शनिवार, 18 मई 2024

हरियाणा-दिल्ली में पहली रैली को संबोधित किया

हरियाणा-दिल्ली में पहली रैली को संबोधित किया 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कांग्रेस पर अपना हमला तेज करते हुए कहा कि यह उनकी “धाकड़” सरकार थी, जिसने अनुच्छेद 370 की दीवार को गिरा दिया और परिणामस्वरूप, कश्मीर अब विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। मोदी ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास भारत की सेनाओं और सैनिकों को धोखा देने का रहा है। उन्होंने “जीप घोटाले” का जिक्र किया, जो कि कांग्रेस शासन के दौरान “पहला घोटाला” था। लोकसभा चुनाव के लिए हरियाणा और नई दिल्ली में अपनी पहली रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “उनका पहला घोटाला (सशस्त्र) बलों में था।” उन्होंने आरोप लगाया, “जब तक कांग्रेस केंद्र में सत्ता में रही तब तक उसने नए-नए घोटालों के साथ अपना ट्रैक रिकॉर्ड बनाए रखा। चाहे बोफोर्स घोटाला हो, पनडुब्बी घोटाला हो, हेलीकॉप्टर घोटाला हो – कांग्रेस सेनाओं को कमजोर रखती थी। आप जानते हैं क्यों? ताकि विदेश से हथियार मंगाने के नाम पर मोटी रकम कमा सके।” सशस्त्र बलों में हरियाणा द्वारा बड़ी संख्या में सैनिकों के योगदान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस सत्ता में थी, तो हरियाणा में माताएं अपने बच्चों की सुरक्षा के बारे में सोचकर चिंतित थीं। मोदी ने वहां मौजूद लोगों से पूछा, “क्या अब ऐसी चीजें बंद हो गई हैं या नहीं?” इस पर रैली में जुटे लोगों ने जोर से “हां” में जवाब दिया। मोदी ने हरियाणा में लोकसभा चुनाव की अपनी पहली रैली को संबोधित करते हुए उपस्थित जनसमूह से सवाल किया, “क्या एक कमजोर सरकार जम्मू-कश्मीर में हालात बदल सकती थी?” प्रधानमंत्री ने कहा, “मोदी की धाकड़ सरकार ने अनुच्छेद 370 की दीवार को गिरा दिया और कश्मीर अब विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है।” भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने अगस्त 2019 में संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त कर दिया, जिसने जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार प्रदान किए थे और तत्कालीन राज्य को केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था। किसानों के बारे में, मोदी ने कहा कि केंद्र में पिछली कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार ने 10 वर्षों में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खाद्यान्न खरीदने के लिए 7.5 लाख करोड़ रुपये खर्च किए, जबकि मौजूदा सरकार में एमएसपी पर फसलों की खरीद के लिए 20 लाख करोड़ रुपये का भुगतान किया। उन्होंने कांग्रेस पर गन्ना किसानों को धोखा देने का भी आरोप लगाया। मोदी ने कहा, “जब हम सत्ता में आए, तो उनका बकाया 60,000 करोड़ रुपये तक पहुंच गया था। अकेले इस साल हमने 1.14 लाख करोड़ रुपये का भुगतान किया।” कुछ राज्यों में आम आदमी पार्टी व कांग्रेस के चुनावी गठबंधन का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता दिल्ली और हरियाणा में “झाड़ू” (आम आदमी पार्टी का चुनाव चिह्न झाड़ू) पकड़े हुए हैं, लेकिन पंजाब में दावा कर रहे हैं कि “झाड़ूवाला चोर है”। वहां दोनों पार्टियां एक-दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं। प्रधानमंत्री ने अपना दावा दोहराया कि कांग्रेस धर्म के आधार पर अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी) और अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के लिए आरक्षण का पुनर्वितरण करेगी और आरोप लगाया कि विपक्षी दल नौकरियों और शिक्षा में दलितों का कोटा छीनना चाहते हैं। उन्होंने कहा, “कांग्रेस को महिलाओं, किसानों और युवाओं से कोई लेना-देना नहीं है। कांग्रेस के लिए उसका वोट बैंक ही सब कुछ है।” मोदी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर 500 साल के इंतजार के बाद बना है। उन्होंने कहा, “पूरा देश खुश है लेकिन कांग्रेस नेता मंदिर के बारे में अपमानजनक शब्द बोलते हैं।” मोदी ने कहा कि चार जून में केवल 17 दिन बचे हैं, जब लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित होंगे। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस और ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) में उसके सहयोगियों को मतदान के पहले चार चरणों में कोई सीट नहीं मिली है। मोदी ने कहा कि देशभक्ति हरियाणा की रगों में दौड़ती है। उन्होंने कहा “राज्य राष्ट्र-विरोधी ताकतों को समझता है। इसलिए, हरियाणा में हर घर कह रहा है – फिर एक बार” इस पर भीड़ ने जवाब दिया, “मोदी सरकार”। प्रधानमंत्री ने कहा, “जब देश में धाकड़ सरकार होती है, तो दुश्मन कुछ भी करने से पहले 100 बार सोचता है।” उन्होंने कहा कि जिस पाकिस्तान के हाथों में पहले बम थे, अब उसके हाथों में ‘भीख का कटोरा’ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी भी देश के सैनिकों की छोटी-छोटी जरूरतों, उनके कपड़े, जूते और बुलेट प्रूफ जैकेट की परवाह नहीं की। उन्होंने कांग्रेस पर पूर्व सैनिकों को धोखा देने और ‘वन रैंक, वन पेंशन’ (ओआरओपी) मुद्दे को चार दशकों तक लटकाए रखने का आरोप लगाया। मोदी ने कहा, “2013 में जब कांग्रेस को लगा कि मोदी बड़ी चुनौती बन गए हैं और उनकी सरकार गिरने वाली है तो जाते-जाते उन्होंने बजट में 500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया। उसके शहजादे (पूर्व कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी) हरियाणा, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में पूर्व सैनिकों के सम्मेलन आयोजित करते थे और उन्हें ओआरओपी पर गुमराह करते थे।” मोदी ने कहा कि यह उनकी सरकार थी जिसने ओआरओपी का वादा पूरा किया और इसके तहत 1.2 लाख करोड़ रुपये से अधिक दिये गये। हरियाणा की 10 लोकसभा सीट के लिए सात चरणों में हो रहे चुनाव के छठे चरण के तहत 25 मई को मतदान होगा। रैली में उपस्थित लोगों में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और करनाल संसदीय सीट से भाजपा के उम्मीदवार मनोहर लाल खट्टर, अंबाला और कुरुक्षेत्र सीट से पार्टी उम्मीदवार क्रमश: बंतो कटारिया और नवीन जिंदल शामिल थे। इससे पहले मोदी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री रतन लाल कटारिया को श्रद्धांजलि दी। शनिवार को कटारिया की पुण्य तिथि थी, जिन्होंने लोकसभा में अंबाला का प्रतिनिधित्व किया था। उनकी पत्नी बंतो कटारिया इस बार अंबाला सीट से भाजपा उम्मीदवार हैं।

प्रयागराज: 44 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा 'तापमान'

प्रयागराज: 44 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा 'तापमान'

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। गर्मी के तेवर नरम होते नजर नहीं आ रहे हैं। शनिवार को आसमान से मानो जैसे आग बरस रही हो। चिलचिलाती धूप के चलते लोग बेहाल दिखे। बावजूद गर्मी ने लोगों का कड़ा इम्तिहान लिया। लू चलने का अलर्ट अब 20 की जगह बढ़कर 21 मई तक हो गया है।
शनिवार को अधिकतम तापमान में बढ़ोत्तरी दिखी। शुक्रवार को 42.2 डिग्री तापमान रहा, जबकि शनिवार को यह बढ़कर 44 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। जिससे लोग घरों में कैद रहने के लिए मजबूर हो गए। जरूरत पड़ने पर ही लोगों ने घरों से निकलना मुनासिब समझा। सिविल लाइंस से लेकर कटरा तक सड़कों पर आम तौर पर कम भीड़ रही। हमेशा भीड़ से भरा रहने वाला चौक में भी कड़ी गर्मी और चिलचिलाती धूप का असर दिखा। सड़कों पर सन्नाटा छाया रहा। 
ऐसे में लोगों को और अधिक सर्तक रहने की आवश्यकता है। जनरल फिजीशियन डॉ.डीके मिश्रा के मुताबिक, लू चलने के दौरान शरीर में पानी की कमी नहीं होनी चाहिए। इसके अलावा ताजा व घर के खाने का सेवन करें। बाहर के खाने से परहेज करना जरुरी है। ज्यादा मसालेदार खाने से भी दूरी बनाए रखें।
मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो अगले पांच दिनों तक लू चलने की संभावना है। आसमान में बादल होने के बावजूद बारिश की कोई संभावना फिलहाल नहीं है। वहीं रविवार और सोमवार को भी आसमान में हल्के बादल रहने के आसार हैं।

विभव ने कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की

विभव ने कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी की सांसद स्वाति मालीवाल के ऊपर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के भीतर होना बताए जा रहे हमले के मामलें में अरेस्ट किए गए विभव कुमार की ओर से तीस हजारी कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की गई है। सीएम के पीए रहे विभव की जमानत अर्जी पर अदालत आज ही सुनवाई करेगी। शनिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पीए रहे विभव कुमार ने दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर करते हुए आम आदमी पार्टी की सांसद स्वाति मालीवाल के ऊपर होना बताए जा रहे हमले के मामले में अग्रिम जमानत मांगी है। तीस हजारी कोर्ट में दाखिल की गई जमानत अर्जी पर अदालत आज ही सुनवाई करने के लिए तैयार हो गई है। उधर दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद विभव कुमार के वकील सिविल लाइन थाने पहुंचे हैं। उन्होंने कहा है कि हम जांच में पुलिस का पूरा सहयोग करेंगे। मुख्यमंत्री के पीए रहे विभव कुमार पर लगे आरोपों को अधिवक्ताओं ने गलत करार दिया है।

10 कि.ग्रा से ज्यादा वजन का ट्यूमर निकाला

10 कि.ग्रा से ज्यादा वजन का ट्यूमर निकाला 

दुष्यंत टीकम 
बिलासपुर। बिलासपुर निवासी एक महिला के पेट में 10 किलोग्राम से ज्यादा वजन का ट्यूमर था। पेट के ट्यूमर की वजह से महिला गर्भवती लग रही थी। निजी अस्पतालों में इलाज से कोई राहत नहीं मिलने पर ग्रामीण महिला मेडिकल कॉलेज अस्पताल सिम्स पहुंची। यहां डॉक्टरों ने सफल ऑपरेशन कर 10 किलोग्राम से ज्यादा वजन का ट्यूमर निकाला।
स्त्री रोग विभाग की अध्यक्ष डॉक्टर संगीता रमन जोगी के नेतृत्व में  टीम ने आज ऑपरेशन को अंजाम दिया। मरीज ठीक होकर सिम्स में स्वास्थ्य लाभ ले रही है। सफल ऑपरेशन कर एक गरीब मरीज को नया जीवनदान देने के लिए कलेक्टर अवनीश शरण और सिम्स के डीन  डॉ. केके सहारे ने डॉक्टरों, नर्सों और सहयोगी टीम को बधाई दी है।
सिम्स अस्पताल के अधीक्षक डॉक्टर  एस नायक ने  बताया कि मरीज लगनी बाई पति हरिशंकर, उम्र 35 वर्ष, निवासी ग्राम चिल्हाटी बिलासपुर, पिछले एक साल से पथरी की समस्या से परेशान थी। 4 महीनो से पेट में सूजन आने लगी, जो कि बढ़ते जा रही थी। प्रायवेट अस्पताल में जांच में पेट में ट्यूमर होना बताया गया, परंतु कई अस्पतालों में दिखाने के बाद भी उसे उचित लाभ नहीं मिल पाया। ट्यूमर इतना बढ़ चुका था मानो वह 9 महीने की गर्भवती लग रही थी। मरीज को सांस लेने में परेशानी एवं अन्य परेशानी बढ़ने लगी।
प्राइवेट अस्पताल में इलाज नहीं मिलने पर महिला के परिजन सिम्स के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग में भर्ती हुई। सभी जरूरी जाँचो के बाद आज 18 मई 2024 को सिम्स मे जटिल आपरेशन करके महिला के पेट से 10 किलो वजन का ट्‌यूमर निकाला गया जो उसके अंडाशय में था। आपरेशन करने वाले स्त्री एवं प्रसूति रोग  विभाग की टीम में डा. दुर्गा कौशिक, डा. सोमा बैंकट कोटा, डा. वर्णिका पाण्डेय, डा. प्राची तिवारी व अन्य डाक्टर शामिल थे। बेहोशी डॉक्टर राकेश निगम विभागाध्यक्ष ऐनेस्थिसिया और उनकी टीम द्वारा दी गई।
आपरेशन में स्टाफ नर्स दीपा एवं अन्य ओटी स्टाफ का विशेष योगदान रहा। मरीज का आपरेशन सफल रहा एवं वह सिम्स के स्त्री रोग विभाग में स्वास्थ लाभ ले रही है।

कश्मीर को पाकिस्तान से वापस लेकर रहेंगे: शाह

कश्मीर को पाकिस्तान से वापस लेकर रहेंगे: शाह

संदीप मिश्र 
ललितपुर। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि पाक अधिकृत कश्मीर भारत का हिस्सा है और रहेगा। हम पाकिस्तान से उसे वापस लेकर ही रहेंगे। क्योंकि हम एटम बम से नहीं डरते हैं। शनिवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ललितपुर में आयोजित की गई चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा है कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा। हम पाक अधिकृत कश्मीर को पाकिस्तान से वापस लेकर रहेंगे। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि कांग्रेस नेता मणि शंकर अय्यर का कहना है कि पाकिस्तान को सम्मान दो क्योंकि उसके पास भी एटम बम है। इसलिए पाकिस्तान से कश्मीर को वापस नहीं मांगो। उन्होंने कहा है कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार है और हम पाकिस्तान के एटम बम से नहीं डरते हैं। इस बात को हम पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक करके दीक्षा भी चुके हैं। केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा है कि लोकसभा चुनाव- 2024 के अंतर्गत चार चरणों का मतदान संपन्न हो चुका है। इन चार चरणों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी तक 270 सीटें लेकर ट्रिपल सेंचुरी की तरफ बढ़ गए हैं। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल बाबा के इंडिया गठबंधन का इन चार चरणों में ही सुपड़ा साफ हो गया है, जिसके चलते यह बात पूरी तरह से निश्चित हो चुकी है कि नरेंद्र मोदी तीसरी बार भारत के प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं।

₹11 करोड़ से किया जाएगा 17 सड़कों का निर्माण

₹11 करोड़ से किया जाएगा 17 सड़कों का निर्माण

गोपीचंद 
बागपत। जर्जर हाल में गन्ना विभाग की 17 सड़कों का निर्माण 11 करोड़ रुपये से किया जाएगा। जिनके प्रस्ताव को शासन स्तर से आचार संहिता लागू होने से पहले मंजूरी मिल गई थी, लेकिन निर्माण शुरू नहीं हो पाया था। अब आचार संहिता समाप्त होने के बाद बजट मिलते ही निर्माण शुरू करा दिया जाएगा। पिछले कई सालों से गन्ना विभाग की सड़कों का निर्माण नहीं कराया गया, जिस कारण सड़के जर्जर हो गई थी। इन सड़कों से गुजरने वाले किसानोंं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। समस्या को लेकर किसानों ने कई बार अफसरों के सामने मुद्दा भी उठाया।
जिसके बाद गन्ना विभाग ने 17 सड़कें लोक निर्माण विभाग को हस्तांतरित कर दी गईं। जिसके बाद लोक निर्माण विभाग ने 17 सड़कों के निर्माण के लिए प्रस्ताव बनाकर शासन को भेज दिया। शासन ने 11.05 करोड़ रुपये बजट मंजूरी देते हुए पहली किस्त के 4.52 करोड़ रुपये आवंटित कर दिया गया। तभी आचार संहिता लागू होने और वित्तीय वर्ष समाप्त होने पर सड़कों के निर्माण के लिए मिले 4.52 करोड़ रुपये वापस भेज दिए गए। अब आचार संहिता समाप्त होने वाली है तो लोक निर्माण विभाग के अफसरों ने सड़कों के निर्माण के लिए फिर से तैयारी शुरू कर दी है।
जिले में डौला से अमरपुर गढ़ी, चिरचिटा पीडब्ल्यूडी मार्ग से हिंडन नदी की तरफ, पदड़ा से बसौद, चिरचिटा से इंटर कॉलेज कमाला-जूड-हजूराबाद गढ़ी मार्ग, बड़ौत-बुढ़ाना रोड से मांगरौली, बड़ौत कोताना रोड से ढिकाना संपर्क मार्ग, बोहला लुहारी रोड से ढिकाना, मलकपुर छपरौली रोड से पश्चिमी खास की पटरी, शबगा से बाछौड़, सिनौली से ओढ़ापुर, लुहारा से चांदनहेड़ी, अंगदपुर आर्य समाज मंदिर से बड़ौत-बिनौली रोड तक, नांगल से गांगनौली मार्ग, रमाला टांडा रोड से किरठल, रमाला चीनी मिल से सोंटी मार्ग का निर्माण कराया जाएगा।

'महाकुंभ' के लिए नया डिवीजन खोलेगी सरकार

'महाकुंभ' के लिए नया डिवीजन खोलेगी सरकार 

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। महाकुंभ के लिए सरकार पीडब्ल्यूडी में नया डिवीजन खोलेगी। इसके लिए नोडल अफसर की भी तैनाती की जाएगी। इसका प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा गया है। निर्माण खंड-चार के पास जिले की सड़कों के निर्माण के अलावा अन्य कार्यों की अधिकता की वजह से यह निर्णय लिया गया है। जल्द नए डिवीजन की स्थापना के संकेत मिले हैं। इससे पहले निर्माण खंड चार के पास ही मेला डिवीजन का काम था।
महाकुंभ-2025 के लिए नया डिवीजन स्थापित करने की दिशा में काम शुरू हो गया है। हाल में ही प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग की मौजूदगी में अफसरों की उच्चस्तरीय बैठक में कुंभ मेलाधिकारी विजय किरन आनंद ने नए डिवीजन की स्थापना का प्रस्ताव रखा। इस पर प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग ने प्रमुख अभियंता वीके श्रीवास्तव को निर्देशित किया कि वह इस संबंध में जल्द प्रस्ताव बनाकर शासन को उपलब्ध कराएं।
इसके अलावा चार हजार हेक्टेयर में बसने वाले महाकुंभ में गंगा पर स्थापित होने वाले 30 पांटून पुलों के निर्माण के लिए साल स्लीपर और साल एजिंग की खरीद के लिए दर निर्धारण के लिए एक समिति के गठन का निर्णय लिया गया।मेलाधिकारी के मार्गदर्शन में गठित की जाने वाली इस कमेटी में पीडब्ल्यूडी के मुख्य अभियंता के अलावा वन निगमों के अधिकारियों को शामिल करने के लिए कहा गया। इसके अलावा मेला क्षेत्र में बनने वाले पांटून और चकर्ड प्लेटों के अनुरक्षण के साथ ही पार्किंग और साइनेज के लिए प्रस्ताव बनाकर प्रस्तुत करने के लिए कहा गया।
मेला क्षेत्र में इस बार बहुभाषी साइनेज लगाए जाएंगे। अफसरों ने बताया कि साइनेज के लिए लोक निर्माण विभाग के पास को अलग से मद आवंटित नहीं है। ऐसे में साइनेज मार्ग का ही हिस्सा होता है या फिर रोड सेफ्टी के मद से साइनेज लगाए जाते हैं। यह निर्देश दिए गए कि साइनेज के लिए विस्तृत कार्ययोजना तैयार की जाए,ताकि इसके लिए धर्मार्थ कार्य विभाग या अन्य किसी विभाग से धन स्वीकृत कराया जा सके। साथ ही साइनेज की थीम पर भी काम करने के लिए कहा गया।
साल स्लीपर खरीद के लिए पारदर्शी प्रक्रिया अपनाई जा रही है। इसके लिए लिमिटेड टेंडर कराने का निर्णय लिया गया है। साथ ही कहा गया है कि ऐसी प्रक्रिया अपनाई जाए, जिसमें देश के सभी वन निगमों को प्रतिभाग करने का अवसर मिल सके। इसके लिए मेलाधिकारी और मुख्य अभियंता पीडब्ल्यूडी की ओर से देश के सभी वन निगमों के साथ पत्राचार किया जाएगा।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-211, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. रविवार, मई 19, 2024

3. शक-1945, बैशाख, शुक्ल-पक्ष, तिथि-एकादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:03, सूर्यास्त: 06:43।

5. न्‍यूनतम तापमान- 37 डी.सै., अधिकतम- 15+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। इस समय देश में सभी देशवासियों का गर्मी से हाल बेहाल है और अभी...