उत्तराखंड लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
उत्तराखंड लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 12 जून 2021

उत्तराखंड में ब्लैक फंगस के 11 नए मामलें मिलें

पंकज कपूर            

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना का कहर जहां तेजी से कम हो रहा है। वही ब्लैक फंगस के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। राज्य में आज ब्लैक फंगस के 11 नए मामले तथा 2 मरीजों की मौत हुई। शनिवार की शाम 6:30 बजे स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार उत्तराखंड में ब्लैक फंगस के अब तक 380 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि 60 मरीजों की मौत हो चुकी है। वही 35 मरीज स्वस्थ होकर अस्पतालों से डिस्चार्ज हो चुके हैं।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में ब्लैक फंगस के सबसे अधिक 239 मामले सामने आए। जिनमें 40 की मौत हो चुकी है। 6 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। इसके अलावा दून मेडिकल कॉलेज में 20, मैक्स हॉस्पिटल में 14, महंत इंद्रेश हॉस्पिटल में 27, जौलीग्रांट में 34, आरोग्यधाम हॉस्पिटल में दो, कृष्णा अस्पताल हल्द्वानी में तीन, सुशीला तिवारी अस्पताल में 29, सिटी अस्पताल में, तिवारी नर्सिंग होम में एक, जिला अस्पताल उधम सिंह नगर में एक, ओएनजीसी हॉस्पिटल में एक , सिनर्जी हॉस्पिटल में 2, उत्तरकाशी डिस्टिक हॉस्पिटल में 02 , मिलट्री हॉस्पिटल रुड़की में दो तथा मिलिट्री हॉस्पिटल देहरादून में एक मामले सामने आए है।

शुक्रवार, 11 जून 2021

2 आईएएस व 10 पीसीएस अधिकारियों के ट्रांसफर

पंकज कपूर              
देहरादून। शासन ने प्रशानिक व्यवस्था को गतिशील बनाये रखने के लिये तबादला एक्सप्रेस में बैठाकर 2 आईएएस और 10 पीसीएस अधिकारियों के ट्रांसफर करते हुए उनकी नई तैनाती की है। शासन की ओर से किये गये तबादलों से आईएएस और पीसीएस अधिकारियों में भारी गहमागहमी बनी रही। शुक्रवार को शासन ने राज्य में तबादला एक्सप्रेस चलाते हुए आईएएस और पीसीएस अधिकारियों के तबादले कर दिया। आईएएस हरबंस सिंह चुग से सचिव आयुष एवं आयुष शिक्षा का कार्यभार वापिस ले लिया गया है। उनके स्थान पर आईएएस चंद्रेश कुमार यादव को प्रभारी सचिव आयुष एवं आयुष शिक्षा बनाया गया है। पीसीएस पंकज कुमार उपाध्याय को सचिव जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण नैनीताल के सचिव पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
पीसीएस मनीष कुमार सिंह को डिप्टी कलेक्टर नैनीताल बनाया गया है। पीसीएस प्रत्युष को जनपद स्तरीय विकास प्राधिकरण उधम सिंह नगर के सचिव पद पर नियुक्ति की गई है। पीसीएस तुषार सैनी को डिप्टी कलेक्टर उधम सिंह नगर बनाया गया है। पीसीएस ऋचा सिंह हल्द्वानी की सिटी मजिस्ट्रेट बनाई गई है। पीसीएस राहुल शाह को डिप्टी कलेक्टर रुद्रप्रयाग बनाया गया है। पीसीएस योगेश सिंह रूद्रप्रयाग के डिप्टी कलेक्टर रुद्रप्रयाग बनाये गये है। पीसीएस रविंद्र कुमार को चमोली का डिप्टी कलेक्टर बनाया गया है। पीसीएस नंदन सिंह नगन्याल उत्तराखंड प्रशासन अकादमी नैनीताल के उपनिदेशक बनाये गये है। पीसीएस जितेंद्र कुमार को डिप्टी कलेक्टर पौड़ी बनाया गया।

यूके में शुक्रवार को कोरोना के 287 नए मामलें मिलें

पंकज कपूर                        
देहरादून। उत्तराखंड में आज कोरोना के 287 नए मामले सामने आए है और 21 मरीजों की मौत हुई है। जबकि आज 1614 मरीजों ने कोरोना से जंग जीती है। जिन्हें घरों को रवाना कर दिया गया है। राज्य में एक्टिव केसों की संख्या 5277 रह गयी है। जिनका प्रदेश के अस्पतालों में इलाज चल रहा है।
हेल्थ बुलेटिन के अनुसार आज देहरादून में 93, हरिद्वार में 44, पिथौरागढ़ में 37, चंपावत में 26, बागेश्वर में 15, टिहरी गढ़वाल में 13, पौड़ी गढ़वाल में 9, चमोली में 11, उत्तरकाशी में 8, नैनीताल में 7, यूएस नगर में 6, रुद्रप्रयाग में 5 नए मामले सामने आए है।

पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों के खिलाफ प्रदर्शन किया

श्रीराम मौर्य  

हल्द्वानी। प्रदेश नेतृत्व के अहवान पर महानगर अध्यक्ष राहुल छिम्वाल के नेतृत्व में शहर के अलग-अलग पेट्रोल पंपों में नारेबाजी कर बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। नैनीताल रोड चड्डा पेट्रोल पम्प में प्रदर्शन में मौजूद नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश ने बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों को गम्भीर समस्या बताते हुए मोदी सरकार को नाकाम करार दिया। उन्होंने कहा की आज जब पूरा देश एक बड़ी महामारी से जूझ रहा है ऐसे समय मी पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से आम जनता पर बोझ पड़ रहा है।

महानगर अध्यक्ष राहुल छिम्वाल, एआईसीसी सदस्य सुमित हृदयेश, हेमन्त बगड़वाल, हरीश मेहता जगमोहन चिल्वाल, हूकम सिंह कुंवर, विजय सिज्वाली, दीपक बलुटिया, ललित जोशी, गोविंद बिष्ट ने केंद्र सरकार को पेट्रोल-डीजल समेत सभी प्रकार की वस्तुओं में बेतहाशा वृद्धि का दोषी ठहराते हुए आम जनता की भावनाओं से खिलवाड़ करने वाली सरकार का तमगा लगाया है।महानगर कोषाध्यक्ष नरेश अग्रवाल, उपाध्यक्ष सतनम सिंह, महामन्त्री संदीप भेसोरा, प्रदेश सचिव मयंक भट्ट, किसान महामन्त्री वरुण भाकुनी, युवा कांग्रेस गुर्प्रीत प्रिन्स, गोविंद बगड़वाल ने कहा कि महंगाई पर काबू नहीं रख पाने के लिए सरकार को जनता से माफी मांगते हुए अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। महंगाई के कार्यक्रम में गिरीश पांडे, त्रिलोक कठयत, आशिस कुडाई, हिमांशु जोशी, हिमांशु गांधी, रोहित भट्ट, देवेश तिवारी, महानगर महामन्त्री दीप पाठक, केदार पलरिया, प्रदेश सचिव प्रकाश पांडे, केदार पलदिया, महानगर उपाध्यक्ष बहादुर सिंह बिष्ट मौजूद थे।

पालिकाध्यक्ष पर नहीं लिखा मुकदमा, थाने का घेराव

सुरेन्द्र चावला उर्फ राजू
गदरपुर। 
दुकान के स्थानान्तरण के नाम पर पालिकाध्यक्ष एवं ईओं द्वारा 09 लाख रुपये पारितोषण (सुविधा शुल्क) की मांग किये जाने का आरोप लगाते हुए दुकान स्वामियों द्वारा पालिकाध्यक्ष एवं ईओं के खिलाफ एक सप्ताह पूर्व थाने में तहरीर देते के बाद मामला दर्ज न किये जाने को लेकर व्यापारियों को गुस्सा फूट गया और सैकड़ों की संख्या में व्यापारी थाने पहुंचे और थानाध्यक्ष से मामला दर्ज करने को कहा। थानाध्यक्ष द्वारा मामला दर्ज करने के लिए उच्चाधिकारियों से जब वार्ता करने की बात कही तो इसको लेकर व्यापारी नेताओं की थानाध्यक्ष से काफी तीखी नोकझोक हुई। बाद में कुछ समय मांगने पर व्यापारी थाने दरी बिछाकर धरने पर बैठ गये। व्यापारियों के बढ़ते आक्रोष को देखते हुए अपर पुलिस अधीक्षक सीओ एवं जनपद के विभिन्न थानों की पुलिस फोर्स पहुंची। पुलिस ने व्यापारियों की भीड़ को थाने से खदेड़ा और प्रतिनिधि के रुप में पांच लोगो वार्ता करने के लिए बुलाया गया। वार्ता के दौरान एएसपी द्वारा कार्यवाही के लिए चार दिन का समय मांगा गया और जांच के बाद ही मामला दर्ज करने की बात कही गयी। जिस पर व्यापारी शांत हुए। 
यहां बता दें कि चन्द्रकांता पत्नी विरेन्द्र मुंजाल, सुमन बाला पत्नी इन्द्रजी कुलवंत नगर, शमीमा परवीन पत्नी जरीफ वार्ड नंबर 6 गदरपुर  द्वारा तीन जून को थाने में तहरीर दी गयी थी। जिसमें कहा गया था कि प्रार्थिनी की दुकान 1625 वर्ग फिट मुख्य बाजार में राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित हैं। प्रार्थीगण द्वारा उक्त दुकानों को जरिये पंजीकृत बैनामा वर्ष 2019 में की गयी थी जिसका बैनामा 16 अप्रैल 2019 को सब रजिस्टार बाजपुर में दर्ज हुआ था। प्रार्थीगण द्वारा दो वर्ष पूूर्व उक्त दुकानों के नामान्तरण हेतु नगरपालिका परिषद में आवेदन किया गया था। तहरीर में आरोप लगाया गया कि इस संबंध में चैयरमैन व अधिशासी अधिकारी द्वारा 9 लाख रुपये अवैध पारितोषण (सुविधा शुल्क) की मांग की जा रही थी। अवैध पारितोषण न दिये जाने के कारण पालिका द्वारा दुकानों का नामान्तरण नहीं किया गया जिसकी पत्रावली कार्यालय में लम्बित पड़ी है। प्रार्थीगणों का आरोप है कि जब उनके द्वारा जर्जर हालत में पड़ी दुकानों को तोड़कर उसका जीर्णोधार करवाने की प्रक्रिया शुरु की गयी तो उनके द्वारा निर्माण कार्य भी रुकवा दिया है। प्रार्थीगणों द्वारा अन्याय होते देख उच्चाधिकारियों को भी अवगत करवाया गया और नगर के व्यापार मंडल सहित समस्त संगठनों से जुड़े पदाधिकारियों को भी अवगत करवाया कि थानाध्यक्ष द्वारा किसी दबाव में आकर चैयरमैन व ईओ के खिलाफ तहरीर देने के बाद भी मामला दर्ज नहीं किया। जिससे व्यापारियों का गुस्सा फूट गया और व्यापार मंडल अध्यक्ष एवं नगर कांग्रेस अध्यक्ष सिद्धार्थ भुसरी, वरिष्ठ भाजपा नेता रविन्द्र बजाज, व्यापार मंडल अध्यक्ष दीपक बेहड़ सहित काफी संख्या में व्यापारी थाने पहुंचे। व्यापारी नेताओं द्वारा जब थानाध्यक्ष सतीश कापड़ी से कहा गया कि एक सप्ताह के बाद भी उक्त के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया गया। इस पर जब थानाध्यक्ष द्वारा कहा गया कि अधिकारियों से वार्ता करके बताते है इतना कहते ही नगर कांग्रेस अध्यक्ष सिद्धार्थ भुसरी एवं वरिष्ठ भाजपा नेता रविन्द्र बजाज से काफी तीखी नौकझोक हुई। इनका स्पष्ट कहना था कि गदरपुर थाना आप चला रहे है या किसी के इशारे पर चल रहा है किसी से पूछने की क्या जरुरत है। वहीं सभासद परमजीत सिंह पम्मा ने भी पुलिस की कार्य प्रणाली पर कई सवाल उठाते हुए कहा कि उनके द्वारा भी पालिकाध्यक्ष के खिलाफ कई लिखित शिकायते की थी लेकिन अभी तक उसकी भी जांच पूरी नहीं हो पायी। परमजीत पम्मा ने यहां तक कह दिया कि जब मैं मर जाउंगा तक मुझे न्याय मिलेगा। इसके बाद थानाध्यक्ष ने कुछ समय मांगा और घटना की जानकारी पुलिस के आला अफसरों को दी। व्यापारी थाने में दरी बिछाकर धरने पर बैठ गये और पुलिस प्रशासन एवं पालिकाध्यक्ष के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। घटना के करीब एक घंटे पर अपर पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार, सीओ बाजपुर वंदना वर्मा सहित जनपद के विभिन्न थानों दिनेशपुर थानाध्यक्ष अशोक कुमार,बाजपुर इंस्पेक्टर संजय कुमार पांडेय, एसएसआई जसविन्दर सिंह, केलाखेड़ा एसओ भूवन जोशी सहित काफी संख्या में पुलिस बल थाने पहुंचा। जिससे गदरपुर थाना पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। अपर पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस ने थाने में भीड़ को तितर-वितर किया और वार्ता के लिए पांच लोगों को बुलाया गया। जिसमें.
रविन्द्र बजाज, सिद्धार्थ भुसरी, एडवोकेट आरपी सिंह, एडवोकेट संतोष गुप्ता, व्यापार मंडल अध्यक्ष दीपक बेहड़ आदि। वार्ता के दौरान व्यापारियों ने कहा कि एक सप्ताह के बाद भी रिपोर्ट दर्ज क्यों नहीं की गयी। थानाध्यक्ष द्वारा रिपोर्ट दर्ज करने में आना कानी की गयी। थानाध्यक्ष की कार्यप्रणाली को लेकर रोष उभरा। वहीं एसएसपी ने व्यापारियों से चार दिन का समय मांगा और जांच के बाद ही मामला दर्ज करने का आश्वासन दिया। जिस पर व्यापारी सहमत हो गये। इस मौके पर तहसीलदार देवेंद्र सिंह बिष्ट पटवारी दीपक महल, पंजाबी महासभा अध्यक्ष कृष्ण लाल सुधा, महामंत्री संजीव झाम, कोषाध्यक्ष कृष्ण लाल अनेजा, व्यापार मंडल महामंत्री संदीप चावला, कोषाध्यक्ष राहुल अनेजा, सभासद मनोज गूम्बर, पारस धवन, रवीश देवा, चिराग मुरादिया एसपी सिंह, अनिल गगनेजा, विमल गगनेजा, अंकित मुंजाल, अकाश कोचर, सुरेश खुराना, विनोद फौगाट,  लवेश ग्रोवर, डा. आरके महाजन मनोज रघुवंशी, अजय गाबा, मोहम्मद आलम, दीपक जैन विकास, नवीन खेड़ा, राजकुमार खेड़ा, सक्षम ग्रोवर सहित काफी संख्या में व्यापारी मौजूद थे।

यूके बोर्ड की परीक्षा रद्द किये जाने का निर्णय लिया

पंकज कपूर                     
देहरादून। प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षा रद्द/निरस्त किये जाने का निर्णय लिया गया है। नए आदेश के अनुसार 12 की बोर्ड परीक्षा के परिणाम घोषित करने के लिए उत्तराखण्ड विद्यालयी शिक्षा परिषद रामनगर बोर्ड नैनीताल द्वारा वस्तुनिष्ठ मानदण्ड पृथक से निर्धारित/तैयार किये जायेगें। यदि कोई अभ्यर्थी दिए गए अंकों से संतुष्ट नहीं होता है, तो वह परिस्थितियां सामान्य होने पर बोर्ड द्वारा परीक्षा कराई जाति है, तो विद्यार्थी परीक्षा में आवेदन कर सकता है। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण दिन-प्रतिदिन बड़ी संख्या में संक्रमित व्यक्ति चिन्हित हो रहे है।

बुधवार, 9 जून 2021

राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल के ट्वीट से मची खलबली

पंकज कपूर               
देहरादून। भाजपा के राष्ट्रीय मुख्य प्रवक्ता अनिल बलूनी ने बुधवार दोपहर एक बजे के लिए सभी को सस्पेंस में डाल दिया है। सांसद अनिल बलूनी ने एक ट्विट किया, इससे कांग्रेस की हवाइयां उड़नी स्वाभाविक है। भाजपा के राष्ट्रीय मुख्य प्रवक्ता अनिल बलूनी ने बुधवार दोपहर एक बजे के लिए सभी को सस्पेंस में डाल दिया है। सांसद अनिल बलूनी ने एक ट्विट किया, इससे कांग्रेस की हवाइयां उड़नी स्वाभाविक है। उन्होंने बुधवार को ट्विट किया कि कांग्रेस की प्रख्यात हस्ती आज बुधवार नौ जून की दोपहर एक बजे भाजपा मुख्यालय 6ए डीडीयू मार्ग, नई दिल्ली में भाजपा में शामिल होंगी।राज्यसभा सदस्य के इस ट्विट से उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कांग्रेस नेताओं में भी खलबली मची है। सभी सिर्फ कयास लगा रहे हैं। 
आखिर सस्पेंस दोपहर एक बजे खुल जाएगा। कांग्रेस की इस हस्ती को राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भाजपा की सदस्यता दिलाएंगे। गौरतलब है कि अगले साल जनवरी माह में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। इनमें यूपी और उत्तराखंड राज्य भी हैं। इसे लेकर अब भाजपा चुनाव मैदान में कूदने की रणनीति बना रही है। साथ ही लोगों के बीच जाने के कार्यक्रम भी आयोजित किए जा रहे हैं। पार्टी के राष्ट्रीय नेता प्रदेशों के वरिष्ठ नेता, विधायकों और सांसदों के साथ बार बार वर्चुअली जुड़कर दिशा निर्देश दे रहे हैं।

मंगलवार, 8 जून 2021

सीएम के लिए छह विधायक सीट छोड़ने को तैयार

पंकज कपूर   

देहरादून। पौड़ी लोकसभा सीट से 6 विधायक मुख्यमंत्री के लिए सीट छोड़ने के लिए तैयार है, जिनमें निर्दलीय विधायक भी शामिल है, और सीट छोड़ने के लिए मुख्यमंत्री को लिखित पत्र दे चुके हैं। बता दें कि, मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को 10 सितम्बर से पहले विधायकी का चुनाव जीतकर आना है, जिसके लिए मुख्यमंत्री को किसी भी एक विधानसभा सीट से उप चुनाव जीतकर आना होगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने बताया कि, अब तक 6 विधायकों ने उन्हें लिखित में सीट छोड़ने के लिए पत्र दिया है। जिसमें एक निर्दलीय विधायक भी है।

यह भी बता दें कि, सीट छोड़ने वालों में सबसे बड़ा नाम कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत का है, जिन्होने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के लिए मुख्यमंत्री की शपथ लेने के दिन ही बीजेपी हाईकमान को कोटद्धार विधानसभा सीट छोड़ने के लिए अवगत करा दिया था। मीडिया में भी बयान देकर हरक ने सीएम तीरथ के लिए सीट छोड़ने के लिए कह दिया है। लैंसडान से भाजपा विधायक दिलिप रावत, यमकेश्वर से ही भाजपा विधायक रितू खंडूरी और बद्रीनाथ से भाजपा विधायक महेंद्र भट्ट, धर्मपुर विधायक विनोद चमोली और भीमताल से निर्दलीय विधायक राम सिंह कैंडा भी सीट छोड़ने के लिए तैयार है।

सोमवार, 7 जून 2021

उत्तराखंड में कर्फ्यू की अवधि 15 जून तक बढ़ाईं

पंकज कपूर               
देहरादून। उत्तराखंड राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू की अवधि एक सप्ताह यानि 15 जून तक के लिए बढ़ा दी है। राज्य में 9 जून से तीन दिन शराब की दुकानें और दो दिन परचून और किताबों की दुकानें खोलने की अनुमति दी गई है। शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने रविवार को बताया कि एक सप्ताह यानि 15 जून तक के लिए कोरोना कर्फ्यू को बढ़ा दिया गया है। सप्ताह में दो दिन के लिए परचून और किताबों की दुकानें 9 जून और 14 को खोलने की छूट दी गई हैं। स्टेशनरी की दुकान खुलेंगी। बाकी व्यवस्था यथावत रहेगी। इससे पहले प्रदेश में 8 जून तक के लिए कोविड कर्फ्यू का आदेश जारी हुवा था। 
रविवार को शासन की और से जारी एसओपी में पिछली बार की तुलना में आंशिक संशोधन किया गया है। कोविड कर्फ्यू के दौरान इस सप्ताह सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानें रोजाना सुबह आठ से दोपहर 12 बजे तक खुलेंगी। वहीं, स्टेशनरी की दुकानें, जनरल स्टोर और किराने की दुकानें, 9 जून और 14 जून को सुबह आठ से दोपहर एक बजे तक खुलेंगी। वही 3 दिन शराब की दुकानें 9, 11 और 14 जून को सुबह 8 बजे से 1 बजे तक खोली जाएंगी।  वहीं कृषि कार्यों को पूरी तरह छूट में रखी गई है। 
इसके साथ ही ग्रमीण क्षेत्रों के लिए जिलाधिकारी को आदेश में छूट और पालन को लेकर अधिकार दिये गए हैं। इन सबके अतिरिक्त कोरोना कर्फ्यू के दौरान जिन चीजों पर पहले से प्रतिबंध लगाए गए हैं उन सभी चीजों पर प्रतिबंध जारी रहेंगे। आवश्यक वस्तु की दुकानों का समय पूर्ववत सुबह आठ बजे से 12 बजे तक रहेगा। इन दुकानों में सब्जी, फल, अंड़ा, दूध, बेकरी और दवा की दुकानें शामिल हैं। इस दौरान जरूरी वस्तुओं की खरीद के लिए आवाजाही की छूट रहेगी। आम जनता सीधे मंडी नहीं जाने की छूट नहीं रहेगी। 

शनिवार, 5 जून 2021

100 फुट लंबे काले झंडे के साथ बंदी का विरोध

श्रीराम मौर्य   
रूद्रपुर। बाजार को अनलॉक करने की मांग को लेकर रूद्रपुर के व्यपारियो द्वारा 100 फिट का काल झंडा लेकर बाजार में रैली निकाल कर सरकार से बाजार खोलने की मांग की। इस दौरान व्यपारियो ने सरकार के खिलाफ जम कर नारेबाजी भी की। बाजार को ऑन लॉक करने की मांग को लेकर प्रांतीय व्यापार मंडल द्वारा आज 100 फिट का ब्लेक कपड़ा घूम कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान व्यपारियो ने सरकार के खिलाफ जम कर नारे बाज़ी करते हुए सरकार से अतिशीघ्र बाजार खोलने के आदेश जारी करने की मांग की है। 
प्रदर्शन के दौरान व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय जुनेजा ने बताया कि व्यपारी इस कोरोना कर्फ्यू में पीस रहा है। उसके सामने भुखमरी जैसे हालात खड़े होने लगे है। एक तो दुकान का किराया ऊपर से बैंक का ऋण ओर घर का खर्चा तीनो ही बात व्यपारी को डरा रही है। उन्होंने बताया कि व्यपार मंडल द्वारा पिछले कई दिनों से प्रदर्शन किया जा रहा है। यहा तक कि कल मुख्यमंत्री से प्रशासन द्वारा भेंट भी नही करने दी। उन्होंने कहा कि आज उनके द्वारा 100 फिट के काले झंडे के साथ विरोध प्रदर्शन किया गया है। अगर सरकार अपने फैसले पर विचार नही करती तो उनका प्रदर्शन जारी रहेगा। 

गुरुवार, 3 जून 2021

सीएम ने राशि 74 लाख क्रय मद में स्वीकृत की

पंकज कपूर            

देहरादून। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 में एनपीवी के भुगतान/ भूमि अधिग्रहण हेतु भूमि क्रय मद के लिए 25 करोड़ रूपये की धनराशि स्वीकृत की है। बड़कोट में वाहन पार्किंग के निर्माण हेतु प्रथम किश्त के रूप में 1 करोड़ 99 लाख रूपये एवं विधानसभा यमुनोत्री के अन्तर्गत 2 निर्माण कार्यों के लिए मुख्यमंत्री ने 74 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान की है।

विधानसभा क्षेत्र डोईवाला में फायर स्टेशन की स्थापना हेतु प्रथम किश्त के रूप में 1 करोड़ 50 लाख रूपये की स्वीकृति मुख्यमंत्री ने दी है। विधानसभा क्षेत्र राजपुर रोड के अंतर्गत कांवली रोड के दोनों ओर फुटपाथ, रेलिंग व दून अस्पताल चौक से दर्शनलाल चौक तक दोनों ओर पटरी तथा क्षतिग्रस्त स्थानों के सुधारीकरण हेतु 1 करोड़ 89 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान की है। कुंजापुरी के पास हिंडोलाखाल में पार्किंग निर्माण के लिए भी मुख्यमंत्री ने 1 करोड़ 54 लाख रूपये की स्वीकृति दी है।

मंगलवार, 1 जून 2021

उत्तराखंड में कोरोना के 981 नए मामलें सामने आएं

पंकज कपूर                 

देहरादून। उत्तराखंड में आज मंगलवार को कोरोना के सबसे कम मामले दर्ज किये गए है। ऐसे ही हालात रहे तो प्रदेश जल्द ही कोरोना मुक्त हो जायेगा। ताजा आंकड़ों के अनुसार आज प्रदेश में 981 नए मामले सामने आए है और 36 मरीजों की मौत हुई है। जबकि आज 2062 मरीज डिस्चार्ज हुए है। इस प्रकार राज्य में कोरोना का आंकड़ा 330475 पहुंच गया जिसमें से 290990 मरीज अब तक ठीक हुए है और अब तक 6497 मरीजों की मौत हुई है।

हेल्थ बुलेटिन के अनुसार आज देहरादून में 279, हरिद्वार में 117, नैनीताल जिले में 113, चमोली में 93, यूएस नगर में 58, बागेश्वर में 42, पौड़ी गढ़वाल में 32, उत्तरकाशी में 28, पिथौरागढ़ में 26, टिहरी गढ़वाल में 25, चंपावत में 13, रुद्रप्रयाग में 18 नए मामले सामने आए है।

नैनीताल: चतुर्थ चरण का कर्फ्यू 1 जून से बढ़ाया

पंकज कपूर            

नैनीताल। जिलाधिकारी धीराज सिह गर्ब्याल ने बताया कि शासन से प्राप्त निर्देशों के क्रम में जनपद में चतुर्थ चरण का कोविड कर्फ्यू 1 जून से 08 जून प्रातः 06 बजे तक बढाया जाता है। उन्होंने जनपद में कोविड कफ्र्यू के दौरान शासन की गाइडलाइन का सख्ती के साथ अनुपालन कराना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।जिलाधिकारी गर्ब्याल ने कहा कि 08 जून सुबह 06 बजे तक कोविड कर्फ्यू बढाया जाता है। उन्होने बताया कि जनपद मे परचून(किराना) की दुकानें सप्ताह में 02 दिन 01 जून व 05 जून को प्रातः 08 बजे से दोपहर 01 बजे तक खुलेंगी तथा स्टेशनरी एवं किताबें की दुकाने भी 01 जून व 05 जून को प्रातः 08 बजे से दोपहर 01 बजे तक खुलेगी। 

सरकारी गल्ला, सब्जी,दूध मीट आदि की दुकाने प्रातः 08 बजे से लेकर प्रातः 11 तक प्रत्येक दिन नियमित खुलेंगी। साथ ही पशुचारा,कीटनाशक, खाद, बीज की दुकाने, भण्डारण परिवहन आदि की भी सुबह 08 से 11 बजे तक अनुमति रहेगी। पेट्रोल,डीजल पम्प एवं रसोई गैस, मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे। घरेलू गैस एवं टैकर से पेयजल का वितरण भी होगा। इसके साथ ही स्वास्थ्य सेवाओं से सम्बन्धित क्षेत्र जैसे अस्पताल, नर्सिंग होम, क्लीनिक, डिस्पेंसरी, दवा की दुकानें, चिकित्सीय प्रयोगशालाएं एवं कलेक्शन सेन्टर भी 24 घण्टे खुले रहेंगे। उन्होने बताया कि उद्योगों पर कोई प्रतिबन्ध नही है मानको का पालन करना होगा। बैंक प्रातः 10 बजे से दोपहर 02 बजे तक खुलेगें।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश को अस्पताल में भर्ती किया

पंकज कपूर              

देहरादून। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक को अचानक स्वास्थ्य खराब होने के चलते दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती किया गया है। पूर्व में कोरोना संक्रमण की चपेट में वह आ गये थे। जिसके बाद वह स्वस्थ हो गये थे। इसके बावजूद अचानक उनकी तबियत बिगड़ कई। हालांकि समाचार लिखे जाने तक बारे में अधिक जानकारी नही मिल पाई है कि आखिर उन्हें किस किस्म की तकलीफ के चलते अस्पताल भर्ती करने की नौबत आई है।

ज्ञात रहे कि कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें 9 मई को मिली थी अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी। एम्स से डिस्चार्ज होने के बाद उन्होंने ट्विटर पर डॉक्टरों की टीम का आभार भी जताया था।

गैजेट सरकारी खर्चे पर खरीदने की फाइल आगें बढ़ीं

अकांशु उपाध्याय             
देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना महामारी में सरकार सीएसआर फंड के भरोसे दिखाई दे रही है। स्वास्थ्य सेवाओं के लिए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत भी आम लोगों से मदद की गुहार लगा चुकें। लेकिन इन सबके बावजूद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी महंगे इलेक्ट्रॉनिक गैजेट सरकारी खर्चे पर खरीदने की फाइल आगे बढ़ाते रहें। तीरथ सरकार महामारी के दौर में आर्थिक संकट से जूझ रही है। जिसकी वजह से स्वास्थ्य सेवाओं को जुटाना काफी मुश्किल हो रहा है। यहां तक की कई कर्मचारियों को महीनों से वेतन तक नहीं मिल पाया है। 

इस आर्थिक संकट की हालत में भी कुछ सरकारी अधिकारी महंगे इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स का शौक पूरा करने में जुटे हैं। खास बात यह है कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से इन गैजेट्स को खरीदे जाने की फाइल भी मंजूर कर ली गई है।

सोमवार, 31 मई 2021

चार धाम यात्रा शुरू करने पर सरकार का मंथन

पंकज कपूर   

देहरादून। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर स्थगित की गई चारधाम यात्रा को शुरू करने पर सरकार विचार कर रही है। इसके तहत प्रथम चरण में चारधाम वाले जिलों के स्थानीय निवासियों को धामों में दर्शन की अनुमति दी जा सकती है। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि परिस्थितियां सामान्य होने के बाद सभी पहलुओं पर मंथन कर चरणबद्ध ढंग से चारधाम यात्रा शुरू की जाएगी।

प्रदेश के कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के तेज होने के कारण सरकार ने इस वर्ष 14 मई से प्रारंभ होने वाली चारधाम यात्रा स्थगित कर दी थी। अलबत्ता, चारों धामों बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री के कपाट निर्धारित तिथियों पर खोले गए और वहां सीमित संख्या में तीर्थ पुरोहित पूजा-पाठ कर रहे हैं। श्रद्धालुओं को वहां जाने की इजाजत नहीं है। अब जबकि कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आई तो चारधाम यात्रा को लेकर सरकार मंथन में जुट गई है। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि रुद्रप्रयाग, चमोली व उत्तरकाशी जिलों के निवासियों की ओर से उन्हें धामों में दर्शन की अनुमति देने का आग्रह किया जा रहा है। चारों धाम इन्हीं जिलों में हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार प्रत्येक पहलू से चारधाम यात्रा को लेकर विचार कर रही है। प्रथम चरण में तीन जिलों के स्थानीय निवासियों को अनुमति दी जा सकती है। इसके बाद परिस्थितियों की समीक्षा कर पहले राज्य के अन्य जिलों और फिर बाहरी राज्यों के श्रद्धालुओं को भी यात्रा की अनुमति दी जा सकती है। चारधाम यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए मानक संचालन प्रक्रिया जारी की जाएगी।

उत्तराखंड में 8 जून तक बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

पंकज कपूर   

देहरादून। उत्तराखंड से आज की सबसे बड़ी खबर एक हफ्ता और बढ़ा कोरोना कर्फ्यू यानि 8 जून सुबह 6 बजे तक। अब हफ्ते में दो दिन दुकानें खुलेंगी। आज हुए फैसले के अनुसार 1 जून और 5 जून को परचून की दुकानें खोली जाएगी 8 बजे से 1 बजे तक खुलेगी। दुकानें वही 1 जून को स्टेशनरी और किताबो की दुकानों को खोला जाएगा बाकी निर्देश यथावत रहेंगे। उत्तराखंड में कोरोना का कर्फ्यू को एक सप्ताह के लिए बढ़ा दिया गया है। हालांकि कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में कमी आने के कारण सरकार द्वारा कुछ राहत दी गई है।

उत्तराखंड सरकार ने कोरोना कर्फ्यू को लेकर नया फैसला लिया है । सरकार ने एक हफ्ते के लिए कोरोना कर्फ्यू को बढ़ा दिया गया है। कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी के बाद सरकार ने फैसला किया है कि अब परचून की दुकाने हफ्ते में 2 दिन खुल पाएंगी। सरकार के प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने बताया कि 1 जून और 5 जून को परचून की दुकानें खोली जाएगी। इनका वक्त भी 8 बजे से एक बजे तक रहेगा। इसके अलावा 1 तारीख को स्टेशनरी और किताबो की दुकान खुलेगी। बाकि नियम पहले जैसे ही रहेंगे। उत्तराखंड में कोरोना Curfew 8 जून तक लागू रहेगा। सुबह आठ से दोपहर एक बजे तक खुलेंगी आवश्यक वस्तुओं की दुकानें।

शनिवार, 29 मई 2021

ब्लैक फंगस के करीब 176 मामले सामने आए

पंकज कपूर   

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना का कहर जहां धीरे धीरे कम हो रहा है वही ब्लैक फंगस के मामलों में निरंतर बढ़ोतरी हो रही है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार उत्तराखंड में ब्लैक फंगस के अब तक करीब 176 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 16 मरीजों की मौत हो चुकी है। एम्स चिकित्सालय ऋषिकेश में आज ब्लैक फंगस के सात नए मरीज भर्ती किए गए। इस प्रकार अब तक इस चिकित्सालय में ब्लैक फंगस के 117 मरीज पहुंच चुके हैं। आज किसी मरीज की मृत्यु नहीं हुई है। अब तक 9 मरीजों की मौत हो चुकी है।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में आज यानी शुक्रवार शाम 5 बजे तक म्यूकोर माइकोसिस( ब्लैक फंगस) के कुल 117 केस आ चुके हैं। आज किसी भी मरीज की मृत्यु की खबर नहीं है। अस्पताल से अभी तक 2 मरीजों को उपचार के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब एम्स अस्पताल में म्यूकोर माइकोसिस के शेष 106 मरीज भर्ती हैं।इधर दून मेडिकल कॉलेज में 10 मैक्स हॉस्पिटल में 07 , महंत इंद्रेश हॉस्पिटल में 12 ,जौलीग्रांट में 22 , आरोग्यधाम हॉस्पिटल में दो , कृष्णा अस्पताल हल्द्वानी में तीन ,सुशीला तिवारी अस्पताल में 03 , सिटी अस्पताल में , तिवारी नर्सिंग होम में एक ,जिला अस्पताल उधम सिंह नगर में एक मामला सामने आया है।

जबकि अब तक एम्स ऋषिकेश में 09 , जॉली ग्रांट में तीन ,सुशीला तिवारी में एक , महंत इंद्रेश अस्पताल में दो ,जिला अस्पताल उधम सिंह नगर में एक , सुशीला तिवारी में एक मरीजों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा जौलीग्रांट से छह तथा ऋषिकेश एम्स से 4 मरीज तथा मैक्स अस्पताल से 3 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।चिकित्सकों की सलाह है कि स्टेराॅयड के सेवन से इलाज करने वाले कोविड संक्रमित रोगी अपने शुगर की नियमित जांच करवाएं और शुगर लेवल पर नियंत्रण रखें। लक्षण नजर आने पर बिना देरी किए चि​कित्सक से परामर्श लें। बिना चिकित्सीय सलाह के स्टेराॅयड का सेवन कदापि नहीं करें। डाॅ. त्यागी ने बताया कि कोविड पेशेंट को अधिकतम 10 दिनों से ज्यादा स्टेराॅयड का सेवन नहीं करना चाहिए। दवा की ज्यादा डोज बेहद नुकसान दायक है। इसके अलावा कोविड संक्रमित होने पर रोगी को पहलेे 6 हफ्तों के दौरान अपने शुगर लेवल पर विशेष ध्यान देने की जरुरत है। उन्होंने बताया कि एम्स में भर्ती म्यूकर माइकोसिस के अधिकांश रोगी शुगर की बीमारी से ग्रसित हैं।

सौतेले बाप ने नाबालिग को बनाया हवस का शिकार

श्रीराम मौर्य   

हरिद्वार। उत्तराखंड के हरिद्वार जिले से बेहद शर्मनाक मानवता को झकझोर कर रख देने वाली खबर सामने आ रही है। यहां एक दरिंदे बाप ने अपनी नाबालिग बेटी को हवस का शिकार बना लिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है

प्राप्त जानकारी के मुताबिक घटना का खुलासा उस वक्त हुआ जब वह बेटी का गर्भपात कराने के लिए राजकीय महिला अस्पताल लेकर पहुंचा पुलिस ने जब पीड़ित से पूछताछ की तो पुलिस को मामला समझ में आते देर ना लगे उसके बाद आरोपी के खिलाफ पॉस्को सहित अन्य धारा में मुकदमा दर्ज किया गया उसे गिरफ्तार किया पुलिस ने आरोपी को मेडिकल के बाद न्यायलय में पेश किया जहां से उसको जेल भेज दिया गया।

कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह के अनुसार विगत सुबह एक व्यक्ति 13 साल की किशोरी को गर्भपात कराने के लिए राजकीय महिला चिकित्सालय लेकर पहुंचा जिस पर चिकित्सकों ने मामला संदिग्ध लगा देखकर मामले की जानकारी चाही लेकिन वह व्यक्ति कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सका जिसपर चिकित्सकों ने कोतवाली पुलिस को मामले की जानकारी दी पुलिस मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल महिला दरोगा लक्ष्मी मनराल कर्मियों के साथ मौके पर पहुंची लेकिन तब तक वह व्यक्ति किशोरी को छोड़कर भाग निकला। पुलिस ने पीड़िता से मामले की जानकारी ली, पीड़िता ने बताया कि उसकी पिता का देहांत हो चुका है मां ने दूसरी शादी प्रकाश पुत्र अमर सिंह निवासी फरीदाबाद हरियाणा से की है जो कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत हरिद्वार मे ठहरे हैं।

पीड़िता ने बताया कि उसका सौतेला बाप उसके साथ डरा धमका कर गलत काम करता था जिससे पेट में दर्द होने कारण अस्पताल लेकर आया था चिकित्सकों से जानकारी लेने पर पता चला कि पीड़िता किशोरी ढाई माह से गर्भवती है पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के बाद आरोपी सौतेले बाप के खिलाफ पोस्को सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर तलाश शुरू कर कर एक सूचना पर पुलिस ने आरोपी को रोड़ीवैला वाला मैदान स्थित आनंद वन समाधि के पास से गिरफ्तार कर लिया पुलिस ने आरोपी का मेडिकल कराने के बाद न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया।

शुक्रवार, 28 मई 2021

यूके: कोरोना नियंत्रण कन्ट्रोल रूम सत्यापित कियें

पंकज कपूर                 
हल्द्वानी। जनपद में ग्राम स्तर तक संघन कोरोना टेस्टिंग बढाने के साथ वैक्सीनेशन कराने हेतु जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल बेहद संजीदा है। ग्रामवार रोस्टर बनाकर कोविड जांच की जा रही है तथा कोरोना दवा किट वितरित किये जा रहे है। चिकित्सालयों में जनता को और बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सके इसके लिए भी श्री गर्ब्याल बेहद गम्भीर है। उन्होने कोविड संक्रमण बचाव, सहायता, परामर्श हेतु जनपद स्तर के साथ ही प्रत्येक विकास खण्ड में कोरोना नियंत्रण कन्ट्रोल रूम सत्यापित किये गये है। उन्होनेे जनता से अपील की है कि वे किसी भी प्रकार की जानकारी- परामर्श ब्लाक स्तर पर संचालित कन्ट्रोल रूम से ले सकते है।

अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...