गुरुवार, 2 सितंबर 2021

एयरबेस को हासिल करने की फिराक में है 'चीन'

वाशिंगटन डीसी। अफगानिस्तान में तालिबान के सत्ता में आते ही चीन अफगानिस्तान के सबसे बड़े बगराम एयरबेस को हासिल करने की फिराक में है। मौजूदा हालात में वह पाकिस्तान को भारत के खिलाफ इस्तेमाल करेगा। अमेरिका की संयुक्त राष्ट्र में राजनयिक रहीं भारतवंशी रिपब्लिकन नेता निक्की हेली ने यह महत्वपूर्ण जानकारी दी है। बगराम एयरबेस अमेरिका का बीस साल तक सबसे बड़ा सैन्य अड्डा रहा और यहीं से उसने आतंकियों की कमर तोड़ने के लिए हवाई हमलों को अंजाम दिया था।

अमेरिकी नेता निक्की हेली ने वर्तमान स्थितियों के संदर्भ में बाइडन प्रशासन से कहा है कि सबसे पहली जरूरत है कि अमेरिका अपने मित्र देश भारत, जापान, आस्ट्रेलिया और सभी सहयोगी देशों के साथ मजबूती से समन्वय बनाए और उनको साथ देने के प्रति आश्वस्त करे। इस समय ताइवान, यूक्रेन, इजरायल जैसे देशों के साथ भी खड़ा होने की जरूरत है।

रायपुर: सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया

दुष्यंत टीकम         
रायपुर। राजधानी में आज महिला सम्मेलन एवं सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया गया। खरोरा समीपस्थ ग्राम सिरसी में धरसीवा विधायक श्रीमती अनीता योगेंद्र शर्मा के मुख्य अतिथि में महिला एवं बाल विकास विभाग विकासखंड तिल्दा के तत्वाधान में महिला सम्मेलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि जीने नारियों को सदैव पूर्ण आतम विश्वास से कार्य करने तथा ना हार मानते हुए पुरुषों से कदम से कदम मिलाते हुए आगे बढ़ने हेतु प्रेरित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती धनेश्वरी वर्मा ने निडरता से सभी नारियों को सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ने की बात कहीं गई। इस कार्यक्रम में श्रीमती सुमन देवव्रत नायक अध्यक्ष जनपद पंचायत तिल्दा श्रीमती सोना वर्मा जिला पंचायत सदस्य श्री मोहन साहू जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि श्री देवव्रत नायक तोम लाल वर्मा कनकी जनपद सदस्य श्रीमती कंचन टोकन गायकवाड स्वाति वर्मा सरजा ठाकुर झरना वर्मा संतोषी वर्मा सरोजिनी वर्मा अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस महिला प्रकोष्ठ लोकेश्वरी वर्मा पूर्व जनपद अध्यक्ष धरसीवा महिला पंचों में महिला एवं बाल विकास विभाग से महिला एवं बाल विकास विभाग अधिकारी तिल्दा अमित सिन्हा सभी सेक्टर पर्यवेक्षक गण सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका तिल्दा विकास खंड रेडी टू ईट निर्माणकर्ता सभी समूह सदस्य ग्राम पंचायत शिर्डी के सभी जनप्रतिनिधि गण संकुल केंद्र युवराज व कनकी के सभी शिक्षक शिक्षिकाएं उपस्थित रहे सभी उपस्थित का आभार सरपंच ग्राम पंचायत श्री राजकुमार वर्मा जी ने सहृदय व्यक्त किया मंच संचालन भुनेश्वर वर्मा कैलाश बघेल समन्वयक वंदना शर्मा शिक्षिका के द्वारा किया गया।
सरपंच लक्ष्मी बाई साहू, बिटिया श्रीमती रतन भाई, पारदी सीनरी, श्रीमती गायत्री कुर्रे पर टोकरी श्रीमती कचरा मारकंडे, मोतीपुर करा, श्रीमती मंजू लता वर्मा पाड़ा, श्रीमती भगवती वर्मा, उपसरपंच हरदा, श्रीमती शांता साहू सरपंच, श्रीमती मोगरा साहू, पंच कनकी, श्रीमती वीणा वर्मा, सरपंच घेवरा, श्रीमती उर्मिला वर्मा,
श्रीमती नीना वर्मा, पंच पहचान, शायरी छतरी, श्रीमती रुकमणी निषाद सरपंच, श्रीमती ईश्वरी पंच तुलसी, श्रीमती द्रोपती वर्मा सरपंच, सिर्री पंच, श्रीमती बरखा नशीने, श्रीमती राजेश्वरी बंजारे, श्रीमती लक्ची रात्रे, श्रीमती पुलेश्वरी सेन, श्रीमती चंपेश्वरी वर्मा जनपद सदस्य मुरा श्रीमती कंचन टोकेंद्र गायकवाड़, बरडीह पंच उत्तरी सोनवानी श्रीमती संतोषी गेंडरे।

अनुयायियों द्वारा धन को ठिकाने लगाने से रोका

पंकज कपूर            

सतपुली। कमीशन बाजी की वजह से सरकारी बजट को ठिकाने लगातार लगाया जा रहा है। जो मामला हम आपको बता रहे हैं। उसमें हनुमान के अनुयायियों द्वारा सरकारी धन को ठिकाने लगाने से रोक दिया गया। मामला सतपुली नगर पंचायत का है। जहाँ पर साढ़े तीन लाख रुपये की लागत से एक टीन शेड सेंटपॉल हॉस्पिटल के सामने बनाया जा रहा है। जिसमे पूरे शेड का निर्माण हो गया था। लेकिन शेड इतना मजबूत बनाया गया कि, हनुमान के अनुयायियों का वजन नही झेल पाया और 10 ही दिन में बीच से झुक गया। अब आप अंदाजा लगा सकते हैं कि, यहाँ टीन शेड के रूप में सरकारी बजट को ठिकाने लगाया जा रहा था। लेकिन कुदरत ने इस पर पहले ही सवाल खड़े कर दिये।

ठेकेदार को बोल दिया गया है कि, इसको और मजबूत किया जा रहा है। पहले हल्का था अब मजबूत एंगल लागये जा रहे हैं। सुशील बहुगुणा, अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत सतपुली। अब देखिये यदि ये ठेकेदार को पेमेंट होने के बाद झुकता तो फिर कौन रिपेयर करवाता? क्या फिर से उसके लिए बजट दिया जाता? ईओ नगर पंचायत के कथन के अनुसार ठेकेदार कल मजबूत बनाने के लिए बोल दिया गया है, तो क्या पहले कमजोर बनाने के लिए कहा था? यह एक बड़ा सवाल है। 

जिला पर्यावरणीय समिति की बैठक आयोजित की

बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में कलेक्टेट स्थित संगम सभागार में जिला पर्यावरणीय समिति की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा केन्द्रीय प्रदूषण बोर्ड द्वारा विकसित पोर्टल पर विभिन्न विभागों द्वारा अपने विभाग से सम्बंधित टैम्पलेट की प्रगति, जनपद के केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा विकसित संशोधित पोर्टल पर जिला पर्यावरण योजना तैयार किये जाने की प्रगति के सम्बंध में, जनपद की झीलों, तालाबों, पोखरों के पुनरोद्धार की कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत किये जाने, नगरीय क्षेत्र प्रयागराज व जनपद के अन्य नगर निकायों में ठोस अपशिष्ट के सुरक्षित निस्तारण के स्थिति के सम्बंध में, गोशालाओं/डेरियों को नगरीय सीमा के बाहर विस्थापित किये जाने तथा अन्य विषयों के प्रगति के सम्बंध में बिंदुवार समीक्षा की गयी। उन्होंने बाॅयोमेडिकल ट्रीटमेंट की जानकारी प्राप्त करते हुए निरंतर उसकी जांच करते रहने के निर्देश दिये है। 
उन्होंने सभी पौधों की जीओ टैगिंग कराये जाने के भी निर्देश दिये है। मनरेगा के कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कराये जा रहे कार्य स्थलों का निरंतर अनुश्रवण करते रहने का निर्देश दिया है साथ ही साथ उन्होंने श्रमिकों के भुगतान को समय से सुनिश्चित कराये जाने के लिए भी निर्देशित किया है। जिलाधिकारी ने तालाबों एवं पोखरों की सूची तैयार कराने के साथ-साथ तथा कितने तालाबों का पुनरोद्धार किया गया है, इसकी भी सूची उपलब्ध कराये जाने के लिए कहा है। इस अवसर पर डीएफओ सहित अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे। 

लाभार्थिंयों से कार्यक्रम का सजीव प्रसारण किया

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के गुरूवार को लखनऊ में आयोजित वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत पात्र लाभार्थिंयों के खातों में धनराशि के ऑनलाइन हस्तांतरण एवं लाभार्थिंयों से संवाद कार्यक्रम का एनआईसी में सजीव प्रसारण किया गया। समाज कल्याण अधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने बताया कि जनपद प्रयागराज केें भी वित्तीय वर्ष 2021-22 के माह अगस्त तक के नवीन स्वीकृत 5532 पेंशन लाभार्थिंयों के साथ-साथ पुराने 1,52,626 लाभार्थिंयों के खाते में भी निर्धारित धनराशि का हस्तांतरण हुआ है। वृद्धावस्था पेंशन योजना के अन्तर्गत प्रत्येक पात्र लाभार्थी के खाते में प्रथम तिमाही के रूप में 1500 रूपये, इस तरह से 1 वर्ष में इस योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थिंयों के खाते में 6000 रूपये प्राप्त होता है। आयोजित कार्यक्रम में मा0 मुख्यमंत्री जी ने महाराजगंज के लाभार्थी प्रहलाद, हाथरस के लाभार्थी श्रीमती शान्ति देवी, सोनभद्र के लाभार्थी बसन्ती, सुल्तानपुर के लाभार्थी श्री मनीराम एवं चित्रकूट के लाभार्थी छोटे लाल से संवाद भी किया। मा0 मुख्यमंत्री जी ने अपने सम्बोधन में कहा कि सरकार के द्वारा सभी पात्र लोगो को निःशुल्क गैस सिलेण्डर, स्काॅलरशिप, राशनकार्ड, आयुष्मान योजना के तहत गोल्डेन कार्ड, मकान सहित अन्य संचालित योजनाओं का लाभ बिना किसी भेदभाव के दिया जा रहा है। कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी श्री शिपू गिरि, समाज कल्याण अधिकारी श्री प्रवीण कुमार सिंह सहित लाभार्थीगण उपस्थित रहे। 

बुजुर्गो की जरूरत पूरी, कटिबद्ध है यूपी सरकार

हरीओम उपाध्याय       

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरूवार को कहा कि राज्य सरकार बुजुर्गो की हर जरूरत को पूरा करने के लिये कटिबद्ध है। योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के 55 लाख 77 हजार बुज़ुर्गों के खाते में उनकी तीन माह की वृद्धावस्था पेंशन के तौर पर 836.55 करोड़ रूपये डिजिटली ट्रांसफर किए। इसमें 04 लाख 56 हजार ऐसे भी बुजुर्ग शामिल हैं। जो पहली बार पेंशन की राशि मिली।

मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वृद्धजन के पास अनुभवों की थाती है। यह हमारे मार्गदर्शक हैं। केंद्र और राज्य सरकार हर एक वृद्ध के जीवन और आजीविका का प्रबंध करने के लिए सेवाभाव के साथ काम कर रही है। बुजुर्गों को राशन-पानी की जरूरत हो अथवा बीमारी के समय इलाज और दवाइयों की, सब कुछ मुफ्त में मुहैया कराया जा रहा है। यही नहीं, बुजुर्गों के लिए खासतौर से एल्डर हेल्पलाइन 14567 जारी किया गया है। जहां 24×7 कोई भी वरिष्ठ नागरिक सम्पर्क कर मदद ले सकता है।

युवाओं को सरकारी नौकरी करने का मौका दिया

पंकज कपूर       
देहरादून। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने युवाओं को सरकारी नौकरी करने का एक और मौका दिया है। जी हां उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने भूतत्व एवं खनिकर्म इकाई, उद्योग निदेशालय के अंतर्गत सहायक भू-वैज्ञानिक एवं खान अधिकारी (समूह ख) के लिए 8 पदों पर भर्ती की विज्ञप्ति जारी की है। 
जिसके लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गई है।
इच्छुक अभ्यर्थी आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर 22 सितम्बर 2021 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। 

भारतीय राजदूत दीपक ने भारत का रुख स्पष्ट किया

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। भारत ने तालिबान से स्पष्ट रूप में कहा है कि उसकी प्राथमिकता और तात्कालिक चिंता इस बात को लेकर है कि अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल भारत के खिलाफ आतंकवादी गतिविधियों के लिए नहीं होना चाहिए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने आज यहां सवालों के जवाब में कहा कि दोहा में तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के प्रमुख के साथ हुई बातचीत में भारतीय राजदूत दीपक मित्तल ने भारत का रुख स्पष्ट किया।

उन्होंने कहा कि इस पर तालिबान की ओर से सकारात्मक रुख दिखाई दिया है। उन्होंने कहा कि तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के प्रमुख शेर मोहम्मद अब्बास के साथ हुई इस बातचीत को केवल एक बैठक के रूप में देखा जाना चाहिए और अभी इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। उन्होंने कहा कि अभी उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है कि तालिबान के साथ भविष्य में कोई और बैठक भी होगी।


दिखाई गई सख्ती के बाद मायावती की टेंशन बढ़ीं

हरिओम उपाध्याय               
लखनऊ। उच्च न्यायालय की ओर से दिखाई गई सख्ती के बाद पूर्व सीएम मायावती की टेंशन बढ़ गई है। बसपा के शासनकाल में राजधानी लखनऊ और नोएडा में किए गए स्मारकों के निर्माण में हुए 14 सौ करोड़ रुपए के घोटाले की जांच की रफ्तार तेज हो गई है। उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान अर्थात विजिलेंस ने राजकीय निर्माण निगम के एक सेवानिवृत्त अधिकारी समेत चार लोगों से पूछताछ की है। 
विजिलेंस की टीम सिलसिलेवार 16 और अन्य अधिकारियों से अभी पूछताछ करेगी। 4 सप्ताह के भीतर विजिलेंस की ओर से अभियुक्तों के खिलाफ आरोपपत्र भी दाखिल कर दिए जाएंगे।
दरअसल हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा एवं न्यायमूर्ति सरोज यादव की खंडपीठ ने 14 सौ करोड रुपए के चर्चित स्मारक घोटाले में बसपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे बाबू सिंह कुशवाहा के मामले में दर्ज कराई गई एफआईआर को रद्द करने से इंकार करते हुए मामले की विवेचना को 4 सप्ताह के भीतर पूरा करने के आदेश दिए हैं। कैबिनेट मंत्री रहे बाबू सिंह कुशवाहा की ओर से दायर की गई याचिका में बसपा सरकार के दौरान हुए स्मारक घोटाले में वर्ष 2014 के दौरान दर्ज की गई एफआईआर को चुनौती दी गई थी। इस मामले को लेकर याची के अधिवक्ता ने कोर्ट के सम्मुख यह दलील दी थी कि विवेचना पिछले लगभग 7 सालों से चल रही है। लेकिन अभी तक याची के विरूद्ध कोई भी महत्वपूर्ण साक्ष्य जांच टीम को नहीं मिला है। इस आधार पर एफआइआर रदद की जानी चाहिए। उच्च न्यायालय ने याचिका निस्तारित करते हुए 4 सप्ताह के भीतर विवेचना पूरी करने का आदेश दिया है।

आतंकवादियों के हमले में 10 लोगों की मौंत हुईं

किंशासा। अफ्रीकी देश कांगो के उत्तरपूर्वी हिस्से में एलाइड डेमोक्रेटिक फोर्सेज (एडीएफ) के आतंकवादियों के हमले में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और 25 अन्य लापता हो गये।
ओकापी रेडियो प्रसारक के अनुसार आतंकवादियों ने इटुरी प्रांत में वाहनों के एक काफिले पर यह हमला किया है।
कांगो की सेना और संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिकों द्वारा काफिले की सुरक्षा सुनिश्चित किये जाने के बावजूद आतंकवादी यह हमला करने में सफल रहे। आतंकवादियों ने हमला कर 14 वाहनों को जला दिया और 25 लोगों को बंधक बना लिया।

लगातार छठे दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ीं

पंकज कपूर         
देहरादून। उत्तराखंड में ढिलाई बढ़ने, जांचें कम होने के साथ लगातार छठे दिन कोरोना के उपचाराधीन सक्रिय संक्रमितों की संख्या बढ़ गई है। आज राज्य में कोरोना के 33 नए संक्रमित आए हैं। जबकि 15 ही स्वस्थ हुए। इससे उपचाराधीन संक्रमितों की संख्या 18 बढ़कर 383 हो गई है।राज्य के बुधवार के हेल्थ बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटों में पौड़ी में सर्वाधिक 6, बागेश्वर, देहरादून व हरिद्वार में 4-4, अल्मोड़ा में 3, चमोली, नैनीताल व यूएस नगर में 1-1 तथा पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग व टिहरी में शून्य मामले आए हैं। गौरतलब है कि आज राज्य में 88,077 लोगों को कोविड के टीके लगाए गए। उत्तराखंड में लगातार पांचवे दिन कोरोना के उपचाराधीन संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ गया है। राज्य में आज कोरेाना के 25 नए मामले सामने आए, जबकि 14 ही स्वस्थ हुए। इस कारण उपचाराधीन सक्रिय संक्रमितों की संख्या बढ़कर 365 हो गई है। अलबत्ता आज किसी संक्रमित की मौत नहीं हुई है।
राज्य के बुधवार के ताजा हेल्थ बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटों में देहरादून जिले में 7, हरिद्वार व पिथौरागढ़ जिलों में 5-5, पौड़ी व उत्तरकाशी में 3-3, रुद्रप्रयाग में 2 तथा शेष 7 जनपदों-अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, नैनीताल, टिहरी व उधमसिंह नगर जिलों में शून्य मामले आए हैं।

परिवर्तन यात्रा को लेकर कांग्रेस का रूट प्लान जारी

पंकज कपूर                
रूद्रपुर। कोरोना महामारी के प्रकोप के बीच उत्तराखंड में आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव के लिये कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल के आह्वान पर खटीमा से परिवर्तन यात्रा को लेकर कांग्रेस ने रूट प्लान जारी कर दिया है। वहीं परिवर्तन यात्रा के आयोजन के लिये कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने अपने क्षेत्रें में तैयारियां तेज कर दी है। परिवर्तन यात्रा का तीन सितंबर को खटीमा से आगाज होगा जबकि छह सितंबर को रुद्रपुर में विशाल जनसभा के साथ परिवर्तन यात्र का समापन होगा। प्रदेश कांग्रेस कमेटी कांग्रेस ने प्रचार अभियान के लिये कार्यक्रम की सूची जारी करते हुए बताया है कि चार दिन में ऊधमसिंह नगर व नैनीताल जिले की 13 विधानसभा क्षेत्रें में यात्र के जरिये आगामी 2022 के चुनाव में जनता से कांग्रेस की सरकार बनाने का आह्वान करेगी। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, पूर्व सीएम हरीश रावत, प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह सहित चार कार्यकारी अध्यक्ष व प्रदेशभर के दिग्गज भी कार्यकर्ताओं के साथ यात्रा में शामिल होंगे। तीन सितंबर को खटीमा स्थित शहीद स्मारक पर राज्य आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि देने के बाद रामलीला मैदान में जनसभा का आयोजन किया जायेगा। उसके बाद यात्र नानकमत्ता विधानसभा क्षेत्र से होकर सितारगंज तक आएगी। चार सितंबर को किच्छा में जनसभा के बाद लालकुआं में स्वागत किया जाएगा। शाम पांच बजे हल्द्वानी रामलीला मैदान में सभी दिग्गज जुटेंगे। पांच सितंबर को हल्द्वानी से कालाढूंगी, रामनगर, जसपुर व काशीपुर विधानसभा क्षेत्र में यात्र पहुंचेगी। वहीं अंतिम दिन छह सितंबर को बाजपुर, गदरपुर होते हुए रुद्रपुर में विशाल जनसभा के साथ परिवर्तन यात्र का समापन होगा। उल्लेखनीय है कि वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री श्रीमती इंदिरा हृद्येश के निधन के बाद भाजपा से मुकाबले में 2022 का चुनाव कांग्रेस नेताओं के लिये बड़ी चुनौती साबित हो सकता है। कुंमाऊ में इंदिरा हृद्येश के सहारे कांग्रेस की सियासी जमीन मजबूत हुई है। वहीं अब आगामी चुनाव में पूर्व सीएम एंव कांग्रेस के सबसे कद्दावर नेता हरीश रावत के साथ ही नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह की अग्निपरीक्षा होगी। 
माना जा रहा है कि सत्तासीन भाजपा सरकार के नये मुखिया पुष्कर सिंह धामी की खटीमा विधानसभा क्षेत्र से परिवर्तन यात्रा का आगाज कर कांग्रेस पार्टी मैदानी जनपदों में अपनी पैठ जमाने की कोशिश करेगी और युवा और स्थानीय वोटबैक को खिसकने से रोकने के लिये स्थानीय नेताओं पर दांव खेल सकती है। वहीं कांग्रेस नेताओं द्वारा दावा किया जा रहा है कि प्रदेश में भाजपा सरकार की नाकामियों, विकास, महंगाई, बेरोजगारी आदि मुद्दों को लेकर कांग्रेस जनता के बीच जा रही को हर वर्ग का समर्थन मिल रहा है।

24 घंटों में कोरोना के 36 नये मामलें सामने आएं

हरिओम उपाध्याय           
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान वैश्विक महामारी कोरोना के 36 नये मामले सामने आये है। जबकि इस अवधि में 12 मरीज डिस्चार्ज किये गये। अब राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या 258 है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरूवार को कोविड-19 प्रबंधन के लिये गठित टीम-09 की बैठक में कहा कि प्रदेश के 21 जिलों में कोरोना के एक्टिव केस शून्य हैं। अलीगढ़, अमेठी, अयोध्या, बागपत, बांदा, बस्ती, बिजनौर, चित्रकूट, देवरिया, फतेहपुर, गोंडा, हमीरपुर, हरदोई, ललितपुर, महोबा, मऊ, मुजफ्फरनगर, पीलीभीत, रामपुर, शामली, सुल्तानपुर में आज कोविड का एक भी मरीज शेष नहीं है।
रहें हैं, जबकि पॉजिटिविटी दर 0.01 बनी हुई है और रिकवरी दर 98.7 फीसदी है। पिछले 24 घंटे में हुई टेस्टिंग में 63 जिलों में संक्रमण का एक भी नया केस नहीं पाया गया है, जबकि मात्र 12 जिलों में इकाई अंक में मरीज पाए गए। वर्तमान में प्रदेश में कुल एक्टिव कोविड केस की संख्या 258 है। यह अतिरिक्त सतर्कता और सावधानी बरतने का समय है। थोड़ी सी लापरवाही बड़ी समस्या का कारक बन सकती है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि ट्रेसिंग, टेस्टिंग और त्वरित ट्रीटमेंट के मंत्र से अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। अब तक 07 करोड़ 27 लाख 49 हजार 298 कोविड सैम्पल की जांच की जा चुकी है। विगत 24 घंटे में 02 लाख 22 हजार 210 कोविड सैम्पल की जांच की गई और 36 नए मरीजों की पुष्टि हुई। इसी अवधि में 16 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। अब तक 16 लाख 86 हजार 287 प्रदेशवासी कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर स्वस्थ हो चुके हैं। इस स्थिति को और बेहतर करने के लिए ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट की नीति के अनुरूप सभी जरूरी प्रबंध किए जाएं।
में जलभराव से बीमारियों के फैलने का खतरा रहता है। कई क्षेत्रों में डेंगू के मरीज सामने आए हैं। मलेरिया के केस बढ़ सकते हैं। ऐसे में साफ-सफाई का बड़ा महत्व है। वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए पूरे प्रदेश में वृहद अभियान चलाए जाने की जरूरत है। सभी जिलों के लिए एक-एक नोडल अधिकारी भेजा जाए। यह अधिकारी बाढ़/अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों की भी मॉनीटरिंग करेंगे। आशा, संगिनी, आंगनबाड़ी सहित सभी संबंधित कर्मियों को सक्रिय किया जाए।

‘फेक न्यूज’ प्रसारित किये जाने पर चिंता व्यक्त की

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने नियामक तंत्र के अभाव में वेब साइटों और यूट्यूब चैनलों के माध्यम से ‘फेक न्यूज’ प्रकाशित और प्रसारित किये जाने पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए गुरुवार को माना कि तब्लीगी जमात मामले में मीडिया के एक वर्ग की खबरों में साम्प्रदायिक रंग था। जिससे देश की छवि खराब होती है।
मुख्य न्यायाधीश एन वी रमन की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने कहा कि बिना किसी जवाबदेही के वेब पोर्टल पर सामग्री परोसी जा रही है। वे अनाप-शनाप प्रसारित कर रहे हैं। इस देश में सब कुछ एक सांप्रदायिक कोण से दिखाया जाता है।
खंडपीठ निजामुद्दीन मरकज की तब्लीगी जमात वाली घटना के दौरान फर्जी और दुर्भावना से प्रेरित खबरों के खिलाफ जमीयत उलेमा-ए-हिंद और पीस पार्टी की याचिका पर सुनवाई कर रही थी।
खंडपीठ ने कहा कि ये वेब पोर्टल संस्थाओं के खिलाफ बहुत बुरा लिखते हैं। आम आदमी की बात तो छोड़ दी जाये, न्यायाधीशों को भी ये नहीं बख्शते।
न्यायमूर्ति रमन ने कहा कि ऐसे तथाकथित मीडिया संस्थान वीआईपी की आवाज सुनते हैं।
न्यायालय ने केंद्र सरकार से पूछा कि क्या इस सबसे निपटने के लिए कोई तंत्र है? मुख्य न्यायाधीश का कहना था कि केंद्र सरकार के पास तो प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के लिए तो नियामक है, लेकिन वेब पोर्टल के लिए कुछ नहीं है और इसका उपाय सरकार को तलाशना होगा।
सरकार की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता पेश हुए। जिन्होंने कहा कि सरकार के पास मीडिया के लगभग सभी अंगों पर अंकुश लगाने के लिए कानून मौजूद है।
पिछली सुनवाई के दौरान न्यायालय ने भड़काऊ टीवी कार्यक्रमों पर रोक नहीं लगाने को लेकर केंद्र को जमकर फटकार लगायी थी।

मोदी के पीएम बनने के बाद देश में कोई हमला नहीं

अकांशु उपाध्याय        

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पदभार ग्रहण करने के बाद से देश में कोई भी बड़ा आतंकवादी हमला नहीं हुआ है और आतंकवादी केंद्र की भाजपा सरकार से डरे हुए हैं। नर्मदा जिले के केवडिया में भाजपा की गुजरात इकाई की कार्यकारिणी की तीन दिवसीय बैठक के दूसरे दिन प्रदेश के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कांग्रेस की आलोचना की और कहा कि कांग्रेस सेना के जवानों के प्रति संवेदनशील नहीं है और उसने वन रैंक वन पेंशन (ओआरओपी) के मुद्दे को 40 साल तक उलझाए रखा।

उन्होंने कहा, ” कुछ भी हो जाए, हम आतंकवादियों को सफल नहीं होने देंगे। मोदी के आने के बाद जम्मू- कश्मीर को छोड़िए, भारत के किसी भी हिस्से में कोई बड़ा आतंकवादी हमला नहीं हुआ। यह हमारी बड़ी उपलब्धि है। ऐसा जान पड़ता है कि अब आतंकवादी भाजपा सरकार से डरे हुए हैं। यह कोई छोटी बात नहीं है।” राजनाथ सिंह ने कहा, ” आतंकवादियों ने अब अहसास कर लिया है कि वे अपने पनाहगाह में भी सुरक्षित नहीं हैं। उरी हमने के बाद हमने जो (पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक) किया। उसने दुनिया को स्पष्ट संदेश दिया कि हम जरूरत पड़ने पर इस तरफ और सीमा को पार करके भी आतंकवादियों की जान ले सकते हैं।”

निजीकरण: केंद्र के प्रयास का विरोध करेगी सरकार

चेन्नई। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने बृहस्पतिवार को राज्य की विधानसभा में कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों का निजीकरण राष्ट्रहित में नहीं है और उनकी सरकार सार्वजनिक उपक्रमों के निजीकरण के केंद्र के प्रयास का विरोध करेगी। स्टालिन ने कहा कि भारत के सार्वजनिक उपक्रम सार्वजनिक संपत्ति हैं। जिन्हें आर्थिक विकास को बढ़ावा देने और रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए स्थापित किया गया है और ये छोटे व सूक्ष्म उद्यमों का आधार भी हैं।

उन्होंने कहा, ”हमारा मानना ​​है कि सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को बेचना या पट्टे पर देना राष्ट्रहित में नहीं है।” उन्होंने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयाँ सार्वजनिक बेहतरी और कल्याण के बड़े लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए काम करती हैं और केवल लाभ कमाना ऐसे उद्यमों का मकसद नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह सार्वजनिक उपक्रमों के निजीकरण की प्रवृत्ति को लेकर केंद्र सरकार के प्रति अपनी सरकार के विरोध को व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखेंगे।

कांग्रेस का ताकतों से मुकाबला करने का दायित्व हैं

कन्नूर। केंद्र पर देश की अर्थव्यवस्था का सही तरीके से प्रबंधन न करने का आरोप लगाते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश ‘चौराहे’ पर खड़ा है और बड़े विपक्षी राजनीतिक दल के तौर पर कांग्रेस का ऐसी ताकतों से मुकाबला करने का नैतिक दायित्व है। जो भारत के मूल विचार पर खतरा पैदा करती है। 

केरल के इस उत्तरी जिले में जिला कांग्रेस समिति के कार्यालय के उद्घाटन के मौके पर डिजिटल तरीके से आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ” केंद्र सरकार ने अर्थव्यवस्था का सही तरीके से प्रबंधन नहीं किया और इस देश ने पिछले 70 सालों में जो कुछ बनाया है। उसे मोदी के चुनिंदा दोस्तों को दिया जा रहा है।”

भाइयों ने अधेड़ की लाठी-डंडों से पीटकर हत्या की

हरिओम उपाध्याय          

भदोही। शराब पीकर घर में हुड़दंग मचा रहे एक अधेड की उसके भाइयों और भतीजे ने लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। सूचना पाकर गांव में पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भिजवा दिया है। इस संबंध में मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने फरार हुए आरोपियों की तलाश में दबिश देनी शुरू कर रखी है।बृहस्पतिवार को भदोही जनपद के कोईरोना थानाध्यक्ष ने बताया है कि 55 वर्षीय मायाराम गौतम रोजाना की तरह बुधवार को घर में शराब पीकर आया था। इस दौरान शराब के नशे में धुत हुए मायाराम ने घर में हंगामा करना शुरू कर दिया। 

शोर शराबे की आवाज को सुनकर मौके पर पहुंचे मायाराम के भाइयों हरिराम और दयाराम ने उसे समझाने की हर संभव कोशिश की, मगर वह उन्हीं के साथ झगड़ा करने पर उतारू हो गया। इसी बीच हरी राम के बेटे सुनील और धर्मेंद्र भी मौके पर पहुंच गए। जिसके बाद चारों ने मायाराम को लाठी डंडों से पीटना शुरू कर दिया। उन्होंने बताया कि इस वारदात में लाठी डंडों की मार से मायाराम की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस मामले में माया राम के बेटे बबलू गौतम की शिकायत पर हरिराम, दयाराम, सुनील और धर्मेंद्र के खिलाफ बृहस्पतिवार को मुकदमा दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है कि इस मामले में हरिराम और दयाराम को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि सुनील और धर्मेंद्र की गिरफ्तारी के पुलिस द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं।

प्यारे से संबंधित बयान पर सिख संगत में उबाल आया

पंकज कपूर            
काशीपुर। पूर्व मुख्यमंत्री व पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत द्वारा पंज प्यारे से संबंधित बयान को लेकर सिख संगत में उबाल आया है। आज यहाँ सिख संगत ने हरीश रावत का पुतला फूंककर अपने गुस्से का इजहार किया। हालांकि इस मामले में हरीश रावत पहले ही माफी मांग चुके हैं। सिख संगत के लोग यहां महाराणा प्रताप चैक पर इकट्टòा हुये। जहाँ उन्होंने हरीश रावत के विरूद्ध नारेबाजी करते हुए कहा कि पंज प्यारे के प्रति आपत्तिजनक टिप्पणी से समूचे सिख समुदाय की भावनायें आहत हुई हैं। मौजूद लोगों ने एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को भेजा जिसमें उन्होंने हरीश रावत के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। इस अवसर पर गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष जगजीत सिंह कोहली ,जसपाल सिंह चîक्का, सतविंदर सिंह, सुखविंदर सिंह, गुरविंदर सिंह चंडोक, सुखविंदर सिंह टिंका, दिलप्रीत सिंह सेठी, एडवोकेट केवल सिंह, गुरविंदर सिंह कोहली, गुरबख्श सिंह, सरबजीत सिंह,जसवीर सिंह, कमलजीत सिद्धू, अमर पाल सिंह, गुरुदेव सिंह, अजायबसिंह, चरणजीत सिंह, आनंद परमजीत सिंह,चंडोकमनीष खरबंदा,गोल्डी आनंद बिन्टा गिल, सलविंदर सिंह, सतनाम सिंह, रंजीत सिंह, प्रधान दरबारा सिंह, बलविंदर सिंह आदि मौजूद थे।


तिलकराज के कैंप कार्यालय पर संपन्न हुई बैठक

पंकज कपूर                  
रूद्रपुर। जिला मुख्यालय पर 6 सितम्बर को प्रस्तावित परिवर्तन रैली व अम्बेडकर पार्क में होने वाली विशाल जनसभा को लेकर एक बैठक पूर्व स्वास्थ्य मंत्री व प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष तिलकराज बेहड़ के कैंप कार्यालय पर संपन्न हुई। इस दौरान पूरी विधानसभा से आए कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां सौंपी गई और और कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने क्षेत्रों से लोगों को लाने की संख्या भी लिखवाई इस दौरान प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष तिलकराज बेहड़ ने कहा कि परिवर्तन यात्रा 3 सितंबर से प्रारंभ होकर 6 सितंबर को जिला मुख्यालय रुद्रपुर में अंबेडकर पार्क में समाप्त होगी और अंबेडकर पार्क में विशाल जनसभा होगी। बेहड़ ने सभी कार्यकर्ताओं से आव्हान किया कि रैली की तैयारियों में जोर-शोर से जुट जाएं और हजारों की संख्या में कार्यकर्ता रैली में पहुंचकर रैली को सफल बनाएं। बेहड़ ने कहा कि नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव व पूर्व मुख्यमंत्री व राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत जी प्रथम बार जिला मुख्यालय रुद्रपुर में पहुंच रहे हैं इन सभी नेताओं का स्वागत करने के लिए पूरे विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता व जनता बड़ी उत्सुकता के साथ इंतजार कर रही है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में कांग्रेस की सरकार बनना तय है उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील करी कि सभी कार्यकर्ता अपने-अपने क्षेत्रों में घर-घर पहुंचकर भाजपा की इस तानाशाही सरकार की गलत नीतियों को जनता के सामने रखें जिससे कि जनता के सामने इस सरकार का चेहरा बेनकाब हो सके और जनता कांग्रेस के पक्ष में मतदान कर कांग्रेस की सरकार बनाने में सहयोग करें। महानगर अध्यक्ष जगदीश तनेजा ने बताया कि परिवर्तन रैली में जनसभा की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं और सभी कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारियां सौंप दी गई हैं। एनएसयूआई व युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता सभी वरिष्ठ नेताओं को का स्वागत बाइक रैली निकाल कर करेंगे और गल्ला मंडी होते हुए अंबेडकर पार्क जनसभा तक लेकर पहुंचेंगे और उसके बाद वहां पर सभी वरिष्ठ नेता गण जनसभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुमित्र भुल्लर, पूर्व पालिका अध्यक्ष श्रीमती मीना शर्मा, पूर्व मंडी समिति अध्यक्ष अरुण पांडे, वरिष्ठ नेता हरभजन सिंह, पुष्कर राज जैन, प्रदेश सचिव नंदलाल, परिमल राय, वरिष्ठ नेता हरीश बावरा, सेवादल अध्यक्ष संजीव रस्तोगी, जिला पंचायत उपाध्यक्ष संदीप चीमा, पार्षद मोहनखेड़ा मोहन भारद्वाज, कैलाश राठौर रमेश कालड़ा, राजेश कुमार,मोनू निषाद वरिष्ठ नेता दिलीप अधिकारी, विजय यादव, संजय जुनेजा, हरीश अरोड़ा, दीपक गुगलानी, महामंत्री राजीव कामरा, विजय अरोरा, अमनदीप सिंह, मनवीर सिंह, महिला महानगर अध्यक्ष मोनिका ढाली,उमा सरकार, किशोर कुमार वरिष्ठ नेता दिलीप अधिकारी, आमिर हुसैन ब्लाॅक अध्यक्ष दिनेश पंत, नरेश शर्मा ,वरिष्ठ नेता सुशील गाबा, हरजीत सिंह, इंदरजीत सिंह, प्रवेश कुरैशी आदि थे।

सिलेंडरों के साथ प्रदर्शन करते हुए रोष प्रकट किया

पंकज कपूर                 
रुद्रपुर। कांग्रेस पार्टी के बैनर तले पूर्व सभासद एवं कांग्रेस नेता दिलीप अधिकारी के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओ ने दुर्गा मंदिर परिसर में एकत्रित होकर केंद्र सरकार द्वारा रसोई गैस जे मूल्यों में पुनः 25 रुपये की व्रद्धि करने पर सरकार के खिलाफ खाली सिलेंडरों के साथ प्रदर्शन करते हुए रोष प्रकट किया। इस अवसर पर पूर्व नेता प्रतिपक्ष दिलीप ने कहा कि आज सरकार आये दिन रसोई गैस की कीमते बढ़ा रही हैं। वर्ष 2014 से पहले घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत मात्र 440 रुपये थी जो आज बढ़कर 905 रुपये हो गई है। जिससे आम जनता की जेब में डाका पड़ा है।उन्होंने कहा बढ़ती महंगाई से अब लोगों को घर चलाना मुश्किल हो रहा है। सरकार को गैस सिलेंडर के रेट बढ़ने से गरीबों को हो रही दिक्कतों से कोई सरोकार नहीं है। सरकार मात्र अपनी जेब भरने में लगी पड़ी है। एक आंकड़े के तहत सरकार ने 23 लाख करोड रुपए पेट्रोलियम पदार्थों से कमाया है। 
जिसका कोई हिसाब नहीं है। मात्र उद्योगपतियों को छूट दी गई है। अतः बढ़ती हुई कीमतों को सरकार यदि वापस नहीं लगी तो आगे उग्र आंदोलन किया जायेगा। कांग्रेस नेता दिलीप अधिकारी ने कहा कि सरकार पूर्व में सिलेंडर पर सब्सिडी दे रहे थी अब सब्सिडी खत्म हो चुकी है लोगों के खाते में कोई पैसा नहीं जा रहा है। इसलिए सरकार पूर्व की भांति सब्सिडी दे या फिर गैस की रेट कम करें वरना आंदोलन तेज होगा। जब तक गैस की कीमत कम नहीं होगी आंदोलन जारी रहेगा। प्रदर्शन करने वालों में रंजीत राणा, मनोज दास, रतन मंडल, विश्वजीत मण्डल, हरेन सरकार, नत्थू लाल, डालचन्द गंगवार, मूकेश, बाबू गोलदार, सावित्री देवी, मोहनी देवी, मधुदेवी, मुन्नी देवी, ज्ञानवती, नानूकी देवी, सरस्वती मण्डल, रूबी, सुनीता देवी, अर्चिता रानी, लक्ष्मी, बिध्या देवी, मूर्ति देवी, सपना सरकार, कुमोदिनी, रजनी गगंवार, तुलसी देवी, मालती मण्डल, सुप्रिया सरकार व भारती देवी आदि शामिल थे।

कांग्रेस-भाजपा ने उम्मीदवारों की बाड़ेबंदी शुरू की

नरेश राघानी
जयपुर। राजस्थान में जिला प्रमुख और पंचायत समिति प्रधान का चुनाव जीतने के लिए सत्तारूढ़ कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उम्मीदवारों की बाड़ेबंदी शुरू कर दी है। कांग्रेस और भाजपा जिला प्रमुख और प्रधान का चुनाव जीतने के लिए आपने उम्मीदवारों के साथ-साथ निर्दलीय को अपने समर्थन में वोट दिलवाने के लिए बाड़ाबंदी का प्रचलन इस बार भी किया है। चुनाव परिणाम वाले दिन हारने वाले उम्मीदवारों को बाड़ेबंदी से बाहर कर दिया जाएगा। यही नहीं उसके बाद क्रॉस वोटिंग के डर से सुरक्षा के कड़े इंतजाम करने की रणनीति भाजपा और कांग्रेस दोनों ने बनाई है।सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस ने अपने मंत्रियों और विधायकों को सुरक्षा का जिम्मा सौंपा है। वहीं दूसरी ओर भाजपा ने अपने विधायकों के साथ साथ संगठन के पदाधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। चार सितंबर मतगणना के बाद भाजपा ने अपने जीतने वाले प्रत्याशियों को भाजपा शासित राज्य उत्तर प्रदेश और गुजरात में बाड़ीबंदी करने की रणनीति बना रखी है।
भाजपा को डर सता रहा है कि प्रदेश में सत्ताधारी कांग्रेस उनके उम्मीदवारों को अपने कब्जे में करने के लिए सरकार का दुरुपयोग कर अपने कब्जे में भाजपा और समर्थित जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्यों को क्रॉस वोटिंग करा सकती है।
कांग्रेस ने भी स्थानीय स्तर पर उम्मीदवारों को कई जगह होटलों में भेजा है। आम तौर पर सत्ताधारी पार्टी इन चुनावों में बाजी मारती रही है। दूसरे दलों के जीते हुए उम्मीदवारों को पक्ष में करने में भी सत्ताधारी पार्टी को आसानी रहती है। यही कारण है कि भाजपा अधिक सतर्क और सचेत है। भाजपा ने जयपुर के जिला परिषद उम्मीदवारों को पहले नागौर भेजा, अब पुष्कर ले जाया गया है। कुछ सदस्यों को गुजरात भी ले गए, क्योंकि भाजपा की सरकार होने से वहां का माहौल अधिक सुरक्षित है।
आबूरोड और पिंडवाड़ा पंचायत समिति क्षेत्र के कांग्रेसी उदयपुर में बाड़ाबंदी की गई हैं। सिरोही पंचायत समिति के कांग्रेसी आबूरोड के होटल में ठहरे हैं। आबूरोड, सिरोही और पिंडवाड़ा के भाजपाई गुजरात में अलग-अलग जगह बाड़ाबंदी में रखा गया हैं।
रेवदर पंचायत समिति के भाजपाई द्वारिका में हैं। कांग्रेसी राजसमंद झील में बोटिंग के साथ मौज-मस्ती कर रहे हैं। रेवदर के भाजपा और कांग्रेस प्रत्याशियों को 26 अगस्त को पहले चरण के बाद से ही बाड़ेबंदी में रखा है।
कांग्रेस ने जिला-संगठन प्रभारियों को बाड़ेबंदी और चुनाव प्रबंधन का जिम्मा सौंपा है। जिला प्रमुख एवं प्रधान के दावेदार नेता उम्मीदवारों को बाहर शिफ्ट करनेऔर व्यवस्था करने की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। कांग्रेस में बुधवार को मतदान के बाद बाड़ेबंदी की है जो छह सितंबर को जिला प्रमुख और पंचायत समिति प्रधानों के चुनाव तक चलेगी।

बिजली के स्मार्ट मीटर के मामले में आदेश जारी

हरिओम उपाध्याय          
लखनऊ। भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय ने बिजली के स्मार्ट मीटर के मामले में राज्यों में उपभोक्ताओं के हित में आदेश जारी किया है। उपभोक्ताओं के घरों के भीतर 2जी या 3जी तकनीक के नहीं बल्कि 4जी तकनीक के स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे। 4जी तकनीक से युक्त स्मार्ट मीटर लगने पर उपभोक्ताओं को भार, जंपिंग तथा अन्य दिक्कतों से राहत मिल जाएगी।
परिषद के अध्यक्ष अवधेश वर्मा ने ऊर्जा मंत्रालय के इन निर्देशों का स्वागत करते हुए सवाल उठाया है कि फिलहाल उत्तर प्रदेश में उपभोक्ताओं के घरों के भीतर लगे 1200000 पुराने तकनीक के स्मार्ट मीटरों का क्या होगा? इन मीटरों को 4जी तकनीक में बदलने का काम किस प्रकार से किया जाएगा? अवधेश वर्मा ने कहा है कि राज्य में खराब गुणवत्ता वाले स्मार्ट मीटर लगाने की प्रक्रिया बंद करने के लिए परिषद की ओर से लंबी लड़ाई लड़ी जा चुकी है। राज्य में स्मार्ट मीटर की गुणवत्ता इस कदर खराब है कि बिल बकाया में 4492 उपभोक्ताओं के कनेक्शन को डिस्कनेक्ट करने के लिए बिजली विभाग के कर्मियों को खम्भे पर चढ़कर लोगों के कनेक्शन डिस्कनेक्शन करने पड़े। जबकि स्मार्ट मीटर होने के नाते मुख्यालय से ही यह कनेक्शन कट जाने चाहिए थे। पुरानी तकनीक के स्मार्ट मीटरों को हटाने के लिए उपभोक्ता परिषद ने नियामक आयोग में परिवाद भी दाखिल कर रखा है जो फिलहाल विचाराधीन है।

बुखार से हो रही मौतों पर प्रियंका ने चिंता जताईं

हरिओम उपाध्याय           
लखनऊ। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने फिरोजाबाद में बुखार से हो रही मौतों पर गहरी चिंता जताते हुए प्रदेश की योगी सरकार से 2 सवालों में पूछे है कि स्वास्थ्य व्यवस्था को मजबूत करने के लिए कोई ठोस कदम क्यों नहीं उठाए गए हैं? उन्होंने रोजाना बढ़ रही डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस की कीमतों पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए पूछा है कि जब सरकार डीजल, पेट्रोल के दामों में लगातार बढ़ोतरी कर रही है तो किसानों के गन्ने का रेट बढ़ाने की तरफ कब ध्यान देगी।
बृहस्पतिवार को कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने फिरोजाबाद में बुखार से हो रही लोगों की मौतों पर गहरा दुख जताई है। उन्होंने कहा है कि फिरोजाबाद में अभी तक बुखार की चपेट में आकर तकरीबन 100 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से अभी तक स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को मजबूत करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए हैं। उन्होंने कहा है कि लोगों की सड़क, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी मूलभूत व्यवस्था को सुदृढ़ करने की जिम्मेदारी प्रदेश सरकार के कंधों पर है, लेकिन सरकार का ध्यान केवल महंगाई को बढ़ाने की तरफ है। स्वास्थ्य सेवाओं को यदि समय रहते मजबूत कर दिया जाता तो इतनी संख्या में लोगों को बुखार की चपेट में आकर अपनी जान से हाथ धोना नहीं पड़ता। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को रसोई गैस की कीमतों में की गई 25 रूपये की बढ़ोतरी पर गहरी नाराजगी जताते हुए कहा है कि केंद्र की भाजपा सरकार डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस के रोजाना दाम बढ़ाकर लोगों को महंगाई की आग में धकेल रही है। देश में डीजल पेट्रोल के दाम तो तीन चार महीने के भीतर सरकार की ओर से 60- 70 बार बढ़ा दिए जाते हैं, लेकिन किसान के गन्ने का रेट पिछले 3 साल से नहीं बढ़ा है। किसानों की तरफ सरकार का कोई ध्यान नहीं है।

यूपी: यातायात में बाधक बन रहे ट्रांसफार्मर हटाए

हरिओम उपाध्याय                 
मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश सरकार के व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मिशन विभाग मंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिल देव अग्रवाल ने कहा है कि सरकार की शहर के विकास पर चारों तरफ नजर है। आवागमन में बाधक बन रहे बिजली के खंभों को तो सरकार की ओर से सड़क से पीछे हटवा दिया गया है। अब यातायात में बाधक बन रहे बिजली के ट्रांसफार्मर भी हटाए जाएंगे।
बृहस्पतिवार को शहर के मीनाक्षी चौक पर सड़क से पीछे हटवाये गये बिजली के खंभों के कार्य का उद्घाटन करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मिशन विभाग मंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिल देव अग्रवाल ने कहा है कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार शहरों के विकास के लिए लगातार काम कर रही है। 
ग्रामीण इलाकों में भी तेजी के साथ विकास कार्य कराए गए हैं। जिला योजना समिति की बैठक में पिछले दिनों उनकी ओर से शहर के विकास और यातायात में बाधक बन रहे बिजली के खंभों को सड़क से पीछे हटवाने के निर्देश दिए गए थे। जिसके चलते शासन की ओर से मीनाक्षी चौक से लेकर शिव चौक तक और शिव चौक से लेकर जिला अस्पताल तक तथा जिला अस्पताल से लेकर टाउन हॉल तक सड़क के एकदम किनारे आ रहे बिजली के खंभों को काफी पीछे हटवाया गया है, जिसके चलते जहां खंभों से हो रहे अतिक्रमण का खात्मा हुआ है वहीं इससे यातायात की गति में भी इजाफा हुआ है। लोगों को अब बिजली के खंभे पीछे हटने से आवागमन में काफी आसानी हो रही है। उन्होंने कहा कि शहर में अनेक स्थान ऐसे है, जहां बिजली के ट्रांसफार्मर सड़क किनारे रखे हैं और वह अतिक्रमण को बढ़ावा देते हुए यातायात में बाधक बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि जल्दी ही ऐसे ट्रांसफार्मरों को स्थान चयनित कर सड़क से पीछे हटवाया जाएगा। उन्होंने घोषणा की कि शहर के शिव चौक इलाके में अंडर ग्राउंड बिजली के तार डलवाए जाएंगे, जिससे अतिक्रमण का मामला पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। आकाश गर्ग, यश कपूर, राजकुमार कालरा, राकेश त्यागी, नवनीत कुच्छल, सभासद हनी पाल, अमित बोबी, दयाल कश्यप आदि उपस्थित रहे।

सुरेंद्र को दोषी ठहराया, 9 वर्ष के कारावास की सजा

हरिओम उपाध्याय          
मुजफ्फरनगर। अपने साथियों के साथ गिरोह बनाकर हत्या आदि की घटनाओं में शामिल आरोपी पर पुलिस द्वारा गैंगस्टर लगाए जाने के बाद हुई सुनवाई के दौरान न्यायालय ने आरोपी सुरेंद्र चौहान को दोषी ठहराते हुए उसे 9 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है। न्यायालय की ओर से गैंगस्टर आरोपी पर 10000 रूपये का जुर्माना भी किया गया है।
बृहस्पतिवार को जिला न्यायालय में गैंगस्टर की विशेष अदालत में वर्ष 2010 की 21 जुलाई को थाना मंसूरपुर इलाके में अपने साथियों के साथ गिरोह बनाकर हत्या आदि की घटनाओं में शामिल आरोपी के खिलाफ की गई गैंगस्टर की कार्यवाही के मामले की सुनवाई करते हुए न्यायालय की ओर से गैंगस्टर आरोपी सुरेंद्र चौहान को दोषी ठहरा दिया गया है। गैंगस्टर की विशेष अदालत के न्यायाधीश राधेश्याम यादव की कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान अभियोजन की ओर से अभियोजन अधिकारी संदीप सिंह द्वारा जोरदार पैरवी की गई। अभियोजन के अनुसार शाहपुर थाना क्षेत्र के गांव चांदपुर निवासी किरण पाल की वर्ष 2010 में गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसके बाद इस मामले में आरोपी सुरेंद्र चौहान निवासी उत्तराखंड व उसके गिरोह के कई साथियों का नाम सामने आने के बाद पुलिस की ओर से आरोपियों के खिलाफ गिरोह बंद की कार्यवाही मंसूरपुर थाने की ओर से की गई थी। सुरेंद्र चौहान की फाइल अलग कर सुनवाई शुरू की गई। कोर्ट ने बृहस्पतिवार को गैंगस्टर के आरोपी सुरेंद्र चौहान को दोषी ठहराते हुए उसे 9 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है। न्यायालय की ओर से दोषी ठहराए गए सुरेंद्र चौहान पर 10000 रूपये का जुर्माना भी किया गया है।

मियाद खत्म, वकीलों ने आंदोलन को तेज किया

पंकज कपूर            
काशीपुर। संयुक्त मजिस्ट्रेट आकांक्षा वर्मा के तबादले को लेकर अधिवक्ताओं द्वारा दी मोहलत की मियाद आज खत्म होने के बाद वकीलों ने आंदोलन को और तेज कर दिया है। आपात बैठक में आपसी विचार विमर्श के बाद आज अधिवक्ताओं ने समस्त न्यायिक कार्यों का बहिष्कार कर दिया। कार्य बहिष्कार के कारण आज सिविल कोर्ट, एसडीएम कोर्ट, तहसीलदार कार्यालय एवं उप निबंधक कार्यालय समेत समस्त न्यायालयों एवं कार्यालयों में कामकाज पूरी तरह ठप रहा। बताया गया कि अधिवक्ताओं के इस आंदोलन में बाजपुर बार एसोसिएशन व जसपुर बार एसोसिएशन द्वारा भी न्यायिक कार्यों का बहिष्कार जारी रहेगा। प्रदर्शन कर रहे अधिवक्ताओं ने साफ किया कि जब तक एसडीएम आकांक्षा वर्मा का काशीपुर से स्थानांतरण नहीं किया जाता आंदोलन लगातार जारी रहेगा। धरना प्रदर्शन व मीटिंग के दौरान काशीपुर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष इंदर सिंह, सचिव संदीप सहगल, मनोज निगोतिया, प्रेस प्रवक्ता अब्दुल सलीम, प्रसून वर्मा बृजेश कुमार विनोद कुमार पंडित अमित रस्तोगी नीलू रानी आदि मौजूद रहे।

सिफारिश करने की कार्यवाही में जवाब तलब किया

पंकज कपूर             
काशीपुर। उत्तराखंड सूचना आयोेग ने उत्तराखंड शासन के दो अधिकारियों के विरूद्ध धारा 20 के अन्तर्गत पैैनल्टी तथा सेवा नियमोें केे अन्तर्गत कार्यवाही की सिफारिश करने की कार्यवाही करने के सम्बन्ध में उनका जवाब तलब किया हैै। सूचना आयुक्त एन.एस.नपलच्याल ने यह आदेश सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन की उत्तराखंड शासन के खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग केे विरूद्ध की गयी अपील सं0 32486 में किया गया है।काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन ने उत्तराखंड शासन के खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के लोेक सूचना अधिकारी से उत्तराखंड के राज्य उपभोक्ता आयोग तथा जिला उपभोक्ता फोरमों ;अब उपभोक्ता आयोगद्ध में अध्यक्ष सदस्यों के रिक्त पदों व उन्हें भरने हेतु कार्यवाही तथा इस सम्बन्ध में माननीय सुुप्रीम कोर्ट के आदेशों के पालन के सम्बन्ध में सूचनायें मांगी। इस पर लोक सूचनाधिकारी/अनुसचिव ने रिक्त पदों का विवरण उपलब्ध कराने के लिये तो सूचना प्रार्थना पत्र को निबंधक राज्य उपभोक्ता आयोग को हस्तांतरित कर दिया लेकिन शेष कार्यवाही आदि सभी बिन्दुओें की कोई सूचना नहीं उपलब्ध करायी। राज्य उपभोक्ता आयोेग के लोक सूचना अधिकारी ने रिक्त पदों की सूचना उपलब्ध करा दी लेकिन शासन से सम्बन्धित सूचना न उपलब्ध होेने पर श्री नदीम ने विभागीय अपीलीय अधिकारी को प्रथम अपील की जिस पर कोई कार्यवाही आदेश व निर्णय तथा सूचना न मिलने पर उत्तराखंड सूचना आयोग को द्वितीय अपील की।श्री नदीम की द्वितीय अपील पर सुनवाई करते हुये सूचना आयुक्त एन.एस.नपलच्याल ने जहां आगामी सुनवाई से पूर्व वांछित सूचनायें उपलब्ध कराने का आदेेश दिया वहीं तत्कालीन लोक सूचनाधिकारी/अनुसचिव खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले अनुभाग-2 अनिल कुमार पाण्डे का स्पष्टीकरण मांगा कि वह स्पष्ट करे कि उनके द्वारा अपीलकर्ता को अनुरोध पत्र के क्रम में बिन्दु 3.1, 3.1.1, 3.1.2, 3.3, 3.5 व 3.7 के सम्बन्ध में सूचनायें अपीलार्थी को प्रेषित की गयी तथा यदि कोई सूचना उक्त बिन्दुआंे के सम्बन्ध में प्रेषित नहीं की गयी तो इस हेतु उनके विरूद्ध धारा 20;1द्ध ;पैैनल्टीद्ध के अन्तर्गत कारण बताओ नोटिस जारी किया जाये। वर्तमान मे श्री पाण्डे उपसचिव, शिक्षा विभाग हैै, उन्हेें पक्षकार बनाकर आदेश कि प्रति उन्हें भी भेजी गयी हैै। श्री नपलच्याल नेे अपनेे अंतरिम आदेश दिनांक 24-08-2021 से श्री नंदन सिंह डुंगरियाल, तत्कालीन विभागीय अपीलीय अधिकारी/संयुक्त सचिव का भी जवाब तलब किया गया है। वह आयोग को यह स्पष्ट करेंगे कि उन्होंने निर्धारित समयान्तर्गत प्र्रथम अपील का निस्तारण क्यों नहीं किया गया तथा क्योें न उनके विरूद्ध सूचना अधिकार अधिनियम की धारा 20;2द्ध के अन्तर्गत विभागीय कार्यवाही की संस्तुति प्रेषित करने हेतु क्यों न कारण बताओें नोटिस जारी किया जाये। आदेश में यह भी स्पष्ट लिखा गया है कि वर्तमान विभागीय अपीलीय अधिकारी अर्पण कुमार राजू तत्कालीन विभागीय अपीलीय अधिकारी नंदन सिंह डंुगरियाल को इस आदेश की प्रति तामील करायेेंगे। दोनों अधिकारी आगामी सुनवाई की तिथि 02 नवम्बर से पूर्व अपना स्पष्टीकरण आयोग को प्र्रेषित करेेंगे।

सिद्धार्थ शुक्ला का दिल का दौरा पड़ने से निधन हुआ

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। बिग बॉस 13 के विजेता सिद्धार्थ शुक्ला का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। वह महज 40 साल के थे। बताया जा रहा है कि कल रात वह दवाई लेकर सोए थे, मगर सुबह उठे नहीं। इस पर परिवार के लोग उन्हें जगाने पहुंचे तो वह बेसुध मिले। उन्हे अानन फानन में कपूर अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टरों ने उन्हें मृृत घोषित कर दिया। इस वक्त उनका शव कूपर अस्पताल में ही है और पंचनामा किया जा रहा है। सिद्धार्थ शुक्ला टीवी का जाना माना नाम थे और सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते थे।

सिद्धार्थ शुक्ल बिग बॉस सीजन 13 के विनर रहे थे। उन्होंने कई टीवी सीरियल में भी बतौर लीड किरदार काम किया था। सिद्धार्थ शुक्ला ने साल 2008 में टीवी सीरियल ‘बाबुल का आंगन छूटे ना’ से अपने अभिनय की शुरुआत की थी। साल 2012 में उन्हें सुपरहिट सीरियल ‘बालिका वधू’ में भी देखा गया था। वह एक्टर वरुण धवन और आलिया भट्ट स्टारर फिल्म ‘हम्पी शर्मा की दुल्हनिया’ में भी नजर आए थे। इसके अलावा वह कई टीवी रियलिटी शो में देखे गए थे।


सैनिकों की शिकायतों का गति से निस्तारण किया

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। सेवारत एवं पूर्व सैनिकों की शिकायतों का त्वरित गति से निस्तारण किया जाएगा और उनकी समस्याओं को गंभीरता से लिया जाएगा। सैनिकों के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। सभी विभागों के अधिकारी सैनिकों की शिकायतों का हर हाल में समाधान करेंगे।
गुरुवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में जिलाधिकारी विनीत कुमार ने कहा कि सैनिक कठिन परिस्थितियों के बाजवूद देश की सुरक्षा के लिए अपना पूर्ण योगदान दते हैं। उनकी भी समस्याएं होती हैं।
जिला प्रशासन समय पर समस्याओं का समाधान करेगा। उन्होंने बताया कि छह प्रकरणों का नियमानुसार समाधान हो गया है।इंद्र सिंह पुत्र गोविंद ने शिकायत दर्ज की थी। पुराने सीएमओ कार्यालय मंडलसेरा में पेड़ों कटान करने की मांग की थी। प्रभागीय वनाधिकारी ने पेड़ों के पातन के लिए छपान आदि की कार्रवाई की है।
पेड़ों के कटान के लिए धनराशि वन निगग को जमा करनी है और पेड़ तब काटे जाएंगे। बैठक में जिला सैनिक कल्याण अधिकारी जीएस बिष्ट, पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पींचा, प्रभागीय वनाधिकारी हिमांशु बागरी, एसडीएम प्रमोद कुमार, जयवर्धन शर्मा, ईई लोनिवि संजय पांडे, अनिल कुमार आदि मौजूद थे।

राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए 44 शिक्षकों का चयन किया

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने कहा कि देश में पांच से 17 सितंबर तक शिक्षक पर्व के तौर पर मनाया जाएगा और 44 शिक्षकों को राष्ट्रीय पुरस्कार दिया जाएगा। स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग के अपर सचिव संतोष कुमार सारंगी गुरुवार को शिक्षक पर्व और शिक्षकों को मिलने वाले राष्ट्रीय पुरस्कार की जानकारी दी।
संतोष कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए देशभर के 44 शिक्षकों का चयन किया है। इन शिक्षकों को पांच सितंबर को शिक्षक दिवस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सात सितंबर को ‘शिक्षा सम्मेलन’ को संबोधित करेंगे।
इस कार्यक्रम में शिक्षक, माता-पिता और छात्र शामिल होंगे। राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए विजेता हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, सिक्किम, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, बिहार, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, मिजोरम, त्रिपुरा, असम, झारखंड, केरल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और पुड्डुचेरी से हैं।

सुधार: 46,193 रुपये प्रति दस ग्राम रह गया 'सोना'

अकांशु उपाध्याय            
नई दिल्ली। डालर के मुकाबले रुपये में सुधार के बीच राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में बृहस्पतिवार को सोना 28 रुपये की हानि के साथ 46,193 रुपये प्रति दस ग्राम रह गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी। इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 46,221 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ। दूसरी ओर, चांदी की कीमत 279 रुपये बढ़कर 62,650 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई।
पिछले कारोबारी सत्र में चांदी 62,371 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी। विदेशीमुद्रा विनिमय बाजार में शुरु के कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया छह पैसे मजबूत होकर 73.02 रुपये प्रति डॉलर हो गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना मामूली तेजी के साथ 1,814 डॉलर प्रति औंस पर बोला गया। वहीं चांदी 24.17 डॉलर प्रति औंस पर लगभग अपरिवर्तित रही।

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ”कॉमेक्स (न्यूयॉर्क स्थित जिंस एक्सचेंज) में बृहस्पतिवार को सोने की हाजिर कीमत मामूली तेजी के साथ 1,814 डॉलर प्रति औंस चल रही थी। मिले जुले वैश्विक संकेतों के बीच सोने में तेजी का रुझाान रहा।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-383 (साल-02)
2. शुक्रवार, सितंबर 3, 2021
3. शक-1984,सावन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -23 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...