शनिवार, 17 अप्रैल 2021

जापानी पीएम सुगा के बीच हुई वार्ता से भड़का चीन

ताइपे/ वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। ताइवान को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन और जापानी प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा के बीच हुई वार्ता से चीन भड़क गया है। चीन ने अमेरिकी-जापान गठजोड़ के प्रदर्शन पर पलटवार करते हुए इसे 'विभाजन का विडंबनापूर्ण प्रयास' करार दिया। इससे पहले 1969 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति निक्सन व जापान के इसाकू सातो ने चर्चा की थी। 
चीन ने कहा, कि शुक्रवार को पीएम सुगा और राष्ट्रपति बाइडन के संवाददाता सम्मेलन में लोकतंत्र व मानवाधिकारों को लेकर साझा मूल्यों पर संयुक्त बयान और हिंद प्रशांत क्षेत्र में चीन की गतिविधियों को लेकर चिंता जाहिर करना, 'द्विपक्षीय संबंधों के सामान्य विकास के दायरे से काफी अलग' था।

दिल्ली में हो रहीं ऑक्सीजन-रेमडेसिविर की कमी

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में जारी कोरोना महामारी के कोहराम के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि अब स्थिति काफी गंभीर होती जा रही है। आईसीयू बेड्स के साथ ही दिल्ली में अब ऑक्सीजन और रेमडेसिविर की कमी होने लगी है। उन्होंने कहा कि हमारे पास सीमित संख्या में आईसीयू बेड हैं। ऑक्सीजन और आईसीयू बेड्स बहुत तेजी से घट रहे हैं। सरकार पूरी कोशिश कर रही है कि बेड्स को बढ़ाया जाए। उम्मीद है कि अगले 2-4 दिन में हम बड़े स्केल पर बेड बढ़ा पाएंगे। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के लगभग 24,000 नए मामले सामने आए हैं। पॉजिटिविटी रेट भी बढ़कर 24% से ज्यादा हो गया है। केजरीवाल ने कहा कि तेजी से बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए यमुना स्पोर्टस कॉम्पलेक्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में लगभग 1300 ऑक्सीजन बेड का इंतजाम किया जा रहा है। राधा स्वामी सत्संग ब्यास में भी 2,500 बेड का इंतजाम कर रहे हैं, उसके बाद 2,500 बेड का और इंतजाम करेंगे। होटलों और बैंकेट हॉल को अस्पतालों से अटैच किया जा रहा है। इस तरह से हम 2,100 ऑक्सीजन बेड बनाने में सफल हुए हैं। उम्मीद है कुछ दिन में लगभग 6,000 बेड एड करने में सक्षम होंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना की पीक कब आएगी यह कोई नहीं जानता। केंद्र सरकार ने नवंबर में 4100 बेड दिए थे। लेकिन इस बार केवल 1800 बेड दिए गए हैं। इस बारे में मैंने डॉ. हर्षवर्धन से कोविड रोगियों के लिए 50% बेड आरक्षित करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि आज अफसरों की बैठक में सख्त निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी अगर दवाओं और इंजेक्शन की जमाखोरी या कालाबाजारी करता है तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाए। केजरीवाल ने सभी निजी अस्पतालों को भी चेतावनी दी कि बेड्स उपलब्ध होते हुए भी अगर किसी अस्पताल ने किसी मरीज को बेड देने से मना किया, तो उस अस्पताल पर सख्त एक्शन लिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना को काबू करने के लिए हमें मजबूरी में वीकेंड कर्फ्यू लगाना पड़ा। हम अगले कुछ दिनों तक स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। अगर स्थिति और गंभीर होती है तो आपकी जिंदगी बचाने के लिए और इसे नियंत्रित करने के लिए जो भी कदम उठाने पड़ेंगे, हम उठाएंगे। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिन से ऐसी शिकायत आ रही हैं कि टेस्ट रिपोर्ट आने में 3-4 दिन लग रहे हैं। इसका कारण है कि कुछ लैब ने अपनी क्षमता से ज्यादा सैंपल उठाने शुरू कर दिए हैं। ऐसी लैब के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी जो क्षमता से ज्यादा सैंपल उठाते हैं और 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट नहीं देते हैं। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना की लड़ाई के दौरान हमें केंद्र सरकार से हमेशा मदद मिली है। मैं उम्मीद करता हूं कि इस बार भी केंद्र सरकार हमें पूरी मदद देगी।

भाजपा के सत्ता में आने से घुसपैठ खत्म हो जाएंगी

चपरा। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को आश्वासन दिया कि यदि भाजपा बंगाल में सत्ता में आती है तो घुसपैठ की समस्या खत्म हो जाएगी। शाह ने जोर देकर कहा, ”न केवल लोग बल्कि परिंदे भी (भारत-बांग्लादेश) सीमा से देश में दाखिल नहीं हो सकेंगे।” बांग्लादेश सीमा से लगने वाले नदिया जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए शाह ने दावा किया कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नहीं चाहतीं कि भारत में रह रहे शरणार्थियों को नागरिकता मिले। लिहाजा वह नए कानून का विरोध कर रही हैं। शाह ने दावा किया कि मुख्यमंत्री की नजरें उनके वोटबैंक पर हैं और वह ”फर्जी धर्मनिरपेक्षता” का पालन करती हैं। उन्होंने कहा, ”इस इलाके में घुसपैठ बड़ी समस्या है। कई जगहों पर फर्जी नोट मिलते रहते है। केवल भाजपा ही घुसपैठ को रोक पाएगी। मैं आपको आश्वासन देता हूं कि यदि भाजपा दो मई को सत्ता में आएगी, तो केवल लोग ही नहीं बल्कि एक परिंदा भी उड़कर सीमा के उस पार से इस पार नहीं आ सकेगा।”

गाजियाबाद में मिलें कोरोना के 250 नए संक्रमित

अश्वनी उपाध्याय             

गाजियाबाद। जिले के हर कोविड अस्पताल में मरीजों के परिजन एक-एक बिस्तर के लिए गिड़गिड़ा रहे हैं। चारों ओर से लोगों के होम आइसोलेशन में बंद होने की खबरें मिल रही हैं। लेकिन, राज्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट में गाज़ियाबाद में आज केवल 250 नए संक्रमित मिले हैं। जिले में 62 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया और अब सक्रिय संक्रमितों की 2449 हो गई है। हकीकत भले ही कुछ भी हो सरकारी रेकॉर्ड में आज भी किसी कोरोना संक्रमितों की मृत्यु नहीं हुई है। पड़ोसी जिले गौतम बुद्ध नगर में पिछले 24 घंटों की अवधि में 402 नए मरीजों की पुष्टि हुई, 254 को डिस्चार्ज किया गया और अब यहाँ 2783 सक्रिय मरीज हैं। मेरठ में 748 नए संक्रमित मिले और 179 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। यहाँ 1 मरीज की मृत्यु रेकॉर्ड की गई है। मेरठ में अब 3745 सक्रिय मरीज हैं।

हापुड़ में कोरोना के 88 संक्रमितों की पुष्टि हुई

अतुल त्यागी                       
हापुड़। जनपद की रोजाना लगातार मुश्किलें बढ़ाता  कोरोना दिख रहा है। एक तरह से जनपद में रोजाना करोना आक्रमण कर रहा है। जिसकी वजह से जनपद में रोजाना बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ती जा रही है। आज भी जनपद हापुड़ में कोरोना अच्छी खासी संख्या में बरसा है। आज जनपद हापुड़ में 88 कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई है। जिनका विवरण इस प्रकार है। नगर हापुड़ में पांच, सरस्वती मेडिकल में दो, रामा स्टाफ हापुड़ में दो, अर्जुन नगर में 6, दादरी में एक, संजय विहार हापुड़ में 4, भनडी पट्टी में एक, अकड़ोली, में एक, सादिक अली हापुड़ में एक, गांधी गंज हापुड़ में दो, ग्रीन पार्क कॉलोनी हापुड़ में एक, एकेपी इंटर कॉलेज 1, पक्का बाग में एक, चंद्रलोक हापुड़ में एक, नारायणपुर धौलाना में एक, देवलोक कॉलोनी हापुड़ में दो, कोठी प्यारेलाल हापुड़ में एक, ततारपुर में एक, मतनोरा में एक, सोटा वाली पेट्रोल पंप पर एक, शास्त्री नगर हापुड़ में एक, इंद्रलोक हापुड़ में दो,
बछलौता में एक, सर्वोदय कॉलोनी हापुड़ में 3, प्रताप विहार हापुड़ में एक, हरिद्वार नगर हापुड़ में एक, ढ़हाना सिंभावली में एक, नवादा सिंभावली में एक, सिंभावली मील में एक, गढ़ में पांच, दहीपुर धौलाना में एक, मितावली पिलखुवा में एक, रघुनाथपुर में एक, घास मंडी पिलखुआ में एक, वैशाली कॉलोनी हापुड़ में एक, विवेक विहार हापुड़ में एक, नई शिवपुरी हापुड़ में तीन, जीएस कैंपस पिलखुआ में एक, तहसील कंपाउंड हापुड़ में एक, कृष्णा नगर हापुड़ में एक, गांव सेहल में एक,
प्रीत विहार हापुड़ में एक, पटेल नगर हापुड़ में एक, लोहिया नगर में एक, प्रेमपुरा हापुड़ में एक, लज्जा पुरी हापुड़ में एक, पिलखुआ में एक, पापड़ वाली गली हापुड़ में एक, जेके कॉलोनी हापुड़ में एक, जवाहर बाजार पिलखुआ में एक, और हापुड़ में एक कोरोना मरीज की पुष्टि हुई है। आज सुबह 10 कोरोना मरीज जो मिले थे। उनका विवरण इस प्रकार है। शिवपुरी हापुड़ में एक, रेलवे रोड हापुड़ में एक, आवास विकास कॉलोनी मेरठ रोड हापुड़ में एक, तगासराय हापुड़ में एक, पापड़ वाली गली हापुड़ में एक, रेवती कुंज हापुड़ में एक, गांव ततारपुर में एक, इंद्रलोक कॉलोनी हापुड़ में एक, हापुड़ में एक और गढ़मुक्तेश्वर में एक कोरोना मरीज मिला है। यह सभी कोरोना मरीज जनपद हापुड़ में मिले है।

हापुड़: डीएम ने नामांकन प्रक्रियाओं का लिया जायजा

अतुल त्यागी             
हापुड़। जिलाधिकारी ने अपील करते हुए कहा कि कोविड-19 प्रोटोकॉल का शत-प्रतिशत पालन किया जाए एवं नामांकन कराने हेतु प्रत्याशी एवं प्रस्तावक ही नामांकन स्थल पर आए। जिससे कोविड-19 संक्रमण से बच सकें। जनपद के जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत अनुज सिंह एवं पुलिस अधीक्षक ने आज विकासखंडो का त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के नामांकन प्रक्रियाओं का जायजा लिया और आर ओ, एआर ओ सहित खंड विकास अधिकारी आदि को नामांकन प्रक्रिया को आयोग के निर्देशानुसार, पूरी तत्परता व सजगता से कराये जाने का निर्देश दिया।
जिलाधिकारी के द्वारा विकासखंड में नामांकन कार्यो का जायजा लिया। इस दौरान उन्होने न्याय पंचायत वार/एआरओ वार बनाये गये नामांकन पटलो का एक-एक कर निरीक्षण किया और चल रही प्रक्रियाओं की जानकारी ली। उन्होने निर्देश दिया कि चेकलिस्ट के अनुसार प्रपत्रों की चेकिंग अवश्य ही कर ली जाये।
इस अवसर पर क्षेत्राधिकारी, बीडीओ, आर ओ/अन्य संबंधित एआरओ गण, ब्लाक कर्मी आदि प्रमुख रुप से उपस्थित रहे।

हापुड़: खम्बे से टकराईं बाइक, घायल हुआ युवक

अतुल त्यागी            
हापुड़। थाना बाबूगढ़ क्षेत्र गाँव सिमरौली मे उस वक्त कोहराम मच गया। जब एक युवक गाँव के ही बागड़पुर रोड़ पर तड़प रहा था। आपको बता दे, कि घटना उस समय की बताई जा रही है कि अभिषेक उर्फ डिम्पी पुत्र किशोरी लाल रात के समय मे अपने घर जा रहा था। तभी रास्ते मे अचानक मोटरसाइकिल का संतुलन बिगड़ गया। जिसके चलते अचानक मोटरसाइकिल खम्बे से जा टकराई। जिसके बाद वह गम्भीर रूप से घायल हो गया और घण्टो तक रोड पर ही तड़पता रहा था। जैसे ही परिजनों को घटना की जानकारी मिली। जानकारी प्राप्त होते ही परिजन आनन फानन में पास के अस्पताल लेकर पहुँचे तो सूत्रों से मिली जानकारी के बाद पता चला है कि डॉक्टरों ने मृतक घोषित कर दिया। जिसके बाद घर मे कोहराम मच गया। उधर, घटना की जानकारी पुलिस को मिली तो पुलिस ने मौके पर पहुँचकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और घटना की जाँच पड़ताल में जुट गई।

भाजपा कार्यकर्ताओं को वैक्सीन की प्रथम खुराक

बृजेश केसरवानी                
प्रयागराज। भाजपा महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी के निर्देशानुसार, भारतीय जनता पार्टी के 45 वर्ष आयु के ऊपर के कार्यकर्ताओं के द्वारा मोतीलाल नेहरू कॉलेज एवं सरकारी हॉस्पिटलों में कोविड-19 वैक्सीन के प्रथम डोज लगवाएं। वैक्सीनेशन के पश्चात भाजपा मीडिया प्रभारी राजेश केसरवानी ने कहा, कि यह वैक्सीन 45 वर्ष के ऊपर आयु के साथ-साथ उन लोगों को बहुत आवश्यक है। जिन लोगों को बीपी, शुगर, माइग्रेन, अथवा हार्ट की बीमारी है या फिर किसी अन्य प्रकार के रोग से ग्रसित है तो वह डॉक्टर की सलाह लेते हुए तत्काल यह वैक्सीन लगवाएं। इसके लिए किसी भी प्रकार की आयु की प्रतिबद्धता नहीं है। वैक्सीन लगवाने वालों में मुख्य रूप से राजेश केसरवानी, राजेंद्र मोहन त्रिवेदी, मंजू केसरी, दिनेश केसरवानी, सुशील जैन, कन्हैयालाल केसरवानी, किशन चंद्र जायसवाल, संतोष अग्रहरि, पंकज कुमार कुशवाहा, नीरज दीक्षित, नवीन मिश्रा आदि सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने वैक्सीन लगवाएं।

जनसत्ता दल के प्रत्याशियों ने दाखिल किया नामांकन

कौशाम्बी। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के जिला पंचायत सदस्य पद प्रत्याशी पर जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के प्रत्याशी प्रीतम सिंह पटेल, उर्फ राकेश फौजी ने वार्ड नंबर 5 से नामांकन-पत्र दाखिल किया है। रोशनी पाल ने वार्ड नंबर 3 से श्रीमती सुनीता सरोज ने वार्ड नंबर 4 से नामांकन पत्र दाखिल किया है। वार्ड नंबर 25 से मोहन सरोज ने नामांकन पत्र दाखिल किया है। इस मौके पर नामांकन पत्र दाखिल करने वाले जिला पंचायत सदस्य प्रत्यासियो का पार्टी कार्यालय में स्वागत किया गया है। स्वागत करने वालों में बलबीर सिंह चौहान, माजिद अली, पवन पांडे, रणविजय सिंह, एलन अहमद, चंद्रभान सिंह, अभिजीत यादव, करण सरोज, उमाशंकर, समर उपाध्याय, तूफान सिंह पटेल, जुनेद अहमद, राम सुरेमन पटेल, सूरज सिंह जादौन सहित तमाम लोग मौजूद रहे।
सुशील केसरवानी 

यातायात नियमों के अनुरूप चैकिंग अभियान चलाया

अतुल त्यागी                   
हापुड़। थाना सिटी कोतवाली नगर क्षेत्र में ट्रैफिक पुलिस प्रभारी निरीक्षक का चाबुक यातायात नियमों के अनुरूप चेकिंग अभियान चलाया। भारी वाहनों का शहर के अंदर से वर्जित आवागवन है। जिसके चलते भारी वाहनों के काटे चालान, नो एंट्री में शहर के अंदर प्रवेश किया था। यातायात नियमों के अनुसार, जुर्माना लगाया। ट्रैफिक व्यवस्था काम को लेकर सही दिख रहीं हैं। 

ट्रेनों में मास्क नहीं पहनने पर ₹500 का जुर्माना

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। रेलवे परिसर और ट्रेनों में मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपये तक का जुर्माना होगा। रेलवे ने अब इसे रेलवे अधिनियम के तहत अपराध के तौर पर शामिल किया है। यह जानकारी शनिवार को जारी एक आदेश से मिली। रेलवे ने वायरस के प्रसार को प्रतिबंधित करने के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मामलों के मंत्रालय द्वारा जारी किए गए विभिन्न कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए इसे अपनाया है। रेलवे द्वारा जारी आदेश में कहा गया,‘कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए जारी विशिष्ट दिशानिर्देशों में मास्क पहनना शामिल है। भारतीय रेलवे द्वारा ट्रेनों की आवाजाही के लिए 11 मई, 2020 को जारी मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) में कहा गया है कि सभी यात्रियों को सलाह दी जानी चाहिए कि उन्हें प्रवेश और यात्रा के दौरान फेस कवर या मास्क पहने हुए होना चाहिए।’ इसमें कहा गया है कि मास्क के अनिवार्य उपयोग और जुर्माने को अब भारतीय रेलवे (रेलवे परिसर में स्वच्छता को प्रभावित करने वाली गतिविधियों के लिए दंड) नियम, 2012 के तहत सूचीबद्ध किया जाएगा, जिसमें रेल परिसर में थूकने वालों के लिए भी जुर्माने का प्रावधान है।
आदेश ने कहा गया है, ‘रेलवे की ओर से जारी आदेश में कहा गया है, ‘कोविड-19 स्थिति के मद्देनजर, किसी व्यक्ति द्वारा मास्क नहीं पहनने और रेलवे परिसर (ट्रेनों सहित) में प्रवेश करने और थूकने एवं इस तरह के कृत्य पर रोक लगाना अस्वच्छ परिस्थितियों के निर्माण से बचने के लिए महत्वपूर्ण है जिससे जीवन और सार्वजनिक स्वास्थ्य को खतरा हो सकता है।’ इसमें कहा गया है, ‘तदनुसार, थूकने और इस तरह के कृत्यों को रोकने के लिए और रेलवे परिसर (रेलगाड़ियों सहित) में सभी व्यक्तियों द्वारा फेस मास्क या फेस कवर पहनना सुनिश्चित करने के लिए रेलवे अधिकारियों द्वारा भारतीय रेलवे (रेलवे परिसर में स्वच्छता को प्रभावित करने वाली गतिविधियों के लिए दंड) नियम, 2012 के तहत जुर्माना (500 रुपये तक) लगाया जाएगा।’ आदेश में यह भी कहा गया है कि यह छह महीने की अवधि के लिए तत्काल प्रभाव से इस संबंध में अगले निर्देश जारी होने तक लागू रहेगा। 

अहम भूमिका निभाने वाली अभिनेत्री का निधन

मनोज सिंह ठाकुर      
मुंबई। हैरी पॉटर सीरीज में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली अभिनेत्री हेलेन मेकक्रोरी का निधन हो गया है। उन्होंने 52 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। हेलेन पिछले कुछ दिनों से कैंसर से जूझ रही थी। शुक्रवार को हेलेन के पति डेमियन लुईस ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए हेलेन की मौत की घोषणा की। हेलेन की मौत के बाद हॉलीवुड सिनेमा में खलबली मच गई।
डेमियन लुईस ने ट्विटर पर पोस्ट किया, मुझे यह सुनकर गहरा दुख हुआ कि मेरी पत्नी हेलेन का निधन हो गया है। उसने लिविंग रूम में अंतिम सांस ली। मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि वह हमारे जीवन में थी।’ कई कलाकारों ने हेलेन की मृत्यु के बाद सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से श्रद्धांजलि दी है। बॉलीवुड निर्देशक हंसल मेहता ने भी ट्वीट कर हेलेन को श्रद्धांजलि दी। “यह बहुत दुखद समाचार है।

गर्मियों में खीरा शरीर को पहुंचा सकता है नुकसान

गर्मियों का मौसम शुरु हो चुका है और शुरुआत में ही गर्मी ने अपना कहर बरपाना शुरु कर दिया है। ऐसे में अपनी सेहत पर ज्यादा ध्यान देने की जरुरत है। गर्मियों में ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं। और ऐसी चीजों को सेवन करें तो शरीर को हाइड्रेटेड रखें। ज्यादातर लोग गर्मियों में खीरे को खाने में शामिल करते है। इसकी न्यूट्रिशनल वैल्यू काफी ज्यादा होती है। खीरा गर्मी के मौसम में ये ठंडक देता है साथ ही आपको ऐंटीऑक्सीडेंट्स भी मिलते हैं। इसमें विटामिन के भरपूर मात्रा में खीरे में कैलोरी काउंट भी कम होता है। खीरा गर्मी के मौसम में सलाद के साथ, रायते में, कच्चा या सब्जी बनाकर भी खाया जाता है। कई लोग रात में खाने की मात्रा कम लेकर ज्यादा हिस्सा खीरा ले लेते हैं। लेकिन इतने गुणों वाला खीरा भी आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। कुछ न्यूट्रिशनिस्ट का मानना है कि रात में खीरा खाना सही नहीं है। क्योंकि खीरे में 95 फीसदी पानी होता है। लेकिन इसे पचाना काफी मुश्किल होता है।

हरियाणा: 10 से 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया

राणा ओबराय    
चडीगढ़। हरियाणा में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए हरियाणा सरकार ने कड़े फैसले लिये हैं। सरकार ने प्रदेश में रात दस बजे से लेकर सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया है। वहीं प्रदेश के सभी हिस्सों में पुलिस ने सख्ती बढ़ाई है। प्रदेश में कोरोना से निपटने के लिए सख्ती से निपटने के आदेश जारी किये गए हैं। बिना मास्क और नियमों का पालन ना करने वालों पर सख्ती से निपटने के आदेश जारी किये गए हैं। इधर रेवाड़ी से कांग्रेस के विधायक चंरजीव सिंह राव ने सरकार से हरियाणा में लॉकडाउन लगाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन से ही कोरोना के संक्रमण को रोका जा सकता है।
उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से देश में कोरोना मरीज बढ़ रहे हैं और भारी संख्या में रोजाना कोरोना संक्रमित केस सामने आ रहे हैं, ऐसे में नाइट कर्फ्यू से राहत मिलने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार को इसके लिए कड़े कदम उठाने चाहिए।कांग्रेस विधायक ने कहा कि सरकार द्वारा हरियाणा में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है, लेकिन नाइट कर्फ्यू इस बढ़ते संक्रमण को रोकने में काफी नहीं है। जिसे ध्यान में रखते हुए अब कुछ समय के लिए फिर से लॉकडाउन लगाकर नियमों का पालन करवाना चाहिए।

‘तू चीज लाजवाब’ फिर से किया जाएंगा वायरल

राणा ओबराय        
चडीगढ। सपना चौधरी को आज तक डांस में कोई टक्कर नहीं दे पाया है। सपना चौधरी अपने शानदार और बेबाक अंदाज में डांस करती है। उनकी अदाएं इतनी कातिलाना है कि उनके फैंस हरियाणा तक ही सीमित नहीं सपना का बेबका अंदाज और ठुमके लाखों दिलों को घायल कर देने के लिए काफी है। सपने के डांस के आज करोड़ों कायल हैं। स्टेज पर उनका डांस देखने के लिए हजारों की भीड़ जुटती है। लेकिन कोविड के बाद से उनके फैंस उनके डांस को काफी मिस कर रहे है। लेकिन सपना चौधरी के पूराने वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल होते रहते हैं। सपना का हरियाणवी गाने ‘तू चीज लाजवाब’ एक बार फिर से वायरल हो रहा है। यह गाना सपना चौधरी और प्रदीप पर फिल्माया गया है ।इस गाने की खासियत ये है कि गाने में दोनों के बीच रूठना मनाना चल रहा होता है। इस गाने को राजू पंजाबी ने गाया था। खबर लिखे जाने तक इस गाने 16 करोड़ से ज्यादा बार देखा जा चुका है। इस गाने में सपना चौधरी का डांस और अदाएं देखने लायक हैं।

व्हाट्सएप में संवेदनशील सूचनाएं हो सकतीं है लीक

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। देश की साइबर सुरक्षा एजेंसी सीईआरटी-इन ने तुरंत संदेश भेजने वाले लोकप्रिय ऐप व्हाट्सऐप में कुछ कमजोरियों का पता लगाया है और उपयोक्ताओं को आगाह किया है कि इनके कारण संवेदनशील सूचनाएं लीक हो सकती हैं। इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पांस टीम (सीईआरटी-इंडिया) द्वारा जारी ‘अति गंभीर’ श्रेणी के परामर्श में कहा गया है कि ‘एंड्रॉयड के लिए व्हाट्सऐप और व्हाट्सऐप बिजनेस के वर्जन 2.21.4.18 से पहले और आईओएस के लिए व्हाट्सऐप और व्हाट्सऐप बिजनेस के वर्जन v2.21.32 से पहले के’ सॉफ्टवेयर में कमजोरियां सामने आई हैं।
सीईआरटी-इंडिया देश में साइबर हमलों के खिलाफ सुरक्षा और भारत के साइबर स्पेस की रक्षा की जिम्मेदारी उठाने वाली तकनीकी शाखा है। शनिवार को जारी परामर्श में कहा गया है, ‘व्हाट्सऐप एप्लिकेशंस में कई कमजोरियां सामने आई हैं, जिनके कारण दूर बैठा हैकर/हमलावर अपनी मर्जी का कोड लिखकर उसका उपयोग कर सकता है और किसी भी सिस्टम/कंप्यूटर में मौजूद संवेदनशील डेटा हासिल कर सकता है।’ खतरे को विस्तार से बताते हुए, परामर्श में कहा गया है कि व्हाट्सऐप में ये कमजोरियां कैशे कंफिग्रेशन के मुद्दे और ऑडियो डिकोड करने के रास्ते में जांच की कमी के कारण हैं। परामर्श में कहा गया है कि उपयोक्ता गूगल प्ले स्टोर से या आईओएस स्टोर से अपने व्हाट्सऐप को तुरंत अपडेट करें ताकि इन कमजोरियों को दूर किया जा सके और किसी भी आसन्न खतरे से बचा जा सके।

 

ऑक्सीजन के नाम पर ‘ड्रामा’ करने का आरोप लगाया

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर शुक्रवार को ऑक्सीजन के नाम पर ‘ड्रामा’ करने का आरोप लगाया और कहा कि ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र 110 प्रतिशत की क्षमता के साथ काम कर रहे हैं।
गोयल ने शनिवार को एक ट्वीट श्रृंखला में कहा कि महाराष्ट्र में अक्षम और भ्रष्ट सरकार है और केंद्र सरकार लोगों को संकट के समय में मदद उपलब्ध कराने का पूरा प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा, “महाराष्ट्र के लोग ‘माझा कुटुंब माझा जवाबदेही’ का पूरी तरह से पालन रहे हैं। अब समय आ गया है कि मुख्यमंत्री भी ‘माझा राज्य माझा जवाबदेही’ से अपने कर्तव्य का पालन करें।”
गोयल ने कहा कि देश में ऑक्सीजन की जरूरतों को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार सभी संबद्ध पक्षों के साथ पूरी प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। औद्योगिक रूप से काम में आने वाली ऑक्सीजन चिकित्सा के लिए उपलब्ध कराई गई है। पूरे देश में ऑक्सीजन संयंत्र से 110 प्रतिशत की क्षमता के साथ उत्पादन कर रहे हैं।

एमपी: 24 घंटों में कोरोना के 11,269 नए मामलें

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस नए रिकॉर्ड बनाता नजर आ रहा है। यहां बीते 24 घंटों में 11,269 नए मामलें मिले हैं। पहली बार प्रदेश में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। इसके साथ ही 66 लोगों की मौत भी हुई है।
मध्यप्रदेश में लगातार चौथे दिन शुक्रवार को भी संक्रमण दर 21% से अधिक रही है। यानी कोरोना की जांच में हर चौथे व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। कोरोना से मरने वालों की संख्या चारों महानगरों में ज्यादा होने के साथ अब छोटे शहरों में मरने वालों की संख्या बढ़ रही है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार इंदौर और जबलपुर में 7-7 व ग्वालियर में 5 मौतें दर्ज की गईं। जबकि झाबुआ और विदिशा में 4-4 और बैतूल, उज्जैन, राजगढ़ और रतलाम में 3-3 मौतें हुई। इस तरह मध्यप्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 4491 हो गई है। प्रदेश में एक्टिव केस की रफ़तार भी तेजी से बढ़ रही है। प्रदेश में कुल एक्टिव केस 63 हजार 889 हो गए हैं। ऐसे में सरकार के सामने मरीजों के इलाज का इंतजाम करना सबसे बड़ी चुनौती है। यह संख्या अप्रैल माह के अंत तक 1 लाख तक पहुंचने की संभावना है। सरकार का दावा किया है कि सभी शहरों में 1 लाख बेड का इंतजाम किया जा रहा है। लेकिन सरकारी आंकड़ों के मुताबिक वर्तमान में 40,276 बेड ही उपलब्ध हैं।

सैनिटाइजर से जुड़े उद्योगों को खोलें जाने का निर्देश

हरिओम उपाध्याय    
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साप्ताहिक बंद के दौरान दवा, सैनिटाइजर निर्माण से जुड़े उद्योगों को खोले जाने का निर्देश दिया है। वहीं, कोरोना कर्फ्यू के दौरान फर्मासिस्ट, सैनिटाइजर मेकिंग और इससे जुड़े अन्य उद्योगों के मजदूरों को आने-जाने की छूट रहेगी। यह जानकारी शनिवार को अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी ने दी। अवस्थी ने बताया कि 35 घंटे के कोरोना कर्फ्यू के दौरान कोरोना के खिलाफ लड़ाई से संबंध रखने वाले सभी औद्योगिक गतिविधियों और उनके श्रमिकों को कोरोना कर्फ्यू के दौरान छूट होगी। उन्होंने बताया कि शनिवार और रविवार को बंद स्थानों के अंदर 50 व्यक्ति व खुले स्थानों पर 100 व्यक्तियों के साथ कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए विवाह करने की छूट रहेगी। समारोह स्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क सैनिटाइजर आदि का उपयोग करना होगा। 

भाजपा के 1 एजेंट की मतदान केंद्र के अंदर हुई मौत

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में पांचवें चरण के मतदान  के दौरान भी चुनाव आयोग की सारी व्यवस्थाएं धरी की धरी रह गई हैं। राजधानी कोलकाता से सटे उत्तर 24 परगना के कमरहटी विधानसभा क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी के एक पोलिंग एजेंट की मतदान केंद्र के अंदर ही मौत हुई। आरोप है कि बार-बार शिकायत और मदद मांगने के बावजूद चुनाव आयोग ने उसे अस्पताल तक पहुंचाने में सहयोग नहीं किया। 
सूत्रों ने बताया है कि मतदान केंद्र के अंदर पोलिंग एजेंट की तबीयत बिगड़ गई। वहां मौजूद पीठासीन अधिकारी और अन्य जिम्मेवार अधिकारियों को इस बारे में तत्काल जानकारी दी गई  लेकिन किसी ने भी मदद नहीं की। इस बीच उसकी तबीयत लगातार बिगड़ती रही। जब वह अचेत होकर गिर पड़ा। तब वहां से बाहर निकाला गया और अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने  उसे मृत घोषित कर दिया। भाजपा ने इस पर चुनाव आयोग के पास शिकायत दर्ज कराने का मन बनाया है। 

झंडा फहराने के आरोपित दीप सिद्धू को दी जमानत

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट के एडिशनल सेशंस जज नीलोफर आबिदा परवीन ने 26 जनवरी को लालकिले पर झंडा फहराने के आरोपित दीप सिद्धू को जमानत दे दी है। कोर्ट ने दीप सिद्धू को तीस हजार रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दी है। 
 कोर्ट ने दीप सिद्धू को अपना पासपोर्ट और मोबाइल नंबर जांच अधिकारी को सौंपने का निर्देश दिया है। साथ ही कोर्ट ने उसे  निर्देश दिया कि वो अपने मोबाइल फोन हमेशा ऑन रखेगा और उस पर लोकेशन भी ऑन रखेगा। कोर्ट ने कहा कि वो जांच अधिकारी को हर महीने की एक और पन्द्रह तारीख को  फोन करेगा और जरूरत पड़ने पर जांच अधिकारी को सहयोग करेगा। कोर्ट ने दीप सिद़्धू को सुनवाई की हर तिथि के दिन मौजूद रहने का निर्देश दिया। कोर्ट ने  सिद्धू को निर्देश दिया कि वो साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ और गवाहों को प्रभावित करने की कोशिश नहीं करेगा।
 कोर्ट ने सिद्धू को  जमानत के मामले में पिछले 12 अप्रैल को फैसला सुरक्षित रख लिया था। इसके पहले तीस हजारी कोर्ट 26 फरवरी को दीप सिद्धू की जमानत याचिका खारिज कर चुका था। दीप सिद्धू को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने हरियाणा के करनाल से 9 फरवरी को गिरफ्तार किया था।

अभिनेत्री कंगना ने जौहर पर जमकर साधा निशाना

मनोज सिंह ठाकुर           
मुंबई। कार्तिक आर्यन के 'दोस्ताना 2 ' से बाहर होने के बाद बॉलीवुड की गलियारों में एक बार फिर से नेपोटिज्म को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। वहीं इन सब के बीच अपने बेबाक बयानों के कारण चर्चा में रहने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत कार्तिक आर्यन के सपोर्ट में खुलकर आगे आई हैं और इसके साथ ही उन्होंने फिल्म के निर्माता करण जौहर पर एक बार फिर से जमकर निशाना साधा है। कंगना रनौत ने सोशल मीडिया पर एक के बाद एक तीन ट्वीट किये हैं। अपने पहले ट्वीट में कंगना ने फिल्म समीक्षक तरण आदर्श के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए  लिखा-''कार्तिक ने इतना लंबा सफर अपने दम पर पूरा किया है और अपने दम पर ही वह इसे आगे भी जारी रखेगा। पापा जो और नेपो गैंग से मेरी विनती है कि उसे प्लीज अकेला छोड़ दो, सुशांत की तरह इसके पीछे मत पड़ जाओ ताकि उसको भी फांसी पर लटकाना पड़े।

भारत: 24 घंटों में कोरोना से 1341 लोगों की मौत

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। देश में कोरोना के नए मामलों की संख्या सवा दो लाख के पार पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के दो लाख 34 हजार 692 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ देश में अबतक कोरोना के कुल 1,45,26,609 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना से 1341 लोगों की मौत हुई। इसके साथ इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1,75,649 तक पहुंच गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शनिवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में 16,79,740 एक्टिव मरीज हैं। वहीं, राहत की बात यह है कि कोरोना से अबतक 1,26,71,220 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। जबकि, देश का रिकवरी रेट 87.22 प्रतिशत हो गया है।
देश में पिछले 24 घंटों में 14 लाख से अधिक कोरोना के टेस्ट किए गए हैं। आईसीएमआर के मुताबिक, 16 अप्रैल को 14,95,397 टेस्ट किए गए। अब तक देश में कुल 26,49,72,022 टेस्ट किए जा चुके हैं।

ममता के ऑडियो क्लिप पर मचा घमासान, मांग की

कोलकाता। भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) आरिज आफताब से अनुरोध किया कि वो उस कथित ऑडियो क्लिप पर संज्ञान लें। ममता के ऑडियो क्लिप पर घमासान मचा और भाजपा ने जांच की मांग की।
जिसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कूच बिहार गोलीबारी के पीड़ितों के शवों के साथ रैली का प्रस्ताव देते सुनी जा रही हैं। क्योंकि राज्य में जारी चुनावों के बीच ऐसे किसी कदम से तनाव और बढ़ भाजपा के वरिष्ठ नेता स्वपन दासगुप्ता ने यहां सीईओ कार्यालय पहुंचे पार्टी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया। दासगुप्ता ने संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने आफताब को उस बातचीत से अवगत कराया जो संभवत: ममता बनर्जी और सीतलकूची से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार के बीच हुई और बताया कि इसकी वजह से विधानसभा चुनाव के अगले तीन चरणों में अप्रिय स्थिति बन सकती है।

बीपीएफ: कांग्रेस ने भाजपा को दिया करारा जवाब

रायपुर। असम के बोडो पीपुल्स फ्रंट के उम्मीदवारों को छत्तीसगढ़ में रखे जाने पर भाजपा ने सवाल उठाया था। अब इस पर भाजपा को कांग्रेस ने करारा जवाब दिया। कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेष नितिन ने कहा कि भ्रष्टाचार के पैसे से खरीद-फरोख्त करने वाली भाजपा को तकलीफ क्यों हो रही है। भाजपा ने कर्नाटक, मध्यप्रदेश में जो किया था वो क्या था?, भाजपा डरी हुई है। क्योंकि असम से सत्ता जा रही है  त्रिवेदी ने कहा कि असम चुनाव के ठीक पहले भाजपा के अनेक सहयोगियों ने उनका साथ छोड़ दिया। इसके बाद उन्होंने कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लिया। इसका प्रमुख कारण पांच के साल शासनकाल में भाजपा की जन विरोधी नीतियां रही है। नीतियों से नाराज सारे राजनीतिक दल कांग्रेस के साथ आ गए अब इन्हें बीजेपी से बचाने यहां सुरक्षित रखा जा रहा है। राजनीति में जिस प्रकार से इन्होंने खरीद फरोख्त की है, वो किसी से छिपा नहीं है। भाजपा अब इसमें आपत्ति जता रही है। उन्हें भ्रष्टाचार के पैसे से जनप्रतिनिधियों को खरीदने का मौका नहीं मिल रहा है  इसलिए उन्हें तकलीफ हो रही है।
भाजपा ये बताए कि कोरोना के ठीक पहले मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायकों को बेगलूरू में रखा था या नहीं रखा था असम के विधानसभा उम्मीदवार छत्तीसगढ़ आए तो पेट में क्यों दर्द हो रहा है?
बता दें कि असम विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की सहयोगी पार्टी बोडो पीपुल्स के उम्मीदवार छत्तीसगढ़ के बस्तर लाए गए हैं। इस पर बीजेपी नेता एवं पूर्व मंत्री केदार कश्यप ने सोशल मीडिया में वीडियो जारी कर सवाल उठाया था। कहा था कि कोरोना काल में मंत्री, सांसद, विधायक सेवा में लगे हुए हैं। जबकि पूरे बस्तर में धारा 144 लगी हुई है। लॉकडाऊन लग रहा है, फिर दूसरे प्रदेश के लोग बस्तर में ओ भी रेस्ट हाउस में किसके निर्देश पर रुके हुए हैं ? मेरा सरकार से आग्रह है जल्द उन्हें निकाल बाहर करें एवम बस्तर की चरमराती चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करे।

हरिद्वार महाकुंभ: 54 संत पाएं गए कोरोना पॉजिटिव

पंकज कपूर     
हरिद्वार। महाकुंभ में स्वास्थ्य विभाग की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, शुक्रवार की शाम तक उत्तराखंड में 2402 कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए। जिसमें देहरादून में 1051 और हरिद्वार में 539 मामले शामिल हैं। कुल मामलों की संख्या 1,18,646 है। हरिद्वार के मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी एसके झा ने मीडिया से बातचीत में ये जानकारी दी है कि आज कुंभ मेले में भाग लेने वाले 24 संतों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।अब तक 54 संतों को पॉजिटिव पाया गया है। इसी बीच शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुंभ को प्रतीकात्मक रखने की अपील की है। शनिवार को अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा, ‘मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना के संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी  उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा, ‘आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि जी से आज फोन पर बात की सभी संतों के स्वास्थ्य का हाल जाना सभी संतगण प्रशासन को हर प्रकार का सहयोग कर रहे हैं। मैंने इसके लिए संत जगत का आभार व्यक्त किया।

विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण का मतदान शुरू

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण का मतदान शुरू हो गया है। आज उत्तर बंगाल और दक्षिण बंगाल के छह जिलों की 45 सीटों पर मतदान किया जा रहा है। पोलिंग बूथ पर लंबी-लंबी कतारे लगी है। अधिकतर बूथ पर वोटर्स कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन करते नजर आए कोरोना का कहर पश्चिम बंगाल में भी दिख रहा है। इसके बावजूद मतदान केंद्रों पर कोरोना से बचाव की गाइडलाइंस का पालन नहीं हो रहा है। मतदाता एक-दूसरे के एकदम करीब खड़े होकर वोट डालने का इंतजार कर रहे पांचवें चरण में राज्य में जलपाईगुड़ी, कलिम्पोंग दार्जिलिंग, नदिया, उत्तर 24 परगना और पुर्बा बर्धमान जिलों की 45 सीटों पर मतदान हो रहा है पांचवें चरण में उत्तर बंगाल की 13 सीटें भाजपा का मजबूत गढ़ मानी जाती हैं। वहीं इसके विपरीत दक्षिण बंगाल में तृणमूल की स्थिति अच्छी है। हालांकि दक्षिण बंगाल से अपना दबदबा खो चुका वामदल भी यहां कुछ सीटों पर आश्चर्यचकित कर सकता है।

बिटकॉइन के बाद ऊंचे स्तर पर पहुंची एनएफटी

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। सबसे लोवेस्ट चलने वाली कंपनी बिटकॉइन आज सबसे ऊँचे स्तर पर पहुंच गई है। बिटकॉइन के निवेशक रातों-रात अरबपति बन गए। लेकिन अब बिटकॉइन का क्रेज खत्म होता जा रहा है। निवेशकों का मन एक बार फिर बदल रहा है। इस बार एनएफटी का चलन बढ़ रहा है। आइए जानते हैं एनएफटी क्या होता है। एनएफटी एक नॉन-फंजिबल टोकन है। इसे एक क्रिप्टोग्राफिक टोकन कहा जा सकता है। कोई ऐसी तकनीकी आर्ट जिसके बारे में अगर यह दावा किया जाता है कि वो यूनिक है। साथ ही यह स्थापित किया जाता है कि उसका मालिकाना हक किसी खास व्यक्ति के पास है तो उसे एनएफटी यानी नॉन-फंजिबल टोकन कहा जाता है।
आज कल निवेशक इस तरह की चीजों पर खासा ध्यान दे रहे हैं, जो केवल ऑनलाइन ही उपलब्ध हैं। साथ ही यूनिक भी है। पिछले कुछ दिनों से एनएफटी को लेकर खबरें सामने आ रही हैं और लोगों के मन में इसे लेकर कई सवाल भी हैं। इसके बारे में लोगों का ध्यान तब आकर्षित हुआ। जब कुछ ही दिन पहले एक 10 सेकंड की वीडियो क्लिप करीब 66 लाख डॉलर यानी करीब 48.44 करोड़ रुपए में बिकी। इसे मियामी के एक आर्ट कलेक्टर पाब्लो रोड्रिगूज फ्रेले ने खरीदा है। इन्होंने वर्ष 2020 में भी 10 सेकंड के आर्टवर्क पर 67 हजार डॉलर यानी करीब 49.17 लाख रुपए खर्च किए थे। यह एक कंप्यूटर जनरेटेड वीडियो है।

खुद को देश के संविधान से ऊपर समझती है ममता

आसनसोल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर आरोप लगाया कि वह खुद को देश के संविधान से ऊपर समझती हैं और दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने केंद्रीय बलों और सेना तक को ‘‘बदनाम’’ किया और राजनीति के लिए झूठे आरोप लगाए। यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने दावा किया दो मई को पश्चिम बंगाल की जनता उन्हें भूतपूर्व मुख्यमंत्री का प्रमाणपत्र देने वाली है। 
केंद्र सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण सहित अन्य मुद्दों पर बुलाई गई बैठकों में ममता बनर्जी की अनुपस्थिति को मुद्दा बनाते हुए मोदी ने आरोप लगाया कि ‘‘दीदी’’ अपने अहंकार में इतनी बड़ी हो गई है की हर कोई उन्हें अपने आगे छोटा दिखता है। उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने अनेक बार अनेक विषयों पर बात करने के लिए बैठकें बुलाई है लेकिन दीदी कोई न कोई कारण बताकर इन बैठकों में नहीं आती हैं। कोरोना वायरस को लेकर बुलाई गई पिछली दो बैठकों में बाकी मुख्यमंत्री आए, लेकिन दीदी नहीं आई।

टीकाकरण के लिए आयुसीमा को 25 साल किया जाएं

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कोरोना महामारी की मौजूदा स्थिति को लेकर शनिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि टीकाकरण के लिए आयुसीमा को घटाकर 25 साल किया जाए तथा अस्थमा, मधुमेह और कुछ अन्य बीमारियों से पीड़ित युवाओं को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाया जाए। उन्होंने कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में यह भी कहा कि सरकार को कोरोना से निपटने के लिए जरूरी चिकित्सा उपकरणों और दवाओं को जीएसटी से मुक्त करना चाहिए तथा कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए सख्त कदम उठाने पर गरीबों को प्रति माह छह हजार रुपये की मदद देनी चाहिए।सोनिया ने बड़ी संख्या में लोगों के कोरोना वायरस संक्रमण के चपेट में आने और रोजाना सैकड़ों लोगों की मौत होने पर दुख जताते हुए कहा कि इस संकट की घड़ी में अपना कर्तव्य निभा रहे स्वास्थ्यकर्मियों एवं दूसरे कर्मचारियों को कांग्रेस सलाम करती है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र का उल्लेख किया और आरोप लगाया कि कई जगहों पर टीकों, ऑक्सीजन और वेंटिलेंटर की कमी हो रही है, लेकिन सरकार चुप्पी साधे है।
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘सरकार को टीकाकरण के लिए अपनी प्राथमिकता पर पुनर्विचार करना चाहिए और आयुसीमा को घटाकर 25 साल करना चाहिए। अस्थमा, मधुमेह, किडनी और लीवर संबंधी बीमारियों से पीड़ित सभी युवाओं को टीका लगाया जाना चाहिए।’’उल्लेखनीय है कि टीकाकरण के लिए अभी न्यूतम आयुसीमा 45 साल निर्धारित है।

दुमका कोषागार मामलें से लालू को मिलीं जमानत

मनोज सिंह ठाकुर     
रांची। राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के प्रमुख लालू यादव के जेल से बाहर आने का रास्ता साफ हो गया है। लालू यादव को दुमका कोषागार से 3.13 करोड़ रुपये की निकासी के मामले में जमानत मिल गई है।
चारा घोटाला मामले से संबंधित अन्य मामलों में लालू यादव को पहले से जमानत मिली हुई है। चईबासा और देवघर कोषागार मामले में लालू को पहले से ही जमानत मिली हुई है। दोरांडा कोषागार के मामले में अब भी ट्रायल जारी है। अब लालू यादव के जेल से बाहर आने का रास्ता साफ हो गया है।

महामारी के खिलाफ लड़ाई लड़ी जा सकें, अपील की

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस से संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के कारण शनिवार को संत समाज से उत्तराखंड के हरिद्वार में चल रहे कुंभ को ”प्रतीकात्मक” रखने की अपील की। ताकि, इस महामारी के खिलाफ मजबूती से लड़ाई लड़ी जा सके। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर यह जानकारी दी कि उन्होंने जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि से इस सिलसिले में फोन पर बात की और साथ ही संतों का कुशल-क्षेम भी पूछा। उन्होंने कहा, ”मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना के संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी।” एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वामी अवधेशानंद से बात कर उन्होंने सभी संतों के स्वास्थ्य का हाल जाना। उन्होंने कहा, ”सभी संतगण प्रशासन को हर प्रकार का सहयोग कर रहे हैं। मैंने इसके लिए संत जगत का आभार व्यक्त किया। प्रधानमंत्री से बातचीत के बाद स्वामी अवधेशानंद ने भी लोगों से भारी संख्या में कुंभ का स्नान करने के लिए हरिद्वार नहीं पहुंचने और सभी नियमों का पालन करने का आग्रह किया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ”माननीय प्रधानमंत्री जी के आह्वान का हम सम्मान करते हैं ! जीवन की रक्षा महत पुण्य है। मेरा धर्म परायण जनता से आग्रह है कि कोविड की परिस्थितियों को देखते हुए भारी संख्या में स्नान के लिए नहीं आएं एवं नियमों का निर्वहन करें!।
कोविड-19 के कारण एक माह की अवधि के लिए सीमित कर दिए गए महाकुंभ के तीन शाही स्नान—महाशिवरात्रि, सोमवती अमावस्या और बैसाखी हो चुके हैं जबकि रामनवमी के पर्व पर आखिरी शाही स्नान होना है। कुंभ के लिए हरिद्वार पहुंचे साधु-संत और श्रद्धालु खासी संख्या में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं।

या देवी सर्वभूतेषु कात्यायनी रूपेण संस्थिता: नवरात्रि

कात्यायनी नवदुर्गा या हिंदू देवी पार्वती (शक्ति) के नौ रूपों में छठवीं रूप हैं। परम्परागत रूप से देवी दुर्गा की तरह वे लाल रंग से जुड़ी हुई हैं। नवरात्रि उत्सव के षष्ठी को उनकी पूजा की जाती है। उस दिन साधक का मन 'आज्ञा चक्र' में स्थित होता है। योगसाधना में इस आज्ञा चक्र का अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है। इस चक्र में स्थित मन वाला साधक माँ कात्यायनी के चरणों में अपना सर्वस्व निवेदित कर देता है। परिपूर्ण आत्मदान करने वाले ऐसे भक्तों को सहज भाव से माँ के दर्शन प्राप्त हो जाते हैं। 'कात्यायनी' अमरकोश में पार्वती के लिए दूसरा नाम है। संस्कृत शब्दकोश में उमा, कात्यायनी, गौरी, काली, हेेमावती व ईश्वरी इन्हीं के अन्य नाम हैं। शक्तिवाद में उन्हें शक्ति या दुर्गा, जिसमे भद्रकाली और चंडिका भी शामिल है में भी प्रचलित हैं।यजुर्वेद के तैत्तिरीय अणवय में उनका उल्लेख प्रथम किया है। स्कंद पुराण में उल्लेख है कि वे परमेश्वर के नैसर्गिक क्रोध से उत्पन्न हुई थीं। जिन्होंने देवी पार्वती द्वारा दी गई सिंह पर आरूढ़ होकर महिषासुर का वध किया। वे शक्ति की आदि रूपा है। जिसका उल्लेख पाणिनी पर महाभाष्य में किया गया है। जो दूसरी शताब्दी ईसा पूर्व में रचित है। उनका वर्णन देवीभागवत पुराण और मार्कंडेय ऋषि द्वारा रचित मार्कंडेय पुराण के देवी महात्म्य में किया गया है। जिसे 400 से 500 ईसा में लिपिबद्ध किया गया था। बौद्ध और जैैैन ग्रंथों और कई तांत्रिक ग्रंथों, विशेष रूप से कालिका पुराण (10 वीं शताब्दी) में उनका उल्लेख है। जिसमें उद्यान या उड़ीसा में देवी कात्यायनी और भगवान जगन्नाथ का स्थान बताया गया है।

कथा

माँ का नाम कात्यायनी कैसे पड़ा इसकी भी एक कथा है। कत नामक एक प्रसिद्ध महर्षि थे। उनके पुत्र ऋषि कात्य हुए। इन्हीं कात्य के गोत्र में विश्वप्रसिद्ध महर्षि कात्यायन उत्पन्न हुए थे। इन्होंने भगवती पराम्बा की उपासना करते हुए बहुत वर्षों तक बड़ी कठिन तपस्या की थी। उनकी इच्छा थी माँ भगवती उनके घर पुत्री के रूप में जन्म लें। माँ भगवती ने उनकी यह प्रार्थना स्वीकार कर ली।

कुछ समय पश्चात जब दानव महिषासुर का अत्याचार पृथ्वी पर बढ़ गया। तब भगवान ब्रह्मा, विष्णु, महेश तीनों ने अपने-अपने तेज का अंश देकर महिषासुर के विनाश के लिए एक देवी को उत्पन्न किया। महर्षि कात्यायन ने सर्वप्रथम इनकी पूजा की। इसी कारण से यह कात्यायनी कहलाईं। ऐसी भी कथा मिलती है कि ये महर्षि कात्यायन के वहाँ पुत्री रूप में उत्पन्न हुई थीं। आश्विन कृष्ण चतुर्दशी को जन्म लेकर शुक्त सप्तमी, अष्टमी तथा नवमी तक तीन दिन इन्होंने कात्यायन ऋषि की पूजा ग्रहण कर दशमी को महिषासुर का वध किया था। माँ कात्यायनी अमोघ फलदायिनी हैं। भगवान कृष्ण को पतिरूप में पाने के लिए ब्रज की गोपियों ने इन्हीं की पूजा कालिन्दी-यमुना के तट पर की थी। ये ब्रजमंडल की अधिष्ठात्री देवी के रूप में प्रतिष्ठित हैं। माँ कात्यायनी का स्वरूप अत्यंत चमकीला और भास्वर है। इनकी चार भुजाएँ हैं। माताजी का दाहिनी तरफ का ऊपरवाला हाथ अभयमुद्रा में तथा नीचे वाला वरमुद्रा में है। बाईं तरफ के ऊपरवाले हाथ में तलवार और नीचे वाले हाथ में कमल-पुष्प सुशोभित है। इनका वाहन सिंह है। माँ कात्यायनी की भक्ति और उपासना द्वारा मनुष्य को बड़ी सरलता से अर्थ, धर्म, काम, मोक्ष चारों फलों की प्राप्ति हो जाती है। वह इस लोक में स्थित रहकर भी अलौकिक तेज और प्रभाव से युक्त हो जाता है।

उपासना

नवरात्रि का छठा दिन माँ कात्यायनी की उपासना का दिन होता है। इनके पूजन से अद्भुत शक्ति का संचार होता है व दुश्मनों का संहार करने में ये सक्षम बनाती हैं। इनका ध्यान गोधुली बेला में करना होता है। प्रत्येक सर्वसाधारण के लिए आराधना योग्य यह श्लोक सरल और स्पष्ट है। माँ जगदम्बे की भक्ति पाने के लिए इसे कंठस्थ कर नवरात्रि में छठे दिन इसका जाप करना चाहिए।

या देवी सर्वभूतेषु शक्ति रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:॥

अर्थ : हे माँ! सर्वत्र विराजमान और शक्ति -रूपिणी प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है। या मैं आपको बारंबार प्रणाम करता हूँ। इसके अतिरिक्त जिन कन्याओ के विवाह मे विलम्ब हो रहा हो। उन्हे इस दिन माँ कात्यायनी की उपासना अवश्य करनी चाहिए। जिससे उन्हे मनोवान्छित वर की प्राप्ति होती है।

महिमा

माँ को जो सच्चे मन से याद करता है। उसके रोग, शोक, संताप, भय आदि सर्वथा विनष्ट हो जाते हैं। जन्म-जन्मांतर के पापों को विनष्ट करने के लिए माँ की शरणागत होकर उनकी पूजा-उपासना के लिए तत्पर होना चाहिए।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   
1. अंक-244 (साल-02)
2. रविवार, अप्रैल 18, 2021
3. शक-1984,चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि- षष्ठी, विक्रमी सवंत-2078। पांचवां रोजा, सहरी 04:31, इफ्तार 06:51। 05 रमजान, हिजरी 1442।
4. सूर्योदय प्रातः 06:20, सूर्यास्त 06:50।
5. न्‍यूनतम तापमान -14 डी.सै., अधिकतम-38+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   
1. अंक-244 (साल-02)
2. रविवार, अप्रैल 18, 2021
3. शक-1984,चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि- षष्ठी, विक्रमी सवंत-2078। पांचवां रोजा, सहरी 04:31, इफ्तार 06:51। 05 रमजान, हिजरी 1442।
4. सूर्योदय प्रातः 06:20, सूर्यास्त 06:50।
5. न्‍यूनतम तापमान -14 डी.सै., अधिकतम-38+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...