बराबर जो रुद्राक्ष श्रेष्‍ट बताया गया है! बेर के फल के बराबर हो उसे मध्यम श्रेणी का कहा गया है और जो चने के बराबर हो उसकी गणना निम्न की गई है! अब इसकी क्षमता को परखने की यह दूसरी उत्तम प्रक्रिया बताई जाती है! इसे बताने का उद्देश्य है भक्तों की कामना, पार्वती तुम भली-भांति प्रेम पूर्वक इस विषय को सुनो,जो  रुद्राक्ष चने फल के बराबर होता है! छोटा होने पर भी उत्तम फल देने वाला होता हैं!भाग्य की वृद्धि करने वाला होता है! जो रुद्राक्ष आंवले के फल के बराबर होता है समस्त अभिष्‍टो का विनाश करने वाला है! जो चने के फल के सामान बहुत छोटा होता है वह संपूर्ण मनोरथ और फलों की सिद्धि करने वाला है! रुद्राक्ष जैसे जैसे छोटा होता है वैसे ही अधिक फल देने वाला होता है! 1111 छोटे रुद्राक्ष को विद्वानों ने 10 गुना अधिक फल देने वाला बताया है! पापों का नाश करने के लिए रुद्राक्ष धारण अवश्य करना बताया गया है! वह निश्चय ही संपूर्ण मनोरथों का साधक है! अतः अवश्य धारण करना चाहिए! परमेश्वरी लोक के मंगल में रुद्राक्ष जैसा फल देने वाला देखा जाता है वैसे ही फलदाई दूसरी कोई माला नहीं दिखाई देती! देवी समान आकार-प्रकार वाले चिकने मजबूत स्थूल और सुरक्षित पदार्थों के दाता है! मोक्ष देने वाले  भी है!जिसे कीड़ों ने दूषित कर दिया हो, जो टूटा-फूटा हो! जिसमें जो नियुक्त हो तथा पूरा-पूरा गोल हो,उत्‍तम गति प्रदान करने वाले होते हैं! पांच प्रकार के रुद्राक्ष धारण करने चाहिए ! जिसमें अपने आप छेद होता हैं,वह उत्‍तम, वही यहां उत्तम माना गया है! जिसमें मनुष्य के पर्यतन से छेद किया गया हो वह मध्यम श्रेणी का होता है! रुद्राक्ष धारण बड़े-बड़े पापों का नाश करने वाला है! इस जगत में 11100 रुद्राक्ष धारण करके मनुष्य जिस फल को पाता है उसका वर्णन सैकड़ों वर्षो में भी नहीं किया जा सकता है! भक्ति मान पुरुष साडे 500 रूद्राक्ष का मुकुट बना ले और उसे सिर पर धारण करें! 360 दानों को लंबे सूत्र में पिरो कर ले, वैसे-वैसे तीन हार बनाकर भक्ति पुरुष धारण किए रहे! इसके बाद किस अंग में कितने रुद्राक्ष धारण करने चाहिए?कौन रुद्राक्ष कंहा धारण करना चाहिए?......


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...