गुजरात लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
गुजरात लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

मंगलवार, 21 जून 2022

भूकंप: ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ को कोई नुक्सान नहीं

भूकंप: ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ को कोई नुक्सान नहीं

इकबाल अंसारी  
अहमदाबाद। गुजरात में नर्मदा जिले के केवडिया गांव के पास 3.1 तीव्रता का भूकंप आया। बहरहाल, इस दौरान जान-माल का नुकसान होने की कोई सूचना नहीं मिली है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। 182 मीटर ऊंचा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ केवड़िया गांव के पास स्थित है। भूकंप के झटके सोमवार रात दर्ज किए गए। स्मारक के जनसंपर्क अधिकारी राहुल पटेल ने बताया कि ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ को कोई नुकसान नहीं हुआ है।
इसे इस तरह से बनाया गया है कि शक्तिशाली भूकंप और चक्रवात से इसे नुकसान नहीं हो। गांधीनगर स्थित भूकंप अनुसंधान संस्थान (आईएसआर) ने एक बयान में बताया कि भूकंप का केंद्र केवडिया से 12 किलोमीटर पूर्व-दक्षिण पूर्व में था। आईएसआर ने कहा, ‘‘सोमवार की रात 10 बजकर सात मिनट पर 3.1 तीव्रता वाला भूकंप दर्ज किया गया, जिसका केंद्र दक्षिण गुजरात में केवड़िया से 12 किलोमीटर पूर्व-दक्षिण पूर्व (ईएसई) में 12.7 किलोमीटर की गहराई में था।’’ जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के कारण जान-माल के किसी प्रकार के नुकसान की कोई सूचना नहीं है।

शनिवार, 11 जून 2022

हैरतअंगेज: अचानक गुलाबी हुआ, तालाब का पानी

हैरतअंगेज: अचानक गुलाबी हुआ, तालाब का पानी

इकबाल अंसारी
बनासकांठा। भारत-पाकिस्तान बॉर्डर के नजदीक गुजरात के बनासकांठा से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, जिले के सुईगांव स्थित कोरेटी गांव में एक तालाब का पानी अचानक गुलाबी हो गया है। गांव वाले भी यह देखकर चौंक गए, क्योंकि आज तक कभी यहां पानी गुलाबी नहीं हुआ। अब यह खबर फैलते ही आसपास के गांवों के लोग भी बड़ी तादाद में इस पानी को देखने के लिए आ रहे हैं। गांववालों ने बताया कि तालाब में पानी किसी दूसरी जगह से भी नहीं आता है। यहां बारिश का पानी जमा होता है।
जो पूरे साल गांव लोगों और पशुओं के इस्तेमाल में आता है‌। लेकिन पहली बार इस तरह पानी गुलाबी होने पर हर कोई हैरान है। गांववाले इसे चमत्कार मान रहे हैं। हड़कंप तालाब के पानी का रंग धीरे-धीरे बदल रहा था, जिस पर ज्यादाृ किसी ने गौर नहीं किया। लेकिन अचानक ही पानी का रंग गुलाबी होने पर लोग अब पास में मौजूद महादेव के मंदिर का चमत्कार मान रहे हैं। तहसील विकास अधिकारी के ए भाटिया के मुताबिक, हमें पानी गुलाबी होने की जानकारी मिली तो हमने तुरंत यहां एक टीम को जांच के लिए भेज दिया। पानी के नमूने लिए गए हैं। साथ लोगों कहा गया है कि इस पानी का फ़िलहाल कोई इस्तेमाल न किया जाए। बहरहाल, गांववाले इस चमत्कार मान रहे हैं, लेकिन एक्सपर्ट्स मानते हैं कि गांव के तालाब में गटर का पानी भी जाता होगा, तो उसकी वजह से केमिकल रिएक्शन हुआ है और इसी वजह से पानी का रंग गुलाबी हो गया है। पानी गुलाबी होने की वजह से गांव वाले कश्मीर के खीरभावनी मंदिर की तरह इसे भी चमत्कार मानते हैं।

मंगलवार, 7 जून 2022

सड़क हादसे में 3 महिलाओं की मौंत, 3 घायल

सड़क हादसे में 3 महिलाओं की मौंत, 3 घायल 

इकबाल अंसारी  
पालनपुर। गुजरात में बनासकांठा जिले के थराद क्षेत्र में एक सड़क हादसे में तीन महिलाओं की मौत हो गई तथा अन्य तीन घायल हो गए। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि थरा-वडा राष्ट्रीय राजमार्ग पर कांकरेज तालुका के वडा गांव के निकट एक कार अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे में कार सवार दो महिलओं और एक किशोरी की मौत हो गयी तथा एक महिला सहित तीन अन्य लोग घायल हो गए।
मृतकों की पहचान एक ही परिवार के विजाबेन (50), रेवाबेन (90) और कशीषबेन (16) के रूप में की गयी है। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सभी कच्छ के मोरागढ़ में मोमाई माताजी के मंदिर दर्शन कर घर लौट रहे थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और कार्रवाई शुरू कर दी है।

गुरुवार, 2 जून 2022

सेल्फ-लव: 11 जून को खुद से शादी करेंगी, क्षमा

सेल्फ-लव: 11 जून को खुद से शादी करेंगी, क्षमा

इकबाल अंसारी  
गांधीनगर। देश में शादी को सात जन्मों का रिश्ता माना जाता है। शादी का दिन हर किसी के लिए खास होता है। गुजरात की क्षमा बिंदु आने वाले 11 जून को एक शादी करने जा रही हैं, लेकिन उनकी ये शादी इन दिनों काफी चर्चा में हैं।
दरअसल, वड़ोदरा में रहने वाली 24 वर्षीय क्षमा बिंदु खुद से शादी करने जा रही हैं। उनकी इस शादी में रीति रिवाज, फेरे से लेकर पारंपरिक अनुष्ठान तक सब होगा, लेकिन बस दुल्हा नहीं होगा। इसे गुजरात का पहला आत्म-विवाह या एकल विवाह कहा जा रहा है।
इस आत्म विवाह को लेकर क्षमा बिंदु का कहना है कि मैं कभी शादी नहीं करना चाहती थी, लेकिन मैं दुल्हन बनना चाहती थी। इसलिए मैंने खुद से शादी करने का फैसला किया। शायद अपने देश में मैं सेल्फ-लव का एक उदाहरण सेट करने वाली पहली लड़की हूं।
बता दें कि क्षमा बिंदु प्राइवेट फर्म में जॉब करती है। उन्होंने बताया कि लोग इस तरह की शादी को इरेलीवेंट मान सकते हैं, लेकिन मैं यह बताना चाहती हूं महिलाएं भी मायने रखती हैं। लोग उस इंसान से शादी करते हैं जिससे वो प्यार करते हैं। मैं खुद से प्यार करती हूं इसलिए आत्म विवाह कर रही हूं। वहीं, क्षमा बिंदु के माता-पिता भी अपनी बेटी के फैसले से खुश है। उन्होंने इस शादी को आशीर्वाद भी दिया है। क्षमा ने अपनी शादी के लिए गोत्री के एक मंदिर में पांच मन्नतें लिखी हैं। इतना ही नहीं शादी के बाद क्षमा हनीमून के लिए भी जाएंगी। क्षमा ने हनीमून के लिए गोवा को चुना है, यहां पर वह दो हफ्ते रहेंगी।

बुधवार, 18 मई 2022

नमक फैक्ट्री में दीवार गिरने से 12 लोगों की मौंत

नमक फैक्ट्री में दीवार गिरने से 12 लोगों की मौंत

इकबाल अंसारी

अहमदाबाद। गुजरात के मोरबी के हलवाड़ जीआईडीसी में एक नमक फैक्ट्री में दीवार गिरने से 12 लोगों की मौत हो गई है। जबकि अभी भी तीन और लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है।मिली जानकारी के अनुसार आज गुजरात के मोरबी में स्थित नमक फैक्ट्री की दीवार ढह गई। दीवार गिरने से फैक्ट्री में काम करने वाले कर्मचारी इसकी चपेट में आ गए। बताया जा रहा है कि इस हादसे में कम से कम 12 लोगों की मौत की सूचना है। जबकि कईयों के अभी दबे होने की आशंका है। रेस्क्यू दल मौके पर है और दीवार के नीचे दबे लोगों को रेस्क्यू किया जा रहा है।

मोरबी में हुए दर्दनाक हादसे पर पीएम नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएमओ की ओर से किए गए ट्वीट में पीएम मोदी ने हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को पीएमएनआरएफ की ओर से दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा की है। जबकि, घायलों को 50-50 हजार रुपए दिए जाएंगे।

मंगलवार, 10 मई 2022

गुजरात: बब्बर शेर की आंखों का ऑपरेशन किया

गुजरात: बब्बर शेर की आंखों का ऑपरेशन किया

इकबाल अंसारी        
जूनागढ़। गुजरात के जूनागढ़ में एक बब्बर शेर की आंखों का ऑपरेशन किया गया। उसे लंबे समय से मोतियाबिंद की शिकायत थी। गिर के जामवाली रेंज में वन विभाग द्वारा एक बब्बर शेर की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही थी। इस दौरान पता चला कि शेर को देखने में दिक्कत आ रही है। वो सिर्फ आवाज सुनकर ही अपनी प्रतिक्रिया दे रहा है। इसके बाद उसे जूनागढ़ के सक्करबाग चिड़ियाघर लाया गया। 
जहां आंखों की जांच की गई तो पता चला कि उसकी दोनों आखों में मोतियाबिंद है। शेर की आंख का ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर संजय जाविया ने बताया कि जांच में पता चला कि शेर को दोनों आखों से साफ नहीं दिखाई दे रहा था‌।इस वजह से वह शिकार भी नहीं कर पा रहा था। डॉक्टर के मुताबिक जुनागढ़ में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। डॉक्टर संजय जाविया ने बताया शेर की आंखों के आकार का लेंस उपलब्ध कराना बेहद मुश्किल था। इसके लिए शेर की आंख का मेजरमेंट लिया गया और उसके बाद लेंस तैयार कराया गया।
फिर एक-एक कर दोनों आखों में ऑपरेशन के जरिए लेंस को फिट किया गया। इसके कुछ दिन बाद फिर से शेर की आंखों का परीक्षण किया गया। इस बार जांच में पाया गया कि उसे साफ दिखाई दे रहा है। वो अलग तरह से प्रतिक्रिया देने लगा। फिलहाल, शेर की हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। समय-समय पर उसकी आंख की जांच कराई जाएगी।

बुधवार, 27 अप्रैल 2022

मुस्लिम का दिल, हिंदू के सीने में ट्रांसप्लांट किया

मुस्लिम का दिल, हिंदू के सीने में ट्रांसप्लांट किया

इकबाल अंसारी
अहमदाबाद। आपसी सौहार्द की नजीर पेश करता हुआ एक मामला गुजरात के अहमदाबाद से सामने आया है। यहां ब्रेन डेड हो चुके एक मुस्लिम शख्स का दिल जरूरतमंद हिंदू व्यक्ति के सीने में ट्रांसप्लांट किया गया। ऑपरेशन के दौरान एक तरफ मुस्लिम परिवार नमाज पढ़ रहा था तो वहीं दूसरी तरफ प्रार्थनाओं का दौर भी जारी था। दरअसल, कच्छ निवासी 25 वर्षीय आमिर (परिवर्तित नाम) 23 अप्रैल को एक्टिवा चलाते समय सामने से आ रही दूसरी एक्टिवा से टकरा गया था। हादसे के बाद उसके परिवार के सदस्य तुरंत उसे पास के अस्पताल ले गए। हालत गंभीर होने के कारण उसे अहमदाबाद के सिविल अस्पताल रेफर कर दिया गया।
अहमदाबाद सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक राकेश जोशी ने बताया कि आमिर को मेडिकल जांच के बाद हमारे अस्पताल लाया गया। जांच में पता चला कि उसका ब्रेन डेड हो चुका है। उसका दिमाग काम नहीं कर रहा था, लेकिन उसके शरीर के अंग पूरी तरह से काम कर रहे थे। हमें लगा कि उसके अंग दूसरे जरूरतमंद रोगियों के लिए बहुत काम के साबित हो सकते हैं। हमने जांच शुरू की। इस बीच डॉक्टरों की टीम ने आमिर के परिवार को अंगदान का महत्व समझाया और परिवार अंगदान करने के लिए तैयार हो गया। शरीर से दिल निकालने के बाद सिम्स अस्पताल में 52 वर्षीय व्यक्ति को ट्रांसप्लांट किया गया।
बता दें कि अहमदाबाद के विधायक ग्यासुद्दीन शेख लंबे समय से इस तरह के अंग दान की मुहिम चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि गुजरात में यह पहली बार है, जब किसी मुस्लिम व्यक्ति ने अंगदान किया है। रमजान के महीने में यह बहुत बड़ा दिन है। हम लंबे समय से ब्रेन डेड व्यक्ति के परिवारों को अंगदान के लिए राजी करने की कोशिश कर रहे थे। हमारे समुदाय में अंगदान ना करने की कई मान्यताएं है, जो गलत हैं।

गुरुवार, 17 मार्च 2022

सीजन शुरू होने से पहले ही गर्मी ने तोड़े रिकॉर्ड

सीजन शुरू होने से पहले ही गर्मी ने तोड़े रिकॉर्ड    

इकबाल अंसारी       
अहमदाबाद। देश के अधिकांश हिस्सों में पारा तेजी से बढ़ रहा है और गर्मी का असर बढ़ने लगा है। गुजरात में आम तौर पर अप्रैल में गर्मी की शुरुआत होती है। लेकिन इस साल मध्यमार्च से ही गर्मी दस्तक दे चुकी है। सीजन शुरू होने से पहले ही गुजरात में गर्मी ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। अहमदाबाद में लू और हीटवेव ने पिछले 20 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है और पारा लगातार बढ़ रहा है। गुजरात के 10 शहरों में पारा अभी से 40 डिग्री के पार पहुंच चुका है।
20 साल में पहली बार मार्च के महीने में अहमदाबाद का पारा 41.5 डिग्री दर्ज किया गया है। वहीं सुरेन्द्रनगर में 41.7 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। मौसम विभाग गुजरात के डिरेक्टर मनोरमा मोहंती के मुताबिक़ गुजरात में अगले कुछ दिनों गर्मी के चलते पारे में बढ़ोतरी हो सकती हैं।साथ ही हीट वेव होने की वजह से लू का प्रकोप जारी रहेगा।‌अहमदाबाद में आम तौर पर 25 मार्च के बाद पारा 40 डिग्री को पार जाता है। लेकिन इस बार अभी से गर्मी का पारा 41.5 डिग्री छू चुका है।

मंगलवार, 1 मार्च 2022

गुजरात: 3.4 तीव्रता का भूकंप, झटकेें महसूस कियें

गुजरात: 3.4 तीव्रता का भूकंप, झटकेें महसूस कियें   

इकबाल अंसारी       

अहमदाबाद। गुजरात के कच्छ जिले में मंगलवार को 3.4 तीव्रता के भूकंप के झटकें महसूस कियें गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। जिला प्रशासन ने बताया कि इससे किसी के हताहत होने या संपत्ति को नुकसान की कोई खबर नहीं है। गांधीनगर स्थित भूकंप अनुसंधान संस्थान (आईएसआर) ने बताया कि भूकंप के झटके सुबह सात बजकर 50 मिनट पर दर्ज किया गया और इसका केंद्र जिले में रापड़ से 19 किलोमीटर पश्चिम दक्षिण – पश्चिम में था।

आईएसआर के मुताबिक, भूकंप सतह से 21.7 किलोमीटर की गहराई पर आया। उल्लेखनीय है कि गत दो सप्ताह में भूकंप के 3.4 तीव्रता के तीन झटके जिले में महसूस किए जा चुके हैं। कच्छ जिला भूकंप के लिहाज से ‘अति संवेदनशील’ जोन में आता है। जनवरी 2001 में आए भूकंप से जिले में भारी तबाही मची थी और करीब 13,800 लोगों की मौत हुई थी जबकि 1.67 लाख लोग घायल हुए थे।

शनिवार, 9 अक्तूबर 2021

गुजरात: अधिकारियों को सख्ती करने के निर्देश दिएं

सूरत। कोरोना वायरस  महामारी की संभावित तीसरी लहर को आने से रोकने के लिए गुजरात सरकार हर मुमकिन कोशिश कर रही है। इसी के चलते कई जिलों में नाइट कर्फ्यू  की समयसीमा को बढ़ाया गया है और अधिकारियों को सख्ती करने के निर्देश भी दिए गए हैं। लेकिन कुछ लोग अभी भी सरकार के आदेश को न मानते हुए नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं।
मामला सूरत शहर का है, जहां नाइट कर्फ्यू और पुलिस कमिश्नर की अधिसूचना का सरेआम उल्लंघन किए जाने की घटना सामने आई है। भागातलाव जनता मार्केट में कुछ लोगों ने एक डांसर को बर्थडे पार्टी में बुलाया और नोट उड़ाए। बड़ी बात ये रही कि ये बर्थडे पार्टी अठवा थाने से कुछ ही दूरी पर चल रही थी, जिसमें कोरोना गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ाई जा रही थीं। इस दौरान का एक वीडियो भी सामने आया है जो इस वक्त सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। साथ ही लोग, सरकार और पुलिस की कार्रवाई पर भी सवाल उठा रहे हैं।
इसके बाद पुलिस को कार्रवाई करने के लिए मजबूर होना पड़ा, और अधिकारियों ने वायरल हो रहे वीडियो की जांच शुरू की। इस दौरान पता चला कि ये वीडियो 5 दिन पुराना है, जिसमें नानपुरा खंडेरावपुरा निवासी उहैद अपनी एक साल की बेटी का बर्थडे मना रहे हैं। इस पार्टी में एक बड़ी स्टेज लगाई गई, जिस पर नाचने के लिए प्रोफेशनल डांसर को बुलाया गया था। इस वीडियो में सुकरी और मिंडी गैंग के सदस्य भी नजर आ रहे हैं। इसके अलावा रुस्तमपुरा का नामचीन जाफर गोल्डन भी इस वीडियो में दिखाई दे रहा हैं।
पुलिस ने वीडियो के लोकेशन की पहचान कर उसमें नजर आ रहे कई लोगों की पहचान की और ताबड़तोड़ नानपुरा खांडेरावपुरा निवासी उहैद शेख, कैजर शेख, फव्वाद शेख, उवैश कुंभार, तुफैल कुंभार, मोहम्मद ईशा शेख और अनस फकीर अंग्रेज को गिरफ्तार कर लिया है। उनके खिलाफ कोरोना नियम उल्लंघन करने समेत विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।क्हीं अन्य आरोपियों, डांसर व डीजे के बारे में पूछताछ चल रही है। जल्द ही पुलिस उनके खिलाफ भी कोई एक्शन ले सकती है।
कोरोना के मामलों को कंट्रोल में रखने के लिए गुजरात सरकार ने एक बार फिर राज्य में नाइट कर्फ्यू की समय सीमा को बढ़ा दिया है। शुक्रवार को आए नए आदेश के मुताबिक अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत, राजकोट, गांधीनगर, जूनागढ़ और भावनगर में रात 12 बजे से सुबह 6 बजे के बीच नाइट कर्फ्यू 10 नवंबर तक जारी रहेगा। इस दौरान सिर्फ जरूरी सेवाओं की आपूर्ति के लिए घर से बाहर निकलने की अनुमति होगी।

बुधवार, 15 सितंबर 2021

पद एवं गोपनीयता की शपथ लेंगे भूपेंद्र के नए मंत्री

अहमदाबाद। गुजरात में भूपेंद्र पटेल सरकार के नए मंत्री आज यानी बुधवार को दोपहर बाद पद एवं गोपनीयता की शपथ लेंगे। भाजपा की राज्य इकाई के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता यमल व्यास ने बताया कि नए मंत्रियों के नाम अभी घोषित नहीं हुए हैं, ये मंत्री राजधानी गांधीनगर में दोपहर दो बजे के बाद शपथ लेंगे।
मुख्यमंत्री पद से विजय रूपाणी के गत शनिवार को अचानक इस्तीफा देने के बाद सोमवार को केवल भूपेंद्र पटेल (59) ने शपथ ली थी। भारतीय जनता पार्टी की गुजरात इकाई के प्रमुख भूपेंद्र यादव नए मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले लोगों के नाम तय करने के लिए पिछले दो दिनों से गांधीनगर में लगातार बैठकें कर रहे हैं।
ऐसी अटकलें हैं कि पटेल अपने मंत्रिमंडल में कई नए चेहरों को शामिल करेंगे और कई पुराने नेताओं को युवा नेताओं के लिए जगह खाली करनी पड़ सकती है। पटेल को रविवार को सर्वसम्मति से भाजपा विधायक दल का नेता चुना गया था और सोमवार को गांधीनगर में राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने उन्हें राज्य के 17वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई थी। पटेल को गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री और उत्तर प्रदेश की वर्तमान राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का करीबी माना जाता है।
उन्हें मुख्यमंत्री बनाये जाने के पीछे यह भी एक कारण माना जा रहा है। ऐसे में जब दिसंबर 2022 में राज्य विधानसभा चुनाव होने की उम्मीद है, भाजपा ने चुनाव में जीत के लिए पटेल पर भरोसा जताया है, जो कि एक पाटीदार हैं। साल 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने राज्य विधानसभा की 182 सीटों में से 99 सीटें जीतीं थी, जबकि कांग्रेस को 77 सीटें मिली थीं।

सोमवार, 13 सितंबर 2021

17वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेगें भूपेंद्र पटेल

इकबाल अंसारी                     
गांधीनगर। गुजरात के नवनियुक्त मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल आज दोपहर बाद दो बज कर 20 मिनट पर राज्य के 17वें मुख्यमंत्री के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल आचार्य देवव्रत उन्हें शपथ दिलायेंगे। वह अकेले ही शपथ लेंगे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के भी इस अवसर पर उपस्थित रहने की सम्भावना है। भूपेन्द्र पटेल ने कल शाम राजभवन जाकर राज्यपाल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश किया था। सुबह भूपेन्द्र पटेल गुजरात के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता नितिन पटेल से की मुलाकात की।
इस मौके पर केंद्रीय निरीक्षक नरेंद्र सिंह तोमर और प्रह्लाद जोशी (दोनो केंद्रीय मंत्री) तथा पार्टी के केंद्रीय महामंत्री तरुण चुघ , प्रदेश प्रमुख सी आर पाटिल और प्रदेश प्रभारी भूपेन्द्र यादव, पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और कई पूर्व मंत्री मौजूद थे, पर पूर्व उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल की अनुपस्थिति से उनकी नाराज़गी की अटकलें भी तेज़ हो गयी हैं। सत्तारूढ़ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सी आर पाटिल ने बताया कि भूपेन्द्र पटेल अकेले ही शपथ लेंगे।

रविवार, 12 सितंबर 2021

राज्य का सीएम बहुत अनुभवी होना चाहिए: नितिन

गांधीनगर। गुजरात के निवर्तमान उपमुख्यमंत्री और नए मुख्यमंत्री पद के प्रमुख दावेदारों में से एक नितिन पटेल ने आज कहा कि उनका मानना है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री ऐसे व्यक्ति को होना चाहिए जो बहुत अनुभवी हो, जिसे पूरा राज्य पहचानता हो और जो सबको साथ लेकर चल सके। नितिन पटेल ने पत्रकारों से कहा कि वैसे मुख्यमंत्री के चयन का अधिकार केंद्रीय नेतृत्व को है और वह जो भी निर्णय करेगा वह सभी को स्वीकार्य होगा। वह मानते हैं कि चूंकि गुजरात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का राज्य है और इसने उनके मुख्यमंत्रित्व काल में ख़ासी प्रगति की है और पिछले 25-26 साल से राज्य में लगातार सत्ता में है, इसलिए किसी ऐसे अनुभवी, लोकप्रिय और सबको साथ लेकर चलने वाले व्यक्ति को अब इसकी बागडोर मिलनी चाहिए जो डेढ़ साल बाद आने वाले विधान सभा चुनाव से जुड़ी बड़ी चुनौतियों का सामना करते हुए फिर से पार्टी को जीत दिलाये। यह पूछे जाने पर कि क्या वह ख़ुद को मुख्यमंत्री पद की रेस में शामिल मानते हैं, उन्होंने कहा कि मीडिया को अनुमान लगाने का अधिकार है पर फ़ैसला तो केंद्रीय नेतृत्व को ही करना है। उन्होंने कहा कि वह एक वरिष्ठ विधायक और मंत्री रहे हैं। वह मुख्यमंत्री की चयन प्रक्रिया को रेस नहीं मानते। उन्होंने कहा कि राज्य में नेतृत्व परिवर्तन का अर्थ भाजपा का आलोकप्रिय होना नहीं है। हाल में हुए स्थानीय चुनावों में भाजपा ने 98 प्रतिशत सीटें जीतीं थीं जिससे स्पष्ट है कि पूरा गुजरात भगवामय अथवा कमलमय है। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि रूपाणी ने ख़ुद कहा है कि उन्होंने स्वेच्छा से इस्तीफ़ा दिया है। वह इसको लेकर कोई टीका टिप्पणी नहीं करना चाहते।

नितिन पटेल ने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व आज विधायक दल की बैठक के बाद नए मुख्यमंत्री की घोषणा कर सकता है। केंद्रीय निरीक्षक इस सम्बंध में विधायकों से उनकी राय भी जान रहे हैं।

शनिवार, 11 सितंबर 2021

विजय रूपानी ने मुख्यमंत्री पद से दिया इस्तीफा

गांधीनगर। गुजरात में आज एक बड़े और बहुत हद तक नाटकीयता भरे राजनीतिक घटनाक्रम में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने अचानक अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया। यहां राजभवन में अपना इस्तीफ़ा राज्यपाल को सौपने के बाद विजय रूपाणी ने पत्रकारों कहा कि उन्होंने स्वेच्छा से त्यागपत्र दिया है। अब वह पार्टी में जो भी ज़िम्मेदारी मिलेगी उसे निभायेंगे। दो बार मुख्यमंत्री रहे विजय रूपाणी ने इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार भी प्रकट किया। ज्ञातव्य है कि अगले साल ही राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं। विजय रूपाणी के इस्तीफ़े को इससे जुड़ी सत्तारूढ़ भाजपा की चुनावी रणनीति से जोड़ कर देखा जा रहा है।

द्वितीय चरण के छात्रावास का भूमि पूजन किया

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि आज दुनिया यह मानने लगी है कि 9/11 जैसी त्रासदियों का स्थायी समाधान भारत द्वारा सिखाए गए मानवीय मूल्यों में पाया जा सकता है। उन्होंने हमलों की 20वीं बरसी पर कहा कि ‘9/11’ की तारीख को मानवता पर प्रहार के लिए याद किया जाता है और इसने हमें कई चीजें सिखाई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के अहमदाबाद में सरदारधाम भवन का वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से लोकार्पण किया जहां पर रोजगार के आकांक्षियों और छात्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने सरदार धाम – द्वितीय चरण के कन्या छात्रावास का भूमि पूजन भी किया।


रविवार, 29 अगस्त 2021

बायोटेक के नए संयंत्र से टीके की खेप रवाना की

अहमदाबाद। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने गुजरात में भरूच जिले के अंकलेश्वर स्थित भारत बायोटेक के नए संयंत्र से रविवार को कोवैक्सीन टीके की पहली वाणिज्यिक खेप रवाना की। मांडविया ने इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के तुरंत बाद ट्वीट किया, ‘देश को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मजबूत करने के लिए सबसे जरूरी है टीकाकरण। आज अंकलेश्वर, गुजरात स्थित भारत बायोटेक के संयंत्र से कोवैक्सीन की पहली वाणिज्यिक खेप को रवाना किया।’’ उन्होंने कहा, ‘इससे देश में टीकों की आपूर्ति में बढ़ोतरी होगी एवं हर भारतीय तक टीका पहुंचाने में मदद मिलेगी।’
सरकार ने इस महीने की शुरुआत में भारत बायोटेक के अंकलेश्वर स्थित विनिर्माण संयंत्र को कोविड-19 रोधी कोवैक्सीन टीके का उत्पादन करने की मंजूरी दी थी। भारत बायोटेक ने मई में घोषणा की थी कि उसने अंकलेश्वर स्थित अपनी सहायक कंपनी के संयंत्र में कोवैक्सीन की अतिरिक्त 20 करोड़ खुराक के उत्पादन की योजना बनाई है। हैदराबाद स्थित कंपनी ने कहा था कि वह अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली चिरोन बेहरिंग इकाई के विनिर्माण संयंत्र में कोवैक्सीन की अतिरिक्त 20 करोड़ खुराक बनाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत रविवार सुबह तक कोविड-19 टीके की 63.09 करोड़ खुराक लगाई गई हैं।

गुरुवार, 19 अगस्त 2021

आशीर्वाद यात्रा: लोगों का अपमान कर रहीं भाजपा

इकबाल अंसारी        

अहमदाबाद। आम आदमी पार्टी (आप) ने आज आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सिजन के अभाव में हज़ारों लोगों की मौत के बाद अब सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ‘जन-आशीर्वाद यात्रा’ शुरू कर आम लोगों का अपमान कर रही है। गुजरात में पार्टी के वरिष्ठ नेता इशुदान गढ़वी ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि भाजपा सरकार कोरोना के दौरान लोगों को ऑक्सिजन वाले बेड तक मुहैया नहीं करा सकी, लोग इसके बिना अस्पतालों के बाहर स्ट्रेचरों पर ही मर गए। अब पार्टी यात्रा करने निकली है।

उन्होंने कहा कि यात्रा जैसे कार्यक्रम के तामझाम पर लाखों रुपए पानी में बहाने की बजाय सरकार कोरोना से मरने वालों के परिजनों को एक एक लाख रुपए की सहायता दे। इशुदान गढ़वी ने व्यंगात्मक लहजे में कहा कि क्या भाजपा सरकार महंगाई बढ़ाने, पेट्रोल डीज़ल के दाम बढ़ाने और किसानों की मुश्किलें बढ़ाने के एवज में जनता का आशीर्वाद लेना चाहती है।

ज्ञातव्य है कि गुजरात में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और आप ने सभी 182 सीटों पर भाजपा के ख़िलाफ़ ताल ठोकने का एलान कर रखा है। पार्टी ने आज प्रवीण राम को आप के गुजरात युवा इकाई का अध्यक्ष और पाटीदार आरक्षण आंदोलन का एक प्रमुख चेहरा रहे निखिल सवाणी को इसका महामंत्री बनाने की भी घोषणा की।

गुरुवार, 12 अगस्त 2021

1 रिसोर्ट के निकट लगीं आग से 8 श्रमिक झुलसें

राजकोट। गुजरात में राजकोट तालुका क्षेत्र में एक रिसोर्ट के निकट कमरे में लगी आग से गुरुवार को आठ श्रमिक झुलस गए। पुलिस ने बताया कि कालावाड रोड़ पर निराली रिसोर्ट में काम करने वाले मजदूरों के कमरे में आज तड़के अचानक आग लग गयी।
स्थानीय लोगों ने आग पर काबू पा लिया लेकिन आग में आठ मजदूर झुलस गए। झुलसी हालत में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। सभी रिसोर्ट में वेटर का काम करने वाले संविदा कर्मी थे। अग्निशमन विभाग के कर्मी ने बताया कि निराली रिसोर्ट की ओर से पास के कमरे में लगी आग की सूचना उनके कंट्रोल रूम को नहीं मिली थी।
फिर भी जैसे ही कंट्रोल रूम को पता चला दमकल कर्मी मौके पर पहुंच गए और कमरे में देखा तो आग बुझ चुकी थी और वहां का सामान जला हुआ था। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

शनिवार, 7 अगस्त 2021

हार्दिक पटेल को गुजरात कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया

गांधीनगर। गुजरात कांग्रेस में खेमेबंदी का खुलासा कांग्रेस के बड़े नेता ही कर रहे हैं। गुजरात कांग्रेस में कई गुट बन चुके हैं और खासकर ऐसा तब हुआ जब से हार्दिक पटेल को गुजरात कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है। गुजरात कांग्रेस में एक गुट हार्दिक पटेल का भी विरोध कर रहा है और उसका कहना है कि ये कि हार्दिक के कारण गुजरात में कांग्रेस को बड़ा नुकसान होगा।
टाइम्स नाउ नवभारत के स्टिंग ऑपरेशन में गुजरात कांग्रेस के नेताओं ने कांग्रेस हाइकमान पर भी सवाल उठायें हैं और साथ ही कांग्रेस के एक बड़े नेता पर गंभीर आरोप भी लगाया है। आज हम आपको छिपे हुए कैमरे से गुजरात कांग्रेस का सच दिखाएंगे।इस रिपोर्ट के बाद हमारे साथ गुजरात से कांग्रेस और बीजेपी के नेता भी जुड़ेंगे, उनसे उनकी राय जानेंगे। लेकिन पहले आप ये रिपोर्ट देखिए। गुजरात कांग्रेस में विरोधियों को भी बड़ी जगह मिल जाती हैगुजरात कांग्रेस में कुछ नेताओं का मनोबल टूट रहा है। आपस में फूट है और एक दूसरे को हराने की साजिश चलती है। गुजरात में अब पहले जैसी कांग्रेस नहीं रही ।राजकुमार गुप्ता और विजय दवे से टाइम्स नाउ नवभारत के रिपोर्टर का अगला सवाल हार्दिक पटेल को लेकर था। अब सुनिये हार्दिक पर इन लोगों ने क्या कहा हार्दिक पटेल को लेकर राजकुमार गुप्ता और विजय दवे का मानना है कि उन्हें अब तक जो पता चला जबरदस्ती लाकर बिठा दिया गया। गुजरात कांग्रेस में पुराने लोग दरकिनार किये गये। गुजरात कांग्रेस में बहुत कुछ गलत हो रहा है। हालात ऐसे ही रहे तो उम्मीदवार भी नहीं मिलेंगे ।हार्दिक पटेल पर बात यहीं नहीं रुकी। बात बढ़ी तो दिल्ली तक पहुंची। राजकुमार गुप्ता और विजय दवे को लगता है कि हार्दिक पटेल के कांग्रेस में आने से फर्क नहीं पड़ेगाहार्दिक की वजह से कांग्रेस को सीट नहीं मिलेगीगुजरात कांग्रेस को दिल्ली के फैसले पर भरोसा नहीं2017 में पार्टी को हार्दिक का फायदा नहीं हुआ। 
बात आगे बड़ी तो गुजरात कांग्रेस के इन नेताओं ने कांग्रेस हाईकमान पर भी सवाल उठा दिया। इन नेताओं ने कांग्रेस के एक बड़े नेता का भी नाम लिया। गुजरात कांग्रेस के नेता राजकुमार गुप्ता और विजय दवे का दावा है अधीर रंजन चौधरी ने बंगाल में कांग्रेस का सत्यानाश किया। दोनों नेताओं के मुताबिक अधीर रंजन चौधरी बीजेपी से जुड़े हुए हैं। उन्होंने ये भी कहा कि अधीर रंजन बीजेपी के आदर्शों पर काम करते हैं। दोनों नेताओं ने सवाल उठाया कि अधीर रंजन ने बंगाल में नरेंद्र मोदी के खिलाफ क्यों नहीं बोला।
'कांग्रेस हाईकमान पर आरोप लगाने के बाद राजकुमार गप्ता और विजय दवे ने ये भी बताया कि कैसे कांग्रेस गुजरात में खत्म हो जाएगी।
गुजरात कांग्रेस के नेता राजकुमार गुप्ता और विजय दवे का मानना है कि कांग्रेस गुजरात में पूरी तरह खत्म हो जाएगीहार्दिक से ज्यादा पार्टी के फैसलों से कांग्रेस डैमेज कर रही है। साफ है, गुजरात कांग्रेस में इस वक्त जबरदस्त फूट है। हार्दिक पटेल को राज्य कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बना दिया गया है और अब उन्हें पूरी जिम्मेदारी दी जाने की चर्चा है और इस कारण पार्टी में गुटबंदी हो चुकी है।

गुरुवार, 22 जुलाई 2021

संतान प्राप्ति के लिए मरणासन्न के वीर्य देने की अनुमति

इकबाल अंंसारी         
अहमदाबाद। गुजरात हाई कोर्ट ने आज एक अनूठे मामले की सुनवाई करते हुए कोरोना के कारण मरणासन्न पड़े एक युवक का वीर्य उसकी पत्नी को आइवीएफ पद्धति से संतान प्राप्ति के लिए देने की अनुमति दे दी।
न्यायमूर्ति ए शास्त्री की अदालत ने मूल रूप से अहमदाबाद की रहने वाली और कनाडा की स्थायी रेज़िडेन्सी प्राप्त इस विवाहिता को कृत्रिम रूप से गर्भाधान के लिए कोरोना से गम्भीर रूप से पीड़ित उसके पति का वीर्य दिए जाने की अनुमति दे दी।इस मार्मिक मामले की याची महिला की शादी पिछले साल अक्टूबर में हुई थी। उसके पति मूल रूप से गुजरात के भरूच के रहने वाले है पर दोनो की मुलाक़ात तीन साल पहले कनाडा में ही हुई थी। दोनो प्रेम विवाह के बाद ख़ुश थे पर अचानक इस साल फरवरी में युवक के पिता हृदय की बीमारी के चलते गम्भीर हो गए। उनके इलाज के लिए युवक को गुजरात आना पड़ा और उसके प्रयास से पिता ऑपरेशन के बाद स्वस्थ हो गए पर अस्पताल आने जाने के क्रम में उसे कोरोना का संक्रमण हो गया।युवक की स्थिति बिगड़ने पर 10 मई को उसे भी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। 
अस्पताल में भी दिनो दिन उसकी स्थिति बिगड़ती गयी। उसका फेफड़ा बुरी तरह संक्रमित हो गया और अब वह मल्टिपल ऑर्गन फ़ेल्यर के कारण मरणासन्न है। उसकी पत्नी ने ऐसी स्थिति में उसके साथ अपने संतान प्राप्ति की इच्छा से अस्पताल के ज़रिए पति का वीर्य हासिल करने के लिए अदालत का दरवाज़ा खटखटाया था।

संयुक्त तत्वाधान में 'विशाल स्वास्थ्य शिविर' का आयोजन

संयुक्त तत्वाधान में 'विशाल स्वास्थ्य शिविर' का आयोजन  दुष्यंत टीकम  रायपुर। भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की ज...