रविवार, 20 मार्च 2022

जिलाधिकारी की प्रेरणा से 'स्वच्छता' अभियान चलाया

जिलाधिकारी की प्रेरणा से 'स्वच्छता' अभियान चलाया  

मनोज सिंह ठाकुर
चित्रकूट। चित्रकूट में रविवार को कामदगिरि पर्वत में उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश प्रशासन के सहयोग से कामदगिरि स्वच्छता समिति ने साफ-सफाई का कार्य किया। चित्रकूट के जिलाधिकारी शुभ्रांत कुमार शुक्ल की प्रेरणा से स्वच्छता अभियान चलाया गया। इसमें वन प्रभाग चित्रकूट सतना का भी सफाई अभियान में योगदान रहा। साफ सफाई के बाद वहां के दुकानदारों से अतिक्रमण न फैलाने के लिए जागरूक किया गया। साथ ही स्वच्छता बनाए रखने के लिए कहा गया।
साफ-सफाई के लिए प्रेरित किया...
डिप्टी रेंजर रामबाबू मिश्रा, सत्य नारायण पांडेय, जानकी प्रसाद विश्वकर्मा, वनरक्षक जे पी मिश्रा, वनरक्षक वीरेंद्र मिश्रा, सुधाकर तिवारी इसके अलावा नायब तहसीलदार ऋषि नारायण सिंह के निर्देशन में नगर परिषद चित्रकूट के स्वच्छता प्रभारी प्रभात सिंह, स्वच्छता समिति चित्रकूट के अध्यक्ष राकेश केसरवानी, महासचिव शंकर यादव अंजू वर्मा राजेंद्र कुमार त्रिपाठी विनोद वर्मा, पदमेंद्र त्रिपाठी शारदा संजय यादव राजकुमार सीताराम राजेश छोटू पटेल नवल जानकी राजा मिश्रा सोनू यादव चुन्नीलाल आदि का योगदान रहा, दीपावली बाद हुई सफाई में यह बात उभर कर सामने आई कि जन जागरूकता के अभाव में परिक्रमा मार्ग व कामदगिरि पर्वत में गंदगी फैल रही है इसको नियंत्रित करने के लिए सभी को आत्ममंथन करना चाहिए।

सफाई के प्रति सजग रहें...
कामदगिरि परिक्रमा मार्ग के दुकानदारों व वहां निवासियों को स्वयं जागरूक होना चाहिए। सफाई समिति के सदस्य शंकर यादव ने कहा कि स्वयं सफाई के प्रति सजग रहें तभी स्वच्छता अभियान सफल होगा। नगर पालिका के सफाई नायक जानकी प्रसाद कुशवाहा की पूरी टीम स्वच्छता कार्य में सहभागी रही।

कौशाम्बी, पोलियो का उन्मूलन बेहद जरूरी: अधिकारी

कौशाम्बी, पोलियो का उन्मूलन बेहद जरूरी: अधिकारी  

नथन पटेल          
कौशाम्बी। विश्व से पोलियो का समूल उन्मूलन करने के लिए सरकार लगी है। इसी क्रम में दिनांक 20 मार्च को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मंझनपुर कौशाम्बी में मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा फीता काटकर पोलियो उन्मूलन कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि पोलियो का उन्मूलन बेहद जरूरी है। 
यह बेहद खतरनाक बीमारी है और जिस व्यक्ति को पोलियो की बीमारी हो जाती है। उसका जीवन बेकार हो जाता है। उन्होंने कहा कि इसलिए पोलियो के उन्मूलन में सभी के सहयोग की आवश्यकता है। इस दौरान जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ हिंद प्रकाशमणि, डॉक्टर शोएब अंसारी, डीएमसी प्रदीप पाल, विश्व स्वास्थ्य संगठन मॉनिटर आलोक दुबे बी.सी.पी.एम घनश्याम पाल, बीएमसी अरविंद पांडे तथा स्वास्थ विभाग के अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

एन बीरेन को दूसरी बार मणिपुर का सीएम बनाया

एन बीरेन को दूसरी बार मणिपुर का सीएम बनाया   

इकबाल अंसारी           

इंफाल। बीजेपी ने एन बीरेन सिंह को दूसरी बार मणिपुर का मुख्यमंत्री बनाया गया है। इंफाल में मणिपुर भाजपा विधायक दल की बैठक में उन्हें सर्वसम्मति से सीएम पद के लिए चुना गया। मणिपुर में भाजपा की लगातार दूसरी बार सत्ता में वापसी के 10 दिन बाद यह फैसला आया है।बीजेपी ने एन बीरेन सिंह को दूसरी बार मणिपुर का मुख्यमंत्री बनाया गया है। इंफाल में मणिपुर भाजपा विधायक दल की बैठक में उन्हें सर्वसम्मति से सीएम पद के लिए चुना गया। मणिपुर में भाजपा की लगातार दूसरी बार सत्ता में वापसी के 10 दिन बाद यह फैसला आया है। राज्य में हाल के विधानसभा चुनावों में 60 सदस्यीय सदन में 32 सीटें जीतकर भाजपा ने बहुमत हासिल किया था। एन बीरेन सिंह ने हिंगांग विधानसभा सीट से जीत हासिल की थी। इस बार भाजपा ने मणिपुर विधानसभा चुनाव अकेले लड़ा और बहुमत हासिल करने में कामयाब रही कि पार्टी को एक वोट उग्रवाद प्रभावित राज्य में शांति लाएगा।

मणिपुर के मुख्यमंत्री होंगे एन बीरेन सिंह...

पूर्वोत्तर राज्य का अगला मुख्यमंत्री किसे नियुक्त किया जाएगा, इस पर गहन अटकलें लगाई जा रही थीं। एन बीरेन सिंह जहां इस पद के लिए एक शीर्ष दावेदार थे, वहीं दो बार के विधायक और पूर्व कैबिनेट मंत्री थ बिश्वजीत सिंह भी दौड़ में थे। विशेष रूप से एन बीरेन सिंह और टीएच विश्वजीत सिंह दोनों भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ बैठक के लिए दिल्ली में थे।

मणिपुर के मुख्यमंत्री के रूप में एन बीरेन सिंह के दूसरे कार्यकाल का स्वागत करते हुए, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, “यह सभी द्वारा सर्वसम्मति से लिया गया एक अच्छा निर्णय है। यह सुनिश्चित करेगा कि मणिपुर में एक स्थिर और जिम्मेदार सरकार हो, जो आगे निर्माण करेगी। क्योंकि, रविवार को केंद्र के तहत पीएम मोदी का नेतृत्व पूर्वोत्तर राज्यों पर विशेष ध्यान देता है।” सीतारमण, केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री किरेन रिजिजू के साथ, राज्य में नवनिर्वाचित भाजपा विधायकों के साथ एक बैठक में भाग लेने के लिए रविवार को इंफाल में थीं।

विभाग द्वारा 'पल्स पोलियो' अभियान का शुभारंभ

विभाग द्वारा 'पल्स पोलियो' अभियान का शुभारंभ    

भानु प्रताप उपाध्याय          

मुजफ्फरनगर। जनपद मुजफ्फरनगर के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा रविवार को पल्स पोलियो अभियान का शुभारंभ किया गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार के द्वारा जिला महिला चिकित्सालय में लगाए गए बूथ का फीता काटकर शुभारंभ किया गया। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. शरण सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद में आज पल्स पोलियो अभियान के अंतर्गत 1459 बूथ लगाए गए हैं तथा कल से घर घर जाकर टीमें बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाएंगे। 

जिसके लिए 1040 टीमें बनाई गई। जो घर-घर जाकर टीमें पल्स पोलियो की खुराक जन्म से लेकर 5 साल तक के बच्चों को पिलाएंगे। पल्स पोलियो बूथ के उद्घाटन के शुभारंभ अवसर पर महिला चिकित्सा अधिक्षिका डॉ आभा शर्मा,जिला सहायक प्रतिरक्षण अधिकारी  प्रदीप शर्मा, डीएमसी  तरन्नुम, पीसीआई कोर से विनोद शर्मा, वीसीसीएम इमरान, भूपेंद्र शर्मा जसप्रीत,मदन आदि उपस्थित रहे।

विपक्षी दलों ने सरकार से लड़ने की तैयारी में देरी की

विपक्षी दलों ने सरकार से लड़ने की तैयारी में देरी की 

अकांशु उपाध्याय        

नई दिल्ली। लोकतांत्रिक जनता दल पार्टी को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल, पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव ने अपनी पार्टी एलजेडी का रविवार को आरजेडी में विलय कर दिया। बता दें इस एलान के मौके पर मौजूद रहे तेजस्वी यादव ने कहा कि विपक्षी दलों ने सरकार से लड़ने की तैयारी में देरी कर दी है। हम लोगों को 2019 से ही साथ रहना चाहिए। शरद यादव का फैसला, हम सब की हिम्मत बढ़ाने वाला फैसला है।
वहीं तेजस्वी ने कहा कि समाजवादी लोग एक साथ आ जाएं तो साम्प्रदायिक शक्तियों को देश से बाहर कर सकते हैं। देश में ऐसा माहौल बनाया जा रहा है कि अल्पसंख्यकों से मताधिकार छीन लिया जाए लेकिन किसी माई के लाल में दम नहीं कि ऐसा कर सके। वहीं इस दौरान शरद यादव ने कहा, कि भविष्य की लड़ाई नौजवान पीढ़ी के नेता ही लड़ सकते हैं। नौजवान नेताओं में सबसे तेज तेजस्वी यादव हैं। लोकतांत्रिक जनता दल के कार्यकर्ताओं की पार्टी अब राष्ट्रीय जनता दल है। वहीं आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने केंद्र और बिहार सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आज अराजकता की स्थिति है। नफरत को परोसा जा रहा है, भाईचारे पर खतरा है। मंहगाई बढ़ रही है, देश की संपत्तियों को बेचा जा रहा है। देश की संस्थाओं को एक पार्टी की शाखा में तब्दील किया जा रहा है। आवाज उठाने वालों को परेशान किया जा रहा है। वहीं तेजस्वी यादव ने बिहार सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि, बिहार में सरकार नहीं सर्कस चल रहा है। विधानसभा अध्यक्ष के साथ मुख्यमंत्री जिस तरह पेश आए ऐसा देश में कभी नहीं हुआ। नीतीश कुमार पुतिन से विशेष राज्य का दर्जा मांग रहे हैं? शरद यादव ने जनता दल (यूनाइटेड) से अलग होने के बाद मई, 2018 में लोजद का गठन किया था।

122 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंचें डीजल के दाम

122 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंचें डीजल के दाम  

अकांशु उपाध्याय    

नई दिल्ली। देश की पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से डीजल के थोक उपभोक्ताओं के लिए इसके दामों में 25 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी गई है। जिसके चलते देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में थोक उपभोक्ताओं के लिए डीजल के दाम 122 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गए हैं। रविवार को पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से थोक ग्राहकों को बिक्री के लिए दिया जाने वाला डीजल 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है। थोक उपभोक्ताओं के लिए डीजल की कीमतों में की गई 25 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में 40 फीसदी का उछाल आने के बाद की गई है। हालांकि पेट्रोल पंपों के माध्यम से बेचे जाने वाले डीजल की खुदरा कीमतों में पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से कोई बदलाव नहीं किया गया है। इस महीने पेट्रोल पंपों की बिक्री में 20 प्रतिशत का भारी उछाल आया है। 

बस अड्डों एवं माल जैसे थोक उपभोक्ताओं द्वारा पेट्रोल पंप से खरीदा गया है। जबकि आमतौर पर वह पेट्रोलियम कंपनियों से सीधे इनकी खरीद करते हैं। इससे ईंधन की खुदरा बिक्री करने वाली कंपनियों का नुकसान बढा है। सबसे अधिक प्रभावित नायरा एनर्जी, जिओ बीपी एवं शैल जैसी कंपनियां प्रभावित हुई है। बिक्री बढ़ने के बावजूद इन कंपनियों ने अभी तक डीजल की मात्रा में कमी नहीं की है। लेकिन अब पंपों के लिए परिचालन आर्थिक रूप से व्यावहारिक नहीं रह जाएगा।


मुंबई: अभिनेत्री करीना ने खास तस्वीर शेयर की

मुंबई: अभिनेत्री करीना ने खास तस्वीर शेयर की   

कविता गर्ग               
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री करिश्मा कपूर और करीना कपूर, बच्चों के साथ मालदीव्स वेकेशन से सुकून के कुछ दिन गुजारने के बाद वापस मुंबई लौट गई हैं। मालदीव्स से भले वो वापस आ गए हो, लेकिन ऐसा लगता है कि उनका मन अभी भी मालदीव्स में ही कही हैं। वेकेशन के दौरान लगातार फैंस को तस्वीरों को जरिए झलकियां दिखाने के बाद अब करीना कपूर ने एक खास तस्वीर शेयर की है। तस्वीर में वह अकेले नहीं बल्कि करीना के साथ उनके दोनों बच्चे, बहन करिश्मा कपूर और उनके दोनों बच्चे नजर आ रहे हैं। करीना कपूर खान ने एक ग्रुप फोटो मालदीव्स से लौटने के बाद शेयर की है, तस्वीर में दोनों बहनें अपने बच्चों के साथ रेत में बिकिनी पहने बैठी नजर आ रही हैं और सभी बैक पोज दे रहे हैं।
तस्वीर में करिश्मा और करीना साथ बैठी नजर आ रही हैं और उनके अगल-बगल यानी दोनों तरफ बच्चे बैठे हुए हैं। सभी बीचवेयर में नजर आ रहे हैं। करीना का ये पोस्ट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।
करीना कपूर ने वेकेशन की ये तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- ‘स्प्रिंग ब्रेक 2022’। इसके साथ उन्होंने सारे बच्चों का नाम मेंशन किया। उन्होंने लिखा- समायरा कपूर, कियान, टिमटिम, जेह बाबा। करिश्मा ने भी ये तस्वीर शेयर की है। उन्होंने हार्ट इमोजी के साथ तस्वीर को शेयर किया है।
सोशल मीडिया पर इस तस्वीर को काफी पसंद किया जा रहा है।‌ फैंस खूब कॉमेंट्स कर रहे हैं। एक फैन ने लिखा- ‘लवली’ तो वहीं दूसरे ने लिखा- ‘सिस्टर गोल्स’। कुछ फैंस ने तस्वीर को ‘परफेक्ट फैमिली’ कहा। वहीं, अन्य सोशल मीडिया यूजर्स भी इमोजी पोस्ट करते हुए इस फैमिली फोटो पर अपना जमकर प्यार लुटाते नजर आए। करीना के इस पोस्ट पर उनके फैंस से लेकर कई जानी- मानी हस्तियां भी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

अंडमान-निकोबार के हिस्सों में जन-जीवन प्रभावित

अंडमान-निकोबार के हिस्सों में जन-जीवन प्रभावित   

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। चक्रवात ‘आसनी’ के प्रभाव से रविवार को बारिश और तेज हवाओं के कारण अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के कुछ हिस्सों में आम जन-जीवन प्रभावित हुआ। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि साल के पहले चक्रवाती तूफान के तेजी से द्वीप समूह की तरफ बढ़ने के मद्देनजर अंतर-द्वीपीय जहाज सेवाओं को रोक दिया गया है और मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने का अलर्ट जारी किया गया है। अधिकारियों के मुताबिक, एहतियात के तौर पर द्वीप समूह के विभिन्न हिस्सों में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के लगभग 100 कर्मियों को तैनात किया गया है और छह राहत शिविर भी स्थापित किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि उत्तर और मध्य अंडमान में बारिश के साथ तेज हवाएं चलीं, लेकिन पोर्ट ब्लेयर में जनजीवन सामान्य रहा। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को जारी एक ट्विटर पोस्ट में कहा, ‘‘आज 20 मार्च 2022 को भारतीय समयानुसार सुबह साढ़े पांच बजे दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी और उससे सटे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर बना कल का कम दबाव वाला क्षेत्र न्यूनतम दबाव वाले क्षेत्र में तब्दील हो गया। अगले 24 घंटों के दौरान इसके और अधिक गहन न्यूनतम दबाव वाले क्षेत्र में बदलने की आशंका है।’’ मौसम विज्ञानियों के अनुसार, चक्रवाती तूफान के बांग्लादेश और म्यांमा के तटों की तरफ बढ़ने के भी आसार हैं।

सीएम मान ने वीडियो संदेश में निर्णय की घोषणा की

सीएम मान ने वीडियो संदेश में निर्णय की घोषणा की   

अमित शर्मा           

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने अपने मंत्रिमंडल की पहली बैठक की अध्यक्षता करने के बाद एक वीडियो संदेश में इस निर्णय की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इन नौकरियों के लिए विज्ञापन और अधिसूचना की प्रक्रिया एक महीने के भीतर शुरू कर दी जाएगी। मान ने अपने मंत्रिमंडल की पहली बैठक की अध्यक्षता करने के बाद एक वीडियो संदेश में इस निर्णय की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इन नौकरियों के लिए विज्ञापन और अधिसूचना की प्रक्रिया एक महीने के भीतर शुरू कर दी जाएगी।

उन्होंने कहा, ‘‘आने वाले दिनों में, हम अपनी बाकी गारंटी (चुनावी वादों) को भी पूरा करेंगे।’’ मान ने कहा कि पंजाब पुलिस विभाग में 10,000 पद भरे जाएंगे और बाकी नौकरियां अलग-अलग विभागों, बोर्ड और निगमों में होंगी। उन्होंने कहा कि योग्यता के आधार पर नौकरियां दी जाएंगी।उन्होंने कहा, ‘‘कोई भेदभाव नहीं होगा, कोई ‘सिफारिश’ या कोई रिश्वत नहीं होगी।’’ 

राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने यहां पंजाब राजभवन में गुरु नानकदेव सभागार में एक समारोह में 10 मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। मंत्रिमंडल ने विधानसभा के आगामी सत्र में वर्ष 2021-22 के लिए अनुदान की अनुपूरक मांगों को प्रस्तुत करने को भी मंजूरी दी। एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, यह निर्णय वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान लंबित देनदारियों को समाप्त करने के लिए विभिन्न विभागों द्वारा किए गए अतिरिक्त या अधिक व्यय के वास्ते एक बजट उपलब्ध करायेगा।

पंजाब: 'आप' ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की

पंजाब: 'आप' ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की   

अमित शर्मा        
चंडीगढ़। पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) ने अभी तक अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। पंजाब विधानसभा चुनाव में आप ने 117 में से 92 सीटें जीती हैं। जिससे राज्यसभा की सभी 5 सीटों पर उनके उम्मीदवारों की जीत तय है। पंजाब से हरभजन और राघव चड्ढा के नामों पर फिलहाल राज्यसभा के लिए चर्चा चल रही है। लेकिन आम आदमी पार्टी द्वारा औपचारिक रूप से इसकी घोषणा या पुष्टि नहीं की गई है। 
पंजाब से खाली हुई पांच राज्यसभा सीटों के लिए नामांकन का कल आखिरी दिन है लेकिन आम आदमी पार्टी (आप) ने अभी तक अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। पंजाब विधानसभा चुनाव में आप ने 117 में से 92 सीटें जीती हैं। जिससे राज्यसभा की सभी 5 सीटों पर उनके उम्मीदवारों की जीत तय है।
वहीं अब विपक्ष के निशाने पर आम आदमी पार्टी है। पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस (पीएलसी) के मुख्य प्रवक्ता प्रीतपाल सिंह बालीवाल ने इस पर सवाल उठाया। पंजाब से हरभजन और राघव चड्ढा के नामों पर फिलहाल राज्यसभा के लिए चर्चा चल रही है। लेकिन आम आदमी पार्टी द्वारा औपचारिक रूप से इसकी घोषणा या पुष्टि नहीं की गई है। पहला नाम क्रिकेटर हरभजन सिंह का है। हरभजन ने कुछ महीने पहले ही क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह इस साल पंजाब से आम आदमी पार्टी से राज्यसभा के उम्मीदवार हो सकते हैं। इस महीने के अंत तक आप के पास राज्यसभा में पांच सीटें होंगी।
पार्टी के एक सूत्र ने बताया कि पंजाब से राज्यसभा उम्मीदवारों की लिस्ट में भारत के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का नाम है। सूत्र ने कहा कि नवगठित पंजाब सरकार ने चुनाव प्रचार के दौरान पार्टी द्वारा किए गए वादों को पूरा करना शुरू कर दिया है। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने चुनाव प्रचार के दौरान जालंधर में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी स्थापित करने का वादा किया था। सूत्र ने बताया कि मुख्यमंत्री इस खेल विश्वविद्यालय की कमान हरभजन सिंह को दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री राज्य में खेलों को बढ़ावा देना चाहते हैं और जल्द ही इस संबंध में निर्णय ले सकते हैं।
 वह फिलहाल दिल्ली से विधायक हैं। हालांकि, उन्होंने पंजाब चुनावों में पार्टी के सह-प्रभारी के रूप में कार्य किया। जिसमें उन्हें अपनी रणनीति के दम पर बड़ी जीत मिली। तीसरा नाम है आईआईटी दिल्ली के प्रोफेसर संदीप पाठक का। प्रोफेसर पाठक ने पंजाब चुनावों के दौरान पर्दे के पीछे आप की जीत की रणनीति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। कांग्रेस के पूर्व मंत्री जगमोहन कांग भी राज्यसभा सीट के लिए मैदान में हैं। पिछले विशेष चुनाव में कांग्रेस ने उनका टिकट काट दिया था। जिसके बाद उन्होंने खुद ज्वाइन कर लिया।

अभिनेत्री माधुरी ने गाना 'सुन बेलिया' पर डांस किया

अभिनेत्री माधुरी ने गाना 'सुन बेलिया' पर डांस किया   

कविता गर्ग    
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री माधुरी दीक्षित ने जैकी श्राफ के साथ अपनी फिल्म 100 डेज के सुपरहिट गाने 'सुन बेलिया' पर डांस किया है। माधुरी दीक्षित और जैकी श्रॉफ 90 के दशक के पॉपुलर जोड़ियों में से एक थे। माधुरी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वह जैकी के साथ 'सुन बेलिया' गाना पर डांस करती नजर आ रही है।
माधुरी दीक्षित ने जैकी श्रॉफ के साथ डांस करते हुए अपना एक वीडियो इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया हैं। वीडियो में माधुरी अपनी फिल्म 100 डेज के सुपरहिट गाने 'सुन बेलिया' पर जैकी के साथ जबरदस्त डांस करती नजर आ रही है। इस वीडियो को शेयर कर माधुरी दीक्षित ने कैप्शन में लिखा, 'जैकी श्रॉफ के साथ 100 डेज के इस रोमांचक गाने के साथ रील बनाने में बहुत मज़ा आया।

महत्वपूर्ण मुद्दों पर मेल-मिलाप, तैयार हुए रूस-यूक्रेन

महत्वपूर्ण मुद्दों पर मेल-मिलाप, तैयार हुए रूस-यूक्रेन     

सुनील श्रीवास्तव       

अंकारा/मास्को/कीव तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत कावुसोग्लू ने रविवार को कहा कि रूस और यूक्रेन, विकट समेत सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर मेल-मिलाप के लिए तैयार हो गये हैं।तुर्की समाचार-पत्र ने कावुसोग्लू ने हवाले से कहा “ हमने देखा कि दोनों ही देश पहले चार बिंदुओं पर तो एकमत हो गये लेकिन कुछ मुद्दों को नेताओं के स्तर से ही सुलझाये जाने की जरूरत है। ” साथ ही यह भी स्पष्ट किया कि तुर्की इस बात के लिए भी तैयार है कि रूस ,तुर्की और यूक्रेन के नेताओं के बीच समस्या के समाधान के लिए एक त्रिपक्षीय वार्ता की जाए।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 1,761 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 1,761 नए मामलें   

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। देश में महामारी के नए मामलों में रविवार को भी गिरावट दर्ज की गई है। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 1,761 नए मामलें सामने आए हैं और 127 लोगों की मौत हो गई। देश में अबतक कोरोना के 4 करोड़ 30 लाख 7 हजार 841 मामले सामने आ चुके हैं। जानिए देश में कोरोना की ताजा स्थिति क्या है ?
केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, कल देश में 3 हजार 196 लोग ठीक हुए, जिसके बाद अब एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 26 हजार 240 हो गई है। वहीं, इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5 लाख 16 हजार 479 हो गई है। आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक 4 करोड़ 24 लाख 65 हजार 122 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।
राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोरोना वायरस रोधी टीकों  की 181 करोड़ से ज्यादा खुराक दी जा चुकी हैं। कल 15 लाख 34 हजार 444 डोज़ दी गईं, जिसके बाद अबतक वैक्सीन की 181 करोड़ 27 लाख 11 हजार 675 डोज़ दी जा चुकी हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना योद्धाओं और 60 साल से ज्यादा आयु वाले अन्य बीमारियों से ग्रस्त लोगों को 2 करोड़ से ज्यादा (2,17,33,502) एहतियाती टीके लगाए गए हैं। देश में कोविड रोधी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 से शुरू हुआ और पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया। वहीं, कोरोना योद्धाओं के लिए टीकाकरण अभियान दो फरवरी से शुरू हुआ था।

नगर निगम के सुपरवाइजर की गोली मारकर हत्या

नगर निगम के सुपरवाइजर की गोली मारकर हत्या  

हरिओम उपाध्याय                    
लखनऊ। यूपी के कैसरबाग इलाके में डीजे पर डांस करने के विवाद में नगर निगम के सुपरवाइजर पप्पू सोनकर की विरोधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं, हत्या को अंजाम देने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गए और अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। वहीं इस घटना के विरोध में परिजनों और दोस्तों ने जमकर हंगामा किया। वहीं मौके पर पहुंचे आला अफसरों ने परिजनों को समझा-बुझाकर शांत कराया। वहीं मृतक की पत्नी ने हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।
जानकारी के मुताबिक इस मामले में मृतक पप्पू सोनकर की पत्नी ने रल्ली सोनकर पर गोली मारने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। फिलहाल हमलावरों की तलाश में पुलिस ने कई जगहों पर छापेमारी की लेकिन वे नहीं मिले। पुलिस इस हत्याकांड में मुख्य आरोपी के साथ ही उसके तीन साथियों की भी तलाश कर रही है। 
जानकारी के मुताबिक, घसियारी मंडी में रहने वाले पप्पू सोनकर गुरुवार देर रात होलिका दहन पर आयोजित कार्यक्रम में अपने साथियों के साथ गए थे और वहां पर डीजे लगाया गया था। वहां पर पप्पू अपने साथियों के साथ डांस कर रहा था। लेकिन मोहल्ले का रहने वाला रल्ली सोनकर डीजे बजाने का विरोध कर रहा था और उसने पप्पू सोनकर से डांस करने से भी मना कर दिया और इस पर दोनों के बीच बहस शुरू हो गई।
अब एनसीआर में फुल क्रीम दूध की कीमत 59 रुपये प्रति लीटर है। जो पहले 57 रुपये प्रति लीटर था। वहीं टोन्ड दूध 49 रुपये प्रति लीटर, डबल टोन्ड दूध 43 रुपये प्रति लीटर, गाय का दूध 51 रुपये प्रति लीटर हो गया है। टोकन वाला दूध 44 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 46 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

एमपी: पानी के लिए 300 रुपये खर्च कर रहें लोग

एमपी: पानी के लिए 300 रुपये खर्च कर रहें लोग     

मनोज सिंह ठाकुर     
भोपाल। एक तरफ जहां बढ़ती गर्मी से लोग त्रस्त हो रहे हैं। वहीं, इसकी वजह से हो रहे पानी की किल्लत ने भी अपने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। इस बार वक्त से पहले गर्मी ने आफत बढ़ा दी है। लोगों को पानी के लिए 2 से 3 दिन तक इंतजार करना पड़ रहा है और अगर पानी नहीं मिलता तो पानी के लिए 300 रुपये खर्च करने पड़ते हैं।
सालों से चली आ रही इस समस्या से निपटने के लिये सन 2010 में सिंध नदी से पानी लाने की एक योजना लायी गयी। योजना का नाम था जलावर्धन योजना। इसकी लागत 55 करोड़ रूपयों थी, जो 12 साल में बढ़कर 120 करोड़ हो गयी है, लेकिन पानी की समस्या जस की तस बनी रही।
यही हाल जोधपुर का भी है। इस जिले में कई जगह पानी की किल्लत है। सार्वजनिक नलों में कभी 2 दिन बाद तो कभी 7 दिन बाद पानी आता है। ऐसे में पानी की किल्लत के चलते लड़ाई झगड़े भी बढ़ रहे है।
शिवपुरी के अलावा मध्य प्रदेश में डिंडौरी जिले के कई गांवों में भी भीषण जलसंकट के हालात बने हुए हैं। ताजा मामला शहपुरा विधानसभा क्षेत्र के डोमदादर गांव का है जहां पानी के लिए ग्रामीण रतजगा करने को मजबूर हैं।‌रात होते ही ग्रामीण कुएं के पास कतार लगाकर खड़े हो जाते हैं और अपनी बारी का इंतज़ार करते हैं।
शाम से रात के बीच जो थोड़ा सा पानी कुएं में जमा होता है उसको भरने ग्रामीणों के बीच होड़ मची रहती है। रात में जो कुएं के पास पहले पहुंच जाता है उसे तो पानी नसीब हो जाता है और बाद में पहुंचने वाले ग्रामीणों को गंदा व मटमैला पानी से अपनी प्यास बुझानी पड़ती है। गांव के स्कूल में एक हैंडपंप है जिसमें सिर्फ दो तीन बाल्टी पानी ही निकलता है। ग्रामीणों का कहना है कि उन्होंने ग्राम पंचायत से लेकर कलेक्टर तक व संत्री से लेकर मंत्री तक पानी की समस्या को लेकर कई बार शिकायत की है। लेकिन अबतक किसी भी ने उनकी सुध नहीं ली है।

पीएचडी प्रोग्राम, एडमिशन संबंधी नियमों में संशोधन

पीएचडी प्रोग्राम, एडमिशन संबंधी नियमों में संशोधन  

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने पीएचडी प्रोग्राम में एडमिशन संबंधी नियमों में संशोधन कर दिया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, मौजूदा राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) के माध्यम से नामांकन की योग्यता हासिल करने के अलावा एक नई प्रवेश परीक्षा के जरिये भी पीएचडी में एडमिशन लिया जा सकेगा। अधिकारियों का कहना है कि इसका उद्देश्य देशभर में पीएचडी कार्यक्रमों को ‘फिर से बढ़ावा’ देना है।
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की तरफ से आयोजित की जाने वाली नेट/जेआरएफ (जूनियर रिसर्च फेलोशिप) परीक्षा के माध्यम से ही भारतीय यूनिवर्सिटी में पीएचडी में नामांकन के लिए छात्रों की योग्यता निर्धारित होती है। लेकिन अब, पीएचडी प्रोग्राम के लिए शैक्षणिक वर्ष की 60 प्रतिशत सीटें नेट/जेआरएफ के जरिये योग्यता हासिल करने वाले छात्रों से भरी जाएंगी। शेष 40 फीसदी सीटें यूनिवर्सिटी/कॉमन एडमिशन टेस्ट के माध्यम से भरी जाएंगी।यूजीसी अध्यक्ष एम. जगदीश कुमार ने संशोधित नियमों के मसौदे—’यूजीसी (पीएचडी डिग्री प्रदान करने के लिए न्यूनतम मानक और प्रक्रिया) विनियम, 2022’—को 10 मार्च को आयोजित आयोग की एक बैठक में मंजूरी दे दी गई थी। उन्होंने कहा नियमों को जल्द ही यूजीसी की आधिकारिक वेबसाइट पर डाल दिया जाएगा और सार्वजनिक कर दिया जाएगा। पब्लिक फीडबैक के आधार पर आयोग नियमों को अंतिम रूप देगा और इसे केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय को मंजूरी के लिए भेजेगा।
नेट/जेआरएफ के माध्यम से योग्यता हासिल करने वालों के लिए चयन इंटरव्यू/वाइवा-वोचे पर आधारित होगा। वहीं, प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों के लिए चयन का मूल्यांकन 70 (लिखित परीक्षा) और 30 (इंटरव्यू) के अनुपात में होगा। पॉलिसी डॉक्यूमेंट में कहा गया है।दोनों के लिए मेरिट सूची अलग से प्रकाशित की जाएगी। किसी भी श्रेणी में खाली सीटों के मामले में दूसरी श्रेणी के उम्मीदवारों को रिक्त जगह भरने की अनुमति दी जा सकती है।
दस्तावेज में बताया गया है कि प्रवेश परीक्षा के पाठ्यक्रम में ऐसे प्रश्न शामिल होंगे जो उम्मीदवार की रिसर्च/विश्लेषण/समझ/मात्रात्मक योग्यता के टेस्ट लेते हों। यह परीक्षा अलग-अलग यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की तरफ से संचालित की जाएगी जिन्हें ऐसा करने की अनुमति दी गई होगी।संबंधित यूनिवर्सिटी पात्रता शर्तों के साथ अपनी प्रवेश प्रक्रिया तैयार करेगी, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि इस श्रेणी के तहत अधिकांश सीटें भरी जा सकें। दस्तावेज में बताया गया है, ‘विभिन्न यूनिवर्सिटी की तरफ से आयोजित प्रवेश परीक्षा में क्लावीफाई करने के लिए न्यूनतम 50 फीसदी अंक की जरूरत होगी। वहीं एससी/एसटी/ओबीसी (गैर-क्रीमी लेयर्स)/दिव्यांग कैटेगरी से संबंधित उम्मीदवारों को 5 प्रतिशत अंकों (50 प्रतिशत की जगह 45 प्रतिशत) की छूट दी जाएगी।
दस्तावेज़ यह भी कहता है कि ‘रिसर्च का क्षेत्र चुनने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।’पॉलिसी डॉक्यूमेंट के मुताबिक, ‘सामाजिक स्तर पर प्रासंगिक/स्थानीय रूप से आवश्यकता-आधारित/राष्ट्रीय स्तर पर महत्वपूर्ण/विश्व स्तर पर अहम/सामाजिक मूल्यों को बढ़ाने वाली या अत्याधुनिक क्षेत्रों या दुनियाभर में उभरती चिंताओं को लेकर में नए/अतिरिक्त ज्ञान में बढ़ाने वाली रिसर्च को प्रोत्साहित किया जाएगा। 
संशोधित पॉलिसी डॉक्यूमेंट में सुपरवाइजर के दायित्वों पर भी एक नया सेक्शन है। नियमों में कहा गया है कि सुपरवाइजर को इस पर पीएचडी उम्मीदवारों का मार्गदर्शन करना चाहिए कि क्या पीएचडी प्रोजेक्ट आवंटित समय में पूरा हो सकता है, उन्हें इसकी संभावनाएं तलाशनी चाहिए कि प्रोजेक्ट ऐसे उच्च स्तर के नतीजे दे कि वो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किसी पीएचडी थीसिस के लिए आधार बन सके, और क्या पीएचडी छात्र को सही मायने में पीएचडी थीसिस समय पर जमा करने का मौका मिल रहा है।
दस्तावेज में कहा गया है, ‘एक अच्छे पीएचडी प्रोग्राम के लिए जरूरी है कि पीएचडी की शुरुआत के समय से ही छात्र और सुपरवाइजर के बीच एक अच्छे रिश्ते हों, जिसमें पीएचडी छात्र और पर्यवेक्षक एक-दूसरे की जरूरतों और आकांक्षाओं पर खरे उतर सकें।
इसमें यह भी कहा गया है कि पीएचडी छात्र के साथ नियमित संपर्क में रहना सुपरवाइजर की भी जिम्मेदारी है, जो कि रिसर्च प्रोजेक्ट में एक साउंडिंग बोर्ड की तरह काम करता है। उन्हें छात्रों को उपयोगी कोर्स और सम्मेलनों के बारे में सलाह देनी चाहिए, साथ ही उपयुक्त राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय रिसर्च सेंटर्स के साथ संपर्क स्थापित करने में छात्रों की सहायता करना भी उनकी जिम्मेदारी है।

दोनों डोज के बीच गैप को कम करने की सिफारिश

दोनों डोज के बीच गैप को कम करने की सिफारिश   

अकांशु उपाध्याय          

नई दिल्ली। टीकाकरण पर भारत के टॉप ग्रुप एनटीएजीआई ने कोविशील्ड वैक्सीन की दोनों डोज के बीच के गैप को कम करने की सिफारिश की है।कोविशील्ड वैक्सीन की दोनों डोज के बीच गैप इस वक्त 12-16 सप्ताह है। जिसे अब घटाकर 8-16 करने की सिफारिश की गई है। वैक्सीनेशन पर एनटीएजीआई ने अभी तक भारत बायोटेक की कोवैक्सिन की डोज के बीच बदलाव को लेकर कोई सुझाव नहीं दिया है। इसके तरह वैक्सीन की दूसरी डोज पहली डोज के 28 दिन के बाद दी जाती है। राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत कोविशील्ड की सिफारिश को अभी लागू किया जाना बाकी है। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक "एनटीएजीआई की नवीनतम सिफारिश प्रोग्रामेटिक डेटा से प्राप्त हालिया वैश्विक साइंटिफिक सबूतों पर आधारित है। इसके मुताबिक जब कोविशील्ड की दूसरी डोज आठ सप्ताह बाद दी जाती है तो शख्स में एंटीबॉडी प्रतिक्रिया करीब 12 से 16 सप्ताह के अंतराल पर प्रशासित होने के बराबर ही होती है।

सूत्र ने कहा कि इस निर्णय से कई देशों में बढ़ते मामलों के बीच बचे हुए व्यक्तियों को कोविशील्ड की दूसरी डोज जल्द देने में मदद मिलेगी। सरकार ने 13 मई, 2021 को एनटीएजीआई की सिफारिशों के आधार पर कोविशील्ड वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज के बीच के अंतर को 6-8 सप्ताह से बढ़ाकर 12-16 सप्ताह कर दिया था। एनटीएजीआई देश में वैक्सीन-रोकथाम योग्य बीमारियों के प्रभावी नियंत्रण के लिए टीकाकरण सेवाओं पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को मार्गदर्शन और सलाह प्रदान करता है।

यूपी: रोजगार पर फोकस करेंगी बीजेपी सरकार

यूपी: रोजगार पर फोकस करेंगी बीजेपी सरकार    

हरिओम उपाध्याय                
लखनऊ। यूपी में लगातार दूसरी बार सरकार बनाने जा रही बीजेपी सरकार, रोजगार पर फोकस करने जा रही है। सरकार अब महिलाओं को रोजगार से जोड़ने की दिशा में काम करने जा रही है। योगी 2.0 सरकार की नई योजना के तहत महिलाओं को आटा और मसाला चक्की की इकाई स्थापित करने के लिए अनुदान दिया जाएगा। सरकार का मानना है कि ये योजना महिलाओं को संबल प्रदान करेगी, जिससे उनको रोजगार का मौका देने के साथ ही परिवार का पालन-पोषण करने के लिए मजबूत बनाएगी। प्रदेश में दूसरी बार सरकार बनाने वाली बीजेपी सरकार अगले पांच सालों में गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाली महिलाओं पर विशेष फोकस रखेगी। 
उनको रोजगार देने और स्वरोजगार के अवसर से जोड़ने के प्रयास तेजी से शुरू करेगी। इसके लिए उसने आटा-मसाला चक्की योजना के प्रारूप को अंतिम दिया गया है। महिलाएं अब खुद की आटा-मसाला चक्की इकाई स्थापित कर सकेंगी। राज्य सरकार गरीब महिलाओं को स्वरोजगार के बड़े अवसर प्रदान करने जा रही है। इसके तहत-आटा-मसाला चक्की योजना प्रदेश में गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाली महिलाओं को स्वाबलंबी बनाएगी। अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम की योजना से गरीब महिलाओं को बड़ा सहारा मिलेगा।18 जनपद मुख्यालयों में कुल 2250 महिलाओं को योजना से सीधा लाभ मिलेगा। 
10 हजार रुपये अनुदान और शेष धनराशि ब्याज मुक्त ऋण के रूप में दी जाएगी। 
सरकार बनने के तत्काल बाद अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम अपनी इस योजना का लाभ युद्ध स्तर पर महिलाओं को देने का शुभारंभ करेगा।प्रदेश सरकार ने बीते पांच सालों में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली महिलाओं को स्वावलंभी बनाने और उनको रोजगार से जोड़ने, उनके लिए कई काम स्थापित करने के लिए बहुत से काम किए हैं। नई सरकार बनने पर इस प्रयासों को और तेजी से जिलों में गांव-गांव में लागू किया जाएगा। गौरतलब हो कि सरकार का प्रयास महिलाओं को सशक्त बनाना है। इस कड़ी में आटा-मसाला चक्की स्थापित करने की योजना भी महिलाओं को संबल प्रदान करेगी।

18 जनवरी तक होगा अगले संस्करण का आयोजन

18 जनवरी तक होगा अगले संस्करण का आयोजन   

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। वाहनों की प्रदर्शनी ‘ऑटो एक्सपो’ के अगले संस्करण का आयोजन, अब अगले साल 13 से 18 जनवरी तक होगा। इस साल कोविड-19 महामारी की वजह से ऑटो एक्सपो का आयोजन रद्द कर दिया गया था। इस द्विवार्षिक वाहन प्रदर्शनी का आखिरी बार आयोजन फरवरी, 2020 में हुआ था। उस समय भी यह आयोजन दुनियाभर में खराब होती महामारी की स्थिति के बीच हुआ था। 
इस साल ऑटो एक्सपो का आयोजन फरवरी में ग्रेटर नोएडा में होना था लेकिन कोविड-19 की वजह से इसे रद्द कर दिया गया।वाहन विनिर्माताओं के संगठन सोसायटी ऑफ ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) के महानिदेशक राजेश मेनन ने कहा कि, मोटर शो का आयोजन ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपो मार्ट में 13 से 18 जनवरी, 2023 के दौरान होगा। 11 जनवरी का दिन विशेष रूप से मीडिया के लिए रखा गया है। 12 जनवरी को इसका उद्घाटन समारोह होगा जिसमें मीडिया, विशेष मेहमानों और डीलरों को आमंत्रित किया जाएगा।ऑटो एक्सपो का आयोजन जहां ग्रेटर नोएडा में होगा वहीं वाहन कलपुर्जा प्रदर्शनी प्रगति मैदान परिसर में आयोजित की जाएगी। 
ऑटो एक्सपो-2020 में छह लाख से अधिक दर्शक आए थे। पिछली वाहन प्रदर्शन में करीब 700 नए उत्पादों का अनावरण किया गया था या उन्हें उतारा गया था। प्रदर्शनी में 108 प्रदर्शकों ने अपने 352 उत्पाद प्रदर्शित किए थे।

सीजी में विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला: आप

सीजी में विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला: आप   

अमित शर्मा       
चंडीगढ़। पंजाब में इस साल हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को बड़ी जीत मिली। ऐसे में अब पार्टी की नजर दूसरे राज्यों में चुनाव लड़ने पर है। 
आप ने अगले साल छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है। योजना के तहत, आप के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय आज छत्तीसगढ़ के दो-दिवसीय दौरे पर जाएंगे, ताकि राज्य में विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी की तैयारियों को गति दी जा सके। छत्तीसगढ़ में फिलहाल कांग्रेस का शासन है। आप की पूर्वांचल इकाई के प्रभारी और बुराड़ी से विधायक संजीव झा, राय के साथ छत्तीसगढ़ जाएंगे।

आरोप: काफी ऊंचे स्तर पर पहुंचा 'राजकोषीय' घाटा

आरोप: काफी ऊंचे स्तर पर पहुंचा 'राजकोषीय' घाटा   

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा का मानना है कि नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा कल्याण योजनाओं पर भारी खर्च की वजह से राजकोषीय स्थिति पर काफी बुरा असर पड़ रहा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि राजकोषीय घाटा असामान्य रूप से काफी ऊंचे स्तर पर पहुंच गया है। तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सिन्हा ने कहा, “मोदी सरकार मुफ्त अनाज सहित अन्य कल्याण योजनाओं पर भारी-भरकम राशि खर्च कर रही है। सरकार की राजकोष की स्थिति डंवाडोल है। राजकोषीय घाटा असामान्य रूप से काफी ऊंचे स्तर पर है। यह सरकार के उन आंकड़ों से भी अधिक है, जिन्हें ‘भरोसेमंद’ नहीं माना जाता है।”

देश का राजकोषीय घाटा चालू वित्त वर्ष 2021-22 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 6.9 प्रतिशत रहने का अनुमान है। पहले इसके 6.8 प्रतिशत रहने का अनुमान था। सिन्हा ने आरोप लगाया, ‘‘आज सरकार की आर्थिक नीतियां इस आधार पर तय होती हैं कि क्या इनसे उसे चुनाव जीतने में मदद मिलेगी या नहीं।एक सवाल के जवाब में सिन्हा ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था को मुद्रास्फीति और वृद्धि की चुनौतियों से जूझना होगा। चालू वित्त वर्ष में एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 8.9 प्रतिशत रहने का अनुमान है। 

भारतीय अर्थव्यवस्था पर रूस-यूक्रेन युद्ध के प्रभाव पर सिन्हा ने कहा, ‘‘हमारी अर्थव्यवस्था काफी हद तक आयातित कच्चे तेल पर टिकी है। ऐसे में मुद्रास्फीति के मोर्चे पर अर्थव्यवस्था प्रभावित होगी।”उल्लेखनीय है कि खुदरा मुद्रास्फीति फरवरी में 6.07 प्रतिशत के आठ माह के ऊंचे स्तर पर पहुंच गई है। यह रिजर्व बैंक के संतोषजनक स्तर से अधिक है। थोक मुद्रास्फीति भी 13.11 प्रतिशत पर पहुंच गई है। सिन्हा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल थे। शीर्ष नेतृत्व के साथ मतभेदों की वजह से उन्होंने 2018 में भाजपा से नाता तोड़ लिया था।

भारत: होंडा ने एडवेंचर स्पोर्ट्स बाइक को लॉन्च किया

भारत: होंडा ने एडवेंचर स्पोर्ट्स बाइक को लॉन्च किया   

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। भारत में होंडा इंडिया ने 2022 अफ्रीका ट्विन एडवेंचर स्पोर्ट्स बाइक को लॉन्च किया है। इस बाइक की शुरूआती कीमत 16,01,500 (एक्स-शोरूम) गुरुग्राम है। होंडा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया ने भारत में होंडा के एक्सक्लुज़िव बिगविंग टॉपलाईन शोरूमों में नई 2022 अफ्रीका ट्विन एडवेंचर स्पोर्ट्स की बुकिंग शुरू कर दी है। नई मोटरसाइकल सीकेडी के माध्यम से भारतीय बाज़ार में अपनी जगह बनाएगी।
2022 अफ्रीका ट्विन एडवेंचर स्पोर्ट्स मॉडल 2 वेरिएन्ट्स में उपलब्ध होगा- ड्यूल क्लच ट्रांसमिशन (डीसीटी)- मैट बैलिस्टिक ब्लैक मैटेलिक कलर में और मैनुअल ट्रांसमिशन- पर्ल ग्लेयर व्हाईट ट्राई कलर स्कीम में आकर्षक स्ट्राइप्स के साथ उपलब्ध होगा।
एडवेंचर टूरर की ऑन/ऑफ रोड क्षमताओं को बढ़ाने के लिए 2022 अफ्रीका ट्विन एडवेंचर स्पोर्ट्स को मास सेंट्रलाइज़ेशन के साथ डिज़ाइन किया गया है, जो इसे स्टेबिलिटी और बेहतर हैण्डलिंग देता है, इसी तरह नैरो सेंट्रल एरिया और वाईड फ्रन्ट एक्शन को कंट्रोल करता है, जब राइडर पेग्स पर खड़े होकर बाईक का कंट्रोल करता है। टेलीस्कोपिक फ्रन्ट सस्पेंशन और प्रो-लिंक रियर सस्पेंशन सर्वश्रेष्ठ अनुकूल कम्पोज़र देकर राइड को आरामदायक बनाते हैं,और इसे ऑन/ ऑफ रोड बाईक का सर्वश्रेष्ठ संयोजन बनाते हैं।
‘कहीं भी जा सकने’ की अवधारणा को आगे बढ़ाते हुए 2022 अफ्रीका ट्विन एडवेंचर स्पोर्ट्स आधुनिक टेक्नोलॉजी और इनोवेशन्स से युक्त है, यह सिक्स-एक्सिस इनर्शियल मेज़रमेन्ट युनिट (आईएमयू), 2-चैनल एबीएस, एचएसटीसी (होण्डा सलेक्टेबल टोर्क कंट्रोल) और ब्लूटुथ कनेक्टिविटी के साथ आती है। एमटी और डीसीटी दोनों वेरिएन्ट्स में चार डिफॉल्ट राइडिंग मोड – टूर, अरबन, ग्रेवल और ऑफ-रोड शामिल है।
इंजन की बात करें तो, यह मोटरसाइकिल अपनी लोंग-टूरिंग और ऑफ-रोड क्षमता का आगे बढ़ाते हुए 2022 अफ्रीका ट्विन एडवेंचर स्पोर्ट्स में 1082.96 सीसी लिक्विड कूल्ड 4-स्ट्रोक 8-वॉल्सव पैरेलल ट्विन इंजन, ओवरहैड कैमशाफ्ट (ओएचसी) टाईप वॉल्व सिस्टम से पावर्ड है जो 7500 आरपीएम की पॉवर और 103एनएम की पीक टॉर्क जेनरेट करने में सक्षम है। इसके अलावा 270 डिग्री ऑफसेट क्रैंकशाफ्ट शानदार टैक्शन और रिस्पॉन्सिव एक्सेलरेशन के साथ इंजन के परफॉर्मेंस को बेहतरीन बनाता है।

गूगल ने फूल, मधुमक्खी और गिटार का डूडल बनाया

गूगल ने फूल, मधुमक्खी और गिटार का डूडल बनाया   

अखिलेश पांडेय         

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। सर्च इंजन गूगल, आज रविवार को फूलों, मधुमक्खी और गिटार का डूडल बनाकर पारसी, नया साल नवरोज मना रहा है। गूगल ने रविवार को अपने डूडल में फूलों पत्तियों पर भिनभिनाती मधुमक्खियां के साथ गिटार के चित्र को उकेर कर पारसी नववर्ष (नवरोज) को दर्शया है। 

नवरोज के नाम से जाने जाने वाले इस दिन को नए दिन के रूप में जाना जाता है। पारसी समुदाय के लोग इस दिन को जमशेद नवरोज़ के रूप में मनाते हैं। पश्चिमी और मध्य एशिया में लोग परिवार और प्रियजनों के साथ मिलकर इस परंपरागत त्योहार को मनाते है।

मारियुपोल को युद्ध अपराध के उदाहरण में देखा जाएगा

मारियुपोल को युद्ध अपराध के उदाहरण में देखा जाएगा 

सुनील श्रीवास्तव             

कीव यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर ज़ेलेंस्की ने रविवार को कहा कि मारियुपोल की घेराबंदी कर रूस ने जिस तरह से उस पर आतंकी कार्रवाई करते हुए हमला किया, उसे सदियों तक याद किया जायेगा। सीएनएन ने यूक्रेनी राष्ट्रपति के हवाले से कहा कि मारियुपोल को इतिहास में युद्ध अपराध के एक उदाहरण के तौर पर देखा जायेगा। उन्होंने दावा किया कि रूसी सेना को इस युद्ध मे काफी नुकसान उठाना पड़ा है और अभी तक लगभग 80 से 90 प्रतिशत रूसी यूनिटों को बरबाद कर दिया गया है। रूसी सेना के यूक्रेन पर हमले के 24 दिन गुजर चुके हैं और यूक्रनियनों ने दिखा दिया है कि वह जानते हैं कि एक सेना की तुलना में अधिक तरीके से कैसे लड़ा जाता है। यूक्रेन की सेना विभिन्न इलाकों में अलग अलग हालातों और क्षेत्रों में दशकों से लड़ रही है।

 रूस ने जितनी सेना और हथियार यूक्रेन में भेजे हैं उसका सामना हम अपने विवेक और साहस के बल पर कर रहे हैं। सीएनएन के अनुसार यूक्रेनी राष्ट्रपति ने दावा किया कि जिन क्षेत्रों में जबरदस्त लड़ाई चल रही है । रक्षा की अग्रिम पंक्ति रूसी सैनिकों की लाशों से पटी पड़ी है और इन लाशों को कोई नहीं उठा रहा है। रूसी सेना का सामना करने के लिए और यूनिटों को भेजा गया है। जेलेंस्की ने कहा कि यूं तो युद्धग्रस्त इलाकों से लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए आठ मानवीय गलियारे काम कर रहे हैं लेकिन रूसी सेना की ओर से की जा रही जबरदस्त गोलाबारी की वजह से कीव क्षेत्र के बोरोदयांका से लोगों को निकालने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

पीएम मोदी को दुनिया का सबसे लोकप्रिय नेता चुना

पीएम मोदी को दुनिया का सबसे लोकप्रिय नेता चुना   

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर से दुनिया भर में सबसे लोकप्रिय नेता के तौर पर अपना डंका बजाया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 77 फ़ीसदी अप्रूवल रेटिंग हासिल हुई है‌‌। जिसके चलते पीएम को पहला स्थान हासिल हुआ है। रविवार को ग्लोबल लीडर अप्रूवल ट्रैकर मॉर्निंग कंसल्ट की ओर से जारी की गई सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर से दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता चुने गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 77 फ़ीसदी अप्रूवल रेटिंग प्राप्त हुई है। इस रेटिंग के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले स्थान पर हैं। मार्निंग कंसलटेंट की ओर से डाटा जारी करते हुए कहा गया है कि 13 देशों में सबसे ज्यादा अप्रूवल रेटिंग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की है। 

जो इस बात को दिखाता है कि वह दुनिया में कितने लोकप्रिय नेता हैं। मार्निंग कंसलटेंट की ओर से जारी की गई सूची में दूसरा स्थान मेक्सिको के मैनुअल लोपेज को मिला है यह 65 फीसदी रेटिंग हाथ लगी है। इसी के मारिया द्राघी 54 फ़ीसदी रेटिंग के साथ इस सूची में तीसरे स्थान पर बने हुए हैं।जापान के फुमिया किशिदा को 42 फीसदी रेटिंग मिली है। जारी की गई सूची में मुख्य खास बात यह भी रही है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिशअप्रूअल रेटिंग भी सबसे कम यानी 17 फीसदी है। संस्था के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2020 से 2022 तक के अधिकांश महीनों में सबसे लोकप्रिय नेता बने रहे हैं।

एचसी के 3 न्यायाधीशों को ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा

एचसी के 3 न्यायाधीशों को ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा 

इकबाल अंसारी        

बेंगलुरु। सीएम बसवराज बोम्मई ने कहा है कि हिजाब विवाद पर फैसला मामले में वाले कर्नाटक उच्च न्यायालय के तीनों न्यायाधीशों को मौत की धमकी मिलने के बाद ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा दी जाएगी। बेंगलुरु में अपने आवास के बाहर रविवार को मीडिया से बात करते हुए बोम्मई ने कहा कि हमने हिजाब पर फैसला देने वाले तीनों जजों को ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा देने का फैसला किया है।साथ ही कहा कि मैंने महानिदेशक और आईजी को विधानसौधा पुलिस स्टेशन में दर्ज शिकायत की पूरी जांच करने का निर्देश दिया है, जिसमें कुछ लोगों ने जजों को जान से मारने की धमकी दी थी । तीन जजों में चीफ जस्टिस रितु राज अवस्थी भी शामिल हैं। 

मुख्य न्यायाधीश के अलावा, तीन-न्यायाधीशों की पीठ में जस्टिस कृष्णा दीक्षित और जस्टिस खाजी एम जयबुन्निसा भी शामिल थे।घटना की निंदा करते हुए बोम्मई ने कहा कि समुदाय के पक्ष में होना धर्मनिरपेक्षता नहीं है, यह सांप्रदायिकता है। मैं इसकी निंदा करता हूं, हम सभी को एक साथ खड़ा होना चाहिए। बताते चले कि हिजाब विवाद पर मंगलवार को कर्नाटक हाईकोर्ट ने फैसला सुनाया था। जिस वजह से तीनों न्यायधीशों को मौत की धमकी मिली थी।

वहीं पुलिस ने बताया कि तौहीद जमात ने फैसले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के लिए कोरीपलायम इलाके में एक जनसभा आयोजित की थी, जिसमें कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणी की गई। इसके कुछ समय बाद ही तीन पदाधिकारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई थी। इसमें आरोप लगाए गए थे कि आयोजकों ने उच्च न्यायालय के जजों को हत्या की धमकी दी है।

फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दर में बदलाव किया: बैंक

फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दर में बदलाव किया: बैंक  

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। एक्सिस बैंक ने फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दर में बदलाव किया है। बैंक ने 2 करोड़ रुपए से कम डिपॉजिट पर ये बदलाव किया है। आपको बता दें कि एक्सिस बैंक 7 दिनों से लेकर 10 साल तक की विभिन्न अवधियों में एफडी की पेशकश करता है।
एक्सिस बैंक 18 महीने से 2 साल से कम समय में मैच्योर होने वाली डिपॉजिट के लिए 5.25 फीसदी ब्याज दे रहा है। 2 साल लेकिन 30 महीने से कम की जमा राशि के लिए एक्सिस बैंक 5.40 फीसदी ब्याज देता है।
3 वर्ष से अधिक और 5 वर्ष से कम अवधि में मैच्योर होने वाले डिपॉजिट पर बैंक 5.40 फीसदी की ब्याज दर देता है। 5 साल से 10 साल में मैच्योर होने वाली जमाओं पर 5.75 फीसदी की ब्याज दर मिलेगी।
इसके अलावा वरिष्ठ नागरिकों को 7 दिन से 10 साल में मैच्योर होने वाली जमा पर 2.5 फीसदी से 6.50 फीसदी तक की ब्याज दर मिलेगी।

10,445 करोड़ रुपये का निवेश करेगी सुजुकी

10,445 करोड़ रुपये का निवेश करेगी सुजुकी   

अखिलेश पांडेय        
टोक्यो/गांधीनगर। जापान की वाहन कंपनी सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन (एसएमसी) 2026 तक गुजरात में बैटरी इलेक्ट्रिक वाहनों (बीईवी) तथा बीईवी बैटरियों के स्थानीय स्तर पर विनिर्माण के लिए 150 अरब येन (10,445 करोड़ रुपये) का निवेश करेगी। कंपनी ने इस बारे में गुजरात सरकार के साथ सहमति ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन ने बयान में कहा कि इस करार पर नई दिल्ली में 19 मार्च, 2022 को आयोजित भारत-जापान आर्थिक मंच में हस्ताक्षर किए गए। इस अवसर पर जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे। मंच को संबोधित करते हुए एसएमसी के प्रतिनिधि निदेशक एवं अध्यक्ष तोशिहिरो सुजुकी ने कहा कि सुजुकी का भविष्य का मिशन छोटी कारों के साथ कॉर्बन निरपेक्षता हासिल करने का है। 
हम आत्मनिर्भर भारत के लिए यहां लगातार निवेश जारी रखेंगे।एमओयू के तहत कंपनी की पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई सुजुकी मोटर गुजरात प्राइवेट लि. 2026 तक एसएमसी के मौजूदा कारखाने के पास बीईवी बैटरियों के विनिर्माण संयंत्र पर 7,300 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इसके अलावा एसएमसी 2025 तक बीईवी विनिर्माण की उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए भी 3,100 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। समूह की एक अन्य कंपनी मारुति सुजुकी तोयोत्सु इंडिया प्राइवेट लि. 2025 तक वाहन रिसाइक्लिंग संयंत्र के निर्माण पर 45 करोड़ रुपये का और निवेश करेगी।

केन्द्रीय मंत्री के परिवार को नया नोटिस जारी किया

केन्द्रीय मंत्री के परिवार को नया नोटिस जारी किया

कविता गर्ग          
मुंबई। शिवसेना शासित बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने केन्द्रीय मंत्री नारायण राणे के परिवार को नया नोटिस जारी किया है और उन्हें 15 दिन के भीतर जूहू के उनके बंगले में किए गए ”अनधिकृत” निर्माण को हटाने को कहा है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता राणे की पत्नी और बेटे को 16 मार्च को जारी नोटिस में बीएमसी ने कहा कि अगर मकान के मालिक अनधिकृत निर्माण को नहीं हटाते हैं तो महानगर पालिका उस निर्माण को गिरा देगी और इसमें आए खर्च की वसूली मकान मालिक से करेगी। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अधिकारियों के एक दल ने 21 फरवरी को तटीय नियामक क्षेत्र (सीआरजेड) के नियमों के कथित उल्लंघन को लेकर जुहू इलाके में केंद्रीय मंत्री के स्वामित्व वाले इस बंगले का निरीक्षण किया था। बीएमसी के पहले के एक नोटिस के जवाब में 11 मार्च को राणे परिवार के प्रतिनिधियों ने आरोपों को खारिज कर दिया था।

साथ ही कहा था कि निगम की कार्रवाई (नोटिस जारी करने की) शिवसेना द्वारा केन्द्रीय मंत्री और उनके परिवार के खिलाफ ‘द्वेष और राजनीतिक प्रतिशोध से प्रेरित’ है। वहीं बीएमसी ने इस पर अपने जवाब में कहा कि मकान मालिक से ”कानून के मुताबिक” जबाव देने की उम्मीद की जाती है।

कलह: कलयुगी बेटे ने माता-पिता को घायल किया

कलह: कलयुगी बेटे ने माता-पिता को घायल किया

पंकज कपूर    
खटीमा। उधमसिंह नगर के खटीमा से दिल दहलाने वाली खबर सामने आ रही है। यहां पारिवारिक कलह के चलते एक कलयुगी बेटे ने अपने माता-पिता को डंडे से पीटकर घायल कर दिया। बुजुर्ग पिता की मौके पर ही मौत हो गई जबकि बुजुर्ग माता अभी गंभीर रूप से घायल है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।जानकारी के अनुसार देर रात श्रीपुर बिचवा के 70 वर्षीय धर्म सिंह बोरा की अपने बेटे लक्ष्मण सिंह बोरा के साथ किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। 
विवाद इतना बढ़ गया कि लक्ष्मण ने अपने पिता को डंडे से पीटना शुरु कर दिया, जिसमें उनके सिर पर गंभीर चोट लग गई। बीच- बचाव करने पहुंची मां भवानी देवी को भी आरोपी बेटे ने डंडे से पीट दिया। आसपास के लोगों ने दोनों को घायलों को समय रहते अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने धर्म सिंह बोरा को मृत घोषित कर दिया। घायल भवानी देवी का इलाज अभी चल रहा है। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने हत्यारोपी लक्ष्मण सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।स्थानीय लोगों का कहना है कि आरोपी लक्ष्मण नशे का आदी है वह रोज अपने घर में मारपीट करता रहता है। सीओ बीएस भंडारी ने बताया कि इस मामले में मृतक के दूसरे बेटे श्याम सिंह बोरा की तहरीर पर लक्ष्मण सिंह बोरा के खिलाफ हत्या सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

14वें वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे पीएम

14वें वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे पीएम 

सुनील श्रीवास्तव         

नई दिल्ली/टोक्यो। जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा दो दिवसीय यात्रा पर दिल्ली आये हुये हैं। इस दौरान वह पीएम नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करने के अलावा 14वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की आधिकारिक यात्रा पर पहुंचे जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा को ‘कृष्ण पंखी’ उपहार में दिया। बता दें ये चंदन की लकड़ी से बना है और इसके किनारों पर कलात्मक आकृतियों के माध्यम से भगवान कृष्ण की विभिन्न मुद्राओं को दर्शाया गया है। सूत्रों के मुताबिक  ‘पंखी’ को पारंपरिक उपकरणों के जरिए उकेरा गया है और इसके शीर्ष पर हाथ से नक्काशी कर तैयार की गई मोर की आकृति है जोकि भारत का राष्ट्रीय पक्षी है। बता दें  इस ‘कृष्ण पंखी’ का निर्माण राजस्थान के चुरु में कुशल कारीगरों द्वारा किया गया है। यह कलाकृति शुद्ध चंदन की लकड़ी से बनी है जोकि मुख्य रूप से भारत के दक्षिणी भागों के जंगलों में मिलती है।

बता दें 14वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन के दौरान किशिदा ने कहा कि हमारे दोनों देशों को खुले और मुक्त हिंद-प्रशांत के लिए प्रयास बढ़ाने चाहिए। इस दौरान उन्होंने रूस-यूक्रेन युद्ध पर भी टिप्पणी करते हुये कहा कि जापान और भारत मिलकर इस दिशा में लगातार काम करेंगे कि जल्द से जल्द युद्ध समाप्त हो जाए। वहीं उन्होंने भारत में निवेश की घोषणा करते हुये कहा कि जापान अगले पांच वर्षों में भारत में निवेश लक्ष्य को बढ़ाकर 5 ट्रिलियन येन या 3.2 लाख करोड़ रुपये कर देगा।

वहीं भारत-जापान आर्थिक मंच को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि प्रगति समृद्धि और साझेदारी भारत-जापान संबंधों के आधार हैं। हम भारत में जापानी कंपनियों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। साथ ही पीएम मोदी ने भी जापान और भारत के बीच आर्थिक साझेदारी पर बोलते हुये कहा कि  जापान भारत में सबसे बड़े निवेशकों में से एक है। भारत-जापान मुंबई-अहमदाबाद हाई-स्पीड रेल कॉरिडोर पर ‘वन टीम-वन प्रोजेक्ट’ के रूप में काम कर रहा है।

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...