मंगलवार, 7 दिसंबर 2021

डीएम की सभागार में समीक्षा बैठक, माघ मेला

डीएम की सभागार में समीक्षा बैठक, माघ मेला
बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में मंगलवार को मेला प्राधिकरण स्थित आईसीसीसी सभागार में माघ मेला-2022 की तैयारियों की प्रगति के सम्बंध में बैठक आयोजित की गयी। जिलाधिकारी ने पीडब्लूडी, सिंचाई विभाग, स्वास्थ्य विभाग, विद्युत विभाग, जल निगम, मेला प्राधिकरण, गंगा प्रदूषण सहित अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को अपने विभाग से सम्बंधित कार्यों को गुणवत्ता के साथ समय से पूर्ण किये जाने का निर्देश दिया है। 
उन्होंने कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता न बरतने के निर्देश सम्बंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने भूमि समतलीकरण के कार्य के बारे में जानकारी ली, इस सम्बंध में सम्बंधित अधिकारी द्वारा बताया गया कि भूमि समतलीकरण के कार्य में 30 ट्रैक्टर, 07 जेसीबी व 107 मजदूर इस कार्य के लिए लगाये गये है, जिसपर जिलाधिकारी ने भूमि समतलीकरण के कार्य को ट्रैक्टर और मैनपाॅवर की संख्या को बढ़ाकर तेजी के साथ पूरा कराने के निर्देश दिए है। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को मेला क्षेत्र में सभी जगहों पर लगने वाले विद्युत कनेक्शन के साथ ही एमसीबी लगाने के निर्देश दिए है। 
जिलाधिकारी ने पार्किंग, टैªफिक एवं सुरक्षा व्यवस्था के सम्बंध में भी व्यवस्थित कार्य योजना के अनुसार कार्य कराये जाने के लिए कहा है। उन्होंने पीडब्लूडी को मैन पाॅवर बढ़ाकर पाण्टुन पुलों के निर्माण कार्यों को और तेजी के साथ निर्धारित समय में पूरा कराये जाने के निर्देश दिये है। जिलाधिकारी ने मेला क्षेत्र में सही स्थानों पर साइनेजेज को स्थापित कराये जाने के लिए कहा है। जिलाधिकारी ने स्नान घाटों पर कटान की समस्या से निपटने के लिए पहले से ही तैयारियां रखने के निर्देश दिए है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक माघ मेला सहित अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहें।

'एआईएमआईएम' में शामिल हुए रमाकांत: प्रयागराज 
बृजेश केसरवानी        
प्रयागराज। महालेखाकार कार्यालय एजी ऑफिस मेंस यूनियन के पूर्व अध्यक्ष सेवानिवृत्त रमाकांत शर्मा मंगलवार को एक सादे समारोह में अपने दर्जनभर साथियों के साथ ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) मे शामिल हो कर सदस्यता ग्रहण की पार्टी की सदस्यता लेने वाले अन्य लोगों में डॉक्टर नफीस, डीडी गुप्ता, बनवारी लाल ,अशोक श्रीवास्तव, जलाल मोहम्मद, चौधरी राम सजीवन ,मोहम्मद सलीम ,हेमंत बनर्जी ,मोहम्मद शमीम आदि ने सदस्यता ग्रहण की श्री रमाकांत शर्मा ने बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी के प्रति पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ पार्टी के लिए कार्य करने का दृढ़ संकल्प किया।
इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष मोहिबुल हक, जिला अध्यक्ष मोहम्मद शाह आलम, मंडल प्रवक्ता अफसर महमूद, मंडल सचिव हाफिज अनवर, जिला महासचिव जीशान रहमानी, हारून यूसुफ आदि लोग उपस्थित थे।

डीएम ने सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा की
राजकुमार          
कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने भू-जल संरक्षण, विद्युत लोक निर्माण विभाग सेतु निगम, कृषि, स्वास्थ्य, जल निगम, पंचायती राज, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण, आजीविका मिशन, मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), मत्स्य पालन, उद्यान, समाज कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, कन्या सुमंगला, कौशल विकास मिशन, जिला उद्योग, खादी ग्रामोद्योग एवं निर्माण कार्यों सहित अन्य योजनाओं की विन्दुवार समीक्षा की। सिचांई विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने नहरों की शिल्ट सफाई कराये जाने एवं नहरों में टेल तक पानी पहुंचाये जाने के निर्देश दिये। 
विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने पंचायत भवनों, विद्यालयों एवं सामुदायिक शौचालयों के बकाये विद्युत बिल का भगुतान कराये जाने के निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिये। निर्माण कार्यों की समीक्षा के करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि जो भी निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं। उनका लोकार्पण 15 दिसम्बर 2021 तक करा दिया जायें। कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने किसान सम्मान निधि योजना के तहत छूटे हुए पात्र लाभार्थियों की फीडिंग कराने एवं उन्हें योजना से लाभान्वित कराये जाने के लिए कहा स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने आयुष्मान गोल्डेन कार्ड की प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करते हुए गोल्डेन कार्ड बनाने में और अधिक तेजी लाये जाने के निर्देश दिये। 
उन्होंने आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत विद्यालयों का निरीक्षण कराकर उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षाधिकारी को दिये। श्रम विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने कैम्प लगाकर श्रमिकों का ई-श्रम कार्ड बनाये जाने के निर्देश दिये हैं।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत त्रिपाठी जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी श्रवण कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी एवं समाज कल्याण अधिकारी सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

डीएम कार्यालय में 'सशस्त्र सेना झंडा' दिवस मनाया
राजकुमार      
कौशाम्बी। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी मंगलवार 7 दिसम्बर को कलेक्ट्रेट स्थित जिलाधिकारी कार्यालय कक्ष में सशस्त्र सेना झण्डा दिवस मनाया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने दान दिया तथा उन्होंने कहा कि समस्त विभागाध्यक्ष अधिक से अधिक दान दें। उन्होंने स्मारिका नामक पुस्तक का विमोचन भी किया। 
जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने जिलाधिकारी को झण्डा प्रतीक चिन्ह लगाया। 
इस अवसर पर जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कैप्टन नजमुल हुदा सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

गाजियाबाद: चोरों से सुरक्षित नहीं हैं होर्डिंग्स-बैनर
अश्वनी उपाध्याय          गाज़ियाबाद। जिलें में चोरी और छीना झपटी की वारदातें हर दिन बढ़ रहीं हैं। हालत इतनी बिगड़ गई है कि सत्तारूढ़ बीजेपी के प्रचार-प्रसार करने वाले होर्डिंग्स और बैनर भी चोरों से सुरक्षित नहीं हैं। साहिबाबाद से भारतीय जनता पार्टी के विधायक सुनील कुमार शर्मा ने तीन अलग-अलग थानों में शिकायत दर्ज कराई है। सुनील शर्मा का कहना है कि चोर खास तौर से बीजेपी के बैनरों को अपना शिकार बना रहे हैं।

विधायक सुनील शर्मा ने बताया कि प्रदेश सरकार तमाम जन कल्याणकारी योजनाएं चला रही है। लोगों तक उनकी जानकारी पहुंचाने के लिए प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। लेकिन, साहिबाबाद क्षेत्र में उनकी ओर से लगवाए गए होर्डिंग्‍स और बैनर चोरी हो रहे हैं। विधायक के कहने पर संबन्धित विज्ञापन एजेंसी ने इसकी इंदिरापुरम, कौशांबी और लिंक रोड थाने में शिकायत दी है। विज्ञापन एजेंसी के मुताबिक गाजियाबाद नगर निगम ने उसे क्षेत्र में विज्ञापन का अधिकार दिया है। इंदिरापुरम, कौशांबी और लिंक रोड थाना क्षेत्र में लगे होर्डिंग-बैनर चोरी हो गए हैं।

दरअसल विधानसभा चुनाव सर पर खड़े देख, भाजपा विधायक सुनील शर्मा भी चुनाव की तैयारी में जुटे हुए हैं। उन्होंने योगी सरकार की तरफ से संचालित योजनाओं होर्डिंग्‍स लगवाए थे। साहिबाबाद विधानसभा को सबसे प्रदेश की सबसे बड़ी विधानसभा है। इस सीट पर सबसे ज्यादा वोटर हैं। इस संबंध में एसपी ट्रांस हिंडन ज्ञानेन्‍द्र सिंह बताते हैं कि मामले की शिकायत मिली है। जांच की जा रही है और आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी।

डेल्टा स्वरूप की तरह शक्तिशाली नहीं हैं 'ओमिक्रोन'

डेल्टा स्वरूप की तरह शक्तिशाली नहीं हैं 'ओमिक्रोन'

नरेश राघानी          जयपुर। राजस्थान सरकार के एक मंत्री ने मंगलवार को दावा किया कि कोरोना वायरस का ओमीक्रोन स्वरूप पूवर्वर्ती डेल्टा स्वरूप की तरह ”शक्तिशाली’ नहीं है। खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने मंगलवार को मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि ”हमारे पास जो रिपोर्ट है और मैं व्यक्तिगत रूप से मानता हूं कि ओमीक्रोन स्वरूप, डेल्टा स्वरूप की तरह ताकतवर नहीं है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक जयपुर में कांग्रेस पार्टी की ओर से 12 दिसंबर को होने वाली महारैली की तैयारियों और व्यवस्थाओं पर चर्चा करने के लिये बुलाई गई थी। कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी के बावजूद रैली के आयोजन के सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने कहा कि सभी दिशा निर्देशों का अनुपालन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के बाद जयपुर में आयोजित होने वाली एक बड़ी रैली के लिये पार्टी कार्यकर्ताओं और लोगों में उत्साह है। उन्होंने बताया कि जीनोम सिक्वेंसिंग (अनुवांशिकी अनुक्रमण) में जयपुर में ओमीक्रोन स्वरूप से नौ लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है जबकि कुछ संदिग्धों के नमूने जांच में प्रक्रियाधीन है। इन्हें मिलाकर राज्य में वर्तमान में कोरोना वायरस से संक्रमण के 221 मरीज उपचाराधीन हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं कोरोना की स्थिति पर नजर बनाये हुए हैं। महंगाई के मुद्दे पर केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए खाचरियावास ने कहा कि केन्द्र सरकार ने ईंधन की कीमतें उस समय बढ़ाई जब लोग कोरोना संक्रमण से मर रहे थे और सरकार ने अपना खजाना भर लिया। उन्होंने कहा, ”अब उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में विधानसभा चुनाव को देखते हुए ईंधन की कीमतों में वृद्धि नहीं की जा रही है। उन्हें (भाजपा नेताओं को) डर है कि वे उत्तर प्रदेश में चुनाव हार सकते हैं और इसलिये ईंधन की कीमतें नहीं बढा रहे हैं।” मंत्री ने कहा कि कांग्रेस शासन और भाजपा शासन के बीच ईंधन की कीमतों में अंतर के बारे में पता करने के लिये वर्तमान में सभी जानकारियां इंटरनेट पर उपलब्ध है और लोगों को अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों और भारत में ईंधन की कीमतों की जांच करनी चाहिए।

उत्तराखंड: कोरोना के 21 नए मामलें सामने आए

पंकज कपूर          देहरादून। राज्य में मंगलवार को कोरोना के 21 नए मामले सामने आए है। इसी के साथ राज्य में कोरोना का आंकड़ा 3,44,385 पहुंच गया है। जबकि राज्य में मंगलवार को 3 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए इस तरह अब तक 3305611 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

मंगलवार की सांय 6:00 बजे स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य में 21 नए लोगों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई। जिनमें देहरादून जिले से 06, हरिद्वार से 01, नैनीताल जिले से 05, उधमसिंह नगर से 02, पौडी से 02, टिहरी से 0, चंपावत से 04, पिथौरागढ़ से 0, अल्मोड़ा 01, बागेश्वर से 0, चमोली से 0, रुद्रप्रयाग से 0, उत्तरकाशी से 0 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं।

फैसला: 4,418 शिक्षकों को रिक्त नहीं माना जाएगा

पंकज कपूर           देहरादून। एक लंबे समय से अपने हाथ को लेकर लड़ रहे और अपने भविष्य को लेकर असुरक्षित महसूस कर रहे अतिथि शिक्षकों को सरकार का साथ मिल गया है। प्रदेश में वर्तमान में कार्यरत 4,418 अतिथि शिक्षकों के पदों को अब रिक्त नहीं माना जाएगा। यानि लोक सेवा आयोग और अधीनस्थ कर्मचारी चयन आयोग से चुनकर आने वाले एलटी और प्रवक्ता की पोस्टिंग के लिए अतिथि शिक्षकों को नहीं हटना पडेगा कैबिनेट के फैसले से अतिथि शिक्षकों में खुशी की लहर है। राज्य के सरकारी स्कूलों में प्रवक्ता के 2993 और एलटी के 1425 पदों पर अतिथि शिक्षक कार्यरत हैं। राज्य के दुर्गम क्षेत्रों में शिक्षकों की कमी दूर करने के लिए वर्ष 2015-16 में अतिथि शिक्षकों के रूप में अस्थायी नियुक्ति की व्यवस्था शुरू की गई थी।अब तक स्थायी शिक्षकों का नियुक्ति होने पर अतिथि शिक्षकों को हटा दिया जाता था। 

हालांकि, सरकार ने हटने वाले अतिथि शिक्षकों को दूसरे स्कूलों में नियुक्ति का रास्ता खुला रखा था लेकिन उस पर कभी पूरी तरह अमल नहीं हो पाया। पिछले दिनों भी एलटी से प्रवक्ता पद पर प्रमोशन और नए प्रवक्ताओं की नियुक्ति की वजह से कई अतिथि शिक्षकों का हटना पड़ा। चार जुलाई की कैबिनेट बैठक में अतिथि शिक्षक के हित में उनके पदों को रिक्त न मानने पर सहमति बन गई थी लेकिन तब से आदेश नहीं हो पाया था। अब कैबिनेट ने इस पर विधिवत निर्णय नई व्यवस्था में अतिथि शिक्षकों के पदों को एक तरह से स्थायी मान लिया गया है। जिन पदों पर अतिथि शिक्षक नियुक्त होंगे उन्हें रिक्त नहीं माना जाएगा। माध्यमिक अतिथि शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह दानू ने इस फैसले के लिए सरकार का आभार जताया। 

अतिथि शिक्षकों के पद को रिक्त न मानने के फैसले से स्थायी शिक्षकों में नाराजगी है। शिक्षक संघ के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष केके डिमरी ने कहा कि अतिथि शिक्षक के नियुक्ति पत्र में स्पष्ट लिखा है कि उनके पद अस्थायी हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश भी यही परिभाषित करते हैं। निवर्तमान महामंत्री डॉ. सोहन सिंह माजिला ने कहा कि यदि अतिथि शिक्षकों के पद रिक्त नहीं माने जाते है, स्थायी शिक्षकों के प्रमोशन और ट्रांसफर प्रभावित होंगे। यदि कैबिनेट ये इस प्रकार का निर्णय हुआ है, सरकार को पुनर्विचार करना चाहिए।


अपना राजनीतिक सफर तय करेंगी इनैलो: चौटाला

राणा ओबराय          चंडीगढ़। देवीलाल परिवार में एकजुटता के प्रयासों का बीज अंकुरित होते ही इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला ने इसे पूरी तरह से नष्ट कर दिया। उन्होंने कहा था मैं पार्टी के गद्दारो को कभी माफ नही करता हूं। पूर्व सीएम ओपी चौटाला आज भी अपनी बात पर अटल रहते हैं। यह उन्होंने साबित कर दिया। उन्होंने कहा कि यह लोग इनेलो पार्टी के गद्दार हैं और गद्दारों के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। चौटाला यहीं नहीं रुके। इससे साफ हो गया इनैलो अकेले अपने दम पर ही अपना राजनीतिक सफर तय करेगी।

उन्होंने यह स्पष्ट कर दिया कि आखिर चौटाला परिवार में एकजुटता के प्रयासों की बात क्यों चलाई जा रही है। पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि जजपा के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं में भगदड़ मची हुई है। इस भगदड़ को रोकने के लिए ऐसे भ्रमित करने वाले संदेश फैलाए जा रहे हैं कि चौटाला परिवार में एकजुटता होने जा रही है। ताकि जजपा से भागने वाले लोग वहीं पर रुके रहें। चौटाला का यह बयान दो बड़े घटनाक्रम के बाद आया है, जिससे परिवार की एकजुटता के प्रयास अब सिरे चढ़ते दिखाई नहीं दे रहे हैं। 

गोली कांड: पुलिस ने 12 आरोपियों को अरेस्ट किया

गोली कांड: पुलिस ने 12 आरोपियों को अरेस्ट किया

दुष्यंत टीकम       कोरबा। कुसमुंडा गोली कांड में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। निगरानी शुदा बदमाश और डीजल चोरों का सरदार साजिद खान और गोपू पांडे ने रची थी साजिश। गोपू पांडे के गुर्गे मुस्तकीम उर्फ मुस्सू ने चलाई गोली साजिद खान के गुर्गे सुमित चौधरी ने अपने जांघ पर चलवाई थी। गोली इस मामले में पुलिस ने 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। घटना में प्रयुक्त पिस्टल एवम खाली कारतूस बरामद जार लिया गया है। 

दिनांक 28-12- 2021 के रात्रि करीब 10:30 बजे प्रार्थी नं चौधरी पिता मुरारी चौधरी निवासी चकरभाठा बिलासपुर के द्वारा पुलिस अधीक्षक कोरबा श्री भोजराम पटेल को फोन के माध्यम से सूचित किया गया कि कुसमुंडा रेलवे साइडिंग के पास आरोपीगण अशरफ खान, राजा खान एवं अभिषेक आनंद के द्वारा प्रार्थी को जान से मारने की नीयत से गोली मारा गया है, जो उसके जांघ में गोली लगी है। पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा तत्काल थाना प्रभारी कुसमुंडा निरीक्षक लीलाधर राठौर , सायबर सेल प्रभारी उप निरीक्षक कृष्णा साहू एवं सर्वमंगला चौकी प्रभारी सहायक उप निरीक्षक विभव तिवारी को मौके पर भेजा एवं घायल को जिला चिकित्सालय में उपचार हेतु भर्ती कराकर उपचार कराने एवं मामले के आरोपीगण को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। 

पूछताछ पर प्रार्थी सुमित चौधरी ने बताया कि वह दिनांक 28-11-2021 को अपने साथी दूजराम साहू के साथ बुलेट मोटर साईकल से कोरबा से बिलासपुर जा रहा था। कुसमुंडा रेलवे साइडिंग के पास कुछ लोगों को खड़े देखकर साइडिंग के अंदर गया। जहां पर राजा खान अशरफ अशरफ खान अभिषेक आनंद एवं कुछ अन्य लोग खड़े थे। जिनके साथ बातचीत के दौरान द्वारा पूर्व रंजिश को लेकर अशरफ खान के द्वारा सुमित सुमित चौधरी को गोली मार दिया गया। गोली सुमित चौधरी के जांघ में लगा। प्रार्थी सुमित चौधरी और दूजराम साहू ने वहां से भागकर अपनी जान बचाई। सुमित चौधरी के रिपोर्ट पर थाना कुसमुंडा में अप क्र – 569/2021 धारा – 307,34 भा द वि ,25,27 आर्स अंतर्गत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना प्रारम्भ किया गया।

लूट की घटना का खुलासा, एक अभियुक्त गिरफ्तार

संदीप मिश्र            मुजफ्फरनगर। नहर की पटरी पर दंपत्ति एवं बुजुर्ग से साथ हुई लूट की घटना गांव मुकुंदपुर के युवकों द्वारा अंजाम दी गई थी। घटना के महज 6 घंटे के भीतर पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से लूट के रुपए और घटना में इस्तेमाल डंडा बरामद कर इस मामले का खुलासा कर दिया है। लूट की वारदात में शामिल दो बदमाशों की तलाश में पुलिस ताबडतोड दबिशें दे रही है। लूटपाट का शिकार हुए पीड़ितों ने तितावी थाने पहुंचकर पुलिस को तहरीर देते हुए कार्यवाही किए जाने की मांग की थी। 

थानाक्षेत्र में हुई लूटपाट की दो घटना होने के बाद सक्रिय हुई थाना तितावी पुलिस ने थाना क्षेत्र के गांव मुकुंदपुर निवासी बादल पुत्र सुबोध को मुखबिर की सूचना के आधार पर धर दबोचा। गिरफ्तार पूछताछ के दौरान पकड़े गए आरोपी ने लूटपाट में शामिल अपने दो अन्य दो साथियों के नाम भी उजागर किए। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से दंपत्ति से लूटी गई 8000 रूपये की नगदी के अलावा घटना के दौरान इस्तेमाल किया गया एक डंडा भी बरामद किया है। पुलिस लूट की इस घटना में शामिल गांव मुकुंदपुर निवासी हर्ष पुत्र सुदेश तथा बंटी पुत्र राजू की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ दबिश दे रही है।




शारीरिक एवं मानसिक संतुलन बनाता हैं 'योग'

शारीरिक एवं मानसिक संतुलन बनाता हैं 'योग'

मो. रियाज         यदि आप अपने बच्चे की लंबाई बढ़ाने के तरीको की तलाश कर रहे हैं। ताकि वह कुछ और इंच ऊपर उठ सकें, तो योग इसका समाधान है। योग से हाइट के अलावा आपके बच्चे के मन और शरीर का भी कल्याण होता है। उनके चंचल मन में स्थिरता पैदा होगी, साथ ही उनका शरीर लचीला बनेगा। योग में ऐसे व्यायाम हैं, जिनमें बहुत अधिक खिंचाव और संतुलन होता है। ये आपके बच्चे की लंबाई बढ़ाने में बहुत फायदेमंद हो सकते हैं। चाहे वह सूर्य नमस्कार हो, चक्रासन या व्हील पोज़, और वृक्षासन या ट्री पोज़। लाभ देखने के लिए अपने बच्चे को इन कुछ योग आसनों का नियमित रूप से अभ्यास करवाएं। 

योग गुरु और ग्रैंड मास्टर अक्षर का मानना है, “योग आपके ग्रोथ हार्मोन को बढ़ाने के लिए जाना जाता है, और अगर वयस्कों के मामले में ऐसा हो सकता है, तो बच्चों को स्वाभाविक रूप से लाभ होता है। योग इन हार्मोन की मदद से एक या दो इंच अतिरिक्त हाइट हासिल करने में मदद करता है। कुछ विशिष्ट योग अभ्यास निश्चित रूप से इन हार्मोनों को सक्रिय कर सकते हैं।” यह शरीर को पूरी तरह से आराम करने में मदद करता है जो एक और महत्वपूर्ण कारक है। यह ग्रोथ हार्मोन को उत्तेजित करता है। जब शरीर पूरी तरह से आराम करता है, तो हार्मोन बढ़ाया जाता है। इसलिए योग को अवश्य रूप से अपने बच्चे की दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।

एंडरसन को क्रिकेट मैच में विश्राम देने का निर्णय 

ब्रिसबेन। इंग्लैंड ने कार्यभार प्रबंधन की अपनी नीति के तहत तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन को आस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार से यहां शुरू होने वाले पहले एशेज टेस्ट क्रिकेट मैच में विश्राम देने का निर्णय किया है। टीम प्रबंधन का मानना है श्रृंखला के पहले मैच में नहीं खेलने से एंडरसन इसके बाद एडीलेड में होने वाले दिन रात्रि टेस्ट के लिये बेहतर तैयार रहेंगे। इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने बयान में कहा, ”जिम्मी खेलने के लिये फिट है और उन्हें किसी तरह की चोट नहीं है। छह सप्ताह के अंदर पांच टेस्ट मैच खेलने हैं और ऐसे में उन्हें एडीलेड में होने वाले दूसरे टेस्ट के लिये तैयार रखना है।” यह निर्णय इंग्लैंड की खराब मौसम के कारण सीमित तैयारियों को देखकर भी लिया गया है।

बयान में कहा गया है, ”हमें दौरे में अब तक सीमित अभ्यास का मौका मिला है तथा वह (एंडरसन) और टीम प्रबंधन किसी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहते हैं विशेषकर 2019 में एजबेस्टन में जो कुछ हुआ उसे देखते हुए जब वह मैच की पहली सुबह ही चोटिल हो गये थे।”



मुंबई: एक बार फिर से सुर्खियों में हैं एक्ट्रेस उर्फी

मुंबई: एक बार फिर से सुर्खियों में हैं एक्ट्रेस उर्फी
कविता गर्ग      
मुबंई। अपने अजीबोगरीब कपड़ों की वजह से हमेशा लाइमलाइट में रहने वाली उर्फी जावेद एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। इस बार उर्फी ने अपने कपड़ों में ना केवल सिक्के लपेटे बल्कि उनसे ऐसी चूक हो गई कि जिसका अंदाजा खुद उर्फी को भी नहीं होगा। खास बात है कि इन तस्वीरों को शेयर करते हुए उर्फी ने फैंस से भी एक डिमांड कर दी। उर्फी जावेद ने तस्वीर में जो टॉप पहना हुआ है। उसमें उन्होंने सिक्के लपेटे हुए हैं। 
अब आप ये मत सोचने लग जाइएगा कि ये सिक्के असली हैं। अरे जनाब! ये नकली सिक्के हैं। जिन्हें ड्रेस की खूबसूरती बढ़ाने और अलग सा लुक देने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। उर्फी ने इन नकली सिक्कों का इस्तेमाल टॉप के किनारे पर किया। उर्फी जावेद ने पीले और सफेद रंग के कॉम्बिनेशन का टॉप पहना हुआ है। ये टॉप बिकिनी स्टाइल टॉप तो नहीं है लेकिन ब्रा लाइन तक जरूर है। पीले रंग के टॉप के अंदर उर्फी ने काले रंग की ब्रा पहनी है। तस्वीर में आप देखेंगे कि उर्फी अच्छे से टॉप को पहने हुए हैं लेकिन ब्रा लाइन पर काले रंग की ब्रा साफ नजर आ रही है।
अपनी शादी को लेकर सूर्खियों में बनें विक्की: मुंबई

कविता गर्ग          मुंबई। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही हैं। इस वीडियो में बॉलीवुड एक्ट्रेस कैटरीना कैफ और विक्की कौशल नजर आ रहे है। इस वीडियो में अभिनेत्री कैटरीना कैफ को शादी के जोडे में देखा जा रहा हैं। कैटरीना कैफ और विक्की कौशल अपनी शादी को लेकर कुछ दिनों से सूर्खियों में बने हुए है। सोशल मीडिया पर इस वीडियो ने तहलका मचा दिया है। इस वीडियो को देखकर फैंस हैरान हो गए हैं। 

फैंस ये कह रहे हैं कि आखिर ये शादी हुई कब। इस वीडियो में जया बच्चन और अमिताभ बच्चन भी दिखाई दे रहे हैं। फैंस कैटरीना और विक्की कौशल की शादी की हर एक छोटी से छोटी बात जानने के लिए बहुत बेताब है।वीडियो को फिल्मिस्तान और फिल्मी कीडा के ऑफिशल इंस्टाग्राम पेज पर शेयर किया गया है। यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही हैं। इस वीडियो में कैटरीना कैफ और विक्की कौशल शादी की ड्रेस में नजर आ रहे है। इस वीडियो में देखा जा सकता हैं कि कैटरीना कैफ अमिताभ बच्चन के गाल खिचती नजर आ रही हैं और इसी बीच जया बच्चन आती है और कैटरीना को गले लगाती है। इसके बाद कैटरीना दूल्हे का हाथ पकडती हैं। लेकिन लोगो का मानना ये है कि दूल्हा विक्की कौशल नहीं लग रहे है। कई लोगो का कहना ये भी है कि यह ऐड फिल्म की शूटिंग का वीडियो हैं। एक फेन ने कमेंट करते हुए लिखे हैं कि 'ये ऐड है रियल शादी नहीं' तो दूसरे ने लिखा हैं कि 'लो देख ली शादी', वहीं तीसरे फेन लिखा हैं कि 'इतनी सिक्यूरिटी के बाद भी वीडियो लीक हो गया'। इस सब से यह साबित होता है कि यह वीडियो किसी ऐड फिल्म की शूटिंग का ही हैं, जो कि इस समय सोशल मीडिया पर बहुत ट्रेंडिंग में हैं।

मूल्यांकन: सर्वोच्च न्यायालय की स्वीकृति, मुहर लगीं

मूल्यांकन: सर्वोच्च न्यायालय की स्वीकृति, मुहर लगीं

अकांशु उपाध्याय         नई दिल्ली। सीबीएसई ने पहले कहा था कि वह थ्योरी के लिए कक्षा 12वीं के छात्रों का मूल्यांकन कक्षा 10वीं के बोर्ड से 30 प्रतिशत, कक्षा 11वीं से 30 प्रतिशत और कक्षा 12वीं के यूनिट, मिड टर्म में प्रदर्शन के आधार पर 40 प्रतिशत अंकों के आधार पर करेगा। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को कहा कि कोरोना महामारी की वजह से कक्षा बारहवीं के जिन विद्यार्थियों की बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गई थी, उन छात्रों के मूल्यांकन के लिए सीबीएसई की मूल्यांकन योजना अंतिम रूप ले चुकी है। इसके साथ ही इस योजना पर सर्वोच्च न्यायालय की स्वीकृति की मुहर भी लग गई है। मूल्यांकन योजना के मुद्दे पर अंतिम मुहर लगाते हुए शीर्ष अदालत ने कहा कि इस मुद्दे पर दोबारा विचार नहीं किया जाएगा। इसलिए सीबीएसई की योजना पर उन याचिकाकर्ताओं को भी चुनौती देने की अनुमति नहीं दी जाएगी, जिन्हें इस योजना या अंकों के मूल्यांकन के संबंधित में कोई शिकायत है।

कोर्ट ने याचिकाकर्ता से क्या कहा। हम यह स्पष्ट कर रहे हैं कि जहां तक कक्षा बारहवीं के विद्यार्थियों के मूल्यांकन योजना का संबंध है, वह अंतिम रूप ले चुका है। न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति सी टी रविकुमार की पीठ ने याचिकाकर्ताओं की ओर से पेश वकील से कहा कि हम उस मुद्दे को फिर से नहीं खोलेंगे। याचिकाकर्ता केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा तैयार की गई योजना में निर्धारित अनुपात पर सवाल उठा रहे हैं, जिसे शीर्ष अदालत की मंजूरी मिल गई है और पुनर्विचार के लिए इसी तरह के तर्क पहले खारिज कर दिए गए थे।

17 जून को, शीर्ष अदालत ने काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन और सीबीएसई की मूल्यांकन योजनाओं को मंजूरी दी थी, जिसने परिणामों के आधार पर 12 वीं कक्षा के छात्रों के अंकों के मूल्यांकन के लिए 30:30:40 फॉर्मूला अपनाया था।  सीबीएसई ने पहले कहा था कि वह थ्योरी के लिए कक्षा 12वीं के छात्रों का मूल्यांकन कक्षा 10वीं के बोर्ड से 30 प्रतिशत, कक्षा 11वीं से 30 प्रतिशत और कक्षा बारहवीं में प्री-बोर्ड, यूनिट और मिड टर्म में प्रदर्शन के आधार पर 40 प्रतिशत अंकों के आधार पर करेगा

शहीद 'किसानों' के परिवारों के लिए मुआवजे की मांग 

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन के दौरान जान गंवाने किसानों के परिवारों के लिए मुआवजे की मांग मंगलवार को लोकसभा में उठाई और कहा कि सरकार को इन किसान परिवारों को उनका अधिकार देना चाहिए। राहुल गांधी ने सदन में शून्यकाल के दौरान इस विषय को उठाया और लोकसभा के पटल पर करीब 500 किसानों की एक सूची भी रखी और दावा किया कि इन लोगों ने किसान आंदोलन के दौरान अपनी जान गंवाई।

उन्होंने कहा, ”पूरा देश जानता है कि किसान आंदोलन में करीब 700 किसान शहीद हुए। प्रधानमंत्री ने देश और किसानों से माफी मांगी। प्रधानमंत्री ने स्वीकार किया कि उन्होंने गलती की है। 30 नवंबर को कृषि मंत्री से सवाल (लोकसभा में लिखित प्रश्न) पूछा गया था कि कितने किसानों की मौत हुई। उन्होंने जवाब दिया कि उनके पास कोई डेटा नहीं है। कांग्रेस सांसद ने कहा, ” हमने इन किसानों के बारे में पता लगाया। पंजाब की सरकार ने राज्य के करीब 400 किसानों को मुआवजा दिया है। मैं इन किसानों की सूची और प्रदर्शन के दौरान जान गंवाने वाले हरियाणा के कुछ किसानों की एक सूची सदन के पटल पर रख रहा हूं।” कांग्रेस नेता ने कहा, ”ये नाम यहां हैं। मैं चाहता हूं कि इन किसानों को हक मिलना चाहिए। उनके परिवारों को मुआवजा मिलना चाहिए।”

गौरतलब है कि सरकार ने गत 30 नवंबर को कहा था कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के आसपास कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान मृत किसानों की संख्या संबंधी आंकड़ा कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के पास नहीं है। लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह जानकारी दी थी। राजीव रंजन सिंह, टी आर प्रतापन, एन के प्रेमचंद्रन, ए एम आरिफ, डीन कुरियाकोस, प्रो. सौगत राय और अब्दुल खालीक ने पूछा था कि तीन कृषि कानून के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी के आसपास आंदोलन के दौरान कितने किसानों की मौत हुई। तोमर ने कहा, ”कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के पास इस मामले में कोई आंकड़ा नहीं है।

खिलाड़ी मयूखा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज, जांच की

तिरूवनंतपुरम। केरल उच्च न्यायालय ने ओलंपिक खिलाड़ी मयूखा जॉनी के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी के संबंध में मंगलवार को कहा कि पुलिस को मामले की जांच करने दें। मयूखा ने उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने का अनुरोध किया है। उन्होंने दावा किया है कि दुष्कर्म का एक मामला उठाने के बाद उन पर दबाव बनाने के लिए यह प्राथमिकी दर्ज की गई है। सुनवाई के दौरान मयूखा के वकील ने अदालत से कहा कि उनकी मुवक्किल एक खिलाड़ी तथा ओलंपियन हैं और उनके खिलाफ लगाए गए आरोप गलत हैं। वकील की दलील के जवाब में न्यायमूर्ति के हरिपाल ने कहा कि पुलिस को मामले की जांच करने दे। ओलंपियन होने का इससे क्या लेना-देना है।

अदालत ने राज्य सरकार और शिकायतकर्ता को नोटिस जारी कर प्राथमिकी रद्द करने की खिलाड़ी की याचिका पर अपना रुख स्पष्ट करने को कहा है। खिलाड़ी के वकील पी.ए. अयूब खान ने दावा किया कि उनके मुवक्किल के खिलाफ प्राथमिकी दबाव बनाने के इरादे से दर्ज की गई है, ताकि वह दुष्कर्म की शिकार अपनी सहेली का साथ देना छोड़ दें। आरोप है कि दुष्कर्म के आरोपी पुरुष ने न केवल उनकी सहेली के साथ दुष्कर्म किया। बल्कि आपत्तिजनक तस्वीरें भी खींची और ब्लैकमेल किया। याचिका में खिलाड़ी ने कहा कि प्राथमिकी में मुख्य आरोपी बताए गए एक शख्स के खिलाफ मामला रद्द कर दिया गया है और उन्हें भी इसी प्रकार राहत दी जाए। गौरतलब है कि मयूखा ने इस साल जुलाई में, वर्ष 2016 में सहेली के साथ हुए कथित दुष्कर्म मामले में केरल पुलिस और राज्य महिला आयोग के एक पूर्व अधिकारी पर गंभीर आरोप लगाए थे।

विधायी कार्यो में सक्रिय भागीदारी निभाए, निर्देश दिए

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सभी सांसदों को संसद में उपस्थित रहकर विधायी कार्यो में सक्रिय भागीदारी निभाने के निर्देश दिये हैं। सूत्रों के अनुसार भाजपा संसदीय दल की मंगलवार को यहां हुई बैठक में मोदी ने पार्टी के सभी सांसदों को संसद में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करने का निर्देश देते हुए कहा कि बार-बार बच्चों की तरह आप लोगों को एक ही बात कहना ठीक नहीं है।

उन्होंने कहा कि आप लोग अपने-अपने व्यवहार में परिवर्तन लाइए नहीं तो परिवर्तन हो जाता है। बैठक में भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पार्टी के सभी सांसदों को संसद के शीतकालीन सत्र के बाद अपने-अपने संसदीय क्षेत्रों में जाकर पार्टी के जिला और मंडल अध्यक्षों के साथ संवाद करने और उन्हें चाय पर चर्चा के लिए बुलाने को कहा। प्रधानमंत्री ने कहा कि वो 14 दिसंबर को वाराणसी में अपने संसदीय क्षेत्र के जिला और मंडल अध्यक्षों को चाय पर बुलाएंगे। संसदीय दल की बैठक के बारे में जानकारी देते हुए संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने संवाददाताओं से कहा कि बैठक में प्रधानमंत्री ने भाजपा सांसदों को सांसद खेल स्पर्धा, सांसद तंदुरुस्त बाल स्पर्धा और सूर्य नमस्कार स्पर्धा का आयोजन करने के साथ-साथ अपने -अपने क्षेत्रों में रहने वाले पद्म पुरस्कार विजेताओं के संपर्क में रहने और उनके साथ निरंतर संवाद करने का भी निर्देश दिया।

बिरसा मुंडा की जयंती 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस घोषित करने पर बैठक में मोदी का सम्मान किया गया। बैठक में  मोदी के अलावा गृह मंत्री अमित शाह,वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, राज्य सभा मे सदन के नेता पीयूष गोयल, विदेश मंत्री एस जयशंकर, समेत कई मंत्री और पार्टी सांसद मौजूद थे। संसद सत्र के दौरान आमतौर पर हर मंगलवार को संसद भवन परिसर में भाजपा संसदीय दल की बैठक होती है। इस बार यह बैठक संसद भवन परिसर से बाहर डॉ अंबेडकर अंतरराष्ट्रीय केंद्र के सभागार में हुई।

महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरना दिया: सांसद

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और कई अन्य विपक्षी सांसदों ने संसद के मानसून सत्र के दौरान उच्च सदन में ”अशोभनीय आचरण” को लेकर शीतकालीन सत्र की शेष अवधि के लिए राज्यसभा के 12 सांसदों के खिलाफ की गई निलंबन की कार्रवाई के विरोध में मंगलवार को संसद परिसर में धरना दिया। निलंबन के बाद से रोजाना प्रदर्शन कर रहे 12 निलंबित विपक्षी सांसदों ने आज भी संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरना दिया। चौधरी, शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत और कई अन्य विपक्षी सांसद उनके समर्थन के लिए पहुंचे और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

निलंबित राज्यसभा सदस्य अपने खिलाफ की गई इस कार्रवाई के विरोध में संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरने पर बैठे हैं। उनका कहना है कि जब तक निलंबन रद्द नहीं होगा, तब तक वे संसद की कार्यवाही के दौरान सुबह से शाम तक महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरने पर बैठेंगे। पिछले सप्ताह सोमवार, 29 नवंबर को आरंभ हुए संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन राज्यसभा में कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों के 12 सदस्यों को इस सत्र की शेष अवधि के लिए उच्च सदन से निलंबित कर दिया गया था।

जिन सदस्यों को निलंबित किया गया है उनमें मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के इलामारम करीम, कांग्रेस की फूलों देवी नेताम, छाया वर्मा, रिपुन बोरा, राजमणि पटेल, सैयद नासिर हुसैन, अखिलेश प्रताप सिंह, तृणमूल कांग्रेस की डोला सेन और शांता छेत्री, शिव सेना की प्रियंका चतुर्वेदी और अनिल देसाई तथा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के विनय विस्वम शामिल हैं।

पार्टी आगामी राज्य विधानसभा चुनाव लड़ेगी 'सीएम'

पणजी। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि चुनाव से पूर्व गठबंधन करने वाली महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी (एमजीपी) और तृणमूल कांग्रेस की संस्कृतियां मेल नहीं खाती हैं। गोवा की सबसे पुरानी क्षेत्रीय पार्टी एमजीपी ने सोमवार को एलान किया कि वह ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के साथ मिलकर आगामी राज्य विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

इस राजनीतिक घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री सावंत ने कहा कि जब दोनों दलों की सांस्कृतिक पहचान की बात आती है तो उनका कोई मेल नहीं है। उन्होंने महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की अध्यक्षता में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में भाग लेने के बाद सोमवार शाम को पत्रकारों से कहा, ”कहां एमजीपी की संस्कृति और कहां टीएमसी की पश्चिम बंगाल की संस्कृति? हमें हैरानी है कि कैसे वे मेल खाएंगी। एमजीपी की स्थापना करने वाले गोवा के पहले मुख्यमंत्री दयानंद बान्दोडकर का हवाला देते हुए सावंत ने कहा, ”स्वर्गीय भाऊसाहेब (दयानंद) बान्दोडकर जहां भी होंगे उन्हें शांति नहीं होगी।” भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सदानंद शेट तनवड़े ने कहा, ”मैंने विभिन्न व्हाट्सएप समूहों पर कार्टून देखे हैं। उनमें दिखता है कि जब किसी शेर को कुछ खाने को नहीं मिलता है, तो वह घास खाता है।” उल्लेखनीय है कि शेर एमजीपी का चुनावी चिह्न है।

तनवड़े ने कहा कि जब एमजीपी ने 1994 में पहली बार भाजपा से गठबंधन किया था तो वह एक अलग दल था। उन्होंने कहा, ”अगर वह वैसा ही दल होता तो वह टीएमसी जैसे राजनीतिक दल से गठबंधन नहीं करता। अब एमजीपी धवलीकर बंधुओं की एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बन गयी है।” एमजीपी का नेतृत्व दीपक धवलीकर कर रहे हैं और उनके भाई सुदिन धवलीकर राज्य विधानसभा में पार्टी का प्रतिनिधित्व करते हैं। दीपक धवलीकर ने सोमवार को कहा कि टीएमसी के साथ एमजीपी के गठबंधन की जानकारियां बाद में बतायी जाएंगी और उन्होंने कहा कि दोनों दल 40 सदस्यीय विधानसभा में चुनावों के लिए सीटों का बंटवारा करेंगे। उन्होंने दावा किया कि गोवा में भाजपा के खिलाफ ”लहर” है।

'पीएम' की अध्यक्षता में संसदीय दल की बैठक, फटकार

अकांशु उपाध्याय         नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) संसदीय दल की बैठक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई है। इस बैठक में पीएम मोदी ने पार्टी के सांसदों से सख्त लहजे में कहा कि वो मौजूदा शीतकालीन सत्र के दौरान सदन में उपस्थित रहें। सदन में मौजूद रहने की सख्त हिदायत के अलावा पीएम मोदी ने सांसदों को लोगों के हित में काम करने के लिए भी कहा।.पीएम मोदी ने सत्र के दौरान संसद में ना आने वाले सांसदों को फटकार लगाई।

उन्होंने अनुपस्थित रहने वाले सांसदों को फटकार लगाते हुए कहा कि अगर बच्चों को कोई बात बार-बार कही जाए तो वे भी ऐसा नहीं करते हैं। कृपया कर परिवर्तन लाइए, वरना परिवर्तन खुद-ब-खुद हो जाएगा। बैठक के दौरान 15 नवंबर को बिरसा मुंडा जयंती की घोषणा के लिए प्रधानमंत्री का सम्मान भी किया गया। मोदी ने कहा कि संसद की कार्यवाही और बैठकों में नियमित रहें और लोगों के हित में काम करें। उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए अच्छा नहीं है कि मैं आपकी अनुशासनहीनता को लेकर परेशान रहूं।

संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद कहा- "पीएम मोदी ने आज की बैठक में संसद खेल स्पर्धा, तंदरुस्त बाल स्पर्धा और सूर्यानमस्कार स्पर्धा आयोजन करने के लिए आवाहन दिया है। इसके साथ ही जिन्हें पद्म अवार्ड मिला है, उनके साथ एक लाइव कार्यक्रम करने का आवाहन भी दिया है।

पीएम मोदी ने कहा, 13 को मैं काशी जा रहा हूं। पहली बार आप सबके मैं वहां आने को नहीं कहूंगा। क्योंकि अभी संसद चल रही है। इसलिए आप सभी को संसद में रहना चाहिए। आप सब अपने अपने क्षेत्र में यही से रहकर लोगों को काशी कार्यक्रम बेहतर ढंग से देखने की व्यवस्था करनी चाहिए। उन्होंने कहा, मैं 14 दिसंबर को चाय पर चर्चा भी करूंगा। बनारस के सभी जिलों के पदाधिकारियों से चाय पर मिलूंगा।

प्रह्लाद जोशी ने कहा- पीएम मोदी ने बताया कि वह काशी में 14 दिसंबर को बैठक के लिए जिला अध्यक्षों और मंडल प्रमुखों को बुलाएंगे। इसके साथ ही, राज्य सभा के 12 सासदों के निलंबन पर संसदीय कार्य मंत्री ने कहा- हमने उन्हें विस्तार से बताया कि आखिर क्यों निलंबित किया गया। जो कुछ भी हुआ है उसके देश साक्षी रहा है। यह ऑन रिकॉर्ड है। अगर वे आज भी माफी मांगते हैं तो हम निलंबन वापसी को तैयार हैं।

दिल्ली विधानसभा 'चुनाव', काले रंग पर राजनीति

अमित शर्मा      चंडीगढ़। पंजाब में विधानसभा चुनाव-2022 को लेकर राजनीतिक गतिविधियां तेज हो रखी हैं। चुनावी मैदान में उतरने जा रहीं पार्टियां पंजाब की सत्ता में आने के लिए पूरा जोर लगाए हुए हैं। इधर, पंजाब में आप को मजबूत करने के लिये अरविंद केजरीवाल बेहद ज्यादा एक्टिव नजर आ रहे हैं। अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली-पंजाब एक कर रखा है। आयेदिन केजरीवाल पंजाब के अलग-अलग हिस्सों में पहुंच रहे हैं और इस दौरान उन्होंने पंजाब की जनता के लिए सरकार बनने पर ऐलानों की झड़ी लगा दी है। केजरीवाल द्वारा चुनाव जीतने को लेकर कई ऐलान किये गए हैं। इसके साथ ही केजरीवाल पंजाब में मौजूदा कांग्रेस सरकार को अपने लपेटे में लिए हुए हैं। केजरीवाल सीएम चन्नी सहित कांग्रेस पर जमकर हमला बोलते नजर आ रहे हैं और इसी कड़ी में जब वह मंगलवार को पंजाब के जालंधर पहुंचे तो यहां उन्होंने सीएम चन्नी पर करारा हमला बोला।

दरअसल, जहां पहले केजरीवाल सीएम चन्नी को नकली केजरीवाल बता रहे थे तो वहीं हाल ही चन्नी ने केजरीवाल और उनकी पार्टी आप पर निशाना साधते हुए यह कह डाला कि क्या अब काले अंग्रेज पंजाब में आकर राज करेंगे। बता दें कि, चन्नी के इस बयान पर केजरीवाल ने तुरंत पलटवार किया ही था साथ ही अब वह पंजाब में जनसभा के दौरान चन्नी के बयान को उछाल रहे हैं। जहां पंजाब के जालंधर पहुंचने पर केजरीवाल ने चन्नी के इस बयान को लेकर कहा कि जबसे मैंने ऐलान किया है कि हम पंजाब में 18 साल से अधिक उम्र की हर महिला को हम 1,000 रुपए हर महीने देंगे। मुझे तो गालियां पड़ रही हैं। केजरीवाल ने कहा कि मुझे लगा कि मैंने कुछ गलत किया होगा| इस दौरान केजरीवाल ने जनता से पूछा कि देने चाहिए कि नहीं देने चाहिए तो जनता ने आवाज लगाई देने चाहिए। जिसके बाद केजरीवाल ने आगे कहा मैंने कुछ गलत नहीं किया।

केजरीवाल ने आगे कहा- चन्नी साहब कहते हैं कि केजरीवाल काला है, ये उल्टी सीधी बातें करता है। इस दौरान केजरीवाल ने कहा मैं यहां मौजूद माताओं-बहनों से पूछना चाहता हूं कि उन्हें ये काला बेटा-भाई केजरीवाल पसंद है या नहीं?' इसके बाद भीड़ से एक साथ कई आवाज आती है- हां, पसंद है। बस इसके बाद फिर केजरीवाल कहते हैं कि मैं काला हूं तो क्या हुआ दिलवाला हूं, मेरी नीयत साफ है।

दल्ली के सीएम केजरीवाल ने चन्नी को अपने कपड़ों पर भी घेरा| केजरीवाल ने कहा कि चन्नी यह भी कहते हैं कि इसके कपड़े कितने खराब है, ये कैसे-कैसे कपड़े पहनता है। मेरे कपड़े जैसे हैं, ठीक हैं लेकिन जिस दिन हजार-हजार रुपये मिलने के बाद ये मेरी मां-बहनें अपने लिए नया सूट खरीदकर लाएंगी तो मेरा दिल खुश हो जाएगा। तब नया सूट पहनकर चन्नी साहब को दिखाइएगा कि ये मेरे काले भाई ने दिलवाया है नया सूट हमको। 


लताकिया के बंदरगाह पर मिसाइलें दागीं: सीरिया

लताकिया के बंदरगाह पर मिसाइलें दागीं: सीरिया

अखिलेश पांंडेय      जेरूसलम। सीरिया की सेना ने कहा है कि इजराइल के लड़ाकू विमानों ने तटीय शहर लताकिया के बंदरगाह पर मंगलवार तड़के मिसाइलें दागीं। उसने बताया कि हमले में किसी की मौत नहीं हुई है। सीरिया के सरकारी मीडिया ने एक सैन्य अधिकारी के हवाले से बताया कि बंदगाह पर उस स्थान पर मिसाइलें गिरीं जहां अनेक कंटेनर रखे हुए थे, हमले से कई कंटेनरों में आग लग गई।

लताकिया आयात के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण बंदरगाह है। सीरिया के सरकारी टीवी पर बताया गया कि बंदरगाह पर पांच बार धमाकों की आवाज आई, कंटेनर जहां रखे थे उस क्षेत्र में बड़े पैमाने पर आग लग गई जिसके बाद दमकल की गाड़ियों को उस ओर भेजा गया। इस बारे में इजराइल की सेना की ओर से अभी कोई टिप्पणी नहीं की गई है।

'संक्रमण' के मामलों की संख्या में 5 गुना वृद्धि हुईं
सुनील श्रीवास्तव    
प्रिटोरिया। दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 की चौथी लहर प्रत्याशित थी और नए ओमीक्रोन स्वरूप का सामने आना अपरिहार्य था, राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने संक्रमण में वृद्धि को “चिंता” का बड़ा विषय बताते हुए यह कहा है। राष्ट्रपति ने कहा कि पिछले एक सप्ताह में संक्रमण के दैनिक मामलों की संख्या में पांच गुना वृद्धि हुई है, जहां कुल नमूनों की कोविड-19 जांच में से लगभग एक चौथाई संक्रमित पाए जा रहे हैं।

दो हफ्ते पहले, जांच में केवल दो प्रतिशत लोग संक्रमित मिल रहे थे। रामाफोसा ने राष्ट्र के नाम अपनी साप्ताहिक समाचार-पत्रिका में कहा, “संक्रमण के मामलों में वृद्धि बहुत चिंता का विषय है लेकिन हमें यह याद रखना चाहिए कि हमने इसका अनुमान लगा लिया था। हमारे देश में रोग प्रतिरूप तैयार करने वालों ने हमें बताया था कि हम इस समय के आसपास चौथी लहर का सामना करेंगे और यह लगभग अपरिहार्य था कि वायरस के नए रूप सामने आएंगे।

उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे देश कोविड-19 की चौथी लहर की ओर बढ़ रहा है, हम संक्रमण वृद्धि की उस दर का अनुभव कर रहे हैं जो हमने महामारी शुरू होने के बाद से नहीं देखी है। लगभग दो सप्ताह पहले दक्षिण अफ्रीकी वैज्ञानिकों द्वारा वैश्विक ध्यान में लाया गया ओमीक्रोन स्वरूप अधिकांश नए संक्रमणों का कारण है।

दक्षिण अफ्रीका और दुनिया भर के वैज्ञानिक अभी भी नए ओमीक्रोन संस्करण के बारे में महत्वपूर्ण सवालों के जवाब देने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं, जैसे कि इसकी संक्रामक क्षमता, इसका प्रसार, क्या यह अधिक गंभीर बीमारी का कारण बनता है और इसके खिलाफ टीके कितने प्रभावी होंगे। रामाफोसा ने लोगों से टीकाकरण कराने और सख्त लॉकडाउन नियमों की प्रतीक्षा किए बिना सामूहिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के उपाय करने का आग्रह किया।

मीडिया कंपनी में शामिल होने के लिए इस्तीफा देंगे 'ट्रंप'

अखिलेश पांंडेय          वाशिंगटन डीसी। कैलिफोर्निया से रिपब्लिकन पार्टी के प्रतिनिधि डेविन न्यून्स पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नयी मीडिया कंपनी में शामिल होने के लिए पद से इस्तीफा देंगे। न्यून्स को कांग्रेस में ट्रंप के सबसे कट्टर समर्थकों में से एक माना जाता है। ट्रंप मीडिया एंड टेक्नोलॉजी समूह की ओर से सोमवार को जारी एक बयान में कहा गया कि न्यून्स जनवरी 2022 की शुरुआत में मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पदभार संभालेंगे। कंपनी ट्विटर समेत अपने प्रतिद्वंद्वियों से मुकाबला करने के लिए एक सोशल मीडिया मंच शुरू करने की तैयारी कर रही है। गौरतलब है कि ट्विटर ने अमेरिकी संसद भवन में भीड़ के हिंसक हमले की घटना के बाद जनवरी में ट्रंप का अकाउंट बंद कर दिया था। जून में फेसबुक ने दो साल के लिए ट्रंप का अकाउंट निलंबित कर दिया था।

ट्रंप ने एक बयान में कहा, ”डेविन यह समझते हैं कि हमें उदारवादी मीडिया और बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनियों को उन आजादी को बर्बाद करने से रोकना चाहिए, जो अमेरिका को महान बनाती है।” न्यून्स (48) ने एक बयान में कहा, ”इंटरनेट को फिर से शुरू करने और विचारों तथा अभिव्यक्ति को सेंसरशिप के बिना अबाधित व्यक्त करने का समय आ गया है। अमेरिका ने इंटरनेट के स्वप्न को वास्तविकता में बदला है और यह इस सपने को फिर से साकार करने वाली एक अमेरिकी कंपनी होगी।

पाकिस्तान के साथ संभावित सहयोग पर बातचीत 

सुनील श्रीवास्तव       इस्लामाबाद। अफगानिस्तान के कार्यवाहक उच्च शिक्षा मंत्री अब्दुल बाकी हक्कानी ने शिक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र में पाकिस्तान के साथ संभावित सहयोग पर बातचीत की है। अफगानिस्तान में लड़कियों के लिए शिक्षण संस्थानों को फिर से खोलने के आह्वान के बीच हक्कानी की अगुवाई में उच्च शिक्षा मंत्रालय के आठ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में उच्च शिक्षा आयोग का दौरा किया।

प्रतिनिधिमंडल में अकादमिक मामलों के उप मंत्री लोतफुल्ला खैरख्वा और काबुल विश्वविद्यालय के चांसलर डॉ ओसामा अजीज भी शामिल हैं। तालिबान के इस्लामिक अमीरात ऑफ अफगानिस्तान ने केवल छठी कक्षा तक लड़कियों के लिए स्कूल खोले हैं। प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रीय पाठ्यचर्या परिषद का भी दौरा किया जहां उन्हें एकल राष्ट्रीय पाठ्यचर्या और उसके उद्देश्यों पर एक ब्रीफिंग दी गई।

इस बीच पाकिस्तान के अफगानिस्तान के राजदूत मंसूर अहमद खान ने कहा कि दोनों देशों के बीच सकारात्मक बातचीत जारी है। उन्होंने कहा कि अफगानी मंत्री के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल उच्च शिक्षा और दोनों देशों के विश्वविद्यालयों के क्षेत्र में और सहयोग तलाशेगा। तालिबान के कब्जे के बाद अफगानिस्तान के शिक्षा मंत्री का यह पहला पाकिस्तान दौरा है। पिछले महीने अफगानिस्तान के कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी और अफगान स्वास्थ्य मंत्री डॉ कलंदर इबाद ने पाकिस्तान का दौरा किया था।

बोरिस: संयुक्त मोर्चा बनाने की आवश्यकता पर जोर 

सुनील श्रीवास्तव              लंदन। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि यूक्रेन के खिलाफ रूस की किसी भी आक्रामक कार्रवाई को रोकने के लिए उनका देश सभी उपलब्ध आर्थिक और राजनयिक साधनों का उपयोग करना जारी रखेगा। डाउनिंग स्ट्रीट के प्रवक्ता ने एक बयान में यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि जानसन ने सोमवार की शाम अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन , जर्मनी की कार्यवाहक जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और इटली के प्रधानमंत्री मारियो द्राघी के साथ बातचीत में यूक्रेन के खिलाफ रूस की आक्रामक कार्रवाई का सामना करने के लिए संयुक्त मोर्चा बनाने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि सभी नेताओं ने रूस से तनाव कम करने का आह्वान किया और यूक्रेन की क्षेत्रीय अखंडता के लिए अपने समर्थन की पुष्टि की।

अधिकार हनन,ओलंपिक खेलों का बहिष्कार: अमेरिका

अखिलेश पांंडेय          वाशिंगटन डीसी। अमेरिका ने चीन में मानव अधिकारों के हनन को देखते हुए बीजिंग में होने वाले आगामी शीतकालीन ओलंपिक खेलों का राजनयिक बहिष्कार करने का फैसला किया है। 

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जेन साकी ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी खिलाड़ी प्रतियोगिताओं में भाग लेंगे और उन्हें ”हमारा पूरा समर्थन” मिलेगा, लेकिन उन्होंने कहा, ”हम खेलों से जुड़े विभिन्न समारोहों का हिस्सा नहीं बनेंगे।साकी ने संवाददाताओं से कहा, ” चीन के शिनजियांग में मानवाधिकारों के हनन और अत्याचार को देखते हुए अमेरिकी राजनयिक या आधिकारिक प्रतिनिधित्व इन खेलों को आम घटनाक्रम की तरह ही लेगा।” उन्होंने कहा, ”मानव अधिकारों को बढ़ावा देने के लिये हमारी मौलिक प्रतिबद्धता है। हम चीन और उसके बाहर मानवाधिकारों को आगे बढ़ाने के लिए कार्रवाई करना जारी रखेंगे। 

10 नए अंतरिक्ष यात्रियों का चयन किया: नासा

सुनील श्रीवास्तव        वाशिंगटन डीसी। नासा ने सोमवार को 10 नए अंतरिक्ष यात्रियों का चयन किया।जिनमें से आधे सैन्य पायलट हैं। अंतरिक्ष एजेंसी ‘नैशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन’ (नासा) ने ह्यूस्टन में एक समारोह के दौरान छह पुरुषों और चार महिलाओं का परिचय दिया। ह्यूस्टन ‘मिशन कंट्रोल एंड एस्ट्रोनॉट कोर’ का केन्द्र है।

इसके लिए 12 हजार से अधिक लोगों ने आवेदन किया था। चयनित 10 लोगों की उम्र 30 से 40 वर्ष के बीच है, जिन्हें ‘स्पेसफ्लाइट’ में यात्रा करने के योग्य बनाने के लिए पहले दो साल का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

बेहद गंभीर स्थिति में हैं 'अमेरिका-रूस' संबंध

अखिलेश पांंडेय        वाशिंगटन डीसी/मास्को। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और रूस के उनके समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के बीच मंगलवार को होने वाली वार्ता में यूक्रेन से सटी सीमा पर रूस का सैन्य निर्माण बातचीत का मुख्य केंद्र बिंदु होगा। लेकिन साइबर हमले, मानवाधिकार और अमेरिका-रूस संबंध समेत ऐसे कई अन्य मुद्दे भी हैं। जिन पर बातचीत होने की संभावना है।

रूस के राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन के एक प्रवक्ता का कहना है कि अमेरिका-रूस संबंध ”गंभीर स्थिति” में हैं। मास्को स्थित एक प्रमुख विदेश नीति विशेषज्ञ फ्योदोर लुक्यानोव ने सुझाव दिया कि जिनेवा में शिखर सम्मेलन के बाद से परमाणु हथियार नियंत्रण और साइबर सुरक्षा मामले में प्रगति पर चर्चा की जाएगी और सीरिया, अफगानिस्तान और उत्तर कोरिया जैसे क्षेत्रीय विषयों का भी जिक्र हो सकता है, लेकिन बातचीत का केंद्र यूक्रेन को लेकर तनाव होगा।

व्हाइट हाउस और क्रेमलिन दोनों ने बातचीत को लेकर कम उम्मीदें जतायी हैं और दोनों पक्षों ने कहा है कि वे यूक्रेन या अन्य मुद्दों पर चर्चा में किसी भी सफलता की उम्मीद नहीं करते हैं। लेकिन दोनों देशों का कहना है कि यह बातचीत अपने आप में प्रगति है। अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि बातचीत केवल यूक्रेन मुद्दे तक ही सीमित नहीं होगी क्योंकि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए ”महत्वपूर्ण” अन्य मुद्दों पर चर्चा करने की भी आवश्यकता है।

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,46,48,383 हुईं

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,46,48,383 हुईं
अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 6,822 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,46,48,383 हो गई। पिछले 558 दिन में सामने आए ये सबसे कम दैनिक मामले हैं। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 95,014 हो गई है, जो 554 दिन में सबसे कम है। वहीं, देश में अबतक कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट के 23 मामले सामने आ चुके हैं।
केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 220 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,73,757 हो गई। देश में लगातार 11 दिन से कोविड-19 के दैनिक मामले 10 हजार से कम बने हैं और 163 दिन से 50 हजार से कम दैनिक मामले सामने आ रहे हैं।
इसमें बताया गया कि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 95,014 हो गयी है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 0.27 प्रतिशत है। यह दर मार्च 2020 के बाद से सबसे कम है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 3,402 की कमी दर्ज की गयी है। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.36 प्रतिशत है, जो मार्च 2020 के बाद से सर्वाधिक है।
देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। 

राकेश ने मूल्य 485 से 500 रुपये प्रति शेयर रखा 

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। राकेश झुनझुनवाला के समर्थन वाली मेट्रो ब्रांड्स लिमिटेड ने दस दिसंबर को खुलने वाले अपने 1,368 करोड़ रुपये के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के लिए मूल्य दायरा 485 से 500 रुपये प्रति शेयर रखा है। फुटवेयर खुदरा विक्रेता कंपनी ने मंगलवार को बताया कि उसका आईपीओ दस दिसंबर से शुरू होकर 14 दिसंबर तक खुला रहेगा। हालांकि, एंकर निवेशकों के लिए बोली नौ दिसंबर को खुल जाएगी। इस आईपीओ के तहत 295 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। इसके अलावा प्रवर्तक तथा अन्य शेयरधारक 2.14 करोड़ शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) करेंगे। इस आईपीओ के जरिये कंपनी के प्रवर्तक अपनी करीब 10 फीसदी हिस्सेदारी बेचेंगे। वर्तमान में कंपनी में प्रवर्तकों और प्रवर्तक समूह की 84 फीसदी हिस्सेदारी है।

कंपनी ने आईपीओ का आधा हिस्सा योग्य संस्थागत खरीदारों, 15 फीसदी गैर-संस्थागत निवेशकों और 35 फीसदी खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित किया है। कंपनी इस आईपीओ के जरिये जुटाए जानी वाली रकम का इस्तेमाल मेट्रो, मोची, वॉकवे और क्रोक्स ब्रांड के तहत नए स्टोर खोलने के लिए करेगी। वर्तमान में कंपनी के देश के 36 शहरों में 598 स्टोर हैं। इनमें से 211 स्टोर पिछले तीन साल में खोले गए हैं।
भारतीय मूल के इस्माइल इब्राहिम का निधन हुआ

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। रंगभेद विरोध के प्रतीक रहे भारतीय मूल के इस्माइल इब्राहिम का निधन हो गया है। वह 84 वर्ष के थे। दक्षिण अफ्रीका की सत्तारूढ़ पार्टी ‘अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस’ (एएनसी) ने यह जानकारी दी। एएनसी ने एक बयान में बताया कि इब्राहिम का लंबी बीमारी के बाद सोमवार को घर पर ही निधन हो गया।

ट्विटर पर साझा किए गए बयान में पार्टी ने कहा, ” एएनसी को इब्राहिम इस्माइल इब्राहिम के निधन के बारे में पता चला है। हम उनकी पत्नी, बच्चों, परिवार, दोस्तों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं। कॉमरेड एबी, लंबे समय तक एएनसी के सदस्य रहे, एक देशभक्त जिन्होंने विनम्रता, समर्पण तथा उत्कृष्टता के साथ अपने देश की सेवा की।” इब्राहिम को कॉमरेड एबी भी कहा जाता था। इब्राहिम ने नेल्सन मंडेला और अहमद कथराडा के साथ राजनीतिक बंदी के रूप में रोबेन द्वीप पर कई साल जेल में बिताए थे। दक्षिण अफ्रीका में भारतीयों के आंदोलन पर रोक लगाने वाले कानूनों का उल्लंघन करने पर पिता को दो बार गिरफ्तार किए जाने के बाद, इब्राहिम 13 साल की उम्र में ही मुक्ति संग्राम का हिस्सा बन गए थे।

वह अक्सर इस बात का जिक्र करते थे कि कैसे वह महात्मा गांधी की सत्याग्रह शैली से प्रेरित हुए, जिसका इस्तेमाल उन्होंने श्रीलंका, फलस्तीन, रवांडा, कोसोवो, बोलीविया और नेपाल में वैश्विक संघर्ष की स्थितियों में एएनसी का प्रतिनिधित्व करते हुए किया। ‘कांग्रेस ऑफ बिजनेस एंड इकोनॉमिक्स’ (पूर्ववर्ती ट्रांसवाल भारतीय कांग्रेस की एक शाखा) ने इब्राहिम को 2018 में ‘लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड’ से सम्मानित किया था। इब्राहिम के परिवार में उनकी पत्नी शैनन और दो बच्चे हैं। शैनन ‘इंडिपेंडेंट मीडिया’ समूह की एक जानी-मानी विदेशी समाचार लेखक हैं।

7 वर्षों में पहली बार लकड़बग्घा देखा, घनी आबादी

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। दिल्ली में लगभग सात वर्षों में पहली बार धारीदार लकड़बग्घा देखा गया है। जिनकी दुनियाभर में आबादी 10,000 से भी कम है और इन्हें विलुप्त होने की कगार पर खड़ी प्रजातियों में गिना जाता है। वन और वन्यजीव विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि असोला भट्टी वन्यजीव अभयारण्य में लगे कैमरों के फुटेज में इस जंगली पशु की मौजूदगी की पुष्टि हुई है। उप वन संरक्षक (डीसीएफ), दक्षिण मंडल, अमित आनंद ने कहा कि यह पहली बार है जब किसी धारीदार लकड़बग्घे को दिल्ली में कैमरे में देखा गया है। रिपोर्ट के मुताबिक 2015 में डेरा मंडी क्षेत्र में एक धारीदार लकड़बग्घे को आखिरी बार देखा गया था, जिसकी सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी।

असोला अभयारण्य में एक वन्यजीव संरक्षक ने कहा कि कर्मचारियों को 2017-18 में कुछ मौकों पर लकड़बग्धे के पैरों के निशान मिले थे। धारीदार लकड़बग्घा दिन का अधिकांश समय अपनी मांद में बिताता है। यह अकेले ही शिकार की ताक में रहता है और यह समूहों में बहुत कम दिखता है। एमिटी यूनिवर्सिटी के वन्यजीव विशेषज्ञ प्रोफेसर रणदीप सिंह ने कहा कि यह शिकार का कोई अवशेष नहीं छोड़ता बल्कि यह पुराना सड़ा-गला मांस भी खा जाता है, इसी वजह से यह वन पारिस्थितिकी तंत्र की स्थिरता को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। असोला में धारीदार लकड़बग्घा की उपस्थिति असोला वन में सुधार का संकेत देती है। उन्होंने कहा कि हालांकि गुरुग्राम, फरीदाबाद और दिल्ली के अरावली वनक्षेत्र में कई मौकों पर इसके पदचिह्न देखे गए हैं।

यह पहली बार हो सकता है जब इसे कैमरे में कैद किया गया हो, लेकिन मैं हैरान नहीं हूं। आनंद ने कहा कि उन्हें आयानगर और डेरा मंडी गांव के पास धारीदार लकड़बग्घे की मौजूदगी की उम्मीद थी, लेकिन ”हमने जितना सोचा था, यह उससे कहीं ज्यादा करीब हमें देवली में मिला। उन्होंने कहा कि विभाग के कैमरों से मिली तस्वीरों में अभयारण्य में दो तेंदुओं एक शावक (नर) और एक वयस्क तेंदुए की उपस्थिति की पुष्टि हुई है। डीसीएफ ने कहा कि तेंदुआ इन दिनों सक्रिय हैं, और हमें लगता है कि उनके द्वारा किए गए शिकार से धारीदार लकड़बग्घा आकर्षित हुआ होगा।

‘इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजरवेशन ऑफ नेचर’ ने धारीदार लकड़बग्घे को ‘संकटग्रस्त’ प्रजातियों के रूप में चिह्नित किया है और उनकी वैश्विक आबादी 10,000 से कम होने का अनुमान है। इस साल की शुरुआत में वन और वन्यजीव विभाग ने पशुओं की गणना के लिए अभयारण्य में लगभग 20 कैमरे लगाए थे।दिल्ली-हरियाणा सीमा पर अरावली पर्वत श्रृंखला के दक्षिणी दिल्ली रिज पर 32.71 वर्ग किमी क्षेत्र को कवर करता वन्यजीव अभयारण्य दक्षिणी दिल्ली और हरियाणा के फरीदाबाद के उत्तरी भागों और गुरुग्राम जिलों में स्थित है। यह उत्तरी अरावली तेंदुआ वन्यजीव गलियारे का हिस्सा है, जो राजस्थान के सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान से दिल्ली रिज तक फैला हुआ है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-50, (वर्ष-05)
2. मंगलवार, नवंबर 8, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:48, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान -13 डी.सै., अधिकतम-25+ डी.सै.।  
बर्फबारी व शीतलहर के साथ कहीं- कहीं तेज बारिश की संभावना।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवाशुं के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया  जे.एस.वी. किड्स एकेडमी में सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ने मनाया अमृत महो...