रविवार, 23 फ़रवरी 2020

अलीगढ़ में भड़की हिंसा, पथराव-गोलीबारी

अलीगढ। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं को हटाने गई पुलिस पर पथराव किया गया। रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) ने प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े हैं और लाठीचार्ज भी किया है। प्रदर्शनकारी शहर के कई इलाकों में पथराव कर रहे हैं। पुलिस की गाड़ी पर हमला हुआ है। आम लोगों की बाइक और गाड़ियों को भी प्रदर्शनकारियों ने आग के हवाले कर दिया है। दूसरी तरफ गोलीबारी में कुछ लोगों को गोली लगने की भी सूचना है। हालांकि इस बात की अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।


खबर के अनुसार अलीगढ़ के ऊपरकोट क्षेत्र में महिलाएं धरने पर बैठी थीं। रविवार देर शाम महिलाओं को हटाने गई पुलिस पर प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया। कई दुकानों को आग के हवाले कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने रैपिड एक्शन फोर्स की गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की। हालात बेकाबू होता देख आरएएफ ने आंसू गैस के गोले छोड़े। ऊपरकोट इलाके में बवाल के बाद प्रदर्शनकारी अब शहर के कई इलाकों में सक्रिय हो गए हैं। बाबरी मंडी और घास की मंडी इलाके में भी पथराव की सूचना है। प्रदर्शनकारियों ने कई बाइक और गाड़ियों को फूंक दिया है। साथ ही पुलिस की बैरिकेडिंग को भी आग के हवाले करने की जानकारी मिली है।


भाजपा के पूर्व सांसद पहुंचे पाकिस्तान

नई दिल्ली। भाजपा के पूर्व सांसद व अभिनेत्रा शत्रुधन सिंहा ने पाकिस्तान पहुंचकर पाक राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से मुलाकात किया। भाजपा छोड़कर कांग्रेस का दामन थामने वाले सिन्हा दरअसल एक विवाह समारोह में भाग लेने के लिए पाक पहुंचे हैं। मगर शनिवार को वह पाक राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से भी मिले। इस मुलाकात ने शत्रुघ्न सिन्हा और उनकी पार्टी के लिए परेशानी खड़ी कर दी है। पाक राष्ट्रपति ने मुलाकात के बाद दावा किया कि कांग्रेस नेता ने कश्मीर की मौजूदा स्थिति पर उनकी चिंता पर समर्थन जताया है। पाक राष्ट्रपति कार्यालय से ट्वीट किया गया, ‘भारतीय नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से लाहौर में आज मुलाकात की। उन्होंने दोनों देशों के बीच शांति का पुल बनाने के महत्व पर चर्चा की। सिन्हा ने कश्मीर में 200 से अधिक दिनों के लॉकडाउन पर राष्ट्रपति की चिंता का समर्थन किया।’ हालांकि शत्रुघ्न सिन्हा ने इस दौरे को पूरी तरह से निजी बताया है और कहा है कि इसका राजनीति से कोई लेना देना नहीं है। इससे पहले सिद्धू पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए थे, जिसके बाद कांग्रेस को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। उन्हें पाक सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा के गले मिलते भी देखा गया था।


कुश्तीः जितेंद्र ने रजत, दीपक को कांस्य

नई दिल्ली। जितेंद्र कुमार ने इंदिरा गांधी स्टेडियम में सीनियर एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता के अंतिम दिन रविवार को 74 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग में रजत पदक हासिल किया। राहुल अवारे ने 61 किग्रा और दीपक पुनिया ने 86 किग्रा में कांस्य पदक जीता। भारत ने प्रतियोगिता में पांच स्वर्ण, छह रजत और नौ कांस्य सहित 20 पदक जीते। दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के 74 किग्रा वर्ग के प्रबल प्रतिद्वंद्वी जितेंद्र फाइनल में पहुंचे लेकिन उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। जितेंद्र के रजत पदक जीतने के साथ उनके ओलंपिक ट्रायल टूर्नामेंट में उतरने की संभावना मजबूत हो गई है। जितेंद्र को पिछले वर्ष विश्व चैंपियनशिप के लिए हुए ट्रायल में सुशील से हार का सामना करना पड़ा था। सुशील विश्व चैंपियनशिप के पहले ही राउंड में बाहर हो गए थे। सुशील चोट के कारण एशियाई चैंपियनशिप के ट्रायल में नहीं उतरे थे और जितेंद्र के रजत जीतने से सुशील की संभावनाएं धूमिल हो गई हैं। प्रतियोगिता के अंतिम दिन पुरुष फ्रीस्टाइल वर्ग में 61, 74, 86, 92 और 125 किग्रा वर्ग के मुकाबले हुए,जिसमें केवल जितेंद्र ही फाइनल में पहुंचने में कामयाब रहे।


गृह मंत्री पहुंचे अहमदाबाद, लिया जायजा

अहमदाबाद। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सोमवार को भारत आने वाले हैं। अपने दो दिन के दौरे पर ट्रंप गुजरात के अहमदाबाद भी जाएंगे। वहीं, राष्ट्रपति ट्रंप के आने से पहले गृह मंत्री अमित शाह रविवार को अहमदाबाद पहुंच गए हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ट्रंप के अहमदाबाद आने से एक दिन पहले ही वहां जायजा लेने पहुंचे। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया और बेटी इवांका के साथ भारत दौरे पर आ रहे हैं। ट्रंप 24 और 25 फरवरी को भारत में रहेंगे। इस दौरान ट्रंप अहमदाबाद, दिल्ली और आगरा भी जाएंगे।


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा को देखते हुए सुरक्षा चाक चौबंद है। अहमदाबाद में सोमवार को एयरपोर्ट से स्टेडियम के बीच होने वाले रोड शो से पहले शनिवार को काफिले की मॉक ड्रिल कराई गई गई। मॉक ड्रिल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काफिला और उसके बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अधिकारियों की गाड़ियों की ड्रिल एयरपोर्ट से लेकर एयरपोर्ट सर्कल, सरदार नगर सर्कल से होते हुए इंदिरा ब्रिज और उसके बाद मोटेरा स्टेडियम पहुंचा। इसी रूट से सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का काफिला रोड शो के माध्यम से 9 किलोमीटर का सफर तय करते हुए मोटेरा स्टेडियम पहुंचेगा। फिर वहां पर 3 घंटे का कार्यक्रम है, जिसमें पब्लिक इंटरेक्शन और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।


वीरप्पन की बेटी हुईं भाजपा में शामिल

चेन्नई। चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी विद्या रानी भाजपा में शामिल हो गईं। कृष्णगिरी में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव, पूर्व केंद्रीय मंत्री पॉन राधाकृष्णन समेत अन्य नेताओं की मौजूदगी में विद्या समेत सैकड़ों लोग पार्टी में शामिल हुए। भाजपा में शामिल होने के बाद विद्या रानी ने कहा कि मैं गरीबों और वंचितों के लिए काम करना चाहती हूं। पीएम मोदी की योजनाएं लोगों के लिए हैं और मैं उन्हें लोगों तक ले जाना चाहती हूं। बता दें कि वीरप्पन कुख्यात अपराधी था और इसका आतंक कर्नाटक और तमिलनाडु में फैला हुआ था। दक्षिण भारत के जंगल वीरप्पन के कब्जे में थे, जंगल में बैठकर वीरप्पन हाथी दांत और चंदन की खुलेआम तस्करी किया करता था। वीरप्पन और उसके सहयोगियों को साल 2004 में तमिलनाडु विशेष कार्य बल ने मार गिराया था।


बसपा प्रदेश की कमान आकाश के हाथ

बृजेश केसरवानी


लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) चीफ मायावती ने शनिवार को अपने भतीजे आकाश आनंद को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। बता दें कि मायावती ने अपने सभी अनुषांगिक संगठनों, राज्य के विभिन्न जिलों और इकाइयों की कमेटियों के पुनर्गठन का फैसला किया है।
साथ ही भंग की गई बसपा की तमाम कमेटियां जल्द ही गठित होंगी और इन कमेटियों की देखरेख सीधे तौर पर उनके भतीजे आकाश आनंद करेंगे।
मालूम हो कि आकाश आनंद पहले से ही बीएसपी के राष्ट्रीय को-ऑर्डिनेटर हैं, लेकिन यह जिम्मेदारी उन्हें सीधे कैडर से जोड़ेगा, क्योंकि बीएसपी के कैडर और जिले से लेकर राज्य तक की मीटिंग की समीक्षा खुद आकाश करेंगे।
मीटिंग में मायावती का ऐलान
दिल्ली में शनिवार को हुई मीटिंग में मायावती ने बीएसपी के सभी नेताओं और पदाधिकारियों के सामने कहा कि आकाश अब आगे उत्तर प्रदेश में ज्यादा काम देखेंगे। बसपा अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश सहित सभी राज्यों की भंग चल रही प्रदेश इकाइयों के गठन की प्रक्रिया शुरू करने को कहा है।


नई शराब नीति का जमकर हो रहा विरोध

राणा ओबराय

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की नई शराब नीति पर कांग्रेस के साथ भाजपा पार्टी का भी झेलना पड़ रहा है विरोध

चण्डीगढ़। हरियाणा में घोषित नई आबकारी पॉलिसी पर विवाद छिड़ गया है। आबकारी एवं काराधान मंत्री तथा उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला द्वारा बनाई गई आबकारी पॉलिसी से भाजपा भी सहमत नहीं है। खासकर निजी स्थलों पर एक हजार रुपये लेकर शराब परोसने का लाइसेंस देने को घरों में शराब की बिक्री करने देने की छूट से जोड़कर देखा जा रहा है। हरियाणा भाजपा के प्रधान सुभाष बराला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात कर यह मुद्दा उठाने और पॉलिसी में संशोधन पर विचार करने की बात कही है। खासकर घरों में एक पेटी देसी-विदेशी शराब रखने देने की मंजूरी देने का फैसला ज्यादातर लोगों के गले नहीं उतर रहा। शराब ठेकों के विरोध मे लिखित में देने वाली ग्राम सभाओं में शराब की दुकानें नहीं खोलने की बात कही गई है, लेकिन गांव की सीमा से बाहर शराब बिक्री की छूट से ग्रामीणों को इसका कोई अधिक फायदा नहीं मिलने वाला। साथ लगते गांवों में आसानी से शराब मिलने से समस्या पहले जैसी ही रहेगी। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर लिखा कि वादा था गांव से ठेका उठाएंगे। क्या मालूम था हर घर में ठेके बनाएंगे? जय हो भाजपा-जजपा सरकार! गुरुग्राम, फरीदाबाद और पंचकूला में बार देर रात तक खुलने की मंजूरी पर भी सवाल उठ रहे। प्रदेश में जहां शराब ठेकों की संख्या 2500 से बढ़ा कर 2600 कर दी गई है, वहीं थ्री स्टार की सुविधाओं वाले तथा जिला मुख्यालयों के बाहर स्थापित होटलों में भी बार चलाने की अनुमति से शराब कल्चर को बढ़ावा मिलेगा। इसके अलावा होटलों में लाइसेंस फीस में 25 लाख रुपये तक की कमी किए जाने से अब और ज्यादा होटलों में शराब उपलब्ध होगी। हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला का कहना है कि घरों में शराब परोसने की छूट के दूसरे मायने निकाले जा रहे हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल और उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला से अनुरोध करेंगे कि पूरे मामले में स्थिति स्पष्ट की जाए। यह भी सुनिश्चित होना चाहिए कि इसका दुरुपयोग न हो। ठेकों के विरोध में प्रस्ताव पारित करने वाली ग्राम सभाओं के आसपास ठेके खोलने की छूट नहीं होनी चाहिए। उम्मीद है कि मुख्यमंत्री और आबकारी मंत्री इस पर विचार जरूर करेंगे।


पीजी में लगी भीषण आग, 3 की मौत

चंडीगढ़ः पीजी में लगी भीषण आग, तीन लड़कियों की जलकर मौत, दो ने छलांग लगा बचाई जान


अमित शर्मा


चंडीगढ़। दो छात्राओं ने पहली मंजिल से पड़ोसी के घर में कूदकर बचाई जान, संचालक गिरफ्तार।शनिवार शाम 4 बजे हुआ हादसा, दमकल की पांच गाड़ियों ने दो घंटे में पाया आग पर काबू। हादसे के समय पीजी में मौजूद थी 25 छात्राएं, शोर मचने पर 20 ने भागकर बचाई जान।लैपटॉप को चार्ज करते समय शॉर्ट सर्किट से शनिवार शाम करीब चार बजे सेक्टर-32डी के एक गर्ल्स पीजी में आग लग गई। अवैध रूप से संचालित इस पीजी में कुल 30 कमरे बने हुए हैं। आग एक कमरे में लगी और तेजी से फैल गई। धुएं से पीजी में मौजूद छात्राओं का दम घुटने लगा। हादसे के समय करीब 25 छात्राएं पीजी में मौजूद थीं। शोर मचते ही इनमें से 20 निकलने में कामयाब हो गईं, जबकि पांच छात्राएं धुएं और आग में फंस गईं। 


दम घुटने और झुलसने से इनमें से तीन की मौत हो गई जबकि दो छात्राओं ने बिल्डिंग की पहली मंजिल से छलांग लगाकर अपनी जान बचाई। आग ने इतना विकराल रूप ले लिया कि पीजी की पहली मंजिल जलकर पूरी तरह राख हो गई। सूचना पर पहुंचीं दमकल की पांच गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर करीब दो घंटे बाद काबू पाया
हादसे में हिसार के लक्ष्मी नगर निवासी मुस्कान (21) की झुलसने जबकि कोटकपूरा (पंजाब) के सत्य बाजार निवासी पाक्षी ग्रोवर (20) और कपूरथला (पंजाब) निवासी रिया अरोड़ा (19) की धुएं में दम घुटने से मौत हो गई। गनीमत रही कि हादसे के वक्त पीजी में ज्यादा लड़कियां नहीं थीं, अगर हादसा रात में या सुबह में होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। 


वहीं, पीजी के मेन गेट के पास पीएनजी लाइनें बिछी हुई हैं अगर समय रहते इसे बंद न करवाया गया होता तब भी बड़ा हादसा हो सकता था। सेक्टर-34 थाना पुलिस ने कोठी मालिक गौरव अनेजा और पीजी संचालक नीतेश बंसल व नीतेश पोपली के खिलाफ मामला दर्जकर नीतेश बंसल को गिरफ्तार कर लिया है।


सेक्टर-32डी स्थित कोठी नंबर-3325 में पिछले डेढ़ साल से अवैध रूप से गर्ल्स पीजी चलाया जा रहा था। इस पीजी में करीब 30 से ज्यादा कमरे हैं। शनिवार को ज्यादातर छात्राएं पीजी से बाहर थीं। शाम चार बजे अचानक पीजी के एक कमरे से धुआं निकलने लगा। महिला केयर टेकर बब्बू ने आग भड़कते देख शोर मचा दिया। 


इसके बाद करीब 20 छात्राएं पीजी से निकलने में कामयाब हो गईं जबकि पांच छात्राएं फेमिना, जैसमीन, मुस्कान, रिया और पाक्षी अंदर ही फंस गईं। किसी तरह फेमिना और जैसमीन ने कुर्सी के सहारे पहली मंजिल से पड़ोसी के घर में छलांग लगाकर जान बचाई जबकि मुस्कान, रिया और पाक्षी अंदर ही फंस गईं। सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने किसी तरह से तीनों को बाहर निकालकर जीएमसीएच-32 पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया। 


एसडी कॉलेज में पढ़ती थीं पाक्षी और मुस्कान
पाक्षी अरोड़ा सेक्टर-32 स्थित एसडी कॉलेज में बीबीए की छात्रा थी जबकि रिया अरोड़ा सेक्टर-31 स्थित एक इंस्टीट्यूट में फ्रेंच भाषा की कोचिंग ले रही थी। वहीं मुस्कान भी एसडी कॉलेज से एमकॉम की छात्रा थी। हादसे के बाद तीनों का परिवार सदमे है। तीनों के शव को जीएमसीएच-32 के मोर्चरी में रखवा दिए गए हैं। रविवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया जाएगा। स्थानीय लोगों ने पीजी बंद कराने को दी थी शिकायत:
इलाके के लोगों ने बताया कि अगस्त 2018 से अवैध तरीके से पीजी का संचालन किया जा रहा था। पीजी में 34 छात्राएं रहती हैं। कोठी का मालिक गौरव अनेजा है, जिसने अपनी कोठी को नीतेश बंसल नामक व्यक्ति को किराए पर दिया है, जो पीजी चला रहा है। अवैध तरीके से चलने वाले पीजी को बंद करवाने के लिए कई बार स्थानीय लोगों ने शिकायतें भी दी हैं लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। हादसे की जांच के आदेश, एडवाइजर ने डीसी की अध्यक्षता में बनाई कमेटी 
सेक्टर-32डी के गर्ल्स पीजी में आग लगने की घटना ने चंडीगढ़ प्रशासन की ‘स्मार्टनेस’ की पोल खोलकर रख दी है। हादसे के बाद एडवाइजर मनोज परिदा ने पूरे मामले की जांच की जिम्मेदारी डीसी मंदीप सिंह बराड़ को सौंप दी है। साथ ही जांच की रिपोर्ट जल्द से जल्द सौंपने के आदेश दिए हैं। हालांकि एडवाइजर की तरफ से इस जांच के लिए कोई समय सीमा तय नहीं की गई है।
एडवाइजर ने हादसे के तत्काल बाद पूरे मामले के बारे में डीसी से जानकारी ली। उधर, डीसी मंदीप सिंह बराड़ सेक्टर-32 स्थित मेडिकल कॉलेज और उसके बाद पीजीआई पहुंचे और एडवाइजर को पूरे मामले से अवगत कराया। एडवाइजर ने डीसी की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाकर मामले के जांच के निर्देश दिए हैं। एडवाइजर ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि दोषियों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्जकर कार्रवाई की जाए। एडवाइजर ने बताया कि मामले में धारा 336, 304, 188, 34 आईपीएस के तहत एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। साथ ही आग लगने की के बाद सभी अधिकारियों को भी मौके पर जाने के निर्देश दिए गए हैं। प्रशासन के अधिकारी भी पीड़ित परिवारों के संपर्क में हैं।


सीएए-एनपीआर के खिलाफ 43वें दिन धरना

सीएए, एनआरसी और एनपीआर के ख़िलाफ़ रोशन बाग़ के मंसूर अली पार्क में ४३वें दिन भी धरना जारी रहा


प्रयागराज। धरना के दौरान अविनाश मिश्रा ने कहा भाजपा आरएसएस यह दुष्प्रचार करते हैं कि मुस्लिम शासकों ने जबर्दस्ती हिन्दुओं को इस्लाम क़बूल करवाया। यह बात तथ्यों के ख़िलाफ़ है। इस्लाम क़बूल करने वाली बहुसंख्यक जातियाँ दलित और पिछड़ी जातियाँ थीं। जिनके साथ पशुओं से भी ख़राब व्यवहार उच्च वर्ग के हिंदुओं ने किया। इसके अतिरिक्त सूफ़ी संतो की प्रेम से पगी हुई वाणियों ने हिंदू और इस्लाम को करीब लाने का काम किया।
सीपीआई नेता हरीश चन्द्र द्विवेदी ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर के साथ बेरोजगारी,महंगाई,भ्रष्टाचार आदि मुद्दों पर सरकार को आड़े हाथ लिया।
विक्रम हरिजन ने कहा आरएसएस भाजपा जो काम स्वयं नहीं कर पा रही है। वह अधूरा काम अदालतें कर रही हैं। आरक्षण खत्म कर रही। एससी - एसटी कानून को निष्प्रभावी करने को आतुर है। आरक्षण बहाली को लेकर जो जनता आंदोलित हुई पुलिस ने आंदोलनकारियों पर गम्भीर मुकदमे दर्ज जेल में डाल रखा है ताकि लोग डर जाए लेकिन आंदोलन बढ़ गया। केंद्रीय विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर विक्रम हरिजन ने कहा आर एस एस भाजपा जो काम स्वयं नहीं कर पा रही है वह वह अधूरा काम अदालतें कर रही है एससी - एसटी कानून को निष्प्रभावी कर दिया था देशभर में आंदोलन बढ़ गया भाजपा सरकार ने संसद में एस सी एस टी को पारित कर दिया बाद में अदालत ने स्वीकार कर लिया लेकिन आंदोलनकारियो के ऊपर गंभीर मुकदमे दर्ज कर जेल में डाल दिया,जहा आज एक तरफ अदालतो ने पुन: आरक्षण में पदोन्नति पर रोक लगा कर राज्यो की इच्छा पर छोड़ दिया है,दूसरी तरफ सी ए ए एन आर सी एन पी आर कानून लाकर संविधान को अपमानित कर देश के बड़े हिस्से दलित - आदिवासी, व अल्पसंख्यकों की नागरिकता पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है,जिसे जनता स्वीकार नहीं कर रही है पूरे देशभर में जनता शांतिपूर्वक प्रदर्शन सीएए,एनआरसी,एनपीआर कानून रद्द करने की अपनी आवाज को बुलंद कर रहे है।रौशन बाग़ पहोँचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हमशक्ल सुरेश ठाकुर ने एनपीआर एनआरसी और सीएए के विरोध में आन्दोलन रत् महिलाओं को सम्बोधित करते हुए केन्द्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भी हमलावर होते हुए उनकी भाषा शैली को गिरे स्तर की और दिशाविहीन बताया। कहा देश मुहब्बत से चलेगा न की कट्टरपंथी सोच से।सायरा अहमद,सबीहा मोहानी के साथ उपस्थित सैकड़ो महिलाओं के बुलन्द हौसले और भीषण ठण्ड,बेमौसम बरसात मे छोटे छोटे बच्चों संग डटी महिलाओं के जज़बे को क्रान्तिकारी सलाम करते हुए हर क़दम पर साथ देने की बात कही।सै०इफ्तेखार हचसैन,अब्दुल्ला तेहामी,मो०शारिक़,इरशाद उल्ला,अफसर महमूद,सै०मो०अस्करी,तारीक़ खान,इफ्तेखार अहमद मंदर,रमीज़ अहसन,सै०मो०शहाब,शुऐब अन्सारी,शाहिद अली राजू आदि ने भी मंसूर अली पार्क में चल रहे धरने के ४३ वें दिन महिलाओं के धरने को सम्बोधित करते हुए काले क़ानून की वापसी तक आन्दोलन को शानतिपूर्वक और संविधान के दायरे में अन्वरत जारी रखने की बात कही।


बृजेश केसरवानी


'भीम आर्मी' का बंद, सड़क पर महिलाएं

नई दिल्ली। दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पिछले दो महीने से ज्यादा वक्त से धरना प्रदर्शन जारी है। प्रदर्शनकारी महिलाएं CAA को वापस लेने की मांग पर अड़ी हुई हैं। उनकी मांग है कि सरकार या तो CAA में मुस्लिमों को भी शामिल करे या फिर उनको लिखित आश्वासन दे कि देश में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) लागू नहीं की जाएगी। CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए शनिवार देर रात से ही महिलाएं दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास भी एकजुट होने लगीं। धीरे-धीरे महिलाओं का हुजूम बढ़ता गया, जिसके बाद भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई। प्रदर्शन के चलते ट्रैफिक व्यवस्था पर असर पड़ रहा है। प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने तिरंगा लेकर ‘आजादी’ के नारे लगाते हुए कहा कि वह तब तक प्रदर्शन स्थल से नहीं हटेंगी जब तक कि केंद्र सरकार CAA को रद्द नहीं कर देती. वह CAA और NRC से आजादी की मांग कर रही हैं। कई महिलाओं ने अपनी बांह पर एक नीली पट्टी भी बांधी हुई है और वह ‘जय भीम’ के नारे भी लगा रही हैं। मौके पर महिलाओं का पहुंचना जारी है। धरनास्थल पर नारेबाजी हो रही है। महिलाएं CAA को वापस लेने की मांग को लेकर नारेबाजी कर रही हैं। प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर यात्रियों की एंट्री और एग्जिट बंद कर दी है। इस स्टेशन पर फिलहाल के लिए मेट्रो भी नहीं रुकेगी।


ट्रंप की मेजबानी, सम्मान की बातः मोदी

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत में आने के चौबीस घंटे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत को लेकर उत्साहित हैं। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के एक वीडियो को रिट्वीट करते मोदी ने कहा, “भारत अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत को लेकर उत्साहित है। वह अहमदाबाद में ऐतिहासिक कार्यक्रम की शुरुआत के साथ कल हमारे साथ होंगे, यह सम्मान की बात है।”


इससे पहले गुजरात के मुख्यमंत्री ने एक वीडियो ट्वीट किया जिसमें सभी भाषाओं के लोग ट्रंप की यात्रा के बारे में उत्साहित दिखे। वीडियो का उद्देश्य भारत की समृद्ध विविधता को प्रदर्शित करना है। रूपाणी ने कहा, “पूरा गुजरात एक आवाज में बोल रहा है-नमस्ते ट्रंप।”


ट्रंप सोमवार को अहमदाबाद पहुंचेंगे जहां वह मोदी के साथ सरदार पटेल स्टेडियम में भाषण देंगे। मोदी के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति व प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप फिर आगरा जाएंगे, जहां वे ताजमहल का दीदार करेंगे। बाद में वे नई दिल्ली के लिए उड़ान भरेंगे और मंगलवार को उनका निर्धारित कार्यक्रम है।


न्यायपालिका के निर्णय का विरोध किया

पिहानी/हरदोई। दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा 17 फरवरी 2020 को ये फैसला दिया गया है कि यदि कोई आरक्षित व्यक्ति जाति प्रमाणपत्र देता है तो उसे आरक्षित वर्ग के आरक्षण में सिर्फ़ उनके वर्ग में ही आरक्षण मिलेगा।चाहें उसका मेरिट में कितना भी ऊँचा स्थान क्यूँ न हो।किसी आरक्षित व्यक्ति को अनारक्षित कोटे में जगह नहीं दी जाएगी।रोस्टर प्रणाली के तहत किए गए इस मुकदमे की सुनवाई में यह फैसला देकर दिल्ली हाईकोर्ट ने अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़े वर्ग के आरक्षण को पूर्ण रुप से हटा दिया है शिक्षा प्रणाली से लेकर सरकारी नौकरी आदि में आरक्षण को पूर्ण रुप से समाप्त घोषित कर दिया गया है।इस फैसले के विरोध में आरक्षित वर्ग के लोगों में काफी रोष व्याप्त है और इस निर्णय के विरुद्ध आज दिनांक 23 फरवरी 2020 दोपहर समय तकरीबन 11:00 बजे दिन रविवार को पावर हाउस पिहानी में भाजपा के अनुसूचित जनजाति मोर्चा जिलाध्यक्ष सर्वेश जनसेवा के नेतृत्व में एक व्यापक प्रदर्शन करते हुए नगर के अंदर रैली निकाली गई उपरोक्त वर्ग के सभी लोग वहां पर भारी संख्या में उपस्थित हुए और सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा लिए गए निर्णय को गलत व तानाशाही निर्णय बताते हुए जमकर विरोध जताया।


भ्रष्टाचार के मामले में घिरे यूपी विधायक

बस्ती के 05 बीजेपी विधायकों समेत संतकबीरनगर जिले के मेंहदावल बीजेपी विधायक पर लगा भ्रष्टाचार का आरोप


लखनऊ। यूपी के योगी सरकार के भ्रष्टाचार मुक्त शासन के दावों और सीएम योगी की मंशा पर कोई और नही बल्कि खुद योगी के विधायक ही पलीता लगा रहे है। यूपी के योगी सरकार के विधायकों द्वारा सरकार की किरकिरी कराए जाने का नया मामला बस्ती मण्डल से सामने आया है जहाँ बस्ती जिले के 05 जबकि संतकबीरनगर जिले के एक विधायक पर प्रांतीय लोक निर्माण विभाग में जमकर लूटपाट मचाने एवं भ्रष्टाचार किये जाने का आरोप लगाते हुए दर्जनभर से ज्यादे ठेकेदारों ने इन माननीयों पर भ्रष्टाचार का आरोप मढ़ते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को शिकायती पत्र भेजा कर आवश्यक कार्यवाही की मांग किया है। माननीय विधायकों द्वारा भ्रष्टाचार के संबंध में शिकायतकर्ताओं ने जो शिकायत शासन को भेजी है उसके मुताबिक बस्ती जनपद के सभी विधायक जिनमे हरैया विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक अजय सिंह, कप्तानगंज विधायक प्रकाश शुक्ला, बस्ती सदर विधायक दयाराम चौधरी, महदेवा विधायक रवि सोनकर, रुधौली  विधायक संजय प्रताप जयसवाल, समेत संतकबीरनगर जिले के मेंहदावल बीजेपी विधायक राकेश सिंह बघेल अपने चहेतों को 15% कमीशन लेकर अधिकारियों के ऊपर दबाव डालकर विभाग में भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रहे है। शिकायतकर्ताओं ने सभी विधायकों सहित रुधौली विधायक संजय जायसवाल और मेंहदावल विधायक राकेश सिंह बघेल के ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए शासन को शिकायत किया है कि रुधौली विधायक ने अपने खास तेज प्रताप सिंह एवं मनोज सिंह तथा महेंद्र सिंह द्वारा तथा जनपद संतकबीरनगर के राकेश सिंह बघेल के रिश्तेदार फूल बदन सिंह जो कि PWD संतकबीरनगर में कार्यरत है के द्वारा अपने अपने क्षेत्रों में ठेकेदारों से 15% कमीशन लेकर निविदा होने देते है। और यदि उनके हिसाब से निविदा नही हो पाता है तो अधिकारी पर दवाब बनाकर निविदा रद्द करवाते हैं। जिसका उदाहरण बस्ती सदर के पालीटेक्निक चौराहे से एलडीए रोड  का है जो दो बार कैंसिल करवाकर विधायक दयाराम चौधरी के आदमी केसराम का हो गया जिसके पास ना कोई मशीनरी हैं और ना ही कागज मानक के अनुरूप है। इसके बाद भी विधायक के लोग जान से मारने की धमकी व उनके लेटर पैड का इस्तेमाल कर जांच करवाने एवं उनको जेल में डालने और उनकी फर्म को काली सूची में डालने की धमकी देते हैं। यह कहकर की विधायक हम है हमारे मर्जी के खिलाफ टेंडर डालोगे तो उसको भुगतना पड़ेगा। इसके साथ ही साथ  संबंधित सहायक अभियंता और अधीक्षण अभियंता एवं मुख्य अभियंता आने को तैयार नही है। यह वर्तमान सरकार समाजवादी पार्टी से भी भ्रष्ट निकल रही है। ऐसे में हमारे मुख्यमंत्री की छवि खराब हो रही हैं। शासन को भेजी गई शिकायत में शिकायतकर्ताओं ने मांग की है कि निविदा दाता के द्वारा जो बैलेंसिट प्रस्तुत की जाती है उस बैलेंसिट का इनकम टैक्स से वैरिफिकेशन करवाया जाए, उस आरटीआर का वैरिफिकेशन करवाया जिससे यह पता चल सके कि उस निविदा दाता का प्रमाण उतना हैं कि नही क्योंकि अक्सर यह देखा गया है कि लोग फर्जी आईटीआर लगा देते हैं। इसके 
अलावा हैसियत प्रमाण पत्र की जांच जिलाधिकारी कार्यालय से कराया जाय,साथ ही चरित्र प्रमाण पत्र एफडीआर,सेक्शन 3 आदि सहित बाकी वही पेपर देखे जाय जो एसबीडी या टीटू में लिखित रूप से है उनका ही पालन कराया जाय कोई भी पेपर अपने मनमानी या दूषित मानसिकता से ना मांगा जाय और यदि किसी अधिकारी द्वारा अपनी तरफ से कोई क्लास लगाया जाता हैं कि निविदा से पहले सभी ठेकेदारों को सार्वजनिक तौर पर सूचित किया जाय साथ मे यह भी कहना है कि 15 जनवरी 2020 से होने वाली सभी निविदाओं को भयमुक्त तथा पारदर्शी पूण कराई जाए। अन्यथा पूरे मंडल के ठेकेदार मुख्यमंत्री जी को ज्ञापन देकर pwd के खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे। आज तक बस्ती में बहुत फर्जी टेंडर हो चुके हैं जांच के नाम पर कुछ नही होता है विधायक और अधिकारी पैसे लेकर फर्जी काम मे जुटे हैं और योगी सरकार भ्र्ष्टाचार के खिलाफ नारा देती घूम रही है। और इनके विधायक और अधिकारी मानने को तैयार नहीं है। ऐसी स्थिति में जनपद बस्ती, संतकबीरनगर, सिद्धार्थनगर में होने वाले छोटे बड़े टेंडर को जो 15 जनवरी 2020 से होने हैं उनको पूरे पारदर्शिता से सम्पन्न कराने की कृपा करें। क्यों कि सारे विधायक अपने अपने क्षेत्रों में ठेकेदारों से 15%  
कमीशन वसूल चुके हैं। शिकायत करने वालो में उदय सिंह, अवधेश सिंह, महेंद्र पाण्डेय, पुनीत चौधरी, अशोक पाण्डे, अमरनाथ यादव, संजय चौधरी ने इसकी उच्च स्तरीय जांच कराकर दोषियों को सजा दिलाने की मांग की है ।


कसमें खाकर चलती ट्रेन से कूदा प्रेमी युगल

कसमे खाकर चलती ट्रेन से कूदे प्रेमी युगल


कोखराज थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव का मामला


कौशाम्बी। कोखराज थाना क्षेत्र में एक प्रेमी युगल ने साथ जीने मरने की कसम खाकर चलती ट्रेन से छलांग लगा दी है। जिससे दोनो गम्भीर रूप से घायल हो गये है। घायल प्रेमी युगल को पुलिस ने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है जहॉ प्रेमी की हालत अधिक गम्भीर है। प्रेमी युगल कोखराज थाना क्षेत्र के जलालपुर गोरियो गांव के अनुसूचित जाति परिवार के बताये जाते है। 


कोखराज थाना क्षेत्र के जलालपुर गोरियो गांव की पूजा और सतीश एक दूसरे से प्रेम करते है और दोनो ने साथ जीने मरने की कसम खा रखी है। लेकिन पूजा और सतीश का प्रेम दोनो परिवारो को अच्छा नही लगा और दोनो परिवार ने प्रेमी युगल पर बंदिशे लगानी शुरू कर दी। परिवार के बन्दिशो से त्रस्त होकर दोनो ने साथ मरने की कसम खा ली।


 सतीश इलाहाबाद गया था और फोन से बात कर पूजा भी इलाहाबाद पहुच गयी। इलाहाबाद स्टेशन से प्रेमी युगल एक ट्रेन पर चढ गये और जैसे ही ट्रेन उनके गांव के सामने जलालपुर गोरियो के पास से गुजरने लगी। दोनो ने हॉथ पकडकर चलती ट्रेन से कूद पडे। चलती ट्रेन से कूद जाने से प्रेमी युगल को गम्भीर चोटे आयी है। घटना रविवार सुबह 9 बजे की है। आस पास के लोगो ने जब दोनो घायलो को देखा तो पुलिस को सूचना दी पुलिस ने प्रेमी युगल के इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।


राजकुमार


हब्बीबुल्ला: सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामा

नई दिल्ली। शाहीन बाग में नाकाबंदी हटाने के लिए चल रहे प्रयासों में शामिल वजाहत हबीबुल्ला ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर किया है, जिसमें उन्होंने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) विरोधी स्थल पर सड़क को खोलने के लिए समाधान सुझाए हैं। हलफनामे में कहा गया है कि आस-पास की कुछ सड़कों पर लगे बैरिकेड्स हटाने से स्थिति में तुरंत राहत मिल सकती है। तकनीकी रूप से शीर्ष कोर्ट ने मुख्य वार्ताकार के रूप में वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े को नियुक्त किया है, जिनकी सहायता साधना रामचंद्रन करेंगी। सुप्रीम कोर्ट ने वार्ताकार को हबीबुल्लाह से बात करने के लिए भी कहा है, जो इस मुद्दे को सुलझाने के लिए प्रदर्शनकारियों से बात कर सकते हैं।कोर्ट के आदेश के अनुसार, हबीबुल्ला ने प्रदर्शन स्थल शाहीन बाग का दौरा किया और अपना हलफनामा दायर किया।अपने हलफनामे में हबीबुल्ला ने कहा कि विरोध प्रदर्शन शांतिपूर्ण है। उन्होंने जिक्र किया कि पुलिस ने शाहीन बाग के आसपास पांच जगहों पर नाकाबंदी की है। उन्होंने कहा कि अगर इस नाकाबंदी को हटा लिया जाए तो यातायात अवागमन सामान्य हो जाएगा। हलफनामे में यह भी कहा गया है कि पुलिस ने अनावश्यक रूप से सड़कों को बंद किया है जिससे लोगों को परेशानी हो रही है। पुलिस की जांच के बाद स्कूल वैन व एंबुलेंस को सड़कों से जाने की अनुमति दी जा रही है। हबीबुल्ला ने यह भी कहा कि सरकार को नागरिकता संशोधन अधिनियम, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के संदर्भ में प्रदर्शनकारियों से बातचीत करनी चाहिए। हबीबुल्ला, पूर्व आईएएस अधिकारी, पूर्व मुख्य सूचना आयुक्त और राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष रहे हैं।


चुनाव को लेकर नामांकन के लिए जीत दर्ज

न्यूयॉर्क। वर्मोट के सीनेटर बर्नी सैंडर्स ने नेवाडा में डेमोक्रेटिक पार्टी के आंतरिक चुनाव में इस साल नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को लेकर नामांकन के लिए बड़े अंतर से जीत दर्ज की। उन्होंने यह जीत ऐसे समय प्राप्त की है, जब चुनाव से कुछ देर पहले अमेरिकी अधिकारियों ने आरोप लगाए थे कि रूस राष्ट्रपति अभियान में सैंडर्स की मदद करने की कोशिश कर रहा है। शुरुआती नतीजों ने दर्शाया कि सैंडर्स शनिवार को हुए मतदान में लगभग 40 फीसदी मतों के साथ आगे हैं, वहीं, पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन लगभग 22 प्रतिशत वोटों के साथ पीछे चल रहे हैं और चुनावों पर नजर रखने वाली मीडिया ने सैंडर्स को विजेता घोषित किया है। जीत के वोट का अंतर अब उन्हें स्पष्ट रूप से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चुनौती देने की रेस में आगे दिखा रहा है, हालांकि 47 और राज्यों में अभी पार्टी के आंतरिक चुनाव होने हैं, ऐसे में आगे जाकर उनकी स्थिति बदल सकती है। ‘वाशिंगटन पोस्ट’ ने शुक्रवार को बताया कि अमेरिकी खुफिया अधिकारियों के अनुसार रूस राष्ट्रपति अभियान में सैडर्स की मदद करने की कोशिश कर रहा है और अधिकारियों ने उन्हें एक महीने पहले इस बारे में जानकारी दी थी। नेवाडा मतदान की पूर्व संध्या पर एक महीने पहले की एक ब्रीफिंग के बारे में जानकारी लीक होने जैसी बात ने सैंडर्स को लेकर चुनावी नतीजों पर कोई असर नहीं डाला, जिन्हें बड़ी संख्या में अल्पसंख्यकों का समर्थन था, जो पार्टी का मजबूत आधार बना रहे हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी रूसी फैक्टर से प्रभावित है, जिसमें 2016 में ट्रंप की हिलेरी क्लिंटन पर जीत के लिए मॉस्को को दोषी ठहराया गया था और मॉस्को का कोई भी जिक्र कुछ मतदाताओं को पार्टी से दूर कर सकता है। सैंडर्स ने रूसी सहायता की बात से इनकार किया और कहा, “(रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर) पुतिन को मेरा संदेश स्पष्ट है, अमेरिकी चुनावों से दूर रहें, और प्रेसीडेंट के रूप में मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि आप ऐसा करें।” 78 वर्षीय सैंडर्स की अपनी कट्टरपंथी नीतियों के कारण युवा मतदाताओं के बीच अच्छी पकड़ है, उनकी नीतियों में अमीर और न्यूनतम मजदूरी पर कर बढ़ाना और सभी के लिए चिकित्सा बीमा उपलब्ध कराना, कॉलेज और स्कूल भोजन मुफ्त में प्रदान करना शामिल है।


T 20: बांग्लादेश से भिड़ेगी महिला टीम

नई दिल्ली। भारतीय महिला क्रिकेट टीम सोमवार को होने वाले आईसीसी महिला टी-20 विश्व कप के अपने दूसरे मैच में जीत की लय जारी रखने के इरादा लेकर बांग्लादेश से भिड़ेगी। भारत ने शुक्रवार को ही विश्व कप के अपने पहले मैच में चार बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 132 रन के स्कोर का  सफलतापूर्वक बचाव किया था। बल्लेबाजी में जहां दीप्ति शर्मा ने नाबाद 49 रनों की पारी खेली थी तो वहीं गेंदबाजी में पूनम यादव ने मात्र 19 रन देकर चार विकेट चटकाए थे और भारत को 17 रनों से शानदार जीत दिलाई थी। वाका की पिच दोनों ही टीमों के लिए नई होगी। टी-20 विश्व कप के पहले मैच में चार विकेट चटकाने वाली पूनम यादव ने 2018 के एशिया कप फाइनल में भी बांग्लादेश के खिलाफ नौ रन देकर चार विकेट लिए थे और वह एक बार फिर यहां भी उसी प्रदर्शन को दोहराना चाहेंगी।


'मन की बात' का 62 वां संस्करण

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को आकाशवाणी पर  मन की बात कार्यक्रम में दिल्ली के हुनर हाट का जिक्र करते हुए कहा कि यहां पर विविधता का रंग देखने को मिला। 


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में कहा कि हुनर हाट शिल्पकारों के सपनों को पंख दे रहा है। उन्होंने कहा कि हुनर हाट ने शिल्पकारों की जिंदगी में व्यापक बदलाव किए हैं। पीएम ने कहा कि दिल्ली के हुनर हाट में एक छोटी सी जगह में देश की विशालता, संस्कृति, परम्पराओं, खानपान और जज्बातों की विविधताओं का दर्शन होता है।



हुनर हाट कला के प्रदर्शन के लिए एक मंच तो है ही, लोगों को रोजगार को भी बढ़ावा दे रहा है। सबको हुनर हाट जरूर जाना चाहिए: पीएम मोदी मेघालय एक दुर्लभ प्रजाति का घर है। यह भारत की जैव विविधता को एक नया आयाम देने वाला है। हमारे पास बहुत सारे अजूबे हैं, जिसका पता लगाना जरूरी है: पीएम मोदी
युवाओं को विज्ञान से जोड़ने के लिए ‘युविका’ कार्यक्रम को इसरो ने लॉन्च किया। युविका का मतलब है ‘युवा विज्ञानी कार्यक्रम’। यह कार्यक्रम हमारे जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान और जय अनुसंधान के विजन के अनुरूप हैः पीएम मोदी


खत्म होगी राहुल-सोनिया की नागरिकता ?

विकास जायसवाल


नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दावा किया है कि एआईसीसी अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी की नागरिकता जल्द ही चली जाएगी। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) द्वारा हैदराबाद विश्वविद्यालय में आयोजित “सीएए – एक समकालीन राजनीति से परे एक ऐतिहासिक अनिवार्यता” पर लेक्चर देते हुए उन्होंने कहा, “फाइल गृह मंत्री अमित शाह की मेज पर है और जल्द ही वे अपनी नागरिकता खो देंगे।”


अनुसार, भारतीय संविधान का हवाला हुए उन्होंने कहा कि जो लोग भारतीय रहते हुए दूसरे देश की नागरिकता ले रहे हैं, उनकी भारतीय नागरिकता स्वत: समाप्त हो जाएगी।


उन्होंने दावा किया कि राहुल गांधी ने इंग्लैंड में व्यवसाय शुरू करने के लिए ब्रिटिश नागरिकता का विकल्प चुना था। हालांकि, राहुल गांधी नागरिकता के लिए नए सिरे से आवेदन कर सकते हैं क्योंकि उनके पिता राजीव गांधी एक भारतीय थे। लेकिन वह अपनी मां सोनिया गांधी की साख का इस्तेमाल करते हुए आवेदन नहीं कर सकते, जिन्होंने दावा किया कि वह भारतीय नागरिक नहीं थे।


नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पर उन्होंने कहा कि सीएए को ठीक से नहीं समझा गया है और इसका विरोध करने वालों ने खुद इस अधिनियम को नहीं पढ़ा है। भारतीय मुसलमान इस अधिनियम से प्रभावित नहीं हैं और यह तर्क देना हास्यास्पद है कि पाकिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले मुसलमानों को नागरिकता के लिए माना जाना चाहिए। पाकिस्तान रोहिंग्या मुसलमानों को अपने देश में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दे रहा है और यहां कुछ लोग चाहते हैं कि पाकिस्तानी यहां आएं।


उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और बांग्लादेश के अल्पसंख्यक को धार्मिक उत्पीड़न से बचने के लिए कहीं नहीं जा सकते हैं। उनके सामने भारत ही एक विकल्प है। स्वामी ने पूछा कि अगर उन्हें नागरिकता दी जा रही है तो किसी को समस्या क्यों होनी चाहिए? भाजपा नेता के भाषण के दौरान स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) से संबंधित छात्रों का एक समूह शांतिपूर्वक सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहा था।


नौसेना का विमान मिग 29 के हुआ क्रैश

नई दिल्ली। भारतीय नौसेना का विमान मिग-29के (MiG-29K) गोवा में रविवार सुबह करीब साढ़े दस बजे रुटीन ट्रेनिंग के दौरान क्रैश हो गया। विमान से पायलट सुरक्षित बाहर आ गया और उसे निगरानी में रखा गया है। फिलहाल घटना की जांच के लिए आदेश दे दिया गया है।


इंडियन नौसेना ने रविवार की दोपहर में ट्वीट करके जानकारी दी कि आज सुबह गोवा में रूटीन ट्रेनिंग के दौरान मिग-29के क्रैश हुआ। हालांकि अभी आगे की जानकारी आना बाकी है।


डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों का वुहान दौरा

बीजिंग। चीन में घातक कोरोनावायरस से 97 और लोगों की मौत के बाद शनिवार को इससे मरने वालों की संख्या 2,442 हो गई तथा इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों ने इससे सबसे अधिक प्रभावित हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान का दौरा किया। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि 31 प्रांत स्तरीय क्षेत्रों में शनिवार को इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 2,442 हो गई और संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़कर 76,936 तक पहुंच गई है।


इसने बताया कि मौत के 97 नए मामलों में से 96 लोग हुबेई प्रांत के थे और एक व्यक्ति की मौत गुआंगदोंग में हुई। वहीं, विषाणु संक्रमण के 648 नए मामले सामने आए। सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ’ की खबर के अनुसार सर्वाधिक प्रभावित हुबेई प्रांत में 630 नए मामले सामने आए हैं। एनएचसी ने हालांकि कहा कि मामलों की संख्या में गिरावट आ रही है। ‘शिन्हुआ’ की खबर के अनुसार शनिवार को 2,230 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई, जो कि उसी दिन सामने आए नए मामलों की संख्या से काफी अधिक है।


तीन छात्रा, एक छात्र पर एसिड अटैक

हमीरपुर। जिले के टौणी तहसील में आने वाले सीनियर सेकेंडरी स्कूल उटपुर में शनिवार को एक स्टूडेंट ने वार्षिक परीक्षा के प्रैक्टिकल करने के दौरान दसवीं क्लास की 3 छात्राओं और नौवीं क्लास के छात्र पर एसिड से हमला कर दिया। चारों के चेहरे झुलस गए हैं। चारों को अस्पताल ले जाया गया। चारों की हालत खतरे से बाहर बताई गई है। एक छात्रा की आंखों के पास निशान पड़ गए है।


घटना पर एसपी हमीरपुर अर्जित सेन का कहना है- सोशल मीडिया के माध्यम से इस घटना की जानकारी मिली है। अगर स्कूल की ओर से लिखित शिकायत मिलेगी तो छानबीन करके उचित कार्रवाई करेंगे। वहीं स्कूल के प्रिंसिपल सुनील कुमार शर्मा मामले को लेकर कुछ भी नहीं बोल रहे हैं।


सलमान को मारने के लिए ली थी सुपारी

मेरठ। एनकाउंटर में गिरफ्तार शक्ति नायडू गैंग के शूटर रवि भूरा ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया है कि उसने अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा के दफ्तर से 8 करोड़ रुपए लूटे थे। साथ ही राजस्थान के गैंगस्टर संपत नेहरा के साथ मिलकर सलमान खान को मारने के लिए 30 लाख की सुपारी भी ली थी। 5 जनवरी 2018 को जोधपुर कोर्ट में पेशी के दौरान गैंगस्टर लारेंस विश्नोई ने सलमान को मारने की धमकी दी थी। मेरठ जोन के अपर पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार ने कहा कि उसके दावाें की जांच की जा रही है।


एडीजी कुमार ने बताया कि बीते मंगलवार को कंकरखेड़ा में डेढ़ लाख के इनामी बदमाश शिव शक्ति नायडू को मुठभेड़ में मार गिराया गया था। लेकिन उसका साथी रवि मलिक उर्फ भूरा भाग निकला था। रवि मुजफ्फरनगर के रायशी का रहने वाला है। लेकिन वह दिल्ली के जीवन पार्क कॉलोनी में रहता था। शुक्रवार को सूचना मिली कि रवि पुष्प विहार में मौजूद है। पुलिस ने घेराबंदी की तो वह रेलवे रोड की तरफ भगने लगा। बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में रवि के पैर में गोली लगी। वहीं, मौका पाकर उसका साथी पिंटू बंगाली और नितिन सैदपुरिया और एक अन्य बदमाश फरार हो गया।


यूपी में जहरीली गैस ने ली तीन की जान

प्रतापगढ़। प्रतापगढ़ जिले के नवाबगंज क्षेत्र में शनिवार को कुएं में उतरे तीन लोगों की जहरीली गैस के कारण दम घुटने से मौत हो गयी। अपर पुलिस अधीक्षक (पश्चिमी) शिवजी शुक्ल ने बताया कि नवाबगंज थाना क्षेत्र के नटोही बरछलिया गांव में सचिन (18) नामक एक लड़का ट्यूबवेल में लगा पंखा ठीक करने के लिये कुएं में उतरा था। तभी जहरीली गैस के संपर्क में आने से वह बेहोश हो गया।
उन्होंने बताया कि सचिन को बचाने के लिये दिलीप (28) और छोटेलाल (52) कुएं में उतरे मगर वे भी बेहोश हो गये। स्थानीय लोगों ने तीनों को बमुश्किल बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने दिलीप और छोटेलाल को मृत घोषित कर दिया।


विश्व स्तरीय नई प्रौद्योगिकी विकसित करेंगे

इंग्लैंड। भारतीय रेल ने राष्ट्रीय रेल परिवहन संस्थान में बरमिंघम विश्वविद्यालय के साथ संयुक्त अनुसंधान तथा शिक्षण कार्यक्रम लॉन्च करने की घोषणा कीरेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री विनोद कुमार यादव तथा बरमिंघम विश्वविद्यालय के चांसलर लॉर्ड करन बिलिमोरिया ने राष्ट्रीय रेल परिवहन संस्थान (एनआरटीआई) द्वारा अकादमिक वर्ष 2020-21 में रेलवे प्रणाली इंजीनियरिंग तथा एकीकरण विषय में संयुक्त मास्टर्स कार्यक्रम लॉन्च करने की घोषणा की। इस अवसर पर श्री राजेश तिवारी, सदस्य ट्रैकशन तथा रेलवे बोर्ड के अन्य वरिष्ठ अधिकारी बरमिंघम विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर प्रोफेसर सर डेविड ईस्टवूड तथा विश्वविद्यालय फैकल्टी के सदस्यों के साथ उपस्थित थे।रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री विनोद कुमार यादव ने कहा कि परिवहन के सभी पहलुओं को देखने के लिए रेलवे विश्वविद्यालय विकसित करने का सपना माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का था। पिछले कुछ वर्षों में रेलवे द्वारा अनेक परिवर्तनकारी कार्य किए गए हैं। क्षमता वृद्धि तथा रेलवे के आधुनिकीकरण पर फोकस किया जा रहा है। भारतीय रेल बरमिंघम विश्वविद्यालय के साथ दीर्घकालिक संबंध को लेकर आशान्वित है।वाइस चांसलर सर डेविड ईस्टवूड ने कहा कि बरमिंघम विश्वविद्यालय को भारतीय रेलवे के साथ काम करने में प्रसन्नता है। बरमिंघम विश्वविद्यालय उच्च गुणवत्ता कार्यक्रमों को प्रदान करने में सिद्ध ट्रैक रिकॉर्ड रखता है। उन्होंने भारतीय रेलवे के साथ काम करने का अवसर पाने के लिए आभार व्यक्त किया।


यह कार्यक्रम एम.एससी. की दोहरी डिग्री प्रदान करेगा। एनआरटीआई के विद्यार्थी प्रत्येक संस्थान में एक वर्ष के अध्ययन के बाद दोनों संस्थानों से दो स्नातकोत्तर डिग्रियां प्राप्त करेंगे। यह कार्यक्रम पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट (पीजी सर्ट) के रूप में ऑनलाइन प्रदान किए जाने वाले कार्यक्रम के कुछ मॉड्यूलों में लचीलापन और एनआरटीआई में बरमिंघम विश्वविद्यालय की फैकल्टी द्वारा स्नातक शिक्षण के लिए समर्थन प्रदान करता है। यह कार्यक्रम एनआरटीआई विद्यार्थियों को बरमिंघम सेंटर फॉर रेलवे रिसर्च एंड एजुकेशन (बीसीआरआरई) में रेलवे प्रणालियों की विश्वस्तरीय विशेषज्ञता तथा सुविधाओं से सम्पर्क प्रदान करके एनआरटीआई विद्यार्थियों को लाभ प्रदान करेगा।यह पहल अगली पीढ़ी की परिवहन प्रणालियों के लिए उत्कृष्टता केन्द्र के अंतर्गत की गई है। यह केन्द्र राष्ट्रीय रेल परिवहन संस्थान और बरमिंघम विश्वविद्यालय के बीच समझौता ज्ञापन द्वारा 18 दिसंबर, 2019 को स्थापित किया गया।  इससे पहले दिन में बरमिंघम विश्वविद्यालय की फैकल्टी ने ईटीसीएस लेवल 2 सिगनलिंग पर कार्यशाला का संचालन किया। इसमें रेलवे बोर्ड, उत्तरी रेलवे, रेलटेल तथा अन्य क्षेत्रीय रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी वीडियो लिंक से शामिल हुए। उत्तर-मध्य रेलवे के झांसी बीना सेक्शन पर ईटीसीएस लेवल 2 के साथ लाइन क्षमता सुधार के विश्लेषण पर अनुसंधान परियोजना में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है। समझौता ज्ञापन के अंतर्गत यह पहली औपचारिक परियोजना होगी, जो उत्तर-मध्य रेलवे के झांसी बीना सेक्शन की संयुक्त सिगनलिंग और परिचालन आधारित सिमुलेशन बरमिंघम रेलवे सिमुलेशन स्वीट के उपयोग से विकसित करेगी।


      राष्ट्रीय रेल परिवहन संस्थान के बारे में


      राष्ट्रीय रेल परिवहन संस्थान की स्थापना डीम्ड (मानित) विश्वविद्यालय के रूप में की गई है और यह 2018 से संचालन में है। एनआरटीआई का उद्देश्य विभिन्न विषयों में स्कूल तथा विभागों के अतिरिक्त अंतरविषयी उत्कृष्टता केन्द्र विकसित करना है जो परिवहन क्षेत्र में अनुसंधान और शिक्षा को प्रोत्साहित करने के लिए सहयोगी रूप में कार्य करेंगे। एनआरटीआई की रणनीति का फोकस अग्रणी वैश्विक संस्थानों से पाठ्यक्रम विकास, अनुसंधान परियोजनाएं तथा एक्यूजीटिव शिक्षा कार्यक्रमों पर सहयोग के लिए संस्थागत साझेदारी के माध्यम से पूरे विश्व से श्रेष्ठ विशेषज्ञों को मंगाने पर है। संस्थान के बारे में विस्तृत विवरण www.nrti.edu.in पर उपलब्ध है।


      बरमिंघम विश्वविद्यालय के बारे में


      बरमिंघम विश्वविद्यालय वैश्विक रेल उद्योग को विश्वस्तरीय अनुसंधान, शिक्षा तथा नेतृत्व प्रदान करने के लिए 150 शिक्षाविदों, अनुसंधानकर्ताओं तथा प्रोफेशनल सेवा स्टॉफ के साथ बरमिंघम सेंटर फॉर रेलवे रिसर्च एंड एजुकेशन (बीसीआरआरई) का घर है। बीसीआरआरई यूरोप में रेलवे अनुसंधान और शिक्षा के लिए विश्वविद्यालय आधारित सबसे बड़ा केन्द्र है। यह केन्द्र जलवायु परिवर्तन, एयरोडायनामिक्स तथा अंतर्राष्ट्रीय संदर्भ मानक, विद्युत प्रणालियों तथा ऊर्जा उपयोग, रेलवे नियंत्रण और परिचालन सिमुलेशन में उच्च शिक्षा कार्यक्रम, अनुसंधान और नवाचार के साथ विश्वस्तरीय नई प्रौद्योगिकी विकसित कर रहा है।



'सत्य स्वरूप शिव' (अध्यात्म)

राम का व्यक्तित्व मर्यादित है, कृष्ण का उन्मुक्त और शिव असीमित व्यक्तित्व के स्वामी, वो आदि हैं और अंत भी। शायद इसीलिए बाकी सब देव हैं और केवल शिव महादेव। वो उत्सव प्रिय हैं, शोक, अवसाद और अभाव में भी उत्सव मनाने की उनके पास कला है। वो उस समाज में भरोसा करते हैं जो नाच-गा सकता हो, यह शैव परंपरा है। अतएव यह कहना उचित होगा कि उदास परंपरा बीमार समाज बनाती है। शिव का नृत्य श्मशान में भी होता है, श्मशान में उत्सव मनानेवाले वो अकेले देवता है और लोक गायन में भी वो उत्सव मनाते दिखते हैं।
खेले मसाने में होरी दिगंबर  खेले मसाने में होरी।
भूत, पिशाच, बटोरी दिगंबर खेले मसाने में होरी।।
शिव विलक्षण समन्वयक हैं:- विपरीत ध्रुवों और विषम परिस्थितियों से अद्भुत सामंजस्य बिठाने वाला उनसे बड़ा कोई दूसरा भगवान नहीं है। मसलन वो अर्धनारीश्वर होकर भी काम पर विजेता हैं। गृहस्थ होकर भी परम विरक्त हैं, नीलकंठ होकर भी विष से अलिप्त हैं। उग्र होते हैं तो तांडव, नहीं तो सौम्यता से भरे भोला भंडारी। परम क्रोधी पर दयासिंधु भी शिव ही हैं। विषधर नाग और शीतल चंद्रमा दोनों उनके आभूषण हैं, उनके पास चंद्रमा का अमृत है और सागर का विष भी। सांप, सिंह, मोर, बैल, सब आपस का बैर-भाव भुला समभाव से उनके सामने है। वो समाजवादी व्यवस्था के पोषक, वो सिर्फ संहारक नहीं कल्याणकारी, मंगलकर्ता भी हैं।
शिव गुट निरपेक्ष हैं:- सुर और असुर दोनों का उनमें विश्वास है, राम और रावण दोनों उनके उपासक हैं। दोनों गुटों पर उनकी समान कृपा है, आपस में युद्ध से पहले दोनों पक्ष उन्हीं को पूजते हैं। लोक कल्याण के लिए वो हलाहल पीते हैं, वो डमरू बजाएं तो प्रलय होता है। प्रलयंकारी इसी डमरू से संस्कृत व्याकरण के चौदह सूत्र भी निकलते हैं। इन्हीं माहेश्वर सूत्रों से दुनिया की कई दूसरी भाषाओं का जन्म हुआ। आज पर्यावरण बचाने की चिंता विश्वव्यापी है, शिव पहले पर्यावरण प्रेमी हैं, पशुपति हैं, निरीह पशुओं के रक्षक हैं। आर्य जब जंगल काट बस्तियां बसा रहे थे, खेती के लिए जमीन तैयार कर रहे थे, गाय को दूध के लिए प्रयोग में ला रहे थे पर बछड़े का मांस खा रहे थे। तब शिव ने बूढ़े बैल नंदी को वाहन बनाया, सांड़ को अभयदान दिया और जंगल कटने से बेदखल सांपों को आश्रय दिया।
वो साकार हैं, निराकार भी:- कोई उपेक्षितों को गले नहीं लगाता, महादेव ने उन्हें गले लगाया। श्मशान, मरघट में कोई नहीं रुकता, शिव ने वहां अपना ठिकाना बनाया। जिस कैलास पर ठहरना कठिन है, जहां कोई वनस्पति नहीं, प्राणवायु नहीं, वहां उन्होंने धूनी लगाई। दूसरे सारे भगवान अपने शरीर के जतन के लिए न जाने क्या-क्या द्रव्य लगाते हैं लेकिन शिव केवल भभूत का इस्तेमाल करते हैं। उनमें रत्ती भर लोक दिखावा नहीं है, क्योंकि शिव उसी रूप में अपने विवाह के लिए भी जाते हैं जिसमें वे हमेशा रहते हैं।
शिव न्यायप्रिय हैं:- वो सदैव मर्यादा तोड़ने पर दंड देते हैं, काम बेकाबू हुआ तो उन्होंने उसे भस्म किया। अगर किसी ने अति की तो उनके पास तीसरी आंख भी है, दरअसल तीसरी आंख सिर्फ ‘मिथ’ नहीं है, आधुनिक शरीर शास्त्र भी मानता है कि हमारी आंख की दोनों भृकुटियों के बीच एक ग्रंथि है और वो शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा है व रहस्यपूर्ण भी। इसे ‘पीनियल ग्रंथि’ कहते हैं, यह हमेशा सक्रिय नहीं रहती पर इसमें संवेदना ग्रहण करने की अद्भुत ताकत है। इसे ही शिव का तीसरा नेत्र कहते हैं, उसके खुलने से प्रलय होगा, ऐसी अनंत काल से मान्यता है।
वो काल से परे महाकाल हैं:- शिव का व्यक्तित्व विशाल है, सर्वव्यापी हैं, सर्वग्राही हैं। सिर्फ भक्तों के नहीं, देवताओं के भी संकटमोचक हैं। शिव का पक्ष सत्य का पक्ष है, उनके निर्णय लोकमंगल के हित में होते हैं। जीवन के परम रहस्य को जानने के लिए शिव के इन रूपों को समझना जरूरी होगा, क्योंकि शिव उस आम आदमी की पहुंच में हैं जिसके पास मात्र एक लोटा जल है।


सीएए-एनपीआर का समर्थन कर फंसे उद्धव

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने बेटे आदित्य ठाकरे के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली में मुलाकात की। जिसके बाद उन्होंने साफ कर दिया कि वह सीएए और एनपीआर का समर्थन करेंगे। उनके इस फैसले ने उनकी नई सहयोगी पार्टियों को चौंका दिया है और उन्होंने उन्हें अपने फैसले पर दोबारा विचार करने की सलाह दी है क्योंकि राज्य में तीन पार्टियों का गठबंधन है। जहां ठाकरे के इस फैसले ने महा विकास अघाड़ी में खींचतान बढ़ाने का काम किया है। वहीं कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) उनपर अपने फैसले पर दोबारा विचार करने का दबाव बना रही हैं। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने ट्वीट कर कहा कि ठाकरे को सीएए और एनपीआर पर ज्यादा जानकारी दी जानी चाहिए। शरद पवार और राज्य के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने ठाकरे से इस विषय पर बातचीत की।


इसी बीच राज्य कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट का कहना है कि वह रविवार को मुख्यमंत्री से मिलेंगे ताकि यह जानने की कोशिश की जा सके कि उन्होंने सीएए-एनपीआर पर फैसला क्यों लिया। कांग्रेस और एनसीपी दोनों ने यह साफ कर दिया है कि वह राज्य में एनपीआर लागू नहीं होने देंगे और ठाकरे के बयान से गठबंधन में चल रही अनबन को बल मिला है। तिवारी ने ट्वीट कर कहा 'ठाकरे को यह जानने की जरुरत है कि कैसे एनपीआर एनआरसी का आधार था। यदि एक बार आप एनपीआर लागू करते हैं तो आप एनआरसी को नहीं रोक पाएंगे।' सीएए को लेकर तिवारी ने उद्धव से कहा कि उन्हें यह बताए जाने की जरूरत है कि भारतीय संविधान के तहत धर्म नागरिकता का आधार नहीं हो सकता। दोनों पवार के सा़थ हुई उद्धव की बैठक में एनसीपी के वरिष्ठ नेता ने कहा कि यह सुझाव मिला है कि कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के वरिष्ठ कैबिनेट सदस्यों को मिलकर सीएए और एनपीआर पर अध्ययन करना चाहिए। अजित पवार ने कहा, 'हमारी मुख्यमंत्री के साथ अच्छी बैठक हुई। सीएए और एनपीआर के अलावा हमने उन मुद्दों पर चर्चा की जो राज्य विधानसभा के बजट सत्र के दौरान सामने आएंगे।'


गर्ल्स पीजी में शॉर्ट सर्किट, तीन की मौत

नई दिल्ली। लैपटॉप को चार्ज करते समय शॉर्ट सर्किट से शनिवार शाम करीब चार बजे चंडीगढ़ के सेक्टर-32डी के एक गर्ल्स पीजी में आग लग गई। अवैध रूप से संचालित इस पीजी में कुल 30 कमरे बने हुए हैं। आग एक कमरे में लगी और तेजी से फैल गई। धुएं से पीजी में मौजूद छात्राओं का दम घुटने लगा। हादसे के समय करीब 25 छात्राएं पीजी में मौजूद थीं। शोर मचते ही इनमें से 20 निकलने में कामयाब हो गईं, जबकि पांच छात्राएं धुएं और आग में फंस गईं।


दम घुटने और झुलसने से इनमें से तीन की मौत हो गई जबकि दो छात्राओं ने बिल्डिंग की पहली मंजिल से छलांग लगाकर अपनी जान बचाई। आग ने इतना विकराल रूप ले लिया कि पीजी की पहली मंजिल जलकर पूरी तरह राख हो गई। सूचना पर पहुंचीं दमकल की पांच गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर करीब दो घंटे बाद काबू पाया। हादसे में हिसार के लक्ष्मी नगर निवासी मुस्कान (21) की झुलसने जबकि कोटकपूरा (पंजाब) के सत्य बाजार निवासी पाक्षी ग्रोवर (20) और कपूरथला (पंजाब) निवासी रिया अरोड़ा (19) की धुएं में दम घुटने से मौत हो गई। गनीमत रही कि हादसे के वक्त पीजी में ज्यादा लड़कियां नहीं थीं, अगर हादसा रात में या सुबह में होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। सेक्टर-34 थाना पुलिस ने कोठी मालिक गौरव अनेजा और पीजी संचालक नीतेश बंसल व नीतेश पोपली के खिलाफ मामला दर्जकर नीतेश बंसल को गिरफ्तार कर लिया है।


दो बार पहले भी पीजी में लगी थी आग,  केस भी हो चुका है दर्ज


सेक्टर-32डी के इस अवैध पीजी में पिछले एक साल में आग की यह तीसरी घटना है। इससे पहले आग पीजी स्थित एक रूम में एसी और मेन तार केबल में लग चुकी है जबकि यह आग पहली मंजिल में रहने वाली एक छात्र के कमरे में लगी। बताया गया कि कालेज से लौटने के बाद आयुष्का नामक छात्रा ने अपने कमरे में लैपटॉप को चार्ज पर लगाकर पीजी के बाहर आ गई। इस दौरान चार्जर में शार्ट सर्किट हो गया। इस कारण आग लगी और आग ने विकराल रूप ले लिया। वहीं पुलिस के अनुसार, बीते 30 नवंबर को सेक्टर-34 थाना पुलिस ने नियमों के उलंघ्घन करने पर पीजी संचालक नीतेश बंसल के खिलाफ आईपीसी 188 के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया था। इसके बाद नीतेश ने कोर्ट में इसका जुर्माना भरा। बावजूद इसके पीजी संचालक नहीं सुधरे और फिर से बिना अनुमति के छात्राओं को किराए पर कमरा दिया।


हादसे की जांच के आदेश, एडवाइजर ने डीसी की अध्यक्षता में बनाई कमेटी


सेक्टर-32डी के गर्ल्स पीजी में आग लगने की घटना ने चंडीगढ़ प्रशासन की ‘स्मार्टनेस’ की पोल खोलकर रख दी है। हादसे के बाद एडवाइजर मनोज परिदा ने पूरे मामले की जांच की जिम्मेदारी डीसी मंदीप सिंह बराड़ को सौंप दी है। साथ ही जांच की रिपोर्ट जल्द से जल्द सौंपने के आदेश दिए हैं। हालांकि एडवाइजर की तरफ से इस जांच के लिए कोई समय सीमा तय नहीं की गई है।


इन चीजों का नुकसान


इस आग में लाखों रुपये के सामान जलकर राख हो गया, जिसमें बेड, कपड़े, लैपटॉप, मोबाइल, कैश, किताबें, जरूरी कागजात समेत अन्य सामान जलकर राख हो गया। घटना के बाद फायर ब्रिगेड की टीम देर रात तक आग के कारणों का पता लगाने में जुटी हुई है।


दिल्लीः धरनारत महिलाओं ने जाम की सडक़

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में पिछले डेढ़ माह से जाफराबाद रोड पर धरने पर बैठी महिलाएं देर रात जाफराबाद मुख्य सड़क पर उतर आईं। इस दौरान नारेबाजी करते हुए एक तरफ से रास्ते को बंद कर दिया। प्रदर्शनकारी महिलाएं जाफराबाद मेट्रो स्टेशन परिसर में जमी हैं। वहीं, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने मेट्रो स्टेशन बंद कर दिया है। इसके अलावा भीम आर्मी ने आज भारत बंद बुलाया है। सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। उत्तर पूर्वी जिले के पुलिस उपायुक्त वेद प्रकाश सूर्या मौके पर हैं। अधिकारियों ने प्रदर्शन कर रही महिलाओं व लोगों को समझाने का प्रयास किया लेकिन जब वह तैयार नहीं हुए तो पुलिस व अर्द्धसैनिक बलों ने महिलाओं को खदेड़ दिया। हालांकि खदेड़ने के बाद वापस सड़क पर आकर डट गईं। देर रात तक जाफराबाद में अफरा-तफरी का माहौल रहा। पुलिस अधिकारी ड्रोन उड़ाकर हालात का जायजा ले रहे थे। बताया जा रहा है कि सीएए और एनआरसी के विरोध में जाफराबाद में महिलाएं धरने पर बैठी हुई हैं। रविवार सुबह महिलाओं को जाफराबाद रोड से लेकर राजघाट तक पैदल मार्च निकालना है। दिल्ली पुलिस ने मार्च निकालने की अनुमति नहीं दी है।


रविवार को निकाले जाने वाले मार्च को देखते हुए पुलिस अधिकारियो ने एतिहात के तौर पर शनिवार रात से ही जाफराबाद रोड पर पुलिस और अर्द्धसैनिक बल तैनात कर दिया था। रोड पर पुलिस तैनात होते ही जाफराबाद में तनाव का माहौल हो गया। करीब साढ़े दस बजे धरने पर बैठी महिलाएं जाफराबाद मुख्य सड़क पर आ गईं और मेट्रो स्टेशन के पास जाम लगा दिया। आधे घंटे तक महिलाओं ने सड़क को बंद कर दिया। मुख्य मार्ग होने की वजह से वहां लंबा जाम लग गया। इसके बाद पुलिस बल ने महिलाओं को समझाने की कोशिश की। नाकाम होने पर पुलिस ने उन्हें खदेड़ दिया। इसके बावजूद महिलाएं कभी गली तो कभी सड़क पर आकर नारेबाजी करने लगीं जो देर रात तक जारी था।


यमुनापार में शास्त्री पार्क, कर्दमपुरी, श्रीराम कॉलोनी, सुंदर नगरी, चांद बाग, मुस्तफाबाद, और जाफराबाद में  डेढ़ माह से सीएए के विरोध में धरना चल रहा है। इन धरना स्थलों पर बैठी महिलाएं रविवार को जंतर मंतर तक मार्च निकालने वाली थीं। दिसंबर माह में जाफराबाद और सीलमपुर में सीएए को लेकर हिंसक प्रदर्शन हुए थे। वहीं, सुरक्षा के चलते दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) ने जफराबाद मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया गया। यहां प्रवेश और निकास को बंद किया गया है। इस स्टेशन पर ट्रेनों का ठहराव नहीं होगा। वहीं, भीम आर्मी ने भी रविवार को आरक्षण, नागरिकता और संविधान की रक्षा के लिए भारत बंद बुलाया है। भीम आर्मी प्रमुख चंद्र शेखर रावण ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मेरी पूरे बहुजन समाज से अपील है कि नाइंसाफी के खिलाफ आवाज उठाना हमारा मौलिक अधिकार है, इसलिए शांतिपूर्ण ढंग से भारत बंद करवाएं। किसी भी अप्रिय घटना से बचें। भाजपा के लोग आपको उकसाने की कोशिश करेंगे किसी भी प्रकार के उकसावे में न आएं।


डीजीटल कंपनियों से कर वसूलेगा जी-20

नई दिल्ली। वैश्विक अर्थव्यवस्था के ताजा हालातों को लेकर जी-20 देशों के वित्त मंत्री और इनके केंद्रीय बैंकों के गवर्नरों ने दो दिन की चर्चा के लिए एकत्रित  हुए। डिजिटल कंपनियां गूगल, फेसबुक और अमेजन से कर वसूलने को लेकर जी-20 देशों के अधिकारी शनिवार को एकजुट नजर आए। अधिकारियों ने कहा, दुनिया की शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं को इन कंपनियों से कर वसूलने की चुनौतियों से निपटने को एकता दिखानी होगी। डिजिटल कंपनियों से कर वसूलने के लिए आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन वैश्विक नियम तैयार कर रहा है। नियम ऐसे होंगे कि कंपनियां वही भुगतान करें जहां वे व्यापार कर रही है, न कि सिर्फ उस देश को जहां वे पंजीकृत है। ओईसीडी का कहना है कि इससे प्रति वर्ष कुल 100 अरब डॉलर का राष्ट्रीय कर राजस्व बढ़ सकता है।


कई अधिकारियों ने कहा, यह नियम हर देश की सरकार को बड़ी कमाई करने वाली ऐसी कंपनियों से अपना कानूनी हिस्सा लेने का अधिकार देगा। तकनीकी बदलाव के दौर में वित्तीय बाजार और कारोबार को भी नवीन नीतियों की जरूरत है। नियमों में सुधार कर बड़ी कंपनियों की कर चोरी पर लगाम कसनी चाहिए। रिपोर्ट के अनुसार बड़ी डिजिटल कंपनियां वैश्विक स्तर पर 35 लाख करोड़ रुपये की सालाना कर चोरी करते हैं। जबकि भारत में फेसबुक के करीब 30 करोड़ उपभोक्ता है। वही भारत डिजिटल शॉपिंग का बड़ा गढ़ बनता जा रहा है, इससे अमेजन जैसी कंपनियां बड़ा मुनाफा कमा रही है। ऐसे में नियमों के लागू होने से भारत को कर के रूप में बड़ा राजस्व प्राप्त हो सकता है।


वृहद वायु-सेना भर्ती रैली की तैयारियां

अनूपपुर। ज़िले में वृहद वायु सेना भर्ती रैली का आयोजन 23 से 27 फ़रवरी के मध्य किया जाएगा। कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा भर्ती रैली की तैयारियों का निरीक्षण किया गया एवं सम्बंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए। कलेक्टर द्वारा अभ्यर्थियों के आवागमन की व्यवस्था, शारीरिक दक्षता परीक्षण तैयारी स्थलों, लिखित परीक्षा एवं तकनीकि आवश्यकताओं के सम्बंध में तैयारियों की समीक्षा कर कमियों की पूर्ति करने हेतु निर्देशित किया। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन, एसडीएम अनूपपुर कमलेश पुरी, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विवेक पांडेय, प्राचार्य तुलसी कॉलेज डॉ परमानंद तिवारी समेत सम्बंधित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।


भर्ती रैली का आयोजन स्थल:-भर्ती रैली का आयोजन आईटीआई परिसर, अनूपपुर के समीप क्रिकेट खेल मैदान में होगा। जिसमें 23 एवं 24 फरवरी को होने वाली भर्ती रैली में अशोकनगर, आगर मालवा, बड़वानी, भोपाल, धार, डिण्डौरी, गुना, झाबुआ, खण्डवा, मंदसौर, श्योपुर, सिंगरौली, टीकमगढ़, उमरिया जिले के अभ्यर्थी भाग लेंगे और 25 फरवरी को रिजर्व दिवस रहेगा। वहीं 26 एवं 27 फरवरी को होने वाली भर्ती रैली में अनूपपुर, अलीराजपुर, बुरहानपुर, दमोह, दतिया, हरदा, खरगोन, मण्डला, रतलाम, शाजापुर, शिवपुरी, शहडोल, इन्दौर जिले के अभ्यर्थी भाग लेंगे और 28 फरवरी को रिजर्व दिवस रहेगा।


सातवें वेतन आयोग के अनुसार सैलरी

नई दिल्ली। सरकारी नौकरी पाना हर किसी का सपना होता है। ऐसे में अगर आप भी सरकारी नौकरी का ख्‍वाब देखते हैं तो आपकी यह ख्‍वाहिश जल्‍दी ही पूरी हो सकती है। जी हां, केंद्र सरकार के अलग-अलग विभागों में 24,500 पदों पर भर्त‍ियां होने वाली हैं। इसके तहत केंद्र सरकार, पुलिस बल, सेना, डाक सेवा आदि विभागों में भर्ती करने वाली है। इन पदों पर चयनित उम्‍मीदवारों को सातवें वेतन आयोग के अनुसार सैलरी प्राप्‍त होगी।


केंद्र सरकार द्वारा जारी की जा रही 24500 वैकेंसी खासतौर से 10वीं और 12वीं पास के लिये है। सरकार ने इसकी शुरुआत पोस्‍ट ऑफिस जॉब्‍स से की है। केंद्र सरकार ने हाल में पोस्‍ट ऑफिस के 2021 पदों पर आवेदन मांगे हैं। इन पदों पर 18 से 40 साल के उम्‍मीदवार ग्रामीण डाक सेवक पदों पर आवेदन कर सकते हैं। सरकारी न‍ियमों के तहत आरक्ष‍ित श्रेणी के उम्‍मीदवारों को उम्र सीमा में छूट प्राप्‍त होगी। डायरेक्‍ट ल‍िंंक पर क्‍ल‍िक कर आधिकारिक नोटिफिकेशन पढ़ें। उम्‍मीदवारों को एप्‍लीकेशन फीस के रूप में 100/- का भुगतान करना होगा।


इसके अलावा केंद्र सरकार ने अपने पुराने कर्मियों को भी खुशखबरी दी है। दरअसल, यह उन कर्मचारियों के लिये अच्‍छी खबर है, जिनकी नियुक्‍त‍ि 1 जनवरी 2004 से पहले हो गई थी। लेकिन उन्‍होंने इस समयावधि के बाद नौकरी शुरू की। उनको सेंट्रल सिविल सर्विसेज पेंशन रूल्‍स, 1972 के तहत पेंशन प्राप्‍त होगी।


दक्षिण कोरिया-ईरान में बढ रहा है वायरस

पेइचिंग। चीन में शनिवार को कोरोना वायरस के नए मामलों में तेजी से गिरावट आई, लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारियों ने कहा है कि अभी कोई भविष्यवाणी करना जल्दबाजी है, क्योंकि दूसरे देशों में यह तेजी से फैल रहा है। चीन में शनिवार को 397 मामलों की पुष्टि हुई, जोकि एक दिन पहले के 889 से काफी कम है। दूसरी तरफ दक्षिण कोरिया, ईरान, इटली और लेबनान में यह वायरस तेजी से लोगों को चपेट में ले रहा है। इटली में कई शहरों को कुछ हफ्तों तक के लिए पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।


चीन के बाहर किसी देश में अगर कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं तो वह दक्षिण कोरिया है जहां संक्रमित लोगों की संख्या 556 तक पहुंच गई है। और बताया जा रहा है कि यह संख्या 1000 के पार पहुंच सकती है। एक चर्च में एकत्रित हुए लोगों में फ्लू जैसे लक्षण हैं। ईरान में इस सप्ताह की शुरुआत तक एक भी व्यक्ति इस वायरस से पीड़ित नहीं था, लेकिन शनिवार को 10 नए मामले सामने आए और 2 लोगों की मौत हो गई। यहां अब तक 29 लोग कोरोना से पीड़ित हैं और 6 लोगों की जान जा चुकी है।


उनको भी कोरोना, जिनका चीन से लिंक नहीं
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चीन में नए मामलों की संख्या में आई कमी पर खुशी जाहिर की, लेकिन दूसरे देशों में बढ़ रहे इन्फेक्शन को लेकर चिंता जाहिर की, जबकि इनका चीन के साथ कोई लिंक स्पष्ट नहीं है। WHO के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम ने कहा, ‘हमारी सबसे बड़ी चिंता Covid-19 के कमजोर स्वास्थ्य ढांचे वाले देशों में फैलने के संभावित खतरे को लेकर है।’ यूएन एजेंसी ने अतिसंवेदनशील देशों के लिए 675 मिलियन डॉलर की मदद मांगी है। उन्होंने कहा कि चीन से जुड़ाव की वजह से अफ्रीका के 13 देशों को प्राथमिकता के दौर पर देखा जा रहा है।


20 पर्सेंट केस गंभीर, 2 फीसदी की चली जाती है जान
टेड्रोस ने कहा कि चीन ने WHO को अब तक 75,569 केसों की जानकारी दी है, जबकि 2,239 लोगों की जान जा चुकी है। उपलब्ध डेटा के मुताबिक, 80 फीसदी मरीजों में बीमारी मध्यम दर्जे की होती है, 20 फीसदी केसों में गंभीर और 2 पर्सेंट मरीजों के लिए यह जानलेवा साबित हो रहा है।


26 देशों तक फैल चुका वायरस
चीन के बाहर यह बीमारी 26 देशों तक फैल चुकी है और एक दर्जन से अधिक लोग मारे जा चुके हैं। इटली में इस वायरस ने दो लोगों की जिंदगी ले ली है। जापान में शनिवार को 14 नए मामलों की पुष्टि के साथ यह सवाल उठ रहा है कि क्या यह वायरस टोक्यो ओलिंपिक पर संकट खड़ा कर सकता है। आयोजकों ने पहले ही कई ट्रेनिंग सेशन टाल दिए हैं।


इटली के 12 शहर पूरी तरह बंद
कोरोना वायरस से इटली में दो लोगों की मौत के बाद शनिवार को उत्तरी इटली के करीब 12 शहरों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। इस संक्रामक बीमारी के चलते लोम्बार्डी और वेनेतो में स्थानीय अधिकारियों को स्कूल, औद्योगिक प्रतिष्ठान, रेस्त्रां बंद करने पड़े, खेल प्रतियोगिताएं और जन सभाएं रद्द करनी पड़ी। इटली की व्यापारिक राजधानी मिलान के मेयर ने सरकारी कार्यालय बंद करने का आदेश दिया है। प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंटे ने कहा कि उत्तरी क्षेत्रों में प्रभावित इलाकों में रह रहे लोगों को उन इलाकों तक ही सीमित कर दिया जाएगा जबकि स्कूलों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को बंद कर दिया गया है ताकि संक्रमण फैल न सके।


सर्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सभी देशवासियों को होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


फरवरी 24, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-197 (साल-01)
2. सोमवार, फरवरी 24, 2020
3. शक-1941,फाल्गुन - शुक्ल पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:54,सूर्यास्त 06:10
5. न्‍यूनतम तापमान 12+ डी.सै.,अधिकतम-22+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...