सोमवार, 15 अप्रैल 2019

थरूर पूजा करने के दौरान हुए घायल

थरूर पूजा करने के दौरान हुए घायल


केरल !तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार शशि थरूर सोमवार को एक दुर्घटना में घायल हो गए। इस दौरान उनके सिर पर चोट आई है। एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, उनके सिर पर छह टांके लगाए गए है। डॉक्टरों का कहना है कि वह खतरे से बाहर हैं।universalexpress.page


केरल के तिरुअनंतपुरम में एक मंदिर में पूजा करने के दौरान शशि थरूर घायल हो गए, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि एक धार्मिक अनुष्ठान के दौरान उनके वजन के बराबर कोई भी प्रसाद देवता को चढ़ाया जाता है। इस दौरान कांग्रेस के उम्मीदवार तिरुवनंतपुरम के एक मंदिर में तराजू के तौल पर बैठे थे और इस दौरान वह गिर गए और उनके सिर पर चोट आई।


लोनी नगर के भ्रष्टाचार पर होगी निश्चित कार्रवाई

लोनी नगर के भ्रष्टाचार पर होगी निश्चित कार्रवाई
विशेष रिपोर्ट लोनी! अधिकारी अपने अधिकारों का दुरुपयोग करके अपने निजी स्वार्थ की पूर्ति तो कर लेता है! परंतु उसके विपरीत कितनी जनता उसके कठोर परिणाम को झेलती है ?शायद अधिकारी को इस बात का अनुमान भी नहीं होता है !भ्रष्टाचार की वजह से अधिकारी अपने अधिकारों का दुरुपयोग करने से बाज नहीं आता है!


नगर पालिका लोनी में अधिशासी -अधिकारी और चेयरमैन के साझा प्रयास से कमीशन खोरी का खेल निर्बाध चल रहा है ,जिसमें कुल आवंटित धन का लगभग आधा भाग कमीशनखोरी मे हीं बांट लिया जाता है! शेष धन में विकास-निर्माण कार्य किया जाता है! जो किसी भी सूरत में निर्धारित मानकों पर खरा नहीं उतर सकता है !यह स्पष्ट रूप से तो जनता के धन की खुली लूट की जा रही है !जग जाहिर कि इस लूट पर अभी तक कोई स्थाई प्रतिबंध स्थापित नहीं किए गए हैं! यह बात जनता भली-भांति समझ रही है! जनता स्पष्ट रूप से इस भ्रष्टाचार को देख पा रही है, समझ पा रही है !क्योंकि इस भ्रष्टाचार से पैदा होने वाले परिणाम का दंश जनता को ही झेलना पड़ रहा है! इस विषय में जनता भी पूरी तरह मुखर है !परंतु इस विषय पर जिला प्रशासन की उदासीनता के पीछे क्या कारण हो सकते हैं ?तस्वीर अभी भी धुंधली ही नजर आ रही है !हालांकि जिला प्रशासन इस प्रकरण पर कोई-कोताही नहीं बरतेगा यह जनता के अधिकार पर की गई लूट से जुड़ा हुआ मामला है! इस विषय में जिला अधिकारी को जांच एवं कार्यवाही हेतु लिखित शिकायत की जा चुकी है! लेकिन अभी तक कोई संतोषजनक कार्यवाही नहीं हो पाई है! ऐसा नहीं है कि कार्रवाई नहीं की जा रही है बल्कि कार्रवाई हो नहीं पा रही है! नगर में भ्रष्टाचार की जडे इतनी गहरी हो चुकी है कि कहीं जिला अधिकारी इन जड़ों तक पहुंचने में पसीना ना छूट जाए !कई चुनौतियां भी इस मामले से जुड़ी हो सकती है , इस सब के बावजूद भी जिला अधिकारी से कम से कम यह उम्मीद नहीं की जा सकती है कि मामले की गंभीरता पर प्रकाश न डाला जाए! बरहाल जो भी परिणाम होंगे निश्चित रूप से जनता के हितों को ध्यान में रखकर लिए जाएंगे! भ्रष्टाचार में लिप्त व्यक्तियों को इसके परिणाम निश्चित रूप से ही प्राप्त होंगे!


कई देशों में फेसबुक की सेवाएं बाधित

कई देशों में फेसबुक की सेवाएं बाधित


सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक की सेवाएं रविवार को डाउन हो गईं। हालांकि, यह समस्या केवल फेसबुक की वेबसाइट पर आई है। फेसबुक का मोबाइल ऐप सही काम कर रहा है।भारत में यह समस्या दोपहर बाद चार बजे से शुरू हुई। जानकारी के मुताबिक इस समस्या का सबसे ज्यादा प्रभाव अमेरिका, तुर्की और मलयेशिया पर पड़ा है। फेसबुक के साथ ही व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम के यूजर्स को इस तरह की समस्या का सामना करना पड़ा है। हालांकि, इन ऐप्स पर यह समस्या ज्यादा गंभीर नहीं है।


universalexpress.page


शरद बोले ,गोली मरवा देंगे नरेंद्र मोदी

 


शरद बोले- गोली मरवा देंगे नरेंद्र मोदी


मधेपुरा ! लोकतांत्रिक जनता दल (लोजद) के नेता शरद यादव ने कहा है कि इस चुनाव में उनकी जान को खतरा है। शरद यादव ने यह भी कहा, 'नरेंद्र मोदी अगर दोबारा चुनाव जीतते हैं तो मुझे जेल भिजवा देंगे या गोली मरवा देंगे'। शरद यादव पूर्व में जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के अध्यक्ष भी रह चुके हैं लेकिन बाद में कुछ मतभेदों के बाद उन्होंने पार्टी छोड़ दी और महागठबंधन का हिस्सा बन गए।इस लोकसभा चुनाव में वे मधेपुरा से राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के चिन्ह पर चुनाव लड़ रहे हैं। यह पहला मौका नहीं है जब शरद यादव ने इस प्रकार का विवादित बयान दिया है. पिछले साल दिसंबर में उन्होंने राजस्थान चुनाव के दौरान तत्कालीन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर बहुत ही फूहड़ तंज कसते हुए कहा था कि "वसुंधरा को आराम दो, बहुत थक गई हैं, बहुत मोटी हो गई हैं, पहले पतली थीं। हमारे मध्य प्रदेश की बेटी हैं।"पिछले सालभोपाल के गांधी भवन में आयोजित लोकक्रांति सम्मेलन में शरद यादव ने कहा था कि आज कोई शरद यादव जीत सकता है क्या? universalexpress.pageआज सारे पैसे वाले लोग टिकट मांग रहे हैं।


 


मोदी का अधिकारियों को निर्देश 100 दिन का एजेंडा करें तैयार

मोदी का अधिकारियों को निर्देश 100 दिन का एजेंडा करें तैयार



  • 2019 लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को घोषित होंगे लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भरोसा है कि उनकी सरकार दोबारा बनेगी। पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री कार्यालय, नीति आयोग और प्रिंसिपल साइंटिफिक एडवाइजर से पहले नई सरकार के 100 दिन का एजेंडा तैयार करने के लिए कह चुके हैं। इस एजेंडे में अगले पांच वर्षों में जीडीपी वृद्धि को दोहरे अंकों पर लाने का लक्ष्य होगा।मोदी सरकार के तीन शीर्ष अधिकारियों के अनुसार, व्यस्त चुनाव प्रचार के बीच पीएम मोदी ने अपने कार्यालय, नीति आयोग के वाइस चेयरमैन और प्रिंसिपल साइंटिफिक एडवाइजर प्रो के विजयराघवन को स्वच्छ भारत अभियान के साथ व्यापक आर्थिक और नौकरशाही सुधारों का एक एजेंडा तैयार करने का काम सौंपा है।हिन्दुस्तान टाइम्स को तीन अधिकारियों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया है कि पीएम मोदी के 100 दिन के एजेंडे में तेल व गैस, खनिज, बुनियादी ढांचे और शिक्षा को लाल फीताशाही से मुक्त करने पर ध्यान केंद्रित करने को कहा है ताकि 2047 तक भारत को एक विकसित देश बनने की नींव रखी जा सके।universalexpress.page


 


भड़की जया ना हटूगीं ना डरूंगी

 भड़कीं जया, ना हटूगीं ना डरूंगी


रामपुर ! समाजवादी पार्टी नेता आजम खान के आपत्तिजनक बयान पर जया प्रदा ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उनके लिए ये कोई नई बात नहीं है। उन्होंने कहा कि उन्हें चुनाव नहीं लड़ने दिया जाना चाहिए। समाज में महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं होगी। क्या मुझे मर जाना चाहिए? आपको क्या लगता है मैं रामपुर छोड़ दूंगी, ऐसा नहीं होगा।जया प्रदा ने कहा कि आपको याद होगा कि मैं 2009 में उनकी पार्टी की उम्मीदवार थी, जब मेरे खिलाफ टिप्पणी करने के बाद किसी ने भी मेरा समर्थन नहीं किया था। मैं एक महिला हूं और मैं वह नहीं दोहरा सकती जो उन्होंने कहा। पता नहीं मैंने क्या किया है, जो वो ऐसी टिप्पणी कर रहा है।उन्होंने कहा कि उसे चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। क्योंकि अगर यह आदमी जीत गया, तो लोकतंत्र का क्या होगा? समाज में महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं होगी। हम कहां जाएंगे? क्या मुझे मर जाना चाहिए, तब आप संतुष्ट होंगे? आप सोचते हैं कि मैं डर जाऊंगी और रामपुर छोड़ दूंगी? लेकिन मैं नहीं छोड़ूंगी।universalexpress.page


 


सत्ता बदलने दो उल्टा लटका दूंगा: शेखावत

 सत्ता बदलने दो, उलटा लटका दूंगा: शेखावत


जोधपुर ! राजस्थान के पोकरण में चुनाव प्रचार के दौरान केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की जुबान फिसल गई।  चुनाव प्रचार में शेखावत ने प्रशासनिक अधिकारियों को धमकी तक दे डाली।उन्होंने कहा, ''यह मेरा आखिरी चुनाव नहीं है, पांच साल बाद राज बदल जायेगा, तो सब को दिखाउंगा, सबकी जन्मपत्री मेरे आंखों के सामने रखी हुई है। उल्टा नहीं लटका दूं, तो मेरा नाम गजेंद्र सिंह नहीं है।''दरअसल, केंद्रीय मंत्री और जोधपुर लोक सभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार गजेंद्र सिंह शेखावत चुनाव कार्यालय का उद्धाटन करने पहुंचे थे। कार्यक्रम के बाद उन्होंने एक सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने यह विवादित बयान दिया। वहीं, गजेंद्र सिंह का यह बयान अधिकारियों को खास पसंद नहीं आ रहा है।universalexpress.page


 


सुप्रीम कोर्ट ने राहुल को नोटिस जारी किया

सुप्रीम कोर्ट ने राहुल को जारी किया नोटिस


सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने राहुल गांधी को राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर टिप्पणी 'चौकीदार चोर है' मामले में नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी की याचिका पर राहुल गांधी को नोटिस जारी किया है। उच्चतम न्यायालय ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से उनकी टिप्पणी पर 22 अप्रैल तक जवाब मांगा है।सुप्रीम कोर्ट में इस मामले में 22 अप्रैल को सुनवाई होनी है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगई की पीठ ने कहा कि कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की, इसका मतलब है कि राहुल गांधी का बयान गलत है। कोर्ट ने कहा कि राहुल गांधी द्वारा शीर्ष अदालत की टिप्पणी को गलत तरह से पेश किया गया है।उच्चतम न्यायालय ने कहा कि कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की थी। कोर्ट ने राफेल मामले को लेकर कुछ दस्तावेजों की स्वीकार्यता तय की थी। गौरतलब है कि पिछले शुक्रवार को भाजपा की सांसद मीनाक्षी लेखी ने उच्चतम न्यायालय में राहुल गांधी के खिलाफ राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर की गई टिप्पणी 'चौकीदार चोर है' को लेकर अवमानना याचिका दायर की थी।universalexpress.page


 


सुप्रीम कोर्ट को आखरी आपत्तिजनक बयान बाजी

 सुप्रीम कोर्ट को अखरी, आपत्तिजनक बयान बाजी


सुप्रीम कोर्ट ने राजजनेताओं के आपत्तिजनक बयान पर कड़ा एक्शन नहीं लेने वाले चुनाव आयोग के प्रति असंतुष्टि जताई है। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने इस मामले में आयोग के प्रतिनिधि को मंगलवार को कोर्ट में हाजिर होने के लिए कहा है।जाति और धर्म को लेकर राजनेताओं और पार्टी प्रवक्ताओं के आपत्तिजनक बयानों पर राजनीतिक पार्टियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई को लेकर जनहित याचिका दायर की गई थी। इस याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने गंभीरता दिखाई।लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बसपा सुप्रीमोे मायावती और अन्य नेताओं के आचार संहिता के खिलाफ दिए गए बयानों को लेकर नाराजगी जताई है और आयोग के पास सीमित अधिकार होने के प्रति असंतुष्टि जताई है।universalexpress.page


 


मोदी के भाषण के दौरान मंच के नीचे लगी आग

 मोदी के भाषण के दौरान मंच के नीचे लगी आग


अलीगढ़ ! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के दौरान मंच के नीचे शॉर्ट सर्किट के कारण आग लग गयी। हालांकि आग को कुछ ही पलों में बुझा लिया गया। मामले में तीन लोगों के खिलाफ लापरवाही के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने बताया कि प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान उनके लिए बनाए गए मंच में एयर कंडीशनिंग सर्किट के तार के ज्यादा गर्म होने की वजह से उसने आग पकड़ ली। हालांकि सुरक्षा स्टाफ ने आग पर तुरंत काबू भी पा लिया जिसकी वजह से कोई नुकसान नहीं हुआ।


उन्होंने बताया कि इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी का भाषण लगातार जारी रहा और सुरक्षा स्टाफ ने बेहद खामोशी से आग पर काबू पा लिया, जिसकी वजह से किसी को फौरन कुछ पता नहीं लग सका। कुलहरि ने बताया कि इस मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं और तीन कर्मियों के खिलाफ लापरवाही के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।universalexpress.page


 


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...