मंगलवार, 25 अगस्त 2020

'सुपर-पावर' को अदालत में घसीटाः चीन

बीजिंग/वाशिंगटन डीसी। टिकटॉक पर पाबंदी को लेकर चीन की कंपनी ने अमेरिका की सरकार को अदालत में घसीटा है। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव की सरगर्मी के बीच टिकटॉक ने अदालत से अपील की है कि ट्रंप प्रशासन को कंपनी पर बैन लगाने से रोका जाए। सोमवार को टिकटॉक ने ब्लॉग के जरिए कहा कि इसकी मूल कंपनी बाइटडांस लि. ट्र्ंप प्रशासन के आदेश को चुनौती देने जा रही है, जिसमें कहा गया है कि इंटरनेशनल इमरजेंसी इकोनॉमिक पावर एक्ट के जरिए अमेरिकी नागरिकों को टिकटॉक के साथ व्यापार करने से रोका जाएगा। 


हालांकि अबतक इस आदेश का कोई असर नहीं दिखा है, लेकिन इससे तनाव पैदा हो रहा है क्योंकि अमेरिका ने कहा है कि चीनी व्यापार से उसके देश को खतरा है। टिकटॉक ने दलील दी है कि उससे सुरक्षा को किसी तरह का खतरा नहीं है। व्हाइट हाउस ने इस संबंध में 14 अगस्त को दूसरा आदेश जारी किया था जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए कंपनी से अमेरिका में अपना कारोबार बेचने को कहा गया था। ये आदेश विदेशी निवेश संबंधिक एक कमेटी द्वारा की गई जांच रिपोर्ट के बाद दिया गया था जिसमें कहा गया था। इसे अदालत में खारिज कर पाना असंभव है। बता दें कि चीन की कंपनी बाइटडांस के पास वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक का स्वामित्व है। चीन की कंपनी ने रविवार को कहा था कि वह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा लोकप्रिय ऐप के साथ किसी तरह के अमेरिकी लेनदेन पर रोक के आदेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने जा रही है। इसके अलावा कंपनी अमेरिका में अपना कारोबार बंद करने की भी तैयारी कर रही है।


ट्रंप ने छह अगस्त को टिकटॉक और वीचैट पर अमेरिका में परिचालन पर प्रतिबंध के सरकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए थे। अमेरिकी प्रशासन का कहना था कि ये ऐप देश की राष्ट्रीय सुरक्षा और अर्थव्यवस्था के लिए खतरा है। आदेश के अनुसार, अमेरिकी अधिकार क्षेत्र के तहत बाइटडांस के साथ किसी तरह के लेनदेन पर 45 दिन या सितंबर मध्य तक रोक लग जाएगी। अमेरिकी अधिकारी इस बात को लेकर चिंतित हैं कि कंपनी अमेरिकी प्रयोगकर्ताओं का ब्योरा चीन सरकार के साथ साझा कर सकती है। हालांकि, बाइटडांस ने इसका खंडन किया है।


ट्रंप प्रशासन द्वारा 14 अगस्त को जारी एक अलग आदेश में बाइटडांस को टिकटॉक के अमेरिकी कारोबार को समेटने के लिए 90 दिन का समय दिया गया है। टिकटॉक के अमेरिकी परिचालन को बेचने के लिए बाइटडांस संभावित खरीदारों मसलन माइक्रोसॉफ्ट और ओरेकल से बातचीत कर रही है।                 


'परमाणु' बमबर्सक जंगी जहाज तैनात किए

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी/बीजिंग। भारत-प्रशांत क्षेत्र में चीन को युद्ध भड़काने से रोकने के लिए अमेरिका ने अपने जंगी जहाज युद्धपोत और परमाणु बमवर्षक लड़ाकू विमान तैनात किए हैं। अमेरिका द्वारा दक्षिण चीन सागर में युद्धपोत और हिंद महासागर के डिएगो गार्सिया द्वीप में परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम तीन बी-2 स्टील्थ बमवर्षक तैनात किया गया है। 


अमेरिका का यह कदम लद्दाख से लेकर ताइवान तक चीन को रोकने के लिए एक स्पष्ट संदेश है। दोनों क्षेत्रों में जारी गतिरोध के बीच तीन रडार-विकसित बमवर्षक, जो दुनिया में सबसे उन्नत के लड़ाकू विमान के रूप में पहचाने जाते हैं, 12 अगस्त को डिएगो गार्सिया में पहुंचे। अमेरिका का यह नौसैनिक अड्डा भारत से महज 3,000 किलोमीटर दूर है। इसी के साथ अमेरिकी विमानवाहक पोत यूएसएस रोनाल्ड रीगन भी 14 अगस्त को दक्षिण चीन सागर की ओर बढ़ गया था।                   


वैक्सीन रजिस्टर्ड करने वाला रूस पहला देश


मास्को। कोरोना वायरस की वैक्सीन रजिस्टर करने वाला रूस दुनिया का पहला देश है। रूस अब बेलारूस को अपनी वैक्सीन स्पुतनिक-वी की सप्लाई करने जा रहा है। रूसी वैक्सीन हासिल करने वाले बेलारूस पहला देश होगा। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जैंडर लुकाशेन्को को वैक्सीन की पहली खेप भेजने का आश्वासन दिया है। दोनों नेताओं ने फोन पर बात की है। बता दें कि बेलारूस में इस वक्त सरकार विरोधी प्रदर्शन भी चल रहे। इसी महीने बेलारूस में चुनाव हुए थे जिसके नतीजे आने के बाद राष्ट्रपति अलेक्जैंडर लुकाशेन्को को भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, पुतिन ने अलेक्जैंडर लुकाशेन्को से देश के हालात पर भी चर्चा की और कोरोना वैक्सीन भेजने की बात कही।



विदेशों से लोगों को लाने का सिलसिला जारी

नई दिल्ली/ पेरिस। वंदे भारत मिशन के तहत विदेश से लोगों को ले आने का सिलसिला जारी है। इसके लिए सरकारी एयरलाइंस कंपनी एयर इंडिया सुविधा मुहैया करा रही है। एयर इंडिया ने भारत से पेरिस के लिए 13 अतिरिक्त उड़ान सेवा शुरू करने की प्लानिंग की वंदे भारत मिशन के तहत इसकी बुकिंग भी होनी शुरू हो चुकी है।


एयरलाइन ने बुकिंग की शुरू
जानकारी के मुताबिक, वंदे भारत मिशन के तहत एयरइंडिया एयरलाइन ने बुकिंग भी शुरू कर दी है। यह एक्स्ट्रा फ्लाइट देश में दिल्ली और चेन्नई से पेरिस के बीच ऑपरेट की जाएंगी। कोविड-19 की वजह से भारतीयों को लाने-ले जाने के लिए एयर इंडिया ने सर्विस शुरू की है।             


भारतीयों से अमेरिकन एंकर की अपील


भारतीयों से अमेरिकन एंकर की अपील


उल्लू की बुद्धिमत्ता से ट्रंप की तुलना




वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में कोरोना वायरस संकट के बीच राष्ट्रपति चुनावों का जोर चल रहा है। हाल ही में डेमोक्रेट्स का कन्वेंशन खत्म हुआ है और बीते दिन रिपब्लिकन के कन्वेंशन में डोनाल्ड ट्रंप को एक बार फिर राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया गया। इस बीच भारत में मंगलवार को अमेरिका के चुनाव से जुड़ा एक ट्रेंड वायरल होने लगा, जिसमें अमेरिकी चैनल की एंकर डोनाल्ड ट्रंप के कैंपेन को लेकर बयान जारी कर रही हैं। अमेरिकी चैनल फॉक्स न्यूज की प्रेंजेटर टॉमी लेहरन का एक वीडियो ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है। जिसमें वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कैंपेन पर बात कर रही हैं और साथ ही भारत में अपने फैंस को संबोधित कर रही हैं।               



किसी पद नहीं, यहां देश का सवाल है

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कांग्रेस कार्यसमिति की सोमवार को हुई बैठक में सोनिया गांधी के पद पर बरकरार रहने का फैसला होने के बाद भी ऐसा लगता है कि पार्टी में मामला रफा-दफा हो गया है।पार्टी में नेतृत्व की बदलाव की मांग को लेकर कई वरिष्ठ नेताओं सहित 20 से ज्यादा नेताओं की ओर से चिट्ठी लिखे जाने पर शुरू हुए विवाद से ऐसा लग नहीं रहा है कि पार्टी का जल्द ही छूटना। पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल पूरे मामले में सार्वजनिक रूप से मुखर दिख रहे हैं। सोमवार को राहुल गांधी के कथित बयान के खिलाफ सीधे ट्विटर पर आकर ट्वीट करने के बाद सिब्बल ने मंगलवार को एक ट्वीट किया है, उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'यह किसी पद के बारे में नहीं, यह मेरे देश के बारे में जो सबसे महत्वपूर्ण है।               


गार्डों पर मामला दर्ज, लाखों का माल गायब

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


सिक्योरटी गार्डों पर रिपोर्ट लाखों का सामान गायब


हापुड़। एक मोटर गोदाम में दो लाख का सामान चोरी होने पर गोदाम मालिक ने वहां तैनात सिक्योरटी गार्डों पर रिपोर्ट दर्ज करवाई है। हापुड़ के राष्ट्रीय राजमार्ग ततारपुर बाइपास पर एसआईएस मोटर कंपनी स्थित है। दो दिन पूर्व गोदाम से दो लाख रुपये के बैट्री, टायर व अन्य सामान चोरी हो गया था। गोदाम मालिक ने सिक्योरिटी गार्ड कुशलपाल व हरेंद्र पर सामान गायब करनें का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज करवाई है।              


1 किशोरी से रेप, दूसरी का अपहरण

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
एक किशोरी से रेप, तो दूसरी का अपहरण


हापुड़। जनपद में बच्चियों के साथ रेप और अपहरण की घटनाएं रुकनें का नाम ही नहीं ले रही है। देर रात एक किशोरी से रेप, तो दूसरी बच्चीं के अपहरण की वारदात सामनें आई है। हापुड़ के एक मौहल्ला निवासी एक किशोरी अपने घर में अकेली थी ,तभी मौहल्लें में रहने वाला राहुल उनके घर आया और किशोरी के साथ रेप का प्रयास करनें लगा। किशोरी द्वारा विरोध करनें पर राहुल ने मारपीट कर किशोरी से रेप कर फरार हो गया।पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी। उधर बहादुरगढ़ क्षेत्र के एक गांव निवासी एक किशोरी रविवार को कार्य के लिए जंगल गई थी। उसके बाद उसका कोई पता नहीं चला। वही पूरी रात घर नहीं लौटी।                 


हत्याः कलम के सिपाहियों में रोष की लहर

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


जनपद हापुड़ में कलम के सैकड़ों सिपाहियों में उत्तर प्रदेश के बलिया में हुई पत्रकार की हत्या के बाद रोष की लहर


हापुड़। उत्तर प्रदेश में लगातार हो रही पत्रकारों की हत्या के बाद अब पत्रकारों में रोष की लहर दिखाई दे रही है। जिसका असर उत्तर प्रदेश के बलिया में हुई पत्रकार की हत्या के बाद हापुड़ में देखने को मिला सैकड़ों पत्रकारों ने एकत्रित होकर एसडीएम सदर को ज्ञापन सौंपा। अभी कुछ दिन पहले ही गाजियाबाद में एक पत्रकार की कुछ बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी और मौके से फरार हो गए थे अब हाल ही में दूसरी घटना उत्तर प्रदेश के बलिया जिले की है। जहां पत्रकार को बेखौफ बदमाशों ने बड़े ही बेरहमी से गोली मारकर हत्या कर दी इसी बात से नाराज प्रदेश सरकार में लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहे जाने वाले पत्रकारों की सुरक्षा की मांग करते हुए आज हापुड़ के एसडीएम सदर को ज्ञापन देकर पत्रकारों की सुरक्षा की मांग की है। वही मृतक पत्रकार के परिजनों को एक करोड़ रुपए के मुआवजे की मांग भी की है। हापुड़ के वरिष्ठ पत्रकारों का कहना है अगर निष्पक्ष खबर लिखने वाले पत्रकारों पर इसी तरह से हमले होते रहेंगे तो पत्रकारों का मनोबल टूटता रहेगा और चौथा स्तंभ कमजोर हो जाएगा, पत्रकारों का कहना है। बलिया में हुई पत्रकार की बेरहमी से हत्या करने वाले बदमाशों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी कर फांसी की सजा होनी चाहिए इस मौके पर हापुड़ के सभी पत्रकार मौजूद रहे।               


सेना भर्ती शुरू, नवंबर में होगी परीक्षा

भारतीय सेना भर्ती का इंतजार खत्म, नवंबर में होगी परीक्षा, देखिये शेड्यूल


नई दिल्ली। भारतीय सेना में भर्ती होने के लिए परीक्षा का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए यह खबर खुशी देने वाली है। दरअसल सेना भर्ती कार्यालय के भर्ती निदेशक कर्नल रतनदीप खां ने बताया कि गत फरवरी माह में रोहतक, झज्जर, सोनीपत व पानीपत जिलों के युवाओं के लिए आयोजित की गई सेना भर्ती रैली की लिखित परीक्षा एक नवम्बर को होगी।
उन्होंने बताया कि सेना भर्ती कार्यालय द्वारा चिकित्सा परीक्षण में फिट रहने वाले उम्मीदवारों एडमिट कार्ड जारी किए गए थे, अब उन्हें नए एडमिट कार्ड लेने होंगे। भर्ती कार्यालय द्वारा यह सूचना संबंधित उम्मीदवारों की ई-मेल आईडी पर भी भेजी जा रही है।चिकित्सा परीक्षण में सफल रहने वाले उम्मीदवार निर्धारित कार्यक्रम अनुसार भर्ती कार्यालय में अपने पूराने एडमिट कार्ड जमा करवाकर नए एडमिट कार्ड प्राप्त करें।
निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आरएमडीसी 1000-1340 तक 17 अक्तूबर, 1341 से 1680 तक 18 अक्तूबर, 1681 से 2020 तक 19 अक्तूबर, 2021 से 2360 तक 20 अक्तूबर, 2361 से 2700 तक 21 अक्तूबर तक, 2701 से 3040 तक 22 अक्तूबर तक, 3041 से 3380 तक 23 अक्तूबर तथा 3381 से 3766 तक 24 अक्तूबर को सेना भर्ती कार्यालय रोहतक से संबंधित उम्मीदवार अपने पुराने एडमिट कार्ड जमा करवाकर नए एडमिट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।             


वायु सेना में शामिल होने के लिए 'एप' तैयार

भारतीय वायु सेना में शामिल होने के लिए यह एप है बड़े काम का।


दिल्ली-वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने डिजिटल इंडिया पहल के एक हिस्से के रूप में 24 अगस्त, 2020 को वायु सेना मुख्यालय ‘वायु भवन’ में एक मोबाइल एप्लीकेशन ‘माय आईएएफ’ का शुभारम्भ किया। सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग (सी-डीएसी) के सहयोग से विकसित किया गया यह मोबाइल एप्लीकेशन भारतीय वायु सेना (आईएएफ) में शामिल होने के इच्छुक लोगों के लिए कैरियर संबंधी जानकारी और विवरण प्रदान करेगा।               


बलिया में गोली मारकर पत्रकार की हत्या

बलिया में गोली मारकर पत्रकार की हत्या, मचा हड़कम्प न्यूज़ उत्तराखंड समाचार से चैनल हेड पुनीत रोहिल्ला की रिपोर्ट


बलिया में गोली मारकर पत्रकार की हत्या, मचा हड़कम्प,


बलिया। फेफना थाना क्षेत्र के फेफना निवासी सहारा समय चैनल के पत्रकार रतन कुमार सिंह (42) की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। घटना सोमवार देर शाम की है। पत्रकार की जानकारी मिलते ही जनपद में हड़कम्प मच गया। घटना की सूचना मिलते ही फेफना पुलिस मौके पर पहुंच गयी। कुछ देर बाद ही एसपी, एएसपी, सीओ समेत भारी पुलिस बल पहुंच गया। घटना फेफना गांव के प्रधान के घर के पास हुई है।कविता गर्ग


राजनीतिक गलियारे में भी पहुंचा 'कोरोना'

हरियाणा के राजनीतिक गलियारों में पहुंचा कोरोना, कई विधायक संक्रमित


राणा ऑबरॉय


चंडीगढ़। हरियाणा में विधानसभा के मॉनसून सत्र के लिए कोरोना टेस्ट करवाने पर विधायकों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल कोरोना संक्रमित मिले हैं, वहीं परिवहन मंत्री मूल चंद शर्मा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।
इसके अलावा हरियाणा विधानसभा स्पीकर एवं पंचकूला से विधायक ज्ञान चंद गुप्ता, इंद्री से विधायक रामकुमार कश्यप, रतिया से विधायक लक्ष्मण नप्पा कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं इससे दो दिन पहले ही अंबाला सिटी से विधायक असीम गोयल कोविड पॉजिटिव पाए गए थे।इससे पहले की अगर बात करें तो पानीपत ग्रामीण सीट से भाजपा विधायक महिपाल ढांडा, उससे पहले थानेसर से भाजपा विधायक सुभाष सुधा भी कोरोना संक्रमित मिले थे, हालांकि सुभाष सुधा और महिपाल ढांडा की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है।इसके अलावा हरियाणा के दो सांसद भी कोरोना की चपेट में आ चुके है। हिसार से भाजपा सांसद बृजेंद्र सिंह और कुरुक्षेत्र से भाजपा सांसद नायब सिंह सैनी भी कोरोना संक्रमित मिल चुके है।               


पेड़ पर लटके मिले दो दोस्तों के शव

ऊसराहार में पेड़ पर लटके मिले दो दोस्तों के शव ,परिजनों में जताई हत्या की आशंका, जांच में जुटी पुलिस।


इटावा। जिले में ऊसराहार क्षेत्र के गांव महुंआ नगरिया में रविवार शाम से लापता हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के दो छात्रों के शव पेड़ की एक डाल के सहारे फंदे से लटके मिले। दोनों किशोरों के शवों पर चोटों के निशान होने परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।हालांकि अभी पुलिस को कोई तहरीर नहीं दी गई है। थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत महुआ नगरिया निवासी गेंदालाल यादव का पुत्र अंकुल यादव  (14) हाईस्कूल का छात्र है। इसी गांव के राकेश कमल का पुत्र आकाश कमल (16) इंटरमीडिएट का छात्र है।
दोनों के घर आमने-सामने होने से गहरी दोस्ती थी। रविवार की शाम करीब चार बजे दोनों छात्र घर से समोसा खाने की बात कहकर साथ में निकले थे। इसके बाद देर रात तक उनके वापस न लौटने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू कर दी। सोमवार की सुबह गांव के बाहर खेतों की तरफ ग्रामीणों ने आम के पेड़ पर दोनों किशोरों के शव एक ही डाल पर लटके देखे तो परिजनों को सूचना दी। जानकारी होते ही परिजनों के साथ आसपास के सैकड़ों लोग घटनास्थल पर पहुंच गए।
घटना की सूचना पर मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष सतीश यादव ने शवों को पेड़ से उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। सीओ भरथना चंद्रपाल सिंह ने भी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की। थानाध्यक्ष सतीश यादव ने बताया कि फांसी का कोई स्पष्ट कारण अभी सामने नहीं आया है। परिजन यदि तहरीर देंगे तो पुलिस जांच करेगी।मां और बहन ने जताई हत्या की आशंका महुआ नगरिया गांव में संदिग्ध हालात में किशोरों के शव फंदे से लटके होने के मामले में कई सवाल उठ रहे हैं। जिस तरह शवों पर खासकर पैरों में चोटों के निशान पाए गए, उसको लेकर ग्रामीण तरह-तरह की चर्चा करते दिखे।
वहीं एक ही डाल पर दोनों के शव लटके होने और एक ही तरह की रस्सियां फांसी के लिए प्रयुक्त होने से भी घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही है। वहीं आकाश यादव की मां और बहन हत्या की बात कहकर बिलख रही थीं। ग्रामीणों का कहना था कि शवों पर चोट के निशान कहीं न कहीं अन्य कारणों की तरफ इशारा कर रहे हैं।
मौके पर पहुंची फोरेंसिक टीम ने भी साक्ष्य एकत्रित किए। शव पेड़ पर काफी ऊंचाई पर लटके हुए थे और एक ही डाल पर आसपास दोनों के शव झूल रहे थे। दोनों के मोबाइल भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिए हैं।रातभर बजती रही छात्रों के मोबाइल पर घंटी
किशोरों की साइकिल पास के ही कनकुआ गांव में मिली है। परिजनों का कहना है,कि दोनों घर से हंसकर निकले थे, दोनों के चेहरों पर कोई तनाव नहीं था। फांसी लगाए जाने का भी कोई पर्याप्त कारण अभी तक निकलकर नहीं आया है।
दोनों परिवारों की आर्थिक स्थिति भी कुछ खास नहीं है। जहां अंकुल कमल तीन भाइयों में सबसे बड़ा था तो आकाश यादव चार भाइयों में तीसरे नंबर का था। शाम को घर न आने पर उनके मोबाइल पर कॉल की गई थी, लेकिन किसी का फोन रिसीव नहीं हुआ।इस पर देर रात मोहल्ले के लोग भी फोन करते रहे तो एक का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया, जबकि दूसरे पर बराबर घंटी जाती रही। अब दोनों मोबाइल को पुलिस ने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।एक व्यक्ति ने आकाश के घर आकर दिया था उलाहना इंटरमीडिएट और हाईस्कूल के छात्रों के संदिग्ध हालात में फांसी से लटके मिलने के मामले में कई तथ्य निकलकर सामने आ रहे हैं। घटना से दो-तीन दिन पहले आकाश कमल के घर पर उलाहना देने के लिए एक व्यक्ति आया था।
इसकी जानकारी आकाश की मां बबली उर्फ अनुराधा ने दी। उसने बताया कि उस व्यक्ति ने धमकी भरे स्वर में लड़के के चाल-चलन को सुधार लेने को कहते हुए गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी थी। उनका आरोप है कि उसी व्यक्ति ने पुत्र की हत्या करके शव को पेड़ से लटका दिया।वहीं उलाहना की जानकारी आकाश के परिवार ने अंकुल के परिवार को नहीं दी थी। अंकुल की बहन कल्पना का कहना है,कि उन्हें उलाहना की कोई जानकारी नहीं थी, यदि होती तो वह नजर रखते।               


यूपी जा रहा लीसा लदा पिकअप जब्त

पहाड़ से तस्करी कर यूपी जा रहा लीसा लदा पिकअप जब्त।


तराई पूर्वी डौली रेंज टीम ने लीसा लदा पिकअप वाहन पकड़ा , कैंटर में 111 कनस्तर लीसा बरामद , अनुमानित कीमत दो लाख ,तस्कर फरार।


हल्द्वानी। तराई पूर्वी वन प्रभाग की डौली रेंज टीम ने पहाड़ से उत्तर प्रदेश को तस्करी कर ले जा रहे लीसा लदे वाहन को पकड़कर कब्जे में लिया। जबकि चालक मौके से फरार हो गया। कैंटर में बरामद 111 कनस्तर लीसा की कीमत दो लाख रुपए आंकी गई है। वन क्षेत्राधिकारी डौली अनिल जोशी को मुखबिर खास से सूचना मिली कि गत रात्रि में हल्द्वानी- किच्छा राष्ट्रीय राजमार्ग से पहाड़ी क्षेत्रों से अवैध निकासी से लाए जा रहे बहुमूल्य लीसा की तस्करी बरेली ,उत्तर प्रदेश को किये जाने की पूर्ण संभावना है।
सूचना होने पर वन क्षेत्राधिकारी अनिल जोशी के नेतृत्व में डौली रेंज की टीम के द्वारा समस्त संभावित रास्तो में टीम को तैनात कर नाकाबंदी करवा दी गयी। देर रात्रि शांतिपुरी बैरियर पर वन विभाग की टीम को हल्द्वानी -किच्छा राष्ट्रीय राजमार्ग की ओर से एक वाहन आते दिखाई दिया ,जिसको जांच हेतु रोकने का प्रयाश किया गया ,परंतु वाहन चालक द्वारा वाहन की स्पीड बड़ा कर वाहन को किच्छा की ओर भगा दिया गया। वन कर्मियों द्वारा वाहन का बाइकों से पीछा किया गया । पीछा करने पर वाहन चालक अपने वाहन को सड़क के किनारे छोड़ कर अँधेरे का फायदा उठा कर मौके से फरार हो गया। वाहन की तलाशी लेने पर उक्त महिंद्रा पिकअप वाहन संख्या यूए06 ई 7936 में लीसा निकासी के सम्बंध में किसी प्रकार के पत्रजात नही पाए गए।
वनकर्मियों द्वारा बहुमूल्य वन उपज लीसा के अवैध अभिवहन करने पर वाहन को कब्जे में लेकर विभागीय संसाधनों द्वारा लालकुंआ वन परिसर में लाकर खड़ा कर दिया गया है। वाहन में पाये गए लीसा की वर्तमान में बाजार कीमत लगभग दो लाख आँकी जा रही है। वन क्षेत्राधिकारी अनिल जोशी ने बताया कि अज्ञात वाहन चालक/ स्वामी के विरुद्ध बिना निकासी प्रपत्रों के वन उपज के अवैध अभिवहन करने पर वन अधिनियम की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत वन अपराध दर्ज कर दिया गया है।तथा प्रकरण की जाँच करते हुए यह पता लगाया जा रहा है। कि उक्त लीसा की तस्करी कहाँ से हो रही थी।
सीज़ किए गए उक्त वाहन में लीसा के 111 टिन भरे हुए पाए गए , जिन्हें तिरपाल तथा फल-सब्ज़ी ले जाने वाली कैरट से ढक कर ले जाया जा रहा था। वन उपज के अवैध अभिवहन में लिप्त लोगो को बख्शा नही जायेगा।           


बागपतः मुठभेड़ के बाद 1 हत्यारा अरेस्ट

थाना रमाला पुलिस द्वारा बाद मुठभेड़ शातिर हत्यारा/वांछित बदमाश घायल/ गिरफ्तार, कब्जे से अवैध एक तमंचा मय कारतूस, एवं एक संदिग्ध मो०सा० बरामद।
गोपीचंद सैनी


बागपत। सुबह समय करीब 10:00 बजे थाना रमाला क्षेत्रान्तर्गत मुखबिर की सूचना पर चैकिंग के दौरान ग्राम असारा से बूढ़पुर रोड पर बदमाशों से हुई पुलिस मुठभेड़ में जवाबी पुलिस कार्यवाही के दौरान एक शातिर बदमाश सोनू पुत्र राजू निवासी किरठल थाना रमाला जनपद बागपत को गिरफ्तार किया है। मुठभेड़ के दौरान अभियुक्त का एक साथी मौके से फरार हो गया जिसकी तलाश जारी हैं। गोली लगने से अभियुक्त सोनू घायल हो गया हैं। घायल/गिरफ्तार अभियुक्त के कब्जे से अवैध एक तमंचे 315 बोर मय खोखा व जिंदा कारतूस व एक संदिग्ध मोटरसाइकिल बरामद हुई। उल्लेखनीय है कि दिनांक 24-08-2020 को ग्राम किरठल में हुई राहुल की हत्या की घटना मैं पुलिस द्वारा तत्परता से  की गई कार्रवाई के परिणाम स्वरूप सिर्फ 12 घंटे के अंदर ही वांछित अभियुक्त सोनू को बाद मुठभेड़ गिरफ्तार किया गया है। इसका अपराधिक इतिहास ज्ञात किया जा रहा है।


नई रणनीति बनाने में जुटे तमाम नेता

कश्मकश में राहुल गांधी,तय नहीं कर पा रहे है कि ‘परिवार’बचाया जाए या ‘पार्टी’, सीडब्ल्यूसी की बैठक खत्म होने के बाद नरम दल- गरम दल के बीच बढ़ी कड़वाहट, नहीं चलेगा-  न खाता न बही, जो राहुल कहें वही सही, नेता और कार्यकर्ता पार्टी के लिए हैं, परिवार के लिए नहीं? नई रणनीति बनाने में जुटे तमाम नेता।


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों बड़ी उलझनज में नजर आ रहे है। उनके सामने सबसे बड़ी समस्या खुद के कैरियर के बजाये परिवार बचाने या फिर पार्टी को बचाने की दिखाई पड़ रही है। कांग्रेस के भीतरखाने से खबर आ रही है कि सोमवार को संपन्न हुई सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद राहुल गांधी की उलझन और बढ़ गई है। दरअसल उनके बयानों को लेकर नाराज हुए वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें पूरी तरह से माफ़ नहीं किया है। ये नेता अपमान का घूंट पी रहे है। हालांकि पार्टी की छवि धूमिल होने और बवाल शांत करने के लिए उन्होंने जरूर अपने ट्वीट वापस ले लिए है।
लेकिन बीजेपी से सांठगांठ के आरोप उन्हें भुलाए नहीं भूल रहे है। बताया जाता है कि कपिल सिब्बल , गुलाम नबी आजाद समेत कई बड़े नेता अब खुलकर राहुल गांधी की खिलाफत करने पर विचार कर रहे है। दरअसल ये नेता पार्टी के भीतर माहौल बना रहे है कि भविष्य में कांग्रेस की मजबूती के लिए अभी कड़वा घूंट पीना होगा। इसके लिए अब वही पुराना राग नहीं चलेगा , जिसमे अलापा जाता था कि न खाता न बही, जो राहुल कहें वही सही। कल की बैठक के बाद सीडब्ल्यूसी के ज्यादातर नेता दो फाड़ में बटे बताये जाते है। एक तरफ गांधी-नेहरू परिवार के समर्थक है तो दूसरी ओर कांग्रेस की मजबूती चाहने का दावा करने वाले नेता कांग्रेस की मजबूती चाहने वाले नेताओं का दावा है।कि सुदृढ़ और उर्जावान नेतृत्व की कमी, खेमेबाजी और क्षमता की बजाय चाटुकारिता को मिल रहे प्रश्रय से पार्टी जूझ रही है। उनके मुताबिक आज कांग्रेस की हालत कुछ ऐसी हो गई है। एक दीवार को संभालने की कोशिश होती है तो दूसरी भरभराने लगती है। इन नेताओं का भी मानना है। कि राहुल गांधी यह तय नहीं कर पा रहे है कि परिवार बचाया जाए या पार्टी। वो ये भी मानते है,कि परिवार और पार्टी अलग अलग है।उनके मुताबिक नेता और कार्यकर्ता पार्टी के लिए हैं, परिवार के लिए नहीं?
उधर गांधी-नेहरू समर्थक नेता मानते है कि सोमवार की बैठक मे राहुल गांधी ने जिस तरह से सोनिया को पत्र लिखने वाले वरिष्ठ नेताओं का अपमान किया वह यही जताता है कि राहुल का भी परम विश्वास है कि परिवार ही पार्टी है। दरअसल उन्हें आशंका है।कि गांधी परिवार नाराज हुआ तो पार्टी कैसे चलेगी। अध्यक्ष का चुनाव हो भी जाए तो आशीर्वाद तो नेहरू-गांधी परिवार का चाहिए ही।उधर नाम ना जाहिर करने की शर्त पर एक वरिष्ठ नेता ने न्यूज टुडे से कहा कि मौजूदा जमाना सर्वे का है , इसीलिए मेरा विश्वास है, कि आज जनता के बीच सर्वे हो जाए कि राहुल गांधी ने भरी बैठक में वरिष्ठ नेताओं पर भाजपा से साठगांठ का जो आरोप लगाया वो सत्य है या असत्य | उनके मुताबिक अधिकतर नेता बोलने की हिम्मत नहीं कर पा रहे है | उनके मुताबिक राहुल गाँधी को फॉलो करने वाले कुछ खास नेता इसे भी सहज समझते है,कि यूपीए काल में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में हुए कैबिनेट फैसले की कापी को राहुल ने सार्वजनिक रूप से फाड़ा था | उनके मुताबिक हर बात पर ट्वीट करने वाले राहुल ने सीडब्ल्यूसी में इतने विवादों के बाद भी ट्वीट नहीं किया।इस नेता ने दावा किया कि अब बात हो रही है,कि अगले कुछ महीनों में नया अध्यक्ष चुन लिया जाएगा। लेकिन जिस तरह कांग्रेस नेता राहुल-सोनिया के शरणागत हैं।उसमें क्या यह माना जा सकता है,कि गांधी परिवार की इच्छा और आशीर्वाद के बगैर कोई काबिल अध्यक्ष सफल हो सकता है। उनके मुताबिक पिछले एक साल से ज्यादा वक्त से राहुल गांधी पार्टी अध्यक्ष नहीं है। कांग्रेस ने उन्हें कोई जिम्मेदारी नहीं दी है , लेकिन जो लाइन वह खींच दें वही पार्टी की लाइन।  यह क्या बताता है। उन्होंने कहा कि कई जमीनी नेता दबे छुपे रोना भी रोते हैं कि पार्टी आधार खोती जा रही है ,लेकिन करे क्या। वरना ऐसा क्यों होता कि सोमवार को सीडब्ल्यूसी की बैठक में पार्टी के कई नेता सोनिया या राहुल को ही अध्यक्ष बनाए रखने की मांग करते। इस नेता के मुताबिक परिवार के संरक्षण में पार्टी चलाना शायद कांग्रेस की मजबूरी बनती जा रही है। ऐसे में आज सवाल उठ रहे हैं, कल विद्रोह की स्थिति हो सकती है।               


पत्रकार की हत्या पर आक्रोश व्यक्त किया

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। पत्रकारों ने यूपी के बलिया में हुए सहारा समय के पत्रकार रतन सिंह की हत्या के बाद विरोध प्रदर्शन कर अपना गुस्सा जाहिर किया।
जिस प्रकार से उत्तर प्रदेश में लगातार पत्रकारों को टारगेट करके हत्या की जा रही है।गाजियाबाद श्रमजीवी पत्रकार संघ के पत्रकारों ने जिलाधिकारी से मिलकर अपना गुस्सा व्यक्त किया। साथ ही पत्रकारों की सुरक्षा के मुद्दे को मजबूती से उठाया। इसके अलावा पीड़ित पत्रकार को 50 लाख की आर्थिक मदद परिवार को सरकारी नौकरी व सुरक्षा मुहैया कराने का महत्वपूर्ण मुद्दा रहा।


इस दौरान श्रमजीवी पत्रकार संघ के अध्यक्ष अनुज चौधरी, वरिष्ठ पत्रकार श्री अशोक ओझा अशोक कौशिक,अजय औदिच्य,मनोज शर्मा,एसपी सिंह,विभु मिश्रा,प्रवीण अरोरा लोकेश राय,राजू मिश्रा,पिंटू तोमर,तेजेश चौहान,सोनू अरोड़ा, शक्ति सिंह,दीपक चौधरी,चिंटू त्यागी, अनिल अग्रवाल, जितेंद्र भाटी,सुमन चौधरी,सीमा गुप्ता,संजय मित्तल,रोहित सिंह,सचिन,सोनू खान,जयवीर मावी,मदन पांचाल,जुबेर अख्तर,राहुल शर्मा, अमित राणा,जय प्रकाश, हिमांशु मुकेश सिंघल,अंकुर अग्रवाल, प्रभात तिवारी, नरेश,प्रदीप मिश्रा,मुकेश गुप्ता,हरीश राठौर,रमन शर्मा,जावेद,तोषिक कर्दम,सुमन चौधरी,फरमान,अली,नोमी,वीनू ,अरुण चंद्रा,फ़ोटो जरलनिस्ट,अजय रावत, श्रीराम,बबली,सतेंद्र राघव,मुकेश कर्दम,उमेश कुमार,जावेद,सहवज,मणिकांत,विकास कुमार,पुनीत श्रीवास्तव,सुनील पाल,शिवम गिरी,सन्नी,नरेश सिंघनिया,उस्मान सैफी आदि मौजूद रहे।               


हरियाणाः सिंगर-डांसर कोरोना पॉजिटिव

हरियाणवी सिंगर व डांसर अनु कादयान कोरोना पॉजिटिव, सोशल मीडिया पर दी जानकारी


चंडीगढ़। हरियाणा की मशहूर सिंगर एवं डांसर अनु कादयान उर्फ एके जट्टी भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। उन्होंने कल अपना कोरोना टेस्ट करवाया था, जिसमें उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। इसके बाद अनु कादयान ने अपने संपर्क में आए लोगों को भी अपना कोरोना टेस्ट करवाने की अपील की है।
आपको बता दें कि अनु कादयान हरियाणा की मशहूर डांसर और सिंगर है। देव कुमार देवा के साथ अनु कादयान के काफी गाने हैं। हाल ही में एसऐचओ साब में उनकी धमाकेदार जोड़ी आई थी। SHO साब गाने को लाखों लोग देख चुके हैं। वहीं अनु कादयान इसके अलावा सैंकड़ों गानों और स्टेज शो कर चुकी हैं।
बहू काले की गीत में मशहूर अनु कादयान के हरियाणा में लाखों की संख्या में फैन्स है। अनु कादयान के कार्यक्रमों में भारी संख्या में भीड़ भी देखने को मिलती है।           


ईएसआईसी के नियमों में हो रहा बदलाव

ईएसआईसी के नियमों में होने जा रहा बड़ा बदलाव, अब मिलेगा दोगुना लाभ


नई दिल्ली। कोरोना महामारी के दौर में सरकार वेतनभोगी कर्मचारियों को थोड़ी राहत देने की तैयार में जुटी है। मिली जानकारी के अनुसार सरकार ईएसआईसी के तहत मिलने वाले स्‍वास्‍थ्‍य और आर्थिक मदद के नियमों में बदलाव करने जा रही है।
एक रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार कर्मचारी राज्‍य बीमा निगम (ईएसआईसी) के तहत मिलने वाले लाभ के लिए वेतन सीमा बढ़ाने पर विचार कर रही है। अभी तक मासिक 21,000 वेतन वाले कर्मचारी ही ईएसआईसी के दायरे में आते हैं। सरकार इस सीमा को बढ़ाकर 30,000 रुपए मासिक करने पर विचार कर रही है। इससे 30,000 रुपए तक वेतन पाने वाले कर्मचारियों को भी ईएसआईसी के तहत स्‍वास्‍थ्‍य, बीमा और आर्थिक मदद का लाभ मिल सकेगा।
बता दें, केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने बीते हफ्ते कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) की अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत बेरोजगारी लाभ के दावों के आवेदनों को 15 दिनों के भीतर निपटाने की घोषणा की थी। ईएसआईसी के निदेशक मंडल ने कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर रोजगार गंवाने वाले लोगों को राहत प्रदान करते हुए इस साल 24 मार्च से 31 दिसंबर तक के लिए बेरोजगारी लाभ के तहत भुगतान को दोगुना कर दिया है। योजना के तहत अब तीन महीने के औसत वेतन का पचास प्रतिशत लाभ दिया जाएगा। पहले यह 25 प्रतिशत था।अब रोजगार जाने के 30 दिनों के बाद लाभ का दावा दायर किया जा सकता है। पहले यह 90 दिनों के बाद कर पाना संभव था। अब कर्मचारी स्वयं ही दावा कर सकते हैं, जबकि पहले उन्हें नियोक्ता के माध्यम से आवेदन करना होता था। ईएसआईसी बोर्ड ने अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत बेरोजगारी लाभ के तहत भुगतान को बढ़ाने और पात्रता मानदंडों में ढील देने को मंजूरी दी है।                   


यूपीः 30 सितंबर तक कार्यक्रमों पर रोक

योगी सरकार का बड़ा फैसला, 30 सितंबर तक सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक


लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण को लेकर बड़ा फैसला लिया है। यूपी में 30 सितंबर तक किसी भी तरह के सार्वजनिक समारोह, धार्मिक उत्सव, राजनीतिक आंदोलन एवं सभाएं आयोजित करने पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया गया है। सार्वजनिक रूप से मूर्तियां, ताजिया एवं अलम भी स्थापित नहीं किए जाएंगे। सभी प्रकार के जुलूस एवं झांकी पर भी प्रतिबंध रहेगा।                 


राजीव त्यागी को महासभा ने दी श्रद्धांजलि

 त्यागी महासभा लोनी ने राजीव त्यागी को दी भावभीनी श्रद्धांजलि


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। त्यागी महासभा केे पूर्व अध्यक्ष धर्मेंद्र त्यागी के नेतृत्व में लोनी दो नंबर स्थित कार्यालय पर राजीव त्यागी कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए, धर्मेंद्र त्यागी ने कहा राजीव त्यागी ने अपने मृदुभाषी और ओजस्वी विचार से कांग्रेस में राष्ट्रीय प्रवक्ता के रूप में अपनी पहचान बनाई और त्यागी समाज के गौरव बने राजीव त्यागी जी के निधन से त्यागी समाज ने एक अपना अनमोल रतन खो दिया। उनके निधन से समाज को अपूरणीय क्षति हुई है। उसकी कमी पूरी कोई नहीं कर सकता त्यागी महासभा के समस्त पदाधिकारियों ने पुष्प अर्पित करते हुए 2 मिनट का मौन धारण कर 21 बार गायत्री मंत्र जाप करते हुए भगवान से प्रार्थना करते हुए भावभीनी श्रद्धांजलि दी।
मुनेश त्यागी ने कहा राजीव त्यागी बहुत अच्छे मृदुभाषी और समझदार व्यक्ति थे जिन के चले जाने से आज समाज में बहुत दुख है एक उभरता हुआ चेहरा हमारे बीच से चला गया। बहुत दुख का विषय है आज हम भगवान से प्रार्थना करते हुए भगवान पुण्य आत्मा को अपने चरणों में जगह दे और इस परिवार को दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। समाज को बहुत गहरा लगता है उनके चले जाने से आज उनको हम सब पुष्प अर्पित करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।
इस मौके पर मुख्य रूप से मुनेश त्यागी, सतीश त्यागी, मुनेश्वर त्यागी, डॉक्टर योगेंद्र त्यागी, सुनील त्यागी, संजीव त्यागी, विशेष त्यागी, देवेंद्र त्यागी, शिव कुमार वशिष्ठ, अमित त्यागी, सुबोध त्यागी, राजगीर त्यागी और नरेंद्र त्यागी आदि लोग मौजूद रहे।                     


कोरोना का राज्य में बना नया केंद्र

पूर्वी उत्तर प्रदेश बना कोविड-19 का राज्य में नया केंद्र


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोविड-19 के नवीनतम रुझान से पता चलता है,कि पश्चिमी हिस्से की तुलना में राज्य के पूर्वी हिस्सों में कोरोना वायरस का संक्रमण ज्यादा है यानि कि यहां औसत से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। केस पॉजिटिविटी रेट (सीपीआर) या जांच में संक्रमित निकलने वाले लोगों की संख्या के अनुसार, यह पांच प्रतिशत की सीमा के आसपास है।               


एसपी सिटी ने पिता को पुत्र से मिलाया

मिर्जापुर: एसपी सीटी ने 16 दिन से विछड़े पिता-पुत्र को मिलाया


कलकत्ता में गुम हुए व्यक्ति को मीरजापुर पुलिस व सर्विलांस टीम द्वारा बरामद किया गया


मीरजापुर। कलकत्ता (पश्चिम बंगाल) के थाना हाबड़ा क्षेत्रान्तर्गत से गुम हुए मूल रूप से गोरखपुर निवासी एक व्यक्ति को मीरजापुर पुलिस द्वारा बरामद किया गया है। जानकारी के अनुसार रामप्रवेश जायसवाल पुत्र सुरेश जायसवाल निवासी ग्राम-लुचुवी थाना सहजनवाँ जनपद गोरखपुर कलकत्ता में रहकर लोहे का व्यापार करते थे। पिछले एक वर्ष से व्यापार में मंदी आ जाने के कारण लाभ नही हो रहा था,जिससे वह बहुत परेशान रहते थे। इसी कारण 8  अगस्त 2020 को श्री जायसवाल घर से बिना किसी को कुछ बताए कही चले गये थे, इस संबन्ध में इनके लड़के सूरज द्वारा कलकत्ता के हाबड़ा थाने पर अपने पिता के गुमशुदगी की सूचना अगले दिन दर्ज करायी गयी थी। वहाँ के पुलिस से प्राप्त सूचना के आधार पर ज्ञात हुआ कि रामप्रवेश जायसवाल जनपद मीरजापुर उत्तर प्रदेश में रह रहे है। यह जानकारी प्राप्त होते ही पुलिस अधीक्षक नगर संजय कुमार के निर्देशन में गठित पुलिस टीम व सर्विलांस टीम सक्रिय हो गयी। उक्त गुमशुदा व्यक्ति का लोकेशन थाना कोतवाली देहात क्षेत्रान्तर्गत ग्राम बीरशाहपुर में ओमप्रकाश दूबे पुत्र लालमणि दूबे के यहाँ पाया गया। पुलिस टीम द्वारा गुमशुदा को बरामद कर उसके पुत्र सूरज को सुपुर्दगी में दे दिया गया, साथ ही गुमशुदा के मिलने की सूचना संबन्धित थाने पर दी गयी। गुमशुदा के पुत्र सूरज ने अपने पिता से मिलकर मीरजापुर पुलिस का आभार व्यक्त करते हुए प्रसन्नता व्यक्त की।                         


दोगुनी स्पीड पर है 'अपराध का मीटर'

यूपी में सरकार से दोगुनी स्पीड पर है अपराध का मीटर: प्रियंका


लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के बलिया में पत्रकार की हत्या समेत अन्य वारदातों का हवाला देते हुए योगी सरकार पर तंज कसा कि मुख्यमंत्री सरकार की स्पीड बताते हैं और अपराध का मीटर उससे दो गुना स्पीड से भागने लगता है।                       


फांसी के फंदे पर लटका मिला प्रेमी का शव

लखनऊ -प्रेमिका की मौत के बाद फांसी के फंदे पर झूलता मिला प्रेमी का शव , घर से भागे थे दोनो प्रेमी युगल , ऑनर किलिंग की जांच शुरू


लखनऊ। लखनऊ के बंथरा क्षेत्र से सोमवार को प्रेमिका का शव मिलने के बाद मंगलवार को प्रेमी का शव पेड़ से लटकता हुआ मिला। शव देखते ही सनसनी फैल गई, इसकी सूचना पुलिस को दी गई। बता दें कि दोनों मृतकों के परिवारीजनों ने रविवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। पुलिस के मुताबिक लड़की घर से पैसे लेकर अपने प्रेमी के साथ भागी थी।
यह है घटना शिवम (16) पुत्र महेश निवासी भौकापुर का मजरा लाउखेड़ा का शव गांव के बाहर पंजाब ईंट भटठा के पास चिलवल के पेड़ से पट्टी के सहारे लटकता मिला। सोमवार को उसकी प्रेमिका सविता 18 वर्ष पुत्री रज्नलाल का शव भी उसी के घर से करीब 50 मीटर दूर जामुन के पेड़ से लटकता पाया गया था।
सविता और शिवम दोनों रविवार को घर से भाग गए थे। सविता अपने घर से जेवर भी बटोर कर ले गई थी।जो कि उसके शव के पास मिले थे। युवती के पिता ने शिवम और उसके पिता आदि पर उसकी हत्या कर शव लटका जाने का आरोप लगाया था। रविवार से घर से शिवम भी लापता था। मंगलवार की सुबह उसका भी शव पेड़ से लटका मिला।
यह भी पढे़: लखनऊ में दो दिन से लापता युवती का पेड़ से लटकता मिला शव, परिजनों का हत्या का आरोप बता दें कि मामला बंथरा थानाक्षेत्र की ग्राम पंचायत भौकापुर के मजरे लाऊखेड़ा का है। यहां के निवासी रज्जन लाल की 18 वर्षीय बेटी का गांव के ही एक 16 वर्षीय लड़के के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। बंथरा थाना प्रभारी रमेश सिंह रावत के मुताबिक, शनिवार को युवती गांव में ही रहने वाले अपने प्रेमी के घर बैठी हुई थी। तभी युवती के भाई ने देखा तो जमकर फटकार लगाई। इस दौरान लड़के के घरवालों से भी कहासुनी हुई। इसके बाद युवती भाई के साथ अपने घर आ गई। बताया गया कि देर रात युवती घर से जेवर लेकर प्रेमी के साथ फरार हो गई। सुबह जब इसकी जानकारी दोनों के परिवार वालों को हुई तो दोनों ही पक्ष अपनी तहरीर लेकर थाने पहुंच गए। पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर लेते हुए उन्हें भी दोनों की खोजबीन करने की बात कहते हुए लौटा दिया। परिवारजनों के तलाश के बाद भी दोनों का कहीं पता नहीं चला। सोमवार की सुबह युवती का शव उसके घर से करीब 50 मीटर दूर स्थित एक जामुन के पेड़ से दुपट्टे के सहारे फंदे पर लटका मिला। वहीं, पास में जमीन पर जेवर पड़े थे। शौच के लिए पहुंचे ग्रामीणों ने युवती का लटकता शव देख शोर मचाया। लोगों ने सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन के बाद शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।                             


पांच निजी स्कूलों को विभागीय नोटिस

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। जिले के कुछ निजी स्कूलों द्वारा शासन के आदेशों का उल्लंघन करते हुए कोरोना वैश्विक महामारी से प्रभावित अभिभावकों द्वारा फीस जमा ना कर पाने के कारण बच्चों की ऑनलाइन क्लास बंद की जा रही है। गाजियाबाद पेरेंट्स एसोसिएशन ने इसकी शिकायत जिला विद्यालय निरीक्षक से की थी।



शिकायत का संज्ञान लेते हुए जिला विद्यालय निरीक्षक ने पांच स्कूलों को नोटिस जारी किया और ऑनलाइन क्लास शुरू ना करने पर शासनादेश के अनुसार कार्यवाही के लिए आदेशित किया है। जिन स्कूलों के नाम नोटिस जारी किया गया उनमें सिल्वर लाइन प्रेस्टीज स्कूल, वनस्थली पब्लिक स्कूल, शम्भू दयाल ग्लोबल स्कूल, दयानंद नगर शिवोय स्कूल, गीता संजय मेमोरियल स्कूल शामिल हैं।


आपको बता दें कि गाज़ियाबाद समेत उत्तर प्रदेश के सभी निजी स्कूलों के अभिभावक लगातार मांग कर रहे हैं कि स्कूलों द्वारा लॉकडाउन पीरियड की फीस माफ कर दी जाए।


मोदीनगर विधायक पति पर हत्या का आरोप

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। मोदीनगर की कृष्णा कुंज कॉलोनी में बीती (सोमवार) रात हुए अक्षय सांगवान हत्याकांड में मोदीनगर से भारतीय जनता पार्टी की विधायक मंजू सिवाच के पति देवेंद्र सिवाच और तिबड़ा के ग्राम प्रधान पति आशीष सहित 8 लोगों के खिलाफ हत्या की एफआईआर दर्ज की गई है। एफआईआर दर्ज होने के बाद से विधायक मंजू सिवाच के ऑफिस के बाहर भारी पुलिस बल तैनात है। पुलिस सभी नामजद आरोपियों को तलाश कर रही है।



प्राप्त जानकारी के अनुसार, मोदीनगर की कृष्णा कुंज कॉलोनी में सोमवार रात बाइक सवार बदमाशों ने घर से बुलाकर एक युवक की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड से गुस्साए परिजनों ने अन्य लोगों के साथ मिलकर रात में करीब डेढ़ घंटे तक दिल्ली-मेरठ मार्ग पर जाम लगाकर हंगामा किया। 


हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार गांव खंजरपुर निवासी जितेंद्र सांगवान काफी समय से अपने परिवार के साथ तिबड़ा मार्ग स्थित कृष्णकुंज कॉलोनी में रहते हैं। जितेंद्र सांगवान के दो बेटे अक्षय सांगवान (29) और आधार सांगवान उर्फ शनि हैं। बताया जा रहा है कि सोमवार रात को सवा आठ बजे के आसपास अक्षय अपने घर में मौजूद था, इसी बीच उसके मकान के सामने तीन बाइक आकर रुकीं। बाइक सवार युवकों ने अक्षय का नाम लेकर उसे घर से बाहर आने को कहा। रात 8: 25 बजे पर जैसे ही अक्षय अपने घर से बाहर गेट पर आकर खड़ा हुआ तो बाइक सवार युवकों ने उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। गोली लगने से अक्षय लहूलुहान होकर जमीन पर गिर गया। आसपास के लोगों ने अक्षय को जीवन अस्पताल में भर्ती कराया, जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया।


बाइक छोड़कर फरार हुए हमलावर


प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि तीन बाइकों पर आए छह युवक आए थे और सभी के हाथ में हथियार थे। जैसे ही अक्षय अपने घर से बाहर आयो तो उन युवकों ने उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। लोगों को आता देखकर हमलावर आनन-फानन में भागने लगे। बाइक स्टार्ट न होने के कारण हमलावर एक बाइक को मौके पर पर ही छोड़कर फरार हो गए।


जेल जा चुका है मृतक


आपको बता दें कि एक साल पहले गांव तिबड़ा निवासी दीपेंद्र उर्फ दीपू की हत्या कर दी गई थी। दीपेंद्र की हत्या के मामले में अक्षय सांगवान व उसके भाई सहित पांच लोगों को नामजद कराया गया था। उस समय गोली लगने से अक्षय भी गंभीर रूप से घायल हो गया था।                   


गाजियाबादः हत्या का विरोध, हाईवे का घेराव

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। एसएसपी कलानिधि नैथानी भले ही हर दिन नए अभियानों की घोषणा कर अपराध नियंत्रण पर काबू पाने की घोषणा करते रहें। मगर हकीकत यह है कि गाज़ियाबाद जिले में अपराध बढ़ते ही जा रहे हैं। सोमवार शाम लगभग 7.30 बजे मोदीनगर के तिबड़ा रोड पर बदमाश अक्षय नाम के एक युवक को गोली मारकर सुरक्षित भागने में सफल हो गए।  गोली अक्षय के पैर में लगी और उसे तुरंत नजदीक के जीवन अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे 8:20 बजे मृत घोषित कर दिया।  मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया।


गुस्साए परिजनों ने लगाया हाई वे पर जाम


अक्षय की हत्या से नाराज़ परिजनों ने जीवन अस्पताल के बाहर हँगामा करते हुए दिल्ली-मेरठ हाई वे जाम कर दिया।  अक्षय की मौत की सूचना पाते ही उसके गाँव वाले और परिजन खंजरपुर, तिबड़ा रोड पहुँच गए और जाम बढ़ता चला गया।  थोड़ी ही देर में लोगों ने विपरीत दिशा में जाना शुरू कर दिया और सड़क के दूसरी ओर जाम लग गया। रात साढ़े 9 बजे तक लगभग 6 किलोमीटर लंबा जाम लग चुका था। पुलिस ने जाम को कम करने के ले सौंदा कट के पास से ट्रैफिक को वन वे कर दिया लेकिन कोई राहत नहीं मिली।  गाज़ियाबाद से मेरठ की ओर जाने वाली सड़क पर भी 3 किलोमीटर लंबा जाम लग चुका था।


9:50 पर पहुंचे एसपी देहात 
घटना की गंभीरता को देखते हुए एसपी ग्रामीण नीरज जादौन रात 9:50 पर घटनास्थल पर पहुंचे और अक्षय के परिजनों को समझा कर जाम खोलने की कोशिश करने लगे।  इसी दौरान मौके पर रेपिड एक्शन फोर्स (आरपीएफ़) भी तैनात कर दी गई।  एसएम ग्रामीण ने अक्षय के रिशतेदारों को जैसे तैसे समझा कर हमलावरों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया और देर रात 11 बजे लोगों को जाम से मुक्ति मिल पाई।                  


आतंकी अटैक, 13,500 पन्नों की चार्जशीट

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने पुलवामा आतंकी अटैक केस में चार्जशीट दायर कर दी है। ये चार्जशीट 13500 पन्नों की है। चार्जशीट में एनआईए ने 13 आरोपी बनाए हैं। इनमें जैश-ए मोहम्मद का सरगना मौलाना मसूद अजहर भी शामिल है। इसके अलावा चार्जशीट में मारे गए आतंकवादी मोहम्मद उमर फारूक, आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार और पाकिस्तान से सक्रिय अन्य आतंकवादी कमांडर के नाम भी शामिल हैं।जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला किया गया था। एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटक से भरी कार सीआरपीएफ के काफिले से टकरा दी थी। इस धमाके में 40 जवान शहीद हो गए थे।


एनआईए के एक अधिकारी ने कि बताया, “पुलवामा आतंकवादी हमले के मामले में एजेंसी जम्मू की विशेष एनआईए अदालत में छह गिरफ्तार आरोपियों और अजहर, असगर, उनके मारे गए रिश्तेदार फारूक के खिलाफ (मंगलवार को) चार्जशीट दायर करेगी।” एनआईए के एक अधिकारी ने कि बताया, “पुलवामा आतंकवादी हमले के मामले में एजेंसी जम्मू की विशेष एनआईए अदालत में छह गिरफ्तार आरोपियों और अजहर, असगर, उनके मारे गए रिश्तेदार फारूक के खिलाफ (मंगलवार को) चार्जशीट दायर करेगी।”पुलवामा हमले की इस चार्जशीट में 4 आरोपी पाकिस्तान के बहावलपुर के रहने वाले हैं। इन चारों ने पाकिस्तान में बैठकर पाकिस्तान की सरकारी एजेंसियों के सहारे कश्मीर में विस्फोटक भेजा था। करीब 20 किलो विस्फोटक घाटी में लाया गया था और आईईडी को कश्मीर में अमोनियम नाइट्रेट और नाईट्रो ग्लिसरीन के जरिये असेम्बल करके और ज्यादा घातक बनाया गया।                     


2000 के नोटों की छपाई नहीं की

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने 2019-20 में दो हजार रुपये के नए नोटों की छपाई नहीं की। इस दौरान दो हजार के नोटों का प्रसार कम हुआ है। रिजर्व बैंक की 2019-20 की वार्षिक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।रिपोर्ट के अनुसार मार्च, 2018 के अंत तक चलन में मौजूद 2000 के नोटों की संख्या 33,632 लाख थी, जो मार्च, 2019 के अंत तक घटकर 32,910 लाख पर आ गई। मार्च, 2020 के अंत तक चलन में मौजूद 2000 के नोटों की संख्या और घटकर 27,398 लाख पर आ गई।रिपोर्ट के अनुसार, प्रचलन में कुल मुद्राओं में 2000 के नोट का हिस्सा मार्च, 2020 के अंत तक घटकर 2.4 प्रतिशत रह गया। यह मार्च, 2019 के अंत तक तीन प्रतिशत तथा मार्च, 2018 के अंत तक 3.3 प्रतिशत था।
मूल्य के हिसाब से भी 2000 के नोटों की हिस्सेदारी घटी है। आंकड़ों के अनुसार मार्च, 2020 तक चलन में मौजूद कुल नोटों के मूल्य में 2,000 के नोट का हिस्सा घटकर 22.6 प्रतिशत रह गया। यह मार्च, 2019 के अंत तक 31.2 प्रतिशत और मार्च, 2018 के अंत तक 37.3 प्रतिशत था। रिपोर्ट के अनुसार, 2018 से तीन साल के दौरान 500 और 200 रुपये के नोटों के प्रसार में उल्लेखनीय इजाफा हुआ है।


मूल्य और मात्रा दोनों के हिसाब से 500 और 200 रुपये के नोट का प्रसार बढ़ा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘2019-20 में दो हजार के करेंसी नोट की छपाई के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया गया। भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड (बीआरबीएनएमपीएल) तथा सिक्योरिटी प्रिटिंग एंड मिंटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लि. (एसपीएमसीआईएल) की ओर दो हजार के नोट की कोई नई आपूर्ति नहीं की गई। 2019-20 में बैंक नोटों के लिए ऑर्डर एक साल पहले की तुलना में 13.1 प्रतिशत कम थे।’रिपोर्ट कहती है कि ‘2019-20 में बैंक नोटों की आपूर्ति भी इससे पिछले साल की तुलना में 23.3 प्रतिशत कम रही। इसकी मुख्य वजह कोविड-19 महामारी और उसके चलते लागू लॉकडाउन है।’ रिजर्व बैंक ने कहा कि ‘2019-20 में 500 के 1,463 करोड़ नोटों की छपाई का ऑर्डर दिया गया। इसमें से 1,200 करोड़ नोटों की आपूर्ति हुई। वहीं 2018-19 में 1,169 करोड़ नोटों की छपाई के ऑर्डर पर 1,147 करोड़ नोटों की आपूर्ति की गई।’रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘2019-20 में बीआरबीएनएमपीएल तथा एसपीएमसीआईएल को 100 के 330 करोड़ नोटों की छपाई का ऑर्डर दिया गया। इसी तरह 50 के 240 करोड़ नोटों, 200 के 205 करोड़ नोटों, 10 के 147 करोड़ नोटों और 20 के 125 करोड़ नोटों की छपाई का ऑर्डर दिया गया। इनमें से ज्यादातर की आपूर्ति वित्त वर्ष के दौरान की गई।’                   


दिल्ली-मुंबई के बीच जल्द रेल संचालन

 नई दिल्ली/लखनऊ। रेलवे प्रशासन मुम्बई और दिल्ली की ट्रेनों में सीटों की मारामारी को देखते हुए लखनऊ के रास्ते कई और अतिरिक्त ट्रेनें जल्द चलाने जा रहा है। इसके लिए तैयारियां तेजी से चल रही हैं।


पूर्वोत्तर रेलवे की लखनऊ मंडल के डीआरएम डॉ. मोनिका अग्निहोत्री ने मंगलवार को बताया कि कोरोना महामारी के दौरान  मुम्बई और दिल्ली जाने वाले यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसलिए जल्द ही मुम्बई और दिल्ली के यात्रियों की सुविधा के लिए अतिरिक्त ट्रेनें चलाई जाएंगी।उन्होंने बताया कि लॉकडाउन से अनलॉक तक पूर्वोत्तर रेलवे ने रेल पटरियों की मरम्मत का कार्य पूरा कर लिया है। इससे रेल संरक्षा को मजबूत आधार मिलेगा। पूर्वोत्तर रेलवे ने माल ढुलाई के लिए मिनी रैक की ट्रेनें चलाई हैं जो 600 किलोमीटर की दूरी तय कर रही हैं।
डीआरएम ने बताया कि पूर्वोत्तर रेलवे यात्रियों की सुविधा के लिए नए टाइम टेबल से कई और ट्रेनें चलाने की तैयारी में है। नए टाइम टेबल से ट्रेनें चलने से यात्रियों को जोड़ने में मदद मिलेगी। फिलहाल अभी लखनऊ से मुम्बई के बीच पुष्पक एक्सप्रेस, लखनऊ से दिल्ली के बीच गोमती एक्सप्रेस और लखनऊ मेल का संचालन किया जा रहा है। कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से अभी तक अतिरिक्त ट्रेनों का संचालन शुरू नहीं किया गया है।                                                                                                                   


रासुका लगा कर भी अनियंत्रित है अपराध

बड़े आपराधिक मामलों को लेकर विभिन्न वर्गों के नेताओं को दी जिम्मेदारी


लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो मायावती ने प्रदेश की कानून व्यवस्था के बदहाल होने का आरोप लगाते हुए योगी सरकार पर एक बार फिर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अपराध थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। यहां आए दिन हर प्रकार के अपराध देखने को मिल रहे हैं। वर्तमान में भाजपा के शासन से लोग दुखी हो गए हैं। अब सपा-भाजपा के शासन में कोई अंतर नहीं रह गया है। ऐसा कोई दिन नहीं जाता जब सूबे 75 जिलों में कोई बड़ी या छोटी आपराधिक वारदात न घटित होती हो। ऐसे में बसपा पीड़ितों के लिए न्याय की लड़ाई लड़ेगी। उन्होंने इसको लेकर सोशल इंजीनियरिंग का फार्मूला अपनाते हुए अलग-अलग नेताओं को अधिकृत किया।
मायावती ने मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी काल में भी अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है और अब तो लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ माने जाने वाले मीडिया जगत के लोग भी यहां आए दिन हत्या व जुर्म के शिकार हो रहे हैं। आजमगढ़ मंडल में हुई पत्रकार की हत्या इसका ताजा उदाहरण है। उत्तर प्रदेश में सरकार की बदहाली का हाल ये है कि बात-बात पर रासुका, देशद्रोह व अन्य अति संगीन धाराओं के इस्तेमाल के बावजूद भी यहां अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। कानून का डर नहीं बचा है। आम जनता त्रस्त है कि सरकार कार्यशैली में सुधार करे तो बेहतर होगा।
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को अब हमारे चार बार के कार्यकाल के समय की कानून-व्यवस्था याद आने लगी है। गरीब, मजदूर तथा कमजोर वर्ग के लोग काफी परेशान हैं। 
बसपा सुप्रीमो ने कहा कि जिस तरह से प्रदेश में आपराधिक वारदातें हो रही हैं, उस स्थिति में उनका हर जगह पहुंच पाना मुमकिन नहीं है। इसलिए अब उत्तर प्रदेश में अति गम्भीर व अति संवदेनशील घटना पर बसपा का प्रतिनिधित्व मंडल पीड़ित परिवार से घटनास्थल पर जाकर मुलाकात करेगा। छोटी घटना पर फोन पर पीड़ित से बात की जायेगी। वहीं अति गम्भीर व अति संवदेनशील मामलों को छोड़कर अन्य मामलो में टेलिफोन के जरिए पुलिस प्रशासन से बात करके न्याय की कोशिश की जाएगी। 
मायावती ने कहा कि ये विशेष व्यवस्था बसपा को मजबूरी में उत्तर प्रदेश की खराब कानून व्यवस्था के कारण करनी पड़ रही है। है। इसके लिए, प्रत्येक समाज के वरिष्ठ लोगों को अधिकृत किया जाएगा। दलितों के लिए दयाचरण दिनकर, पिछड़ों के लिए लाल जी वर्मा, ब्राह्मणों व अन्य सर्वणों के लिए सतीश चंद्र मिश्रा, मुस्लिम वर्ग के लिए शमशुद्दीन राईन व मुनकाद अली को अधिकृत किया गया है। 
जब ये लोग घटना स्थल पर जाएंगे तो वहां बसपा के स्थानीय स्तर पर सेक्टर मुख्य प्रभारियों को लेकर जाना होगा। जिलाध्यक्ष भी साथ में मौजूद रहेंगे। मायावती ने कहा कि बसपा ने ये जो थोड़ी व्यवस्था की है, उम्मीद है इससे लोगों को कुछ राहत मिलेगी।
उनको कहा इस बात के सख्त निर्देश दिए गए हैं कि अधिकृत किए लोग घटना स्थल पर धरना-प्रदर्शन नहीं करेंगे। कर्फ्यू के दौरान मौके पर नहीं जाएंगे। पीड़ित परिवार से मिलेंगे सही तथ्यों की जानकारी लेंगे और मीडिया को भी इससे अवगत कराएंगे। उन्होंने कहा​ कि न्याय नहीं मिलने पर विधामनंडल सत्र के दौरान दोनों सदनों में मामलों को उठाया जाएगा। वहीं इसके बाद भी कदम नहीं उठाये जाने पर अपनी सरकार में आने पर पीड़ितों को न्याय दिलाया जाएगा।                    


गाजियाबादः बीएसएनल का 'ई लर्निंग कोर्स'

गाजियाबाद। गाजियाबाद राजनगर स्थित बीएसएनएल कार्यालय में 24 अगस्त, सोमवार से” ई–लर्निंग कोर्स ” शुरू किया गया है। इसमें दुनियाभर से 19 लोगों सहित भारत के सौ लोग हिस्सा ले रहे है। यह पाठ्यक्रम अत्यधिक प्रतिष्ठित है और देश के सकल घरेलू उत्पाद में वृद्धिइंडस्ट्री 4.0डिजिटल इंडिया, डिजिटल वर्ल्ड  आदि के लिए बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगाजो भारत के माननीय प्रधान मंत्री का भी ड्रीम प्रोजेक्ट है 

बीएसएनएल के मुख्य महा प्रबन्धक अल्ट सेंटर गाज़ियाबाद महेश कुमार सेठ(संचार रत्न)पीजीएम सुभाष चंद और जीएम देवी प्रसाद व अन्य अधिकारियों ने उद्घाटन दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। बीएसएनएल और डीओटी के कई उच्च अधिकारियों ने भी इस उन्नत पाठ्यक्रम के उद्घाटन समारोह में भाग लिया है। ALTTC, BSNL, गाजियाबाद के DGM (BB और CFA) अशोक शर्माने प्रतिनिधियों को ऑनलाइन सुविधा एवं सहायता प्रदान की और अपने व्याख्यान के माध्यम से भारतीय संस्कृति को संप्रेषित करने के लिए यथा संभव व्यवस्था की । 

ई-लर्निंग कोर्स के उद्घाटन समारोह में एस सी सिंह अतिरिक्त जीएम (बीएस-ई), एच के दीक्षित (डीजीएम) ए के झा (डीजीएम)श्रीमती सुरेश देवी (डीजीएम) डीजीएम  सुदीप पांडे (डीजीएम), आनंद कुमार (सहायक निदेशक),  नरेश सिंह (सहायक निदेशक),  नरेंद्र सिंह चौहान (सहायक निदेशक), एवं  आलोक त्यागी (जेटीओ) भी मौजूद थे।

दिल्लीः यमुना खतरे के निशान से कुछ नीचे

रेशम दयाल / अलोक कुमार 

नई दिल्ली। मानसून सीजन और पहाड़ों पर हो रही भारी बारिश का असर अब दिल्ली में यमुना नदी में दिखने लगा है। बारिश का पानी हरियाणा बैराज तक पहुंचता है तो पानी का  दवाब बढ़ने लगता है, और बैराज के गेट खोल दिए जाते है। जिसके कारण यमुना का जलस्तर बढ़ जाता है। दिल्ली में बाढ़ ( Flood situation in Delhi )की स्थिति बन जाती है। निचले हिस्से में पानी भर जाता है और यहाँ का जनजीवन प्रभावित होता है। दिल्ली के जल मंत्री सतेंद्र जैन ने बताया कि सोमवार की सुबह 8 बजे  हथनी बैराज से 5,883 क्यूसेक पानी छोड़ा गया था।

यमुना खतरे के निशान से एक मीटर नीचे बह रही है खतरे का निशान 205 . 33 मीटर है। जबकि जल स्तर सोमवार को सुबह 8 बजे , 204.18 मीटर तक पहुँच गया है।  जबकि दोपहर साढ़े 3 बजे जल स्तर 204. 32 मीटर तक पहुँच गया था।

दिल्ली के जल मंत्री श्री जैन ने कहा कि सरकार स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए है और यह  सुनिश्चित करने के लिए काम कर रही है कि किसी भी तरह की बाढ़ जैसी स्थिति से निपटने के लिए सभी आवश्यकताओं को पूरा किया जाए।हमारे पास बाढ़-नियंत्रण प्रणाली तैयार है, और यह तब सक्रिय होगा जब कोई भी स्थिति इसकी मांग करेगी। मंत्री ने बताया कि सरकार ने और यह तब सक्रिय होगा जब कोई भी स्थिति इसकी मांग करेगी। मंत्री ने बताया कि सरकार ने यमुना के किनारे के सभी निचले इलाकों में, पल्ला गाँव से ओखला तक एक योजना बनाई।

सीएम अस्पताल में भर्ती, सत्र पर संयश

मेदांता में भर्ती, मानसून सत्र पर संशय के बादल 



राणा ओबरॉय


चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कोरोना से ग्रसित पाए गए हैं जिसके चलते वह मेदांता में भर्ती हैं।हालांकि, पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर अपने आवास पर ही आइसोलेट हो रहे थे।जहां उनके आवास पर ही उनका इलाज चलता लेकिन देर रात अचानक वह गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती हो गए।इस दौरान उनके साथ PPE किट पहने डॉक्टरों की एक टीम मौजूद रही।


इससे पहले वाले टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी…


बतादें कि, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इससे पहले भी अपना टेस्ट करवाया था जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी लेकिन फिर भी उन्होंने अपने आप को अपने आवास पर 3 दिन के लिए आइसोलेट कर लिया था।वहीं, अब जब उन्होंने दोबारा कोरोना टेस्ट करवाया तो उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।


मनोहर लाल ही नहीं हरियाणा के कई नेता कोरोना पॉजिटिव…


हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के पहले व बाद में प्रदेश के कई और नेता भी कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं।


हरियाणा विधानसभा स्पीकर भी कोरोना पॉजिटिव…


पंचकूला से विधायक व हरियाणा विधानसभा के स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता भी कोरोना से पीड़ित पाए गए हैं।वहीं प्रदेश के परिवहन एवं खनन मंत्री मूलचंद शर्मा ने भी अपना कोरोना टेस्ट करवाया है वह भी पॉजिटिव पाए गए हैं।


मानसून सत्र कैसे चलेगा…


26 अगस्त यानि कल बुधवार से हरियाणा विधानसभा में मानसून सत्र की शुरुआत होनी है लेकिन यह प्रदेश के मुखिया समेत कई नेताओं व खासकर स्पीकर की गैरहाजिरी में कैसे चलेगा क्योंकि कोरोना पॉजिटिव तो विधानसभा जाएंगे नहीं और इनमें से दो मेन लोग मुख्यमंत्री मनोहर लाल और विधानसभा स्पीकर शामिल हैं।ऐसे में सत्र को लेकर संशय के बादल पैदा हो गए हैं।                 



वियतनाम हटा पाएगा समुद्र से कब्जा ?

वियतनाम। चीन की हरकतों से परेशान वियतनाम अब भारत से रणनीतिक साझेदारी की पहल कर रहा है। बता दें कि चीन ने दक्षिण चीन सागर को हथियाने के लिए कई देशों की नाक में दम किया हुआ है। वियतनाम भी इनमें से एक है। उसे धमकाते हुए चीन ने अब वहां पर बमवर्षक तैनात कर दिए हैं। इससे तनाव में आए वियतनाम ने भारत से संबंध मजबूत करने में दिलचस्पी दिखाई। जानिए, क्या है दक्षिण चीन सागर का मसला और क्यों वियतनाम भारत से मदद की उम्मीद में है। भारत में मौजूद वियतनाम के राजदूत फैम सन चाउ ने चीन की धमकियों की बात भारतीय विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला को एक कॉल के दौरान बताई। बता दें कि वहां पर चीन ने पार्सल आइलैंड में H-6J बमवर्षक तैनात कर दिए हैं। ये साउथ चाइना सी का वही हिस्सा है, जिसपर विवाद है। वितयनाम का दावा है कि समुद्र का ये द्वीप उसका है। अब चीन न केवल इस द्वीप पर कब्जा करना चाहता है, बल्कि उसका कहना है कि समुद्र का 80 प्रतिशत से ज्यादा भाग उसी का है।          


ट्राईसाइकिल उपलब्ध कराने का प्राविधान

उ0प्र0 शासन द्वारा दिव्यांगजन को निःशुल्क मोटराईज्ड ट्राईसाइकिल उपलब्ध कराने का प्राविधान किया


लखनऊ। उ0प्र0 शासन द्वारा दिव्यांगजन को निःशुल्क मोटराईज्ड ट्राईसाइकिल उपलब्ध कराने का प्राविधान किया इच्छुक दिव्यांगजन निःशुल्क मोटराईज्ड ट्राईसाइकिल हेतु 15 सितम्बर तक आवेदन करें:- प्रणव पाठक हरदोई। जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी प्रणव कुमार पाठक ने अवगत कराया है। कि उ0प्र0 शासन द्वारा ऐसे दिव्यांगजन जो मस्क्यूलर डिस्ट्रोफी, स्ट्रोक, सेरेब्रल पालिसी, हीमोफीलियां आदि से ग्रसित या कोई व्यक्ति उपयुक्त की भांति शारीरिक स्थिति में हो उसकी दृष्टि अचछी हो, मानसिक स्थिति अच्छी हो, कमर के ऊपर का भाग स्वस्थ्य हो, मोटराईज्ड ट्राईसाइकिल पर बैठकर अपने हाथों में उपकरण का संचालन करने में सक्षम हो और मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा 80 प्रतिशत दिव्यांगता प्रमाणित की गयी हो, को निःशुल्क मोटराईज्ड ट्राईसाइकिल उपलब्ध कराने का प्राविधान किया गया है।उन्होने कहा है कि इस योजना के लाभ हेतु उक्त दिव्यांग की आयु 16 वर्ष से अधिक हो और उसके परिवार की वार्षिक आय रू0-1,80,000 से अधिक न हो ऐसे इच्छुक एवं पात्र दिव्यांगजन निवास, जाति, आय प्रमाण पत्र तथा विद्यार्थी वर्ग हाईस्कूल/उच्चतर शिक्षा का शैक्षिक प्रमाण पत्र एवं दिव्यांगता दर्शाता हुआ पासपोर्ट साईज नवीन फोटो के साथ अपना आवेदन पत्र 15 सितम्बर 2020 तक जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी कार्यालय, विकास भवन में जमा करें।             


यूपीः बातचीत के दौरान हुआ बाद- विवाद

पंचायत चुनाव की बातचीत के दौरान हुआ बाद- विबाद, बीडीसी की गोली मारकर हत्या


आजमगढ़। जिले के नवादा बाजार में सोमवार रात साढ़े नौ बजे नवादा के बीडीसी सुरेंद्र यादव (35) की गोली मार कर हत्या कर दी गई। हत्या से गुस्साए एक वर्ग के लोगों ने आक्रोशित होकर बाजार में खड़ी दो बाइक फूंक दी। कुछ के घरों पर पत्थरबाजी भी की है। घटना की सूचना पाकर मौके पर भारी संख्या में पुलिस पहुंच गई। करीब दस दिन पहले तरवां के बांसगांव में प्रधान सत्यमेव जयते की हत्या कर दी गई थी। सोमवार रात नवादा बाजार में रात नौ बजे के आसपास कुछ लोग पंचायत चुनाव को लेकर आपस में बातचीत कर रहे थे। इसी दौरान किसी बात पर बीडीसी सदस्य से झगड़ा हो गया।कई थानों की फोर्स पहुंची, गांव में तनाव दोनों और से पहले पथराव हुआ फिर लाठी-डंडे चले।इस बीच किसी ने बीडीसी सदस्य को गोली मार दी। गोली लगने के बाद घायल बीडीसी सदस्य को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहांँ उसे मृत घोषित कर दिया गया।
घटना को लेकर के गांव में फैले तनाव के मद्देनजर कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है।और मामले की जांच की जा रही है। एसओ अनवर अली ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।             


वेलनेस सेंटर पर भी लगेंगे 'अंतरा इंजेक्शन'

हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर पर भी लगेंगे अंतरा इंजेक्शन


नई दिल्ली। हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर पर भी लगेंगे अंतरा इंजेक्शन। अंतरा व छाया टेबलेट अब महिलाओं की पहली पसंद। महिलाएं केयरलाइन नंबर 1800-103-3044 से करे संपर्क औरैया,  24 अगस्त 2020नवीन गर्भनिरोधक इंजेक्शन अंतरा व  छाया टेबलेट ने कुछ ही समय में महिलाओं के बीच खास जगह बनाई है। अनचाहे गर्भ को रोकने में कारगर इस इंजेक्शन व छाया टेबलेट के लाभार्थी महिलाओं की संख्या भी बढ़ी है। अभी तक इन दोनों साधनों की उपलब्धता प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों तक सीमित थी, लेकिन अब इसका दायरा जनपद के सभी हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर तक बढ़ाया जा रहा है। ताकि ज्यादा से ज्यादा महिलाएं इन दोनों साधनों को अपनाये । लाभार्थी महिलाओं का अंतरा केयरलाइन में पंजीकरण होगा, जहां से समय-समय पर उनकी काउंसिलिंग भी होती रहेगी । 
परिवार नियोजन कार्यक्रम की नोडल अधिकारी डॉ.शशिबाला सिंह ने बताया कि कुल 22 हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों में अंतरा इंजेक्शन व छाया टेबलेट एक्टिवेट करवाने का लक्ष्य शासन की ओर से दिया गया है।जिसमें 6 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व 16 हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर शामिल हैं । अगस्त माह तक कुल 5 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व 9 हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों में अंतरा इंजेक्शन की सुविधा शुरू कर दी गयी है।बाकी में अगले  माह तक शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि ग्रामीण इलाकों की महिलाएं अपने निकटवर्ती सेंटर पर जाकर इंजेक्शन लगवा सकती हैं। इंजेक्शन लगवाने वाली महिलाओं का अंतरा केयरलाइन 1800-103-3044 में पंजीकरण हो जाएगा। जहां से समय-समय पर काउंसिलिंग होती रहेगी। इस टोल फ्री नंबर से महिलाएं बड़ी ही आसानी से अपने हर सवालों के जवाब घर बैठे ही ले सकती हैं। 
तीन  महीने में लगता है एक बार इंजेक्शन
अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भधारण से बचने के लिए तीन  माह में एक बार लगाया जाता है। इसके लगाने से पहले यह जांच जरूरी है कि कहीं महिला पहले से तो गर्भवती नहीं है। चिकित्सकों के मुताबिक अंतरा इंजेक्शन करीब चार  माह तक असर रहता है। इसके लगने से महिला को किसी प्रकार का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता। 
हर शुक्रवार अस्पतालों में मनाया जाता है अंतराल दिवस
परिवार नियोजन कार्यक्रम को अधिक सशक्त व प्रभावी बनाने के लिए जिले के सभी सीएचसी, पीएचसी, उपकेंद्र और जिला अस्पताल में शुक्रवार को अंतराल दिवस मनाया जाता है। अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए सुरक्षित अस्थाई गर्भनिरोधक विकल्पों में से एक है। जब से अंतरा इंजेक्शन लांच हुआ है तब से करीब पाँच हजार के से अधिक डोज़ महिलाओं को दी जा चुकी हैं । वहीँ सात हज़ार से अधिक छाया टेबलेट महिलाओं को दी जा चुकी हैं। इस दिवस के अलावा भी समुदाय के लिए परिवार नियोजन के अस्थायी व स्थाई साधनों को हर दिन उपलब्ध कराये जाने के प्रयास किए जा रहे हैं। अंतराल दिवस पर अस्थाई साधनों की जानकारी व सेवाएं दी जाती हैं लेकिन कोई स्थाई साधन अपनाना चाहता है तो उन्हें वह सेवाएं भी दी जाएंगी।             


भंडाफोड़ करते हुए संचालक किया अरेस्ट

फैक्ट्री में बनाये जा रहे थे घटतौली वाले इलेक्ट्रॉनिक तराजू, एसटीएफ ने तराजू गैंग का किया भंड़ाफोड़, प्रदेश में होती थी सप्लाई


लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) को लखनऊ के कृष्णानगर क्षेत्र से घटतौली करने वाले इलेक्ट्रानिक तराजू बनाने की फैक्ट्री का आज भण्डाफोड़ करते हुए उसके संचालक को गिरफ्तार कर लिया।
एसटीएफ प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 22 अगस्त को लखनऊ और बाराबंकी में एसटीएफ ने इलेक्ट्रानिक तराजू में चिप व रिमोट लगाकर घटतौली करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया था। उनसे घटतौली के लिए प्रोग्राम्ड मदरबोर्ड लगी इलेक्ट्रानिक तराजू, अतिरिक्त चिप, रिमोट व अन्य उपकरण बरामद किये गये थे। जिनके विरूद्ध बाराबंकी के थाना लोनी कटरा पर अभियोग पंजीकृत कराया गया था।
गिरफ्तार आरोपियों से की गयी पूछताछ एवं अभिसूचना संकलन से प्राप्त तथ्यों के सम्बन्ध में एसटीएफ द्वारा भौतिक सत्यापन किया जा रहा था।
उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान जानकारी मिली कि विभिन्न जगहो पर छोटी एवं बड़ी ऐसी फैक्ट्रिया संचालित हैं। जिसमें घटतौली के लिए प्रोग्राम्ड मदरबोर्ड लगाकर इलेक्ट्रानिक तराजू बनाया जाता है।जिसके मदरबोर्ड को इस प्रकार से डिजाईन किया गया है, कि वह एक ही सामान के वजन को उसके सही वजन से अधिक या कम डिस्प्ले पर तराजू मालिक की इच्छा अनुसार प्रदर्शित कर सकती है। तथा केवल एक बटन को दबाने से अथवा रिमोट की सहायता से क्षण भर में उसके सही वजन को भी तत्काल डिस्प्ले कर सकती है।
प्रवक्ता ने बताया कि इस सम्बन्ध में एसटीएफ के पुलिस महानिरीक्षक अमिताभ यश और प्रभारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विशाल विक्रम सिंह ने ऐसी फैक्ट्रियों को चिन्हित कर कार्रवाई करने के लिए एसटीएफ के पुलिस उपाधीक्षक अमित कुमार नागर के नेतृत्व में टीम गठित कर इस विषय में अभिसूचना संकलन कर कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया गया था।
उन्होंने बताया कि आज सूचना मिली कि लखनऊ के कृष्णानगर क्षेत्र में एक इलेक्ट्रानिक तराजू बनाने की फैक्ट्री है, जिसमें अवैध इलेक्ट्रानिक तराजू बनाई जाती है। इस सूचना पर डीएसपी अमित कुमार नागर के नेतृत्व में एसटीएफ की टीम गठित कर लखनऊ के अपर नगर मजिस्ट्रेट-06 को साथ लेकर मुखबिर के बताये गये स्थान पर कृष्णानगर पुलिस को साथ पहुॅचकर देखा गया तो वहाॅ यूनिक नाम की फैक्ट्री चल रही थी, जिसमें भारी मात्रा में निर्मित/अर्धनिर्मित इलेक्ट्रिानिक तराजू और अन्य उपकरण रखे थे। जिसके बारे में पूछा गया तो वहाॅ मौजूद अशफाक अली ने बताया कि वह इस फैक्ट्री का संचालक है। जिसमें घटतौली करने वाला मदरबोर्ड लगाकर अवैध इलेक्ट्रिानिक तराजू बनाये जाते है। जिस पर अशफाक अली को गिरफ्तार कर फैक्ट्री को सील कर दिया गया।
प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी ने बताया कि उसकी फैक्ट्री में घटतौली करने वाला मदरबोर्ड लगाकर इलेक्ट्रानिक तराजू बनाये जाते है, जिसमें अतिरिक्त चिप लगाकर उसे रिमोट के माध्यम से और अधिक छिपाकर संचालित कर घटतौली की जा सकती है। इस इलेक्ट्रानिक तराजू को बनाने के लिए उसके पार्ट को दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, मध्य प्रदेष आदि जगहो से मंगाकर ऐसे इलेक्ट्रानिक तराजू तैयार कराकर उत्तर प्रदेश व अन्य प्रदशों के जनपदों में घटतौली करने वाले लोगो को उनकी मांग पर बेचता हूॅ और उनको घटतौली करने के लिए तराजू को प्रयोग करने का तरीका भी बताता हॅूं। साथ ही यह भी बताया कि प्रदेश के विभिन्न जिलो में घटतौली करने वाले इलेक्ट्रानिक तराजू की मांग होने पर देश के कई जगहो पर इस तरह की छोटी व बड़ी फैक्ट्रिया चल रहीं है। उसके द्वारा दी गयी इस सूचना का भौतिक सत्यापन पूर्व से ही किया जा रहा है।जिसके उपरान्त अग्रिम कार्रवाई की जायेगी।उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपी फैक्ट्री संचालक को बाराबंकी में थाना लोनी कटरा में पंजीकृत मुकदमें में में दाखिल किया गया है, अग्रिम विविध कार्रवाई विवेचक/स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है।           


सरकार में सुरक्षित नहीं 'मंदिर का स्थान'

योगी सरकार में नहीं सुरक्षित है मंदिर का स्थान


लखनऊ। योगी सरकार में नहीं सुरक्षित है मंदिर का स्था हरदोई,तहसील संडीला क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सभा बेहन्दर कला में मंदिर  के स्थान पर नन्हे लाल ग्राम प्रधान पिलखनी दमगड़ा के द्वारा दबंगई दिखाते हुए । अपने रिश्तेदारों का समर्थन करते हुए । मंदिर के जगह पर निकाश के लिए दरवाजा रखने पर आमदा  जबकि वहीं के रहने वाले बुजुर्गों की माने तो लगभग 30-40 वर्ष पहले से भी इधर से कोई निकास नहीं था। इसके बावजूद दबंगई करके जबरदस्ती निकाश लेने पर अमादा है । जबकि सामने उनके निकलने के लिए पहले से ही लगभग 10 फिट से अधिक रास्ता है। और साथ में ऊंची ऊंची पहुंच का रॉब भी दिखा रहे हैं। और प्रधान जी कहते हैं।कि कुछ भी हो जाए हम दरवाजा तो दोनों तरफ ही रखेंगे हमारा कौन क्या कर लेगा। दावा योगी सरकार में नहीं सुरक्षित मंदिर की जगह।जबकि यह जमीन मंदिर के नाम पर संडीला तहसील से समुचित तौर पर 20 से 25 वर्ष पूर्व महंत श्री श्री 108 दिगंबर सत्यजीत गिरी महाराज के नाम पर दाखिल खारिज है। जिसके संरक्षक देवी शरण जी है। और इसका भव्य निर्माण प्रारंभ हो चुका है।और नवरात्रि में मूर्ति स्थापना का भी कार्य होगा महंत जी के सानिध्य में मूर्ति का विनोद पूर्वक नव निर्माण कार्य होने वाला है। पिलखनी दमगड़ा के ग्राम प्रधान नन्हे लाल  को  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा बनाया गया नियम एंटी भू माफिया का भी डर नहीं है।जिस प्रकार से हुए मंदिर की भूमि पर गेट रखने पर आमादा है।               


आकाशीय बिजली से 3 की मौत, 3 झुलसे

आकाशीय बिजली गिरने से तीन लोगों की मौत तीन गंभीर रूप से झुलसे


जगतपुर/रायबरेली। कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत गोठिया गांव के पास रविवार दोपहर के बाद आकाशीय बिजली गिरने से एक किशोरी व दो महिलाओं की मौत हो गई, जबकि तीन लोग गंभीर रूप से झुलस गए, यह घटना उस समय हुई जब सभी लोग घर से जानवर चराने के लिए गए थे। बारिश में भीगने के डर से सभी लोग महुआ के पेड़ के नीचे आकर खड़े हो गए थे।


आपको बताते चलें कि गोठिया गांव के किनारे महुआ के बाग में रविवार दोपहर बाद गांव के महिलाएं और बच्चे जानवर चरा रहे थे। इसी दौरान अचानक बारिश होने लगी। बरसात से बचने के लिए सभी लोग महुआ के पेड़ के नीचे जाकर खड़े हो गए। अचानक तेज बारिश के साथ आकाशी बिजली पेड़ पर गिर गई। बिजली गिरने से पेड़ की एक डाल टूट कर गिर गई, जिससे पेड़ के नीचे खड़े सभी लोग दब गए। घटना की सूचना मिलने पर ग्रामीणों ने सभी को बाहर निकाला तब तक अंजली (20) पुत्री अमृतलाल दीपांशी (16) पुत्री शिवकुमार कमला (55) पत्नी श्यामलाल की मौके पर ही मौत हो गई। वही गांव की रहने वाली कुमकुम (20) पुत्री शमशेर पाल रामपति (50) पत्नी रामेश्वर गोलू (16) पुत्र रामप्रकाश, गंभीर रूप से झुलस गए। ग्राम प्रधान पारसनाथ बाजपेई की सूचना पर राजस्व टीम और सूची चौकी प्रभारी देवेंद्र कुमार अवस्थी मौके पर पहुंचे। चौकी प्रभारी ने झुलसे लोगों को सीएचसी के बाद जिला अस्पताल पहुंचाया। जगतपुर कोतवाली पुलिस टीम के अलावा सलोन कोतवाल पंकज त्रिपाठी ने भी मौके पर पहुंच कर घटना स्थल की जांच की पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई ने बताया है कि बिजली गिरने से किशोरी समेत तीन लोगों की मौत हुई है। घटना की जानकारी पर उपजिलाधिकारी आशीष सिंह और तहसीलदार राम कुमार शुक्ला भी मौके पर पहुंचे। एसडीएम ने बताया है कि मृतक परिवारों को दैवी आपदा राहत कोष के तहत चार-चार लाख रुपए तथा घायलों को बारह -बारह हजार रुपए की सरकारी मदद दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने जताया शोक चार चार लाख राहत राशि देने के दिए निर्देश।


 दीपक कुमार                        


पंजीकरण- क्वारंटाइन पर केंद्र से परामर्श

देहरादून। उत्तराखंड में अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्तियों के पंजीकरण और क्वारंटाइन की व्यवस्था बहाल रखी जाए या नहीं, इस बारे में राज्य सरकार ने केंद्र से परामर्श लेने का निर्णय किया है। परामर्श मिलने के बाद प्रदेश में प्रतिदिन 2000 लोगों को प्रवेश की अनुमति देने की व्यवस्था बदलने पर विचार होगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य की परिस्थितियों को ध्यान में रखकर सरकार फैसले लेगी। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने बीते शनिवार सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र भेजकर अंतरराज्यीय और राज्य के भीतर व्यक्तियों और वाहनों की आवाजाही पर किसी भी तरह की पाबंदी लगाने पर आपत्ति जताई थी। साथ ही आवाजाही के लिए राज्य सरकार या जिला प्रशासन से किसी भी तरह की अनुमति या ई-परमिट की जरूरत से इन्कार किया गया था। सोमवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि केंद्रीय गृह सचिव के पत्र पर सरकार विचार कर रही है। इस बारे में जल्द फैसला लिया जाएगा।  सचिवालय में सोमवार शाम मुख्य सचिव ओमप्रकाश की अध्यक्षता में आपदा प्रबंधन और स्वास्थ्य विभाग की बैठक हुई। इस मौके पर केंद्रीय गृह सचिव के निर्देशों के बारे में चर्चा की गई। बैठक में बताया गया कि वर्तमान में राज्य में बाहर से आने वाले सभी व्यक्तियों के लिए पंजीकरण कराना अनिवार्य है। ऐसे व्यक्तियों को क्वारंटाइन करने के लिए संस्थागत या होम आइसोलेशन की व्यवस्था लागू है। 
मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य में मौजूदा व्यवस्था केंद्र की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार लागू की गई। इसमें संशोधन से पहले केंद्र सरकार को पत्र भेजकर बाहर से राज्य में आने वाले व्यक्तियों के बारे में परामर्श मांगा जाएगा। तब तक वर्तमान व्यवस्था लागू रहेगी। बैठक में स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी व आपदा प्रबंधन प्रभारी सचिव एसए मुरुगेशन मौजूद रहे।             


देश में लॉकडाउन, अनलॉक-4 होगा लागू

नई दिल्ली। केंद्र सरकार अगले महीने से अनलॉक 4.0 लागू करने जा रही है। इसके लिए विस्तृत गाइडलाइंस जल्द आ सकती है। सूत्रों की मानें तो सरकार 1 सितंबर से कई गतिविधियों पर से प्रतिबंध उठाने का ऐलान कर सकती है, हालांकि किस राज्य और केंद्रशासित प्रदेश में अनलॉक 4.0 के कितने प्रावधान लागू होंगे, यह उन राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की ताजा हालात पर निर्भर करेगा। 
इनके खुलने का मिलने लगा संकेत 
केंद्र सरकार को अब तक लोकल ट्रेनें, मेट्रो ट्रेन सर्विस, सिंगल थिएटर सिनेमा हॉल, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल समेत ऐसी ही कुछ अन्य जगहों को खोलने पर अलग-अलग तरह की राय दी गई है। इन सुझावों के आधार पर केंद्र सरकार अनलॉक 4.0 के तहत सितंबर के पहले हफ्ते से लोकल ट्रेनों और मेट्रो ट्रेन सर्विस खोलने पर विचार कर रही है। संभव है कि सरकार सिंगल स्क्रीन सिनेमा हॉलों को भी खोलने की अनुमति दे दे। हालांकि, इसके लिए कड़ी शर्तें रखी जाएंगी। इसी तरह, सरकार ऑडोटोरियम, हॉल आदि को भी खोलने की अनुमति दे सकती है। इन्हें सोशल डिस्टैंसिंग, थर्मल स्क्रीनिंग, टेंपरेचर चेक, क्षमता से कम भीड़ जुटाने जैसी शर्तें रखी जानी तय है।           


'जनता' से जुड़ने के लिए मैसेज किया जारी

हल्द्वानी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तराखंड की जनता से जुड़ने के लिए एक मिनट का ऑडियो मैसेज जारी किया है। इसमें वह आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद दिल्ली में सुधरी स्वास्थ्य, शिक्षा व सड़कों की स्थिति की जानकारी देने के साथ ही बेहतर उत्तराखंड बनाने का आह्वान कर रहे हैं। सोमवार को कालाढूंगी रोड स्थित खंडेलवाल भवन में आप कार्यकर्ताओं ने इस ऑडियो के बारे में बताया।
आप के संगठन मंत्री बीएस कोटलिया ने कहा कि वर्तमान दौर में वोट देने के बाद भी आम आदमी को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जीतने के बाद नेताओं, मंत्रियों और विधायकों जनता से कोई सरोकार नहीं रहता। आम लोगों को स्थानीय विधायक से मिलना तक नहीं हो पाता। ऐसे में अरविंद केजरीवाल ने एक ऑडियो संदेश के जरिए उत्तराखंड के जनमानस से जुड़ने का प्रयास किया है। एक मिनट का ऑडियो मैसेज फोन के जरिए जन-जन तक पहुंच रहा है।
इसमें मुख्यमंत्री केजरीवाल कोराना को लेकर हाल-चाल पूछने के बाद दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार आने के बाद स्वास्थ्य, शिक्षा व सड़कों में आए बदलाव के बारे में बता रहे हैं। दिल्ली में बिजली व पानी फ्री मिलने से लोग खुश हैं और 24 घंटे बिजली रहती है। इस संदेश के जरिए मुख्यमंत्री केजरीवाल कहते हैं कि उत्तराखंड में भी जनता को बिजली व पानी फ्री मिल सकता है और बेहतर सड़कें बन सकती है। इसके साथ ही दिल्ली की दर्ज पर उत्तराखंड में भी स्वास्थ्य और शिक्षा बेहतर किया जा सकता है।
             


यूपीः हड़ताल पर रहेंगे 'हाईकोर्ट के वकील'

लखनऊ। इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ के वकील आज से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे। वकीलों की मांग है कि वर्चुअल बहस की व्यवस्था को समाप्त किया जाना चाहिए और पहले की तरह फिजिकल बहस की व्यवस्था को शुरू किया जाना चाहिए। खराब वीडियो क्वालिटी और कनेक्टिविटी के चलते वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सही सुनवाई नहीं हो पाती है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से अधिवक्ता संतुष्ट नहीं हैं।


उनका कहना है कि जब तक अदालतों में वकीलों को बहस करने और व्यक्तिगत तौर पर मुकदमों को दाखिल करने की इजाजत नहीं मिलती, तब तक हड़ताल जारी रहेगी। वकीलों के समर्थन में अवध बार एसोसिएशन लखनऊ ने तीन पन्नों का पत्र भी जारी किया है। पत्र में हड़ताल पर जाने का ऐलान करते हुए लिखा गया है कि जब तक व्यवस्था नहीं सुधरती तब तक अधिवक्ता हड़ताल पर रहेंगे।             


आंध्र प्रदेश में संक्रमित संख्या-1000 हुई

रायपुर। छत्तीसगढ़ में दूसरी बार कोरोना का आंकड़ा एक ही दिन में 1000 से पार पहुंच गया है। छत्तीसगढ़ में आज एक ही दिन में 1077 मरीज मिले है। इन आंकड़ों के साथ अब छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 22054 पहुंच गया है। वहीं अस्पताल में एक्टिव केस 8424 पहुंच गया है। छत्तीसगढ़ में आज 493 मरीज डिस्चार्ज किये गए है।। वहीं 24 घंटे में 9 लोगों की मौत हुई है। प्रदेश में अब कुल मौत का आंकड़ा 206 हो गया है।


जिलों की बात करें तो रायपुर में 298, रायगढ़ में 131, दुर्ग में 137, राजनांदगांव में 59, बस्तर में 37, जांजगीर में 33, सुकमा में 28, कोंडगांव में 24, बिलासपुर में 34, बीजापुर में 85, सूरजपुर में 20, मुंगेली में 19, महासमुंद में 17, बालोद में 13, धमतरी में 13, सरगुजा में 11, नारायणपुर में 11, बलौदाबाजार में 12, कांकेर में 34, कबीरधाम में 8, कोरबा में 8, गरियाबंद में 6, दंतेवाड़ा में 4, बलरामपुर में 3, कोरिया में 2 मरीज मिले हैं।           


एमपी: कोरोना संक्रमितों की संख्या-10068

भोपाल। पूर्व डीजीपी और मध्यप्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय रेगुलेटरी कमीशन के मेंबर ऑफिसा स्वराज पुरी सहित 129 नए कोविड पॉजिटिव मरीज सोमवार को मिले हैं। इससे राजधानी में को लाभांश पॉजिटिव रोगियों की संख्या 9939 से बढ़कर 10068 हो गई है।


वहीं राजाभोज टर्मिनल पर एअर इंडिया के इंचार्ज इंजन मैनेजर श्याम टेकम की पत्नी नीरा टेकाम की कोविड से मौत हो गई है। वे कोविड डेडिकेटिड चिरायु अस्पताल में भर्ती थे। इससे भोपाल में कोरोना से मरने वालों की संख्या 274 हो गई है। स्वास्थ्य संचालनालय के अफसरों ने बताया कि सोमवार को भोपाल में कोरोना के 129 नए मरीज मिले हैं। नए पॉजिटिव रोगियों में मंत्री गोपाल भार्गव के स्टाफ का एक कर्मचारी शामिल है। उन्होंने मंत्री भार्गव की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जांच के लिए सुआब का नमूना रविवार को दिया था।             


भूषण को 'सुप्रीम कोर्ट' सजा सुनाएगी

नई दिल्ली।  देश के दिग्गज वकील प्रशांत भूषण ने न्याय पालिका के प्रति अपमानजनक दो ट्वीट के लिए सुप्रीम कोर्ट से माफी मांगने से इनकार कर दिया है। उसके बाद अब सुप्रीम कोर्ट उन्हें आज सजा का ऐलान करेगा।

प्रशांत भूषण ने अपने बयान में सुप्रीम कोर्ट से माफी मांगने से इंकार करते हुए कहा कि उन्होंने अपने विचारों को व्यक्त किया है जिन पर वह हमेशा विश्वास करते हैं। उन्हें माफी मांगने के लिए 24 अगस्त तक का समय दिया गया था। जिसका मियाद कल पूरी तरह से हो गया है। अब माना जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट आज उनकी सजा का ऐलान कर देगा। प्रशांत भूषण दो ट्वीट के लिए अवमानना ​​के दोषी ठहराए गए हैं।

प्रशांत भूषण ने अवमानना ​​के मामले में अपना बयान दर्ज करते हुए कहा कि पाखंडपूर्ण क्षमा याचना मेरी अंतरात्मा और एक संस्थान के अपमान के समान होगी। भूषण ने कहा कि अदालत के जिम्मेदार व्यक्ति के रूप में मेरा मानना ​​है कि जब भी मुझे लगता है कि यह संस्था अपने स्वर्णिम रिकॉर्ड से भटक रही है तो इस बारे में आवाज उठाना मेरा कर्तव्य है। इसलिए, मैंने अपने विचार अच्छी भावना में व्यक्त किए, न कि सुप्रीम कोर्ट या किसी प्रधान न्यायाधीश विशेष को बदनाम करने के लिए किए गए हैं।           

अपराध: पैसे के लेनदेन को लेकर सलमान की हत्या की

अतुल त्यागी                 हापुड़। जनपद के कोतवाली क्षेत्र चितोली रोड़ पर आज उस समय सनसनी फैल गई। जब सूचना मिली, कि एक युवक की लाश यहां पड़ी...