मंगलवार, 26 जुलाई 2022

पदाधिकारियों ने शहीद वीर जवानों को श्रद्धांजलि दी 

पदाधिकारियों ने शहीद वीर जवानों को श्रद्धांजलि दी 

पंकज कपूर             

देहरादून/हल्द्वानी। एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय के नेतृत्व संस्था के माध्यम से कारगिल विजय दिवस पर कारगिल युद्ध में शहीद वीर जवानों को संस्था पदाधिकारियों ने कैंडल जलाकर हल्द्वानी-नैनीताल रोड स्थित शहीद चंद्रशेखर मिश्रा पार्क में श्रद्धांजलि दी। इस दौरान एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था मार्गदर्शक रेनू शरण सदस्य रितिक साहू ने संयुक्त रूप से कहा कि विश्व इतिहास में भारतीय सशस्त्र बलों के अद्भुत पराक्रम उत्कृष्ट रण कौशल के अटूट कर्तव्यनिष्ठा के महान प्रतीक कारगिल विजय दिवस स्वतंत्र भारत के सभी देशवासियों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिवस है। क्योंकि, भारतीय सेना ने अपने अदम्य साहस पराक्रम से 3 मई 1999 को शुरू हुआ। कारगिल युद्ध में 26 जुलाई 1999 को विजय प्राप्त कर विश्व विजयी भारतीय तिरंगा लहरा दिया।

लेकिन, इस युद्ध में शहीद जवानों के बलिदान को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता। क्योंकि, भारतीय सेना के जवान हजारों फुट की ऊंचाई पर अपनी हड्डियाँ गलाकर दुश्मनों की हर हरकत पर पैनी निगाह रखते हुऐं दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देकर दुश्मनों को संभलने का मौका भी नहीं देते हैं, तब जाकर हम अपने अपने गांवों शहरों और घरों में सुरक्षित रहते हैं। तभी हम अपने सारे त्यौहार पूरी खुशी के साथ मना पाते हैं। इसलिए, हम भारतीयों का यह फर्ज है कि भारत देश को सुरक्षित रखने के लिए शहीद हुए भारतीय सेना जवानों के प्रति हमेशा भक्ति भाव प्रकट करना चाहिए।

इस दौरान श्रद्धांजलि देने में संस्था संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय, रुपेन्द्र नागर, उपाध्यक्ष लोकेश कुमार साहू, सचिव नन्दकिशोर आर्या कोषाध्यक्ष बलराम हालदार मार्गदर्शक पूजा लटवाल, रेनू, शरण, पवन शर्मा, ममता लटवाल, काजल खत्री, गीता साहू, रितिक साहू, संदीप यादव, अमन कुमार, मनोज साहू, सूरज, मिस्त्री अरुण कुमार, मुन्ना पोखरियाल, गौरव सनवाल, दीपक पलाडिया, सूरज भट्ट, प्रकाश सम्मल, मनीष दफौटी, मुकेश सिंह, कुलेरा, भारत केसरवानी, साहिल, राज, विनोद आर्या, अशोक कुमार वाल्मीकि, दीपक प्रजापति, सुशील राय, मुकेश कुमार आदि लोग उपस्थित रहे।

सावन: 'महाशिवरात्रि' का विशेष महत्व, जानिए 

सावन: 'महाशिवरात्रि' का विशेष महत्व, जानिए 

आज सावन महाशिवरात्रि का त्योहार है। सावन के महीने में आने वाली महाशिवरात्रि का विशेष महत्व है। इस दिन शिव मंदिरों में भगवान शिव का जलाभिषेक और रुद्राभिषेक करने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं। फाल्गुन और श्रावण माह की महाशिवरात्रि का विशेष महत्व होता है। शिवरात्रि का त्योहार भगवान शिव को समर्पित होता है। इस दिन भगवान शिव का अभिषेक किया जाता है। इसके अलावा माता पार्वती, भगवान गणेश, भगवान कार्तिकेय और नंदी की पूजा-आराधना की जाती है। सावन महाशिवरात्रि पर कांवड़ यात्रा में शामिल सभी शिव भक्त जल से भगवान शिव का जलाभिषेक करते हैं। आइए जानते हैं महाशिवरात्रि का महत्व, जलाभिषेक का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि...


महाशिवरात्रि का महत्व...

सावन का महीना भगवान शिव को अत्यंत ही प्रिय होता है। पूरे सावन माह में भगवान शिव की विशेष रूप से पूजा-आराधना होती है। सावन महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव का जलाभिषेक या रुद्राभिषेक करने से जीवन में सुख-समृद्धि आती है। सावन शिवरात्रि पर व्रत रहते हुए शिव पूजन करने पर मनचाहा वर और सभी तरह की इच्छाएं जल्द पूरी होती है।


सावन महाशिवरात्रि पर शुभ संयोग...

27 जुलाई, बुधवार को सावन महाशिवरात्रि पर शुभ संयोग बन रहा है। इस दिन शिव मंगल गौरी की बहुत ही शुभ और मंगलकारी योग बन रहा है। ऐसे में सावन महाशिवरात्रि के अवसर पर न सिर्फ भगवान शिव का जलाभिषेक करना कल्याणकारी होगा, बल्कि मंगला गौरी व्रत पर माता पार्वती की पूजा करने पर भगवान शिव और माता पार्वती दोनों का आशीर्वाद प्राप्त होगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, सावन में वर्षों बाद शिवरात्रि और मंगला गौरी व्रत का संयोग बना है।


सावन महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त...

महाशिवरात्रि पूजन चार प्रहर में करने का विधान होता है। इस बार सावन महाशिवरात्रि की शुभ तिथि 26 जुलाई की शाम को 06 बजकर 45 मिनट से शुरू होकर 27 जुलाई की रात 09 बजकर 10 मिनट तक रहेगी। इस तरह से भगवान शिव का जलाभिषेक 26 और 27 जुलाई दोनों को किया जाएगा। मासिक शिवरात्रि पर शिव पूजन और जलाभिषेक शाम के 6 बजे लेकर 7 बजकर 30 मिनट पर करना उत्तम रहेगा।


सावन महाशिवरात्रि, पूजन विधि...

सावन महाशिवरात्रि के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और फिर व्रत का संकल्प लें। इसके बाद घर में या किसी मंदिर में जाकर भगवान शिव की पूजा करें। शिवलिंग का रुद्राभिषेक जल, घी, दूध, शक्कर, शहद, दही आदि से करें। शिवलिंग पर बेलपत्र, धतूरा और श्रीफल चढ़ाएं। भगवान शिव की धूप, दीप, फल और फूल आदि से पूजा करें। सावन महाशिवरात्रि पर सुबह और शाम दोनों समय शिव पुराण, शिव पंचाक्षर, शिव स्तुति, शिव अष्टक, शिव चालीसा, शिव रुद्राष्टक और शिव श्लोक का पाठ करें,इस तरह से शिव उपासना करने को शुभ और पुण्यदायी बताया गया है।

चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भयपुत्र'

सप्ताह की शेष बैठकों के लिए 19 सदस्य निलंबित  

सप्ताह की शेष बैठकों के लिए 19 सदस्य निलंबित 

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। राज्यसभा की कार्यवाही में बाधा डालने और व्यवधान उत्पन्न करने के लिए तृणमूल कांग्रेस के सात और द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) के छ: सदस्यों सहित विभिन्न विपक्षी दलों के कुल 19 सदस्यों को मंगलवार को इस सप्ताह की शेष बैठकों के लिए निलंबित कर दिया गया। गत 18 जुलाई से आरंभ हुए संसद के मानसून सत्र के पहले दिन से ही तमाम विपक्षी दल महंगाई और कुछ खाद्य पदार्थों पर माल और सेवा कर (जीएसटी) लगाए जाने के खिलाफ उच्च सदन की कार्यवाही बाधित कर रहे हैं। उपसभापति हरिवंश ने मंगलवार को हंगामा कर रहे विपक्षी सदस्यों से बार-बार अनुरोध किया कि वे अपने-अपने स्थान पर लौट जाएं और सदन की कार्यवाही में बाधा ना उत्पन्न करें। उन्होंने हंगामा कर रहे सदस्यों को चेतावनी भी दी लेकिन उनपर इसका कोई असर नहीं हुआ।

हंगामा ना थमता देख और विपक्षी सदस्यों पर कोई असर ना होता देख संसदीय कार्य राज्यमंत्री वी मुरलीधरन ने 10 सदस्यों को निलंबित करने का प्रस्ताव पेश किया लेकिन जब ध्वनि मत से यह पारित हुआ तो हरिवंश ने 19 सदस्यों के नाम लिए और कहा कि इन सदस्यों को सप्ताह की शेष बैठकों से निलंबित किया जाता है। निलंबित सदस्यों में तृणमूल कांग्रेस के सात, द्रमुक के छह, तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के तीन, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के दो और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के एक सदस्य शामिल हैं। तृणमूल कांग्रेस के सुष्मिता देव, मौसम नूर, शांता छेत्री, डोला सेन, शांतनु सेन, अबीर रंजन विश्वास और नदीमुल हक को निलंबित किया गया है जबकि द्रमुक के निलंबित सदस्यों में एम मोहम्मद अब्दुल्ला, कनिमोझी एनवीएन सोमू, एम षणमुगम, एस क्लयाणसुंदरम, आर गिरिराजन और एन आर इलंगो शामिल हैं।

टीआरएस के निलंबित किए गए सदस्यों में बी लिंगैया यादव, रविचंद्र वड्डीराजू और दामोदर राव दिवाकोंडा शामिल है। माकपा के ए ए रहीम और वी शिवदासन तथा भाकपा के संदोष कुमार को भी इस सप्ताह के लिए सदन की बैठक से निलंबित किया गया है। हरिवंश ने कहा कि सदस्यों को सदन और आसन के प्राधिकार की ‘‘पूरी तरह अवहेलना’’ करने के लिए सदन की बैठकों से निलंबित किया गया है। आसन की ओर से निलंबित सदस्यों को सदन से बाहर निकल जाने का अनुरोध किया गया लेकिन सभी निंलबित सदस्य सदन में ही रहे। इसकी वजह से सदन की कार्यवाही बार-बार बाधित हुई और अंतत: दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई। निलंबन का प्रस्ताव पारित होने के बाद सदन की कार्यवाही पहले 15 मिनट के लिए, उसके बाद एक घंटे के लिए और फिर पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई।

कांग्रेस ने 'संविधान' के प्रति सम्मान नहीं दिखाया 

कांग्रेस ने 'संविधान' के प्रति सम्मान नहीं दिखाया 

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने केंद्रीय जांच एजेंसियों की आलोचना करने के लिए मंगलवार को कांग्रेस को आड़े हाथ लिया और दावा किया कि प्रमुख विपक्षी पार्टी ने कभी भी संविधान के प्रति सम्मान नहीं दिखाया। वरिष्ठ भाजपा नेता ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाले केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा पारित अध्यादेश की प्रति फाड़ने का हवाला दिया और आरोप लगाया कि विपक्षी पार्टी संवैधानिक मूल्यों की पूरी तरह अवहेलना करती है।

वर्ष 2013 में कांग्रेस के नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) ने आपराधिक आरोपों के सामना कर रहे लोगों को चुनाव लड़ने की अनुमति देने वाला अध्यादेश मंत्रिमंडल से पारित किया था, जिसे राहुल गांधी ने एक संवाददाता सम्मेलन में फाड़ दिया था। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए प्रधान ने आपातकाल का भी उल्लेख किया। राहुल गांधी द्वारा यह कहे जाने पर कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत में पुलिसिया राज स्थापित हो गया है और जांच एजेंसियों का दुरुपयोग हो रहा है, प्रधान ने कहा, ‘‘यह सब कल्पना अधारित बातें हैं।’

’ राहुल गांधी की अगुवाई में पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं एवं सांसदों ने ‘नेशनल हेराल्ड’ से जुड़े धनशोधन के मामले में सोनिया गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की पूछताछ के खिलाफ मंगलवार को प्रदर्शन किया, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। प्रधान ने विपक्षी दल का यह कहते हुए मजाक उड़ाया कि कांग्रेस को इस प्रकार के दावे करने का हक नहीं है क्योंकि जब वह सत्ता में थी तब उसने कई मौकों पर संवैधानिक मूल्यों की अवहेलना की। उन्होंने कहा, ‘‘जिन्होंने संवैधानिक मूल्यों की अवहेलना करते हुए देश में आपातकाल थोपा, उन्हें ऐसे आरोप लगाना शोभा नहीं देता है। उन्होंने संविधान के प्रति कभी सम्मान नहीं दिखाया। जब कांग्रेस के प्रधानमंत्री थे तब भी राहुल गांधी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा पारित एक अध्यादेश को फाड़ दिया था।’’

नेताओं पर दबाव बनाकर ‘क्रूर’ राजनीति का आरोप 

नेताओं पर दबाव बनाकर ‘क्रूर’ राजनीति का आरोप 

कविता गर्ग   

औरंगाबाद। शिवसेना के पूर्व सांसद चंद्रकांत खैरे ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के माध्यम से नेताओं पर दबाव बनाकर ‘क्रूर’ राजनीति करने का आरोप लगाया और कहा कि पार्टी के नेता अर्जुन खोतकर को इस तरह की राजनीति के दबाव में नहीं होना चाहिए। खैरे ने कहा कि खोतकर को पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे से मिलना चाहिए और अपने मुद्दों को उनके साथ साझा करना चाहिए। पूर्व मंत्री खोतकर को कुछ दिनों पहले शिवसेना का उपनेता बनाया गया था।

खोतकर की राष्ट्रीय राजधानी में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे के साथ बैठक के बारे में पूछे जाने पर, खैरे ने कहा, ‘‘भाजपा ईडी के माध्यम से नेताओं पर दबाव बनाकर क्रूर राजनीति कर रही है। शिवसेना के बाकी नेता केंद्रीय एजेंसी द्वारा जांच के बाद भी निडर होकर काम कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि खोतकर को इस राजनीति का शिकार नहीं होना चाहिए और कोई रास्ता निकालने के लिए ठाकरे से मिलना चाहिए। खैरे ने कहा, ‘‘ठाकरे ने हाल में खोतकर को पार्टी का उपनेता बनाया। उन्हें अपना काम जारी रखना चाहिए।’’

अपने जंगी जहाजों को स्टेल्थ तकनीक से लैस किया 

अपने जंगी जहाजों को स्टेल्थ तकनीक से लैस किया  

डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत       

तेहरान। ईरान के इस्लामिक रेवोल्यूशन गार्ड्स कॉर्प्स (आईआरजीसी) ने अपने जंगी जहाजों को स्टेल्थ तकनीक से लैस कर दिया है। रिपोर्ट में बताया, कि आईआरजीसी के नौसेना कमांडर अलीरेज़ा तांगसिरी ने दक्षिण ईरान के बंदरगाह शहर बंदर अब्बास में एक समारोह से इतर कहा कि आईआरजीसी अगले चरण में घरेलू रूप से उत्पादित पतवारों का उपयोग करना चाहता है।

उन्होंने कहा कि घरेलू स्तर पर विकसित प्रौद्योगिकियों, घरेलू उत्पादों और ईरानी विशेषज्ञों की इन पर आईआरजीसी नौसेना को गर्व है। उन्होंने कहा कि आईआरजीसी नौसेना एक व्यापक रणनीतिक नौसैनिक बल है। इसमें टैंक से लेकर फिक्स्ड-विंग एयरक्राफ्ट और ड्रोन तक अन्य सशस्त्र बलों की पहुंच वाले सभी उपकरण हैं और इस क्षेत्र में इसकी उपस्थिति ने दुश्मन में भय उत्पन्न कर दिया है।

सुपर बेस्ट सेलर किताब लिखने से मोटी रकम मिली 

सुपर बेस्ट सेलर किताब लिखने से मोटी रकम मिली 

अखिलेश पांडेय         

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पिछले दिनों एक सुपर बेस्ट सेलर किताब लिखी। जिससे उन्हें बहुत मोटी रकम मिली। इन दिनों वह पत्नी मिशेल ओबामा के साथ फिल्म और टीवी शो के लिए प्रोडक्शन कर रहे हैं। दोनों ने मिलकर हाईक्वालिटी प्रोडक्शन हाउस बनाया है। डोनाल्ड ट्रंप अपना लंबा चौड़ा कारोबार संभाल रहे हैं और दोबारा चुनाव लड़ने के अभियान में लगे हुए हैं। पद से हटने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति आमतौर पर काफी बिजी रहते हैं।

अमेरिका में जब कोई राष्ट्रपति रिटायर होता है तो उसे बहुत मोटी पेंशन मिलती है। साथ में आफिस और स्टाफ का खर्च। साथ में जीवनभर की सुरक्षा। रिटायरमेंट के बाद कई और लाभ भी वो हासिल करता है। मसलन उन्हें और उनकी पत्नी को खास हेल्थ इंश्योरेंस मिलती है, जिसमें हर तरह की बीमारी कवर होती है। जिमी कार्टर का आफिस अटलांटा में है। उनके आफिस का सालाना खर्च करीब 70 लाख रुपए है। जार्ज बुश ह्यूस्टन में रहते हैं। वहीं उन्होंने आफिस बना रखा है। इसका सालाना खर्च करीब डेढ़ करोड़ रुपए है। बिल क्लिंटन न्यूयार्क में रहते हैं।उन्हें अमेरिकी सरकार आफिस के लिए सालाना करीब साढ़े चार करोड़ रुपए का खर्च देती है।

गिरावट: 55,268.49 अंक पर बंद हुआ 'सेंसेक्स'  

गिरावट: 55,268.49 अंक पर बंद हुआ 'सेंसेक्स'  

कविता गर्ग         

मुंबई। शेयर बाजार में लगातार दूसरे दिन गिरावट रही और दोनों मानक सूचकांक, बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी मंगलवार को करीब एक प्रतिशत के नुकसान में रहे। वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख के बीच विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली के बीच बाजार नीचे आया। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 497.73 अंक यानी 0.89 प्रतिशत की गिरावट के साथ 55,268.49 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 562.79 अंक तक नीचे चला गया था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 147.15 अंक यानी 0.88 प्रतिशत की गिरावट के साथ 16,483.85 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में इन्फोसिस, एक्सिस बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, डॉ. रेड्डीज लैब, विप्रो, कोटक महिंद्रा बैंक और लार्सन एंड टुब्रो प्रमुख रूप से नुकसान में रहे। दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में बजाज फिनसर्व, भारती एयरटेल, पावरग्रिड और बजाज फाइनेंस लाभ में रहने वाले शेयरों में शामिल हैं। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक आज (मंगलवार) से शुरू हुई है। इसमें नीतिगत दर में 0.75 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान है।

इसके अलावा खासकर पश्चिमी बाजारों में मंदी की आशंका से बाजार धारणा पर असर पड़ा।’’ नायर ने कहा, ‘‘हालांकि, घरेलू बाजार में मजबूती दिख रही है, लेकिन पश्चिमी बाजारों की आर्थिक हालात का असर पड़ना तय है।’’ एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की मामूली गिरावट के साथ बंद हुआ, जबकि चीन का शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और हांगकांग का हैंगसग लाभ में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख था।अमेरिकी बाजार में सोमवार को मिला-जुला रुख था। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.38 प्रतिशत उछलकर 106.6 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया। शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को 844.78 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

मदद करने के लिए कंपनी से संपर्क कर रही हैं, सरकारें 

मदद करने के लिए कंपनी से संपर्क कर रही हैं, सरकारें 

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली। व्यापार समूह की सफलता को दुनिया भर में मान्यता मिलने को देखते हुए अदानी समूह के अध्यक्ष गौतम अदानी ने मंगलवार को कहा कि कई विदेशी सरकारें अब अपने भौगोलिक क्षेत्रों में काम करने और उनके अवसंरचना निर्माण में मदद करने के लिए कंपनी से संपर्क कर रही हैं। वार्षिक आम बैठक (एजीएम) 2022 में शेयरधारकों को संबोधित करते हुए अदानी ने कहा,“ इस वर्ष हमारे समूह का बाजार पूंजीकरण 200 अरब डॉलर से अधिक हो गया है।उन्होंने कहा, ”हम अंतरराष्ट्रीय बाजारों से अरबों डॉलर जुटाने में सक्षम थे। यह भारत और अदानी के विकास की कहानी में खुद पर भरोसे का एक प्रत्यक्ष सत्यापन है।” अदानी ने कहा कि समूह के पास एक प्रमुख ग्लोबल नवीकरणीय ऊर्जा पोर्टफोलियो है और बीते 12 महीनों में कई अन्य उद्योगों में भी आवश्यक प्रगति की गयी है। उन्होंने कहा,”एक झटके में हम देश के सबसे बड़े हवाईअड्डा संचालक बन गए हैं। हमारे द्वारा संचालित किये जा रहे हवाईअड्डों के आसपास हम एरोट्रोपोलिस विकसित करने और स्थानीय समुदाय आधारित आर्थिक केंद्र बनाने से जुड़े व्यवसायों में लगे हुए हैं।

” उन्होंने कहा,”अदानी विल्मर का हमारा सफल सार्वजनिक शेयर निर्गम (आईपीओ) हमें देश की सबसे बड़ी रोजमर्रा का समान बनाने वाली एफएमसीजी कंपनी बनाता है और देश में होल्सिम की संपत्ति के अधिग्रहण के बाद जिसमें देशभर में दो सबसे अधिक मान्यता प्राप्त ब्रांड एसीसी और अंबुजा सीमेंट्स शामिल हैं, अब हम भारत में दूसरे सबसे बड़े सीमेंट निर्माता बन गए हैं।” उन्होंने कहा,”यह कार्यस्थल पर हमारे समीपता-आधारित व्यापार मॉडल का एक उपयोगी उदाहरण है।

इसके अलावा हमने डेटा सेंटर, डिजिटल सुपर ऐप और इंडस्ट्रियल क्लाउड से लेकर रक्षा और एयरोस्पेस, धातु और उत्पाद क्षेत्रों में भी प्रवेश किया और यह सभी सरकार के आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण के अनुरूप हैं।” उन्होंने कहा कि अदानी परिवार ने एक साथ आकर 60,000 करोड़ रुपये का योगदान देने का फैसला किया है। जिसमें ग्रामीण भारत पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित करते हुए स्वास्थ्य सेवा, शिक्षा और कौशल विकास से संबंधित धर्मार्थ गतिविधियों पर खर्च किया जाएगा।

किसी भी राजनीतिक दल में शामिल नहीं होंगे, सिन्हा 

किसी भी राजनीतिक दल में शामिल नहीं होंगे, सिन्हा 

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। देश के सर्वोच्च पद राष्ट्रपति के चुनाव के लिए विपक्षी दलों की ओर से बनाए गए उम्मीदवार पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा को सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। आगे के राजनीतिक सफर को लेकर उन्होंने आज एक बयान जारी किया, जिसमें उन्होंने कहा कि वह फ़िलहाल किसी भी राजनीतिक दल में शामिल नहीं होंगे। सिन्हा ने राष्ट्रपति पद के चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था।

यशवंत सिन्हा (84) ने कहा कि उन्होंने अभी यह फैसला नहीं किया है कि वह अब सार्वजनिक जीवन में क्या भूमिका निभाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मैं निर्दलीय रहूंगा और किसी अन्य दल में शामिल नहीं होऊंगा। यह पूछे जाने पर कि क्या वह तृणमूल के नेतृत्व के संपर्क में हैं, सिन्हा ने ‘‘नहीं” में जवाब दिया। उन्होंने कहा कि किसी ने मुझसे बात नहीं की और मैंने भी किसी से बात नहीं की। बहरहाल, उन्होंने कहा कि वह निजी आधार पर एक तृणमूल नेता के संपर्क में हैं।

पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि मुझे देखना होगा कि मैं क्या भूमिका निभाऊंगा, मैं कितना सक्रिय रहूंगा। मैं अब 84 साल का हूं, तो ये भी एक समस्या हैं। मुझे देखना होगा कि मैं कितने लंबे समय तक काम कर सकता हूं। भाजपा के धुर आलोचक सिन्हा पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले मार्च 2021 में तृणमूल में शामिल हो गए थे। वह 2018 में भाजपा से अलग हो गए थे।

अदम्य साहस का प्रदर्शन, वीर सपूतों को नमन किया 

अदम्य साहस का प्रदर्शन, वीर सपूतों को नमन किया 

अकांशु उपाध्याय        

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को करगिल विजय दिवस के मौके पर मातृभूमि की रक्षा में अदम्य साहस का प्रदर्शन करने वाले देश के वीर सपूतों को नमन किया। भारतीय सेना ने लद्दाख में करगिल के ऊंचे पतर्वतीय इलाकों में करीब तीन महीने तक चले युद्ध के बाद जीत की घोषणा करते हुए 26 जुलाई 1999 को ‘ऑपरेशन विजय’ की सफलता का ऐलान किया था।

पाकिस्तान पर भारत की जीत को याद करने लिए 26 जुलाई को ‘करगिल विजय दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘करगिल विजय दिवस मां भारती की आन-बान और शान का प्रतीक है। इस अवसर पर मातृभूमि की रक्षा में पराक्रम की पराकाष्ठा करने वाले देश के सभी साहसी सपूतों को मेरा शत-शत नमन। जय हिंद!’’

मनी लॉन्ड्रिंग जांच के मामलें में ईडी दफ्तर पहुंची, गांधी

मनी लॉन्ड्रिंग जांच के मामलें में ईडी दफ्तर पहुंची, गांधी 

अकांशु उपाध्याय     

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी नेशनल हेराल्ड अखबार से जुड़ी मनी लॉन्ड्रिंग जांच के मामलें में ईडी दफ्तर पहुंच गई हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी ईडी कार्यालय पहुंचे। पिछली पूछताछ में सोनिया के ईडी ने करीब ढाई घंटे तक पूछताछ की थी। इस दौरान प्रियंका गांधी भी उनके साथ मौजूद रही थीं। इधर, कांग्रेस ने सोनिया से पूछताछ को लेकर देशभर में प्रदर्शन का ऐलान किया है। नेशनल हेराल्ड केस से जुड़े कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी के सामने पेशी से पहले कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के दिल्ली स्थित आवास ’10 जनपथ’ व कांग्रेस मुख्यालय के बाहर भारी पुलिसबल तैनात किया गया। दरअसल, कांग्रेस ने इस समन के खिलाफ ‘सत्याग्रह’ करने की घोषणा की थी। सोनिया 21-जुलाई को भी ईडी के सामने पेश हुई थीं।

नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की ED से पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस की महिला कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस मुख्यालय में प्लेकार्ड और काले बैलून लेकर विरोध प्रदर्शन किया।कांग्रेस ने अपने शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ ईडी की कार्रवाई की निंदा की है और इसे राजनीतिक प्रतिशोध करार दिया है। इस कार्रवाई के विरोध में कांग्रेस पार्टी संसद के भीतर और बाहर प्रदर्शन करेगी। दिल्ली स्थि पार्टी मुख्यालय में सोमवार शाम कांग्रेस महासचिवों, पार्टी के प्रदेश प्रभारियों और सांसदों की बैठक हुई, जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा की गई।

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस राजघाट पर ‘सत्याग्रह’ करना चाहती थी, लेकिन दिल्ली पुलिस से अनुमति नहीं मिली तथा वहां धारा 144 लगा दी गई। उन्होंने कहा, ‘मोदी सरकार हमें नहीं झुका सकती।’ कांग्रेस मुख्यालय पर भी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता सोनिया गांधी के प्रति एकजुटता प्रकट करते हुए प्रदर्शन करेंगे। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आज कांग्रेस का राजघाट पर धरना प्रदर्शन था… बीजेपी के लोग होते तो वे आगजनी करते, हम तो शांतिपूर्ण विरोध कर रहे हैं। आज अगर वहां प्रदर्शन होता तो ट्रैफिक में कोई बाधा नहीं आती। हमारी पार्टी मुख्यालय के अंदर इंट्री बंद है। देश का हर नागरिक डरा हुआ है। बार-बार सोनिया जी को बुलाना… क्या पूछताछ करते हैं? इन्हें क्यों टारगेट बना रहे हैं।

बीजेपी ने सोनिया गांधी को घेरा...
बीजेपी नेता संबित पात्रा ने सोनिया गांधी से ईडी की पूछताछ को लेकर कांग्रेस के बवाल पर निशाना साधा है। पात्रा ने कहा कि क्या सोनिया गांधी से पूछताछ नहीं होनी चाहिए? सत्याग्रह के नाम पर हर जगह ट्रैफिक रोकने का प्रयास किया जा रहा है। विरोध की जरूरत नहीं है बल्कि कन्फेशन की जरूरत है। ये 5 हजार करोड़ का गबन है। अभी स्वीकर करने की जरूत है कि किस प्रकार से इसका पूरा का पूरा षडयंत्र रचा गया था। यंग इंडिया कंपनी के माध्यम से कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया और राहुल गांधी ने यंग कपनी बनाकर इसका गबन किया।

मराक की गिरफ्तारी के लिए गैर-जमानती वॉरेंट जारी

मराक की गिरफ्तारी के लिए गैर-जमानती वॉरेंट जारी


विमलेश यादव   

शिलोंग। वेस्ट गारो हिल्स (मेघालय) के एसपी विवेकानंद सिंह के अनुसार, अपने फार्म हाउस में कथित तौर पर वेश्यालय चलाने के आरोपी भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष बर्नार्ड एन. मराक की गिरफ्तारी के लिए गैर-जमानती वॉरेंट जारी किया गया है। बकौल पुलिस, फार्म हाउस से 6 नाबालिगों को बचाने व 73 लोगों को गिरफ्तार किए जाने के बाद से मराक फरार हैं। पश्चिम गारो हिल्स के पुलिस अधीक्षक विवेकानंद सिंह ने कहा, बर्नार्ड एन मराक उर्फ रिम्पु के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। तुरा में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत द्वारा जारी यह एक ‘स्टैंडिंग वारंट’ है।


मेघालय के तुरा शहर में वेश्यालय चलाने के आरोपी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता बर्नार्ड एन मराक का बचाव करते हुए पार्टी ने दावा किया कि उन्हें फंसाया गया है और उनके खिलाफ आरोप हटा दिए जाने चाहिए। हालांकि, विपक्षी दल कांग्रेस ने मामले की स्वतंत्र जांच की मांग की है।पुलिस ने कहा था कि उसने तुरा के बाहरी इलाके में स्थित ईडनबारी में मराक के स्वामित्व वाले एक फार्महाउस से छह नाबालिगों को मुक्त कराया और 73 लोगों को गिरफ्तार किया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अर्नेस्ट मावरी ने एक बयान में कहा कि मराक की जान को खतरा है। मावरी ने कहा, भाजपा ईडनबारी में की गई छापेमारी की निंदा करती है। बर्नार्ड मराक को फंसाया गया और बदनाम किया गया। ऐसा प्रतीत होता है कि वह राजनीतिक प्रतिशोध के शिकार हुए हैं। मैं सरकार से मराक की रक्षा करने और उनके खिलाफ राजनीति से प्रेरित आरोपों को वापस लेने का अनुरोध करता हूं।


भाजपा, राज्य में नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के नेतृत्व वाले सत्तारूढ़ मेघालय डेमोक्रेटिक एलायंस (एमडीए) गठबंधन का हिस्सा है, लेकिन उसने स्वायत्त जिला परिषद चुनाव स्वतंत्र रूप से लड़ा था। पूर्व उग्रवादी नेता मराक मुख्यमंत्री द्वारा वर्ष के शुरू में हुए चुनावों में उतारे गए उम्मीदवार के खिलाफ आराम से जीत गए। भाजपा अध्यक्ष ने स्पष्ट किया कि ईडनबारी में तीन मंजिला इमारत की पहली मंजिल पर 30 कमरे हैं, जिन्हें ‘होमस्टे’ के रूप में किराए पर दिया गया है और दूसरी मंजिल पर गारो हिल्स के वंचित बच्चों के लिए एक छात्रावास है। मावरी ने दावा किया कि बर्नार्ड आर्थिक रूप से उन बच्चों की मदद कर रहे थे।मावरी ने कहा, बनार्ड छह बच्चों में से पांच बच्चों की मदद करते रहे हैं, जिन्हें पुलिस ने मुक्त कराए जाने का दावा किया है। वे तुरा में ईडनबारी स्कूल और ऑक्सिलियम कॉन्वेंट स्कूल के विद्यार्थीं हैं। पुलिस ने छात्रावास की देखरेख करने वाले व्यक्ति की पत्नी और बच्चे को भी इमारत परिसर में फास्ट फूड की दुकान चलाने वाले एक अन्य जोड़े के साथ हिरासत में ले लिया। प्रदेश भाजपा प्रमुख ने कहा कि रिसॉर्ट को वेश्यालय घोषित करना अत्यंत आपत्तिजनक और अस्वीकार्य है। उन्होंने कहा, रिसॉर्ट पिछले तीन वर्षों से चल रहा है और कभी कोई शिकायत नहीं हुई।

बिहार: एक बार फिर वायरस से संक्रमित हुए, सीएम 

बिहार: एक बार फिर वायरस से संक्रमित हुए, सीएम 

अविनाश श्रीवास्तव    

पटना। देश के कई राज्यों में कोरोना के मामलों में एक बार फिर तेजी आई है। देश में रोजाना करीब 20 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं। इन सबके बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक बार फिर कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं। नीतीश कुमार को पिछले चार दिन से बुखार था, जिसके बाद डॉक्टरों की सलाह पर उनका कोरोना वायरस का टेस्ट कराया गया।

मंगलवार सुबह नीतीश कुमार की रिपोर्ट आई, जिसमें उन्हें कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। फिलहाल नीतीश कुमार की हालत स्थिर बताई जा रही है।

6 अधिकारियों को निलंबित करने का आदेश दिया 

6 अधिकारियों को निलंबित करने का आदेश दिया 

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। उपराज्यपाल वी के सक्सेना ने दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के छ: अधिकारियों को भ्रष्टाचार और आधिकारिक पद का दुरुपयोग करने के आरोप में निलंबित करने का आदेश दिया है। उपराज्यपाल कार्यालय के सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सक्सेना ने करोल बाग में अनधिकृत निर्माण को कथित रूप से नियमित करने के मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को एक उप-पंजीयक के खिलाफ मुकदमा चलाने की भी अनुमति दी।

एक सूत्र ने कहा, ‘‘एमसीडी आयुक्त ने घोर लापरवाही बरतरने, आधिकारिक पद का दुरुपयोग करने और अनुचित लाभ लेने के मामले में उपराज्यपाल के निर्देश पर छह अधिकारियों को निलंबित कर दिया है।’’ सूत्रों के मुताबिक, एमसीडी, दिल्ली सरकार और दिल्ली विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायतों पर गुण-दोष के आधार पर फैसला किया जा रहा है।

अवसर: असिस्टेंट रजिस्ट्रार के पदों पर भर्ती निकाली

मनोज सिंह ठाकुर  

भोपाल। जो युवा मध्य प्रदेश में नौकरी की तलाश में हैं ये उनके लिए शानदार मौका हो सकता है। दरअसल, मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा हायर एजुकेशन डिपार्टमेंट में असिस्टेंट रजिस्ट्रार के पदों पर भर्ती निकाली हैं। जिसके लिए उसने अधिसूचना जारी की है। बता दें इस भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया 6 अगस्त से शुरू होगी। उम्मीदवार को आवेदन करने के लिए ऑफिशियल साइट mppsc.mp.gov.in की मदद लेनी होगी। इन पदों के लिए उम्मीदवार 25 अगस्त तक आवेदन कर सकेंगे।

शैक्षणिक योग्यता...
इस भर्ती के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर होना जरूरी है। साथ ही उम्मीदवार के परीक्षा में 55 प्रतिशत अंक होने आवश्यक  है।

उम्र सीमा...
अधिसूचना के अनुसार इस भर्ती के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की आयु 21 साल से 40 साल के मध्य होनी चाहिए।

चयन प्रक्रिया...
इस भर्ती अभियान के तहत हो रही भर्ती के लिए उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के जरिए किया जाएगा।

ऐसे करें आवेदन...

  • इन पदों के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट mppsc.mp.gov.in पर जाएं।
  • अब उम्मीदवार होमपेज पर दिए गए Apply Online के पर क्लिक करें।
  • इसके बाद वह संबंधित पद के लिए आवेदन की प्रक्रिया को शुरू करें।
  • अब उम्मीदवार आवश्यक विवरण दर्ज करें और दस्तावेज को अपलोड करें।
  • इसके बाद उम्मीदवार आवेदन शुल्क का भुगतान करें और फॉर्म सबमिट करें।
  • अंत में उम्मीदवार फॉर्म को डाउनलोड कर उसकी हार्ड कॉपी अपने पास रखें।

अलगाववादी नेता मलिक को तरल पदार्थ दिए जा रहे हैं

अलगाववादी नेता मलिक को तरल पदार्थ दिए जा रहे हैं

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल में पिछले पांच दिन से भूख हड़ताल कर रहे कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को ड्रिप (नलियों) के जरिए तरल पदार्थ दिए जा रहे हैं। मलिक ने रुबैया सईद के अपहरण से जुड़े मामले में जम्मू की अदालत में व्यक्तिगत रूप से पेश होने का अनुरोध किया था, लेकिन केंद्र सरकार से इस पर कोई जवाब नहीं मिलने पर उसने भूख हड़ताल शुरू कर दी। मलिक इस मामले में आरोपी है। प्रतिबंधित जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के प्रमुख मलिक (56) ने शुक्रवार को सुबह भूख हड़ताल शुरू की थी।

एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया, कड़ी सुरक्षा के बीच कारागार संख्या सात में एक अलग कोठरी में रखा गया मलिक शुक्रवार की सुबह से कुछ नहीं खा रहा है। वह अब भी भूख हड़ताल पर है और चिकित्सक उसके स्वास्थ्य पर लगातार नजर रख रहे हैं। उसे रविवार से ड्रिप के जरिए तरल पदार्थ दिए जा रहे हैं। तत्कालीन केंद्रीय गृह मंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी रुबैया सईद के आठ दिसंबर, 1989 को हुए अपहरण से जुड़े मामले में मलिक आरोपी है।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के विशेष न्यायाधीश के सामने पेश हुए मलिक ने कहा था कि वह रुबैया सईद के अपहरण से जुड़े मामले में जम्मू की अदालत में व्यक्तिगत रूप से पेश होना चाहता है। मलिक ने कहा था कि 22 जुलाई तक अगर सरकार ने इस संबंध में अनुमति नहीं दी, तो वह भूख हड़ताल शुरू करेगा। मलिक को इस साल मई में दिल्ली की एक अदालत ने आतंकवाद का वित्तपोषण करने के मामले में दोषी ठहराया था। मलिक को विभिन्न अवधि की कारावास की सजा सुनाई गई थी और सभी सजाएं एक साथ चल रही हैं।राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) द्वारा 2017 में दर्ज आतंकवाद के वित्तपोषण के मामले में मलिक को 2019 की शुरुआत में गिरफ्तार किया गया था। एनआईए की विशेष अदालत ने गत मई में उसे सजा सुनाई थी। रुबैया सईद का कथित तौर पर जेकेएलएफ के आतंकवादियों द्वारा अपहरण किया गया था। रुबैया को पांच दिन बाद 13 दिसंबर को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया गया, लेकिन इसके बदले भाजपा द्वारा समर्थित तत्कालीन वीपी सिंह सरकार को जेकेएलएफ के पांच आतंकवादियों को रिहा करना पड़ा था।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-291, (वर्ष-05)

2. बुधवार, जुलाई 27, 2022

3.शक-1944, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि-चतुर्दशी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः05:20, सूर्यास्त: 07:15। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 26 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक कासहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालयहोगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीरसिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.inemail:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवलव्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...