शुक्रवार, 13 मार्च 2020

हाईटेंशन लाइट का अनहोनी को निमंत्रण

गोविंद रावत


अल्मोड़ा। विकास खंड सल्ट के डभरा में खेतों में हाईटेंशन लाइन के साथ गिरे बिजली के जर्जर पोल अनहोनी को निमंत्रण दे रहे हैं। लगता है, यहां विद्युत विभाग का को किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजार है। विकासखंड सल्ट अंतर्गत तल्ला सल्ट के ग्राम पंचायत खोल्यो क्यारी के ग्राम प्रधान घन सिंह कड़ाकोटी ने कहा कि ग्राम सभा खोल्यो क्यारी के तोक डभरा में लगभग 20 वर्ष पूर्व विघुत लाईन पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो चुकी है।


विघुत विभाग की लापरवाही के चलते जर्जर पोल लंबे समय से खतरे का सबब बने हुए हैं। विगत 21 फरवरी को हाईटेंशन लाइन से तल्ला सल्ट के दो गांव मे बड़ा हादसा होने से टला है। खतरा बने इन विघुत पोलों को लेकर कोई सतर्कता नही बरत रहा है, जबकि इन विघुत पोलों को लेकर विघुत विभाग के कर्मचारी से शिकायतों के बावजूद भी संबघित अघिकारी कोई कारवाई नही करते हुए, बड़े हादसे का इंतजार कर रहे हैं। इस संबंध मे विघुत विभाग के अघिकारीरियों ने क्षतिग्रस्त पोलों की जानकारी तक उपलब्ध नही की है। किसी समय कभी भी कोई बडी दुर्घटना हो सकती है। विघुत पोल जर्जर हो चुके हैं। लंबे समय से इन विघुत पोलों मे रंग पेंट न होने के कारण जंग लग चुका है। स्थित यह है कि विघुत पोल जंग लग कर जमीन पर गिर गये हैं। हाईटेंशन लाइन के खम्बों में जंग लगे तार खेतों में लटके हैं, जो किसी वक्त भी अप्रिय घटना का कारण बन सकते हैं। हाईटेंशन तार आपस में जुड़े हुए हैं। ओवरलोडिंग व तेज हवा के कारण बड़ी घटना घटित हो सकती है। बारिश के समय इसमें करंट प्रवाहित होने से मवेशियों के लिए खतरा बना हुआ है। हाईटेंशन लाईन के आसपास के घरों में खतरा हो सकता है। इस सबंघ में विभाग के कर्मचारी को शिकायत के वावजूद भी अघिकारी कारवाई नही कर रहे हैं। लोगों में विभाग के प्रति भारी आक्रोश है।व्य


वायरसः डीएम ने सतर्कता आदेश दिए

कोरोना वायरस को लेकर कलेक्ट्रेट परिसर में मीटिंग हुई संपन्न, जिलाधिकारी ने कोरोना वायरस को लेकर संदेश दिया


ललितपुर। केलेक्ट्रेट परिसर में कोरोना वायरस को लेकर एक मीटिंग का आयोजन किया गया, इस आयोजन में जिलाधिकारी योगेश कुमार शुक्ला ने कोरोना वायरस को लेकर मीटिंग में मौजूद। सभी लोगों से कहा कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए हर इंतजाम पुख्ता किए जाएं, उन्होंने कहा कि जनपद में कोई ऐसा व्यक्ति आने ना पाए जो कोरोना वायरस का शिकार हो, इसके लिए जिलाधिकारी ने पुख्ता इंतजाम किए हुये है।


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रताप सिंह ने कोरोना वायरस से बचने के लिए में 6 उपाय बचाओ जनहित में जारी किए, इस मीटिंग में जिला अधिकारी योगेश कुमार शुक्ला, अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्रा, एसडीएम गजल भारद्वाज राजस्व विभाग के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी  एवं भारतीय जनता पार्टी की जिलाध्यक्ष जगदीश सिंह लोधी प्रदीप चौबे मोजूद रहे।


रिपोर्ट- नितिन पंथ


आकाशीय बिजली से अल्पायु की मृत्यु

गोरखपुर। गोला थाना क्षेत्र के ग्राम सभा लाही डाड़ी बुजुर्ग के उपेन्द्र यादव पुत्र रामसकल यादव 15 वर्ष का सुबह 9 बजे आकाशीय बिजली गिरने मृत्यु हो गई।


सुबह अपने घर पर ही गाय को चारा डालने के लिए जा रहे थे तभी आकाशीय बिजली की चपेट में आ गया। बिजली लगते ही शरीर ने आग पकड़ ली जब तक घर के लोग पहुँच पाते तब तक शरीर झुलस गया , परिजनों ने रामसकल को तत्काल जानीपुर हॉस्पिटल में ले गए जहाँ डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।इस घटना की जानकारी बांसगांव एस डी एम को तत्काल दे दी गई है।


रिपोर्ट- राजीव गुप्ता


योगी ने पोस्टर हटवाए, सपा ने लगाए

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार और समाजवादी पार्टी(सपा) के बीच पोस्टर वार शुरू हो गया है। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन करने और तोड़फोड़ के आरोपियों के पोस्टर योगी सरकार ने लखनऊ में जगह-जगह लगाए तो सपा नेता आईपी सिंह ने दुष्कर्म के आरोपी भाजपा नेता कुलदीप सिंह सेंगर और चिन्मयानंद के पोस्टर लगाकर जवाब दिया।


लखनऊ के लोहिया चौराहे पर ऐसे पोस्टर लगने की खबर मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया और पोस्टर उतरवा दिए गए। सपा प्रवक्ता आईपी सिंह ने लखनऊ में लगाए गए पोस्टरों पर कहा, “जब प्रदर्शनकारियों की कोई निजता नहीं है और उच्च न्यायालय और सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद भी योगी सरकार होर्डिग नहीं हटा रही है तो ये लीजिए फिर।


लोहिया चौराहे पर मैंने भी कुछ कोर्ट द्वारा नामित अपराधियों का पोस्टर जनहित में जारी कर दिए हैं, इनसे बेटियां सावधान रहें।” पुलिस की ओर से भाजपा के दागी नेताओं के पोस्टर हटवाए जाने पर आईपी सिंह ने कहा, “कुलदीप सेंगर को दुष्कर्मी घोषित कर दिल्ली की अदालत ने भी सजा दे दी है और दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश की पुलिस उनके खिलाफ मेरे द्वारा लगाए गए होर्डिग को हटाने में जुटी रही। यही भाजपा की कथनी और करनी में अंतर है, शर्म आनी चाहिए बेटियों का राजनीतिक इस्तमाल करने के लिए।”


मौसम विभाग ने किया अलर्ट जारी

पटना। पल-पल बदलते मौसम के बीच मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के द्वारा जारी किए गए अलर्ट के अनुसार लोगों को बारीश से अभी राहत नहीं मिलेगी। मौसम विभाग ने 13,14 और 15 मार्च को लेकर हाई अलर्ट जारी किया है।


मौसम विभाग द्वारा जारी किए गए अलर्ट के अनुसार आज पटना सहित 13 जिलों में तेज आंधी के साथ भारी बारिश की संभावना है। 13 जिला में आंधी तूफान के साथ भारी बारिश की संभावना है। मोतिहारी, बेतिया, सिवान, गोपालगंज, सारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुज़्ज़फ़रपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर और सुपौल में आंधी तूफान के साथ भारी बारिश का अलर्ट मौसम विभाग ने जारी किया है।


फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार कमलनाथ

भोपाल। मध्य प्रदेशमें पल-पल बदलते घटनाक्रम के बीच सीएम कमलनाथआज राज्यपाल लालजी टंडन से मिले। राजभवन में ये मुलाकात हुई। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल को पत्र सौंपा, जिसमें उन्होंने लिखा कि सरकार फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार है। स्पीकर जो तारीख चाहें तय कर सकते हैं। उधर, खबर है कि बेंगलुरू से सिंधिया समर्थक कांग्रेस विधायक भोपाल आ रहे हैं। वो सिंधिया के नामांकन दाखिल करते वक्त मौजूद रहेंगे। इस बीच संसदीय कार्य मंत्री गोविंद सिंह का बयान आया है कि कोरोना वायरस के कारण 16 मार्च से होने वाला विधानसभा का सत्र आगे बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है।
गवर्नर के सामने CM ने रखी मांग
राजनीतिक गहमा-गहमी के बीच सीएम कमलनाथ आज राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने पहुंचे। गुरुवार रात ही गवर्नर भोपाल लौटे। सीएम के चेहरे पर मुस्कान थी और राजभवन में अंदर जाने से पहले मीडिया के सामने विक्टरी का साइन दिखाते हुए वो अंदर दाखिल हुए। सीएम राजभवन में राज्यपाल से मिले और उन्हें पत्र सौंपा। राज्यपाल के साथ मुलाकात करने के बाद सीएम कमलनाथ ने मीडियाकर्मियों से बातचीत की। कमलनाथ ने इस दौरान कहा- हमने राज्यपाल से कहा कि बेंगलुरू में जिस तरह से विधायकों को बंधक बनाकर रखा वो दुनिया ने देखा। उन विधायकों को सबके सामने लाया जाए। कमलनाथ ने कहा कि राज्यपाल के साथ बातचीत में बजट सत्र आगे बढ़ाने को लेकर भी चर्चा हुई।


11 लाख रुपए लीटर है 'नीला खून'

अटलांटिक। अब तक आपने सुना होगा केवल लाल खून वाले जीवों के बारे में। लेकिन क्या आपने कभी नीले खून वाले जीव के बारे में सुना है? यह बात आपको जरूर चौंका रही होगी, लेकिन यह सच है। दुनिया में एक ऐसा भी जीव है जिसका खून लाल नहीं बल्कि नीले रंग का है और सबसे दिलचस्प बात तो यह कि इस जीव के एक लीटर नीले खून की कीमत 11 लाख रुपये है।


नीले खून वाले इस जीव का नाम है हॉर्स शू. जो एक दुर्लभ प्रजाति का केकड़ा है। जानकार बताते हैं कि हॉर्स शू केकड़ा दुनिया के सबसे पुराने जीवों में से एक हैं और वो पृथ्वी पर कम से कम 45 करोड़ साल से हैं। अटलांटिक, हिंद और प्रशांत महासागर में पाए जाने वाले हॉर्स शू केकड़े बसंत ऋतु से मई – जून के माह तक दिखाई देते हैं। सबसे ख़ास बात तो यह कि पूर्णिमा के वक्त हाई टाइड में यह समुद्र की सतह पर तक आ जाते हैं। अब बात इन केकड़ों की कीमत की करें तो इनका एक लीटर नीला खून अंतरराष्ट्रीय बाजार में 11 लाख रुपये तक बिकता है। यह दुनिया का सबसे महंगा तरल पदार्थ भी कहा जाता है। खासकर दवा कंपनियां इसके खून का इस्तेमाल कई दवाइयां बनाने में करती हैं। बताया जाता है कि हॉर्स शू केकड़े के खून का इस्तेमाल साल 1970 से वैज्ञानिक कर रहे हैं। इसके जरिये वैज्ञानिक मेडिकल उपकरणों और दवाओं के जीवाणु रहित होने की जांच करते हैं। इनमें आईवी और टीकाकरण के लिए इस्तेमाल की जाने वाली मेडिकल उपकरण शामिल हैं।


अटलांटिक स्टेट्स मरीन फिशरीज़ कमीशन के अनुसार, हर साल पांच करोड़ अटलांटिक हॉर्स शू केकड़ों का इस्तेमाल मेडिकल कामों में होता है। जानकार बताते हैं कि हॉर्स शू केकड़े के नीले खून में तांबा मौजूद होता है। साथ ही एक ख़ास रसायन होता है जो किसी बैक्टीरिया के आसपास जमा हो जाता है और उसकी पहचान करता है। हॉर्स शू केकड़ों का खून उनके दिल के पास छेद करके निकाला जाता है। एक केकड़े से तीस फीसदी खून निकाला जाता है फिर उन्हें वापस समंदर में छोड़ दिया जाता है। 


वहीं, एक रिपोर्ट के मुताबिक, दस से तीस प्रतिशत केकड़े खून निकालने की प्रक्रिया में मर जाते हैं। इसके बाद बचे मादा केकड़ों को प्रजनन में चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। फिलहाल दुनिया में इस समय हॉर्स शू केकेड़ों की चार प्रजातियां ही बची हैं। कई प्रजातियां तो शिकार और प्रदूषण के कारण खतरे में हैं। दुनिया में इस प्रजाति के केकड़ों पर लगातार खतरा बना रहता है। इनके खून की वजह से इनकी ब्लैक मार्केटिंग होती है।


घर-घर जाकर बचाव प्रचार करेगी आशा

महराजगंज। कोरोना को लेकर जहां एक तरफ जिले में हाई एलर्ट है, वहीं इससे बचाव के लिए शुक्रवार को सभी 2517 आशा कार्यकर्ताओं को दो पालियों में प्रशिक्षित किया गया। प्रशिक्षण प्राप्त सभी आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर दस्तक देंगी तथा आमजन को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक करेंगी।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अशोक कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव को लेकर सभी 12 ब्लाक मुख्यालयों पर दो-दो पालियों में आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण प्राप्त सभी आशा कार्यकर्ताओं को निर्देशित किया गया कि घर घर जाकर लोगों को कोरोना से बचाव के लिए टिप्स देकर जागरूक करें।
” कोरोना वायरस से न घबराएँ, खुद बचें और सबको बचाएँ ” विषय पर आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में चार बातों पर विशेष ध्यान देने के लिए बताया गया है। इन चार बातों से आशा कार्यकर्ता समुदाय आधारित गतिविधियाँ ( घर-घर दस्तक) आयोजित कर आमजन अवगत कराएं।
सीएमओ ने बताया कि कोरोना वायरस एक फ्लू जैसी बीमारी फैलाता है, जिसके लक्षण हैं बुखार, खाँसी और साँस लेने में तकलीफ है। सभी आशाओं को प्रशिक्षित करने की जिम्मेदारी सभी ब्लाक कम्यूनिटी प्रोसेस मैनेजर और स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारियों को सौपी गयी थी। प्रशिक्षण की मानीटरिंग के लिए डीपीएम नीरज सिंह, डीसीपीएम संदीप पाठक, डीएफएलएम मुंकेश त्रिपाठी, आरकेएसके के जिला समन्वयक शिवेन्द्र प्रताप श्रीवास्तव , यूनिसेफ के जिला समन्वयक संतोष कुमार श्रीवास्तव सहित अन्य लोगों को लगाया गया था।
कोरोना से बचाव को लेकर आशा कि भूमिका गृह भ्रमण के दौरान आशा ऐसे व्यक्तियों की सूचना तत्काल प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को दें, जिन्होंने पिछले 14 दिनों में विदेश यात्रा की हो।
-प्रभावित व्यक्ति को अगले 14 दिनों के लिए घर के सदस्यों एवं अन्य लोगों के साथ संपर्क सीमित करने और अलग कमरे में सोने की सलाह दें।
-गृह भ्रमण के दौरान समुदाय आधारित बैठक कर लोगों को क्या करें , क्या न करें के बारे में विस्तार से जानकारी दें।
कोरोना से बचाव के लिए क्या करें-हाथों को बार-बार साबुन और साफ पानी से अच्छी तरह धोएं।
-खाँसते और छींकते समय नाक और मुँह को टिशू या रूमाल से ढंकें। इस्तेमाल किए टिशू को कूड़ेदान में ही फेंकें।
-अगर खाँसी या बुखार के लक्षण हो या सांस लेने में तकलीफ हो तो तुरंत नजदीक के सरकारी अस्पताल पर जाएँ।
-खाँसी बुखार या सांस लेने में दिक्कत होने पर और लक्षण समाप्त होने तक घर पर ही आराम करें। अन्य लोगों से कम से कम एक मीटर की दूरी बनाए रखें।
—- क्या न करें-सार्वजनिक और खुले स्थान पर न थूकें।
-बेवजह अपनी आंखें, नाक या मुँह न छुएं। छूने के बाद हमेशा हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं।
-खाँसी या बुखार के लक्षण होने पर या सांस लेने में तकलीफ होने पर सार्वजनिक स्थानों पर न जाएँ और लोगों से निकट संपर्क न करें।


आग्रह से कर्मचारी संगठन ने सौंपा ज्ञापन

रामनगर। रामनगर के विधायक दीवान सिंह बिष्ट ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर जनरल-ओबीसी इंप्लाइज एसोसिएशन रामनगर प्रेषित ज्ञापन का हवाला देते हुए राजकीय सेवाओं में कार्यरत कर्मचारियों की पदोन्नति पर लगी रोक को हटाए जाने का आग्रह किया है। उन्होंने सीएम को भेजे पत्र में कहा है कि उक्त कर्मचारी संगठन ने उन्हें एक ज्ञापन सौंपा था। जिसमें कर्मचारियों ने बताया था कि पदोन्नति को आरक्षण से दूर रखने के लिए दिए गए सुप्रीम कोर्ट के आदेश को सरकार नहीं मान रही है।


इसी मांग को लेकर कर्मचारी दो मार्च से हड़ताल पर हैं। उन्होंने कहा है कि कर्मचारियों की मांग व उनके बढ़ते आक्रोश को देखते हुए साथ ही सुप्रीम कोर्ट के आदेश को देखते हुए कर्मचारियों की पदोन्नति पर लगी रोक को शीघ्र हटाना उचित लग रहा है। इस रोक के कारण कई कर्मचारी बिना किसी पदोन्नति के सेवा निवृत हो रहे हैं। दूसरी ओर कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से जन सामान्य को होने वाली परेशानी से भी वे अगत हैं। इसलिए इस मामले में कर्मचारियों की मांग पर सहानुभूति पूर्व विचार करने के लिए उन्होंने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से आग्रह किया है।


एनपीआर-एनसीआर के खिलाफ प्रस्ताव पास

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा में एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ प्रस्ताव पास हो गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में कहा कि गृहमंत्री अमित शाह ने सिर्फ एनपीआर पर बात की है, उन्होंने एनआरसी पर कुछ नहीं कहा। केजरीवाल ने कहा कि सरकार ये कह रही है कि एनआरसी पर कोई ड्राफ्ट तैयार नहीं हुआ है।


जब चिड़िया खेत चुग जाएगी तब पछताने से क्या होगा। उन्होंने कहा, ”गृहमंत्री अमित शाह ने ने देश को एक क्रोनोलॉजी बताई थी। पहले सीएए आएगा, फिर एनपीआर आएगा और फिर एनआरसी आएगा। ये तीनों क़ानून एक दूसरे से जुड़े है। देश के सारे लोगों की नागरिकता पर ये सवाल उठाएंगे।” केजरीवाल ने कहा, ”एनपीआर के इंफॉर्मेशन कलेक्ट किया जाएगा। बाद में उसी के आधार पर एनआरसी होगा। अभी अगर एनपीआर हो गया तो उसके बाद कुछ नहीं बचेगा। फिर तो एनआरसी होकर रहेगा। राष्ट्रपति जी ने कह दिया कि एनआरसी होगा, गृहमंत्री ने कहा दिया किया एनआरसी होगा…एनआरसी तो होगा ही।” उन्होंने कहा कि अमित शाह ने कल ये कहा है कि एनपीआर में डॉक्यूमेंट नहीं मांगे जाएंगे, उन्होंने ये नहीं कहा कि एनआरसी में डॉक्यूमेंट नहीं मांगे जाएंगे। एनआरसी में तो डॉक्यूमेंट मांगे जाएंगे। दरअसल, गुरुवार को राज्यसभा में अमित शाह ने कहा कि एनपीआर के तहत कोई भी डॉक्यूमेंट नहीं मांगा जाएगा, इससे किसी को डरने की जरूरत नहीं है।


हापुड़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता

अतुल त्यागी जिला प्रभारी


हापुड़। जनपद की धौलान पुलिस को मिली बड़ी सफलता पुलिस अधीक्षक महोदय के आदेश अनुसार चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में अवैध शराब धौलाना पुलिस ने की बरामद।


धौलाना थाना इंचार्ज रवि रतन ने अपनी पुलिस टीम के साथ 452 पेटी अवैध शराब सहित एक ट्रक व सेंट्रो कार के साथ दो तस्करों को  किया  गिरफ्तार। एसओजी 1 और धौलाना पुलिस ने की बरामदगी शराब की कीमत 16 लाख के करीब बताई जा रही है हापुड़ कप्तान संजीव सुमन ने प्रेसवार्ता कर किया खुलासा धौलाना पुलिस को मिली बड़ी सफलता।


संजीव सुमन


प्रदर्शनकारियों को बताएं बचाव टिप्स

माहामारी के रुप में फैल चूके कोरोना वॉयरस से बचाव को बाँटे गए निशुल्क मास्क


मंसूर अली पार्क में हिन्दू मुस्लिम सदभाव मंच ने बाँटे निशुल्क मास्क जूमे की नमाज़ में देश में फैले कोरोना वॉयरस से निजात को हुई दूआ कोरोना वॉयरस से बचाव के अन्य तरीक़ो से लोगों को किया गया जागरुक


प्रयागराज। मंसूर अली पार्क में सीएए एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ धरना दे रही महिलाओं,युवाओं व युवतियों के बीच कोरोना वॉयरस की महामारी से बचने के टिप्स बताए गए।वहीं सैकड़ो लोगों को हिन्दू मुस्लिम सदभाव मंच के अध्यक्ष इरशाद उल्ला की ओर से मास्क का निशुल्क वितरण किया गया।सै०मो०अस्करी ने बताया की इस वक़्त कोरोना वॉयरस से देश में दहशत का माहौल है।मार्केट में मास्क की कालाबाज़ारी हो रही है।लोग एहतियातन महंगे दामों में मास्क खरीदने को मजबूर हैं ऐसे में हिन्दू मुस्लिम सदभाव मंच ने लोगों में निशुल्क मास्क का वितरण कर सराहनीय कार्य किया।अस्करी ने बताया की जुमे की नमाज़ के बाद शहर की तक़रीबन सभी मस्जिदों में ओलमाओं ने माहामारी का रुप ले चूके कोरोना वॉयरस से लोगों को बचाने के लिए माबूदे इलाही की बारगाह में दोनों हाँथ बुलन्द कर दुआ की।चक ज़ीरो रोड,चौक जामा मस्जिद,मस्जिद दायरा शाह अजमल,मस्जिदे खदीजा करैली,मस्जिद इमिम रज़ा दरियाबाद सहित शहर की तक़रीबन सभी मस्जिदों में पेश इमामों ने नमाज़ियों के साथ सामुहिक दूआ की।मास्क वितरण कार्यक्रम में इरशाद उल्ला,अफसर महमूद,सै०मो०अस्करी,सै०मो०शहाब,शुऐब अन्सारी,उबैद अन्सारी,शाहिद अली राजू,मुशीर अहमद,इफ्तेखार अहमद मंदर आदि मौजूद रहे।


रिपोर्ट- बृजेश केशरवानी


वायरस से बचने की नमाज़ियो ने दुआ की

कोरोना वायरस से बचाओ को नमाज़ियों ने की दुआ


प्रयागराज। कोरोना वायरस निपटने के लिये अब दुवाओं का दौर शुरू हो गया है, जुमे की नमाज़ के बाद करेली गौस मस्जिद के बाहर जुटे नमाज़ियों ने कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिये दुआएं मांगी।


कांग्रेस नेता हसीब अहमद की अगुवाई में जुटे नमाज़ियों ने कोरोना के कहर से निजात के लिये खुदा की बारगाह में सरसजदा किया और लोगो की सलामती के लिये दुआएं मांगी। इस मौके पर: मो०मुस्लिम, नूरुल कुरैशी, मो०शाद, अब्दुल शाहिद, आदिल जे के, अशरफ, तंजील अंसारी, मोनू अंसारी, अफरोज़, कमरुल हुदा आदि लोग मौजूद थे।


रिपोर्ट- बृजेश केशरवानी


दर्शकों के बिना ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड का मैच

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच शुक्रवार से तीन वनडे मैचों की सीरीज शुरू हो गई। लेकिन मैच से ऐन पहले दर्शकों को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में एंट्री करने से रोक दिया गया। खेल आयोजकों ने दुनिया भर में फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर यह कदम उठाया है। मैच से पहले ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज केन रिचर्डसन ने गले में खराश और हल्के दर्द की शिकायत की, इसके बाद उन्हें तुरंत टीम से अलग कर आइसोलेशन में रखा गया। इसके साथ ही दर्शकों के बगैर मैच कराने का निर्णय लिया गया।


ऑस्ट्रेलियाई तेज गेदंबाज रिचर्डसन की ऐहितियात के तौर पर कोरोना वायरस का टेस्ट भी किया है। अभी उनका नमूना जांच के लिए लैब में भेजा गया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने निर्णय लिया है कि अब इस सीरीज के बाकी दोनों मैच भी बिना दर्शकों के ही आयोजित होंगे। सीरीज का दूसरा मैच भी इसी मैदान पर खेला जाएगा, जबकि तीसरा और अंतिम मुकाबला होबर्ट में आयोजित होगा। इस बीच आज खेले जा रहे मैच में दोनों कप्तानों ने टॉस के समय एक-दूसरे से हमेशा की तरह हाथ भी मिलाया। लेकिन इस बार टॉस के बाद अपनी बैटिंग या फील्डिंग का निर्णय बताने के लिए उनका इंटरव्यू माइक पर नहीं बल्कि स्पाइडरकैम की मदद से किया गया। हाथ मिलाने के बाद कप्तान केन विलियमसन ने हल्के-फुल्के अंदाज में मजे भी लिए। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच से हाथ मिलाने के बाद उन्होंने अपने हाथ को मजेदार अंदाज में घूर कर देखा। इस बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस सीरीज के बिके सभी टिकटों की शत प्रतिशत कीमत लौटाने का फैसला किया है।


55 सीटों पर नामांकन का आखिरी दिन

नई दिल्ली। देश के अलग-अलग राज्यों की 55 सीटों पर हो रहे राज्यसभा चुनाव के लिए आज नामांकन का आखिरी दिन है। आज कई दिग्गज अपना नामांकन दाखिल करेंगे। कांग्रेस का साथ छोड़ भारतीय जनता पार्टी में आए ज्योतिरादित्य सिंधिया भी आज भोपाल में अपना नामांकन दाखिल करेंगे। गुरुवार को ज्योतिरादित्य भोपाल पहुंचे, जहां भाजपा कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। ज्योतिरादित्य सिंधिया दोपहर दो बजे के करीब विधानसभा में अपना नामांकन भरेंगे।


भाजपा में शामिल होने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया पहली बार भोपाल आए तो पार्टी की ओर से उनका शानदार स्वागत किया गया। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनके लिए डिनर का आयोजन किया, रात को शिवराज के घर पर ज्योतिरादित्य सिंधिया, नरेंद्र सिंह तोमर डिनर पर पहुंचे। मध्य प्रदेश में तीन राज्यसभा सीटों के लिए सियासी जंग जारी है। भाजपा ने राज्यसभा के लिये ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी को उम्मीदवार बनाया है। वहीं कांग्रेस की ओर से दिग्विजय सिंह और फूल सिंह बारिया को टिकट दिया गया है।


गाजियाबाद में 1 और संक्रमित की पुष्टि

एमएमजी हॉस्पिटल मे एक ओर मरीज की हुई पुष्टि
रवि चौहान 


गाजियाबाद। घातक कोरोनावायरस के चलते देश में पहली मौत, कर्नाटक के कलबुर्गी के 76 वर्षीय बुजुर्ग की मौत से हाहाकार। साथ ही हरियाणा और दिल्ली में महामारी घोषित। कॉलेज व सिनेमाघर 31 मार्च तक रहेंगे बंद। दिल्ली से सटे ग़ाज़ियाबाद में कल एक मरीज को कोराना वाइरस की पुष्टि हुई है। जिसमे कल नगर आयुक्त ने मास्क बाटने का कार्य किया। गाजियाबाद ममेसमाज सेवको ने जगह-जगह जा कर भीड़-भाड़ वाले स्थानों मे लोगो को मास्क बाटेंं। एक तरफ लोनी के विद्यायक का कहना है कि लोनी में कोरोना वायरस नही आ सकता, क्योंकि यहां राम राज्य है। विद्यायक ने कहा कि लोनी मेे सबसे ज्यादा गाय है।


कोरोना वाइरस एक ऐसी बीमारी है जो कि एक दूसरे के गले मिलना और हाथ मिलाने  ओर जुकाम खासी से इसके लक्षणों आदि से फैलता है भारत में सबसे ज्यादा हाथ  मिलाने  का ट्रेड  हो गया है।  
कल गाजियाबाद में एक और मरीज में हुई कोरोना वायरस की पुष्टि ,देर रात  रिपोर्ट आने पर  पीड़ित के  पिता को एक हफ्ते पहले किया गया था दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती, पिता में हुई थी कोरोना वायरस की पुष्टि,
पीड़ित जिला एमएमजी अस्पताल में भर्ती  कराया गया था मरीज को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया ,सीएमओ नरेंद्र कुमार गुप्ता ने  बताया कि भीड़-भाड़ वाले इलाके मे ना जाए और ओर अपने हाथों को सैनिटाइजर से साफ करते रहे और मास्क लगाकर चलें।


कोरोना वायरस  के फैलते संक्रमण को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वैश्विक महामारी घोषित कर दी है आपको बता दें कि भारत में कोरोनावायरस के चलते एक व्यक्ति की मौत जिसको देखते हुए दिल्ली और हरियाणा में महामारी घोषित कर दी है और 75 संक्रमित मरीज देश में मौजूद उत्तराखंड व जम्मू कश्मीर में भी स्कूल बंद करने के आदेश दे दिए गए हैं और मंत्रियों के विदेश दौरे अब नहीं होंगे भीड़-भाड़ इलाके जैसे कॉलेज व सिनेमाघर 31 मार्च तक बंद होंगेकेंद्र सरकार ने राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को महामारी रोग अधिनियम की धारा 2 के प्रावधान लागू करने को कहा है। कर्नाटक के कलबुर्गी के 76 वर्षीय बुजुर्ग की मौत कोरोना की चलती हुई।


नगर पालिका ने धन का दुरुपयोग किया

लोनी नगर पालिका ने किया सरकार के पैसे का दुरुपयोग

रवि चौहान


गाजियाबाद। लोनी नगर पालिका करोड़ों की क्लीनिंग  मशीन को लोनी बलराम नगर स्थित टंकी परिसर में कचरा बनते देख रहे हैं। गौरतलब हो नगरपालिका में लगभग 6 वर्षों पहले रास्तों की साफ-सफाई के उपयोग में खरीदी गई थी। जबकि उस मशीन को कभी उपयोग में लाया ही नहीं गया। बताया जा रहा है कि पूर्व अधिशासी अधिकारी डीके राय की तैनाती के वक्त नगरपालिका ने इसे वर्षों उपयोग में चालू दिखाया और शासन से लाखों रुपया मेंटेनेंस भी वसूला था। पिछले 5 से 6 वर्षों से मशीन कूड़े में तब्दील होती जा रही है। एक तो जनता का नुकसान और दूसरा सरकार का नुकसान क्लीनिंग मशीन होते हुए भी जनता को इसका लाभ नहीं मिला सरकार और जनता को पागल बना कर  नगर पालिका ने करोड़ो की हेरा फेरी  कर के किलरिंग मशीन को एक कोने मैं छुपा दिया  फिर नगर पालिका ने जनता को धूल के हवाले किया और जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया फिर सरकार की आखों मैं धूल जोक कर मेन्टेन्स का पैसा वसूला ऐसे भरस्टाचारी अधिकारियों पर कब सरकार अंकुश लगाएगी कब लोनी धूल से निजात पाएगी एक तरफ लोनी मैं धुल मिटी उड़ने से जनता को काफी बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है बीमार बना रही सड़क पर उड़ती धूललोनी में  लोग सड़क से उड़ते धूल से बीमार होने लगे हैं। धूल की  वजह से दमा, एलर्जी, चर्म व आंखों की बीमारी के चपेट में आ रहे हशहर में लोग सड़क से उड़ते धूल से बीमार होने लगे हैं। धूल की वजह से दमा, एलर्जी, चर्म व आंखों की बीमारी के चपेट में आ रहे हैं। समस्या से वाकिफ होने के बाद भी स्थिति को सुधारने के लिए जिला प्रशासन के साथ नगर पालिका कदम नहीं उठा रहा है  सुबह टहलने लायक जगह नहींसुबह-सुबह स्वास्थ्य की दृष्टि के टहलने वाले लोगों के लिए कभी सड़क अच्छा साधन हुआ करता था। लेकिन 5 सालो  से सड़कों की बदतर स्थिति को देखते हुए लोगों ने सड़क पर टहलना छोड़ दिया है।  रोशन यादव ने बताया कि सुबह ताजी हवा के लिए सेर  पर जाते थे, लेकिन लोनी में सुबह से ही सड़क पर उड़ती धूल से जाना ही छोड़ दिया है।24 घंटे यही स्थितिलोनी में 24घंटे सड़क पर वाहनों के चलने से धूल उड़ती रहती है। इससे लोग बीमारी की चपेट में आने लगे हैं। डॉ. योगेश ने बताया कि धूल के कारण लोगों में दमा की शिकायत बढऩे लगी है। मरीजों को मुंह बांधकर चलने की सलाह देते हैं। श्वांस व दमा के अलावा लोगों को चर्मरोग व आंख से जुड़ी बीमारियों का भी सामना करना पड़ रहा है। नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. ताम्रकार ने बताया कि धूल के करण आंखों को नुकसान पहुंचाते हैं। ओर एक तरफ गाजियाबाद में कोरोनावायरस की एक मरीज की हो गई है पुष्टि देश में फैली महामारीी को लेकर नगरपालिका सुस्तरवि चौहान  जिला गाजियाबाद लोनी नगर पालिका करोड़ों की क्लीनिंग  मशीन को लोनी बलराम नगर स्थित टंकी परिसर में कचरा बनते देख रहे हैं गौरतलब नगरपालिका में लगभग 6 वर्षों पहले रास्तों की साफ सफाई के उपयोग में खरीदी गई थी जबकि उस मशीन को कभी उपयोग में लाया ही नहीं गया बताया जा रहा है कि पूर्व डी के राय की तैनाती के वक्त नगरपालिका ने इसे वर्षों उपयोग में चलाया दिखाया गया और शासन से लाखों रुपया मेंटेनेंस भी वसूला था। पिछले 5 से 6 वर्षों से मशीन कूड़े में तब्दील होती जा रही है। एक तो जनता का नुकसान और दूसरा सरकार का नुकसान। क्लीनिंग मशीन होते हुए भी जनता को इसका लाभ नहीं मिला। सरकार और जनता को पागल बना कर नगर पालिका ने करोड़ो की हेरा फेरी कर के किलरिंग मशीन को एक कोने मे छुपा दिया। फिर नगर पालिका ने जनता को धूल के हवाले किया और जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया फिर सरकार की आखों मैं धूल जोक कर मेन्टेन्स का पैसा वसूला ऐसे भरस्टाचारी अधिकारियों पर कब सरकार अंकुश लगाएगी कब लोनी धूल से निजात पाएगी एक तरफ लोनी मैं धुल मिटी उड़ने से जनता को काफी बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है बीमार बना रही सड़क पर उड़ती धूललोनी में  लोग सड़क से उड़ते धूल से बीमार होने लगे हैं। धूल की  वजह से दमा, एलर्जी, चर्म व आंखों की बीमारी के चपेट में आ रहे हशहर में लोग सड़क से उड़ते धूल से बीमार होने लगे हैं। धूल की वजह से दमा, एलर्जी, चर्म व आंखों की बीमारी के चपेट में आ रहे हैं। समस्या से वाकिफ होने के बाद भी स्थिति को सुधारने के लिए जिला प्रशासन के साथ नगर पालिका कदम नहीं उठा रहा है। सुबह टहलने लायक जगह नहींसुबह-सुबह स्वास्थ्य की दृष्टि के टहलने वाले लोगों के लिए कभी सड़क अच्छा साधन हुआ करता था। लेकिन 5 सालो  से सड़कों की बदतर स्थिति को देखते हुए लोगों ने सड़क पर टहलना छोड़ दिया है।  रोशन यादव ने बताया कि सुबह ताजी हवा के लिए सेर  पर जाते थे, लेकिन लोनी में सुबह से ही सड़क पर उड़ती धूल से जाना ही छोड़ दिया है।24 घंटे यही स्थितिलोनी में 24घंटे सड़क पर वाहनों के चलने से धूल उड़ती रहती है। इससे लोग बीमारी की चपेट में आने लगे हैं। डॉ. योगेश ने बताया कि धूल के कारण लोगों में दमा की शिकायत बढऩे लगी है। मरीजों को मुंह बांधकर चलने की सलाह देते हैं। श्वांस व दमा के अलावा लोगों को चर्मरोग व आंख से जुड़ी बीमारियों का भी सामना करना पड़ रहा है। नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. ताम्रकार ने बताया कि धूल के करण आंखों को नुकसान पहुंचाते हैं। ओर एक तरफ गाजियाबाद में कोरोनावायरस की एक मरीज की हो गई है। पुष्टि देश में फैली महामारीी को लेकर नगरपालिका सुस्त।


 


यूपीः बरसात ओलावृष्टि में गई 7 की जान

आंधी-बारिश और बिजली ने मचाई तबाही, पांच लोगों की मौत और कई लोगों के ढह गए आशियाने
प्रशांत कुमार


आजमगढ़। आंधी-बारिश, ओलावृष्टि के साथ ही आसमान से गिरी बिजली ने पूर्वांचल में जमकर कहर बरपाया है। बारिश के चलते कई जिलों में दर्जनों घर गिर गए, तो कई पेड़ों के साथ बिजली के खंभे भी गिर गए। आंधी-बारिश ने फसलों को चौपट कर दिया है, जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है। इस कारण आवागमन के साथ-साथ कई गांवों में बिजली न होने से अंधेरा भी छा गया है। घर, पेड़ और बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई, तो वहीं गुरुवार को भी दो लोगों की मौत हो चुकी है।


जौनपुर जिले के मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के पाली बाजार से सटे अहिरौली गांव में घर से थोड़ी दूर स्थित पाही पर सो रही उर्मिला(55) पत्नी नंदलाल बिजली गिरने से झुलस गईं। परिजन उसे अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। केराकत के उदियासन गांव में आंधी से गूलर का पेड़ रिहायशी टीन शेड पर गिर गया।


टीन शेड में सो रहे बनारसी उर्फ सूरज पाल(16) की मौत हो गई। पिता जयराज पाल(60) और मां हीरावती देवी(56) गंभीर रूप से घायल हो गए। मीरगंज थाना क्षेत्र के रामपुर चौथार गांव में आंधी से गिरे बिजली के तार में प्रवाहित करंट की चपेट में आने से रमेश यादव की पत्नी धर्मा देवी(45) की मौत हो गई। रामपुर थाना क्षेत्र के बनीडीह गांव में शादी में शामिल होने आए बृजलाल गौतम(50) निवासी ग्राम कुशवाहा थाना सुरियांवा (भदोही) की मौत हो गई। वह रात में खाना खाने के बाद टीन शेड में सो रहा था, आंधी के दौरान आम का पेड़ टीनशेड पर गिर गया।


आजमगढ़ जिले में ओलावृष्टि का कहर लगातार दूसरे दिन भी जारी रहा। बुधवार रात चक्रवाती बारिश और ओलावृष्टि के बाद बृहस्पतिवार रात को भी मेहनाजपुर के साथ ही कई क्षेत्रों में ओलावृष्टि हुई। पांच मिनट तक हुई ओलावृष्टि से सफेद चादर बिछ गई। बड़े-बड़े ओले से किसान सिहर उठे। गेहूं और सरसों की फसल जमीन पर बिछ गई। निजामाबाद क्षेत्र में भी फसलों को काफी नुकसान हुआ है। बारिश से मौसम में ठंडक आ गई है।


सोनभद्र जिले के बभनी थाना क्षेत्र के पिपरहर (पतखिरना) गांव निवासी सुमिरन(50) गुरूवार को सुबह घर से जंगल की ओर खेत मे बकरी चराने गया था। अचानक बारिश शुरू हो गई और बिजली चमकने लगी। इतने में सुमिरन आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए मौके पर ही मौत हो गई।


दो लोगों की मौत
मिर्जापुर मंडल के भदोही में आंधी से लालानगर टोल प्लाजा के पास पेड़ गिर गया। इसकी चपेट में आने से ज्ञानपुर निवासी रवि वर्मा(36) की मौत हो गई। जगह-जगह ओले भी गिरे। दर्जनभर से अधिक बिजली के खंभे उखड़ने से बिजली आपूर्ति बाधित हो गई। मिर्जापुर में अधिकतर जगहों पर बुधवार देर रात ओले गिरे और बारिश हुई और आंधी भी चली। जगह-जगह पोल और तार पर पेड़ गिरने से बिजली व्यवस्था चरमराई गई। जिगना थाना क्षेत्र में पेड़ गिरने से कोतला देवी(55) की मौत हो गई।


यूपी में 22 मार्च तक स्कूल-कॉलेज बंद

लखनऊ। कोरोना वायरस को लेकर उत्तर प्रदेश में भी सावधानी के लिए महामारी घोषित करने की तैयारी है। वहीं सूत्रों के अनुसार उत्तर प्रदेश में 22 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद किए जाएंगे, वहीं जहां परीक्षाएं चल रही हैं, वो स्कूल-कॉलेज परीक्षाओं के बाद बंद किए जाएंगे।


इस संबंध में प्रेस कांफ्रेंस में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि डेढ़ महीने पहले ही हमने कोरोना वायरस को लेकर चेतावनी जारी कर दी थी। वहीं इस संबंध में एडवाइजरी भी जारी कर दी गई थी। सीएम ने कहा कि हमने 4100 चिकित्सकों को कोरोना वायरस के बचाव को लेकर प्रशिक्षित भी किया है। हमने हर जनपद में आइसोलेशन वार्ड बनाया है।


जिसमें 830 बेड सुरक्षित हैं। वहीं 24 मेडिकल कॉलेजों में भी 448 बेड सुरक्षित रखे हैं। सीएम ने कहा कि लखनऊ में केजीएमयू, पीजीआई और अलीगढ़ में जांच की सुविधा दी गई है। गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज और बीएचयू में भी लैब तैयार करने की तैयारी है। बता दें इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में कोरोना के संबंध में हुई बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, उच्च शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा,बेसिक शिक्षा, प्राविधिक शिक्षा, व्यवसायिक शिक्षा, महिला कल्याण एवं बाल विकास पुष्टाहार, नगर विकास, ग्राम विकास ,पंचायती राज के प्रमुख सचिव मौजूद रहे।


कोरोना फिरौना ठेंगवा दिखाउब तब"

नई दिल्ली। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने देश में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए एक कविता के जरिए लोगों से सावधान रहने की अपील की है। बच्चन ने गुरुवार रात को अपने ट्विटर हैंडल से एक वीडियो साझा किया, जिसमें वह अवधी भाषा में कविता के जरिए कोरोना से एहतियात बरतने के लिए संदेश दे रहे हैं।


बच्चन ने कविता में कहा... 
“बहुतेरे इलाज बतावैं, जन जनमानस सब। 
केकर सुनैं केकर नाहीं कौन बाताई ई सब। 
क्येऊ कहेस कलौंजी पीसौ, केऊ आंवला रस।
केऊ कहेस घर मां बैठओ हिलो न टस से मस। 
ईर कहिन औ बीर कहिन कि अइसा कुछ भी करौ ना। 
बिन साबुन के हाथ धोइ के, केऊ के भैया छुअव ना। 
हम कहा चलौ हमहू कर देत हैं जैसन बोलैं सब। 
आवै देव कोरोना फिरौना ठेंगवा देखाउब तब।”
बता दें कि कर्नाटक के कलबुर्गी में कोरोना वायरस के संक्रमित एक बुजुर्ग की मौत के बाद गुरुवार को देश में इस संक्रमण से मौत का पहला मामला सामने आया है। देश में फिलहाल कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 73 है जबकि विश्व में इस वायरस से अबतक 4600 से अधिक लोगों की मौत हो गई है।


नोएडा में भी वायरस संक्रमण की पुष्टि

नोएडा। उत्तर प्रदेश के नोएडा स्थित एक प्राइवेट कंपनी के एक कर्मचारी के शुक्रवार को कोरोनावायरस (कोविड-19) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी(सीएमओ) ने कहा कि जांच में व्यक्ति संक्रमण से ग्रस्त पाया गया है। उन्होंने कहा, “हां, उत्तर प्रदेश के नोएडा में कार्यरत एक दिल्ली निवासी के कोविड-19 से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।”


उन्होंने कहा कि व्यक्ति को एकांतवास में भेजा गया है और कंपनी के सभी कर्मचारियों को आइसोलेशन में रखा गया है। नोएडा की इस कंपनी में कुल 707 लोग कार्यरत हैं।


भारत में कोविड-19 के संक्रमण के चलते पहली मौत कर्नाटक में हुई है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बी. श्रीरामुलू ने गुरुवार को प्रदेश के उत्तरी क्षेत्र में कलबुर्गी के एक 76 वर्षीय व्यक्ति की कोरोनावायरस के चलते मौत होने की पुष्टि की।


वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से शुक्रवार सुबह 10 बजे तक कोरोनावायरस से संक्रमण के 75 मामलों की पुष्टि की है।


दिल्ली में नहीं खेले जाएंगे आईपीएल मैच

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को लेकर दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली में इस साल कोई इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का मैच नहीं खेला जाएगा। इसके अलावा किसी भी तरह के बड़े इवेंट को भी रद्द कर दिया गया है। एक स्थान पर हजारों की संख्या में लोग एकत्रित ना हो इसके मद्देनजर अरविंद केजरीवाल की सरकार ने ये फैसला लिया है।


दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को ऐलान किया कि राजधानी में किसी तरह का सम्मेलन या सेमिनार के आयोजन करने पर रोक लगा दी गई है। सरकार के अगले आदेश ये निर्देश जारी रहेगा। दिल्ली के सभी जिलाधिकारियों को इस बारे में जानकारी दी गई है।


प्रेस कॉन्फ्रेंस में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि अगर किसी भी व्यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाते हैं या फिर उसे इस तरह का डर लगता है तो वह खुद को पब्लिक से दूर रखें। किसी भी व्यक्ति में अगर लक्षण दिखें तो वह 14 दिनों तक घर में ही रहे।


दिल्ली में एनआरसी के खिलाफ प्रस्ताव

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है, जिसमें कैबिनेट मंत्री गोपाल राय राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ प्रस्ताव पेश करेंगे। विधानसभा में शहर में कोरोनो वायरस की वर्तमान स्थिति पर भी चर्चा होगी।


प्रस्ताव का सदन द्वारा पारित हो जाने की संभावना ज्यादा है क्योंकि विधानसभा में आप के पास बहुमत है। आप ने विधानसभा चुनाव में 70 में से 62 सीटें हासिल की थीं। सूत्रों के अनुसार, आप चाहती है कि 2010 के प्रारूप के अनुसार राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (आप) संचालित किया जाए।


आप ने पहले ही अपना रुख स्पष्ट कर दिया है कि वह एनआरसी के खिलाफ है, पार्टी का कहना है कि देश का ध्यान अर्थव्यवस्था और रोजगार पर होना चाहिए। पार्टी का विचार है कि गरीब लोगों के पास एनआरसी के लिए पर्याप्त दस्तावेज नहीं हैं।


उत्तराखंड के स्कूल 31 मार्च तक बंद

देहरादून। कोरोना वायरस चीन समेत कई देशों के लिए घातक बन चुका है। इसी बीच उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश के 12वीं कक्षा तक के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को 31 मार्च तक बंद रखने का निर्णय लिया है। गुरुवार को उत्तराखंड स्कूल शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने इस बात की जानकारी दी। इस दौरान केवल बोर्ड परीक्षाएं जारी रहेंगी। इसके अलावा सभी स्कूल बंद रहेंगे।


उन्होंने कहा कि जिन शैक्षणिक संस्थाओं में अभी परीक्षाएं चल रही हैं, वह परीक्षा खत्म होने तक खुले रहेंगे। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्कूल, कॉलेज और सिनेमा हॉल बंद करने का ऐलान किया था। साथ ही साथ सरकार ने कोरोना को दिल्ली में महामारी भी घोषित कर दिया।


ज्ञात हो कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना को महामारी घोषित कर दिया है। इसके बाद दिल्ली और हरियाणा सरकार ने भी सभी स्कूलों, कॉलेजों, सिनेमा हॉल को बंद करने का निर्णय लिया है।


वायरस ने सेंसेक्स की कमर तोड़ी

मुंबई। कोरोना के कहर ने शुक्रवार को फिर दलाल स्ट्रीट पर कोहराम मचाया। सेंसेक्स आरंभिक कारोबार के दौरान 3200 अंक से ज्यादा टूटकर 29,600 के नीचे आ गया और निफ्टी भी 966 अंक लुढ़ककर 8,624 के स्तर पर आ गया। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.21 बजे पिछले सत्र से 3,171.58 अंकों यानी 9.68 फीसदी की गिरावट के साथ 29,606.56 पर कारोबार कर रहा था जबकि इससे पहले सेंसेक्स कमजोरी के साथ 32,214.13 पर खुला और 29,564.58 तक लुढ़का।


इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सत्र से 966.10 अंकों की गिरावट के साथ 8,64.05 पर आ गया जबकि इससे पहले निफ्टी 9,107.60 पर खुला और 9,133.20 तक चढ़ा। पिछले सत्र में निफ्टी 9,590.15 पर बंद हुआ था।


दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप गहराता जा रहा है और भारत में भी इस जानलेवा वायरस के संक्रमण से एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। दुनिया के 120 से अधिक देशों में अब तक करीब 1.34 लाख मरीजों के कोरोना संक्रमण से पीड़ित होने के मामले आए हैं जबकि तकरीबन 5,000 लोग इस जानलेवा वायरस के शिकार बन चुके हैं।


कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के मद्देनजर दुनियाभर में एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। भारतीय करेंसी रुपए में भी कमजोरी आई है डॉलर के मुकाबले रुपया शुक्रवार को पिछले सत्र से 17 पैसे की कमजोरी के साथ 74.40 पर खुला।


संक्रमित फेफड़ों की पहली 3डी तस्वीर

वॉशिंगटन। कोरोनावायरस का कहर लगातार बढ़ते ही जा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे महामारी घोषित कर दिया है। वायरस के चलते अबतक दुनिया भर में 4,967 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। इस जानलेवा वायरस से निपटने दुनियाभर के वैज्ञानिक जुटे हुए हैं। वहीं रेडियोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ नॉर्थ अमेरिका ने कोरोनावायरस से संक्रमित फेफड़े की 3D तस्वीर जारी की है। 


फोटो में साफ दिख रहा है कि कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों के फेफड़े बलगम से भर गया है। इस कारण पीड़ित शख्स को सांस लेने में दिक्कत होती है। इस 3D तस्वीर की मदद से डॉक्टर एक्स-रे और सीटी स्कैन से मरीजों को जल्द पहचान जाएंगे। इसके बाद संक्रमित मरीज को तुरंत पर्सनल वार्ड में शिफ्ट किया जाएगा।


महंगाई भत्ता 4 फ़ीसदी बढ़ाने को मंजूरी

नई दिल्ली। केंद्रीय कैबिनेट की शुक्रवार को हुई बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए हैं। जानकारी के मुताबिक संकट के दौर से गुजर रहे यस बैंक के रिस्ट्रक्चरिंग प्लान को मंजूरी मिल गई है। साथ ही, कोरोना वायरसकी वजह से अर्थव्यवस्था को होने वाले नुकसान के बारे में भी चर्चा हुई है। वहीं, केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों के लिए बड़ी खबर आई है।


सरकार ने 4 फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ाने को मंजूरी दे दी है। 4 फीसदी बढ़ा महंगाई भत्ता- कैबिनेट बैठक में केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों को बड़ी राहत देते हुए महंगाई भत्ता बढ़ाने पर फैसला हो गया है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बैठक में केंद्र सरकार कर्मचारियों और पेंशनधारकों का 4 फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ गया है। पिछले सप्ताह ही राज्यसभा में लिखित जवाब में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने​ जानकारी दी थी कि मार्च महीने की सैलरी के साथ ही केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों को महंगाई भत्ता मिलने लगेगा। महंगाई भत्ता ऐसा पैसा है, जो देश के सरकारी कर्मचारियों के रहने-खाने के स्तर को बेहतर बनाने के लिए दिया जाता है। पूरी दुनिया में सिर्फ भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश ही ऐसे देश हैं, जिनके सरकारी कर्मचारियों को ये भत्ता दिया जाता है।


ये पैसा इसलिए दिया जाता है, ताकि महंगाई बढ़ने के बाद भी कर्मचारी के रहन-सहन के स्तर में पैसे की वजह से दिक्कत न हो। ये पैसा सरकारी कर्मचारियों, पब्लिक सेक्टर के कर्मचारियों और पेंशनधारकों को दिया जाता है।
इसकी शुरुआत दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान हुई थी। सिपाहियों को खाने और दूसरी सुविधाओं के लिए उनकी तनख्वाह से अतिरिक्त पैसा दिया जाता था। इस पैसे को उस वक्त खाद्य महंगाई भत्ता या डियर फूड अलाउंस कहा जाता था। जैसे-जैसे वेतन बढ़ता जाता था, इस भत्ते में भी इजाफा होता था।
भारत में मुंबई के कपड़ा उद्योग में 1972 में सबसे पहले महंगाई भत्ते की शुरुआत हुई थी। इसके बाद केंद्र सरकार सभी सरकारी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता देने लगी थी, ताकि बढ़ती हुई महंगाई का असर सरकारी कर्मचारी पर न पड़े। इसके लिए 1972 में ही कानून बनाया गया, जिससे कि ऑल इंडिया सर्विस एक्ट 1951 के तहत आने वाले सरकारी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता दिया जाने लगे।


ग्लोबल वार्मिंगः तेजी से पिघलती बर्फ

1992 से 2017 के बीच 6.4 हजार करोड़ टन बर्फ पिघली, इससे 0.7 इंच समुद्र तल में इजाफा हुआ
रिपोर्ट के मुताबिक- 80 साल बाद जलवायु परिवर्तन के चलते समुद्र तल में 6.6 इंच तक बढ़ सकता है



वॉशिंगटन। ग्लोबल वॉर्मिंग के कारण अंटार्कटिका और ग्रीनलैंड की बर्फ तेजी से पिघल रही है। 50 देशों के अंतरराष्ट्रीय संगठनों के वैज्ञानिकों ने 11 सैटेलाइट की मदद से किए विश्लेषण में यह दावा किया गया। पिछले 25 साल (1992 से 2017) में 6.4 हजार करोड़ टन बर्फ पिघली। इससे 0.7 इंच (17 सेंटीमीटर) समुद्र तल में इजाफा हुआ। द आइसशीट मास बैलेंस इंटरकम्पेरिजन एक्सरसाइज के वैज्ञानिकों का अनुमान है कि 2100 तक इतनी बर्फ पिघल जाएगी, जिससे समुद्र तल में 6.6 इंच तक बढ़ोतरी हो सकती है। इससे द्वीपों, तटीय शहरों के 40 करोड़ लोग खतरे में होंगे।
जीव जगत पर तबाही का खतरा रहेगा
जलवायु परिवर्तन के चलते ग्रीनलैंड की 60% और अंटार्कटिका की 40% बर्फ पिघलने का खतरा है। इससे तटों का कटाव, बाढ़ जैसी आपदाएं आएंगी। कैलिफोर्निया स्थित नासा की जेट प्रपुल्शन लैबोलेटरी के एरिक आइविन्स ने जलवायु परिवर्तन के प्रभाव से बर्फ के पिघलने और समुद्री तल बढ़ने का अध्ययन किया। उन्होंने बताया, कम्यूटर की मदद और सैटेलाइट से अध्ययन के आधार पर यह डाटा तैयार हुआ है। इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।
2300 तक 4 फीट बढ़ जाएगा जलस्तर
नेचर जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, ‘‘बर्फ अनुमान से ज्यादा तेजी से पिघल रही है। जाहिर है इससे सागरों के जलस्तर में इजाफा होगा।’’ 2015 के पेरिस क्लाइमेट गोल में वैज्ञानिकों ने चेताया था कि 2300 तक समुद्री जलस्तर 4 फीट तक बढ़ जाएगा। इससे संघाई से लेकर लंदन तक के शहरों और बांग्लादेश लेकर फ्लोरिडा, म्यांमार को खतरा हो सकता है।


कनाडा पीएम की पत्नी वायरस संक्रमित

सोफी ग्रेगोर ट्रूडो मंगलवार से बीमार थीं, गुरुवार देर रात कोरोनावायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई
प्रधानमंत्री ट्रूडो को भी आईसोलेशन में रखा गया है, वे घर से ही सरकारी कामकाज संभालेंगे


टोरंटो। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की पत्नी सोफी कोरोनावायरस से संक्रमित पाई गई हैं। कनाडा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बयान जारी कर इसकी पुष्टि की। सोफी के साथ अब जस्टिन भी आईसोलेशन में रहेंगे। वे घर से सरकारी कामकाज संभालेंगे। सोफी मंगलवार को ही लंदन से लौटी थीं। इसके बाद से वो बीमार चल रहीं थीं। गुरुवार को उनकी टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उधर, ऑस्ट्रेलिया के गृह मंत्री पीटर डटन भी संक्रमित पाए गए हैं। दुनियाभर में कोरोनावायरस से मरने वालों का आंकड़ा 4984 हो गया है, जबकि 1 लाख 34 हजार 823 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।


इस बीच, नेपाल ने 14 मार्च से 30 अप्रैल तक माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई के सारे परमिट रद्द कर दिए हैं। यानी 48 दिन दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ाई नहीं की जा सकेगी। नेपाल को हर साल पर्वतारोहण से 4 मिलियन डॉलर (करीब 29.5 करोड़ रुपए) की आमदनी होती है।
सोफी की हालत बेहतर
कनाडा सरकार ने कहा, “सोफी की हालत अब पहले से बेहतर है। उन्हें जरूरी ऐहतियात बरतने को कहा गया है। डॉक्टर उनकी सेहत पर नजर बनाए हुए हैं।” प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी एक बयान जारी किया। कहा, “प्रधानमंत्री स्वस्थ हैं। उनमें किसी तरह की बीमारी के लक्षण नहीं पाए गए हैं। डॉक्टरों ने उन्हें 14 दिन तक आईसोलेशन में रहने की सलाह दी है।” गुरुवार को कनाडा में 35 नये मामलों की पुष्टि होने से कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर अब 138 हो गई है।
एशिया में कोरोनावायरस
भारत में 78 मामले सामने आए
देश में संक्रमण के अब तक 78 मामले सामने आ चुके हैं। इस बीच दिल्ली और हरियाणा में कोरोना को महामारी घोषित कर दिया गया है। दिल्ली में 31 मार्च तक सभी सिनेमा हॉल बंद करने के निर्देश दिए हैं। जिन स्कूल और कॉलेजों में परीक्षाएं नहीं हो रही हैं, वे भी 31 तक बंद रहेंगे। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, अगले आदेश तक दिल्ली में खेल से जुड़े सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं। आईपीएल का भी कोई मैच नहीं होगा। साथ ही ऐसे कोई कार्यक्रम नहीं होंगे, जहां सैकड़ों-हजारों की संख्या में लोग इकट्ठा हों।
स्पेन की मंत्री कोरोनावायरस से संक्रमित
स्पेन की मंत्री इरेन मोंटेरो भी कोरोना की चपेट में आ गई है। सरकार ने गुरुवार को बताया कि इक्वैलिटी मिनिस्टर मोंटेरो कोरोनावायरस संक्रमण की जांच में पॉजिटिव पाई गई हैं। मोंटेरो को उनके एक साथी, उपप्रधानंत्री कार्मेन काल्वो और पॉडेमस पार्टी के नेता पैबलो इग्लेसियास के साथ क्वारैंटाइन में रखा गया है। इसके बाद सरकार के सभी मंत्रियों से कोरोनावायरस की जांच कराने के लिए कहा गया है। अभी तक स्पेन में 2,200 लोगों में कोरोनावायरस संक्रमण होने की पुष्टि हुई है और 55 लोगों की मौत हो चुकी है।
इटली में मृतक संख्या एक हजार के पार
न्यूज एजेंसी के मुताबिक, इटली में कोरोनावायरस से मरने वालों का आंकड़ा शुक्रवार को 1,016 हो गया। यहां अब तक कुल 15,113 लोग संक्रमित पाए गए हैं। चीन के बाद कोरोनावायस का सबसे ज्यादा असर इटली और ईरान में ही देखा गया है। इटली में इलाज के बाद 1,258 लोग स्वस्थ भी हुए हैं।
डिज्नी ने फ्लोरिडा और पेरिस के थीम पार्क बंद किए
कोरोनावायरस के मद्देनजर डिज्नीवर्ल्ड ने अमेरिका के फ्लोरिडा और फ्रांस की राजधानी पेरिस के थीम पार्क बंद कर दिए हैं। वहीं, न्यूयॉर्क में 500 से ज्यादा लोगों के एक जगह जुटने पर सख्ती से रोक लगा दी गई है।
डब्ल्यूचओ ने कोरोनावायरस को महामारी घोषित किया
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने बुधवार को कोरोनावारस को महामारी घोषित कर दिया। डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस गेब्रेयोसियोस ने कहा कि कोरोना एक ही समय में दुनियाभर में फैल चुकी है। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से महामारी को रोकने के लिए तत्काल और आक्रामक कार्रवाई करने की अपील की।


हिंदू राजाओं ने कोई मस्जिद नहीं तोड़ी

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी कहना है कि पांच हजार साल के इतिहास में अभी तक कोई ऐसी घटना नहीं हुई है कि किसी हिंदू राजा ने कोई मस्जिद तोड़ी होगी या फिर तलवार के बल पर किसी का जबरन धर्मांतरण कराया हो। उन्होंने कहा कि हमारी हिंदू संस्कृति- हमारी भारतीय संस्कृति प्रगतिशील भी है, सर्वसमावेशक भी है और सहिष्णु भी है। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि हम मुस्लिम या मुस्लिम संस्कृति के नहीं बल्कि हम अच्छे हैं, सब काफिर हैं इस प्रवृत्ति के खिलाफ हैं। हमारी संस्कृति न संकुचित है, न जातिवाद है और न ही सांप्रदायिक है। मंत्री ने कहा कि यदि हिंदुस्तान को भविष्य में जीवित रखना चाहते हो, सावरकर को अगर भूल जाएंगे तो 1947 में एक बार ऐसा हो चुका है, मुझे लगता है कि आगे भविष्य के दिन भी अच्छे नहीं जाएंगे। मैं यह बहुत जिम्मेदारी से कह रहा हूं।


एक माह मीन राशि में रहेंगे सूर्य

शनिवार 14 मार्च को ग्रहों के राजा सूर्य शनि की राशि कुंभ से निकलकर अपने मित्र गुरु की राशि मीन में 11 बजकर 53 मिनिट पर आ जायेंगे। इस राशि में सूर्य के आने से मलमास आरंभ हो जायेगा वहीं मीन संक्रांति शनिवार के दिन होने से यह देश दुनिया में असंतोष, रोग, शोक को बढाने वाला है।


मराही माता स्थित कपीश्वर हनुमान मंदिर के मुख्य पुजारी उपेंद्र महाराज ने बताया कि इसके चलते राजनीतिक पार्टियों में टकराव बढ़ेगा। संक्रांति का पुण्य काल पूरे दिन रहेगा जिसमें स्नान दान आदि किये जा सकेंगे। जहां तक राशियों की बात है तो इस संक्रांति का शुभ फल 06 राशियों को अधिक मिल रहा है। आइए देखें आपके लिये सूर्य का मीन में आना अगले एक महीने तक कैसा रहेगा।


मेष राशि के जातकों के हो सकते हैं सपने पूरे  : इस राशि के स्वामी मंगल से सूर्य देव की मित्रता मानी जाती है। मीन राशि में गोचर होने से सूर्य देव आपके 12वें भाव में गोचर करेंगे। आपके लिये यह गोचर इच्छा पूर्ति वाला साबित होने वाला है। इससे विदेश जाने के इच्छुोक लोगों के सपने पूरे हो सकते हैं। हालांकि इस गोचर की वजह से आपको प्रेम संबंधों में निराश होना पड़ सकता है। धन खर्च भी बढ़ सकता है और बीमारियों से भी सावधान रहें।


वृषभ राशि के जातकों को मिल सकती है सौगात : सूर्य देव आपकी राशि से एकादश भाव में गोचर करेंगे। इसे लाभ भाव कहते हैं और इस भाव में सूर्य का गोचर शुभ फलदायी माना जाता है। इसके परिणाम स्वरूप आपको आमदनी में वृद्धि की सौगात मिल सकती है। इस वक्तइ आप आर्थिक रूप से मजबूत हो सकते हैं। शिक्षा के क्षेत्र में भी आपको सफलता मिलेगी। संतान की तरफ से भी आपको लाभ होगा। कोर्ट कचहरी के मामलों में सफलता मिलेगी।


मिथुन राशि वालों को मिलेगा कार्यक्षेत्र में सम्मान : सूर्य देव का गोचर आपकी राशि से दशम भाव में हो रहा है। इस भाव में सूर्य के गोचर को बलशाली माना जाता है। इस राशि के लोगों को कार्यक्षेत्र में सम्मान प्राप्त होगा और आय में भी वृद्धि होगी। सरकारी नौकरी करने वालों को भी सम्मासन प्राप्ता होगा। आपके विरोधी शांत होंगे और समाज में आपका प्रभाव भी बढ़ेगा। वरिष्ठा अधिकारियों से आपको प्रशंसा मिलेगी और तरक्की प्राप्त होगी।


कर्क राशि वाले कर सकते हैं कारोबार में विस्तार : आपके राशि स्वाोम चंद्रमा के मित्र हैं सूर्य देव और आपकी राशि से नवें भाव में गोचर कर रहे हैं। आपके लिये गोचर का प्रभाव शुभ माना जा रहा है। इसके प्रभाव से आपको परिवार के लोगों से मदद मिलेगी। मान-सम्मान में वृद्धि होगी और कारोबार में विस्तारर होगा। आप धन को किसी विशेष परोपकार के कार्य में लगा सकते हैं। इस दौरान आप किसी धार्मिक यात्रा पर भी जा सकते हैं। आप अपने घर में भी पूजा पाठ का कोई कार्यक्रम करवा सकते हैं। इस अवधि में आपको कोई उत्तम लाभ भी हो सकता है।


सिंह राशि वालों के लिये है मिलाजुला समय : सूर्य देव आपकी राशि के स्वाहमी हैं और यह आपकी राशि के अष्टम भाव में गोचर कर रहे हैं। इस गोचर के प्रभाव से आपका समय मिला जुला कटने वाला है। एक तरफ तो आपका मन आध्यात्म में लगेगा और दूसरी तरफ आपको सरकारी मामलों में कुछ परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपकी छिपी हुई बातें सबके सामने भी आ सकती हैं। आपकी छवि को भी नुकसान हो सकता है। विरोधियों से सावधान रहने की जरूरत है आपको।


कन्या राशि वालों के लिये शुभ है समय : सूर्य देव आपकी राशि के सातवें भाव में गोचर कर रहे हैं। इसे गोचर के परिणाम से आपको विशेष रूप से लाभ होने वाला है। इस वक्त आपका व्यापार रफ्तार पकड़ सकता है। कुछ फायदे के सौदे हो सकते हैं। आपको पदोन्नति मिल सकती है। सूर्य का यह गोचर आपके लिये खुशियां लेकर आ सकता है। इस वक्तत आपके वेतन में भी बढ़ोत्तरी हो सकती है। आपको कार्यक्षेत्र में भी कुछ विशेष प्रकार के उत्तरदायित्व संभालने पड़ सकते हैं। इस वक्त गोचर के कारण आपके दांपत्य जीवन में मिल-जुले प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। बहस में न पड़ें।


तुला राशि वालों का खर्च बढ़ेगा : आपकी राशि के लिये सूर्य देव लाभ के स्वानमी हैं और यह आपकी राशि के छठें भाव में गोचर कर रहे हैं। यह गोचर आपके लिये लाभ लेकर आ रहा है। कोर्ट कचहरी के मामलों में आपको सफलता मिलेगी। इस वक्त आपकी आमदनी कम और खर्च अधिक हो सकते हैं। सरकारी क्षेत्र के लोगों को लाभ मिलने की उम्मीद है। इस वक्त में आप अपना कर्ज या फिर बैंक लोन चुकाने में सफल हो सकते हैं। इस वजह से आप हल्का महसूस करेंगे। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है।


वृश्चिक राशि वालों के लिये नौकरी बदलने का उत्तम समय : सूर्य के इस गोचर की भूमिका आपके लिये बहुत ही खास होने वाली है। सूर्य देव आपके दशम भाव के स्वामी हैं और दशम भाव कर्म का भाव कहलाता है। सूर्य देव आपकी राशि के पाँचवें भाव में गोचर कर रहे हैं। इस वक्तभ यदि आप नौकरी बदलने के बारे में सोच रहे हैं तो यह अच्छा समय है। आपको कामयाबी मिल सकती है। वहीं व्यापार में भी खासा लाभ हो सकता है। इस अवधि में आपको संतान की ओर से भी सुखद समाचार मिल सकता है। उच्च अधिकारियों से आपके संबंध अच्छे रहेंगे।


धनु राशि वालों को मिलेगा सम्मान और प्रशंसा : धनु राशि के लोगों के भाग्य के स्थान नवम भाव में सूर्य देव का अधिकार है। सूर्य के मीन में गोचर के साथ ही यह आपकी राशि के चौथे भाव में गोचर कर रहे हैं। इसकी वजह से आपके पारिवारिक संबंधों में कुछ परेशानियां आ सकती हैं, लेकिन कार्यक्षेत्र के मामले में यह गोचर आपके लिये शुभ हो सकता है। आपको उच्चाधिकारियों से सम्मान और प्रशंसा दोनों मिल सकते हैं। कुछ लोगों को नौकरी में मनचाहा ट्रांसफर भी मिल सकता है। कोई प्रॉपर्टी की खरीद भी इस वक्त आप कर सकते हैं, लेकिन सौदा देखभाल कर करें।


मकर राशि वाले रखें स्वास्थ्य का विशेष ध्यान : सूर्य देव अपने पुत्र शनि की राशि मकर के तीसरे भाव में गोचर करेंगे। आमतौर पर तीसरे भाव में सूर्य का गोचर काफी अनुकूल माना जाता है। इसके फलस्वरूप मकर राशि के लोगों के स्वास्थ्य में गिरावट देखने को मिल सकती है। वहीं आपके माता – पिता को भी इस वक्त बीमारी का सामना करना पड़ सकता है। आप व्यापार में रिस्क ले सकते हैं और आगे बढ़ने के बारे में भी सोच सकते हैं। कुछ लोग इस वक्ति आत्म विश्वास के साथ काम करेंगे और आगे चलकर उन्हें इसका अच्छाक फल भी मिलेगा। मान सम्मान भी बढ़ सकता है।


कुंभ राशि वाले बरतें संयम : सूर्य देव आपकी राशि के द्वितीय भाव में गोचर करेंगे। इस गोचर के प्रभाव से आपके पार्टनर के स्वास्थ्य में कुछ गड़बड़ आ सकती है। आप दोनों के बीच कुछ मतभेत भी हो सकते हैं। ऐसे में आपको थोड़ा संयम से काम लेने की जरूरत है और हो सके तो बहस की बातों को टाल दें। इस वक्त आपको धन संचय के काम में सफलता मिलेगी। आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। राजनीति से ताल्लुक रखने वाले लोगों को भी इस वक्त लाभ की प्राप्ति होने की उम्मीाद है। जनता के बीच आपकी छवि सुधरेगी।


मीन राशि वाले घिर सकते हैं तनाव से : सूर्य देव आपकी ही राशि में गोचर कर रहे हैं। इस गोचर के प्रभाव से आपके स्वास्थ्य में गिरावट देखने को मिल सकती है। आपको अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। आपको इस वक्त किसी बात से तनाव हो सकता है और पार्टनर के साथ भी टकराव पैदा हो सकता है। बिजनस पार्टनर के साथ आपके संबंधों पर बुरा असर पड़ सकता है। आपको कारोबार में विशेष प्रकार से हिसाब-किताब रखने की जरूरत है, नहीं तो आपको बड़ा नुकसान हो सकता है।


मुझे शिकायत है

इस स्तंभ के माध्यम से मैं जिला प्रशासन से आग्रह करना चाहता हूँ कि पिछले वर्षों में जिले के जो ग्रामीण अंचल जल संकट की समस्या से दो चार होते आये हैं उनकी ओर समय रहते ध्यान दे दिया जाये ताकि वे गर्मी के दिनों में परेशानी में न पड़ सकें।


गौरतलब होगा कि गर्मी के दिनों में आम लोगों के द्वारा पशु पक्षियों के लिये जल की उचित व्यवस्था बनाने की अपीलें की जाती हैं, वहीं जिले के कई ग्रामीण क्षेत्र ऐसे हैं जहाँ के लोग पेयजल के लिये ही तरस जाते हैं। जिला प्रशासन से अपेक्षा है कि जिन ग्रामों में पेयजल का परिवहन किये जाने की आवश्यकता पड़ती है, उन ग्रामों को चिन्हित किया जाकर, उनके लिये विशेष कार्य योजना बनायी जाना चाहिये।


इसके साथ ही गाँवों में चल रही नल जल योजना की भी सतत मॉनिटरिंग किये जाने की आवश्यकता है ताकि कोई भी नल जल योजना बंद न रह पाये। आवश्यकता समझी जाये तो लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को भी निर्देश दिये जायें कि जिले के प्रत्येक ग्रामों तक पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके।


ग्रामों में बंद पड़े हैण्डपंपों की ओर भी समय रहते ध्यान दिये जाने की आवश्यकता है। यदि इन हैण्डपंपों में पानी की उपलब्धता है तो वे क्यों बंद पड़े हैं, इस ओर ध्यान दिया जाकर उनका सुधार कार्य करवा दिया जाये तो संबंधित ग्राम वासियों के लिये सिर्फ गर्मी के मौसम में ही नहीं बल्कि अन्य दिनों में भी साफ पेयजल मुहैया करवाया जा सकेगा।


इस कार्य के लिये ग्राम पंचायतों के माध्यम से जानकारियां बुलायी जाना चाहिये कि उनके क्षेत्र में पेयजल की क्या स्थिति है। पेयजल की व्यवस्था के साथ ही साथ अग्निशामक वाहन भी सूचना पर तत्काल उपलब्ध होना चाहिये क्योंकि गर्मी के दिनों में अग्नि की दुर्घटनाएं ज्यादा प्रकाश में आती हैं जिसमें कई बार तो किसानों की पूरी की पूरी फसल ही स्वाहा हो जातीं हैं। यह सुनिश्चित किया जाये कि गर्मी के दिनों में पेयजल की आपूर्ति के लिये अग्निशामक वाहनों को न लगाया जाये ताकि सूचना पर ये तत्काल ही मौके पर पहुँच सकें।


मंजूर नकवी


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


मार्च 14, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-215 (साल-01)
2. शनिवार, मार्च 14, 2020
3. शक-1942,चैैत्र - कृष्ण पक्ष, तिथि-पंचमी, संवत 2077


4. सूर्योदय प्रातः 06:30,सूर्यास्त 06:32
5. न्‍यूनतम तापमान 13+ डी.सै.,अधिकतम-26+ डी.सै., भारी बारिश की संभावना रहेगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित


एक्ट्रेस शर्लिन ने शिल्पा के बयान पर रिएक्ट किया

कविता गर्ग        मुबंई। पोर्नोग्राफी केस में बिजनेसमैन राज कुंद्रा जेल में हैं। राज कुंद्रा पर अश्लील फिल्में बनाकर उन्हें ओटीटी प्लेटफॉर्म...