रविवार, 14 नवंबर 2021

गाजियाबाद: विधायक ने एसएसपी पर लगाए आरोप

गाजियाबाद: विधायक ने लगाए एसएसपी पर आरोप 
अश्वनी उपाध्याय की विशेष रिपोर्ट 
गाजियाबाद। गौतस्करों का एनकाउंटर करने वाले एसएचओ राजेंद्र त्यागी का तबादला करने पर भड़के लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कहा एसएचओ को पुरस्कृत करने के बजाय गौतस्करों के दबाव और मिलीभगत से तबादला कर एसएसपी ने महापाप किया है। कहा, मौजूदा एसएसपी के कार्यकाल में लोनी समेत जनपद में बढ़ी गौतस्करी और गौकशी की घटनाएं, एसएसपी को बताया गौतस्करो का संरक्षक, तत्काल एसएचओ राजेंद्र त्यागी के तबादले को निरस्त करने की मांग की हैं। तबादले को बताया कर्तव्यनिष्ठ एवं ईमानदार अन्य पुलिसकर्मियों के मनोबल गिराने और गौतस्करों और अपराधियों के मनोबल को बढ़ाने वाला फैसला। कहा गौतस्करों के बडे़ सिंडिकेट को बचाने और गौकशी कराने वाले मकान मालिक को बड़े अधिकारी द्वारा बचाने के दबाव को अनसुना करने पर एसएचओ पर कार्यवाही प्रदेश सरकार की मंशा के विपरीत है। गौसंरक्षण और संवर्धन के लिए संकल्पित प्रदेश सरकार की मंशा के अनुसार किए गये कार्य में अवरोध करना बताया, विधायक ने अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग और एसएसपी को लिखे पत्र में जताई है नाराजगी।

यूपी: जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया          
गोपीचंद           
बागपत। कल्याण भारती सेवा संस्थान के द्वारा बड़ौत नगर के दयानंद विद्या जूनियर स्कूल बावली रॉड बड़ौत में वरिष्ठ नागरिकों की मासिक बैठक में विधिक साक्षरता व जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम के आयोजन हेतु सीनियर सिटीजन वेलफेयर एसोसियेशन बड़ौत के अध्यक्ष आदरणीय श्री प्रीतम सिंह वर्मा ने कल्याण भारती की टीम को दयानंद विद्या मंदिर जूनियर हाईस्कूल बड़ौत में में आमंत्रित किया। संस्थान के प्रबन्ध निदेशक गोपी चन्द सैनी ने जानकारी देते हुये कहा कि यह कार्यक्रम जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बागपत प्रभारी सचिव श्रीमती प्रगति सिंह, और अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश/नोडल अधिकारी (राष्ट्र लोक अदालत जनपद बागपत) श्रीमती शाजिया नजर जैदी व जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बागपत श्री सुधीर कुमार के आदेशानुसार जिले भर में जगह जगह आयोजि किया जा रहा है। संस्थान के प्रबन्ध निदेशक गोपी चन्द सैनी ने कहा कि कल्याण भारती सेवा संस्थान के द्वारा विधिक साक्षरता एवं जागरूकता का प्रयास रचनात्मक कार्यक्रमों के माध्यमों से जिले भर में किया जारहा है और इन कार्यक्रमों का उद्देश्य आम जनमानस में विधिक साक्षरता एवं जागरूकता लाने हेतु एक सतत प्रयास किया जा रहा है। 
जिससे जनता को सस्ता और सुलभ न्याय प्राप्त हो सके, और कहा कि विधिक साक्षरता एवं जागरूकता कार्यक्रमों की यह श्रंखला आजादी के 75 वे अवसर पर, समस्त भारत वर्ष में,  "भारत अमृत महोत्सव"  के उपलक्ष में, 2 अक्टूबर से 14 नवम्बर तक,  आयोजित कि जा रहा है। जिसमें सामाजिक संस्थाओं, अधिवक्ताओं व राज्य एवं केंद्र सरकार व समाज के अन्य प्रबुद्ध व्यक्तियों, लॉ के छात्रों की सक्रिय सहभागिता से जनता को विधिक सेवाओं से सम्बन्धी जानकारी व न्यायालय की कार्यशैली को समझने व न्यालय में चल रही विधिक सेवाओं सम्बन्धी अन्य लाभकारी योजनाओं की जानकारी को पोस्टर पम्पलेट और मोखिखता के आधार पर आमजन को देना है।
संस्थान के निदेशक सुनील चौहान ने न्यायालय में लोक अदालत के विषय में बताते हुये लोक अदालत की कार्यशैली और विधिक सेवा प्राधिकरण की लाभकारी योजनाओं के बारे में बताया। संस्थान के सहयोगी सदस्य सचिन सैनी ने संक्रमण काल में नगर में बढ़ते फ्लू के परको से सावधानिया और उपाय बतायें और स्वास्थ्य रक्षा हेतु कल्याण भारती सेवा संस्थान व क्योर क्लीनिक (फाउंडेशन) नई सड़क शास्त्री नगर मेरठ की निःशुल्क होम्योपैथिक इम्युनिटी बूस्टर सेवा के लाभ के विषय में बताते हुये कहा कल्याण भारती सेवा संस्थान कोरोना काल के प्रारम्भ से ही मानव सेवा में निःशुल्क होम्योपैथिक इम्युनिटी बूस्टर का वितरण किया जा रहा है। 
आज रविवार को इस सेवा का लाभ नगर के सीनियर सिटीजन वेलफेयर एसोसियेशन बड़ौत के सभी सदस्यगणों को उनके उत्तम स्वास्थ्य हेतु दिया गया।
कार्यक्रम में संस्थान की ओर से गोपी चन्द सैनी के साथ सुनील चौहान, सचिन सैनी और सीनियर सिटीजन वेलफेयर एसोसियेशन बड़ौत के अध्यक्ष आदरणीय प्रीतम सिंह वर्मा, उपाध्यक्ष श्री सत्यपाल पथोलिया, मंत्री श्री राजबीर सिंह, सदस्य जमीरुदीन अब्बासी व सगठन के अन्य गणमान्य सदस्य व पदाधिकारी उपस्थित रहें।

विधायक ने 12 शिकायतों का निस्तारण किया
गणेश साहू          
कौशाम्बी। विधायक चायल संजय कुमार गुप्ता ने अपने केंद्रीय कार्यालय भरवारी में रविवार को जन सुनवाई कार्यक्रम किया। जन सुनवाई के दौरान 127 शिकायतें प्राप्त हुई। ज्यादातर शिकायतें प्रधानमंत्री आवास लड़ाई झगड़े और जमीन विवाद से संबंधित रहे। 12 शिकायतों का विधायक ने मौके पर ही निस्तारण किया। शेष बची शिकायतों को निस्तारण हेतु संबंधित विभाग को पत्र के माध्यम से शीघ्र जांच कर निस्तारण हेतु निर्देशित किया। शिकायतकर्ता मे मुख्य रूप से बिट्टन देवी सर्वाकाजी से, गांधीनगर भरवारी से नानकी देवी,नेता नगर भरवारी से विमला देवी,सकुन पुरानी बाजार भरवारी से,सरोजनी देवी छोटी मौली से प्रधानमंत्री आवास हेतु प्रार्थना पत्र दिया। 
नेता नगर भरवारी से द्वारिका प्रसाद गौतम ने मोहल्ले के ही राजेश कुमार पर मारपीट का आरोप लगाया। पुरानी बाजार भरवारी से नर्मदा प्रसाद ने अपने पट्टी दार भैयालाल पर जबरन जमीन कब्जा करने का आरोप लगाया,विधायक ने सभी शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए संबंधित विभाग को पत्र के माध्यम से समस्त शिकायतों का निस्तारण हेतु निर्देशित किया।

प्रयागराज: बाल दिवस कार्यक्रम आयोजित किया

बृजेश केसरवानी        प्रयागराज। जनपद के मिंटो पार्क में स्माइल फॉर ऑल संस्था के द्वारा बाल दिवस कार्यक्रम को आयोजित किया गया। स्माइल फॉर ऑल संस्था दारा विशेष क्षेत्रों के अनुभवी अतिथियों को वालंटियर के द्वारा बैच लगाकर सम्मानित किया गया। स्माइल फॉर ऑल संस्था पूरे भारत में गरीब बच्चों को पढ़ाने के लिये कार्य कर रही है। यह संस्था प्रयागराज के लगभग 190 सहायताहीन बच्चों को पढ़ाने का कार्य कर रही है। जिसमे प्रतिदीन वालंटियर के द्वारा निशुल्क क्लास भी चलायी जा रही हैं। 

सम्मानित अतिथि के तौर पर मोहम्मद हसन जैदी (पूर्व ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट जुवेनाइल कोर्ट), सुभाष राठी (एडिशनल एडवोकेट जनरल एंड काउंसलर हाई कोर्ट) ने महिला सशक्तिकरण एवम विकलांगो की सहायता पर अपनी राय रखी। वहीं के द्वारा लगभग 100 बच्चों को मिटो पार्क में एकत्रित करके फल, किताब, कॉपी का वितरण किया गया।


यूपी: हर्षोल्लास के साथ मनाया गया बाल दिवस
संतलाल मौर्य        कुशीनगर। नौरंगिया स्थित राजेश मणि इण्टर कॉलेज में बाल दिवस बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां शारदे की प्रतिमा एवं पण्डित जवाहर लाल नेहरू की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं पुष्पार्चन कर के किया गया व दीप प्रज्ज्वलित करके देश के प्रति उनके योगदान की सराहना की गई। प्रधानाचार्य प्रवीण कुमार दुबे पण्डित नेहरू के जीवनकाल एवं उनके देश के लिए किए गए संघर्षो के बारे में बच्चों के बीच विस्तार से चर्चा किये।
बाल दिवस के अवसर पर विद्यालय में ‘बाल-मेला’ का का आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न प्रकार के खेल-कूद प्रतियोगिता जैसे खो-खो,कबड्डी,100 मीटर दौड़,बाधा दौड़,सुई-धागा दौड़,जलेबी दौड़,कुर्सी दौड़,फ़ास्ट- फूड स्टाल,मेंहदी, रंगोली काआयोजन हुआ। जिसमें बच्चों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। जो भी बच्चें विद्यालय कैम्पस में उपस्थित थे वे बहुत ही उत्साहित थे।
100 मीटर दौड़ जूनियर बालक वर्ग मे कक्षा 8 के विशेष पटेल ने प्रथम,तबरेज आलम द्वितिय और सूरज कुशवाहा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। बालिका वर्ग मेंअर्पिता प्रथम,नंदनी द्वितीय और गरिमा तृतीय स्थान प्राप्त की। 
100 मीटर दौड़ सीनियर बालक वर्ग मेंआसिफ प्रथम,सतेंद्र यादव द्वितीय,राम यादव तृतीत स्थान तथा बालिका वर्ग में रुपांशी प्रथम, गुंजा द्वितीय एवं प्रिया शुक्ला तृतीय स्थान पर रही।
रंगोली प्रतियोगिता में कक्षा 10 में सलोनी सिंह की टीम ने प्रथम स्थान,कक्षा 8 की नन्दनी की टीम द्वितीय, कक्षा 7 की खुशी की टीम ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।
मेंहदी प्रतियोगिता में रिया चौबे की टीम ने प्रथम, अनामिका सिंह द्वितीय एवं रसिका सिंह ने तृतीय स्थान प्राप्त की। जलेबी दौड़ में पुष्कर रॉय ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। सुई-धागा दौड़ में काजल ,रुपांशी और अमृता ने क्रमशः प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त किया।
बाधा दौड़ में नूरआलम और पुष्कर ने प्रथम, छात्राओं में श्वेता सिंह और काजल प्रथम प्राप्त किया।

व्यापारिक जौलजीबी मेले का शुभारंभ किया

व्यापारिक जौलजीबी मेले का शुभारंभ किया

पंकज कपूर       पिथौरागढ़। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को काली एवं गोरी नदी के संगम पर स्थित जौलजीवी में प्रसिद्ध ऐतिहासिक, पारंम्परिक एवं व्यापारिक जौलजीबी मेले का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने मेले में विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनियों का अवलोकन भी किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेला हमारी बहुत बड़ी सास्कृतिक धरोहर हैं। मेले धार्मिक एवं सांस्कृतिक पर्यटन को बढ़ावा देते हैं। जौलजीबी मेले को और अधिक विकसित एवं सुविधायुक्त बनाया जाएगा। जौलजीबी मेला भारत नेपाल के मैत्री संबंधों को भी बढ़ाता है। मेले हमारी धरोहर एवं संस्कृति के द्योतक हैं, उन्हें हमें आगे बढ़ाते हुए जीवित रखना हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड सरकार द्वारा विगत 4 महीनों में प्रदेश के हित में 400 से अधिक फैसले लिए हैं। इन सभी फैसलों का शासनादेश भी जारी हो चुके हैं। जो भी घोषणाएं की गई हैं। उन्हें धरातल पर उतारा जा रहा है। उन्होंने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि मैंने इस भूमि में जन्म लिया है। मैं यहाँ जब भी आता हूँ, लोगों का अपार स्नेह मिलता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनहित में सरकार ने अनेक निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि अतिथि शिक्षकों का मानदेय 15 हजार से 25 हजार रुपए प्रतिमाह किया है। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का मानदेय भी बढ़ाया गया है। जनभावनाओं को ध्यान में रखते हुए कार्य किए जा रहें हैं। प्रदेश में महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत किये जाने हेतु महिला समूहों को आर्थिक रूप से सहयोग प्रदान हेतु 3 से 5 लाख तक का ऋण शून्य प्रतिशत ब्याज पर दिया जा रहा है। इसके परिणाम स्वरूप आज ये महिला समूह अन्य को भी रोजगार प्रदान कर रहे हैं। 


161 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास 

श्रीराम मौर्य        शिमला। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला सिरमौर के नाहन विधानसभा क्षेत्र के सतीवाला में 161 करोड़ रुपये लागत की 28 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए। सिरमौर जिले के सतीवाला में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कालाअम्ब में उप-तहसील खोलने, रीगड़वाला ग्राम पंचायत कौलांवाला भूड़ में नई प्राथमिक पाठशाला, राजकीय प्राथमिक पाठशाला कून को राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने, राजकीय उच्च विद्यालय बोहलियों, जंगलाभूड व टोकियो में जमा दो कक्षाएं आरम्भ करने तथा बिजली बोर्ड के उच्च विद्यालय गिरिनगर को हिमाचल शिक्षा बोर्ड के अधीन करने की घोषणा की।उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (रा.व.मा.पा.) हरिपुरखोल में विज्ञान कक्षाएं, रा.व.मा.पा. बिक्रमबाग में वाणिज्य कक्षाएं, रा.व.मा.पा. पंजाहल में विज्ञान (जीव विज्ञान), रा.व.मा.पा. बर्मापापड़ी में विज्ञान (जीव विज्ञान) तथा रा.व.मा.पा. सैनवाला में वाणिज्य एवं गणित की कक्षाएं आरम्भ करने की घोषणा की। 

उन्होंने सैनवाला मुबारिकपुर, त्रिलोकपुर व हरिपुरखोल में नए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने, देवका पुडला, क्यारी व संभालका में नए पशु औषधालय खोलने की भी घोषणा की। उन्होंने रामपुर-भारापुर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने की भी घोषणा की। उन्होंने फतेहपुर-गुलाबगढ़ के मध्य बाता नदी पर पुल निर्माण, नाहन विधानसभा क्षेत्र के पावंटा खण्ड में आने वाली नौ पंचायतों के लिए 20 टयूबवैल के लिए दो लाख रुपये प्रति ट्यूबवैल तथा नगर परिषद क्षेत्र नाहन के विभिन्न विकास कार्यों के लिए एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने क्षेत्र में पटवार वृत्त खोलने की मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया।

जयंती कार्यक्रम: बिलासपुर पहुंचीं राज्यपाल उइके
दुष्यंत टीकम        बिलासपुर। छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया उइके बिरसा मुंडा जयंती कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बिलासपुर पहुंची। इस दौरान उन्होंने झीरम घाटी की जांच रिपोर्ट को लेकर एक बहुत ही बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा मैं कोई पोस्टमेन नहीं हूं। जो यहां से रिपोर्ट लेकर वहां पहुंचा दूं। जब आयोग की रिपोर्ट मुझे सौंपी गई, इसके पश्चात मैंने उसे अपने लीगल एडवाइजर से पूछा, तो उन्होंने कहा कि झीरम रिपोर्ट सरकार को सौंप दी जाए। इसलिए मैंने सरकार को यह रिपोर्ट सौंपी।

जानकारी के अनुसार, पिछले दिनों राज्यपाल अनुसुइया उइके को झीरम घाटी आयोग की रिपोर्ट हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल द्वारा सौंपी गई थी। इसके बाद इस मामले में पक्ष विपक्ष लगातार आमने-सामने हैं। दोनों पार्टी के बड़े नेता इस मामले में बयान तो दे ही रहे हैं लेकिन इसके साथ ही एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप भी लगा रहे हैं। अब इस मामले में राज्यपाल ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मुझे खुद नहीं मालूम कि आखिर मुझे रिपोर्ट क्यों सौंपी गई है। रिपोर्ट में ऐसी कोई बात नहीं है। यहां तक कि मैंने उसे पढ़ा भी नहीं था। राज्यपाल ने आगे कहा कि मैं कोई पोस्टमेन नहीं हूं जो यहां से रिपोर्ट लेकर वहां पहुंचा दूं। अगर उन्हें रिपोर्ट देना था, तो सीधे ही दे देते। मेरे भी कुछ अधिकार हैं। मैंने कानून से मिले अधिकार का प्रयोग किया और इस मामले में अपने लीगल एडवाइजर से बात की। 


छत्तीसगढ़: पीएल पुनिया का दौरा स्थगित हुआ
दुष्यंत टीकम         रायपुर। एआईसीसी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया का दौरा स्थगित हो गया है। उनका उत्तरप्रदेश चुनाव में व्यस्तता के कारण आज छत्तीसगढ़ आना स्थगित हुआ है। बता दें कि पूर्व में जारी दौरा कार्यक्रम के मुताबिक पीएल पुनिया 14 नवंबर रविवार को इंडिगो की नियमित विमान सेवा से सुबह 11 बजे रायपुर पहुंचने वाले थे। 
वे दोपहर 12 बजे सर्किट हाउस में वरिष्ठ कांग्रेसजनों से चर्चा करने वाले थे। इसके बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के साथ दोपहर 2.30 बजे भिलाई के लिए रवाना होकर शाम 4 बजे भिलाई में पोटटी श्रीरामलु चौक से जन-जागरण अभियान के तहत पदयात्रा- कार्यक्रम (सुभाष चौक, भगतसिंह, भारत माता चौक, गांधी चौक लिंक रोड, फल मंडी रोड, नेशनल हाईवे ) में शामिल होने वाले थे। शाम 5 बजे लाल मैदान छावनी थाना के सामने आमसभा में भाग लेने वाले थे। 15 नवंबर सोमवार को सुबह 11 बजे रायपुर में जन-जागरण पदयात्रा कार्यक्रम एवं सभा में भाग लेकर रात 8 बजे विस्तारा के नियमित विमान सेवा से रायपुर से नई दिल्ली के लिए रवाना होना था।

4 आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा

4 आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा
दुष्यंत टीकम      
रायगढ़। जिले में पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना के निर्देशन पर चलाये जा रहे पुलिस जन चौपाल में पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा गांवों में अंध विश्वास फैलाने वाले, चिटफंड, लाटरी, ईनामी कूपन, सोना-चांदी चमकाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वालों तथा जुआ-सट्टा, अवैध शराब व किसी भी अवैधानिक कृत्यों की सूचना शीघ्र पुलिस को दिये जाने कहा जा रहा है। जिस पर पुलिस को जागरूक नागरिकों से महत्वपूर्ण सूचनाएं भी प्राप्त हो रही है। 
इसी कड़ी में दिनांक 13 नवंबर के शाम थानाक्षेत्र के कुछ गांवों में बाहर से आकर लोगों को पुलिस व प्रेस के सदस्य बताकर जबरन रूपये की वसूल करने की सूचना थाना प्रभारी भूपदेवपुर निरीक्षक उत्तम साहू को मिली। थाना प्रभारी तत्काल अपने स्टाफ के साथ गांव जाकर तस्दीक किया गया। ग्रामीणों से पूछताछ कर आरोपियों द्वारा अवैध रूप से डराधमकाकर रूपये प्राप्त करना पाये जाने पर वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देशन, मार्गदर्शन पर आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा।
जब जयनारायण डनसेना उन्हें 5,500 रूपये दिया तो किसी को मत बताना कहकर बिंजकोट, जबलपुर की ओर चले गये। वे लोग जबलपुर के महिलाओं को भी डरा धमका कर रकम वसूल करने की जानकारी हुई है । रिपोर्टकर्ता के रिपोर्ट पर आरोपियों के विरूद्ध अप. क्रमांक 237/21 धारा 384, 34 भादवि पंजीबध्द कर थाना प्रभारी भूपदेवपुर द्वारा आरोपियों को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ करने पर आरोपीगण फर्जी पुलिस व पत्रकार बनकर ग्रामीणों से रकम वसुली करना स्वीकार किये हैं। 
आरोपियों के कब्जे से वसूली की आरोपीयान 1. समयलाल राठिया पिता पवित राम राठिया उम्र 35 वर्ष साकिन अकोलजमोरा थाना डभरा 2. विनोद दास महंत पिता श्री चरणदास महंत उम्र 42 वर्ष साकिन चंद्रपुर थाना चंद्रपुर 3. खुशीराम पटेल पिता हिरालाल पटेल उम्र 45 वर्ष साकिन कांशीडीही थाना चंद्रपुर 4. हरिशंकर सिदार पिता बैजू सिंह सिदार उम्र 37 वर्ष साकिन कोमो थाना डभरा जिला जांजगीर चांपा को आज दिनांक 14 नवंबर को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। आरोपियों के मीडिया से जुड़े होने की जानकारी जनसम्पर्क विभाग से प्राप्त की जा रही है। सम्पूर्ण विवेचना कार्यवाही में थाना प्रभारी निरीक्षक उत्तम साहू, सहायक उप निरीक्षक डी.पी. चौहान, प्रधान आरक्षक जगेश्वर प्रसाद, जगदीश नायक एवं आरक्षक जक्शन बघेल, सुमीत मिंज, मुरली मनोहर पटेल, कृष्ण कुमार वारेन और रघुनंदन साहू की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।
40 लाख की चोरी मामलें का खुलासा किया
दुष्यंत टीकम
कोरबा। कोरबा एसपी ने भोजराज पटेल ने दीपका थाना क्षेत्र में एसीबी संचालक के घर हुई लगभग 40 लाख की चोरी मामले का खुलासा किया है। एसपी ने बताया कि शिकायत के बाद 4 दिन के अंदर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मामले को गंभीरता से लेते हुए आईजी बिलासपुर ने विशेष मार्गदर्शन कर टीम गठित किया था। शक के आधार पर पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू की और मामले में संलिप्त आरोपियों को चोरी के जेवरात एवं नकदी के साथ धर दबोचा। इस वारदात को अंजाम देने में 3 युवको का हाथ रहा है। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि घटना का मुख्य सरगना भीम भुल है। 
जो प्रार्थी के घर में खाना बनाने का काम करता था। उसी के द्वारा इस घटना को घटित करने का प्लान बनाया गया। आरोपियों को बुलाकर घर का नक्शा दिखाया गया। घर के बाहर लगे हुए सीसीटीवी कैमरे के वायर को प्लान के अनुसार 5 दिन पहले ही बंद कर दिया। घटना के 5 दिन पूर्व ही अपनी पत्नि के साथ छुट्टी लेकर नेपाल रवाना हो गया था, लेकिन नेपाल न जाकर अपनी पत्नि के साथ बिलासपुर में ही रूका था। अपने अन्य साथियों को बुलाने के बाद घटना को घटित किया। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने चोरी के माल बरामद कर लिए है। वही एसपी ने सभी के मार्गदर्शन और सहयोग के लिए धन्यवाद दिया है। आरोपियों में प्रेम भुल उर्फ पिंचु, जो नेपाल निवासी है। हिमाल बहादुर मांझी, नेपाल के सिलगडी जिला का रहने वाला है। वहीं तीसरा आरोपी दीपक भुल उर्फ दीप भुल बडकुटा, वाईल चौकी निवासी है। इनमें से फरार आरोपियों में कुमार भुजैल। भीम सिंह, पदम सावंत और पूनम उर्फ छोटी का नाम शामिल है।

सोशल मीडिया पर स्टनिंग लुक्स की तस्वीरें शेयर

सोशल मीडिया पर स्टनिंग लुक्स की तस्वीरें शेयर 
कविता गर्ग      
मुबंई। उर्फी जावेद अपने बोल्ड और सिजलिंग फैशन च्वॉइस से एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की स्टाइलिश डीवा बन चुकी हैं। उर्फी हर रोज फैंस के साथ अपने सुपर गॉर्जियस आउटफिट्स में सुपर गॉर्जियस लुक्स शेयर करती हैं। फैंस को भी अब उर्फी के नए-नए लुक्स का इंतजार रहता है।
उर्फी ने आज भी अपने फैंस को निराश नहीं किया। एक्ट्रेस ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर अपने नए और स्टनिंग लुक्स की तस्वीरें शेयर की हैं। उर्फी की तस्वीरें सामने आते ही एक बार फिर सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं। 
नई तस्वीरों में उर्फी येलो कलर के डीप कट नेकलाइन वाली यूनीक शॉर्ट ड्रेस में नजर आर हैं। उर्फी की ड्रेस में शॉर्ट्स और ब्लेजर अटैच है। फ्रंट से डीप कट है, जो एक्ट्रेस की ड्रेस को सुपर सिजलिंग बना रहा है। उर्फी ने अपने इस बॉस लेडी लुक को ट्रेंडी चोकर नेकपीस और पेंडेंट के साथ टीम अप किया है। उर्फी इस लुक में बेहद स्टनिंग लग रही हैं।
हेयर स्टाइल की बात करें तो एक्ट्रेस ने अपने बालों को स्ट्रेट लुक देकर ओपन ही रखा है। न्यूड ग्लॉसी लिप्स, हाइलाइटर, आईलाइनर में उर्फी का मेकअप भी काफी क्लासी है। इंटेंस मस्कारा कोट में उर्फी की आंखें अपने आप में ही कुछ बयां करते हुए नजर आ रही हैं। हर तस्वीर में उर्फी के पोज और उनकी अदाएं देखते ही बनती हैं। सिजलिंग बॉस लेडी लुक में उर्फी बेहद गॉर्जियस लग रही हैं।
फैंस उर्फी की तस्वीरों पर अपना बेशुमार प्यार लुटा रहे हैं। महज 2 घंटे के अंदर उर्फी की तस्वीरों को हजारों लोग लाइक कर चुके हैं और गिनती लगातार बढ़ रही हैं। उर्फी के सभी लुक्स इंटरनेट पर वायरल रहते हैं। उर्फी अक्सर ही ट्रोलर्स के निशाने पर भी रहती हैं। लेकिन बिंदास और बेबाक उर्फी किसी की परवाह किए बगैर अपने लुक्स से इंटरनेट का टेंपरेचर हाई रखती है।

मुंबई: अफसाना के बाद शो से बाहर हुईं शमिता
कविता गर्ग    
मुबंई। बापट और अफसाना खान के बाद अब शमिता शेट्टी बीच शो से बाहर हो गई हैं। खबर है कि शमिता की तबीयत बिगड़ने की वजह से उन्हें मेडिकल ग्राउंड पर घर के बाहर लाया गया है।
बिग बॉस के कई फैन पेजेस पर शमिता शेट्टी के शो से बाहर होने की खबरें वायरल हो रही हैं। लेकिन वजह एलिमिनेशन नहीं, बल्कि शमिता शेट्टी की हेल्थ है। शमिता को मेडिकल ग्राउंड्स पर इलाज के लिए घर के बाहर लाया गया है। रिपोर्ट की मानें तो मंगलवार और बुधवार को इलाज कराने के बाद शमिता शो में वापसी कर सकती हैं। हालांकि, चैनल की तरफ से अभी इस बारे में कोई ऑफिशियल जानकारी सामने नहीं आई है।
शमिता से पहले राकेश-अफसाना हुए शो से बाहर
शमिता से पहले एक्ट्रेस के कनेक्शन और वाइल्ड कार्ड कंटेस्टेंट राकेश बापट को भी किडनी में स्टोन का दर्द होने की वजह से इलाज के लिए शो से बाहर लाया गया है। इसके बाद चाकू से खुद पर वार करने के लिए अफसाना को भी शो से एलिमिनेट कर दिया गया है।
फैंस को इंप्रेस करने मे फेल हो रहा बिग बॉस 15
बिग बॉस की टीआपरी पहले ही संकट में हैं। ऐसे में शो की स्ट्रॉन्ग कंटेस्टेंट शमिता शेट्टी के बाहर होने से शो की रेटिंग को नुकसान हो सकता है। बिग बॉस का हिट शो इस बार लोगों को इंप्रेस करने में फीका पड़ा रहा है। सलमान खान का चार्म भी बिग बॉस को हिट साबित नहीं कर सका। अब देखने वाली बात होगी कि शमिता शो से बाहर होती हैं या नहीं और उनके बाहर आने पर शो की टीआरपी पर और कितना फर्क पड़ता है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन, माफी मांगी

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन, माफी मांगी

मोमिन मलिक     इस्लामाबाद/ सिडनी। पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हसन अली ने टी20 विश्व कप सेमीफाइनल में आस्ट्रेलिया के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन के लिए माफी मांगते हुए कहा कि वह किसी भी अन्य व्यक्ति से अधिक निराश हैं और उन्होंने अपने करियर के इस खराब दौर से उबरते हुए मजबूत होकर वापसी करने का वादा किया।

हसन ने गुरुवार को दुबई में 19वें ओवर में शाहीन शाह अफरीदी की गेंद पर डीप मिडविकेट पर मैथ्यू वेड का कैच टपकाया और उनकी यह गलती महंगी साबित हुई जब आस्ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ने लगातार तीन छक्के जड़कर अपनी टीम को पांच विकेट की जीत के साथ फाइनल में जगह दिला दी। इसके साथ ही टूर्नामेंट में पाकिस्तान के शानदार अभियान का अंत भी हो गया। बाबर आजम की टीम ने ग्रुप चरण में लगातार पांच मैच जीतकर फाइनल में जगह बनाई थी।


ओषधि: गाजर के बीज का इस्तेमाल कारगर

सर्दियों का मौसम शुरू होते ही बाजार में गाजर आनी भी शुरू हो जाती है। गाजर में फैट न के बराबर होता है, लेकिन पौष्टिकता भरपूर मात्रा में होता है, जैसे- सोडियम, पोटाशियम, कार्बोहाइड्रेड, प्रोटीन, विटामिन ए, डी, सी, बी6 आदि होते हैं। इन पौष्टिकताओं के कारण गाजर को कान का दर्द, मुंह का बदबू,पेट दर्द जैसे बीमारियों के लिए गाजर के जड़, फल और बीज का इस्तेमाल औषधि के लिए किया जाता है। गाजर खाना खास तौर पर आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए जाना जाता है। इम्यूनिटी के लिए गाजर का जूस अद्भुत माना जाता है। सर्दी के मौसम में अन्य ड्रिंक्स की जगह पर गाजर के जूस को अपनी डाइट का हिस्सा बनाकर अनगिनत फायदे हासिल करें। 

गाजर का जूस पीने के फायदे। इम्यून‍िटी बढ़ाने में फायेदमंद: एक गि‍लास गाजर का जूस आपकी इम्यून पावर को बढ़ाता है। गाजर में कई ऐसे मिनरल्स भी होते हैं। विटामिन ए के लिए भी गाजर अच्छा स्त्रोत है। गाजर में व‍िटाम‍िन बी6, वि‍टाम‍िन के, फासफोरस और पोटेशि‍यम होता है। गाजर का जूस आपके शरीर को फ्री रे‍ड‍िकल्स डेमेज से लड़ने में मददगार साबि‍त होगा। इतना ही नहीं पोटेशियम से भरपूर गाजर आपकी रक्त वाहिकाओं और धमनियों को आराम देने में मदद करती है। यह सोडियम के दुष्प्रभावों को बेअसर करती है। यह एथेरोस्क्लेरोसिस और स्ट्रोक के जोखिम को भी कम करती है। आप इसे सब्‍जी, शोरबे और जूस में शामिल कर सकते हैं।

आंखों की रोशनी के लिए फायदेमंद: गाजर का रस कैरोटीनॉयड का एक बहुत अच्छा स्रोत है, जिसमें बीटा कैरोटीन, ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन शामिल होते हैं। जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण माने जाते हैं। गाजर आपकी आंखों के लिए अच्छा होता है और यह विटामिन ए से भी भरपूर होता है। विटामिन ए की कमी से आंखों की रोशनी कमजोर हो सकती है। ऐसे में आंखों की रोशनी को बढ़ावा देने के लिए रोजाना गाजर का जूस पिएं। ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए फायदेमंद: गाजर में मौजूद मैगनीज, मैग्नीशियम और कैरीटोनॉयड पाया जाता है। जो ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद करता है। लेकिन डायबिटीज के मरीज इसका सेवन अधिक मात्रा में करने से बचें। खांसी ठीक करने के लिए फायदेमंद: गाजर के रस में मिश्री व काली मिर्च मिलाकर पीने से खांसी ठीक हो जाती है। कफ कि समस्या में भी आराम मिलता है।

विधानसभा में मुख्यमंत्री का चयन किया जाएगा

विधानसभा में मुख्यमंत्री का चयन किया जाएगा
पंकज कपूर      
देहरादून। कांग्रेस के उत्तराखंड प्रभारी देवेंद्र यादव ने रविवार को कहा कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी मुख्यमंत्री पद के लिए कोई चेहरा घोषित नहीं करेगी और सामूहिक नेतृत्व में ही चुनाव लड़ेगी तथा जीत के बाद सबसे विचार-विमर्श करके मुख्यमंत्री का चयन किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि पांच साल पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए नेताओं के लिए पार्टी के दरवाजे बंद नहीं हुए हैं, लेकिन उन्हें शामिल करने का निर्णय राजनीतिक आकलन के आधार पर किया जाएगा। उत्तराखंड में अगले साल फरवरी-मार्च में विधानसभा चुनाव होना है। यादव ने कहा कि भाजपा के पास एक चेहरा है, लेकिन हमारे पास 10 चेहरे हैं। ये चेहरे आपके सामने हैं। हमारे पास बड़ों का आशीर्वाद है तो युवाओं का साथ भी है। चुनाव के समय हमारे यहां नेतृत्व हमेशा पीसीसी अध्यक्ष का होता है।
चुनाव अभियान समिति के प्रमुख के रूप में हमारे पास हरीश रावत जी भी हैं। हम एक सामूहिक नेतृत्व में ही इस चुनाव में जा रहे हैं।” उन्होंने यह भी कहा कि चुनाव जीतने के बाद सबके साथ चर्चा कर मुख्यमंत्री के बारे में फैसला होगा। यह पूछे जाने पर कि क्या यह तय हो चुका है कि चुनाव से पहले कोई चेहरा घोषित नहीं होगा तो उन्होंने जवाब दिया, ‘नहीं।
गौरतलब है कि कुछ महीने पहले पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने यह मांग उठाई थी कि उत्तराखंड में कांग्रेस को चेहरा घोषित करना चाहिए ताकि भाजपा चुनाव को ‘नरेंद्र मोदी बनाम कांग्रेस’ न कर सके और चुनाव प्रदेश के मुद्दों तक ही केंद्रित रहे। रावत ने यह भी स्पष्ट किया था कि पार्टी जिसे भी चेहरा बनाएगी, उसको वह पूरा समर्थन देंगे। हालांकि रावत के समर्थक उन्हें ही मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पेश कर रहे हैं।
हरक सिंह रावत और कई अन्य नेताओं के कांग्रेस में आगे शामिल होने की अटकलों के बारे में देवेंद्र यादव ने कहा, ”मैं किसी का नाम नहीं लेना चाहता हूं। बहुत सारे लोग हैं जो कांग्रेस में शामिल होना चाहते हैं। लेकिन हम बहुत ऐहतियात के साथ कदम उठा रहे है। बहुत सोच समझकर ही लोगों को पार्टी में शामिल करा रहे हैं।
इस सवाल पर कि क्या कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए वरिष्ठ नेताओं के लिए पार्टी के दरवाजे बंद हो गए हैं तो उन्होंने कहा कि दरवाजे बंद नहीं हुए हैं। लेकिन शामिल कराने का फैसला चुनिंदा ढंग से होगा। राजनीतिक आकलन करने के बाद ही निर्णय लेंगे। यादव ने यह दावा भी किया कि आम आदमी पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इस चुनाव में कोई असर नहीं होगा तथा कांग्रेस 70 सदस्यीय विधानसभा में 50 से अधिक सीटें हासिल करेगी।

बीजेपी और कांग्रेस पार्टी ने आंदोलन तेज किया
मोहम्मद रियाज     
भुवनेश्वर। ओडिशा में महिला शिक्षिका के अपहरण और हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। विपक्षी पार्टी बीजेपी और कांग्रेस ने आंदोलन तेज कर दिया है। विपक्षी दल राज्य के मंत्री डीएस मिश्रा को हटाने और उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। इन नेताओं को विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं के गुस्से का सामना  करना पड़ा, जब वे बरगढ़ जिले के बीजेपुर में मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की बैठक में भाग लेने के लिए जा रहे थे। सत्तारूढ़ दल बीजेडी के एक मंत्री और विधायक के वाहनों पर अंडे फेंके गए और काले झंडे दिखाए गए।
58 लाख से अधिक किसानों ने पंजीकरण कराया 
सतेन्द्र पंवार     
मुंबई। महाराष्ट्र सरकार के फसल सर्वेक्षण से जुड़े मोबाइल ऐप पर अब तक 58 लाख से अधिक किसानों ने पंजीकरण कराया है और कुछ जिले के किसानों ने खरीफ में उगाई गई 350 से अधिक फसलों के बारे में जानकारी दी है। राज्य सरकार ने टाटा ट्रस्ट के साथ मिलकर हाल में ‘ई-पीक पहाणी’ नामक ऐप विकसित किया है। इस ऐप पर किसान अपनी फसल का ब्योरा दे सकते हैं। यह ऐप सरकार को यह समझने में मदद करेगा कि कौन सी फसल उगाई जा रही है और राज्य के कितने क्षेत्र में खेती हो रही है।
राजस्व विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इस प्रकार की जानकारी से पता चला है कि कितना अनाज, तिलहन और नकदी फसलें होने वाली है। इसके आधार पर आयात निर्यात नीतियां बनाई जा सकती हैं, अथवा इस संबंध में कोई निर्णय लिया जा सकता है। उन्होंने कहा,” इस साल 15 अगस्त को यह सुविधा शुरू होने के बाद, पहले दो महीनों में 58,39,804 किसानों ने पंजीकरण कराया और इनमें से 52,84,598 किसानों ने अपनी खरीफ फसल का ब्योरा भी दर्ज कराया है।

जासूसी वाले स्टेटस के स्क्रीनशॉट वायरल हुए
दुष्यंत टीकम         
रायपुर। छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव और आईएएस अफसर डॉ. आलोक शुक्ला के वॉट्सऐप स्टेटस ने खलबली मचा दी है। स्टेटस में आईएएस अफसर ने लिखा कि मेरा फोन टैप हो रहा है, अपने रिस्क पर ही मुझे मैसेज करें। प्रदेश के प्रमुख सचिव स्तर के इस आईएएस अफसर के जासूसी वाले स्टेटस के स्क्रीनशॉट अब तेजी से वायरल हो रहे हैं। आखिर जासूसी वाले इस स्टेटस के पीछे की कहानी क्या है?
वरिष्ठ अफसर आलोक शुक्ला ने बताया कि यह सिर्फ एक मजाक है। उन्होंने मजाकिया लहजे में यह बात लिखी है। दुनिया भर में टेक्नॉलजी और डेटा की सिक्योरिटी पर पहले ही कई तरह के सवाल उठते रहे हैं। इसे लेकर आलोक शुक्ला ने कहा- मेरा क्या वैसे तो पूरी दुनिया के फोन निगरानी में है। मैंने इसे सिर्फ मजाक के तौर पर लिखा है और इसे मजाक के तौर पर ही लिया जाए।
डॉक्टर आलोक शुक्ला जब नागरिक आपूर्ति निगम में अफसर थे, तब प्रदेश में नान घोटाला भी सामने आया था। फर्जी राशन कार्ड से कई टन राशन बांटे जाने जैसे आरोप लगे थे। तब प्रदेश में भाजपा की सरकार थी। भाजपा सरकार पर कांग्रेस ने कई आरोप लगाए थे। आलोक शुक्ला को तब पद से हटा दिया गया था। 2018 में प्रदेश की सियासी हालात बदले, कांग्रेस सत्ता में आई और फिर से आलोक शुक्ला को प्रमुख पद दिए गए। इसे लेकर भारतीय जनता पार्टी आलोक शुक्ला के खिलाफ कई तरह के सवाल भी उठाती रही है। फिलहाल आलोक शुक्ला स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव हैं। पढ़ाई तूहंर द्वार, ऑनलाइन क्लासेस के कई यूनीक कॉन्सेप्ट पर काम कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग में भी अहम जिम्मा संभाल रहे हैं।

जलवायु समझौते के लिए तैंयार हुए 200 देश

जलवायु समझौते के लिए तैंंयार हुए 200 देश
सुनील श्रीवास्तव     
लंदन। जीवाश्म ईंधनों का उपयोग ”चरणबद्ध तरीके से बंद करने के बजाय, इसके उपयोग को चरणबद्ध तरीके से कम करने” के भारत के सुझाव को महत्व देते हुए ग्लासगो में सीओपी26 शिखर सम्मेलन में लगभग 200 देश शनिवार को एक जलवायु समझौते के लिए तैयार हो गए। इसके साथ ही ग्लासगो जलवायु समझौता हानिकारक जलवायु प्रभाव वाली ग्रीनहाउस गैसों के लिए जिम्मेदार कोयले के उपयोग को कम करने की योजना बनाने वाला पहला संयुक्त राष्ट्र जलवायु समझौता बन गया है।
समझौते में शामिल देश अगले साल कार्बन कटौती पर चर्चा करने के लिए भी सहमत हुए हैं ताकि ग्लोबल वार्मिंग को 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित करने के लक्ष्य तक पहुंचा जा सके। सीओपी26 के अध्यक्ष आलोक शर्मा ने समझौते की घोषणा करते हुए कहा, ”अब हम इस धरती और इसके वासियों के लिए एक उपलब्धि के साथ इस सम्मेलन से विदा ले सकते हैं।” हालांकि, कई देशों ने जीवाश्म ईंधन पर भारत के रुख की आलोचना की।
केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने ग्लासगो जलवायु शिखर सम्मेलन में पूछा कि कोई विकासशील देशों से कोयले और जीवाश्म ईंधन सब्सिडी को ”चरणबद्ध तरीके से बंद करने” के वादे की उम्मीद कैसे कर सकता है, जबकि उन्हें अब भी उनके विकास एजेंडा और गरीबी उन्मूलन से निपटना है। पर्यावरण मंत्री यादव ने कहा, ”अध्यक्ष महोदय (शर्मा) सर्वसम्मति बनाने के आपके निरंतर प्रयासों के लिए धन्यवाद। हालांकि, सर्वसम्मति बन नहीं पायी।
भारत इस मंच पर रचनात्मक बहस और न्यायसंगत और न्यायपूर्ण समाधान के लिए हमेशा तैयार है।” मंत्री ने कहा कि जीवाश्म ईंधन और उनके उपयोग ने दुनिया के कुछ हिस्सों को सम्पन्नता और बेहतरी प्राप्त करने में सक्षम बनाया है और किसी विशेष क्षेत्र को लक्षित करना ठीक नहीं है। यादव ने जोर देकर कहा कि हर देश अपनी राष्ट्रीय परिस्थितियों, ताकत और कमजोरियों के अनुसार ‘नेट-जीरो’ के लक्ष्य पर पहुंचेगा। उन्होंने कहा, ”विकासशील देशों को वैश्विक कार्बन बजट में अपने उचित हिस्से का अधिकार है और वे इस दायरे में जीवाश्म ईंधन के जिम्मेदार उपयोग के हकदार हैं।
ऐसी स्थिति में, कोई कैसे उम्मीद कर सकता है कि विकासशील देश कोयला और जीवाश्म ईंधन सब्सिडी ​​को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने के बारे में वादा कर सकते हैं, जबकि ​​विकासशील देशों को अब भी अपने विकास एजेंडा और गरीबी उन्मूलन से निपटना है।” उन्होंने कहा, ”उदाहरण के लिए, हम (भारत) कम आय वाले परिवारों को एलपीजी के उपयोग के लिए सब्सिडी दे रहे हैं।
यह सब्सिडी खाना पकाने के लिए बायोमास जलने को लगभग समाप्त करने और घरों के अंदर वायु प्रदूषण में कमी से स्वास्थ्य में सुधार करने में बहुत मददगार रही है।” भारत में जन्मे ब्रिटिश कैबिनेट मंत्री और शिखर सम्मेलन के प्रभारी शर्मा ने मसौदे पर कुछ देशों की आलोचना के बीच कहा, ”मुझे गहरा खेद है।” उन्होंने कहा, ”मैं गहरी निराशा को भी समझता हूं। लेकिन मुझे लगता है कि यह भी महत्वपूर्ण है कि हम इस समझौते में किए गए वादों को निभाएं।
आइलैंड: विमान दुर्घटना में 4 लोगों की मौत हुईं
अखिलेश पांडेय         
रिक्जेविक। अमेरिका के मैकिनॉ सिटी के पश्चिम में स्थित बीवर आइलैंड में शनिवार दोपहर विमान दुर्घटना में चार लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। चार्लेवोइक्स काउंटी शेरिफ कार्यालय के अनुसार मैकिनॉ सिटी के पश्चिम में स्थित बीवर आइलैंड में एक हवाई अड्डे पर विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया।
विमान पर सवार लोगों के  बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं दी गई और दुर्घटना के कारणों के बारे में कुछ पता नहीं चल सका है। 
संघीय विमानन प्रशासन ने एक बयान में कहा कि दो इंजन वाले विमान ब्रिटन-नॉर्मन ने मिशिगन के निचले प्रायद्वीप के चार्लेवोइक्स से उड़ान भरी थी।
प्रतिद्वंदी गिरोहों के बीच गोलाबारी में 68 मरें
अखिलेश पांडे     
क्विटो। इक्वाडोर की सबसे बड़ी जेल ‘लिटोरल पेनिटेंशरी’ के अंदर शनिवार को प्रतिद्वंद्वी गिरोहों के बीच लंबे समय तक चली गोलीबारी में 68 कैदी मारे गए और 25 लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने बताया कि घटना के काफी देर बाद तक स्थिति अनियंत्रित रही। अधिकारियों ने बताया कि जेल के अंदर मौजूद अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ गिरोह से जुड़े प्रतिद्वंद्वी गुटों के बीच लड़ाई का यह ताजा मामला है। घटना तटीय शहर गुआयाकिल में जेल में सुबह होने से पहले हुई।
सोशल मिडिया पर वायरल हुए वीडियो में कुछ शव झुलसे हुए, जेल के अंदर जमीन पर पड़े दिख रहे हैं। गुआस प्रांत के गवर्नर पाब्लो अरोसेमेना ने कहा कि शुरुआती लड़ाई करीब आठ घंटे तक चली। कैदियों ने पैवेलियन दो में जाने के लिए दीवार को डायनामाइट से उड़ाने का प्रयास किया और आगजनी की। अरोसेमेना ने कहा, ”हम मादक पदार्थों की तस्करी के खिलाफ लड़ रहे हैं, यह बहुत मुश्किल है।”
उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि क्या अधिकारियों ने परिसर पर नियंत्रण हासिल कर लिया है या घटना में क्या कोई और हताहत हुआ है। इससे पूर्व दो महीने पहले सितंबर में लिटोरल जेल में गिरोहों के बीच रक्तपात हुआ था जिसमें 119 लोग मारे गए थे।

हाइपरलूप प्रौद्योगिकी को डिजाइन करने की क्षमता

हाइपरलूप प्रौद्योगिकी को डिजाइन करने की क्षमता 
अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। नीति आयोग के सदस्य-वी के सारस्वत का मानना है कि भारत के पास द्रुत-गति की यात्रा सेवा के लिए अपनी हाइपरलूप प्रौद्योगिकी को डिजाइन करने की क्षमता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इसमें समय लगेगा, ऐसे में विदेशी कंपनियों को अपनी हाइपरलूप प्रौद्योगिकी क्षमता दिखाने की अनुमति दी जानी चाहिए। सारस्वत वर्जिन की हाइपरलूप प्रौद्योगिकी की प्रौद्योगिकीय तथा वाणिज्यिक क्षमता की व्यवहार्यता का पता लगाने के लिए गठित की गई समिति के प्रमुख हैं।
उन्होंने कहा कि भारत को इसके लिए नियामकीय व्यवस्था भी बनानी चाहिए क्योंकि हाइपरलूप प्रौद्योगिकी के साथ सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा है। सारस्वत ने रविवार को  कहा कि हाइपरलूप द्रुत-गति की ट्रेन है जो ट्यूब में शून्य (वैक्यूम) में चलती है। हमने (विशेषज्ञ समिति के सदस्यों) पाया है कि इसे करने के दो तरीके हैं। दुनिया के दिग्गज उद्योगपति एलन मस्क ने इस प्रौद्योगिकी का प्रस्ताव किया है। इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला और वाणिज्यिक अंतरिक्ष परिवहन कंपनी स्पेसएक्स के पीछे भी मस्क ही हैं।
रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के पूर्व प्रमुख सारस्वत ने कहा कि इसमें एक तरीका विदेशी कंपनियों को अपनी प्रौद्योगिकी के प्रदर्शन की अनुमति देने का है। इसके समानान्तर दूसरा तरीका विशेष रूप से इस क्षेत्र में शोध एवं विकास (आरएंडडी) करने का है। अध्ययनों से यह तथ्य सामने आया है कि हमारे पास शोध एवं विकास की क्षमता है और हम खुद की हाइपरलूप प्रौद्योगिकी डिजाइन कर सकते हैं।
नीति आयोग के सदस्य ने कहा कि इसमें समय लगेगा। ऐसे में हम विदेशी कंपनियों को यहां आने और अपनी प्रौद्योगिकी दिखाने को कह सकते हैं। उन्हें महाराष्ट्र या कर्नाटक में इसके लिए अनुमति दी जा सकती है। सारस्वत ने कहा कि हाइपरलूप प्रौद्योगिकी के लिए सुरक्षा और नियामकीय व्यवस्था जरूरी है। यह इस प्रौद्योगिकी के साथ जुड़ा बड़ा मुद्दा है।
हालांकि, सारस्वत ने स्पष्ट किया कि विशेषज्ञ समिति ने अभी इस बारे में कोई अंतिम फैसला नहीं किया है। वर्जिन का हाइपरलूप परीक्षण नौ नवंबर, 2020 को एक पॉड के साथ अमेरिका के लास वेगास के 500 मीटर के ट्रैक पर किया गया था। वर्जिन हाइपरलूप उन गिनी-चुनी कंपनियों में है जो यात्रियों के परिवहन के लिए इस तरह की प्रणाली के निर्माण का प्रयास कर रही है।
सेमीकंडक्टर की कमी से संबंधित एक सवाल पर सारस्वत ने कहा कि सरकार गंभीरता से इस क्षेत्र में आत्मनिर्भरता के लिए पारिस्थितिकी तंत्र बनाने पर विचार कर रही है। देश में हाल में कोयले और बिजली की कमी पर उन्होंने कहा कि यह मुख्य रूप से लॉजिस्टिक्स की विभिन्न समस्याओं की वजह से पैदा हुआ संकट था। उन्होंने कहा कि अब देश में किसी भी बिजली संयंत्र में कोयले की कमी नहीं है।

2 साल में इंटरनेट का उपयोग दोगुना बढ़ाया गया
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए लागू लॉकडाउन में जब संपर्क के सभी माध्यम लगभग बंद हो गये। तब डिजिटल कनेक्टिविटी एक अहम साधन बनकर उभरा और यही वजह है कि दो साल में इंटरनेट का उपयोग दोगुना से अधिक बढ़ गया। एशिया प्रशांत क्षेत्र में डिजिटल नीति के मुद्दों पर काम करने वाला क्षेत्रीय थिंक टैंक एलआईआरएनईएशिया और नई दिल्ली आधारित नीति-उन्मुख आर्थिक नीति थिंक टैंक आईसीआरआईईआर की जारी संयुक्त सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि लॉकडाउन में डिजिटल कनेक्टिविटी दोगुना से अधिक बढ़ी है।
सर्वे में शामिल 15 से 65 आयु वर्ग के 49 प्रतिशत लोगों ने इंटरनेट उपयोग करने की जानकारी दी जबकि 2017 के अंत में 15-65 आयु वर्ग में केवल 19 प्रतिशत ने इंटरनेट का इस्तेमाल किया। इसका अर्थ 2021 में 61 प्रतिशत परिवार ने इंटरनेट का उपयोग किया जबकि 2017 में केवल 21 प्रतिशत ने इसका लाभ लिया।
रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2020 और 2021 में 13 करोड़ से अधिक यूजर ऑनलाइन हुए। वर्ष 2020 में इंटरनेट से जुड़े लगभग आठ करोड़ में से 43 प्रतिशत या 3.4 करोड़ से अधिक लोगों ने लॉकडाउन के कारण इंटरनेट का इस्तेमाल किया। इस दौरान 64 प्रतिशत परिवार जिनके बच्चे स्कूलों में पढ़ते हैं सभी के घरों में इंटरनेट की सुविधा थी, जबकि शेष 36 प्रतिशत इससे वंचित थे। पहले समूह (इंटरनेट वाले परिवार) के 31 प्रतिशत बच्चों को किसी न किसी माध्यम से दूरस्थ शिक्षा मिलने की संभावना थी जबकि दूसरे समूह (इंटरनेट रहित परिवारों) के केवल आठ प्रतिशत ने किसी माध्यम से दूरस्थ शिक्षा मिलने की पुष्टि की।
रिपोर्ट में कहा गया है कि स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में भी ऐसा ही रुझान देखा गया। कोरोना महामारी के कठिन दौर में स्वास्थ्य सेवाएं प्राप्त करने के लिए 65 प्रतिशत लोगों ने इंटरनेट का इस्तेमाल किया जबकि इंटरनेट से वंचित केवल 52 प्रतिशत लोग स्वास्थ्य सेवा लेने में सक्षम रहे। लेकिन, आंकड़ाें को बारीकी से देखने पर पता चलता है कि ये असमानताएं डिजिटल डिवाइड को आज भी प्रभावित करती हैं। उदाहरण के लिए इंटरनेट युक्त परिवार के बच्चों को रिमोट माध्यम से सीखने की अधिक सुविधा थी।
ये अधिक सम्पन्न, शहरी परिवार थे जिनके घर के मुखिया अधिक शिक्षित थे और उनके पास बड़े स्क्रीन वाले उपकरण (जैसे कंप्यूटर, टैबलेट) थे। दूसरी ओर शिक्षा से वंचित रह गए अधिकतर परिवार साधन हीन थे, जिनके पास बड़े स्क्रीन वाले उपकरण नहीं थे (वे मोबाइल फोन पर निर्भर थे)। रिपोर्ट के अनुसार, लॉकडाउन के दौरान वर्क फ्रॉम होम की बात आई तो केवल 10 प्रतिशत लोगों ने इसमें सक्षम बताया। जाहिर है इनमें उच्च प्रतिशत वित्त, बीमा, सूचना प्रौद्योगिकी, लोक प्रशासन और अन्य पेशेवर सेवाओं में काम करने वाले लोग थे।

पेटीएम को शेयरों का आवंटन करेगीं कंपनी
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) की मंजूरी के बाद पेटीएम संभवत: 16 नवंबर को मूल्य दायरे के ऊपरी स्तर 2,150 रुपये प्रति शेयर के भाव पर शेयरों का आवंटन करेगी। मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने बताया कि पेटीएम को इसके लिए सोमवार को नियामक की मंजूरी मिल सकती है। पहले कहा जा रहा था कि डिजिटल भुगतान एवं वित्तीय सेवा कंपनी पेटीएम सोमवार को शेयरों का आवंटन करेगी।
एक सूत्र ने कहा कि सेबी की मंजूरी के बाद पेटीएम संभवत: मंगलवार को शेयरों का आवंटन करेगी। ”सेबी की मंजूरी सोमवार को मिलने की उम्मीद है।” पेटीएम को अपने 18,300 करोड़ रुपये के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) में जो बोलियां मिली हैं उनके आधार पर कंपनी 1,49,428 करोड़ रुपये के उपक्रम मूल्य पर सूचीबद्ध होगी। यह 20 अरब डॉलर से अधिक बैठेगा। देश के सबसे बड़े आईपीओ को 1.89 गुना अभिदान मिला था।
आईपीओ को संस्थागत खरीदार श्रेणी में 2.79 गुना अभिदान मिला। वहीं खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित 87 लाख शेयरों पर 1.66 गुना बोलियां मिलीं। पेटीएम 18 नवंबर को जबर्दस्त तरीके से सूचीबद्धता के लिए तैयार है। यह देश की सबसे मूल्यवान कंपनियों में से होगी।
इससे पहले देश के सबसे बड़े कोल इंडिया के आईपीओ के लिए निर्गम के अंतिम दिन सबसे अधिक बोलियां मिली थीं। कोल इंडिया का आईपीओ अंतिम दिन 15.28 गुना अभिदान के साथ बंद हुआ था। इसी तरह का रुख हालिया नायका और पॉलिसीबाजार के आईपीओ में भी देखने को मिला है। पेटीएम के आईपीओ के तहत 8,300 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए गए और 10,000 करोड़ रुपये की बिक्री पेशकश (ओएफएस) लाई गई।

बेहद खराब की श्रेणी में पहुंची वायु गुणवत्ता
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। दिल्ली में वायु गुणवत्ता रविवार को ‘गंभीर’ श्रेणी से सुधरकर ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में पहुंच गयी और वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 338 दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के इलाकों फरीदाबाद, गाजियाबाद, गुरुग्राम और नोएडा में एक्यूआई क्रमश: 312, 368, 301 और 357 दर्ज किया गया। वायु प्रदूषण की जानकारी देने वाले ऐप ‘समीर’ के अनुसार दिल्ली में सुबह नौ बजकर पांच मिनट पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 338 दर्ज किया गया।
दिल्ली में लोधी रोड, पूसा रोड, चांदनी चौक और दिल्ली हवाई अड्डे पर एक्यूआई क्रमश: 295, 313, 352 और 321 दर्ज किया गया। शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच एक्यूआई ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बेहद खराब’ और 401 और 500 के बीच एक्यूआई को ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रदूषण संकट से निपटने के लिए शनिवार को एक सप्ताह तक स्कूलों को बंद करने, निर्माण गतिविधियों पर रोक, सरकारी कार्यालयों में कर्मियों के घर से कार्य करने समेत कई आपात कदमों की घोषणा की।
आपात बैठक के बाद केजरीवाल ने पत्रकारों से कहा कि उनकी सरकार उच्चतम न्यायालय के समक्ष ‘लॉकडाउन’ की योजना भी पेश करेगी। दिल्ली-एनसीआर में पटाखों, पराली जलाने और मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण वायु प्रदूषण के आपात स्तर पर पहुंचने के बाद अधिकारियों ने शुक्रवार को लोगों को घरों के अंदर रहने और सरकारी एवं निजी कार्यालयों को अपने वाहनों के उपयोग में 30 प्रतिशत तक की कटौती करने की सलाह दी थी।
वायु प्रदूषण पर काबू करने के लिए बनी ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान (जीआरएपी) की उप-समिति ने कहा कि प्रदूषक कणों के छंटने के लिए 18 नवंबर तक मौसम की परिस्थिति अनुकूल नहीं है और संबंधित एजेंसियों को निश्चित रूप से ”आपात” श्रेणी के तहत कदमों को लागू करने के लिए तैयार रहना चाहिए। दिल्ली में रविवार को न्यूनतम तापमान 10.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो इस मौसम में औसत से तीन डिग्री कम है। सापेक्षिक आर्द्रता 83 प्रतिशत दर्ज की गई। मौसम विभाग ने मुख्यत: बादल छाए रहने और सुबह धुंध बने रहने के साथ अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के आस पास रहने का पूर्वानुमान जताया है।

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,44,37,307 हुईं
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 11,271 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 3,44,37,307 हो गई। उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी घटकर 1,35,918 हो गई है। जो पिछले 522 दिनों (17 महीनों) में सबसे कम है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा रविवार को अद्यतन किए गए आंकड़ों से यह जानकारी मिली। सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक देश में इस अवधि में 285 मरीजों की मौत होने से महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 4,63,530 हो गई है।
कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामलों में दैनिक वृद्धि लगातार 37 दिनों से 20,000 से नीचे है और यह 140 दिनों से 50,000 से कम बनी हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,35,918 है जो कुल संक्रमितों की संख्या का 0.39 प्रतिशत है और यह मार्च 2020 के बाद से सबसे कम है।
कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.26 प्रतिशत दर्ज की गई है जो मार्च 2020 के बाद से सबसे ज्यादा है। 
पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 390 की कमी दर्ज की गई। दैनिक संक्रमण दर 0.90 प्रतिशत है। यह पिछले 41 दिनों से दो प्रतिशत से नीचे है। साप्ताहिक संक्रमण दर भी 1.01 प्रतिशत दर्ज की गई जो पिछले 51 दिनों से दो प्रतिशत से कम है। बीमारी से स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 3,38,37,859 हो गई है। जबकि मृत्यु दर 1.35 प्रतिशत है। देश में राष्ट्रव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत कोविड-19 रोधी टीकों की कुल 112.01 करोड़ खुराक . जा चुकी है।

14 नवंबर को मनाया जाता हैं 'चिल्ड्रंस डे'

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। हर साल देश में 14 नवंबर को चिल्ड्रंस डे मनाया जाता है। इस दिन देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन होता है। पंडित नेहरू की मृत्यु के बाद उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए उनकी जन्मदिन को ‘चिल्ड्रंस डे’ के रूप में मनाया जाने लगा। जैसे की पंडित नेहरू को बच्चों से बहुत प्रेम और लगाव रहता था और बच्चे भी उन्हें प्यार से चाचा नेहरू कहकर बुलाते थे। इसी कारण बच्चे भी चिल्ड्रंस डे को बड़ी ही उत्साह के साथ मनाते हैं। 

इस दिन बच्चों को तरह-तरह के गिफ्टस दिए जाते हैं। साथ ही इस दिन सभी लोग बच्चों को खास कोट्स के साथ चिल्ड्रंस डे विश करते हैं। तो आज आप भी अपने बच्चों खास फील कराने के लिए इन खास कोट्स के जरिए चिल्ड्रंस डे विश कर सकते हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-27 (वर्ष-05)
2. सोमवार, नवंबर 15, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:42, सूर्यास्त 05:27।
5. न्‍यूनतम तापमान -13 डी.सै., अधिकतम-26+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...