शनिवार, 9 अप्रैल 2022

शांतिपूर्ण तरीके से 9 बूथों पर मतदान संपन्न कराया

शांतिपूर्ण तरीके से 9 बूथों पर मतदान संपन्न कराया   

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। उत्तर-प्रदेश में शनिवार को विधान परिषद चुनाव के लिए वोटिंग हुई। प्रशासन ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ इटावा-फरुखाबाद सीट पर शांतिपूर्ण तरीके से 9 बूथों पर मतदान संपन्न कराया। जिले में सभी 9 बूथों पर हुए मतदान में कुल 1212 मतदाता शामिल होने थे, जिनमें कुल 95.63 प्रतिशत ने ही वोट डाला।
वोटिंग के लिए जिला प्रशासन ने सभी बूथों पर सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए थे। सैफई में मुलायम सिंह यादव के परिवार के मुख्य पांच सदस्यों ने विधान परिषद चुनाव में वोटिंग की। वोट डालने वालों में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ,सपा राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव, प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव, तेज प्रताप सिंह यादव की मां मृदुला यादव और सैफई जिला पंचायत अध्यक्ष अंशुल यादव शामिल थे‌। चुनाव के दौरान परिवार में एकजुटता नहीं दिखी।
हैरानी की बात ये है कि सपा परिवार का कोई सदस्य एक साथ वोट डालने नहीं पहुंचा। सभी लोग अलग-अलग मतदान केंद्र पहुंचे। अखिलेश यादव द्वारा विधायक दल की बैठक में न बुलाए जाने से नाराज चल रहे शिवपाल सिंह भी अलग नजर आए‌। वहीं इटावा से बीजेपी विधायक सरिता भदौरिया और सांसद राम शंकर कठेरिया ने भी मतदान किया। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव भी विधान परिषद के चुनाव में वोटिंग के लिए सैफई के ब्लॉक परिषद में पहुंचे थे। वोटिंग के बाद मुलायम सिंह यादव वापस अपने आवास पर चले गए। उन्होंने किसी से भी मुलाकात नहीं की।

मृतक महिला को मिला इंसाफ, उम्रकैद की सजा

मृतक महिला को मिला इंसाफ, उम्रकैद की सजा  

अविनाश श्रीवास्तव            
पटना। बिहार के मुंगेर में 29 साल बाद एक मृतक बुजुर्ग महिला को इंसाफ मिला है। 11 अक्टूबर 1993 में डायन का आरोप लगाकर बुजुर्ग महिला को जिंदा जलाकर मार डाला गया था। अब मुंगेर न्यायालय ने दो महिला समेत चार आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। मुंगेर न्यायालय के एडीजे-1 अनुराग के कोर्ट ने मुजरिमों को यह सजा सुनाई है। मृतक बुजुर्ग महिला के बेटे ने अपनी मां इंसाफ दिलाने के लिए 29 सालों तक लंबी लड़ाई लड़ी। बताया जा रहा है कि इस घटना में शामिल रहे कुछ आरोपियों की मौत हो चुकी है। लेकिन कुछ अभी भी जिंदा हैं, जिनकी उम्र 65 साल से ज्यादा है। अब उनका बचा जीवन जेल की काल कोठरी में बीतेगा।
बता दें, 29 साल लंबी कानूनी लड़ाई लड़ने के बाद बेटा अपनी मां के हत्यारों को सजा दिलाने में आखिरकार कामयाब हो गया। यह घटना जमालपुर थाना क्षेत्र के छोटी केशोपुर मोहल्ले में हुई थी। यहां 11 अक्टूबर 1993 को आरोपियों ने डायन का आरोप लगाकर बुजुर्ग महिला सखीचन्द देवी पर पेट्रोल और तेल डालकर जिंदा जला दिया था। दरअसल, इन आरोपियों में से एक की बेटी की मौत हो गई थी और वो इस बुजुर्ग पर दबाव बना रहे थे कि वह उनकी बेटी को जिंदा करे। कोर्ट ने अभियोजन एवं बचाव पक्ष के दलील सुनने के बाद एडीजे-1 अनुराग ने चारों आरोपियों जमालपुर थाना क्षेत्र के छोटी केशोपुर निवासी राजू साह की पत्नी मीरा देवी, उमेश साह, प्रकाश साह एवं मंजू देवी पति और पत्नी को आजीवन कारावास के साथ एक-एक हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई है। कोर्ट ने कहा कि यदि अभियुक्त जुर्माने की राशि अदा नहीं करते हैं, तो इन लोगों को दो-दो महीने की अतिरिक्त सजा काटनी पड़ेगी। मामले में अभियोजन पक्ष के एपीपी सुशील कुमार सिन्हा ने बताया कि इस केस के सूचक और बुजुर्ग के पुत्र कृष्णानंद साहू ने जमालपुर थाने में 140-93 नंबर से मामला दर्ज कराया था। दर्ज मामले के मुताबिक, छोटी केशोपुर के निवासी जागेशवर साह की पुत्री आशा की मौत हो गई थी। उसके बाद आशा के घरवालों को शक हुआ कि मोहल्ले की रहने वाली वृद्ध महिला सखीचंद डायन हैं और तंत्र मंत्र का प्रयोग कर उन्हें बच्ची की जान ली है। उसके बाद उन लोगों को किसी ने बताया कि डायन यदि चाहेगी तो बच्ची जिंदा हो जाएगी। उसके बाद परिजन सखीचंद पर आशा को जीवित करने का दवाब बनाने लगे और 11 अक्टूबर 1993 को सुबह 6 बजे मृतक के घर में जाकर हंगामा किया। जब मृत बच्ची जिंदा नहीं हो सकी तब उसके परिजनों ने घर से खींचकर बुजुर्ग को सड़क पर लाया और उसे जिंदा जला दिया। जिससे सखीचंद की मौत हो गई। आज 29 साल बाद उनकी आत्मा को इंसाफ मिला है।

फिल्म 'हीरोपंती 2' से सिंगिंग डेब्यू करेंगे अभिनेता

फिल्म 'हीरोपंती 2' से सिंगिंग डेब्यू करेंगे अभिनेता   

कविता गर्ग            

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता टाइगर श्राफ अपनी आने वाली फिल्म हीरोपंती 2 से सिंगिंग डेब्यू करने जा रहे हैं।टाइगर श्राफ इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म हीरोपंती 2 को लेकर चर्चा में हैं। इस फिल्म में उनके साथ तारा सुतारिया और नवाजउद्दीन सिद्दिकी की भी अहम भूमिका है। साजिद नाडियाडवाला ने टाइगर श्रॉफ को अपनी फिल्म हीरोपंती से बॉलीवुड में लॉन्च किया था। साजिद अब टाइगर को अपनी अपकमिंग फिल्म हीरोपंती 2 में बतौर सिंगर भी लॉन्च करने जा रहें है। इस सॉन्ग का टाइटल 'मिस हैरान' है।

जिसका संगीत ए.आर रहमान ने कंपोज किया है और इसके लिरिक्स महबूब के है। वहीं, गाने की कोरियोग्राफी अहमद खान और राहुल शेट्टी ने की है और इसे टाइगर श्रॉफ और निसा शेट्टी ने गाया है।

गौरतलब है कि फिल्म हीरोपंती 2 में टाइगर श्रॉफ बबलू के मुख्य किरदार में नजर आने वाले हैं। अहमद खान के निर्देशन में बनी इस फिल्म का निर्माण साजिद नाडियाडवाला फिल्म्स के बैनर तले किया गया है। यह फिल्म 29 अप्रैल, 2022 को ईद के मौके पर रिलीज होगी।

लोडिंग वाहन के पलटने से 1 की मौंत, 28 घायल

लोडिंग वाहन के पलटने से 1 की मौंत, 28 घायल   

मनोज सिंह ठाकुर              

अशोकनगर। मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले के चंदेरी थाना क्षेत्र की प्राणपुर घाटी में शनिवार को एक लोडिंग वाहन के अनियंत्रित होकर पलटने से एक महिला की मौंत हो गई और 28 लोग घायल हो गए। पुलिस सूत्रों ने बताया कि सभी घायल उत्तर-प्रदेश के ललितपुर जिले की तालबेहट जनपद के सेरबास गांव से विदिशा जिले के कुरवाई में फसल कटाई की मजदूरी करने आए थे। सभी लोडिंग वाहन में सवार होकर कुरवाई से अपने गांव के लिए लौट रहे थे। 

इसी दौरान चंदेरी थाना क्षेत्र की प्राणपुर घाटी पर वाहन अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे में गाड़ी में सवार 54 वर्षीय द्रोबाई की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। सभी घायल आदिवासी समुदाय के हैं। घायलों में महिला एवं बच्चे भी शामिल हैं। चंदेरी एसडीओपी लक्ष्मी सिंह ने बताया कि लोडिंग वाहन में करीब 29 लोग सवार थे। इनमें 6-7 की हालत गंभीर बताई जा रही है। बाकी लोगों को मामूली चोट आईं हैं।

वोटरों को पैसा बांटते हुए 3 सपा कार्यकर्ता अरेस्ट

वोटरों को पैसा बांटते हुए 3 सपा कार्यकर्ता अरेस्ट    

संदीप मिश्र             

बस्ती। उत्तर प्रदेश में विधान परिषद के स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन के दौरान बस्ती जिले में शनिवार काे मतदान के समय पुलिस ने समाजवादी पार्टी (सपा) के तीन कार्यकर्ताओं को वोटरों को पैसा बांटते हुए गिरफ्तार किया है। बस्ती पुलिस की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि जिले के लालगंज थाने की पुलिस ने चुनाव में बस्ती-सिद्धार्थनगर सीट से सपा के प्रत्याशी संतोष यादव सनी के पक्ष में वोट देने के मामले में पैसा बांटने वाले तीन सपा कार्यकर्ताओं जमुना प्रसाद उर्फ विजयपाल, जामवंत तथा अब्दुल कलाम को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस ने पकड़े गये तीनों व्यक्तियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करके जेल भेज दिया है। गौरतलब है कि बस्ती-सिद्धार्थनगर सीट सहित विधान परिषद की 27 सीटों पर शनिवार को सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक मतदान हुआ।

शीर्ष अदालत का सवाल, हमने सरकार क्यों चुनीं

शीर्ष अदालत का सवाल, हमने सरकार क्यों चुनीं    

अकांशु उपाध्याय            

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट उस याचिका पर सुनवाई करने के लिए तैयार हो गया हैं। जिसमें रोहिंग्या और बांग्लादेशी घुसपैठियों की पहचान करने और उन्हें वापस भेजने की मांग की गई है। साथ ही शीर्ष अदालत ने इस तरह की याचिकाओं पर आपत्ति जताते हुए सवाल किया कि आखिर हमने सरकार क्यों चुनीं है ? प्रधान न्यायाधीश एनवी रमना की अध्यक्षता वाली पीठ ने अधिवक्ता अश्विनी उपाध्याय से कहा, रोज हमें सिर्फ आपके मामले की सुनवाई करनी पड़ती है। सभी समस्याओं को लेकर आप अदालत आ जाते हैं। 

उपाध्याय ने कहा कि ये घुसपैठिए करोड़ों नौकरियां छीन ले रहे हैं और इसका आजीविका के अधिकार पर भी प्रभाव पड़ रहा है। प्रधान न्यायाधीश ने कहा, ये राजनीतिक मुद्दे हैं, इन्हें सरकार के समक्ष उठाइए। अगर हमें ही आपकी सभी जनहित याचिकाओं को सुनना पड़ेगा तो हमने सरकार क्यों चुनी ? वहां राज्यसभा और लोकसभा जैसे सदन हैं। उपाध्याय ने दलील दी कि पिछले साल मार्च में नोटिस जारी किया गया था लेकिन कोई प्रगति नहीं हुई। इस पर सालिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि उन्हें इस केस की जानकारी नहीं है।

लव जिहाद के मामलें में युवती की आत्महत्या

लव जिहाद के मामलें में युवती की आत्महत्या    

संदीप मिश्र 

महोबा। उत्तर प्रदेश में महोबा जिले के चरखारी क्षेत्र में कथित लव जिहाद के एक मामलें में युवती की आत्महत्या का प्रकरण प्रकाश में आने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है। जिले के अपर पुलिस अधीक्षक आर के गौतम ने शनिवार को बताया कि वासुदेव मुहाल की निवासी 22 वर्षीय युवती के स्थानीय युवक सलमान के साथ प्रेम संबंध थे। युवती के परिजनाें ने युवक पर पीड़िता को प्रेमजाल में फंसा कर काफी समय से शारीरिक व मानसिक शोषण करने का आरोप लगाया है।

उनका कहना है कि युवती द्वारा जब भी उससे शादी के लिए दबाव बनाया जाता था तो युवक तमाम प्रकार के बहाने कर टाल देता था। आरोप है कि युवक के धोखा देने से आहत होकर युवती ने अपने घर मे ही फांसी के फंदे पर झूल कर आत्महत्या कर ली। शनिवार को सुबह युवती का शव देख कर परिजनों में कोहराम मच गया।

अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर युवती के शव को पोस्टमार्टम के लिए पहुंचाया। घटना स्थल पर की गई छानबीन में पुलिस ने सुसाइड नोट बरामद किया है। सुसाइड नोट में युवती ने अपनी मौत के लिए सलमान को जिम्मेदार ठहराते हुए उसे कड़ा दंड दिए जाने की मांग की है। मामले में तत्काल कार्यवाही अमल में लाते हुए पुलिस ने भैरो गंज निवासी आरोपी सलमान को गिरफ्तार कर लिया है। मृतका के पिता रामस्वरूप की शिकायत पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 306 व उत्तर प्रदेश विधिविरुद्ध धर्म सम्प्रेषण अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत करके जांच शुरू कर दी है।

वायरस: गूगल ने प्ले-स्टोर से 6 ऐप्स को हटाया

वायरस: गूगल ने प्ले-स्टोर से 6 ऐप्स को हटाया   

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। गूगल ने प्ले-स्टोर से 6 ऐसे ऐप्स को हटा दिया गया है। जो लोगों के फोन में वायरस पहुंचा रहे थे और उनका डेटा चुराने का काम कर रहे थे। जिसमें तीन रिसर्चर्स ने पाया कि हैकर्स ने एंटीवायरस ऐप्लिकेशन की आड़ में शार्कबॉट एंड्रॉयड स्टीलर सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया, जो यूजर्स के पासवर्ड, बैंक डिटेल्स और अन्य पर्सनल जानकारी को चुरा कर गलत इस्तेमाल कर रहे थे।

रिपोर्ट के मुताबिक इन मालवेयर वाले ऐप्स को 15,000 से भी ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका था। हालांकि अब गूगल ने इन सभी ऐप्स को अपने प्ले-स्टोर से पूरी तरह हटा दिया है। बते दें कि चेक प्वाइंट रिपोर्ट के अनुसार यह मालवेयर एक जियोफेंसिंग फीचर और चोरी की टेक्नोलॉजी पर काम करता है, जो इसे बाकी मालवेयर से अलग बनाता है। यह डोमेन जनरेशन एल्गोरिथम नाम की किसी चीज का भी इस्तेमाल करता है, जो कि एंड्रॉयड मालवेयर की दुनिया में शायद ही कभी इस्तेमाल किया गया है।

एंटीवायरस ऐप्स जैसे दिखने वाले यह 6 ठग मालवेयर ऐप्स ने 15,000 से अधिक यूजर्स को शार्कबॉट एंड्रॉयड मालवेयर से अपना शिकार बनाया। जो क्रेडेंशियल्स और बैंकिंग जानकारी चुराते हैं और फिर बड़ी ठगी के अंजाम देते हैं। रिसर्च के दौरान, इसने डिवाइसेज के लगभग 1,000 आईपी पते खोजे। पीड़ित यूजर्स में से ज्यादातर इटली और यूनाइटेड किंगडम से थे।

इन एप्स के नाम इस प्रकार हैं। एटम क्लीन-बूस्टर, एंटीवायरस सुपर क्लीनर, अल्फा एंटीवायरस क्लीनर, पावरफुल क्लीनर एंटीवायरस, सेंटर सिक्योरिटी एंटीवायरस। इनमें से कोई भी ऐप यदि आप इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको तुरंत डिलीट करना चाहिए, क्योंकि आपके साथ बैंकिंग फ्रॉड हो सकता है और आपके पसीने की कमाई एक झटके में गायब हो सकती है। साथ ही आपकी पर्सनल जानकारी से भी खिलवाड़ हो सकता है।

पिनाका मिसाइलों का सफल परीक्षण: संगठन

पिनाका मिसाइलों का सफल परीक्षण: संगठन  

अकांशु उपाध्याय      

नई दिल्ली। भारतीय सेना और भारतीय रक्षा अनुसंघान संगठन (डीआरडीओ) ने पिछले 15 दिनों में देश के कई स्थानों से पिनाका मिसाइलों का सफल परीक्षण किया। कुल मिलाकर 24 परीक्षण किए गए हैं। इन परीक्षणों में पिनाका मिसाइल ने टारगेट को पूरी सटीकता और गति के साथ ध्वस्त कर दिया। उसने तय मानकों को पूरा किया।

पिनाका एमके-1 (एनहैंस्ड) रॉकेट सिस्टम (Pinaka Mk-1 Enhanced Rocket System) और पिनाका एरिया डिनायल म्यूनिशन (Pinaka Area Denial Munition - ADM) रॉकेट सिस्टम का सफल परीक्षण किया गया। यह दोनों ही तकनीक पिनाका मिसाइल सिस्टम का नया वर्जन है। इससे इसकी उड़ान क्षमता, नेविगेशन, सटीकता और गति में बढ़ोतरी होती है।
पिनाका को लॉन्च करने से लेकर लक्ष्य भेदने तक राडार, इलेक्ट्रो-ऑप्टिकल टारगेटिंग सिस्टम और टेलीमेट्री सिस्टम आदि की निगरानी की गई। इस मिसाइल के सारे सिस्टम्स ने तय मानकों को सफलतापूर्वक पार किया और उच्चतम सटीकता से टारगेट को ध्वस्त कर दिया। इस मिसाइल का नाम भगवान शिव के धनुष 'पिनाक' के नाम पर रखा गया है। आपको बता दें कि पिनाका मिसाइल सिस्टम 44 सेकेंड में 12 मिसाइल लॉन्च करती है। यानी करीब हर 4 सेकेंड में एक मिसाइल फायर होती है। 214 कैलिबर के इस लॉन्चर से एक के बाद एक 12 पिनाका रॉकेट दागे जा सकते हैं। यानी दुश्मन के ठिकाने को कब्रिस्तान में बदलने के लिए ये सबसे बेहतरीन हथियार है। रॉकेट लॉन्चर की रेंज 7 किलोमीटर के नजदीकी टारगेट से लेकर 90 किलोमीटर दूर बैठे दुश्मन को नेस्तनाबूद कर सकता है।
रॉकेट लॉन्चर के तीन वैरिएंट्स हैं। MK-1 ये 40 किलोमीटर हमला करने के लिए है। MK-2 लॉन्चर से 90 किलोमीटर और MK-3 (निर्माणाधीन) लॉन्चर से 120 किलोमीटर तक हमला किया जा सकता है। इस लॉन्चर की लंबाई 16 फीट 3 इंच से लेकर 23 फीट 7 इंच तक है। इसका व्यास 8.4 इंच है। इस लॉन्चर से छोड़े जाने वाले पिनाका रॉकेट के ऊपर हाई एक्सप्लोसिव फ्रैगमेंटेशन (HMX), क्लस्टर बम, एंटी-पर्सनल, एंटी-टैंक और बारूदी सुरंग उड़ाने वाले हथियार लगाए जा सकते हैं। यह रॉकेट 100 किलोग्राम तक के वजन के हथियार उठाने में सक्षम है।इस मिसाइल सिस्टम की शुरुआत 1986 में हुई थी।
पिनाका रॉकेट की स्पीड 5757.70 किलोमीटर प्रतिघंटा है। यानी एक सेकेंड में 1.61 किलोमीटर की गति से हमला करता है। दुश्मन को इतना भी मौका नहीं मिलता की वह टारगेट से दूर भाग सके। पिनाका रॉकेट मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर (MBRL) है। इसे भारतीय सेना के लिए DRDO ने बनाया है। सेना के सूत्रों ने बताया कि पिनाका रेजीमेंट को सैन्य बलों की संचालन तैयारियां बढ़ाने को चीन और पाकिस्तान की सीमा के साथ तैनात किया जाएगा। बीईएमएल ऐसे वाहनों की आपूर्ति करेगी जिस पर रॉकेट लॉन्चर को रखा जाएगा। रक्षा मंत्रालय ने बताया कि 6 पिनाका रेजीमेंट में 'ऑटोमेटेड गन एमिंग एंड पोजिशनिंग सिस्टम'के साथ 114 लॉन्चर, 45 कमान पोस्ट भी होंगे। मिसाइल रेजीमेंट का संचालन 2024 तक शुरू करने की योजना है।
करगिल युद्ध के दौरान इस मिसाइल को टट्रा ट्रक पर लोड करके ऊंचाई वाले इलाकों में भेजा गया था। वहां पर इस रॉकेट ने दुश्मन के ठिकानों की धज्जियां उड़ा दी थी। सभी पाकिस्तानी दुश्मनों को पहाड़ पर बनाए अपने बंकरों को छोड़कर भागना पड़ा या फिर मारे गए। क्योंकि ये रॉकेट इतनी गति से हमला करता है कि दुश्मन को संभलने का मौका ही नहीं मिलता।

महिला पुलिसकर्मियों की स्कूटी रैली निकाली

महिला पुलिसकर्मियों की स्कूटी रैली निकाली 

संदीप मिश्र      

बरेली। मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत महिलाओं के सशक्तिकरण, स्वावलम्बन, सुरक्षित परिवेश, आत्मरक्षा के प्रति जागरूक करने के लिए शनिवार को पुलिस लाइन से एक महिला पुलिसकर्मियों की स्कूटी रैली निकाली गई। इसके साथ ही महिला दरोगाओं और सिपाहियों ने पार्क, स्कूल और कॉलेज में जाकर छात्राओं और महिलाओं को जागरूक किया।

रैली को सीओ क्राइम डा. दीपशिखा ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। जिसके बाद यह रैली पुलिस लाइन से निकलकर जिलाधिकारी कार्यालय के सामने से होते हुए चौकी चौराहा, सिविल लाइंस चौकी से चौपुला होते हुए पुलिस लाइन तक आई। इसके बाद मिशन शक्ति की टीमें शहर के कई पार्क, स्कूल और कॉलेज के साथ कोचिंग सेंटर पर पहुंची और छात्राओं समेत महिलाओं को जागरूक किया।

डीएम व कमिश्नर ने मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया

डीएम व कमिश्नर ने मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया      

संदीप मिश्र            
कानपुर। जिलाधिकारी नेहा शर्मा एवं पुलिस कमिश्नर विजय मीना ने संयुक्त रूप से शनिवार को एमएलसी चुनाव हेतु मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। जनपद में 12 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। 
जनपद में शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न कराए जा रहे हैं।जिसके लिए पर्याप्त पुलिस व्यवस्था की गई है। जिलाधिकारी ने सबसे पहले जिला पंचायत कार्यालय सिविल लाइन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने यहां की व्यवस्था का जायजा लिया सभी व्यवस्थाएं बेहतर तरीके से चल रही थी। तत्पश्चात उन्होंने नगर निगम में बनाए गए मतदान केंद्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने यहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

'नवरात्रि' का नौवां दिन, माता सिद्धिदात्री की पूजा

'नवरात्रि' का नौवां दिन, माता सिद्धिदात्री की पूजा    

सरस्वती उपाध्याय        
नवरात्रि के नौवें दिन देवी दुर्गा के नौवें स्वरूप माता सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। कमल पर विराजमान होने के कारण इन्हें मां कमला भी कहा जाता है। देवी सिद्धिदात्री ने मधु और कैटभ नाम के राक्षसों का वध करके दुनिया का कल्याण किया। यह देवी भगवान विष्णु की प्रियतमा लक्ष्मी के समान, कमल के आसन पर विराजमान हैं और हाथों में कमल, शंख, गदा व सुदर्शन चक्र धारण किए हुए हैं। सिद्धिदात्री नाम से ही स्पष्ट है सिद्धियों को देने वाली। माना जाता है कि इनकी पूजा से व्यक्ति को हर प्रकार की सिद्धि प्राप्त होती है। मार्केण्डेय पुराण के अनुसार अणिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्रकाम्य, ईशित्व और वशित्व, कुल आठ सिद्धियां हैं, जो कि मां सिद्धिदात्री की पूजा से आसानी से प्राप्त की जा सकती हैं। मां सिद्धिदात्री को खीर, हलवा-पूरी का भोग लगाया जाता है।
सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। माना जाता है कि मां का यह रूप साधक को सभी प्रकार की ऋद्धियां एवं सिद्धियां प्रदान करने वाला है। मां सिद्धिदात्री को खीर, हलवा पूरी का भोग लगाया जाता है। नवरात्रि में अष्टमी और नवमीं पर पूजा के दौरान काले चने और पूरियों के साथ सूजी का हलवा खासतौर पर बनाया जाता है।
नवरात्रि के नौवें दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। माना जाता है कि मां का यह रूप साधक को सभी प्रकार की ऋद्धियां एवं सिद्धियां प्रदान करने वाला है। इस दिन कमल में बैठी देवी का ध्यान करना चाहिए। सुंगधित फूल अर्पित करें।  इसके साथ ही इस मंत्र का जाप करें- ऊं सिद्धिरात्री देव्यै नम:। इस दिन हवन जरूर करें।

माता सिद्धिदात्री की पूजा विधि...

  • सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से निवृत्त होने के बाद साफ- स्वच्छ वस्त्र धारण करें।
  • मां की प्रतिमा को गंगाजल या शुद्ध जल से स्नान कराएं। 
  • मां को सफेद रंग के वस्त्र अर्पित करें। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मां को सफेद रंग पसंद है।
  • मां को स्नान कराने के बाद सफेद पुष्प अर्पित करें।
  • मां को रोली कुमकुम लगाएं। 
  • मां को मिष्ठान, पंच मेवा, फल अर्पित करें।
  • माता सिद्धिदात्री को प्रसाद, नवरस युक्त भोजन, नौ प्रकार के पुष्प और नौ प्रकार के ही फल अर्पित करने चाहिए।
  • मां सिद्धिदात्री को मौसमी फल, चना, पूड़ी, खीर, नारियल और हलवा अतिप्रिय है। कहते हैं कि मां को इन चीजों का भोग लगाने से वह प्रसन्न होती हैं।
  • माता सिद्धिदात्री का अधिक से अधिक ध्यान करें।
  • मां की आरती भी करें।
  • अष्टमी के दिन कन्या पूजन का भी विशेष महत्व होता है। इस दिन कन्या पूजन भी करें।
माता सिद्धिदात्री की आरती...
 
जय सिद्धिदात्री तू सिद्धि की दाता।
तू भक्तों की रक्षक तू दासों की माता।।
तेरा नाम लेते ही मिलती है सिद्धि।
तेरे नाम से मन की होती है शुद्धि।।
कठिन काम सिद्ध कराती हो तुम।
हाथ सेवक के सर धरती हो तुम।।
तेरी पूजा में न कोई विधि है।
तू जगदंबे दाती तू सर्वसिद्धि है।।
रविवार को तेरा सुमरिन करे जो।
तेरी मूर्ति को ही मन में धरे जो।।
तू सब काज उसके कराती हो पूरे।
कभी काम उस के रहे न अधूरे।।
तुम्हारी दया और तुम्हारी यह माया।
रखे जिसके सर पैर मैया अपनी छाया।।
सर्व सिद्धि दाती वो है भाग्यशाली।
जो है तेरे दर का ही अम्बे सवाली।।
हिमाचल है पर्वत जहां वास तेरा।
महानंदा मंदिर में है वास तेरा।।
मुझे आसरा है तुम्हारा ही माता।
वंदना है सवाली तू जिसकी दाता‌।।

माता सिद्धिदात्री का ध्यान मंत्र...

सिद्धगंधर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि ।
सेव्यमाना सदा भूयात् सिद्धिदा सिद्धिदायिनी।।

वन्दे वांछित मनोरथार्थ चन्द्रार्घकृत शेखराम्।
कमलस्थितां चतुर्भुजा सिद्धिदात्री यशस्वनीम्॥

खैरागढ़ उपचुनाव, सघन प्रचार में लगें अग्रवाल

खैरागढ़ उपचुनाव, सघन प्रचार में लगें अग्रवाल  

दुष्यंत टीकम     
खैरागढ़। भाजपा विधायक एवं पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल खैरागढ़ उपचुनाव में सघन प्रचार में लगें हुए हैं। वे सवाल उठा रहे हैं कि कांग्रेस को अभी घोषणा-पत्र जारी करने की जरुरत क्यों पड़ रही है, बीते 3 सालों में कांग्रेस की सरकार ने खैरागढ़ में कुछ काम क्यों नहीं किया ?
खैरागढ़ विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में आयोजित आम सभाओं में बृजमोहन अग्रवाल कांग्रेस सरकार पर तीखे हमले कर रहे हैं। उन्होंने सवाल उठाया कि सरकार ने अब तक खैरागढ़ क्षेत्र में क्या काम किया, विधायक देवव्रत की मौत किन वजहों से हुई, देवव्रत की मूर्ति लगाने घोषणा अभी क्यों ? बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि चुनाव अचार संहिता के दौरान कांग्रेस पार्टी द्वारा मतदाताओं को लालच दिया जा रहा है, जो कि गलत है। प्रचार के दौरान बृजमोहन ने ट्वीट करके कहा कि 12 अप्रैल को खैरागढ़ की जनता अपनी अंगुलियों से बुलडोजर ऑन करेगी।
भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने तो यह आरोप लगा दिया है कि कांग्रेस पार्टी द्वारा वन अमले को अपने पक्ष में वोटिंग के लिए प्रयास के लिए वन अमले पर दबाव डाला जा रहा है। उन्होंने कहा कि विभाग के गोदामों में साड़िया, दारू और बोरों में भरकर नोट लाकर रखे जा रहे हैं। उन्होंने वनमंत्री पर गोपनीय अभियान के तहत काम करने का भी आरोप लगाया।

खाद्य मंत्री ने कांग्रेस प्रत्याशी की जीत का दावा किया

खाद्य मंत्री ने कांग्रेस प्रत्याशी की जीत का दावा किया    

दुष्यंत टीकम         
रायपुर। प्रदेश के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने खैरागढ़ उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी की जीत का दावा करते हुए कहा है कि अगर वहां से भाजपा की जीत हुई तो वे अपने पद से इस्तीफा दे देंगे।
रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा विधायक शिवरतन शर्मा से हो रही गर्मा-गर्म बहस के दौरान अमरजीत भगत ने यह घोषणा कर दी। उन्होंने कांग्रेस सरकार द्वारा प्रदेश भर में किये जा रहे विकास कार्यों और जनहित में चलाई जा रही योजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि खैरागढ़ में जीत कांग्रेस प्रत्याशी की ही होगी। अगर भाजपा प्रत्याशी जीता तो वे इस्तीफा दे देंगे। अमरजीत भगत का यह बयान राजनैतिक गलियारे में चर्चा का विषय बन गया है।

इलेक्ट्रिक कार लॉन्च करने की तैयारी में कंपनियां

इलेक्ट्रिक कार लॉन्च करने की तैयारी में कंपनियां   

अकांशु उपाध्याय/सुनील श्रीवास्तव        

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। दुनिया भर में तेजी से इलेक्ट्रिक व्हीकल में मांग बढ़ती जा रही है। वर्तमान सभी बड़ी कार निर्माता कंपनियां इलेक्ट्रिक कार लॉन्च करने की तैयारी कर रही है। हालांकि, अभी इलेक्ट्रिक कारों की ज्यादा कीमत के चलते यह आम लोगों को बजट से बाहर है। इसी को देखते हुए जनरल मोटर्स और होंडा ने किफायती इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण के लिए साथ आई हैं।
 और Honda नेक्स्ट जनरेशन की अल्टियम बैटरी टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से सस्ती इलेक्ट्रिक कारों को निर्माण करेंगे। इन कारों,एक कॉम्पैक्ट क्रॉसओवर शामिल होगा। 2027 तक उत्तरी अमेरिका में इसकी बिक्री शुरू होने की उम्मीद है।
जीएम ग्लोबल प्रोडक्ट डेवलपमेंट, परचेजिंग और सप्लाय चैन के कार्यकारी उपाध्यक्ष डौग पार्क्स ने एक बयान में कहा कि हमारी योजना एक इलेक्ट्रिक वाहन के निर्माण करने की है, जिसकी कीमत आगामी शेवरले इक्विनॉक्स ईवी से कम है। जीएम और होंडा ने पिछले कुछ वर्षों में सफलतापूर्वक भागीदारी की है। 2013 में कंपनियों ने नेक्स्ट जनरेशन के फ्यूल सेल सिस्टम और हाइड्रोजन स्टोरेज टेक्नोलॉजी के सह-विकास पर एक साथ काम करना शुरू किया।
ये कार बनाएंगी कंपनियां
2018 में होंडा और जीएम ने घोषणा की कि वे इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए बैटरी विकसित करने के लिए मिलकर काम करेंगे। दोनों कंपनियों ने उस समय कहा था कि वे जीएम अगली पीढ़ी की बैटरी प्रणाली के आधार पर सहयोग करेंगे‌। इसके बाद पिछले साल कंपनियों ने घोषणा की थी कि जीएम अपने अल्टियम-ब्रांडेड इलेक्ट्रिक वाहन आर्किटेक्चर और बैटरी सिस्टम का उपयोग करके एक होंडा एसयूवी और एक एक्यूरा एसयूवी का निर्माण करेगी। होंडा अलग लॉन्च करेगी इलेक्ट्रिक कार कंपनियों ने उस समय कहा था कि होंडा एसयूवी को प्रोलॉग नाम दिया जाएगा और दोनों एसयूवी में होंडा द्वारा डिजाइन की गई बॉडी, इंटीरियर और ड्राइविंग फीचर्स होंगे। लेकिन होंडा ने जून में यह भी कहा कि वह इस दशक के अंत में अपने इलेक्ट्रिक वाहन बनाने की योजना बना रही है।

असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती करने का फैसला: बोर्ड

असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती करने का फैसला: बोर्ड  

पंकज कपूर     
देहरादून। उत्तराखंड के बेरोजगारों के लिए खुशखबरी है। खासकर उन बेरोजगारों के लिए, जो लंबे समय से भर्ती का इंतजार कर रहे थे। उत्तराखंड चिकित्सा सेवा चयन बोर्ड ने कई विषयों के लिए असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती करने का फैसला लिया है।
जिसके लिए बोर्ड द्वारा आवेदन प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक साइट ukmssb.org के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने की आखिरी तारीख 25 अप्रैल 2022 तय की गई है।
 दरसल, बोर्ड द्वारा यह भर्ती राजकीय मेडिकल कालेज में विभिन्न विषयों के असिस्टेंट प्रोफेसर के रिक्त पदों पर भर्तियों के लिए निकाली हैं। इस भर्ती के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर के कुल 339 रिक्त पदों को भरा जाना है। पात्र उम्मीदवार निर्धारित तारीख से पूर्व आवेदन कर सकते हैं।
अधिसूचना के अनुसार इन पदों के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी के पास। एनएमसी-टीईक्यू विनियमों के अनुसार-चिकित्सा संस्थानों में शिक्षकों के लिए न्यूनतम योग्यता विनियम 22 फरवरी 2022 के अनुसार योग्यता होनी चाहिए।
आवेदक ने कम से कम दो साल के लिए प्रादेशिक सेना की सेवा की हो और एक राष्ट्रीय कैडेट कोर बी प्रमाण पत्र हो।
अधिसूचना के अनुसार इन पदों पर उम्मीदवारों का चयन इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा। इस भर्ती के लिए इंटरव्यू का आयोजन जून-जुलाई के महीने में किया जा सकता है। भर्ती में शामिल होने के लिए उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड प्रदान किए जाएंगे, जोकि बोर्ड द्वारा जारी किया जाएगा।

केंद्रशासित प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ी: सीएम

केंद्रशासित प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ी: सीएम 

इकबाल अंसारी      

पुड्डुचेरी। पूर्व मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने शनिवार को कहा कि केंद्रशासित प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ रही है। उन्होंने यहां संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि केंद्रशासित प्रदेश में जमीन हथियाने, गांजा व अन्य नशीले पदार्थों की तस्करी और बिक्री, अपहरण, हत्या, चोरी और डकैती की की घटनाएं आम हो रही हैं।

नारायणसामी ने आरोप लगाया कि पंजीकरण विभाग की सहायता से फ्रांसीसी नागरिकों की जमीन जाली दस्तावेजों के साथ हड़पी जा रही है। उन्होंने एल्लायम्म कोइल स्ट्रीट में अपने निवास के पास एक फ्रांसीसी नागरिक की जमीन हड़पे जाने की घटना की जानकारी भी दी।उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री कार्यालय से मौखिक आदेश दिये जा रहे हैं कि मामले की जांच न की जाए। नारायणसामी ने बताया कि संपत्ति हड़पने में मदद न करने वाले एक उप- पंजीयक की पहले ही संदिग्ध हालात में मृत्यु हो चुकी है। उन्होंने घटना में एक निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए कहा कि मामले को सीबीआई के सुपुर्द कर देना चाहिए।

एक बार फिर सरकार को घेरने की कोशिश: रावत

एक बार फिर सरकार को घेरने की कोशिश: रावत  

पंकज कपूर         

देहरादून। उत्तराखंड की राजनीति से बड़ी खबर सामने आ रही है। जहां पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने एक बड़ा बयान दिया है। जिसमें उन्होंने लोकपाल व लोकायुक्त का मुद्दा उठाकर एक बार फिर सरकार को घेरने की कोशिश की है।उन्होंने कहा कि आश्चर्य, जनक है कि आज भी कुछ पत्र और पत्रकार (Media) हैं, जो बुझता हुआ हुक्का गुड़गुड़ाने का शौक रखते हैं। लोकपाल तो 2014 में सत्ता परिवर्तन का टोटका था, जिस टोटके का भी अन्ना, इस्तेमाल कर सत्ता में आने वाले लोग उसको खुद ही एक अनचाही झंझट समझकर भुला चुके हैं। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Harish Rawat) ने कहा कि कभी मैंने संसदीय कार्य राज्यमंत्री के तौर पर कहा था कि “तृ मैं भी अन्ना, आओ मिल बैठकर चूसें गन्ना”, वह गन्ना लोकपाल ही था। मगर मैं भूल गया एक बार चूसा गया गन्ना, फिर नहीं चूसा जाता। 2014 में गन्ना चुस गया और अन्ना भी लोकपाल के गन्ने को भूल गये। 2016 में मैंने राज्य विधानसभा द्वारा संशोधित रूप में पारित कानून के तहत लोकायुक्त चयन की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने का हौसला किया।

गीतांजलि का उपन्यास ‘रेत समाधि’ शॉर्टलिस्ट किया

गीतांजलि का उपन्यास ‘रेत समाधि’ शॉर्टलिस्ट किया 

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। हिंदी साहित्य के लिए अच्छी खबर है। जानी-मानी लेखिका गीतांजलि का उपन्यास ‘रेत समाधि’ अंतरराष्ट्रीय बुकर प्राइज के लिए शॉर्टलिस्ट कर लिया गया है। पहली बार है जब बुकर पुरस्कार की दौड़ के लिए अंतिम 6 किताबों में कोई हिंदी उपन्यास शामिल है।
इंटरनेशनल बुकर प्राइज हर साल किसी ऐसी किताब को दिया जाता है जिसका अंग्रेजजी में अनुवाद किया गया हो और जो आयरलैंड या ब्रिटेन में प्रकाशित हुई हो। गीतांजलि श्री के उपन्यास का अंग्रेजी में अनुवाद डेजी रॉकवेल ने किया है।
‘रेत समाधि’ उत्तर भारत की एक 80 साल की वृद्ध महिला की कहानी है जो अपने पति की मौत के बाद तनाव में चली जाती है और एक नया जीवन शुरू करना चाहती है।

सबकुछ बाजार के हाथ में, मंत्रालय किस लियें

सबकुछ बाजार के हाथ में, मंत्रालय किस लियें   

संदीप मिश्र         

लखनऊ। सपा प्रमुख एवं यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने महंगाई को लेकर भारतीय जनता पार्टी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर सबकुछ बाजार के हाथ में ही है तो फिर मंत्रालय किस लियें ? उन्होंने कहा कि इस मंत्रालय को भंग कर देना चाहिए।

अखिलेश यादव ने कहा कि ईंधन के बेतहाशा बढ़ते दामों पर जब न कोई सरकारी नियंत्रण, न शासन, न प्रशासन, न प्रबंधन, न ही नियमन है और अगर सब कुछ बाज़ार के हवाले ही है तो फिर पेट्रोल, डीज़ल, गैस का मंत्रालय किसलिए। इस मंत्रालय को तत्काल भंग कर देना चाहिए! भाजपाई-महंगाई जनता को निरंतर ईंधन से निर्धन कर रही है।

24 को केन्द्र शासित प्रदेश का दौरा करेंगे गृहमंत्री

24 को केन्द्र शासित प्रदेश का दौरा करेंगे गृहमंत्री   

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। पुड्डुचेरी की उप राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन ने शनिवार को कहा कि गृहमंत्री अमित शाह 24 अप्रैल को केन्द्र शासित प्रदेश का दौरा करेंगे। डॉ. सुंदरराजन ने दो दिन पहले नई दिल्ली में प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और वित्त मंत्री से मुलाकात करने की थी।
उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि वे केंद्र शासित प्रदेश के विकास के बारे में चिंतित हैं। उप राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने केन्द्रशासित प्रदेश के विकास में सहयोग करने का आश्वासन दिया और कई योजनाओं के कार्यान्वयन पर प्रोत्साहित किया।
उन्होंने कहा कि उनकी गृह मंत्री शाह और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ बैठक में प्रदेश के लोगों के लिए कई विकासात्मक योजनाएं लाने और बुनियादी ढांचे के विकास में सहयोग करने को लेकर बातचीत हुई। डॉ सुंदरराजन ने कहा कि पुड्डुचेरी की जनता के सहयोग से कोरोना मुक्त हो सका है।
उन्होंने कहा कि लोगों को अभी भी कोविड के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए और लोगों को मास्क पहनना जारी रखना चाहिए, अपने हाथों को साफ करना चाहिए और कुछ और दिनों तक सामाजिक दूरी बनाए रखनी चाहिए।

सांसदों की खीज को बढ़ाने का काम कर रहे नेता

सांसदों की खीज को बढ़ाने का काम कर रहे नेता  

अखिलेश पांडेय       
इस्लामाबाद। पाकिस्तान के संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा चल रही है। प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार रहेगी या जाएगी, इसका फैसला सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर संसद में तय होगा। लेकिन अहम वोटिंग से पहले सत्तारुढ़ दल के नेता अपने लंबे-लंबे भाषणों से विपक्षी सांसदों की खीज को बढ़ाने का काम कर रहे हैं।
संसद के अंदरखाने से निकलकर आ रही बातों से ऐसा लग रहा है कि रात आठ बजे के करीब अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग होगी।
लेकिन जिस तरह से इमरान खान सरकार के मंत्री शाह महमूद कुरैशी जिस तरह से लंबे और उबाऊ भाषण दे रहे हैं। विपक्ष को आशंका है कि वे उनमें खीज पैदाकर संसद से बाहर निकलने को मजबूर कर रहे हैं। जिससे उनकी संख्या बल कम देख स्पीकर अचानक वोटिंग कराकर सरकार को प्राण वायु दे दें।

अंतरराष्ट्रीय मुद्दों का हल, कूटनीति का इस्तेमाल

अंतरराष्ट्रीय मुद्दों का हल, कूटनीति का इस्तेमाल    

इकबाल अंसारी           
गुवाहाटी। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शनिवार को राष्ट्रमंडल संसदीय संघ की कार्यकारी समिति की मध्य वर्षीय बैठक का उद्घाटन करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय मुद्दों को हल करने के लिए वार्ता और कूटनीति का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।
बिरला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत एक समृद्ध और विकसित देश के रूप में उभरा है। इस मौके पर असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा भी मौजूद रहे। लाेक सभा अध्यक्ष ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों को बातचीत और कूटनीति के जरिए सुलझाया जाना चाहिए। अंतरराष्ट्रीय शांति और स्थिरता वैश्विक समृद्धि के लिए जरूरी है।
उन्होंने कहा कि राष्ट्रमंडल देशों की लोकतांत्रिक संस्थाएं किसी भी चुनौती का सामना करने में सक्षम हैं और इन देशों को मानवता के कल्याण के सामूहिक लक्ष्य के लिए काम करना चाहिए। भारत को लोकतंत्र और लोकतांत्रिक मूल्यों का प्रबल समर्थक बताते हुए बिरला ने कहा कि भारतीय लोकतंत्र न केवल प्राचीन है, बल्कि मजबूत, परिपक्व और जीवंत है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र हमारे विचारों और कार्यों में बसा है और हमारे जीवन का एक हिस्सा बन गया है।
लोक सभा अध्यक्ष ने ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ का भी जिक्र करते हुए कहा कि आजादी के 75 साल के दौरान भारतीय लोकतंत्र लगातार मजबूत हुआ है। पंचायत चुनाव से सेकर संसद तक चुनाव कराने में भारत की सफलता पर प्रकाश डालते हुए श्री बिरला ने कहा कि 800 संसदीय सीटों, लगभग 4,500 विधानसभा सीटों और 2.75 लाख पंचायतों के चुनाव कराने में भारत की दृढ़ता और सफलता इस बात का सबूत है कि भारतीय लोकतंत्र कार्यात्मक, प्रगतिशील और सफलता की ओर अग्रसर है।
उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि विविधता में एकता भारत की सबसे बड़ी ताकत है और हम सभी अपनी भाषाई, सांस्कृतिक, भौगोलिक और धार्मिक विविधताओं के बावजूद एकजुट हैं। श्री सरमा ने कहा कि यह असम के लिए एक ऐतिहासिक दिन है, क्योंकि यह पहला मौका है, जब राष्ट्रमंडल संसदीय संघ की कार्यकारी समिति की बैठक भारत में हो रही है। विधानसभा भारत की सबसे पुरानी विधानसभाओं में से एक है, जो उत्तर प्रदेश विधानसभा के बाद दूसरे स्थान पर है। भारत रत्न लोकप्रिय गोपीनाथ बोरदोलोई को याद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले आठ दशकों के दौरान असम विधान सभा ने कई ऐतिहासिक बहसें देखी गयी हैं, जिसमें कई महान हस्तियां लोकतंत्र के इस मंदिर को सुशोभित करती हैं।

यूरोप में काम कर रहे कार्यकर्ताओं की मदद, अपील

यूरोप में काम कर रहे कार्यकर्ताओं की मदद, अपील  

कविता गर्ग    
मुंबई।‌ बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा ने एक वीडियो संदेश में वर्ल्ड लीडर्स से रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच ईस्टर यूरोप में मानवीय संकट पर काम कर रहे कार्यकर्ताओं की मदद करने की अपील की है।
हमें यूक्रेन और दुनिया भर से शरणार्थियों की मदद करने के लिए तत्काल कार्रवाई करने की आवश्यकता है,” यूक्रेन के अंदर आंतरिक रूप से शरणार्थी 2.5 मिलियन बच्चों के साथ स्थापित है , यह द्वितीय विश्व युद्ध के बाद से बच्चों के सबसे तेज़ बड़े पैमाने पर शरणार्थियों में से एक है।
एक्ट्रेस ने कहा, कि इतने सारे युवा जीवन के लिए इतना आघात, जो हमेशा के लिए उनकी यादों में उकेरा जाएगा। इनमें से कोई भी बच्चा जो कुछ भी देखा है और जो उन्होंने अनुभव किया है, उसके बाद फिर कभी वैसा नहीं होगा। इसलिए यूके के नेता, जर्मनी, जापान, नॉर्वे और ऑस्ट्रेलिया, जब आप यह तय करने के लिए मिलते हैं कि आप मानवीय सहायता के लिए कितना धन देंगे, तो क्या आप हर जगह शरणार्थियों के लिए खड़े होंगे ? क्या आप उन अरबों का योगदान देंगे जिनकी उन्हें ज़रूरत है ? सभी से मदद के लिए कॉल बढ़ाने या कार्यकर्ताओं से वीडियो पोस्ट करने के लिए कहकर अपना संदेश समाप्त कर दिया। कहा यह सबसे बड़ा शरणार्थी संकट है। जिसे हमने मनुष्य के रूप में देखा है।

14 को प्रधानमंत्री संग्रहालय का उद्घाटन करेंगे पीएम

14 को प्रधानमंत्री संग्रहालय का उद्घाटन करेंगे पीएम 

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। 14 अप्रैल, 2022 को प्रधानमंत्री संग्रहालय का उद्घाटन किया जाएगा‌। पीएम मोदी इसका उद्घाटन करेंगे। इसे भारत के सभी प्रधानमंत्रियों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए विकसित किया गया है। इस संग्रहालय में सभी प्रधानमंत्रियों के नेतृत्व, कार्यकाल और उपलब्धियों के बारे में जानकारी मिलेगी।
पहले नेहरू संग्रहालय के नाम से जाना जाता था।
पहले यह नेहरू म्यूजियम भवन कहा जाता था। पिछले महीने पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में नेहरू संग्रहालय को पीएम संग्रहालय में तब्दील करने का फैसला किया गया था। इस संग्रहालय में देश के सभी 14 पूर्व प्रधानमंत्रियों की यादों को सहेजा जाएगा।
कैबिनेट बैठक के दौरान पीएम मोदी ने कहा था कि सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्रियों के योगदान को स्वीकार करने के लिए यह फैसला किया है। हम सभी पीएम के योगदान को मान्यता देना चाहते हैं। प्रधानमंत्री संग्रहालय में सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों के कार्यों को दिखाया गया है।
भारत के स्वतंत्रता संग्राम से शुरू होकर संविधान के निर्माण से लेकर अब तक की कहानी यह संग्रहालय बताता है। यहां पता चलेगा कि कैसे हमारे प्रधानमंत्रियों ने तमाम चुनौतियों के बाद भी देश को नेविगेट किया और देश की प्रगति के लिए काम किया।
संग्रहालय का डिजाइन बदलते भारत की कहानी से प्रेरित है, जिसे इसके नेताओं के हाथों का आकार दिया और ढाला गया है। संग्रहालय बनाने में किसी भी पेड़ को काटा या प्रत्यारोपित नहीं किया गया है। इस संग्रहालय का कुल क्षेत्रफल 10,491 वर्ग मीटर है।
पहले इस संग्रहालय का उद्घाटन 25 दिसंबर को किए जाने की योजना थी। इस दिन दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की जयंती होती है और इसे सुशासन दिवस के तौर पर मनाया जाता है।  इसके बाद अगली तारीख 26 जनवरी तय की गई, मगर इन दोनों ही तारीखों पर उद्घाटन नहीं हो सका।
इस संग्रहालय के लिए अब तक के सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों के बारे में जानकारी जुटाई गई है। इसके लिए सरकारी संस्थाओं जैसे, दूरदर्शन, फिल्म डिविजन, संसद टीवी, रक्षा मंत्रालय, मीडिया हाउस, प्रिंट मीडिया, विदेशी न्यूज एजेंसियां, विदेश मंत्रालय के संग्रहालयों से मदद ली गई है।

यूपीएससी सीआईएसएफ एसी परिणाम घोषित

यूपीएससी सीआईएसएफ एसी परिणाम घोषित  

अकांशु उपाध्याय              

नई दिल्ली। जो छात्र, सीआईएसएफ एसी (एक्सई) की परीक्षा दे चुके हैं और रिजल्ट के इंतजार में हैं, उनके लिए अच्छी खबर है। दरअसल संघ लोक सेवा आयोग ने यूपीएससी सीआईएसएफ एसी (एक्सई) परिणाम 2022 घोषित कर दिया है। विभागीय प्रतियोगी परीक्षा में उपस्थित रहने वाले उम्मीदवार यूपीएससी की आधिकारिक साइट upsc.gov.in के माध्यम से अपना रिजल्ट देख सकते हैं। बता दें परीक्षा 13 मार्च 2022 को आयोजित की गई थी।

लिखित परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले सभी उम्मीदवार शारीरिक मानक परीक्षण (पीएसटी) / शारीरिक दक्षता परीक्षण (पीईटी) और चिकित्सा मानक परीक्षण (एमएसटी) के लिए उपस्थित होने के पात्र हैं। आधिकारिक नोटिस के अनुसार केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) उम्मीदवारों को शारीरिक मानकों/शारीरिक दक्षता परीक्षण और चिकित्सा मानक परीक्षण (PST/PET/MST) की तारीख, समय और स्थान के बारे में सूचित करेगा।

वहीं परीक्षा से संबंधित अंक और अन्य विवरण फाइनल रिजल्ट के प्रकाशन की तारीख से 30 दिनों के भीतर यानी इंटरव्यू आदि के आयोजन के बाद आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध होंगे। वहीं 30 दिनों की अवधि के लिए वेबसाइट पर उपलब्ध रहेंगे। उम्मीदवार अन्य किसी भी प्रकार की जानकारी के आधिकारिक साइट की मदद ले सकते हैं।

अपना परिणाम देखने के लिए सबसे पहले उम्मीदवार यूपीएससी की ऑफिशियल साइट upsc.gov.in पर जाएं। इसके बाद अब होम पेज पर उपलब्ध UPSC CISF AC (Exe) रिजल्ट 2022 लिंक पर क्लिक करें। जिसके बाद एक नई पीडीएफ फाइल खुलेगी जहां उम्मीदवार अपना नाम देख सकते हैं। अब उम्मीदवार फाइल डाउनलोड करें और भविष्य की आवश्यकता के लिए उसी की एक हार्ड कॉपी रखें।

झारखंड में त्रिस्तरीय पंचयात चुनाव, स्वीकृति

झारखंड में त्रिस्तरीय पंचयात चुनाव, स्वीकृति 

इकबाल अंसारी            

रांची। झारखंड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव चार चरणों में होगा। राज्यपाल रमेश बैस ने राज्य में त्रिस्तरीय पंचयात चुनाव कराने के लिए शनिवार को अपनी स्वीकृति प्रदान की। 

झारखण्ड राज्य अंतर्गत त्रिस्तरीय पंचायत निकायों के ग्राम पंचायत सदस्य, मुखिया, पंचायत समिति सदस्य एवं जिला परिषद सदस्य के निर्वाचन के लिए कुल चार चरणों 14 मई, 19 मई, 24 मई एवं 27 मई, 2022 को चुनाव होंगे।

गुजरात: नए वेरिएंट 'एक्सई' का एक केस मिला

गुजरात: नए वेरिएंट 'एक्सई' का एक केस मिला    

अखिलेश पांडेय            
बीजिंग/गांधी नगर। चीन के बाद अब भारत में भी कोरोना वायरस संक्रमण के केस बढ़ने लगे हैं और अब गुजरात में भी कोरोना वायरस के नए एक्सई वेरिएंट का  एक केस सामने आया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि जून माह तक भारत में कोरोना संक्रमण की चौथी लहर आने की आशंका है। यही कारण है कि सरकार ने 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज लगाने की अनुमति दे दी है। कोरोना वायरस के एक्सई वेरिएंट का पहला मामला गुजरात में सामने आने के बाद केंद्र सरकार ने दिल्ली समेत चार राज्यों के लिए अलर्ट जारी किया है।
एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट में एक उच्च पदस्थ अधिकारी ने पुष्टि की है कि गुजरात में कोरोना वायरस के नए XE Variant का पहला मामला सामने आया है। उक्त अधिकारी ने यह भी बताया कि नया XE Variant संक्रामक है, लेकिन वायरस के ओमाइक्रोन वेरिएंट से ज्यादा खतरनाक नहीं है।
गौरतलब है कि बीते सप्ताह मुंबई के स्थानीय निकाय BMC ने फरवरी के दौरान पृथक किए गए कोरोना वायरस के नमूनों में XE Variant की मौजूदगी के बारे में सूचना दी थी, लेकिन भारतीय सरस्कोव-2 जीनोम कंसोर्टियम (आईएनएससीओजी) और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में स्थित अधिकारियों ने इसकी पुष्टि नहीं की थी और तब असमंजस की स्थिति निर्मित हो गई थी।
एक व्यक्ति ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि गुजरात से एकत्र किए गए नमूने जीनोम अनुक्रम परीक्षण के लिए NCDC को भेजे गए हैं, लेकिन हमें जो Variant मिला है, वह मुंबई में पाए गए नए XE Variant के समान है। रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात बायोटेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर (GBRC) ने कथित तौर पर वायरस के इस नए XE संस्करण की पुष्टि की है। हालांकि जीबीआरसी की लैब हेड माधवी जोशी ने इस मामले पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।
वहीं दूसरी ओर कोरोना के बढ़ते केस और XE Variant का पहला केस मिलने के बाद केंद्र सरकार ने केरल, दिल्ली, हरियाणा, महाराष्ट्र और मिजोरम के लिए अलर्ट जारी किया है। इन चारों राज्यों में कोरोना के मामलों को नियंत्रण में रखने के लिए अभी से एहतियाती कदम उठाने के लिए कहा गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने चारों राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश को पत्र लिखकर चेतावनी दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों से कहा है कि चिंताग्रस्त क्षेत्रों की नियमित निगरानी और लगातार काम करना महत्वपूर्ण है। पत्र में राज्यों को 5 सूत्री रणनीति अपनाने की सलाह दी गई है, जिसमें टेस्ट करना, पता लगाना, उपचार, टीकाकरण और कोविड-19 के अनुकूल व्यवहार शामिल है।

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम 

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम  हरिशंकर त्रिपाठी  देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में दशहरा, ईद...