शुक्रवार, 21 जुलाई 2023

प्यार की परिभाषा   'संपादकीय'

प्यार की परिभाषा   'संपादकीय'

अब सीमा के पास घुटन भरे जीवन के अलावा कोई रास्ता शेष नहीं रह गया है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी जांच में जुट गई है। हिंदुस्तान-पाकिस्तान के तनावपूर्ण संबंधों में सीमा और तनाव बढ़ाने का काम पहले ही कर चुकी है। अवैध रूप से भारत में प्रवेश करने से आशंकाओं का दायरा भी बढ़ गया है। 

परंतु जिस धैर्य और विश्वास पूर्ण सहजता से सीमा पत्रकारों से बात करती है। उनके सवालों का रटा-रटाया या सही सही जवाब देती है। इसके कारण दूसरे पहलू पर भी गौर करने की आवश्यकता है। कहा जाता है कि प्रेम मर्यादाओं के बंधन से मुक्त होता है, जिसकी कोई उम्र नहीं होती है, कोई मापदंड या पैमाना भी नहीं होता है। प्यार में उत्पन्न भावनाओं को बांधकर रखने वाले किसी पिंजरे का भी अभी तक अविष्कार नहीं हुआ है। प्यार में लोग कातिल हो गए हैं, प्यार में लोग फना हुए हैं। धरती पर तो ऐसी कोई जगह नहीं है जहां प्यार नहीं है। प्यार है तो कहानियां और किस्से भी बहुत है। आए दिन हम रूबरू होते हैं कि पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी। पति ने प्रेमिका के लिए पत्नी की हत्या कर दी। चार बच्चों की मां, 6 बच्चों के मां-बाप, 45-50 साल की औरत या आदमी किसी के साथ चली गईं अथवा लेकर भाग गया ? युवा वर्ग की तो बात छोड़िए, केवल बालिग होने का इंतजार करते हैं फिर वह किसी के बाप की नहीं सुनते हैं। बल्कि यहां तक कहा गया है कि 'प्यार की कोई परिभाषा ही नहीं होती' है।

सीमा के कथन के अनुसार सीमा की कहानी रोमांच तो उत्पन्न करती ही है, साथ ही साथ सोचने के लिए विवश भी करती है। सीमा का आत्मविश्वास जांच एजेंसियों के लिए चुनौती बना हुआ है। यदि सीमा के इस नाटक के पीछे भारत विरोधी सोच अथवा गतिविधियों में संलिप्त है तो उसे अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत दंडित किया जाना चाहिए। परंतु यदि सीमा अपने प्यार को पाने के लिए यह सब कर रही है, तब उसकी हिम्मत की दाद देनी चाहिए। परस्पर एक-दूसरे के विरोधी दो देशों के बीच संबधो को दरकिनार कर, अपनी जान हथेली पर रखकर, दुस्सह रास्ते पर, भयानक झंझावतों को भेदकर, अपने प्यार तक पहुंचने में कितनी यातनाओं का सामना किया होगा ? इसका अनुमान लगाना कठिन है। चार बालकों सहित धर्मांतरण करना और 27 वर्षों तक जिन संस्कारों और सभ्यता में रही है, उसे त्याग कर नवीन संस्कार और सभ्यता का वरन करना साहसिक कार्य है।यदि सीमा सच्चे प्यार के वशीभूत सब बंधन, सीमाएं और मर्यादाओं को त्याग कर, अपना प्यार पाना चाहती है, भारत में अपना जीवन व्यतीत करना चाहती है, ऐसी स्थिति में मानवीय आधार पर उसकी सहायता की जानी चाहिए।


राधेश्याम  'निर्भयपुत्र'

सीएम ममता बनर्जी की सुरक्षा में हुईं चूक

सीएम ममता बनर्जी की सुरक्षा में हुईं चूक   

मीनाक्षी लोहड़े   

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सूरक्षा में चूक की खबर सामने आ रही है। कोलकाता पुलिस ने आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान शेख नूर आलम के तौर पर की गई है।

ये शख्स मुख्‍यमंत्री आवास में घुसने की कोशिश कर रहा था। इतना ही नहीं आरोपी के पास से चाकू और असलहा भी बरामद किया गया है। मालूम हो कि शुक्रवार (21 जुलाई) को ममता बनर्जी कोलकाता में शहीद दिवस रैली के दौरान शक्ति प्रदर्शन करने जा रही हैं।

गिरफ्तार किए गए शख्स की पहचान शेख नूर आलम के रूप में हुई

पुलिस कमिश्नर विनीत गोयल के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए शख्स की पहचान शेख नूर आलम के रूप में की गई है।आरोपी शेख नूर आलम के पास से बंदूक और चाकू के अलावा कुछ प्रतिबंधित पदार्थ भी पाए गए हैं। इतना ही नहीं आरोपी शख्स के पास से एजेंसियों के कई आईडी कार्ड भी मिले हैं।

कमिश्नर ने बताया कि वह जिस कार से वहां पहुंचा था। उस पर पुलिस का स्टिकर था। पुलिस, एसटीएफ और विशेष शाखा स्थानीय पुलिस स्टेशन में शख्स से पूछताछ कर रही है।

कोलकाता में टीएमसी की शहीद दिवस रैली 

कोलकाता में होने वाली टीएमसी की शहीद दिवस रैली में ममता बनर्जी कई एलान कर सकती हैं। लोकसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी की रैली का फोकस सभी समुदायों पर है, जिसमें एससी-एसटी से लेकर अल्पसंख्यक तक सभी शामिल हैं। पीटीआई एजेंसी के मुताबिक, ममता ने कहा है कि वो मणिपुर का दौरा करने के संबंध में अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बात कर रही हैं, जिसे लोकसभा चुनाव 2024 के लिहाज से भी अहम माना जा रहा है।

कुंवारों और विधुरों की पेंशन में नई शर्त जोड़ी

कुंवारों और विधुरों की पेंशन में नई शर्त जोड़ी

राजेश ओबरॉय  

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार की कुंवारों और विधुरों के लिये शुरू की गई 2750 रुपये की मासिक पेंशन में अब यह शर्त भी जोड़ दी गई कि अगर उन्होंने विवाह किया और फिर भी पूर्ववत पेंशन लेते रहे तो उस राशि की 12 प्रतिशत के साथ वसूली की जाएगी।

राज्य सरकार ने इस सम्बंध में अधिसूचना भी जारी कर दी है, जिसमें यह स्पष्ट है कि पेंशन लेने के बाद अगर कोई विधुर या कुंवारा शादी करता है, तो इसकी उसे विभाग को जानकारी देनी होगी। अगर वह यह जानकारी नहीं देता है और पेंशन पूर्ववत लेता रहता है, तो ऐसे में सख्त कार्रवाई का प्रावधान किया गया है। विवाह के बाद ली गई, किसी भी राशि की 12 प्रतिशत ब्याज के साथ वसूली की जाएगी।

अधिसूचना में यह भी साफ किया गया है कि तलाकशुदा और सहमति सम्बंध (लिव-इन रिलेशनशिप) में रह रहे लोगों को इस पेंशन का लाभ नहीं मिलेगा। अगर ऐसा कोई भी व्यक्ति इस तरह की पेंशन ले रहा है वह अपात्र माना जाएगा। सरकार ने इस पेंशन में पूरी पारदर्शिता रखने के लिए यह ठोस नियम बनाए हैं। 

अधिसूचना के अनुसार हर माह की 10 तारीख तक परिवार पहचान पत्र प्राधिकरण पेंशन के पात्र लोगों की सूचना सामाजिक न्याय विभाग को उपलब्ध कराएगा। माह के अंत तक विभाग सभी तथ्यों की जांच कर अगले माह की सात तारीख तक पात्रों का पेंशन पहचान पत्र बनाएगा और तत्पश्चात सम्बंधित व्यक्ति से सम्पर्क कर उससे पेंशन लेने की सहमति लेगा। सहमति मिलने पर हर माह पेंशन सम्बंधित व्यक्ति के खाते में पहुंचेगी। यह योजना गत एक जुलाई से प्रभावी हुई है। 

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने करीब दो हफ्ते पहले अविवाहित और विधुरों के लिए 2750 प्रति माह पेंशन की घोषणा की थी। सरकार के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार राज्य में ऐसे लोगों की संख्या 71 हजार है। इन लोगों को भी पेंशन के दायरे में लाने से सरकार को हर माह लगभग 20 करोड़ रुपए अतिरिक्त खर्च करने होंगे तथा इससे सरकारी खजाने पर हर वर्ष लगभग 240 करोड़ रुपए का अतिरिक्त खर्च बढ़ेगा।

पेंशन योजना में विधुरों के लिये पात्रता उम्र 40 वर्ष निर्धारित की गई है। केवल तीन लाख रुपये तक की सालाना आय वाले ऐसे व्यक्ति ही इस पेंशन के पात्र होंगे। राज्य में कम से कम एक साल से रह रहे व्यक्ति को ही इस पेंशन योजना का लाभ मिलेगा। जबकि कुंवारों में यह पेंशन लाभ 45-60 आयु वर्ग के लोगों को ही मिलेगा। साठ साल की उम्र होने पर यह पेंशन बुढ़ापा सम्मान पेंशन में बदल जाएगी।

महिला कांग्रेस ने सरकार का पुतला दहन किया

महिला कांग्रेस ने सरकार का पुतला दहन किया   

श्रीराम मौर्य   

रुद्रपुर। मणिपुर में महिलाओं के साथ हुए अमानवीय अत्याचार के विरोध में रुद्रपुर महिला कांग्रेस द्वारा भाजपा सरकार का पुतला फूंका गया l इससे पूर्व महानगर महिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष मोनिका ढाली के नेतृत्व में दर्जनों महिला कांग्रेस कार्यकर्ता ट्रांजिट कैंप गोल मड़ैया पर एकत्र हुई, जहां उन्होंने भाजपा सरकार के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी की और मोदी सरकार से इस्तीफा देने के लिए कहा।

इस अवसर पर महानगर महिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष मोनिका ढाली ने कहा कि एक तरफ भाजपा कहती है कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ वहीं दूसरी तरफ लड़कियों के साथ और महिलाओं के साथ अत्याचार किया जा रहा है उन्हें सरेआम निर्वस्त्र करके घुमाया जा रहा है और उनका शोषण किया जा रहा है। मणिपुर में भी ठीक इसी तरह की घटना सामने आई है , जिसने हमारे देश को शर्मसार कर दिया है l इस अवसर पर महानगर महिला कांग्रेस की दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित थी l जिसमें प्रमुख रुप से निगम पार्षद प्रीति साना पूर्व नगरपालिका सदस्य मालती मोरिया देवकी देवी ममता शर्मा रानी रस्तोगी प्रिया पुष्पा संगीता मंडल नीतू देवी आदि उपस्थित थे।

बहन का सिर काटकर, हाथ में लेकर चला  

बहन का सिर काटकर, हाथ में लेकर चला  

संदीप मिश्रा  

बाराबंकी। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी से खौफनाक वारदात सामने आई है। यहां एक भाई ने अपनी ही 18 साल की बहन की गला काटकर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी भाई, अपनी बहन का कटा हुआ सिर लेकर पुलिस थाने जाने लगा। इस दौरान जिसने भी ये मंजर देखा, वह खौंफ में आ गया। आरोपी भाई रास्ते में खुलेआम अपनी बहन का सिर लेकर सड़क पर चलता रहा। इसी बीच किसी ने पुलिस को मामले की सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को रास्ते से ही गिरफ्तार कर लिया।

बहन की कर डाली हत्या

दरअसल ये पूरा मामला फतेहपुर कोतवाली अंतर्गत मिठवारा से सामने आया है। यहां रहने वाले एक युवक ने अपनी ही बहन की हत्या कर दी। मिली जानकारी के मुताबिक, अपने आत्म सम्मान के कारण आरोपी भाई ने सुबह करीब 11:30 बजे अपनी बहन का गला काट दिया। हत्या के बाद आरोपी भाई अपनी बहन का सिर लेकर थाने जाने लगा। इस दौरान रास्ते में जिस किसी ने भी ये सीन देखा, वह सन्न रह गया। इलाके में हड़कंप मच गया और गांव में दहशत फैल गई। तभी किसी ने पुलिस को फोन करके मामले की सूचना दे दी। पुलिस फौरन एक्टिव हो गई और आरोपी युवक को रास्ते से ही गिरफ्तार कर लिया गया।

हाल ही में हुआ था मृतका के साथ रेप

बता दें कि हाथ में सिर ले जाते हुए युवक का वीडियो क्षेत्र में काफी वायरल हो रहा है। इस घटना से पूरे क्षेत्र में दहशत फैल गई है। पुलिस का कहना है कि आरोपी ने अपनी बहन के चाल चलन से नाराज होकर उसकी हत्या की है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है।

सरकारी नौकरी के लिए दहेज संबंधी शपथ

सरकारी नौकरी के लिए दहेज संबंधी शपथ 

हरिओम उपाध्याय  

लखनऊ। सरकारी नौकरी पाने वाले युवाओं को सरकार की दो शर्तें अब अनिवार्य रुप से पूरी करनी होंगी। उन्हें अपने संपत्ति बताने के साथ-साथ दहेज संबंधी एक शपथ पत्र भी भरना होगा। नई नई सरकारी नौकरी पाने वाले युवाओं को नियुक्ति के साथ ही संपत्ति की घोषणा करनी पड़ेगी। साथ ही दहेज न लेने का शपथपत्र भी उन्हें अनिवार्य रूप से देना होगा। ऐसे कई अहम शपथपत्र उन्हें आदेश पत्र प्राप्त करने के एक महीने के अंदर जमा करने होंगे।

राज्य व प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले युवाओं को नौकरी से पहले कई शपथपत्र और प्रमाण पत्र देने होंगे। सभी अभ्यर्थियों को नियुक्ति से पहले कर्जदार व डिफाल्टर न होने का घोषणापत्र देना पड़ेगा। एक से अधिक पति या पत्नी न होने की घोषणा करनी होगी। दहेज न लेने का प्रमाणपत्र देना होगा। उन्हें अपनी ऐसी चल व अचल संपत्तियों की घोषणा करना होगी, जिसके वे स्थायी सदस्य हों।

सरकार द्वारा ऐसा करने के पीछे की मंशा यह है कि वह नौकरी देने से पहले व्यक्ति की वैवाहिक स्थिति और दहेज को लेकर उसकी सोच को जांच लेना चाहती है।

लक्ष्मीबाई को मालाअर्पण, चुनाव का शंखनाद

लक्ष्मीबाई को मालाअर्पण, चुनाव का शंखनाद   

ओमप्रकाश चौबे  

ग्वालियर। वीरांगना लक्ष्मीबाई समाधि पर चिलचिलाती में शुक्रवार को दोपहर 12.23 बजे कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी माल्यार्पण एक परिक्रमा लगा कर मध्यप्रदेश चुनाव का शंखनाद किया इस मौके पर प्रियंका गांधी के साथ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह और प्रदेश कांग्रेस कोषाध्यक्ष अशोक साथ में थे।

कार्यर्त्ताओं से नहीं मिली

जब प्रियंका गांधी महारानी लक्ष्मीबाई की समाधि पर पहुंची तो हजारों कार्यकर्त्ता हाथों माला लेकर जिन्दाबाद के नारे लगा रहे थे उन्होंने कार्यकर्त्ताओं दरकिनारे करते हुए वहां मेला ग्राउण्ड में आमसभा में शामिल होने के लिये निकल गयीं।

गद्दारी का लगाया पोस्टर

कांग्रेस प्रवक्ता सिद्धार्थ राजावत ने महारानी लक्ष्मीबाई की पंक्तियों को गद्दारी लिखे हुए पोस्ट को लगाया तो पुलिस ने उसे हटा दिया था। जैसे कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं देखा तो उसे फिर से लगा दिया। इस मौके पर कांग्रेस नेता वासुदेव शर्मा सिंधिया के गद्दारी के नारे लगाये।

चेतना देश की सबसे खूबसूरत विवाहित महिला

चेतना देश की सबसे खूबसूरत विवाहित महिला   

दुष्यंत टीकम   

रायपुर। छत्तीसगढ़ की चेतना तिवारी ने जीता मिसेज इंडिया का खिताब,चेतना तिवारी छत्तीसगढ़ की ही नहीं बल्कि देश की सबसे खूबसूरत विवाहित महिला का ख़िताब अपने नाम किया हैं।छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले की बहू और इंदौर शहर की बेटी चेतना जोशी तिवारी ने 29 की उम्र में मिसेज इंडिया 2023 का खिताब जीतकर शहर के साथ ही जिला, प्रदेश व देश को गौरवान्वित किया है। बता दें कि चेतना जोशी तिवारी अब देश की सबसे खूबसूरत विवाहित महिला बन गई हैं। इसके साथ ही चेतना अब देश की सबसे खूबसूरत विवाहित महिला बन गई हैं। श्रीलंका की राजधानी कोलंबो शहर में आयोजित हुई इस प्रतियोगिता में देशभर से 75 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था.जिसमे चेतना तिवारी ने सभी को पीछे छोड़ते हुए मिसेज इंडिया 2023 का ताज अपने सिर पर सजाया। उनकी इस उपलब्धि से परिवार के साथ ही जिले और प्रदेश में खुशी का माहौल है।

दरअसल चेतना के ससुर राजेश तिवारी ने बताया कि दो साल पहले ही चांपा में निलेश और चेतना का विवाह हुआ था। शादी के बाद भी अपने जज्बे को कायम रखकर चेतना ने यह मुकाम हासिल किया है। चेतना ने कोलंबो में 13 से 19 जुलाई तक आयोजित प्रतियोगिता में अपनी प्रस्तुति दी। मिली जानकारी के मुताबिक चेतना अंतरराष्ट्रीय योग प्रशिक्षक भी हैं। वह श्रीश्री रविशंकर की संस्था आर्ट आफ लिविंग से भी जुड़ी हुई हैं। साथ ही वह आर्ट आफ लिविंग और हैप्पीनेस प्रोग्राम की फैकल्टी को भी प्रशिक्षण देती हैं। 23 को पहुंचेंगी इंदौरचेतना के ससुर राजेश तिवारी ने बताया कि जैसे ही यह उपलब्धि हासिल हुई, व्हाट्सप्प पर उनके बेटे ने कार्यक्रम का लिंक शेयर किया।

पति और तीन बच्चे छोड़ प्रेमी से शादी की

पति और तीन बच्चे छोड़ प्रेमी से शादी की   

नरेश राघानी   

जैसलमेर। एक महिला ने अपने पति और तीन बच्चों को छोड़कर अपने प्रेमी के संग दूसरी शादी कर ली। पिछले 2 साल से वह अपने प्रेमी के संपर्क में थी। पति ने दो बार उसे दूसरे व्यक्ति के साथ पकड़ा। लेकिन परिवार की बदनामी न हो इसलिए समझाइश कर उसे घर ले आया। दो महीने पहले घर से नकदी और गहने लेकर महिला फरार हो गई। पति ने पहले गुमशुदगी दर्ज करवाई और इसके बाद पता चला कि उसने अपने प्रेमी के साथ दूसरी शादी कर ली है।

इसकी रिपोर्ट लिखवाने के लिए पति को काफी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस थाना और उच्चाधिकारियों के कई बार चक्कर लगाए। जब पुलिस ने नहीं सुनी तो न्यायालय की शरण ली। इस्तगासे के आधार पर अब मामला दर्ज हुआ है। मथानिया पुलिस थाने के तिंवरी कस्बे का यह मामला है। इस कस्बे के गवारिया बस्ती के रहने वाले एक व्यक्ति ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि मूल रूप से जैसलमेर जिले के पोकरण की रहने वाली एक महिला से उसकी शादी 2012 में हुई थी। जिससे उसके तीन बच्चे हैं। बच्चों की उम्र 10 साल, 8 साल और 6 साल है। काफी समय तक तो रिश्ते ठीक चले लेकिन 2 साल पहले उसकी पत्नी पोकरण के ही रहने वाले एक व्यक्ति के संपर्क में आई।

अभद्रता के खिलाफ महिला नेताओं के बयान  

अभद्रता के खिलाफ महिला नेताओं के बयान   

अकांशु उपाध्याय   

नई दिल्ली। मणिपुर में महिलाओं के साथ हुई अभद्रता का वीडियो सामने आने के बाद से देशभर में आक्रोश जारी है। इस मुद्दे पर विपक्ष ने केंद्र और राज्य सरकार को भी जोरदार तरीके से घेरा हुआ है। संसद के दोनों सदन आज भी मणिपुर के मुद्दे पर बाधित रहे। सरकार मुद्दे पर चर्चा कराने के लिए तैयार है लेकिन विपक्ष का हंगामा ही नहीं थम रहा है।

इस बीच, देश की दो प्रमुख महिला नेत्रियों बसपा प्रमुख मायावती और निर्दलीय सांसद नवनीत राणा का महत्वपूर्ण बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने विपक्ष से अपील की है कि महिलाओं की अस्मिता से जुड़े मामले को लेकर राजनीति नहीं की जाये। इन दोनों महिला नेत्रियों की मांग है कि पीड़ितों को राहत और दोषियों को कड़ा दंड दिलाने पर ध्यान केंद्रित किया जाना चाहिए।

मायावती का बयान  

हम आपको बता दें कि बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने मणिपुर में भीड़ द्वारा दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले को अत्यंत दुखद और शर्मनाक करार देते हुए कहा है कि घटना को लेकर अब जो राजनीति की जा रही है वह भी अनुचित और चिंतनीय है।

बसपा प्रमुख ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘मणिपुर में महिलाओं के साथ भीड़ द्वारा जो दरिंदगी की गई, वह अत्यंत ही दुःखद, शर्मनाक तथा दिल को दहलाने वाली घटना है। राज्य व केन्द्र की सरकार को भी ऐसे आपराधिक तत्वों को इतनी सख्त सज़ा दिलवानी चाहिए कि इस प्रकार के जघन्य अपराध की आगे कहीं भी पुनरावृत्ति ना हो सके।’’

अपने सिलसिलेवार ट्वीट में मायावती ने कहा, ‘‘लेकिन इस घटना को लेकर अब जो राजनीति की जा रही है वह भी अनुचित एवं चिंतनीय। संसद में इस पर जरूर सार्थक चर्चा होनी चाहिए। इस घटना का माननीय उच्चतम न्यायालय ने भी खुद संज्ञान लिया है, जिसे दबाया नहीं जा सकता है। अर्थात् मणिपुर की दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर सभी को गंभीर होना जरूरी है।’’ 

नवनीत राणा का बयान - दूसरी ओर, महाराष्ट्र की निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने भी मणिपुर की घटना पर दुख जताते हुए इस वीडियो की टाइमिंग पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा है कि ‘आखिर संसद सत्र से ठीक एक दिन पहले वीडियो बाहर कैसे आया?’

उन्होंने कहा कि मैं काफी सक्रिय रहती हूँ लेकिन मैंने भी मई की बताई जा रही इस घटना का वीडियो पहले नहीं देखा था। नवनीत राणा ने कहा कि विपक्ष चाहे तो किसी भी बात को मुद्दा बना सकता है इसका उसे अधिकार है। उन्होंने कहा कि मणिपुर पर चर्चा होनी चाहिए लेकिन महिलाओं की अस्मिता से जुड़े मुद्दे को भरी सभा में मत उछालिये।

मणिपुर में अब तक चार गिरफ्तार 

हम आपको यह भी बता दें कि मणिपुर के कांगपोकपी जिले में दो आदिवासी महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने वाली भीड़ में शामिल और एक पीड़िता को घसीटने वाले व्यक्ति सहित चार आरोपियों को पुलिस ने बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया है।

गुरबाणी के कीर्तन-दर्शन से कोई वंचित ना रहे 

गुरबाणी के कीर्तन-दर्शन से कोई वंचित ना रहे   

अमित शर्मा  

चंडीगढ़। 23 जुलाई के बाद भी गुरबाणी का प्रसारण निजी चैनल पर दिखाए जाने के शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी बयान को बाद सीएम भगवंत मान पलटवार किया है। मुख्यमंत्री भगवंत मान ने भी अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि, हैरानी की बात है कि एसजीपीसी केवल एक निजी चैनल से पवित्र गुरबानी का प्रसारण जारी रखने का अनुरोध कर रही है। अन्य से क्यों नहीं? क्या वे चैनल के माध्यम से एक परिवार को फिर से गुरबानी का अधिकार अनिश्चित काल के लिए देंगे? लालच की भी एक सीमा होती है। 

बता दें कि एसजीपीसी के अध्यक्ष का बयान आया कि 23 जुलाई के बाद भी गुरबाणी का प्रसारण निजी चैनल पर दिखाया जा सकता है। अगले आदेशों तक गुरबानी प्रसारित करने के लिए शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी जल्द ही चैनल को खत लिखने वाली है। इस दौरान एसजीपीसी  यह कदम श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह के आदेशों पर उठाने वाली है। श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह ने कहा- संगत लंबे समय से मांग कर रही थी कि एसजीपीसी को अपना चैनल शुरू करना चाहिए। पिछले दिनों एसजीपीसी ने अपना यूट्यूब चैनल शुरू करने का फैसला किया है, जो बहुत खुशी की बात है।

लेकिन संगत फोन और सोशल मीडिया के माध्यम से श्री अकाल तख्त साहिब से मांग कर रही है कि सभी यूट्यूब के माध्यम से दर्शन व कीर्तन सरवन नहीं कर सकतीं। हर जगह इंटरनेट की सुविधा नहीं है। कई संगत ऐसी हैं जिनके पास न तो स्मार्ट फोन है और न ही स्मार्ट टीवी। जिसके कारण अधिकांश संगत सचखंड श्री हरिमंदिर साहिब के दर्शन, कीर्तन, गुरबानी पाठ आदि से वंचित रह जाएंगी। इसलिए एसजीपीसी को आदेश दिया है कि वह सचखंड श्री हरिमंदिर साहिब से यूट्यूब चैनल के साथ-साथ किसी अन्य चैनल के माध्यम से गुरबानी का प्रसारण जारी रखे ताकि कोई भी गुरबानी कीर्तन करने और दर्शन करने से वंचित न रहे। एसजीपीसी और पंजाब सरकार के बीच चल रहे विवाद में राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित द्वारा विधानसभा में पास बिल पर अभी तक हस्ताक्षर नहीं किए गए हैं।

इंटरनेशनल कॉल सेंटर पर रेड, 30 अरेस्ट   

इंटरनेशनल कॉल सेंटर पर रेड, 30 अरेस्ट   

अमित शर्मा  

लुधियाना। जिले में इंटरनेशनल कॉल सेंटर में रेड कर पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए 30 ठगों को गिरफ्तार किया है। मामले की जानकारी देते हुए पुलिस कमिशनर मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया कि इस गिरोह के सदस्य ज्यादातर विदेशी लोगों को अपना शिकार बनाते थे। जिन्हें पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार किया है।

आरोपियों ने बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिए तकनीकी सेवा प्रोवाइडर के रूप में खुद को पेश किया। इन्होंने ने विदेशियों को पैसों के लिए धोखा दिया है। इसमें इस्तेमाल किए गए सभी मोबाइल फोन भी पुलिस ने जब्त कर लिए है। गिरफ्तार किए गए गिरोह के सदस्य मेघालय, उत्तर प्रदेश, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, नागालैंड, दिल्ली और पंजाब से हैं। वहीं इस मामले संबंधी जानकारी पंजाब डीजीपी गौरव यादव ने भी सोशल मीडिया के जरिये दी है।

शून्य से शिखर की यात्रा जैसा जीवनः सीएम योगी

शून्य से शिखर की यात्रा जैसा जीवनः सीएम योगी 

 पूर्व राज्यपाल लालजी टंडन की तीसरी पुण्यतिथि पर सीएम योगी ने उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर दी श्रद्धांजलि

सीएम बोले- अपने अनुभव और योग्यता से उन्होंने जहां भी कार्य किया वो उल्लेखनीय और अनुकरणीय है 

हरिओम उपाध्याय 

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को लखनऊ में भाजपा के वरिष्ठ नेता, स्थानीय विधायक, सांसद और बिहार व मध्य प्रदेश जैसे राज्यों के राज्यपाल रहे लालजी टंडन की तीसरी पुण्यतिथि पर उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि लालजी टंडन ने लखनऊ में श्रद्धेय अटल जी की विरासत को आगे बढ़ाने का कार्य किया था। उनकी स्मृतियों को हम सब नमन करते हैं। उनकी यात्रा वास्तव में शून्य से शिखर की यात्रा रही।

एक सामान्य कार्यकर्ता, पार्षद, विधायक, विधान परिषद सदस्य, प्रदेश सरकार में मंत्री, सांसद और बिहार व मध्य प्रदेश में राज्यपाल के रूप में उन्होंने अपने अनुभव और योग्यता का परिचय देकर जो लाभ प्रदेश और उन सभी राज्यों को दिया वह उल्लेखनीय है और व्यवस्था के लिए एक उदाहरण भी है। लखनऊ के साथ उनका एक आत्मीय संबंध था, जिसे यहां लोग आज भी स्मरण करते हैं।  हर जाति, मत, मजहब के लोगों के साथ उनका संवाद और प्यार व सम्मान अद्भुत है। आज वो हमारे बीच में नहीं हैं। उनकी तीसरी पुण्यतिथि पर प्रदेश शासन की ओर से उनकी स्मृतियों को नमन करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। इस अवसर पर सीएम योगी के साथ डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक, जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह समेत भाजपा के वरिष्ठ नेता भी सम्मिलित रहे।

अदालत तक पहुंचेगी सारस व आरिफ की दोस्ती

अदालत तक पहुंचेगी सारस व आरिफ की दोस्ती   

संदीप मिश्रा  

कानपुर। आरिफ और सारस की दोस्ती के किस्से अब उत्तर प्रदेश या देश में नहीं, बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंच चुके हैं। जहां एक ओर आरिफ सारस के बिना नहीं रह सकता तो वहीं सारस ने भी अपने प्यार और दोस्ती का इजहार कई बार किया है। हालांकि, इस दोस्ती के बीच वन विभाग बार-बार आड़े आ रहा है। ऐसे में आरिफ सारस की दोस्ती जल्द ही अदालत के दरवाजे तक पहुंच सकती है। ऐसा इसलिए नहीं कि सारस को आरिफ को सौंप दिया जाए; बल्कि इसलिए कि आरिफ को प्राणी उद्यान में मुलाकात से रोका ना जाए, या फिर सारस को आजाद कर दिया जाए।

बता दें कि बुधवार को कानपुर चिड़ियाघर पहुंचे आरिफ को चिड़ियाघर के कर्मचारियों ने सारस से मिलने नहीं दिया था, जिससे वह बहुत आहत हुआ था। इस पर आरिफ कहते हैं कि पाकिस्तान से आकर यहां लोग मोहब्बत के नाम पर रह सकते हैं, लेकिन हम अपने दोस्त से नहीं मिल सकते हैं, बड़ी अजीब बात है। आरिफ ने गुरुवार को वीडियो जारी कर के यह सब बातें कहीं।

यहां यह भी बता दें कि 22 मार्च को अमेठी की कुछ तस्वीरें वायरल हुईं थीं, जिसमें आरिफ के साथ सारस दिख रहे थे। यह मामला जब सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो 9 अप्रैल को वन विभाग की एक टीम अमेठी पहुंची और सारस को अमेठी से कानपुर प्राणी उद्यान में शिफ्ट कर दिया गया। उसके बाद से दो से तीन बार कानपुर प्राणी उद्यान भी आया एक बार आरिफ मास्क लगाकर प्राणी उद्यान पहुंचे जैसे ही आरिफ ने अपना मास्क हटाया तो सारस खुशी से झूमने लगा। यह दृश्य बाड़े के पास मौजूद प्राणी उद्यान के कर्मचारियों ने भी देखा और वहां घूमने आए लोगों ने भी देखा था।

सीएम ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया

सीएम ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया  

श्रीराम मौर्य 

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शुक्रवार को हरिद्वार के बाढ़ प्रभावित इलाकों का निरीक्षण करने पहुंचे। लक्सर और खानपुर के बाढ़ प्रभावित इलाकों को उन्होंने आपदा ग्रस्त क्षेत्र घोषित करने के साथ ही तीन माह के बिजली के बिल माफ करने की घोषणा की। इसके अलावा उन्होंने सहकारी बैंकों के लोन की किस्त तीन माह तक स्थगित रखने की भी घोषणा की। उन्होंने इस संबंध राष्ट्रीयकृत बैंकों से भी अनुरोध करने की बात कही।

मुख्यमंत्री धामी ने इससे पहले डामकोठी में उन्होंने अधिकारियों के साथ बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में हुए नुकसान और राहत बचाव को लेकर समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने कहा कि जलभराव और बाढ़ प्रभावित शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए विस्तृत ड्रेनेज प्लान भी बनाया जाएगा। इसके साथ मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि मनसा देवी पर्वत से आने वाले मलबे को रोकने के लिए पहाड़ी का ट्रीटमेंट कराया जाएगा। कहा कि बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों के नुकसान का आकलन कर क्षतिपूर्ति दी जाएगी।

एनडीए के सांसदों को 10 समूह में बांटा: भाजपा

एनडीए के सांसदों को 10 समूह में बांटा: भाजपा   

अकाशुं उपाध्याय   

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद के मॉनसून सत्र के दौरान राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सांसदों के 10 समूहों के साथ बैठक करेंगे। ये बैठकें 25 जुलाई से शुरू होने वाली हैं। प्रत्येक समूह में 35 से 40 सांसद शामिल होंगे।

2024 के लोकसभा चुनावों की पृष्ठभूमि में ये बैठकें महत्वपूर्ण हैं। आपको बता दें कि सांसदों को क्षेत्रीय आधार पर समूहों में विभाजित किया गया है। प्रत्येक समूह में दो क्षेत्रों के सांसद रहेंगे। पहले दिन यानी 25 जुलाई को पीएम मोदी उत्तर प्रदेश और उत्तर-पूर्व क्षेत्र के नेताओं से मुलाकात करेंगे। बैठकें तीन अगस्त तक होंगी।

एनडीए की 18 जुलाई की बैठक में विभिन्न दलों ने संवाद कम होने और चुनाव आदि के मौके पर ही बातचीत होने का मुद्दा उठाया था और कहा था कि संवाद बढ़ना चाहिए। इसके बाद अब एनडीए में संवाद को बढ़ाया जा रहा है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस सत्र में भाजपा के बजाए एनडीए के सांसदों से विभिन्न समूहों में संवाद करेंगे। ऐसे 10 समूह बनाए गए हैं।

मॉनसून सत्र के दौरान कुछ बैठकें सुबह और कुछ शाम को होंगी। इनमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा भी रहेंगे। बैठकों में समन्वय के लिए भाजपा के कई प्रमुख नेताओं को सहयोगी दलों के साथ समन्वय की जिम्मेदारी सौंपी गई है। हर बैठक के लिए भाजपा के दो पदाधिकारी, दो केंद्रीय मंत्री व दो सहयोगी दल के नेता जिम्मेदारी संभालेंगे।

सांसदों के कामकाज का ब्यौरा लिया जाएगा

हर समूह में लगभग 40 सांसद रहेंगे। अगले लोकसभा चुनाव को देखते हुए यह बैठकें अहम होंगी। इनमें सांसदों के कामकाज का ब्यौरा भी लिया जाएगा। इसके अलावा भाजपा के नेता आपस में भी एनडीए में संवाद बढ़ाएंगे। वह आपस में चर्चा कर रिश्तों को मजबूती देंगे। इससे आपसी समझ बेहतर होने के साथ विपक्षी एकता की चुनौती का भी प्रभावी जबाव दिया जा सकेगा। साथ ही एनडीए के विस्तार की भी संभावनाएं तलाशी जाएंगी।

आंखों में दिखें ये लक्षण, इग्नोर न करें  

आंखों में दिखें ये लक्षण, इग्नोर न करें   

सरस्वती उपाध्याय   

हमारी बॉडी का हर ऑर्गन एक-दूसरे से कनेक्टेड रहता है। किसी भी एक ऑर्गन में अगर परेशानी होती है, तो इसके संकेत दूसरे ऑर्गन पर भी नजर आने लगते हैं। ठीक इसी तरह से अगर हमें कोई हार्ट संबंधी समस्या होती है या हार्ट अटैक आने वाला होता है तो इसके लक्षण हमारी आंखों से भी समझ में आने लगते हैं। जी हां, कई रिसर्च में यह बात साबित हो चुकी है कि आंखों में होने वाली कुछ समस्याएं सीधे दिल की बीमारियों से जुड़ी होती हैं, जिन्हें हमें कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

रेटिनल आर्टरी ऑक्लूजन

रेटिनल आर्टरी ऑक्लूजन स्थिति तब होती है जब आंखों तक ब्लड सप्लाई करने वाले रेटिना ब्लॉक हो जाते हैं। ऐसे में कई बार एकदम से दिखना बंद हो जाता है। यह कोरोनरी आर्टरी में ब्लॉकेज का संकेत देती है कि हार्ट तक ब्लड सर्कुलेट करने वाली कोरोनरी आर्टरी में ब्लॉकेज हो सकती है।

रेटिनल वेन ऑक्लूजन

हमारी आंखों से जुड़ी रेटिनल वेन ऑक्लूजन प्रॉब्लम भी दिल से जुड़ी बीमारियों का संकेत देती है। दरअसल, इसमें आंखों में ब्लड क्लॉटिंग हो जाती है और इसके कारण नसों में ब्लॉकेज भी हो सकती है और इस लक्षण को हमें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

जैंथेलाजमा

अगर आपकी आंखों की आईलिड के आसपास पीले रंग के चकत्ते पड़ने लगे तो समझ जाएं कि यह कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने का संकेत है और जब खून में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ती है तो आंखों की आईलिड के आसपास पीले रंग की प्लैक चढ़ने लगती है और ये हार्ट संबंधी समस्याओं का संकेत है।

हाइपरटेंसिव रेटिनोपैथी

हाइपरटेंसिव रेटिनोपैथी एक ऐसी स्थिति है जिसमें रेटिना में मौजूद छोटी-छोटी ब्लड वेसल्स डैमेज हो जाती है, जो इस बात का संकेत देती है कि आपकी शरीर की अन्य ब्लड वेसल्स भी कमजोर हो रही है और दिल तक ठीक तरीके से खून नहीं पहुंच रहा है, जो ब्लड प्रेशर और हार्ट अटैक से जुड़ी बीमारियों का संकेत देती है।

चीन-ताइवान के बीच एक बार फिर तनाव बढ़ा

चीन-ताइवान के बीच एक बार फिर तनाव बढ़ा

अखिलेश पांडेय   

नई दिल्ली। चीन-ताइवान के बीच एक बार फिर तनाव चरम पर है। दोनों के बीच टकराव और तनातनी बनी हुई है। चीन आंखे दिखा रहा है और ताइवान भी उसे बराबरी का जवाब दे रहा है। ऐसे में क्षेत्रीय शांति को अब खतरा दिख रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अबतक चीन ताइवान के आसपास 300 फाइटर जेट और कई युद्धपोत भेज चुका है। ताजा घटनाक्रम के तहत सीमा पर हालिया तनाव की वजह हर बार की तरह अमेरिका से ताइवान की नजदीकी बताई जा रही है।

ताइवान का दावा

'ताइवान टाइम्स' की रिपोर्ट के मुताबिक ताइवान के राष्ट्रीय सुरक्षा मंत्रालय ने बीते दो दिनों तक चीन के 26 सैन्य विमानों और 7 नौसैनिक जहाजों को ट्रैक करने का दावा किया है। डिफेंस डिपार्टमेंट की इस रिपोर्ट के मुताबिक लगातार गुर्रा रहे चीन ने अपने लड़ाकू जहाजों को गुरुवार से आज शुक्रवार तक ट्रैक किया गया है।

रक्षा मंत्रालय का बयान

ताजा बयान के मुताबिक दुश्मन देश की सेना एक्टिव होकर लगातार हमें उकसाने वाली कार्रवाई कर रही है। चीन की सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी एयर फोर्स के कई फाइटर जेट और चीनी नौसेना के युद्धपोतों को हमारी सीमा के नजदीक ट्रैक किया गया। खोजे गए विमानों में से 13 ने मध्य रेखा को पार किया या ताइवान के एयर डिफेंस जोन के दक्षिण-पश्चिम और पूर्वी क्षेत्र में प्रवेश किया। इन विमानों में एक हार्बिन बीजेडके-005 टोही ड्रोन, 5 शेनयांग जे-16 फाइटर जेट, दो चेंगदू जे-10 फाइटर जेट और एक हार्बिन जेड-9 पनडुब्बी रोधी युद्धक हेलीकॉप्टर शामिल थे। हमने वायु रक्षा मिसाइल प्रणालियों को तैनात करके जवाब दिया। हमारी हालात पर नजर बनी हुई है। हम आगे भी किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं।

ड्रोन से तस्करी, 12 करोड़ की हेरोइन बरामद

ड्रोन से तस्करी, 12 करोड़ की हेरोइन बरामद   

सुनील श्रीवास्तव  

जोधपुर। बीएसएफ ने भारत पा‎किस्तान सीमा पर एक ड्रोन को मार ‎गिराया है, इसके बाद सं‎दिग्ध हेरोइन के पैकेट बरामद ‎किए हैं। यह घटना 19-20 जुलाई 2023 की रात्रि की बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार रायसिंहनगर, सेक्टर श्रीगंगानगर से लगी भारत-पाक अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवानों को पाकिस्तान की ओर से आ रहे ड्रोन की आवाज सुनाई देने पर जवानों ने तत्काल प्रभाव से पाकिस्तानी ड्रोन पर फायरिंग कर पाकिस्तानी ड्रोन को गिराया।

सुबह इलाके की सघन जांच के दौरान इलाके से 3 पैकेट्स संदिग्ध हेरोइन एवं एक पाकिस्तानी ड्रोन बरामद किया गया। इस ऑपरेशन के तहत् 3 पैकेट्स संदिग्ध हेरोइन कुल वजन लगभग 2.3 किलोग्राम बरामद की गयी, जिसकी कीमत अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में लगभग 12 करोड़ रुपये आंकी गयी है। सीमा सुरक्षा बल द्वारा बरामद हेरोइन को विस्तृत जांच के लिए सम्बधित एंजेंसी को सुपुर्द किया जायेगा। इससे पूर्व भी पाकिस्तान द्वारा लगातार सीमा पार से ड्रोन द्वारा मादक पदार्थों की तस्करी के निरंतर नापाक प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन सीमा सुरक्षा बल के सजग व सतर्क जवानों द्वारा उनकी कोशिशों को नाकाम किया चुका हैं।

सदी की सबसे गर्म तीसरी रात, रिकॉर्ड गर्मी 

सदी की सबसे गर्म तीसरी रात, रिकॉर्ड गर्मी   

मोहम्मद रियाज  

लखनऊ। यूपी में मौसम पूरी तरह से बदल गया है। दो-चार रोज पहले बारिश से नए-नए रिकॉर्ड बनाने वाले यूपी में गर्मी और उमस से डेरा डाल रखा है। दिन के तापमान के साथ रात के तापमान में भी रिकॉर्ड बढ़त दर्ज की गई है। कभी बादल तो कभी तेज और कड़क धूप के बीच उमस ने राजधानी और आसपास के लोगों को बेहाल कर रखा है। गर्मी का आलम ये है कि बीते बुधवार की रात इस सदी की अब तक की तीसरी सबसे गर्म रात रही। न्यूनतम तापमान 29.9 डिग्री रिकॉर्ड हुआ, जो प्रदेश में बुधवार को सर्वाधिक रहा।

आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के मुताबिक अब तक के न्यूनतम तापमान के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो बीते बुधवार को न्यूनतम तापमान इस सदी में तीसरी बार 30 के करीब पहुंचा। इससे पहले एक जुलाई 2021 को 30.3 डिग्री सेल्सियस और 8 जुलाई 2018 को 30 डिग्री दर्ज हुआ था न्यूनतम तापमान।बृहस्पतिवार को दिनभर बादलों की आवाजाही तो रही, लेकिन कड़क धूप में खड़े होना मुहाल रहा। दिन का पारा 37.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। जुलाई में अब तक की बात करें अधिकतम तापमान 35 .4 डिग्री तक तो पहुंचा था, बृहस्पतिवार को इसमें 1.7 डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

लखनऊ विश्वविद्यालय में भू-विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रो. ध्रुवसेन सिंह कहते हैं कि कई वजहें हैं इस वक्त मानसून के ब्रेक होने की। एक तो एलनीनो सक्रिय है, जिससे मानसून कमजोर पड़ गया। बादल छाए रहने के कारण पृथ्वी से विकिरण अंतरिक्ष तक नहीं जा पा रहा है। इस कारण धरती गरम बनी हुई है। इस वक्त मानसून ट्रफ के गंगा के मैदान में होना चाहिए था, लेकिन वह यहां से बाहर है। इसी तरह पश्चिमी विक्षोभ यहां तक नहीं आ पा रहा है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-279, (वर्ष-06) पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. शनिवार, जुलाई 22, 2023

3. शक-1944, श्रावण, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:14, सूर्यास्त: 07:10। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 26 डी.सै., अधिकतम- 39+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

कांग्रेस-आप के बीच सीटों को लेकर सहमति बनी

कांग्रेस-आप के बीच सीटों को लेकर सहमति बनी  अखिलेश पांडेय  नई दिल्ली। कांग्रेस और आप के बीच सीटों को लेकर सहमति बन गई है। दिल्ली में आप चार ...