शनिवार, 3 जून 2023

जल मिशन, पाइप लाइन बिछाने का कार्य जारी 

जल मिशन, पाइप लाइन बिछाने का कार्य जारी 


पाइप लाइन बिछाने वाले ठेकेदार बर्बाद कर रहे हैं खड़ंजा व नाली, ग्रामीण परेशान

शुक्ला का पुरवा गांव में जल मिशन का पाइप लाइन बिछाए जाने में उखाड़े गए खड़ंजा को 6 महीने बाद भी नहीं लगा सके ठेकेदार

कौशाम्बी। मंझनपुर तहसील के ग्राम शुक्ला का पुरवा मजरा इब्राहिमपुर में जल मिशन के तहत पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया जा रहा है। लेकिन, पाइपलाइन बिछाए जाने के पूर्व खोदे गए गड्ढे और उखाड़े गए खड़ंजा को ठेकेदारों द्वारा ठीक नहीं किया जा रहा है, जिससे गड्ढे में ग्रामीण गिरकर घायल हो रहे हैं। बताया जाता है कि लगभग 6 महीने पूर्व पानी की सप्लाई के लिए खड़ंजा आम रास्ता ठेकेदारों ने उखाड़ दिया था परंतु 6 महीने बीत जाने के बाद आज तक खड़ंजा पुनः नहीं बनवाया गया।

खड़ंजा ना बनाए जाने से रास्ते उबड़-खाबड़ हो गए हैं। रास्ते में बड़े-बड़े गड्ढे हैं जिससे गांव के लोग पैदल भी नहीं निकल पा रहे हैं। जल मिशन के ठेकेदारों के कारनामे के चलते गांव के लोग काफी परेशान हैं। खड़ंजा उखाड़े जाने के बाद बराबर ना करने से पूरा रास्ता बाधित है तथा नाली पूरी तरह मलबे के नीचे गायब हो गई है। गांव के लोगों ने कई बार ग्राम प्रधान से शिकायत किया परंतु आज तक रास्ता सही नहीं करवाया गया।

वाटर सप्लाई तो की गई लेकिन पूरे रास्ता का खड़ंजा उखाड़ दिया गया जिससे ग्राम वालों को निकलने में समस्या हो रही है। ग्रामीणों का कहना है कि बारिश का मौसम जल्दी आने वाला है। अगर रास्ता इसी प्रकार रहा, तो लोगों के घरों में नाली का पानी भर जाएगा। गांव के लोगों का कहना है कि ठेकेदार से कई बार कहा गया परंतु ठेकेदार भी नजरअंदाज कर रहा है, जिससे गांव के लोग काफी आक्रोशित हैं। गांव के लोगों ने जिला अधिकारी और मुख्य विकास अधिकारी का ध्यान आकृष्ट कराते हुए ठेकेदार द्वारा उखाड़े गए खड़ंजा और बर्बाद की नाली को ठीक कराए जाने की मांग करते हुए ठेकेदार पर कार्रवाई की मांग की है।

राजकुमार 

'खेलो इंडिया' समारोह, वाराणसी पहुंचे सीएम 

'खेलो इंडिया' समारोह, वाराणसी पहुंचे सीएम 

संदीप मिश्र 

लखनऊ/वाराणसी। खेलो इंडिया के समापन समारोह में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार अपराह्न वाराणसी पहुंचे। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर भी आईआईटी बीएचयू के जिमखाना मैदान में आयोजित समारोह में शामिल होंगे। एयरपोर्ट से सीएम योगी का काफिला सर्किट हाउस आया। यहां वो जी-20 देशों के मंत्री समूह की बैठक की तैयारियों की समीक्षा कर रहे हैं।

यह बैठक 11 से 13 जून के बीच होनी है। इसके बाद मुख्यमंत्री कार्यक्रम स्थल और रूट को भी देखेंगे। मुख्यमंत्री शाम करीब छह बजे आईआईटी बीएचयू जाएंगे। वहां खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स के समापन समारोह में हिस्सा लेंगे। विजेता खिलाड़ियों को पदक देकर सम्मानित करेंगे। वाराणसी में ही रात्रि विश्राम करेंगे।

रविवार को संपूर्णांनंद संस्कृत विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर शनिवार को समापन समारोह के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे। अगले दिन वे काशी विश्वनाथ धाम में दर्शन पूजन भी करेंगे।

आमजन की शिकायतों को सुना, निर्देश दिए

आमजन की शिकायतों को सुना, निर्देश दिए


7 दिन के अंदर तहसील दिवस की शिकायतों का किया जाए निस्तारण: डीएम

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने तहसील मंझनपुर में सुनी जन शिकायतें

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार एवं पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने तहसील मंझनपुर में आमजन की शिकायतों को सुना एवं सम्बन्धित अधिकारियों को गुणवत्तापूर्ण व समयान्तर्गत निस्तारित करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने राजस्व से सम्बन्धित शिकायतों पर राजस्व एवं पुलिस की संयुक्त टीम को मौके पर जाकर शिकायत को निस्तारित करने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों से कहा कि तहसील दिवस में प्राप्त शिकायतों को 07 दिन के अन्दर निस्तारित किया जाय तथा आई0जी0आर0एस0 के तहत प्राप्त शिकायत को समयान्तर्गत निस्तारित किया जाय, कोई शिकायत डिफाल्टर न होने पाएं। सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 29 शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमें से 04 शिकायतों का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया।

समाधान दिवस में शिकायतकर्ता राधेश्याम, निवासी-मनीपुर पवारा द्वारा प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया गया कि विपक्षी द्वारा उनकी पट्टे की भूमि पर जबरन कब्जा किया जा रहा है। जिस पर जिलाधिकारी ने थानाध्यक्ष करारी एवं राजस्व निरीक्षक को जांच कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार शिकायतकर्ता अनीता, निवासी-ग्राम डूडीबाग द्वारा प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया गया कि उनकी पुस्तैनी मकान पर दबंग व्यक्तियों द्वारा जबरन कब्जा किया जा रहा है, जिस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी को जांच कराकर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

तहसील सिराथू में कुल 102 शिकायतें प्राप्त हुई। जिसमें से 05 शिकायतों का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया तथा तहसील चायल में कुल 28 शिकायतें प्राप्त हुई। जिसमें से 02 शिकायत का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ. रवि किशोर त्रिवेदी, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सुष्पेन्द्र कुमार, उप जिलाधिकारी प्रखर उत्तम एवं क्षेत्राधिकारी योगेन्द्र कृष्ण नारायण सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें।

सुशील केसरवानी 

मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर, जायजा लिया

मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर, जायजा लिया


जिलाधिकारी ने निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर फिनीशि्ांग के कार्यों को तेजी से पूर्ण कराने के दियें निर्देश

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने शनिवार को निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज, कादीपुर का स्थलीय निरीक्षण कर, निर्माण कार्यों की प्रगति का विस्तृत जायजा लिया। जिलाधिकारी ने एकेडमिक बिल्डिंग तथा गर्ल्स एवं ब्वायज हॉस्टल आदि के निरीक्षण के दौरान निर्माण कार्य में अपेक्षित प्रगति न पाये जाने पर नाराजगी प्रकट करते हुए निर्माण कार्यों को तेजी से पूर्ण कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने फिनीशिंग कार्यों की जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि इलेक्ट्रिक वायरिंग/उपकरण के कार्य की सामग्री मंगाकर स्टोर कर लिया जाय, जिससे इन कार्यों को समय से पूर्ण किया जा सकें। उन्होंने लिफ्ट लगाएं जाने के कार्य में प्रगति लाने तथा मेडिकल कॉलेज परिसर की सड़क का भी निर्माण कार्य प्रारम्भ कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने आवश्यकतानुसार लेबरों की संख्या और बढ़ाने के निर्देश देते हुए कहा कि निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण एवं मानक के अनुसार सुनिश्चित किया जाएं, किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाय। इस अवसर पर अधिशासी अभियंता लो.नि.वि. निर्माण खण्ड-वन, प्रयागराज के.के. श्रीवास्तव एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शुक्ला सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

सुशील केसरवानी 

सिसोदिया की पत्नी के स्वास्थ्य के बारे में रिपोर्ट मांगी

सिसोदिया की पत्नी के स्वास्थ्य के बारे में रिपोर्ट मांगी

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने शनिवार को लोकनायक जयप्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल से आप नेता मनीष सिसोदिया की बीमार पत्नी के स्वास्थ्य के बारे में रिपोर्ट मांगी और कथित आबकारी नीति घोटाले से संबंधित धनशोधन के एक मामले में छह सप्ताह के लिए सिसोदिया की अंतरिम जमानत याचिका पर आदेश सुरक्षित रख लिया।

सिसोदिया की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता मोहित माथुर ने न्यायमूर्ति दिनेश कुमार शर्मा को बताया कि शुक्रवार को पारित अदालत के निर्देशों के अनुसार, दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री को उनकी पत्नी से मिलाने के लिए ले जाया गया, लेकिन उनके घर पहुंचने से पहले ही उनकी पत्नी की तबियत खराब हो गई, जिन्हें एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस प्रकार माथुर ने अदालत से सिसोदिया को अस्थायी आधार पर रिहा करने का अनुरोध किया और कहा कि वह अपनी बीमार पत्नी की देखभाल करने वाले एकमात्र व्यक्ति हैं। न्यायमूर्ति शर्मा ने अदालत के अवकाश के दिन हुई सुनवाई के बाद कहा, "दलीलें सुनी गईं। आदेश सुरक्षित रखा गया। एलएनजेपी से रिपोर्ट मंगवाई जाए और आज शाम तक दाखिल की जाए।"

न्यायाधीश ने शुक्रवार को तिहाड़ जेल अधीक्षक को सिसोदिया को उनके आवास पर ले जाने का निर्देश दिया था, जहां उन्हें सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक अपनी बीमार पत्नी से मिलने की अनुमति दी गई थी और प्रवर्तन निदेशालय से रिपोर्ट मांगने के बाद अंतरिम जमानत याचिका पर सुनवाई तीन जून के लिए सूचीबद्ध की थी। सुनवाई के दौरान ईडी के वकील जोहेब हुसैन ने सबूतों से छेड़छाड़ की आशंका जताते हुए अंतरिम जमानत की याचिका का विरोध किया।

परिवारों की मदद के लिए वेतन दान करने का आग्रह 

परिवारों की मदद के लिए वेतन दान करने का आग्रह 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद वरुण गांधी ने शनिवार को अपने साथी सांसदों से ओडिशा में ट्रेन दुर्घटना के पीड़ितों के परिवारों की मदद के लिए एक महीने का वेतन दान करने का शनिवार को आग्रह किया। गांधी ने कहा कि पहले उन्हें सहारा मिलना चाहिए और फिर न्याय।

भाजपा सांसद ने ट्वीट किया, “उड़ीसा की रेल दुर्घटना हृदय विदारक है! जो परिवार इस हादसे से टूटे हैं, हमें उनके साथ चट्टान की तरह खड़ा होना होगा। मेरा सभी साथी सांसदों से निवेदन है कि हम सभी अपनी तनख्वाह का एक हिस्सा शोक संतप्त परिजनों के नाम कर उनकी मदद के लिए आगे आए। पहले उन्हें सहारा मिले, फिर न्याय।” ओडिशा में हुई ट्रेन दुर्घटना में कम से कम 261 यात्रियों की मौत हुई है, जबकि एक हजार यात्री घायल हुए हैं। 

बड़ी संख्या में ‘लव जिहाद’ के मामलें सामने आए

बड़ी संख्या में ‘लव जिहाद’ के मामलें सामने आए

कविता गर्ग 

मुंबई। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार को कहा कि राज्य में गुमशुदगी की शिकायतों की जांच के दौरान बड़ी संख्या में ‘लव जिहाद’ के मामलें सामने आए हैं। राज्य की एकनाथ शिंदे सरकार में गृह विभाग संभालने वाले फडणवीस ने पत्रकारों से कहा कि राज्य में गुमशुदगी के मामलों में लापता लोगों का पता लगाने की दर 90 से 95 प्रतिशत है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘कुछ मामलों में, हमने पाया कि झूठे वादे किए गए थे या झूठी पहचान का इस्तेमाल किया गया था, यहां तक ऐसे मामले भी सामने आए, जिनमें विवाहित व्यक्ति भी महिलाओं को गुमराह करने की कोशिश कर रहे थे। ‘लव जिहाद’ के मामले भी बड़ी संख्या में सामने आये हैं।’’ ‘लव जिहाद’ शब्द का इस्तेमाल अक्सर दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं द्वारा मुस्लिम पुरुषों पर शादी का झांसा देकर हिंदू महिलाओं का धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाने के लिए किया जाता है। फडणवीस ने कहा, ‘‘मैंने पहले भी कहा था कि हम इस पर (लव जिहाद) कानून लाने पर विचार कर रहे हैं।

हम इस संबंध में विभिन्न मौजूदा कानूनों का अध्ययन कर रहे हैं।’’ इस बीच, बिहार के नाबालिग बच्चों के महाराष्ट्र में एक रेलगाड़ी में पाये जाने के बारे में पूछे जाने पर फडणवीस ने कहा कि उनका विभाग बाल तस्करी के खतरे को समाप्त करने के प्रति गंभीर है। इस बीच बिहार के नाबालिग बच्चों के महाराष्ट्र में एक रेलगाड़ी में पाएं जाने के बारे में पूछे जाने पर फडणवीस ने कहा कि उनका विभाग बाल तस्करी के खतरे को समाप्त करने के प्रति गंभीर है। उन्होंने कहा, ‘‘दरअसल महाराष्ट्र में ऐसे कई मामले सामने आये हैं, जो कहीं और सामने नहीं आए। राज्य सरकार इस खतरे को समाप्त करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

'रेल दुर्घटना' स्थल का निरीक्षण कर, जायजा लिया 

'रेल दुर्घटना' स्थल का निरीक्षण कर, जायजा लिया 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/भुवनेश्वर/बालासोर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को ओडिशा के बालासोर जिले के बाहानगा में रेल दुर्घटना स्थल का निरीक्षण किया और राहत तथा परिचालन बहाली कार्यों का जायजा लिया। प्रधानमंत्री के साथ रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव और केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी थे। प्रधानमंत्री को दोनों केंद्रीय मंत्रियों के साथ-साथ आपदा प्रबंधन टीम के अधिकारियों द्वारा स्थिति के बारे में जानकारी दी गई।

बालासोर जिले में शुक्रवार शाम कोरोमंडल एक्सप्रेस और बेंगलुरु-हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन के पटरी से उतरने और एक मालगाड़ी से टकराने से जुड़े रेल हादसे में मृतक संख्या शनिवार को बढ़कर 261 हो गई। देश के सबसे भीषण रेल हादसों में शामिल इस दुर्घटना में करीब 1,000 यात्री घायल हुए हैं। प्रधानमंत्री ने ओडिशा की राजस्व और आपदा प्रबंधन मंत्री प्रमिला मलिक के साथ-साथ स्थानीय पुलिस प्रमुख से भी बातचीत की।

मोदी ने दुर्घटना के बाद इस मार्ग पर ट्रेन सेवाओं को बहाल करने के लिये किये जा रहे कार्यों की प्रगति के बारे में भी जानकारी ली। बाहानगा बाजार में दुर्घटनास्थल पर पहुंचने से पहले प्रधानमंत्री ने ट्रेन हादसे पर नयी दिल्ली में एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की थी। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने ट्वीट किया ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ओडिशा में ट्रेन दुर्घटना के मद्देनजर स्थिति का जायजा लेने के लिए एक बैठक की अध्यक्षता की। समीक्षा बैठक में प्रभावित लोगों के बचाव, राहत और चिकित्सा से संबंधित पहलुओं पर चर्चा की गई।’’ 

यात्रियों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

यात्रियों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

नरेश राघानी 

जयपुर। ओडिशा के बालासोर में शुक्रवार को हुए भीषण रेल हादसे के मद्देनजर उत्तर पश्चिम रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। एक प्रवक्‍ता ने बताया कि यात्री या आमजन संबंधित जानकारी/सूचनाएं हेल्पलाइन नंबर 0141-2725806 व 0141-2725804 से प्राप्त कर सकते हैं।

उल्‍लेखनीय है, कि ओडिशा के बालासोर में शुक्रवार को कोरोमंडल एक्सप्रेस तथा यशवंतपुर-हावड़ा एक्सप्रेस व मालगाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हुई है। राजस्‍थान के राज्यपाल कलराज मिश्र व मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने इस हादसे पर शोक जताया है। 

अधिकारियों की उच्च स्तरीय समिति का गठन: सीएम 

अधिकारियों की उच्च स्तरीय समिति का गठन: सीएम 

इकबाल अंसारी 

अमरावती/विजयवाड़ा। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने शनिवार को सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्री  अमरनाथ के नेतृत्व में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारियों की एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया और उसे ओड़िशा के बालासोर में हुई रेल दुर्घटना में राहत एवं बचाव कार्यो में मदद करने के लिए भेजा।

रेड्डी ने आज मुख्यमंत्री कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक की और स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने समिति को ओडिशा के मुख्यमंत्री कार्यालय और रेलवे अधिकारियों के संपर्क में रहने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा, “ शिकायतों से निपटने और तुरंत जवाब देने के लिए जिला कलेक्टरों के कार्यालयों में जांच और शिकायत प्रकोष्ठ स्थापित करें।” ओडिशा से भेजी गई उच्च स्तरीय समिति में श्री अमरनाथ के साथ नागरिक आपूर्ति आयुक्त अरुण कुमार, वाणिज्यिक कर संयुक्त आयुक्त आनंद और श्रीकाकुलम संयुक्त आयुक्त नवीन शामिल हैं। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को एंबुलेंस तैयार रखने सहित घायलों के इलाज के लिए विशाखापत्तनम, विजयनगरम और श्रीकाकुलम जिलों के अस्पतालों में व्यवस्था करने का निर्देश दिया।

उन्होंने बालासोर में हुई रेल दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया और अधिकारियों को यह जांच करने का भी निर्देश दिया कि मृतकों और घायलों में कोई आंध्र प्रदेश का यात्री तो नहीं है। अधिकारियों ने कहा कि बचावकर्मी शुक्रवार की शाम से पटरी से उतरने वाली तीन ट्रेनों के क्षतिग्रस्त डिब्बो से जीवित लोगों और मृतकों को बाहर निकालना जारी रखे हुए हैं।

दुर्घटना में जिसमें कम से कम 233 लोगों की मौत हो गई और 900 से अधिक घायल हो गए। इस बीच, ईस्ट कोस्ट रेलवे ज़ोन के वाल्टेयर डिवीजन ने राहत के लिए विशाखापत्तनम, विजयनगरम और श्रीकाकुलम में तीन हेल्पलाइन स्थापित की हैं,जिसमें विशाखापत्तनम (0891 - 2746330 और 0891 - 2744619), विजयनगरम (08922 - 221202 और 08922 - 221206), और श्रीकाकुलम (08942 - 286213 और 08942 - 286245) हेल्पलाइन नंबर हैं।

कई हस्तियों ने भीषण ट्रेन हादसे पर दुख व्यक्त किया

कई हस्तियों ने भीषण ट्रेन हादसे पर दुख व्यक्त किया

कविता गर्ग 

मुंबई। अभिनेता सलमान खान, अक्षय कुमार, जूनियर एनटीआर और अभिनेत्री करीना कपूर सहित कई हस्तियों ने ओडिशा के बालासोर जिले में हुए भीषण ट्रेन हादसे पर शनिवार को दुख व्यक्त किया। गौरतलब है कि शुक्रवार शाम ओडिशा के बालासोर जिले में कोरोमंडल एक्सप्रेस और बेंगलुरु-हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन के पटरी से उतरने तथा फिर एक मालगाड़ी से टकराने से हुए भीषण हादसे में कम से कम 261 लोगों की मौत हो गई।

अभिनेता सलमान ने ट्वीट किया, "दुर्घटना के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ। ईश्वर मृतकों की आत्मा को शांति प्रदान करें और घायलों एवं उनके परिवारों को शक्ति प्रदान करें।" वहीं, अभिनेता अक्षय कुमार ने दुर्घटनास्थल के दृश्य को हृदयविदारक करार देते हुए लिखा, "घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। इस कठिन समय में पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं। ओम शांति।"

जूनियर एनटीआर ने लिखा, "इस भीषण घटना से प्रभावित प्रत्येक व्यक्ति के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। इस कठिन समय में ईश्वर उन्हें शक्ति प्रदान करें।" इस हादसे के बाद अभिनेता चिरंजीवी ने अपने प्रशंसकों और आम जनता से लोगों की मदद के लिए आगे आने तथा रक्त दान करने की अपील की। उन्होंने ट्वीट किया, "ओडिशा में हुई दुखद घटना से मैं स्तब्ध हूं।

मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिवारों के साथ हैं।’’ चिरंजीवी ने लिखा, "मुझे लगता है कि इस समय घायलों की जान बचाने के लिए रक्त की तत्काल जरूरत होगी। मैं आसपास के इलाकों में अपने सभी प्रशंसकों और आम लोगों से रक्त दान करने की अपील करता हूं।" इसके अलावा, अभिनेता वरुण धवन, सोनू सूद, अभिनेत्री कृति सेनन, करीना कपूर और परिणीति चोपड़ा ने भी हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए शोकाकुल परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की।

ट्रेन दुर्घटना, स्थिति की समीक्षा के लिए बैठक 

ट्रेन दुर्घटना, स्थिति की समीक्षा के लिए बैठक 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/भुवनेश्वर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ओडिशा में हुई ट्रेन दुर्घटना के संबंध में स्थिति की समीक्षा के लिए शनिवार को एक बैठक की। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को ओडिशा के बालासोर में ट्रेन दुर्घटना स्थल और कटक के उस अस्पताल का दौरा करेंगे, जहां घायलों का इलाज किया जा रहा है।

ओडिशा के बालासोर जिले में शुक्रवार शाम कोरोमंडल एक्सप्रेस और बेंगलुरु-हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन के पटरी से उतरने तथा एक मालगाड़ी से टकराने से जुड़े रेल हादसे में मृतक संख्या शनिवार को बढ़कर 261 हो गई।

ट्रेन हादसे को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा

ट्रेन हादसे को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा

मिनाक्षी लोढी 

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने ओडिशा में हुए ट्रेन हादसे को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। अभिषेक ने कहा कि मोदी सरकार वंदे भारत ट्रेनों और नवनिर्मित रेलवे स्टेशनों को अपनी उपलब्धि बताती है और जनता को गुमराह कर राजनीतिक समर्थन हासिल करने के लिए जल्दबाजी में परियोजनाओं का उद्घाटन करती है।

उन्होंने कहा कि तकनीकी प्रगति के बावजूद, एक ओर सरकार विपक्षी नेताओं, उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीशों, पत्रकारों की जासूसी करने के लिए पेगासस जैसे सॉफ़्टवेयर का सहारा लेती है, लेकिन दूसरी ओर दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं को रोकने के लिए जीपीएस और टक्कर-रोधी उपकरणों को लागू करने की उपेक्षा करती है। उन्होंने कहा कि दुख की बात है कि इनका खामियाजा गरीब लोगों को भुगतना पड़ता है। फिर चाहे वह नोटबंदी, वस्तु सेवाकर (जीएसटी), हड़बड़ी में लॉकडाउन, कठोर कृषि कानून या अपर्याप्त रेलवे सुरक्षा उपाय हो। दिल दहला देने वाले इस ट्रेन हादसे में सौ से अधिक लोगों की जान चली गई है, और इसके लिए काफी हद तक प्रधानमंत्री जिम्मेदार है।

उन्होंने कहा कि मेरी हार्दिक संवेदनाएं उन परिवारों के साथ है, जिन्होंने इस दुर्घटना में अपने प्रियजनों को खो दिया है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की और जोर देकर कहा कि यदि रेल मंत्री की अंतरात्मा की आवाज बाकी है, तो उन्हें पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि ओडिशा के बालासोर जिले में शुक्रवार को हुई ट्रेन दुर्घटना में मरने वालों की संख्या शनिवार को बढ़कर 207 हो गई। बचाव अभियान में मदद के लिए सेना को बुलाया गया है।

मुख्य सचिव पी के जेना ने कहा कि घायलों की संख्या 900 हो गई है। उन्हाेंने विशेष राहत आयुक्त सत्यव्रत साहू द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के हवाले से ट्विटर पर कहा, "ट्रेन दुर्घटना में मरने वालों की संख्या बढ़ रही है। दुर्घटनास्थल से ताजा रिपोर्ट में यह आंकड़ा 207 बताया गया है। घायलों की संख्या लगभग 900 है।" 

शासकों को दुरुपयोग का निमंत्रण देता है 'कानून'

शासकों को दुरुपयोग का निमंत्रण देता है 'कानून'

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने विधि आयोग द्वारा राजद्रोह के अपराध संबंधी दंडात्मक प्रावधान का समर्थन किए जाने के बाद शनिवार को कहा कि यह देखकर दुख होता है कि कुछ न्यायाधीश और पूर्व न्यायाधीश वास्तविक दुनिया से कितने कटे हुए हैं। उन्होंने यह दावा भी किया किया कि यह कानून शासकों को इसके दुरुपयोग का निमंत्रण देता है। 

पूर्व गृह मंत्री ने ट्वीट किया, "भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए (राजद्रोह) की वैधानिकता की जांच-परख करने वाले विधि आयोग के सुझाव कुछ ऐसे हैं जैसे किसी चिकित्सक द्वारा सुझाया गया उपचार बीमारी से भी ज्यादा खतरनाक हो।" उन्होंने कहा, " जब राजद्रोह के कानून को निरस्त करने की मांग हो रही है, ऐसे समय विधि आयोग ने सिफारिश की है कि सजा को तीन साल से बढ़ाकर सात साल किया जाए।

चिदंबरम ने दावा किया, " इस तरह का खतरनाक कानून शासकों को इस बात का निमंत्रण है कि वे इसका दुरुपयोग करें। यह बात कई बार साबित हो चुकी है।" उन्होंने यह भी कहा, "यह देखकर दुख होता है कि कुछ न्यायाधीश और पूर्व न्यायाधीश इस तरह से वास्तविक दुनिया से कटे हुए हैं।" उल्लेखनीय है कि विधि आयोग ने राजद्रोह के अपराध संबंधी दंडात्मक प्रावधान का समर्थन करते हुए कहा है कि इसे पूरी तरह से निरस्त करने से देश की सुरक्षा और अखंडता पर गंभीर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। उच्चतम न्यायालय के एक आदेश के चलते भारतीय दंड संहिता की राजद्रोह संबंधी धारा 124ए फिलहाल स्थगित है।

पिछले साल 11 मई को एक ऐतिहासिक आदेश में शीर्ष अदालत ने राजद्रोह संबंधी औपनिवेशिक युग के दंडात्मक कानून पर तब तक के लिए रोक लगा दी थी जब तक कि ‘उचित’ सरकारी मंच इसकी समीक्षा नहीं करता। इसने केंद्र और राज्यों को इस कानून के तहत कोई नयी प्राथमिकी दर्ज नहीं करने का निर्देश दिया था। शीर्ष अदालत ने व्यवस्था दी थी कि देशभर में राजद्रोह कानून के तहत जारी जांच, लंबित मुकदमों और सभी कार्यवाही पर भी रोक रहेगी।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-233, (वर्ष-06)

2. रविवार, जून 04, 2023

3. शक-1944, ज्येष्ठ, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पूर्णिमा, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:40, सूर्यास्त: 06:45। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 24 डी.सै., अधिकतम- 37+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...