शनिवार, 26 दिसंबर 2020

डीएम-कप्तान ने गौसंरक्षण केंद्र का निरीक्षण किया

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने गौसंरक्षण केन्द्र बंधवा रजबर का किया औचक निरीक्षण

कौशाम्बी। जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह एवं पुलिस अधीक्षक अभिनन्दन ने शनिवार को गौसंरक्षण केन्द्र बंधवा रजबर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान गौसंरक्षण केन्द्र में जेल अधीक्षक बाल मुकुन्द ने गौवंशों को ठण्ड से बचाव हेतु काउ कोट प्रदान किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने गौसंरक्षण केन्द्र में चारा, पानी एवं विद्युत की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था सुनिश्चित रखने का निर्देश दिया है। उन्होने गोसंरक्षण केन्द्र में अभियान चलाकर गोवंशों का टीकाकरण कराये जाने के लिए कहा है। उन्होंने गोवंशों को साफ-सुथरा रखने एवं बीमार पशु का इलाज तत्काल कराये जाने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने गौसंरक्षण केन्द्र के चारो तरफ छायादार बृक्ष लगवाये जाने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने गोआश्रय स्थल में खाली स्थान पर टीन सेड लगवाये जाने का भी निर्देश दिया है। इस अवसर पर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. वीपी पाठक सहित अन्य अधिकारी एंव कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

सुशील केसरवानी

अयोध्या को प्रतिष्ठित रूप में स्थापित करने के निर्देश

हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में विकास कार्यों की गति तेज करने का निर्देश देते हुए शनिवार को कहा कि भगवान राम की जन्मस्थली के महत्व को ध्यान में रखकर केन्द्र व राज्य सरकार उसे उसके प्राचीन गौरव के अनुरूप प्रतिष्ठित करने के लिए संकल्पबद्ध हैं। मुख्यमंत्री शनिवार को लोक भवन में अयोध्या धाम के समेकित पर्यटन विकास संबंधी कार्यों के प्रस्तुतीकरण का अवलोकन कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि अयोध्या नगरी का विकास इस प्रकार से किया जाए जिससे वहां पहुंचने वाले लोगों को स्तरीय सुविधाएं प्राप्त हो सकें। उन्होंने कहा कि अयोध्या में विकास कार्यों की गति तेज की जाए और यातायात की व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए सड़कों को चौड़ा किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न दिशाओं से अयोध्या पहुंचने वाले दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए सड़कों का प्रभावी और निर्बाध नेटवर्क तैयार किया जाए तथा सड़कों के दोनों ओर पेयजल, शौचालय जैसी जनसुविधाओं की अच्छी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि अपने वाहनों से आने वाले दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए विभिन्न स्थलों पर ‘मल्टी लेवल’ पार्किंग का निर्माण किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यटकों को अयोध्या धाम का भ्रमण कराने के लिए प्रशिक्षित गाइडों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए और भरत कुण्ड, सूर्य कुण्ड तथा नन्दी ग्राम का तेजी से विकास किया जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि चौरासी कोसी परिक्रमा मार्ग से संबंधित समस्त कार्य तेजी से कराए जाएं जिससे श्रद्धालुओं को परिक्रमा करने में किसी प्रकार की परेशानी न हो। योगी ने कहा कि श्री मखौड़ा धाम, बस्ती में पर्यटन संबंधी सभी कार्य भी निर्धारित समयसीमा में पूरे किए जाएं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि अयोध्या का विकास ‘सोलर सिटी’ के रूप में किया जाए।

सहायक अध्यापकों की भर्ती में अब नया खेल जारी

बाराबंकी। उच्च न्यायलय के आदेश पर शुरू की गयी 69,000 सहायक अध्यापको की भर्ती में अब साक्ष्य प्रमाण का खेल शुरू हो गया है। जिला बेसिक शिक्षा विभाग से नियुक्ति पत्र मिलने के बावजूद प्रथम चरण में 31,277 शिक्षक भर्ती में दो दर्जन नियुक्ति निरस्त किये जाने पर पीड़ित भूख हड़ताल पर बैठे हैं। इन सभी 24 शिक्षकों की बीती 24 दिसम्बर तक शिक्षक कार्यालय पर उपस्थित दर्ज करायी गयी है। इन सभी का भारांक और गुणांक भी इनके पात्र होने का पुख्ता प्रमाण है। भूख हड़ताल कर रहे पीड़ितो का कहना है कि जिस कमेटी के प्रधान अधिकारी को उन सभी ने अपनी समस्या से अवगत कराया। उक्त प्रकरण पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से बात किये जाने पर उनका कहना है कि जल्दबाजी में हुई त्रुटि के चलते अपात्रों की नियुक्ति हुई थी। जिसे सुधारा जा रहा है। उन्होंने बताया कि कमेटी के जरिये ही सभी निर्णय लिये गये हैं। इसमें उनका सीधे सीधे निर्णय लेने का कोई अधिकार इस विषय में नहीं है।बीएसए ने यह भी बताया की एडीएम और कमेटी के माध्यम से कार्यवाही की गयी है। विभाग की एक बात और सामने निकल कर आई है कि इन लोगों को रखे जाने पर वेतन का निर्वहन करना पड़ता। लेकिन प्रशासन का आदेश आने से पहले विभाग का जल्दबाजी में लिया गया निर्णय दो दर्जन शिक्षकों के भविष्य से खिलवाड़ प्रतीत हो रहा है।

धूमधाम से शहीद उधम सिंह का जन्मदिन मनाया

रूद्रपुर/गदरपुर। इग्लैण्ड जाकर जलियावाला बाग काण्ड के दोषी जनरल ओडायर को मौत के घाट उतारने वाले वीर क्रान्तिकारी शहीद उधम सिंह का जन्म दिन जनपदभर में भावपूर्ण तरीके से मनाया गया। उनकी प्रतिमाओं पर अधिकारियों/जनप्रतिनिधियों ने सुमन अर्पित कर श्राजंलि दी गईं। जिला मुख्यालय कलक्टेªट में जिलाधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरू, विधायक राजकुमार ठुकराल, राजेश शुक्ला मेयर रामपाल सिंह, एडीएम जगदीश चन्द्र काण्डपाल, उत्तम सिंह चैहान, ओसी कलैक्ट्रेट नरेश चन्द्र दुर्गापाल, एनएस नबियाल, एवं अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा शहीद उधम सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं पुष्पाजंलि अर्पित कर श्रदांजलि दी। जिलाधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरू ने कहा कि शहीद उधम सिंह समेत देश के महानक्रान्तिकारी एवं सेनानियों के सपनों का भारत बनाने की चुनौती आज भी हमारे सामने खडी है। हमें भारतीय लोकतांत्रिक व्यवस्था को कायम रखने का संकल्प लेना होगा। विधायक राजकुमार ठुकराल ने कहा शहीद उधम सिंह का नाम दुनियां में विख्यात है। उन्होंने कहा कि जलियावाला बागकाण्ड के बीभत्स हत्याकाण्ड के प्रत्यक्षदर्शी जिसमें सैकडों बेगुनाह लोगों की मौत हो गई थी के दोषी जनरल डायर को इग्लैण्ड जाकर भरी सभा में गोलियों के भूनकर मौत के घाट उतार दिया। ऐसे क्रान्तिकारी शहीदों के सपनों को साकार करना हम सबका दायित्व है।विधायक राजेश शुक्ला ने कहा कि बीभत्स जलियावंाला बागकाण्ड के प्रत्यक्षर्दाी क्रान्तिकारी शहीद उधम सिंह का देश प्रेम व देश भक्ति का जज्वा प्रेरणा दायक है। उन्होंने कहा कि उधम सिंह ने देश की अस्मिता के खातिर अपने प्राणों का उत्सर्ग किया। ऐसे वीर सेनानियों को देश पर नाज है। मेयर रामपाल सिंह ने कहा कि शहीद उधम सिंह ने भारत मां को गुलामी की जंजीरों से मुक्त कराने के लिये जिस तरह अपना बलिदान दिया वह दुनिया के इतिहास में अनूठा है। उनकी जीवन गाथा युगों-युगों तक भारत के युवाओं में देश भक्ति का ज्वार भरती रहेगी। उधर विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु खुराना एवं विकास भवन के अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा शहीद उधम सिंह की जयन्ती पर उनके चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि कर श्र(ांसुमन अर्पित किये। गदरपुर- श्री अमृतसर के जलियांवाला बाग में वैशाखी पर्व पर जनरल डायर के निर्देश पर हुए हत्याकांड का बदला लेने वाले तथा अंग्रेजी हुकूमत द्वारा फांसी के फंदे पर चढ़ाए जाने वाले शहीद शिरोमणि उधम सिंह के 122 वें जन्मदिन पर शहीद उधम सिंह कंबोज धर्मशाला में आयोजित कार्यक्रम में उनके चित्र पर माल्यार्पण करने के साथ मिष्ठान वितरण किया गया। राष्ट्रीय कंबोज महासभा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शहीद उधम सिंह के जन्मदिन पर वक्ताओं ने उनके जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनके आदर्शाे पर चलने का संकल्प लिया कार्यक्रम का संचालन करते हुए पूर्व जिप सदस्य टेक चंद कंबोज ने उपस्थित लोगों को शुभकामनाएं प्रदान की महासभा की गदरपुर इकाई के अध्यक्ष किशनलाल कम्बोज ने शहीद उधम सिंह के जीवन परिचय पर प्रकाश डाला। राष्ट्रीय कंबोज महासभा के महामंत्री सुरेश कंबोज ने शहीद उधम सिंह के जीवन की घटनाओं को व्यक्त करते हुए अन्य शहीदों का जिक्र भी किया। उन्होंने कहा अन्य शहीदों की भी याद हमें मनाते हुए उनकी यादगार बनाए जाने के लिए सभी को एकजुट होकर प्रयास करना चाहिए। पालिकाध्यक्ष गुलाम गौस ने बताया कि शहीद उधम सिंह के नाम पर सकैनिया रोड पर एक पार्क तथा सकैनिया रोड का नाम बाबा भूमन शाह के नाम पर किया गया है। कार्यक्रम को ओम प्रकाश कंबोज, व्यापार मंडल अध्यक्ष पंकज सेतिया, सचिव राकेश कुमार, अशोक कुमार एवं देवेंद्र सिंह ने भी संबोधित किया। इस मौके पर पूरन चंद कम्बोज, बाबा सतनाम चंद, जगदीश कंबोज, श्यामचंद कम्बोज, अकबर अली, राजीव शर्मा, वरियाम चंद कम्बोज, अशोक कम्बोज, राजकुमार गुंबर, अशोक कुमार, सद्दाम हुसैन, रमेश कुमार मदान, अकरम अली, राकेश कम्बोज, महेंद्रपाल सिंह एवं शकील अहमद आदि मौजूद थे।

दिल्ली: गुरुद्वारा प्रबंधन समिति आंदोलन में कूदी

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। किसान बिल देशभर में जारी है। जगह-जगह से किसान दिल्ली पहुंचकर अपना विरोध जता रहे हैं। वहीं, दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के चैयरमेन व दिल्ली राजौरी गार्डन से विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा भी इस आंदोलन में कूद चुके हैं। विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने किसान बिल की तुलना फांसी के फंदे से की है। विधायक सिरसा ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों के गले में फांसी का फंदा डाल रही है। कहा कि किसान बिल किसान विरोधी है और किसान हित में नही है। उन्होंने तर्क देते हुए कहा कि सरकार का कहना है कि किसान बिल किसानों के हित में है। इसकी गारंटी सरकार ले रही है। लेकिन जब किसान लूट जाएगा।असमर्थ हो जाएगा तो वह गारंटी का हक किस पर जमाएगा। विधायके सिरसा ने बताया कि इस देश के बिल के विरोध को लेकर विश्वभर में यह आंदोलन चल रहा है। जिसके बाद भी केंद्र सरकार मौन है। उन्होंने इस मामले में जल्द ही न्याय मिलने की बात कही।

चीमा ने दिल्ली पहुंचकर आंदोलन को समर्थन किया

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। किसान बिल के विरोध में बीते कुछ समय से हो रहे आंदोलन को समर्थन देने के लिए ऊधमसिंह नगर के पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष संदीप चीमा दिल्ली पहुंचे। जहां उन्होंने किसान आंदोलन को समर्थन दिया। चीमा दिल्ली बॉर्डर पर किसानों के साथ धरने पर भी बैठे। इस दौरान पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष संदीप चीमा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा जबरन किसान बिल किसानों पर थोपा जा रहा है, किसान बिल किसानों के हित में नहीं है। केंद्र सरकार द्वारा किसान बिल वापिस ले लेना चाहिए। अगर किसान बिल वापिस नहीं लिया गया तो किसानों का धरना इसी तरह जारी रहेगा। इस दौरान सतनाम सिंह, गुरप्रीत सिंह, मित्रपाल सिंह, दीन दयाल, जसपवन सिंह, राजवीर सिंह, जितेंद्र पाल, बलविंदर सिंह, हरप्रीत सिंह, इंद्रपाल सिंह, हरपिंदर सिंह, आशीष यादव, सरवन गुप्ता, अरुण सम्राट, राकेश चौधरी, राजेश पासवान आदि मौजूद रहे।

आग घटना, संदिग्ध परिस्थितियों में 4 लोगों की मौत

बांदा। उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र के दुबेन के पुरवा गांव में संदिग्ध परिस्थिति में शुक्रवार की रात एक घर में आग लगने की घटना में एक महिला और उसके तीन बच्चों की जल कर मौत हो गई। अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) महेंद्र प्रताप सिंह चौहान ने शनिवार को बताया, “संदिग्ध परिस्थिति में घर में आग लगने की घटना शुक्रवार रात की है। गांव के लोग आज सुबह करीब पांच बजे धुआं उठता देख मौके पर पहुंचे। हादसे में संगीता यादव (28) और उसकी बेटी अंजली (आठ), बेटा आशीष (छह) और दो साल की बेटी की जलकर मौत हो गई।

शामली: जेई का दुर्व्यवहार, पीड़ितों ने किया घेराव

भानु प्रताप उपाध्याय
ऊन। बिजली घर पर तैनात जेई द्वारा छापेमारी के दौरान महिलाओं से दुर्व्यवहार करने से नाराज लोगों ने चौकी पर प्रदर्शन कर कार्रवाई की मांग की। थोड़ी देर बाद दर्जनों लोगों ने थाना दिवस में पहुंचकर उप जिलाधिकारी से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है। बिजली घर पर तैनात जेई प्रेम सिंह द्वारा टीम के साथ शनिवार की अलसुबह छापेमारी की गई। आरोप है, कि जेई प्रेम सिंह द्वारा कस्बे के मोहल्ला सुभाष नगर में नीरज कुमार पुत्र जय वीर व देवेंद्र पुत्र प्रेम सिंह के घर में घुसकर बाथरूम रसोई व बैडरूम की वीडियो बनानी शुरू कर दी। जिस पर घर में उपस्थित महिलाओं ने आपत्ति जाहिर की जिसके बाद जेई ने दुर्व्यवहार कर हाथापाई की। घटना से नाराज लोगों ने चौकी पर पहुंचकर प्रदर्शन कर कार्रवाई की मांग की। मामला उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आने पर दर्जनों लोगों ने थाना दिवस में पहुंचकर उप जिलाधिकारी मणि अरोरा से जेई की शिकायत कर आरोप लगाया कि जेई छापेमारी की आड़ में अवैध वसूली करता है तथा फर्जी मुकदमे दर्ज कराता है। उन्होंने जांच कर कार्रवाई की मांग की। बाद में अधिकारियों ने दोनों पक्षों को बुलाकर वार्ता की लेकिन कोई हल नहीं निकल सका दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ तहरीर दी है। ऊन बिजली घर पर तैनात जेई प्रेम सिंह पर पूर्व में भी आरोप लग चुके हैं। कई बार लोगों ने उक्त जेई की शिकायत उच्चाधिकारियों से की है। पुलिस द्वारा भी जेई के खिलाफ रिपोर्ट भेजी गई थी। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो पाई।

शामली: हिंदू युवा वाहिनी ने मंत्री का स्वागत किया

भानु प्रताप उपाध्याय  
शामली। हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली द्वारा अजीत सिंह पाल राज्यमंत्री व शामली जिला प्रभारी मंत्री का फूल-मालाओं द्वारा लादकर जोरदार किया गया और फूलों का गुलदस्ता देकर सम्मानित किया गया। पब्लिक स्कूल व कानून की बिगड़ती समस्या पर शिकायत की। मंत्री ने शिकायत संबंधी अधिकारियों को तुरंत निर्देश दिए। हिंदू युवा वाहिनी का एक प्रतिनिधिमंडल जिला प्रभारी बिट्टू कुमार के नेतृत्व में कैराना रोड पर स्थित होटल में अजीत सिंह पाल राज्यमंत्री व इलेक्ट्रॉनिक व सूचना प्रशाशन विभाग,(उत्तर प्रदेश ) से मिला और उनका फूल माला से  जोरदार स्वागत किया। हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के जिला प्रभारी बिट्टू कुमार ने शिकायत करते हुए अजीत सिंह पाल राज्यमंत्री से कहा आम आदमी कोरोना की महामारी के संकट को झेल रहा है। वहीं दूसरी ओर शामली में जाम की विकट समस्या होती जा रही है। फव्वारा चौक अजंता चौक विजय चौक मिल रोड अभी चौराहों पर हर समय जाम लगा रहता है। उक्त जाम को लेकर आम राहगीरों को पैदल चलना भी दूभर हो गया है। इस जाम के कारण बड़ा  हादसा होने की संभावना बनी रहती है। चौधरी जुगमिंदर सिंह मलिक प्रदेश संरक्षक हरियाणा हिंदू युवा वाहिनी ने बताया शामली जिले में कुछ पुलिस प्रशासनिक अधिकारी अपनी मन मानी से कार्य कर रहे हैं। गरीबों को योजनाओं के नाम पर सिर्फ कागजी कार्यवाही की जा रही है। ऐसे अधिकारी अभी भी संभल जाए ये योगी आदित्यनाथ जी महाराज की सरकार है। जो भ्रटाचार के बिल्कुल खिलाफ है। वहीं हिंदू युवा वाहिनी शामली के नगर प्रभारी पंकज गुप्ता (सभासद) ने कहा कि आप जनता के छोटे छोटे काम जैसे राशन कार्ड, पेंशन योजना, बालिका योजना जैसी योजनाओं के लिए वेबसाइट ना चलने की वजह से आप जनता योजनाओं से वंचित रह जाते हैं। जिले में अधिकारी इस विषय पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। जिसके कारण योगी सरकार को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। जिला आईटी संयोजक आशीष निरवाल व महामंत्री महेश गोयल ने संयुक्त रुप से शिकायत करते हुए कहा करोना वायरस की महामारी के चलते लॉकडाउन के दौरान छोटे स्कूल जो बंद हुए थे मैं भूखे मरने के कगार पर हैं। क्योंकि वे  तभी से बंद पड़े हैं। उनके बंद होने के कारण बच्चों की पढ़ाई चौपट हो गई है। बच्चों के भविष्य को देखते हुए उन्हें खोला जाए। वहीं चौधरी रविंदर सिंह कालखंडे जिला संयोजक अरविंद कौशिक जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुधीर राणा, जिला उपाध्यक्ष प्रदीप निरवाल, जिला उपाध्यक्ष अमित गर्ग, जिला उपाध्यक्ष, अनुज गोयल उपाध्यक्ष, अनुराग गोयल, जिला मंत्री उपेंद्र  द्विवेदी नगर संयोजक मनोज रोहिल्ला नगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता मांगेराम नामदेव आदि ने भी उक्त समस्याओं का समाधान करने की मांग माननीय मंत्री से की।

रेकी कर लूट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी 
हापुड़। पुलिस ने रेकी कर लूट करने वाले गिरोह का खुलासा किया। गिरोह के पांच बदमाशों को गिरफ्तार किया। दो मोटरसाइकिल, तीन तमन्चे, कारतूस, मोबाइल और 38,300 की नकदी बरामद। पकड़े गए शातिर बदमाशों पर तीन दर्जन से अधिक मुकदमें दर्ज है। 6 नवंबर को कलेक्शन एजेंट से एक लाख रुपये लूटे थे। कोतवाली पुलिस और स्वाट टीम पिलखुवा ने गिरफ्तारी की।

एक्शन में नजर आई आईपीएस, किया सीधा संवाद

 एक्शन में दिखी आईपीएस तृप्ति भट्ट। जनता से किया सीधा संवाद, इन प्रमुख बिन्दुओं पर रहेगी नज़र
टिहरी/धनौल्टी।आईपीएस तृप्ति भट्ट को टिहरी जनपद की कमान सौंपी गई है। जिसके बाद से ही एसएसपी तृप्ति भट्ट एक्शन में नजर आ रही हैं। एसएसपी ने शुक्रवार को थत्यूड़ थाने में जन संवाद क्रार्यक्रम के तहत क्षेत्र की जनता की समस्याएं सुनीं। साल 2015 थाना थत्यूड़ बनने के बाद ऐसा पहली बार है।जब किसी एसएसपी थत्यूड़ क्षेत्र की जनता से सीधा संवाद किया है।
दरअसल जन संवाद कार्यक्रम में टिहरी एसएसपी तृप्ति भट्ट ने महिलाओं बच्चों, बालिकाओं को उनके अधिकारों के संबंध में विस्तृत जानकारी दी और 20 मेधावी बालिकाओं के उत्साहवर्धन के लिए टी-शर्ट वितरित की
महिलाओं की सुरक्षा, सहायता के लिए लगातार प्रयास किया जायेगा
ड्रग्स नशाखोरी अवैध शराब बिक्री पर लगाम लगायी जायेगी।
मेधावी छात्राएं जो पढ़ाई स्पोर्ट्स/विभिन्न प्रतियोगिताओं में रूचि लेती हैं। तो उन मेधावी छात्राओं को पुरस्कृत किया जाएगा।
थत्यूड़ थाना क्षेत्र में फड़, ठेली संचालकों का शत प्रतिशत सत्यापन किया जायेगा, जिससे अपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगेगी। साथ ही महिला/बच्चों संबंधी अपराधों पर लगाम लग सकेगी।
जनता के सहयोग से पुलिस की कार्य प्रणाली को ओर भी प्रभावशाली बनाया जा सकेगा।
कोविड-19 संक्रमण का प्रभाव कम होने पर महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने के लिए सभी थाना क्षेत्रों में कार्यशाला का आयोजन होगा।
बता दें कि जन संवाद कार्यक्रम के बाद एसएसपी तृप्ति भट्ट ने थत्यूड़ क्षेत्र का भ्रमण किया। जिस पर स्थानीय जनता ने उत्साह के साथ एसएसपी का आभार प्रकट किया। बता दें एसएसपी ने कार्यभार ग्रहण करने सात दिन के भीतर थाना घनसाली और थत्यूड़ थाना क्षेत्र का भ्रमण किया है।

मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर किए, 2 जवान घायल

जम्मू-कश्मीर। सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी ढेर, दो जवान घायल 
श्रीनगर। दक्षिणी कश्मीर के शोपियां में घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षा बलों की आतंकवादियों के साथ शुक्रवार से जारी मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये जबकि सेना के दो जवान घायल हो गये। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक शोपियां के जंगलों में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद राष्ट्रीय राइफल्स, केंद्रीय रिजव पुलिस बल और जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह ने संयुक्त अभियान छेड़ा था।
सुरक्षा बल के जवान एक लक्षित इलाके की ओर बढ़ रहे थे। तभी वहां छुपे आतंकवादियों ने स्वाचालित हथियारों से गोलीबारी की। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा बलों ने भी गोलियां चलायीं। दोनों पक्षों के बीच मुठभेड़ में सेना के दो जवान घायल हो गये, जिन्हें सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
उन्होंने बताया कि बाद में आतंकवादी पास के एक मकान के भीतर घुस गये। अंधेरा होने के कारण अभियान रोक दिया गया। इससे पहले आतंकवादियों के भागने के प्रयास को विफल करने के लिए इलाके से बाहर निकलने वाले सभी रास्तों की घेराबंदी कर दी गयी और इलाके के रहवासियों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। सुबह होने पर सुरक्षा बलों ने पुन अभियान शुरू किया और जिस मकान में आतंकवादी घुसे थे, उसे विस्फोट से उड़ा दिया। जिसके बाद अन्य आतंकवादी दूसरे स्थानों पर जा छुपे।
उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में अल-बद्र समूह के दो आतंकवादी मारे गये हैं। अंतिम रिपोर्ट मिलने तक इलाके में तलाशी अभियान जारी था। शांति में खलल के किसी प्रयासों को रोकने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों और पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है। इस बीच शोपियां इलाके में ऐहतियात के तौर पर इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गयी हैं।

कोहरे के कारण सड़क हादसे में 4 की मौत हुई

कोहरे के कारण हुए सड़क हादसे में चार की मौत, योगी ने दुख व्यक्त किया

कासगंज। उत्तर प्रदेश के कासगंज में आज कोहरे के कारण आगरा-बरेली हाइवे पर सोरों कस्बे में आई बारात के लौटते समय बारातियों की कार ईंटों के चट्ठे से टकरा गई। इस सड़क हादसे में चार बारातियों की मौत हो गई तथा दो गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। तीन ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया था। जबकि एक की मौत अस्पताल में इलाज के दौरान हुई।दुर्घटना आज तड़के हुई जब कोहरे के कारण दृश्यता बहुत कम थी। मृतकों के नाम अमन, आसिफ, और साजिद हैं। जबकि समीर, अरशद,और यासिर घायल हुये। इनमें एक की मौत अस्पताल में हो गई। बाकी दो की भी हालत चिंताजनक बनी हुई है। कासगंज के सोरों में मुन्ने मियाँ की लड़की यासमीन नाज की बारात सोरो लहरा रोड निवासी के रिजाजउद्दीन के लडके सलमान की बारात आई थी। बाराती अपनी ब्रेजा गाडी से वापस मैनपुरी जा रहे थे।
तभी आगरा बरेली हाइवे पर तेज रफ्तार और कोहरे की बजह से गाड़ी मारूति सुजुकी एजेंसी के निकट रोड किनारे रखी ईटो के चट्ठे से टकरा गयी। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। आस पास के लोगों की मदद से पुलिस ने कार में फंसे हुए शवों को कार की चादर काटकर निकाला। शवों को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया है। इसबीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

पत्नी व 4 बच्चों की हत्या, बाद में आत्महत्या की

पहले पत्नी और 4 बच्चों को मौत के घाट उतारा, फिर खुद लगाई फांसी
उदयपुर। उदयपुर के खेरवाड़ा थाना इलाके के रोबिया गांव में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और 4 बच्चों की हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली। देर रात हुई इस घटना की जानकारी पुलिस को सुबह मिली। जानकारी मिलने पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामला दर्ज किया। प्राथमिक जानकारी के आधार पर सामने आया कि बीती रात पति-पत्नी में किसी बात को लेकर कहासुनी हुई थी। और उसके बाद गुस्से में पति ने अपनी पत्नी और चार बच्चों जिसमें दो लड़कियां और दो लड़के शामिल हैं। की धारदार हथियार से हत्या कर दी। परिवार के पांच सदस्यों की हत्या करने के बाद वह युवक खुद भी एक पेड़ पर फांसी के फंदे से लटक गया। पुलिस ने जांच के लिए एफएसएल को मौके पर साक्ष्य को इकट्ठा करने बुलाया। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस घटना का पता लोगों को तब लगा। जब रोबिया गांव के लोगों ने एक पेड़ से युवक का शव लटके देखा। जब लोग उसके घर इस घटना की जानकारी देने पहुंचे तो वहां मकान के बाहर ताला लगा हुआ था। लेकिन घर के बाहर बह रहे खून के सूखने के निशान थे। फिर इसकी जानकारी ग्रामीणों ने पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ताला तोड़कर घर में घुसी तो वहां का मंजर दिल दहलाने वाला था। घर के अंदर फांसी लगाने वाले युवक की पत्नी तथा चार मासूम बच्चों के रक्तरंजित शव पड़े हुए थे। उनकी हत्या धारदार हथियार से गला काटकर की गई थी। पुलिस ने युवक की पहचान रणजीत मीणा (30 वर्ष) के रूप में की। जिनकी हत्या की गई उनमें रणजीत की पत्नी कोकिला, उसके चार बच्चों में छह वर्षीय जसोदा, पांच वर्षीय लोकेश, चार वर्षीय गंजी तथा एक वर्षीया गुड्डी शामिल थी। पुलिस अधीक्षक कैलाश विश्नोई का कहना है। कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी, लेकिन स्थानीय लोगों से पूछताछ में पता चला है कि रणजीत की लॉकडाउन में नौकरी चली गई थी। तभी से पूरा परिवार आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहा था।

आगरा: वायरस के नए स्ट्रेन को लेकर हाई अलर्ट

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर हाईअलर्ट किया
आगरा। उत्तर प्रदेश में कोरोना के नये स्ट्रेन पर हाई अलर्ट है। अब तक यूनाइटेड किंगडम ( यूके) से 2135 लोगों के यूपी लौटने की खबर मिली है। इनमें गौतमबुद्धनगर में 563, गाजियाबाद में 291 लौटे जबकि लखनऊ में 256 और आगरा के 58 लोगों की भी यूके से वापसी हुई है। आगरा में 35 लोगों की जांच की गई। जिसमें 1 संदिग्ध मिला है। अब स्वास्थ्य विभाग की टीम यूके से आए लोगों के घर पहुंच रही है।
उधर मेरठ में लंदन से आए 3 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। इन तीनों में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन का ख़तरा हो सकता है। बताया जा रहा है। कि ये तीनों 14 दिसम्बर को लंदन से वापस आए थे। लंदन से मेरठ आए दम्पति और बच्चा कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। युवक के माता-पिता और भाभी के साथ पड़ोस के 9 लोग भी संक्रमित मिले हैं। आगरा में 35 लोगों की जांच में 1 संदिग्ध मिला है।
स्वास्थ्य विभाग को आशंका है। कि यह स्ट्रेन-2 का संक्रमण भी हो सकता है। शासन ने तीनों मरीजों में स्ट्रेन-2 की जांच के लिए सैंपल दिल्ली भेजने के लिए कहा है। इसके साथ ही संक्रमित परिवार को आइसोलेट कर स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रखा गया है।
केंद्र सरकार ने 9 दिसंबर के बाद यूरोप से मेरठ पहुंचने वाले 44 यात्रियों की रिपोर्ट दी थी। इसमें से 12 यहां से देश के दूसरे हिस्से में जा चुके हैं। 32 में से 15 की जांच रिपोर्ट शुक्रवार रात मिली है। इसमें लंदन से आने वाले एक ही परिवार के तीन लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

सर्राफा कारोबारी के घर 37 लाख की डकैती

सर्राफा कारोबारी के घर हुई 37 लाख की डकैत
रोशन कुमार 
मेरठ। शास्त्रीनगर इलाके में छह नकाबपोश बदमाशों ने एक सर्राफा कारोबारी के घर में घुसकर वहां मौजूद सभी परिजनों को बंधक बनाया और 37 लाख की डकैती डाल कर फरार हो गए।
आज तड़के बदमाशों के जाने के बाद पीड़ित परिवार ने पुलिस को इसकी सूचना दी। आसपास से मिले सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश की जा रही है। पुलिस के अनुसार शास्त्रीनगर के एल ब्लाक में सर्राफ तेजपाल वर्मा परिवार के साथ रहते हैं। जिनकी घर के ही बाहरी हिस्से में आभूषण की दुकान है।
शुक्रवार रात करीब ढाई बजे छह सशस्त्र बदमाश मकान के ऊपरी हिस्से का ताला तोड़कर घर में घुसे और वहां तमाम लोगों को हथियारों के जोर पर बंधक बना लिया। बदमाश अलमारी से 11 लाख रुपये नकद और 550 ग्राम सोना, छह किलो चांदी के जेवरात लेकर फरार हो गये।
बदमाश करीब तीन घंटे तक घर में रहे और आज सुबह होने के बाद कुछ भी बोलने पर जान से मार देने के धमकी देते हुए फरार हुए। पुलिस अधीक्षक अखिलेश नारायण सिंह ने कहा कि बदमाशों की पहचान के लिये आसपास के क्षेत्रों के सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है। उन्होंने कहा कि फॉरेंसिक टीम भी सुबूत हासिल करने में लगी है।

अराजकता फैलाने वालों को सीएम की धमकी

आजकल मैं खतरनाक मूड में हूं 10 फीट नीचे जमीन में गाड़ दूंगा मुख्यमंत्री की चेतावनी
भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात कही है|मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के होशंगाबाद में एक जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे|सीएम चौहान ने यह बात उनके लिए कही जो प्रदेश में अराजकता फैलाने का काम करते हैं। आपराधिक और गलत गतिविधियों को अंजाम देने में लगे रहते हैं।ऐसों को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हीं की भाषा में समझाया है।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इन्हें हिदायत हुए कहा है। आजकल अपन खतरनाक मूड में हैं|गड़बड़ करने वालों को छोड़ेंगे-फोड़ेंगे नहीं|फॉर्म में है मामा|माफियाओं के खिलाफ प्रदेश में अभियान चल रहा है। रसूख का इस्तेमाल करके कहीं अवैध कब्जा कर लिया, कहीं भवन बना दिया कहीं ड्रग माफिया|सुन लो रे मप्र छोड़ देना नहीं तो जमीन में गाड़ दूंगा 10 फीट नीचे पता भी नहीं चलेगा कहीं भी|सुशासन का मतलब जनता परेशान न हो| दादा-गुंडे-बदमाश-फन्ने खां, ये कोई नहीं चलने वाला।
इस दौरान मुख्यमंत्री ने धर्म परिवर्तन वालों को भी चेतावनी दी उन्होंने कहा कि आजकल कुछ लोग बाहर से आकर गड़बड़ करने की कोशिश कर रहे हैं। वे धर्म परिवर्तन का कुचक्र चला रहे हैं। ध्यान रखना बेटियों पर अगर बुरी नजर डाली तो मामा से बुरा कोई नहीं होगा|जनता से मामा ने कहा कि तुम्हारा मामा यह वचन देता है। कि जब तक यह सांस चलेगी यह मामा तुम्हारे लिए जियेगा और तुम्हारे लिए ही मरेगा|
इधर सीएम ने कहा कि पिछली सरकार ने गरीब आदिवासी को परेशान किया लेकिन याद रखना कि टाईगर अभी जिन्दा है। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को भी नसीहत दी सुन लो कलेक्टर और कमिश्नर जब मामा सेवक है। तो तुम सब भी सेवक हो|इस दौरान उन्होंने फर्जी कंपनियां बनाने वालों पर भी तंज कसा कहा- फर्जी कम्पनियां आकर पैसे खाकर चली गईं| नाम सांई प्रसाद और निकले डाकू. चिंता मत करना मैंने सबकी नीलामी के ऑर्डर दिए हैं। गले में हाथ डालकर गरीब का पैसा निकालकर कर लाऊंगा|यह बेईमान जहां रहेंगे उन्हें उठवाकर जेल भिजवाऊंगा।

आंदोलन: प्रदर्शन में शामिल 1 और किसान की मौत

एक और किसान की मौत, नए कृषि कानूनों के विरोध में था शामिल
अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों पर दिल्ली-हरियाणा-यूपी की सीमाओं पर किसान अपना विरोध प्रदर्शन जता रहे हैं। किसानों के इस प्रदर्शन को पूरा एक महीना हो चुका है।हाड़ कपाऊ इस ठंड में भी किसान पीछे हटने को राजी नहीं हैं। वहीँ तेज ठंड इनकी जान की दुश्मन बन रही है।ठंड से अबतक कई किसान अपनी जान गवां चुके हैं।ठंड में हार्टअटैक का खतरा ज्यादा रहता है। ऐसे में कई किसानों को हार्टअटैक पड़ चुका है। इसी बीच आज एक और किसान की मौत हुई है। टिकरी बॉर्डर पर यह किसान धरने परे बैठा हुआ था।
बताया जा रहा है। कि किसान की ह्दयगति रुकने से उसकी मौत हुई है।किसान का नाम 32 वर्षीय अमरपाल है। जो कि कैथल जिला के गांव सेरधा का रहने वाला था।मृतक अमरपाल शादीशुदा था।वह अपने पीछे पत्नी व 2 छोटे छोटे बच्चे छोड़ गया है।|बताते हैं। कि अमरपाल पिछले कई दिनों से अपने परिवार की साथ धरने में शामिल था।
गौरतलब है कि, चल रहे किसान आंदोलन में जहाँ कई किसानों की आकस्मिक मौत हुई है। वहीँ कुछ किसान आत्महत्या भी कर चुके है। फिलहाल किसान इस बात पर अडिग हैं। कि वह नए कृषि कानूनों को पूर्णता रद्द कराने के बाद ही प्रदर्शन समाप्त करेंगे|किसानों की बस एक मांग है। कि तीनों कृषि कानूनों को सरकार रद्द करे|तभी यह प्रदर्शन शांत होगा|

कैबिनेट बैठक में महत्वपूर्ण एजेंडा पर लगी मुहर

नीतीश कैबिनेट की बैठक खत्म, महत्वपूर्ण एजेंडा पर लगी मुहर, 103 नगर पंचायत बनाने की स्वीकृति
अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस हफ्ते दूसरी दफे आज बिहार कैबिनेट की बैठक बुलाई थी। 22 दिसंबर की कैबिनेट मीटिंग के बाद आज एक बार फिर से बिहार मंत्रिमंडल की बैठक हुई। सीएम नीतीश की अध्यक्षता में संवाद में कैबिनेट की मीटिंग आयोजित की गई। बिहार मंत्रिमंडल की बैठक में महत्वपूर्ण एजेंडा पर मुहर लगी
बिहार कैबिनेट ने बिहार नगर पालिका अधिनियम 2007 की धारा 3-1 का संशोधन किया है। बिहार बिहार कैबिनेट ने पुनपुन, पालीगंज, हरनौत, सरमेरा,परवलपुर गिरियक, अस्थामा, एकंगरसराय, चंडी, गढ़हनी समेत 103 नगर पंचायत की मंजूरी दी है।नीतीश कैबिनेट ने 103 नया नगर पंचायत, 8 नए नगर परिषद, वहीं 32 नगर पंचायत को नगर परिषद में अपग्रेड किया गया है। वहीं 12 नगर निकाय को अपग्रेड किया गया है। पांच नगर परिषद को नगर निगम में परिणत किया गया है।

एमपी: लव जिहाद कानून को कैबिनेट की मंजूरी

यूपी के बाद अब इस राज्य में आया लव-जिहाद के खिलाफ कानून, सरकार ने दी मंजूरी
भोपाल। देशभर में लव जिहाद को लेकर एक तरफ जहां बहस छिड़ी हुई है। वहीं उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने लव जिहाद के खिलाफ कानून बना दिया है। यूपी के बाद अब मध्य प्रदेश ने लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाया है। मध्य प्रदेश में लव जिहाद विरोधी विधेयक धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 को कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है। यूपी के बाद लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाने वाले राज्य में मध्य प्रदेश भी शामिल हो गया है।
इस नए कानून में कुल 19 प्रावधान हैं। जिसके तहत अगर धर्म परिवर्तन के मामले में पीड़ित पक्ष के परिजन शिकायत करते हैं। तो पुलिस उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी। अगर किसी शख्स पर नाबालिग अनुसूचित जाति।जनजाति की बेटियों को बहला फुसला कर शादी करने का दोष सिद्ध होता है। तो उसे दो साल से 10 साल तक कि सजा दी जाएगी। अगर कोई शख्स धन और संपत्ति के लालच में धर्म छिपाकर शादी करता हो तो उसकी शादी शून्य मानी जाएगी। अब इस वेधयक को विधानसभा में लाया जाएगा।

भाजपा से मिला झटका, ली कार्यकारिणी की बैठक

जेडीयू कार्यकारिणी की बैठक आज, भाजपा से मिले झटके पर होगी चर्चा
अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। जेडीयू कार्यकारिणी की बैठक पटना में 26-27 दिसंबर को होने वाली है। इस बैठक में देशभऱ के जेडीयू नेता शामिल होंगे। इस बैठक का नेतृत्व बिहार के सीएम और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार करेंगे। लेकिन बैठक से पहले ही बीजेपी ने जेडीयू को बड़ा झटका दे दिया है। अरूणाचल प्रदेश के जेडीयू के 7 विधायकों में से 6 विधायक को बीजेपी ने अपनी पार्टी में शामिल करा दिया है। आज इस पर चर्चा भी होगी।
कई राज्यों से आएंगे पार्टी के नेता
जेडीयू की बैठक में शामिल होने के लिए बिहार, झारखंड, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, लक्षद्वीप, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, दादर नगर हवेली, छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों के प्रमुख नेता बैठक में भाग लेंगे. इस बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा होगी।
14 माह के बाद बैठक
यह बैठक 14 माह के बाद हो रही है। इस में जेडीयू के राष्ट्रीय पदाधिकारियों राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राष्ट्रीय परिषद की बैठक बुलाई गई है। पिछले साल नीतीश कुमार के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने  बाद अक्टूबर 2019 में राष्ट्रीय कार्यकारिणी और परिषद की बैठक दिल्ली में हुई थी। लेकिन इस बार बैठक पटना में बुलाई गई है। यह बैठक जेडीयू मुख्यालय के कर्पूरी सभागार में होगी। 26 दिसंबर की शाम 5 बजे जेडीयू के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक होगी, जबकि 27 को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक सुबह 11 बजे से नीतीश कुमार की अध्यक्षता में होगी।

भविष्य: ट्रंप होंगे बहरे, पुतिन पर जानलेवा हमला

बाबा वेंगा की 2021 के लिए भविष्यवाणी, ट्रंप होंगे बहरे और पुतिन पर होगा जानलेवा हमला
पालूराम  
नई दिल्ली। साल 2020 दुनियाभर के लिए एक बुरे सपने जैसा रहा। कोरोनावायरस के कहर ने कईयों की जिंदगी तबाह कर दी। अब हर कोई दुआ कर रहा है। कि आने वाला नया साल 2021 में सब चीजें सही हों। लेकिन बुल्गारिया के भविष्यवक्ता बाबा वेंगा की भविष्यवाणी की माने तो 2021 में भी कईयों को बड़ी चुनाैतियों का सामना करना पड़ेगा। उनके मुताबिक 2021 में दुनिया प्रलयकारी आपदाओं का संकट झेलेगी। साथ ही अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप किसी भयंकर बीमारी का शिकार होंगे
बता दें कि बाबा वेन्गा का असली नाम वेंगेलिया पांडेवा दिमित्रोवा था। 1911 में जन्में वेंगा की 1966 में मौत हो गई थी। माैत से पहले ही उन्होंने साल 5079 तक की भविष्यवाणी कर दी थी। कई मौकों पर उनकी अब तक की हुई भविष्यवाणी सही भी साबित हुई हैं। जिसमें बराक ओबामा का अमेरिकी राष्ट्रपति बनना, 26/11 वर्ड ट्रेड सेंटर पर आतंकी हमला भी शामिल है। बाबा वेन्गा की नजर से जानें यह साल किन किन घटनाओं का बनेगा गवाह-
नए साल में दुनिया के सामने कठिन समय आएगा। विश्वभर में लोग आस्था के आधार पर बंट जाएंगे।
साल 2021 में तीन राक्षस एक हो जाएंगे और एक मजबूत ड्रैगन। दुनिया पर कब्जा कर लेगा। लोग इस बात को चीन की बढ़ती ताकत से जोड़ कर देख रहे हैं।
भविष्यवाणी के मुताबिक, 2021 में रूस के आसपास के हिस्से पर उल्का-पिंड गिरेंगे। इससे न सिर्फ प्राकृतिक आपदा के कारण दुनिया खत्म होने का खतरा रहेगा बल्कि यूरोप में रासायनिक हमले की भी चेतावनी दी गई है।
बाब वेन्गा का ये भी दावा है। कि इस दौरान यूरोपीय महाद्वीप का अस्तित्व अपने अंत के करीब पहुंच सकता है। मिलेगा कैंसर का इलाज। बाबा वेंगा के अनुसार वर्ष 2021 में कैंसर का इलाज दुनिया को मिलेगा। वह दिन आएगा जब कैंसर को लोहे की जंजीरों में बांधा जाएगा।
2021 में यूरोप बुरे आर्थिक हालात से गुजरेगा। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की हत्या की साजिश रची जाएगी। देश की सीमा की के भीतर ही उनकी जान का जोखिम बढ़ेगा।
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप किसी भयंकर बीमारी की चपेट में आएंगे। ये बीमारी ट्रंप को बहरा कर देगी और वो ब्रेन ट्रॉमा के भी शिकार हो सकते हैं। पूरी दुनिया प्रलयकारी आपदाओं का संकट झेलेगी। लोगों की चेतना में बदलाव आएगा। ऐसा माना जाता है। कि 12 साल की उम्र में बाबा वेन्गा ने अपनी आंखें खो दी थीं। इसके बाद ही उन्हें एहसास हुआ कि ईश्वर ने उन्हें चीजों को पहले ही देख लेने की एक शक्ति प्रदान की है। बुल्गारिया की इस रहस्यमयी महिला ने 9/11 अटैक और ब्रेक्सिट की घोषणा भी पहले ही कर दी थी।

5 से पुलिस कर्मचारी-अधिकारियों की छुट्टियां रद्द

हिमाचल में पांच जनवरी से पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों की छुट्टियां रद्द
श्रीराम मौर्य  
शिमला। जनवरी के दूसरे और तीसरे सप्ताह में होने वाले पंचायत चुनाव को देखते हुए हिमाचल प्रदेश पुलिस के सभी कर्मचारियों व अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। साथ ही 5 जनवरी से किसी के भी छुट्टी पर जाने को लेकर भी रोक लगा दी गई है। इस संबंध में पुलिस मुख्यालय की ओर से आदेश जारी हो गए हैं। आदेश में स्पष्ट किया गया है। कि चूंकि राज्य चुनाव आयोग ने नगर निकाय व पंचायत चुनावों की घोषणा कर दी है।
ऐसे में जनवरी के दूसरे व तीसरे हफ्ते में अधिकतम पुलिस बल चुनाव ड्यूटी के लिए उपलब्ध होना जरूरी हैं। यही वजह है। कि विशेष व आपातकालीन परिस्थितियों के अलावा किसी भी स्थिति में छुट्टी नहीं दी जाएगी। साथ ही पूर्व में पांच जनवरी के बाद की छुट्टी ले चुके कर्मियों को ड्यूटी पर वापस बुला लिया जाएगा।

आधार से 1 दिन में बनेगा आय-जाति प्रमाण पत्र

मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य 181 पर कॉल कीजिए आधार नंबर दीजिए एक दिन में बनेगा आय और जाति प्रमाण पत्र वाट्सएप पर मिलेगी कॉल
किसान एप के जरिए अपनी समस्याएं बताएंगे और उसका निवारण पटवारी करेंगे
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सीएम सिटीजन केयर योजना की शुरू
भोपाल। अगर आप मध्यप्रदेश के निवासी हैं और अपना आय या मूल निवासी प्रमाण पत्र बनवाने के लिए परेशान हो रहे हैं। तो चिंता मत कीजिए। अब आपको सिर्फ 181 पर कॉल करना होगा। यहां आधार नंबर बताना होगा। प्रमाणपत्र आपको एक दिन वाॅट्सऐप पर मिल जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस पर सीएम सिटीजन केयर योजना की शुरुआत की है। होशंगाबाद के बाबई में शिवराज ने कहा ये योजना लाखों छात्र-छात्राओं एवं युवाओं के लिए वरदान साबित होगी, जो प्रतिदिन इन सेवाओं के लिए हजारों की संख्या में आवेदन देते हैं। एक फोन कॉल पर नागरिकों को सेवाएं प्रदान करने वाला मध्यप्रदेश, देश का पहला राज्य बन गया है।
इससे पहले बाबई में कार्यक्रम की शुरुआत में सीएम शिवराज ने कन्या पूजन किया। गुरुवार को पूरे प्रदेश के लिए ये आदेश जारी कर दिया गया है। अब प्रदेश में सरकारी कार्यक्रमों की शुरुआत बेटियों के पूजन से होगा।
शिवराज ने कहा कि ‘मात्र आधार कार्ड की जानकारी देकर अब लोग मात्र एक दिन में प्रमाण-पत्र घर बैठे व्हाट्सएप के माध्यम से हासिल कर सकते हैं। आज से हम योजना को दो सर्वाधिक जन उपयोगी सेवाएं- आय प्रमाण-पत्र एवं मूल निवासी प्रमाण-पत्र के जरिए प्रारंभ कर रहे हैं।
कार्यक्रम शुरू होने से पहले सीएम शिवराज ने कन्या पूजन किया
कार्यक्रम शुरू होने से पहले सीएम शिवराज ने कन्या पूजन किया।
सुशासन का मतलब बिना लिए-दिए काम हो जाना
मुख्यमंत्री ने कहा कि सुशासन का मतलब है। बिना लिए दिए निश्चित समय सीमा में सरकार द्वारा दी गई सेवाओं का लाभ जनता को मिल जाए और यह मैं सुनिश्चित करूंगा। गड़बड़ करने वालों को छोड़ेंगे नहीं। पावर, रसूख का इस्तेमाल करने वाले जनता को परेशान करने वाले प्रदेश छोड़ दें।
प्रदेश के 78 लाख किसानों को मिलेगा फायदा
पीएम मोदी ने आज पीएम किसान निधि योजना के तहत देश के 9 करोड़ किसान परिवारों के बैंक खातों में 2-2 हजार रुपए की राशि ट्रांसफर की। इसका सीधा लाभ प्रदेश के 78 लाख किसानों को मिलेगा। पीएम मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से किसानों से चर्चा करेंगे।
धार के किसान से प्रधानमंत्री ने कहा- किसी को भी माल बेच सकते हैं। हम
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश के धार जिले के गांव चिकलिया के किसान मनोज पाटीदार से संवाद किया। पाटीदार ने बताया कि उन्हें पांच बार किसान सम्मान निधि मिली है। अब तक 10 हजार रुपये प्राप्त हुए हैं। उसका समय-समय पर लाभ उठाया है। पाटीदार ने बताया कि नए कृषि कानूनों की वजह से किसानों को नया विकल्प मिला। पहले एक ही रास्ता था। मंडी का, लेकिन अब किसी निजी व्यापारी या किसी अन्य संस्था को हम माल बेच सकते हैं। मैंने खरीफ की सोयाबीन की फसल सोया चोपाल आईटीसी कंपनी को 4,100 रुपये क्विंटल की दर से बेची।
किसान एप पर मिलेगी नामांतरण की सुविधा
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान एप से किसानों को कहीं जाने की जरूरत नहीं होगी। नामांतरण की सूचना तहसीलदार द्वारा एसमएस करके दी जाएगी। भूमि में खसरे का नाम परिवर्तन की सूचना भी एसएमएस से होगी। 1 अप्रैल, 2021 से यह व्यवस्था लागू हो जाएगी। इसके लिए युद्ध स्तर पर काम हो रहा है।
313 शिविर लगातार समझाएंगे किसान कानून
किसान कानूनों को सही ढंग से जनता को समझाने के लिए सभी 313 ब्लॉक में प्रशिक्षण शिविर लगाएंगे, ताकि ढंग से किसानों को समझाया जाए। किसान कानून किसान भाइयों के हित में हैं। और उनकी समृद्धि के लिए मील का पत्थर साबित होंगे।
जमीन डायवर्सन के लिए नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर
‘ऑनलाइन आवेदन करो और गैर विवादित नामांतरण के निपटान की सूचना आपके मोबाइल पर दी जाएगी। पटवारी को अब केवल 7 पंजिका रखनी है, उनको लैपटॉप दे रहे हैं। अब जमीन के डायवर्सन के लिए विभागों के चक्कर नहीं लगाने होंगे। अब सीधे पोर्टल पर जाकर शुल्क जमा करा दो किसान एप के माध्यम से स्वतः जमीन के उपयोग के परिवर्तन की जानकारी खसरे में दर्ज हो जाएगी।
पटवारी दो दिन ग्राम पंचायत में उपस्थित रहेंगे
किसान की जानकारी पटवारी वेरिफाई कर लेगा। पटवारी मौके पर मुआयना करके, फसल हानि की जानकारी किसान एप में डालेगा और वह सीधे आपके पास आ जाएगी कि क्या लिखा है। यदि कोई आपत्ति है। तो आप दर्ज करा पाएंगे। अलग-अलग पत्रक नहीं बनाने पड़ेंगे। सप्ताह में दो दिन सोमवार और गुरुवार पटवारी आवश्यक रूप से ग्राम पंचायत मुख्यालय पर उपस्थित रहेंगे। यदि कोई उपस्थित नहीं रहा तो कार्रवाई कलेक्टर पर होगी।
ग्वालियर में अटल विशाल स्मारक बनेगासीएम शिवराज ने भारत की प्रगति और विकास के गीत गाने वाले अटल बिहारी वाजपेयी को आज उनके जन्मदिन के अवसर पर श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं। यह प्रदेश का सौभाग्य कि वाजपेयी जी इसी प्रदेश के थे। उनकी स्मृति में ग्वालियर में विशाल स्मारक बनाया जाएगा। सीएम ने होशंगाबाद जिले के अंतर्गत 82 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण एवं 160 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास किया।

बगैर फास्टैग नहीं होगा गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन

25 दिसंबर से आरटीओ का नया नियम, बगैर फास्टैग नहीं होगा गाड़ियों का रजिस्ट्रेश
अकांशु उपाध्याय   
नई दिल्ली। देशभर में एक जनवरी से टोल प्लाजा से गुजरने वााले सभी वाहनों के लिए फास्टैग लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। ऐसे में अब आरटीओ नियमों में भी सख्ती कर दी गई है। 25 दिसंबर के बाद अब जो भी नई गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन कराने आरटीओ ऑफिस पहुंचेगा तो उन्हें पहले फास्टैग लगाना बेहद जरूरी होगा। बुधवार को देशभर में डीलरों के लिए ये नियम पालन करना अनिवार्य कर दिया है। विशेषकर यातायात विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक सभी चार पहिया वाहनों में फास्टैग अनिवार्य होगा। इसके अलावा ट्रैफिक डिपार्टमेंट का जांच दल वाहन चालकों को फास्टैग लगवाने के लिए चेतावनी भी देंगे। उत्तरप्रदेश में लखनऊ आरटीओ कार्यालय में हर प्रकार के 4 पहिया पंजीकृत वाहनों की संख्या 6 लाख के पार है। इनमें सवा लाख के करीब वाहन चलन में नहीं हैं।
इधर एनएचएआई के परियोजना निदेशक एनएन गिरि ने बताया कि ऐसा फास्टैग सिस्टम के प्रति वाहन चालकों को जागरूक करने के लिए ऐसा किया जा रहा है। गौरतलब है। कि एक जनवरी से देश के सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य कर दिया गया है। अगर आपकी गाड़ी पर फास्टैग नहीं है। तो यात्रा के दौरान दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।
केंद्र सरकार की तरफ से भी सभी चार पहिया वाहनों पर 1 जनवरी के बाद से फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है।

डिग्री कॉलेज में अवैध शराब की फैक्ट्री का संचालन

तेजपाल सिंह  
मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में तीन साल से बंद पड़े डिग्री कॉलेज में अवैध शराब की फैक्टरी का भंडाफोड़ हुआ है। शराब मंसूरपुर स्थित डिस्टलरी के रैपर लगाकर सप्लाई होती थी। पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर 100 पेटी शराब बरामद की है। मुख्य आरोपी सरधना के सचिन की तलाश में दबिश जारी है।पुलिस के अनुसार मौके से शराब की 100 पेटियों के अलावा मुजफ्फरनगर के मंसूरपुर स्थित डिस्टलरी के नाम के 20 हजार रैपर, 30 हजार पव्वे, पांच हजार लीटर शराब का घोल एक ड्रम में मिला है।  शराब बनाने का अन्य सामान भी बरामद किया गया। पुलिस ने बताया कि बंद पड़े कॉलेज में नकली शराब बनाने का काम चल रहा था। शराब बनाने का सामान परीक्षितगढ़ और हस्तिनापुर खादर इलाके से सप्लाई हो रहा था।
पंचायत चुनाव के लिए तैयार हो रही थी शराब
डिग्री कॉलेज में भारी मात्रा में यह शराब आगामी पंचायत चुनाव के लिए तैयार हो रही थी। बताया गया कि पिछले दो महीने से शराब की मांग बढ़ रही थी। पंचायत चुनाव के अलावा भी गांव-गांव में शराब बेचने वालों के पास यह शराब जा रही थी। पुलिस ने तीनों आरोपियों से घंटों पूछताछ की। पुलिस का दावा है कि इस फैक्टरी में एक दर्जन से ज्यादा लोग शराब बनाने का काम करते थे। अब उनकी तलाश शुरू कर दी।
हस्तिनापुर और परीक्षितगढ़ इलाके में भी दबिश
पुलिस के अनुसार नकली शराब बनाने का काम हस्तिनापुर और परीक्षितगढ़ के खादर इलाके में ज्यादा चलता है। पूछताछ में तीनों आरोपियों ने खादर इलाके से शराब बनाने का सामान सप्लाई होना बताया है। जिसके बाद कंकरखेड़ा व जानी पुलिस ने हस्तिनापुर, परीक्षितगढ़ इलाके में दबिश दी। कोई भी आरोपी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा।

टेस्ट मैच: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 195 पर समेटा

एडीलेड। अजिंक्या रहाणे की कप्तानी में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने अच्छी शुरुआत की है। ऑस्ट्रेलिया के मेलबॉर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेले जा रहे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया। हालाँकि यह फ़ैसला कितना कामयाब हुआ, ये भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा।

जो बर्न्स और मैथ्यु वेड की ओपनिंग जल्दी ही बिखर गई। चौथे ओवर में ही जसप्रीत बुमराह की गेंद पर जो बर्न्स अपना विकेट खो बैठे। उन्हें ऋषभ पंत ने कैच आउट किया और इस तरह 10 रन पर ही ऑस्ट्रेलिया का पहला विकेट गिरा।

इसके बाद तेरहवें ओवर में आश्विन की गेंद पर रविंद्र जडेजा ने मैथ्यु वेड का कैच लपका।

कैच लेने के लिए शुभम गिल भी दौड़े थे और आख़िरकार जडेजा से टकरा गए। लेकिन जडेजा ने गेंद गिरने नहीं दी और सफलतापूर्वक कैच ले लिया। सोशल मीडिया पर जडेजा के इस कैच की जमकर तारीफ़ हो रही है। इसके बाद स्टीव स्मिथ पिच पर आए लेकिन 15वें ओवर में बिना कोई रन बनाए पुजारा को कैच दे बैठे। आश्विन के लिए ये दूसरा बड़ा विकेट था।

42वें ओवर में जसप्रीत बुमराह की गेंद पर रहाणे ने ट्रेविस को वापस पविलियन भेज दिया।

63 ओवर तक ऑस्ट्रेलिया ने सात विकेट खोकर 156 रन बनाए थे। अपने पहले टेस्ट मैच में शुभम गिल और मोहम्मद सिराज ने भी खाता खोल लिया है। मोहम्मद सिराज की गेंद पर मार्नस लाबुशेन शुभम गिल को कैच दे बैठे और ऑस्ट्रेलिया ने अपना पाँचवा विकेट गँवा दिया।

एडिलेड टेस्ट में शर्मनाक हार के बाद भारत के लिए वापसी का ये अच्छा मौक़ा हो सकता है। इस चार टेस्ट मैच की सिरीज़ में आस्ट्रेलिया पहला मैच जीत कर बढ़त बना चुका है। ऑस्ट्रेलिया इस बार भारत से बदला लेने की कोशिश कर रहा है। दो साल पहले भारत ने उसे बोर्डर-गावस्कर टेस्ट सिरीज़ में 2-1 से हरा दिया था। तब स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर को गेंद के साथ छेड़छाड़ के मामले में खेल से बाहर होना पड़ा था।

इस बार भी दोनों टीमें बिना अहम खिलाड़ियों के मैदान में हैं। वॉर्नर पहले टेस्ट में चोट के कारण बाहर हैं जबकि भारतीय टीम को भी रोहित शर्मा का इंतज़ार है। पूरी सिरीज़ से फ़ास्ट बॉलर ईशांत शर्मा भी बाहर हैं। इसके अलावा कप्तान विराट कोहली भी एडिलेट टेस्ट के बाद से छुट्टी पर चले गए हैं। कोहली ने पिता बनने के लिए छुट्टी पर जाने का फ़ैसला किया है। भारत ने दो साल पहले ऑस्ट्रेलिया में पहली सिरीज़ जीती थी।

ऑस्ट्रेलिया अभी आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में नंबर वन है और दूसरे नंबर पर भारत है। टेस्ट सिरीज़ से पहले दोनों देश सीमित ओवर के मैच खेल चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया ने वनडे सिरीज़ भारत के ख़िलाफ़ 2-1 से जीती जबकि भारत ने टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को हरा दिया। एडिलेड टेस्ट के तीसरे दिन ही ऑस्ट्रेलिया ने भारत को आठ विकेट से हरा दिया था। जीत के लिए 90 रनों का पीछा करने उतरी मेज़बान टीम ने दो विकेट पर 93 रन बनाकर सिरीज़ में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली।

पीएम मोदी ने राहुल के सवालों का जवाब दिया

हरिओम उपाध्याय   

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जम्मू और कश्मीर में आयुष्मान योजना की शुरुआत की। इस दौरान पीएम ने बीते दिनों संपन्न हुए डीडीसी चुनाव का जिक्र किया। पीएम ने कहा कि इन चुनावों में जम्मू-कश्मीर के लोगों ने लोकतंत्र की जड़ों को और मजबूत किया है। जम्मू-कश्मीर के प्रशासन और सुरक्षाबलों ने जिस प्रकार से चुनाव का संचालन किया और सभी दलों की तरफ से ये चुनाव बहुत ही परदर्शी हुए। ये जब मैं सुनता हूं तो मुझे बहुत गर्व होता है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर के हर वोटर के चेहरे पर मुझे विकास के लिए, डेवलपमेंट के लिए एक उम्मीद नजर आई, उमंग नजर आई। जम्मू कश्मीर के हर वोटर की आंखों में मैंने अतीत को पीछे छोड़ते हुए, बेहतर भविष्य का विश्वास देखा।

इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा। पीएम ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में इन चुनावों ने ये भी दिखाया कि हमारे देश में लोकतंत्र कितना मजबूत है। लेकिन एक पक्ष और भी है, जिसकी तरफ मैं देश का ध्यान आकर्षित कराना चाहता हूं।राजनीतिक दलों की कथनी और करनी में कितना बड़ा फर्क’

पीएम ने कहा कि पुडुचेरी में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद पंचायत और म्यूनिसिपल इलेक्शन नहीं हो रहे। आप हैरान होंगे, सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में ये आदेश दिया था। लेकिन वहां जो सरकार है, इस मामले को लगातार टाल रही है। साथियों, पुडुचेरी में दशकों के इंतजार के बाद साल 2006 में स्थानीय चुनाव हुए थे। इन चुनावों में जो चुने गए उनका कार्यकाल साल 2011 में ही खत्म हो चुका है। पीएम ने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों की कथनी और करनी में कितना बड़ा फर्क है, लोकतंत्र के प्रति वो कितना गंभीर है इस बात से ही पता चलता है। कितने साल हो गए, पुडुचेरी में पंचायत चुनाव नहीं होने दिए जा रहे हैं।

माना जा रहा है कि पीएम की यह टिप्पणी कांग्रेस नेता राहुल गांधी के उस बयान का जवाब है जिसमें उन्होंने कहा था कि लोकतंत्र आपके सपनों में हो सकता है वास्तविक धरातल पर नहीं है। एक सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने कहा था, ‘भारत में कोई लोकतंत्र नहीं है, देश में यह हकीकत में नहीं, केवल कल्पना में है।’ उन्होंने आरोप लगाया था, ‘प्रधानमंत्री अक्षम व्यक्ति हैं जो तीन-चार लोगों की तरफ से इस व्यवस्था को चला रहे हैं।’

35 का दूल्हा 80 की दुल्हन,अजीबोगरीब प्रेम

काइरो। माना जाता है कि प्यार अंधा होता है। प्यार में उम्र, जात-पात, धर्म, अमीरी-गरीबी, काला-गोरा कुछ नहीं देखा जाता है। प्यार किसी बंदिश और सरहद को भी नहीं मानता है। उम्र की सीमाओं को तोड़ते हुए ब्रिटेन की रहने वाली 80 साल की एक महिला को अपने से 45 साल छोटे लड़के से प्रेम हो गया और फिर दोनों ने शादी रचा ली। लेकिन उसके बावजूद यह महिला खुश नहीं है।

ब्रिटेन की रहने वाली आइरिस जोन्स की मुलाकात 35 साल के मोहम्मद इब्राहिम से फेसबुक पर हुई थी। दोनों में घंटों बातें होती थीं। मोहम्मद इब्राहिम इजिप्ट में रहता था। कुछ दिनों के बाद इब्राहिम ने आइरिस से अपने प्यार का इजहार कर दिया। फिर क्या था, एक दिन आइरिस अपने प्यार इब्राहिम से मिलने के लिए इजिप्ट जा पहुंची। इन दोनों की फोटोज खूब वायरल हो रही हैं। अल वतन न्यूज के मुताबिक, यह कपल शादी के बंधन में बंध चुका है। दोनों ने काफी गोपनीय तरीके से शादी रचाई है। आइरिस ने मुस्लिम धर्म कबूल कर लिया है। मोहम्मद इब्राहिम ने कहा है कि उन्हें आइरिस के पैसे नहीं चाहिए। उन्हें तो बस आइरिस का साथ और प्यार चाहिए। उन्होंने यह भी बताया कि वे आइरिस को देखते ही समझ गए थे कि वही उसकी सच्ची मोहब्बत हैं। वे आइरिस को पाकर बहुत खुश हैं।

इससे पहले साल के शुरू में इस कपल ने एक शो में एंट्री की थी। इसके बाद हर तरफ बस इसी कपल की बातें होने लगी थीं। आइरिस ने टीवी शो पर खुलकर अपनी सेक्स लाइफ पर बात की थी। अपना प्यार मिलने के बावजूद इन दिनों आइरिस बेहद परेशान हैं। उनका कहना है कि उन्होंने हाल ही में हनीमून मनाया है लेकिन उसके बावजूद वे खुश नहीं हैं। दरअसल शादी के बाद से ही उनके घरवालों ने उनसे बात करनी बंद कर दी है। उनके बच्चे और नाती-पोते भी उनसे बात नहीं करते हैं। फिलहाल आइरिस इजिप्ट में ही अपने पति के साथ हैं।

पति को बंधक बनाकर महिला से सामूहिक दुष्कर्म

राणा ओबरॉय  
 यमुनानगर। हरियाणा के यमुनानगर में एक नेपाली महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। महिला नेपाल मूल की है, जो यहां एक किसान के खेत में काम कर रहे पति के साथ रह रही है। आरोप है कि गुरुवार देर रात 5 लोगों ने अचानक आकर परिवार को बंधक बना लिया। महिला के पति को मार-पीटकर रस्सियों से बांध दिया, इसके बाद चार लोगो ने महिला के साथ दरिंदगी की। पांचवें की कोशिश के दौरान उसने चाकू उठा लिया तो इसके बाद आरोपी उसे छोड़कर भाग गए। शुक्रवार को इस संबंध में पुलिस ने केस दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

नेपाल मूल का एक व्यक्ति पिछले 14 साल से गांव बलाचौर में एक किसान के पास नौकरी कर रहा है। वह अपने परिवार के साथ किसान के खेत में ही रहता है। उसकी पत्नी ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि गुरुवार रात को वो सोए हुए थे तो अचानक पांच लोग आए, जिन्होंने उसके पति को बंधक बना लिया। इसके बाद उसे भी पकड़ लिया और उसके साथ बारी-बारी चार ने गलत काम किया। जब पांचवां हरकत करने लगा तो उसने उसे धक्का देकर महिला ने चाकू उठा लिया। इसके बाद पांचों बदमाश वहां से भाग गए।

छछरौली पुलिस ने शिकायत के बाद पांचों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। इस बारे में थाना प्रभारी पृथ्वी सिंह का कहना है कि IPC की धारा-376डी, 452, 506, 342, 34 के तहत केस दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है। महिला के अनुसार उससे गैंगरेप करने वाले देखने में एक विशेष समुदाय से लग रहे थे।


यूपी: फास्टेग लगी गाड़ियों पर लग सकती है रोक

संदीप मिश्र  
लखनऊ। यूपी में गाड़ी चलाने वाले लोगों के लिए एक बड़ी खबर आ रही हैं। मिली जानकारी के मुताबिक यूपी में एक जनवरी से बिना फास्टैग लगाए गाड़ियों पर रोक लग सकती हैं। इसके लिए सरकार ने जरुरी आदेश जारी कर दिए हैं। खबर के मुताबिक नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने अपने एक आदेश में कहा है की आगरा और इसके आसपास के सभी टोल प्लाजों पर एक जनवरी से कैश लेन बंद कर दिया जायेगा। इसलिए आप अपने गाड़ियों पर फास्टैग आवश्य लगा लें।

बता दें की आगरा और इसके आस पास के टोल प्लाजा पर एक जनवरी से बिना फास्टैग आप नहीं जा सकते हैं। टोल प्लाजा से एक किमी पहले ही बिना फास्टैग वाले वाहनों को रोक दिया जाएगा। साथ ही साथ स्टॉल पर दोगुनी कीमत देकर आपको फास्टैग खरीदना होगा। अगर आप इन इलाकों के टोल प्लाजा से गुजरते हैं या गुजरने वाले हैं तो आप फटाफट अपने गाड़ियों में ये काम कर लें। बरना आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़। इसलिए सभी वाहन चालक और मालिक इस बात का ख्याल रखें।

घाटी में भारी बर्फबारी, उत्तर-भारत में शीतलहर

अकांशु उपाध्याय  
 नई दिल्ली। उत्तर भारत के कई इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। अब पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में एक नया विक्षोभ सक्रिय है। इसके कारण आने वाले 48 घंटे के दौरान उत्तर भारत के ज्यादातर इलाकों में बारिश और पहाड़ों पर बर्फबारी हो सकती है। बारिश और बर्फबारी के कारण मैदानों में शीतलहर चल सकती है। इसके अलावा नए साल से पहले ही न्यूनतम और अधिकतम तापमान के भी 2 से 3 डिग्री नीचे जाने की संभावना है। मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में बताया है कि उत्तर भारतीय राज्यों में पश्चिमी विक्षोभ का असर 26 दिसंबर से दिखाई देगा। शनिवार से ही कुछ इलाकों में ठीक-ठाक बारिश हो सकती है। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में अच्छी बारिश होने की संभावना है, तो वहीं हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी भारी बारिश का अनुमान है।

पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में भी 27 व 28 दिसंबर को हल्की बारिश होने की संभावना है। इसके साथ ही दक्षिण भारतीय राज्यों में भी भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में भयानक शीतलहर चलने का अलर्ट जारी किया है।

डिजिटल लेनदेन में अब लगेगा अधिक शुल्क

 अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। यूपीआई पेमेंट के द्वारा पैसा ट्रांसफर करने वाले लोगों के लिए बड़ी खबर आ रही हैं। मिली जानकारी के मुताबिक अगर आप पेटीएम अमेजॉन, गूगल पे और फोन पे की सर्विस यूज करके पैसा ट्रांसफर करते हैं तो आपको एक जनवरी से अतिरिक्त चार्ज देने पड़ सकते हैं।

खबर के मुताबिक नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने 1 जनवरी 2021 से भारत में थर्ड पार्टी UPI पेमेंट यूजर्स के उपयोग पर 30 फीसदी का कैप लगाने का फैसला किया है। इस फैसले का सीधा असर देश के लाखों उपभोक्ता पर पड़ेगा। बता दें की देश में पेटीएम, अमेजॉन, गूगल पे और फोन पे की सर्विस यूज करने वाले कई उपभोक्ता हैं। हालांकि अभी तक अमेजॉन, गूगल पे और फोन पे कंपनी ने इसको लेकर कोई फैसला नहीं लिया हैं। लेकिन उम्मीद की जा रही हैं की कंपनी इसपर कोई बड़ा फैसला ले सकती हैं।

मिली जानकारी के अनुसार नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने यह फैसला यूपीआई पेमेंट सिस्टम में भविष्य में थर्ड पार्टी के एकाधिकार को रोकने के लिए किया है। ताकि अपने यूजर्स को सस्ता सेवा दिया जा सके।

6,000 से ज्यादा किसानों को सरकार का नोटिस

भोपाल। मध्य प्रदेश में 6 हजार से ज्यादा किसानों को सरकारी योजना की राशि वापस देने का नोटिस थमाया गया है। जिन किसानों से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि वापस ली जाएगी, उनमें से ज्यादातर मुख्यमंत्री के गृह जिले सीहोर के ही है। बताया गया है कि सम्मान निधि की किस्त के लिए किसानों से दस्तावेज मांगे गए थें। अब तीन किस्त जमा कराने के बाद किसानों के दस्तावेज सामने आए हैं, जिसमें पता चला है कि साढ़ें 6 हजार से ज्यादा किसान अपात्र है, जबकि इन किसानों को पहले ही सम्मान निधि की राशि तीन किस्तों में दी जा चुकी है।

2018-19 में शुरू की गई किसान सम्मान निधि योजना की पहली किस्त मध्य प्रदेश के 1 लाख 71 हजार पात्र परिवारों को मिली थीं। जिसके बाद उन किसानों से पात्रता का प्रमाण मांगा गया, अब पांचवीं किस्त आने तक 50 प्रतिशत परिवार कम होकर 82 हजार 247 बचे हैं। लेकिन जैसे ही किसान दस्तावेज जमा करा रहे हैं, उन्हें खाते में सम्मान निधि की राशि भी दी जा रही है।

6589 किसानों से करीब 5 करोड़ रुपये वसूलेगी सरकार
दस्तावेजों की जांच में 6,589 किसान परिवार ऐसे सामने आए, जो योजना के लिए अपात्र है। करीब 5 हजार से ज्यादा सीहोर जिले के बताए गए हैं। इन किसानों से सम्मान निधि के करीब 5 करोड़ रुपये वसूले जाने हैं। अब सरकार ने इन सभी किसानों को वसूली का नोटिस थमाया है, जिसके बाद से ही किसानों में हड़कंप मचा हुआ है।

भारतीय डाक विभाग में 4299 की बंपर भर्ती

अकाशुं उपाध्याय
 नई दिल्ली। भारतीय डाक विभाग में नौकरी करने का अच्छा मौका दे रहा हैं। खबर के मुताबिक डाक विभाग ने इसके लिए नोटिफिकेशन भी जारी किया हैं। आप फटाफट आवेदन कर सकते हैं।

पदों का विवरण : भारतीय डाक विभाग ने ब्रांच पोस्टमास्टर, असिस्टेंट ब्रांच पोस्टमास्टर और डाक सेवक के 4299 पदों पर भर्ती को लेकर आवेदन मांगे हैं।

ऐसे करें आवेदन : इच्छुक उम्मीदवार भारतीय डाक विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जा कर नोटिस को अच्छी तरह से पढ़ें और ऑनलाइन के द्वारा आवेदन करें।

योग्यता : पोस्टमास्टर बनाने के लिए उम्मीदवारों को कम से कम 10वीं होना जरुरी हैं। अगर आप 10वीं पास हैं तो आवेदन में थोड़ी भी देरी ना करें।

चयन प्रक्रिया : ब्रांच पोस्टमास्टर, असिस्टेंट ब्रांच पोस्टमास्टर और डाक सेवक के पदों पर उम्मीदवारों का चयन मेरिट के आधार पर होगा।

आवेदन शुल्क : आपको बता दें की इन पदों के लिए आवेदन शुल्क 100 रुपए तय किया गया है। आप ऑनलाइन जमा कर सकते हैं।

आयु सीमा : उम्मीदवारों की आयु सीमा 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आयु में छूट की जानकारी के लिए आप नोटिस देखें।

वेबसाइट लिंक : https://appost.in/gdsonline/Home.aspx

आवेदन की अंतिम तिथि : 20 जनवरी 2020

किसानों के साथ सपा ने कंधे से कंधा मिलाया

कानपुर। नगर के अध्यक्ष डॉ इमरान खान की उपस्थिति में कानपुर कैंट थाना बाबू पुरवा के अंतर्गत नए पुल चौराहे पर किसान विरोधी बिल को लेकर आज सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव के कहने पर डॉ इमरान खान नए पुल चौराहे पर गरीबों के लिए अलाव जलाकर उन लोगों को बताया कि कृषि बिल क्या है? क्षेत्री लोगों को बताया क्षेत्री लोगों ने डॉ इमरान साहब की बात सुनने के बाद जाना कि किसान इस बिल का लगातार विरोध क्यों कर रहे हैं? बिल के बारे में जानने के बाद क्षेत्री लोगों को भी किसान बिल को लेकर सपा और किसान के साथ समर्थन में खड़े हो जाओ। होने की बात कही और वहाँ खड़े सभी क्षेत्रीय लोगों ने  समाजवादी पार्टी के नगर अध्यक्ष डॉ। इमरान खान  के साथ धरने पर बैठने की बात करने लगे और उन क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि सरकार को कृषि बिल को वापस लेना चाहिए।

'द रेजिस्टेंस फोर्स' के दो आतंकी गिरफ्तार किए

जम्मू। आतंकवादी संगठन ‘द रेजिस्टेंस फोर्स’ के दो आतंकवादियों को शुक्रवार शाम को स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने शनिवार को बताया कि आतंकवादियों के कब्जे से हथियार एवं गोला-बारूद बरामद किए गए हैं।अधिकारियों ने बताया कि स्थानीय पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) ने काजीगुंड के चुरथ के रहने वाले रईस अहमद डार और कुलगाम के अश्मुजी के रहने वाले सबजार अहमद शेख को गिरफ्तार किया। ये दोनों एक कार से श्रीनगर जा रहे थे तभी नरवल बाइपास पर शुक्रवार शाम पुलिस ने उन्हें रोका और गिरफ्तार किया। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि स्वचालित हथियारों से लैस आतंकवादियों के आने की पुख्ता जानकारी मिलने के बाद एसओजी ने इलाके में विशेष जांच बिंदु बनाए थे।

घाटी में मुफ्त चिकित्सा व्यवस्था करेगी केंद्र सरकार

हरिओम उपाध्याय  
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जम्मू-कश्मीर के लोगों को फ्री इलाज वाली आयुष्मान योजना का तोहफा देने जा रहे हैं। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना सेहत योजना का किया।इस कार्यक्रम में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा भी मौजूद हैं। इस दौरान केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘आज जम्मू-कश्मीर के लिए महत्वपूर्ण दिन है क्योंकि आज ऐसी शुरूआत होने जा रही है जो जम्मू-कश्मीर के छोटे से छोटे नागरिक के स्वास्थ्य की चिंता करेगी।

दुनिया का इकलौता देश जहां तलाक नहीं होता

फिलीपींस में तलाक के लिए बिल तो बना लेकिन कानून है ही नहीं

फिलीपींस। दुनिया भर में पिछले कुछ समय में तलाक लेने वाली की संख्या में खासा इजाफा हुआ है, यही कारण है कि लगभग सभी देशों में तलाक लेने के लिए कानून बन गया है और हर देश में इसके लिए अलग- अलग कानून में परंपराएं हैं। भारत की बात करें तो हमारे देश में भी तलाक के मामले बढ़े हैं। छोटी- छोटी बातों को लेकर  पति-पत्नी तलाक लेने के लिए कोर्ट पहुंच जाते हैं। क्या आप जानते हैं कि दुनिया में एक देश ऐसा भी है, जहां तलाक का कोई प्रावधान ही मौजूद नहीं है। इस देश में तो तलाक के लिए बिल तो बना लेकिन कानून (Divorce Law)है ही नहीं।दुनिया का इकलौता देश है, जहां तलाक लेने की कोई व्यवस्था नहीं है। दरअसल फिलीपींस कैथोलिक (Catholic) देशों के एक समूह का हिस्सा है। कैथोलिक चर्च की वजह से ही इस देश में तलाक का कोई प्रावधान नहीं है। वर्ष 2015 में जब पोप फ्रांसिस फिलीपींस गए थे, तब वहां के धर्मगुरुओं से अपील की थी कि जो लोग तलाक लेना चाहते हैं, उनके प्रति सहानुभूति का नजरिया रखना चाहिए। लेकिन फिलीपींस में ‘तलाकशुदा कैथोलिक’ होना अपमानजनक है। फिलीपींस में तलाक नहीं लेने का प्रतिबंध सिर्फ ईसाइयों पर है। यहां की 6 से 7 फीसदी मुस्लिम आबादी अपने पर्सनल लॉ के मुताबिक तलाक ले सकती है। मुस्लिम समुदाय को अपने धार्मिक नियमों के अनुसार ऐसा करने की छूट दी गई है। इतना ही नहीं फिलीपींस के ईसाई धर्मगुरुओं ने पोप फ्रांसिस की इस अपील को भी अनसुना कर दिया था। वहां के लोगों को इस बात पर गर्व होता है कि दुनिया में फिलीपींस एकमात्र ऐसा देश है, जहां पर तलाक नहीं लिया जा सकता है। हालांकि फिलीपींस में तलाक को वैध बनाने वाला बिल पहले से है लेकिन राष्ट्रपति बेनिनो एक्विनो के समर्थन के बिना इसे कानून नहीं बनाया जा सकता है।

दरअसल फिलीपींस पर करीब चार सदी तक स्पेन का शासन रहा। इस दौरान वहां अधिकांश लोगों ने ईसाई धर्म अपना लिया था। 1898 में स्पेन-अमेरिका के बीच युद्ध हुआ और फिलीपींस पर अमेरिका का शासन हो गया। इसके बाद वहां पर तलाक के लिए एक कानून बनाया गया। हालांकि इसमें एक शर्त थी कि अगर पति-पत्नी में से कोई एडल्टरी करते पाया जाएगा, सिर्फ तभी तलाक लिया जा सकता है। द्वितीय विश्वयुद्ध के समय जब फिलीपींस पर जापान का कब्जा हुआ तो उस समय भी तलाक के लिए एक नया कानून बनाया गया। लेकिन जब साल 1944 में अमेरिका ने फिलीपींस पर दोबारा शासन किया तो फिर से पुराना तलाक कानून ही लागू हो गया। 1950 में जब फिलीपींस अमेरिका के कब्जे से आजाद हुआ तो चर्च के प्रभाव में तलाक का कानून वापस ले लिया गया। तभी से तलाक पर जो प्रतिबंध लगा, वह अब तक जारी है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-132 (साल-02)
2. रविवार, दिसंबर 27, 2020
3. शक-1983, पौष, शुक्ल-पक्ष, तिथि- त्रयोदशी, विक्रमी संवत 2077।

4. प्रातः 07:15, सूर्यास्त 05:16।

5. न्‍यूनतम तापमान -06 डी.सै., अधिकतम-18+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102

www.universalexpress.in

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +91935030275                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...