गुजरात लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
गुजरात लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 25 फ़रवरी 2024

द्वारका: पीएम ने समुद्र में डुबकी लगाई

द्वारका: पीएम ने समुद्र में डुबकी लगाई 

इकबाल अंसारी 
द्वारका। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने द्वारका में जिले के पंचकुई समुद्र तट पर स्कूबा डाइविंग और समुद्र में डुबकी लगाई। इस दौरान उन्होंने समुद्र के नीचे द्वारका में पूजा भी की और भगवान कृष्ण को उनकी प्यारी चीज भेंच की। इसकी जानकारी पीएम मोदी ने खुद एक जनसभा को संबोधित करते हुए दी। 
उन्होंने बताया कि जब वह समुद्र की गहराई में गए तो उन्होंने दिव्यता का अनुभव किया और फिर उन्होंने भगवान के सामने सिर झुकाया। उन्होंने कहा कि वो समुद्र के नीचे अपने साथ एक मोरपंख भी ले गए थे जिसे उन्होंने भगवान कृष्ण के चरणों में रख दिया। पीएम मोदी ने कहा, आज मैंने जिन पलों का अनुभव किया, वे हमेशा मेरे साथ रहेंगे। मैं समुद्र की गहराई में गया और प्राचीन द्वारका शहर के 'दर्शन' किए। पुरातत्वविदों ने पानी के नीचे छिपी द्वारका शहर के बारे में बहुत कुछ लिखा है। हमारे धर्मग्रंथों में भी द्वारका के बारे में कहा गया है कि यह सुंदर द्वारों और दुनिया की चोटी जितनी ऊंची इमारतों वाला शहर था। भगवान कृष्ण ने स्वयं इस शहर का निर्माण किया था। जब मैं समुद्र की गहराई में चला गया, दिव्यता का अनुभव हुआ। मैंने द्वारकाधीश के सामने सिर झुकाया। मैं अपने साथ एक मोर पंख ले गया और उसे भगवान कृष्ण के चरणों में रख दिया। मैं हमेशा वहां जाने और प्राचीन द्वारका शहर के अवशेषों को छूने के लिए उत्सुक था। मैं तृप्त हूं आज भावनाओं का। दशकों पुराना सपना आज पूरा हो गया।  पीएम मोदी ने रविवार को मुख्य भूमि और बेट द्वारका को जोड़ने वाले लगभग 2.32 किलोमीटर लंबे देश के सबसे लंबे केबल आधारित पुल सुदर्शन सेतु का भी उद्घाटन किया। इसके बारे में बताते हुए पीएम मोदी ने कहा, मैं आज समुद्र द्वारका के उस दर्शन से विकसित भारत के संकल्प को और मजबूत करके आया हूं। आज मुझे सुदर्शन सेतु के लोकार्पण का भी सौभाग्य मिला है। 6 साल पहले मुझे इस सेतु का शिलान्यास करने का अवसर मिला था।ये सेतु ओखा से बेट द्वारका को जोड़ेगा और द्वारकाधीश के दर्शन को आसान बनाएगा। इस दौरान पीएम मोदी ने विरोधियों पर भी निशाना साधा और कहा कि जब मैंने देशवासियों को नए भारत की गारंटी दी थी तो ये विपक्ष के लोग उसकी भी मजाक उड़ाते थे। आज देखिए... लोग नया भारत बनते हुए अपनी आंखों से देख रहे हैं।

गुरुवार, 18 जनवरी 2024

तालाब में पलटीं नाव, 12 छात्र व 2 शिक्षकों की मौत

तालाब में पलटीं नाव, 12 छात्र व 2 शिक्षकों की मौत 

इकबाल अंसारी 
वडोदरा। गुजरात के वडोदरा में  हरणी तालाब में नाव पलटने से 12 छात्र समेत दो शिक्षकों की मौत हो गई है। नाव पर 23 छात्र और चार शिक्षक सवार थे। नाव की क्षमता 14 लोगों की थी लेकिन इसमें 27 से ज़्यादा लोगों को सवार किया गया था। वहीं तालाब का रख रखाव एक निजी कम्पनी के हाथ में है।  
सभी विद्यार्थी वडोदरा के एक स्कूल के थे। गंभीर रूप से घायल छात्रों को अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। मौके पर 10 से ज्यादा एंबुलेंस पहुंच चुकी हैं घटना की जानकारी मिलते ही वहां पर रेस्क्यू की टीम पहुंची। 
सीएम भूपेंद्र पटेल ने ट्वीट करते हुए कहा है कि वडोदरा के हरणी तालाब में बच्चों के डूबने की खबर बेहद दुखदायी है। मैं उन बच्चों की आत्मा की शांति के लिए कामना करता हूं, जिन्होंने अपनी जान खो दी। इस दुख की घड़ी में मैं पीड़ित के परिवारों के दुख में शामिल हू और भगवान उन्हें इस दुख को सहन करने की शक्ति दें। जो छात्र और शिक्षक नाव पर सवार थे उनके लिए रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

गुरुवार, 11 जनवरी 2024

सम्मेलन के लोगों का अनावरण किया: सीएम

सम्मेलन के लोगों का अनावरण किया: सीएम 

इकबाल अंसारी 
भुवनेश्वर। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बृहस्पतिवार को पहले विश्व उड़िया भाषा सम्मेलन के लोगों का अनावरण किया और उम्मीद जतायी कि कार्यक्रम सफल रहेगा। लोगो पर लिखा है, ‘‘भाषा ही भविष्य है।’’ इस सम्मेलन का आयोजन तीन से पांच फरवरी तक होगा। पटनायक ने एक बयान में कहा, "मुझे उम्मीद है कि यह सम्मेलन बुद्धिजीवियों, शोधकर्ताओं, विद्वानों और छात्रों के बीच विचारों के आदान-प्रदान के लिए एक अच्छा अवसर प्रदान करेगा।"
पटनायक ने कहा कि ओडिशा भाषाई आधार पर बनने वाला देश का पहला राज्य है। उन्होंने कहा कि उड़िया भाषा को शास्त्रीय भाषा का दर्जा दिया गया है, जिससे राज्य और भाषा का यश समृद्ध हुआ है। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, पहले विश्व उड़िया सम्मेलन में ओडिया भाषा के अतीत, वर्तमान और भविष्य पर चर्चा की जाएगी और इसके प्रचार-प्रसार के लिए लक्ष्य तय किए जाएंगे।
मुख्यमंत्री ने उड़िया भाषा, साहित्य और संस्कृति विभाग को कार्यक्रम का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के लिए सभी संबंधित पक्षों के साथ समन्वय करने का निर्देश दिया है। इस सम्मेलन के दौरान दुनिया भर के मशहूर भाषाविदों और शोधकर्ताओं के भाग लेने की उम्मीद है।
फरवरी 2014 में केंद्र से शास्त्रीय दर्जा मिलने के बाद उड़िया देश की छठी ऐसी भाषा बन गयी। उससे पहले मलयालम, तेलुगु, कन्नड़, संस्कृत और तमिल को यह दर्जा मिला था। राज्य सरकार ने 2013 में केंद्र को एक प्रस्ताव सौंपा था जिसमें कहा गया था कि उड़िया भाषा 2,500 साल से भी अधिक पुरानी है।

बुधवार, 10 जनवरी 2024

10वें संस्करण के कार्यक्रम को संबोधित किया

10वें संस्करण के कार्यक्रम को संबोधित किया 

इकबाल अंसारी 
गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि ‘वन वर्ल्ड, वन फैमिली, वन फ्यूचर’ का सिद्धांत, विश्व कल्याण की अनिवार्य आवश्यकता है। मोदी ने यहां महात्मा मंदिर में वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट 2024 के 10वें संस्करण के शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ समय पहले ही वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट को 20 वर्ष पूरे हुए हैं। बीते 20 वर्षों में इस समिट ने नये आइडिया को प्लेटफॉर्म दिया है।
इसने इन्वेस्टमेंट और रिटर्न्स के लिये नये गेटवे बनाये हैं। अब वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट की इस बार की थीम है “गेटवे ऑफ फ्यूचर”। इक्कीसवीं सदी की दुनिया का फ्यूचर हमारे साझे प्रयासों से ही उज्ज्वल बनेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत ने अपनी जी-20 प्रेसीडेंसी के दौरान भी ग्लोबल फ्यूचर के लिये एक रोड-मैप दिया है।
वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट के इस एडिशन में भी इस विजन को औऱ आगे बढ़ा रहे हैं। भारत ‘आई - टू - यू- टू’ और दूसरे मल्टीलेटरल ऑर्गेनाइजेशन के साथ पार्टनरशिप को लगातार मजबूत कर रहा है। उन्होंने कहा कि वन वर्ल्ड, वन फैमिली, वन फ्यूचर का सिद्धांत, विश्व कल्याण की अनिवार्य आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मोजाम्बिक के राष्ट्रपति फिलिप जैसिंटो न्यूसी से कल भी उनकी बहुत विस्तार से बात हुई है।
उनके लिये तो गुजरात आना, पुरानी यादों को ताजा करने जैसा है। श्री न्यूसी भारतीय प्रबंध संस्थान, अहमदाबाद के पूर्व छात्र हैं। भारत के लिये गर्व की बात है कि हमारी जी-20 प्रेसिडेंसी में अफ़्रीकन यूनियन को स्थायी सदस्यता मिली। राष्ट्रपति न्यूसी की भारत यात्रा से हमारे सबंधों को तो बल मिला ही है, भारत-अफ़्रीका के बीच घनिष्ठता भी और बढ़ी है।
 मोदी ने कहा कि चेक गणराज्य के प्रधानमंत्री पैत्र फियाला पहली भारत यात्रा इस पद पर है, वैसे वह भारत पहले भी आये है। चेक गणराज्य लंबे समय से वाइब्रेंट गुजरात समिट से जुड़ा हुआ है। भारत और चेक गणराज्य के बीच टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल्स, मैन्युफ़ैक्चरिंग जैसे सेक्टर्स में सहयोग लगातार बढ़ रहा है।
उन्होंने कहा,“ प्रधानमंत्री पैत्र फियाला मुझे विश्वास है, आपकी इस यात्रा से दोनों देशों के संबंध और मजबूत होंगे। हमारे यहां कहा जाता है अतिथि देवो भव: और प्रधानमंत्री के रूप में आपकी तो ये पहली भारत यात्रा है। उम्मीद है, आप बहुत शानदार यादें लेकर यहां से जायेंगे। ”उन्होंने कहा, “ नोबेल लॉरिएट और तिमोर लेस्ते के राष्ट्रपति जोस रामोस होर्टा का भी मैं भारत में स्वागत करता हूं। 
जोस रामोस होर्टा का गांधीनगर आना और विशेष है। आपने महात्मा गांधी के अहिंसा के सिद्धांत को अपने देश के स्वतंत्रता संग्राम से जोड़ा है। आशियान और इण्डो-पैसिफिक क्षेत्र में तिमोर लेस्ते के साथ हमारा सहयोग बहुत अहम है।”

मंगलवार, 9 जनवरी 2024

कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात की

कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात की

इकबाल अंसारी 
गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को दुनिया की प्रमुख कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात की। उनकी यह मुलाकात ‘वाइब्रेंट’ गुजरात शिखर सम्मेलन से पहले अर्थव्यवस्था को गति देने तथा रोजगार सृजित करने के लिये विभिन्न क्षेत्रों में निवेश आकर्षित करने के इरादे से हुई है। दस जनवरी को शुरू हो रहे ‘वाइब्रेंट’ गुजरात शिखर सम्मेलन से एक दिन पहले प्रधानमंत्री ने सुजुकी मोटर कॉर्प, माइक्रोन टेक्नोलॉजी और एपी मोलर के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात की और उद्योग से जुड़े मुद्दों तथा निवेश अवसरों पर चर्चा की। 
(पीएमओ) ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा है, ‘‘मोदी और सुजुकी मोटर कॉर्प के प्रतिनिधि निदेशक और अध्यक्ष तोशिहीरो सुजुकी ने भारत में विनिर्मित वाहनों का निर्यात करके देश को वैश्विक वाहन बाजार में एक मजबूत इकाई बनाने की मारुति सुजुकी की योजनाओं पर चर्चा की। साथ ही दोनों ने वाहनों को कबाड़ में बदलने और वाहन पुनर्चक्रण से संबंधित वैश्विक स्तर की बेहतर गतिविधियों को लागू करने को लेकर भी बातचीत की।’’ मारुति सुजुकी गुजरात में कार बनाने का दूसरा कारखाना लगाने पर विचार कर रही है। यह कंपनी का देश में पांचवा कारखाना होगा। प्रधानमंत्री कार्यालय ने लिखा है, ‘‘माइक्रोन टेक्नोलॉजी के अध्यक्ष और मुख्य कार्यपालक अधिकारी संजय मेहरोत्रा ने प्रधानमंत्री मोदी से गांधीनगर में मुलाकात की।
उन्होंने भारत में सेमीकंडक्टर विनिर्माण परिवेश को बढ़ाने के लिए माइक्रोन के प्रयासों पर चर्चा की।’’ अमेरिकी चिप बनाने वाली प्रमुख कंपनी माइक्रोन ने अहमदाबाद से लगभग 40 किलोमीटर दूर साणंद में 2.75 अरब डॉलर के सेमीकंडक्टर कारखाने का निर्माण शुरू कर दिया है। कारखाने के इस साल दिसंबर तक तैयार होने की उम्मीद है। प्रधानमंत्री ने डीपी वर्ल्ड के समूह चेयरमैन और सीईओ अहमद बिन सुलायेम से भी मुलाकात की। उन्होंने भारत में निवेश को आगे बढ़ाने के लिए डीपी वर्ल्ड की योजनाओं पर चर्चा की। 
विशेष रूप से टिकाऊ, हरित और ऊर्जा दक्ष बंदरगाहों और विश्वस्तरीय पर्यावरण अनुकूल लॉजिस्टिक बुनियादी ढांचे के निर्माण से संबंधित मामलों पर चर्चा हुई। डीपी वर्ल्ड ने पिछले साल गुजरात के कांडला में एक नए 21.9 लाख टन टीईयू (टीईयू बराबर 20 फुट समतुल्य इकाई) प्रतिवर्ष मेगा-कंटेनर टर्मिनल के विकास, परिचालन और रखरखाव के लिए दीनदयाल बंदरगाह प्राधिकरण के साथ एक रियायती समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। 
दुबई की लॉजिस्टिक कंपनी वर्तमान में भारत में पांच कंटेनर टर्मिनल का परिचालन करती है। इसमें से दो मुंबई में, एक-एक मुंद्रा, कोचीन और चेन्नई में हैं। इनकी कुल क्षमता लगभग 60 लाख टीईयू है। मोदी ने एपी मोलर के सीईओ कीथ स्वेंडसेन से भी मुलाकात की। पीएमओ ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने गिफ्ट सिटी में उनकी विस्तार योजनाओं का स्वागत किया। दोनों ने हरित हाइड्रोजन और लॉजिस्टिक बुनियादी ढांचे के विकास जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की।’’ उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के डीकिन यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर इयान मार्टिन से भी मुलाकात की।
पीएमओ ने ‘एक्स’ पर लिखा है, ‘‘उनके बीच साइबर सुरक्षा पर सरकार और शैक्षणिक संस्थानों के बीच सहयोग बढ़ाने को लेकर सार्थक बातचीत हुई। प्रधानमंत्री ने अनुसंधान और नवोन्मेष को बढ़ावा देने के लिए भारतीय विश्वविद्यालयों के साथ सहयोग के लिए भी डीकिन विश्वविद्यालय का स्वागत किया।’’ ‘वाइब्रेंट’ गुजरात शिखर सम्मेलन का आयोजन 10-12 जनवरी को होगा। इसमें 133 देशों के 1,00,000 प्रतिनिधियों के आने की उम्मीद है। इनमें कंपनियों के मुख्य कार्यपालक अधिकारी, उद्योगपति, मंत्री और राजनयिक शामिल हैं।

'वैश्विक व्यापार प्रदर्शनी-2024’ का उद्घाटन किया

'वैश्विक व्यापार प्रदर्शनी-2024’ का उद्घाटन किया 

इकबाल अंसारी 
गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 10वें वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक शिखर सम्मेलन की पूर्व-संध्या पर मंगलवार को ‘वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक व्यापार प्रदर्शनी-2024’ का उद्घाटन किया। यह वैश्विक प्रदर्शनी गुजरात की राजधानी गांधीनगर में हेलीपैड ग्राउंड प्रदर्शनी केंद्र के कई हॉल में लगाई गई है। इसका कुल क्षेत्रफल करीब दो लाख वर्ग मीटर है।
प्रदर्शनी में कुल 20 देश शिरकत कर रहे हैं। इसकी शुरुआत वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन से ठीक पहले हुई है। इस शिखर सम्मेलन का उद्घाटन भी प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी अपराह्न तीन बजे कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे और गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल और अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ प्रदर्शनी में लगे कई स्टाल को देखा।
उद्घाटन के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी और अन्य अतिथियों का स्वागत करने के लिए स्थानीय कॉलेजों के विद्यार्थी बड़ी संख्या में मौजूद थे। इसमें शोध क्षेत्र से जुड़े करीब 1,000 स्टॉल लगाए गए हैं। इसमें कुल 13 हॉल हैं जो ‘मेक इन गुजरात’ और ‘आत्मनिर्भर भारत’ जैसे 13 अलग-अलग विषयों पर केंद्रित हैं। प्रदर्शनी में महिला सशक्तीकरण, एमएसएमई विकास, नई प्रौद्योगिकी, हरित और स्मार्ट बुनियादी ढांचे और टिकाऊ ऊर्जा पर खास ध्यान दिया गया है।
प्रदर्शनी बुधवार और बृहस्पतिवार को कारोबारों के लिए खुला रहेगी जबकि आम जनता के लिए यह उसके बाद दो दिन खुलेगी। इस प्रदर्शनी में ऑस्ट्रेलिया, तंजानिया, मोरक्को, मोजाम्बिक, दक्षिण कोरिया, थाइलैंड, एस्टोनिया, बांग्लादेश, सिंगापुर, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), ब्रिटेन, जर्मनी, नॉर्वे, फिनलैंड, नीदरलैंड, रूस, रवांडा, जापान, इंडोनेशिया और वियतनाम अपने उद्योगों के बारे में जानकारी देंगे।
इसके पहले दिन में प्रधानमंत्री मोदी ने निवेशक सम्मेलन के आयोजन स्थल 'महात्मा गांधी मंदिर' में मोजाम्बिक, तिमोर एवं तिमोर-लेस्ते के राष्ट्राध्यक्षों और वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की। उन्होंने कई वैश्विक कंपनियों के मुख्य कार्यपालक अधिकारियों (सीईओ) के साथ भी बैठक की।

सोमवार, 1 जनवरी 2024

नववर्ष: गुजरात के नाम बना नया 'वर्ल्ड रिकॉर्ड'

नववर्ष: गुजरात के नाम बना नया 'वर्ल्ड रिकॉर्ड'

इकबाल अंसारी 
गांधीनगर। नए साल के आगाज के साथ ही गुजरात के नाम एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बन गया है। यहां 108 अलग-अलग जगहों पर 4 हजार लोगों ने एक साथ सूर्य नमस्कार किया है। सबसे ज्यादा लोगों के एक साथ सूर्य नमस्कार करने से गुजरात का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है।
मोढेरा सूर्य मंदिर गुजरात के पाटन नामक स्थान से 30 किलोमीटर दक्षिण की ओर मोढेरा गांव में निर्मित है। यह सूर्य मन्दिर विलक्षण स्थापत्य और शिल्प कला का बेजोड़ उदाहरण है। इस मंदिर में नए साल की पहली सुबह के अवसर पर सूर्य नमस्कार कार्यक्रम हुआ।
जानकारी के मुताबिक अकेले मोढेरा सूर्य मंदिर में ही 2 हजार लोगों ने एक साथ सूर्य नमस्कार किया। इस दौरान अब तक किसी भी देश के पास सूर्य नमस्कार को लेकर कोई रिकॉर्ड नहीं है। लेकिन गुजरात की वजह से ये रिकॉर्ड भारत के नाम दर्ज हो गया है। राज्यभर में 108 अलग-अलग जगहों पर सूर्य नमस्कार किया गया जहां बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक ने हिस्सा लिया।
पीएम मोदी ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एक्स पर गुजरात की तारीफ करते हुए कहा,  गुजरात ने एक उल्लेखनीय उपलब्धि के साथ 2024 का स्वागत किया। उन्होंने कहा, जैसा कि हम सभी जानते हैं, हमारी संस्कृति में 108 अंक का विशेष महत्व है। आयोजन स्थलों में प्रतिष्ठित मोढेरा सूर्य मंदिर भी शामिल है, जहां कई लोग शामिल हुए। यह वास्तव में योग और हमारी सांस्कृतिक विरासत के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का सच्चा प्रमाण है। मैं आप सभी से भी आग्रह करता हूं कि सूर्य नमस्कार को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। फायदे बहुत हैं।

बुधवार, 27 दिसंबर 2023

तूफान: तबाही के कारण राज्य सुर्खियों में रहा

तूफान: तबाही के कारण राज्य सुर्खियों में रहा

इकबाल अंसारी 
अहमदाबाद। गुजरात के सूरत की एक अदालत में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को मानहानि मामले में दोषी ठहराए जाने और 'बिपरजॉय' तूफान से होने वाली तबाही के कारण 2023 में यह राज्य सुर्खियों में रहा। कांग्रेस नेता ने सजा सुनाये जाने के बाद लोकसभा की सदस्यता खो दी, जिसकी बहाली के लिए उन्हें कानूनी लड़ाई लड़नी पड़ी।
इस वर्ष इन दो घटनाओं के अलावा कई अन्य ऐसे कारण थे जिससे गुजरात देश भर में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में सुर्खियों में रहा। इनमें यूनेस्को द्वारा राज्य के पारंपरिक नृत्य गरबा को अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सूची में शामिल किया जाना, सूरत में डायमंड बोर्स का उद्घाटन तथा ऑस्ट्रेलिया के दो विश्वविद्यालयों के परिसर गांधीनगर स्थित ‘गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस टेक’ (गिफ्ट) सिटी में स्थापित किया जाना शामिल है।
सूरत की अदालत ने 23 मार्च को राहुल गांधी को उनकी ‘मोदी उपनाम’ टिप्पणी को लेकर दायर मानहानि मामले में दो साल के कारावास की सजा सुनाई। राज्य के पूर्व मंत्री पूर्णेश मोदी ने 2019 में राहुल गांधी के खिलाफ उनके उस बयान के लिए आपराधिक मानहानि का मामला दायर किया था, जिसमें उन्होंने कहा था, ‘‘सभी चोरों के उपनाम मोदी कैसे है।’’
यह टिप्पणी कांग्रेस नेता ने 13 अप्रैल 2019 को कर्नाटक के कोलार में एक चुनावी रैली में की थी। अदालत से दोषी ठहराए जाने और सजा सुनाये जाने के बाद राहुल गांधी को लोकसभा के सदस्य के रूप में अयोग्य घोषित कर दिया गया। अदालत से दो साल या उससे अधिक की सजा मिलने के बाद जनप्रतिनिधि की संबंधित सदन की सदस्यता स्वत: समाप्त हो जाती है।
नियमों के अनुसार, गांधी को सांसद के रूप में तभी बहाल किया जा सकता था, जब अदालत उनकी दोषसिद्धि पर रोक लगा दे। अपनी दोषसिद्धि पर रोक लगवाने के राहुल गांधी के प्रयास सूरत सत्र अदालत और गुजरात उच्च न्यायालय में विफल रहे, क्योंकि वहां उनकी याचिकाएं खारिज कर दी गयीं।

उच्चतम न्यायालय ने अंततः अगस्त में उनकी दोषसिद्धि पर रोक लगा दी, जिससे उनकी लोकसभा सदस्यता की बहाली का मार्ग प्रशस्त हो गया। गांधी केरल के वायनाड लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं।
गुजरात उच्च न्यायालय ने 31 मार्च को केंद्रीय सूचना आयोग के सात साल पुराने उस आदेश को रद्द कर दिया, जिसमें गुजरात विश्वविद्यालय से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शैक्षणिक डिग्री के बारे में जानकारी उपलब्ध कराने को कहा गया था और उन पर 25,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया।
इस मामले में केजरीवाल की समीक्षा याचिका भी उच्च न्यायालय की एकल-न्यायाधीश पीठ ने खारिज कर दी थी, जिसके बाद उन्होंने उच्च न्यायालय की खंडपीठ का दरवाजा खटखटाया। अप्रैल में, गुजरात विश्वविद्यालय ने प्रधानमंत्री की डिग्री के मुद्दे पर विश्वविद्यालय के खिलाफ की गई टिप्पणियों को लेकर केजरीवाल और आम आदमी पार्टी (आप) नेता संजय सिंह के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मामला दायर किया था।
मामले की सुनवाई अब भी जारी है। राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव भी अपने उस बयान को लेकर आपराधिक मानहानि के मुकदमे का सामना कर रहे हैं, जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘केवल गुजराती ही ठग हो सकते हैं’। तेजस्वी के खिलाफ मामला मई में अहमदाबाद की अदालत में दायर किया गया था। चक्रवाती तूफान बिपरजॉय 15 जून को गुजरात के कच्छ जिले में आया था, जिससे क्षेत्र में फसलों और बिजली आपूर्ति को भारी नुकसान हुआ।
हालांकि, अधिकारियों ने कहा कि तटीय क्षेत्र से 1.10 लाख से अधिक लोगों को सावधानीपूर्वक निकाल लिये जाने के कारण प्राकृतिक आपदा में कोई जन हानि नहीं हुई। ‘बिपरजॉय’ का बांग्ला भाषा में अर्थ आपदा होता है। इस साल अप्रैल में एक बार फिर गुजरात उस वक्त सुर्खियों में आया जब अहमदाबाद की एक अदालत ने 2002 के नरोदा दंगों के मामले में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पूर्व मंत्री माया कोडनानी समेत सभी 67 आरोपियों को बरी कर दिया।
इन दंगों में 11 लोग मारे गए थे। गुजरात के पारंपरिक नृत्य गरबा को इस महीने की शुरुआत में यूनेस्को द्वारा अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सूची में शामिल किया गया था। गुजरात सरकार ने अहमदाबाद जिले के साणंद में भारत की पहली सेमीकंडक्टर असेंबली और परीक्षण सुविधा की स्थापना के लिए कंप्यूटर स्टोरेज चिप निर्माता माइक्रोन के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। इनके अलावा अन्य कारणों से भी गुजरात सुर्खियों में रहा।

मंगलवार, 28 नवंबर 2023

डिवाइडर से टकराई बस, एक दर्जन यात्री घायल

डिवाइडर से टकराई बस, एक दर्जन यात्री घायल 

इकबाल अंसारी 
भरतपुर। उत्तर प्रदेश के औरैया से गुजरात के अहमदाबाद जा रही एक स्लीपर कोच बस के आज भरतपुर के चिकसाना थाना इलाके में डिवाइडर से टकराकर पलट जाने से एक दर्जन यात्री घायल हो गए।
प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार शाम करीब 40 यात्रियों को लेकर औरैया से अहमदाबाद जाने के लिए रवाना हुई स्लीपर कोच बस तेज गति से चलते हुए आज अलसुबह नेशनल हाईवे आगरा-जयपुर पर डिवाइडर पर चढ़कर पलट गई जिससे बस में चीख पुकार मच गई। राहगीरों ने घटना की सूचना पुलिस को दी।
कुछ देर बाद मौके पर पुलिस और एंबुलेंस आ गई। पुलिस ने सभी घायलों को एंबुलेंस के जरिए अस्पताल पहुंचाया। घटना में 3 बच्चे, 4 महिलाएं और 5 पुरुष घायल हुए हैं। बाकी यात्रियों को मामूली चोटें आईं हैं। घायल हुए ज्यादातर लोग औरैया के रहने वाले हैं।

रविवार, 19 नवंबर 2023

फ़ाइनल मैच देखने के लिए अहमदाबाद पहुंचे पीएम

फ़ाइनल मैच देखने के लिए अहमदाबाद पहुंचे पीएम 

इकबाल अंसारी 
अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच क्रिकेट वर्ल्ड कप का फ़ाइनल मैच देखने के लिए रविवार को अहमदाबाद पहुंचे। मोदी का अहमदाबाद हवाई अड्डे पर गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत तथा मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने रविवार को ऊष्मापूर्ण स्वागत किया।
मोदी भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच क्रिकेट वर्ल्ड कप का फ़ाइनल मैच देखने के लिए स्टेडियम में उपस्थित रहने वाले हैं, जिसके अंतर्गत रविवार को वह अहमदाबाद पहुंचे। अहमदाबाद हवाई अड्डे पर नवसारी के सांसद तथा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सी. आर. पाटिल, अहमदाबाद की महापौर प्रतिभा जैन, राज्य के मुख्य सचिव राज कुमार, एयर मार्शल नर्मदेश्वर तिवारी,
राज्य पुलिस महानिदेश विकास सहाय, मेजर जनरल एस. एस. विर्क, चीफ़ प्रोटोकॉल ऑफ़िसर ज्वलंत त्रिवेदी, ज़िला कलेक्टर प्रवीणा डी. के. आदि वरिष्ठ महानुभावों और अधिकारियों ने भी प्रधानमंत्री का अभिवादन करते हुए स्वागत किया।

मंगलवार, 31 अक्तूबर 2023

स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा

स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा 

इकबाल अंसारी 
नर्मदा। सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती के अवसर पर मंगलवार को गुजरात में नर्मदा ज़िले के एकता नगर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उपस्थिति में सरदार साहब की प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा कर उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी गई।
सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती के अवसर पर यहां पिछले छह वर्षों से भव्य एकता परेड का आयोजन किया जा रहा है। राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर श्री मोदी की उपस्थिति में विश्व की सबसे ऊंची सरदार साहब की अद्वितीय प्रतिमा के सान्निध्य में यूनिटी इन डायवर्सिटी की थीम पर एकता परेड आयोजित की गयी। एकता परेड का नेतृत्व 2020 बैच के आईपीएस कोरुकांडा सिद्धार्थ ने किया।
गुजरात पुलिस, अर्धसैनिक बलों और विभिन्न सुरक्षा एजेंसी की संस्थाओं ने अनुशासित और साहसपूर्ण परेड प्रस्तुत की। सरदार साहब की प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा कर उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी गई।
परेड के विशेष आकर्षणों में महिला सी.आर.पी.एफ. बाइकर, यशस्विनी द्वारा डेयरडेविल शो, बी.एस.एफ. का महिला पाइप बैंड, गुजरात महिला पुलिस द्वारा कोरियोग्राफी प्रोग्राम, विशेष एनसीसी शो, स्कूल बैंड डिस्प्ले, जी20 समिट, चंद्रयान प्रोजेक्ट की सफलता, भारतीय वायु सेना की सूर्य किरण एरोबेटिक्स टीम द्वारा फ्लाय पास्ट, गुजरात सहित देश के पांच अन्य राज्यों क्रमशः असम, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, हिमाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश के पुलिस बल द्वारा मार्चपास्ट, सीमावर्ती राज्यों के सीमावर्ती वाइब्रेंट गांवों की आर्थिक सद्धरता का प्रदर्शन और देश के विभिन्न राज्यों की विविधतापूर्ण संस्कृति का परिचय कराने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों का समावेश रहा। सरदार साहब की अद्वितीय प्रतिमा के सान्निध्य में अलग-अलग राज्यों की पुलिस और देश के अर्धसैनिक बलों, सुरक्षा एजेंसियों के विभिन्न वर्दीधारी दलों ने अनुशासित और शौर्यपूर्ण परेड प्रस्तुत कर सभी को रोमांचित और मंत्रमुग्ध कर दिया।
परेड में आई.टी बी.पी., सी.आई.एस.एफ., सी.आर.पी.एफ., बी.एस.एफ. की अनुशासित परेड में साहस और शौर्य का उत्कृष्ट प्रदर्शन सभी के मन को भा गया। गुजरात-दिल्ली-पंजाब रेजिमेंट के जवानों ने पुलिस बैंड की शौर्यपूर्ण मधुर धुनें बजाईं। इसके अलावा सरदार साहब के अविस्मरणीय प्रवचनों के अंशों का भी ध्वनि प्रसारण किया गया।

शनिवार, 16 सितंबर 2023

'शिव' की शोभा यात्रा पर तत्वों ने पथराव किया

'शिव' की शोभा यात्रा पर तत्वों ने पथराव किया 

इकबाल अंसारी 
गांधीनगर। भाद्रपद माह के अंतर्गत शिव मंदिर से निकाली जा रही भगवान शिव की शोभा यात्रा पर असामाजिक तत्वों ने पथराव कर दिया। जिसकी चपेट में आकर तीन पुलिसकर्मियों समेत कई अन्य लोग घायल हो गए हैं। 
शोभा यात्रा पर पथराव किए जाने की घटना के बाद पूरे इलाके में दो समुदायों के बीच भारी तनाव का माहौल व्याप्त हो गया है। पुलिस और प्रशासन के आला अफसर इलाके में भारी फोर्स तैनात करते हुए हालातो पर नजदीकी नजर रखे हुए हैं।  गुजरात के खेड़ा जनपद में भी हरियाणा के नूंह में अंजाम दी गई हिंसा जैसी साजिश रची गई है। खेड़ा जनपद के ठासरा कस्बे के शिव मंदिर से निकाली जा रही शोभा यात्रा पर असामाजिक तत्वों ने पथराव कर दिया। जिसकी चपेट में आकर तीन पुलिसकर्मियों समेत कई अन्य लोग भी घायल हुए हैं। शनिवार को खेड़ा के पुलिस अधीक्षक राजेश गढ़िया ने बताया कि हर साल की तरह इस बार भी शिव मंदिर के भीतर से भगवान शिव की शोभा यात्रा निकाली गई थी। जिसमें तकरीबन 700-800 लोग शामिल थे। 
आकर्षक झांकियों एवं बैंड बाजों के साथ निकाली जा रही भगवान शिव की यह शोभा यात्रा जब तीन बत्ती इलाके में पहुंची तो कुछ असामाजिक तत्वों ने शोभा यात्रा पर ईंट पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। शोभा यात्रा पर पथराव होते ही मौके पर भगदड़ मच गई। पथराव की चपेट में आकर शोभा यात्रा की सुरक्षा के लिए लगाए गए तीन पुलिस कर्मियों के अलावा कई अन्य लोग भी घायल हो गए हैं। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची अतिरिक्त पुलिस ने तुरंत हालातो पर काबू पा लिया है। शोभा यात्रा पर किए गए पथराव की वजह से अब इलाके में भारी तनाव बना हुआ है। 
किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए पुलिस और प्रशासन द्वारा जिले के अन्य स्थानों से अतिरिक्त पुलिस बल कस्बे में मंगाया गया है और उसे शहर में तैनात कर दिया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि पथराव की चपेट में आकर एक सब इंस्पेक्टर दो कांस्टेबल तथा कुछ अन्य लोग घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

गुरुवार, 20 जुलाई 2023

रफ्तार का कहर, 9 की मौत, 13 घायल हुए 

रफ्तार का कहर, 9 की मौत, 13 घायल हुए   

इकबाल अंसारी 

अहमदाबाद। अहमदाबाद में एक फ्लाईओवर पर तेज रफ्तार से आ रही कार एक दुर्घटनास्थल पर खड़ी भीड़ में घुस गई, जिससे नौ लोगों की मौत हो गई और 13 अन्य लोग घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सरखेज-गांधीनगर राजमार्ग के इस्कॉन पुल पर दो वाहनों के बीच टक्कर के बाद लोगों की भीड़ एकत्र थी, तभी तेज गति से आ रही एक लग्जरी कार भीड़ में घुस गई जिससे नौ लोगों की मौत हो गई और 13 अन्य लोग घायल हो गए। घटना की सूचना पर मौके पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। मृतकों की पहचान की जा रही है।

गुजरात फिल्म फेयर अवार्ड की मेजबानी करेगा 

गुजरात फिल्म फेयर अवार्ड की मेजबानी करेगा 

अखिलेश पांडेय  

अहमदाबाद। गुजरात सरकार 2024 में फिल्मफेयर अवॉर्ड्स के 69वें संस्करण की मेजबानी करेगी और उसके पर्यटन निगम ने राज्य में फिल्मों की शूटिंग को बढ़ावा देने तथा इस पुरस्कार समारोह की मेजबानी करने के लिए ‘वर्ल्डवाइड मीडिया’ के साथ एक समझौते ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

अधिकारियों ने बताया कि गांधीनगर में बुधवार को राज्य के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और ‘टाइम्स ग्रुप’ के प्रबंध निदेशक विनीत जैन की मौजूदगी में ‘टूरिज्म कॉरपोरेशन ऑफ गुजरात लिमिटेड’ (टीसीजीएल) और मनोरंजन तथा लाइफ स्टाइल क्षेत्र की कंपनी डब्ल्यूडब्ल्यूएम के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

राज्य सरकार द्वारा बुधवार को जारी एक आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, गुजरात भारत के हिंदी भाषी फिल्म उद्योग की प्रतिभाओं को सम्मानित करने के लिए पहली बार इस वार्षिक पुरस्कार समारोह की मेजबानी करेगा और इसके जरिए फिल्मों की शूटिंग के लिए राज्य का प्रचार किया जाएगा। समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर के लिए आयोजित कार्यक्रम में बॉलीवुड अभिनेता टाइगर श्रॉफ भी मौजूद रहे।

इस मौके पर मुख्यमंत्री पटेल ने कहा कि अपने आप को फिल्मों की शूटिंग के लिए सबसे उपयुक्त राज्य के रूप में पेश करने की कोशिश कर रहे गुजरात के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड्स, 2024 की मेजबानी एक और उपलब्धि होगी। जैन ने कहा कि गुजरात में फिल्मफेयर अवॉर्ड्स का आयोजन करने का उद्देश्य न केवल गुजरात पर्यटन को बढ़ावा देना बल्कि राज्य की फिल्म पारिस्थितिकी को मजबूत करना भी है।

शुक्रवार, 14 जुलाई 2023

दक्षिण अफ्रीका से लाए नर चीते का शव मिला

दक्षिण अफ्रीका से लाए नर चीते का शव मिला 

शोभा गोहाटे  

गांधीनगर। कूनो नेशनल पार्क में चीतों की मौत का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार को चीता प्रोजेक्ट को बड़ा झटका लगा है। कूनो नेशनल पार्क में एक और चीता मृत पाया गया है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 सितंबर 2022 को कूनो नेशनल पार्क में नामीबिया से आए आठ चीतों को जंगल में छोड़ा था। सूरज नाम के नर चीते का पार्क में शव मिला है। उसे दक्षिण अफ्रीका से लाया गया था। गश्ती दल को सुबह में शव मिला, इसके बाद परियोजना में शामिल अधिकारी सदमे में आ गए हैं।

तीन दिन पहले ही तेजस नामक के चीते की मौत रहस्यमयी तरीके से हो गई थी। अभी तेजस की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने नहीं आई है। रिपोर्ट आने के बाद मौत की वजह सामने आ पाएगी। तेजस भी दक्षिण अफ्रीका से ही आया था। पांच साल की उम्र में वह दर्दनाक सदमे का शिकार हो गया। उसका वजन केवल 43 किलो था। सामान्य तौर पर चीतों का वजह 50-60 किलो होता है। तेजस के आंतरिक अंग गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त था।

भूकंप के झटके महसूस, कोई नुकसान नहीं 

भूकंप के झटके महसूस, कोई नुकसान नहीं   

इकबाल अंसारी  

भुज। गुजरात के कच्छ जिले में बृहस्पतिवार देर रात भूकंप का झटका महसूस किया गया, जिसकी तीव्रता 3 मापी गयी, लेकिन इसके कारण जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि भूकंप का केंद्र खवड़ा कस्बे के पास था। भूगर्भ अनुसंधान संस्थान के अधिकारियों ने कहा, तीन तीव्रता का भूकंप बृहस्पतिवार देर रात 12.16 बजे आया, जिसका केंद्र कच्छ के खवड़ा में 35 किलोमीटर उत्तर-उत्तर पश्चिम में था। जिले के अधिकारियों ने कहा कि भूकंप से किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है।

रविवार, 2 जुलाई 2023

23 साल बाद हत्या आरोपी गिरफ्तार किया

23 साल बाद हत्या आरोपी गिरफ्तार किया

दुष्यंत टीकम   

सूरत। कहते हैं ना कि कानून के हाथ बहुत लंबे होते हैं। अपराधी चाहे लाख कोशिश कर ले लेकिन वह पकड़ा ही जाता है। इस कहावत को सूरत पुलिस ने चरितार्थ कर दिखाया है। दरअसल, सूरत पुलिस ने 23 साल से हत्या के मामले में फरार चल रहे एक आरोपी को मथुरा के नन्दगांव से गिरफ्तार किया है। पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए अपराधी साधु का भेष धारण करके रह रहा था। उसे मथुरा के एक आश्रम से गिरफ्तार करने के लिए खुद सूरत पुलिस को भी साधु और पुजारी जैसा भेष धारण करना पड़ा। आरोपी का नाम पदम उर्फ राकेश पांडा है।

दरअसल, इन दिनों सूरत पुलिस द्वारा वांटेड अपराधियों की सूची तैयार कर उन्हें पकड़ने की मुहिम चलाई जा रही है। खासकर उन्हें तलाशा जा रहा है जो लंबे समय से पुलिस की लिस्ट में वांटेड चल रहे हैं। ऐसे वांटेड अपराधी जिन पर पुलिस ने इनाम भी घोषित किए हैं। पुलिस की गिरफ्त में आए पदम उर्फ राकेश पांडा पर भी पुलिस ने 45 हजार का इनाम रखा था।

जानकारी के मुताबिक, पदम उर्फ राकेश पांडा ने साल 2001 में सूरत के रहने वाले विजय साचीदास नामक शख्स की हत्या कर दी थी। वो भी सिर्फ इसलिए क्योंकि वह उसकी कथित गर्लफ्रेंड के घर आता-जाता था। पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए पदम उर्फ राकेश पांडा मथुरा पहुंच गया था और वहां उसने साधु का भेष धारण कर लिया। फिर मथुरा के नंद गांव में स्थित कुंजकुटी आश्रम में साधु बनकर रहने लगा। उसने अपने बाल और दाढ़ी भी बढ़ा ली ताकि कोई उसे पहचान न सके।

सूरत पुलिस की प्रिवेन्टिव ऑफ क्राइम ब्रांच की टीम ह्यूमन सर्वेलान्स तथा अन्य रिसोर्सेज के आधार पर मूलतः उड़ीसा के गंजाम जिले के रहनेवाले इस हत्यारे को गिरफ्तार करने के लिए मथुरा के कुंजकुटी आश्रम पहुंची। उसे गिरफ्तार के लिए पुलिस ने खुद साधु और पुजारी जैसा भेष धारण किया। फिर दो दिन की कड़ी मशक्कत के बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया।

सूरत के पुलिस कमिश्नर अजय कुमार तोमर ने बताया कि सूरत शहर एक औद्योगिक शहर है। यहां देश के अन्य राज्यों से लोग रोजगार के लिए आते हैं। जिनमें कुछ अपराधी किस्म के लोग भी शामिल होते हैं। मूलतः उड़ीसा गंजाम जिले का रहने वाला पदम उर्फ राकेश पांडा सूरत में भजिया बनाने का काम करता था। साल 2001 में आरोपी पदम उर्फ राकेश पांडा सूरत शहर के उधना इलाके के शांतिनगर सोसायटी में किराए पर रहता था। उसका अपने पड़ोस में रहने वाली एक महिला से अफेयर था। विजय शांतिदास नाम का शख्स भी अक्सर उस महिला के घर आता-जाता था।

आरोपी पदम उर्फ राकेश पांडा को यह सब पसंद नहीं था। इसलिए उसने 3 सितंबर 2001 के दिन अन्य दोस्तों के साथ मिलकर विजय का अपहरण कर लिया। फिर उसे उधना खाड़ी के किनारे ले जाकर गला दबाकर हत्या कर डाली। इसके बाद शव को नाले में फेंककर सभी आरोपी फरार हो गए थे।

मंगलवार, 4 अप्रैल 2023

वडोदरा स्टेशन पर 'ईवी' चार्जिंग सुविधा स्थापित की 

वडोदरा स्टेशन पर 'ईवी' चार्जिंग सुविधा स्थापित की 

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर/वडोदरा। पश्चिम रेलवे में गुजरात के वडोदरा स्टेशन पर इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग सुविधा स्थापित की गई है। यह सुविधा एक बार में 10 इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज कर सकती है। इससे लगभग 35 लाख राजस्व उत्पन्न होगा। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर ने बताया कि ऊर्जा संरक्षण और पर्यावरण की रक्षा के उद्देश्य से पश्चिम रेलवे कई पहल कर रही है जो प्रदूषण को रोकने के साथ-साथ कार्बन उत्सर्जन को कम करने में मदद करती हैं।

गैर किराया राजस्व (एनएफआर) अनुबंध के तहत वडोदरा रेलवे स्टेशन पर एक इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग सुविधा स्थापित की गई है। इससे अनुबंध अवधि के दौरान लगभग 35 लाख रुपये का राजस्‍व प्राप्‍त होगा। यह ईवी चार्जिंग सुविधा अपनी तरह की पहली ईवी है। जो पेट्रोल पंपों पर उपलब्‍ध ऐसी सुविधा के बराबर है और उपयोगकर्ताओं के लिए पीने के पानी और वॉशरूम की सुविधा प्रदान की गई है। यह सुविधा एक साथ 10 इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज कर सकती है।

ठाकुर ने बताया कि यह वडोदरा मंडल में ईवी चार्जिंग सुविधा से लैस होने वाला आठवां रेलवे स्टेशन है जिससे ईवी इकोसिस्‍टम के विकास के सरकार के विज़न को बढ़ावा मिला है। वडोदरा मंडल पर, ऐसी सुविधा मकरपुरा, उतरन, डभोई, करमसद, खरसालिया, रानोली और मोडासा में भी उपलब्ध है और अन्य योजना के चरण में हैं।

ऊर्जा की बचत और पर्यावरण संरक्षण की प्रतिबद्धता को आगे बढ़ाते हुए पश्चिम रेलवे डी-कार्बोनाइजेशन और हरित ऊर्जा के उत्पादन की दिशा में एक मिशन मोड पर काम कर रही है। इस दिशा में पश्चिम रेलवे ने हरित गतिशीलता को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग प्वाइंट की सुविधा स्थापित की है। इसी तर्ज पर पश्चिम रेलवे के वडोदरा मंडल ने गैर किराया राजस्व (एनआरएफ) अनुबंध के तहत वडोदरा रेलवे स्टेशन पर इस तरह की इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग सुविधा स्थापित करने का एक नया कदम उठाया है।

रविवार, 26 फ़रवरी 2023

गुजरात में भूकंप, 4.3 तीव्रता के झटके महसूस किए

गुजरात में भूकंप, 4.3 तीव्रता के झटके महसूस किए

इकबाल अंसारी 

गांधीनगर/राजकोट। रिक्टर पैमाने पर 4.3 की तीव्रता वाला भूकंप गुजरात के राजकोट से 270 किमी उत्तर-उत्तर पश्चिम में आज दोपहर 3:21 बजे आया। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने बताया कि रविवार की दोपहर 4.3 तीव्रता के झटके महसूस किए गए। जिसकी गहराई 10 किमो नीचे थी। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने बताया कि भूकंप गुजरात के राजकोट से 270 किमी उत्तर-उत्तर पश्चिम में दोपहर 3 बजकर 21 मिनट में आया।

इससे पहले दिल्ली-एनसीआर और उत्तराखंड में भूकंप के झटके महसूस हुए थे। दरअसल, 22 फरवरी की दोपहर भूकंप के झटके लगे थे और इसका केंद्र नेपाल में था। राहत की बात तो यह थी कि जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ था। फरवरी माह के शुरुआती हफ्ते में गुजरात में भूकंप के झटके लगे थे। अधिकारियों ने बताया था कि गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र के अमरेली जिले में 4 फरवरी की सुबह 7 बजकर 51 मिनट पर 3.2 की तीव्रता से भूकंप दर्ज किया गया।

शनिवार, 31 दिसंबर 2022

बस-कार की भिडंत में 9 लोगों की मौंत, कई घायल 

बस-कार की भिडंत में 9 लोगों की मौंत, कई घायल 

इकबाल अंसारी 

नवसारी। गुजरात के नवसारी में शनिवार तड़के बस और कार की भिडंत में कम से कम नौ लोगों की मौंत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। पुलिस उपाधीक्षक वी एन पटेल ने आज यहां बताया कि अहमदाबाद-मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग पर तड़के बस और कार की आमने सामने की भीषण टक्कर में कार के परखचे उड़ गए। इस दुर्घटना में कम से कम नौ लोगों की मौत हो गयी और कई अन्य घायल हो गए। घायलों को आसपास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नवसारी में भीषण सड़क हादसे पर दुख जताया है।

मोदी ने ट्विटर पर कहा, "नवसारी में सड़क हादसे में लोगों की मौत से आहत हूं। मेरे संवेदना शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि घायल जल्द ही ठीक हो जाएंगे।" मोदी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय आपदा कोष (पीएमएनआरएफ) से मृतकों के परिजनों को दो लाख रूपए और घायलाें को 50-50 हजार रुपए की अनुग्रह राशि देने का एलान किया है। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्विटर पर इस दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति शोक व्यक्त किया और शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

शाह ने कहा, "गुजरात के नवसारी में सड़क दुर्घटना दिल दहलाने वाली घटना है। इस हादसे में अपने परिजनों को खोने वालों के प्रति मेरी संवेदना। ईश्वर उन सभी को इस दुख और दर्द की घड़ी को सहन करने की ताकत दे। स्थानीय प्रशासन तत्काल घायलों की मदद के लिए आगे आएं। ईश्वर से घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।"

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए  सरस्वती उपाध्याय  बेहद सुंदर और सुगंधित फूल 'गुलाब' गुणों की खान है और इसकी पं...