बुधवार, 6 जुलाई 2022

संयुक्त तत्वाधान में 'विशाल स्वास्थ्य शिविर' का आयोजन

संयुक्त तत्वाधान में 'विशाल स्वास्थ्य शिविर' का आयोजन 

दुष्यंत टीकम 
रायपुर। भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी आपदा प्रबंधन एवं सहायता और शंकर नगर मंडल के संयुक्त तत्वाधान में 'विशाल स्वास्थ्य शिविर' का आयोजन किया गया। शिविर का उद्घाटन भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और महामंत्री संघठन पवन साय ने किया। सुबह 10 बजे से स्वास्थ्य शिविर में भीड़ उमड़ने लगी। शिविर में आंखों की निःशुल्क जांच उपरांत उन्हें निःशुल्क चश्मे का वितरण किया गया। शिविर के समापन तक 536 लोगो को मुफ्त चश्मा प्रदान किया गया। साथ ही आंखों की जांच उपरांत जिनकी आखों में मोतियाबिंद की रिपोर्ट आई उनका रजिस्ट्रेशन कर उनका मुफ्त में मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया जाएगा। 
स्वास्थ्य शिविर में चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. कर्तव्य कावड़िया और स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. पारुल जैन ने भी अपनी सेवाएं दी। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव ने शिविर का उद्घाटन करते हुए कहा, कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जीवन त्याग तपस्या का था। देश की एकता अखंडता के लिए उन्होंने अपना बलिदान दिया। भाजपा के कार्यकर्ता आज उनके दिखाए मार्ग पर चलते हुए सिर्फ राजनीतिक क्षेत्र ही नही, बल्कि सामाजिक क्षेत्र में भी अपनी भूमिका अदा कर रहे है। जिसका प्रत्यक्ष उदहारण यह जांच शिविर है। स्वास्थ्य शिविर में भारतीय जनता पार्टी जिले के अध्यक्ष श्रीचन्द सुंदरानी, भाजपा आपदा प्रबंधन एवं सहायता के प्रदेश संयोजक लोकेश कावड़िया, जयंती पटेल, प्रफुल, विश्वकर्मा, अमरजीत सिंह, किशोर महानन्द, अंजय शुक्ला, शंकर, नगर मंडल अध्यक्ष अनूप खेलकर, मिली बनर्जी सहित वरिष्ठ पदाधिकारी गण और स्वास्थ्य विभाग की डॉक्टरों की टीम उपस्थित थी।

भाजपा पर लोगों को भड़काने का आरोप: सीएम

भाजपा पर लोगों को भड़काने का आरोप: सीएम

नरेश राघानी

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर लोगों को भड़काने का आरोप लगाते हुए कहा है कि हमने इनकी योजना को विफल कर दिया हैं और जनता सब समझ गई हैं। श्री गहलोत ने पूर्वी राजस्थान नहर योजना (ईआरसीपी) को लेकर आयोजित कांग्रेस सम्मेलन में आज यहां यह बात कही। उन्होंने कन्हैयालाल हत्याकांड मामले में भाजपा को कोसते हुए कहा कि इतनी गंभीर घटना हो गई और भाजपा के नेता हैदराबाद चले गए। अब सात दिन बाद उदयपुर कन्हैयाला के घर जा रहे हैं। जबकि मैं घटना के दिन जोधपुर के सभी कार्यक्रम छोड़कर जयपुर आया और भाजपा नेता गुलाबचंद कटारिया से बात की कि इस घटना पर सर्वदलीय बैठक बुलाई है। कटारिया ने बताया कि वह हैदराबाद जा रहे है।

उन्होंने कहा कि इसके बाद मैं खुद उदयपुर जाकर कन्हैयालाल के परिवार से मिला। सात दिन बाद आप कन्हैयालाल के घर जाते हो, यह गंभीर घटना थी और इसमें दोनों मुख्य आरोपियों को तुरंत पकड़ लिया गया और कार्रवाई की गई तथा कोई कमी नहीं रखी गई, लेकिन लोगों को भड़का रहे हो और जगह जगह आंदोलन करा रहे हो, हमने आपकी योजना को विफल कर दिया और आप कुछ नहीं कर पाये, राजस्थान की जनता सब समझ गई। मुख्यमंत्री ने दोहराते हुए कहा “देश में गंभीर हालात हैं और प्रधानमंत्री से मांग कर रहे है कि आप अपील कर दीजिये शांति की देश के अंदर, आज मुख्यमंत्री अपील करता तो असर पड़ता हैं तो प्रधानमंत्री अपील करे उसका असर नहीं पड़ेगा क्या ? शांति एवं भाईचारे से रहो, हिंसा को बर्दाश्त नहीं करुंगा कि अपील करनी है। लेकिन, प्रधानमंत्री एक शब्द नहीं बोल रहे हैं।

कम से कम हैदराबाद में बोल देते, अपनी कार्यकारिणी में प्रस्ताव पास कर देते। प्रधानमंत्री को शांति की अपील करने में तकलीफ क्या है ?” उन्होंने कहा कि कितने पत्रकारों एवं लेखकों को जेल में डाल रहे है, एक मजाक बना रखी है। ईडी एवं सीबीआई की धमकियां मिल रही है। मध्यप्रदेश फिर राजस्थान फिर महाराष्ट्र में अब पता नहीं अगली किसकी बारी हैं ? यह तो इनका लोकतंत्र है, ये लोकतंत्र के हत्यारे हैं। संविधान की धज्जियां उडा रहे हैं।

फ्लैट दिलाने के नाम पर 25 लाख की ठगी, जांच शुरू

फ्लैट दिलाने के नाम पर 25 लाख की ठगी, जांच शुरू 

सत्येंद्र पंवार 

मेरठ। शताब्दीनगर में फ्लैट दिलाने के नाम पर 25 लाख की ठगी का मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है। ब्रह्मपुरी निवासी पिंकी के मुताबिक उनके क्षेत्र में वकील अहमद निवासी जाकिर कालोनी, यूसुफ निवासी मकबरा डिग्गी, दानिश व सिमरन प्रधानमंत्री आवासीय योजना को लेकर शताब्दीनगर में फ्लैट दिलाने की बात कहते हुए सर्वे कर रहे थे। पिंकी समेत 15 से 20 लोग उनके झांसे में आ गए।

उन्होंने सभी को ईदगाह स्थित आफिस पर भेज दिया। महिला ने बताया कि आरोपितों ने शताब्दीनगर स्थित निर्माणाधीन बिल्डिंग दिखाकर 80 हजार रुपये जमा करा लिए और प्रतिमाह की किश्त बांध दी। सभी ने समय पर किश्त जमा कर दी और सर्वे टीम से संपर्क किया, लेकिन सर्वे टीम के आफिस पर ताला लटका मिला। इसे देखकर उनके होश उड़ गए। आस-पास के क्षेत्र में उनकी तलाश भी की गई, लेकिन पता नहीं चला। शिकायत सुन रहे सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने बताया कि एएसपी ब्रह्मपुरी विवेक चंद्र यादव को जांच दी है।

चालक दल के 22 सदस्यों को सुरक्षित निकाला

चालक दल के 22 सदस्यों को सुरक्षित निकाला

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। भारतीय तटरक्षक बल ने बुधवार को अरब सागर में बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया है। तटरक्षक बल ने चालक दल के सभी 22 सदस्यों को सुरक्षित निकाल लिया है। ये पोत बाढ़ की वजह से समुद्र में फंस गया था। सूचना मिलने पर भारतीय तटरक्षक बल ने मोर्चा संभाला और सफल बचाव अभियान चलाया। आईसीजी के अधिकारी ने बताया कि भारतीय तटरक्षक बल ने गुजरात में पोरबंदर तट के पास अरब सागर में बचाव अभियान चलाया है। जहाज पर अनियंत्रित बाढ़ के कारण एमटी ग्लोबल किंग से संकट की चेतावनी मिली थी।
हेलीकॉप्टर के जरिए तेजी से बचाव अभियान चलाया और चालक दल के सभी 22 सदस्यों को बचा लिया गया। पोरबंदर से 93 एनएम तक जहाज और एएलएच को समुद्र में छोड़ा गया। सभी चालक दल सुरक्षित और स्वस्थ हैं। आईसीजी का कहना है कि आईसीजी ने बचाव कार्यों के लिए नए कमीशन किए गए एएलएच ध्रुव हेलिकॉप्टरों को तैनात किया है।

भारत: विशेषज्ञों ने पहली कोरोना टैबलेट विकसित की

भारत: विशेषज्ञों ने पहली कोरोना टैबलेट विकसित की

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली/कसौली। कोरोना महामारी ने अब तक करोड़ों लोगों की जान ले ली है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच विशेषज्ञों ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए देश में पहली कोरोना टैबलेट विकसित कर ली है। कोरोना टैबलेट सीडीएल पहले चरण के परीक्षण में खरी उतरी है। सेंट्रल ड्रग्स लैब (सीडीएल) कसौली ने परीक्षण में टैबलेट की गुणवत्ता और क्षमता को जांचा। इसमें वीएक्सए-जीओवी 2 एंटरिक कोटेड टैबलेट ने पहले चरण को सफलतापूर्वक पार कर लिया है।
अब इसके क्लीनिकल ट्रायल शुरू होंगे। इस टैबलेट को बेंगलुरु की सिनजिन कंपनी ने अमेरिका से आयात किया है। कंपनी ने इस साल के अंत तक दवा को बाजार में उतारने का दावा किया है। बताया जा रहा है यदि सभी ट्रायल सफल हुए तो यह टैबलेट खाते ही कोरोना रोगी पर असर दिखना शुरू हो जाएगा और वह कुछ दिनों में स्वस्थ हो जाएगा।

फिल्म ‘काली’ के पोस्टर पर गृहमंत्री ने जताई नाराजगी

फिल्म ‘काली’ के पोस्टर पर गृहमंत्री ने जताई नाराजगी

मनोज सिंह ठाकुर
भोपाल। विवादित डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ के पोस्टर पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा है कि इस पोस्टर में हमारी काली माता को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। मैं निर्देशक से पूछना चाहता हूं कि आखिर वह हमारे देवी-देवताओं पर ही फिल्म क्यों बनाती हैं ?
उनमें हिम्मत है तो किसी और धर्म के देवी-देवता पर फिल्म बनाकर दिखाएं। गृह मंत्री ने कहा कि मैं इस पर एफआईआर कराने के लिए कहूंगा और प्रदेश में यह फिल्म प्रतिबंधित कैसे हो, इस पर विचार किया जाएगा। अगर फिल्म के पोस्टर तत्काल नहीं हटाए गए तो हम दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे। बता दें कि डॉक्यूमेंट्री फिल्म काली का पोस्टर हाल ही में रिलीज किया गया है। यह फिल्म लीना मणिमेकलाई ने बनाई है। फिल्म के पोस्टर में हिंदू देवी मां काली के एक किरदार को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। सारा विवाद इसी पोस्टर को लेकर है।
इस फिल्म को लेकर केवल मध्य प्रदेश ही नहीं बल्कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में भी बवाल मचा है। मध्य प्रदेश सरकार ने स्पष्ट चेतावनी दे दी है कि अगर फिल्म के पोस्टर वापस नहीं लिए गए तो फिल्म के निर्देशक और निर्माताओं के खिलाफ कानूनी एक्शन लिया जा सकता है।

कैबिनेट की बैठक आज, ट्रांसफर पर बैन हटाने की मांग

कैबिनेट की बैठक आज, ट्रांसफर पर बैन हटाने की मांग 

दुष्यंत टीकम 
रायपुर। छत्तीसगढ़ के कैबिनेट की बैठक कल होगी। उम्मीद जताई जा रही है कि बैठक में कर्मचारियों के ट्रांसफर पर बैन हटाने को लेकर फैसला हो सकता है। गौरतलब है कि राज्य में सरकारी विभागों में ट्रांसफर पिछले दो साल से नहीं हो पाया है। इसलिए कर्मचारी ट्रांसफर पर बैन हटाने की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा मानसून सत्र की तैयारी और अनुपूरक बजट को लेकर कल की बैठक में चर्चा हो सकती है। अल्प बारिश से खेती प्रभावित हो रही है, लिहाजा कल इस पर भी सरकार कोई बड़ा बड़ा फैसला सकती है।विधानसभा के मानसून सत्र से पहले कैबिनेट की बैठक में मुख्य रूप से अनुपूरक बजट, संशोधन विधेयक आदि पर चर्चा हो सकती है। खेती किसानी के सीजन में खाद बीज की उपलब्धता पर बात होगी।
छत्तीसगढ़ के कर्मचारी अधिकारी महंगाई भत्ते को लेकर आंदोलित हैं। इस महीने हफ्तेभर हड़ताल करने की तैयारी है। संभव है कि सरकार कर्मचारियों के हित में महंगाई भत्ते का फैसला कर सकती है। इसी तरह कर्मचारियों को संतुष्ट करने के लिए ट्रांसफर पर बैन भी हटा सकती है। चर्चा है कि मंत्री विधायक और कार्यकर्ताओं का भी ट्रांसफर से बैन हटाने को लेकर दबाव है।

हत्याकांड: पूर्व सभासद के बेटे नाजिम को जेल भेजा

हत्याकांड: पूर्व सभासद के बेटे नाजिम को जेल भेजा 

संदीप मिश्र 
बरेली। सनी हत्याकांड में आखिरकार पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। बता दें, कि कैंट पुलिस ने बुधवार को पूर्व सभासद अब्दुल हामिद के बेटे नाजिम को जेल भेज दिया है। पूछताछ में हत्यारोपी ने खुद को बेकसूर बताया था। लेकिन वह घटना में शामिल नहीं था। इसको लेकर कोई पुलिस को कोई सबूत नहीं दे सका। बता दें, कि सनी हत्याकांड में चारों नामजद समेत पांच आरोपियों को पुलिस जेल भेज चुकी है।
बता दें कि बीती 26 जून को चनेहटा के रहने वाले सनी का जन्मदिन था। इस दौरान उसने घर में एक पार्टी का आयोजन किया गया था। उसने सदर बाजार के मशाल चिकन कॉर्नर पर पैसे देकर 150 रोटी का ऑर्डर दिया था। इस दौरान वह 40 रोटी लेकर चला गया था। वहीं बची हुई रोटी होटल मालिक जीशान ने बाद में देने की बात कही थी। इसके बाद करीब रात दस बजे सनी अपने रिश्ते के भाई बब्लू के साथ होटल पर रोटी लेने गया, जहां रोटी न मिलने पर दोनों के बीच विवाद हो गया।
इस दौरान आरोपियों ने सनी की पीट-पीटकर हत्या कर दी। सनी के सिर पर लोहे की रॉड से कई वार किए, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि उसके भाई बब्लू के हाथ में फैक्चर हुआ था। वहीं इस मामले में पूर्व सैनिक सनी के पिता जोगराज ने होटल मालिक जीशान, उसके भाई अब्दुल मुजीब और पिता अब्दुल वाहिद के साथ ही पूर्व सभासद अब्दुल हामिद के बेटे नाजिम समेत तीन अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी।
बता दें इस मामले में पुलिस ने जीशान, मुजीब, अब्दुल वाहिद और जाबर को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। जबकि नाजिम घटना के बाद से ही फरार चल रहा था। पुलिस उसे जयपुर में तलाश कर रही थी। इसी बीच उसने सोमवार की रात थाने में सरेंडर कर दिया था। वहीं नाजिम से पूछताछ के पास पुलिस ने आज उसे जेल भेज दिया।
घटना में अन्य की तलाश...
सनी हत्याकांड में चार नामजद के साथ ही तीन अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। हत्याकांड के पांच आरोपियों को पुलिस जेल भेज चुकी है। जबकि दो अज्ञात के खिलाफ विवेचना अब भी जारी है। पुलिस सूत्रों की माने तो पुलिस जल्द ही अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर जेल भेजेगी।
नाजिम से पूछताछ के बाद आज उसे जेल भेज दिया गया। पूछताछ में नाजिम ने खुद को बेकसूर बताया था। लेकिन वह ऐसा कोई सबूत नहीं दे सका।

आत्मसमर्पण: सुरक्षाबलों के प्रयासों की सराहना की

आत्मसमर्पण: सुरक्षाबलों के प्रयासों की सराहना की

इकबाल अंसारी
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को कुलगाम में दो आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने के लिए मनाने पर सुरक्षाबलों के प्रयासों की सराहना की। सुश्री मुफ्ती ने आतंकवादियों के परिजनों की भी तारीफ की। जिन्होंने आत्मसमर्पण में सहयोग देकर अप्रिय घटना से बचा लिया। तलाशी अभियान में मुठभेड़ के दौरान दो स्थानीय आतंकवादियों ने पुलिस और अपने अभिभावकों की अपील पर आत्मसमर्पण करने के लिए मान गए। पुलिस प्रवक्ता ने ट्वीट किया, “मुठभेड़ के दौरान दो स्थानीय आंतकवादी पुलिस और अपने अभिभावकों की अपील पर आत्मसमर्पण के लिएमान गए। पुलिस ने उनके पास हथियार, गोलाबारुद और आपत्तिजनक सामग्री बरामद किए हैं।
मुफ्ती ने भी ट्वीट किया, “सुरक्षाबलों को आतंकवादियों के परिजनों से सहयोग मिलने और आत्मसमर्पण के लिए राजी करने पर दो जिदंगी बचाने के लिए धन्यवाद। इस तरह के प्रयास जारी रहने चाहिए ताकि आतंकवाद में शामिल होने वाले युवाओं को अपना जीवन जीने का दूसरा मौका दिया जा सके।

7 जुलाई को गुरप्रीत से शादी करेंगे, सीएम मान

7 जुलाई को गुरप्रीत से शादी करेंगे, सीएम मान 

अमित शर्मा 
चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान शादी करने जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि भगवंत मान के एक करीबी परिवार में ही यह शादी होने जा रही है। भगवंत मान का अपनी पत्नी से तलाक हो चुका है। उनके दो बच्चे हैं, जो भगवंत मान की पहली पत्नी के साथ अमेरिका में रहते हैं। चंडीगढ़ में आयोजन की तैयारी की गई है। बताया जा रहा है कि इस शादी में बहुत ही खास लोग शामिल होंगे। भगवंत मान जिनसे शादी कर रहे हैं, उनका नाम डॉ. गुरप्रीत कौर है। भगवंत मान की शादी की तैयारियां मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास में किया गया है। गुरुवार (7 जुलाई) को यह शादी बहुत ही लो प्रोफाइल में हो रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी अपने परिवार के साथ शादी में शामिल होने पहुंचेंगे।
भगवंत मान की होने वाली पत्नी के बारे में बताया जा रहा है कि वह उनके परिवार की करीबी हैं। काफी लंबे समय से भगवंत मान और उनकी होने वाली पत्नी एक-दूसरे को जानते हैं। भगवंत मान की मां भी लड़की को पसंद करती थीं।

राघव चड्ढा कर रहे तैयारियां...
भगवंत मान की शादी की तैयारियों का जिम्मा आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राघव चड्ढा के हाथ हैं। राघव चड्ढा खुद सारी तैयारियां कर रहे हैं। इस कार्यक्रम को बेहद गुप्त रखा गया। किसी को कार्यक्रम की भनक नहीं लगी।

भगवंत मान खुद उठा रहे शादी का खर्च...
भगवंत मान की शादी सिख रीति-रिवाजों से होगी, इसे देखते हुए ही सारी तैयारियां की गई हैं। बताया जा रहा है कि पंजाब सीएम की होने वाली दुलहनियां भी सिख ही हैं। शादी के आयोजन का खर्च भी खुद भगवंत मान ही उठा रहे हैं।
भगवंत मान 2014 में संगरूर लोकसभा से सांसद चुने गए थे। तब उनकी पहली पत्नी इंद्रजीत ने प्रचार किया था लेकिन 2016 में दोनों के बीच तलाक हो गया था। भगवंत मान ने तब कहा था कि उन्हें पंजाब और परिवार में एक को चुनना था, इसलिए उन्होंने पंजाब को चुना।

ठाकरे पर तंज, रिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ा

ठाकरे पर तंज, रिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ा

कविता गर्ग 
मुंबई। महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि रिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ दिया। शिंदे ने ये भी कहा कि शिवसेना-भाजपा ने एक साथ चुनाव लड़ा था और सरकार बन गई कांग्रेस-एनसीपी के साथ। अब नई सरकार का गठन कर कोई गैरकानूनी काम नहीं किया है। लोकशाही में कानून है, नियम हैं, उसी के मुताबिक ही काम करना पड़ता है।
उद्धव ठाकरे के बयान "आज तीन पहिए वाले ड्राइवर को सरकार चलाने दे दिया है" के जवाब में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि "मैंने कहा है कि उस रिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ दिया क्योंकि ये सरकार सर्वसामान्य लोगों के लिए सरकार है, ये समाज के हर घटक को न्याय दिलाने वाली सरकार है
उन्होंने कहा कि "बालासाहेब ठाकरे का हिन्दुत्व का जो मुद्दा है, हिन्दुत्व के जो विचार हैं, उनकी जो भूमिका है, उसे आगे ले जाने का फैसला हम लोगों ने किया है। हमारे लगभग 50 विधायक अगर एक साथ ऐसी भूमिका लेते हैं तो इसका कोई बड़ा कारण होगा। इसपर विचार करने की आवश्यकता थी। जनता को लगा था कि भाजपा सत्ता के लिए कुछ भी करती है लेकिन उन्होंने सभी देशवासियों को बता दिया है कि इन 50 लोगों ने एक हिन्दुत्व की भूमिका ली है, इनका एजेंडा हिन्दुत्व का है,विकास का है, इनका समर्थन करना चाहिए। उन्होंने हमें समर्थन किया"
शिंदे ने कहा कि "मैंने कई बार चर्चा की कि महा विकास अघाडी में जो हम बैठे हैं इससे हमें फायदा नहीं हैं, नुकसान है। हमारे विधायक चिंतित हैं कि कल चुनाव कैसे लड़ें। नगर पंचायत चुनाव में हम 4 नंबर पर गए। मतलब सरकार का फायदा शिवसेना को नहीं हो रहा।
देवेंद्र फडणवीस बड़े दिल से उपमुख्यमंत्री बन गए। लेकिन जब पार्टी का आदेश आता है तो पार्टी का आदेश मानते हैं वो और मेरे जैसे बालासाहेब के कार्यकर्ता को मुख्यमंत्री पद पर बैठा दिया। मैं पीएम मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष को धन्यवाद करता हूं। जब हम चुनाव में जीतते हैं तो हमारे चुनाव क्षेत्र के मतदाताओं की विकास को लेकर अपेक्षा होती है। लेकिन हमारे विधायक काम नहीं कर पा रहे थे, फंड की कमी थी। हमने इस बारे में हमारे वरिष्ठ से बात कि परन्तु हमे कामयाबी नहीं मिली। इसलिए हमारे 40-50 विधायकों ने ये भूमिका ली।
शिवसेना-भाजपा ने एक साथ चुनाव लड़ा था और सरकार बन गई कांग्रेस-एनसीपी के साथ। इसके कारण जब भी हिन्दुत्व के मुद्दे आए, दाऊद का मुद्दा आया, मुंबई बम ब्लास्ट का मुद्दा और भी कई मुद्दे जब आते थे, हम कोई भी निर्णय नहीं ले पा रहे थे। हम लोग कोई भी गैरकानूनी काम नहीं कर रहे। लोकशाही में कानून है, नियम हैं, उसी के मुताबिक ही काम करना पड़ता है। आज हमारे पास बहुमत है। सुप्रीम कोर्ट में भी हमारे खिलाफ जो लोग गए थे, उन्हें भी कोर्ट ने डांट लगाई है।

दिल्ली में आयोजित किया जाएंगा, शॉपिंग फेस्टिवल

दिल्ली में आयोजित किया जाएंगा, शॉपिंग फेस्टिवल

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। देश का सबसे बड़ा शॉपिंग फेस्टिवल दिल्ली में आयोजित किया जाएंगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल मनाने की घोषणा की है। करीब एक महीने चलने वाले इस शॉपिंग फेस्टिवल की शुरुआत अगले साल 28 जनवरी को होगी।
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि "जो लोग दिल्ली के बाहर हैं, वो भी फरवरी में दिल्ली आने की योजना बना लें। वे अभी से टिकट बुक करा। 28 जनवरी से 26 फरवरी 2023 तक दिल्ली में दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल मनाया जाएगा। ये भारत का सबसे बड़ा फेस्टिवल होगा। ये शुरुआत है और उम्मीद है कि आने वालों सालों में ये दुनिया का सबसे बड़ा फेस्टिवल होगा।
सीएम ने ये भी कहा कि दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल से अर्थव्यवस्था को बड़ा बूस्ट मिलेगा और रोजगार के मौके मिलेंगे। केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल में पूरी दुनिया से लोगों को आमंत्रित किया जाएगा। दिल्ली को दुल्हन की तरह सजाया जाएगा। एक महीने के अंदर 200 कॉन्सर्ट किए जाएंगे। फेस्टिवल में भारी डिस्काउंट मिलेंगे। उन्होंने कहा कि फेस्टिवल में प्रदर्शनी भी लगाई जाएंगी। इसमें युवा, बुजुर्ग, अमीर और गरीब सबके लिए के लिए बहुत कुछ होगा।
अगले साल दिल्ली में 28 जनवरी से 26 फरवरी तक दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल मनाया जाएगा। यह देश का सबसे बड़ा फेस्टिवल होगा। हम इसे दुनिया का सबसे बड़ा फेस्टिवल बनाएंगे। पूरी दुनिया से लोगों को आमंत्रित करेंगे जिससे वे दिल्ली और उसकी संस्कृति का अनुभव कर सकें।

दावा: जंगली भेड़ियों को कुत्ते के नाम से जानते हैं

दावा: जंगली भेड़ियों को कुत्ते के नाम से जानते हैं

सुनील श्रीवास्तव 
लंदन। आप जिन कुत्तों को अपने घर में पालते हैं, वे असल में पहले भेड़िये थे। यह दावा ब्रिटेन के फ्रांसिस क्रिक इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने एक रिसर्च में किया है। उनका कहना है कि आज से करीब 15,000 साल पहले इंसानों ने जंगली भेड़ियों को पालना शुरू किया था, जिन्हें हम आज कुत्ते के नाम से जानते हैं।
72 प्राचीन भेड़ियों का DNA जांचा गया।
रिसर्चर्स ने पिछले एक लाख साल में यूरोप, साइबीरिया और नॉर्थ अमेरिका में मिलने वाले 72 प्राचीन भेड़ियों के DNA की जांच की। उन्होंने पाया कि आज के समय के कुत्ते पूर्वी यूरेशिया (यूरोप+एशिया) के पुराने भेड़ियों से ज्यादा मिलते-जुलते हैं। साथ ही पश्चिम यूरेशिया के भेड़ियों से इनकी समानता कम है। यह खोज बतलाती है कि भेड़ियों को सबसे पहले पालना पूर्वी यूरेशिया के लोगों ने शुरू किया था।
वैज्ञानिकों का कहना है कि नियर ईस्ट और अफ्रीका के कुत्ते आधुनिक दक्षिण-पश्चिम यूरेशियन भेड़ियों से संबंधित एक अलग आबादी से अपने पूर्वजों का आधा हिस्सा प्राप्त करते हैं। इसका मतलब कि या तो इन भेड़ियों को पालतू बनाया गया था, या फिर स्थानीय भेड़ियों को मिक्स किया गया था।
कुत्तों का DNA एशिया के प्राचीन भेड़ियों जैसा
रिसर्च में 16 देशों के 38 इंस्टीट्यूट्स के वैज्ञानिकों ने हिस्सा लिया। उन्होंने 32,000 साल पहले के एक साइबीरियन भेड़िये की खोपड़ी को स्टडी किया। रिसर्च में 9 DNA लैब्स भी शामिल थीं। DNA सीक्वेंसिंग में सामने आया कि यूरोप के भेड़ियों की तुलना में पुराने और नए कुत्तों का DNA एशिया के प्राचीन भेड़ियों से मेल खाता है।
वैज्ञानिकों ने कुत्तों में प्राचीन भेड़ियों की दो अलग-अलग प्रजातियों का DNA पाया है। उत्तर पूर्वी यूरोप, साइबीरिया और अमेरिका के पुराने कुत्तों के ओरिजिन का एक ही सोर्स है। लेकिन मिडिल ईस्ट, अफ्रीका और दक्षिण यूरोप के कुत्तों के दो सोर्स हैं।
वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने भेड़ियों की 30,000 पीढ़ियों के जीन्स की जांच की है। इससे उन्हें पता चला कि भेड़ियों का DNA कैसे चेंज हुआ। उन्होंने पाया कि 10,000 साल बाद एक जीन वैरिएंट दुर्लभ से सामान्य हो गया। आज यह जीन सभी कुत्तों में पाया जाता है।

न्यूज एंकर रंजन की याचिका पर 7 को सुनवाई: एससी

न्यूज एंकर रंजन की याचिका पर 7 को सुनवाई: एससी 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के वीडियो को ‘गलत तरीके से दिखाने’ के मामले में घिरे न्यूज एंकर रोहित रंजन की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। (7 जुलाई) यानी गुरुवार को इस मामले में सुनवाई होगी। वरिष्ठ अधिवक्ता सिद्धार्थ लूथरा ने जस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस जे.के. माहेश्वरी से मामले की तत्काल सुनवाई करने का आग्रह किया। लूथरा ने दलील दी कि उनके मुवक्किल ने एक शो के दौरान गलती की और बाद में उन्होंने इसके लिए माफी मांगी‌। हालांकि शो के सिलसिले में उनके खिलाफ कई एफआईआर दर्ज की गई हैं।
लूथरा ने पीठ के समक्ष अपनी दलील में कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही थी, लेकिन उन्हें मंगलवार को नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और बाद में जमानत पर रिहा कर दिया‌।मामले में संक्षिप्त दलीलें सुनने के बाद पीठ ने मामले को गुरुवार को सूचीबद्ध करने पर सहमति जताई।
बता दें कि 1 जुलाई को न्यूज एंकर रोहित रंजन ने राहुल गांधी के केरल में दिए गए एक बयान को उदयपुर की घटना से जोड़कर शो में एक रिपोर्ट दिखाई थी। दरअसल, राहुल गांधी ने वायनाड में अपने संसदीय कार्यालय में तोड़फोड़ करने वाले लोगों को माफ करने की बात कही थी और कहा था कि वे बच्चे हैं। लेकिन टीवी रिपोर्ट में उनके इस बयान को उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों से जोड़कर दिखाया गया था।

भारत में 7.80 प्रतिशत पर पहुंची, बेरोजगारी दर

भारत में 7.80 प्रतिशत पर पहुंची, बेरोजगारी दर 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। आर्थिक शोध संस्थान सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकनॉमी (CMIE) के आंकड़ों के अनुसार, देश में बेरोजगारी दर जून में बढ़कर 7.80 प्रतिशत पर पहुंच गई। पिछले महीने विशेषकर कृषि क्षेत्र में 1.3 करोड़ लोगों को रोजगार से हाथ धोना पड़ा, जिसके कारण बेरोजगारी बढ़ी है। जून महीने में रोजगार में कमी से ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी दर बढ़कर 8.03 प्रतिशत पर पहुंच गई। जो मई में 7.30 प्रतिशत थी। शहरी क्षेत्रों में स्थिति कुछ बेहतर रही और बेरोजगारी दर 7.3 प्रतिशत दर्ज की गयी, जबकि मई में यह 7.12 प्रतिशत थी।
CMIE के प्रबंध निदेशक महेश व्यास ने फोन पर पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘बिना लॉकडाउन वाले महीने में रोजगार में इतनी कमी सबसे बड़ी गिरावट है। यह मुख्य रूप से गांवों में और मौसमी है। गांवों में कृषि क्षेत्र में गतिविधियां सुस्त हैं और जुलाई में बुवाई शुरू होने के साथ स्थिति पलटने की पूरी उम्मीद है।’’ उन्होंने कहा कि आलोच्य महीने में 1.3 करोड़ रोजगार घटे लेकिन बेरोजगारी में केवल 30 लाख का इजाफा हुआ।
व्यास ने कहा कि अन्य कामगार श्रम बाजार से बाहर हुए। कार्यबल में एक करोड़ की कमी आई। उन्होंने कहा कि यह कमी मुख्य रूप से असंगठित क्षेत्र में हुई है। यह संभवत: काफी हद तक श्रमिकों के पलायन का मामला है न कि आर्थिक नरमी का। व्यास ने कहा, ‘‘यह चिंताजनक है कि इतनी बड़ी संख्या में कामगारों पर मानसून का असर पड़ा है।’’ उन्होंने कहा कि दूसरा चिंताजनक आंकड़ा जून, 2022 में वेतनभोगी कर्मचारियों की 25 लाख नौकरियों घटने का है।

लिफ्ट ऑपरेटर के पदों पर वैकेंसी निकाली

लिफ्ट ऑपरेटर के पदों पर वैकेंसी निकाली

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। अगर आप आईटीआई पास हैं तो ये आपके लिए एक अच्छी खबर हो सकती है। दरअसल, एम्स झज्जर में आईटीआई पास युवाओं के लिए लिफ्ट ऑपरेटर के पदों पर वैकेंसी निकाली गई हैं। बता दें इस भर्ती प्रक्रिया के तहत नोटिफिकेशन ब्रॉडकास्ट इंजीनियरिंग कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड ने जारी किया है। इस भर्ती प्रक्रिया के तहत कुल 35 पदों पर वैकेंसी निकाली गई है। यह भर्ती कॉन्टैक्ट बेसिस पर होगी।
इन पदों पर आवेदन करने के लिए इच्छुक और योग्य उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट बीईसीआईएल पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके साथ ही ऑनलाइन आवेदन के बाद अप्लीकेशन फॉर्म का प्रिंट आउट और आवश्यक दस्तावेजों की एक सिंगल पीडीएफ फाइल बनाकर hrsection@becil.com पर मेल करना है। इन पदों पर आवेदन करने की अंतिम तिथि 12 जुलाई 2022 है। और अधिक जानकारी के लिए ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर उम्मीदवार नोटिफिकेशन पढ़ सकते हैं।

आयु सीमा...
इन पदों पर आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की अधिकतम आयु 45 साल है।

शैक्षिणक योग्यता...
संबंधित फील्ड में आईटीआई/डिप्लोमा। कम से कम दो से तीन साल का अनुभव। इन पदों पर आवेदन करने से पहले उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन नोटिफिकेशन चेक कर सकते हैं।

चयन प्रक्रिया...
उम्मीदवारों का सेलेक्शन लिखित परीक्षा/इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा।

संस्थापक मुखर्जी की जयंती पर श्रद्धांजलि दी

संस्थापक मुखर्जी की जयंती पर श्रद्धांजलि दी 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने बुधवार को भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी और उन्हें एक प्रख्यात नेता और उत्साही राष्ट्रवादी बताया। मुखर्जी का जन्म कोलकाता में छह जुलाई 1901 को हुआ था।
नायडू ने कहा कि वह एक प्रतिष्ठित नेता, दूरदर्शी विचारक, प्रख्यात शिक्षाविद् और उत्साही राष्ट्रवादी थे। उपराष्ट्रपति सचिवालय ने ट्वीट किया, ‘‘प्रत्येक भारतीय को राष्ट्रीय एकता और विकास में उनके अमूल्य योगदान से प्रेरणा लेनी चाहिए। उनकी जयंती पर मेरी विनम्र श्रद्धांजलि।

आयुर्वेद: टिंडे को सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना

आयुर्वेद: टिंडे को सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना 

सरस्वती उपाध्याय 
आयुर्वेद में टिंडे को सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। टिंडे में फाइबर, विटामिन सी, आयरन, कैराटेनॉइड, पोटैशियम और एंटीऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। टिंडे की सब्जी का सेवन करने से कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं में लाभ होता है।
टिंडे का नाम लेते ही अधिकतर लोग मुंह बनाने लगते हैं। ज्यादातर लोगों को यह सब्जी पसंद नहीं आती है। हो सकता है कि आपको भी टिंडे पसंद नहीं हो, लेकिन इसके फायदे सुनने के बाद आप भी इस सब्जी का सेवन करने लगेंगे। आयुर्वेद में टिंडे को सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। टिंडे में फाइबर, विटामिन सी, आयरन, कैराटेनॉइड, पोटैशियम और एंटीऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। टिंडे की सब्जी का सेवन करने से कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं में लाभ होता है। आज के इस लेख में हम आपको टिंडे के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में बताएंगे।
वजन कम करने के लिए टिंडे का सेवन बहुत लाभकारी होता है। इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है। इसके साथ ही टिंडे में पानी की मात्रा भी ज्यादा होती है। वजन कम करने के लिए आप टिंडे की सब्जी का सेवन कर सकते हैं।
टिंडे का सेवन हमारे पाचन तंत्र के लिए भी फायदेमंद होता है। इसमें फाइबर की उच्च मात्रा पाई जाती है जिससे पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है। टिंडे के सेवन से पाचन संबंधी समस्याएं दूर होती हैं।
दिल की सेहत के लिए लाभकारी...
टिंडे का सेवन हमारे दिल के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभकारी होता है। टिंडे में मौजूद पोषक तत्व दिल को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। टिंडे के सेवन से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होता है।

यूपी विधान परिषद में कांग्रेस का एक भी सदस्य नहीं

यूपी विधान परिषद में कांग्रेस का एक भी सदस्य नहीं 

संदीप मिश्र 
लखनऊ। उत्तर-प्रदेश विधान परिषद के 135 साल के इतिहास में बुधवार (6 जुलाई) को ऐसा पहली बार होगा, जब कांग्रेस का कोई सदस्य नहीं रह जाएंगा। उत्तर-प्रदेश विधानमंडल में उच्च सदन कहे जाने विधान परिषद से अब कांग्रेस खाली हो जाएंगी। कांग्रेस पार्टी के एकमात्र सदस्य दीपक सिंह आज रिटायर हो जाएंगे।
इतिहास के झरोखे में जाएं तो पता चलता है कि 5 जनवरी 1887 को उत्तर प्रदेश प्रांत में पहली बार विधान परिषद का गठन हुआ था और 8 जनवरी 1887 को ‘थरनाहील मेमोरियल हॉल इलाहाबाद’ में संयुक्त प्रांत की पहली बैठक हुई थी, तब से कभी भी ऐसा नहीं हुआ कि विधान परिषद में कांग्रेस का प्रतिनिधि ना रहा हो। हालांकि अब बुधवार के बाद यूपी विधान परिषद में कांग्रेस का एक भी सदस्य नहीं रह जाएगा।

कौन-कौन हो रहा है रिटायर...
उत्तर प्रदेश विधान परिषद से आज कुल 10 सदस्य रिटायर हो रहे हैं। इनमें समाजवादी पार्टी के जगजीवन प्रसाद, बलराम यादव, डॉ. कमलेश कुमार पाठक, रणविजय सिंह, रामसुंदर निषाद और शत्रुद्ध प्रकाश शामिल है।इसके अलावा बहुजन समाज पार्टी के अतर सिंह राव, सुरेश कुमार कश्यप और दिनेश चंद्रा का कार्यकाल भी बुधवार को खत्म हो रहा है।
इसके साथ ही कांग्रेस के दीपक सिंह भी आज ही विधान परिषद सदस्य से रिटायर हो रहे हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के 2 सदस्य जिनका आज कार्यकाल खत्म हो रहा है। उनको पहले ही विधानपरिषद भेजा जा चुका है।इनमें उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और पंचायती राज्य मंत्री चौधरी भूपेंद्र सिंह का नाम शामिल है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-271, (वर्ष-05)
2. बृहस्पतिवार, जुलाई 7, 2022
3. शक-1944, आषाढ़, शुक्ल-पक्ष, तिथि-अष्टमी, विक्रमी सवंत-2079।
4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान- 30 डी.सै., अधिकतम-36+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...