रविवार, 17 जुलाई 2022

समिति द्वारा भाई-बहनों को श्रवण यंत्र का वितरण

समिति द्वारा भाई-बहनों को श्रवण यंत्र का वितरण

दुष्यंत टीकम 
रायपुर। भगवान महावीर जन्मकल्याणक महोत्सव समिति द्वारा जैन सेवा जन सेवा के अंतर्गत जैन साध्वी स्नेहयशा श्री की निश्रा में गूंगे बहरे भाई-बहनों को श्रवण यंत्र का वितरण किया गया। इस अवसर पर साधर्मिक बुजुर्गों को भी श्रवण यन्त्र प्रदान किये गए। जैन साध्वी स्नेहयशा श्री ने इस अवसर पर कहा कि धर्म का सेवा से सरोकार होना ही चाहिए। चातुर्मास जैन धर्म की सूक्ष्म अहिंसा के साथ जीवन जीने की कला है। अहिंसा हमारे जीवन में दया करुणा सेवा के भाव पैदा करती है। इसलिए चातुर्मास काल में मानव सेवा , मूक पशु पक्षियों की सेवा , अभयदान के प्रकल्प अवश्य किये जाने चाहिए। उपदेशों के साथ उनका आचरण में दृष्टिगोचर होना बहुत जरूरी है। भगवान महावीर जन्मकल्याणक महोत्सव समिति के अध्यक्ष महेन्द्र कोचर व सलाहकार विजय चोपड़ा ने बताया कि जैन व जन सेवा प्रकल्प के तहत 500 श्रवण यंत्र का वितरण जारी है। अभीतक 117 भाई बहनों को सहायता उपलब्ध कराई गई है, जिसमें साधर्मिक भाई व अन्य लाभार्थी शामिल हैं। 
अध्यक्ष महेन्द्र कोचर व महासचिव मनोज कोठारी ने बताया कि रायपुर में अनेक गुरुभगवंतों के चातुर्मास हो रहे हैं। सभी धर्मस्थलों में जरूरतमंद गूंगे बहरों का चयन कर श्रवण यंत्र का वितरण समय-समय पर किया जाएगा। महेन्द्र कोचर व विजय चोपड़ा ने कहा कि साध्वी श्री स्नेहयशा श्री की निश्रा में 8 साधर्मिक भाइयों व 11 लाभार्थीयों को जन सेवा की भावना से कान की मशीन प्रदान की गई। आध्यात्मिक चातुर्मास समिति के अध्यक्ष विवेक डागा व सचिव प्रकाश कोठारी ने बताया कि साध्वी श्री स्नेहयशा श्री की निश्रा में बच्चों के जीवन निर्माण हेतु संस्कारों का शंखनाद कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। साथ ही मानव सेवा व मूक पशु पक्षियों की सेवा की प्रेरणा व उसे कार्यरूप में परिणित कर दिखाया जा रहा है। मानव सेवा प्रकल्प के संचालन में महेन्द्र कोचर, विजय चोपड़ा,चन्द्रेश शाह,मनोज कोठारी,गुलाब दस्सानी,कमल भन्साली, महावीर कोचर,अरुण कोठारी, महावीर मालू , हरीश डागा आदि की सक्रिय सहभागिता रही है।

उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में घोषित, अल्वा

उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में घोषित, अल्वा 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। कांग्रेस की दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मार्गरेट अल्वा को रविवार को विपक्ष की उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में घोषित किया गया।
अल्वा कर्नाटक की निवासी हैं। वह उत्तराखंड और राजस्थान की राज्यपाल भी रह चुकी हैं। एनसीपी सुप्रीमो के शरद पवार आवास पर विपक्षी दलों की बैठक के बाद उनका नाम तय किया गया।
एनडीए ने इस पद के लिए पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को मैदान में उतारा है।
भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार शाम पार्टी मुख्यालय में संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद धनखड़ के नाम की घोषणा की।

साफ-सफाई, सुरक्षा, इत्यादि चीजों का स्थलीय निरीक्षण

साफ-सफाई, सुरक्षा, इत्यादि चीजों का स्थलीय निरीक्षण 

बृजेश केसरवानी    
प्रयागराज। महापौर प्रयागराज अभिलाषा गुप्ता नंदी ने भगवान शिव की उपासना के महा पर्व सावन माह के अवसर पर दारागंज कांवड़िया आने-जाने वाले श्रद्धालुओं की व्यवस्थाओं के दृष्टिगत साफ-सफाई, सुरक्षा, इत्यादि चीजों का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पटरी दुकानदारों को रोड अतिक्रमण न किये जाने तथा पटरी के अंदर व्यवस्थित तरह से दुकान चलाये जाने एवं सिंगल यूज़ प्लास्टिक, पालीथिन प्रयोग न किए जाने आग्रह किया। महापौर अभिलाषा गुप्ता ने उपस्थित कांवड़ यात्रियो से वार्तालाप भी किया। दशाश्वमेश घाट एवं यात्रा मार्गो पर समय-समय पर विशेष सफाई, दवा का छिड़काव, चेंजिंग रूम की सफाई, घाट पर प्लास्टिक का उपयोग न किये जाने उपस्थित जोनल अधिकारी को निर्देश दिए। 
घाट पर 10 चेंजिंग रूम व्यवस्थित रूप में पाए गए एवं मेला प्राधिकरण एवं नगर निगम प्रयागराज द्वारा घाट पर समुचित व्यवस्थाएं की गई है, जिसमे श्रद्धालुओं के पीने का स्वच्छ पानी, साफ-साफ सफाई सुगम यातायात एवं सुलभ की व्यवस्था की गई है, जिससे श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। घाट पर उपस्थित जल पुलिस से जानकारी करने में पाया गया कि घाट पर 15 गोताखोर एवं पुलिसकर्मी लगे हुए है, जो कि घाट की व्यस्थाओं पर नजर बनाए हुए है एवं महापौर ने उपस्थित गोताखोर एनडीआरएफ एवं जल पुलिस को टीशर्ट एवं टोपी भी वितरित किया, जिससे व्यवस्था में लगे लोगो का चिन्हांकन किया जा सके। इस अवसर पर राजेश कुमार निषाद पप्पू , मंडल अध्यक्ष भरत निषाद, सुभाष वैश्य, जोनल अधिकारी संजय ममगई आदि लोग उपस्थित रहे।

खास डाइट टिप्स फॉलो कर फिट एंड फाइन रहेंगे

खास डाइट टिप्स फॉलो कर फिट एंड फाइन रहेंगे

सरस्वती उपाध्याय 
सावन के पवित्र मास का आगाज हो चुका है। सावन का महीना जहां चारों तरफ झमाझम बारिश के लिए जाना जाता है। वहीं, पूजा-पाठ और व्रत के कारण सावन को आस्था का पर्व भी कहा जाता है। हालांकि, सावन में कई दिनों तक चलने वाला उपवास का सिलसिला लोगों की सेहत को भी प्रभावित कर सकता है। ऐसे में सावन के दौरान व्रत में कुछ खास डाइट टिप्स फॉलो कर आप पूरी तरह से फिट एंड फाइन रह सकते हैं।
सावन में ज्यादातर लोग सोमवार का व्रत रखने का संकल्प लेते हैं। इसके अलावा कई लोग सावन में तीज, रक्षा बंधन, कृष्ण जन्माष्टमी और नाग पंचमी जैसे त्योहारों पर भी व्रत रखते हैं। ऐसे में लगातार व्रत रखने से शरीर में कमजोरी आना आम बात है।हालांकि, अगर आप चाहें तो डाइट में कुछ चीजों को शामिल कर न सिर्फ सेहत के साथ समझौता करने से बच सकते हैं बल्कि व्रत में भी हेल्दी रह सकते हैं। सावन के महीने में डाइट में शामिल करें ये चीजें...

पानी पीते रहें...
पानी शरीर को डिटॉक्स कर हाइड्रेट रखने का काम करता है।साथ ही भरपूर पानी पीने से पेट में कब्ज और एसिडिटी की समस्या भी नहीं होती है। इसलिए व्रत के दौरान खूब पानी पीएं।इसके अलावा आप दूध और छाछ का सेवन भी कर सकते हैं।

फलों का सेवन शरीर को एनर्जेटिक बनाने के साथ-साथ हेल्दी रखने में भी मददगार होता है। ऐसे में व्रत के समय मार्केट में मिलने वाले मौसमी फलों का सेवन करते रहें। इससे आपको बिल्कुल कमजोरी महसूस नहीं होगी और आप पूरी तरह से फिट रहेंग।

व्रत में एनर्जेटिक फील करने के लिए आप डाइट में सलाद भी एड कर सकते हैं। वहीं व्रत के दौरान खीरे का सेवन भी सलाद के रूप में किया जा सकता हैं। इससे आपके शरीर में पानी की कमी भी पूरी हो जाएगी और पेट भरने से आपको भूख भी अधिक नहीं लगेगी।

व्रत में हेल्दी रहने के लिए आप स्नैक्स के रूप में ड्राई फ्रूट्स भी खा सकते हैं। बादाम, अखरोट और मखाना जैसी चीजों को अपनी डाइट में शामिल करने से आपकी एनर्जी और हेल्थ दोनों मेंटेन रहेगी।

व्रत के दौरान तली हुई चीजों का सेवन करने से बचें। दरअसल, व्रत में नमक वाली चीजें ज्यादा खायी जाती हैं। ऐसे में ऑयली फूड खाने से आपको पेट में एसिडिटी हो सकती है। साथ ही व्रत में अनहेल्दी फैट खाने से तबीयत भी खराब होने की संभावना रहती है।

स्वास्थ्य: नींबू का अधिक सेवन, बेहद नुकसानदायक

स्वास्थ्य: नींबू का अधिक सेवन, बेहद नुकसानदायक 

सरस्वती उपाध्याय 
वैसे तो शरीर के लिए नींबू बहुत फायदेमंद होता है। नींबू के अंदर विटामिन-सी का खजाना होता है। लेकिन, कई बार नींबू का अधिक सेवन आपके स्वास्थ्य को नुकसान पंहुचा सकता है। गर्मियों में नींबू पानी पीना और सलाद में खाना काफी फायदेमंद माना जाता है, लेकिन इसके अधिक उपयोग से दांतो में सड़न की समस्या हो सकती है। दरअसल, नींबू में अन्य फल के तुलना में अधिक एसिड होता है, जो हमारे दांतो के लिए अच्छा नहीं है‌।
–रिपोर्ट के अनुसार, नींबू के अंदर टाइरामाइन की मात्रा अधिक होती है। जिसकी वजह से इसका अधिक सेवन करने पर अक्सर लोगों को माइग्रेन और सिरदर्द की समस्या हो सकती है। क्योंकि नींबू स्वाद में खट्टा होता है और खट्टे फल माइग्रेन को बढ़ाने का काम कर सकते हैं।
– नींबू के अंदर सिट्रस एसिड के अलावा ऑक्सलेट भी पाया जाता है, जिसके कारण इसका ज़्यादा सेवन किडनी स्टोन का रूप ले लेता है।
– नींबू में एसिड की मात्रा अधिक होती है। अगर आपको एसिडिटी की समस्या है, तो आपको नींबू का सेवन कम करना चाहिए, क्योंकि नींबू के लगातार प्रयोग से आपकी एसिडिटी की समस्या बढ़ सकती है‌।
– नींबू पानी के ज़्यादा सेवन से आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या हो जाती है, जिस कारण डिहाइड्रेशन होने का खतरा बना रहता है। आप नींबू पानी का ज़्यादा सेवन कर रहे हैं, तो दिन में ढेर सारा पानी पिएं।
– बहुत अधिक नींबू के प्रयोग से उल्टी और पेट दर्द जैसे दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है‌।
– ज्यादा नींबू पानी पीने से छोटे-छोटे घावों में दर्द और जलन बढ़ सकती है। वैसे मामूली घाव एक या दो सप्ताह के भीतर अपने आप ठीक हो जाते हैं, लेकिन बहुत अधिक नींबू पानी पीने से नासूर घाव बढ़ सकते हैं और उन्हें ठीक होने में देरी लगती है।
– हमारी बॉडी में आयरन का पर्याप्त मात्रा में होना बहुत ज़रूरी होता है, क्योंकि नींबू के अंदर आयरन होता है। इसके अधिक सेवन से हमारे शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ जाती है, जिससे शरीर के किसी भी पार्ट के डैमेज होने की संभावना बनी रहती है।

यशवंत को समर्थन पर पुनर्विचार करने का अनुरोध

यशवंत को समर्थन पर पुनर्विचार करने का अनुरोध

संदीप मिश्र
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति चुनाव की हलचल तेज है। भारतीय जनता पार्टी की ओर से तैयारियों को पहले पूरा कराया जा चुका है। 8 जुलाई को मुख्यमंत्री आवास पर एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के सम्मान में रात्रि भोज का आयोजन किया गया। इसमें सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी अध्यक्ष शिवपाल यादव और जनसत्ता दल के अध्यक्ष रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया भी पहुंचे थे। अब समाजवादी पार्टी अपने विधायकों को एकजुट करने का प्रयास करती दिख रही है। इसके पीछे पिछले दिनों शिवपाल यादव की ओर से उठाए गए मामले को भी ध्यान में रखा जा रहा है। साथ ही, पार्टी विधायकों को राष्ट्रपति चुनाव की वोटिंग के बारे में बताने की तैयारी अखिलेश यादव कर रहे हैं। सपा की डिनर डिप्लोमेसी पर अब हर किसी की नजर रहने वाली है।
यूपी चुनाव 2022 में समाजवादी पार्टी के सहयोगी राष्ट्रीय लोक दल, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी, अपना दल कमेरावादी, महान दल और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर चुनावी मैदान में उतरी थी। हालांकि, चुनाव परिणाम के बाद महान दल गठबंधन से बाहर हो चुकी है। सुभासपा ने राष्ट्रपति चुनाव में सपा गठबंधन के साथ खड़े न रहने का ऐलान कर दिया है। वहीं, प्रसपा अध्यक्ष और सपा विधायक शिवपाल यादव बागी तेवर अपनाए हुए हैं। ऐसे में सपा के साथ अभी केवल रालोद ही खड़ी नजर आ रही है। राष्ट्रपति चुनाव की सोमवार को होने वाली वोटिंग से पहले पार्टी खुद को मजबूत और एकजुट दिखाने की कोशिश में है। ऐसे में रविवार की शाम को होने वाली डिनर पार्टी काफी महत्वपूर्ण हो गई है। इसमें आने और अनुपस्थित रहने वाले विधायकों पर हर किसी की नजर होगी।

सभी विधायकों को निर्देश...
समाजवादी पार्टी की ओर से पार्टी के सभी 111 विधायकों को रविवार की शाम तक लखनऊ पहुंचने को कहा गया है। पार्टी विधायकों के लिए रविवार की रत सुल्तानपुर के इसौली से विधायक मोहम्मद ताहिर के घर पर डिनर पार्टी रखी गई है। इस डिनर पार्टी में राष्ट्रपति चुनाव की वोटिंग के बारे में विधायकों को जानकारी दी जाएगी। इस दौरान वोटिंग के नियमों के बारे में भी बताया जाएगा। डिनर पार्टी में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के भी पहुंचने का कार्यक्रम है। ऐसे में वे भी विधायकों को संबोधित कर सकते हैं।

शिवपाल के बयान पर मची है हलचल...
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने अलग ही तरीके से विरोध का स्वर तेज कर दिया है। उन्होंने यशवंत सिन्हा के मुलायम को आईएसआई का एजेंट तक बताने वाले बयान पर निशाना साधा है और सपा कार्यकर्ताओं को इसकी याद दिलाई है। शिवपाल ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को एक खुली चिट्ठी लिखी है। इसमें उन्‍होंने ‘नेताजी’ को आईएसआई का एजेंट बताकर अपमानित करने वाले राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत को समर्थन पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया है। साथ ही उन्होंने अपने भतीजे को पुराना वाक्या भी याद दिलाया है।
यह चिट्ठी तो शिवपाल ने अखिलेश को लिखी है, मगर इसके जरिए उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं को भी संदेश दिया है। चिट्ठी में शिवपाल ने लिखा कि यह नियति की अजीब विडंबना है कि सपा ने राष्‍ट्रपति चुनाव में ऐसे व्‍यक्‍ति का समर्थन किया, जिसने हम सभी के अभिभावक, प्रेरणा व ऊर्जा के स्रोत नेताजी को आईएसआई का एजेंट बताया था। दुर्भाग्‍यपूर्ण है कि सपा को राष्‍ट्रपति प्रत्‍याशी के तौर पर एक अदद समाजवादी विरासत वाला नाम न मिला। उनके बयान ने हलचल बढ़ा दी है।

मानसून सत्र शुरू होने से पहले सर्वदलीय बैठक बुलाई

मानसून सत्र शुरू होने से पहले सर्वदलीय बैठक बुलाई 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई से शुरू होने जा रहा है। मानसून सत्र शुरू होने से पहले सरकार द्वारा मुद्दों पर विचार-विमर्श करने और आम सहमति बनाने के लिए एक सर्वदलीय बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में सरकार का प्रतिनिधित्व वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, राज्यसभा में भाजपा के नेता पीयूष गोयल शामिल हुए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बैठक में शामिल नहीं हुए। बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी कर रहे हैं।
विपक्ष की ओर से कई वरिष्ठ नेता हुए शामिल,
बैठक में विपक्ष की तरफ से कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे, अधीर रंजन चौधरी, जयराम रमेश, द्रमुक के टीआर बालू और तिरुचि शिवा, टीएमसी के सुदीप बंद्योपाध्याय और एनसीपी के शरद पवार सहित लगभग सभी दलों के नेता मौजूद थे। इसके अलावा बैठक में बीजद के पिनाकी मिश्रा, वाईएसआरसीपी के विजयसाई रेड्डी और मिधुन रेड्डी, टीआरएस के केशव राव और नामा नागेश्वर राव, राजद के एडी सिंह और शिवसेना के संजय राउत भी मौजूद थे।
मोदी की बैठक से अनुपस्थिति पर उठे सवाल,
हालांकि कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक से अनुपस्थिति पर सवाल उठाया। संसद के आगामी सत्र पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक अभी शुरू हुई है और प्रधान मंत्री हमेशा की तरह अनुपस्थित हैं। क्या यह ‘असंसदीय’ नहीं है। कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने ट्वीट किया।

युवक की पिटाई कर पेशाब पिलाने का वीडियो, गिरफ्तार

युवक की पिटाई कर पेशाब पिलाने का वीडियो, गिरफ्तार

संदीप मिश्र    
शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर जिले में कुछ लोगों द्वारा एक समुदाय के युवक की पिटाई कर उसे पेशाब पिलाने का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने मामले में प्राथमिकी दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। एक पुलिस अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। अधिकारी के मुताबिक, घटना का वीडियो सामने आने के बाद पीड़ित युवक ने चार लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी, जिसके आधार पर शनिवार देर रात तीन आरोपियों-कुलविंदर, सोनू उर्फ सुखदेव और राजू को उनके घरों से गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि तीनों आरोपियों को विधिक प्रक्रिया पूरी कर रविवार को जेल भेज दिया गया। पुलिस अधीक्षक (एसपी) एस आनंद ने रविवार को 'पीटीआई-भाषा' को बताया कि ककरा खुर्द में रहने वाले इफ्तेखार और अब्दुल जहीर खान आठ जुलाई को नदी पार सहवेगपुर गांव गए थे, जहां कुलविंदर, सोनू व राजू ने इफ्तेखार को पकड़ लिया। आनंद के मुताबिक, तीनों आरोपियों ने इफ्तेखार की लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की और उसका हाथ भी तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि आरोपियों ने बाद में पीड़ित के मुंह में पेशाब भी की। आनंद के मुताबिक, किसी ने घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर साझ किया था। सोशल मीडिया पर प्रसारित इस वीडियो में पीड़ित आरोपियों के सामने हाथ जोड़ता दिखाई दे रहा है।

इंडिगो एयरलाइंस के विमान को कराची में लैंड कराया

इंडिगो एयरलाइंस के विमान को कराची में लैंड कराया 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी/अखिलेश पांडेय 
नई दिल्ली/हैदराबाद/इस्लामाबाद। बड़ी खबर यह है कि शारजाह से हैदराबाद जा रहे इंडिगो एयरलाइंस के विमान को आपात स्थिति में कराची में लैंड कराना पड़ गया। तकनीकी खामी की वजह से क्रू ने ये फैसला लिया। हालांकि, दो हफ्तों में ये दूसरी घटना है जब किसी विमान में आई खराबी की वजह से पाकिस्तान की मदद लेनी पड़ी। सरकार का कहना है कि दूसरी फ्लाईट के जरिए पाकिस्तान में मौजूद लोगों को वापस लाया जा रहा है।
जानकारी के अनुसार संयुक्‍त अरब अमीरात के शारजाह शहर से हैदराबाद जा रहे इस विमान के इंजन में खराबी आ गई थी। पायलट ने पाकिस्‍तान से आपातलैंडिंग की अनुमति मांगी। इसके बाद यात्री विमान को कराची में उतरने की अनुमति दे दी गई। पाकिस्‍तानी इंजीनियर इस व‍िमान में आई गड़बड़ी को दूर करने की कोशिश कर रहे हैं। कराची एयरपोर्ट के अधिकारियों ने भारतीय व‍िमान के लैंड करने की पुष्टि की है।
इंडिगो एयरलाइंस ने कहा कि एहतियात के तौर पर विमान को पाकिस्तान के कराची शहर की ओर मोड़ दिया गया। यात्रियों को हैदराबाद लाने के लिए कराची के लिए एक अतिरिक्त उड़ान भेजी जा रही है। घटना में सभी यात्री सुरक्षित बताए गए हैं।
दो सप्ताह के भीतर यह दूसरी भारतीय फ्लाईट है, जिसको कराची में उतरा गया। इससे पहले स्पाइसजेट की फ्लाईट की आपात स्थिति में इसी एयरपोर्ट पर लैंडिंग करानी पड़ी थी। पांच जुलाई को स्पाइसजेट की एक फ्लाइट की आपात लैंडिंग पाकिस्तान के बंदरगाह शहर कराची में हुई थी। विमान में तकनीकी खराबी आने के चलते विमान को कराची एयरपोर्ट पर उतारा गया था।
स्पाइसजेट का विमान एसजी-11 दिल्ली से दुबई जा रहा था। स्‍पाइस जेट के मुताबिक बोइंग 737 मैक्स विमान जब हवा में था, तब विमान के बाएं टैंक में ईंधन की मात्रा में कमी दिखी। इसके बाद विमान को कराची की ओर मोड़ दिया गया था। पाकिस्‍तान में कई घंटे तक यात्री बैठे रहे।

सुरक्षा को लेकर पुख्ता कदम उठाने का फैसला: भारत

सुरक्षा को लेकर पुख्ता कदम उठाने का फैसला: भारत 

अकांशु उपाध्याय/सुनील श्रीवास्तव 
नई दिल्ली/टोक्यो। जापान सबसे सुरक्षित देशों में एक माना जाता है। इसके बाद भी जापान के नारा शहर में 8 जुलाई को भाषण शुरू होने के कुछ मिनटों बाद ही जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की बीच सड़क पर बदमाशों ने हत्या कर दी। आंबे की हत्या ने वहां की सुरक्षा को लेकर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की बीच सड़क पर हत्या के बाद भारत सरकार भी अलर्ट हो गई है। इस बीच बड़े नेताओं की सुरक्षा को लेकर टेंशन बढ़ गई है। भारत सरकार ने अब सुरक्षा को लेकर पुख्ता कदम उठाने का फैसला किया है। केंद्र ने सभी सिक्योरिटी एजेंसियों को पत्र लिखकर सुरक्षा पर खास ध्यान देने को कहा है।
वीवीआईपी सुरक्षा की हर ऐंगल पर चर्चा
एक अधिकारी के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्रालय, सेंट्रल इंटेलिजेंस और सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने VVIP सुरक्षा में खामियों से लेकर हर ऐंगल पर चर्चा की थी और फैसला किया कि संबंधित सुरक्षा अधिकारियों को एक पत्र भेजा जाएगा और उनका सुरक्षा के और पुख्ते इंतजाम करने को कहा जाएगा। यहां आपको बता दें कि सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स , नेशनल सिक्योरिटी गार्ड और सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स के अलावा राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की पुलिस सहित कई सिक्योरिटी टीमें वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा करती हैं, जबकि स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुरक्षा में तैनात रहता है।
सुरक्षा एजेंसियों को जारी की गई एडवाइजरी
अधिकारी ने बताया कि वीआईपी सिक्योरिटी वाली यूनिट्स और राज्य सरकारों तथा पुलिसबलों को 8 जुलाई को भेजी गई एडवाइजरी में कहा गया कि वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा को लेकर सतर्क रहें। एडवाइजरी में साफ-साफ कहा गया है कि सुरक्षा प्राप्त लोगों की पीछे से भी विशेष निगरानी की जाए क्योंकि हमलावर अक्सर पीछे से निशाना बनाते हैं। एडवाइजरी में यह भी कहा गया कि सिक्योरिटी यूनिट्स को उन कार्यक्रमों की खास निगरानी करें जहां पर बड़ी संख्या में वीवीआईपी लोग मौजूद रहते हैं।

मानसून सत्र में गैर सरकारी विधेयक लाने की योजना

मानसून सत्र में गैर सरकारी विधेयक लाने की योजना 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। कांग्रेस सांसद मोहम्मद जावेद ने रविवार को कहा कि उन्होंने संसद के इस मानसून सत्र में एक गैर सरकारी विधेयक लाने की योजना बनाई है। जिसमें यह प्रावधान होगा कि ‘गलत ढंग से गिरफ्तार किए गए’ लोगों के बरी होने पर उन्हें उचित मुआवजा और सरकारी नौकरी दी जाए तथा जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई हो। उनका कहना है कि ‘गलत ढंग से की गई गिरफ्तारियों’ के मामले बढ़ने और ‘ऑल्ट न्यूज’ के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर को कथित तौर पर निशाना बनाए जाने के कारण उन्हें यह गैर सरकारी विधेयक लाने का विचार आया।
बिहार के किशनगंज से लोकसभा सदस्य जावेद ने  कहा, ‘‘ऐसे कई मामले देखने को मिले हैं जिनमें पुलिस लोगों को गिरफ्तार करती है और आखिरकार वे सभी आरोपों से बरी हो जाते हैं, लेकिन इससे पहले उन्हें एजेंसियों द्वारा गंभीर प्रताड़ना का सामना करना पड़ता है।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि यह सब लंबे समय से हो रहा है, लेकिन केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार आने के बाद इस तरह के मामलों में तेजी आई है। कांग्रेस सांसद ने कहा, ‘‘इसी चीज को ध्यान में रखते हुए मैंने गैर सरकारी विधेयक लाने का फैसला किया है।
इसमें यह प्रावधान होगा कि संबंधित अधिकारियों या एजेंसियों के खिलाफ उचित कार्रवाई हो तथा बरी हुए व्यक्ति को उचित मुआवजा और सरकारी नौकरी मिले।’’ जावेद ने कहा कि वह जल्द ही यह गैर सरकारी विधेयक पेश करने की मंजूरी मांगेंगे और यदि लोकसभा सचिवालय से जल्द मंजूरी मिल गई तो वह इसे मानसून सत्र में ही सदन में पेश करेंगे। यह पूछे जाने पर कि मोहम्मद जुबैर के मामले को देखते हुए भी उन्होंने यह विधेयक लाने का फैसला किया तो उन्होंने कहा, ‘‘एक वजह यह भी है।
’’ बहरहाल, उन्होंने यह भी कहा कि ऐसे कई मामले हैं जिनकी वजह से उन्हेंने यह विधेयक लाने की योजना बनाई है। जावेद ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘यह विधेयक सिर्फ मुस्लिम समुदाय के लिए नहीं, बल्कि सभी के लिए है। यह बात जरूर है कि मुस्लिम समुदाय के लोगों को बड़ी संख्या में निशाना बनाया जाता है। इसके साथ ही, दलित, आदिवासी, पिछड़े और कमजोर तबके के लोगों को इसी तरह से निशाने पर लिया जाता है। इसलिए यह विधेयक सभी के लिए होगा।
’’ उन्होंने कुछ दिनों पहले अपनी इसी योजना को लेकर ट्वीट किया था जिस पर कांग्रेस सांसदों- शशि थरूर और कार्ति चिदंबरम ने उनका समर्थन किया था। जावेद ने कहा, ‘‘सिर्फ ये दो सांसद नहीं, बल्कि कई ऐसे सांसद हैं जो इस तरह के विधेयक से इत्तेफाक रखते हैं। सभी लोग खुलकर समर्थन नहीं कर सकते क्योंकि उनकी अपनी मजबूरियां हैं।’’ कांग्रेस सांसद ने कहा कि अगर वह फिर से लोकसभा चुनाव जीतते हैं और उनकी पार्टी सत्ता में आती है तब भी उनका यही रुख होगा तथा ऐसे विधेयक को कानून में तब्दील करने की पैरवी करेंगे।

कृष्ण-पक्ष की चतुर्दशी को मनाई जाती है 'शिवरात्रि'

कृष्ण-पक्ष की चतुर्दशी को मनाई जाती है 'शिवरात्रि'

सरस्वती उपाध्याय
सावन शिवरात्रि का दिन भगवान भोलेनाथ के लिए सर्वोत्तम होता है। भगवान शिव को समर्पित सावन का पवित्र माह 14 जुलाई से आरंभ हो गया है। हर सावन माह के कृष्ण-पक्ष की चतुर्दशी तिथि को सावन शिवरात्रि मनाई जाती है। इस दिन व्रत रखकर भगवान शिव की विधिवत पूजा की जाती है। इससे भगवान शिव अति प्रसन्न होकर भक्तों के सारे दुःख दर्द दूर करते है। उनकी हर इच्छा पूरी होने का आशीर्वाद देते हैं।
इस बार चतुर्दशी तिथि दो दिन पड़ रही है। ऐसे में सावन शिवरात्रि का व्रत जुलाई को रखा जायेगा या फिर 27 जुलाई को। हिंदू पंचांग के अनुसार, इस बार सावन शिवरात्रि का व्रत 26 जुलाई को रखा जायेगा और इस व्रत का पारण 27 जुलाई को किया जाएगा।

सावन शिवरात्रि पूजा की अवधि: 42 मिनट।

सावन शिवरात्रि व्रत पूजा के दौरान न करें ये गलती। भगवान शिव जी की पूजा में तुसली पत्र नहीं चढ़ाया जाता है और नहीं इनके भोग में ही तुलसी पत्र शामिल किया जाता है। इसके पीछे की मान्यता यह है कि भगवान विष्णु ने तुलसी को अपनी पत्नी स्वीकार कर लिया था।
सावन शिवरात्रि व्रत के दिन महिलाओं को खट्टी चीज नहीं खाना चाहिए। नहीं तो व्रत का पूरा पुण्य फल नहीं मिलता। सावन शिवरात्रि की पूजा में भगवान भोलेनाथ को केतकी का फूल, सिंदूर, हल्दी, कुमकुम नहीं अर्पित किया जाता। 
भगवान शिव के जलाभिषेक में केवल तांबे के लोटे का ही इस्तेमाल करें। अन्य किसी भी प्रकार के वर्तन का उपयोग नहीं किया जाता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना, 18 लाख घरों का निर्माण

प्रधानमंत्री आवास योजना, 18 लाख घरों का निर्माण 

इकबाल अंसारी 
बेंगलुरू। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा, कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 18 लाख घरों का निर्माण किया जा रहा है। लेकिन राज्य में बाढ़ प्रभावित घरों के निर्माण को प्राथमिकता देने के लिए कार्रवाई की जाएगी। बोम्मई ने हुबली के दौरे के दौरान इस बात की जानकारी दी। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 18 लाख घरों का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बाढ़ प्रभावित घरों के निर्माण को प्राथमिकता देने के लिए कार्रवाई की जाएगी।
बोम्मई ने कहा कि पिछली सरकार द्वारा तकनीकी गलती के कारण 18 लाख घरों की स्वीकृति रोक दी गई थी। अब उन्हें सही कर अपलोड कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से इतनी ही राशि दी जाएगी। बीदर, बेलगाम, रायचूर जिलों से रिपोर्ट मंगवाई गई है और कुछ आदेश लाए गए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ आदेश दिए भी गए हैं जिनपर कार्रवाई की जा रही है।

निजी कंपनियों से हेलीकॉप्टर बनवाने का फैसला

निजी कंपनियों से हेलीकॉप्टर बनवाने का फैसला 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। देश को रक्षा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए केंद्र सरकार ने सेना के लिए निजी कंपनियों से हेलीकॉप्टर बनवाने का फैसला किया है। रक्षा मंत्रालय की और से मंजूरी मिलने के बाद निजी कंपनी सेना के लिए हेलीकॉप्टर बनाएगी। रक्षा मंत्रालय ने रक्षा अधिग्रहण प्रक्रिया के मैनुअल में बदलाव करने का फैसला किया है। इससे प्राइवेट सेक्टर को इंडियन डिफेंस पीएसयूएस से बहुसंख्यक हिस्सेदारी के साथ सहयोग का मौका मिलेगा। साथ ही आवश्यक हथियार प्रणाली का निर्माण करने की भी इजाजत मिलेगी। इससे मिलिट्री हार्डवेयर सेक्टर में ‘आत्मनिर्भर भारत’ को बढ़ावा मिलेगा।
साउथ ब्लॉक के अधिकारियों के अनुसार, इस सहयोग का परीक्षण भारतीय मल्टी-रोल हेलीकॉप्टर के विकास और निर्माण में किया जाएगा, जो कि भारतीय सेना में शामिल सभी रूस निर्मित एमआई -17 और एमआई -8 हेलीकॉप्टरों की जगह लेगा। आईएमआरएच का वजन 13 टन होगा। यह भारतीय सशस्त्र बलों के साथ हवाई हमले, पनडुब्बी रोधी, जहाज-रोधी, सैन्य परिवहन और वीवीआईपी की भूमिका में होगा।
प्राइवेट कंपनियों में इसे लेकर उत्साह
भारतीय निजी क्षेत्र की कंपनियों ने परियोजना में भाग लेने के लिए पहले ही अपनी उत्सुकता दिखाई है और रक्षा मंत्रालय ने उन्हें अगले सात वर्षों में मैन्युफैक्चरिंग शुरू करने के लिए कहा है। फ्रांसीसी सफ्रान ने 8 जुलाई, 2022 को ही भारतीय एचएएल के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर कर दिया, ताकि नौसेना वैरिएंट समेत आईएमआरएच इंजन के विकास, उत्पादन और समर्थन के लिए नई ज्वाइंट वेंचर कंपनी बनाई जा सके।
25% प्रोडक्टर निर्यात करने की भी होगी इजाजत
अधिकारियों के अनुसार, निजी क्षेत्र की कंपनियों को भी अपने उत्पादन का 25 प्रतिशत तीसरे देशों को निर्यात करने और देश के लिए विदेशी मुद्रा जुटाने की इजाजत होगी। भारतीय सशस्त्र बलों को विकसित आईएमआरएच खरीदने के लिए कहा गया है जिसे अगले सात वर्षों में लागू करने की योजना है। निजी क्षेत्र की कंपनियों ने रक्षा मंत्रालय से यह आश्वासन भी मांगा है कि भारतीय सशस्त्र बलों को हेलीकॉप्टर खरीदना चाहिए, अगर प्रोडक्ट का निर्माण अगले पांच वर्षों में हो जाता है।
निजी क्षेत्र को 51 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करने और भारतीय पीएसयूएस के साथ ज्वाइंट वेंचर बनाने की अनुमति देने का निर्णय लिया गया क्योंकि पीएसयू तय समय में डिलिवर करने में सक्षम नहीं थे, जिससे लागत बढ़ती चली गई। इस देरी के कारण मोदी सरकार के पास अन्य देशों से टेंडर या सरकार-से-सरकार मार्ग के जरिए आवश्यक मशीनों को खरीदने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था।

आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला किया

आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला किया

गीता गोवंडके 
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर हमला कर दिया। घटना गोंगू इलाके की बताई जा रही है। जानकारी के मुताबिक, आतंकी हमले में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया है। फिलहाल, सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है और आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई में जुट गई है।
दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा में रविवार को आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला कर दिया। आतंकी हमले सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया है। बताया जा रहा है कि स्थानीय पुलिस और सीआरपीएफ के जवान नाके पर चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर हमला कर दिया। घटना गोंगू क्रॉसिंग इलाके की बताई जा रही है।
आतंकी हमले के बाद सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाल लिया है और आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में गोंगू क्रॉसिंग के पास सर्कुलर रोड पर रविवार दोपहर पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम चेकिंग में जुटी थी। इसी दौरान आतंकवादियों ने हमला किया जिसमें सीआरपीएफ के एएसआई शहीद हो गए।
अस्पताल में शहीद एएसआई का पार्थिव शरीर
जम्मू-कश्मीर पुलिस की ओर से बताया गया कि आतंकियों ने क्रॉसिंग के पास स्थित एक सेब के बागीचे से फायरिंग की। इस दौरान सीआरपीएफ के एएसआई विनोद कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए। बताया गया कि घायल विनोद कुमार को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। अधिकारी ने कहा कि हमलावरों को पकड़ने के लिए इलाके की घेराबंदी कर दी गई है।

राजनीति: सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार सरकार

राजनीति: सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार सरकार

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। सरकार ने रविवार को विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, कि वह गैर-मुद्दों को मुद्दा बना रहा है और संसद की छवि खराब करने की कोशिश कर रहा है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने संसद के मॉनसून सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार संसद के नियमों और प्रक्रियाओं के तहत सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है।
उन्होंने पिछले कई वर्षों से नियमित रूप से जारी किए जा रहे असंसदीय शब्दों की सूची और परिपत्रों पर विवाद उत्पन्न करने के लिए विपक्ष की निंदा करते हुए कहा कि 1954 से इस तरह की परिपाटी चली आ रही है, जब पहली ऐसी सूची पेश की गई थी। उन्होंने कहा कि विपक्ष ऐसा इसलिए कर रहा है, क्योंकि उसके पास सरकार के खिलाफ कोई मुद्दा नहीं है।
जोशी ने दावा किया कि सरकार “अच्छा काम कर रही है” और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व को न केवल भारत के भीतर, बल्कि विदेशों में भी लोगों की ओर से मान्यता मिली है। जोशी ने सर्वदलीय बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, “विपक्ष गैर मुद्दों को मुद्दा बनाने की कोशिश कर रहा है, क्योंकि उसके पास सरकार के खिलाफ कुछ भी नहीं है।
” असंसदीय शब्दों को लेकर जारी विवाद पर उन्होंने कहा, ‘‘विपक्ष संसद की छवि खराब करने की कोशिश कर रहा है।’’ जोशी ने यह भी कहा, ‘‘संसद में किसी भी शब्द के इस्तेमाल पर रोक नहीं लगायी गई है और लोकसभा सचिवालय 1954 से असंसदीय शब्दों की ऐसी सूची जारी कर रहा है।
’’ सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री की अनुपस्थिति को लेकर विपक्ष की आलोचना पर, मंत्री ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री 2014 से पहले कभी भी सर्वदलीय बैठकों में शामिल नहीं हुए, जब कांग्रेस सत्ता में थी।’’ उन्होंने यह भी कहा कि सरकार मंगलवार को श्रीलंका की स्थिति पर एक सर्वदलीय बैठक करेगी, जिसकी अध्यक्षता केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण और एस. जयशंकर करेंगे।

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए 

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड में पेट्रोल और डीजल के नए रेट जारी कर दिए गए हैं। रविवार को राजधानी देहरादून में पेट्रोल में 34 पैसे और डीजल के दाम में 34 पैसे की बढ़ोत्तरी आई है। जिसके बाद देहरादून में आज पेट्रोल ₹95.29 प्रति लीटर और डीजल ₹90.33 प्रति लीटर बिक रहा हैै।
गौरतलब हो, कि पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी हो गए हैं। हर दिन सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। पिछले कई दिनों से प्रदेश में तेल की कीमतें में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन, वैट और अन्य चीजें जोड़ने के बाद दामों में इजाफा होता है। यही कारण है कि पेट्रोल-डीजल के दाम ज्यादा नजर आते हैं।
वहीं, हरिद्वार में आज पेट्रोल में 6 पैसे और डीजल के दाम में 5 पैसे की कमी देखी गई है। हरिद्वार में पेट्रोल के दाम ₹94.33 प्रति लीटर और डीजल के दाम ₹ 89.45 रुपए प्रति लीटर हैं।
कुमाऊं की बात करें तो हल्द्वानी में पेट्रोल-डीजल के दाम यथावत बने हुए हैं। हल्द्वानी ₹94.44 और डीजल ₹89.58 में बिक रहा है। उधर, रुद्रपुर की बात करें तो पेट्रोल ₹94.62 डीजल ₹89.75 प्रति लीटर बिक रहा है. रुद्रपुर में आज पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर हैं।

राष्ट्रपति चुनाव कार्यशाला ‘मॉकड्रिल’ का आयोजन

राष्ट्रपति चुनाव कार्यशाला ‘मॉकड्रिल’ का आयोजन

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। 18 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव होने हैं। चुनाव के दौरान मतदान प्रक्रिया में कोई चूक ना हो। किसी विधायक, सांसद या जनप्रतिनिधि का वोट ख़राब ना जाए, इसको लेकर भाजपा पूरी मुश्तैद नज़र आ रही है। भाजपा ने विधायकों से लेकर सांसदों तक को मतदान प्रक्रिया समझाने के लिए आज भाजपा प्रदेश कार्यालय में राष्ट्रपति चुनाव कार्यशाला ‘मॉकड्रिल’ का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक तमाम विधायकों और निर्दलीय विधायकों और बसपा विधायकों ने शिरकत की। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मीडिया से तमाम जानकारियां साझा करते हुए कहा कि कल होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के मद्देनज़र मतदान प्रक्रिया को समझाने के लिए पार्टी के सभी 47 विधायक, 2 निर्दलीय विधायक और 2 बसपा विधायकों ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने का निर्णय किया है। साथ ही सीएम धामी ने द्रौपदी मुर्मू को एनडीए द्वारा राष्ट्रपति और जगदीप धनकड़ को उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनाने को लेकर पीएम मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और तमाम वरिष्ठ नेताओं का आभार जताया है।साथ ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अन्य विपक्षी दलों के द्रौपदी मुर्मू के समर्थन में आने को लेकर कहा कि सभी को साथ आना चाहिए अंतरात्मा की आवाज़ सुननी चाहिए।

1-1 करोड़ रुपये जारी किए जाने का निर्देश दिया

1-1 करोड़ रुपये जारी किए जाने का निर्देश दिया 

इकबाल अंसारी 
हैदराबाद/वारंगल। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने मुलुगु, भुपालपल्ली, कोठागुडम, महबूबाबाद और निर्मल जिला प्रशासनों को बाढ़ राहत सहायता के रूप में तत्काल एक-एक करोड़ रुपये जारी किए जाने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से शनिवार देर रात जारी एक विज्ञप्ति में बताया गया है कि मुख्यमंत्री ने वित्त मंत्री हरीश राव को बाढ़ पीड़ितों के लिए चिकित्सा शिविर स्थापित करने, उनके लिए पर्याप्त दवा और भोजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है । और सभी जिलाधिकारियों को गोदावरी नदी में लगातार जारी बाढ़ के मद्देनजर कुछ और दिन सतर्क रहने को कहा।
बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के लिए शनिवार को हैदराबाद से यहां पहुंचे राव ने मंत्रियों, विधायकों, शीर्ष अधिकारियों, विधान परिषद के सदस्यों और जिला जनप्रतिनिधियों के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने गोदावरी में बाढ़ के दौरान लोगों को सुरक्षित रखने और निचले इलाकों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित करने के लिए व्यापक सर्वेक्षण करने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने सुझाव दिया कि अधिकारी इस संबंध में सिंचाई विभाग के सेवानिवृत्त इंजीनियरों की सलाह लें।

बेरोजगार बनाकर परिवारों की आस तोड़ रहीं है, सरकार

बेरोजगार बनाकर परिवारों की आस तोड़ रहीं है, सरकार 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार युवाओं को बेरोजगार बनाकर करोड़ों परिवारों की आस तोड़ रही है और देश के भविष्य को उजाड़ रही हैं। गांधी ने ट्वीट किया “सवाल मत पूछो, आवाज़ मत उठाओ,शांतिपूर्ण प्रदर्शन मत करो, नए भारत में हक मांगने पर होगी गिरफ़्तारी। युवाओं को बेरोज़गार बना कर, करोड़ों परिवारों की आस तोड़ कर, देश का भविष्य उजाड़ रही है ये तानाशाह सरकार।
इसके साथ ही,उन्होंने एक वीडियो पोस्ट किया है जिसमें पैरामिलिट्री फोर्स में नौकरी के लिए 2018 में परीक्षा पास किए अभ्यर्थी न्याय की मांग करते हुए नागपुर से पदयात्रा कर 46वें दिन आगरा पहुंचे जहां उन्हें चार बसों में ठूंसकर विभिन्न जिलों में छोड़ा गया। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार के इस कदम को युवाओं के साथ अन्याय बताया और कहा मोदी सरकार तानाशाही पर उतर आई है और वह देश के भविष्य के साथ भी खिलवाड़ कर रही है। यह न्याय की मांग कर रहे युवाओं के साथ अन्याय है और सरकार को बताना चाहिए कि इन अभ्यर्थियों का जुर्म क्या है।

असिस्टेंट मैनेजर पदों पर आवेदन आमंत्रित किए

असिस्टेंट मैनेजर पदों पर आवेदन आमंत्रित किए

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। अगर आप भी सरकारी नौकरी की तलाश में हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद खास हो सकती है। दरअसल, शिपिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड ने असिस्टेंट मैनेजर पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार एससीआईएल की ऑफिशियल वेबसाइट shipindia.com पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। बता दें इस भर्ती के लिए उम्मीदवार 16 जुलाई से शुरू हो गई है। जिसके लिए उम्मीदवार 16 अगस्त 2022 तक आवेदन कर सकते हैं। इस भर्ती अभियान संगठन में 46 पदों को भरा जाएगा।

शैक्षणिक योग्यता...

इस भर्ती अभियान के तहत कई पदों पर भर्ती की जानी है। इन सभी पदों के लिए शैक्षिक योग्यता और आयु सीमा अलग-अलग मांगी गई है। जिसके लिए उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट की मदद ले सकते हैं। उम्मीदवारों का चयन ऑनलाइन परीक्षा के द्वारा किया जाना है।  इस भर्ती के लिए ऑनलाइन परीक्षा मुंबई (ठाणे और नवी मुंबई सहित), चेन्नई, कोलकाता, बैंगलोर, गुवाहाटी और दिल्ली और एनसीआर में आयोजित की जाएगी।

आवेदन शुल्क...

इस भर्ती के लिए उम्मीदवारों को आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा। सामान्य, ओबीसी और ईडब्ल्यूएस श्रेणी के उम्मीदवारों को 500 रुपये का शुल्क देना होगा। जबकि एससी/एसटी/पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों को आवेदन शुल्क के रूप में 100 रुपये का भुगतान करना होगा। भर्ती से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट की मदद ले सकते हैं।

मैदान पर होने वाली आरएलडी की युवा पंचायत स्थगित

मैदान पर होने वाली आरएलडी की युवा पंचायत स्थगित 

गोपीचंद 
बागपत। बागपत के बड़ौत शहर में जनता वैदिक कॉलेज के मैदान पर होने वाली आरएलडी की युवा पंचायत स्थगित हो गई है। चौधरी जयंत सिंह की यह युवा पंचायत आज अगिनपथ योजना के विरोध में होनी थी। बताया गया कि बारिश होने के कारण पंचायत को स्थगित किया गया है।
बता दें कि युवा पंचायत में आरएलडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्यसभा सदस्य जयंत चौधरी को भाग लेना था। इस युवा पंचायत में अगिनपथ योजना का विरोध करने के लिए अगली रणनीति की घोषणा होनी थी।

सिंहदेव ने पंचायत व ग्रामीण विभाग से इस्तीफा दिया

सिंहदेव ने पंचायत व ग्रामीण विभाग से इस्तीफा दिया 

दुष्यंत टीकम 
रायपुर। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। रविवार को खबर आई कि छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री टी एस सिंहदेव ने पंचायत और ग्रामीण विभाग से इस्तीफा दे दिया है। अब इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्रतिक्रिया सामने आई है। सीएम बघेल ने कहा है कि उन्हें अभी तक मंत्री टी एस सिंहदेव का पंचायत विभाग से इस्तीफा नहीं मिला है और उन्हें इस्तीफा देने के उनके फैसले की जानकारी मीडिया से मिली है।
गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में सत्तारूढ़ कांग्रेस में बघेल और सिंहदेव के बीच खींचतान चल रही है तथा सिंहदेव ने शनिवार को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफा दे दिया। वो स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा और जीएसटी विभागों के मंत्री बने रहेंगे।
इस घटनाक्रम के बारे में पूछे जाने पर बघेल ने पत्रकारों से कहा कि उन्हें मंत्री के कदम के बारे में मीडिया के जरिए पता चला और इस्तीफा मिलने के बाद ही वह इस पर विचार करेंगे। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा, ‘मैंने उनसे बात नहीं की है। मैंने उन्हें बीती रात फोन करने की कोशिश की थी, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया।
बघेल ने रविवार शाम सात बजे राज्य विधायक दल की बैठक बुलाई है, जो मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर होगी। इसमें 18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव और 20 जुलाई से शुरू हो रहे राज्य विधानसभा के मानसून सत्र पर चर्चा की जाएगी। यहां पार्टी के एक नेता ने बताया कि सिंहदेव के एक विभाग से इस्तीफा देने के बाद की राजनीतिक स्थिति पर भी चर्चा की जाएगी।
सिंहदेव ने मुख्यमंत्री को लिखे अपने इस्तीफे में दावा किया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बेघर लोगों के लिए एक भी मकान नहीं बनाया गया और ‘बार-बार अनुरोध’ के बावजूद निधि आवंटित नहीं की गई।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-282, (वर्ष-05)
2. सोमवार, जुलाई 18, 2022
3. शक-1944, श्रावण, कृष्ण-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2079।
4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान- 26 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...