बुधवार, 17 नवंबर 2021

पुनरीक्षण कार्यक्रम के सम्बंध में बैठक आयोजित

पुनरीक्षण कार्यक्रम का निरिक्षण किया: गोयल

बृजेश केसरवानी              
प्रयागराज। मण्डलायुक्त संजय गोयल की अध्यक्षता में बुधवार को संगम सभागार में विभिन्न राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के सम्बंध में बैठक आयोजित की गयी। बैठक में मण्डलायुक्त ने सभी राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियोें से चल रहे संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम में सहयोग प्रदान करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि कोई भी पात्र व्यक्ति मतदाता बनने से छूटने न पाये। उन्होंने कहा कि जो भी लोग 01 जनवरी, 2022 तक 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर रहे है। ऐसे युवाओं का मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने में सहयोग करें।
बैठक में मण्डलायुक्त ने कहा कि संक्षिप्त पुनरीक्षण अभियान कार्यक्रम में यदि कोई भी सम्बंधित विद्यालय या संस्था बंद पायी गयी तो, सम्बंधित के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि सभी बीएलओ के पास अनिवार्य रूप से वोटर लिस्ट की सूची उपलब्ध रहे, इसकी सुनिश्चितता के लिए सभी एआरओ को निर्देशित किया है। मण्डलायुक्त ने सर्वे कराकर 01 जनवरी, 2022 तक 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर रहे युवाओं का नाम मतदाता सूची में दर्ज करायें जाने के लिए कहा है। मण्डलायुक्त ने जेण्डर रेसियों को भी बढ़ाये जाने के लिए कहा है।
आलेख्य प्रकाशित निर्वाचक नामावली में यदि कोई त्रुटि दृष्टिगोचर हो रही हो, तो बी.एल.ए एवं बी.एल.ओ की बैठक कराकर संशोधनों एवं अपमार्जनों की नियमानुसार कार्यवाही में सहयोग करें। आयोग की अपेक्षा के अनुसार राजनैतिक दल अपने पदाधिकारियों एवं समर्थकों की सक्रिय भागीदारी के लिए आयोग द्वारा विकसित वोटर हेल्प लाइन एप को अधिक से अधिक डाउनलोड करायें। 
यह एप पुनरीक्षण एवं निर्वाचन सम्बंधी बहुत से कार्यों में अत्यंत उपयोगी है। इसके द्वारा आनलाइन फार्मों का आवेदन, निर्वाचक के विवरण की जानकारी तथा आयोग द्वारा दिये जा रहे नवीनतम दिशा-निर्देशों आदि की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। पुनरीक्षण अवधि में कोई भी व्यक्ति प्रारूप-6, 7, 8, 8 में अपना आवेदन पत्र मतदेय स्थल पर नियुक्त पदाभिहित अधिकारी, बी.एल.ओ, मतदाता पंजीकरण केन्द्र, निर्वाचक/सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के कार्यालय, तहसील कार्यालय तथा जिला निर्वाचन कार्यालय में जमा करा सकता है। इस अवसर पर जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री, अपर आयुक्त श्री एम.पी सिंह, एडीएम प्रशासन हर्ष देव पाण्डेय, सभी विधानसभाओं के ए.आर.ओ सहित राजनैतिक दलों से श्री कुंज बिहारी मिश्र, सै. इस्तेखार हुसैन, श्री योगेश यादव, श्री रईस अहमद, श्री ज्ञान सिंह पटेल, मो. नसीम अंसारी के साथ-साथ सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

कौशाम्बी: प्रतिभा खोज परीक्षा का आयोजन किया

सुशील केसरवानी         
कौशाम्बी। बेटियों के सम्मान में चायल विधायक द्वारा प्रतिभा खोज परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन में 40 बेटियों को विधायक द्वारा उपहार में स्कूटी प्रदान की जाएगी। रिद्धि-सिद्धि सेवा ट्रस्ट द्वारा मनाया जा रहा आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत रानी लक्ष्मीबाई सम्मान प्रतिभा खोज परीक्षा का चायल विधायक संजय कुमार गुप्ता द्वारा अपने विधानसभा चायल के 6 परीक्षा केंद्रों में समय 11 बजे से 1 बजे तक प्रतिभा खोज परीक्षा संपन्न कराई जाएगी। ट्रस्ट के अध्यक्ष और विधायक चायल संजय कुमार गुप्ता ने अवगत कराया कि पूरे देश में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है।
इसी महोत्सव के अंतर्गत मेरी विधानसभा चायल में विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी मेरी बेटी मेरा स्वाभिमान की धारणा को मजबूत करते हुए रानी लक्ष्मीबाई सम्मान कार्यक्रम के अंतर्गत प्रतिभा खोज परीक्षा के माध्यम से कक्षा 12 व स्नातक, परस्नातक की छात्राओं व आत्मनिर्भरता व स्वालंबन हेतु प्रेरणात्मक इस कार्यक्रम के द्वारा सभी प्रतिभागी बेटियों को सम्मानित करते हुए सभी को उपहार व ब्लॉक स्तर पर बनाई गई। मेरिट के अनुसार 40 विजेताओं को स्कूटी का पुरस्कार प्रदान करते हुए उन सभी बेटियों के सम्मान में सहभोज का आयोजन होगा। विधायक श्री गुप्ता ने बताया कि 21 नवंबर दिन रविवार को परीक्षाएं संपन्न होने के 10 दिनों बाद सम्मान समारोह आयोजित होगा।जिसमें नारी शक्ति के प्रतीक देश प्रदेश की कई विभूतियों का आगमन होगा। 
यह कार्यक्रम पूर्ण रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान से ओत प्रोत होगा। इस कार्यक्रम के माध्यम से देश की आजादी से लेकर अब तक की तमाम मात्र शक्तियों को एक प्रदर्शनी के माध्यम से प्रदर्शित करते हुए बेटियों के लिए एक प्रेरणा स्रोत अवसर प्रदान करेगा।कार्यक्रम संयोजिका श्रीमती सीमा पवार ने बताया कि 21 नवंबर को 11:00 बजे से शुरू होने वाली यह प्रतिभा खोज परीक्षा सराय अकिल के आदर्श इंटर कॉलेज, पंडित बनवारी लाल गौतम बालिका इंटर कॉलेज तिल्हापुर के कौशांबी डिग्री कॉलेज, मनौरी के दयानंद बालिका इंटर कॉलेज, चरवा में हरी राज कृष्णा महाविद्यालय सहित भरवारी के एन डी कॉन्वेंट व केपीएस विद्यालय में संपन्न होगी। सभी परीक्षा केंद्रों से फार्म प्राप्त व वहीं पर जमा किए जा सकेंगे इस प्रेस वार्ता में कार्यक्रम के सह संयोजक मयंक मिश्रा, ऋषि कुमार, प्रदुमन शर्मा आदि लोग मौजूद रहे।

 सभी स्कूल-कॉलेज अगले आदेश तक बंद किए

अश्वनी उपाध्याय          गाजियाबाद। वायु प्रदूषण से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले विपरीत प्रभाव को रोकने के लिए वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग द्वारा एनसीआर में आने वाले जिलों के सभी स्कूल-कॉलेज अगले आदेश तक बंद कर दिए गए हैं। इसके बाद दिल्‍ली और हरियाणा के एनसीआर क्षेत्र में पड़ने वाले स्‍कूलों को बंद कर दिया गया है। गाजियाबाद और गौतमबुद्ध नगर जिलों में प्रशासन ने स्‍कूलों का बंद नहीं किया गया है। 

यहां बच्‍चे रोजाना की तरह भयंकर वायु प्रदूषण के बीच स्कूल जा रहे हैं। इस संबंध में जिला प्रशासन का कहना है कि शासन स्‍तर से आदेश आने के बाद स्‍कूल बंद किए जाएंगे। गाजियाबाद के डीएम आरके सिंह का कहना है कि प्रदूषण कम करने के लिए प्रशासन लगातार प्रभावी कदम उठा रहा है। 

सीएम मनोहर के कार्यक्रम की रूप रेखा तैयार की

सीएम मनोहर के कार्यक्रम की रूप रेखा तैयार की


राणा ओबराय         
यमुनानगर। कपाल मोचन मेले में 19 नवंबर को सीएम मनोहर लाल के पहुंचने का कार्यक्रम तय हुआ है। डीसी पार्थ गुप्ता और एसपी कमलदीप गोयल ने अधिकारियों की टीम के साथ मेला एरिया का दौरा कर सीएम के कार्यक्रम की रूप रेखा तैयार की। वहीं मीटिंग की। सीएम यहां पर गुरुद्वारे और मंदिरों में माथा टेकने के साथ-साथ सरोवरों में स्नान कर सकते हैं। इस दौरान हर सरोवर में 15 से 20 फीट का एरिया रिजर्व रखने की प्लानिंग है। इस एरिया में साफ स्वच्छ पानी भरा जाएगा। 

वहीं तीनों सरोवरों में सीएम पैदल जाएंगे या फिर किसी वाहन से उन्हें लेकर जाया जाएगा, इसे लेकर भी प्लानिंग की गई। ऐसा कई दशकों के बाद होगा कि सूबे का सीएम कपालमोचन मेले में पहुंचेगा क्योंकि नेताओं के यहां आने को लेकर कई तरह की भ्रांतियां हैं। कहा जाता है कि जो नेता यहां पर आता है, उसका राजनीति भविष्य खतरे में पड़ जाता है। हालांकि इसकी किसी तरह की पुष्टि नहीं है। हालांकि यमुनानगर विधायक घनश्यामदास अरोड़ा ने यह परंपरा और अंधविश्वास की सीमाओं को 7 साल पहले तोड़ दिया था। तब वे खुद कपालमोचन पहुंचे और स्नान किया था। इसके बाद दोबारा विधायक बने हैं।
कपाल मोचन मेले में सीएम का कार्यक्रम प्रशासन के लिए किसी चुनौती से कम नहीं होगा। क्योंकि लाखों की संख्या में यहां श्रद्धालु होंगे। वहीं करीब एक से डेढ़ किलोमीटर के एरिया में तीनों सरोवर हैं। वहां सीएम का लाखों की संख्या की भीड़ में जाना। सीएम के गुरुद्वारे में कुछ देर रुकने का भी कार्यक्रम बताया जा रहा है। मेले में सीएम के आने के कार्यक्रम के लिए और पुलिस बल की जरूरत पड़ सकती है। क्योंकि कृषि बिलों के विरोध में आंदोलन चल रहा है। इस आंदोलन में पंजाब से ज्यादा लोग हिस्सा ले रहे हैं और मेले में 70 प्रतिशत लोग पंजाब के आते हैं। इन के बीच सीएम का पहुंचना प्रशासन के लिए चुनौती होगा। फिलहाल मेले में करीब 1700 पुलिस कर्मी तैनात किए गए हैं। इनके अलावा और सुरक्षा कर्मियों को बुलाया जा सकता है।

सीएम मनोहरलाल कपालमोचन आते हैं तो तीर्थ स्थल के लिए बड़ी घोषणा हो सकती है क्योंकि यह स्थल लंबे समय से सरकार की अनदेखी का दंश झेल रहा है। इसके लिए लंबे समय से कोई बड़ी घोषणा नहीं हुई। धार्मिक और सामाजिक संस्थाओं ने अपने स्तर पर यहां कार्य किए हैं। धार्मिक संस्थाओं के पदाधिकारियों का कहना है कि सीएम के कार्यक्रम से उन्हें कई उम्मीद हैं। पहली बार यहां सीएम पहुंचेंगे। डीसी पार्थ गुप्ता ने बताया कि सीएम के आने की सूचना है। अभी कार्यक्रम फाइनल होना बाकी है। आज और कल का दिन अहम है।

सीएम पुष्कर ने उन्नति पोर्टल का उद्घाटन किया


पंकज कपूर         देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को आई.आर.डी.टी. सभागार में ‘”अपणि सरकार” एवं उन्नति पोर्टल का उद्घाटन किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विभिन्न जनपदों से जिन लोगों ने अपने प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया अपनाई, उनसे बात भी की और उनसे सुझाव भी लिए। अपणि सरकार पोर्टल के माध्यम से उन्नति पोर्टल के माध्यम से मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की समीक्षा करेंगे। उन्नति पोर्टल के माध्यम से शासन स्तर पर मुख्य सचिव एवं विभागीय सचिव तथा जिलास्तर पर जिलाधिकारियों तक डैशबोर्ड बनाया गया है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि अपणि सरकार, पोर्टल के जरिए अब एक क्लिक पर 09 विभागों की 75 सेवाओं का लाभ आमजन ऑनलाइन माध्यम से घर बैठे ले सकते हैं। सुशासन की दिशा में यह बड़ा प्रयास है। इस पोर्टल के माध्यम से आम नागरिक जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, सहित कुल 75 सेवाओं का लाभ घर बैठे उठा सकेगें। प्रदेशवासियों को वे सेवाएं घर बैठे मिल सकेंगी जिनके लिए उन्हें ऑफिसों के चक्कर काटने पड़ते थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन ऑनलाईन सेवाओं के शुरू होने से लोगों को आवश्यक प्रमाण पत्र सुगमता से प्राप्त होंगे। समय और खर्चे की भी बचत होगी। सभी प्रमाण पत्र डिजी लॉकर में एकीकृत एवं संग्रहित होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश तेजी से प्रगति कर रहा है। वैश्विक स्तर पर भारत की एक अलग पहचान बनी है। पिछले सात सालों में देश की कार्य संस्कृति में तेजी से परिवर्तन हुआ है। तकनीक का तेजी से विस्तार हुआ है। समाज के अंतिम पंक्ति के लोगों को ध्यान में रखते हुए योजनाएं क्रियान्वित की जा रही है। प्रदेश में भी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के पद्चिन्हों पर चलकर कार्य किये जा रहे हैं। प्रदेश में दुर्गम क्षेत्रों में कनेक्टिविटी के सुधार पर और प्रयासों की जरूरत है, इस दिशा में सरकार प्रयासरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब से मुझे मुख्य सेवक की जिम्मेदारी मिली है। तब से हमने सरलीकरण, समाधान, निस्तारीकरण व संतुष्टि के मूल मंत्र को अपनाने के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री से वर्चुअल बातचीत के दौरान सुश्री कमला राणा ने सुझाव दिया कि जन समस्याओं की त्वरित समाधान और प्रमाण पत्रों के लिए ग्राम सभाओं में कैंप लगाये जाने चाहिए। टिहरी के प्रणव रावत ने सुझाव दिये कि सरकार द्वारा ऑनलाईन माध्यम से दी जाने वाली सुविधाएं प्रदेश के दुर्गम क्षेत्रों के लोगों तक पहुंचे, इसके लिए विभिन्न माध्यमों से प्रचार-प्रसार होना जरूरी है। मुख्यमंत्री ने वर्चुअल माध्यम से पिथौरागढ़ की सुश्री निशा, हरिद्वार से सुश्री उपासना सिंह ने भी बातचीत की।

मेयर देहरादून सुनील उनियाल गामा ने कहा कि आज जिन दो पोर्टल का मुख्यमंत्री द्वारा शुभारंभ किया गया है। इससे जनसुविधाएं सुलभ होंगी। पं. दीनदयाल उपाध्याय जी ने अन्त्योदय का जो संदेश दिया, इस दिशा में यह सराहनीय प्रयास है। विभागों में समन्वय के लिए भी ये पोर्टल बहुत कारगर साबित होंगे। उन्नति पोर्टल के माध्यम से सभी विभागों की परियोजना, उसकी निगरानी एवं वर्तमान परियोजना की स्थिति की जानकारी को प्राप्त की जा सकती है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के अपर प्रमुख सचिव अभिनव कुमार, सचिव अरविन्द सिंह ह्यांकी, विशेष सचिव पराग मधुकर धकाते, निदेशक आई.टी.डी.ए. आशीष कुमार श्रीवास्तव, जिलाधिकारी देहरादून डॉ. आर. राजेश कुमार एवं वर्चुअल माध्यम से विधायकगण एवं सभी जिलाधिकारी उपस्थित थे।


निर्माण कार्यों का भूमिपूजन करेंगे सीएम भूपेश

दुष्यंत टीकम          रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 18 नवंबर, गुरुवार को दुर्ग जिले में 177 करोड़ रुपए की लागत वाले विकास एवं निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे। लोकार्पण एवं भूमिपूजन का यह कार्यक्रम दुर्ग जिले के नगर निगम भिलाई, भिलाई-चरौदा, रिसाली एवं जामुल नगर पालिका क्षेत्र में होगा। मुख्यमंत्री भिलाई नगर निगम क्षेत्र में 104 करोड़ रुपए के लोकार्पण एवं भूमिपूजन कार्यक्रमों की सौगात देंगे। भिलाई-चरौदा निगम में 40 करोड़ रुपए की राशि के निर्माण कार्यों की सौगात एवं रिसाली निगम में 27 करोड़ रुपए की राशि के कार्यों का लोकार्पण भूमिपूजन होगा। जामुल में 5 करोड़ रुपए के कार्यों का लोकार्पण एवं 1.91 करोड़ के कार्यों का भूमिपूजन होगा। मुख्यमंत्री इस मौके पर शासन की विभिन्न योजनाओं के तहत लाभान्वित हितग्राहियों को अनुदान राशि का चेक भी वितरित करेंगे।
भिलाई निगम में 25 स्वसहायता समूहों को 30 लाख रुपए की राशि का चेक वितरित किया जाएगा। श्रम पदाधिकारी ने बताया कि इस अवसर पर 143 श्रमिकों के परिजनों को चेक भी वितरित किया जाएगा। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा भी इसी तरह से हितग्राहियों को सामग्री वितरित की जाएगी। इसके अलावा मछली बीज एवं जाल आदि का वितरण भी किया जाएगा।
कैनाल रोड निर्माण एवं सौंदर्यीकरण का लोकार्पण- मुख्यमंत्री इस अवसर पर 28 करोड़ रुपए की लागत से बने कैनाल रोड का लोकार्पण भी करेंगे। इसके अलावा अधोसंरचना के कार्यों सहित एवं चौदहवें वित्त की राशि से कराए गए कार्यों का लोकार्पण भी होगा।
सुरडुंग जलाशय की रिमाडलिंग का भूमिपूजन- मुख्यमंत्री श्री बघेल जिले के सुरडुंग जलाशय के शीर्ष एवं नहर की रिमाडलिंग एवं लाइनिंग कार्य का भूमिपूजन भी करेंगे। क्षतिग्रस्त हो जाने की वजह से जलाशय की क्षमता का पूरा उपयोग नहीं हो पा रहा है। कार्य पूर्ण होने पर 100 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की जा सकेगी। इस तरह लगभग 62 हेक्टेयर के अतिरिक्त रकबे में सिंचाई सुविधाओं का विस्तार हो पाएगा।

यूपी: जहरीला पदार्थ खाने से युवती की मौंत हुईं

यूपी: जहरीला पदार्थ खाने से युवती की मौंत हुईं

संदीप मिश्र           
बरेली। उत्तर प्रदेश के बरेली में एक 18 वर्षीय युवती की जहरीला पदार्थ खाने की वजह से मौत हो गई। सीएचसी से रेफर करने के बाद युवती को जिला अस्पताल ले जाया जा रहा था। उसी वक्त उसन रास्ते में दम तोड़ दिया। परिवार वालों ने युवती के साथ छेड़छाड़ करने वालों के ऊपर जहरीला पदार्थ खिलाकर मारने का आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।
बीते दिनों दर्ज कराया था मुकदमा।
मृतक युवती मूल रुप से बहेड़ी के मिंतरपुर गांव की रहने वाली है। परिजनों के मुताबिक बीते दिनों नजीर अहमद, अनीश अहमद, समेत पांच लोगों ने युवती से छेड़छाड़ की थी। जिस पर युवती ने छेड़छाड़ का मुकदमा भी दर्ज कराया था। सभी आरोपी युवती के ऊपर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे थे। मगर जब युवती और उसके परिजनों के ने मुकदमा वापस नहीं लिया तो उन्होंने उसे अपने घर लेकर जहरीला पदार्थ खिलाकर मार डाला। हालांकि अभी तक मृतिका के परिजन थाने नहीं पहुंचे है।
तमंचे के बल पर घर से खींचकर ले गए।
मृतिका के भाई अफसार का कहना है कि मंगलवार की रात मुकदमें में आरोपी पांच लोग उनके घर पर आए। पहले मां-बाप का कमरा बंद किया। बाद में युवती के कमरे में घुस गए। तमंचे के बल पर उसे वहां से उठाकर अपने घर ले गए। जबरदस्ती उन्होंने उसे जहरीला पदार्थ खिला दिया। जिसके बाद वह वहां से चले गए। युवती तड़पती रही।
परिवार वालों को किया फोन, तो पहुंचे।
बताया जा रहा है कि युवती के पास मोबाइल था। जहरीला पदार्थ खिलाने के बाद जब वह वहां से चले गए तो युवती ने अपना मोबाइल निकालकर परिजनों को फोन किया तो सभी आनन फानन में आरोपी नजीर अहमद के घर पहुंचे। वहां से वह युवती को लेकर सीएचसी गए। बाद में वहां से उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। मगर अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया।

40 लीटर शराब के साथ आरोपी गिरफ्तार किया

संदीप मिश्र       
रायगढ़। थाना प्रभारी सरिया निरीक्षक विवेक पाटले के नेतृत्व में स्टाफ द्वारा मुखबिर सूचना पर ग्राम कंडोला डिपापारा में 40 लीटर महुआ शराब के साथ एक आरोपी को पकड़ा गया है। जिसे आबकारी एक्ट के प्रकरण में गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया। मुखबिर सूचना पर थाना सरिया के सहायक उप निरीक्षक माधव साहू के हमराह आरक्षक राजकुमार साव, मोहन लाल पटेल, महादेव बंजारा, दिलीप कुमार बंजारा के साथ शराब रेड कार्यवाही के लिए ग्राम कंडोला रवाना हुए।
पुलिस टीम डीपापारा एवं बस्ती के बीच रास्ते में छिपकर मुखबिर द्वारा बताये गये व्यक्ति के आने का इंतजार की शाम करीब 19:00 बजे संदेही सूरज कुमार सिदार पिता अजीत राम सिदार उम्र 39 वर्ष साकिन कंडोला डीपापारा का एक लकडी के डंडे के दोनों तरफ 20-20 लीटर के जरीकन में कंधे में ऊठाकर लाते दिखा, जिसे पकडे। 
संदेही के कब्जे से 20-20 लीटर के जरीकन में भरा 20-20 लीटर कुल 40 लीटर महुआ शराब मिला, पूछताछ करने पर सूरज कुमार सिदार शराब को बिक्री के लिये लेकर आना बताया। आरोपी के विरूद्ध धारा- 34(2),59(क) आबकारी एक्ट की कार्रवाई कर ‍रिमांड पर भेजा गया है।


कैटरीना की दूसरी वर्षगांठ पर फोटो शेयर किया

कैटरीना की दूसरी वर्षगांठ पर फोटो शेयर किया

कविता गर्ग          
मुंबई। बॉलीवुड में अपने अभिनय से लोगों के दिलों में राज करने वाली अभिनेत्री कैटरीना कैफ ने सोशल मीडिया एकाउंट पर कै बाय कैटरीना की दूसरी वर्षगांठ पर फोटो शेयर करते हुए जानकारी दी है कि वह अपने गु्रप के साथ दूसरी वर्षगांठ मना रही है। इन तस्वीर को एक घंटे के अंदर दो लाख से अधिक लोग पंसद कर चुके हैं।
अभिनेत्री केटरीना कैफ ने सोशल मीडिया पर एक फोटो अपलोड किया है। इस फोटो में कैटरीना के साथ कई लड़कियां नजर आ रही है। उन्होंने इस फोटो को शेयर करते वक्त केप्सन में लिखा है कि हमारी असुरक्षा की परवाह किये बिना हम में से 9 बिलियन हैं। हमारी विशिष्टता में एक जादू है। यह फोटो उन्होंने अपने कै बाय कैटरीना की दूसरी वर्षगांठ पर शेयर किया है। उन्होंने कहा कि कै बाय कैटरीना गु्रप अपनी दूसरी वर्षगांठ मना रहा है। हम अपने मूल मूल्यों पर एक नजर डालते है, याद दिलाते हैं कि आकार, लिंग, आयु और क्षमता की परवाह किये बिना, आप जो भी हैं, चाहे आप कितने भी हों। इसके बाद में उन्होंने अपने फोटोग्राफर, हेयर स्टाइलिस्ट, मेकअप आर्टिस्ट, स्टाइलिस्ट, मॉडल के बाल और मेकअप का नाम मेनसन करते हुए लिखा है। कैटरीना कैफ इस तस्वीर में लाइट कॉफी ड्रेस में दिखाई दे रही है। कैटरीना का हेयर लुक काफी लोगों को पंसद भी आ रहा है। एक यूजर ने लिखा है कि आपके बाल बहुत सुंदर हैं, इसके पीछे क्या राज है?। वहीं अन्य यूजर्स ने लिखा कि आप क्या करते हैं, यह बहुत सुंदर बात है।, हम आपसे प्यार करते हैं और हमें आप पर गर्व है।

मुंबई: गाना 'दिल बेकरार' का ट्रेलर रिलीज हुआ

कविता गर्ग      
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता राज बब्बर-पूनम ढ़िल्लो और पद्मिनी कोल्हापुरे स्टार दिल बेकरार का ट्रेलर रिलीज हो गया है। दिल बेकरार में राज बब्बर, पूनम ढिल्लो और पद्मिनी कोल्हापुरे की मुख्य भूमिका है। दिल बेकरार की कहानी अस्सी के दौर में स्थापित की गयी है।कहानी के केंद्र में ठाकुर फैमिली है, जो दो मुख्य किरदारों देबजानी ठाकुर और डीलन शेखावत के वैचारिक मतभेदों की वजह से पैदा होने वाली हास्य परिस्थितियों पर आधारित है। दिल बेकरार का निर्माण सोबो फिल्म्स ने किया है, जबकि इसके निर्देशक हबीब फैजल हैं।
राज बब्बर ने कहा, "मेरे किरदार का नाम लक्ष्मी नारायण ठाकुर है, जो एक उसूल पसंद और आदर्शों वाला इंसान है। डिजिटल स्पेस में ऐसा किरदार निभाना मेरे लिए बतौर एक्टर एक खोज है। स्क्रिप्ट इन किरदारों की बैकस्टोरी और अस्सी के दौर में उन्हें निभाना काफी शानदार रहा। सीरीज में मैं बेहद उम्दा कलाकार पद्मिनी कोल्हापुरे और पूनम ढिल्लों के साथ फिर से काम कर रहा हूं, साथ ही नये जमाने के कलाकार सहर और अक्षय के साथ सेट पर वही जोश और उत्साह देखने को मिला।"

पूनम ढ़िल्लो ने बताया, "दिल बेकरार को करना एक अच्छा अनुभव रहा। पांच बेटियों की मां का किरदार निभाते हुए अस्सी के दशक को जीना संतोषप्रद अनुभव रहा। ममता ठाकुर का रोल मेरे लिए इसलिए खास था, क्योंकि मातृत्व को अलग नजरिए से देखने का मौका मिला।"

पर्यावरण मंत्री के साथ बैठक करेंगे विभाग: दिल्ली

पर्यावरण मंत्री के साथ बैठक करेंगे विभाग: दिल्ली

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय, वायु प्रदूषण को रोकने के उद्देश्य से वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) की ओर से जारी किए गए नए निर्देशों के संबंध में संबंधित विभागों के साथ उच्च स्तरीय बैठक करेंगे। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) ने मंगलवार देर रात निर्देश दिया था कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे और केवल ऑनलाइन शिक्षा की अनुमति होगी।
आयोग ने निर्देश दिए कि दिल्ली के 300 किलोमीटर के दायरे में स्थित 11 ताप विद्युत संयंत्रों – एनटीपीसी, झज्जर, महात्मा गांधी टीपीएस, सीएलपी झज्जर, पानीपत टीपीएस, एचपीजीसीएल, नाभा पावर लिमिटेड टीपीएस, राजपुरा और तलवंडी साबो टीपीएस, मानसा में से केवल पांच संयंत्र ही 30 नवंबर तक चालू रहेंगे।
अधिकारी ने कहा, ” मंत्री ने सीएक्यूएम के नए निर्देशों के संबंध में चर्चा करने के लिए दोपहर 12 बजे पर्यावरण विभाग, लोक कल्याण विभाग, नगर निगम, एनडीएमसी और शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक बुलाई है।” आयोग ने दिल्ली और एनसीआर वाले राज्यों को 21 नवंबर तक क्षेत्र में ‘सीएंडडी’ अपशिष्ट प्रबंधन नियमों और धूल नियंत्रण मानदंडों के सख्त अनुपालन के साथ ”रेलवे सेवाओं, रेलवे स्टेशन, मेट्रो रेल निगम सेवाओं, हवाई अड्डों और अंतर-राज्यीय बस टर्मिनल (आईएसबीटीएस) सहित और राष्ट्रीय सुरक्षा अथवा रक्षा संबंधी गतिविधियों अथवा राष्ट्रीय महत्व की परियोजनाओं” को छोड़कर निर्माण और तोड़-फोड़ संबंधी सभी गतिविधियों को रोकने का निर्देश दिया है।
वहीं, एनसीआर में आने वाले राज्यों की सरकारों को रविवार तक एनसीआर में कार्यालयों में अपने कर्मचारियों की कम से कम 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ घर से काम करने की अनुमति देने और निजी प्रतिष्ठानों को इस नियम का पालन करने के लिए प्रोत्साहित करने का निर्देश दिया गया है। दिल्ली सरकार ने सोमवार से एक हफ्ते के लिए स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थानों के परिसर में कक्षाएं बंद करने का आदेश दिया था। आवश्यक सेवाओं में शामिल लोगों को छोड़कर सभी सरकारी कार्यालयों, एजेंसियों और स्वायत्त निकायों को घर से काम करने के लिए कहा गया है।
श्रद्धालुओं के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हुईं

राणा ओबराय     
चंडीगढ़। गुरू नानक देव जयंती की 19 नवम्बर को जयंती से ऐन पहले पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब के दर्शनार्थ आज से कॉरिडोर खोले जाने के साथ ही वहां जाने वाले भारतीय विशेषकर सिख श्रद्धालुओं के लिये पूर्वाहन 11 बजे से पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो गई है। करतारपुर साहिब केवल उन्हीं श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति होगी। जिन्हें कोविड टीकाकरण की दोनों डोज़ लगी होंगी अथवा गत 72 घंटे की कोविड19 आटीपीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव रिपोर्ट है।
श्रद्धालुओं को पाने का पानी तथा सात किलो वजन तक का जरूरी सामान ले जाने की अनुमति होगी। इन वस्तुओं में नाकारात्मक सूची में रखी वस्तुएं वे सुरक्षा कारणों से नहीं ले जा सकेंगे। करतारपुर साहिब के लिये 18 नवम्बर को मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, उनके मंत्रिमंडल सहयोगियों तथा श्रद्धालुओं समेत 250 लोगों का पहला जत्था रवाना होगा।
वहीं शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी(एसजीपीसी) अध्यक्ष बीबी जागीर कौर के नेतृत्व में श्रद्धालुओं का विशाल जत्था 19 नवम्बर को करताारपुर साहिब के लिये रवाना होगा। वहीं एसजीपीसी की ओर से करतारपुर साहिब में आज से अखंड पाठ शुरू हो गया है जिसका गुरू नानक देव की 19 नवम्बर को जयंती पर समापन होगा।

उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के चलते करतारपुर कॉरिडोर मार्च 2020 में बंद कर दिया गया था। केंद्र सरकार ने सिख समुदाय की भावनाओं को मद्देनजर रखते हुये गुरू नानक देव जयंती से पूर्व ही 17 नवम्बर से करतारपुर कॉरिडोर खोलने का गत मंगलवार को फैसला लिया था जिसकी जानकारी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर जानकारी दी थी।

नेताओं ने सोनिया को अपना त्यागपत्र भेजा 

श्रीनगर। कांग्रेस की जम्मू-कश्मीर इकाई के सात प्रमुख नेताओं ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना त्यागपत्र भेजा है और दावा किया है कि उन्हें इस केंद्रशासित प्रदेश में पार्टी से संबंधित मामलों को लेकर अपनी बात रखने का मौका नहीं दिया गया। त्यागपत्र भेजने वालों में चार पूर्व मंत्री और तीन विधायक हैं।
सूत्रों का कहना है कि ये पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के करीबी हैं। कांग्रेस के इन नेताओं के इस्तीफे से कुछ दिनों पहले ही आजाद ने जम्मू-कश्मीर का दौरा किया था। सूत्रों ने इस्तीफा देने वाले नेताओं के नाम प्रकट नहीं किए हैं। उनका कहना है कि इन नेताओं ने सोनिया गांधी के अलावा पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी की प्रदेश प्रभारी रजनी पाटिल को भी इस्तीफे की प्रतियां भेजी हैं।
त्यागपत्र में इन नेताओं ने आरोप लगाया है कि उन्हें प्रदेश कांग्रेस नेतृत्व के ‘शत्रुतापूर्ण रवैये’ के चलते यह कदम उठाना पड़ा। उन्होंने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर पर निशाना साधा है। सूत्रों ने यह भी बताया कि पूर्व उप मुख्यमंत्री तारा चंद समेत आजाद के करीब कुछ अन्य नेताओं ने इस्तीफा देने वाले नेताओं से दूरी बना ली है। इन नेताओं ने त्यागपत्र में कहा कि उन्होंने अपने मुद्दों की तरफ पार्टी आलाकमान का ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया, लेकिन उन्हें समय नहीं दिया गया।
इन नेताओं का कहना है कि वे पिछले करीब एक साल से पार्टी नेतृत्व से मिलने का समय मांग रहे थे, लेकिन उन्हें समय नहीं दिया गया। मीर पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि मीर के अध्यक्ष रहते पार्टी ही बहुत दयनीय स्थिति की तरफ बढ़ रही है और पार्टी के बहुत सारे नेता इस्तीफा देकर दूसरे दलों में शामिल हो गए, लेकिन कुछ ने खामोश रहने का फैसला किया है।
उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस के कामकाज पर कुछ नेताओं पे कब्जा जमा रखा है। सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस आलाकमान ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि किसी भी चिंता का निदान पार्टी की व्यवस्था के तहत किया जाएगा और मीडिया के जरिये कुछ नहीं होगा। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि इन नेताओं के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई हो सकती है क्योंकि उन्होंने पार्टी आलाकमान पर निशाना साधा है।

राजनीति: ऐलनाबाद उप चुनाव में कांग्रेस की हार 


राणा ओबराय         चंडीगढ़। राजनीति के माहिर खिलाड़ी नेता प्रतिपक्ष तथा हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्‌डा ने ऐलनाबाद चुनाव का पूरा ठीकरा पार्टी उम्मीदवार पवन बेनीवाल पर फोड़ दिया। हुड्‌डा ने कहा कि यदि पार्टी उम्मीदवार सही चुनाव लड़ता या कोई और उम्मीदवार होता तो कांग्रेस इस सीट पर चुनाव जीत जाती। ऐलनाबाद उप चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार की हार पर पार्टी में एक बार फिर घमासान चर्चा शुरू हो गई है। विधायक दल की बैठक के बाद मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने साफ कहा कि पार्टी उम्मीदवार के कारण ऐलनाबाद में कांग्रेस की हार हुई। उन्होंने कहा कि यदि कोई दूसरा उम्मीदवार होता तो सीट पर पार्टी का प्रदर्शन अलग होगा। 

कांग्रेस अध्यक्षा शैलजा ने पिछले दिनों पूर्व विधायक को कारण बताओ भेजा था नोटिस। पवन बेनीवाल की जमानत जब्त होने का ऑडियो वायरल होने पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा ने पूर्व विधायक भरत सिंह बेनीवाल को नोटिस जारी किया था। भरत बेनीवाल ने 9 नवंबर को इस नोटिस का जवाब भेजा। हालांकि कुमारी सैलजा पूर्व विधायक के जवाब से संतुष्ट है या नहीं, इसकी पार्टी हाईकमान ने पुष्टि नहीं की। पूर्व विधायक भरत बेनीवाल असल में भूपेंद्र हुड्‌डा खेमे के हैं। उनके भतीजे पवन बेनीवाल किसान आंदोलन के कारण भाजपा छोड़कर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सैलजा की अध्यक्षता में पार्टी में शामिल हुए थे।

उस्मान को 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया

उस्मान को 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया  

ब्रिसबेन। मध्यक्रम के बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा को इंग्लैंड के खिलाफ अगले महीने से शुरू होने वाली एशेज श्रृंखला के पहले टेस्ट मैच के लिये आस्ट्रेलिया की 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है। यह 34 वर्षीय बल्लेबाज 2019 की एशेज श्रृंखला के दौरान टीम से बाहर किये जाने के बाद से आस्ट्रेलिया की तरफ से नहीं खेला है, लेकिन उन्होंने घरेलू क्रिकेट में क्वीन्सलैंड के लिये अच्छा प्रदर्शन किया है और मध्यक्रम में एक जगह के लिये वह ट्रैविस हेड को चुनौती दे सकते हैं।

एशेज का पहला मैच आठ दिसंबर को ख्वाजा के घरेलू मैदान गाबा में शुरू होगा। इससे पहले आस्ट्रेलिया ब्रिसबेन में ही एक अन्य मैदान पर एक से तीन दिसंबर के बीच ट्रायल मैच खेलेगा। आस्ट्रेलियाई चयनकर्ता जार्ज बैली ने कहा कि ख्वाजा शैफील्ड शील्ड में अच्छी लय में हैं। ख्वाजा ने अब तक 44 टेस्ट मैचों में लगभग 41 की औसत से रन बनाये हैं जिसमें आठ शतक भी शामिल है।


शरीर के लिए पानी पीने का सही तरीका
 मो. रियाज        

आपके शरीर को कितने पानी की जरूरत है। यह आपके उम्र, मौसम और एक्टिविटी लेवल पर निर्भर करता है। लेकिन पानी कब पीना चाहिए और किस तरह से पीना चाहिए यह नियम सभी के लिए एक समान है। पानी को लेकर क्या कहता है। शरीर के लिए पानी पीना कितना जरूरी है, ये तो हम सभी जानते हैं। इसलिए ज्यादातर डॉक्टर और हेल्थ एक्सपर्ट्स रोजाना 5-6 गिलास पानी पीने की सलाह देते हैं। हालांकि आपके शरीर को कितने पानी की जरूरत है, यह इस बात पर निर्भर करता है। आपकी उम्र कितनी है, आप किस वातावरण में रहते हैं। 
मौसम कैसा है और आप कितनी फिजिकल एक्टिविटी करते हैं। बावजूद इसके रोजाना कम से कम 4 गिलास पानी तो औसतन सभी के लिए जरूरी है। लेकिन जिस तरह भोजन करने का एक सही तरीका होता है कि हमेशा बैठकर और आराम से चबा-चबाकर खाना खाना चाहिए। उसी तरह क्या पानी पीने के भी कुछ नियम होते हैं पानी कब पीना चाहिए, किस तरह से पीना चाहिए, कैसा पीना चाहिए आइये हम बताते है आपको।
क्या है पानी पीने का सही तरीका ?
खड़े होकर पानी नहीं पीना चाहिए। पानी हमेशा बैठकर आराम से रिलैक्स होकर पीना चाहिए खड़े होकर पानी पीने से पानी हड्डियों के जोड़ में जमा हो सकता है। जिससे आर्थराइटिस का खतरा रहता है।
क्या है पानी पीने का सही समय ?
भोजन करने के बाद 1-2 घूंट पानी पिएं, ज्यादा नहीं।अगर आप खाना खाने के तुरंत बाद बहुत अधिक पानी पिएंगे तो पाचन क्रिया के लिए पेट में जगह ही नहीं होगा। हमेशा याद रखें कि अपने पेट को 50 प्रतिशत भोजन से भरें, 25 प्रतिशत पानी से और 25 प्रतिशत खाली जगह रखें।
आजकल बहुत से लोग पानी पीने के लिए फोन में अलार्म लगाकर रखते हैं और हर 1-2 घंटे में पानी पीते रहते हैं। लेकिन आयुर्वेद कहता है कि जब आपको प्यास लगे, जब पानी की जरूरत महसूस हो सिर्फ तभी पानी पिएं। प्यास लगने का मतलब है कि शरीर को पानी की जरूरत है। सुबह उठते ही खाली पेट पानी पीने की आदत डालें, इसे ऊषापान कहते हैं। ऐसा करने से शरीर से हानिकारक टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते हैं। जिससे बीमारियों से बचने में मदद मिलती है।
एक ही बार में 1 गिलास पानी पूरा पीने की बजाए आपको एक-एक घूंट करके आराम से धीरे-धीरे पानी पीना चाहिए इसका कारण ये है कि एक बार में ज्यादा पानी पी लेने से शरीर उसे अवशोषित नहीं कर पाता और ज्यादातर पानी तुरंत शरीर से बाहर निकल जाता है। हमेशा रूम टेंपरेचर पर रखा हुआ सादा पानी ही पिएं।आप चाहें तो हल्का गुनगुना पानी भी पी सकते हैं लेकिन बर्फ वाला बहुत अधिक ठंडा पानी बिलकुल न पिएं।

करीबी मित्र भारत के साथ काम करेगा 'अमेरिका'

करीबी मित्र भारत के साथ काम करेगा 'अमेरिका'

अखिलेश पांडेय        
वाशिंगटन डीसी। अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि थॉमस वेस्ट ने कहा है कि अमेरिका ‘एक स्थिर और शांतिपूर्ण अफगानिस्तान में साझा हितों’ को संबोधित करने के लिए अपने करीबी मित्र भारत के साथ काम करेगा।
वेस्ट ने नयी दिल्ली में भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला के साथ बैठक के बाद ट्वीट किया, “ भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला संयुक्त सचिव जेपी सिंह और अन्य के साथ आज नयी दिल्ली में बैठक कर खुशी हुई।” उन्होंने कहा, “हम एक स्थिर और शांतिपूर्ण अफगानिस्तान में अपने पर्याप्त साझा हितों को संबोधित करने के लिए अपने करीबी मित्र के साथ मिलकर काम करेंगे।
दक्षिण पूर्व एशिया की यात्रा का ब्योरा साझा किया

सुनील श्रीवास्तव          
वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के एक शीर्ष सांसद ने कहा है कि चीन भारत के साथ ”सीमा युद्ध” कर रहा है, साथ ही वह अपने पड़ोसियों के लिए भी गंभीर खतरा पेश कर रहा है। रिपब्लिकन पार्टी से सांसद जॉन कॉर्निन ने भारत और दक्षिण पूर्व एशिया की अपनी यात्रा का ब्योरा साझा करते हुए अमेरिकी संसद के समक्ष यह बात कही। इस यात्रा का मकसद उस क्षेत्र के देशों के समक्ष चुनौतियों के बारे में सही मालुमात एकत्र करना था।
सांसद जॉन कॉर्निन और उनके सहयोगी चीन द्वारा पेश की जा रही चुनौतियों के संबंध में प्रत्यक्ष जानकारी हासिल करने के लिए भारत और दक्षिण पूर्व एशिया की यात्रा पर गए थे और वे यात्रा पूरी करके हाल में लौटे हैं। कॉर्निन ‘इंडिया कॉकस’ के सह-अध्यक्ष भी हैं। कॉर्निन ने मंगलवार को सांसदों से कहा, ”सबसे अधिक और गंभीर खतरा उन देशों के लिए है, जो चीन की सीमा के निकट हैं।
उन्होंने कहा, ”क्षेत्र में खतरों और चुनौतियों के बारे में सही से समझने के लिए पिछले सप्ताह मुझे कांग्रेस के एक प्रतिनिधि दल की दक्षिणपूर्व एशिया की यात्रा की अगुवाई करने का मौका मिला। चीन अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में नौवहन की स्वतंत्रता को खतरा पैदा कर रहा है, साथ ही अपने लोगों के मानवाधिकारों के घोर उल्लंघन का दोषी है, खासतौर पर अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय उइगर का। वह भारत के साथ सीमा युद्ध कर रहा है साथ ही वह रिपब्लिक ऑफ चाइना जिसे ताइवान के नाम से जानते हैं, उस पर हमले की धमकी दे रहा है।”

कॉर्निन ने कहा कि उन्होंने भारत की यात्रा की जहां ”चीन की ओर से पेश खतरों तथा अन्य साझा प्राथमिकताओं पर बातचीत करने के लिए प्रधानमंत्री (नरेन्द्र) मोदी और मंत्रिमंडल के अधिकारियों से मुलाकात की।” अमेरिकी सांसद ने कहा कि यात्रा के दौरान चर्चा का एक अहम मुद्दा ताइवान पर चीन के हमले की आशंका से जुड़ा था।

कंपाला में हुआ विस्फोट, 3 नागरिकों की मौंत

अखिलेश पांडेय           
कंपाला। युगांडा की राजधानी कंपाला में मंगलवार को दो विस्फोट हुए। जिसमें कम से कम तीन नागरिकों की मौत हो गई। पुलिस ने इसे सरकार विरोधी चरमपंथियों द्वारा समन्वित हमला बताया है। पुलिस ने बताया कि विस्फोटों में तीन आत्मघाती हमलावर भी मारे गए। विस्फोट से कंपाला में अफरा तफरी मच गई। पुलिस प्रवक्ता फ्रेड एनान्गा ने कहा, ”बम हमले, खासकर आत्मघाती हमलावरों से हमले का खतरा अब भी बना हुआ है।”
चरमपंथी संगठनों की ऑनलाइन गतिविधियों पर नजर रखने वाली साइट के अनुसार आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) से जुड़े ‘एलाइड डेमोक्रेटिक फोर्सेज’ ने विस्फोटों की जिम्मेदारी ली है। दोनों विस्फोट तीन मिनट के भीतर हुए। दोनों को विस्फोटक ले जा रहे हमलावरों ने अंजाम दिया। एनान्गा ने कहा कि तीसरे लक्ष्य पर संभावित हमले को पुलिस ने नाकाम कर दिया। पुलिस ने एक संदिग्ध आत्मघाती हमलावर का पीछा किया और उसे मार गिराया। हताहतों में पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं। एनान्गा ने संवाददाताओं से कहा कि रेफरल अस्पताल में कम से कम 33 लोगों का इलाज चल रहा है।

वायु प्रदूषण: केंद्र ने कई उपायों का सुझाव दिया

वायु प्रदूषण: केंद्र ने कई उपायों का सुझाव दिया


अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। केंद्र ने दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण कम करने के लिए आवश्यक सामानों को लाने वाले वाहनों के अलावा सभी ट्रकों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने, स्कूलों को बंद करने और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के कार्यालयों में 50 प्रतिशत उपस्थिति समेत कई उपायों का बुधवार को उच्चतम न्यायालय में सुझाव दिया। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने प्रधान न्यायाधीश एन वी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ से कहा कि हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के मुख्य सचिवों की एक बैठक मंगलवार को हुई। पीठ में न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड और न्यायमूर्ति सूर्यकांत भी शामिल रहे। 

मेहता ने पीठ को बताया कि केंद्र सरकार के अधिकारियों के लिए घर से काम करने के मुद्दे पर विचार किया गया लेकिन केंद्र सरकार के अधिकारियों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले कुल वाहन ज्यादा नहीं हैं इसलिए घर से काम करने के बजाय हमने पूलिंग और वाहनों को साझा करने के लिए परामर्श जारी किया है।केंद्र ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार के कार्यालयों में 50 प्रतिशत उपस्थिति का भी सुझाव दिया। मामले की सुनवाई अभी चल रही है। प्राधिकारियों ने बताया कि दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में बुधवार सुबह वायु गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में दर्ज की गयी और रविवार तक इसमें सुधार की संभावना नहीं है।

भारत: संक्रमितों की संख्या-3,44,66,598 हुईं


अकांशु उपाध्याय         नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 10,197 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,44,66,598 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 1,28,555 हो गई है, जो 527 दिन में सबसे कम है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बुधवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 301 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,64,153 हो गई।

देश में लगातार 40 दिन से कोविड-19 के दैनिक मामले 20 हजार से कम हैं और 143 दिन से 50 हजार से कम दैनिक मामले सामने आ रहे हैं। उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी घटकर 1,28,555 हो गई है, जो कुल मामलों का 0.37 प्रतिशत है। यह दर मार्च 2020 के बाद से सबसे कम है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 2,238 की कमी दर्ज की गई है। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.28 प्रतिशत है, जो मार्च 2020 के बाद से सर्वाधिक है।

आंकड़ों के अनुसार, दैनिक संक्रमण दर 0.82 प्रतिशत है, जो पिछले 44 दिनों से दो प्रतिशत से कम है। वहीं, साप्ताहिक संक्रमण दर 0.96 प्रतिशत है, जो पिछले 54 दिन से दो प्रतिशत से कम बनी हुई है। अभी तक कुल 3,38,73,890 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 मृत्यु दर 1.35 प्रतिशत है। राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 113.68 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं।

देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।

ऑनलाइन शिक्षा की अनुमति होगी, दिशा-निर्देश 


अकांशु उपाध्याय         नई दिल्ली। वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) ने मंगलवार देर रात निर्देश दिया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे और केवल ऑनलाइन शिक्षा की अनुमति होगी। आयोग ने निर्देश दिए कि दिल्ली के 300 किलोमीटर के दायरे में स्थित 11 ताप विद्युत संयंत्रों में से केवल पांच – एनटीपीसी, झज्जर, महात्मा गांधी टीपीएस, सीएलपी झज्जर, पानीपत टीपीएस, एचपीजीसीएल, नाभा पावर लिमिटेड टीपीएस, राजपुरा और तलवंडी साबो टीपीएस, मानसा 30 नवंबर तक चालू रहेंगे।

 को 21 नवंबर तक क्षेत्र में ‘सीएंडडी’ अपशिष्ट प्रबंधन नियमों और धूल नियंत्रण मानदंडों के सख्त अनुपालन के साथ ”रेलवे सेवाओं या रेलवे स्टेशनों, मेट्रो रेल निगम सेवाओं, स्टेशनों, हवाई अड्डों और अंतर-राज्यीय बस टर्मिनलों (आईएसबीटीएस) सहित और राष्ट्रीय सुरक्षा अथवा रक्षा संबंधी गतिविधियों अथवा राष्ट्रीय महत्व की परियोजनाओं” को छोड़कर निर्माण और तोड़-फोड़ संबंधी सभी गतिविधियों को रोकने का निर्देश दिया है।वायु प्रदूषण के बढ़ते स्तर को रोकने के लिए गैरजरूरी सामान ले जाने वाले ट्रकों का प्रवेश रविवार तक दिल्ली में प्रतिबंधित कर दिया गया है। आयोग ने इस मामले पर उच्चतम न्यायालय की सुनवाई से पहले क्षेत्र में गंभीर वायु प्रदूषण के संबंध में दिल्ली और एनसीआर वाले राज्यों हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मंगलवार को एक बैठक की थी।सीएक्यूएम के निर्देशों में कहा गया है, ”एनसीआर में सभी सार्वजनिक और निजी स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे और केवल ऑनलाइन शिक्षा की अनुमति होगी।” एनसीआर में आने वाले राज्यों की सरकारों को रविवार तक एनसीआर में कार्यालयों में अपने कर्मचारियों की कम से कम 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ घर से काम करने की अनुमति देने और निजी प्रतिष्ठानों को इस नियम का पालन करने के लिए प्रोत्साहित करने का निर्देश दिया गया है।

आयोग ने कहा, ”एनसीआर में अब भी गैरस्वीकृत ईंधन का उपयोग करने वाले सभी उद्योगों को संबंधित सरकारें तत्काल प्रभाव से बंद करेंगी। एनसीआर के राज्य और जीएनसीटीडी आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर डीजी सेट के उपयोग पर सख्त प्रतिबंध रहेंगे।” एनसीआर में अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का आदेश दिया गया है कि क्रमशः 10 साल और 15 साल से पुराने डीजल और पेट्रोल वाहन सड़क पर चलते नहीं पाए जाएं।

दिल्ली सरकार को जल्द से जल्द पर्याप्त संख्या में सीएनजी बसों को खरीदने और उन्हें सड़कों पर उतारने का निर्देश दिया गया है। दिल्ली और एनसीआर राज्यों के मुख्य सचिवों को नियमित आधार पर निर्देशों के कार्यान्वयन की निगरानी करने और सोमवार को आयोग के समक्ष अनुपालन रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया गया है। दिल्ली सरकार ने सोमवार से एक हफ्ते के लिए स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थानों में प्रत्यक्ष कक्षाएं बंद करने का आदेश दिया था। आवश्यक सेवाओं में शामिल लोगों को छोड़कर सभी सरकारी कार्यालयों, एजेंसियों और स्वायत्त निकायों को घर से काम करने के लिए कहा गया है।

दुर्भावनापूर्ण प्रचार के लिये पाक को फटकार 


अकांशु उपाध्याय          नई दिल्ली। भारत ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र में उसके खिलाफ झूठे और दुर्भावनापूर्ण प्रचार के लिये पाकिस्तान को फटकार लगायी और कहा कि दोनों देशों के बीच बातचीत तभी संभव है जब पाकिस्तान आतंकवाद मुक्त माहौल तैयार करे।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन में काउंसलर/कानूनी सलाहकार डॉ काजल भट्ट ने पाकिस्तान पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि दोनों देशों के बीच बातचीत हो इसके लिये पाकिस्तान को आतंकवाद मुक्त माहौल बनाना होगा और भारत तब तक सीमा पार आतंकवाद का जवाब देने के लिए ‘दृढ़ और निर्णायक कदम उठाना’ जारी रखेगा। डाॅ. भट जम्मू कश्मीर की रहने वाली हैं।

डॉ. भट ने कहा कि भारत पाकिस्तान के साथ-साथ अपने पड़ोसी देशों से अच्छे रिश्ते बनाना चाहता है। शिमला समझौता और लाहौर घोषणा के मुताबिक बकाया मुद्दों अगर कोई हो तो उसका द्विपक्षीय और शांतिपूर्ण तरीके से हल निकालने के लिए प्रतिबद्ध है। संयुक्त राष्ट्र में उन्होंने कहा कि पाकिस्तन द्वारा एक बार फिर भारत के खिलाफ इस मंच से गलत प्रचार किया रहा है। पाकिस्तान दुनिया का ध्यान अपने वास्तविक हालात से भटकाना चाहता हैं, जहां आतंकवाद हावी है और वहां अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों का रहना मुहाल हो रहा है।

संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के राजदूत मुनीर अकरम ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में जम्मू कश्मीर के मुद्दे उठाये जाने पर डाॅ. भट्ट ने अपनी प्रतिक्रिया दी। डॉ काजल भट्ट ने कहा कि पाकिस्तान हमेशा से आतंकवादियों का हिमायती रहा है और उन्हें हर चीज मुहैया कराता है। पाकिस्तान का ऐसा इतिहास भी रहा है। आतंकवादियों को समर्थन, प्रशिक्षण, वित्तपोषण और हथियार देने के लिये दुुनियाभर में इसको जाना जाता है।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा प्रतिबंधित आतंकवादियों को पाकिस्तान में शरण देनो इसका रिकॉर्ड है। उन्होंने कहा कि केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर और लद्दाख हमेशा भारत का अभिन्न अंग था और रहेंगे। इसमें पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर भी शामिल है। हम पाकिस्तान से अवैध कब्जे वाले क्षेत्रों को तुरंत खाली करने का आह्वान करते हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-30 (वर्ष-05)
2. ब्रहस्पतिवार, नवंबर 18, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-चतुर्दशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:42, सूर्यास्त 05:27।
5. न्‍यूनतम तापमान -12 डी.सै., अधिकतम-26+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...