शुक्रवार, 17 फ़रवरी 2023

अडाणी समूह से जुड़े मामलें पर ‘चुप्पी’ तोड़नी चाहिए

अडाणी समूह से जुड़े मामलें पर ‘चुप्पी’ तोड़नी चाहिए

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस ने अडाणी समूह से जुड़े मामलें को लेकर शुक्रवार को केंद्र सरकार पर एक बार फिर प्रहार किया और कहा कि इस प्रकरण में सच सामने लाने के लिए संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) का गठन जरूरी है। मुख्य विपक्षी दल ने यह भी कहा कि इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपनी ‘चुप्पी’ तोड़नी चाहिए। कांग्रेस ने इस विषय पर शुक्रवार को देश के 22 शहरों में संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया। पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट कर कहा कि ‘हम अडाणी के हैं कौन’ श्रृंखला में आज कांग्रेस प्रवक्ताओं ने देश के 22 शहरों में प्रेस वार्ता करके प्रधानमंत्री की चुप्पी पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री, आपको अपने मित्र पूंजीपतियों पर चुप्पी तोड़नी ही होगी।’’

रमेश ने अमेरिकी अरबपति जॉर्ज सोरोस के एक बयान की पृष्ठभूमि में यह भी कहा कि नेहरूवादी विरासत यह सुनिश्चित करती है कि सोरोस जैसे लोग भारतीय चुनावों के परिणाम तय नहीं कर सकते। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री से जुड़ा अडाणी घोटाला भारत में लोकतांत्रिक पुनरुत्थान शुरू करता है या नहीं, यह पूरी तरह कांग्रेस, विपक्ष व हमारी चुनाव प्रक्रिया पर निर्भर है। इसका जॉर्ज सोरोस से कोई लेना-देना नहीं है।’’

रमेश ने इस बात पर जोर दिया, ‘‘हमारी नेहरूवादी विरासत सुनिश्चित करती है कि उन जैसे लोग हमारे चुनाव परिणाम तय नहीं कर सकते।’’ उल्लेखनीय है कि सोरोस ने कहा है कि भारतीय व्यवसायी गौतम अडाणी के कारोबारी साम्राज्य में उथल-पुथल ने निवेश के अवसर के रूप में भारत में विश्वास को हिला दिया है और यह भारत में ‘‘लोकतांत्रिक पुनरुद्धार’’ के द्वार खोल सकता है।

कांग्रेस के नेताओं ने देश के अलग-अलग शहरों में संवाददाताओं से बातचीत कर सरकार पर प्रहार किया। पार्टी के वरिष्ठ नेता अजय माकन ने अहमदाबाद में कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार अडाणी-हिंडनबर्ग विवाद की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) गठित करने से क्यों ‘‘डर’’ रही है? माकन ने जोर देकर कहा कि हवाई अड्डे और बंदरगाहों जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों को एक कंपनी को सौंपने का मुद्दा देश की राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा विषय है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने जयपुर में संवाददाताओं से बातचीत में अडाणी समूह के शेयरों में आई भारी गिरावट पर चुप्पी के लिए केंद्र और जांच एजेंसियों पर निशाना साधा। वल्लभ ने कहा "कांग्रेस ने अडाणी समूह के मामलों पर संसद में सवाल पूछे। इसे सदन की कार्यवाही से हटा दिया गया। अडाणी समूह को विदेशी शेल कंपनियों से प्राप्त काले धन का मालिक कौन है। मोदी जी जेपीसी रखने से क्यों डर रहे हैं।

आप किसे बचाना चाहते हैं?" कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने मुंबई में कहा कि अरबपति कारोबारी गौतम अडाणी की कंपनियों पर लगे धोखाधड़ी और शेयरों की कीमत में हेराफेरी के आरोपों की जांच के लिए जेपीसी का गठन किया जाना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीत केंद्र सरकार मामले से जुड़े तथ्यों को नागरिकों से छिपाना चाहती है। उल्लेखनीय है कि अमेरिका से परिचालित हिंडनबर्ग रिसर्च के आरोपों के बाद अडाणी समूह की कंपनियों के शेयरों में भारी गिरावट दर्ज की गई है। हालांकि, अडाणी समूह ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि वह कानून का अनुपालन करता है और जानकारी देने संबंधी शर्तों का अनुपालन करता है।

मृतक के परिवारजनों को सुरक्षा मुहैया कराई जाएं

मृतक के परिवारजनों को सुरक्षा मुहैया कराई जाएं


मृतक साजिद सैफी के परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी, पचास लाख रुपए आर्थिक मदद परिवारजनों को सुरक्षा मुहैया कराई जाए:- गादरे

सत्येंद्र पंवार 

मेरठ। मृतक साजिद सैफी के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी, पचास लाख रुपए आर्थिक मदद और परिवारजनों को सुरक्षा मुहैया कराई जाएं। ज्ञात रहे, उत्तर प्रदेश के मेरठ साजिद सैफी हत्याकांड को लेकर बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं मेरठ दक्षिण विधान सभा पूर्व प्रत्याशी राजुद्दीन गादरे ने जिलाधिकारी मेरठ को एक ज्ञापन मुख्यमंत्री और प्रतिलिपि:-1. माननीय श्री अशफाक सैफी जी अध्यक्ष अल्पसंख्यक आयोग उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ।

2. प्रमुख सचिव गृह उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ।

3. पुलिस महानिदेशक डीजीपी उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ। को बहुजन मुक्ति पार्टी पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं के साथ सोंपा।

जिसमें विगत 10 फरवरी 2023 को R S मेडिकल स्टोर संचालक एवं अति पिछड़ा वर्ग से संबंधित साजिद सैफी थाना लिसाड़ी गेट, मेरठ, उत्तर प्रदेश की फुरकान और रिजवान नाम के दो सगे भाइयों ने अपने साथियों मोहम्मद शोएब आदि के साथ साजिश करके और ताबडतोड गोलियों बरसाकर बेरहमी से हत्या कर दी थी। 

ज्ञापन में कहा कि मृतक के परिवार के अनुसार साजिद सैफी ने हमलावरों को  मोटी रकम उधार के रूप में दी हुई थी और मृतक साजिद सैफी फुरकान और रिजवान से अपनी उधार दी हुई रकम वापस मांग रहा था जिसपर फुरकान और रिजवान दोनो भाईयो ने अपने साथियों मोहम्मद शोएब आदि के साथ साजिश रचकर साजिद सैफी की ताबड़तौड गोलियां बरसाकर बेरहमी से हत्या  कर दी। 

मृृतक साजिद सैफी एक उच्च शिक्षित व्यक्ति था जो बी काम, बी फार्मा, एम आर था और आर एस मैडिकल स्टोर चलाता था। साजिद सैफी अपने परिवार का एकमात्र सहारा था और पूरे परिवार के पालन पोषण की जिम्मेदारी उसके ऊपर थी। मृतक के परिवार में दो बहने एक भाई है जोकि अविवाहित हैं। 

हत्यारे कानून को न मानने वाले गुंडे प्रवृति के लोग साबित हुए है। इससे मृतक साजिद सैफी का परिवार दहशत के साए में जी रहा है। ज्ञापन में अनुरोध किया, कि इस प्रकरण में मृतक के परिवार को तत्काल सुरक्षा मुहैया कराने के साथ साथ मृतक के परिवार को कम से कम पचास लाख रुपए की आर्थिक सहायता सरकार की ओर से दी जाए और सरकार मृतक के परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे। ताकि ये परिवार अपना पालन पोषण कर सके और परिवार को आर्थिक संकट का सामना ना करना पड़े। बहुजन मुक्ति पार्टी ऐसी उम्मीद करती है कि आप इस संबंध में सकारात्मक कार्रवाई करेंगे।

ज्ञापन देने में हाजी अतीक, एड राहुल कुमार, एड साहिद, खुर्शीद आलम, फारूक अन्सारी, महताब, मोहम्मद अली, फिरोज, लोकेश, रविंद्र बौध, एड रियायत अली, नवाबुद्दीन एड जितेंद्र कुमार आदि मौजूद रहे।

बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री को 'प्रॉपेगंडा' वीडियो करार दिया 

बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री को 'प्रॉपेगंडा' वीडियो करार दिया 

अकांशु उपाध्याय/सुनील श्रीवास्तव 

नई दिल्ली/लंदन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर डॉक्यूमेंट्री वीडियो बनाने वाली बीबीसी के ऊपर ब्रिटिश सांसद ने सवालिया निशान उठाते हुए बीबीसी की इस डॉक्यूमेंट्री को प्रॉपेगंडा वीडियो करार दिया है। शुक्रवार को अपनी बेबाकी का दावा करने वाली खबर एजेंसी बीबीसी की ओर से भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर बनाई गई डॉक्यूमेंट्री पर बड़े सवाल उठाते हुए ब्रिटिश सांसद वह ब्लैकमैन ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने बीबीसी की इस डॉक्यूमेंट्री को प्रॉपर गंडा वीडियो करार देते हुए इसे भद्दी पत्रकारिता बताया है। 

उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर बनाई गई इस डॉक्यूमेंट्री को रिलीज ही नहीं होना चाहिए था। इस डॉक्यूमेंट्री में इस बात को ही नजरअंदाज किया गया है कि वर्ष 2002 में हुए गुजरात दंगों के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ दावों की खुद सुप्रीम कोर्ट द्वारा जांच की जा चुकी है और सुप्रीम कोर्ट ने उनके ऊपर लगे आरोपों को गलत पाया है। ब्रिटिश सांसद ब्लैकमैन ने बीबीसी के भारत की राजधानी दिल्ली और आर्थिक राजधानी मुंबई में हुए आयकर के छापों को लेकर भी बेबाकी से अपनी बात कही है। उन्होंने कहा है कि आयकर विभाग या अन्य एजेंसियों के छापे कोई नई बात नहीं है। पहले भी ऐसा हो चुका है।

12 वर्षीय लड़की के साथ कई बार बलात्कार, गिरफ्तार 

12 वर्षीय लड़की के साथ कई बार बलात्कार, गिरफ्तार 

इकबाल अंसारी 

दिसपुर/गुवाहाटी। गुवाहाटी के बमुनीमैदान इलाके में तीन महीने के दौरान 12 साल की एक लड़की के साथ कई बार बलात्कार करने के आरोप में असम पुलिस ने शुक्रवार को एक 25 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट के अनुसार, इलाके में मछली विक्रेता का काम करने वाले आरोपी की पहचान बाबुल अहमद के रूप में हुई है। पीड़िता की मां के काम पर चले जाने के बाद जब लड़की अकेली थी तब आरोपी ने कथित तौर पर उसके साथ बलात्कार किया था। घटना की जानकारी होने पर पीड़िता की मां ने चांदमारी पुलिस को सूचना दी।

प्राथमिकी दर्ज होने के बाद आरोपी बारपेटा भाग गया। अहमद कथित तौर पर पीड़िता के घर में किराएदार के रूप में रहता था। हालांकि, अपराधी को बारपेटा जिले के बाघबार महरीपम गांव में हिरासत में ले लिया गया।

'डिज्नी प्लस हॉटस्टार' की सर्विस डाउन, शिकायत 

'डिज्नी प्लस हॉटस्टार' की सर्विस डाउन, शिकायत 

इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/सिडनी। भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट की स्ट्रीमिंग के बीच शुक्रवार को कई लोगों ने ओटीटी प्लैटफॉर्म डिज़्नी प्लस हॉटस्टार की सर्विस डाउन होने की शिकायत की। इसे लेकर हॉटस्टार ने ट्वीट किया, हम ऐप और वेब पर कुछ अप्रत्याशित तकनीकी गड़बड़ी का समाना कर रहे हैं। इसे जल्द-से-जल्द सुलझाने के लिए हमारी टीम इस पर काम कर रही है...असुविधा के लिए खेद है।

टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा टेस्ट मैच जारी है। इसका लाइव प्रसारण Disney+ Hotstar पर हो रहा है और अचानक से ओटीटी प्लेटफॉर्म डाउन हो गया है। डिज्नी प्लस हॉटस्टार के डाउन होने की वजह अभी तक सामने नहीं आई है, लेकिन कई यूजर्स ट्विटर और दूसरे प्लेटफॉर्म्स पर इसकी शिकायत कर रहे हैं।

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर यूजर्स Disney+ Hotstar का यूज न कर पाने की शिकायत कर रहे हैं। ट्विटर पर यूजर्स अपनी नाराजगी दिखाते हुए ऐप के स्क्रीनशॉट भी शेयर कर रहे हैं। ट्विटर पर #Hotstar ट्रेंड भी हो रहा है। Disney+ Hotstar को लेकर शुरू हुई दिक्कत को 1 घंटे से ज्यादा का वक्त गुजर चुका है ऐसे में मीम्स बनाने वाले भी एक्टिव मोड में आ गए हैं। Disney+ Hotstar के डाउन होने के बाद मानों ट्विटर पर तो मीम्स की बाढ़ ही आ गई है। लोग इतने फनी मीम्स शेयर कर रहे हैं कि इन्हें देखकर आप भी लोट-पोट हो जाएंगे।

किसानों को लुभाने के लिए कई घोषणाएं: सीएम 

किसानों को लुभाने के लिए कई घोषणाएं: सीएम 

इकबाल अंसारी 

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शुक्रवार को राज्य सरकार का बजट पेश करते हुए चुनावी साल में किसानों को लुभाने के लिए कई घोषणाएं कीं। उन्होंने किसानों को दिए जाने वाले ब्याज मुक्त अल्पकालिक ऋण की सीमा तीन लाख रुपये से बढ़ाकर पांच लाख रुपये करने की घोषणा की। यह वृद्धि अगले वित्त वर्ष से लागू होगी। बोम्मई के पास वित्त विभाग भी है।

उन्होंने राज्य विधानसभा में 2023-24 का बजट पेश करते हुए कहा कि इसमें कृषि से संबंधित गतिविधियों के लिए परेशानी मुक्त और आवश्यकता-आधारित ऋण सुविधा का प्रावधान किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा, ''इस साल 30 लाख से ज्यादा किसानों को 25,000 करोड़ रुपये का कर्ज बांटा जाएगा।''

बोम्मई ने कहा कि सरकार ने 'किसान क्रेडिट कार्ड' धारकों को एक नई योजना 'भू श्री' के तहत वर्ष 2023-24 में 10,000 रुपये की अतिरिक्त सब्सिडी देने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि इससे किसानों को जरूरत के समय बीज, खाद, कीटनाशक और अन्य कृषि सामग्री खरीदने में सुविधा होगी। बोम्मई ने कहा कि इसके लिए राज्य सरकार 2,500 रुपये का योगदान देगी और नाबार्ड (राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक) 7,500 रुपये देगा। उन्होंने कहा, ''इससे राज्य के करीब 50 लाख किसानों को लाभ होगा।'' कर्नाटक में विधानसभा चुनाव इस साल अप्रैल-मई में होने की उम्मीद है।

मुख्यमंत्री ने बजट में 'श्रम शक्ति' योजना की भी घोषणा की है, जिसके तहत भूमिहीन महिला खेतिहर मजदूरों को प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) के जरिए हर महीने 500 रुपये प्रति व्यक्ति की वित्तीय सहायता दी जाएगी। बोम्मई ने कहा कि राज्य में कोविड महामारी के बाद पहली बार राजस्व प्राप्तियों का अनुमान राजस्व व्यय से 402 करोड़ रुपये अधिक रहने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि यह ''राजस्व-अधिशेष'' बजट है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रामनगर जिले के रामदेवरा बेट्टा में भगवान राम को समर्पित एक 'भव्य' मंदिर बनाया जाएगा। उन्होंने 'सीएम विद्या शक्ति योजना' के तहत सरकारी माध्यमिक विद्यालयों और सरकारी डिग्री कॉलेजों में मुफ्त शिक्षा की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इससे राज्य के आठ लाख विद्यार्थियों को लाभ होगा। सरकार ने डेटा सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 590 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ क्लाउड-आधारित डेटा केंद्र स्थापित करने का प्रस्ताव दिया है।

18 को धार्मिक समारोह में शामिल होगी 'राष्ट्रपति'

18 को धार्मिक समारोह में शामिल होगी 'राष्ट्रपति'

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/चेन्नई/कोयंबटूर। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 18 फरवरी को महाशिवरात्रि के अवसर पर कोयंबटूर शहर के ईशा योग केंद्र में आयोजित धार्मिक समारोह में शामिल होगीं। राष्ट्रपति का पद ग्रहण करने के बाद यह उनकी पहली तमिलनाडु यात्रा होगी। ईशा योग केंद्र में आयोजित होने वाले इस भव्य समारोह में राष्ट्रपति की भागीदारी के लिए सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं।

यह उत्सव सद्गुरु जग्गी वासुदेव की उपस्थिति में 18 फरवरी की शाम छह बजे से शुरू होकर अगली सुबह छह बजे तक चलेगा। ईशा महाशिवरात्रि का सीधा प्रसारण 16 भाषाओं में होगा जिसे अंग्रेजी, तमिल, हिंदी, तेलुगु, कन्नड़, मराठी एवं अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में देश के सभी प्रमुख टेलीविजन नेटवर्क पर प्रसारित किया जाएगा।

हजारों लोग सीधा प्रसारण कार्यक्रम के माध्यम से धार्मिक आयोजन में जुड़ेंगे और लाखों लोग ध्यान में हिस्सा लेंगे जो महाशिवरात्रि के अवसर पर 112 फीट के आदियोगी की मुर्ति के सामने अद्वितीय संगीत, नृत्य और सांस्कृतिक प्रदर्शन का आनंद लेंगे। महाशिवरात्रि का महत्व बताते हुए, श्री सद्गुरु ने कहा, “महाशिवरात्रि वह रात है जो धर्म, विश्वास, जाति या राष्ट्र नहीं बल्कि इस दिन ग्रहों की स्थिति मानवीय प्रणाली के प्राकृतिक ऊर्जा में वृद्धि करती है। यह सार्वभौमिक प्रभाव के साथ एक ब्रह्मांडीय घटना है, जिसकी अनुभूति जागृत अवस्था में प्राप्त करें।”

ईशा महाशिवरात्रि ध्यानलिंग में पंच भूत क्रिया के साथ लिंग भैरवी महायात्रा के साथ शुरू होगी और सद्गुरु का प्रवचन, आधी रात का ध्यान और आदियोगी दिव्य दर्शन, एक 3 डी प्रोजेक्शन वीडियो इमेजिंग शो के साथ आगे बढ़ेगी। इस वर्ष इस कार्यक्रम में देश के विभिन्न हिस्सों के प्रसिद्ध कलाकार अपनी प्रस्तुति देंगे, जैसे राजस्थानी लोक गायक मामे खान, पुरस्कार विजेता सितार वादक नीलाद्री कुमार, टॉलीवुड गायक राम मिरियाला, तमिल पार्श्व गायक वेलमुरुगन, मंगली, कुटले खान, बंगाली लोक गायिका अनन्या चक्रवर्ती आदि।

कर्नाटक जनपद और तेय्यम मंडली भी नृत्य और संगीत द्वारा अपनी लोक संस्कृति का प्रदर्शन करेंगी। ईशा फाउंडेशन के स्वदेशी ब्रांड- साउंड्स ऑफ ईशा अपना बहुप्रतीक्षित प्रदर्शन करेंगे और ईशा संस्कृति द्वारा नृत्य प्रदर्शन रात की आभा में और निखार लाएगा।

भाजपा की इकाई ने 2,440 केंद्रों की पहचान की

भाजपा की इकाई ने 2,440 केंद्रों की पहचान की

श्रीराम मौर्य 

शिमला। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हिमाचल प्रदेश इकाई ने शुक्रवार को कहा कि इसने उन 2,440 मतदान केंद्रों की पहचान की है, जहां वह कमजोर है और 2024 के आम चुनाव से पहले इन क्षेत्रों में खुद को मजबूत करने पर काम कर रही है। भाजपा प्रवक्ता करण नंदा ने बताया कि पिछले तीन लोकसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन के आधार पर राज्य के कुल 7,883 मतदान केंद्रों में से ''कमजोर मतदान केंद्रों’’ को चिह्नित किया गया। उन्होंने कहा कि लोकसभा सांसद इन मतदान केंद्रों का दौरा करेंगे और अगले साल होने वाले चुनावों में पार्टी की संभावनाओं को बेहतर बनाने के लिए घर-घर जाएंगे।

नंदा ने कहा कि जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को केंद्र सरकार के कार्यक्रमों और योजनाओं के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए कहा गया है। भाजपा नेता ने कहा कि पार्टी ने शिमला, कांगड़ा, मंडी और हमीरपुर के चार संसदीय क्षेत्रों में से प्रत्येक में 100 बूथ और राज्य के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में 30 मतदान केंद्रों की पहचान की है।

उन्होंने कहा कि बूथ स्तर पर कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है और बूथ स्तर पर कार्यक्रमों की आवृत्ति बढ़ाई जाएगी। नंदा ने कहा कि इन कमजोर मतदान केंद्रों पर पार्टी को मजबूत करने के लिए अन्य मतदान केंद्रों और मंडलों से अतिरिक्त कार्यकर्ताओं की नियुक्ति की जाएगी। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को 69.11 फीसदी वोट मिले थे और इसने चारों सीट पर जीत हासिल की थी।

कांग्रेस को 27.30 फीसदी वोट मिले थे। हालांकि, 2021 में मौजूदा सांसद रामस्वरूप शर्मा के निधन के बाद मंडी लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा हार गई थी। भाजपा 2022 में हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव हार गई और इस चुनाव में कांग्रेस को 40 सीट मिलीं। भाजपा ने 25 और निर्दलीयों ने तीन सीट जीती थीं। 

केंद्र के सुझाव को स्वीकार करने से 'एससी' का इनकार  

केंद्र के सुझाव को स्वीकार करने से 'एससी' का इनकार  

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने शेयर बाजार के लिए नियामक उपायों को मजबूत बनाने की खातिर विशेषज्ञों की समिति पर केंद्र के सुझाव को सीलबंद लिफाफे में स्वीकार करने से शुक्रवार को इनकार कर दिया। प्रधान न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़़, न्यायमूर्ति पी एस नरसिम्हा और न्यायमूर्ति जे बी पारदीवाला की पीठ ने कहा कि वह निवेशकों के हितों में पूर्ण पारदर्शिता बनाए रखना चाहती है तथा वह सीलबंद लिफाफे में केंद्र सरकार के सुझाव को स्वीकार नहीं करेगी। पीठ ने कहा, ‘‘ हम सीलबंद लिफाफे में आपके सुझावों को स्वीकार नहीं करेंगे, क्योंकि हम पारदर्शिता बनाए रखना चाहते हैं।’’

उच्चतम न्यायालय ने 10 फरवरी को कहा था कि अडाणी समूह के शेयरों की कीमतों में भारी गिरावट की पृष्ठभूमि में भारतीय निवेशकों के हितों को बाजार की अस्थिरता को देखते हुए संरक्षित करने की आवश्यकता है। इसके साथ ही न्यायालय ने केंद्र से नियामक तंत्र को मजबूत बनाने के लिए एक पूर्व न्यायाधीश की अध्यक्षता में क्षेत्र के विशेषज्ञों की एक समिति बनाने पर विचार करने को कहा था।

वकील एम एल शर्मा और विशाल तिवारी, कांग्रेस नेता जया ठाकुर और कार्यकर्ता मुकेश कुमार ने अब तक उच्चतम न्यायालय में इस मुद्दे पर चार जनहित याचिकाएं दायर की हैं। हिंडनबर्ग रिसर्च द्वारा अडाणी समूह के खिलाफ कई आरोप लगा जाने के बाद, समूह के शेयरों की कीमतों में काफी गिरावट आई है। हालांकि, समूह ने उसके खिलाफ लगाए गए आरोपों को खारिज किया है।

भ्रष्टाचार के प्रति सरकार की 'जीरो टॉलरेंस' की नीति 

भ्रष्टाचार के प्रति सरकार की 'जीरो टॉलरेंस' की नीति 

अमित शर्मा 

चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी (आप) की पंजाब इकाई के मुख्य प्रवक्ता मलविंदर सिंह कंग ने दावा किया है कि पंजाब की भगवंत मान सरकार की भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति है, इसलिए सरकार ने भ्रष्टाचार में शामिल पाये गये अपने पार्टी नेताओं के खिलाफ भी कार्रवाई की है। कंग ने यहां जारी बयान में विपक्ष के आरोपों के जवाब में कहा कि सरकार की नीति है कि चाहे पार्टी के मंत्री- विधायक क्यों न हों, भ्रष्टाचार करने वाले को बख्शा नहीं जाएगा।

आप सरकार के कामकाज पर उंगली उठाने वाले विपक्षी दलों पर हमला बोलते हुए श्री कंग ने कहा कि कांग्रेस,अकाली दल और भाजपा ने अपने शासन के दौरान भ्रष्टाचार और माफिया को संरक्षण दिया था लेकिन उनकी पार्टी की सरकार इस संस्कृति को खत्म कर रही है।

शिअद नेता बिक्रम मजीठिया पर निशाना साधते हुए आप प्रवक्ता ने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि मजीठिया, जो खुद ड्रग तस्करी के मामले का सामना कर रहे हैं, वह भ्रष्टाचार की बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि श्री मजीठिया को आप सरकार से सवाल करने का कोई नैतिक आधार नहीं है। कंग ने कहा कि कांग्रेस में दरकिनार किए गए प्रताप सिंह बाजवा सिर्फ अपना राजनीतिक करियर को बचाने के लिए सरकार पर बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। कंग ने उन्हें चुनौती देते हुए कहा कि ऐसा एक भी उदाहरण पेश करके दिखाएं जहां कांग्रेस सरकार ने अपने मंत्रियों/नेताओं के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में कार्रवाई की हो।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-128, (वर्ष-06)

2. शनिवार, फरवरी 18, 2023

3. शक-1944, फाल्गुन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-त्रयोदशी, विक्रमी सवंत-2079‌।

4. सूर्योदय प्रातः 07:09, सूर्यास्त: 06:01। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 14 डी.सै., अधिकतम- 22+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...