मंगलवार, 5 अप्रैल 2022

व्रत 'संपादकीय'

व्रत     'संपादकीय'            

आर्यवृत राष्ट्र में सनातन संस्कृति में अध्यात्म का विशेष स्थान है। जिस प्रकार पूजा-अर्चना और पर्वों ने स्थाई रूप धारण कर लिया है। विभिन्न धारणाओं के कारण सनातन संस्कृति विविधताओं से परिपूर्ण है। इसी कड़ी में जगत आधार जग-जननी दुर्गा माता की निरंतर 9 दिनों तक विभिन्न रूपों की पूजा, नवरात्रें संपूर्ण देश में हर्षोल्लास के साथ मनाए जातें है। यह सनातन सभ्यता का अद्भुत विहंगम दृश्य है। इसी के साथ कई कुप्रथा भी फलने-फूलने लगी है। उत्सव के स्वरूप का अधिकांशतः भाग हुड़दंग में रूपांतर हो रहा है। प्रश्न यह है कि अध्यात्म से अशांत वातावरण का क्या संबंध हैं ?
अध्यात्म आत्मचिंतन का घोषक है। आत्म मंथन के उत्सव में बहुतायत में लोग उपवास रखते हैं। उपवास से शारीरिक संरचना को कई लाभ होते हैं। किंतु उपवास के पर्यायवाची व्रत का भाव दोनों शब्दों में परस्पर भेदभाव करता है। व्रत का भाव संकल्प के रूप में दृष्टिपात किया जाता है।
कोई निश्चय करने का निर्धारित समय नवरात्रों को मान लेना अनुचित नहीं होगा। व्रत की धारणा और अर्थ पर विचार करने की आवश्यकता है। पवित्रतम नवरात्रें निश्चय और संकल्प को व्रत के रूप में धारण करने की प्रेरणा और सर्वश्रेष्ठ स्रोत है।कल्याण कार्यों से विमुख, कदाचार, दूर्व्यसनों  को त्यागने का निश्चय किया सकता है। प्राकृतिक समस्याओं के विरुद्ध प्रक्रियात्मक संकल्प किया जा सकता है। सदाचार-उपकार और व्यवहार से जुड़े निश्चय कियें जा सकतें हैं। उपासना का स्वरूप सर्वदा निराकार है।
किंतु इसके विपरीत व्रत पूर्ण रूप से साकार है। शक्तिमान महाकाली, गोरी आदि रूपों में देवी प्रत्येक नवरात्रें का व्रत का पातन करने वाला सजीव उदाहरण प्रस्तुत करती है। संस्कृति और सभ्यता के विरुद्ध उत्पन्न होने वाले विकारों का नाश करती हैं। तपस्या, साधना और इच्छाशक्ति का दैविक उदाहरण देती है। संयम, दृढ़ता और त्याग के लिए प्रेरित करती है। सर्वशक्तिमान होने के बाद भी दया, क्षमा और उदारता का प्रतीक बनी रहती है। निश्चय के साथ किए गए संकल्प का सुरक्षित रूप से धारण और निर्वाह ही व्रत का वास्तविक स्वरूप है। व्रत धारण किए बिना कोई व्यक्ति शक्ति प्राप्त नहीं कर सकता है। शक्ति का संचय और संचालन, दोनों स्थिति में व्रत धारण करना होता है। अध्यात्म का मुख्य द्वार व्रत है। यदि अध्यात्म से संबंध बनाना है, शक्ति का संचय करना, मानसिक, दैहिक और सभी क्षेत्र के विकास से जुड़ना है, तो व्रत को आत्मसात करना अनिवार्य है। इसके बिना आप की उपासना कोरा दिखावा है। जो स्वेच्छा पूर्ति का परिमार्जन है। वास्तविक उपासना से प्राप्त आनंद विहिन हैं।

चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भयपुत्र'      

इम्यूनिटी को मजबूत करने के लिए बेहतर है 'अनार'

इम्यूनिटी को मजबूत करने के लिए बेहतर है 'अनार'     

सरस्वती उपाध्याय                          

कोरोना वायरस के दौरान आमतौर पर लोगों की इम्यूनिटी कमजोर होने की बात सामने आई है जिसके लिए लोग फल, हरी सब्जियां या फिर काढ़ा इत्यादि का सहारा लेकर इम्यूनिटी बूस्ट कर रहे हैं। अभी तक दुनियाभर में कोरोना बीमारी का इलाज नहीं मिल पाया है, इसलिए इसकी बचाव ही सुरक्षा है। डॉक्टर्स इम्यूनिटी बढ़ाने की सलाह दे रहे हैं। इम्यूनिटी को बढाने के लिए लोग कई प्रकार के आयुर्वेदिक या घरेलू नुस्खे अपनाते हैं, लेकिन कई एक्सपर्ट का मानना है कि इम्यूनिटी को मजबूत करने के लिए अनार सबसे बेहतर माना गया है। अनार को सेहत का खजाना बताया गया है। इसमें कई प्रकार के गुण छिपे हुए हैं। इसके अलावा अनार काफी स्वादिष्ट फल होता है। आइए आपको अनार के बड़े फायदों के बारे में बताते हैं।

अनार के फायदें...

अनार, पेट की पाचन शक्ति को बढ़ाता है।

पेट में कब्ज और दस्त जैसी दिक्कत होने पर रोजाना एक अनार का सेवन कर सकते हैं, जिससे राहत मिलेगी।

अनार में प्रोटीन, विटामिन सी, फाइबर, विटामिन के, फोलेट और पौटेशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जिससे आपके शरीर की मांसपेशियां मजबूत होंगी।

अनार शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाने में काफी मददगार साबित होता है।

अनार में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं। जो शरीर में मोटापा बढ़ने और डायबिटीज की समस्या से निजात दिलाते हैं।

अनार से ब्लड प्रेशर की समस्या खत्म हो जाती है।

कहा जाता है कि अगर दो हफ्ते तक रोजाना एक-एक अनार खाया जाए तो शरीर में ब्लड प्रेशर मेंटेन रहता है।

सीएम द्वारा लाया गया प्रस्ताव, सर्वसम्मति से पास

सीएम द्वारा लाया गया प्रस्ताव, सर्वसम्मति से पास    

राणा ओबरॉय                
चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा चंडीगढ़ पर हरियाणा के हक के लिए लाया गया संकल्प प्रस्ताव हरियाणा विधानसभा में सर्वसम्मति से पास हो गया। विधानसभा के एक दिवसीय विशेष सत्र में पूरे सदन ने मुख्यमंत्री के इस प्रस्ताव का खुलकर समर्थन किया। इस दौरान सभी विधायकों ने पंजाब में चंडीगढ़ को लेकर पारित किए गए प्रस्ताव की निंदा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि चंडीगढ़ पर हरियाणा का अधिकार है। एसवाईएल का पानी निश्चित तौर पर हरियाणा को मिलेगा। इसके साथ-साथ उन्होंने पंजाब में शामिल हिंदी भाषी गांवों का मुद्दा भी विधानसभा में उठाया। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा विधानसभा का यह विशेष सत्र चंडीगढ़ पर अपने हक के लिए लाए गए संकल्प प्रस्ताव को पास करने के लिए बुलाया गया है। 
3 घंटे तक विधानसभा में चली चर्चा के दौरान सत्ता और विपक्ष के करीब 25 विधायकों ने इस प्रस्ताव के समर्थन में विचार रखे। संकल्प प्रस्ताव पर बोलते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि बंटवारे के लिए 23 अप्रैल 1966 को बनाए गए शाह कमीशन ने तो खरड़ क्षेत्र के हिंदी भाषी गांव और चंडीगढ़ को हरियाणा को देने के लिए कहा था लेकिन 9 जून 1966 को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई।जिसमें चंडीगढ़ को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया। इसे दोनों राज्यों की राजधानी भी बनाया गया। इसके बाद अलग-अलग समझौते हुए लेकिन इसका समाधान नहीं हुआ।

आंतरिक मामलों में दखलअंदाजी, यूएसए को फटकार

आंतरिक मामलों में दखलअंदाजी, यूएसए को फटकार  

अखिलेश पांडेय              

मॉस्को रूस ने पाकिस्तान के आंतरिक मामलों में दखलअंदाजी करने पर अमेरिका को फटकार लगाई है।रूस ने कहा कि यह अपने स्वार्थी उद्देश्यों को हासिल करने के लिए अमेरिका का हस्तक्षेप करने का एक और प्रयास है।

रूस के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा,“इस साल 23-24 फरवरी को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की मास्को यात्रा की घोषणा के तुरंत बाद अमेरिका और उसके पश्चिमी सहयोगियों ने प्रधानमंत्री पर दबाव डालना शुरू कर दिया और यात्रा रद्द करने के लिए अल्टीमेटम दिया।”


प्रियंका, पवन एवं नाज़नीन को 6-3 6-1 से हराया

प्रियंका, पवन एवं नाज़नीन को 6-3 6-1 से हराया   

भानु प्रताप उपाध्याय              

मुजफ्फरनगर। सर्विस क्लब में चल रहे अंतरराष्ट्रीय लाॅन टेनिस टूर्नामेंट में मुजफ्फरनगर जिले के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी विजय वर्मा ने प्रियंका मेहता के साथ मिक्स डबल में पवन जैन एवं नाज़नीन को 6-3 6-1 से हराकर फाइनल में जगह बनाई एवं 50 वर्ष आयु में क्वार्टर फाइनल में अरुण व सुधीर को हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। मंगलवार को लगभग सभी केटेगरी के सेमी फाइनल खत्म हो चुके हैं, कल 6 तारीख को सभी कैटेगरी के फाइनल होना बाकी है, यह मैसेज सुबह 9 बजे से ही शुरू हो जाएंगे और शाम 3:00 बजे इसका प्राइस डिस्ट्रीब्यूशन जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव द्वारा किया जाएगा।

विमेंस सिंगल में प्रियंका मेहता ने सिमी बेगम को 6-0 1-0 रिटायर्ड , 45 वर्ष आयु सिंगल्स में फाइनल मैच में कमरुद्दीन खान ने कुंवर अविनाश को हराया, 35 आयु वर्ग सिंगल में यानिक ने रिभासकर को 6-1 6-1 से, रंजीत ने मंडोर को 6-0 6-0 से, 35 वर्ष आयु डबल्स में रंजीत दिलीप की जोड़ी ने यानिक , मंडार की टीम को 4-6 6-4, डोडी रमजान शेक ने कुणाल भसीन रोहन भसीन को 4-6 6-4 10 से, डबल्स में अरोरा मानव सुनील लुल्ला ने वेणुगोपाल शीतल शर्मा को 6-0 6-2 से, गुजराती आती कुंवर अविनाश ने दिनेश अग्रवाल राजेश जिंदल को 6-1 6-3 से, 50 वर्ग वर्ष आयु में नरेंद्र कंकरिया ने वेणुगोपाल को 6-3 4-6 10-4 से, तुलेश्वर ने विजय कुमार को 6-16-3 से 50 वर्ग डबल में, 60 वर्ष आयु में सिंगल में अजीत भारद्वाज ने संजय कुमार को 3-6 6-0 10-8 से, पवन जैन ने आशीष सेन को 6-4 4-6 10-8 से डबल्स में पवन जैन प्रवीण चौधरी ने राजेश कुमार रमनलाल को 6-1 6-1 से अजीत भारद्वाज राकेश कोली ने ओम प्रकाश चौधरी सुनील मिनोचा को 6-3 7-5 से हराया।

सदन की मर्यादा कम होना, लोकतंत्र के लिए खतरा

सदन की मर्यादा कम होना, लोकतंत्र के लिए खतरा   

अकांशु उपाध्याय                     
नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को कहा है कि जनप्रतिनिधियों के आचरण और व्यवहार पर ही प्रतिनिधि संस्थाओं की गरिमा निर्भर करती है और सदन की मर्यादा कम होना, लोकतंत्र के लिए खतरा है। बिरला ने संसद भवन परिसर में लोक सभा सचिवालय की ओर से आयोजित महाराष्ट्र विधान सभा और विधान परिषद के सदस्यों के लिए प्रबोधन कार्यक्रम के अपने संबोधन में विधायकों से कहा कि प्रतिनिधि संस्थाओं के सदस्य होने के नाते इन संस्थाओं की प्रतिष्ठा और मर्यादा को ऊंचा उठाने में वे योगदान दें।
उन्होंने कहा कि, सदन में बैठकों की कम होती संख्या और कार्यवाही में बढ़ते अवरोध जैसे विषयों पर भी हमें चिंतन करना चाहिए। जिससे इन संस्थाओं में लोगों का विश्वास बना रहे। जनता के भरोसे पर खरा उतरने के दायित्व के प्रति जनप्रतिनिधियों को हमेशा संवेदनशील रहना चाहिए। जनता की आवाज सदन के माध्यम से सरकार तक पहुंचाने में जनप्रतिनिधियों की सक्रिय सहभागिता आवश्यक है। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि जनप्रतिनिधि होना एक विशेषाधिकार और बड़े सम्मान की बात है। विधायकों को यह याद रखना चाहिए कि यह विशेषाधिकार गंभीर जिम्मेदारियों के साथ आता है। इसलिए एक विधायक का प्राथमिक कर्तव्य होता है कि वह लोगों की समस्याओं और चिंताओं के प्रति उत्तरदायी बने। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि जनप्रतिनिधि को सदन में जनता की शिकायतों को उठाकर उनकी आवाज बनना चाहिए जिससे सरकार उनके त्वरित समाधान हेतु उचित कदम उठा सके।
उन्होंने सुझाव दिया कि सदन में कानून के निर्माण के समय भी जनप्रतिनिधि उस पर व्यापक चर्चा और विचार करें। ऐसा इसलिए है कि यह कानून ही आगे जाकर सामाजिक-आर्थिक बदलाव लाते हैं। ऐसे में जरूरी है कि कानून के निर्माण के समय सभी वर्गों की बात का समावेश उसमें होना चाहिए।बिरला ने कहा कि आज के युग में तेजी से बदलती सामाजिक-राजनीतिक वास्तविकताओं के अनुरूप नीति निर्माण हो रहा है, इसलिए विधानमंडलों के लिए आवश्यक है कि ये जनता की जरूरतों के प्रति और अधिक उत्तरदायी बनें। सदस्यों के लिए आवश्यक है कि वे कार्य-संचालन संबंधी सदन के नियमों और प्रक्रियाओं से भलीभांति परीचित हों। सदन में विभिन्न मुद्दों को उठाने के लिए ये नियम सदस्यों को अनेक प्रक्रियागत साधन उपलब्ध कराते हैं।

हिन्दू पंचांग, 16 को मनाई जाएगी 'हनुमान' जयंती

हिन्दू पंचांग, 16 को मनाई जाएगी 'हनुमान' जयंती   

सरस्वती उपाध्याय             
हिन्दू पंचांग के आधार पर चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को संकटमोचन राम भक्त हनुमान का जन्म हुआ था। भगवान विष्णु को रामावतार के समय सहयोग करने के लिए रुद्रावतार हनुमान का जन्म हुआ। सीता खोज, रावण युद्ध, लंका विजय में हनुमान ने अपने प्रभु श्रीराम की पूरी मदद की। उनके जन्म का उद्देश्य ही राम भक्ति था। 10 अप्रैल को रामनवमी का पर्व है। इसके बाद हनुमान जयंती का पर्व मनाया जाएगा। इस साल हनुमान जयंती 16 अप्रैल को मनाई जाएगी। इस दिन ही व्रत रखा जाएगा और हनुमान का जन्म उत्सव मनाया जाएगा।
चैत्र शुक्ल की पूर्णिमा को हनुमान के जन्मदिवस के रूप में मनाने की परंपरा है। पंचांग के अनुसार, इस साल चैत्र माह की पूर्णिमा तिथि 16 अप्रैल दिन शनिवार को प्रात: 02 अजकर 25 मिनट पर शुरू हो रही है। पूर्णिमा तिथि का समापन इसी दिन रात 12 बजकर 24 मिनट पर हो रहा है। सूर्योदय के समय पूर्णिमा तिथि 16 अप्रैल को प्राप्त हो रहा है, इसलिए हनुमान जयंती 16 अप्रैल को मनाई जाएगी।

श्रीलंका में आपातकालीन स्वास्थ्य स्थिति का ऐलान

श्रीलंका में आपातकालीन स्वास्थ्य स्थिति का ऐलान   

अखिलेश पांडेय       
कोलंबो। श्रीलंका में गहराये आर्थिक संकट के बीच मंगलवार को श्रीलंका में आपातकालीन स्वास्थ्य स्थिति का ऐलान कर दिया गया है। यह भी ख़बर मिल रही है कि देश के गवर्नमेंट मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन की आपातकालीन समिति बैठक के बाद इसकी घोषणा की गई है।
बताया जा रहा है कि गवर्नमेंट मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन की आपातकालीन समिति बैठक के दौरान आपातकाल कानून लागू करने और दवा की गंभीर कमी को लेकर चर्चा हुई। सचिव डॉक्टर शेनल फर्नांडो की ओर से कहा गया कि मरीजों की जान बचाने के लिए आपातकालीन स्वास्थ्य स्थिति की घोषणा करने का निर्णय लिया गया है। बैठक के दौरान खुलासा किया कि सरकार के खराब प्रबंधन की वजह से देश में दवाओं की गंभीर कमी देखने को मिल सकती है। 

अन्य खाद्य पदार्थों की महंगाई को लेकर गहरी चिंता

अन्य खाद्य पदार्थों की महंगाई को लेकर गहरी चिंता  

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। देश में पेट्रोलियम पदार्थों सहित अन्य खाद्य पदार्थों की महंगाई को लेकर विपक्ष ने गहरी चिंता जताई है। उन्होंने इस मुद्दे पर सदन में चर्चा करने की मांग की है। सदस्यों ने दवाओं की कीमतों में वृद्धि को लेकर भी चिंता जाहिर की।
उच्च सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाए। इसके बाद उन्होंने कहा कि कई सदस्यों ने नियम 267 के तहत, नियत कामकाज स्थगित करने और पेट्रोलियम उत्पादों के दामों में हो रही वृद्धि तथा इसके चलते बढ़ती महंगाई पर चर्चा करने के लिए नोटिस दिए हैं।
उन्होंने  कहा कि नोटिस को स्वीकार नहीं किया है क्योंकि सदस्यों ने विनियोग विधेयक और वित्त विधेयक पर चर्चा के दौरान पेट्रोलियम उत्पादों के दामों में हो रही वृद्धि तथा महंगाई के मुद्दों पर अपनी बात रखी है। इस पर सदन में विपक्ष के नेता और कांग्रेस के वरिष्ठ सदस्य मल्लिकार्जुन खडगे ने आपत्ति जताते हुए कहा कि विपक्ष हर दिन विपक्ष पेट्रोल, डीजल, एलपीजी, पीएनजी तथा दवाओं की कीमतों में वृद्धि पर चर्चा करने के लिए अनुरोध करता है लेकिन उनकी मांग को अस्वीकार कर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि कीमतें लगातार बढ़ रही हैं लेकिन सरकार इस पर चर्चा करने के लिए तैयार नहीं है।
खड़गे ने सभापति से कहा कि चर्चा यहां नहीं तो कहां होगी।अगर आप हमें मौका नहीं देंगे तो फिर हमें कहां बोलेंगे। इस पर सभापति ने कहा कि जो मुद्दे सदस्य उठा रहे हैं, उन पर वे वित्त विधेयक और विनियोग विधेयक पर चर्चा के दौरान अपनी बात रख चुके हैं। इसके बावजूद विपक्षी सदस्यों ने बढ़ती कीमतों पर चर्चा की मांग दोहराई। नायडू ने कहा कि अगर कुछ सदस्य सदन में व्यवधान चाहते हैं तो आसन के पास क्या रास्ता हो सकता है।” खड़गे ने कहा कि पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत हर दिन बढ़ रही है और इसका असर आम आदमी पर पड़ रहा है। उन्होंने कहा ‘‘दो घंटे पहले पेट्रोल की कीमत 80 पैसे प्रति लीटर की दर से फिर से बढ़ा दी गई है ये लोग किसान और गरीब को भी नहीं छोड़ रहे हैं…ये अच्छा नहीं है।
तृणमूल कांग्रेस के सुखेन्दु शेखर राय ने कहा कि यह सच है कि विनियोग विधेयक और वित्त विधेयक पर चर्चा के दौरान पेट्रोलियम उत्पादों की मूल्य वृद्धि का कुछ सदंर्भ दिया गया। लेकिन हम इस मुद्दे पर रचनात्मक चर्चा चाहते हैं। उन्होंने सुझाव दिया कि अगर यह चर्चा नियम 267 के तहत नहीं की जा सकती तो सभापति विपक्ष को एक नोटिस देने की अनुमति दें ताकि बुधवार को या उसके अगले दिन इस मुद्दे पर आधे घंटे की चर्चा की जा सके। तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के सदस्य के आर सुरेश रेड्डी ने तेलंगाना में हल्के उबले चावल की खरीद का मुद्दा उठाना चाहा। उन्होंने कहा कि इसके लिए उन्होंने नियम 267 के तहत नोटिस दिया है। सभापति ने उनके नोटिस को स्वीकार नहीं किया जिसके बाद टीआरएस सदस्य सदन से बहिर्गमन कर गए।

3 लाख की रिश्वत, अधिकारी-सहयोगी को पकड़ा

3 लाख की रिश्वत, अधिकारी-सहयोगी को पकड़ा 

कविता गर्ग        

मुंबई। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के एक अधिकारी और उसके सहयोगी को एक व्यक्ति से व्यावसायिक प्रतिष्ठान के पंजीकरण के लिए तीन लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि शिकायत के आधार पर एसीबी की टीम ने सोमवार को अंधेरी (पूर्व) में बीएमसी के के/ईस्ट वार्ड कार्यालय में जाल बिछाया और रिश्वत की रकम लेते हुए रेंट कलेक्टर राजेंद्र नाइक और उसके सहयोगी मोहन रावजी ठिक को पकड़ लिया। उन्होंने कहा कि आरोपी अधिकारी ने शिकायतकर्ता से तीन लाख रुपये की मांग की थी, जिसने एक दुकान पंजीकृत कराने के लिए नगर निगम के अधिकारियों के पास आवेदन दाखिल किया था। अधिकारी ने बताया कि छापेमारी के दौरान एसीबी अधिकारियों ने आरोपियों के पास से रिश्वत की राशि के अलावा तीन लाख रुपये भी बरामद किए।

निर्धारित समयसीमा में होगी 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी

निर्धारित समयसीमा में होगी 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी   

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने 5जी को लेकर बड़ा ऐलान किया गया है। जिसके मुताबिक 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी तय कार्यक्रम के अनुसार निर्धारित समयसीमा में होगी। केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने यह बात ऐसे समय कही है, जब ट्राई ने 5जी स्पेक्ट्रम की कीमत और दूसरे मुद्दों को लेकर दी जाने वाली अपनी सिफारिशों को कुछ दिन के टाल दिया है। साइबर क्राइम इन्वेस्टिगेशन एंड डिजिटल फोरेंसिक पर आयोजित दूसरी नेशनल कांफ्रेंस को संबोधित करने के दौरान जब उनसे पूछा गया कि क्या स्पेक्ट्रम की नीलामी तय कार्यक्रम के अनुसार होगी तो उन्होंने कहा, बिल्कुल। उन्होंने कहा कि निजी दूरसंचार कंपनियां 2022-23 में ही 5जी मोबाइल सेवाएं शुरू करना चाहती हैं और इसके स्पेक्ट्रम की नीलामी चालू वर्ष में ही आयोजित की जाएगी ?

दूरसंचार कंपनियां शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों सहित दिल्ली, मुंबई, जामनगर, अहमदाबाद, कोलकाता, चेन्नई, हैदराबाद, बेंगलुरु, लखनऊ, गुरुग्राम, गांधीनगर, चंडीगढ़, पुणे और वाराणसी में 5जी परीक्षण कर रहे हैं। बता दें कि रिलायंस जियो (Reliance Jio) और भारती एयरटेल (bharti Airtel) ने 5G रोलआउट करने की अपनी पूरी तैयारी कर रखी है। टेलिकॉम कंपनियों का दावा है कि वो 5G नेटवर्क रोलआउट करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। लेकिन कंपनियां ज्यादा 5G स्पेक्ट्रम प्राइसिंग को लेकर चिंतित हैं। गौरतलब है कि सरकार की तरफ से 5G स्पेक्ट्रम प्राइस तय किया जाना है। टेलिकॉम कंपनियों की मांग है कि सरकार की तरफ से कम कीमत में 5G स्पेक्ट्रम बिक्री के लिए उपलब्ध कराया जाए।

भाजपा में शामिल हुए टीआरएस के पूर्व विधायक

भाजपा में शामिल हुए टीआरएस के पूर्व विधायक

इकबाल अंसारी      
हैदराबाद। तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के पूर्व विधायक बिक्षमैय्या गौड़, मंगलवार को नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। 
गौड़ पार्टी के तेलंगाना प्रभारी तरुण चुग और प्रदेश अध्यक्ष बंदी संजय कुमार की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए। पूर्व विधायक गौड़, जो अलेयर निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, 2018 में टीआरएस में शामिल होने से पहले कांग्रेस के साथ थे। भाजपा में शामिल होने के बाद उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि, टीआरएस नेतृत्व के कुछ ताकतों ने उन्हें लोगों से दूर रखने की साजिश रची थी।

घोटाला: शिवसेना के नेता राउत की संपत्ति कुर्क

घोटाला: शिवसेना के नेता राउत की संपत्ति कुर्क 

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय ने 1,034 करोड़ रुपए के पात्रा चावल भूमि घोटाला मामलें में शिवसेना के नेता संजय राउत की संपत्ति कुर्क की। शिवसेना नेता संजय राउत के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने पात्रा चावल भूमि घोटाला मामले में संजय राउत की करोड़ों की संपत्ति अटैच की है।

ईडी ने पीएमएलए जांच में राउत से जुड़े अलीबाग के आठ भूखंड और मुंबई के फ्लैट कुर्क किए। बताया जा रहा है ये घोटाला 1034 करोड़ रुपये का है।। प्रवर्तन निदेशालय की इस कार्रवाई के बाद संजय राउत ने एक ट्वीट करते हुए लिखा ‘असत्यमेव जयते।

मंत्रालय ने 22 यूट्यूब चैनलों को प्रतिबंधित किया

मंत्रालय ने 22 यूट्यूब चैनलों को प्रतिबंधित किया 

अकांशु उपाध्याय               

नई दिल्ली। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने मंगलवार को यूट्यूब चैनलों पर बड़ी कार्रवाई की है। मंत्रालय ने 22 यूट्यूब चैनलों को भारत में प्रतिबंधित किया है। इनमें पाकिस्तान के चार यूट्यूब न्यूज चैनल भी हैं। मंत्रालय का कहना है कि, इन चैनलों के माध्यम से भारत के बारे में गलत व झूठी सूचनाएं फैलाई जा रही थीं।

मंत्रालय ने बताया कि भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेशों से रिश्ते व लोक आदेश के बारे में झूठी जानकारी दी जा रही थी। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने इसके अलावा चार ट्विटर अकाउंट, एक फेसबुक अकाउंट व एक न्यूज वेबसाइट पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। यूट्यूब चैनलों ने दर्शकों को गुमराह करने के लिए टीवी समाचार चैनलों के लोगो और झूठे थंबनेल का इस्तेमाल किया। इसके साथ ही 3 ट्विटर अकाउंट, 1 फेसबुक अकाउंट और 1 न्यूज वेबसाइट को भी ब्लॉक कर दिया गया है।

भारतीय सशस्त्र बलों, जम्मू और कश्मीर, आदि जैसे विभिन्न विषयों पर फर्जी समाचार पोस्ट करने के लिए कई YouTube चैनलों का उपयोग किया गया था। बंद करने का आदेश देने वाली सामग्री में कुछ भारत विरोधी सामग्री भी शामिल थी, जो एक समन्वित तरीके से पाकिस्तान संचालित कई सोशल मीडिया खातों से पोस्ट की गई थी। इस कार्रवाई के साथ, दिसंबर 2021 से, मंत्रालय ने राष्ट्रीय सुरक्षा, भारत की संप्रभुता और अखंडता, सार्वजनिक व्यवस्था आदि से संबंधित आधार पर 78 YouTube आधारित समाचार चैनलों और कई अन्य सोशल मीडिया खातों को अवरुद्ध करने के निर्देश जारी किए हैं।

'बीजीएमआई' ने 66,000 अकाउंट बैन कियें

'बीजीएमआई' ने 66,000 अकाउंट बैन कियें  

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारत में एक सप्ताह में बैटलग्राउंड मोबाइल्स इंडिया (बीजीएमआई) ने  66,000 अकाउंट बैन कियें हैं। कंपनी के मुताबिक 27 मार्च से तीन अप्रैल के बीच गेम में चीटिंग करने के आरोप में 66,000 अकाउंट को बैन किया गया है। इससे पहले भी कई कंपनी ने लाखों अकाउंट बैन किए हैं। BGMI ने हाल ही में गेमिंग में प्लेयर्स को नया अनुभव देने के लिए Lamborghini के साथ साझेदारी की है।Krafton ने गैरकानूनी गतिविधियों को लेकर 66,233 अकाउंट बैन किए हैं।

इससे पहले मार्च 21 से 27 के बीच कंपनी ने BGMI के कुल 22,013 अकाउंट्स बैन किए थे। इनमें से अधिकतर प्लेयर्स के अकाउंट ऐसे थे जिन्होंने थर्ड पार्टी सोर्स से एप को डाउनलोड किया था। जनवरी के दूसरे सप्ताह में कंपनी ने 50,000 अकाउंट बैन किए थे। Lamborghini के साथ साझेदारी के तहत प्लेयर्स के लिए गेम में आठ स्किन को उपलब्ध कराया गया है।

मुंबई: एक्ट्रेस अनन्या ने लेटेस्ट तस्वीर शेयर की

मुंबई: एक्ट्रेस अनन्या ने लेटेस्ट तस्वीर शेयर की  

कविता गर्ग         
मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस अनन्या पांडे, इंडस्ट्री में सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली एक्ट्रेसेस में से एक बन गई हैं। सोशल मीडिया पर भी वह काफी एक्टिव रहती है। समय-समय अनन्या अपने फैंस के साथ फोटो और वीडियो शेयर करती रहती है। एक बार फिर उन्होंने लेटेस्ट तस्वीर, फैंस के साथ शेयर की है।
इन फोटोज़ में अनन्या पांडे अलग-अलग ड्रेसेज़ में नजर आ रहीं हैं, जो उन पर खूब जच भी रहीं हैं। इस रेड ड्रेस में तो उनका हर अंदाज कातिलाना नजर आ रहा है। इस तस्वीर में अनन्या पांडे स्टाइलिश ब्रालेट और लाइट पिंक पैंट में खुले बालों के साथ किलर पोज़ देती दिखाई दे रहीं हैं।

अभिनेत्री का रियेलिटी शो ‘लॉकअप’ से होस्टिंग डेब्यू

अभिनेत्री का रियेलिटी शो ‘लॉकअप’ से होस्टिंग डेब्यू  

कविता गर्ग 
मुंबई। बॉलीवुड की ‘क्वीन’ अभिनेत्री कंगना रनौत ने हाल ही में एकता कपूर के रियेलिटी शो ‘लॉकअप’ से अपना होस्टिंग डेब्यू किया है। कंगना रनौत का यह शो शुरुआत से ही चर्चा में है। दर्शकों से इस शो को खूब प्यार मिल रहा है। लॉकअप को दर्शकों से मिल रहे पॉजिटिव रिस्पॉन्स और इसकी सफलता पर अब होस्ट कंगना रनौत ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए शो की सफलता के लिए खुद को एक ‘सुपरस्टार होस्ट’ बताया है। उन्होंने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर एक लंबा-चौड़ा नोट शेयर किया है, जिसमें उन्होंने शो की सफलता और अपनी होस्टिंग को लेकर काफी कुछ कहा है और हमेशा की तरह बॉलीवुड सितारों पर निशाना साधा है।
अपने पोस्ट में कंगना लिखती हैं- ‘शाहरुख, अक्षय कुमार, प्रियंका चोपड़ा, रणवीर सिंह जैसे कई सफल अभिनेताओं ने होस्टिंग में अपना हाथ आजमाया है। वह अपने करियर में भले ही सफल रहे हों, लेकिन वे होस्टिंग में असफल रहे हैं। वे सभी असफल होस्ट हैं। अभी तक सिर्फ अमिताभ बच्चन जी और सलमान खान जी और कंगना रनौत ने सुपरस्टार होस्ट बनने का गौरव हासिल किया है। इस लीग में शामिल होना सौभाग्य की बात है।
वह आगे लिखती हैं। ‘काश मुझे स्पष्ट रूप से बताने की जरूरत नहीं होती लेकिन जलनखोर मूवी माफिया मुझे और मेरे शो को बदनाम करने के लिए सब कुछ कर रहा है। इसलिए मुझे जरूरी काम करना पड़ा और मुझे कोई आपत्ति नहीं है। अगर मैं हर किसी के लिए खड़ी हो सकती हूं तो मैं अपने लिए भी स्टैंड ले सकती हूं। इस पीढ़ी का एकमात्र सक्सेसफुल होस्ट बनना अद्भुत है।
बता दें, कुछ दिनों पहले ही कंगना ने अपने शो के 200 मिलियन व्यूज क्रॉस होने करण जौहर पर तंज कसा था। उन्होंने एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा- ‘जब से लॉकअप ने 200 मिलियन व्यूज पूरे किए हैं, सारी चंगू-मंगू सेना/पापाजो और उनका मीडिया, सब चुप-चुपके रोने वाले हैं। कितने पापड़ बेलने के बाद भी देखो 200 मिलियन और भी आगे-आगे देखो होता है क्या ? तेरे रोने के दिन आ गए पापा जो।

जगजीवन राम की जयंती पर कोटि-कोटि नमन: पीएम

जगजीवन राम की जयंती पर कोटि-कोटि नमन: पीएम   

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को जगजीवन राम को श्रद्धांजलि दीं। मोदी ने ट्वीट किया, बाबू जगजीवन राम की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन। हमारा देश हमेशा उनके उल्लेखनीय योगदान को याद रखेगा, चाहे वह स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान हो या आजादी के बाद। प्रशासनिक कौशल और गरीब वर्ग के लिए उनकी चिंता को लेकर उनकी व्यापक रूप से प्रशंसा की जाती है। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू तथा इंदिरा गांधी के नेतृत्व वाली सरकारों में मंत्री पद पर सेवाएं दी थीं। 

वह आपातकाल लगाने का विरोध करते हुए कांग्रेस से अलग हो गए थे और फिर जनता पार्टी की सरकार में उप प्रधानमंत्री के रूप में अपनी सेवाएं दी थीं। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘ बाबू जगजीवन राम जी की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन। हमारा देश हमेशा उनके उल्लेखनीय योगदान को याद रखेगा, चाहे वह स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान हो या आजादी के बाद। प्रशासनिक कौशल और गरीब वर्ग के लिए उनकी चिंता को लेकर उनकी व्यापक रूप से प्रशंसा की जाती है।

₹1,200 करोड़ निवेश करने की योजना बनाई: टाटा

₹1,200 करोड़ निवेश करने की योजना बनाई: टाटा  

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। टाटा समूह की रियल एस्टेट शाखा टाटा हाउसिंग ने अगले दो वर्षों में भूमि अधिग्रहण के लिए लगभग 1,200 करोड़ रुपये निवेश करने की योजना बनाई है। कंपनी खुद और संयुक्त उद्यमों के जरिए प्रमुख शहरों में भूमि अधिग्रहण करेगी तथा यहां समूह आवास परियोजनाओं के साथ ही प्लॉट डेवलपमेंट की योजना है।
टाटा रियल्टी एंड इंफ्रास्ट्रक्चर के सीईओ और एमडी संजय दत्त ने साथ एक साक्षात्कार में कहा कि महामारी के दौरान प्लॉट की मांग में काफी वृद्धि हुई है और कंपनी ने बेंगलुरु में सभी 157 भूखंडों को 130 करोड़ रुपये में बेचा है। टाटा हाउसिंग डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड और टाटा रियल्टी एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड टाटा संस की 100 प्रतिशत सहायक कंपनियां हैं।
टाटा हाउसिंग ने हाल ही में बेंगलुरु के देवनहल्ली में एक परियोजना ‘स्वरम’ शुरू की है। परियोजना की शुरुआत के 36 घंटों के भीतर सभी प्लॉट बिक गए। उन्होंने कहा कि, हमने सभी 157 भूखंड 130 करोड़ रुपये में बेचे।’’ यह परियोजना टाटा हाउसिंग की 140 एकड़ की टाउनशिप ‘कर्नाटिका’ का हिस्सा है, जिसे वन बैंगलोर लक्जरी प्रोजेक्ट्स एलएलपी ने विकसित किया है, जो टाटा हाउसिंग डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड और एमएस रमैया रियल्टी एलएलपी के बीच एक संयुक्त उद्यम है।

डीडीए ने दिल्ली सरकार को 16 पार्कों की सूची भेजी

डीडीए ने दिल्ली सरकार को 16 पार्कों की सूची भेजी   

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में पार्कों के नाम जल्द ही दिल्ली के गुमनाम स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर रखे जाएंगे। ऐसा उनके प्रति सम्मान दर्शाने और उनके बालिदान को स्वीकार करने के लिए किए जा रहा है।
अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने दिल्ली सरकार को 16 पार्कों की सूची भेजी है और इनके नाम लाल हरदयाल, कर्नल गुरबक्श सिंह ढिल्लों, जनरल शाहनावाज खान, गोबिंद बेहरी लाल, कर्नल प्रेम सहगल व बसंत कुमार बिस्वास जैसे स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर रखने की सिफारिश की गई है।
अधिकारियों ने बताया कि भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के मौके पर ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत पिछले साल दिसंबर में ऐसे स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर पार्कों का नाम रखने का फैसला लिया गया था, जिनके योगदान के बारे में लोग आम तौर पर नहीं जानते हैं।
उन्होंने कहा कि पार्कों का नाम स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर रखने के प्रस्ताव को मंजूरी के लिए राज्य नामकरण समिति के समक्ष रखा जाएगा। अधिकारियों के मुताबिक, समिति की मंजूरी के बाद पार्क में पट्टी लगाई जाएगी, जिस पर उस स्वतंत्रता सेनानी के जीवन के बारे में संक्षिप्त जानकारी दर्ज होगी, जिसके नाम पर पार्क का नाम रखा गया है।

स्टेनोग्राफर के पदों पर भर्ती, अधिसूचना जारी की

स्टेनोग्राफर के पदों पर भर्ती, अधिसूचना जारी की  

मिनाक्षी लोढी    
कोलकाता। अगर आप 12वीं पास हैं और सरकारी नौकरी की तलाश में हैं तो यह आपके लिए अच्छी खबर हो सकती है। दरअसल, कलकत्ता हाईकोर्ट ने एक भर्ती की अधिसूचना जारी की है। जिसके अनुसार उसके द्वारा स्टेनोग्राफर के पदों पर भर्ती की जाएगी। बता दें इन पदों के लिए आवेदन करने के लिए प्रक्रिया चल रही है। इन पदों पर आवेदन करने के लिए इच्छुक अभ्यर्थियों को ऑफिशियल साइट calcuttahighcourt.gov.in के द्वारा आवेदन करना होगा।
इस भर्ती के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख 12 अप्रैल 2022 तय की गई है। इस भर्ती के लिए अभ्यर्थी केवल ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास होना जरूरी है। वहीं, उम्मीदवार की टाइपिंग स्पीड 120 मिनट प्रति शब्द होनी चाहिए। वहीं इन पदों के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार की उम्र 18 साल से 32 साल के मध्य होनी चाहिए। और एससी और एसटी वर्ग के आवेदकों को अधिकतम उम्र में सरकारी नियम के अनुसार 5 वर्ष की छूट दी गई है।
बता दें भर्ती के लिए आवेदन करने वाले सामान्य वर्ग के उम्मीदवार को 800 रुपये और एससी और एसटी वर्ग के आवेदकों को 300 रुपये के आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा। इन पदों पर उम्मीदवारों का चयन टाइपिंग टेस्ट आदि प्रक्रिया के माध्यम से किया जाएगा। इस भर्ती से संबंधित अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी ऑफिशियल साइट की मदद ले सकते हैं।

नवरात्रि का पांचवां दिन, स्कंदमाता की पूजा

नवरात्रि का पांचवां दिन, स्कंदमाता की पूजा       

सरस्वती उपाध्याय             
नवरात्रि से वातावरण के तमस का अंत होता है और सात्विकता की शुरुआत होती है। माता रानी के सभी भक्त इन 9 दिनों को बड़ी ही धूम-धाम के साथ मनाते हैं। नवरात्रि के नौ दिन तक मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा की जाती है। वहीं, बुधवार को नवरात्र-पूजन के पांचवे दिन स्कंदमाता की पूजा की जाती है। स्कंदमाता की चार भुजाएं हैं। इनके दाहिनी तरफ की नीचे वाली भुजा, जो ऊपर की ओर उठी हुई है, उसमें कमल पुष्प है। बाईं तरफ की ऊपर वाली भुजा में वरमुद्रा में तथा नीचे वाली भुजा जो ऊपर की ओर उठी है।
उसमें भी कमल पुष्प ली हुई हैं। ये कमल के आसन पर विराजमान रहती हैं। इसी कारण इन्हें पद्मासना देवी भी कहा जाता है। इनका वाहन सिंह (शेर) है।
स्कंदमाता की पूजा के लिए सबसे पहले चौकी पर स्कंदमाता की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें। इसके बाद गंगा जल से शुद्धिकरण करें। फिर उस चौकी पर श्रीगणेश, वरुण, नवग्रह, षोडश मातृका (16 देवी), सप्त घृत मातृका (सात सिंदूर की बिंदी लगाएं) और स्थापना भी करें। फिर वैदिक एवं सप्तशती मंत्रों द्वारा स्कंदमाता सहित समस्त स्थापित देवताओं की षोडशोपचार पूजा करें। इसमें आसन, पाद्य, अ‌र्ध्य, आचमन, स्नान, वस्त्र, सौभाग्य सूत्र, चंदन, रोली, हल्दी, सिंदूर, दुर्वा, बिल्वपत्र, आभूषण, पुष्प-हार, सुगंधित द्रव्य, धूप-दीप, नैवेद्य, फल, पान, दक्षिणा, आरती, प्रदक्षिणा, मंत्र पुष्पांजलि आदि करें। साथ ही इस मंत्र का जाप भी करें।

माता स्कंदमाता का मंत्र...
या देवी सर्वभू‍तेषु माँ स्कंदमाता रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।

मां स्कंदमाता को प्रिय हैं ये चीजें...

मान्यता है कि मां स्कंदमाता की उपासना से परम शांति और सुख का अनुभव होता है। मां स्कंदमाता को श्वेत रंग प्रिय है। मां की उपासना में श्वेत रंग के वस्त्रों का प्रयोग करना चाहिए। मां की पूजा के समय पीले रंग के वस्त्र धारण करें।

स्कंदमाता पूजा विधि...

सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से निवृत्त होने के बाद साफ- स्वच्छ वस्त्र धारण करें।
मां की प्रतिमा को गंगाजल से स्नान कराएं। 
स्नान कराने के बाद पुष्प अर्पित करें।
मां को रोली कुमकुम भी लगाएं। 
मां को मिष्ठान और पांच प्रकार के फलों का भोग लगाएं।
मां स्कंदमाता का अधिक से अधिक ध्यान करें।
मां की आरती अवश्य करें।

मां का भोग...

मां को केले का भोग अति प्रिय है। मां को खीर का प्रसाद भी अर्पित करना शुभ होता है। मान्यता है कि ऐसा करने से संतान सुख की प्राप्ति होती है। मां को विद्यावाहिनी दुर्गा देवी भी कहा जाता है। मां की उपासना से अलौकिक तेज की प्राप्ति होती है।

ध्यान मंत्र... 

वन्दे वांछित कामार्थे चन्द्रार्धकृतशेखराम्।

सिंहरूढ़ा चतुर्भुजा स्कन्दमाता यशस्वनीम् ।।

धवलवर्णा विशुध्द चक्रस्थितों पंचम दुर्गा त्रिनेत्रम्।

अभय पद्म युग्म करां दक्षिण उरू पुत्रधराम् भजेम् ।।

पटाम्बर परिधानां मृदुहास्या नानांलकार भूषिताम्।

मंजीर, हार, केयूर, किंकिणि रत्नकुण्डल धारिणीम् ।।

प्रफुल्ल वंदना पल्ल्वांधरा कांत कपोला पीन पयोधराम्।

कमनीया लावण्या चारू त्रिवली नितम्बनीम् ।।

स्तोत्र पाठ...

नमामि स्कन्दमाता स्कन्दधारिणीम्।

समग्रतत्वसागररमपारपार गहराम् ।।

शिवाप्रभा समुज्वलां स्फुच्छशागशेखराम्।

ललाटरत्नभास्करां जगत्प्रीन्तिभास्कराम् ।।

महेन्द्रकश्यपार्चिता सनंतकुमाररसस्तुताम्।

सुरासुरेन्द्रवन्दिता यथार्थनिर्मलादभुताम् ।।

अतर्क्यरोचिरूविजां विकार दोषवर्जिताम्।

मुमुक्षुभिर्विचिन्तता विशेषतत्वमुचिताम् ।।

नानालंकार भूषितां मृगेन्द्रवाहनाग्रजाम्।

सुशुध्दतत्वतोषणां त्रिवेन्दमारभुषताम् ।।

सुधार्मिकौपकारिणी सुरेन्द्रकौरिघातिनीम्।

शुभां पुष्पमालिनी सुकर्णकल्पशाखिनीम् ।।

तमोन्धकारयामिनी शिवस्वभाव कामिनीम्।

सहस्त्र्सूर्यराजिका धनज्ज्योगकारिकाम् ।।

सुशुध्द काल कन्दला सुभडवृन्दमजुल्लाम्।

प्रजायिनी प्रजावति नमामि मातरं सतीम् ।।

स्वकर्मकारिणी गति हरिप्रयाच पार्वतीम्।

अनन्तशक्ति कान्तिदां यशोअर्थभुक्तिमुक्तिदाम् ।।

पुनःपुनर्जगद्वितां नमाम्यहं सुरार्चिताम्।

जयेश्वरि त्रिलोचने प्रसीद देवीपाहिमाम् ।।

स्कंदमाता की आरती...
जय तेरी हो स्कंद माता, पांचवा नाम तुम्हारा आता.
सब के मन की जानन हारी, जग जननी सब की महतारी.
तेरी ज्योत जलाता रहूं मैं, हरदम तुम्हे ध्याता रहूं मैं.
कई नामो से तुझे पुकारा, मुझे एक है तेरा सहारा.
कहीं पहाड़ों पर है डेरा, कई शहरों में तेरा बसेरा.
हर मंदिर में तेरे नजारे गुण गाये, तेरे भगत प्यारे भगति.
अपनी मुझे दिला दो शक्ति, मेरी बिगड़ी बना दो.
इन्दर आदी देवता मिल सारे, करे पुकार तुम्हारे द्वारे.
दुष्ट दत्य जब चढ़ कर आये, तुम ही खंडा हाथ उठाये
दासो को सदा बचाने आई, चमन की आस पुजाने आई।

पेट्रोल-डीजल तथा रसोई गैस के दाम वापस, मांग

पेट्रोल-डीजल तथा रसोई गैस के दाम वापस, मांग   

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। लोकसभा में तृणमूल कांग्रेस के एक सदस्य ने महंगाई का विषय शून्यकाल में उठाया और सरकार से पेट्रोल-डीजल तथा रसोई गैस के हाल में बढ़े हुए दामों को वापस लेने की मांग की। सदन में महंगाई के मुद्दे पर विपक्षी दलों के सदस्यों की नारेबाजी के बीच तृणमूल कांग्रेस के असित कुमार मल्ल ने कहा कि देश में पेट्रोल और डीजल के दाम 100 रुपये प्रति लीटर से ज्यादा और रसोई गैस सिलेंडर के दाम 1000 रुपये से ऊपर पहुंच गए हैं।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस मूल्य वृद्धि को वापस लेने की घोषणा करके जनता को राहत देनी चाहिए। शून्यकाल में भारतीय जनता पार्टी की संघमित्रा मौर्य ने कहा कि यदि सम्राट अशोक की जयंती के अवसर पर सार्वजनिक अवकाश नहीं घोषित किया जा सकता तो उनके जन्म दिन को ‘सम्राट अशोक जयंती’ के रूप में अधिसूचित किया जाए ताकि लोग अपनी सुविधा के अनुसार एक निश्चित दिन इस संबंध में कार्यक्रम आयोजित कर सकें।
भाजपा के पल्लव लोचन दास ने असम में नवोदय विद्यालयों की आवश्यकता का विषय उठाया। नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर में सोमवार को सात हाउसबोट जल गई हैं और पर्यटन मंत्रालय को इस ओर ध्यान देते हुए पीड़ितों को नई हाउसबोट दिलवाने में मदद करनी चाहिए।

भारत से कितने यात्री हज यात्रा पर जाएंगे: नकवी

भारत से कितने यात्री हज यात्रा पर जाएंगे: नकवी   

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। सरकार ने मंगलवार को राज्यसभा में कहा कि इस वर्ष हज यात्रा की सारी तैयारी पूरी कर ली गयी है। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शून्यकाल के दौरान कहा कि कोरोना संकट के कारण पिछले दो साल से यह यात्रा नहीं हो रही थी। इस बार इस यात्रा की सारी तैयारी पूरी कर ली गयी है। उन्होंने कहा कि सऊदी अरब सरकार को यह तय करना है कि भारत से कितने यात्री हज यात्रा पर जाएंगे।
उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के दौरान पिछले वर्षो में रिकाॅर्ड संख्या में दो लाख यात्रियों को हज यात्रा पर भेजा गया था। इससे पहले तृणमूल कांग्रेस के नदीमूल हक ने इस मामले को उठाते हुए कहा कि इस बार यात्रा के लिए लोगों से दस्तावेज भरवाये गए हैं। लेकिन इस यात्रा को लेकर अनिश्चितता बनी हुयी है।

स्थानीय भाषाओं में अनिवार्य रुप से अंकित, निर्देश

स्थानीय भाषाओं में अनिवार्य रुप से अंकित, निर्देश  

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने मंगलवार को सरकार को केन्द्र सरकार के सभी साइन बोर्ड को अंग्रेजी और हिन्दी के अलावा, स्थानीय भाषाओं में भी अनिवार्य रुप से अंकित करने का निर्देश दिया। नायडू ने शून्यकाल के दौरान संसदीय कार्य राज्य मंत्री वी मुरलीधरन को कहा कि सरकार सभापति के दिशानिर्देश का पालन सुनिश्चित कराए।
उन्होंने कहा कि यह स्वतंत्र देश है,इस संबंध में एक राष्ट्रीय नीति होनी चाहिए । इससे पहले तृणमूल कांग्रेस के सुखेन्दु शेखर राय ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि केन्द्र सरकार के साइन बोर्ड सभी स्थानों पर हिन्दी और अंग्रेजी में ही अंकित होते हैं जिससे कुछ लोगों को समस्याएं होती हैं। उन्होंने कहा कि मेट्रो रेल में भी यह व्यवस्था लागू की जानी चाहिए ।

आप ने जीएमसी के 40 वार्डों में उम्मीदवार खड़े कियें

आप ने जीएमसी के 40 वार्डों में उम्मीदवार खड़े कियें  

इकबाल अंसारी          
गुवाहाटी। आम आदमी पार्टी (आप) ने गुवाहाटी नगर निगम (जीएमसी) के 22 अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए 40 उम्मीदवारों को उतारा है। ‘आप’ के असम राज्य संयोजक भाबेन चौधरी ने मंगलवार को बताया कि पार्टी ने जीएमसी के कुल 60 वार्डों में से 40 वार्डों में अपने उम्मीदवार खड़े कियें हैं और वह अधिकांश सीटें जीतकर बोर्ड बनाएगी।
उल्लेखनीय है कि ‘आप’ ने पिछले महीने के निकाय चुनावों में लखीमपुर और तिनसुकिया जिलों में दो नगरपालिका वार्ड में जीत दर्ज की थी। पार्टी जीएमसी चुनावों में खुद को दो राष्ट्रीय दलों, भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के विकल्प के रूप में पेश करने की कोशिश कर रही है। जीएमसी चुनाव के लिए कुल 208 उम्मीदवार मैदान में हैं। कुल 7, 97,807 मतदाता हैं, जिनमें 4, 00,654 महिलाएं और 26 थर्ड जेंडर शामिल हैं।

आर्थिक विकास, समुद्री क्षेत्र के महत्व का उल्लेख

आर्थिक विकास, समुद्री क्षेत्र के महत्व का उल्लेख  

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय समुद्री दिवस के मौके पर मंगलवार को देश के आर्थिक विकास के लिए समुद्री क्षेत्र के महत्व का उल्लेख किया और कहा कि पिछले आठ वर्षों में हमारे समुद्री क्षेत्र ने नई ऊंचाइयों को छुआ है और व्यापार तथा वाणिज्यिक गतिविधियों को बढ़ावा देने में योगदान दिया है।
नरेंद्र मोदी ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा, “आज राष्ट्रीय समुद्री दिवस पर हम अपने गौरवशाली समुद्री इतिहास को याद करते हैं और भारत के आर्थिक विकास के लिए समुद्री क्षेत्र के महत्व पर प्रकाश डालते हैं। पिछले आठ वर्षों में हमारे समुद्री क्षेत्र ने नई ऊंचाइयों को छुआ है और व्यापार तथा वाणिज्यिक गतिविधियों को बढ़ावा देने में योगदान दिया है।
उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, “पिछले आठ वर्षों में भारत सरकार ने बंदरगाह के नेतृत्व वाले विकास पर ध्यान केंद्रित किया है, जिसमें बंदरगाह क्षमता का विस्तार और मौजूदा प्रणालियों को और भी अधिक कुशल बनाना शामिल है। भारतीय उत्पादों को नए बाजारों तक पहुंच सुनिश्चित करने के लिए जलमार्गों का उपयोग किया जा रहा है।
प्रधानमंत्री ने कहा, “इस समय हम आर्थिक प्रगति के लिए समुद्री क्षेत्र का लाभ उठा रहे हैं और एक आत्मनिर्भर भारत का निर्माण कर रहे हैं। हम समुद्री पारिस्थितिकी तंत्र और विविधता को सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त देखभाल भी कर रहे हैं, जिस पर भारत को गर्व है।”

चिकित्सा सेवाओं पर खर्च, लोगों की जान बच सकतीं

चिकित्सा सेवाओं पर खर्च, लोगों की जान बच सकतीं 

संदीप मिश्र             
लखनऊ। बलिया में बीमार महिला को ठेले में अस्पताल ले जाने संबंधी वायरल वीडियो को लेकर समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि झूठे विज्ञापनों पर खर्च करने के बजाय, चिकित्सा सेवाओं पर खर्च किया जाता तो गरीब-बीमार लोगों की जान बचाईं जा सकती थीं।
(सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को ट्वीट किया "उप्र में चिकित्सा की झूठी उपलब्धि के झूठे विज्ञापनों में जितना खर्च किया जाता है। उसका थोड़ा-सा हिस्सा भी अगर सपा के समय सुधरी चिकित्सा सेवाओं पर लगातार खर्च किया जाता रहा होता तो आज भाजपा के राज में स्ट्रेचर व एम्बुलेन्स के अभाव में लोगों की जो जान जा रही है, वो बचाई जा सकती थी।
गौरतलब है कि बलिया के चिलकहर में बुजुर्ग सुकुल प्रजापति अपनी बीमार पत्नी जाेनिया देवी को ठेले में अस्पताल ले गया था जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। वायरल वीडियो को संज्ञान में लेते हुये उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को मामले के जांच के आदेश दिए थे। साथ ही दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के भी आदेश दिए।

2 एसएचओ के कार्य क्षेत्रों में फेरबदल: अधीक्षक

2 एसएचओ के कार्य क्षेत्रों में फेरबदल: अधीक्षक   

भानु प्रताप उपाध्याय            
शामली। पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव ने जनपद की कानून, शांति और सुरक्षा व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने की दृष्टि से दो एसएचओ के कार्य क्षेत्रों में फेरबदल करते हुए उन्हें इधर से उधर भेजा है। तबादलों से पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों में अब अपने स्थानांतरण की भी संभावनाएं उत्पन्न हो गई है।
मंगलवार को पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव की ओर से किए गए एसएचओ के तबादलों के अंतर्गत झिंझाना थाना प्रभारी श्यामवीर सिंह को स्थानांतरित कर कांधला थाना भेजा गया है। कांधला में अभी तक अपने पांव जमाये बैठे इंस्पेक्टर अब रोजन त्यागी झिंझाना थाना प्रभारी बनाए गए हैं।
उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में इस समय पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला एक्सप्रेस चल रही है, जिसके चलते उत्तर प्रदेश के तकरीबन सभी जनपदों में इंस्पेक्टरों एवं दरोगाओ के तबादलों का दौर चल रहा है। कहीं सूक्ष्म तो कहीं बड़े पैमाने पर इंस्पेक्टरों एवं दरोगाओं के तबादले किए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश के कई थानों में तस्वीर इस कदर बदल चुकी है कि इंस्पेक्टर से लेकर लगभग सभी दरोगा एकदम नए दिखाई दे रहे हैं।

'ध्रुवीकरण' की राजनीति कर जीत हासिल: गांधी

'ध्रुवीकरण' की राजनीति कर जीत हासिल: गांधी     

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि सरकार विपक्ष को निशाना बना रही है और उसकी आवाज दबाने की कोशिश में हर हथकंडे अपना रही है। लेकिन कांग्रेस जनता की आवाज बनेगी और जनता के मुद्दों के समाधान के लिए सरकार पर दबाव बनाएगी।
सोनिया गांधी ने मंगलवार को संसद भवन में कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि हाल के चुनाव में सत्ताधारी दल ने ध्रुवीकरण की राजनीति कर जीत हासिल की है। लेकिन कांग्रेस इससे निराश नहीं है और आगे भी जनता के मुद्दे उठाकर के जनता के हितों के लिए काम करेगी।
उन्होंने कहा कि सरकार किसी भी तरह से विपक्ष की आवाज दबाना चाहती है। महंगाई के मुद्दे पर वह विपक्ष की बात नहीं सुन रही और श्रमिक वर्ग का लगातार उनका शोषण कर रही है। सरकार की नीतियों के विरुद्ध पिछले 28 अप्रैल को देशव्यापी हड़ताल ने साबित कर दिया है कि सरकार को जनता के मुद्दों को लेकर झुकना पड़ेगा।
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी लगातार सरकार पर देश की सीमाओं की सुरक्षा को लेकर चर्चा कराने की मांग कर रही है लेकिन सरकार उनकी बात सुनने को तैयार नहीं है। महंगाई आसमान छू रही है और पेट्रोल डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन सरकार चर्चा कराने की बजाय विपक्ष को दबाने की कोशिश में लगी है।
उन्होंने कहा कि हाल के विधानसभा चुनाव के परिणाम कांग्रेस के लिए निराशाजनक रहे है और पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारक संस्था कांग्रेस कार्यसमिति में भी इस बात को लेकर की चर्चा हुई है। इस संबंध में उन्हें जो सुझाव मिले हैं उस पर वह गंभीरता से विचार कर रही हैं। उनका कहना था कि पार्टी के लिए सभी मुद्दों पर विचार के वास्ते शिविर आयोजन करना आवश्यक हो गया है।
गांधी ने कहा कि पार्टी के समक्ष आगे और ज्यादा चुनौतियां है इसलिए सभी को एक होकर के काम करना है और संगठन को मजबूत बनाना है। सरकार की नीतियों के खिलाफ लोकतांत्रिक तरीके से अपनी लड़ाई को जारी रखना है।

ट्रैक्टर ट्राली पलटने से 4 श्रद्धालुओं की मौंत

ट्रैक्टर ट्राली पलटने से 4 श्रद्धालुओं की मौंत  

संदीप मिश्र              
मैनपुरी। उत्तर प्रदेश में मैनपुरी जिले के औंछा थाना क्षेत्र में ट्रैक्टर ट्राली पलटने से चार श्रद्धालुओं की मृत्यु हो गयी, जबकि 24 से अधिक घायल हो गये।
पुलिस सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि बीती देर रात यह हादसा उस समय हुआ जब फिरोजाबाद के जसराना क्षेत्र के खडीत मिलावटी गांव निवासी श्रद्धालु शीतला देवी माता मन्दिर मैनपुरी से नैजा चढाकर वापस लौट रहे थे कि ग्राम नगला हार के पास मैनपुरी औछा रोड पर ट्रैक्टर ट्राली पलट गयी।
इस हादसे में मालती देवी (35), पुत्री गरिमा (10), रागिनी (16) और गीतादेवी (65) की मौत हो गयी जबकि अलका, रीना, सुंदरवती, लक्ष्मी, मीरा, कमलेश, चरण सिंह, छोटेलाल, ओमवती, सुषमा, जय देवी.केशवती, गुड्डी, संध्या, प्रिया, नीलेश, रिया समेत अन्य घायल हो गए। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

100 दिनों में कियें जाने वाले कामों की रिपोर्ट: सीएम

100 दिनों में कियें जाने वाले कामों की रिपोर्ट: सीएम  

संदीप मिश्र       
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने नवगठित मंत्रिमंडल के सहयोगी मंत्रियों से मंगलवार को अगले 100 दिनों में किये जाने वाले विभागीय कामों की कार्ययोजना रिपोर्ट लीं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि योगी ने मंगलवार को मंत्रियों के साथ विभागीय कामों की समीक्षा बैठक की। इसमें सभी मंत्रियों से अगले 100 दिन के काम का प्लान मांगा।
मुख्यमंत्री योगी अब मंत्रियों द्वारा दी गयी विभागवार कार्ययोजना का प्रस्तुतीकरण देख उसकी समीक्षा की। सूत्रों के अनुसार इस कड़ी में मुख्यमंत्री ने मंगलवार को लोकभवन मे समीक्षा बैठक आहूत की है। गौरतलब है कि 25 मार्च को मुख्यमंत्री योगी ने मंत्रिमंडल के सहयोगी मंत्रियों के साथ शपथ ग्रहण कर राज्य में भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल का आगाज किया था।
मंत्रियों को विभागों का बंटवारा किये जाने के साथ ही योगी ने सभी मंत्रियों से उनके संबद्ध विभागों के अगले 100 दिन के कामों की कार्ययोजना रिपोर्ट देने को कह दिया था।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-179, (वर्ष-05)
2. बुधवार, अप्रैल 6, 2022
3. शक-1984, चैत्र, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2078।      
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 23 डी.सै., अधिकतम-38+ डी सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम 

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक का आयोजन: डीएम  हरिशंकर त्रिपाठी  देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में दशहरा, ईद...