उत्तराखंड लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
उत्तराखंड लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 14 अगस्त 2022

'हर घर तिरंगा' लगाने का आह्वान किया: संस्था 

'हर घर तिरंगा' लगाने का आह्वान किया: संस्था 

पंकज कपूर 

हल्द्वानी। एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू एक्टर साहिल राज के नेतृत्व में संस्था के माध्यम से आजादी के 75 वें अमृत महोत्सव के अमृत काल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 13 अगस्त से 15 अगस्त तक 'हर घर तिरंगा' अभियान के अंतर्गत संस्था पदाधिकारियों ने हल्द्वानी खालसा नेशनल गर्ल्स इंटर कॉलेज में छात्राओं को तिरंगा वितरण कर 'हर घर तिरंगा' लगाने का आह्वान किया। इस दौरान मुख्य अतिथि मेयर जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला संस्था मार्गदर्शक विनीत अग्रवाल ने संयुक्त रूप से कहा कि 1947 में तिरंगा को राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाकर प्रत्येक भारतीय के लिए गौरव का क्षण प्राप्त हुआ है। क्योंकि भारत का राष्ट्रीय ध्वज देश की स्वतंत्रता एवं लोकतांत्रिकता को दर्शाता है।

यह भारत देश की एकता अखंडता प्रगति उन्नति समृद्धि खुशहाली का सूचक है। इसलिए हम सभी भारतीयों का परम कर्तव्य है कि भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के मान-सम्मान के प्रति त्याग समर्पण भाव के साथ कर्तव्य पथ पर सतत डटे रहने के लिए संकल्पित होकर हम सभी भारतवासी मिलकर यह संकल्प लें, कि हम सभी भारतीय एकता के सूत्र में बंधकर भारत देश को विश्वगुरु बनाने के लिए आस्था निष्ठा दृढ़ संकल्प शक्ति के साथ हमेशा समाजहित एवं भारतहित में कार्य करते रहेंगे। इसीलिए शहीदों ने अपने अद्वितीय साहस और पराक्रम से भारत देश की गौरवगाथा को लिखा है। उनका अद्भुत शौर्य हमारे स्वर्णिम इतिहास की एक मुकुटमणि है, जो मातृभूमि की रक्षा और स्वाभिमान के लिए कैसी परिश्रम की पराकाष्ठा हो, ये शहीदों का सम्पूर्ण जीवन हम सभी भारतीयों को दृढ़ संकल्प शक्ति साहस के सुपथ पर चलने और भारत माता कि सेवा करने के लिए हमेशा प्रेरित करता रहेगा। जिससे हम भारतीय देशभक्ति को और विराट रूप से प्रखर कर भारत देश को विश्व के शिखर पर कीर्तिमान स्थापित करने में अपना अहम योगदान देकर भारत देश को विश्वगुरु बनाएंगे। इसी क्रम में सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने फोन से छात्राओं को संबोधित कर मार्गदर्शन दिया।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने में खालसा नेशनल गर्ल्स इंटर कॉलेज उप प्रधानाचार्य कल्पना जोशी, प्रशासनिक अधिकारी जितेंद्र सिंह, अधिकारी मोहिता कांडपाल, बीना, अधिकारी रेखा पंत, मीरा खुल्बे, अनुराधा पंत, रीता परिहार, उर्मिला सिंह, मीना भगत, प्रेमा खोलिया, सीमा सिंह, चित्रा, जीना, मानसी बिष्ट, मनजीत कौर ने अहम योगदान दिया। इस दौरान तिरंगा वितरण करने में कांग्रेस युवा नगर अध्यक्ष हेमन्त कुमार साहू, संस्था संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय, संरक्षक रुपेन्द्र नागर, अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू, उपाध्यक्ष लोकेश कुमार साहू, कोषाध्यक्ष बलराम हालदार, समाजसेवी कनक चन्द, एक्टर साहिल राज, सूरज मिस्त्री, संदीप यादव, निलेश गुप्ता, अमन कुमार, मनीष साहू, मुकेश कुमार बिष्ट, पूजा जोशी, भावना शाह, विनोद आर्या, सुशील राय, प्रियांशु आर्या, दीपक कुमार, मुकेश कुमार, सूरज कुमार आदि लोग उपस्थित रहे।

शनिवार, 13 अगस्त 2022

'हर घर तिरंगा' लगाने का आह्वान किया: संस्था 

'हर घर तिरंगा' लगाने का आह्वान किया: संस्था 

पंकज कपूर 

हल्द्वानी। एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू एक्टर साहिल राज के नेतृत्व में संस्था के माध्यम से आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के अमृत काल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 13 अगस्त से 15 अगस्त तक 'हर घर तिरंगा' अभियान के अंतर्गत संस्था पदाधिकारियों ने हल्द्वानी खालसा नेशनल गर्ल्स इंटर कॉलेज में छात्राओं को तिरंगा वितरण कर 'हर घर तिरंगा' लगाने का आह्वान किया। इस दौरान मुख्य अतिथि मेयर जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला संस्था मार्गदर्शक विनीत अग्रवाल ने संयुक्त रूप से कहा कि 1947 में तिरंगा को राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाकर प्रत्येक भारतीय के लिए गौरव का क्षण प्राप्त हुआ है। क्योंकि, भारत का राष्ट्रीय ध्वज देश की स्वतंत्रता एवं लोकतांत्रिकता को दर्शाता है। यह भारत देश की एकता अखंडता प्रगति उन्नति समृद्धि खुशहाली का सूचक है। इसलिए हम सभी भारतीयों का परम कर्तव्य है कि भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के मान सम्मान के प्रति त्याग समर्पण भाव के साथ कर्तव्य पथ पर सतत डटे रहने के लिए संकल्पित होकर हम सभी भारतवासी मिलकर यह संकल्प लें, कि हम सभी भारतीय एकता के सूत्र में बंधकर भारत देश को विश्वगुरु बनाने के लिए आस्था निष्ठा दृढ़ संकल्प शक्ति के साथ हमेशा समाजहित एवं भारतहित में कार्य करते रहेंगे।

इसीलिए शहीदों ने अपने अद्वितीय साहस और पराक्रम से भारत देश की गौरवगाथा को लिखा है। उनका अद्भुत शौर्य हमारे स्वर्णिम इतिहास की एक मुकुटमणि है, जो मातृभूमि की रक्षा और स्वाभिमान के लिए कैसी परिश्रम की पराकाष्ठा हो, ये शहीदों का सम्पूर्ण जीवन हम सभी भारतीयों को दृढ़ संकल्प शक्ति साहस के सुपथ पर चलने और भारत माता कि सेवा करने के लिए हमेशा प्रेरित करता रहेगा। जिससे हम भारतीय देशभक्ति को और विराट रूप से प्रखर कर भारत देश को विश्व के शिखर पर कीर्तिमान स्थापित करने में अपना अहम योगदान देकर भारत देश को विश्वगुरु बनाएंगे।

इसी क्रम में सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने फोन से छात्राओं को संबोधित कर मार्गदर्शन दिया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में खालसा नेशनल गर्ल्स इंटर कॉलेज उप प्रधानाचार्य कल्पना जोशी, प्रशासनिक अधिकारी जितेंद्र सिंह, अधिकारी मोहिता कांडपाल, बीना, अधिकारी रेखा पंत, मीरा खुल्बे, अनुराधा पंत, रीता परिहार, उर्मिला सिंह, मीना भगत, प्रेमा खोलिया, सीमा सिंह, चित्रा जीना, मानसी बिष्ट, मनजीत कौर ने अहम योगदान दिया। इस दौरान तिरंगा वितरण करने में कांग्रेस युवा नगर अध्यक्ष हेमन्त कुमार साहू, संस्था संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय, संरक्षक रुपेन्द्र नागर, अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू, उपाध्यक्ष लोकेश कुमार साहू, कोषाध्यक्ष बलराम हालदार, समाजसेवी कनक चन्द, एक्टर साहिल राज, सूरज मिस्त्री, संदीप यादव, निलेश गुप्ता, अमन कुमार, मनीष साहू, मुकेश कुमार बिष्ट, पूजा जोशी, भावना शाह, विनोद आर्या, सुशील राय, प्रियांशु आर्या, दीपक कुमार, मुकेश कुमार, सूरज कुमार आदि लोग उपस्थित रहे।

शनिवार, 6 अगस्त 2022

आक्रोशित ठेकेदारों ने प्रक्रिया का बहिष्कार किया 

आक्रोशित ठेकेदारों ने प्रक्रिया का बहिष्कार किया 

पंकज कपूर 

अल्मोड़ा। पर्वतीय कांट्रेक्टर एसोसिएशन के बैनर तले अपनी 05 सूत्रीय मांगों को लेकर राजकीय ठेकेदार आंदोलन पर अडिग हैं। आक्रोशित ठेकेदारों ने शनिवार को नगर पालिका बागेश्वर में चल रही नीलामी प्रक्रिया का बहिष्कार कर दिया और बढ़ी हुई रॉयल्टी वापस लेने की पुरजोर मांग उठाई। इस दौरान ठेकेदारों ने सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन भी किया। एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष हीराबल्लभ भट्ट के नेतृत्व में ठेकेदार नारेबाजी करते हुए नगर पालिका कार्यालय पहुंचे, जहां चल रही टैंडर प्रकिया का विरोध किया। उन्होंने सरकार से रॉयल्टी में 5 गुना बढ़ोतरी को तत्काल वापस लेने की मांग करते हुए नगर पालिका में विभिन्न निर्माण कार्याे की निविदा प्रक्रिया का बहिष्कार किया। ठेकेदारों का कहना है कि उनके देयकों से पांच गुना रॉयल्टी वसूले जाने, खनिज न्यास के तहत ठेकेदारों के देयकों से काटी जा रही 25 प्रतिशत अतिरिक्त रॉयल्टी समेत पांच सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलित हैं, लेकिन सरकार उनकी मांगों को सुनने को तैयार नहीं है।

यदि तय समय में उनकी मांग नहीं मानी गई, तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा। तय किया कि जले स्तर पर आपदा के तहत चल रहे निर्माण कार्यों को बंद कर मशीनों को बंद कर देंगे। सभी निर्माण संस्थाओं में तालाबंदी करेंगे। विकास कार्य प्रभावित होने की जिम्मेदारी शाासन और प्रशासन की होगी। इस मौके पर महामंत्री संजय नेगी, प्रमोद मेहता, मोहन भट्ट, पप्पू राणा, लाल सिंह दीवान, नवीन परिहार, आरडी जोशी, सोनू खेताल, भुवन लोहनी, दिनेश गड़िया, विनोद पाठक, दिनेश मेहता, नवीन रावल, ईश्वर पांडेय, जंगदीश पाठक, दीपक रौतेला, महेश जोशी, नवीन दुबड़िया, राम सिंह गौड़, गिरीश पाठक आदि मौजूद रहे।

मंगलवार, 2 अगस्त 2022

भू-माफियाओं के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी

भू-माफियाओं के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी 

पंकज कपूर 

देहरादून। राज्य में सरकारी/निजी भूमि एवं भवनों पर अवैध रूप से कब्जा करने वाले भू-माफियाओं के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में उत्तराखंड डीजीपी अशोक कुमार ने निर्देश दिए है।

उन्होंने कहा कि ऐसे भूमाफियाओं को चिन्हित कर उनके विरूद्ध अभियोग पंजीकृत करते हुए गुण्डा एक्ट के अन्तर्गत जिला बदर करने, गैंगस्टर एक्ट के अन्तर्गत कार्यवाही करते हुए अवैध रूप से अर्जित की गयी सम्पत्ति का अधिग्रहण करने तथा इनकी हिस्ट्रीसीट खोले जाने एवं इनके लाईसेन्सी शस्त्रों को भी निरस्त करने की कार्यवाही की जाएगी।

मंगलवार, 26 जुलाई 2022

पदाधिकारियों ने शहीद वीर जवानों को श्रद्धांजलि दी 

पदाधिकारियों ने शहीद वीर जवानों को श्रद्धांजलि दी 

पंकज कपूर             

देहरादून/हल्द्वानी। एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय के नेतृत्व संस्था के माध्यम से कारगिल विजय दिवस पर कारगिल युद्ध में शहीद वीर जवानों को संस्था पदाधिकारियों ने कैंडल जलाकर हल्द्वानी-नैनीताल रोड स्थित शहीद चंद्रशेखर मिश्रा पार्क में श्रद्धांजलि दी। इस दौरान एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था मार्गदर्शक रेनू शरण सदस्य रितिक साहू ने संयुक्त रूप से कहा कि विश्व इतिहास में भारतीय सशस्त्र बलों के अद्भुत पराक्रम उत्कृष्ट रण कौशल के अटूट कर्तव्यनिष्ठा के महान प्रतीक कारगिल विजय दिवस स्वतंत्र भारत के सभी देशवासियों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिवस है। क्योंकि, भारतीय सेना ने अपने अदम्य साहस पराक्रम से 3 मई 1999 को शुरू हुआ। कारगिल युद्ध में 26 जुलाई 1999 को विजय प्राप्त कर विश्व विजयी भारतीय तिरंगा लहरा दिया।

लेकिन, इस युद्ध में शहीद जवानों के बलिदान को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता। क्योंकि, भारतीय सेना के जवान हजारों फुट की ऊंचाई पर अपनी हड्डियाँ गलाकर दुश्मनों की हर हरकत पर पैनी निगाह रखते हुऐं दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देकर दुश्मनों को संभलने का मौका भी नहीं देते हैं, तब जाकर हम अपने अपने गांवों शहरों और घरों में सुरक्षित रहते हैं। तभी हम अपने सारे त्यौहार पूरी खुशी के साथ मना पाते हैं। इसलिए, हम भारतीयों का यह फर्ज है कि भारत देश को सुरक्षित रखने के लिए शहीद हुए भारतीय सेना जवानों के प्रति हमेशा भक्ति भाव प्रकट करना चाहिए।

इस दौरान श्रद्धांजलि देने में संस्था संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय, रुपेन्द्र नागर, उपाध्यक्ष लोकेश कुमार साहू, सचिव नन्दकिशोर आर्या कोषाध्यक्ष बलराम हालदार मार्गदर्शक पूजा लटवाल, रेनू, शरण, पवन शर्मा, ममता लटवाल, काजल खत्री, गीता साहू, रितिक साहू, संदीप यादव, अमन कुमार, मनोज साहू, सूरज, मिस्त्री अरुण कुमार, मुन्ना पोखरियाल, गौरव सनवाल, दीपक पलाडिया, सूरज भट्ट, प्रकाश सम्मल, मनीष दफौटी, मुकेश सिंह, कुलेरा, भारत केसरवानी, साहिल, राज, विनोद आर्या, अशोक कुमार वाल्मीकि, दीपक प्रजापति, सुशील राय, मुकेश कुमार आदि लोग उपस्थित रहे।

सोमवार, 25 जुलाई 2022

देवता श्रद्धालुओं पर अपनी कृपा बरसा रहे हैं

देवता श्रद्धालुओं पर अपनी कृपा बरसा रहे हैं
हरिद्वार। इंद्रधनुष प्रकृति में नजर आने वाले नजरों में से एक बहुत खास और रंगीन नजारा है। वर्षा अथवा बादल में पानी की सूक्ष्म बूँदों अथवा कणों पर पड़नेवाली सूर्य किरणों का विक्षेपण (डिस्पर्शन) ही इंद्रधनुष के सुंदर रंगों का कारण है। सूर्य की किरणें वर्षा की बूँदों से अपवर्तित तथा परावर्तित होने के कारण इन्द्रधनुष बनाती हैं। इंद्रधनुष सदा दर्शक की पीठ के पीछे सूर्य होने पर ही दिखाई पड़ता है। पानी के फुहारे पर दर्शक के पीछे से सूर्य किरणों के पड़ने पर भी इंद्रधनुष देखा जा सकता है।हरिद्वार में आज एक बहुत ही अनूठा इंद्रधनुष देखने को मिला जब सूर्य के चारों ओर रंग बिखरा नजर आया। दर्शकों ने इसे देखकर बहुत आनंदित महसूस किया और मानसून के पावन माह में ऐसा नजारा देखने से ऐसा महसूस हुआ की देवता कावड़ श्रद्धालुओं को देख उन पर अपनी कृपा बरसा रहे हैं।
धर्मशास्‍त्रों के अनुसार इंद्रधनुष के सात रंग ही रंगों के जनक हैं। ये सात रंग लाल, नारंगी, पीला, हरा, आसमानी, नीला तथा बैंगनी हैं। रंगों की उत्पत्ति का मुख्य स्रोत सूर्य है। सूर्य के प्रकाश में कई रंग मौजूद हैं। इनसे इंद्रधनुष का जन्म होता है। रंगों के विज्ञान को समझकर ही हमारे ऋषि-मुनियों ने धर्म में रंगों का समावेश किया है। पूजा के स्थान पर रंगोली बनाना रंगों के विज्ञान को दर्शाता है। उदाहरण के तौर पर कुमकुम, हल्दी, अबीर, मेंहदी और गुलाल के रूप में पांच रंग हर पूजा में शामिल क‍िए जाते हैं। यही वजह है क‍ि धर्म ध्वजाओं के रंग, तिलक और भगवान के वस्त्रों के रंग विशिष्ट रखे जाते हैं। ताकि धर्म-कर्म के समय हम उन रंगों से प्रेर‍ित होकर उनके गुणों को स्‍वयं में धारण कर सकें।

वैज्ञानिकों के अनुसार सूर्य के चारों ओर बनने वाले इस सतरंगी घेर को सन हालो कहा जाता है। हालो प्रकाश द्वारा उत्पन्न ऑप्टिकल घटना के एक परिवार का नाम है। यह तब होता है, जब सूरज धरती से 22 डिग्री के एंगल पर पहुंचता है तो आसमान में नमी की वजह से इस तरह का रिंग बन जाता है। आसमान के सिरस क्लाउड की वजह से ये दोपहर में ही दिखने लगते है।


रविवार, 17 जुलाई 2022

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए 

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड में पेट्रोल और डीजल के नए रेट जारी कर दिए गए हैं। रविवार को राजधानी देहरादून में पेट्रोल में 34 पैसे और डीजल के दाम में 34 पैसे की बढ़ोत्तरी आई है। जिसके बाद देहरादून में आज पेट्रोल ₹95.29 प्रति लीटर और डीजल ₹90.33 प्रति लीटर बिक रहा हैै।
गौरतलब हो, कि पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी हो गए हैं। हर दिन सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। पिछले कई दिनों से प्रदेश में तेल की कीमतें में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन, वैट और अन्य चीजें जोड़ने के बाद दामों में इजाफा होता है। यही कारण है कि पेट्रोल-डीजल के दाम ज्यादा नजर आते हैं।
वहीं, हरिद्वार में आज पेट्रोल में 6 पैसे और डीजल के दाम में 5 पैसे की कमी देखी गई है। हरिद्वार में पेट्रोल के दाम ₹94.33 प्रति लीटर और डीजल के दाम ₹ 89.45 रुपए प्रति लीटर हैं।
कुमाऊं की बात करें तो हल्द्वानी में पेट्रोल-डीजल के दाम यथावत बने हुए हैं। हल्द्वानी ₹94.44 और डीजल ₹89.58 में बिक रहा है। उधर, रुद्रपुर की बात करें तो पेट्रोल ₹94.62 डीजल ₹89.75 प्रति लीटर बिक रहा है. रुद्रपुर में आज पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर हैं।

शनिवार, 16 जुलाई 2022

उत्तराखंड: रतूड़ी के नेतृत्व में राज्यपाल को ज्ञापन

उत्तराखंड: रतूड़ी के नेतृत्व में राज्यपाल को ज्ञापन 

पंकज कपूर/श्रीराम मौर्य 

देहरादून। उत्तराखंड क्रांति दल जिला महानगर देहरादून द्वारा पुलिस भर्ती के परिणाम व वरीयता सूची जिलेवार घोषित करने तथा डीएलएड अभ्यर्थियों की काउंसलिंग एवं नियुक्ति जनपदवार घोषित किए जाने के लिए यू के डी पूर्व अध्यक्ष एवं संरक्षक बीडी रतूड़ी के नेतृत्व में एक ज्ञापन राज्यपाल को जिलाधिकारी देहरादून के माध्यम से दिया गया। रतूड़ी ने कहा, कि वर्तमान में पुलिस भर्ती प्रक्रिया में जनपद वार कोटा खत्म करने के निर्णय से, पिछड़े एवं दूरदराज के जनपदों के युवाओं के सेवानियोजित होने में कमी आ जाएगी। इसी प्रकार डीएलएड अभ्यर्थियों की काउंसलिंग तथा नियुक्ति राज्य स्तर पर की जा रही है। जबकि, रिक्तियां जनपद वार ही निर्धारित है। इस निर्णय से जनपद के युवाओं को सेवा नियोजित होने के कम अवसर मिलेंगे तथा दूसरी ओर जनपदवार रिक्तियों को भरने में भी कमी आने की पूरी संभावनाएं होगी।

अध्यक्ष महानगर दीपक रावत ने कहा कि सरकार द्वारा यह निर्णय युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। उत्तराखंड राज्य की भौगोलिक संरचना के आधार पिछड़े जनपदों के शैक्षिक और सामाजिक आधार आदि कई ऐसी बातें हैं, जिन्हें देखते हुए रोजगार राज्य स्तर पर निर्धारित नहीं किए जा सकते। कार्यकारी जिला अध्यक्ष किरण रावत का कहना है कि शैक्षिक, सामाजिक एवं शारीरिक भिन्नता के आधार पर उत्तराखंड के हर जिले की अपनी अलग-अलग समस्याएं हैं जिन्हें ध्यान में रखते हुए जनपद वार कोटा निर्धारित किया गया था।

वर्तमान सरकार पहाड़ी जिलों युवाओं की अनदेखी कर रही है। ज्ञापन में राज्यपाल से पुलिस चयन प्रक्रिया को जनपदवार निर्धारित करने तथा डीएलएड अभ्यर्थियों की काउंसलिंग एवं नियुक्ति को जनपदवार ही किए जाने की मांग की है। इस अवसर केंद्रीय महामंत्री जय प्रकाश उपाध्याय, बहादुर सिंह रावत, सुनील ध्यानी, प्रदेश अध्यक्ष महिला प्रमिला रावत, प्रदेश युवा अध्यक्ष राजेंद्र बिष्ट, अशोक नेगी, प्रवीण रमोला, आर शंखधर, जितेंद्र सिंह, विवेक, टीकम सिंह राठौर, रेखा शर्मा, विकास भट्ट, कमलेश नौटियाल, अनुराग पांडे, नीलम रावत, निशा सिंह, सुमित डंगवाल, रविंद्र ममगई, किरण घनशाला, हिमांशु धनाई, दीपक ममगई, रावत, मिथिलेश चौहान,आदि उपस्थित थे।

पेट्रोल ₹94.95 लीटर, डीजल 89.99: उत्तराखंड

पेट्रोल ₹94.95 लीटर, डीजल 89.99: उत्तराखंड
पंकज कपूर 
देहरादून। प्रदेश में पेट्रोल-डीजल के दामों में  उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है। उत्तराखंड में पेट्रोल और डीजल के नए रेट जारी कर दिए गए हैं। आज राजधानी देहरादून में पेट्रोल में 34 पैसे और डीजल के दाम में 34 पैसे की कमी आई है। जिसके बाद देहरादून में आज पेट्रोल ₹94.95 प्रति लीटर और डीजल ₹89.99 प्रति लीटर बिक रहा है।
गौर हो कि पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी हो गए हैं। हर दिन सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। पिछले कई दिनों से प्रदेश में तेल की कीमतें में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन, वैट और अन्य चीजें जोड़ने के बाद दामों में इजाफा होता है। यही कारण है कि पेट्रोल-डीजल के दाम ज्यादा नजर आते हैं।
वहीं, हरिद्वार में आज पेट्रोल में 4 पैसे और डीजल के दाम में 4 पैसे की बढ़ोत्तरी देखी गई है। हरिद्वार में पेट्रोल के दाम ₹94.39 प्रति लीटर और डीजल के दाम ₹ 89.50 रुपए प्रति लीटर हैं।
कुमाऊं की बात करें तो हल्द्वानी में पेट्रोल-डीजल के दाम यथावत बने हुए हैं। हल्द्वानी ₹94.44 और डीजल ₹89.58 में बिक रहा है। उधर, रुद्रपुर की बात करें तो पेट्रोल ₹94.62 डीजल ₹89.75 प्रति लीटर बिक रहा है। रुद्रपुर में आज पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर हैं।

शुक्रवार, 15 जुलाई 2022

पृथ्वी को स्वच्छ व हरा-भरा रखने के लिए जागरूक किया

पृथ्वी को स्वच्छ व हरा-भरा रखने के लिए जागरूक किया 

पंकज कपूर/योगेन्द्र कुमार साहू 
देहरादून/हल्द्वानी। एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू, पर्यावरण प्रेमी वन अनुसंधान केन्द्र प्रभारी मदन सिंह बिष्ट के नेतृत्व में संस्था के माध्यम से उत्तराखंड के लोक पर्व हरेला के आगमन पर हल्द्वानी दमुवाढूंगा स्थित क्वीन्स पब्लिक स्कूल में संस्था पदाधिकारियों ने फलदार छायादार पौधे लगाकर आम जनमानस को पौधारोपण करने एवं वृक्षों को संरक्षण कर पृथ्वी को स्वच्छ एवं हरा-भरा रखने के लिए जागरूक किया।
इस दौरान एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय क्वीन्स पब्लिक स्कूल के प्रबंधक आरपी सिंह ने संयुक्त रुप से कहा, कि सर्वप्रथम लाभ तो वृक्ष शब्द से ही लगने लगता है। इसलिए पर्यावरण और मानव का संबंध बहुत ही घनिष्ठ है। क्योंकि स्वस्थ जीवन और पृथ्वी ग्रह पर जीवन के अस्तित्व में पर्यावरण की महत्वपूर्ण भूमिका है और हम सभी का भोजन हवा पानी एवं अन्य जरूरतें पर्यावरण पर ही निर्भर हैं। क्योंकि, अनेक वृक्षों के छाल बीज फल पत्ते कई प्रकार की दवाइयों में उपयोग किये जाते है। जैसे कि नीम के पत्तो को पानी मे उबालकर नहाने से शरीर के रोग दूर होते है। इसी प्रकार उसके डालियां दातुन के रूप मे उपयोग किया जाता है। साथ ही बहुत से वृक्ष आयुर्वेदिक औषधि होने के साथ वातावरण को स्वच्छ एवं निर्मल रखकर प्राणदायक ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ती है और वृक्षों के द्वारा मिलने वाले लाभों में वाहनों द्वारा उत्सर्जित धुएं और उद्योगों से निकलते प्रदूषण को वृक्षों की उपस्थिति के कारण काफी हद तक नियंत्रित कर वातावरण शुद्ध हो जाता है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को अपने पर्यावरण को बचाए रखकर उसकी रक्षा हमारी नैतिक जिम्मेदारी है। क्योंकि, बिना वृक्षों के हमको शुद्ध वातावरण प्राप्त नहीं हो सकता है। इसलिए सभी को अधिक से अधिक पौधारोपण करना चाहिए।
इस दौरान वृक्षारोपण करने में संस्था संरक्षक हरीश चन्द्र पाण्डेय, अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू, सचिव नन्दकिशोर आर्या, कोषाध्यक्ष बलराम हालदार, मार्गदर्शक आरपी सिंह, मदन सिंह बिष्ट, विनोद जयसवाल, रितिक साहू, गोविन्द, मिस्त्री संदीप यादव, दीपक पलाडिया, जगदीश बिष्ट, धर्मेश नेगी, कविता बिष्ट, उषा पाण्डेय, भारती बेलवाल, ममता पाण्डेय, जानकी देवी, अनिता भंडारी, नीलम चिलकोटी, कविता पाण्डेय, पूजा बोरा, निशा जोशी, निर्मला पाण्डेय, गीता बिष्ट, नीलू कुमारी, प्रमिला गोस्वामी, तनूजा बाथयाल, आरती कुमारी, नीतू बिष्ट, पूजा सेन, चंचल सती, ओपी कपूर, वत्सल शाह, घनश्याम जोशी, सुमित गोयल, भारत आर्या पेर्मेंद्र कुमार, निलेश गुप्ता, विनोद आर्या, सूरज, मिस्त्री सुशील राय, मुकेश कुमार आदि लोग उपस्थित रहे।

बंसल ने यूके में समूचे देश व प्रदेश का नाम रोशन किया

बंसल ने यूके में समूचे देश व प्रदेश का नाम रोशन किया 

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड सरकार में अपर सचिव पद पर तैनात आईएएस श्री सविन बंसल ने यूनाइटेड किंगडम (यूके) में समूचे देश एवं प्रदेश का नाम रोशन किया है। सविन बंसल ने संयुक्त राष्ट् द्वारा आयोजित Climate Resilience Summit-2022 में ‘‘आपदा जोखिम-सुशासन’’ पर भारत एवं यूनिवर्सिटी कालेज लंदन का प्रतिनिधित्व किया।उन्होने नीदरलैण्ड के मास्ट्रीच में आयोजित संयुक्त राष्ट्र विश्वविद्यालय मेरिट में अतिथि वक्ता के रूप में प्रतिभाग किया। सम्मेलन में उन्होने  और 2013 की केदारनाथ त्रासदी के प्रबन्धन और सामुदायिक स्तर जलवायु परिवर्तन के लिए तैयार किये जाने वाली रणनीति पर व्याख्यान दिया। उनके संयुक्त राष्ट्र के इस व्याख्यान के साथ एक और उपलब्धि जुड़ गयी है। संयक्त राष्ट्र ने इस सम्मेलन में श्री बंसल की अनिवार्य उपस्थिति note verbale के लिए दूतावास को निर्देशित किया था।
सविन बंसल वर्तमान में यूनाइटेड किंगडम कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप के माध्यम से लंदन में मास्टर्स स्टडी कर रहे हैं। यूनाइटेड किंगडम कामनवेल्थ स्कॉलरशिप द्वारा वर्ष 2021-22 के लिए भारत से अखिल भारतीय सेवा के केवल एकमात्र अधिकारी का चयन किया गया था। सविन बंसल उत्तराखंड कुमाऊं मंडल के अल्मोड़ा और नैनीताल जिले के डीएम रहे चुके हैं। अपने कार्यकाल के दौरान जनहित से जुडे़ मामलों को त्वरित समाधान के लिए जनता के बीच वे काफी लोकप्रिय रहे।

बुधवार, 13 जुलाई 2022

केदारनाथ धाम, श्रद्धालुओं की संख्या में बड़ा इजाफा

केदारनाथ धाम, श्रद्धालुओं की संख्या में बड़ा इजाफा 

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड स्थित विश्व प्रसिद्ध केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के बाद से चारधाम की यात्रा शुरू हो गई है, जो अब तक जारी है। केदारनाथ धाम की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में इस साल बड़ा इजाफा हुआ है। क्योंकि, इस साल कोरोना महामारी को लेकर केंद्र सरकार की ओर से नियमों में ढील दी गई है। फिर भी मास्क लगाने सहित दो गज की दूरी को अनिवार्य किया गया है।
अभी बारिश का मौसम है और देश के कई राज्यों में भारी बारिश हो रही है जिसमें उत्तराखंड राज्य भी शामिल है। चारधाम यात्रा के दौरान भगवान शंकर के भव्य शिवलिंग के दर्शन के लिए बड़ी संख्या में पहुंचे श्रद्धलुओं को प्राकृतिक आपदा से बचाने के लिए उत्तराखंड की सरकार सीएम पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर केदारनाथ धाम में मौसम बदलने की पल-पल की जानकारियों के लिए जिला प्रशासन ने नया ऑटोमैटिक वैदर सिस्टम स्थापित किया गया है। यात्रियों की सुविधाओं के लिए IIT कानपुर के सहयोग से जिला प्रशासन ने इसे लगवाया है।
इस सिस्टम से शीघ्र ही मौसम संबंधी गतिविधियों की रीडिंग प्राप्त की जा सकेगी। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने बताया कि सिस्टम स्थापित होने से केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्यों, यात्रा संचालन, हैलीकॉप्टर संचालन इत्यादि महत्वपूर्ण कार्यों में काफी सहायता प्राप्त हो सकेगी।
साथ ही केदारनाथ धाम में दर्शन करने आने वाले तीर्थयात्रियों को मौसम की जानकारी समय से प्राप्त होगी, जिसके चलते श्रद्धालु अपनी यात्रा सुगमता के साथ कर सकेंगे। एक सप्ताह के भीतर केदारपुरी क्षेत्र में मौजूद लोगों को केदारनाथ मौसम की पल-पल की जानकारी मोबाइल पर भी मिलने लगेगी।

रविवार, 10 जुलाई 2022

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए 

पंकज कपूर
देहरादून। प्रदेश में पेट्रोल-डीजल के दामों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। उत्तराखंड में पेट्रोल और डीजल के नए रेट जारी कर दिए गए हैं। आज देहरादून में पेट्रोल में 40 पैसे की कमी और डीजल के दाम में 1.35 पैसे की कमी देखी गई है। ऐसे में देहरादून में आज पेट्रोल ₹ 94.95 प्रति लीटर और डीजल ₹88.99 प्रति लीटर बिक रहा है।
गौरतलब हो, कि पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी हो गए हैं। हर दिन सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। पिछले कई दिनों से प्रदेश में तेल की कीमतें में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन, वैट और अन्य चीजें जोड़ने के बाद दामों में इजाफा होता है। यही कारण है कि पेट्रोल-डीजल के दाम ज्यादा नजर आते हैं।
वहीं, हरिद्वार में आज पेट्रोल में 2 पैसे और डीजल के दाम में 2 पैसे की बढ़ोत्तरी देखी गई है। हरिद्वार में पेट्रोल के दाम ₹94.37 प्रति लीटर और डीजल के दाम ₹ 89.48 रुपए प्रति लीटर हैं।

शनिवार, 9 जुलाई 2022

उत्तराखंड में अत्यंत भारी वर्षा होने की संभावना

उत्तराखंड में अत्यंत भारी वर्षा होने की संभावना

पंकज कपूर
देहरादून/हल्द्वानी। मौसम विज्ञान विभाग, देहरादून द्वारा दिनांक 9 जुलाई को प्रातः तात्कालिक मौसम पूर्वानुमान के अनुसार उत्तराखंड राज्य के बागेश्वर, पौड़ी तथा नैनीताल जनपदों के कुछ स्थानों में भारी से बहुत भारी वर्षा होने के साथ कहीं-कहीं अत्यंत भारी वर्षा होने की संभावना है।
जानकारी देते हुए जिला मजिस्ट्रेट श्री धीराज सिंह गर्ब्याल ने समस्त सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि किसी भी आपदा / दुर्घटना की स्थिति में त्वरित स्थलीय निरीक्षण की कार्यवाही करते हुए सूचनाओं का तत्काल आदान प्रदान किया जाएं। 
इसके साथ ही राष्ट्रीय राजमार्ग, लोनिवि, पीएमजीएसवाई, एडीबी, विश्व बैंक को किसी भी मोटर मार्ग के बाधित होने की दशा में उसे तत्काल खुलवाने के निर्देश दिए है। समस्त सम्बन्धित अधिकरी किसी भी प्रकार की आपदा की सूचना जिला आपदा नियंत्रण कक्ष के फोन नम्बर 05942-231178-179 पर तत्काल देना सुनिश्चित करें। आईआरएस टीम में नामित अधिकारियों को एलर्ट रहने के भी निर्देश दिए है।
जिला मजिस्ट्रेट ने समस्त चौकी / थानों को आपदा संम्बन्धी उपकरणों एवं वायरलैस सहित हाई अलर्ट में रहने, साथ ही उक्त अवधि में लोगों के फंसे होने की स्थिति पर खाद्य सामग्री व मेडिकल की व्यवस्था की जाये। नगर एवं कस्बाई क्षेत्रों में नालियों एवं कलवटों के अवरोधों को दूर किया जाएं। उन्होंने निर्देश दिया है कि आपदा के दौरान किसी भी अधिकारी / कर्मचारी के मोबाईल फोन स्विच ऑफ नहीं रहेंगे।

गुरुवार, 7 जुलाई 2022

केवल 40 मिनट का होगा, केदारनाथ का सफर

केवल 40 मिनट का होगा, केदारनाथ का सफर 

पंकज कपूर 
देहरादून। केदारनाथ का सफर 7-8 घंटे के बजाएं, केवल 40 मिनट का होगा। हर उम्र के लोग आसानी से केदारनाथ के दर्शन कर सकेंगे। श्रद्धालुओं की परेशानी को देखते हुए केन्‍द्र सरकार ने यहां पर रोपवे निर्माण का फैसला किया है। रोपवे निर्माण का काम सितंबर तक आवार्ड करने की तैयारी है और अगले साल मार्च तक निर्माण काम शुरू होने की संभावना है। रोपवे निर्माण में 3 साल का समय लग जाएगा‌।
मौजूदा समय केदारनाथ जाने का दो विकल्‍प हैं, पहला पैदल 7-8 घंटे का सफर कर पहुंचा जा सकता है और दूसरा हेलीकॉप्‍टर सेवा है। हेलीकॉप्‍टर सेवा महंगी होने के साथ साथ अधिक मांग होने की वजह से असानी से उपल्‍ब्‍ध नहीं होता है। इस वजह से ज्‍यादा श्रद्धालु पैदल ही केदारनाथ पहुंचते हैं। श्रद्धालुओं की सुविधा को सड़क परिवहन मंत्रालय रोपवे निर्माण पर काम शुरू कर दिया है। इसका निर्माण एनएचएआई की कंपनी एनएचएलएमएल कर रही है।
सीईओ प्रकाश गौड़ बताते हैं कि सड़क परिवहन मंत्रालय के निर्देशन में केदारनाथ रोपवे निर्माण की प्रक्रिया काफी तेजी से चल रही है। सितंबर तक काम अवार्ड कर दिया जाएगा। निर्माण करने वाले कंपनी को साइट बनाने में समय लगेगा। इस तरह संभावना है कि मार्च 2023 तक निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। पहाड़ी इलाका होने की वजह से निर्माण कार्य में समय लगेगा। तीन साल में रोपवे निर्माण पूरा कर लिया जाएगा।इस तरह वर्ष 2026 से केदारनाथ रोपवे से पहुंचा जा सकेगा।
सीईओ प्रकाश गौड़ के अनुसार इस रोपवे में देश में पहली बार विश्‍व की सबसे सुरक्षित तकनीक का इस्‍तेमाल किया जाएगा। थ्री एस ट्राइ केबल तकनीक का इस्‍तेमाल किया जाएगा। इसमें केबल कार तीन तारों पर चलेगी। यह तकनीक विश्‍व में कुछ चुनिंदा जगह इस्‍तेमाल की गयी है।
रोपवे की कुल लंबाई 13 किमी. होगी।
सोनप्रयाग से शुरू होकर केदारनाथ पहुंचेगा।
सोनप्रयाग, केदानाथ के अलावा गौरीकुंड, चिरवासा और लिंटोली स्‍टेशन होंगे।

शुक्रवार, 1 जुलाई 2022

आवारा पशुओं से शहर को मुक्त कराने का अभियान

आवारा पशुओं से शहर को मुक्त कराने का अभियान 

पंकज कपूर
कोटद्वार। उत्तराखंड विधानसभा की अध्यक्ष व कोटद्वार विधानसभा से विधायक डॉ. ऋतु भूषण खंडूड़ी ने आवारा पशुओं से कोटद्वार शहर को मुक्त कराने के लिए अभियान की शुरुआत की है। अभियान से शहर को बेसहारा पशुओं से निजात मिलने की उम्मीद है। ऋतु खंडूड़ी ने घमंडपुर में आवारा पशुओं को गैंडीखाता स्थित भागीरथी धाम आश्रम गौशाला में ले जाने वाले वाहन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया है।
कोटद्वार शहर में यूं ही घूम रहे आवारा और बेसहारा पशुओं को पकड़ने के लिए आभियान शुरू किया गया है। इससे शहर में पशुओं के कारण हो रही वाहन दुर्घटनाओं पर अंकुश लगेगा।इसके अलावा बेसहारा पशुओं को भी गौशाला की शरण मिलेगी।
कोटद्वार नगर निगम क्षेत्र में आवारा पशुओं को पकड़ कर गैंडीखाता स्थित भागीरथी धाम आश्रम में रखा जाएगा, जहां उनकी देखभाल की जाएगी। इस मौके विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि आवारा पशुओं से कोटद्वार को मुक्त करने के अभियान के तहत यह कदम उठाया गया है। उन्होंने कहा कि लगातार आवारा पशुओं के बढ़ने से पर्यटकों व स्थानीय नागरिकों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही थी।

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी किए 

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड में पेट्रोल-डीजल के दामों  में हर दिन उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है।उत्तराखंड में पेट्रोल और डीजल के नए रेट जारी कर दिए गए हैं। शुक्रवार को देहरादून में पेट्रोल और डीजल के दाम में 1-1 पैसे की गिरावट दर्ज की गई है। ऐसे में देहरादून में शुक्रवार को पेट्रोल ₹95.29 प्रति लीटर और डीजल ₹90.33 प्रति लीटर बिक रहा है।
गौरतलब हो, कि पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी हो गए हैं। हर दिन सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। पिछले कई दिनों से प्रदेश में तेल की कीमतें में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन, वैट और अन्य चीजें जोड़ने के बाद दामों में इजाफा होता है। यही कारण है कि पेट्रोल-डीजल के दाम ज्यादा नजर आते हैं।
वहीं, हरिद्वार में आज पेट्रोल और डीजल के दाम में 6-6 पैसे की कमी आई है। ऐसे में हरिद्वार में पेट्रोल के दाम ₹94.39 प्रति लीटर और डीजल के दाम ₹ 89.50 रुपए प्रति लीटर हैं।
कुमाऊं की बात करें तो हल्द्वानी में पेट्रोल-डीजल के दाम यथावत बने हुए हैं। हल्द्वानी ₹94.44 और डीजल ₹89.58 में बिक रहा है। उधर, रुद्रपुर की बात करें तो पेट्रोल ₹94.62 डीजल ₹89.75 प्रति लीटर बिक रहा है। रुद्रपुर में आज पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर हैं।

मंगलवार, 28 जून 2022

80 साल की दादी ने पुल से गंगा में लगाई छलांग

80 साल की दादी ने पुल से गंगा में लगाई छलांग  

पंकज कपूर     
हरिद्वार। गर्मियों में नदी व नहर किनारे अठखेलियां करते युवाओं को आपने जरूर देखा होगा। लेकिन, हरिद्वार में एक करीब 80 साल की दादी ने पुल से गंगा में छलांग लगा कर सबको चौंका दिया। गंगा में कूदने के बाद वृद्धा बिल्कुल युवाओं की तरह तैर कर काफी दूर निकल गई।
वृद्धा का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वृद्धा हरियाणा की बताई जा रही है। हालांकि, पुलिस को इस बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।
पुलिस ने बताया कि एक वीडियो सामने आया है। जिसमें एक वृद्धा पुल से गंगा में छलांग लगाती नजर आ रही है। पुलिस छलांग लगाने वालों पर अभियान चलाकर कार्रवाई करती है। इस वीडियो की भी जांच कराई जा रही है।

गुरुवार, 9 जून 2022

काशीपुर: मानक से 2 गुना अधिक बढ़ा, वायु प्रदूषण

काशीपुर: मानक से 2 गुना अधिक बढ़ा, वायु प्रदूषण

पंकज कपूर
काशीपुर। उत्तराखंड पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का काशीपुर में स्थापित क्षेत्रीय कार्यालय पिछले कुछ समय से भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुका है। अधिकारियों की गलत नीतियों के कारण काशीपुर की फिजा धीरे-धीरे दिल्ली के मानिंद प्रदूषण का शिकार होती जा रही है। जानकार बताते हैं कि वायु प्रदूषण यहां मानक से करीब दो गुना अधिक बढ़ गया है। यही नहीं, बल्कि देश के सर्वाधिक प्रदूषित 102 शहरों में पौराणिक नगरी काशीपुर का भी नाम शुमार हो चुका है।
सरकार को समय रहते अधिकारियों की कार गुजारियों पर गौर करना होगा अन्यथा भविष्य के परिणाम गंभीर प्रतीत होते हैं। ज्ञातव्य है कि औद्योगिक आस्थान महुआखेड़ा गंज समेत आसपास के क्षेत्रों में नियम कायदों को दरकिनार कर चल रही आधा दर्जन से अधिक पेपर मिलों के अलावा कल कारखानों से निकलने वाले जहरीले धुएं एवं प्रदूषित पानी के कारण स्वास्थ्य एवं पर्यावरण पर भारी खतरा मंडराने लगा है। जानकार बताते हैं कि कुंडा थाना क्षेत्र के हल्दुआ साहू इलाके में संचालित एक पेपर मिल से निकलने वाले जहरीले हुए एवं प्रदूषित पानी के कारण आसपास के ग्रामीण पीलिया एलर्जी अस्थमा छय रोग के अलावा गले फेफड़े एवं पेट के कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से पीड़ित हो रहे हैं। दूसरी ओर क्षेत्र में कीट पतंगे गिलहरी नेवले कछुए घोंघे जुगनू मेंढक जैसे जीव भी तेजी से बढ़ते प्रदूषण के कारण लगभग समाप्त होते जा रहे हैं। आरोप है कि उत्तराखंड पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी स्थानीय प्रशासन एवं क्षेत्रीय नेताओं के दबाव में कार्य कर रहे हैं। आरोप यह भी है कि मिलों द्वारा प्राधिकरण को दिए गए हलफनामे असत्य हैं। मिलो में आज भी पूर्ववत भूमिगत जल का अत्यधिक दोहन किया जा रहा है जिससे ना केवल पानी के स्रोत खत्म हो रहे हैं बल्कि मिल के द्वारा केमिकल युक्त पानी को प्राकृतिक नालों में छोड़ने से स्थानीय लोगों के हैंडपंपों का पानी पीने योग्य भी नहीं रह गया है।
जल जनित गंभीर बीमारियों से अकाल मौतों का खतरा पैदा हो गया है। कल कारखाने हवा और पानी दोनों को समान रूप से प्रदूषित कर रहे हैं। उद्योगों से निकलने वाले धुएं एवं प्रदूषित जल तय मानकों से अधिक खतरनाक रूप धारण कर चुके हैं। आसपास बसी इंसानी आबादी के साथ-साथ पशु-पक्षी भी प्रभावित हो रहे हैं पर्यावरण संतुलन में प्रमुख भूमिका निभाने वाले कीट पतंगों की प्रजातियां भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुके हैं। हवा में सल्फर डाइऑक्साइड एवं नाइट्रोजन ऑक्साइड की मात्रा लगातार बढ़ने के कारण यहां लोगों को अब गंभीर बीमारी का खतरा सताने लगा है। बताते हैं कि विभागीय अधिकारियों द्वारा ऑनलाइन मॉनिटरिंग नहीं हो रही है। मिलों में लगे इक्यूबमेंट भली प्रकार से संचालित नहीं किए जा रहे। साथ ही मार्ग से होकर गुजरने वाले वाहनों के प्रदूषण स्तर नहीं मांपे जा रहे हैं।

बुधवार, 8 जून 2022

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी कियें

उत्तराखंड: पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी कियें 

पंकज कपूर  
देहरादून। उत्तराखंड में पेट्रोल-डीजल को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। जहांं पेट्रोल-डीजल में उतार चढ़ाव लगातार देखने को मिलता रहता है। बुधवार को उत्तराखंड में पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी कर दिए गए हैं।
आपको बता दें कि आज बुधवार को राजधानी में देहरादून में पेट्रोल के दाम 4 पैसे और डीजल के दाम में भी 4 पैसे की कमी देखी गई है। जिसके बाद देहरादून में पेट्रोल ₹95.30 प्रति लीटर और डीजल ₹90.34 प्रति लीटर है।
हरिद्वार में आज पेट्रोल और डीजल के दाम में 1 पैसे की मामूली बढ़त हुई हैै। हरिद्वार में पेट्रोल के दाम ₹94.40 प्रति लीटर और डीजल के दाम ₹89.51 रुपए प्रति लीटर हैं।

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...