शुक्रवार, 23 अगस्त 2019

47000 वर्ग किमी जंगल जलकर खाक

धरती के फेफड़ों पर पड़ेगा दुष्प्रभाव


अमेजन। तीन हफ्ते से अमेजन नदी घाटी में फैले वर्षा वन जल रहे हैं। अब तक 47 हजार वर्ग किमी जंगल खाक हो चुके हैं। यह आंकड़ा कितना बड़ा है, इसका अंदाजा इससे लगाएं कि भारत के सभी 110 नेशनल पार्क करीब 41 हजार वर्ग किमी क्षेत्र में हैं। करीब 55 लाख वर्ग किमी के अमेजन के जंगल 'धरती के फेफड़े' कहे जाते हैं। यहां से दुनिया की जरूरत की 20 प्रतिशत ऑक्सीजन मिलती है। दूसरी ओर आग के लिए ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सोनारो पर्यावरण संरक्षण के लिए काम रहे एनजीओ पर आरोप लगा रहे हैं, वहीं, पर्यावरणविद राष्ट्रपति की नीतियों को दोषी ठहरा रहे हैं।


ब्राजील की राष्ट्रीय अंतरिक्ष शोध संस्था (आईएनपीई) के अनुसार जनवरी से अब तक इन जंगलों में आग लगने के 74 हजार से अधिक मामले दर्ज हो चुके हैं। जबकि पूरे 2018 में 39 हजार मामले आए थे। आग का कहर पूरे देश पर दिख रहा है। जंगल से करीब 3200 किमी दूर स्थित देश की राजधानी साओ पाउलो में भी दिन के समय सूर्य नहीं दिख रहा। धुएं की वजह से अंधेरा छाया रहता है। हालत यह है कि दोपहर तीन-चार बजे लोग वाहनों के हैडलैंप और घरों में बल्ब जलाकर काम चला रहे हैं। हालात इतने खराब हैं कि आसमान में करीब 45 लाख वर्ग किमी क्षेत्र में धुआं पसरा है। आग इतनी भयंकर है कि विभिन्न उपग्रहों से जंगलों से धुआं उठता नजर आ रहा है।


कृष्णा : धर्म शास्त्र एवं भक्ति योग

हिंदू ग्रंथों में धार्मिक और दार्शनिक विचारों की एक विस्तृत श्रृंखला , कृष्ण के माध्यम से प्रस्तुत की जाती है। रामानुज,जो एक हिंदू धर्मविज्ञानी थे एवं जिनके काम भक्ति आंदोलन में अत्यधिक प्रभावशाली थे , ने विशिष्ठ अद्वैत के संदर्भ में उन्हें प्रस्तुत किया। माधवचार्य, एक हिंदू दार्शनिक जिन्होंने वैष्णववाद के हरिदास संप्रदाय की स्थापना की , कृष्ण के उपदेशो को द्वैतवाद (द्वैत) के रूप में प्रस्तुत किया । गौदिया वैष्णव विद्यालय के एक संत जीव गोस्वामी, कृष्ण धर्मशास्त्र को भक्ति योग और अचिंत भेद-अभेद के रूप में वर्णित करते थे।धर्मशास्त्री वल्भआचार्य द्वारा कृष्ण के दिए गए ज्ञान को अद्वैत (जिसे शुद्धाद्वैत भी कहा जाता है) के रूप में प्रस्तुत , जो वैष्णववाद के पुष्टि पंथ के संस्थापक थे। भारत के एक अन्य दार्शनिक मधुसूदन सरस्वती, कृष्ण धर्मशास्त्र को अद्वैत वेदांत में प्रस्तुत करते थे, जबकि आदि शंकराचार्य , जो हिंदू धर्म में विचारों के एकीकरण और मुख्य धाराओं की स्थापना के लिए जाने जाते है, शुरुआती आठवीं शताब्दी में पंचायतन पूजा पर कृष्ण का उल्लेख किया है।


कृष्ण पर एक लोकप्रिय ग्रन्थ भागवत पुराण,असम में एक शास्त्र की तरह माना जाता है, कृष्ण के लिए एक अद्वैत, सांख्य और योग के रूपरेखा का संश्लेषण करता है, लेकिन वह कृष्ण के प्रति प्रेमपूर्ण भक्ति के मार्ग पर चलते है। ब्रायंट भागवत पुराण में विचारों के संश्लेषण का इस प्रकार वर्णन करते है,


“ भागवत का दर्शन, सांख्य, तत्वमीमांसा और भक्ति योग जैसी वेदांत शब्दावली का एक मिश्रण है। दसवीं किताब ईश्वर की सबसे मानवीय रूप में कृष्ण की शिक्षाओं को बढ़ावा देती है। ”
—एडविन ब्रायंट, कृष्णा: ए सोर्सबुक


शेरिडन और पिंटचमैन दोनों ब्रायंट के विचारों की पुष्टि करते हैं और कहते हैं कि भगवत में वर्णित वेदांतिक विचार भिन्नता के साथ गैर-द्वैतवादी है। परंपरागत रूप से वेदांत , वास्तविकता में एक दूसरे पर आधारित है और भागवत यह भी प्रतिपादित करता है कि वास्तविकता एक दूसरे से जुड़ी हुई है और बहुमुखी है।


विभिन्न थियोलॉजीज और दर्शन के अलावा ,सामान्यतः कृष्ण को दिव्य प्रेम का सार और प्रतीक के रूप में प्रस्तुत किया गया है, जिसमें मानव जीवन और दिव्य का प्रतिबिंब है। कृष्ण और गोपियों की भक्ति और प्रेमपूर्ण किंवदंतियां और संवाद ,दार्शनिक रूप से दिव्य और अर्थ के लिए मानव इच्छा के रूपकों के समतुल्य माना जाता है और सार्वभौमिक शक्ति और मानव आत्मा के बीच का समन्वय है । कृष्ण की लीला प्रेम-और आध्यात्म का एक धर्मशास्त्र है। जॉन कोल्लेर के अनुसार, "मुक्ति के साधन के रूप में प्रेम को प्रस्तुत नहीं किया जाता है, यह सर्वोच्च जीवन है"। मानव प्रेम भगवान का प्रेम है। हिंदू परंपराओं में अन्य ग्रंथ ,जिनमें भगवद गीता सम्मिलित हैं ,ने कृष्ण के उपदेशो को कई भाष्य (टिप्पणी) लिखने के लिए प्रेरित किया है।


पश्चिमी अंचल की 24 वीं बैठक का आयोजन

गोवा। पश्चिमी अंचल परिषद की 24 वीं बैठक 22 अगस्त को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में पणजी में आयोजित की गई। बैठक में गोवा, महाराष्ट्र और गुजरात के मुख्यमंत्री, उप-मुख्यमंत्री गुजरात, इन राज्यों के 5 अन्य मंत्री, केंद्र शासित प्रदेश दमन और दीव और दादरा और नगर हवेली के प्रशासक और भारत सरकार तथा राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे। ।


केंद्रीय गृह मंत्री ने 24 वीं बैठक में परिषद के सभी सदस्यों का स्वागत किया और आशा व्यक्त की कि यह बैठक एक फलदायी बैठक होगी जहां केंद्र-राज्य और अंतर-राज्य से संबंधित सभी मुद्दों को आम सहमति से हल किया जाएगा। उन्होंने जोर देकर कहा कि आज की बैठक देश के संघीय ढांचे को और मजबूत करने के फैसले लेगी। क्षेत्र के महत्व पर जोर देते हुए, उन्होंने कहा कि पश्चिम क्षेत्र भारतीय अर्थव्यवस्था को गति देने में सहायक रहा है क्योंकि इस क्षेत्र के राज्य सकल घरेलू उत्पाद में लगभग 24% और देश के कुल निर्यात में 45% का योगदान दे रहे हैं। इसलिए, राज्यों और केंद्र के बीच सभी लंबित मुद्दों को पश्चिमी जोनल काउंसिल के माध्यम से प्राथमिकता पर हल करने की आवश्यकता है। राज्यों की सराहना करते हुए, उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के राज्य अपने सहकारी क्षेत्र को काफी सफलतापूर्वक आगे बढ़ा रहे हैं। जोन के राज्य चीनी, कपास, मूंगफली और मछली के बड़े निर्यातक रहे हैं और देश के आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि आज की बैठक एजेंडे में सूचीबद्ध मुद्दों को हल करने में निर्णायक और फलदायी होगी। उन्होंने कहा कि एजेंडे में सूचीबद्ध मुद्दों के अलावा कानून और व्यवस्था तथा प्रशासनिक सुधारों से संबंधित मुद्दों को भी वह जोड़कर उनपर चर्चा करना चाहते हैं ताकि यह परिषद की बैठक देश के विकास को और अधिक गति देने में सहायक हो।उन्होंने गुजरात, महाराष्ट्र और गोवा राज्यों में बाढ़ पीड़ितों के लिए अपनी गहरी चिंता व्यक्त की और राज्यों से अनुरोध किया कि वे बाढ़ से हुए नुकसान का जल्द आकलन करें और भारत सरकार को अपनी आवश्यकता भेजें। उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि भारत सरकार ने अपने दम पर नुकसान का आकलन करने के लिए एक बड़ी पहल की है, जिसके अंतर्गत अब पहले से ही बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के लिए टीमों का गठन करने का प्रावधान किया गया है।


परिषद ने पिछली बैठक में की गई सिफारिशों के कार्यान्वयन की प्रगति की समीक्षा की तथा निम्नलिखित मुद्दों पर विशेष ध्यान आकर्षित किया गया।
1. झुग्गीवासियों के पुनर्वास के लिए अधिशेष नमक पैन भूमि के उपयोग के लिए महाराष्ट्र सरकार द्वारा मास्टर प्लान प्रस्तुत करना।


2. उन गांवों का कवरेज, जो पांच किलोमीटर के रेडियल दूरी के भीतर बिना किसी बैंकिंग सुविधा के रहते हैं। उनतक भी सभी सुविधाएँ पहुँचाना ।


3. लाभार्थी उन्मुख योजनाओं के संबंधित पोर्टल से वास्तविक समय की जानकारी एकत्र करके योजना ,ग्राम-वार विवरणों को शामिल करने के लिए डीबीटी पोर्टल का संवर्द्धन करना।


4. समुद्री मछुआरों के विवरण के सत्यापन के लिए आधार कार्ड पर एन्क्रिप्टेड क्यूआर कोड के अभिनव समाधान को कार्यान्वित करना। राज्यों द्वारा एक महीने के भीतर प्रिंट आउट लेने या कार्ड बनाना ताकि सभी के पास नवीनतम क्‍यूआर कोड वाला आधार कार्ड हो।


5. 12 वर्ष से कम उम्र की लड़कियों के खिलाफ यौन अपराधों, बलात्कार की जांच और सुनवाई 2 महीने के भीतर में पूरी करने के लिए विस्तृत निगरानी तंत्र स्थापित करना।


बाल्टिक:बहुपक्षीय मंचो पर भारत के साथ

नई दिल्ली। उच्च-स्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ तीन बाल्टिक देशों -लिथुआनिया, लातविया और एस्टोनिया की यात्रा के बाद कल दिल्‍ली लौट आए। इस यात्रा के दौरान श्री नायडू ने तीनों देशों के राष्‍ट्राध्‍यक्षों के साथ व्‍यापक बातचीत की और व्‍यापार मंचों तथा प्रवासी भारतीयों को सम्‍बोधित किया। तीनों बाल्टिक देशों ने उपराष्‍ट्रपति को भरोसा दिलाया कि विविध बहुपक्षीय मंचों पर भारत के साथ मिलकर कार्य करेंगे तथा उन्‍होंने आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष करने का संकल्‍प व्‍यक्‍त किया।


श्री नायडू ने अपनी यात्रा की शुरूआत लिथुआनिया से की। अपनी यात्रा के प्रथम चरण में उन्‍होंने लिथुआनिया के राष्‍ट्रपति श्री गीतानस नोसदा से राजधानी विलनियस में मुलाकात की। उन्‍होंने लिथुआनिया के राष्‍ट्रपति को जम्‍मू कश्‍मीर को विशेष राज्‍य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्‍छेद 370 को हटाए जाने संबंधी भारत सरकार के हाल के निर्णय की जानकारी दी। उपराष्‍ट्रपति ने पुलवामा हमले की निंदा करने के लिए लिथुआनिया सरकार का आभार प्रकट किया। लिथुआनिया की राजधानी विलनियस में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्‍यापार क्षमता से कम है। लैजर, नवीकरणीय ऊर्जा, कृषि-खाद्य प्रसंस्‍करण और जीवन विज्ञान जैसे क्षेत्रों में लिथुआनिया भारत का प्रमुख प्रौद्योगिकी सहयोगी बन सकता है। तीन बाल्टिक देशों की यात्रा के तीसरे दिन उपराष्‍ट्रपति लिथुआनिया के प्रधानमंत्री श्री सैलियस स्केवर्नेलिसतथा लिथुआनिया गणराज्य के संसद के अध्यक्ष श्री विक्टर प्रैंकिटिस से मुलाकात की और भारतीय-लिथुआनिया व्‍यापार फोरम को संबोधित किया। इसके बाद, उपराष्‍ट्रपति रीगा,  लातविया के लिए रवाना हो गये, जहां उन्होंने भारतीय समुदाय को संबोधित किया।


प्रधानमंत्री श्री सैलियस स्केवर्नेलिस के साथ विचार-विमर्श के दौरान उपराष्‍ट्रपति ने संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के विस्‍तार और इसके लोकतंत्रीकरण पर बल दिया। उन्‍होंने लिथुआनिया से सुरक्षा परिषद की स्‍थायी सदस्‍यता के संबंध में भारतीय दावे को समर्थन देने का अनुरोध किया। उन्‍होंने कहा कि भारत में पूरी दुनिया की आबादी का छठा भाग निवास करता है। इसके पहले भारत-लिथुआनिया व्‍यापार फोरम को संबोधित करते हुए उपराष्‍ट्रपति ने लिथुआनिया के व्‍यावसायियों को भारत में उपलब्‍ध अवसरों का उपयोग करने का आग्रह किया।  यूरोपीय संघ की तुलना में भारत का मध्‍यम वर्ग अधिक बढ़ा है।


श्री नायडू ने विश्‍व बैंक के 'व्‍यापार में आसानी'सूची में 14वां स्‍थान प्राप्‍त करने के लिए लिथुआनिया की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि आईटी, दवा उद्योग और कृषि-खाद्य प्रसंस्‍करण क्षेत्रों में दोनों राष्‍ट्र सहयोग कर सकते है। लातविया की राजधानी रीगा में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए उपराष्‍ट्रपति ने कहा कि 1991 में दोनों राष्‍ट्रों के बीच राजनायिक संबंध स्‍थापित होने के बाद लातविया और भारत के बीच मैत्रीपूर्ण संबंध रहे है। भारत लातविया के साथ व्‍यापार, निवेश, संस्‍कृति, शिक्षा समेत सभी क्षेत्रों में आपसी संबंधों को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्ध है। उपराष्ट्रपति ने कहा कि भारत को दुनिया भर में अपने 30 मिलियन मजबूत भारतीय मूल के लोगों द्वारा किए गए योगदान पर गर्व है। उन्होंने कहा, “आप भारत में विदेशी निवेश,  प्रौद्योगिकी, विशेषज्ञता और सद्भावना लाने में मददगार रहे हैं।”


नया भारत,सपनों की राह पर निकला:मोदी

फ्रांस। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांस दौरे के दौरान आज भारतीय समुदाय को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि भारत और फ्रांस के साझा मूल्य हैं। पीएम ने अपने संबोधन में अपनी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा कि सिर्फ 75 दिनों में हमारी सरकार ने महत्वपूर्ण फैसले लिए। पीएम मोदी ने परिवारवाद, भ्रष्टाचार पर हमला बोलते हुए कहा कि नया भारत सपनों की राह पर चल पड़ा है।


पीएम मोदी ने कहा कि चाइल्ड प्रोटेक्शन और हेल्थ के क्षेत्र में भी सरकार ने अहम फैसले लिए हैं। नई सरकार बनते ही जल शक्ति के लिए एक नया मंत्रालय बनाया गया। गरीब किसानों और व्यापारियों को पेंशन की सुविधा मिले, इसका भी फैसला लिया गया। ट्रिपल तलाक की अमानवीय कुरीति को खत्म कर दिया गया है। पीएम मोदी ने कहा कि फ्रांस और भारत एक-दूसरे के सुख और दुख में खड़े रहे। भारत में फ्रांस की फुटबॉल टीम के जितने समर्थक हैं, उनकी जितनी संख्या भारत में हैं फ्रांस में भी शायद न हो। जब फ्रांस ने वर्ल्ड कप जीता था तो भारत में भी जोर-शोर से इसका जश्न मनाया गया। फ्रांस में हुए एयर इंडिया के 2 विमान हादसों की याद में बना स्मारक है।


कार,अवैध 42 पेटी देसी शराब बरामद

गोपीचंद सैनी


कब्जे से एक कार व 42 पेटी देशी शराब बरामद।
बागपत। थाना कोतवाली पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान जंगल ग्राम सरूरपुरकला से अभियुक्त ओमपाल पुत्र जम्मन ,संजू पुत्र ओमपाल निवासी गण सरूरपुरकला थाना कोतवाली बागपत को गिरफ्तार किया है। अभियुक्तों के कब्जे से 15 पेटी देशी शराब हरियाणा मार्का नाजायज बरामद की गई।
थाना दोघट पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान जंगल ग्राम निरपुडा से अभियुक्त दीनदयाल पुत्र बनवारीलाल निवासी हरीनगर दिल्ली को गिरफ्तार किया है अभियुक्त के कब्जे से एक कार आल्टो नम्बर-डीएल-9सीएम-7916 मय 26 पेटी देशी शराब हरियाणा प्रदेश मार्का नाजायज बरामद की गई।
थाना छपरौलीः पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान सीएचसी छपरौली के पास से अभियुक्त ओमवीर पुत्र रामकिशन निवासी कस्बा व थाना छपरौली जनपद बागपत को गिरफ्तार किया है अभियुक्त के कब्जे से एक पेटी देशी शराब यूपी मार्का नाजायज बरामद की गई।
शस्त्र अधि0 मे एक अभियुक्त गिरफ्तार, कब्जे से एक तमंचा मय 02 जिंदा कारतूस बरामद।
थाना बडौतः पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान जंगल ग्राम लुहारी से अभियुक्त सचिन पुत्र सत्यपाल निवासी लुहारी थाना बडौत जनपद बागपत को गिरफ्तार किया है अभियुक्त के कब्जे से एक तमंचा मय 02 जिंदा कारतूस नाजायज बरामद किया गया।


तीन राज्यो में बिक रहा नकली पेट्रोल

यूपी, हरियाणा, पंजाब में बिक रहे इस पेट्रोल से उड़ी अफसरों की नींद


नई दिल्ली। दिखने में हू-ब-हू असली पेट्रोल जैसा। लेकिन रेट के मामले में असली पेट्रोल से बहुत कम। हर रोज चार से पांच टैंकर मेरठ से हरियाणा और पंजाब के लिए रवाना होते हैं। वेस्ट यूपी के भी कुछ शहरों में इस जलेबी पेट्रोल की सप्लाई की जाती है। इसे जलेबी पेट्रोल इसलिए कहा जाता है क्योंकि तीन तरह के केमिकल को मिलाने के बाद उसे पेट्रोल जैसा दिखाने के लिए जलेबी में डाला जाने वाला रंग मिलाया जाता था।


मेरठ पुलिस ने छापा मारकर एक फैक्ट्री से करीब सवा दो लाख लीटर पेट्रोल-डीजल बरामद किया है। मिलावटी पेट्रोल को खपाने के लिए आरोपियों ने जगह-जगह अपने पेट्रोल पम्प भी खोले हुए हैं। इतनी मात्रा में मिलावटी पेट्रोल पकड़े जाने से तेल कंपनियों के अफसरों की नींद उड़ी हुई है। फैक्ट्री में पकड़े गए आरोपियों ने पुलिस को पेट्रोल बनाकर भी दिखाया।आरोपियों ने बताया कि वह पेट्रोल बनाने में सॉल्वेंट, बैंजीन और थिनर का इस्तेमाल करते हैं। और पेट्रोल की शक्ल देने के लिए जलेबी बनाने में इस्तेमाल होने वाला रंग मिलाया जाता था। ज़मीन में बड़े-बड़े टैंकर फिट किए गए हैं। उन्हीं टैंकर में तीनों कैमिकल डालकर उन्हें मशीन से चलाया जाता है। और फिर मोटरों की सहायता से टैंकरों में भरकर यूपी, हरियाणा और पंजाब के कुछ शहरों में भेज दिया जाता है।


वेस्टइंडीज के खिलाफ 6 विकेट पर 203 रन

नई दिल्ली। अंजिक्य रहाणे की अर्धशतकीय पारी के दम पर भारत ने पहले मैच की पहली पारी में वेस्टइंडीज के खिलाफ 6 विकेट पर 203 रन बना लिए हैं। गुरुवार को पहले दिन का खेल खत्म होने तक ऋषभ पंत (20) और रविंद्र जडेजा (3) नाबाद हैं। वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। भारत के लिए अजिंक्य रहाणे ने 81 और लोकेश राहुल ने 44 रन की पारी खेली। हनुमा विहारी ने 32 रन का योगदान दिया। वेस्टइंडीज के लिए केमार रोच ने 3, शेनॉन गेब्रियल ने 2 और रोस्टन चेज ने एक विकेट लिया। हले दिन के तीसरे सत्र में जब 68.5 ओवर का खेल हुआ था तभी तेज बारिश आ गई जिसके बाद अंपायरों ने स्टंप्स की घोषणा कर दी।


मैच में टॉस हारने के बाद बल्लेबाजी का न्योता पाने वाली भारतीय टीम की शुरुआत खराब रही। ओपनर मयंक अग्रवाल 5, चेतेश्वर पुजारा 2, कप्तान विराट कोहली 9 रन बनाकर जल्द आउट हो गए। इसके बाद अजिंक्य रहाणे ने केएल राहुल के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी की। इसके बाद अजिंक्य रहाणे ने हनुमा विहारी के साथ मिलकर पांचवें विकेट के लिए 82 रन जोड़े। इसके बाद रहाणे अपने शतक की ओर बढ़ रहे थे लेकिन 81 के स्कोर पर वह शैनन गैब्रिएल की गेंद पर प्लेड ऑन हो गए। उन्होंने अपनी पारी में 163 गेंदों का शमना किया और 10 चौके लगाए।


महिला ने कोतवाल पर लगाए आरोप

पीलीभीत। भले ही सीएम योगी एक तरफ लगातार पुलिस मातहतों को लगातार व्यवहार सुधारने की नसीहत दे रहे हों। मगर इसका असर जमीनी स्तर पर नहीं दिख रहा है। बीसलपुर के ग्राम रढ़ेता की रहने वाली कैकई देवी ने बीसलपुर कोतवाल हरिशंकर वर्मा पर लगाए गंभीर आरोप। कैकई देवी ने बताया की कल रात्रि को गांव में डीजे चल रहा था। जिसकी सूचना किसी ने बीसलपुर पुलिस को दी, जिस पर बीसलपुर कोतवाली हरीशंकर वर्मा के द्वारा जिसके यहां प्रोग्राम चल रहा था। उसको ना पकड़कर कैकई देवी के पुत्र राकेश व एक व्यक्ति नबी हसन को बेवजह पकड़ कर थाने ले आया। कैकई देवी रात्रि में ही अपने पुत्र को अन्य गाँव वाले के साथ थाने से छुड़ाने के लिए थाना बीसलपुर गयी। तब कोतवाल बीसलपुर हरीशंकर वर्मा ने कैकई देवी व उसके साथ गए लोगों को बहुत गंदी-गंदी गालियां दी। अभद्र व्यवहार किया,थाने से भगा दिया।  कैकई देवी ने पूरे प्रकरण की शिकायत सीओ बीसलपुर से की, सीओ ने जांच कर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। 


प्रदीप कुमार की रिपोर्ट


दहेज के लोभ में पत्नी को जिंदा जलाया

पीलीभीत। थाना क्षेत्र दियुरिया कला के गांव रम्बोझा में दहेज की मांग पूरी ना होने के चलते विवाहिता को जिंदा जला दिया।


प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना हजारा के गांव नरोसा निवासी सत्यपाल ने बताया की उन्होंने अपनी 23 वर्षीय लड़की नीरज की शादी करीब 5 साल पूर्व रोहित पुत्र सुरेश निवासी रम्बोझा के साथ की थी। नीरज के ससुराल वाले आए दिन नीरज से दहेज में मोटरसाइकिल की मांग करते थे ।ना देने पर प्रताड़ित करते थे। दिनांक 20-8-19 को रोहित व ससुर सुरेश ने मेरी पुत्री नीरज पर मिट्टी का तेल डाल के उसको आग लगा कर मार डाला, जिसकी सूचना मुझको रोहित के गांव के रहने वाले सुनील के पिता ने दी। तब हम लोग गांव रम्बोझा में आये और देखा तो मेरी पुत्री मृत अवस्था में पड़ी हुई थी। जिसकी सूचना दियुरिया कला थाने में दी गयी है।  पुलिस ने मामले की रिपोर्ट मृतका के पति रोहित व ससुर सुरेश के खिलाफ दर्ज कर ली है। वही सीओ बीसलपुर ने बताया कि गांव रम्बोझा में महिला को जलाकर मार डालने की सूचना प्राप्त हुई थी जिसकी सूचना पर मैं गांव गए था मृतका के पिता की तहरीर के आधार पर दमाद रोहित व ससुर सुरेश के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है मृतका के शव का पंचायतनामा भरा कर।शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। अभी किसी अभियुक्त की गिरफ्तारी नहीं की गई है। जल्द ही दोनो नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।


प्रदीप कुमार 


गांवों के स्थलीय निरीक्षण,डेटा मिलाये:डीएम

जिलाधिकारी बीएन सिंह की अध्यक्षता मे जिला स्तरीय पी.एम.ए.जी.वाई अभिसरण समिति की बैठक सम्पन्न।


गौतमबुद्धनगर। जिलाधिकारी बीएन सिंह ने कल कलैक्ट्रेट के सभागार में पी.एम.ए.जी.वाई अभिसरण समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुये, अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुये कहा कि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना भारत सरकार का महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। अतः विभागीय अधिकारियों के द्वारा प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना को सफल बनाने के लिए अपनी अपनी विभागीय कार्ययोजना बनाकर तैयार कर ली जाये और कार्ययोजना के तहत ही कार्यो को पूर्ण रूप दिया जायें। ताकि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना को सफल बनाया जा सकें।


श्री सिंह ने बैठक की अध्यक्षता करते हुये समस्त सम्बन्धित अधिकारियो को कहा कि आदर्श ग्राम एक ऐसी संकल्पना है जिसमें लोगों को विभिन्न बुनियादी सेवाएं देनेे की परिकल्पना की गई है। ताकि समाज के सभी वर्गो की न्यूनतम आवश्यकताओं की पूर्ति हो सके। इन गांवो में वह सब संरचना होगी और इसके निवासियो को ऐसी बुनियादी सेवाओं की सुविधा मिलेगी जो एक सम्मानजनक जीवन जीने के लिए आवश्यक हो। उन्होंने यह भी बताया की इस योजना का उद्देश्य 50 प्रतिशत से अधिक अनुसूचित जाति जनसंख्या वाले चुनिन्दा गांवो का विकास सुनिश्चित करना है। जिसके दो प्रमुख घटक है पर्याप्त अवसंरचना तथा सामाजिक आर्थिक संकेतको में सुधारक करना है। पी.एम.ए.जी.वाई  योजना ग्रामो मे 10 कार्यक्षेत्रो से सम्बन्धित है पेयजल एवं स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं पोषण, सामाजिक सुरक्षा, ग्रामीण मार्ग एवं आवास बिजली एवं स्वच्छ ईधन, कृषि पद्धतियां आदि वित्तीय समावेशन डिजिटलीकरण एवं आजीविकास एवं कौशल विकास से आदि क्षेत्रो में कार्य करके ग्राम को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम बनाया जाना है।
उन्‍होने समस्त सम्बन्धित विभागीय अधिकारियो को निर्देश दिये कि उनके गांवो के समस्त परिवारों का सर्वे किया जायें और महत्वपूर्ण विकास सम्बन्धी आवश्यकताओं का आंकलन कर लिया जाये तथा वी0डी0पी0 बनाने की सम्पूर्ण कार्यवाही ग्राम स्तरीय पी.एम.ए.जी.वाई अभिसरण समिति द्वारा की जायेंगी। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि सम्बन्धित अधिकारियों के द्वारा चयनित 5 ग्रामों विकास खण्ड दादरी के चक्रसैनपुर उर्फ धुनवास, मुठयानी, विकास खण्ड जेवर के भगवन्तपुर, अलाउद्दीन डूडेरा विकास खण्ड दनकौर के चचूरा का सर्वे डाटा ग्राम स्तरीय पी.एम.ए.जी.वाई अभिसरण समिति के सर्वे डाटा से गांंवो का स्थलीय निरीक्षण करते हुये मिलान कर ले।
इस महत्वपूर्ण बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, परियोजना निदेशक नीरज कुमार श्रीवास्तव, उप कृषि निदेशक डाॅ एएन मिश्र, जिला पंचायत राज अधिकारी , जिला कृषि अधिकारी तनवी शर्मा, तथा पी.एम.ए.जी.वाई अभिसरण समिति के अधिकारियो द्वारा भाग लिया गया। राकेश चैहान अपर जिला सूचना अधिकारी।


योजना के तहत किसानों से मांगे आवेदन

संवाददाता-विवेक चौबे


गढ़वा। उपायुक्त के निर्देश पर कांडी प्रखण्ड की सभी पंचायतों में 26 से  28 अगस्त तक मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत किसानों से आवेदन प्राप्त करने के लिए विशेष पंचायत सभा का आयोजन किया जाएगा। सीओ राकेश सहाय ने बताया कि यह पंचायत सभा सभी पंचायत भवनो में आयोजित की जाएगी ।जिसमें संबंधित राजस्व कर्मी उस पंचायत के कृषक मित्र पंचायत सेवक उपस्थित रहेंगे। सभी किसानों से जो अभी तक मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के लाभ से वंचित हैं। उनसे फॉर्म प्राप्त करेंगे ।उपायुक्त का सख्त निर्देश है कि एक भी योग्य पात्र इस आशीर्वाद योजना से वंचित नहीं रहना चाहिए। इस पंचायत सभा में सभी मुखिया को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई है। अपनी-अपनी पंचायत के सभी किसानों को इस पंचायत सभा के आयोजन की जानकारी देंगे तथा अपने स्तर से यह सुनिश्चित करेंगे कि उनकी पंचायत का कोई भी किसान जो मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का योग्य पात्र है, वह वंचित नहीं रहे। विदित हो कि अभी भी कांडी व मझिआंव के लगभग 8 हजार किसान मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के लाभ से वंचित है।इसको लेकर डीसी काफी सख़्त हैं और उन्होंने सभी पंचायतों मेंइसी माह के 26, 27 एवं 28तारीख को तिथि वार पंचायत सभा का विशेष आयोजन करके सभी किसानों से फॉर्म प्राप्त करने का निर्देश सभी अंचलों को दिया है। अंचलाधिकारी ने सभी किसानों से अनुरोध किया है कि वे इस पंचायत सभा में उपस्थित होकर अपना अपना फॉर्म राजस्व कर्मी को दें उन्हें अगर कोई विशेष परेशानी है तो वह सीधे अंचल अधिकारी से स्वयं मिल सकते हैं। अंचल अधिकारी ने सभी निर्वाचित जनप्रतिनिधियों मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्यों एवं जिला परिषद सदस्य से अनुरोध किया है कि वे मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का लाभ सभी किसानों तक पहुंचाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें और यह सुनिश्चित करें कि उनके क्षेत्र का एक भी किसान इस योजना से वंचित नहीं रहे। सभी किसान अपना अपना खाता जरूर चेक करेंगे क्योंकि 10 अगस्त को मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की पहली किस्त झारखंड सरकार द्वारा सीधे किसानों के बैंक  खाते में जमा कर दी गई है ।यदि किसी किसान को प्रथम किश्त के रूप में प्रति एकड़ ₹5000 नहीं मिले हैं तो वे अपना फॉर्म भरकर पंचायत सभा में राजस्व कर्मी को दे दें ताकि उन्हें इस योजना का लाभ दिया जा सके।


सिंधिया को बनाया स्क्रीनिंग कमेटी अध्यक्ष

चिदंबरम पर आफत के बीच सोनिया ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी


नई दिल्ली। देश के पूर्व वित्त मंत्री और पी चिदंबरम की गिरफ्तारी के बीच गुरुवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बड़ा फैसला लिया। गौरतलब है कि सोनिया ने कांग्रेस का अंतरिम अध्यक्ष का पद संभालने के बाद ये बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने महाराष्ट्र में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के चयन को लेकर स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया है। इसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है।पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी बयान के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस की छह सदस्यीय स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया है। इसकी अध्यक्षता ज्योतिरादित्य सिंधियां करेंगे। इस कमेटी में पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं महाराष्ट्र प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे, राजस्थान सरकार के मंत्री हरीश चौधरी, महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट, विधायक दल के नेता केसी पडवी और सांसद मणिकम टैगोर भी शामिल हैं।


दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए सोनिया गांधी ने गुरुवार को पीएम मोदी और उनकी सरकार पर इशारों में तगड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि साल 1984 में राजीव गांधी सत्ता में आए लेकिन उन्होंने कभी भी सत्ता का इस्तेमाल भय का माहौल पैदा करने या फिर लोगों की स्वतंत्रता को नष्ट करने के लिए नहीं किया। उन्होंने अपनी शक्तियों का इस्तेमाल कभी भी लोकतंत्र के सिद्धांतों को खतरे में डालने के लिए नहीं किया। वो राजीव गांधी की 75 वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रही थी।


रेलवे की मीटिंग में उठाई जन समस्याएं

राणा ओबराय


राणा ओबराय ने दिल्ली में आयोजित उत्तर भारत रेलवे की मिटिंग में उठाई जन समस्याएं

दिल्ली। आज नई दिल्ली में उत्तर भारत रेलवे सलाहकार समिति की मीटिंग हुई। जिसमे उत्तर भारत रेलवे के नामित सदस्यों और रेलवे के महाप्रबंधक एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया। मिटिंग में बतौर सदस्य भाग लेते हुए राणा ओबराय ने रेलवे से सम्बंधित कई समस्याओं को उठाया। जिसमें नियमित रेलवे यात्रा करने वालों को होने वाली समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर रखते हुए कहा रोजमर्रा के रेल यात्रियों को बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। जिसमें मजदूर वर्ग सबसे ज्यादा पीड़ा उठाता है।


अवैध शराब की दुकानों पर लगाए ताले

लखीमपुर खीरी। गोला गोकर्ण नाथ में उप जिला अधिकारी के नेतृत्व में एक्साइड स्पेक्टर व उनकी टीम सहित देशी शराब की दुकान पर छापामारी की गई। गोला गोकर्ण नाथ में काफी समय से चल रही देशी शराब की दुकानों में मारा ताला।


आपको बताते चलें खुटार रोड मित्रा हॉस्पिटल के पास स्थित देशी शराब भट्टी जो कि मथुरा नगर सोमवती के नाम से चल रही थी। जब अधिकारियों ने शराब भट्टी विक्रेता से भट्टी का लाइसेंस मांगा तो भट्टी विक्रेता के पास उसका लाइसेंस दुकान पर नहीं पाया गया। इसलिए अधिकारी व एक्साइड स्पेक्टर की टीम ने चल रही देशी शराब की दुकान में ताला मार दिया। ऐसा ही मामला गन्ना चीनी मिल की गन्ना लाइन में देशी शराब की दुकान बगैर लाइसेंस के चलाते पाए गए ।उस पर भी अधिकारी व एक्साइड स्पेंक्टर की टीम ने विधिक कार्यवाही की। गोला गोकर्ण नाथ में शराब भट्टी मालिकों द्वारा जो सरकारी गोदामों से देशी शराब लायी जाती है ।उसे वह यहां पर पानी की मात्रा मिलाकर बेचने का कार्य करते हैं ।काफी समय पूर्व में पट्टी संचालकों की दुकानों में आला अधिकारियों ने छापा मारकर विधिक कार्यवाही की थी। परंतु शराब में पानी मिलाने का काम कम नहीं हुआ।


आशीष राठौर


गेहूं का उन्नत बीज,120 दिन में ज्यादा फसल

करनाल। हरियाणा सहित उत्तर-पूर्वी भारत के किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी है। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के करनाल स्थित गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान केंद्र ने गेहूं की एक नई किस्म 'करन वन्दना' पेश की है। गेहूं की ये नई किस्म रोग प्रतिरोधी क्षमता रखने के साथ-साथ ज्यादा उपज देने वाली भी है।


ब्लास्ट' नाम की बीमारी से लड़ने में सक्षम


कृषि वैज्ञानिकों के मुताबिक गेहूं की ये किस्म उत्तर-पूर्वी भारत के गंगा तटीय क्षेत्र के लिए ज्यादा लाभकारी है। गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान केंद्र ने सालों तक रिसर्च करने के बाद गेहूं की इस किस्म को विकसित किया है। 'करन वन्दना' ज्यादा पैदावार देने के साथ ही गेहूं 'ब्लास्ट' नाम की बीमारी से भी लड़ने में सक्षम है।


9.7 क्विंटल प्रति हेक्टेयर ज्यादा होगी पैदावार


संस्थान के निदेशक डॉ. ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि 'करन वन्दना' हरियाणा, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, असम जैसे कृषि भौगोलिक परिस्थितियों और जलवायु में खेती के लिए उपयुक्त है। उनके मुताबिक जहां गेहूं की दूसरी किस्मों से औसत उपज 55 क्विन्टल प्रति हेक्टेयर तक हासिल की जाती है। वहीं 'करन वन्दना' से 65 क्विन्टल प्रति हेक्टेयर से भी ज्यादा की पैदावार हासिल की जा सकती है। डॉ. ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि इस नई किस्म के गेहूं की बुवाई के बाद फसल की बालियां 77 दिनों में निकल आती हैं और कुल मिलाकर फसल 120 दिनों में ये पूरी तरह से तैयार हो जाती है।


एकेडमी ने किया टूर्नामेंट का आयोजन

संवाददाता-विवेक चौबे


पलामू । जिले के विश्रामपुर प्रखण्ड में बुधवार को स्पोर्ट्स एकडेमी द्वारा फुलबॉल टूर्नामेंट का आयोजन किया गया।इस आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र के समाजसेवी सह भावी प्रत्याशी-ब्रह्मदेव प्रसाद थे।उन्होंने दीप प्रज्वल्लित कर,फीता काट कर उक्त आयोजित मैच का उदघाटन किया।खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर,गेंद को किक लगाकर, खेल का शुभारम्भ किया।वहीं थाना प्रभारी-भगवान सिंह ने टॉस कराया।लालगढ़ की टीम ने टॉस जीत कर खेल प्रारम्भ किया।बता दें कि लालगढ़ व गौरा के टीम के बीच पहला मैच खेला गया।जबकि दोनों टीम के खिलाड़ी एक दूसरे से कम न थे।मैच तो खूब आकर्षक था।अंत में गौरा की टीम ने एक गोल से लालगढ़ की टीम को पराजित किया।वहीं समाजसेवी-ब्रह्मदेव प्रसाद ने संबिधित करते हुए दोनों टीमों के खिलाड़ियों का हौसला खूब बुलंद किया।पराजित टीम को कहा कि हारने से जितने की क्षमता बढ़ जाती है।प्रयत्न करें कि जितने की कोशिश सदैव जारी रहे।साथ हीं कहा कि युवा वर्तमान समय में खेल के माध्यम से भी आगे बढ़,अपना कैरियर बना सकते हैं।उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ खेल भी अति आवश्यक है।मौके पर-महेंद्र प्रसाद,रविन्द्र पाण्डेय, संजय पाण्डेय, रमेश चौधरी, पिंटू कुमार,उपेंद्र कुमार,पंकज गुप्ता,बिनु सिंह,झोलन पाण्डेय, नवल किशोर सिंह सहित काफी संख्या में गणमान्य व सैकड़ों दर्शकगण उपस्थित थे।


ओकोजोकुल ग्लेशियर में हो रहा है परिवर्तन

आइसलैंड। पृथ्वी पर जलवायु परिवर्तन एक बड़ी समस्या बन गया है जिसका मुख्य कारण लगातार तेजी से कटती हुई वनो की कटाई हैं| आज मनुष्य अपने स्वार्थ में पेड़ो को बहुत तेजी से काट रहा है जिसके कारण जलवायु परिवर्तन हो रहा है| ग्लेशियर पिघल रहे है| जिसका सबसे बडा उदाहरण बना आइसलैंड का ओकोजोकुल| ओकजोकुल पहला ऐसा ग्लेशियर है जिसका आधिकारिक तौर पर ग्लेशियर का दर्जा खत्म कर दिया गया है| राइस विश्वविद्यालय में एंथ्रोपॉलजी की एसोसिएट प्रोफेसर सायमीनी हावे ने जुलाई में ही इसकी स्थिति को लेकर चेतावनी दी थी कि 'विश्व में जलवायु परिवर्तन के कारण अपनी पहचान खोने वाला यह पहला ग्लेशियर होगा।' ओकजोकुल आइसलैंड के पश्चिमी सब-आर्कटिक हिस्से में ओक ज्वालामुखी पर उपस्थित था। और पिछले कुछ वर्षों से यह लगातार पिघल रहा था|


आइसलैंड के निवासी अपने ग्लेशियर की समाप्ति का शोक मना रहे हैं। रविवार को प्रधानमंत्री केटरिन जोकोबस्दोतियर के नेतृत्व में मंत्रियों के समूह ने ग्लेशियर ओकजोकुल को श्रद्धांजलि दी है| आईसलैंड की प्रधानमंत्री कैटरीन जैकोब्स्दोतिर, पर्यावरण मंत्री गुडमुंडुर इनगी गुडब्रॉन्डसन और संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार उच्चायुक्त मेरी रॉबिन्सन भी इस समारोह में शामिल हुए। प्रधानमंत्री ने इस समारोह में एक सन्देश दिया कि 'यह हमारे लिए स्वीकार करने का वक्त है कि क्या हो रहा है। जो हो रहा है उसे रोकने के लिए कौन से कदम उठाने हैं, इसकी भी हमें जानकारी है।' वैज्ञानिको का कहना है कि हर साल आइसलैंड में करीब 11 बिलियन टन बर्फ पिघल रही है।


इंटरनैशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर ने अनुमान लगाया है कि अगर ग्रीनहाउस गैस का उत्सर्जन इसी रफ्तार से होगा तो 2100 तक विश्व के आधे से अधिक ग्लेशियर पिघल जाएंगे। 1901 में ओकोजोकुल 38 स्क्वॉयर फीट किलोमीटर में फैला था जो अब घटकर 1 स्क्वॉयर किलोमीटर से भी कम रह गया। वैज्ञानिको ने बताया है कि यह भविष्य में आने वाले खतरों की शुरुआत है। वैज्ञानिकों की एक टीम ने भविष्य में आइसलैंड के 400 ग्लेशियर के इसी तरह खत्म होने को लेकर चेतावनी दी है। ग्लेशियर के शोक में कांस्य पट्टिका का अनावरण किया गया है जिसमें इसकी वर्तमान स्थिति में जिक्र करने के साथ ही साथ बाकी ग्लेशियर के भविष्य को लेकर आगाह किया गया है|


हेडेन और हार्दिक ने रैंप पर जलवा बिखेरा

मुंबई। सबसे बड़े फैशन इवेंट लैक्मे फैशन वीक 2019 का आगाज हो चुकाहै, पांच दिन का ये इवेंट जोरो-शोरो से चल रहा है।लेकिन इस समय लीजा हेडेन और क्रिकेटर हार्दिक पांड्या की शानदार तस्वीरें वायरल हो रही हैं। बता दें कि रैंप आई लीजा हेडेन इस समय प्रेगनेंट हैं लेकिन उन्होने शानदार तरीके से वाक की और हार्दिक पांड्या भी काफी कॉफिडेंट लग रहे थे।
दरअसल, फैशन डिजाइनर अमित अग्रवाल के खूबसूरत डिजाइन्स को पहनकर लिसा हेडन और हार्दिक पाड्या शो स्टॉपर बनें। दोनों स्टार्स स्टाइलिश लुक में नजर आएं। जिसकीतस्वीरेंसोशल मीडिया पर काफीवायरल हो रही है।जिसे फैंस भी काफीज्यादा पसंद कर रहे है।हार्दिक पांड्या ने भी लीजा हेडन के पीछे-पीछे लैक्मे फैशन शो में धमाकेदार एंट्री मारी।हार्दिक पांड्या इस इवेंट में डार्क रेड कलर के आउटफिट में उतरे। कैमरे के आगे इस दौरान हार्दिक पांड्या पोज देते हुए दिखाई दिए।लीजा हेडन ने हाल ही में एक बार फिर से घोषणा की है कि वो मां बनने वाली हैं, लीजा ने प्रेग्नेंसी के दौरान रैंप वॉक किया, रैंप वॉक के दौरान लीजा हेडन काफी कॉन्फीडेंट नजर आ रही थी।


अब मैक्सवेल बधेंगे शादी के बंधन में

नई दिल्ली। बीते मंगलवार भारतीय मूल की शामिया आरजू के साथ पाकिस्तान क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज हसन अली ने दुबई में शादी के बंधन मं बंधे हैं। हरियाणा की रहने वाली शामिया आरजू एयर अमीरात में पिछले तीन साल से काम कर रही हैं।


दुबई में ही हसन अली और शामिया की मुलाकात हुई जिसके बाद दोनों को प्यार हो गया। इसी बीच ऐसी खबरें आ रही हैं कि हसन अली के बाद अब भारत की लड़की से एक और क्रिकेटर शादी कर सकता है।ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल की बात कर रहे हैं जो भारतीय मूल की लड़की के साथ शादी के बंधन में बंध सकते हैं। भारतीय मूल की विनी रमन से ग्लेन मैक्सवेल को प्यार हो गया है और लंबे समय से दोनों एक दूसरे को डेट कर रहे हैं।सोशल मीडिया पर ग्लेन मैक्सवेल के साथ विनी रमन की कई तस्वीरें सामने आती रहती हैं। इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर एक दूसरे की तस्वीरें मैक्सवेल और विनी दोनों पोस्ट करते रहते हैं।अब यह तो कहना मुश्किल है कि मैक्सवेल और विनी कब शादी करते हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या ग्लेन मैक्सवेल भी भारतीय मूल की लड़की से शादी करने के बाद यहां के दामाद बनते हैं या नहीं।


आईसीयू में है देश की अर्थव्यवस्था:कपिल

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने शुक्रवार को सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि देश की अर्थव्यवस्था आईसीयू में है और मोदी सरकार ने उन सभी लोगों के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया है जो नागरिक स्वतंत्रता का बचाव कर रहे हैं। उनका सरकार द्वारा लुक आउट नोटिस जारी करने का मतलब पी चिदंबरम में था। जिनके खिलाफ जांच एजेंसी ने नोटिस जारी किया था और फिर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। गुरुवार को सीबीाई ने राउज ऐवेन्यू अदालत ने पूर्व गृह और वित्त मंत्री को पेश किया। जहां से उन्हें आईएनएक्स मीडिया में हुए भ्रष्टाचार के मामले में 26 अगस्त तक के लिए सीबीआई की हिरासत में भेज दिया गया है। सिब्बल अदालत में चिदंबरम की तरफ से पेश हुए।


उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, 'पिछले कुछ हफ्तों की घटनाओं से पता चला है कि अर्थव्यवस्था और स्वतंत्रता दोनों को बचाने की आवश्यकता है। देश की अर्थव्यवस्था आईसीयू में हैं और सरकार उन लोगों के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी कर रही है जो नागरिक स्वतंत्रता का बचाव कर रहे हैं।' इससे पहले कपिल सिब्बल ने चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कहा, 'कानूनी बिरादरी के सदस्यों के तौर पर यह हमारे लिए बहुत चिंता की बात है। नागरिकों के लिए भी यह चिंता का विषय होना चाहिए। सिब्बल ने इशारों-इशारों में सुप्रीम कोर्ट पर भी सवाल उठाए और कहा कि हम केवल सुनवाई चाहते थे लेकिन पीठासीन न्यायाधीश ने सुनवाई के बदले कहा कि वह मामले की फाइल को मुख्य न्यायाधीश के पास भेज रहे हैं। क्या किसी नागरिक को अपनी बात रखने का अधिकार नहीं है।'सिब्बल ने आगे कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट हैंडबुक के मुताबिक सीजेआई संवैधानिक बेंच में बिजी हैं तो नियम यह है कि दूसरे सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश इसकी सुनवाई करें। हमें अपना अधिकार नहीं मिला। रजिस्ट्रार ने बताया कि चीफ जस्टिस शाम 4 बजे इस पर सुनवाई करेंगे। 4 बजे सुनवाई का समय ही नहीं बचता है।


सत्तर सालों की अभूतपूर्व आर्थिक मंदी

आफताब फारुकी


नई दिल्ली। आर्थिक मंदी से जूझ रहे देश उत्पन्न हो रहे रोज़गार के कम होते अवसरों के बीच आज निति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने बड़ा बयान देते हुवे कहा है कि पिछले 70 सालो में यह आर्थिक मंदी अभूतपूर्व है। सरकार को इस सम्बन्ध में हर सम्भव प्रयास करने चाहिए।


उन्होंने इस मौजूदा आर्थिक गिरावट को 'अभूतपूर्व' स्थिति' करार देते हुए कहा है कि कि पिछले 70 सालों में हमने लिक्विडिटी को लेकर इस तरह की स्थिति का सामना नहीं किया है, जब समूचा वित्तीय क्षेत्र ही आंदोलित है। समाचार एजेंसी के मुताबिक, नीति आयोग उपाध्यक्ष ने यह भी कहा कि सरकार को हर वह कदम उठाना चाहिए, जिससे प्राइवेट सेक्टर की चिंताओं में से कुछ को तो दूर किया जा सके। देश के शीर्ष अर्थशास्त्री की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब देश की अर्थव्यवस्था पिछले पांच साल के दौरान वृद्धि की सबसे खराब गति को निहार रही है। राजीव कुमार ने कहा है कि सरकार बिल्कुल समझती है कि समस्या वित्तीय क्षेत्र में है। लिक्विडिटी इस वक्त दिवालियापन में तब्दील हो रही है। इसलिए आपको इसे रोकना ही होगा।


लिक्विडिटी की हालत पर बोलते हुए नीति आयोग उपाध्यक्ष ने यह भी कहा कि कोई भी किसी पर भी भरोसा नहीं कर रहा है। यह स्थिति सिर्फ सरकार और प्राइवेट सेक्टर के बीच नहीं है, बल्कि प्राइवेट सेक्टर के भीतर भी है, जहां कोई भी किसी को भी उधार देना नहीं चाहता। उन्होंने कहा कि दो मुद्दे हैं, एक, आपको ऐसे कदम उठाने होंगे, जो सामान्य से अलग हों। दूसरे, मुझे लगता है कि सरकार को हर वह कदम उठाना चाहिए, जिससे प्राइवेट सेक्टर की चिंताओं में से कम से कम कुछ को तो दूर किया जा सके।


शेयर बाजार में गिरावट,लुढ़का सेंसेक्स

मुंबई। कारोबारी सप्ताह के अंतिम दिन शुक्रवार को शेयरबाजार गिरावट के साथ खुला। शुरूआती कारोबार के दौरान बीएसई का प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 370 अंक लुढ़का जबकि एनएसई के प्रमुख सूचकांक निफ्टी में भी 100 अंकों से ज्यादा की गिरावट आई। 
सुबह 9.40 बजे सेंसेक्स पिछले सत्र से 352.85 अंकों यानी 0.97 फीसदी की गिरावट के साथ 36,120.08 पर कारोबार कर रहा था जबकि निफ्टी 94.30 अंक यानी 0.88 फीसदी की कमजोरी के साथ 10,647.05 पर कारोबार कर रहा था। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले कमजोरी के साथ 36,387.68 पर खुला और जल्द ही लुढ़क कर 36,102.35 पर आ गया। पिछले सत्र में सेंसेक्स 36,472.93 पर बंद हुआ था। शुरूआती कारोबार के दौरान सेंसेक्स में 370 अंकों की गिरावट दर्ज की गई।


नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी कमजोरी के साथ 10,699.60 पर खुलने के बाद शुरूआती कारोबार 100 अंक से ज्यादा लुढ़क कर 10,637.15 पर आ गया। पिछले सत्र में निफ्टी 10,741.35 पर बंद हुआ था।
भारतीय मुद्रा रुपया डॉलर के मुकाबले फिसल कर 72 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया जबकि इससे पहले रुपया पिछले सत्र के मुकाबले 10 पैसे की कमजोरी के साथ 71.91 रुपये प्रति डॉलर पर खुला।


पाकिस्तानी रेल मंत्री की जमकर पिटाई

लंदन। भारत सरकार ने जब अनुच्छेद 370 को खत्म किया, तो भारत को परमाणु हमले की धमकी देने वाले पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद की लंदन में जमकर पिटाई की गई है। भीड़ ने उन्हें लात-घूसों से पीटा और अंडे फेंक कर मारे। हमलावरों के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिली है और रशीद की पिटाई करने के बाद वे मौके से फरार हो गए। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, अवामी मुस्लिम लीग के प्रमुख व रेल मंत्री शेख रशीद पर लंदन में उस समय हमला किया गया जब वह एक होटल में पुरस्कार समारोह में शिरकत करने पहुंचे थे। हमलावर शेख रशीद को पीटने के बाद वहां से भाग निकले। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी से संबद्ध पीपुल्स यूथ ऑर्गनाइजेशन यूरोप के अध्यक्ष आसिफ अली खान और पार्टी की ग्रेटर लंदन महिला शाखा की अध्यक्ष समाह नाज ने ली है। रेल मंत्री शेख रशीद ने कुछ दिन पहले ही पीपीपी प्रमुख बिलावल भुट्टो जरदारी के खिलाफ अपशब्द कहे थे, जिसके बाद से पीपुल्स यूथ ऑर्गनाइजेशन यूरोप और ग्रेटर लंदन महिला शाखा के सदस्य उनसे नाराज चल रहे थे। हालांकि उन्होंने रशीद पर केवल अंडा फेंकने की बात कही है। दोनों नेताओं ने कहा कि पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद को उनका अहसानमंद होना चाहिए कि उन्होंने उनके खिलाफ 'विरोध जताने के लिए ब्रिटेन में अंडा फेंकने के सभ्य तरीके का ही इस्तेमाल किया।' अवामी मुस्लिम लीग ने कहा कि उनके पास इस घटना का कोई वीडियो तो नहीं है लेकिन उन्होंने बताया कि उनके संगठन के सदस्यों ने शेख रशीद के ऊपर हमला किया था। इस मामले में जल्द मामला दर्ज कराया जा सकता है।


कश्मीर मसले पर हस्तक्षेप की जरूरत नहीं:फ्रांस

नई दिल्ली। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई। इसके बाद फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने दो टूक कहा कि कश्मीर मामले में किसी तीसरे देश को हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। ये भारत और पाकिस्तान का मसला है। गौरतलब है कि अमेरिका कई बार कश्मीर मसले पर मध्यस्थता की बात कह चुका था, लेकिन फ्रांस के राष्ट्रपति ने कहा कि न ही कोई इसमें हस्तक्षेप करे और न ही हिंसा भड़काने का काम करे। मैक्रों ने प्रधानमंत्री मोदी के साथ आमने-सामने की बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा की। वार्ता के बाद एक साझा प्रेस बयान में राष्ट्रपति मैक्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें जम्मू कश्मीर पर भारत द्वारा लिये गये हाल के फैसले से अवगत कराया और यह भी बताया कि यह भारत की संप्रभुता से जुड़ा है।


रेलवे का परिचालन प्रभावित, गाड़ियां रद्द

नई दिल्ली। उतर रेलवे के दिल्ली रेल मंडल के अंतर्गत तुगलाकाबाद-पलवल खण्ड में चौथी नवनिर्मित लाइन के लिए नॉन इंटरलाकिंग के कार्य के कारण इस खण्ड पर 22 अगस्त से 8 सितम्बर तक उतर रेलवे की कुछ एक्सप्रेस गाडिय़ों का परिचालन प्रभावित रहेगा।


इसी प्रकार दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से चलने वाली एवं आने वाली कुछ गाडियों का परिचालन भी प्रभावित रहेगा। 1 से 4 सितम्बर एवं 6 से 7 सितम्बर गेवरा रोड से चलने वाली 18237 गेवरारोड-अमृतसर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस का बल्लभगढ़ रेलवे स्टेशन में ठहराव नहीं दिया जा रहा है।


रदद होने वाली गाडियां-


01) दिनांक 06 एवं 07 सितम्बर, 2019 को निजामुदीन से चलने वाली 12808 निजामुदीन-विशाखापटनम एक्सप्रेस रदद रहेगी।


02) दिनांक 04 एवं 05 सितम्बर, 2019 को विशाखापटनम से चलने वाली 12807 विशाखापटनम-निजामुदीन एक्सप्रेस रदद रहेगी।
03) दिनांक 05 एवं 07 सितम्बर, 2019 को निजामुदीन से चलने वाली 12410 निजामुदीन-रायगढ गोडवाना एक्सप्रेस रदद रहेगी।
04) दिनांक 07 एवं 09 सितम्बर, 2019 को रायगढ से चलने वाली 12409 रायगढ- निजामुदीन गोडवाना एक्सप्रेस रदद रहेगी।
05) दिनांक 05 सितम्बर, 2019 को जम्मूतवी से चलने वाली 12550 जम्मूतवी-दुर्ग एक्सप्रेस रदद रहेगी।
06) दिनांक 03 सितम्बर, 2019 को दुर्ग से चलने वाली 12549 दुर्ग-जम्मूतवी एक्सप्रेस रदद रहेगी।
07) दिनांक 06 सितम्बर, 2019 को निजामुदीन से चलने वाली 12824 निजामुदीन-दुर्ग सम्पर्क क्रांति एक्सप्रेस रदद रहेगी।
08) दिनांक 05 सितम्बर, 2019 को दुर्ग से चलने वाली 12823 दुर्ग-निजामुदीन सम्पर्क क्रांति एक्सप्रेस रदद रहेगी।
09) दिनांक 06 सितम्बर, 2019 को जम्मूतवी से चलने वाली 18216 जम्मूतवी-दुर्ग एक्सप्रेस रदद रहेगी।
10) दिनांक 04 सितम्बर, 2019 को दुर्ग से चलने वाली 18215 दुर्ग-जम्मूतवी एक्सप्रेस रदद रहेगी।
11) दिनांक 08 एवं 11 सितम्बर, 2019 को अमृतसर से चलने वाली 18508 अमृतसर -विशाखापटनम हिराकुंड एक्सप्रेस रदद रहेगी।
12) दिनांक 05 एवं 06 सितम्बर, 2019 को विशाखापटनम से चलने वाली 18507 विशाखापटनम-अमृतसर हिराकुंड एक्सप्रेस रदद रहेगी।
13) दिनांक 07 सितम्बर, 2019 को दिल्ली सराईरोहिला से चलने वाली 14624 दिल्ली सराईरोहिला-छिदवाडा एक्सप्रेस रदद रहेगी।
14) दिनांक 08 सितम्बर, 2019 को छिदवाडा से चलने वाली 14623 छिदवाडा-दिल्ली सराईरोहिला एक्सप्रेस रदद रहेगी।


पाकिस्तान को एफएटीएफ ने किया ब्लैक लिस्ट

कैनबरा. पाकिस्तान को जिस बात का डर था वही हुआ


एफएटीएफ यानि फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स के एशिया पैसिफिक ग्रुप ने शुक्रवार को पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट कर दिया। आर्थिक तंगी से जूझ रही पाकिस्तानी सरकार के लिए करारा झटका है। पाकिस्तान को वैश्विक मानकों को पूरा ना कर सकने की वजह से अब कई तरह के बैन झेलने होंगे जिसके नतीजे में उसकी हालत खस्ता होनी तय है।


एफएटीएफ ने मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फाइनेंसिंग के 40 में से 32 मानकों पर पाकिस्तान को अयोग्य करार दिया। संगठन ने पाकिस्तान को कई बार मौका दिया कि वो अपनी ज़मीन पर चल रही आतंकी गतिविधियों पर लगाम लगाए। पिछले हफ्ते इस्लामाबाद ने 450 पन्नों का दस्तावेज़ पेश भी किया। जिसमें सरकार के ज़रिए किए गए कानूनी बदलाव और पिछले डेढ़ सालों में आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई शामिल है। इससे पहले अमेरिका के ओरलैंडो में संगठन की बैठक में भारत ने पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट करने पर ज़ोर दिया था। पाकिस्तान 'ग्रे' लिस्ट में पहले से था और भारत की पुरज़ोर कोशिश चल रही थी कि उसे ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाए।


स्पेशल जज ने मांगी सुरक्षा: राम मंदिर

बाबरी मस्जिद ढहाने के मामले की सुनवाई कर रहे जज ने मांगी सुरक्षा, SC को लिखी चिट्ठी


नई दिल्‍ली। बाबरी मस्जिद ढहाने के मामले में सुनवाई कर रहे ट्रायल कोर्ट के स्पेशल जज ने सुरक्षा की मांग की है। इसे लेकर जज की ओर से सुप्रीम कोर्ट को चिट्टी लिखी गई है। इस पर जस्टिस रोहिंग्टन ने कहा है कि जज की मांग जायज है। यूपी सरकार को इस संदर्भ में अपना जवाब दायर करना चाहिए।


वहीं, यूपी सरकार ने जज का कार्यकाल बढ़ाने के लिए दो सप्ताह की अतिरिक्त मोहलत मांगी है। सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को दो सप्ताह की अतिरिक्त मोहलत दे दी है। बता दें कि अयोध्या भूमि विवाद मामले में गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय बेंच ने 10वें दिन सुनवाई की। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच के सामने याचिकाकर्ता गोपाल सिंह विशारद की ओर से वकील रंजीत कुमार ने दलीलें पेश कीं। रंजीत कुमार ने कहा कि मैं उपासक हूं और मुझे विवादित स्थल पर उपासना का अधिकार है। यह अधिकार मुझसे छीना नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि मेरी दलीलें वकील परासरन और वैद्यनाथन द्वारा दिए गए उन तर्कों से सहमत हैं जो ये साबित करते हैं कि उक्त जमीन खुद में दैवीय भूमि है।


'उपासक होने के नाते पूजा करने का हक'
कुमार ने आगे कहा कि भगवान राम का उपासक होने के नाते मेरा मेरा वहां पर पूजा करने का अधिकार है। यह मेरा सामाजिक अधिकार है, जिसे हटाया नहीं जा सकता। ये वो जगह है जहां भगवान राम का जन्म हुआ था। मैं यहां पर पूजा करने का अधिकार मांग रहा हूं।मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने विवाद को बातचीत से सुलझाने के लिए मार्च में मध्यस्थता पैनल बनाया था। इससे हल नहीं निकलने पर कोर्ट में हर दिन सुनवाई शुरू हुई है।


डिग्री के बाद नौकरी के पीछे ना भागे:योगी

डिग्री लेने के बाद नौकरी के पीछे ना भागें छात्र- सीएम योगी ने दी नसीहत।


गोरखपुर। मंदी और छंटनी के बीच यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने छात्रों को एक सलाह दी है। उन्होंने कहा कि डिग्री मिलने के बाद नौकरी के पीछे भागने के बजाय छात्रों को समाज के विकास में सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए।योगी ने ये नसीहत गुरूवार को मदन मोहन मालवीय यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी के चौथे दीक्षांत समारोह में दी।वो कह रहे थे- दीक्षांत समारोह गुरुकुल की परंपरा को जीवित रख रहे हैं।इससे छात्रों को सच बोलने की प्रेरणा मिलती है और वो सही रास्ते पर चलते हैं। इंजीनियरिंग के छात्र कई क्षेत्रों में अहम रोल निभी सकते हैं। छात्रों को 'हर घर नल' स्कीम की सफलता के लिए आगे आना चाहिए। इस स्कीम का लक्ष्य 2024 तक हर घर में पोर्टेबल पानी की सप्लाई करना है। सीएम योगी कहा कि टेक्निकल इंस्टीट्यूट्स को प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए आगे आना चाहिए और गरीबों के लिए घर बनाने के लिए भी अपने अनुभव का योगदान करना चाहिए। टेक्नालॉजी के महत्व पर सीएम ने कहा कि इसकी वजह से अनाज की सप्लाई में बहुत मदद मिली। आधार को राशन कार्ड से लिंक किया गया और राशन की दुकानों पर सेल मशीन के इलेक्ट्रानिक प्वाइंट इंस्टाल किए गए।


सीएम योगी ने इन्सेफेलाइटिस से अपने संघर्ष के बारे में भी बोला. उन्होंने कहा– मैंने 25 साल तक इन्सेफेलाइटिस के खिलाफ लड़ाई लड़ी। 1977 से 2017 तक कई लोगों ने इसमें जान गंवाई। लेकिन राज्य में बीजेपी की सरकार बनने के बाद हमने कई जागरूक कार्यक्रम चलाए जिससे इन्सेफेलाइटिस के खिलाफ लड़ाई में काफी मदद मिली।


स्वच्छ मिशन भारत को धकेला गर्त में

आधे-अधूरे शौचालयों का निर्माण कहां गया पैसा?


मनोज पाल
मुज़फ्फरनगर। स्वच्छ भारत मिशन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है। मगर स्वार्थी लोग प्रधानमंत्री के इस सपने को अपने लालच और स्वार्थ के कारण गर्त में धकेलने का काम करते हैं। लाभार्थी को लाभ मिले या ना मिले पर स्वार्थी लोगों का लाभ होना जरूरी है। चाहे कोई गरीब हो या अमीर उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता उन्हें सिर्फ अपनी जेब भरने से मतलब है।
सदर तहसील के गांव सिखरेड़ा यहां पर गांव में घुसने से पहले ही आपको एक बड़ा बोर्ड लगा हुआ मिलेगा और उस पर बड़े बड़े अक्षरों में लिखा है खुले में शौच से मुक्त गांव मगर जब आप गांव के अंदर जाएंगे और शौचालयों की हालत देखेंगे तो आप हैरत में पड़ सकते हैं,क्योंकि आपको वहां शौचालय भी मिलेंगे शौचालय के चारों तरफ होने वाली दीवार भी मिल सकती है मगर शौचालय में सीटें नहीं मिलेगी। कुछ शौचालयों में आपको दीवार तक भी नहीं मिलेगी।
जब लाभार्थी के खाते में सीधा पैसा आता है और शौचालय का निर्माण उसके द्वारा ही कराया जाता है तो गांव के निवासी यह क्यों कह रहे हैं कि ग्राम प्रधान ने हम से पैसे लेकर आधे अधूरे शौचालयों का निर्माण खुद कराया है। जबकि ग्राम प्रधान का कहना है कि शौचालयके निर्माण में उनकी कोई भागीदारी नहीं है। जब शौचालयों के निर्माण का पैसा लाभार्थी के खाते में सीधा आता है और उसका निर्माण भी कराना लाभार्थी का ही दायित्व है आधे अधूरे शौचालय का निर्माण क्यों हुआ? पैसे किसके पास गये  ये तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा। इस ओर शासन प्रशासन को भी बड़ी गहनता से जांच करनी चाहिये कि आखिर इतनी बड़ी चूक कैसे हो गयी जो शौचालय का निर्माण पूर्ण नही हो पाए।


घर चला बुलडोजर,किया अखिलेश को याद

जब चला गरीबो के घरों पर बुलडोजर, तो नम आंखों से लोगो ने किया अखिलेश सिंह को याद


सन्दीप मिश्र


रायबरेली । आज एक बार फिर याद आई लोगो को गरीबो के मसीहा सदर विधायक स्व0 अखिलेश सिंह की । जब चला गरीबो के आशियाने पर प्रशासन का बलडोजर , जी हां कहने को 27 अगस्त को सुबह के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का रायबरेली में कार्यक्रम लगा हुआ है जिसके चलते प्रशासन उन्हें दिखाना चाहता है कि रायबरेली में साफ-सुथरी व्यवस्था है सड़के बनी हुई हैं और अतिक्रमण नहीं है।3 दिन से चल रहे अतिक्रमण के खिलाफ अभियान में आज उस समय प्रशासन और अतिक्रमणकारियों के बीच झड़प हो गई जब डिग्री कॉलेज चौराहे पर करीब 30 से 40 साल पुराने अतिक्रमण को हटाने पहुंची पुलिस और अतिक्रमणकारियों के बीच जमकर झड़प हुई इस झड़प में एक बच्चा घायल भी हो गया।
अतिक्रमणकारियों से जब बातचीत की गई उन्होंने दो दिन पहले पूर्व विधायक अखिलेश सिंह की मृत्यु इसका बड़ा कारण बताया कि उनकी वजह से हम सुरक्षित थे और अपनी जीविका चला रहे थे आज वह जब नहीं है तो प्रशासन हमारे ऊपर हावी है । जनता का कहना था कि प्रशासन की हिम्मत नहीं है कि वह अवैध रूप से बनी बड़ी बिल्डिंगों को तोड़ सके। देखा जाये तो रायबरेली में अतिक्रमण का सबसे बड़ा कारण रायबरेली विकास प्राधिकरण के द्वारा पैसे लेकर अवैध तरीके से बिल्डिंगों का नक्शा पास करना है। लेकिन वह बड़े लोगों की बात है । इसलिए प्रशासन बुलडोजर सिर्फ छोटे व्यापारियों के ऊपर ही चला।फिलहाल इस पूरे मामले में प्रशासन और अधिकारियों के बीच जो झड़प हुई है उसमें एक बच्चा भी घायल है।


बालाकोट स्ट्राइक पर हिंदी फिल्म बनेगी

 नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में पुलवामा टेरर अटैक के बाद बालाकोट एयरस्ट्राइक में अपनी बहादुरी की वजह से मशहूर हुए इंडियन एयर फोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान देश के लिए किसी हीरो से कम नहीं हैं। पाकिस्तान की चंगुल से निकलने और बहादुरी की मिशाल पेश करने वाले अभिनंदन को सरकार से वीर चक्र मिला है।अब बॉलीवुड ने भारतीय जवानों को ट्रिब्यूट देने के लिए एक फिल्म बनाने का फैसला किया है। जाहिर है कि इसमें अभिनंदन के योगदान का जिक्र भी होगा। बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय को फिल्म बनाने की अनुमति मिली है।


एक न्यूज पोर्टल की मानें तो बालाकोट स्ट्राइक पर फिल्म बनाने के लिए विवेक ओबेरॉय ने अनुमति ले ली है। फिल्म की शूटिंग जम्मू-कश्मीर, दिल्ली और आगरा में की जाएगी।शूटिंग की शुरुआत साल 2020 में किए जाने की संभावना है। फिल्म को तीन भाषाओं (हिंदी, तमिल, तेलुगु) में बनाया जाएगा।


फिल्म के बारे में बात करते हुए विवेक ओबेरॉय ने कहा- एक प्राउड इंडियन, एक देशभक्त और फिल्मों से जुड़े होने के नाते ये हमारी ड्यूटी है कि हम लोगों को बताएं कि हमारी इंडियन आर्मी कितनी सक्षम है। ये फिल्म एक खास जरिया है जिससे हम इंडियन आर्मी और जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन की उपलब्धियां दिखा सकते हैं।


उन्होंने कहा, पाकिस्तानी सीमा में घुसने के बाद किस तरह उन्होंने सर्वाइव किया, कैसे वे सब्र से डंटे रहे और महफूज वापस लौटे- ये सारी बातें लोगों को दिखाने लायक हैं। बालाकोट स्ट्राइक भारत की तरफ से की हुई एक वेल प्लांड एयर स्ट्राइक थी। मैं शुक्रगुजार हूं कि IAF ने हम पर भरोसा किया है और हम उम्मीद करते हैं कि फिल्म के साथ न्याय करने में सफल होंगे।


श्रीलंका के रास्ते छ: आतंकी घुसे,अलर्ट

चेन्नई। तमिलनाडु में लश्कर-ए-तैयबा के 6 आतंकी घुसे हैं। सुरक्षा एजेंसियों ने अलर्ट जारी करते हुए कहा कि श्रीलंका के रास्ते सभी आतंकी घुसे हैं। इन आतंकियों में एक पाकिस्तानी नागरिक और 5 श्रीलंकाई तमिल हैं। इस अलर्ट के बाद चेन्नई समेत कई जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। चेन्नई के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि गश्त बढ़ा दी गई है और आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। आतंकियों के घुसने के अलर्ट के बाद राजधानी चेन्नई के अलावा प्रदेश के सभी जिलों के लिए डीजीपी ने नया गाइडलाइन जारी किया है। प्रदेश के सभी होटल और लॉज चेक किए जा रहे हैं। विस्फोटक और हथियारों के लिए गाड़ियों की चेकिंग की जा रही है। इसके अलावा संवेदनशील और महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों पर सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है।


डीजीपी ने सभी जिले के पुलिस अधिकारियों को आदेश दिया है कि उपद्रवियों और वांछितों की तत्काल गिरफ्तारी की जाए। इसके साथ ही रेलवे स्टेशनों, बस स्टैंडों और हवाई अड्डों की सुरक्षा बढ़ा दी जाए। साथ ही मंदिरों में जवानों को तैनात किया गया है।इस बीच, भारतीय नौसेना ने अपने सभी बेस और युद्धपोतों को हाई अलर्ट पर रखा हुआ है। दरअसल, अनुच्छेद 370 पर सरकार के फैसले के बाद सुरक्षा एजेंसियों की एक रिपोर्ट सामने आई थी कि पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी हमला कर सकते हैं।इसके बाद से नौसेना ने सभी बेस को हाई अलर्ट पर रखा है।साथ ही समुद्र मार्गों पर कड़ी नजर रखी जा रही है।जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान सरकार भी बौखलाई हुई है। पाकिस्तान सरकार ही नहीं, बल्कि पाकिस्तान अधारित आतंकवादी संगठनों में भी बौखलाहट है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी सुरक्षा बलों पर बड़ा हमला कर सकते हैं।


समाज में आपको यश मिलेगा:तुला

राशिफल


मेष: दिन से पहले आज के शाम के बारे में आपके लिए जानना बेहतर होगा। आज की शाम आपके लव लाइफ के लिहाज से बहुत अच्छी गुजरने वाली है। कुछ नये और हमेशा याद रहने वाले पलों का अनुभव करेंगे। नौकरीपेशा जातकों के लिए दिन मिलाजुला रहेगा। व्यवसाय के लिए दिन अच्छा है। आंशिक लाभ की संभावना है। शहर से बाहर यात्रा का योग बन सकता है।
वृषभ: आज वाद-विवाद से बचने की अत्यधिक आवश्यकता है। इससे आपका बहुत नुकसान हो सकता है। खासकर दोस्त नाराज हो सकते हैं। कार्यस्थल पर छोटी-मोटी चुनौतियां का सामना करना पड़ सकता है लेकिन कुल मिलाकर दिन अच्छा गुजरेगा। स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा। संतान पक्ष से अच्छी खबर मिल सकती है।
मिथुन: आज सामाजिक कार्यों में आपकी रूचि रहेगी। बिजनेस में कुछ नया शुरू करने के बारे में विचार कर सकते हैं या इस संबंध में कोई अच्छा प्रस्ताव मिल सकता है। पैसे कहीं निवेश करने के बारे में गंभीरता से विचार करेंगे। संपत्ति खरीदने की सोच रहे हैं तो आज इस मामले में आगे बढ़ सकते हैं। दिन अच्छा है।
कर्क: आज आप शारीरिक तौर पर अस्वस्थता का अनुभव करेंगे। मन भी व्याकुल रहेगा। कार्यस्थल पर किसी से विवाद हो सकता है। हालांकि, दोपहर बाद प्रसन्नता महसूस करेंगे। परिवार में भी आनंद का वातावरण होगा। छात्रों के लिए दिन अच्छा है। पढ़ाई में मन लगेगा। 
सिंह: बहुत घबराकर या तेजी से बहुत फायदा नहीं होने वाला है। थोड़ा ठहरकर और सोच-विचारकर आगे बढ़ने का फैसला करें। व्यवसाय के लिए दिन परेशानी भरा है लेकिन आपको धैर्य रखने की जरूरत है। गहरे जल में जानें से बचे।
कन्या: करियर को लेकर आज आपका मन चिंतन में डूबा रहेगा। किसी के साथ वाद विवाद से बचने की कोशिश करें। स्वास्थ्य मध्यम रहेगा। व्यवसाय के सिलसिल में विदेश का योग बन सकता है। दूर के रिश्तेदार से कोई अशुभ समाचार मिल सकता है।
तुला: आज समाज में आपको यश मिलेगा। आप जोश से भरपूर हैं और काम में मन लगेगा। मेहनत के मुताबिक नतीजे मिलेंगे। सीनियर अधिकारी खुश होंगे। दांपत्यजीवन में सुख और संतोष का अनुभव होगा। शाम तक धार्मिक कार्यों की ओर झुकाव बढ़ेगा।
वृश्चिक: आज का दिन आपके लिए काम के लिहाज से बहुत व्यस्त रहने वाला है। नये लोगों से मुलाकात हो सकती है। घर और दांपत्यजीवन में आनंद छाया रहेगा। सामाजिक क्षेत्र में कार्य की प्रशंसा होगी और यश प्राप्त होगा। नया वाहन खरीद सकते हैं।
धनु: आज सुबह के शुरुआती कुछ घंटे आप मानसिक और शारीरिक तौर पर आलस्य का अनुभव करेंगे। दिन के बाद काम को लेकर भागदौड़ मची होगी। व्यवसाय में आर्थिक लाभ होने की संभावना है। पुराने कर्ज वापस आ सकते हैं।
मकर: आज आप उत्साह से भरपूर हैं और अपने हर रूके हुए काम को अंजाम तक पहुंचाना चाहते हैं। इसमें आपको बहुत हद तक सफलता भी मिलेगी। परिवारजनों का भरपूर साथ मिलेगा। माता का स्वास्थ्य चिंतित करेगा। यात्रा के दौरान आपको विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। 
कुंभ: आपकी रूचि अगर कला और लेखन में है तो आज का दिन आपके लिए अच्छा रहने वाला है। नये मौके आपके सामने और आपको उन्हें पहचानने की जरूरत है। नौकरीपेशा जातकों को काम का दबाव परेशान कर सकता है। हालांकि, संध्याकाल में परिस्थिति में बदलाव आएगा। संपत्ति अथवा भूमि आदि से सम्बंधित दस्तावेजों की कार्यवाही आज के लिए टालना बेहतर होगा।
मीन: दिन व्यस्त रहने वाला है लेकिन शाम आपकी अच्छी होगी। पुराने मित्रों से लबे समय बाद मुलाकात हो सकती है। स्वास्थ्य का ख्याल रखने की जरूरत है। पेट दर्द या पाचन तंत्र में गड़बड़ी की शिकायत रह सकती है। नई नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो इस संबंध में कोई अच्छा समाचार मिल सकता है।


योगेश्वर श्रीकृष्ण:नाग नथैया, रास रचैया

वृन्दावन में श्रीयमुना के तट पर अनेक घाट हैं। उनमें से प्रसिद्ध-प्रसिद्ध घाटों का उल्लेख किया जा रहा है।


श्रीवराहघाट- वृन्दावन के दक्षिण-पश्चिम दिशा में प्राचीन यमुनाजी के तट पर श्रीवराहघाट अवस्थित है। तट के ऊपर भी श्रीवराहदेव विराजमान हैं। पास ही श्रीगौतम मुनि का आश्रम है।
कालीयदमनघाट- इसका नामान्तर कालीयदह है। यह वराहघाट से लगभग आधे मील उत्तर में प्राचीन यमुना के तट पर अवस्थित है। यहाँ के प्रसंग के सम्बन्ध में पहले उल्लेख किया जा चुका है। कालीय को दमन कर तट भूमि में पहुँच ने पर श्रीकृष्ण को ब्रजराज नन्द और ब्रजेश्वरी श्री यशोदा ने अपने आसुँओं से तर-बतरकर दिया तथा उनके सारे अंगो में इस प्रकार देखने लगे कि 'मेरे लाला को कहीं कोई चोट तो नहीं पहुँची है।' महाराज नन्द ने कृष्ण की मंगल कामना से ब्राह्मणों को अनेकानेक गायों का यहीं पर दान किया था।
सूर्यघाट- इसका नामान्तर आदित्यघाट भी है। गोपालघाट के उत्तर में यह घाट अवस्थित है। घाट के ऊपर वाले टीले को आदित्य टीला कहते हैं। इसी टीले के ऊपर श्रीसनातन गोस्वामी के प्राणदेवता श्री मदन मोहन जी का मन्दिर है। उसके सम्बन्ध में हम पहले ही वर्णन कर चुके हैं। यहीं पर प्रस्कन्दन तीर्थ भी है।
युगलघाट- सूर्य घाट के उत्तर में युगलघाट अवस्थित है। इस घाट के ऊपर श्री युगलबिहारी का प्राचीन मन्दिर शिखरविहीन अवस्था में पड़ा हुआ है। केशी घाट के निकट एक और भी जुगल किशोर का मन्दिर है। वह भी इसी प्रकार शिखरविहीन अवस्था में पड़ा हुआ है।
श्रीबिहारघाट- युगलघाट के उत्तर में श्रीबिहारघाट अवस्थित है। इस घाट पर श्रीराधाकृष्ण युगल स्नान, जल विहार आदि क्रीड़ाएँ करते थे।
श्रीआंधेरघाट- युगलघाट के उत्तर में यह घाट अवस्थित हैं। इस घाट के उपवन में कृष्ण और गोपियाँ आँखमुदौवल की लीला करते थे। अर्थात् गोपियों के अपने करपल्लवों से अपने नेत्रों को ढक लेने पर श्रीकृष्ण आस-पास कहीं छिप जाते और गोपियाँ उन्हें ढूँढ़ती थीं। कभी श्रीकिशोरी जी इसी प्रकार छिप जातीं और सभी उनको ढूँढ़ते थे।
इमलीतला घाट- आंधेरघाट के उत्तर में इमलीघाट अवस्थित है। यहीं पर श्रीकृष्ण के समसामयिक इमली वृक्ष के नीचे महाप्रभु श्रीचैतन्य देव अपने वृन्दावन वास काल में प्रेमाविष्ट होकर हरिनाम करते थे। इसलिए इसको गौरांगघाट भी कहते हैं।
श्रृंगारघाट- इमलीतला घाट से कुछ पूर्व दिशा में यमुना तट पर श्रृंगारघाट अवस्थित है। यहीं बैठकर श्रीकृष्ण ने मानिनी श्रीराधिका का श्रृंगार किया था। वृन्दावन भ्रमण के समय श्रीनित्यानन्द प्रभुने इस घाट में स्नान किया था तथा कुछ दिनों तक इसी घाट के ऊपर श्रृंगारवट पर निवास किया था।
श्रीगोविन्दघाट- श्रृंगारघाट के पास ही उत्तर में यह घाट अवस्थित है। श्रीरासमण्डल से अन्तर्धान होने पर श्रीकृष्ण पुन: यहीं पर गोपियों के सामने आविर्भूत हुये थे।
चीर घाट- कौतु की श्रीकृष्ण स्नान करती हुईं गोपिकुमारियों के वस्त्रों को लेकर यहीं क़दम्ब वृक्ष के ऊपर चढ़ गये थे। चीर का तात्पर्य वस्त्र से है। पास ही कृष्ण ने केशी दैत्य का वध करने के पश्चात यहीं पर बैठकर विश्राम किया था। इसलिए इस घाटका दूसरा नाम चैन या चयनघाट भी है। इसके निकट ही झाडूमण्डल दर्शनीय है।
श्रीभ्रमरघाट- चीरघाट के उत्तर में यह घाट स्थित है। जब किशोर-किशोरी यहाँ क्रीड़ा विलास करते थे, उस समय दोनों के अंग सौरभ से भँवरे उन्मत्त होकर गुंजार करने लगते थे। भ्रमरों के कारण इस घाट का नाम भ्रमरघाट है।
श्रीकेशीघाट- श्रीवृन्दावन के उत्तर-पश्चिम दिशा में तथा भ्रमरघाट के उत्तर में यह प्रसिद्ध घाट विराजमान है। इसका हम पहले ही वर्णन कर चुके हैं।
धीरसमीरघाट- श्रीचीर घाट वृन्दावन की उत्तर-दिशा में केशीघाट से पूर्व दिशा में पास ही धीरसमीरघाट है। श्रीराधाकृष्ण युगल का विहार देखकर उनकी सेवा के लिए समीर भी सुशीतल होकर धीरे-धीरे प्रवाहित होने लगा था।
श्रीराधाबागघाट- वृन्दावन के पूर्व में यह घाट अवस्थित है। इसका भी वर्णन पहले किया जा चुका है।
श्रीपानीघाट-इसी घाट से गोपियों ने यमुना को पैदल पारकर महर्षि दुर्वासा को सुस्वादु अन्न भोजन कराया था।
आदिबद्रीघाट- पानीघाट से कुछ दक्षिण में यह घाट अवस्थित है। यहाँ श्रीकृष्ण ने गोपियों को आदिबद्री नारायण का दर्शन कराया था।
श्रीराजघाट- आदि-बद्रीघाट के दक्षिण में तथा वृन्दावन की दक्षिण-पूर्व दिशा में प्राचीन यमुना के तट पर राजघाट है। यहाँ कृष्ण नाविक बनकर सखियों के साथ श्री राधिका को यमुना पार करात थे। यमुना के बीच में कौतुकी कृष्ण नाना प्रकार के बहाने बनाकर जब विलम्ब करने लगते, उस समय गोपियाँ महाराजा कंस का भय दिखलाकर उन्हें शीघ्र यमुना पार करने के लिए कहती थीं। इसलिए इसका नाम राजघाट प्रसिद्ध है।
इन घाटों के अतिरिक्त 'वृन्दावन-कथा' नामक पुस्तक में और भी 14 घाटों का उल्लेख है।


(1) महानतजी घाट (2) नामाओवाला घाट (3) प्रस्कन्दन घाट (4) कडिया घाट (5) धूसर घाट (6) नया घाट (7) श्रीजी घाट (8) विहारी जी घाट (9) धरोयार घाट (10) नागरी घाट (11) भीम घाट (12) हिम्मत बहादुर घाट (13) चीर या चैन घाट (14) हनुमान घाट।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्रधिकृत प्रकाशन विवरण
August 24, 2019 • RNI.No.UPHIN/2014/57254
1.अंक-21 (साल-01)
2. शनिवार,24अगस्‍त 2019
3.शक-1941,भादप्रद कृष्‍णपक्ष अष्‍टमी,विक्रमी संवत 2076
4. सूर्योदय प्रातः 5:52,सूर्यास्त 6:56
5.न्‍यूनतम तापमान -26 डी.सै.,अधिकतम-33+ डी.सै., हवा में आद्रता रहेगी, बरसात की संभावना!
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा!
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.201102
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275


चिकित्सा ग्रेड ऑक्सीजन, कर के दर में कटौती की

अकांशु उपाध्याय              नई दिल्ली। जीएसटी परिषद ने कोविड-19 के इलाज में काम आने वाली दवाओं मसलन रेमडेसिविर तथा उपकरणों ऑक्सीजन कन्सनट्र...