शुक्रवार, 19 मार्च 2021

नए नियमों को लागू करने की तैयारी में सरकार

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा नए श्रम कानूनों के तहत देश में कंपनियों में कर्मचारियों के लिए कैंटीन जरूरी करने और सरकारी योजनाओं को मजबूती से लागू करने के लिए वेलफेयर ऑफिसर नियुक्त करने के नियम तय कर दिए गए हैं। सरकार इन नए नियमों को देश भर में एक अप्रैल से लागू करने की तैयारी में हैं।
केंद्र सरकार की तरफ से पिछले साल जारी व्यवसायिक सुरक्षा, स्वास्थ्य और कार्यदशा संहिता 2020 में इस बारे में खास प्रावधान किए गए हैं। जिन्हें सभी हितधारकों के साथ चर्चा के बाद लागू किया जा सकता है। नए श्रम कानूनों में होने वाले अहम बदलावों के तहत 100 कर्मचारियों से ज्यादा वाली कंपनियों को अपने प्रतिष्ठान में कैंटीन रखना जरूरी होगा। कर्मचारियों की इस संख्या में कॉन्ट्रैक्ट पर काम करने वाले लोग भी शामिल किए जाएंगे। वही कंपनियों को वेलफेयर ऑफिसर भी नियुक्त करने होंगे ताकि कामगारों को सरकारी योजनाओं का पूरा फायदा मिलता रहे। इसके अलावा सरकार द्वारा प्रवासी मजदूरों के हितों को ध्यान पर रखते हुए ये भी नियम लागू किए जाएंगे कि अगर कंपनी उन्हें साइट पर ले जा रही है और काम खत्म होने पर वो घर लौट रहे हैं, तो उन्हें यात्रा भत्ता देना भी जरूरी होगा।

वायरस: प्रशासन का बड़ा फैसला, स्कूल-कॉलेज बंद

मनोज सिंह ठाकुर    
मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। जिसने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है। पालघर के कलेक्टर ने स्कूल-कॉलेज को बंद करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा, कि पालघर जिले के सभी सरकारी स्कूल, कॉलेज, हॉस्टल और निजी स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे।
इधर नागपुर में लोगों के रवैये की वजह से लॉकडाउन फेल हो रहा है। यहां प्रशासन ने 15 मार्च से 21 मार्च तक लॉकडाउन लगाया है। अब प्रशासन ने फैसला लिया है। कि दोपहर 1 बजे के बाद सब्जी, राशन, डेली नीड्स, मांस सहित सभी दुकाने बंद रखी जाएगी। सिर्फ दवाई की दुकानें खोलने की इजाजत प्रशासन की ओर से दी जाएगी।
स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि नये मामलों को मिलाकर राज्य में संक्रमण के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 23,70,507 हो गई है। अधिकारी ने बताया कि बुधवार को इस महामारी से 84 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 53,080 हो गई। उन्होंने बताया कि दिन के दौरान 9,138 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई जिससे स्वस्थ हुए लोगों की कुल संख्या 21,63,391 हो गई है। राज्य में इस समय 1,52,760 मरीज उपचाराधीन हैं।
इधर पिछले कुछ दिनों में महाराष्ट्र के मुंबई और अन्य हिस्सों में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि संक्रमण की “पहली लहर में हुई हरकत नहीं बल्कि दूसरी बड़ी लहर” है। समाचार चैनल ‘एनडीटीवी 24/7′ पर केईएम अस्पताल के डीन हेमंत देशमुख ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि संक्रमण के मामलों में हो रही वृद्धि से अब स्थिति भयावह हो गई है। देशमुख ने टीवी चैनल पर कहा कि यह पहली लहर में हुई हरकत नहीं है। बल्कि दूसरी बड़ी लहर है। जो शुरू हो रही है। इस बार मौत की दर कम है और ऐसा इसलिए हो सकता है। क्योंकि, संक्रामक क्षमता कम है।

कोरोना: सीएम का बड़ा फैसला, स्कूल-कॉलेज बंद

राणा ओबराय  
चंडीगढ़। देश में कोरोना के केस रोजाना बढ़ रहे है। जिसको लेकर राज्य की सरकारें चिंता में है। इसी बीच पंजाब सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। पंजाब सरकार ने सभी स्कूल व कॉलेज बंद करने का आदेश जारी किया है। पंजाब के स्कूल व कॉलेज 31 मार्च तक बंद रहेंगे। इसके साथ ही सरकार स्कूल व कॉलेज की परीक्षाएं रद्द करने की तैयारी कर रही है।

चुनावों की तैयारियों में जुटा गाजियाबाद प्रशासन

अश्वनी उपाध्याय   

गाजियाबाद। लोनी की उप जिलाधिकारी शुभांगी शुक्ला ने आज शुक्रवार को हकीकतपुर और खानपुर मे ग्राम पंचायत चुनाव को लेकर बैठक की गई। इस बैठक का उद्देश्य पंचायत चुनाव को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के उद्देश्य से बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में सभी ग्राम वासियों को उप जिलाधिकारी, लोनी शुभांगी शुक्ला ने अपील करते हुए कहा कि किसी भी प्रकार का आपको प्रलोभन किया जा रहा हो तो कृपया प्रशासन को अवगत कराएं। साथ ही उप जिलाधिकारी लोनी ने ग्राम वासियों से अपील करते हुए कहा कि ग्राम में शराब अवैध रूप से वितरित की जा रही हो तो गोपनीय रूप से सूचित कर सकते हैं। ग्राम के स्थानीय लोगों ने सहमति व्यक्त करते हुए कहा कि प्रशासन को शांतिपूर्ण पंचायत चुनाव आयोजित करने के लिए पूरा सहयोग दिया जाएगा। इस अवसर पर सीओ सहित संबंधित उपस्थित रहे।

हत्या की घटनाओं पर नियंत्रण के लिए सौंपा ज्ञापन

नरेश राघानी       
जयपुर। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा शुक्रवार को राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शित किया गया।
 काफी देर तक कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करने के बाद विद्यार्थी परिषद के प्रतिनिधिमंडल ने जिला कलेक्टर को महामहिम राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपकर राजस्थान में बढ़ते अपराध, दुष्कर्म-लूट, हत्या जैसी घटनाओं पर त्वरित कार्यवाही का रोकथाम की मांग की है।
एबीवीपी के महानगर मंत्री विकास गोरा ने बताया कि राजस्थान में गृहमंत्री का दायित्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पास है। लेकिन कानून व्यवस्था का नामोनिशान नहीं है। गहलोत सिर्फ मोदी और केंद्र सरकार को कोसने में व्यस्त रहते हैं। राजधानी जयपुर में डीसीपी कार्यालय में एएसपी स्तर का पुलिस अधिकारी फरियादी महिला से बलात्कार करता है। और गहलोत मुँह तक नहीं खोलते, अस्पताल के आईसीयू में भर्ती महिला से दुष्कर्म होता है।
और राष्ट्रीय कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को पता नहीं चलता, जबकि यूपी में जरा सा अपराध होते ही भाई-बहन पैदल दौड़ लगाते हैं। क्या राजस्थान में अपराध की गूंज दिल्ली तक नहीं पहुंचती ये दोहरा बर्ताव ओछी राजनीति की ओर इशारा करता है। महामहिम राज्यपाल प्रदेश में बढ़ते अपराधों पर संज्ञान लेकर प्रदेशवासियों को राहत पहुंचाएं क्योंकि गहलोत सरकार अपराध नियंत्रण में नाकाम साबित हुई है।

213 किलोमीटर रेल खंड मार्ग का दोहरीकरण किया

अजमेर। सांसद भागीरथ चौधरी ने लोकसभा बजट सत्र 2021-22 के दौरान आज नियम 377 के तहत अविलम्बनीय लोक महत्व के बिंदु पर चर्चा के दौरान फुलेरा जंक्शन से रेवाड़ी जंक्शन तक के 213 किलोमीटर रेलखण्ड मार्ग का दोहरीकरण किया। कार्य वित्तीय वर्ष 2021-22 की विभागीय कार्य योजनाओं में स्वीकृत कराने का पुरजोर मुद्दा सदन में रखा और सदन को लिखित में बताया, कि उत्तर पश्चिमी रेल्वे के जयपुर मण्डल में अहमदाबाद -अजमेर - जयपुर रेलमार्ग पर स्थित फुलेरा रेल्वे स्टेशन राजस्थान का सबसे बडा और पुराना रेल्वे जंक्शन है।
जिससे जयपुर को अजमेर और अहमदाबाद के साथ साथ फुलेरा - मेडता रेल लाईन से जोडते हुए जोधपुर भी जुड़ता है। वर्तमान में यहां 10 ट्रेक स्थापित है। जिसमें से 5 प्लेटफॉर्मो का इस्तेमाल नियमित रूप से हो रहा है। वर्तमान में फुलेरा से रेवाडी रेलखण्ड मार्ग की दूरी लगभग 213 किमी है। जिस पर विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है। लेकिन अब इसके दोहरीकरण की महती आवश्यकता वर्तमान परिप्रेक्ष्य में अति महत्वपूर्ण है।
वर्तमान में उक्त रेलखण्ड मार्ग से मध्य राजस्थान का उत्तरी राजस्थान के शेखावटी क्षेत्र के सीकर, झूंझुनू , चुरू एवं नागौर जिले का सीधा जुडाव होने के साथ-साथ देशभर की धार्मिक आस्था का केन्द्र रिंगस खाटू श्याम ,सालासर के बालाजी धाम और शाकम्भरी माताजी भी जुड़ा हुआ है। यदि इस फुलेरा से रेवाडी रेलखण्ड मार्ग का दोहरीकरण कार्य आगामी बजट वर्ष 2021-22 के रेल बजट प्रावधानों में स्वीकृत कर दिया जाता है। तो देश भर के सैनिक भाईयो, विद्यार्थीयों एवं व्यापारियों को हरियाणा एवं दिल्ली से ज्यादा सम्पर्कता मिलेगी तो दूसरी और वर्तमान में जयपुर अलवर रेवाडी रेलखण्ड मार्ग पर चलने वाला रेल यातायात भार भी कम हो जाएगा एवं भविष्य में व्यावसायिक एवं औद्योगिक गतिविधियों के बढने से अतिरिक्त नवीन रेल मालगोडियों के संचालन का मार्ग भी प्रशस्त होगा।
और अजमेर रेलवे स्टेशन से दिल्ली तक के इस रेलमार्ग पर भविष्य में नयी रेलगाडियों के संचालन को बढावा मिलेगा।अतः केन्द्रिय रेलमंत्री महोदय से निवेदन है, कि आप व्यक्तिश। उक्त फुलेरा से रेवाडी रेलखण्ड मार्ग के 213 किमी का दोहरीकरण कार्य आगामी वित्तीय वर्ष 2021-22 की रेलमंत्रालय विभागीय योजनाअर्न्तत स्वीकृत कराने का श्रम करावें।

गाजियाबाद में भव्य कार्यक्रम किया गया आयोजित

अश्वनी उपाध्याय    

गाजियाबाद। प्रदेश सरकार के 4 वर्ष पूर्ण होने पर आज हिंदी भवन लोहिया नगर ऑडिटोरियम हॉल में वर्तमान सरकार के 4 वर्ष पूर्ण होने पर भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम को सरकार की मंशा के अनुरूप भव्य ढंग से संपन्न कराने के उद्देश्य से जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के निर्देशन में उत्तर प्रदेश सरकार के 4 वर्ष पूर्ण होने पर “जो वर्षों में नहीं हो पाया। वह 4 वर्ष में करके दिखाया” कार्यक्रम की शुरुआत हिंदी भवन लोहिया नगर से की गई। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य जन सामान्य को सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरण कराना एवं उन्हें लाभान्वित करना है। इस अवसर पर लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किए गए कार्यक्रम का सजीव प्रसारण का प्रदर्शन भी किया गया। इस अवसर पर वर्तमान सरकार के 4 वर्ष पूर्ण होने पर जिले की विकास पुस्तिका का विमोचन भी किया गया।आयोजित कार्यक्रम में विभागीय अधिकारियों के द्वारा स्टाल लगाए गए एवं आने वाले जन सामान्य को उनकी विभागीय योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई। ताकि, आमजन को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सकें। इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम में सरकार की योजनाओं का विगत 4 वर्षों में जो बंपर लाभ मिला है ऐसे लाभार्थियों को कार्यक्रम में सहभागिता दर्ज कराते हुए प्रमाण पत्र वितरित किए गए। पात्र लाभार्थियों को विधवा पेंशन के अंतर्गत लाभ दिया गया जिसमें बाला देवी पत्नी स्वर्गीय वेदपाल शास्त्री नगर गाजियाबाद, कविता पत्नी स्वर्गवासी ओमबीर दोसा बंजरपुर , माया पत्नी मन सिंह सिंह दोसा बंजारपुर , पुष्पा पत्नी यशपाल दोसा बंजरपुर, अमीता पत्नी अरविंद कबूल नगर लोनी, सरला देवी पत्नी फूल सिंह अकबरपुर बहरामपुर, शोभा पत्नी नरेंद्र ग्राम रोरी, अनीशा पत्नी कासिम ग्राम टीला शाहबाजपुर शामिल है।

3 दिवसीय हिंडन महोत्सव का आगाज, वृक्षारोपण

अश्वनी उपाध्याय   

गाजियाबाद। तीन दिवसीय हिन्डन महोत्सव का आगाज शुक्रवार को सिटी फॉरेस्ट में बांसुरी वादन के साथ वृक्षारोपण करके किया गया। इससे पूर्व मंच पर मां सरस्वती को पुष्प अर्पित करके ज्ञान की देवी के आशीर्वाद लिया गया। उत्थान समिति, गाजियाबाद विकास प्राधिकरण व केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय सहयोग से आयोजित हिन्डन महोत्सव में उत्थान समिति के अध्यक्ष सत्येंद्र सिंह, पूर्व विधायक कृष्णवीर सिरोही, जीडीए के उद्यान अधिकारी ए के चौधरी, सहायक उद्यान अधिकारी शशि भारती, समाज सेविका बबीता सिंह, करन पाल पंचाल अध्यक्ष आनंद इंडस्ट्रियल एरिया, मोहन नगर, डॉ. जितेंद्र नागर, समाज सेविका राज शर्मा आदि ने भाग लिया।

गाजियाबाद में 7684 लोगों ने लगवाएं टीके, वायरस

अश्वनी उपाध्याय    

गाजियाबाद। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, जिले के 41 टीकाकरण केंद्रों पर बृहस्पतिवार को कुल 7,684 व्यक्तियों ने वैक्सीन लगवाई है। सीएमओ जनपद क डॉ. एन के गुप्ता ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने बृहस्पतिवार के लिए कुल 14,200 का लक्ष्य रखा था। संयुक्त अस्पताल में सबसे अधिक 462 और जिला महिला अस्पताल में 130 बुजुर्गों ने टीका लगवाया। संयुक्त अस्पताल में 132 को दूसरी डोज दी गई है। सरकारी केंद्रों पर 3,228 और निजी केंद्रों पर 4,456 लोगों ने वैक्सीन लगवाई है।बृहस्पतिवार को स्वास्थ्य विभाग को 2,988 लोगों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इनमें से केवल 19 रिपोर्ट्स पॉज़िटिव थीं। अधिकांश को होम आइसोलेशन में रखा गया है। इस अवधि में पांच लोगों ने डिस्चार्ज किया गया है। जिले में अब सक्रिय मरीजों की संख्या 116 है। पिछले एक साल की अवधि में में आठ लाख 32 हजार लोगों की कोरोना जांच हो चुकी है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने तीन अस्पतालों को कोविड उपचार के लिए होल्ड कर दिया है। आपातकालीन स्थिति आने पर इन अस्पतालों में कोविड मरीजों को भर्ती करने और उनके उपचार का इंतजाम शुरू कर दिया जाएगा। ईएसआइसी राजेंद्र नगर,संजय नगर स्थित संयुक्त अस्पताल और मुरादनगर सीएचसी शामिल हैं। आवश्यकता पड़ने पर इन अस्पतालों में फिर से आइसोलेशन वार्ड बनाया जाएगा। फिलहाल जिले में केवल संतोष अस्पताल में 400 बेड का कोविड अस्पताल चल रहा है। जिसमें अभी 33 मरीज भर्ती हैं। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, जिले में सक्रिय 116 मरीजों के सापेक्ष 13 मरीज आईसीयू में भर्ती है। 35 सामान्य वार्ड में भर्ती हैं। शेष होम आइसोलेशन में हैं। बताया गया है, कि किसी भी संक्रमित की हालत गंभीर नहीं है।

चुनाव: कौशाम्बी में नेतृत्व को लेकर बैठक हुई संपन्न

कौशांबी। पंचायत चुनाव मे जहां चुनावी सर गर्मियां तेज है। वही, वार्ड नंबर 14 जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी अरविंद मौर्या के समर्थन में जन अधिकार पार्टी के मंडल अध्यक्ष जगत सिंह कुशवाहा ने दरियापुर चौराहा में जनसंपर्क किया। जनसंपर्क के दौरान मंडल अध्यक्ष ने जन समस्याओं को सुना और सभी को मतदान करने के प्रति जागरूक किया। लोगों से अपील किया, कि ऐसे जनप्रतिनिधि का चुनाव करें। जनता के बीच रहकर जनता की सभी समस्याओं का निस्तारण वह क्षेत्र का विकास कर सकें और कहा, कि जनप्रतिनिधि बिकाऊ नहीं समाज में और बहुजन में टिकाऊ हो। जो हर समय जनता के बीच रहकर क्षेत्र का विकास कर सके और उन्होंने मौजूदा सरकार पर बरसते हुए कहा की भाजपा सरकार के राज में भ्रष्टाचार चरम पर फल फूल रहा है। वर्तमान में रिकॉर्ड तोड़ महंगाई से आम जनता परेशान है। मंडल अध्यक्ष ने अरविंद मौर्या के समर्थन में लोगों से वोट डालने की अपील की और समाज से अनुरोध है की युवा अब जाग चुका है। किसी के झांसे में पड़ने वाला नहीं है और उसे पता है, कि आपने गांव क्षेत्र को विकसित कर सकते हैं। इसलिए सिर्फ और सिर्फ अच्छे को चुनो और सच्चे को चुनो मौजूद रहे। जिला अध्यक्ष शिव भवन कुशवाहा, जिला प्रभारी अनिल कुशवाहा, मंडल सचिव करण सिंह, जिला महासचिव इंद्राज कुशवाहा, जिला सचिव सोनू कुशवाहा, सुरेश कुमार मौर्या, मुमताज अहमद, आलोक कुमार त्रिपाठी, सरजू प्रसाद मौर्य, राम मौर्य, राम सजीवन, मनीष कुमार, छोटे लाल यादव, राजकुमार मौर्य, दीपू मौर्य, रंजीत कुशवाहा, देशराज कुशवाहा, अरविंद कुमार मौर्य आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
मंजीत सिंह 

बीजेपी के 2 उम्मीदवारों ने चुनाव से किया इंकार

कोलकाता। भाजपा ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए 148 उम्मीदवारों की एक और सूची जारी कर दी। पार्टी ने राष्ट्रीय महासचिव मुकल रॉय, सांसद जगन्नाथ सरकार, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राहुल सिन्हा और लोक गायक असीम सरकार को टिकट दिया गया है। भाजपा इससे पहले पश्चिम बंगाल में 123 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर चुकी है। पार्टी ने एक सीट अपने सहयोगी दल एजेएसयू को दी है। हालांकि, टिकट बंटवारे ने भाजपा के लिए करकिरी करा दी है। पार्टी ने शिखा मित्रा को चौरंगी विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया था। लेकिन उन्होंने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि मैंने उनसे (भाजपा) कहा कि मैं चुनाव नहीं लड़ने जा रही हूं। उन्होंने मुझसे सलाह भी नहीं ली और अचानक मेरे नाम की घोषणा कर दी। यह गलत बात है। आपको बता दें कि शिखा मित्रा पश्चिम बंगाल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सोमेन मित्रा की पत्नी हैं।टीएमसी ने इस पर बीजेपी पर तंज कसा है। टीएमसी ने कहा कि भाजपा के पास नेताओं की कमी है। इसलिए उनकी सहमति के बिना किसी भी व्यक्ति को टिकट दिया जा रहा है। टीएमसी के प्रवक्ता देवनहसुग भट्टाचार्य ने कहा, कि भाजपा किसी को भी टिकट दे रही है। अन्य दलों से आने वाले लोगों को वरीयता दी जा रही है। उनके पास पर्याप्त उम्मीदवारों की कमी है। टीएमसी ने एक ही बार में सभी उम्मीदवारों की घोषणा की थी। भाजपा इसे चरणों में कर रही है।शिखा मित्रा के अलावा बेलगछिया सीट के लिए घोषइ उम्मीदवार तरुण साहा ने भी यह कहते हुए चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया कि उन्होंने भाजपा को पहले ही सूचित कर दिया था। वरिष्ठ भाजपा नेता राहुल सिन्हा ने कहा, कि पार्टी निश्चित रूप से इस पर गौर करेगी। हमें भाजपा नेता से बात करने की भी जरूरत है, जिन्हें मित्रा और साहा से बात करने का काम सौंपा गया था। पार्टी आवश्यक कदम उठाएगी। आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री देबोश्री चौधरी और भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया। इससे पहले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में हुई भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में उम्मीदवारों के नामों को अंतिम रूप दिया गया था। पार्टी ने चुनावों में कलाकारों, खेल व सिनेमा जगत की हस्तियों और विभिन्न पेशेवरों को मैदान में उतारा है।मुकुल रॉय को पार्टी ने नदिया जिले के कृष्णानगर उत्तर विधानसभा क्षेत्र से उतारा है। तृणमूल कांग्रेस के पूर्व नेता रॉय रेल मंत्री भी रह चुके हैं। रानाघाट से भाजपा के सांसद जगन्नाथ सरकार को पार्टी ने शांतिपुर विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया है, कि जबकि, राहुल सिन्हा को हाबरा सीट से मैदान में उतारा है। इससे पहले भाजपा एक केंद्रीय मंत्री सहित अपने पांच सांसदों को विधानसभा चुनाव में उतार चुकी है।

हापुड़: तीनों कानूनों को लेकर किसानों का प्रदर्शन

अतुल त्यागी   
हापुड़। किसानों ने मंडी बचाओ अभियान चलाकर नवीन मंडी, जनपद में धरना-प्रदर्शन किया। जनपद में भी जगह-जगह किसानों ने तीन काले कानूनों को लेकर प्रदर्शन किया। जनपद की नवीन मंडी में काफी संख्या में किसानों ने पहुंचकर प्रदर्शन किया। जनपद की नवीन मंडी पर संयुक्त किसान मोर्चा के आवाहन पर एमएसपी पर कानून, तीन काले क़ानून वापसी के खिलाफ़ प्रदर्शन किया गया। भारतीय किसान यूनियन हापुड़ के सभी पद अधिकारी, गाँव के मुख्य किसान और युवा साथी उपस्थित रहे। उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि किसानों को अपने हक के लिए लड़ते हुए काफी समय हो गया है तो इन काले कानूनों को वापस लेना चाहिए।

हापुड़: कार्यक्रम-विकास प्रदर्शनी का हुआ आयोजन

अतुल त्यागी  
हापुड़। प्रदेश सरकार के 4 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर विकास के विभिन्न क्षेत्रों में किए गए रिफार्म, परफार्म एंड ट्रांसफॉर्म प्रयासों से जन सामान्य को अवगत कराने हेतु आज शुक्रवार को एल एन पब्लिक स्कूल के हॉल में भव्य कार्यक्रम और विकास प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ राज्य मंत्री वित्त, चिकित्सा शिक्षा प्राविधिक शिक्षा उत्तर प्रदेश /जनपद प्रभारी मंत्री संदीप सिंह व जिलाधिकारी अनुज सिंह, विधायक जनपद विजयपाल आढ़ती, विधायक गढ़मुक्तेश्वर कमल सिंह मलिक, नगर पालिका परिषद जनपद चेयरमैन प्रफुल्ल सारस्वत ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस दौरान लखनऊ में आयोजित मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का सजीव प्रसारण दिखाया गया। जिसे कार्यक्रम में मौजूद सभी जनप्रतिनिधिगण, अधिकारीगण व जनसामान्य ने देखा एवं सुना। इसके उपरांत प्रभारी मंत्री ने सूचना विभाग द्वारा जनपद व विधानसभावार प्रकाशित "वर्षों में जो ना हो पाया। 4 वर्ष में कर दिखाया" नामक विकास पुस्तिका का विमोचन किया। आयोजित कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र, प्रमाण पत्र वितरित किया। जिसमें  वृद्धावस्था पेंशनरों के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र, निराश्रित महिला पेंशन लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र,  प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को, 07 आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड का वितरण, दिव्यांग जनों को कृतिम उपकरण एवं श्रम विभाग द्वारा श्रमिकों को प्रमाण पत्र का वितरण किया गया। बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा दृष्टिहीन बच्चों को ब्रेल लिपि की पुस्तकों का वितरण किया गया। इसके उपरांत मा. प्रभारी मंत्री ने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई "विकास प्रदर्शनी" का शुभारंभ किया एवं प्रदर्शनी का अवलोकन किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रभारी मंत्री ने आज शुक्रवार को प्रदेश सरकार के सफलतापूर्वक 4 वर्ष पूर्ण होने पर सभी लोगों को बधाई दी एवं कहा कि प्रदेश सरकार ने 4 वर्षों में प्रदेश का कायाकल्प किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार ने गरीब, किसान मजदूरों, निराश्रित व्यक्तियों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं संचालित की हैं।जिनका सीधा लाभ उन्हें मिल रहा है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा कानून व्यवस्था, स्वास्थ्य व्यवस्था सहित अन्य सुविधाओं को बेहतर किया गया है।इसके साथ ही अराजक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुए भयमुक्त वातावरण कायम किया गया है। उन्होंने कहा, कि कोरोना के संक्रमण से बचाव हेतु 1 वर्ष के अंतराल में हमारे देश के वैज्ञानिकों ने कोरोना की 2-2 वैक्सीन उपलब्ध कराई हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने चहुंमुखी विकास किया है।  उन्होंने कहा कि आज इस कार्यक्रम में विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी के माध्यम से जन सामान्य को लाभान्वित करने व उन्हें कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जा रही है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व जयनाथ यादव, उप जिलाधिकारी हापुड़ सत्यप्रकाश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रेखा शर्मा, भाजपा पदाधिकारी सुनीता दयाल व लज्जा रानी गर्ग सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, अधिकारीगण, लाभार्थीगण व भारी संख्या में जन सामान्य मौजूद रहे।

दागी मंत्रियों की लिस्ट लेकर विधानसभा पहुंचे तेजस्वी

अविनाश श्रीवास्तव    
पटना। नीतीश कैबिनेट के 31 मंत्रियों में से 18 यानी 64 प्रतिशत मंत्रियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। इसे लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सरकार पर लगातार हमलावर हैं। तेजस्वी यादव ने पहले भी दागी मंत्रियों को लेकर बिहार सरकार पर हमला बोला अब एक बार फिर तेजस्वी यादव आज दागी मंत्रियों का मामला विधानसभा में उठाने वाले हैं। इससे पहले तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को विधानसभा में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दागी मंत्रियों को लेकर सरकार पर हमला बोला और बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा को दागी मंत्रियों की लिस्ट सौंपी।
तेजस्वी यादव ने मंत्री रामसूरत राय पर लगे आरोपों को लेकर एक बार फिर सरकार पर हमला बोला और कहा कि सरकार अपने मंत्री को बचा रही हैं। लेकिन उनके खिलाफ सारे सबूत आज विधानसभा अध्यक्ष को दिया
प्रेस कॉन्फ्रेंस में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश सरकार के 60 फीसदी से ज्यादा मंत्री दागी  हैं। किसी पर आरोप लगाने के पहले विधानसभा अध्यक्ष ने तथ्य भी मांगा था। इसे लेकर ही आज मैं पूरी तथ्यों की रिपोर्ट विधानसभा अध्यक्ष को सौपने जा रहा हूं। 
एडीआर की रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया कितने मंत्रियों पर कौन कौन से आरोप हैं। एडीआर की रिपोर्ट मैं विधान सभा अध्यक्ष को सौपने जा रहा हूं। इसमे पूरी जानकारी है।18 में 14 मंत्री पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं, उन आपराधिक मामलों का व्यक्तिगत डाटा भी मैं विधान सभा अध्यक्ष को सौपने जा रहा हूं.जिस स्कूल में शराब मिली मंत्री राम सूरत राय स्कूल के संस्थापक है। स्कूल के बाहर बोर्ड में लिखा है। इसे लेकर मंत्री राम सूरत राय ने सदन को गुमराह किया है।

बिहार: घर में घुसकर लड़की से बलात्कार, जुर्माना

 अविनाश श्रीवास्तव       

बांका। जिले से एक अजीबो गरीब मामला सामने आया है। जहां एक युवक ने घर में घुसकर युवती से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है, इतना ही नहीं। जब इस मामले को लेकर पंचायत बैठी तो आरोपी युवक के परिजनों ने जुर्माना राशि देने से भी मना कर दिया पूरा मामला बाराहाट थाना क्षेत्र के एक गांव का बताया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार, बीती रात एक समारोह में डीजे पर नाचते-नाचते एक युवक पास के एक घर में घुस गया. जहां युवक ने एक युवती के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. घटना के समय युवती के परिजन सोये हुए थे. सुबह जब उनकी नींद खुली तो दोनों आपत्तिजनक स्थिति में थे। जिसके बाद युवती के परिजनों ने युवक को बंधक बना लिया और खूब बवाल काटा।

सरकार की दूरदर्शिता पर राहुल ने लगाया 'प्रश्नचिन्ह'

अकाशुं उपाध्याय  

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि देश अब भी अनियोजित लॉकडाउन का दंश झेल रहा है और सरकार की अक्षमता तथा अदूरदर्शिता के चलते लाखों परिवारों को पीड़ा उठानी पड़ी है। सरकार ने कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिये पिछले साल 24 मार्च को राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू किया था। राहुल गांधी ने लॉकडाउन के लिये सरकार पर हमलावर रुख अपनाते हुए कहा कि इसके चलते गरीबों और प्रवासियों को पीड़ा उठानी पड़ी है।राहुल गांधी ने अपने ट्वीट के साथ एक खबर भी साझा की। जिसमें यूनिसेफ के एक अध्ययन का हवाला देते हुए कहा गया है कि कोविड-19 के चलते दक्षिण एशिया के छह सबसे अधिक आबादी वाले देशों में भारत में शिशु मृत्युदर और मातृ मृत्यु दर में सबसे अधिक वृद्धि देखने को मिल सकती है।


राजस्थान: सिलेंडर फटने से 3 लोगों की मौत, 4 घायल

नरेश राघानी   

जयपुर। राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले के सदर थाना क्षेत्र में शुक्रवार तड़के एक मकान में रसोई गैस सिलेंडर में लगी आग के बाद हुए धमाके से मकान की छत ढह गई, जिससे दंपति सहित तीन लोगों की मौत हो गई। जबकि, चार अन्य घायल हो गये। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए पीड़ित परिवार के प्रति संवेदनाएं वक्त की है। थानाधिकारी दर्शन सिंह ने बताया कि मीठाराम खेड़ा में एक मकान में रसोई गैस सिलेंडर में लगी आग के बाद हुए धमाके से मकान की छत ढह गई। जिससे घर के अंदर सो रहे परिवार के मुखिया पुरुषोत्तम भांभी (40), उनकी पत्नी जमुना बाई (38) और उनकी मां संजनी बाई (60) की मौत हो गई।बताया कि हादसे में चार अन्य लोग घायल हो गये। घायलों में तीन पुरूषोत्तम भांभी के बच्चे हैं और एक रिश्तेदार है। उन्होंने बताया कि सभी गंभीर घायलों को उदयपुर रेफर किया गया है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिये गये हैं। मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट किया ‘मीठा रामजी का खेड़ा गांव(चित्तौड़गढ़) में घर में हुए सिलेंडर विस्फोट से 3 व्यक्तियों की मृत्यु दुखद, दुर्भाग्यपूर्ण है।मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं।

यूपी में कोरोना के 321 नए संक्रमित मिलें, कोरोना

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का संक्रमण फिर तेजी से रफ्तार पकड़ रहा है। राज्य में कोरोना से संक्रमित 321 नए रोगी मिले। जिससे प्रदेश में एक बार फिर हड़कंप मच गया है। 
बता दें राजधानी लखनऊ सहित 16 जिलों में भी संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। चौबीस घंटों के दौरान लखनऊ में सबसे ज्यादा 77 केस मिले हैं। जबकि, यहां कुल 381 मरीज हैं। राजधानी से सटे बाराबंकी में 13 के मिले, जबकि यहां 40 एक्टिव केस हैं।

4 साल में निवेशकों की पहली पसंद बना यूपी: सीएम

हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को दावा किया कि पिछले चार वर्षो के कार्यकाल के दौरान उनकी सरकार ने कानून व्यवस्था, इंफ्रास्ट्रक्चर और उद्योग में सुगमता की दिशा में उल्लेखनीय कार्य किया है। नतीजन देश की घनी आबादी वाला यह राज्य आज शुक्रवार को निवेशकों की पहली पसंद बन चुका है। अपनी सरकार की चौथी सालगिरह के मौके पर उपलब्धियों का बखान करते हुये मु‍ख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में उनकी सरकार ने पूर्ववर्ती व्यवस्था में रिफार्म, परफार्म और ट्रांसफार्म की नीति पर अमल करते हुये 24 करोड़ जनता की आंकाक्षाओं पर खरा उतरने का काम किया है। वर्ष 2015-16 में प्रदेश की अर्थव्यवस्था देश में 5वें छठे स्थान पर थी जबकि आज यह देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुकी है।कहा कि प्रदेश की खस्ताहाल अर्थव्यवस्था की दशा में सुधार के लिये निवेश को आकर्षित करने की दिशा में उनकी सरकार ने जरूरी कदम उठाये। इस दिशा में जीरो टालरेंस नीति पर चलते हुये संगठित अपराध का सफाया किया गया वहीं बिजली, सड़क और हवाई नेटवर्क में सुधार किया गया। नये उद्यम लगाने की प्रक्रिया को सुगम और पारदर्शी बनाया गया।
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश व्यवसाय और उद्यम के लिहाज से सबसे पंसदीदा स्थान बन गया है। ईज आफ डुइंग बिजनेस रैकिंग में यूपी 14वें स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। निजी क्षेत्र में करीब तीन लाख करोड़ रूपये के निवेश प्रस्ताव जमीन पर उतर चुके है जिससे औद्योगिकीकरण काे रफ्तार मिली और प्रदेश के नौजवानो के लिये 35 लाख से अधिक नौकरियां पैदा हुयी।
उन्होंने कहा कि भर्ती प्रक्रिया को पारदर्शी बनाया गया और चार लाख से अधिक युवाओं को सरकारी नौकरी प्रदान की गयी। वर्ष 2017 से पहले की सरकार की नीतियों के चलते प्रदेश की जनता को केन्द्र की योजनाओं का लाभ नही मिल पाता था जबकि आज उत्तर प्रदेश विभिन्न केन्द्रीय योजनाओ के क्रियान्वयन में पहले स्थान पर है। प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि और सौभाग्य योजना का शत प्रतिशत लाभ प्रदेश की जनता को मिल रहा है।

योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार की विकासपरक और रोजगारन्मुख नीतियों का नतीजा है कि आज प्रति व्यक्ति आय में दोगुने से अधिक की बढ़ोतरी हुयी है। 2015-16 में प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय करीब 45 हजार रूपये थी जो अब 95 हजार प्रति व्यक्ति हो चुकी है।
सीएम योगी ने कहा कि चार साल पहले प्रदेश की कानून व्यवस्था चरमराई हुयी थी। हर ओर भ्रष्टाचार का बोलबाला था। बिजली की दुर्दशा इस कदर थी कि राज्य की पहचान अंधेरे प्रदेश के तौर पर होती थी जिसके चलते कोई भी यहां निवेश करने को तैयार नहीं होता था। पर्यटन को व्यवसाय के तौर पर सरकारों ने कभी गंभीरता से नहीं लिया।
उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने सत्ता संभालते ही व्यवस्था में सुधार की दिशा में काम शुरू किया। इसके तहत पिछले चार सालों में 59 नये थाने, 29 नयी चौकियां, चार नये महिला थाने, आर्थिक अपराध शाखा के चार थाने, विजिलेंस के 10 थाने, साइबर क्राइम के 16 थाने और अग्निशमन के 59 नये केन्द्र बनाये गये। प्रत्येक मंडल में साइबर थाना स्थापित करने का फैसला लिया गया जबकि 18 नयी विधि विज्ञान प्रयोगशालाओं के निर्माण का निर्णय लिया गया। महिलाओं की सुरक्षा,सम्मान और स्वावलम्बन के लिये मिशन शक्ति अभियान संचालित किया गया। प्रदेश के सभी 1535 थानो में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना की गयी।
योगी ने दावा किया कि वर्ष 2016-17 की तुलना में 2019-20 मे डकैती में 65.72 फीसदी, लूट में 66.15 प्रतिशत, हत्या में 19.80 प्रतिशत, बलवा में 40.20 प्रतिशत और बलात्कार की घटनाओं में 45.43 प्रतिशत की कमी दर्ज की गयी। गैंगस्टर एक्ट के अंतर्गत 12 हजार 32 मामले पंजीकृत किये गये और 37 हजार 511 अभियुक्तों को उनकी सही जगह पर पहुंचाया गया। करीब एक हजार करोड़ रूपये की संपत्ति जब्त की गयी और ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गयी।
उन्होंने कहा कि उद्योगों की सुगमता के लिये उप्र औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति 2017 लागू की गयी। निवेश फ्रेन्डली सेक्टरवार 21 नयी नीतियां बनायी गयीं और निवेश मित्र पोर्टल की स्थापना की गयी। नये उद्योग की लाइसेंस स्वीकृति 72 घंटे में प्रदान करने के इंतजाम किये गये वहीं एक हजार दिनो तक उद्यम को निरीक्षण से मुक्त किया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की निवेश नीतियों के कारण कोरोना काल में ही 56 हजार करोड़ रूपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुये। नाेएडा में फिल्म सिटी का निर्माण किया जा रहा है। जबकि, सैमसंग की डिस्प्ले यूनिट की स्थापना की जा रही है। फर्नीचर की दुनिया में जानी मानी कंपनी आइकिया ने नोएडा में 5500 करोड़ का निवेश किया है। जबकि, डेटा सेंटर पार्क के लिये 6000 करोड़ रूपये का निवेश आया है।

पीएम जीन कैस्टेक्स ने फ्रांस में लगाया लॉकडाउन

पेरिस। कोरोना की वैक्सीन का निर्माण होते ही सारी दुनिया इस कद लापरवाह हो गई कि सारा एहतियाद ही भूल गई। अब उसका खामियाजा फिर भुगतना पड़ रहा है। हिंदुस्तान में कोई 12 राज्यों में कोरोना के दूसरे चरण ने लोगों को फिर संकट में दाल दिया है। कई जगह रात का कर्फ्यू लगाया जा रहा है तो कुछ जगह फिर लॉक डाउन की पाबंदियां लगाई जाने लगी हैं। महाराष्ट्र की हालत तो बेकाबू हो रही है। फ्रांस में कोरोना की तीसरी लहर की वजह से राजधानी पेरिस में एक महीने का लॉकडाउन लगा दिया गया है। पेरिस के साथ देश के 15 अन्य इलाकों में भी शुक्रवार आधी रात से लॉकडाउन किया जा रहा है। फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कैस्टेक्स ने कहा कि ये लॉकडाउन पहले के लॉकडाउन की तरह सख्त पाबंदियों वाला नहीं होगा। फ्रांस में बीते 24 घंटे में कोरोना के करीब 35,000 नए मामले सामने आए हैं।

टीकों को लेकर भ्रम रखनें की जरुरत नहीं: हर्षवर्धन

 अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने कोरोना वायरस के टीकों को लेकर अनेक लोगों के मन में पैदा हो रहीं आशंकाओं को खारिज करते हुए शुक्रवार को कहा कि दुनियाभर में वैज्ञानिक विश्लेषण के बाद टीकों को मंजूरी दी गयी है और हमें इन पर विश्वास करना चाहिए। हर्षवर्धन ने लोकसभा में प्रश्नकाल में कहा कि देश-दुनिया में बहुत सारे लोगों के मन में आशंका है कि कोरोना वायरस का टीका आने वाले समय में नुकसान तो नहीं पहुंचाएगा? उन्होंने कहा, ” भारत में जिन दो टीकों कोविशील्ड और कोवैक्सिन को इस्तेमाल की मंजूरी दी गयी है, वे सुरक्षा, प्रभावशीलता और प्रतिरक्षा क्षमता पैदा करने के मानदंडों पर पूरी तरह खरे उतरते हैं। सदन में कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के पूरक प्रश्नों के उत्तर में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने कहा कि देशवासियों को कोविड टीकों को लेकर कोई भ्रम नहीं रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरे वैज्ञानिक परीक्षणों और अध्ययनों के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने टीकों की जो सुविधा उपलब्ध कराई है। उसका सभी को लाभ उठाना चाहिए और अपने निवास स्थान के पास के निजी या सरकारी अस्पताल में जाकर टीका लगवाकर सभी को सुरक्षित करना चाहिए। बिट्टू ने कोरोना टीकों से भविष्य में लोगों के डीएनए पर दुष्प्रभाव पड़ने संबंधी आशंकाओं पर पूरक प्रश्न पूछा था।

इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन, क्वार्टर फाइनल में पहुंचे लक्ष्य

लंदन/ अल्मोड़ा। इंग्लैंड में चल रहे प्रतिष्टित योनेक्स आल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन में अल्मोड़ा (उत्तराखंड) के लक्ष्य सेन ने शानदार प्रदर्शन करते हुए क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। यह जानकारी उत्तरांचल स्टेट बैडमिंटन संघ के सचिव बीएस मनकोटी ने दी।
श्री मनकोटी ने लक्ष्य के उक्त खेल प्रदर्शन का उल्लेख करते हुए बताया पहले दौर में लक्ष्य सेन ने थाईलैंड के कन्ताफोंनवान्ग्चारोंन को सीधे सेटों में 21-18 व 21–17 से आसानी से हराया और दूसरे दौर में प्रवेश किया। इसके बाद दूसरे दौर में लक्ष्य ने फ्रांस के थॉमसरोक्सेल को भी सीधे सेटों में आसानी से 21-18 व 21-12 से हराकर क्वार्टर फाइनल में स्थान बना लिया। लक्ष्य के इस उत्कृष्ट प्रदर्शन पर उत्तरांचल स्टेट बैडमिंटन संघ की अध्यक्ष डॉ. अलकनंदा अशोक समेत उत्तराखंड बैडमिंटन परिवार ने खुशी का इजहार करते हुए लक्ष्य को अगले दौरों के लिए शुभकामनायें प्रेषित की हैं।

कार्यकर्ताओं ने रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन किया

जसपुर। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में तिरंगा चौक पर एकत्रित होकर प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ नगर के मुख्य मार्गो से रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन किया। बता दें कि आम आदमी पार्टी ने प्रदेश की भाजपा सरकार के चार सालों की विफलता को लेकर प्रदेश की सभी विधानसभाओं में प्रदर्शन कर काला दिवस मनाया।
इसी क्रम में जसपुर में आम आदमी पार्टी के समस्त कार्यकर्ता तिरंगा चौक पर एकत्रित हुए जहां भाजपा सरकार के 4 साल पूरे होने पर आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओ ने भाजपा सरकार के 4 साल पूरा करने पर जवाब दो, हिसाब दो, माफी मांगो भाजपा अभियान के तहत जोरदार प्रदर्शन किया।
प्रदर्शन के दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता तिरंगा चौक से होते हुए मेन बाजार, होली चौक होकर पार्टी कार्यालय पहुंचे ।
इस दौरान अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष डा० यूनुस चौधरी ने कहा कि भाजपा को काम का हिसाब जनता को देना होगा केवल मुख्यमंत्री बदलकर काम नहीं चलेगा जनता अब काम की राजनीति चाहती हैतो वही जसपुर के संगठन मंत्री अभिताभ सक्सैना ने बयान जारी कर कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 4 साल उत्तराखण्ड में एक ऐसे मुख्यमंत्री को बनाए रखा जिसने 4 साल प्रदेश के बर्बाद कर दिए और अब जब भाजपा मुख्यमंत्री बदलकर अपनी गलती स्वीकार कर चुकी है। तो भाजपा को प्रदेश की जनता के सवालों के जवाब देने होंगे। और प्रदेश की जनता से माफी मांगनी पड़ेगी। इस मौके पर बोलते हुए आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता अजय अग्रवाल तथा स० सूबा सिंह ने पार्टी के कार्यकर्ताओं से आज के इस सफल विरोध प्रदर्शन हेतू धन्यवाद कहा तथा सभी से बदलाव की इस क्रांति में तन मन धन से जुट जाने की अपील की।
इस मौके पर सर्किल प्रभारी मौ० अकरम, अवतार सिंह सोहल, सिमरनजीत सिंह हैप्पी , शाहरूख चौधरी , प्रिंस चौहान, कुलदीप सिंह, मलकीत सिंह, मौ० आजम, अखलाख चौधरी , नरेश मोहम्मद फारूक चौधरी लियाकत अली आसिफ चौधरी शाहनवाज सागर आदि उपस्थित रहे।

योगी सरकार के चार साल का रिपोर्ट कार्ड, वापसी

हरिओम उपाध्याय
लखनऊ। योगी सरकार के शासन के चार साल पूरे हो गए हैं। सरकार के बीते चार सालों के कामकाज पर एबीपी-सी वोटर ने सर्वे किया। सर्वे के मुताबिक, लोगों ने योगी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि नौकरियां देना माना है। सवाल पर 28 फीसदी लोगों ने नई नौकरी, 12 फीसदी ने कोरोना महामारी के नियंत्रण, 16 फीसदी ने अपराध नियंत्रण और 16 फीसदी लोगों ने राम मंदिर को योगी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि बताया। सर्वे के मुताबिक, अभी चुनाव हों तो योगी सरकार भारी बहुमत के साथ वापसी करती दिख रही है।
सर्वे में सवाल किया गया कि आप रोजगार देने में किसे बेहतर मुख्यमंत्री मानते हैं। जवाब देने वालों में से 53 फीसदी ने इस मामले में योगी को, 21 फीसदी ने अखिलेश यादव को और 16 फीसदी ने मायावती को बेहतर मुख्यमंत्री बताया। योगीराज में क्या अपराध काबू में आया? इस सवाल पर 53 फीसदी लोगों ने हां, 35 फीसदी ने नहीं में जवाब दिया जबकि 12 फीसदी ने कहा कि वह इस पर कुछ कह नहीं सकते।
सर्वे में सवाल किया गया है। कि लोग कानून-व्यवस्था में किसे बेहतर मुख्यमंत्री मानते हैं। सर्वे में हिस्सा लेने वालों में से 71 फीसदी ने इस मामले में योगी को बेहतर मुख्यमंत्री माना। 17 फीसदी ने मायावती को और सिर्फ 8 फीसदी ने अखिलेश को इस मामले में बेहतर मुख्यमंत्री बताया। 4 फीसदी इन तीनों में से किसी एक पर अपनी राय नहीं दे सके।
सर्वे के मुताबिक, अगर अभी विधानसभा चुनाव होते हैं। तो बीजेपी को 41 फीसदी, समाजवादी पार्टी को 24 फीसदी और बीएसपी को 21 फीसदी वोट मिल सकते हैं। प्रियंका गांधी की लाख कोशिश के बावजूद कांग्रेस को इस बार भी बड़ा झटका लग सकता है। सर्वे की मानें तो कांग्रेस के खाते में सिर्फ 6 फीसदी वोट शेयर ही जाएगा जबकि अन्य दलों को 8 फीसदी वोट मिल सकते हैं। सीटों की बात करें तो बीजेपी को 284-294, समाजवादी पार्टी को 54-64, बीएसपी को 33-43, कांग्रेस को 1-7 और अन्य को 10-16 सीटें मिल सकती हैं। सर्वे में यूपी की सभी 403 विधानसभा सीटों पर 15,747 लोगों से बात की गई।

चुनाव: जिलों के डीएम-एसपी के साथ कॉन्फ्रेंसिंग की

हरिओम उपाध्याय

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों के डीएम और एसपी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। इस दौरान सभी जिलाधिकारियों और एसपी को मतदान केंद्रों का स्वयं निरीक्षण करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं, अगर मतदान केंद्रों में कमी पाई गई तो डीएम इसके जिम्मेदार होंगे। 
इसके अलावा आयोग की ओर से भेजी गई शिकायतों का 24 घंटे में निस्तारण किया जाना चाहिए। वहीं अगर किसी जगह, किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना होती है तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई होगी।
सभी नामांकन की होगी वीडियोग्राफी
आयोग का स्पष्ट निर्देश है। कि सभी नामांकन की वीडियोग्राफी कराई जाएगी।
सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील मतदान केंद्रों पर विशेष सुरक्षा के इंतजाम किए जाएंगे। वहीं, आगामी बोर्ड परीक्षा को ध्यान में रखकर ही मतगणना केंद्र बनाए जाएंगे। जिससे बोर्ड परीक्षा में किसी भी तरह का व्यवधान नहीं पड़े।
गौरतलब है। कि इससे पहले बुधवार को उत्तर प्रदेश में होने वाले त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव की जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए जिलेवार सूची जारी कर दी गई थी। 2015 के बेस ईयर के हिसाब से इस बार महिलाओं को ज्यादा मौका मिला है। इतना ही नहीं अनारक्षित सीटों में भी बदलाव हुआ है।

देश में संक्रमण के 40 हजार नए मामले सामने आएं

  आकांशु उपाध्याय   

 नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 39,726 नए मामले सामने आए जो इस साल एक दिन में संक्रमण के सर्वाधिक मामले हैं। देश में इस वैश्विक महामारी के मामलों की संख्या 1,15,14,331 पर पहुंच गई है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार कोरोना वायरस के मामलों में लगातार नौवें दिन वृद्धि हुई है। देश में अब भी 2,71,282 मरीज इलाज करा रहे हैं। जो संक्रमण के कुल मामलों का 2.36 प्रतिशत है जबकि इस बीमारी से ठीक होने वाले लोगों की संख्या गिरकर 96.26 प्रतिशत रह गई है। सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार, एक दिन में आए 39,726 मरीजों की संख्या 110 दिनों में सबसे अधिक है जबकि 154 लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,59,370 हो गई है। इससे पहले 29 नवंबर को 24 घंटों में संक्रमण के 41,810 नए मामले सामने आए थे। आंकड़ों के मुताबिक इस बीमारी से ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,10,83,679 हो गई है। जबकि मृत्यु दर 1.38 प्रतिशत हो गई है।
भारत में कोविड-19 के मामले सात अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार कर गए थे। इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख से पार चले गए थे। वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के मुताबिक 18 मार्च तक 23,13,70,546 नमूनों की जांच की जा चुकी है।

बीजेपी वर्कर्सों का फूटा गुस्सा, पार्टी के पोस्टर फाड़ें

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने अपने 157 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी करते ही आफत मोल ले ली। बीजेपी की लिस्ट में टीएमसी और दूसरे दलों से आए नेताओं को ज्यादा तरजीह दी गई है। लिहाजा पार्टी को अपने ही लोगों से नाराजगी मोल लेनी पड़ रही है। जगतादल और जलपाईगुड़ी सदर क्षेत्र में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पार्टी दफ्तर में तोड़फोड़ की। वहीं दूसरी ओर बीजेपी के दो उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ने से ही इनकार कर दिया। ऐसे में बीजेपी को चारों ओर किरकिरी हो रही है।
जगतादल विधानसभा सीट से अरिंदम भट्टाचार्य को टिकट देने पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पोस्टर फाड़ दिए। कार्यकर्ताओं ने यहां धरना प्रदर्शन भी किया। एक प्रदर्शनकारी ने कहा हम अरिंदम को अपना उम्मीदवार नहीं मान सकते, हम अरुण ब्रह्मा को अपने उम्मीदवार के रूप में देखते हैं। अरिंदम तृणमूल कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए हैं।
बीजेपी कार्यकर्ताओं ने जलपाईगुड़ी के डीबीसी रोड में पार्टी ऑफिस में तोड़फोड़ की। पार्टी से जलपाईगुड़ी सदर सीट से सुजीत सिन्हा को उम्मीदवार बनाने का फैसला किया है। जो पार्टी वर्कर्स को बिल्कुल रास नहीं आया। इससे पहले चौरिंगी सीट से उम्मीदवार बनाई गईं शिखा मित्रा ने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया। शिखा मित्रा ने कहा कि उन्होंने टिकट मांगा ही नहीं था।
पार्टी ने पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सोमेन मित्रा की पत्नी शिखा मित्रा और तृणमूल कांग्रेस विधायक माला साहा के पति तरुण साहा को उम्मीदवार बनाया है। हालांकि बीजेपी को उस समय फजीहत का सामना करना पड़ा जब शिखा मित्रा और तरुण साहा ने बीजेपी की उम्मीदवारी स्वीकार करने से इनकार कर दिया। शिखा मित्रा ने कहा मुझे नहीं पता कि बीजेपी की सूची में मेरा नाम कैसे आ गया। मैं कांग्रेस के साथ हूं और रहूंगी।
टीएमसी ने मौका लपकते हुए बीजेपी पर तंज किया है। टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने गृह मंत्री अमित शाह को होमवर्क करने तक की नसीहत दे दी। महुआ मोइत्रा ने ट्वीट किया, ‘खाकी निकर में भी घुटने दिखते हैं। बीजेपी ने आखिरकार 2 हफ्ते बाद पश्चिम बंगाल उम्मीदवारों के नाम घोषित किए और जिनके नाम लिस्ट में हैं। उनका कहना है। कि वे बीजेपी का हिस्सा नहीं है और न ही बीजेपी के टिकट के पीछे भाग रहे हैं। मिस्टर शाह, आपको कुछ होमवर्क करने की जरूरत है।
उधर, बीजेपी युवा मोर्चा की राज्य इकाई के नेता और पूर्व बीजेपी नेता तपन सिकदर के बेटे सौरव सिकदर ने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी पर पुराने नेताओं का अपमान करने का आरोप लगाया। राज्य के अन्य इलाकों में जहां बीजेपी ने दूसरे दलों के नेताओं को उम्मीदवार बनाया है। वहां से विरोध की खबरें आ रही हैं।
बता दें कि बीजेपी ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए 157 उम्मीदवारों की एक और सूची जारी की। पार्टी ने जहां दूसरे दलों से आए 22 नेताओं को टिकट देने में तरजीह दी है। वहीं इसने अपने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकल रॉय, सांसद जगन्नाथ सरकार, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राहुल सिन्हा और लोक गायक असीम सरकार को भी चुनावी रण में उतारा है। उम्मीदवारों की सूची में महिलाओं सहित 17 मुस्लिम चेहरे भी शामिल हैं।
पार्टी ने जब से उम्मीदवारों के नामों की घोषणा शुरू की है तभी से पार्टी के कई क्षेत्रों के कार्यकर्ता दूसरे दलों से आए नेताओं को टिकट बंटवारे में महत्व मिलने से नाराज है। और अनेक स्थानों पर प्रदर्शन भी कर रहे हैं। पार्टी के कई नेताओं ने इसके विरोध में इस्तीफा तक दे दिया है। मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांग्सु, राज्य की महिला मोर्चा की अध्यक्ष अग्निमित्र पॉल, फिल्मी हस्तियों रुद्रनील घोष, सराबंती चट्टोपाध्याय और पार्नो मित्रा को भी पार्टी ने टिकट दिया है। शुभ्रांग्सु ने पिछले विधान सभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर जीत दर्ज की थी।
मुकुल रॉय लगभग दो दशक के बाद चुनावी मैदान में उतरे हैं। वह नदिया जिले के कृष्णानगर उत्तर विधानसभा क्षेत्र से ताल ठोकेंगे। यहां मतुआ समाज के मतदाताओं की अच्छी खासी तादाद है। इससे पहले वह 2001 में तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में चुनाव हार चुके हैं। तृणमूल कांग्रेस के पूर्व नेता रॉय रेल मंत्री भी रह चुके हैं।
बीजेपी इससे पहले पश्चिम बंगाल में 123 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर चुकी है। पार्टी ने एक सीट अपने सहयोगी दल एजेएसयू को दी है। पार्टी ने चुनावों में कलाकारों, खेल और सिनेमा जगत की हस्तियों और विभिन्न पेशेवरों को मैदान में उतारा है। रानाघाट से बीजेपी के सांसद जगन्नाथ सरकार को पार्टी ने शांतिपुर विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया है। कि जबकि राहुल सिन्हा को हाबरा सीट से मैदान में उतारा है।

गुजरात: स्कूलों में ऑफलाइन कक्षाएं बंद, संक्रमण

गांधीनगर। कोरोना वायरस के मामलों में एक बार फिर उछाल देखा जा रहा है। सावधानियों के मद्देनजर गुजरात सरकार ने शिक्षण संबंधी बड़ा फैसला लिया है। राज्य में सरकार ने गुरुवार को कहा कि इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए राज्य के आठ बड़े शहरों में विद्यालय 19 मार्च से अपने परिसरों में अध्यापन बंद करेंगे. राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने हाल ही में अधिकारियों के साथ इस संबंध में बैठक की थी।
राज्य सरकार ने कहा कि राज्य के 8 शहरों में स्थित विद्यालयों में 10 अप्रैल तक ऑफलाइन कक्षाएं नहीं लगेंगी. इनमें अहमदाबाद, राजकोट, वड़ोदरा, सूरत, भावननगर, गांधीनगर, जामनगर और जूनागढ़ का नाम शामिल है। एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री रूपाणी ने शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चूड़ास्मा और मुख्य सचिव अनिल मुकिम के साथ उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया।
चूड़ास्मा ने कहा कि इन शहरों के अलावा अन्य क्षेत्रों में विद्यालय उन विद्यार्थियों के लिए ऑफलाइन कक्षाएं जारी रखेंगे, जिन्होंने इस विकल्प को चुना है। उन्होंने कहा कि कॉलेजों एवं विश्वविद्यालयों में 19 मार्च से 10 अप्रैल तक ऑफलाइन परीक्षाएं स्थगित करने का निर्णय लिया है। इसके पहले भी सरकार कोविड से जुड़े नियमों का कड़े करने का फैसला लिया था। 
76 नए मामले सामने आए जिसके बाद कुल मामले बढ़कर 2,82,449 हो गए। स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह जानकारी दी गई। राज्य में केवल दो सप्ताह के भीतर संक्रमण के प्रतिदिन सामने आने वाले मामले 480 से बढ़कर 1200 से अधिक हो गए हैं। हालांकि, सीएम ने साफ किया था। कि वे राज्य में लॉकडाउन पर विचार नहीं कर रहे हैं। उन्होंने गांधीनगर में कहा, ‘घबराने की जरूरत नहीं है। पहले भी हम ऐसी परिस्थिति का सामना कर चुके हैं। हम अभी लॉकडाउन लगाने पर विचार नहीं कर रहे हैं।
कोविड-19 वेबसाइट के आंकड़े बताते हैं। कि राज्य में अब तक कोरोना वायरस के 2 लाख 82 हजार 449 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, 4 हजार 433 मरीजों की मौत हो चुकी है। राज्य में फिलहाल एक्टिव मरीजों की संख्या 5 हजार 684 है। देश में 1 करोड़ 15 लाख 13 हजार 989 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। 1 लाख 59 हजार 406 मरीज जान गंवा चुके हैं।

पंजाब में हालात सबसे बदतर, राज्य बन रहे हॉटस्पॉट

 अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। कोरोना वायरस जहां एक तरफ महाराष्ट्र में कोहराम मचाए हुए है। तो वहीं अब तीन अन्य राज्यों के ऊपर भी कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बनने का खतरा मंडरा रहा है। ये तीन राज्य हैं। पंजाब, हरियाणा और मध्य प्रदेश, जहां रोजाना आने वाले कोरोना के मामलों की दर बढ़ती जा रही है। इसके साथ ही दिल्ली-एनसीआर में भी कोरोना के बढ़ते मामलों ने एक बार फिर से टेंशन बढ़ा दी है। भारत में 7 दिनों का संक्रमण दर भी बीते 30 दिनों में 1.4 प्रतिशत बढ़ गया है। हालांकि, महाराष्ट्र, पंजाब, मध्य प्रदेश और हरियाणा ही देश के ऐसे राज्य हैं। जहां संक्रमण दर राष्ट्रीय औसत 1.4 प्रतिशत से ज्यादा है।
पंजाब में आंकड़े सबसे ज्यादा चिंताजनक है। यहां बीते 30 दिनों के अंदर रोजाना सामने आने वाले मामलों में 531 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। वहीं एक हफ्ते का संक्रमण दर भी 4.7 फीसदी बढ़ गया है। महाराष्ट्र के बाद पंजाब में ही कोरोना के मामले सबसे तेजी से बढ़े हैं।
हरियाणा देश का तीसरा राज्य है। जहां कोरोना के मामले सबसे तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां बीते 30 दिनों में कोरोना के केस 398 फीसदी बढ़े हैं। यही नहीं राज्य में औसत संक्रमण दर भी 2.2 फीसदी ऊपर हो गया है। गुरुग्राम में अकेले गुरुवार को कोरोना के 104 नए मामले रिपोर्ट हुए। 84 दिन बाद ऐसा हुआ जब गुरुग्राम में 100 से ज्यादा मामले मिले हैं।
मध्य प्रदेश में भी रोज आने वाले कोरोना के केसों में 277 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई है। वहीं, राज्य में संक्रमण दर 3.3 प्रतिशत बढ़ गया है। मध्य प्रदेश में एक और चिंता की बात यहां की टेस्टिंग दर है। बीते हफ्ते राज्य में प्रति 10 लाख सिर्फ 191 टेस्ट किए गए।
दिल्ली में गुरुवार को कोरोना के 607 नए मामले आए। इससे पहले इस साल 6 जनवरी को 654 मामले आए थे। दिल्ली में पिछले 7-8 दिनों में संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ती जा रही है। यही नहीं अब संक्रमण दर भी बढ़ रहा है। एक मार्च को दिल्ली का संक्रमण दर 0.44 प्रतिशत था। जो 18 मार्च को 0.76 प्रतिशत तक पहुंच गया है।

उत्तराखंड: फटी जींस पर सीएम तीरथ ने मांगी मांफी

 पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत फटी जींस के बयान पर देश भर में मचे भूचाल से बैकफुट पर आ गए हैं। मुख्यमंत्री दो दिवसीय यात्रा पर दिल्ली रवाना हो रहे हैं। इससे पूर्व उन्होंने कहा, की फटी जींस पर बोलने का मकसद किसी का दिल दुखाना नहीं था। बल्कि उन्होंने तो संस्कारों की बात की थी। उसकी गलत व्याख्या कर दी गई। फिर भी अगर इस बयान से किसी को कष्ट हुआ है तो वह माफी मांगते हैं।
उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत पदभार संभालने के बाद पहली बार दिल्ली यात्रा पर जा रहे हैं। वह दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे। इसके अलावा कई अन्य नेताओं से भी मिलने का कार्यक्रम है। यह मुलाकात पदभार संभालने के बाद शिष्टाचार वार्ता बताई जा रही है। मगर रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री ने फटी जींस के बयान पर देश भर में आए भूचाल के संबंध में स्थिति को स्पष्ट किया। उन्होंने कहा की फटी जींस पर बोलने का मतलब उनका किसी का दिल दुखाना नहीं था। बल्कि वह तो संस्कारों की बात कर रहे थे। उन्होंने तो पाश्चात्य सभ्यता के हावी होने का विरोध किया था। वे चाहते हैं। कि भारतीय संस्कृति के दर्शन हमारे संस्कारों में हमेशा झलकते रहें। लेकिन उनके इस बयान की गलत व्याख्या कर दी गई। बावजूद अगर इस बयान से किसी को दुख पहुंचा है। तो मैं माफी मांगते हैं।

राज्य सरकार के 4 साल पूरे, पुस्तिका का विमोचन

संदीप मिश्र 
बरेली। राज्य सरकार के चार साल पूरे होने पर मौके पर संजय कम्युनिटी हाल में कार्यक्रम आयोजित हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत यूपीसीबी के चेयरमैन तेजवीर सिंह ने की। छात्राओं ने सरस्वती वंदना गीत प्रस्तुत किया। इसके बाद चेयरमैन तेजवीर सिंह, विधायकों, मेयर, मंडलायुक्त और डीएम का स्वागत हुआ।
मंच पर उपस्थित अतिथियों ने बरेली में चार साल में कराए गये कार्यों की विकास पुस्तिका का विमोचन किया गया। कार्यक्रम में दिव्यांगजनों को ट्राई साइकिल भी बांटी जाएंगी। सर्वप्रथम शहल विधायक डा अरुण कुमार ने कार्यक्रम को संबोधित किया। कहा कि योगी सरकार में बरेली में कई ऐसे कार्य हुए हैं। जो आजादी से नहीं हुए थे। अपराधियों में खौफ बढ़ रहा है। अपराधी जान बचाने के लिए जमानत तुड़वाकर जेल जा रहे हैं। बरेली में बिजली 24 घंटे आ रही है। अब ट्रांसफार्मर 24 घंटे में बदल रहा है। खाद्यान्न वितरण में पारदर्शिता आई है। शहर विधायक ने कहा कि टीचरोॆ की भर्ती में कोई भेदभाव नहीं हुआ। पूर्ववर्ती सरकारों में बिना रुपये लिए ज्वाइनिंग पत्र नहीं दिए जाते थे।

माता-पिता विहीन बच्चों को शिक्षित करेगी सरकार

 पंकज कपूर
देहरादून। उत्तराखंड सरकार ऐसे बच्चों को पढ़ा लिखा कर शिक्षित बनाएगी, जिनके माता-पिता नहीं हैं। और उनका कोई संरक्षक भी नहीं है। इस संबंध में शिक्षा विभाग को निर्देशित कर दिया गया है। विभागीय अधिकारी ऐसे बच्चों को चिन्हित कर उनका आवेदन विभाग में जमा कराएंगे। आवेदन जमा कराने की तिथि भी बढ़ा दी गई है। पहले 15 मार्च थी अब 22 मार्च तक आवेदन मांगे गए हैं।
उत्तराखंड राज्य बाल कल्याण परिषद हर साल ऐसे बच्चों का पोषण करती है। जिनके माता-पिता नहीं हैं। उनका कोई संरक्षक भी नहीं है। उनकी शिक्षा-दीक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा का पूरा ध्यान परिषद रखती है। इसी क्रम में परिषद की महासचिव पुष्पा मानस ने प्रदेश के सभी 13 जिलों के जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर राजकीय विधायलयों में पड़ने वाले ऐसे बच्चों को चिन्हित कर उनका फार्म भरकर 15 मार्च तक उपलब्ध करवाने को कहा था। लेकिन उतनी संख्या में परिणाम नहीं आ सका। लिहाजा अब आवेदन करने की तिथि को बढ़ाकर 22 मार्च कर दिया गया है।
नैनीताल जिले के शिक्षक नेता डिकर सिंह पडियार ने बाल विकास कल्याण परिषद की इस पहल को काफी सराहा है। साथ ही इसका लाभ जरूरतमंद बच्चों को मिल सके। इसके लिए शिक्षकों से भी आगे आकर फार्म भरवाने की अपील की है।

बिशारतगंज में लगीं आग, कई खोखे जलकर राख

संदीप मिश्र 
बिशारतगंज/ बरेली। स्टेशन रोड पर गुरुवार देर रात शरारती तत्वों ने एक खोखे में आग लगा दी। जिसकी चपेट में आने से आसपास के कई और खोखे भी जल गए। वार्ड नंबर 10 के चमन सिद्दीकी ने बताया कि स्टेशन रोड पर उनका चूड़ी का खोखा है।जिसमें किसी ने आग लगा दी। सिद्दीकी ने बताया कि होली के त्योहार को लेकर उन्होंने चूड़ियां लाकर रखी थीं। जो जलकर राख हो गईं। जिससे करीब डेढ़ लाख रुपए का नुकसान हुआ है।

होली के त्यौहार पर हरियाणा में चलेगी ट्रेनें, बुकिंग

राणा ओबराय
चंडीगढ़। होली के त्यौहार पर रेलवे ने अपने यात्रियों के लिए खास इंतजाम किया है। रेलवे ने यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए चार जोड़ी अतिरिक्त ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है।
अंबाला मंडल के वरिष्ठ वाणिज्य प्रबंधक ने बताया कि फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का संचालन चंडीगढ़-गोरखपुर, बठिंडा-वाराणसी, नंगलडैम-लखनऊ और श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा-वाराणसी के बीच दोनों दिशाओं में किया जाएगा।
ट्रेनों को लेकर आरक्षण के लिए क्रिस सिस्टम अपडेट किया है। और इसकी जानकारी रेलवे हेल्पलाइन नंबर 139 पर भी उपलब्ध कराई गई है।
अंबाला मंडल के वरिष्ठ वाणिज्य प्रबंधक हरिमोहन ने बताया कि चार जोड़ी अतिरिक्त फेस्टिवल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। इसकी जानकारी हेल्प लाइन नंबर 139 पर भी उपलब्ध करवा दी गई है।
चंडीगढ़ – गोरखपुर
ट्रेन नंबर 04924 चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से 18 और 25 मार्च को चलेगी। चंडीगढ़ से ट्रेन रात 11.20 चलकर 12.10 बजे छावनी जंक्शन और शाम 5.15 बजे गोरखपुर पहुंचेगी। वापसी दिशा में ट्रेन नंबर 04923 गोरखपुर रेलवे स्टेशन से 19 व 26 मार्च को चलेगी।
गोरखपुर से ट्रेन रात 10.10 बजे रवाना होकर अगले दिन दोपहर 2.40 बजे अंबाला और दोपहर 3.30 बजे चंडीगढ़ पहुंचेगी। बीच रास्ते ट्रेन यमुनानगर, सहारनपुर, मुरादाबाद, बरेली, लखनऊ, बाराबंकी, गोंडा व बस्ती दोनों दिशाओं में ठहरेगी।
बठिंडा – वाराणसी
ट्रेन नंबर 04998 बठिंडा रेलवे स्टेशन से 21 मार्च से 28 मार्च तक चलेगी। बठिंडा रेलवे स्टेशन से ट्रेन रात 9.05 बजे रवाना होकर रात 1 बजे अंबाला छावनी और शाम 4.40 बजे वाराणसी पहुंचेगी। वापसी में ट्रेन नंबर 04997 वाराणसी रेलवे स्टेशन से रात 9.20 बजे रवाना होकर दोपहर 12.50 बजे अंबाला छावनी और शाम 4.50 बजे बठिंडा रेलवे स्टेशन पहुंचेगी।
बीच रास्ते ट्रेन रामपुरा फूल, बरनाला, धूरी, पटियाला, राजपुरा, अंबाला छावनी, यमुनानगर, सहारनपुर, मुरादाबाद, बरेली, लखनऊ और सुलतानपुर रेलवे स्टेशन पर दोनों दिशाओं में ठहरेगी।
नंगलडैम – लखनऊ
ट्रेन नंबर 04510 नंगलडैम रेलवे स्टेशन से 22 व 29 मार्च को रवाना होगी। नंगलडैम रेलवे स्टेशन से ट्रेन रात 11.45 बजे रवाना होकर तड़के 2.55 बजे अंबाला छावनी और दोपहर 2 बजे लखनऊ पहुंचेगी। ट्रेन नंबर 04509 लखनऊ रेलवे स्टेशन से 23 व 30 मार्च को चलेगी।
लखनऊ से ट्रेन रात 9.30 बजे रवाना होकर सुबह 7.55 बजे अंबाला छावनी और दोपहर 1 बजे नंगलडैम पहुंचेगी। बीच रास्ते ट्रेन रूपनगर, चंडीगढ़, अंबाला छावनी, जगाधरी, सहारनपुर, मुरादाबाद और बरेली रेलवे स्टेशन पर दोनों दिशाओं में ठहरेगी।
श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा – वाराणसी
ट्रेन नंबर 04608 श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा रेलवे स्टेशन से प्रत्येक रविवार 21 से 28 मार्च तक चलेगी। श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा रेलवे स्टेशन से ट्रेन शाम 6.45 बजे रवाना होकर सुबह 4.20 बजे अंबाला छावनी और रात 10.10 बजे वाराणसी पहुंचेगी। वापसी दिशा में ट्रेन नंबर 04609 वाराणसी रेलवे स्टेशन से प्रत्येक मंगलवार 23 से 29 मार्च तक चलेगी।
वाराणसी से ट्रेन सुबह 6.35 बजे रवाना होकर रात 10.10 बजे अंबाला छावनी और सुबह 9.20 बजे श्रीमाता वैष्णो देवी कटड़ा पहुंचेगी। बीच रास्ते ट्रेन उधमपुर, जम्मूतवी, पठानकोट, जालंधर कैंट, लुधियाना, अंबाला छावनी, यमुनानगर-जगाधरी, सहारनपुर, मुरादाबाद, बरेली, लखनऊ और सुल्तानपुर रेलवे स्टेशन पर दोनों दिशाओं में ठहरेगी।

हरियाणा के पांच शहरों में चलेंगी इलैक्ट्रिक बसें

राणा ओबराय    

 चंडीगढ़। हरियाणा सरकार प्रदेशवासियों को पर्यावरण प्रदूषण के नकारात्मक प्रभावों से बचाने के मकसद से शून्य उत्सर्जन इलेक्ट्रिक बसें शुरू करने जा रही है। प्रदेश के दिल्ली-एनसीआर से लगते पांच जिलों में ये बसें चलाई जाएंगी।
राज्य सरकार की योजना शुरू में प्रदेश में सकल लागत मॉडल पर 124 पूर्णत: इलेक्ट्रिक बसें चलाने की योजना है। वर्ष 2021-22 के बजट में परिवहन विभाग के लिए 2408 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा की परिवहन प्रणाली के साथ देश की श्रेष्ठ प्रणालियों में से एक है।
परिवहन मंत्री ने बताया कि प्रदेश के दिल्ली एनसीआर से लगते पांच जिलों में  124 इलैक्ट्रिक बसों को चलाने की तैयारी की जा रही है। पहले राउंड में फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत, पानीपत और करनाल में ये बसें चलाने की योजना है।
उन्होंने बताया कि एक बार चार्ज होने पर बसें करीब 150 से 200 किलोमीटर तक सफर आसानी से कर सकती हैं। इस बात को ध्यान में रख जगह की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया वर्ष 2024 तक पांचों जिलों में इलेक्ट्रॉनिक बसें दौड़ने लगेंगी।
लोगों को सुरक्षित, किफायती और भरोसेमंद सेवाएं मुहैया करवाने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए वर्ष 2021-22 में बीएस-6 उत्सर्जन मानदंडों को पूरा करने वाली 800 मानक गैर-एसी बसों की खरीद प्रक्रिया शुरू कर दी है।
इसके अलावा, किलोमीटर स्कीम के तहत किराए पर ली गई 536 बसों का संचालन भी शुरू कर दिया गया है। इस तरह, जल्द ही हरियाणा रोडवेज के बेड़े में बसों की कुल संख्या 5,000 से अधिक हो जाएगी। साथ ही, प्रदेश में 54 वोल्वो मर्सिडीज सुपर लग्जरी एसी बसों 18 सुपर लग्जरी एसी मल्टी-एक्सल बसों का संचालन भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आवेदकों को भारी मोटर वाहन चलाने हेतु अत्याधुनिक प्रशिक्षण सुविधा प्रदान करने के लिए, कैथल, बहादुरगढ़ और रोहतक में तीन ड्राइविंग प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान संचालित किए गए  है।
इसके अलावा, 6 जिलों-अम्बाला, करनाल, हिसार, रेवाड़ी, फरीदाबाद और गुरुग्राम में निरीक्षण और प्रमाणन केन्द्र स्थापित किए जाएंगे।
उन्होंने कहा कि रोहतक जिले के कन्हेली गांव में एक निरीक्षण और प्रमाणन केन्द्र कार्यरत है। यह केद्रं जींद, रोहतक, पानीपत, सोनीपत और झज्जर जिलों के परिवहन वाहनों की फिटनेस आवश्यकताओं की पूर्ति कर रहा है।
फरीदाबाद, नूंह, भिवानी, करनाल, रेवाड़ी, सोनीपत, जींद, पलवल और यमुनानगर में नौ और ऐसे संस्थान स्थापित किए जा रहे हैं। इसके अलावा, गुरुग्राम में एक क्षेत्रीय ड्राइविंग प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि मैन्युअल टिकट प्रणाली को डिजिटल बनाने के उद्देश्य से ‘ओपन लूप टिकटिंग सिस्टम और जीपीएस सिस्टम’ को स्वनिर्माण, संचालन एवं स्थानांतरण मॉडल पर लागू करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। यह जून, 2021 के अंत तक पूरी तरह से लागू होने की संभावना है।

हरियाणा में बनेगी सड़क, फोर-लेन किया जाएगा हाईवे

  राणा ओबराय
चंडीगढ़। हरियाणा के भिवानी से लेकर कैथल तक जींद नेशनल हाईवे को फोर-लेन किया जाएगा। ताकि, लोगों को आवागमन में सुविधा हो।
यह जानकारी हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने वीरवार को विधानसभा के बजट सत्र के अंतिम दिन सदन के एक सदस्य द्वारा पूछे गए प्रश्न के उत्तर में दी। डिप्टी सीएम (जिनके पास लोक निर्माण विभाग का प्रभार भी है।) ने बताया कि वे पिछले दिनों नई दिल्ली में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से मिले थे। जिसमें उनसे भिवानी-कैथल रोड को नेशनल हाईवे अथॉरिटी द्वारा अपने अधीन करने तथा फोर-लेन करने का आग्रह किया था। इसमें उन्हें उम्मीद है। कि केंद्र सरकार द्वारा उनके प्रस्ताव को स्वीकार कर जल्द काम चालू कर दिया जाएगा।
टूटी सड़कें होंगी ठीक
उन्होंने आगे बताया कि कैथल रोड पर जींद विधानसभा क्षेत्र के गांव अमरेड़ी व उचाना विधानसभा क्षेत्र के गांव शाहपुर के पास टूटी सड़क को ठीक करने के लिए एस्टीमेट बना कर काम को जल्द सिरे चढ़ाने के निर्देश दे दिए हैं।
दुष्यंत चौटाला ने एक अन्य विधायक द्वारा सड़कों से संबंधित पूछे गए सवाल के जवाब में बताया कि रादौर विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्र में टूटी सड़कों को ठीक करने व चौड़ा करने का कार्य प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत करवाया जाएगा।
उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से हरियाणा के लिए इस योजना के तहत तीसरे चरण में 600 किलोमीटर लंबाई की सड़के बनाने, मजबूतीकरण व चौड़ा करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली है। इसी के अंतर्गत उक्त विधानसभा क्षेत्र की सड़कों को मजबूत किया जाएगा।

शिक्षा विभाग ने वार्षिक परीक्षाओं की डेटशीट जारी की

राणा ओबराय     
चंडीगढ़। हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड से 9वीं व 11वीं की नॉन बोर्ड कक्षाओं की परीक्षाएं करवाने जा रहा है। इन वार्षिक परीक्षाओं की डेटशीट बुधवार देर शाम को जारी कर दी।
जिला शिक्षा विभाग कार्यालय ने जिलेभर के राजकीय स्कूलों के प्रिंसिपलों को निदेशालय की ओर से जारी डेटशीट ई-मेल व विभाग के वाट्सएप ग्रुप पर भेजकर सूचना दे दी है। 9वीं कक्षा का पहला पेपर इंग्लिश और 11वीं कक्षा का पहला पेपर सोशल साइंस का होगा।
जिला शिक्षा अधिकारी अरुण आश्री ने बताया कि परीक्षाओं को शांतिपूर्ण ढंग से व कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार संपन्न करवाने के निर्देश भी सभी स्कूलों को जारी कर दिए है।
9वीं कक्षा की डेटशीट (एछबीएस ई)
26 मार्च को सामाजिक, 27 को हिंदी, 31 मार्च को इंग्लिश, 2 अप्रैल को गणित, 5 को साइंस, 7 को ब्यूटी एंड वेलनैस, 8 को पंजाबी।
11वीं कक्षा की डेटशीट (एचबीएस ई)
26 मार्च को इंग्लिश, 27 को होम साइंस, 30 को कैमेस्ट्री, अकाउंटेंसी, 31 को हिंदी, 1 अप्रैल को फाइन आर्ट, 2 को गणित, 3 को इतिहास, बायोलॉजी, 5 को फिजिक्स, अर्थशास्त्र, 6 को राजनीति शास्त्र, 7 को भूगोल, 8 को फिलोस्फी, बिजनेस स्टैडी, 9 को कृषि, मनोविज्ञान, 12 को पंजाबी, फिजीकल एजुकेशन, संस्कृत, 13 को सामाजशास्त्र, 15 को ब्यूटी एंड वेलनैस, 16 को मिलिट्री साइंस।
जिला शिक्षा अधिकारी अरुण आश्री ने बताया कि स्कूलों में लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन पढ़ाई कराई गई है। नौवीं और 11वीं कक्षा की डेटशीट जारी कर दी है। विद्यार्थियों को परीक्षा बेहिचक देनी हैं। उनको अपने पढ़ें पर भरोसा होना चाहिए।

आंदोलन को लेकर महिलाओं की पंचायत आयोजित

राणा ओबराय 
चंडीगढ़। हरियाणा में किसान आंदोलन को लेकर महिलाओं की पंचायत जींद में आयोजित की गई। इस दौरान महिलाओं ने नेताओं पर जमकर तीर छोड़े। इस दौरान भाजपा-जजपा नेताओं के गांवों में ना घुसने देने के लिए कहा गया।
महिला पंचायत को संबोधित करते हुए इनेलो नेत्री सुनैना चौटाला ने कहा कि भाजपा और जजपा नेताओं को आदत पड़ गई है। अब ये गांव में घुसे तो महिलाएं लठों को तेल लगाकर रखें और इनको भगाने का काम करें। वहीं कार्यक्रम में पहुंची बॉलीवुड अभिनेत्री सोनिया मान ने महिलाओं से आह्वान किया वे आंदोलन में आगे रहें। साथ ही उन्होंने पुरुषों से भी कहा कि वे अपने वोट की कीमत पहचानें। पव्वे के चक्कर में वोट न दें।
सुनैना ने कहा कि आज राजनीतिक दलों की नहीं सभी नेताओं की बात हो रही है। जो लोग आज कुर्सी से चिपक कर बैठे हैं। उन्हें सोचना चाहिए कि वे किसानों के वोट के कारण ही कुर्सी तक पहुंचे हैं।
चौटाला ने कहा जब पहली बार पशु खेत में घुसता है। तो उसे सिर्फ हल्ला कर भगा दिया जाता है। लेकिन यदि पशु बार-बार खेत में आता है तो उसका इलाज लठ से ही होता है।
ऐसे ही प्रदेश व केंद्र की सरकारों को अब किसानों को नुकसान करने की आदत पड़ गई है। यह हिल गए हैं। इनको भगाने के लिए महिलाओं को लठ को तेल लगा कर अपने सिरहाने रखना चाहिए।
उन्होंने कहा कि जजपा व भाजपा नेताओं को किसान गांवों में नहीं घुसने दे रहे हैं। उन्हें शर्म आनी चाहिए और कुर्सी छोड़ देनी चाहिए।

एयरफोर्स ज्वाइन करने के लिए करते थे प्रेरित, शहीद


ग्वालियर/ जालौन। वायुसेना के जहाज मिग-21 का हादसा होने के कारण जालौन का लाल कैप्टन आशीष गुप्ता शहीद हो गए हैं। शहीदी पर चचेरी बहन रुपाली ने बताया कि  अज्जू भइया हमेशा देश सेवा की बातें करते थे। और वह उन्हें भी प्रेरित करते थे। कि वह भी एयरफोर्स ज्वाइन कर लें। बहन ने बताया कि वह बहुत ही कम बोलते थे। लेकिन जब भी बोलते देश सेवा की ही बातें करते थे।
अज्जू के शहीद हो जाने पर उनकी बहन ने बताया कि भाई हमेशा सभी बहनों से फोन पर बात करते थे और कहते थे। कि आज लड़कियां भी देश सेवा में आगे आ रही है।
भाई के बात मान बहन रुपाली ने तो भाई की बातों से प्रेरित होकर एयरफोर्स की तैयारी शुरू कर दी थी। लेकिन सफलता नहीं मिली। रुपाली ने बताया कि भइया का फोन अक्सर हम पांच बहनों में से किसी न किसी के पास आया ही करता था।
यह बात और है। कि काम में व्यस्त होन के कारण वे ज्यादा समय बात नहीं करते थे। सिर्फ पापा मम्मी के साथ पूरे घर के हाल चाल पूछकर फिर से फोन करने को कहते हुए बात खत्म कर देते थे। बता दें, कि शहीद अजय अंतिम बार अपने दोस्त की शादी में आए थे। जिसके बाद वह उरई स्थित घर पर आ गए थे।
कैप्टन आशीष के जहाज की दुर्घटना की खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गई। जिसके बाद उनके दोस्तों और रिश्तेदारों में केवल उन्हीं की चर्चा थी। वहीं घर के पास रहने वाले उनके साथी रवि गुप्ता, सुमित, प्रेमनाथ आदि खड़े होकर कैप्टन आशीष के बारे में ही चर्चा कर रहे थे। साथियों ने बताया कि यूं तो आशीष का आना जाना काफी कम था, लेकिन आता था तो तीन चार दिन रहता था और सभी से एक बार मिलता जरूर था। उन्हें भुलाना इतना आसान नहीं होगा।
2010 में छाया मोदी से हुई थी। कैप्टन की शादी
परिवार के सुरेश गुप्ता ने बताया कि अज्जू की शादी 2010 में झांसी के गुरसराय के मोदी परिवार की बेटी छाया से हुई थी। हम सभी उसकी शादी में शामिल भी हुए थे। सुबह जिस वक्त से मिग-21 के हादसे के शिकार हुआ और उसमें जान गंवाने वाले आशिष का जिकर किया गया तो परिवार चौंकना हो गया और अपनी आंखें टीवी पर गढ़ा ली। लेकिन कहीं से भी कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई। भले ही आशीष के परिजनों और मोहल्ले वालों को हादसे की जानकारी सुबह सवा ग्यारह से लेकर दोपहर 12 बजे तक हो गई थी। लेकिन पुलिस प्रशासन के किसी भी अधिकारी और किसी भी जनप्रतिनिधि व नेता ने कैप्टन के घर पहुंचने की जरूरत महसूस नहीं की। इससे परिजनों और इलाके के लोगों में काफी नाराजगी रही।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

 प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   

1. अंक-215 (साल-02)
2. शनिवार, मार्च 20, 2021

3. शक-1983, फाल्गुन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- सप्तमी, विक्रमी सवंत

4. सूर्योदय प्रातः 06:35, सूर्यास्त 06:35।

5. न्‍यूनतम तापमान -11 डी.सै., अधिकतम-30+ डी.सै.। 

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित) 


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...