रविवार, 28 अगस्त 2022

मन की बात: 'तिरंगा' यात्रा के लिए धन्यवाद दिया 

मन की बात: 'तिरंगा' यात्रा के लिए धन्यवाद दिया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को 11 बजे अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के जरिए देश की जनता को संबोधित किया। रविवार को 'मन की बात' कार्यक्रम के 92वें एपिसोड के जरिए प्रधानमंत्री मोदी ने देश की जनता को संबोधित किया। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी कई मुद्दों को लेकर देशवासियों के सामने अपने विचार रखें। प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात कार्यक्रम की शुरुआत में कहा कि अगस्त के इस महीने में आप सभी के पत्रों, संदेशों और कार्ड ने मेरे कार्यालय को तिरंगामय कर दिया है। मुझे ऐसा शायद ही कोई पत्र मिला हो, जिस पर तिरंगा न हो, या तिरंगे और आज़ादी से जुड़ी बात न हो।

अमृत महोत्सव और स्वतंत्रता दिवस के इस विशेष अवसर पर हमने देश की सामूहिक शक्ति के दर्शन किए हैं, एक चेतना की अनुभूति हुई है। इतना बड़ा देश, इतनी विविधताएं, लेकिन जब बात तिरंगा फहराने की आई, तो हर कोई, एक ही भावना में बहता दिखाई दिया। अमृत महोत्सव के ये रंग केवल भारत में ही नहीं, बल्कि दुनिया के दूसरे देशों में भी देखने को मिले।

पहाड़ों पर रहने वाले लोगों के जीवन से हम बहुत कुछ सीख सकते हैं...

पहाड़ों की जीवनशैली और संस्कृति से हमें पहला पाठ तो यही मिलता है कि हम परिस्थितियों के दबाव में ना आएं तो आसानी से उन पर विजय भी प्राप्त कर सकते हैं, और दूसरा, हम कैसे स्थानीय संसाधनों से आत्मनिर्भर बन सकते हैं।

संयुक्त राष्ट्र ने वर्ष 2023 को बाजरा का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष घोषित किया: पीएम

पीएम मोदी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र ने एक प्रस्ताव पारित कर वर्ष 2023 को International Year of Millets घोषित किया है। आपको ये जानकर भी बहुत खुशी होगी कि भारत के इस प्रस्ताव को 70 से ज्यादा देशों का समर्थन मिला था। आज, दुनिया भर में इसी मोटे अनाज का का क्रेज बढ़ता जा रहा है। बाजरा, मोटे अनाज, प्राचीन काल से ही हमारी खेती, संस्कृति और सभ्यता का हिस्सा रहे हैं। हमारे वेदों में भी बाजरा का उल्लेख मिलता है, और इसी तरह, पुराणनुरू और तोल्काप्पियम में भी, इसके बारे में, बताया गया है।

मोटे अनाजों को अधिक से अधिक उपजाएं और फायदा उठाएं किसान: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि भारत, विश्व में बाजरा (Millets) का सबसे बड़ा उत्पादक देश है, इसलिए इस पहल को सफल बनाने की बड़ी जिम्मेदारी भी हम भारत-वासियों के कंधे पर ही है। हम सबको मिलकर इसे जन-आंदोलन बनाना है, और देश के लोगों में मोटे अनाजों के प्रति जागरूकता भी बढ़ानी है। मेरा, अपने किसान भाई-बहनों से, यही आग्रह है कि बाजरा, यानी मोटे अनाज को, अधिक-से-अधिक अपनाएं और इसका फायदा उठाएं।

पीएम मोदी ने कहा कि आप कल्पना कर सकते हैं, क्या कुपोषण दूर करने में गीत-संगीत और भजन का भी इस्तेमाल हो सकता है? मध्य प्रदेश के दतिया जिले में “मेरा बच्चा अभियान”, इस “मेरा बच्चा अभियान” में इसका सफलतापूर्वक प्रयोग किया गया। इसके तहत, जिले में भजन-कीर्तन आयोजित हुए, जिसमें पोषण गुरु कहलाने वाले शिक्षकों को बुलाया गया। एक मटका कार्यक्रम भी हुआ, इसमें महिलाएं, आंगनबाड़ी केंद्र के लिए मुट्ठी भर अनाज लेकर आती हैं और इसी अनाज से शनिवार को ‘बालभोज’ का आयोजन होता है। इससे आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों की उपस्थिति बढ़ने के साथ ही कुपोषण भी कम हुआ है।

कुपोषण दूर करने में गीत-संगीत और भजन का भी इस्तेमाल हो सकता है...

पीएम मोदी ने कहा कि आप कल्पना कर सकते हैं, क्या कुपोषण दूर करने में गीत-संगीत और भजन का भी इस्तेमाल हो सकता है? मध्य प्रदेश के दतिया जिले में “मेरा बच्चा अभियान” ने इसका सफलतापूर्वक प्रयोग किया गया। इसके तहत, जिले में भजन-कीर्तन आयोजित हुए, जिसमें पोषण गुरु कहलाने वाले शिक्षकों को बुलाया गया। एक मटका कार्यक्रम भी हुआ, इसमें महिलाएं, आंगनबाड़ी केंद्र के लिए मुट्ठी भर अनाज लेकर आती हैं और इसी अनाज से शनिवार को ‘बालभोज’ का आयोजन होता है। इससे आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों की उपस्थिति बढ़ने के साथ ही कुपोषण भी कम हुआ है।

अमृत सरोवर का निर्माण एक जन आंदोलन बन गया: पीएम मोदी

‘मन की बात’ में ही चार महीने पहले मैंने अमृत सरोवर की बात की थी। उसके बाद अलग-अलग जिलों में स्थानीय प्रशासन जुटा, स्वयं सेवी संस्थाएं और स्थानीय लोग जुटे, देखते ही देखते अमृत सरोवर का निर्माण एक जन आंदोलन बन गया है।

अमृत महोत्सव के ये रंग दूसरे देशों में भी देखने को मिला: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि अमृत महोत्सव के ये रंग, केवल भारत में ही नहीं, बल्कि, दुनिया के दूसरे देशों में भी देखने को मिले। बोत्स्वाना में वहां के रहने वाले स्थानीय गीतकारों ने भारत की आजादी के 75 साल मनाने के लिए देशभक्ति के 75 गीत गाए। इसमें और भी खास बात ये है, कि ये 75 गीत हिन्दी, पंजाबी, गुजराती, बांग्ला, असमिया, तमिल, तेलुगू, कन्नड़ा और संस्कृत जैसी भाषाओं में गाए गए हैं। पीएम मोदी ने कहा कि नामीबिया में भारत- नामीबिया के सांस्कृतिक-पारंपरिक संबंधों पर विशेष स्टैम्प जारी किया है। इस अवसर पर जो भारतीय विदेशों में थे, वो भी किसी से पीछे नहीं रहे। भारत के 8 पर्वतारोहियों ने, आजादी के 75 वर्ष मनाने के लिए, यूरोप की दो बड़ी पर्वतचोटियों को 24 घंटे में फ़तेह किया। इनमें से एक तो यूरोप की सबसे ऊंची चोटी Mount Elbrus है। हम कहीं भी हों, देश के लोगों की ये भावना हमें निरंतर आगे बढ़ने का हौसला देती है।

आप सभी के पत्रों, संदेशों ने मेरे कार्यालय को तिरंगामय कर दिया: पीएम

पीएम मोदी ने कहा कि अगस्त के इस महीने में, आप सभी के पत्रों, संदेशों और कार्ड्स ने मेरे कार्यालय को तिरंगामय कर दिया है। मुझे ऐसा शायद ही कोई पत्र मिला हो, जिस पर तिरंगा न हो, या तिरंगे और आजादी से जुड़ी बात न हो। बच्चों ने, युवा साथियों ने तो अमृत महोत्सव पर खूब सुंदर-सुंदर चित्र, और कलाकारी भी बनाकर भेजी है।

पीएम मोदी ने तिरंगा यात्रा की तारीफ की...

लोगों ने तिरंगा अभियान के लिए अलग-अलग प्रगतिशील विचारों के साथ आए । जैसे युवा साथी, कृशनील अनिल जी ने अनिल जी एक Puzzle artist हैं और उन्होंने रिकॉर्ड समय में खूबसूरत तिरंगा mosaic art तैयार की है। वहीं कर्नाटक के कोलार में, लोगों ने 630 फीट लम्बा और 205 फीट चौड़ा तिरंगा पकड़कर अनूठा दृश्य प्रस्तुत किया। असम में सरकारी कर्मियों ने दिघालीपुखुरी वार मेमोरियल में तिरंगा फहराने के लिए अपने हाथों से 20 फीट का तिरंगा बनाया।

हर शहर, हर गांव में, अमृत महोत्सव की अमृत धारा बह रही है: पीएम

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के इस महीने में हमारे पूरे देश में, हर शहर, हर गांव में, अमृत महोत्सव की अमृत धारा बह रही है। अमृत महोत्सव और स्वतंत्रता दिवस के इस विशेष अवसर पर हमने देश की सामूहिक शक्ति के दर्शन किए हैं। एक चेतना की अनुभूति हुई है। इतना बड़ा देश, इतनी विविधताएं, लेकिन जब बात तिरंगा फहराने की आई, तो हर कोई, एक ही भावना में बहता दिखाई दिया। तिरंगे के गौरव के प्रथम प्रहरी बनकर, लोग, खुद आगे आए।

निगम ने अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स को सील किया 

निगम ने अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स को सील किया 


मीडिया की खबर का असर, निगम का चला हथौड़ा, मोवा में अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स में निगम ने की सीलिंग की कार्यवाही

निगम की कार्यवाही को जनता ने सराहा

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। राजधानी के मोवा पंडरी थाने के ठीक सामने अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स निर्माण की खबर मीडिया में बराबर प्रकाशित हो रही थी, जिसे लेकर निगम ने सख्त कदम उठाया। आखिरकार, अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स को निगम ने सील कर दिया। आपको बता दें, कि मोवा पंडरी के सामने बिना निगम के अनुमति के एक अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स का निर्माण बदस्तूर जारी था, मीडिया को जानकारी हुई कि बिना निगम से नक्शा पास हुए व्यवसायिक काम्प्लेक्स का निर्माण हो रहा है। जिसे लेकर मीडिया प्रमुखता से खबर प्रकाशित कर रही थी, जिसे निगम ने गम्भीरता से लेते हुए आखिरकार काम्प्लेक्स को सील कर दिया।

गौरतलब है कि अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स में 6 दुकानें पूरी तरह से बन कर तैयार हो चुकी है, जिसमे से दो दुकानों में ओपनिंग भी हो गया था। उसके बावजूद निगम ने सख्ती दिखाते हुए कार्यवाही की जिसे लेकर नागरिकों में निगम के कार्यो को सराहा जा रहा है। लोगों में चर्चा है कि निगम इस तरह निष्पक्ष कार्यवाही करेगा, तो राजधानी में जाम की समस्या का निराकरण हो जाएगा। अवैध निर्माण कर्ता के बारे में अब ये भी जानकारी सामने आ रही है कि उक्त जमीन भी निर्माण कर्ता की नही है। सूत्रों की माने, तो निगम के कुछ कर्मचारियों की मिलीभगत से हो रहा था अवैध निर्माण।

अभी इस अवैध निर्माण में कुछ रहस्य सामने आना बाकी है।मामला पंडरी मोवा थाने के सामने का है, जहां नगर निगम का जोन कार्यालय है। मोवा थाना चौक पर ही 2 मंजिला अवैध व्यवसायिक काम्प्लेक्स का निर्माण हो गया, बिना नक्शा पास हुए। इतना ही नही, सूत्रों के अनुसार जिस भूमि पर अवैध निर्माण हुआ है, ये सरकारी भूमि है। इसकी पुष्टि फिलहाल अभी नही हो पाई है। लेकिन निर्माण कैसे हो गया, आज भी राज है। मजे की बात ये है कि जहाँ अवैध निर्माण हुआ है। उसी से 10 कदम की दूरी पर नगर निगम का जोन कार्यालय है। जोन 9 नगर निगम कार्यवाही के नाम पर करती रही खानापूर्ति, साथ ही होता रहा निरंतर अवैध निर्माण। सम्पूर्ण निर्माण दो दुकानों की ओपनिंग के बाद जागा निगम। अवैध निर्माणों के खिलाफ की गई सीलिंग की कार्यवाही के उपरांत भी यह राज बरकरार है, कि निगम के किस कर्मचारी के संरक्षण मे हुआ इतना बाद अवैध निर्माण।

एचसी की निगरानी में ‘घोटाले’ की जांच कराने की मांग 

एचसी की निगरानी में ‘घोटाले’ की जांच कराने की मांग 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई ने रविवार को कथित नर्सिंग कॉलेज ‘घोटाले’ की जांच उच्च न्यायालय की निगरानी में कराने की मांग की और दावा किया कि प्रदेश सरकार 60 हजार से अधिक नर्सिंग छात्रों का भविष्य बर्बाद कर रही है। हालांकि मध्य प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस के दावों का खंडन करते हुए कहा कि विपक्षी दल इस मुद्दे पर राजनीति कर रहा है। मध्य प्रदेश लॉ स्टूटेंडस एसोसिएशन के अध्यक्ष विशाल बघेल ने इस मामले को लेकर इस साल 11 जनवरी को एक जनहित याचिका दायर की थी।

याचिका में कुछ कॉलेजों में बुनियादी ढांचे की कमी के साथ-साथ कुछ कॉलेजों के फर्जी दस्तावेजों के आधार पर केवल कागजों पर चलने का आरोप लगाया गया है। एमपी नर्सिंग काउंसिल (एमपीएनसी) द्वारा अदालत में पेश की गई गलत सामग्री को देखते हुए उच्च न्यायालय ने 23 अगस्त को प्रदेश सरकार को एमपीएनसी के संचालन के लिए नए प्रशासक नियुक्त करने का आदेश दिया। हाल ही में प्रदेश सरकार ने उच्च न्यायालय की जांच के दायरे में आने वाले प्रदेश के 93 कॉलेजों की मान्यता को निलंबित कर दिया।

इन घटनाक्रमों को देखते हुए मध्य प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता डॉक्टर गोविंद सिंह ने नर्सिंग कॉलेज ‘घोटाले’ की उच्च न्यायालय की निगरानी में जांच की मांग की। सिंह ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री, चिकित्सा शिक्षा मंत्री, नर्सिंग परिषद और अन्य वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों की सहमति के बिना इतने बड़े पैमाने पर अनियमितताएं संभव नहीं थीं, लेकिन भाजपा ने इस आरोप का खंडन किया है। सिंह ने दावा किया कि यह घोटाला 60 हजार से अधिक छात्रों का भविष्य बर्बाद करने वाला है।

उन्होंने कहा कि एमपीएनसी द्वारा मान्यता प्राप्त 130 नर्सिंग कॉलेज केवल कागजों पर चल रहे थे और जब ऐसे कॉलेजों के छात्र मेडिकल स्टॉफ में शामिल होंगे तो सार्वजनिक स्वास्थ्य का क्या होगा? सिंह ने दावा किया कि यह नर्सिंग कॉलेजों के संचालन के लिए अनुमति जारी करने में बड़े पैमाने पर अनियमितताओं को दर्शाता है। उन्होंने मध्य प्रदेश सरकार को चुनौती दी कि वह ऐसे नर्सिंग कॉलेजों की सूची जारी करे जो ऐसे संस्थानों के लिए निर्धारित सरकारी मानकों का पालन कर रहे हैं, जिनमें 100 बिस्तरों वाले अस्पतालों से जुड़ा होना अनिवार्य है।

इन आरोपों के बारे में पूछे जाने पर भाजपा के प्रदेश सचिव रजनीश अग्रवाल ने पीटीआई-भाषा से कहा कि कांग्रेस इस मुद्दे पर राजनीति कर रही है। अग्रवाल ने कहा कि इस तरह की अनियमितताएं राज्य सरकार की लगातार निगरानी के कारण जांच के दायरे में आईं न कि कांग्रेस के कारण। उन्होंने कहा कि मप्र सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि ऐसे संस्थान न केवल राज्य बल्कि केंद्र द्वारा निर्धारित सभी मानकों का पालन करें। भाजपा नेता ने कहा कि राज्य सरकार नर्सिंग छात्रों के भविष्य की रक्षा के लिए सभी उपाय कर रही है।

स्कूलों की 11वीं-12वीं कक्षा में साइंस की पढ़ाई नहीं

स्कूलों की 11वीं-12वीं कक्षा में साइंस की पढ़ाई नहीं

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। शिक्षा विभाग ने एक आरटीआई के जवाब में बताया है कि दिल्ली सरकार के तहत आने वाले दो-तिहाई स्कूलों में 11वीं और 12वीं कक्षा में साइंस की पढ़ाई नहीं होती है। आरटीआई के मुताबिक, ‘आप’ सरकार ने फरवरी 2015 से मई 2022 के बीच कुल 63 नए स्कूल खोले हैं। आरटीआई में 326 स्कूलों की जानकारी उपलब्ध कराई गई है। दिल्ली सरकार के तहत आने वाले सिर्फ एक-तिहाई स्कूलों में 11वीं और 12वीं कक्षा में विज्ञान के विषयों की पढ़ाई होती है। यही नहीं, दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) सरकार क्षेत्र में 500 नए स्कूल खोलने के अपने घोषित लक्ष्य से काफी पीछे है। बीते सात साल में उसने राष्ट्रीय राजधानी में 63 नए स्कूल खोले हैं।

शिक्षा विभाग ने ‘पीटीआई-भाषा’ की ओर से सूचना का अधिकार अधिनियम (आरटीआई) के तहत दायर आवेदन के जवाब में यह जानकारी दी है। जवाब के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में मध्य दिल्ली जिले के स्कूलों की स्थिति सबसे खराब है, जहां के 31 उच्च माध्यमिक विद्यालयों में से सिर्फ चार में विज्ञान और 10 स्कूलों में वाणिज्य के विषयों की पढ़ाई होती है।आरटीआई के जरिये विभाग से जानकारी मांगी गई थी कि दिल्ली सरकार के तहत आने वाले कुल कितने स्कूलों में 11वीं और 12वीं कक्षा में विज्ञान और वाणिज्य के विषय पढ़ाए जाते हैं तथा सरकार ने फरवरी 2015 से लेकर मई 2022 के बीच कितने नए स्कूल खोले हैं। शिक्षा विभाग ने अपने जवाब में बताया कि ‘आप’ की सरकार ने फरवरी 2015 से लेकर मई 2022 के बीच कुल 63 नए स्कूल खोले हैं। ‘आप’ ने 2015 के विधानसभा चुनावों के लिए जारी अपने घोषणा पत्र में 500 स्कूल खोलने का वादा किया था। ‘आप’ के घोषणा पत्र के बिंदु-19 के मुताबिक, पार्टी दिल्ली में 500 स्कूल खोलेगी और उसका विशेष ध्यान माध्यमिक तथा उच्च माध्यमिक विद्यालयों पर होगा, ताकि दिल्ली के हर बच्चे की गुणवत्तापूर्ण शिक्षा तक पहुंच सुनिश्चित की जा सके।

आरटीआई आवेदन पर 326 स्कूलों की जानकारी उपलब्ध कराई गई है, जबकि अन्य स्कूलों की जानकारी शिक्षा निदेशालय की वेबसाइट से जुटाई गई है। कुल 838 उच्च माध्यमिक विद्यालयों के आंकड़े उपलब्ध हुए हैं, जिनमें से सिर्फ 279 स्कूलों में विज्ञान और 674 विद्यालयों में वाणिज्य के विषयों की पढ़ाई होती है। यानी राष्ट्रीय राजधानी के लगभग 66 फीसदी सरकारी स्कूलों में 11वीं और 12वीं कक्षा में विज्ञान, जबकि तकरीबन 19 प्रतिशत विद्यालयों में वाणिज्य के विषयों की पढ़ाई नहीं होती है। दिल्ली सरकार के तहत आने वाले स्कूलों की कुल संख्या 1047 है, जिनमें माध्यमिक और मिडिल स्कूल भी शामिल हैं।दिल्ली सरकार के स्कूलों में विज्ञान और वाणिज्य की पढ़ाई नहीं होने को लेकर 2017 में दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की गई थी, जिसमें कहा गया था कि विज्ञान और वाणिज्य के विषयों का आवंटन असमान तरीके से किया गया है, जिसे उचित नहीं ठहराया जा सकता है और यह क्षेत्र के विद्यार्थियों के साथ नाइंसाफी है।

याचिका दायर करने वाले वकील युसूफ नकी ने कहा, मेरी याचिका पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किया था, जिसके जवाब में सरकार ने हलफनामा दायर कर कहा था कि वह करीब 50 स्कूलों में विज्ञान और वाणिज्य के विषयों की पढ़ाई शुरू करने जा रही है। इसके बाद अदालत ने याचिका का निपटान कर दिया था। नकी के अनुसार, सरकार ने तब अपने जवाब में कहा था कि 291 सरकारी स्कूलों में विज्ञान के विषयों की पढ़ाई होती है। शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, “किसी स्कूल में 11वीं और 12वीं कक्षा में विज्ञान के विषयों की पढ़ाई शुरू कराने के लिए विद्यालय में बुनियादी ढांचा और बच्चों की रूचि की जरूरत होती है।” उन्होंने कहा, “विज्ञान संकाय के विद्यार्थियों को बैठाने के लिए कमरों की जरूरत होती है। इसके अलावा, भौतिकी, रसायन शास्त्र और जीव विज्ञान जैसे विषयों की प्रयोगशालाएं भी होनी चाहिए।”

अधिकारी के मुताबिक, “अगर विज्ञान से जुड़े विषय लेने वाले विद्यार्थियों की संख्या इतनी है कि कम से कम एक सेक्शन बन जाए तो स्कूल योजना शाखा में फाइल भेजते हैं, जिसे मंजूरी देते हुए अन्य जरूरतों को पूरा किया जाता है।” एक सरकारी स्कूल के प्रधानाचार्य ने पीटीआई-भाषा से कहा, प्रयोगशाला, कमरों और शिक्षकों के अलावा यह भी जरूरी है कि अगर किसी बच्चे को 11वीं कक्षा में विज्ञान और वाणिज्य के विषयों में पढ़ाई करनी है तो 10वीं कक्षा में उसके कम से कम 55 फीसदी अंक आए हों और विज्ञान, गणित तथा अंग्रेजी में उसे 50-50 प्रतिशत अंक मिले हों। बच्चों के इतने अंक नहीं आ रहे हैं कि उन्हें विज्ञान के विषय मिल सकें। प्रधानाचार्य के अनुसार, बच्चों के न तो विज्ञान के विषय लेने लायक अंक आ रहे हैं और न ही उन्हें विज्ञान के विषय लेने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। केएल डीम्ड विश्वविद्यालय में रसायन शास्त्र के प्रोफेसर जेवी शानमुख कुमार ने बताया कि अगर बच्चे उच्च माध्यमिक कक्षाओं में विज्ञान के विषय नहीं पढ़ते हैं तो उनके मेडिकल और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में जाने के रास्ते बंद हो जाएंगे।

उन्होंने कहा, छात्र प्रौद्योगिकी या पर्यावरण के क्षेत्र में भी करियर नहीं बना सकेंगे, जबकि भविष्य में इन्हीं क्षेत्रों में ज्यादा नौकरियां होंगी। इसलिए बच्चों को उच्च माध्यमिक स्तर पर विज्ञान के विषयों में पढ़ाई करने के लिए प्रोत्साहित किए जाने की जरूरत है।इसी विश्वविद्यालय की प्रोफेसर लावन्या शिवपुरापु ने कहा, अनुसंधान और नवाचार के लिए विज्ञान जरूरी है। इंजीनियरों की काफी जरूरत है और कोविड-19 महामारी ने साबित किया है कि भारत आपात चिकित्सकीय स्थितियों से निपटने के लिए तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा, हमें चिकित्सा, पैरा मेडिकल, रेडियोलॉजी आदि क्षेत्रों में विशेषज्ञों की जरूरत है। इन क्षेत्रों में जाने के लिए 11वीं और 12वीं कक्षा में विज्ञान के विषयों से पढ़ाई करने की जरूरत होती है।

700 से ज्यादा पुरुषों के साथ शारीरिक संबंध बनाए

700 से ज्यादा पुरुषों के साथ शारीरिक संबंध बनाए 

अखिलेश पांडेय

सीडनी/नई दिल्ली।  एक रियलिटी टीवी स्टार ने अपने सेक्स एडिक्शन को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने माना कि 700 से ज्यादा पुरुषों के साथ वह शारीरिक संबंध बना चुकी हैं। टीवी स्टार ने यह भी बताया है कि उनके अंदर अपने सेक्स एडिक्शन को लेकर कोई शर्मिंदगी नहीं है। इस रियलिटी टीवी स्टार का नाम बेलिंडा "लव" रायगियर है।  वह साल 2017 में आई फेमस ऑस्ट्रेलियन शो The Bachelor में अपने रोल के लिए जानी जाती हैं। उन्होंने अपनी जिंदगी के एक ऐसे दौर के बारे में बताया जब वह हफ्ते के 6 दिन रोमांस के लिए किसी साथी को ढूंढती फिरती थीं। रेडियो शो You're a Grub Mate! में 38 साल की बेलिंडा ने कहा- सबकुछ ठीक होने के बाद मुझे मेरी समस्याओं के बारे में पता चला। सबसे बड़ा मसला मेरे रिलेशनशिप्स के साथ था। मैं खराब पुरुषों की संगति में थी। बेलिंडा ने 8 साल पहले ही अपने एडिक्शन पर काबू पा लिया था। इसके बाद वह टीवी स्टार से रिलेशनशिप गुरु बन गईं। उन्होंने कहा- रिक्वरी के बाद मुझे इस बात का एहसास हुआ कि कुछ पुराने अनछुए घावों की वजह से मेरे अंदर सेक्स एडिक्शन आया।

टीवी स्टार ने कहा कि उन्हें तो यह याद भी नहीं है कि उन्होंने कितने पुरुषों के संबंध बनाए हैं। बेलिंडा ने आखिर में बताया कि यह संख्या '700 से ज्यादा' होगी। लेकिन टीवी स्टार ने कहा कि वह सेक्शुअल पार्टनर्स के इस आंकड़े से शर्मिंदा नहीं हैं। टीवी स्टार ने आगे बताया- मैं जो सुनना चाहती थी पुरुष वही बातें मुझसे बोलते थे। वे लोग इस चीज में बहुत अच्छे हैं। सेक्स से कहीं बढ़कर यह सब एक खूबसूरत एहसास और प्यार के नाम था। टीवी स्टार ने आखिर में कहा- सोसायटी काफी गिरती जा रही है। हमलोग सेक्स का इस्तेमाल बहुत ही गलत मतलब के लिए कर रहे हैं जो कि क्षणिका सुख है। वह कहती हैं- मैं अब उसी के साथ खास पल बिताऊंगी जिसके साथ मैं कोई कनेक्शन फील करूंगी।

यूके: तत्कालीन मौसम पूर्वानुमान का येलो अलर्ट जारी 

यूके: तत्कालीन मौसम पूर्वानुमान का येलो अलर्ट जारी 

पंकज कपूर 

देहरादून। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय, भारत मौसम विज्ञान विभाग, मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून ने एक बार फिर साम 6:00 से लेकर रात्रि 9:00 बजे तक उत्तराखंड राज्य के लिए तत्कालीन मौसम पूर्वानुमान का येलो अलर्ट जारी किया है।

तत्कालिक पूर्वानुमान जारी करते हुए मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि शाम 6:00 बजे से लेकर रात्रि 9:00 बजे तक देहरादून,टिहरी,पौड़ी, नैनीताल, चंपावत,बागेशर, उधमसिंहनगर नगर तथा पिथौरागढ़ जनपद में कहीं-कहीं गरज चमक के साथ तेज बौछार तथा भारी बारिश की संभावना जताते हुए अलर्ट रहने का बात कही है। मौसम विभाग ने कहा कि इसके अलावा राज्य के सभी जनपदों के कुछ स्थानों में गरज के साथ हल्की से मध्यम वर्षा भी हो सकती है।

उत्तराखंड: सड़क हादसे में 6 श्रद्धालुओं की मौंत

उत्तराखंड: सड़क हादसे में 6 श्रद्धालुओं की मौंत

श्रीराम मोर्य 

उधम सिंह नगर। उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले से दुखद खबर सामने आ रही है यहां सितारगंज रोड पर श्रद्धालुओं की टैक्टर ट्राली को डंपर ने टक्कर मार दी। हादसे में करीब छह लोगों के मरने की खबर है। जानकारी के मुताबिक श्रद्धालु आज सुबह टैक्टर ट्राली में सवार होकर सितारगंज की ओर लौट रहे थे। बताया जाता है कि सिरसा मोड़ और उत्तम नगर गुरूद्वारा के पास बेकाबू डंपर ने टैक्टर ट्राली को टक्कर मार दी। हादसा इतना भीषण था कि कई श्रद्धालुओं की मौके पर ही मौत हो गयी। जबकि कई घायल हैं। भीषण हादसे के दौरान सड़क पर खून ही खून फैल गया।


पुलिस प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर घायलों और मृतकों को चिकित्सालय पहुंचाया। प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक इस दर्दनाक हादसे में करीब छह लोगों के मरने की खबर है। जबकि दर्जनभर से अधिक घायल बताये जा रहे हैं। शक्ति फार्म क्षेत्र के बसगर गांव निवासी करीब 45 से 50 श्रद्धालु बॉर्डर स्थित यूपी क्षेत्र में आने वाले उत्तम नगर स्थित गुरुद्वारे में मत्था टेकने जा रहे थे। बताया जा रहा है कि उत्तम नगर गुरुद्वारे में हर रविवार को गुरु ग्रंथ साहिब का पाठ और लंगर का कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। जिसमें शामिल होने के लिए श्रद्धालु ट्रॉली में सवार होकर निकले थे।

सिरसा चौकी, बरेली जिले के बहेड़ी थाना क्षेत्र में आती है। चौकी के समीप ट्रैक्टर ट्रॉली पहुंचने के बाद पीछे से आ रहे ट्रक ने अनियंत्रित गति से जोरदार टक्कर मार दी। जिससे ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई।इस दौरान ट्रॉली दुर्घटनाग्रस्त हो गई। रविवार सुबह करीब 9 बजे हुए हादसे में सड़क के आसपास घायल लोग बिखरे हुए थे। स्थानीय लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया। मौके पर सूचना के बाद ऊधम सिंह नगर जिले के पुलभट्ठा थाने से भी पुलिसकर्मी मदद के लिए पहुंचे। वहीं बरेली जिले से भारी संख्या में पुलिस फोर्स भेजी गई। घायलों को उपचार के लिए विभिन्न चिकित्सालयों में भेजा गया है। किच्छा स्थित सीएचसी में भी कई घायलों को उपचार के लिए भेजा गया है।

स्पिनर शर्मा का क्रिकेट से संन्यास, ऐलान किया 

स्पिनर शर्मा का क्रिकेट से संन्यास, ऐलान किया 

मोमीन मलिक 

नई दिल्ली। टीम इंडिया के लेग स्पिनर राहुल शर्मा ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया है। इस बात कि जानकारी क्रिकेट ने ट्विटर के माध्यम से दी है। उन्होंने ट्विटर पर एक इमोशनल पोस्ट शेयर करते हुए क्रिकेट को अलविदा कहा। डेक्कन चार्जर्स से साल 2011 में डेब्यू करने वाले राहुल आइपीएल के कारण ज्यादा सुर्खियों में रहे।

सभी खिलाड़ियों को कहा धन्यवाद...

राहुल ने ट्वीट कर BCCI सहित सभी खिलाड़ियों को धन्यवाद कहा है। उन्होंने कहा, “भारतीय टीम की नीली जर्सी पहनना मेरे लिये सबसे यादगार क्षण था। मैं हमेशा इस याद को संजोकर रखूंगा। गौतम गंभीर, राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्मण, वीरेंद्र सहवाग, महेंद्र सिंह धोनी, युवराज सिंह, हरभजन सिंह, सुरेश रैना, रोहित शर्मा, विराट कोहली और सभी खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने का मौका मिला यह मेरा सौभाग्य था।” साथ ही उन्होंने IPL में अपने अनुभवों को भी शेयर किया।


14 मैचों में 16 विकेट हासिल किए,

8 दिसंबर 2011 को वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना डेब्यू करने वाले राहुल ने 4 वनडे और 2 टी20 मैच खेले। उनके नाम वनडे में 6 और टी20 में 3 विकेट हैं।
उन्होंने 44 मैचों में 40 विकेट लिए जिसमें 2011 में सचिन तेंदुलकर का भी विकेट शामिल है। इतना ही नहीं आइपीएल के इस सीजन में पुणे वॉरियर्स के लिए खेलते हुए 14 मैचों में 16 विकेट हासिल किए थे। यही वजह भी थी कि इसी साल उन्हें टीम इंडिया में शामिल किया गया था।

मुजफ्फरनगर: आप कार्यकर्ताओं ने तिरंगा यात्रा निकाली

मुजफ्फरनगर: आप कार्यकर्ताओं ने तिरंगा यात्रा निकाली 

भानु प्रताप उपाध्याय 

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में बढ़ती महंगाई की बात कहते हुए आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने शहर में तिरंगा यात्रा निकाली। बढती महंगाई और बेरोजगारी के ख़िलाफ़ आम आदमी पार्टी ने रविवार को शहर में विभिन्न स्थानों से तिरंगा यात्रा निकाली और बाद में कचहरी गेट स्थित भीमराव आंबेडकर की मूर्ति पर पहुंचे। आम आदमी पार्टी नेताओं ने आंबेडकर की प्रतिमा पर पर माल्यार्पण किया।

पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष अकील राणा ने कहा की आम आदमी पार्टी से सरकारें घबरा रही हैं। उन्होंने कहा कि आज पूरा देश महंगाई और बेरोजगारी से टूट चुका है। लेकिन सरकार के कान पर कोई जूं नहीं रेंग रही है , आम आदमी पार्टी सरकार के द्वारा बेरोजगारी पर लगाम न लगाने एवं महंगाई पर नियंत्रण न कर पाने के विरोध में देशभर में जगह जगह प्रदर्शन कर रही है। उन्होने कहा कि इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सोमेंद्र ढाका स्वयं यात्रा में मौजूद हैं। कहा कि वह कार्यकर्ताओं का उत्साह एवं जोश बढ़ाते रहें हैं। उन्होंने कहा की आम आदमी पार्टी की देशभर में बढ़ती लोकप्रियता से सरकार घबरा गई है और पार्टी के बड़े नेताओं को निशाना बनाने की कोशिश कर रही है। लेकिन इसमें वह सफल नहीं हो सकेगी। आम आदमी पार्टी देश में अपना वर्चस्व बड़ी तेजी के साथ बढाएगी। इस अवसर पर पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ता पूरे जोश और उत्साह के साथ मौजूद रहे,पार्टी के जिलाध्यक्ष अरविंद बालियान ने सभी पार्टी कार्यकर्ताओं का धन्यवाद कर आशा जताई की आम आदमी पार्टी इसी प्रकार गंभीर मुद्दों को उठाकर अपनी बात प्रभावी ढंग से रखती रहेगी। दावा किया कि रविवार को इस कार्यक्रम से आम आदमी पार्टी ने अपनी मजबूत स्थिति दर्ज कराई तथा कार्यकर्ताओं का जोश एवं उत्साह देखने लायक था।

नोएडा: 9 सेकेंड में जमींदोज हुआ ट्विन टावर

नोएडा: 9 सेकेंड में जमींदोज हुआ ट्विन टावर 

विजय भाटी 

गौतमबुद्ध नगर। यूपी के नोएडा में स्थित ट्विन टावर (रविवार को) दोपहर ढाई बजे जमींदोज हो गया, जब ट्विन टावर में धमाका हुआ तो आसमान धूल से भर गया और बिल्डिंग 9 सेंकड में पूरी तरह से ढह गई। जान लें कि ट्विन टावर में धमाके के लिए आसपास की इमारतों को पहले ही खाली करा लिया गया था। बता दें कि ट्विन टावर में ब्लास्ट का वीडियो भयावह है। धमाका होते ही ट्विन टावर भरभरा कर गिर गया।

बता दें कि नोएडा सेक्टर 93ए स्थित ट्विन टावर ध्वस्त हो चुका है। महज 9 सेकेंड में इमारत जमींदोज हो गई‌‌। ट्विन टावर के ध्वस्त होने के बाद उठने वाले धूल के गुबार और प्रदूषण को नियंत्रण में करने के लिए ट्विन टावर के चारों तरफ जगह-जगह स्मॉग गन लगाई गई थी। जैसे ही ट्विन टावर गिरा स्मोक गन चलाना शुरू कर दिया गया। इसके अलावा पानी का छिड़काव किया गया, जिससे धूल का गुबार नीचे बैठ जाए।

धमाके के बाद सिर्फ 9 सेकेंड में विशाल बिल्डिंग ताश के पत्तों की तरह भरभरा कर गिर गई‌। अवैध रूप से निर्मित इन ट्विन टावर को धराशायी करने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के एक साल बाद यह कार्रवाई की गई है। गौरतलब है कि दिल्ली के प्रतिष्ठित कुतुब मीनार से ऊंचे ट्विन टावर को ‘वाटरफॉल इम्प्लोजन’ तकनीक की मदद से गिराया गया। ट्विन टावर भारत में अब तक ध्वस्त की गई सबसे ऊंची बिल्डिंग रही‌। दिल्ली से सटे नोएडा के सेक्टर 93ए में सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट हाउसिंग सोसाइटी के भीतर 2009 से ‘एपेक्स’ (32 मंजिल) और ‘सियान’ (29 मंजिल) टावर निर्माणाधीन थे‌। इमारत गिराने के लिए 3,700 किलोग्राम से अधिक विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया।

500 गणेश प्रतिमाएं निशुल्क वितरित करने का निर्णय 

500 गणेश प्रतिमाएं निशुल्क वितरित करने का निर्णय 

नरेश राघानी 

कोटा। राजस्थान के कोटा में स्वयंसेवी संगठन पगमार्क फाउंडेशन ने अनंत चतुर्दशी के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण की दृष्टि से अनोखी पहल करते हुए मिट्टी की बनी 500 गणेश प्रतिमाएं निशुल्क वितरित करने का निर्णय किया है, जिनसे गणेश चतुर्दशी के दिन विसर्जन के बाद पौधे प्रस्फुटित होंगे।

पगमार्क फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष देवव्रत सिंह हाडा ने बताया कि इस खास मौके पर पगमार्क फाउंडेशन इको फ्रेंडली प्रतिमाएं तैयार कर रहा है। इन प्रतिभाओं को लोगों को वितरित कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश देंगे। फाउंडेशन के संयोजक निमिश गौतम ने बताया कि यह प्रतिमाएं मिट्टी से तैयार की गई हैं, यह 10 इंच के करीब ऊंची होंगी, इनको मिट्टी के साथ विभिन्न प्रकार के फल व सब्जियों के बीजों से तैयार किया गया है। गणपति के नैन नक्शों को इन्ही रंग-बिरंगे बीजों से सजाया भी गया है।

देवव्रत हाडा ने बताया कि लोग आमतौर पर जलाशयों में प्रतिमाओं को विसर्जित करते है, लेकिन इनको गमलों में विसर्जित किया जाएगा। जल अर्पित करने से बीज धीरे धीरे अंकुरित होंगे और पौधे का रूप धारण कर लेंगे। यह गणपति भक्ति एवं पर्यावरण का पाठ पढ़ाएंगे। पगमार्क फाउंडेशन की ओर से 500 प्रतिमाएं बनाई गई है, जिसे निशुल्क वितरित किया जाएगा।

बिना मेकअप के भाग लेने वाली पहली इंसान, मेलिसा 

बिना मेकअप के भाग लेने वाली पहली इंसान, मेलिसा 

मोमीन मलिक 

लंदन। लंदन की 20 वर्षीय मेलिसा राउफ मिस इंग्लैंड प्रतियोगिता के 94 साल के इतिहास में बिना मेकअप के भाग लेने वाली पहली इंसान बन गई हैं। लंदन में हुए सेमीफाइनल में बिना मेकअप के दिखीं मेलिसा फाइनल राउंड में पहुंच गई हैं। उन्होंने कहा, मैं यह दिखाने से नहीं डरती कि मैं क्या हूं…दिखाना चाहती थी कि मेलिसा असलियत में कौन है। दरअसल, 20 वर्षीय युवती मेलिसा राउफ ने इंग्लैंड की सौंदर्य प्रतियोगिता मिस इंग्लैंड के सेमी फाइनल राउंड में बिना मेकअप के सामने आई। वहीं उसके इस कदम ने ब्यूटी कॉन्टेस्ट के प्रतिभागियों को भी इंप्रेस कर लिया। जिसके बाद अब वो फाइनल में पहुंच चुकी हैं। मेलिसा ने नेचुरल ब्यूटी को प्रमोट करते हुए फाइनल में जगह बनाई है। वहीं मेलिसा बेयर फेस राउंड की भी विजेता है। जिसमे प्रतिभागियों को नो फिल्टर-मेकअप की तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट करनी थी।

हालांकि मेलिसा हमेशा से मेकअप से दूर नहीं रहती थीं। लेकिन ब्यूटी कॉन्टेस्ट में प्रतिभाग करने के लिए उन्होने मेकअप से दूर रहने का फैसला किया। इस बारे में मेलिसा कहती हैं कि उन्हें नहीं लगता कि वो दुनिया के खूबसूरती के मापदंडों पर खरी उतरती हैं। लेकिन उन्होंने खुद को जैसी हूं वैसा ही स्वीकार करना सीख लिया है। मेलिसा के बिना मेकअप सेमी फाइनल राउंड में उतरने पर मिस इंग्लैंड कॉन्टेस्ट की निदेशक एंजी बेसल कहती हैं कि पहली बार हमने किसी प्रतिभागी को सेमी फाइनल राउंड में बिना मेकअप उतरते देखा। इसके साथ ही वो कहती हैं कि हमे भी मेकअप के पीछे का इंसान देखना है। मेलिसा का ये कदम साहसिक है और उन तमाम लड़कियों के लिए संदेश भी है, जो सामाजिक दबाव के चलते मेकअप करती हैं और खुद को नेचुरल रूप में स्वीकार नहीं कर पातीं।

सड़क हादसा, तृणमूल कांग्रेस के नेता के बेटे की मौंत 

सड़क हादसा, तृणमूल कांग्रेस के नेता के बेटे की मौंत 

मिनाक्षी लोढी 

कोलकाता। कोलकाता के खिदिरपुर इलाके में एक सड़क हादसे में तृणमूल कांग्रेस के नेता राम प्यारे राम के बेटे की मौंत हो गई। पुलिस ने रविवार को बताया कि बाबूबाजार से गुजर रहे राम किनकर राम (38) की कार को शनिवार रात करीब आठ बजकर 40 मिनट पर सामने से आ रहे एक ट्रक ने टक्कर मार दी। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, किनकर राम की मौके पर ही मौत हो गई और ट्रक चालक एवं खलासी फरार हो गए।

अधिकारी ने कहा, ‘‘किनकर राम को एसएसकेएम अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। ट्रक चालक और उसके खलासी को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान जारी है।’’ अधिकारी के अनुसार, बचाव दल को किनकर राम का शव कार से बाहर निकालने के लिए गैस कटर का इस्तेमाल करना पड़ा। इस बीच, एक अधिकारी ने बताया कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह (एसएमपी) ने दुर्घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

उन्होंने बताया कि खिदिरपुर बाबूबाजार क्षेत्र बंदरगाह मार्ग एसएमपी के क्षेत्राधिकार में आता है। प्रवक्ता संजय मुखर्जी ने कहा, ‘‘बंदरगाह के अध्यक्ष ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।’’ अधिकारियों ने बताया कि इस मार्ग की आखिरी बार 2018 में मरम्मत कराई गई थी।

न्याय प्रणाली को विज्ञान जांच से जोड़ने का लक्ष्य

न्याय प्रणाली को विज्ञान जांच से जोड़ने का लक्ष्य 

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा कि केंद्र सरकार ने दोषसिद्धि दर को विकसित देशों से भी अधिक करने और आपराधिक न्याय प्रणाली को फोरेंसिक विज्ञान जांच से जोड़ने का लक्ष्य रखा है। राष्ट्रीय फोरेंसिक विज्ञान विश्वविद्यालय (एनएफएसयू), गांधीनगर के प्रथम दीक्षांत समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि सरकार का लक्ष्य छह साल से अधिक की सजा वाले अपराधों के लिए फोरेंसिक जांच को “अनिवार्य व कानूनी” बनाना है। उन्होंने कहा कि सरकार देश के सभी जिलों में फोरेंसिक जांच सुविधा उपलब्ध कराएगी और और यह सुनिश्चित करने के लिए एक कानूनी ढांचा तैयार किया जाएगा कि जांच की स्वतंत्रता व निष्पक्षता बनी रहे। शाह ने कहा, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार भारतीय दंड संहिता (आईपीसी), आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) और साक्ष्य अधिनियम में बदलाव करने जा रही है, क्योंकि किसी ने भी स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद इन कानूनों को भारतीय परिप्रेक्ष्य में नहीं पाया। ”

मुख्य अतिथि के तौर पर समारोह को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ”स्वतंत्र भारत में इन कानूनों को फिर से बनाने की जरूरत है। इसलिए, हम आईपीसी, सीआरपीसी और साक्ष्य अधिनियम में बदलाव के लिए बहुत से लोगों से परामर्श कर रहे हैं।” केंद्रीय मंत्री ने कहा, ”इसके तहत हम छह साल से अधिक की सजा वाले अपराधों के लिए फोरेंसिक जांच के प्रावधान को अनिवार्य और कानूनी बनाने जा रहे हैं।”

शाह ने इस अवसर पर एनएफएसयू में डीएनए फोरेंसिक केंद्र, साइबर सुरक्षा केंद्र और अन्वेषण एंव फोरेंसिक मनोविज्ञान केंद्र का भी उद्घाटन किया और कहा कि उन्हें यकीन है कि वे देश की आपराधिक न्याय प्रणाली के लिए लाभकारी साबित होंगे। उन्होंने कहा ”ये तीन केंद्र शिक्षा और प्रशिक्षण के अलावा अनुसंधान व विकास के बड़े केंद्र भी होंगे… मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि अनुसंधान और विकास के क्षेत्र में नयी यात्रा के साथ, भारत इन तीन क्षेत्रों में फोरेंसिक विज्ञान का वैश्विक केंद्र बन जाएगा। हम इस दिशा में दुनिया में सबसे आगे रहेंगे।”

ब्रिटेन की 6 दिवसीय यात्रा पर रवाना हुए 'उपराष्ट्रपति' 

ब्रिटेन की 6 दिवसीय यात्रा पर रवाना हुए 'उपराष्ट्रपति' 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। पूर्व उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू रविवार को ब्रिटेन की छ: दिवसीय यात्रा पर रवाना हुए। इस दौरान वह वहां भारतीय प्रवासियों द्वारा आयोजित कई सार्वजनिक कार्यक्रमों को संबोधित करेंगे। नायडू के करीबी सूत्रों ने बताया कि पूर्व उपराष्ट्रपति 29 अगस्त को लेखक, विद्वान और भाषाविद् जी. वेंकैट राममूर्ति पंतुलु की जयंती मनाने के लिए तेलुगु एसोसिएशन ऑफ लंदन द्वारा आयोजित एक समारोह को संबोधित करेंगे।

उन्होंने बताया कि नायडू 31 अगस्त को ब्रिटेन में स्वामीनारायण आंदोलन की शाखाओं में से एक, अनुपम मिशन द्वारा आयोजित एक समारोह में ब्रिटेन में हिंदू समुदाय के लिए पहले एवं अत्याधुनिक ‘ओम्’ शवदाहगृह की आधारशिला रखेंगे। कई लाख पाउंड की लागत से निर्मित, ओम् शवदाहगृह ब्रिटेन में हिंदू, जैन और सिख समुदायों के सदस्यों की जरूरतों को पूरा करेगा।

पूर्व उपराष्ट्रपति का एक सितंबर को ‘ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी’ (ओएफबीजेपी) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करने का भी कार्यक्रम है और उनका तीन सितंबर को भारत लौटने का कार्यक्रम है। उपराष्ट्रपति के रूप में नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो गया था।

बैठक: कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव 17 अक्टूबर को होगा 

बैठक: कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव 17 अक्टूबर को होगा 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव 17 अक्टूबर को होगा और इसकी अधिसूचना 22 सितंबर को जारी होगी। सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि चुनाव के लिए नामांकन की प्रक्रिया 24 सितंबर को आरंभ होगी और इसकी आखिरी तिथि 30 सितंबर होगी। कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में इस चुनाव कार्यक्रम को मंजूरी।

सीडब्ल्यूसी ने पिछले साल जिस कार्यक्रम को मंजूरी दी थी, उसके मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया 21 अगस्त से 20 सितंबर के बीच। राहुल गांधी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद से अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर सोनिया गांधी पार्टी की कमान संभाल रही हैं।

सीएम धामी ने पीएम की 'मन की बात' को सुना

सीएम धामी ने पीएम की 'मन की बात' को सुना 

पंकज कपूर 

देहरादून‌। मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात को सुना। मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पहाड़ी अंजीर कहे जाने वाले बेडू का जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने पिथौरागढ़ प्रशासन के द्वारा बेडू के उत्पादन को बढ़ावा देकर रोजगार सृजन व खनिज एवं वनस्पतियों के संरक्षण के क्षेत्र में किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रधानमंत्री जी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वास्तव में बेडू स्वास्थ्य के लिए संजीवनी है, जिसके माध्यम से स्थानीय लोगों द्वारा अनेक रोगों का शमन किया जाता है।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने जिलाधिकारी पिथौरागढ़ श्री आशीष चौहान से फोन पर बात कर इस सराहनीय पहल के लिए जिला प्रशासन एवं जनपद वासियों को बधाई दी। जिला प्रशासन के सहयोग से पिथौरागढ़ में बेडू से जूस, जैम, चटनी, आचार एवं अन्य सामग्री बनाई जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मन की बात में प्रधानमंत्री ने जल के संरक्षण एवं संवर्धन, कुपोषण मुक्त भारत के लिए कुपोषण मुक्ति के प्रयासों एवं इसके लिए जागरूकता, मोटे अनाजों के उत्पादन के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने की बात कही। इस दिशा में राज्य सरकार सुनियोजित तरीके से कार्य करेगी।

सामूहिक दुष्कर्म, 3 आरोपियों को हिरासत में लिया 

सामूहिक दुष्कर्म, 3 आरोपियों को हिरासत में लिया 

मनोज सिंह ठाकुर 

खरगोन। मध्यप्रदेश के खरगोन जिला मुख्यालय पर कथित तौर पर एक आदिवासी नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म के मामलें में पुलिस में तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है। निमाड़ रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक तिलक सिंह ने बताया कि शुक्रवार देर रात हुई एक शिकायत के मामले में अजाक पुलिस ने तीन आरोपियों को अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म, पॉक्सो तथा अनुसूचित जनजाति उत्पीड़न की धाराओं के अंतर्गत प्रकरण दर्ज कर हिरासत में ले लिया है।

उन्होंने बताया कि कक्षा 8 में अध्ययनरत 15 वर्षीय किशोरी ने शिकायत की थी उसे 25 अगस्त को एक नाबालिग परिचित ले गया था और बाद में वहां एक दवा विक्रेता समेत एक अन्य आरोपी वहां आ पहुंचे। उन्होंने बताया कि 3 में से 2 आरोपियों ने कथित तौर पर उसके साथ दुष्कर्म किया और उसे घर के पास छोड़ गये। पीड़िता द्वारा परिजनों को घटनाक्रम बताया जाने के उपरांत प्रकरण दर्ज किया गया।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-324, (वर्ष-05)

2. सोमवार, अगस्त 29, 2022

3. शक-1944, भाद्रपद, शुक्ल-पक्ष, तिथि-दूज, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 05:51, सूर्यास्त: 06:56। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 28 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक कासहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...