बुधवार, 23 मार्च 2022

'नेशनल मीडिया जर्नलिस्ट हेल्प यूनिट' का शुभारंभ

'नेशनल मीडिया जर्नलिस्ट हेल्प यूनिट' का शुभारंभ    

नीरज जैन/संदीप मिश्र                 
लखनऊ। बुधवार को नेशनल मीडिया जर्नलिस्ट हेल्प यूनिट का शुभारंभ लखनऊ में किया गया। जिसमें उमेश राणा को राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किया गया। कई राज्यों से आये पत्रकार बंधुओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष का माल्यर्पण कर स्वागत किया तथा लोगों को आभार प्रकट करते हुए कहा कि जिस तरह आप लोगों ने इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी है। उसका मैं स्वागत करता हूँ और मैं इस यूनिट को अपनी जिम्मेदारी के साथ संगठन को आगे बढ़ाने का प्रयास करूंगा तथा देश व प्रदेश स्तर पर अपने पत्रकार साथियों के लिए पत्रकारिता से संबंधित समस्यों के लिए हर संभव प्रयास करने की कोशिश करूंगा। मेरठ से वरिष्ठ पत्रकार राजन त्यागी ने कहा पत्रकार एक्ट बनने तक संघर्ष जारी रहेगा। क्योंकि, पत्रकार एक्ट ना होने से आए दिन, पत्रकारों का उत्पीड़न होता है। समाज के सभी समुदायों का एक्ट है, परंतु पत्रकार के हितों के लिए कोई भी एक्ट नहीं है।
इसी क्रम में राष्ट्रीय संयोजक बलरामपुर के पत्रकार शुकदेव चौरसिया ने यूनिट में अपनी बात रखते हुए संगठन को आर्थिक बल पर जोर देते हुए कहा कि किसी भी संघ को मजबूती देने के लिए सक्रिय सदस्यों की भी जरूरत होती है। जिसमे संघ के सदस्यों को बढ़चढ़कर हिस्सा लेनी चाहिए। जहाँ भी पत्रकारिता से संबंधित पत्रकारों के ऊपर समस्या आती है तो संघ के सदस्यों में एकता दिखाने की जरूरत होती है।
संघ में आये हुए पत्रकारों का आभार प्रकट करते हुए संयोजक राजेन्द्र पंत "रमाकांत" ने कविता के बोल से सभी को अपनी बाणी से मुग्ध करके यूनिट की मजबूती के लिए काफी देर तक लोगों को ध्यानाकर्षण किया। सभा को आज का कानपुर के संवाददाता संपादक डॉ इकबाल अहमद ने भी संबोधित किया।
सभा का संचालन वरिष्ठ पत्रकार विजय बब्बल सक्सेना ने किया तथा आए हुए अतिथियों का भावपूर्ण स्वागत लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार तथा हिंदुस्तान टीवी चैनल के संपादक अनिल कुमार गिरी ने किया। कार्यक्रम में पत्रकार योगेश पांडे, एजाज अंसारी, मनोज तिवारी, अजय कुमार श्रीवास्तव, श्रवण चौहान, सुधीर शर्मा, रामकुमार अधिवक्ता, देवेंद्र उपाध्याय, विनीता सिंह आदि उपस्थित रहे।

गृहमंत्री विज ने कश्मीर के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरा

गृहमंत्री विज ने कश्मीर के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरा    

राणा ओबरॉय         
चंडीगढ़। बुधवार को हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कांग्रेस को कश्मीर के मुद्दे पर घेरा है। विज ने बुधवार को ट्वीट किया कि यह कांग्रेस के सिद्धांत, कश्मीरी पंडितों के शोषण और उनके पलायन के लिए मजबूर है। भारत के कुछ हिस्सों में विभिन्न आतंकवादी समूहों का धर्म के आधार पर विभाजन, 1984 में सिखों की क्रूर हत्या, सुभाष चंद्र बोस की मौत का अनसुलझा रहस्य, लाल बहादुर शास्त्री और कई ओर। 
विज ने अपने ट्वीट से कांग्रेस को उपरोक्त सभी मामलों का जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि विज के इस ट्वीट पर उनकी आलोचना भी हो रही है। आलोचक बृजेश पांड ने उन्हें कहा कि शर्म करो मंत्री के पद पर बैठकर झूठ बोलते हो। देश को गुमराह करने का प्रयास करते हो। सारा किया धरा तुम्हारी पार्टी का है। साजिश करके वीपी सरकार में कश्मीरी पंडितों को पलायन पर मजबूर किया। क्योंकि, तुम नफरतियों को एजेंडे से मतलब है।

कलेक्ट्रेट परिसर का भ्रमण कर दिशा-निर्देश दिए

कलेक्ट्रेट परिसर का भ्रमण कर दिशा-निर्देश दिए     

बृजेश केसरवानी                 
प्रयागराज। जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री ने बुधवार को कलेक्ट्रेट परिसर का भ्रमण कर कार्यालयों का निरीक्षण करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। उन्होंने अपर जिलाधिकारी आपूर्ति, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व, नजारत, ईआरके सेक्शन, आबकारी, जिला सूचना कार्यालय, अपर नगर मजिस्ट्रेटों के कार्यालयों सहित अन्य कार्यालयों का निरीक्षण किया। उन्होंने पटल सहायकों को पत्रावलियों को व्यस्थित रखने एवं कक्षों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिए जाने के लिए निर्देशित किया है। 
जिलाधिकारी ने अधिकारियों के कक्षों का भी निरीक्षण किया। उन्होंने नाजिर को कलेक्ट्रेट परिसर की बिल्डिंग की पोताई कराने तथा मरम्मत हेतु आवश्यक कार्यवाही किए जाने का निर्देश दिया है। साथ ही साथ उन्होंने कलेक्ट्रेट परिसर में नियमित रूप से साफ-सफाई की व्यवस्था भी बनाये रखने हेतु निर्देशित किया है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी नगर मदन कुमार, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व जगदम्बा सिंह सहित अन्य सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

संगम सभागार में 37 बिंदुओं की समीक्षा बैठक: डीएम

संगम सभागार में 37 बिंदुओं की समीक्षा बैठक: डीएम  

बृजेश केसरवानी        
प्रयागराज। जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में बुधवार को संगम सभागार में विकास प्राथमिकता वाले 37 बिंदुओं की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने सम्बंधित अधिकारियों से परियोजनाओं की अद्यतन स्थिति के बारे में जानकारी लेते हुए परियोजनाओं में गुणवत्ता एवं समयबद्धता का विशेष ध्यान देने के लिए सभी कार्यदायी संस्थाओं के नोडल तथा अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। 
उन्होंने नहरों में सिल्ट सफाई के कार्य की जानकारी ली, तथा सही जानकारी न दे पाने के कारण सहायक अभियंता सिंचाई (यमुनापार) को स्पष्टीकरण तलब तथा उन्होंने जो भी तलाब है, उसे कैनाल द्वारा भरने के निर्देश दिए है। उन्होंने लघु सिंचाई विभाग की समीक्षा करते हुए अधिशाषी अभियंता को निर्देशित किया है कि बोरिंग के कार्यों में और तेजी लायी जाये तथा लक्ष्य के सापेक्ष उसे पूर्ण किया जाये। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुए कहां कि जिस भी विभाग का विद्युत बिल अभी तक बकाया है।
उसे समय से जमा किये जाने के निर्देश दिये है तथा मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को निर्देशित किया है कि पशुओं के लिए चारे तथा उनका टीकाकरण सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने पोषण अभियान के तहत उपलब्ध कराये जा रहे पोषण (खाद्यान्न) की गुणवत्ता व वितरण का सत्यापन कराकर इसकी मानीटरिंग करते रहने के  निर्देश दिए है। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी श्री शिपू गिरि, डीडीओ श्री ए.के मौर्या, डीएसटीओ श्री जितेन्द्र कुमार सहित अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

25 साल की उम्र में टेनिस से संन्यास लेने का फैसला

25 साल की उम्र में टेनिस से संन्यास लेने का फैसला   

सुनील श्रीवास्तव          
सिडनी। दुनिया की नंबर 1 महिला टेनिस खिलाड़ी एश्ले बार्टी ने महज 25 साल की उम्र में ही टेनिस से संन्यास लेने का फैसला लिया है। ऑस्ट्रेलिया की स्टार खिलाड़ी के इस फैसले से फैंस को बड़ा झटका लगा है।
बुधवार को सोशल मीडिया पर वीडियो के जरिए एश्ले बार्टी ने संन्यास का ऐलान किया। उन्होंने इमोशनल वीडियो में कहा, 'मुझे नहीं पता था कि मैं यह कैसे करूंगी, यह कहना काफी मुश्किल है। मैं बहुत खुश हूं और मैं इसके लिए तैयार हूं।' 
उन्होंने कहा कि 'मुझे बस इतना पता है कि इस समय मेरा दिल जानता है कि यह मेरे लिए बिल्कुल सही फैसला है। टेनिस ने मुझे जो कुछ भी दिया मैं उसके लिए बहुत शुक्रगुजार हूं। लेकिन मुझे पता है कि यह सही समय है संन्यास लेने का और अपने और सपनों का पीछा करने का।' 
ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी ने पिछले तीन साल में तीन बड़े ग्रैंड स्लैम खिताब अपने नाम किए हैं। उन्होंने 2019 में फ्रेंच ओपन, 2021 में विंबलडन और 2022 में ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब अपने नाम किया है। इसके साथ ही उन्होंने 15 सिंगल्स जीते हैं।

शहीदी दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन

शहीदी दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन  

बृजेश केसरवानी                 

प्रयागराज। आजादी का अमृत महोत्सव आयोजन की श्रृंखला में शहीदी दिवस के अवसर पर बुधवार को संस्कृति विभाग एवं जिला प्रशासन, प्रयागराज द्वारा शहीद चन्द्रशेखर आजाद पार्क में पुष्पांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस तिथि को सन् 1931 में स्वतंत्रता सेनानी सरदार भगत सिंह, शिवराम राजगुरू और सुखदेव थापर नामक तीन निर्भीक क्रान्तिकारियों को अंग्रेजों द्वारा फांसी दी गई थी।

सर्वप्रथम मुख्य अतिथि जिलाधिकारी के प्रतिनिधि अपर जिलाधिकारी नगर मदन कुमार एवं जिला विकास अधिकारी अशोक कुमार मौर्य तथा संस्कृति विभाग के अधिकारी गुलाम सरवर व कर्मचारीगण ने चन्द्रशेखर आजाद की प्रतिमा एवं सरदार भगत सिंह, राजगुरू तथा सुखदेव के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की तत्पश्चात् पुलिस के जवानों द्वारा शहीदों को सलामी दी गई तथा बैण्ड पर राष्ट्रधुन कर वादन हुआ।

इस अवसर पर शहीदों की स्मृति में एक सभा का आयोजन भी किया गया। जिसमें उद्यान अधीक्षक उमेश उत्तम, उप नियंत्रक नागरिक सुरक्षा नरेन्द्र शर्मा, चीफ वार्डेन नागरिक सुरक्षा अनिल गुप्ता ने अपने उद्गार व्यक्त किये। हरिश्चन्द्र दुबे एवं शैलेन्द्र मिश्रा ने अपनी रचनाओं से दर्शकों को लाभांवित किया। नीरज ठाकुर ने मार्शल आर्ट का प्रदर्शन कर देशभक्ति की भावना जागृत की। पाण्डुलिपि अधिकारी गुलाम सरवर ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन पूर्व सूबेदार श्याम सुन्दर पटेल ने किया। इस अवसर पर पं. राकेश तिवारी, श्रीमती छाया, डॉ. शाकिरा तलत, अस्मा शम्स, राकेश कुमार वर्मा, विकास यादव, रोशन लाल, मो. शफीक, कल्लू लाल आदि उपस्थित रहे।

पीएम मोदी ने हिंसा की घटना पर प्रतिक्रिया दी

पीएम मोदी ने हिंसा की घटना पर प्रतिक्रिया दी   

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के बीरभूम में हिंसा ने पूरे भारत में तूल पकड़ लिया है। ममता सरकार भी घिरती हुईं नजर आ रहीं हैं। टीएमसी नेता भादू शेख की हत्या के बाद हिंसा फैलने के पर यहां गुस्साई भीड़ ने करीब एक दर्जन घरों को आग के हवाले कर दिया। इस हिंसा में 8 लोगों की जलकर मौत हो गई। मरने वालों में 3 महिलाएं और 2 बच्चे भी शामिल हैं। बंगाल में हुई इस हिंसा पर राजनीति भी छिड़ गई है। इसी बीच पीएम मोदी ने भी घटना पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मैं पश्चिम बंगाल के बीरभूम में हुई हिंसक वारदात पर दुख व्यक्त करता हूं।

साथ ही कहा कि अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। मैं आशा करता हूं कि राज्य सरकार, बंगाल की महान धरती पर ऐसा जघन्य पाप करने वालों को जरूर सजा दिलवाएगी। इसके अलावा पीएम ने कहा कि मैं बंगाल के लोगों से भी आग्रह करूंगा कि ऐसी वारदात को अंजाम देने वालों को, ऐसे अपराधियों का हौसला बढ़ाने वालों को कभी माफ न करें। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से मैं राज्य को इस बात के लिए आश्वस्त करता हूं कि अपराधियों को जल्द से जल्द सजा दिलवाने में जो भी मदद वो चाहेगी, उसके लिए केंद्र सरकार तैयार है।

बजरंगबली को 'दलित' बताने पर सीएम को नोटिस

बजरंगबली को 'दलित' बताने पर सीएम को नोटिस   

हरिओम उपाध्याय           
लखनऊ। 18वीं विधानसभा के गठन के लिए हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को राज्य में दोबारा से प्रचंड जीत दिलाने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अदालत की ओर से नोटिस जारी किया गया है। बजरंगबली को दलित बताने के मामलें को लेकर दायर की गई याचिका के संबंध में अदालत ने सीएम योगी को यह नोटिस भेजा है, कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने इस मामलें की अगली सुनवाई 26 अप्रैल, निर्धारित की है।
बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मऊ के जिला एवं सत्र न्यायाधीश की ओर से नोटिस जारी किया गया है। 
दोहरीघाट थाना क्षेत्र के भगवानपुरा कस्बा निवासी नवलकिशोर शर्मा ने एमपी एमएलए विशेष कोर्ट की मजिस्ट्रेट श्वेता चौधरी की अदालत में एक परिवाद दाखिल किया था। इसमें मुख्यमंत्री अजय बिष्ट उर्फ योगी आदित्यनाथ को आरोपी बनाया गया है। नवल किशोर की ओर से की गई शिकायत में कहा गया है कि योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान के अलवर जनपद के मालखेड़ा में वर्ष 2018 की 28 नवंबर को विधानसभा चुनाव के दौरान आयोजित की गई एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि बजरंगबली बनवासी गिरीवासी और दलित थे। नवल किशोर के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस बयान से परिवादी व बजरंगबली में आस्था रखने वालों की धार्मिक भावनाएं आहत हुई है। अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एमपी एमएलए कोर्ट की ओर से इस शिकायत को खारिज कर दिया गया था। 
जज श्वेता चौधरी ने 11 मार्च को कहा था कि घटना स्थल राजस्थान का है और यह मऊ क्षेत्राधिकार से बाहर का मामला है। याची नवल किशोर की ओर से इस मामले को जिला अदालत में चुनौती दी गई है। सुनवाई के बाद मुख्य न्यायाधीश ने फौजदारी निगरानी के रूप में दर्ज कर सुनवाई के लिए 26 अप्रैल की तिथि निर्धारित की है।

पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती नेे बीजेपी पर बोला हमला

पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती नेे बीजेपी पर बोला हमला  

इकबाल अंसारी        
श्रीनगर। हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ जहां एक तरफ बॉक्स ऑफिस पर जमकर कमाई कर रही है, तो वहीं दूसरी तरफ इस फिल्म को लेकर बवाल भी मचा हुआ है। इस फिल्म पर जमकर राजनीति हो रही है। अब इस फिल्म को लेकर जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती की तरफ से बयान सामने आया है। 
जिसमें उन्होंने बीजेपी पर जमकर हमला बोलते हुए कहा है कि अगर बीजेपी ने कश्मीरी पंडितों को लेकर कुछ किया होता तो आज हालात अलग होते।

24 को राज्य विधानसभा संबोधित करेंगे राष्ट्रपति

24 को राज्य विधानसभा संबोधित करेंगे राष्ट्रपति 

इकबाल अंसारी    

गांधीनगर। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गुजरात के अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान बृहस्पतिवार (24 मार्च) को राज्य विधानसभा को संबोधित करेंगे। विधानसभा अध्यक्ष निमाबेन आचार्य ने बुधवार को यह जानकारी दी। आचार्य ने मौजूदा बजट सत्र के दौरान सदन को बताया कि भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में केंद्र सरकार की पहल ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत, राष्ट्रपति कोविंद 24 मार्च को पूर्वान्ह्र 11 बजे से दोपहर 12 बजे के बीच गुजरात विधानसभा को संबोधित करेंगे।

गुजरात के रक्षा जनसंपर्क अधिकारी ने एक विज्ञप्ति में कहा कि शुक्रवार को कोविंद जामनगर में आयोजित होने वाले एक समारोह में भारतीय नौसेना के जहाज (आईएनएस) ‘वलसुरा’ को ‘प्रेसिडेंट कलर’ प्रदान करेंगे। ‘प्रेसिडेंट कलर’ राष्ट्र के लिए असाधारण सेवा के सम्मान में एक सैन्य इकाई को दिया जाने वाला सर्वोच्च सम्मान है। वर्ष 1942 में स्थापित आईएनएस वलसुरा, भारतीय नौसेना का एक प्रमुख प्रशिक्षण प्रतिष्ठान है।

आवेदन, प्रतिनियुक्ति के आधार पर की जाएगी भर्ती

आवेदन, प्रतिनियुक्ति के आधार पर की जाएगी भर्ती  

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने भर्ती निकाली है। यूआईडीएआई की ओर से असिस्टेंट डायरेक्टर, जेटीओ यानी जूनियर ट्रांसलेशन ऑफिसर और असिस्टेंट सेक्शन ऑफिसर के पदों को भरने के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। आवेदन की अंतिम तिथि बुधवार, 23 मार्च, 2022 है। यूआईडीएआई की यह भर्ती दिल्ली स्थित मुख्यालय के लिए है। भर्ती बाह्य सेवा शर्तों यानी, प्रतिनियुक्ति के आधार पर की जाएगी।
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने अपनी एक अधिसूचना में कहा कि यूआईडीएआई अपने मुख्यालय, नई दिल्ली में सहायक निदेशक- राजभाषा, कनिष्ठ अनुवाद अधिकारी एवं सहायक अनुभाग अधिकारी के पदों को प्रतिनियुक्ति के आधार पर भरने का इच्छुक है। उपरोक्त भर्ती में आवेदन के इच्छुक उम्मीदवार अधिसूचना विज्ञापन में दिए गए निर्धारित प्रपत्र को भरकर अपना फॉर्म “सहायक महानिदेशक (एचआर), भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई), चतुर्थ तल, बंगला साहिब मार्ग, काली मंदिर के पीछे, गोल मार्केट, नई दिल्ली- 110001” के पते पर जमा कर सकते हैं।
गैर-सरकारी कर्मचारी व अभ्यर्थी पात्र नहीं।
अधिसूचना विज्ञापन में कहा गया है कि सभी तरह से पूर्ण आवेदन पत्र प्राप्त करने की अंतिम तिथि 23 मार्च, 2022 है। चूंकि यह रिक्तियां प्रतिनियुक्ति के आधार पर भरी जानी है, अत: गैर-सरकारी कर्मचारी व अभ्यर्थी पात्र नहीं हैं। यानी कि इस भर्ती में सिर्फ केंद्र सरकार के कर्मचारी, राज्य सरकारों के अधीन विभागों के कर्मचारी या फिर सार्वजनिक क्षेत्र में सेवाएं दे रहे सरकारी कर्मचारी ही आवेदन कर सकते हैं। आवेदन प्राप्त करने की अंतिम तिथि के बाद मिलने वाले या अधूरे पाए गए आवेदन पत्रों पर विचार नहीं किया जाएगा। उम्मीदवार विस्तृत जानकारी के लिए यूआईडीएआई की वेबसाइट www.uidai.gov.in का करियर सेक्शन देख सकते हैं।

अन्य राज्यों में होने वाले चुनाव के लिए कसी कमर

अन्य राज्यों में होने वाले चुनाव के लिए कसी कमर  

अमित शर्मा        

चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी ने अन्य राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कमर कस ली है। पंजाब में धमाकेदार जीत को अभी 2 सप्ताह ही नहीं हुए और आप (आम आदमी पार्टी), आगामी विधानसभा चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार है। मिली जानकारी के अनुसार, आप ने 6 राज्यों में चुनाव प्रभारी नियुक्त कर दिए है और आप के ये चुनाव प्रभारी पार्टी के प्रसार मिशन में जुट गए है। बता दें आगामी विधानसभा चुनाव वाले राज्यों में आप ने इन नेताओं को चुनाव प्रभारी नियुक्त किए है। हिमाचल की कमान दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन संभालेंगे। बीते दिनों आप के नेता गोपाल राय छत्तीसगढ़ में विजय यात्रा निकाल रहे है, तो वहीं सौरभ भारद्वाज को हरियाणा में पार्टी खड़ी करने की जिम्मेदारी दी गई है। इसके आलावा भाजपा के गढ़ गुजरात की जिम्मेदारी पंजाब चुनाव के समय में कुशल रणनीतिकार की पहचान बनाने वाले IIT प्रोफेसर संदीप पाठक को दी गई है। आम आदमी पार्टी की इस रणनीति से यह साफ़ है की यह विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जगह लेना चाहती है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, ऐसे राज्य जहां भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है उन राज्यों में आप अपनी पकड़ बनाना चाहती है। अपनी इस रणनीति के तहत आप पार्टी छत्तीसगढ़ और गुजरात में पूरा जोर लगा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक अभी आप लोकसभा चुनाव 2024 पर ज्यादा ध्यान नहीं दे रहे है बल्कि विधानसभा चुनाव के माध्यम से अन्य राज्यों में अपने कैडर तैयार करने पर फोकस कर रही है। इसलिए अभी आप सिर्फ चार राज्यों में फोकस कर रही है। छत्तीसगढ़ और गुजरात के साथ ही आप पंजाब के पड़ोसी राज्य हिमाचल और हरियाणा भी प्रसार बढ़ा कर रही है। गुजरात में भाजपा का कार्यकाल अगले साल 18 फ़रवरी तक पूरा होने वाला है, ऐसे में गुजरात विधानसभा चुनाव इसी साल के आखिरी महीनों में किया जा सकता है। बता दें आम आदमी पार्टी पहले भी गुजरात मे विधानसभा चुनाव लड़ चुकी है। पार्टी का संगठन जमीनी स्तर पर काफी सक्रीय है। इसके साथ ही अक्टूबर, 2021 को गुजरात में हुए नगर निगम चुनाव में भी आम आदमी पार्टी, कांग्रेस को पछाड़ कर अपना सिक्का जमाने में कामयाब हो गई है।

पंजाब से सटा हुआ हिमाचल प्रदेश आप के लिए बेहद खास है। बता दें फिलहाल हिमाचल में भाजपा कि सरकार है, लेकिन भाजपा का कार्यकाल अगले साल 8 जनवरी को पूरा हो जाएगा। जिससे यह आशंका जताई जा रही है कि हिमाचल में भी 2022 के नवंबर-दिसंबर में विधानसभा चुनाव हो सकते है। इसके आलावा आप ने हिमाचल के सभी 68 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान भी कर दिया। हिमाचल के ऊना और कांगड़ा पर आप का सबसे ज्यादा फोकस होगा। कांगड़ा इलाके में ही राज्य की सबसे ज्यादा 15 विधानसभा सीटें आती हैं। हरियाणा आम आदमी पार्टी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसकी दो वजहें है- पहली यह कि, हरियाणा आप शासित दिल्ली और पंजाब के बीच आता है और दूसरी यह कि अरविंद केजरीवाल खुद भी हरियाणा से है। बता दें हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी पंजाब चुनाव के बाद से सक्रीय हो गई है। आप ने हरियाणा का प्रभारी सांसद सुशील गुप्ता को चुना है।

एक साक्षात्कार में आप के चुनाव प्रभारी सौरभ भारद्वाज ने बताया कि, “पार्टी हरियाणा में एकदम नए सिरे संगठन को तैयार कर रही है। हमने आम आदमी पार्टी की राज्य कार्यकारिणी को भंग कर दिया है। पार्टी पूरे हरियाणा में सदस्यता अभियान चला रही है और दूसरी पार्टी के नेताओं को AAP में शामिल करने की रणनीति पर काम कर रही है। हम कांग्रेस की खोई हुई साख के जरिए अपनी पार्टी के संदेश को लोगों तक ले जा रहे हैं। लोग भी ये समझ रहे हैं कि कांग्रेस अब भाजपा से मुकाबला करने की स्थिति में नहीं है, इसलिए लोग नए विकल्प को मौका देंगे। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 21 मार्च को आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रभारी गोपाल राय ने विजय यात्रा निकालते हुए ‘बदलबो छत्तीसगढ़’ का नारा दिया है। बता दें ऐसा ही बदलाव का नारा आप ने पंजाब विधानसभा चुनाव में भी लगाया था। आप 2017 में छत्तीसगढ़ के चुनावी दंगल में अपने हाथ आजमा चुकी है। लेकिन यहां उसे बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा था।

फिट-एनर्जेटिक बनाने में कारगर हैं सौंफ का पानी

फिट-एनर्जेटिक बनाने में कारगर हैं सौंफ का पानी    

सरस्वती उपाध्याय      
फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर गर्मी के सीजन में ये एक चीज शरीर को ठंडा करने के साथ ही कई सारी बीमारियों से भी बचाती है। ये कोई और नहीं, बल्कि सौंफ का पानी है। सौंफ में भरपूर फाइबर मिलता है, जो वजन घटाने में भी मदद करता है। आप भी वेट लॉस करना चाहते हैं तो हर दिन सुबह सौंफ का पानी जरूर पीएं।
सौंफ का पानी को डाइट में शामिल करने से वजन भी कम होता है। शरीर को फिट और एनर्जेटिक बनाने के लिए सौंफ का पानी काफी कारगर है। आइए सौंफ के पानी के ऐसे ही जबरदस्त फायदों के बारे में जानते हैं, साथ ही ये भी जान लें कि इसे बनाने का तरीका क्या है।
सौंफ का पानी डिटॉक्सिफायर के रूप पर काम करता है। सौंफ का पानी पीने से शरीर से विषाक्त पदार्थ निकल जाते हैं। खाना खाने के बाद सौंफ का पीएं तो खाना आसानी से पच जाता है। सौंफ में एंटीऑक्सीडेंट्स के साथ ही जिंक, सेलेनियम, फास्फोरस और मैग्नीशियम पाए जाते हैं। इन पोषक तत्वों के होने के कारण सौंफ हमारे शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम को बूस्ट करने का काम करता है।
सौंफ के पानी से होते है ये फायदे...
सौंफ का पानी पीने से इन्सुलिन का लेवल कंट्रोल में रहता है। सुबह-सुबह सौंफ का पानी पीने से ब्लड शुगर नियंत्रित रहता है।
फाइबर से भरपूर होने की वजह से सौंफ का पानी वजन घटाने में काफी मदद करता है।
सौंफ का पानी पीने से शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है और बैड कोलेस्ट्रॉल पर कंट्रोल करता है।
सौंफ का पानी पीने से डाइजेशन भी बेहतर होता है।
सौंफ का पानी पीने से दिल से जुड़ी बीमारियां दूर हो जाती हैं।
सौंफ पेट को ठंडा रखता है, इससे एसिडिटी और कब्ज की समस्या से निजात मिलती है।
सौंफ का पानी पीने नियमित पीते हैं तो आँखों की रौशनी तेज होती है।
ऐसे बनाएं सौंफ का पानी...
करीब एक बड़ा चम्मच सौंफ लें।
एक गिलास पानी में उसे रात भर भिगो कर रखें।
सुबह भिगोए हुए सौंफ को हाथों से अच्छे से मसल लें और छान कर इसका पानी पी जाएं।
या आप सौंफ के पानी को उबाल कर भी इसे पी सकते हैं।
सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। 

आयरन का अधिक मात्रा में सेवन करना नुकसानदायक

आयरन का अधिक मात्रा में सेवन करना नुकसानदायक  

सरस्वती उपाध्याय                

आयरन एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। हालांकि, इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से आपके स्वास्थ्य और शरीर को नुकसान हो सकता है। आयरन के अधिक सेवन के दुष्प्रभावों को जानने के लिए पढ़ें। किसी भी चीज का अधिक मात्रा में सेवन करना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। इसके परिणामस्वरूप कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। आयरन के साथ भी यह समस्या है। यह एक आवश्यक खनिज है, जो आपके शरीर को ऊर्जा, चयापचय को बढ़ावा देने के साथ-साथ उचित प्रतिरक्षा और श्वसन कार्यों के लिए भी आवश्यक है। तो इसका सीधा सा मतलब है कि आपको रोजाना आयरन की जरूरत है। जबकि ज्यादातर महिलाएं आयरन की कमी से जूझती हैं और उन्हें आयरन सप्लीमेंट लेने पड़ते हैं। पर क्या आप जानती हैं कि इनकी ओवरडोज़ भी आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकती है। नहीं। तो ज्यादा आयरन के साइड इफैक्ट्स के लिए इसे पढ़ें। 

सेवन करना भी एक अच्छा विचार नहीं है। हां, सिर्फ इसलिए कि आयरन महत्वपूर्ण है, इसका मतलब यह नहीं है कि आप इसका अधिक मात्रा में सेवन करें। क्योंकि आयरन के अधिक सेवन से कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं।किसी भी पोषक तत्व के सेवन का गोल्डन रूल उसकी सही मात्रा है। हरि लक्ष्मी, सलाहकार आहार विशेषज्ञ और पोषण विशेषज्ञ, मदरहुड अस्पताल, अलवरपेट, चेन्नई ने हेल्थशॉट्स से इस बारे में बात की। वे बता रहे हैं बहुत अधिक आयरन के सेवन के दुष्प्रभाव।

आयरन स्वस्थ आहार का एक अनिवार्य हिस्सा है। यह हीमोग्लोबिन का एक महत्वपूर्ण तत्व बनाता है जो लाल रक्त कोशिकाओं में पाया जाता है। हीमोग्लोबिन का स्तर अत्यंत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमारे शरीर में कोशिकाओं को ऑक्सीजन की आपूर्ति निर्धारित करता है। उन्होंने आगे कहा, “हालांकि आयरन उपयोगी है और शरीर के कई बुनियादी कार्यों में एक आवश्यक भूमिका निभाता है, लेकिन अधिक मात्रा में सेवन करने पर यह हानिकारक हो सकता है। वास्तव में, पाचन तंत्र अवशोषित आयरन की मात्रा को कसकर नियंत्रित करता है, जिससे अतिरिक्त आयरन अवशोषण विषाक्त हो सकता है‌।

हेपसीडिन हार्मोन आयरन के अवशोषण को नियंत्रित करता है और शरीर में संग्रहित आयरन को संतुलित स्तर पर रखने के लिए जिम्मेदार होता है। लेकिन जब आप अत्यधिक मात्रा में आयरन का सेवन करती हैं, तो यह आपको नुकसान करने लगता है। जब आप लंबे समय तक या एक ही डोज में आयरन की उच्च खुराक लेते हैं, तो आयरन की विषाक्तता होती है। इसके लक्षणों में मतली, पेट दर्द, उल्टी और दस्त शामिल हो सकते हैं। समय के साथ शरीर में जमा अतिरिक्त आयरन लिवर और मस्तिष्क जैसे अंगों को भी नुकसान पहुंचा सकता है। उस मामले में, तत्काल चिकित्सा ध्यान देने की आवश्यकता है।

 यह एक अनुवांशिक विकार है, जहां शरीर बहुत अधिक आयरन को अवशोषित करता है जिसके परिणामस्वरूप आयरन ओवरलोड हो जाता है। लक्ष्मी के अनुसार “इस स्थिति वाले लोगों को अपने आयरन के सेवन के बारे में बेहद सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि इससे कुछ गंभीर स्वास्थ्य प्रभाव हो सकते हैं। लीवर में आयरन जमा होने से सिरोसिस हो सकता है और अगर यह अग्न्याशय में जमा हो जाए, तो इससे मधुमेह भी हो सकता है। यदि आपकी यह स्थिति है, तो आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन कम करें और विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थों को आयरन युक्त चीजों के साथ मिलाने से भी बचें। यदि इसे अनुपचारित छोड़ दिया जाए, तो यह स्थिति गठिया, यकृत की समस्याओं, कैंसर और हृदय की समस्याओं जैसी बीमारियों के जोखिम को बढ़ा देती है।

ऐसे अध्ययन हैं, जो बताते हैं कि शरीर में अतिरिक्त आयरन आपको बैक्टीरिया के संक्रमण के लिए भी अतिसंवेदनशील बना सकता है। इसलिए, जिन रोगियों में संक्रमण का खतरा अधिक होता है, उन्हें अपने आयरन के सेवन को नियंत्रित करना चाहिए। आयरन की अधिक खपत प्रारंभिक अवस्था में लक्षण नहीं दिखाती है इसलिए सावधान रहें और इसे कम मात्रा में सेवन करें।

संसद ने 1.42 लाख करोड़ के बजट को मंजूरी दी

संसद ने 1.42 लाख करोड़ के बजट को मंजूरी दी  

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। संसद ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के 1.42 लाख करोड़ रूपये के बजट को बुधवार को मंजूरी दे दी हैैं। राज्यसभा ने आज इस बजट को चर्चा के बाद ध्वनिमत से लौटा दिया। लोकसभा इसे 14 मार्च को ही मंजूरी दे चुकी है। उच्च सदन ने जम्मू कश्मीर विनियोग विधेयक 2022 और जम्मू कश्मीर विनियोग (क्रमांक दो) विधेयक 2022 को ध्वनिमत से वापस कर दिया। उच्च सदन में चर्चा के दौरान सत्ता पक्ष एवं विपक्ष के सदस्यों के बीच जम्मू कश्मीर में 2019 में अनुच्छेद 370 हटाये जाने से पहले आतंकवादी गतिविधियों के मुद्दे पर तीखी नोंकझोंक हुई।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने करीब चार घंटे तक चली चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि अनुच्छेद 370 हटाये जाने के बाद आप देख सकते हैं कि केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के निवासियों तक न्याय पहुंचा, लोकतंत्र पहुंचा, आर्थिक विकास पहुंचा है।

राज्यपाल धनखड़ ने सीएम ममता को लिखा पत्र

राज्यपाल धनखड़ ने सीएम ममता को लिखा पत्र   

मिनाक्षी लोढी           

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य के बीरभूम जिले के एक गांव में कुछ मकानों में कथित तौर पर आग लगाए जाने के कारण लोगों की मौत होने के मामले को लेकर बुधवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर नए सिरे से निशाना साधते हुए दावा किया कि राज्य सरकार की ओर से की गई कार्रवाई राजनीति से प्रभावित है और दोषियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है। राज्यपाल ने ममता को एक पत्र लिखकर यह बात कही। रामपुरहाट के बोगतुई गांव में मंगलवार को तड़के करीब एक दर्जन मकानों में कथित तौर पर आग लगाने के बाद दो बच्चों समेत कुल आठ लोगों की मौत हो गई। यह घटना सोमवार को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के पंचायत स्तर के एक नेता की कथित हत्या के कुछ घंटों के भीतर हुई। ऐसा कहा जा रहा है कि कुछ लोगों ने अपने नेता की हत्या के प्रतिशोध में मकानों में आग लगा दी। धनखड़ ने मंगलवार को रामपुरहाट में आठ लोगों की मौत की इस घटना को ‘भयावह’ करार देते हुए कहा था कि राज्य पूरी तरह से हिंसा और अराजकता की संस्कृति की गिरफ्त में है।

मुख्यमंत्री ने राज्यपाल की टिप्पणी की आलोचना की थी और कहा था कि उनका यह बयान अवांछनीय है। धनखड़ ने बुधवार को बनर्जी को तीन पृष्ठों का एक पत्र लिखकर जवाब दिया और कहा कि मुख्यमंत्री ने घटना पर उनकी संयमित प्रतिक्रिया पर आरोप लगाने वाला रुख अपनाया है।राज्यपाल ने पत्र में कहा कि हमेशा की तरह, आपने रामपुरहाट के इतिहास में सबसे भीषण नरसंहार को लेकर मेरी संयमित प्रतिक्रिया पर आरोप लगाने वाला रुख अपनाया है। स्तब्ध कर देने वाले इस नरसंहार की तुलना कई लोगों द्वारा राज्य में कुछ साल पहले हुई घटनाओं से की जा रही है। उस समय आप विपक्ष में थीं।

उन्होंने कहा कि अलग अलग रुख अपना कर आपने मुझ पर अवांछित बयान देने का आरोप लगाया। जो स्थिति है उसमें मैं मूक दर्शक बन कर नहीं रह सकता। राज्यपाल ने ममता से आत्मावलोकन करने का आह्वान करते हुए कहा कि इस दावे से ज्यादा हास्यास्पद कुछ नहीं हो सकता कि कुछ घटनाओं को छोड़कर राज्य हमेशा शांतिपूर्ण रहा है। साथ ही कहा कि आत्मावलोकन से पता चलेगा है कि आपके द्वारा उठाए गए कदम राजनीति से प्रभावित हैं। पश्चिम बंगाल सरकार ने घटना की जांच के लिए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (सीआईडी) ज्ञानवंत सिंह की अध्यक्षता में एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से घटना पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

कार्यक्रम, सीएम चौहान की चौथी पारी के दो साल पूरे

कार्यक्रम, सीएम चौहान की चौथी पारी के दो साल पूरे 

मनोज सिंह ठाकुर      

भोपाल। मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की चौथी पारी के दो साल पूरे होने की खुशी में जगह-जगह कार्यक्रम हो रहे हैं। बुधवार सुबह से कार्यक्रम आयोजित करके भाजपा नेता व कार्यकर्ता खुशियां मना रहे हैं। इसी के तहत शहर की हुजूर विधानसभा क्षेत्र के विधायक रामेश्वर शर्मा ने भी अनूठा आयोजन किया। उन्होंने अपने मालवीय नगर स्‍थित आवास ‘युवा सदन’ के बाहर 15 बुलडोजर खड़े करवाए हैं। बड़ी संख्‍या में यहां भाजपा कार्यकर्ता जमा हुए और ढोल-ढमाके बजाकर मुख्यमंत्री के दो साल पूरे होने का जश्‍न मनाया है।

कुछ देर पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी उनके आवास पर पहुंचे। मुख्‍यमंत्री को अपने बीच पाकर भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्‍साह चरम पर पहुंच गया और उन्‍होंने ‘बुलडोजर मामा जिंदाबाद’ के नारे लगाए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मां, बहन, बेटियों पर जो भी गलत नजर रखेगा, उसे छोड़ा नहीं जाएगा। ऐसे अपराधियों के मकान जमींदोज कर दिए जाएंगे। कानून अलग सजा देगा, लेकिन उनके मकान पहले जमींदोज किए जाएंगे। इस अवसर पर विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि बेटियों के आरोपितों के घरों पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बुलडोजर चल रहा है। श्योपुर के बाद रायसेन के सिलवानी में भी गरीबों पर जुल्‍म करने वाले आरोपितों के घर तोड़े गए हैं। रतलाम में ऐसी ही कार्रवाई की गई है। प्रदेश भर में निरंतर दुराचारियों के आरोपितों के घर तोड़ जा रहे हैं। आगामी दिनों में भी तोड़े जाएंगे।

उपचुनाव: सभी पार्टियों ने प्रत्याशियों का ऐलान किया

उपचुनाव: सभी पार्टियों ने प्रत्याशियों का ऐलान किया  

दुष्यंत टीकम        
रायपुर। खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए सभी पार्टियों ने प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस ने जहां यशोदा वर्मा को प्रत्याशी बनाया है। वहीं बीजेपी ने कोमल जंघेल और जेसीसीजे ने नरेंद्र सोनी को टिकट दिया है।
कांग्रेस ने अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए आज नामांकन रैली निकाली। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी इस नामांकन रैली में शामिल हुए। सीएम भूपेश ने उम्मीदवार यशोदा वर्मा को मंच पर बुला कर कहा कि प्रत्याशी यशोदा वर्मा है लेकिन लड़ाई सबको लड़नी है।
उन्होंने कहा कि ये सेमीफाइनल है फाइनल विधानसभा और लोकसभा में लड़ना है। आम जनता तक योजना लेकर पंहुचना है। ऐसी कोई योजना नहीं जिसमें पैसे लूटाने की बात हो। कभी ऋण माफी 200 करोड़ से ऊपर नहीं गया, हमने 8000 करोड़ से अधिक कर्ज माफ किया। किसानों को 2500 रुपये धान का मिल रहा है। इस दौरान सीएम बघेल ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है।
इसके पहले सभागृह में नारेबाजी से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नाराज हो गए। राजनांदगांव के फतेसिंह सभा गृह में खैरागढ़ से कांग्रेस प्रत्याशी यशोदा वर्मा के नामांकन रैली के दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ता वहां भूपेश बघेल जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। जिससे माईक में कांग्रेसी नेता अपनी बात रख रहे थे, लेकिन नारेजाबी के कारण किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा था। पहले मुख्यमंत्री ने हाथ से इशारा कर नारेबाजी को रोकने की कोशिश की। लेकिन कार्यकर्ता नहीं माने, इसके बाद सीएम ने खुद माईक थामा और कार्यकर्ताओं से नारेबाजी करने पर बाहर कर देने की बात कही। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आग्रह करते हुए जोश चुनाव में दिखाने की बात भी कही।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 1,778 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 1,778 नए मामलें    

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली।‌ भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 1 हजार, 778 नए मामलें सामने आए है। वहीं, 2 हजार, 542 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए है। पिछले 24 घंटे में कोरोना से 62 लोगों की मौत हुई है। अब तक कुल 5 लाख, 16 हजार, 605 लोग कोरोना से जान गंवा चुके है। वहीं एक्टिव मामलों की संख्या 23 हजार 087 है।
इस महामारी से ठीक होने वाले लोगों की संख्या 4 करोड़ 24 लाख 73 हजार 057 हो गई है। देश में वैक्सीन की अब तक 181 करोड़ 89 लाख 15 हजार 234 डोज दी जा चुकी है।
भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के आंकड़ों के अनुसार, भारत में कल कोरोना वायरस के लिए 6,77,218 सैंपल टेस्ट किए गए, कल तक कुल 78,42,90,846 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं।

कांग्रेस नेता अधीर ने बंगाल सरकार पर सवाल उठाए

कांग्रेस नेता अधीर ने बंगाल सरकार पर सवाल उठाए   

मिनाक्षी लोढी        
कोलकाता। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने बीरभूम हिंसा को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार पर सवाल उठाए हैं। बंगाल में दानवों की सरकार है, वहां दानव राज है। बंगाल में मानवों का राज नहीं है। उन्होंने कहा, मैं राष्ट्रपति से मुलाकात करूंगा।
पश्चिम बंगाल के बीरभूम में तृणमूल कांग्रेस के नेता की हत्या के बाद हुई हिंसा को लेकर अब हाईकोर्ट भी एक्शन मूड में है। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने बीरभूम जिले के रामपुरहाट की घटना में स्वत: संज्ञान लेते हुए मामला दर्ज किया। चीफ जस्टिस की बेंच आज दोपहर 2 बजे मामले की सुनवाई करेगी। भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी के नेतृत्व में भाजपा पश्चिम बंगाल विधायकों का एक प्रतिनिधिमंडल आज दोपहर 2:30 बजे बीरभूम के रामपुरहाट का दौरे के लिए पहुंचेगा। वहीं बीजेपी के साथ ही अब बीजेपी के साथ कांग्रेस भी ममता सरकार पर हमलावर हो गई है। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने बीरभूम हिंसा को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार पर सवाल उठाए हैं। बंगाल में दानवों की सरकार है, वहां दानव राज है। 
बंगाल में मानवों का राज नहीं है। उन्होंने कहा, मैं राष्ट्रपति से मुलाकात करूंगा। भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी के नेतृत्व में भाजपा पश्चिम बंगाल विधायकों का एक प्रतिनिधिमंडल आज दोपहर 2:30 बजे बीरभूम के रामपुरहाट का दौरे के लिए पहुंचेगा। प्रतिनिधि दल में भाजपा सांसद अर्जुन सिंह, ज्योतिर्मय सिंह महतो भी मौजुद रहेंगे। बीरभूम की घटना पर दिलीप घोष ने कहा कि 2 दिन में 13 लोगों की हत्या हुई, कई लोग गायब हैं। एक घर में बंद करके महिला,बच्चों को जलाया गया। पहले भी ऐसी घटना हुई है। चुनावों में भी सत्तारूढ पार्टी का दबदबा है। हमने इस विषय को गृह मंत्री को बताया है। आज लोकसभा में भी इस विषय को उठाएंगे। घोष ने कहा कि पूरे देश में ऐसी घटना नहीं हुई है। सीरिया-अफगानिस्तान में ऐसी घटना होती है। तृणमूल नेता की हत्या के बदले में ये घटना हुई है। पुलिस की कार्रवाई पर भी लोगों को शक है, वहां भय का माहौल है। 
बीरभूम की घटना पर बंगाल सरकार में मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा कि एसआईटी घटना की जांच करेगी, जांच पर हमें पूरा भरोसा है। मृतकों के परिवार की हर तरह से मदद की जाएगी। बंगाल में क़ानून-व्यवस्था है, विपक्षी दल षड़यंत्र कर रहे हैं ताकि बंगाल का अपमान किया जा सके। उत्तर प्रदेश में क़ानून व्यवस्था कहां थी जब 8 पुलिसकर्मी एनकाउंटर में मारे गए और गुजरात में जहां 2,000 लोगों की हत्या की गई। ममता बनर्जी किसी भी तरह के अन्याय का समर्थन नहीं करती हैं और इसे भी नहीं करेंगी।

मुंबई: एक्ट्रेस लियोनी ने बिकिनी में तस्वीरें शेयर की

मुंबई: एक्ट्रेस लियोनी ने बिकिनी में तस्वीरें शेयर की   

कविता गर्ग        
मुंबई। एक्ट्रेस सनी लियोनी ने हाल ही में मल्टीकलर बिकिनी में अपनी तस्वीरें शेयर की हैं। साथ ही सनी लियोनी ने कैप्शन में लिखा- स्वर्ग से फोटो शेयर करने के लिए किसी फिल्टर की जरूरत नहीं है। तस्वीर में सनी पूल की फ्रंट साइड में लेटकर पोज़ दे रही हैं। सनी की बिकिनी में तीन कलर के शेड्स दिखाई दे रहे हैं।सनी लियोनी इन दिनों मालदीव में हैं और वेकेशन का फुल मजा लेती नजर आ रहीं हैं। 
सनी लियोन की अदाओं ने हमेशा ही लोगों को दीवाना बनाया है। सनी लियोनी की खूबसूरती देखकर फैंस आंहे भर रहे हैं। पॉर्न इंडस्ट्री से निकलकर हिंदी सिनेमा का रास्ता सनी लियोनी के लिए आसान नहीं था। सिनेमा जगत में सनी लियोनी के करियर की शुरुआत फिल्‍म ‘जिस्‍म 2’ से हुई थी उसके बाद उन्हें जैकपॉट, रागिनी एमएमएस 2 जैसी फिल्‍मों में देखा गया।पॉर्न इंडस्ट्री से निकलकर हिंदी सिनेमा का रास्ता सनी लियोनी के लिए आसान नहीं था। सिनेमा जगत में सनी लियोनी के करियर की शुरुआत फिल्‍म ‘जिस्‍म 2’ से हुई थी उसके बाद उन्हें जैकपॉट, रागिनी एमएमएस 2 जैसी फिल्‍मों में देखा गया।

31 मार्च से कोविड प्रतिबंध हटाने का फैसला: केंद्र

31 मार्च से कोविड प्रतिबंध हटाने का फैसला: केंद्र   

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। कोरोना के घटते मामलों के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार ने 31 मार्च से तमाम कोविड प्रतिबंध हटाने का फैसला किया है। हालांकि, फेस मास्क और दो गज की दूरी का नियम बरकरार रहेगा।‌ इलाजरत मरीजों की संख्या घटकर 23,087 रह गई है। 
इस बीच केंद्र सरकार 'अंतिम प्रहार' को मंजूरी दे सकती है। इसमें सभी व्यस्कों (18 साल से ऊपर के लोग) को कोविड बूस्टर डोज लगाने की मंजूरी मिल सकती है। जानकारी के मुताबिक, बुधवार को दोपहर 3 बजे  की मीटिंग होगी, इसमें बूस्टर डोज पर चर्चा होगी। भारत में कोविड केस भले ही कम हो रहे हैं लेकिन एशियाई देश जैसे साउथ कोरिया, चीन और इजरायल के साथ-साथ यूरोप के कई देशों में कोरोना के मामले फिर से बढ़ रहे हैं। इसे देखते हुए 18 साल से ऊपर के सभी लोगों के लिए बूस्टर डोज जरूरी की जा सकती है।
अभी भारत में हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स के साथ-साथ 60 साल के ऊपर के लोगों को बूस्टर डोज लगाई जा रही है। भारत में इसे एहतियाती खुराक  कहा गया है। भारत में 10 जनवरी से बूस्टर डोज लगानी शुरू की गई थी। अबतक 2 करोड़ बूस्टर डोज लगाई जा चुकी हैं।

अत्याधुनिक यंत्रों व प्रणालियों की खरीदारी का निर्देश

अत्याधुनिक यंत्रों व प्रणालियों की खरीदारी का निर्देश  

अखिलेश पांडेय           
नई दिल्ली/इस्लामाबाद/बीजिंग। भारत की पश्चिमी और पूर्वी सीमाओं यानी पाकिस्तान और चीन से सटी बॉर्डर लाइन पर भविष्य में ज्यादा बेहतर निगरानी होगी। क्योंकि, भारत सरकार ने सैन्य उपग्रह समेत कई अन्य अत्याधुनिक यंत्रों और प्रणालियों की खरीदारी का निर्देश दिया है। इसके लिए 8357 करोड़ रुपए लगेंगे। जिसमें नाइट साइट यानी तस्वीर को स्पष्ट दिखाने वाला यंत्र, लाइट व्हीकल जीएस 4x4, एयर डिफेंस फायर कंट्रोल राडार  और जीसैट-7बी  सैटेलाइट शामिल हैं।
इन यंत्रों के आ जाने से भारतीय सेनाओं को ज्यादा बेहतर विजिबिलिटी मिलेगी। ज्यादा बेहतर संचार होगा। ज्यादा तेजी से और सटीकता से हमला कर पाएंगे। साथ ही दुश्मन की जमीनी, जलीय और हवाई हरकत पर सीधे नजर रख पाएंगे। भारत के पास कई मिलिट्री सैटेलाइट्स हैं। लेकिन इनमें सबसे नई सीरीज है जीसैट आमतौर पर इन्हें संचार उपग्रहों की सूची में ही रखा जाता है। जो कई बैंड्स पर काम करते हैं। इनमें से कुछ बैंड्स का उपयोग सेना करती है।
जीसैट भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) द्वारा विकसित मल्टीबैंड सैन्य संचार उपग्रह है। आमतौर पर इसमें UHF, C बैंड और Ku बैंड के ट्रांसपोंडर्स लगे होते हैं, जो अलग-अलग बैंड्स पर रेडियो फ्रिक्वेंसी भेजते हैं ताकि आसानी और सुरक्षित तरीके से संचार स्थापित हो सके। इनका सबसे ज्यादा उपयोग मिलिट्री संचार में होता है। ताकि फाइटर जेट्स सही समय पर टारगेट पर पहुंच सकें। नौसेना आराम से युद्धपोतों और सबमरीन को रणनीति के अनुसार तैनात कर सके। सेना सीमाओं पर सही पोजिशन पर निगरानी कर सके और जवाब दे सके।
मिलिट्री सैटेलाइट्स के बारे में पुख्ता जानकारी देने से सरकारी संस्थाएं बचती हैं। लेकिन एक अनुमान के अनुसार अंतरिक्ष में इस समय 10 GSAT सैटेलाइट्स हैं। जिनमें 168 ट्रांसपोंडर्स लगे हैं। यानी संचार के लिए तरंगें फेंकने वाले यंत्र। इनमें से 95 ट्रांसपोंडर्स को ब्रॉडकास्टर्स को लीज पर दिया गया है। ये ट्रांसपोंडर्स C, Extended C और Ku बैंड्स के तहत टेलिकम्यूनिकेशन, टेलिविजन ब्रॉडकास्टिंग, मौसम का पूर्वानुमान, आपदा की सूचना, खोज एवं राहत कार्य में मदद का काम किया जाता है।
19 दिसंबर 2018 में श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से लॉन्च किए गए मिलिट्री सैटेलाइट को एंग्री बर्ड  बुलाया जाता है। यह सैटेलाइट सैन्य संस्थानों को संचार की सुविधा तो देता ही है‌। इससे सबसे ज्यादा मदद मिलती है भारतीय वायुसेना को। यह वायुसेना की नेटवर्किंग क्षमता को कई गुना बढ़ा देता है। इसकी मदद से ही वायुसेना भारतीय आसमान में निगरानी रखने ज्यादा सक्षम हो पाती है।
भारत का पहला मिलिट्री सैटेलाइट है जीसैट-7  यह एक मल्टीबैंड कम्यूनिकेशन सैटेलाइट है। जिसे रुक्मिणी नाम दिया गया था। यह UHF, C और Ku बैंड प्रसारित करने वाले पेलोड्स के साथ भारत के ऊपर जियोसिंक्रोनस ऑर्बिट में तैनात है। यह पूरी तरह से मिलिट्री सैटेलाइट है। इसका उपयोग सिर्फ भारतीय सैन्य संस्थाएं और भारतीय नौसेना करती है।
अगर हम मिलिट्री सैटेलाइट्स के ताकत की बात करते हैं, तो साल 2014 में बंगाल की खाड़ी में हुए ऑपरेशन एक्सरसाइज के दौरान रुक्मिणी ने 60 युद्धपोतों और 75 लड़ाकू विमानों को एक साथ जोड़ दिया था। रुक्मिणी एक बार में भारतीय समुद्री सीमा पर 2000 नॉटिकल मील की दूरी तक बारीकी से नजर रख लेती है। भारतीय नौसेना ने  की मांग की है, जो जीसैट-7 को रिप्लेस करेगा‌। इसके अलावा जीसैट-7बी की बात चल रही है।  जीसैट-7C की भी योजना है। लेकिन इसके बारे में कोई चर्चा नहीं है।
ऐसा अनुमान है कि साल 2022 में GSAT-7R, GSAT-7C, GSAT-32 को साल 2022 और 2023 में ही लॉन्च किया जाएगा। इनकी लॉन्चिंग GSLV-MKII रॉकेट से किए जाने की संभावना है। इनमें जीसैट-32 पूरी तरह से मिलिट्री सैटेलाइट नहीं है। लेकिन जरूरत पड़ने पर इसका उपयोग सैन्य संस्थानों के लिए किया जा सकता है।

लगातार दूसरे दिन पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी

लगातार दूसरे दिन पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी   

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। देश में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने का सिलसिला शुरू हो चुका है और लगातार दूसरे दिन बुधवार को पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी देखी गई है। कल 137 दिनों के बाद ईंधन के दाम में इजाफा देखा गया था और पेट्रोल-डीजल के दाम में 80-80 पैसे का इजाफा किया गया था। आज भी पेट्रोल के दाम में 80 पैसे  बढ़े हैं और डीजल के दाम में 80 पैसे बढ़ाए गए हैं। 137 दिनों बाद कल पेट्रोल में 80 पैसे इजाफा हुआ था जिसके बाद पेट्रोल 96.25 हो गया था। वहीं आज एक बार फिर से पेट्रोल डीजल के दाम बढ़े हैं। आज नए अपडेट के बाद दिल्ली में पेट्रोल में 80 पैसे प्रति लीटर बढ़े हैं जिसके बाद नई कीमत 97.01 रुपये प्रति लीटर हो गई है। वहीं डीजल में भी 80 पैसे का इजाफा हुआ है और डीजल 88.27 रुपये प्रति लीटर पर आ गया है।
राजधानी दिल्ली में आज पेट्रोल के दाम 96.21 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 97.01 रुपये प्रति लीटर पर आ गए हैं और दिल्ली में आज डीजल 88.27 रुपये प्रति लीटर के भाव पर मिल रहा है। 
मुंबई में पेट्रोल के रेट 111.67  रुपये प्रति लीटर पर आ गए हैं और और डीजल के रेट 95.85 रुपये प्रति लीटर पर आ गए हैं। यहां 85 पैसे प्रति लीटर का इजाफा पेट्रोल और डीजल में हुआ है।
कोलकाता में पेट्रोल के दाम 83 पैसे बढ़कर 106.34 रुपये और डीजल के दाम 80 पैसे बढ़कर 91.42 रुपये प्रति लीटर पर आ गए हैं।
चेन्नई में पेट्रोल का भाव 75 पैसे बढ़कर 102.91 रुपये हो गया है और डीजल के रेट 76 पैसे बढ़कर 92.95 रुपये प्रति लीटर पर आ गए हैं। 
दिल्ली से सटे एनसीआर के नोएडा शहर में पेट्रोल 96.09 रुपये रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 96.89 रुपये हो गए हैं और डीजल के रेट 87.6 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 87.86 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं।  गाजियाबाद में पेट्रोल 96.09 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 96.89 रुपये और डीजल के रेट 87.6 रुपये प्रति लीटर से 88.40 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं।

देश के कई हिस्सों में 'डेल्टाक्रॉन' वेरिएंट के संकेत

देश के कई हिस्सों में 'डेल्टाक्रॉन' वेरिएंट के संकेत    

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। देश में अभी कोरोना के केस कम मिल रहे हैं। इस बीच कोरोना के नए वेरिएंट मिलने का मामला सामने आया है। मनी कंट्रोल में छपी रिपोर्ट के अनुसार ये दावा किया गया है कि देश में कोरोना के नए वेरिएंट ने दस्तक दे दी है। बताया है कि कोरोना वायरस का नया वेरिएंट डेल्टा और ओमिक्रॉन वेरिएंट मिलकर बना है।
रिपोर्ट के अनुसार, कर्नाटक में 221 मामलों में डेल्टाक्रॉन वेरिएंट के संकेत मिले हैं। 
जो हॉटस्पॉट बन गया है। इसके बाद तमिलनाडु में 90, महाराष्ट्र में 66, गुजरात में 33, पश्चिम बंगाल में 32 और तेलंगाना में 25 और नई दिल्ली में 20 मामले जांच के दायरे में हैं। वहीं, एक्सपर्ट्स की मानें तो ये एक सुपर सुपर-म्यूटेंट वायरस, जिसका वैज्ञानिक नाम BA.1 + B.1.617.2 है। ब्रिटेन में इस स्ट्रेन के केस मिल रहे हैं। एक्सपर्ट्स का कहना है कि डेल्टा और ओमिक्रॉन से मिलकर बना एक हाइब्रिड स्ट्रेन है, जिसे सबसे पहले साइप्रस के रिसर्चर्स ने पिछले महीने खोजा था। हालांकि इस नए वेरिएंट के खतरनाक होने के पुख्ता जानकारी अभी नहीं मिल पाया है। इसे लेकर अभी स्टडी चल रही हैं। वहीं वायरस के तेजी से फैलने का अनुमान जताया है।

सुनवाई के दौरान महिला वकील पर चाकू से हमला

सुनवाई के दौरान महिला वकील पर चाकू से हमला   

कविता गर्ग       
वर्धा। महाराष्ट्र के वर्धा जिले की कोर्ट में एक मुकदमे की सुनवाई के दौरान महिला वकील पर चाकू से हमला करने का मामला सामने आया है। पीड़िता को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना के बाद कोर्ट परिसर में हड़कंप मच गया।‌फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी भीम गोविंद पाटिल पर धारा 307 के तहत मुकदमा चल रहा है। 22 मार्च को इस मामले में जब वकील योगिता मून अदालत में गवाह का बयान ले रही थीं तो उन पर भीम गोविंद ने चाकू से हमला कर दिया‌। अचानक हुए इस हमले से कोर्ट में मौजूद सब लोग हैरान रह गए। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने आरोपी भीम गोविंद को तुरंत ही काबू में कर लिया।
सूचना मिलते ही एलसीबी की टीम कोर्ट पहुंच गई। घायल महिला वकील को सेवाग्राम अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। पुलिस ने आरोपी भीम पाटिल के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है कि कड़ी सुरक्षा के बावजूद आरोपी चाकू के साथ कोर्ट के अंदर कैसे पहुंच गया। वहीं इस घटना के बाद से कोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं।

धन-विधेयक के जरिये बदलाव में असंवैधानिकता नहीं

धन-विधेयक के जरिये बदलाव में असंवैधानिकता नहीं  

इकबाल अंसारी       
चेन्नई। मद्रास उच्च न्यायालय ने सार्वजनिक बीमा कंपनी एलआईसी में सरकार की हिस्सेदारी बेचने के लिए वित्त विधेयक एवं एलआईसी अधिनियम में किए गए बदलावों को चुनौती देने वाली याचिका खारिज कर दी है। 
मुख्य न्यायाधीश एम एन भंडारी और न्यायमूर्ति डी भरत चक्रवर्ती की पीठ ने एल पोनम्मल की तरफ से दायर एक जनहित याचिका को खारिज करते हुए कहा कि एलआईसी अधिनियम में धन-विधेयक के जरिये किए गए बदलाव में किसी भी तरह की असंवैधानिकता नहीं है।
पीठ ने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने के लिए एलआईसी अधिनियम में धन विधेयक के जरिये बदलाव करने में संवैधानिक रूप से कुछ भी गलत नहीं है। एलआईसी की पॉलिसीधारक पोनम्मल ने अपनी याचिका में कहा था कि एलआईसी में सरकारी हिस्सेदारी की बिक्री के लिए अधिनियम में बदलाव करने के लिए धन विधेयक का गलत तरीका अपनाया गया था।
उन्होंने कहा था कि संविधान के अनुच्छेद 110 के तहत धन विधेयक लाकर नियमों में बदलाव किए गए जबकि यह धन विधेयक की परिभाषा में ही नहीं आता है। पीठ ने अपने निर्णय में कहा कि इस बारे में लाए गए विधेयक को धन विधेयक के रूप में पेश किए जाने की लोकसभा अध्यक्ष की तरफ से दी गई स्वीकृति को चुनौती नहीं दी जा सकती है।

एक्सचेंज पर कमजोरी, सोने-चांदी के दाम में गिरावट

एक्सचेंज पर कमजोरी, सोने-चांदी के दाम में गिरावट  

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। सोने और चांदी के दाम में बुधवार को गिरावट देखी जा रही है और डॉलर के चढ़ते दामों से इसमें निवेश को लेकर उत्साह में कमी देखी जा रही है। निवेशक डॉलर में ज्यादा निवेश कर रहे हैं और सोने की डिमांड अपेक्षाकृत कम हुई है।‌ इस कारण से सोना और चांदी, दोनों ही गिरावट के लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं।
सोना बुधवार को मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर कमजोरी के साथ कारोबार कर रहा है। एमसीएक्स पर सोने का अप्रैल वायदा 57 रुपये कम होकर कारोबार कर रहा है और सोने की ये गिरावट 0.11 फीसदी की है। सोना 51,322 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बना हुआ है‌। चांदी की बात करें तो इसमें 168 रुपये प्रति किलो की गिरावट दर्ज की जा रही है। आज एमसीएक्स पर चांदी 0.25 फीसदी की गिरावट के साथ 67,524 रुपये प्रति किलो पर कारोबार कर रही है।
कॉमैक्स पर गोल्ड के रेट देखें तो 1920 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा है और चांदी में 24.89 डॉलर प्रति औंस के लेवल पर कारोबार हो रहा है।
ऊपरी स्तर से 4000 रुपये से ज्यादा सस्ता हो चुका है गोल्ड।
बता दें कि इस बार की तेजी में सोने ने 55,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर को पार कर लिया था और आज के दाम के हिसाब से देखें तो ये ऊपरी स्तर से 4000 रुपये सस्ता होकर कारोबार कर रहा है। आर्थिक जानकारों का मानना है कि सोने के दाम अभी और नीचे जा सकते हैं और इसके लिए ग्लोबल कारण जिम्मेदार होंगे। देश में फिलहाल शादियों के चलते आने वाली डिमांड भी कम है और अक्षय तृतीया 3 मई को है जिसमें समय है। लिहाजा सोने-चांदी की मांग भी ज्यादा नहीं है तो लोकल कारणों से भी गोल्ड के रेट को कोई सपोर्ट नहीं मिल पा रहा है।

गोदाम में लगीं आग, 11 प्रवासी मजदूरों की मौंत

गोदाम में लगीं आग, 11 प्रवासी मजदूरों की मौंत     

इकबाल अंसारी/अविनाश श्रीवास्तव        
हैदराबाद/पटना। सिकंदराबाद के भोईगुड़ा में बुधवार तड़के एक लकड़ी के गोदाम में भीषण आग लग गई। जिसकी चपेट में आकर बिहार के कम से कम 11 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई है। पुलिस ने बताया कि आग तड़के चार बजे लगी है।
आशंका जताई जा रही है गोदाम में शॉट सर्किट होने की वजह से आग लगी है। मौके पर दमकल विभाग की पांच गाड़ियां तैनात हैं और दमकलकर्मियों द्वारा इस आग पर काबू पाने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। बीती रात करीब 15 मजदूर गोदाम में सो रहे थे, इनमें से 11 आग की चपेट में आकर जिंदा जल गए और बाकी भागने में सफल रहे।
हादसे के बारे में जानकारी मिलने के बाद तेलांगना के मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव मौके पर पहुंचे। इस दौरान मीडिया से बात करते हुए उन्होंने इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। यादव ने कहा कि चूंकि आग काफी सुबह लगी। इसलिए राहत कार्यों के शुरू होने में कुछ देरी हो गई। उन्होंने कहा कि घटना की पूरी जांच की जाएगी।

हॉलीवुड फिल्म में नजर आएंगी अभिनेत्री चोपड़ा

हॉलीवुड फिल्म में नजर आएंगी अभिनेत्री चोपड़ा      

कविता गर्ग        

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा अमेरिकन कलाकार सिएना मिलर के साथ हॉलीवुड फिल्म में नजर आएंगी। प्रियंका चोपड़ा को एंथनी चेन की अगली हॉलीवुड फिल्म में साइन किया गया है। जो शिल्पी सोमाया गोडा के नॉवल 'सीक्रेट डॉटर' पर आधारित होगी। इस फिल्म के लिए ऐमजॉन स्टूडियो से डील हो रही है और श्रुति गांगुली इस अडैप्टेशन को लिखेंगे

इस नॉवल में 2 महिलाओं की कहानी बताई गई है जो एक बच्चे के जरिए एक-दूसरे से जुड़ी हुई हैं। 'सीक्रेट डॉटर' में एक समर नाम की शादीशुदा फिजीशन है जो सैन फ्रांसिस्को में रहती है। उसे पता चलता है कि वह कभी मां नहीं बन सकती। उसी साल भारत में भारत में एक गरीब महिला अपनी बेटी को बचाने के लिए उसे छोड़ देती है। कविता नाम की यह महिला अपने फैसले से जिंदगीभर परेशान रहती है। उसकी बच्ची का नाम आशा है जो मुंबई के एक अनाथालय में रहती है और इसी बच्ची के जरिए समर और कविता एक-दूसरे से जुड़ जाती हैं।

प्रियंका चोपड़ा इस फिल्म के अलावा ऐमजॉन की वेब सीरीज 'सिटाडेल', रोमांटिक ड्रामा फिल्म 'टेक्सट फॉर यू' और ऐक्शन फिल्म 'एंडिंग थिंग्स' में नजर आने वाली हैं। इसके अलावा प्रियंका ने फरहान अख्तर के निर्देशन में बनने वाली फिल्म 'जी ले जरा' भी साइन की है। उसमें उनके बाद कटरीना कैफ और आलिया भट्ट नजर आने वाली हैं।

अमेरिका: पूर्व विदेश मंत्री क्लिंटन पॉजिटिव मिलीं

अमेरिका: पूर्व विदेश मंत्री क्लिंटन पॉजिटिव मिलीं       

अखिलेश पांडेय         

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन कोरोना वायरस संक्रमण की जांच में पॉजिटिव पाई गई हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, 'मैं कोरोना की जांच में पॉजिटिव पाई गई हूं। हल्के लक्षणों के साथ मैं ठीक महसूस कर रही हूं। मैं इस बात के लिए आभारी हूं कि कोरोना वैक्सीन इस गंभीर बीमारी के खिलाफ हमें सुरक्षा प्रदान कर रहे हैं। इसलिए कृपया अपना टीकाकरण कराए और बूस्टर डोज लगाए, अगर अभी तक नहीं लगाया है तो।'

उन्होंने इस दौरान अपने पति और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के टेस्ट रिपोर्ट के नेगेटिव आने की भी जानकारी दी और कहा कि वह ठीक हैं। सुश्री क्लिंटन ने कहा, 'जब तक पूरा घर साफ नहीं हो जाता है, तब तक के लिए उन्होंने खुद को क्वॉरंटीन कर लिया है। ऐसे में अगर फिल्मों के सुझाव दिए जाए, तो इसकी सराहना की जाएगी। 'हिलेरी क्लिंटन का यह ट्वीट व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी के यह ऐलान किए जाने के घंटों बाद आया कि वह दूसरी बार कोविड पॉजिटिव पाई गई हैं।

संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की: राष्ट्रपति

संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की: राष्ट्रपति 


अकांशु उपाध्याय        

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को कहा कि सिकंदराबाद में आग लगने की घटना में श्रमिकों की मौत एक ऐसी त्रासदी है, जिसका दुख शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की। अधिकारियों ने बताया कि कबाड़ के एक गोदाम में बुधवार को तड़के भीषण आग लगने से 11 लोगों की झुलसकर मौत हो गई। ये प्रवासी श्रमिक, घटना के समय सिकंदराबाद के भोईगुड़ा में गोदाम के ऊपर बने एक कमरे में सो रहे थे। सभी श्रमिक बिहार के थे।

राष्ट्रपति ने ट्वीट कर लिखा कि तेलंगाना के सिकंदराबाद में एक गोदाम में आग लगने से हुई मजदूरों की मौत एक ऐसी त्रासदी है, जिसका दुख शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-166, (वर्ष-05)
2. बृहस्पतिवार, मार्च 24, 2022
3. शक-1984, चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 22 डी.सै., अधिकतम-36+ डी सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...