चंडीगढ़ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
चंडीगढ़ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सोमवार, 7 अगस्त 2023

नूंह में ध्वस्तिकरण अभियान को हाईकोर्ट ने रोका

नूंह में ध्वस्तिकरण अभियान को हाईकोर्ट ने रोका

नरेश राघानी 
गुरुग्राम/चंडीगढ़। पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के आदेश के बाद हरियाणा के नूंह में ध्वस्तीकरण अभियान को सोमवार को रोक दिया गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। नूंह में पिछले सप्ताह सांप्रदायिक हिंसा हुई थी। 
उच्च न्यायालय ने हरियाणा सरकार को नूंह में ध्वस्तीकरण अभियान को रोकने का निर्देश दिया, जहां जिला प्रशासन ‘‘अवैध’’ इमारतें ढहा रहा था। 
अधिकारियों ने बताया कि पिछले सप्ताह जब विश्व हिंदू परिषद के जुलूस पर भीड़ ने पथराव किया था तब दंगाइयों ने इनमें से कुछ इमारतों का इस्तेमाल किया था। न्यायाधीश जी एस संधावालिया की अदालत ने ध्वस्तीकरण अभियान पर स्वत: संज्ञान लिया और राज्य सरकार को कार्रवाई रोकने के निर्देश दिए।

बुधवार, 2 अगस्त 2023

कोयंबटूर विस्फोट मामले में एक और गिरफ्तार

कोयंबटूर विस्फोट मामले में एक और गिरफ्तार   

इकबाल अंसारी  
चेन्नई। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने पिछले साल दीपावली की पूर्व संध्या पर कोयंबटूर में विस्फोटकों से भरी कार में एलपीजी सिलेंडर विस्फोट के मामले में एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।
इसके साथ ही पिछले साल 23 अक्टूबर की रात टेक्सटाइल सिटी में संगमेश्वर मंदिर के सामने हुए कार विस्फोट के सिलसिले में गिरफ्तार आरोपियों की कुल संख्या 12 हो गई है। पकड़े गए आरोपी की पहचान कोयंबटूर के उक्कदम इलाके के मूल निवासी मोहम्मद इदरीस (25) के रूप में हुई। इदरीस पर कोट्टईमेडु में मंदिर के सामने कार विस्फोट के कथित मास्टरमाइंड जमीशा मुबीन का करीबी सहयोगी होने का संदेह है , जो विस्फोट में मारा गया था। बाद में वह एक आत्मघाती हमला निकला था।
सूत्रों ने बताया कि इदरीस उस आपराधिक साजिश का हिस्सा था जिसके कारण कार विस्फोट हुआ। एनआईए अधिकारियों ने उसके मोबाइल कॉल डिटेल रिकॉर्ड और मामले में गिरफ्तार किए गए अन्य आरोपियों द्वारा किए गए कबूलनामे की जांच के बाद साजिश में इदरीस की भूमिका पाई एनआईए ने समन भेजकर इदरीश के पूछताछ के लिए बुलाया और प्रारंभिक पूछताछ के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया और मंगलवार शाम को चेन्नई ले आई। उसे बुधवार को चेन्नई के पूनमल्ली में एनआईए  विशेष अदालत में पेश किए जाने की उम्मीद है। सूत्रों ने कहा कि एनआईए साजिश सिद्धांत के बारे में अधिक जानकारी का पता लगाने के लिए इदरीस को हिरासत में लेते हेतु अदालत से अपील कर सकती है।
गौरतलब है कि एनआईए ने इस मामले में छह आरोपियों मोहम्मद अज़हरुद्दीन, मोहम्मद थल्हा, फ़िरोज़ इस्माल, मोहम्मद रियास, नवाज़ इस्माइल और अफ़सर खान के खिलाफ गत 20 अप्रैल को आरोप पत्र दायर किया था इसके बाद जांच एजेंसी ने 02 जून को पांच अन्य उमर फारूक, फिरोज खान, मोहम्मद तौफीक, शेख हिदायतुल्ला और सनोफर अली के खिलाफ पूरक आरोप पत्र दायर किया।
एनआईए के मुताबिक आरोपी श्रीलंका में ईस्टर 2019 बम धमाकों के मास्टरमाइंड जहरान हाशिम से प्रेरित होकर इस्लामिक स्टेट (आईएस) मॉड्यूल संचालित करता था। कार बम विस्फोट का मास्टरमाइंड मुबीन ईस्टर संडे बम विस्फोट जैसा हमला करना चाहता था। दो जून को दायर पूरक आरोप पत्र में एनआईए ने कहा कि मामला पिछले साल 23 अक्टूबर को कोयंबटूर के उक्कदम में ईश्वरन कोविल स्ट्रीट पर प्राचीन अरुल्मिगु कोट्टई संगमेश्वर थिरुकोविल मंदिर के सामने एक विस्फोट से संबंधित है।
एनआईए ने पिछले साल 27 अक्टूबर को इस मामले की जांच शुरू की थी और दो जून को दायर पूरक आरोपपत्र के साथ अब तक 11 आरोपियों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया है अब तक की जांच से पता चला है कि जेम्सा मुबीन ने मोहम्मद असरुथीन, उमर फारूक, शेख हिदायतुल्ला और सनोफर अली के साथ मिलकर कोयंबटूर शहर में आत्मघाती आतंकी हमलों की एक श्रृंखला को अंजाम देने की साजिश रची थी।

बुधवार, 12 जुलाई 2023

ब्रिज के नीचे फंसे पिल्ले को बचाया: डिपार्टमेंट 

ब्रिज के नीचे फंसे पिल्ले को बचाया: डिपार्टमेंट 

राणा ओबरॉय/अमित शर्मा 

चंडीगढ़। इन दिनों देश के कई राज्यों में हो रही मूसलाधार बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। बारिश ने हर जगह भारी तबाही मचा रखी है। 

बारिश के चलते जगह-जगह पर जलभराव की स्थिति देखने को मिल रही है। कहीं सड़कें तालाब में तब्दील हो चुकी हैं, तो कहीं बारिश के पानी में वाहन डूबते नजर आ रहे हैं। ऐसे हालात से निपटने के लिए प्रशासन ने लोगों को अपने घरों में रहने की हिदायत दी है। ऐसे में इंसानों और बेजुबानों की मदद के लिए रेस्क्यू टीमें जी जान से जुटी हुई हैं। 

वहीं, इसी बीच सोशल मीडिया पर रेस्क्यू का एक वीडियो सामने आ रहा है, जिसमें फायर डिपार्टमेंट की टीमें खुद की जान जोखिम में डालकर बेजुबानों की जान बचाती हुई दिखाई दे रही हैं। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। ये वीडियो चंडीगढ़ का बताया जा रहा है, जहां खुड्डा लाहौरा ब्रिज के नीचे फंसे एक पिल्ले को फायर डिपार्टमेंट की टीम बचाती नजर आ रही है। 

वीडियो में आप देख सकते हैं कि सबसे पहले एक फायरमैन सीढ़ी के सहारे तेज बहाव वाले पानी के बीच उतरता है और पानी में फंसे पिल्ले को गोद में उठाकर सीढ़ी के सहारे पुल पर वापस लौट आता है। 

बता दें, कि इस रेस्क्यू वीडियो को आईपीएस अफसर श्रुति ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है। वहीं, इस वीडियो पर लोगों के अलग-अलग तरह के रिएक्शन भी आ रहे हैं।

25 मई को खुलेंगे 'हेमकुंड साहिब' के कपाट

25 मई को खुलेंगे 'हेमकुंड साहिब' के कपाट पंकज कपूर  देहरादून। हेमकुंड साहिब के कपाट आगामी 25 मई को खोले जाएंगे। इसके चलते राज्य सरका...