उत्तराखंड लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
उत्तराखंड लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 17 सितंबर 2021

टीकाकरण को लेकर प्रशिक्षित करने के निर्देश जारी

पंकज कपूर         
नैनीताल। डॉ. बीसी कर्नाटक ने जनपद के समस्त पशु चिकित्साधिकारियों को ब्लॉक स्तर पर अपने अधीनस्थ स्टाफ को टीकाकरण को लेकर प्रशिक्षित करने के निर्देश जारी किये हैं। साथ ही जिन पशु चिकित्साधिकारियों की प्रगति न्यून है, उनको तत्काल प्रगति में सुधार लाने हेतु निर्देशित किया गया। अपर निदेशक, पशुपालन विभाग, कुमाऊं मंडल हल्द्वानी। नैनीताल डॉ. बीसी कर्नाटक ने जनपद के समस्त पशु चिकित्साधिकारियों को ब्लॉक स्तर पर अपने अधीनस्थ स्टाफ को टीकाकरण को लेकर प्रशिक्षित करने के निर्देश जारी किये हैं। साथ ही जिन पशु चिकित्साधिकारियों की प्रगति न्यून है, उनको तत्काल प्रगति में सुधार लाने हेतु निर्देशित किया गया।प्रशिक्षण कार्यक्रम में पशु चिकित्साधिकारी डॉ० प्रतिभा द्वारा ब्रुसेला टीकाकरण पर पीपीटी के माध्यम से जनपद के समस्त पशुचिकित्साधिकारियों को विस्तार से बताया गया। साथ ही एनएलएम द्वारा जारी की गई विडियो एसओपी के माध्यम से सम्बन्धित जानकारी दी गई। कार्यक्रम में डॉ. बीसी कर्नाटक, अपर निदेशक, कुमाऊं मण्डल नैनीताल द्वारा जनपद के समस्त पशु चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिये गये कि ब्लॉक स्तर पर अपने अधीनस्थ स्टॉफ को प्रशिक्षित करेंगे, ताकि ब्रुसेला टीकाकरण को ससमय पूर्ण किया जा सके एवं टीकाकरण करते समय एसओपी का अक्षरशः पालन किया जाए।

सीएम धामी ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक हटाईं

पंकज कपूर         
नैनीताल। सीएम ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक हटा दी है। अदालत ने कोविड से जुड़े प्रतिबंधों के साथ यात्रा शुरू करने के आदेश दिए हैं। सरकार ने कहा है कि, कोविड नियमों का पालन करते हुए बदरीनाथ, केदारनाथ सहित चारों धामों में यात्रा शनिवार 18 सिंतबर से शुरू होगी।
सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने बताया कि, देवस्थानम बोर्ड यात्रा के लिए अलग से एसओपी जारी करेगा। कोरोना काल में चारधाम यात्रा बंद कर दी गई थी, लेकिन अब यात्रा को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए गये।
इससे पहले मामले की सुनवाई मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति आरएस चौहान और न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा की खण्डपीठ ने की। यात्रा को खोलने की याचना करते हुए सरकार की ओर से अदालत में शपथ पत्र पेश किया। महाधिवक्ता एसएन बाबुलकर ने कोर्ट को बताया कि, उत्तराखंड के साथ-साथ देश में कोविड मामलों में कमी आयी है।
सभी मंदिर, स्कूल, न्यायालय, संसद खुल चुके हैं। इसलिए चारधाम यात्रा को भी कोविड के नियमों के पालन के साथ खोलने की अनुमति दी जाय। महाधिवक्ता ने कहा कि, चारधाम यात्रा बंद होने से लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है।
दूसरे पक्ष के अधिवक्ता शिव भट्ट ने कहा कि, सरकार ने चारधाम यात्रा के लिए जो एसओपी जारी की है, उसमें कमियां हैं। यात्रा को प्रतिबंधों के साथ खोला जाए।
खण्डपीठ ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि, वर्ष में एक बार होने वाली चारधाम यात्रा अक्तूबर में खत्म हो जाती है। यात्रा मार्ग पर काम करने वाले व्यापारी, स्थानीय लोग यात्रा पर निर्भर हैं। इसके बन्द होने से उनके सामने रोजी-रोटी का संकट पैदा हो जाता है।
दोनों पक्षों के सुनने के बाद न्यायालय ने प्रतिबंधों के साथ यात्रा शुरू करने के आदेश दिए। अदालत ने कहा है कि भविष्य में अगर कोविड केसों में बढ़ोतरी होती है और यात्रा को स्थगित करना पड़े तो इसके लिए भी व्यवस्था रखें।
नेगेटिव आरटीपीसीआर या दो टीकों की रिपोर्ट जरूरी
कोर्ट ने कहा कि, श्रद्धालुओं की आरटीपीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट और कम्पलीट वैक्सीनेशन के सर्टिफिकेट की जांच के लिए चारों धामों में चेक पोस्ट बनाए जाएं।
श्रद्धालुओं के लिए कुंड में स्नान करने पर प्रतिबंध रहे और एंटी स्पीटिंग ऐक्ट को चारों धामों में लागू किया जाए। संबंधित जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वे यात्रा को सफल बनाने के लिए स्थानीय लोगों एवं एनजीओ की मदद ले सकते हैं, लेकिन एनजीओ एवं स्थानीय लोग, सही एवं जिम्मेदार होने चाहिए।
कोर्ट ने कहा कि, यात्रा के दौरान सरकार मेडिकल हेल्पलाइन बनाए। जिससे अस्वस्थ्य लोगों को सुविधाएं मिल सकें। स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से चिकित्सा की संपूर्ण सुविधा हो। वहां चिकित्सक, नर्सें, मेडिकल स्टाफ समेत ऑक्सीजन बेड और वेंटीलेटर की व्यवस्था हो। जगह-जगह पर सुलभ शौचालय बनाये जाएं।
अदालत ने कहा है कि, चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिलों में होने वाली चारधाम यात्रा के दौरान आवश्यकता के अनुरूप पुलिस फोर्स लगाकर पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए जाएं। तीनों जिलों के विधिक सेवा प्राधिकरण को निर्देश दिए हैं कि वे यात्रा की मॉनिटरिंग करें और प्रत्येक सप्ताह इसकी रिपोर्ट कोर्ट में दें।
यात्रा अभी शुरू होती है, तो नवंबर महीने के मध्य तक चलेगी। गंगोत्री धाम के कपाट दीवाली के अगले दिन बंद होंगे। यमुनोत्री धाम और केदारनाथ धाम के कपाट भैय्यादूज के दिन बंद होंगे। बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने पर दशहरा के दिन फैसला होगा।

गुरुवार, 16 सितंबर 2021

एचसी ने सरकार द्वारा दायर शपथपत्र पर सुनवाई की

पंकज कपूर      
नैनीताल। चारधाम यात्रा को शुरू करने को लेकर उत्तराखंड हाईकोर्ट ने सरकार द्वारा दायर शपथपत्र पर सुनवाई की गई। कोर्ट ने मामले को सुनने के बाद अपने 28 जून के निर्णय से यात्रा पर लगाई गई रोक को हटाते हुए सरकार को कोविड के नियम का पालन करते हुए प्रतिबंध के साथ चारधाम यात्रा शुरू करने के आदेश दे दिए हैं। वहीं हाईकोर्ट के आदेश के बाद राज्य सरकार को बड़ी राहत मिली है। 
इसके साथ ही हजारों यात्रा व्यवसायियों व तीर्थ पुरोहितों समेत उत्तरकाशी, चमोली व रुद्रप्रयाग जिले के निवासियों की आजीविका पटरी पर लौटने की उम्मीद है।

बुधवार, 15 सितंबर 2021

यूके: पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश की चेतावनी जारी की

पंकज कपूर     
देहरादून। मौसम विभाग ने 15 सितंबर को कुमाऊं मंडल के अधिकांश पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश की चेतावनी जारी की है। जिसमें नैनीताल, बागेश्वर व पिथौरागढ़ ,बागेश्वर जनपदों में कहीं कहीं तीव्र बौछार व भारी बारिश हो सकती है। 16 को पौड़ी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ जिले में कहीं कहीं तीव्र बौछार, भारी बारिश हो सकती है। 17 सितंबर को कुमाऊं एवं गढ़वाल मंडल के पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं-कहीं भारी बारिश की संभावना है। जिनमें पौड़ी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में कहीं-कहीं तीव्र बौछार व भारी बारिश का येलो अलर्ट रहेगा।

राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया

पंकज कपूर      
देहरादून। उत्तराखंड के नवनियुक्त राज्यपाल के शपथ ग्रहण को लेकर बुधवार को राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया गया। जहाँ लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत) गुरमीत सिंह ने राज्यपाल पद की शपथ ली। उच्च न्यायालय नैनीताल के मुख्य न्यायाधीश राघवेंद्र सिंह चौहान ने नवनियुक्त राज्यपाल को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ कार्यक्रम के दौरान, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, कई कैबिनेट मंत्री समेत शासन के आला अधिकारी और सेना से जुड़े तमाम अधिकारी भी मौजूद रहे।
आपको बता दें कि राज्यपाल बेबी रानी मौर्य के इस्तीफे के बाद लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह को उत्तराखंड का राज्यपाल बनाया गया है। उन्हें चीन मामलों का विशेषज्ञ माना जाता है और करीब चार दशकों तक सैन्य सेवा के बाद फरवरी 2016 में सेवा निर्मित हुए गुरमीत सिंह ने बुधवार को राज्यपाल पद की शपथ ली। राज्य गठन के बाद बतौर 8वे राज्यपाल के रूप में गुरमीत सिंह ने शपथ ली।

मंगलवार, 14 सितंबर 2021

वनरक्षक 894 पदों में भर्ती विज्ञापन जारी किया

पंकज कपूर         
देहरादून। वन विभाग के अंतर्गत वनरक्षक के पदों में नौकरी हेतु आवेदन करने के इच्छुक अभ्यर्थियों के पास सुनहरा अवसर है। क्योंकि अभी हाल ही उत्तराखंड अधीनस्थ चयन आयोग ने वनरक्षक 894 पदों में भर्ती विज्ञापन जारी कर भारतीय नागरिकों आवेदन आमंत्रित किया है। यदि आप भी उक्त पदों में नौकरी हेतु आवेदन करने के इच्छुक है तो कृपया विभाग द्वारा जारी विभागीय नोटिफिकेशन को पहले अच्छे से पढ़ें उकसे बाद अर्हता होने पर ही ऑनलाइन आवेदन करें। 
विभाग द्वारा जारी विज्ञापन अनुसार 894 पदों में भर्ती हेतु केवल ऑनलाइन आवेदन किया जा सकेगा। आवेदक को  विभागीय वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करने  लिए 24 अगस्त से 07 अक्टूबर 2021 तक का समय निर्धारित किया गया है। उत्तराखंड अधीनस्थ चयन बोर्ड द्वारा आयोजित समूह - ग  के अंतर्गत भर्ती विज्ञापन जारी किया है। उक्त पदों में नियमानुसार सभी राज्यों के अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन कर भर्ती प्रक्रिया में भाग ले सकते है। आवेदन के सम्बन्ध में अन्य सभी जानकारी को नीचे क्रमश। देख सकते है। 

यूके: नंबर स्विच ऑफ करने का अभियान शुरू हुआ

पंकज कपूर             
देहरादून। ऊर्जा निगमों के कर्मचारियों और धामी सरकार के बीच बनती दिख रही सहमति अब टूट के करार पर नजर आ रही है। ऊर्जा निगमों के कर्मचारियों ने 14 सूत्री माँगों पर आश्वासन के बावजूद प्रगति न हो पाने से ख़फ़ा होकर नए सिरे से आंदोलन का बिगुल फूँक दिया है। ऊर्जा निगम कार्मिकों ने शनिवार से रोज शाम पांच बजे से अगले दिन सुबह 10 बजे तक सरकारी मोबाइल नंबर स्विच ऑफ करने का अभियान भी शुरू हो गया है।
इसके अलावा कार्मिकों ने हफ्ते में दो दिन गेट मीटिंग और 23, 25, व 27 सितंबर को सत्याग्रह करने का ऐलान कर दिया है। इसके बाद भी सरकार माँगों पर मुहर नहीं लगाती है तो कार्मिकों ने 6 अक्तूबर से हड़ताल पर जाने का एलान किया गया। कर्मचारियों ने धामी सरकार को चेताया है कि जब तक लंबित समस्याओं पर कार्रवाई नहीं होती, आंदोलन जारी रहेगा।
शनिवार को देहरादून सहित तमाम जिलों में तीनों ऊर्जा निगमों के कर्मचारियों ने पावर हाउस, बांध, बैराज, ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन और उत्तराखंड पावर कॉरपोरेशन के विभिन्न बिजली घरों पर 10 बजे से 12 बजे तक गेट मीटिंग की। ज्ञात हो कि जुलाई में सहमति के बावजूद सरकार माँगों पर फैसला लेने को आगे नहीं बढ़ पाई तो विद्युत अधिकारी कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा ने 31 अगस्त से आंदोलन छेड दिया था।

पहाड़ी जिलों में तैनाती सुनिश्चित करने के आदेश दिए

पंकज कपूर           
देहरादून। लेकिन, कोरोना काल के चलते शासन द्वारा शून्य सत्र का हवाला देते हुए इस ट्रांसफर कार्रवाई पर रोक लगाई गई थी। हालांकि, पिछले सप्ताह ही उत्तराखंड शासन ने इस ट्रांसफर आदेश पर रोक हटाते हुए इसे बहाल करने की अनुमति दे दी थी। ऐसे में इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए सोमवार को पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार द्वारा कार्मिक आईजी और गढ़वाल डीआईजी सहित संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर हर हाल में सितंबर महीने के अंत तक सभी संबंधित ट्रांसफर पुलिस कर्मियों को पहाड़ी जिलों में तैनाती सुनिश्चित करने के आदेश दिए हैं।
जानकारी के मुताबिक मैदानी से पहाड़ी और पहाड़ से मैदानी जिलों में दारोगा-इंस्पेक्टर के तबादलों की सूची में 15 से 20 ट्रांसफर कर्मियों ने अपने व्यक्तिगत पारिवारिक व अन्य मेडिकल संबंधित समस्याओं का हवाला देते मुख्यालय कार्मिक को प्रार्थना पत्र देकर ट्रांसफर रोकने का आग्रह किया है। ऐसे में इस विषय पर ईटीवी भारत को मिली जानकारी के मुताबिक ट्रांसफर आपत्ति प्रार्थना पत्रों का आकलन करने पर लगभग 2 फीसदी पुलिस कर्मियों को ही बेहद व्यक्तिगत समस्याओं के कारण पहाड़ चढ़ने के ट्रांसफर आदेश से राहत मिल सकती है। अगले 2 दिन में आ सकता है आदेश। दारोगा-इंस्पेक्टरों के तबादले के संबंध में डीआईजी गढ़वाल नीरू गर्ग का कहना है कि फिलहाल मुख्यालय की तरफ से लिखित आदेश उनको प्राप्त नहीं हुआ है। जैसे ही आदेश प्राप्त होगा उसके तत्काल बाद ही संबंधित पुलिस कर्मियों को ट्रांसफर के लिए रिलीव कर रवाना कर दिया जाएगा। हालांकि, डीआईजी ने यह भी साफतौर पर कहा कि अगले 1 से 2 दिन में इस संबंध में आदेश मिलने की संभावना है, जिसके उपरांत जिन 108 दारोगा और 19 इंस्पेक्टरों को मार्च-अप्रैल महीने में ट्रांसफर आदेश जारी हुए थे, उन्हें संबंधित जिलों में नियमावली अनुसार तैनात किया जाएगा।

सीएम ने वैकल्पिक उर्जा विभाग की समीक्षा की

पंकज कपूर       
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को सचिवालय में उर्जा एवं वैकल्पिक उर्जा विभाग की समीक्षा की। उन्होंने उर्जा निगमों में कार्यों की गुणवत्ता एवं सुधारों के प्रति ध्यान देने के साथ ही योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाये जाने के लिये सामुहिक जिम्मेदारी के साथ कार्य करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्यों की धीमी प्रगति के लिये अधिकारियों की जिम्मेदारी भी निर्धारित कर ‘‘की परफारमेंस इंडिकेशन से इसे जोड़ा जाय। 
 मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने निर्देश दिये कि उर्जा निगमों के कार्यकलापों में तेजी लाये जाने तथा गुणात्मक सुधार के लिये टेक्निकल परफारमेंस आदि में व्यवस्था बनायी जाय। उन्होंने उर्जा निगमों के स्तर पर संचालित परियोजनाओं एवं योजनाओं में टेक्निकल परफारमेंस आडिट की व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने, संचालित विद्युत परियोजनाओं का पर्यवेक्षण के साथ एसओपी तैयार किये जाने, पुरानी विद्युत परियोजनाओं का अनुरक्षण एवं मरम्मत पर हुए व्यय तथा इससे उपलब्ध विद्युत क्षमता विकास का विवरण तैयार किये जाने के भी निर्देश दिये हैं। 
मुख्यमंत्री ने शहरों के विस्तारीकरण के साथ पावर स्टेशनों की स्थापना के लिये भूमि की उपलब्धता आदि का मास्टर प्लान भी तैयार किये जाने, तथा प्रदेश के सामग्र इनर्जी प्लान के साथ लाइन लॉस को कम करने के लिये कारगर प्रयासों की भी जरूरत बतायी। उन्होंने इसके लिये अधिकारियों की जिम्मेदारी भी निर्धारित करने को कहा। 
मुख्यमंत्री ने प्रदेश में विद्युत बिलों में गडबडी की शिकायतों को दूर करने के लिये 15 सितम्बर से 30 सितम्बर तक शिविर लगाकर बिजली बिलों के सम्बन्ध में जनता की शिकायतों का निराकरण करने के भी निर्देश दिये हैं। उन्होंने विद्युत योजनाओं से सम्बंधित कार्यों की टेण्डर प्रक्रिया को पारदर्शी बनाये जाने पर भी ध्यान देने को कहा ताकि अधिक से अधिक प्रतिभागी इसमें भागीदारी कर सके। मुख्यमंत्री ने विद्युत स्टेशनों की स्थापना विद्युत लाइनों आदि से सम्बन्धित वन भूमि हस्तान्तरण के प्रकरणों के निस्तारण में तेजी लाये जाने के भी निर्देश दिये। 
मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिये कि प्रदेश में उद्योगों को बिजली कटौती का सामना न करना पडे इसकी प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। मुख्यमंत्री ने अण्डर ग्राउण्ड केबलिंग एवं स्मार्ट मीटर योजना के क्रियान्वयन में भी तेजी लाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने केन्द्र सरकार के स्तर पर लम्बित योजनाओं का विवरण तैयार करने के साथ ही लखवाड व्यासी जमरानी आदि परियोजनाओं के क्रियान्वयन में भी तेजी लाये जाने के निर्देश दिये। इस सम्बन्ध में यदि आवश्यकता हुई तो केन्द्रीय उर्जा एवं सिंचाई मंत्रियों से भी मुख्यमंत्री द्वारा वार्ता की जायेगी।  सचिव उर्जा श्रीमती सौजन्या ने व्यापक प्रस्तुतीकरण के माध्यम से उर्जा के तीनों निगमों तथा उरेडा की कार्य प्रगति, संचालित परियोजनाओं एवं योजनाओं की स्थिति विद्युत उत्पादन खपत भावी योजनाओं तथा आय व्ययक से सम्बन्धित जानकारी दी गई।
इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ. एस.एस.सन्धु, अपर मुख्य सचिव  आनन्द वर्धन, अपर सचिव इकबाल अहमद, प्रबन्ध निदेशक दीपक रावत के साथ ही उर्जा निगमों एवं उरेडा, विद्युत सुरक्षा से सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

वैश्विक स्तर पर भी हिन्दी भाषा की स्वीकार्यता बढ़ी

पंकज कपूर         
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेशवासियों को हिन्दी दिवस की शुभकामनाएं दी है। अपने संदेश में मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि किसी भी देश की मातृभाषा ही अपनी संस्कृति एवं परम्पराओं से जोड़ने में मददगार होती है। आज वैश्विक स्तर पर भी हिन्दी भाषा की स्वीकार्यता बढ़ी है।
उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर हिन्दी भाषा का और तेजी से प्रचार-प्रसार हो, इसके लिए सामूहिक प्रयासों की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने सभी से अपने दैनिक जीवन में हिन्दी के अधिकाधिक प्रयोग का संकल्प लेने की भी अपेक्षा की है।

सोमवार, 13 सितंबर 2021

पेट्रोल-डीजल समेत रसोई गैस के दामों में उछाल

पंकज कपूर       
काशीपुर। बेतहाशा बढ़ती मंहगाई व पेट्रोल-डीजल समेत रसोई गैस के दामों में भारी उछाल को लेकर आज से महानगर कांग्रेस कमेटी के बैनर तले एमपी चैक के समीप कांग्रेसियों का 24 घंटे का विशाल धरना-प्रदर्शन शुरू हो गया। कांग्रेसियों ने प्रदर्शन के दौरान भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए कहा कि किसान विरोधी तीनों काले कानूनों को वापस लेते हुए पेट्रोल डीजल व रसोई गैस के दामों में यदि समय रहते घटोत्तरी नहीं की गई तो परिणाम गंभीर होगें। इसके साथ ही कांग्रेसियों ने मांग की काशीपुर को अतिशीघ्र जिले की श्रेणी में शामिल करते हुए निर्माणाधीन फ्लाईओवर का कार्य अविलम्ब पूरा किया जाये साथ ही नगर निगम का 2 प्रतिशत दाखिल- खारिज शुल्क समाप्त करते हुए हाउस टैक्स कम किया जाए व टूटी फूटी द्रोणा सागर माइनर नहर (सड़क) को दुरूस्त कराया जाये। उपरोक्त मामले काशीपुर की ज्वलंत समस्याओं में शामिल है। धरना-प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि उपरोक्त सभी मांगों को लेकर कांग्रेस पिछले लम्बे समय से आंदोलनरत है लेकिन सरकार व स्थानीय प्रतिनिधि इस पर सुनवाई करने से गुरेज कर रहे हैं। महानगर अध्यक्ष संदीप सहगल ने विशाल धरना प्रदर्शन का नेतृत्व करते हुए कहा कि यदि उनकी मांगों को अविलम्ब पूरा नहीं किया गया तो कांग्रेस आगे और उग्र आंदोलन करने को बाध्य होगी। विशाल धरना प्रदर्शन में बरिष्ठ कांग्रेस नेत्री डाॅ दीपिका गुड़िया आत्रेय, शेख अब्दुल अजीज कुरैशी, अब्दुल सलीम एड, गौतम मेहरोत्रा, सुरेन्द्र सागर, जय सिंह गौतम, इन्दर सिंह एडवोकेट, उमेश जोशी एडवोकेट, शफीक अहमद अंसारी, महेंद्र बेदी, वीरज्योत सिंह ग्रेवाल,अर्पित मेहरोत्रा, दीपक गुप्ता, मंसूर अली मंसूरी, मंसूर अली मेफेयर, सचिन नाडिग,इल्यास माहिगीर, राशिद फारुकी आदि तमाम कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

जनपदों में भारी बारिश का यलो अलर्ट जारी किया

पंकज कपूर         
देहरादून। राज्य भर में लगातार हो रही बरसात इस बार लोगों के लिए मुसीबत बन कर सामने आई है। वही आपको बता दें कि मौसम विभाग के अनुसार उत्तराखंड में बारिश से फिलहाल राहत के आसार नहीं हैं, मौसम विभाग ने अगले 4 दिन यानी 16 सितंबर तक राज्य के पर्वतीय जनपदों में भारी बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है तथा साथ ही मैदानी जनपदों में भी हल्की से मध्यम वर्षा की आशंका जताई गई है। इसके अलावा विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए ऊंचाई वाले पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी का भी अनुमान बताया है।
मौसम विभाग ने 13 सितंबर को कुमाऊं मंडल के अधिकांश पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश की चेतावनी जारी की है जिसमें नैनीताल, बागेश्वर व पिथौरागढ़ जनपदों में कहीं कहीं तीव्र बौछार व भारी बारिश हो सकती है। 14 को पौड़ी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ जिले में कहीं कहीं तीव्र बौछार, भारी बारिश हो सकती है। 15 सितंबर को कुमाऊं एवं गढ़वाल मंडल के पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं-कहीं भारी बारिश की संभावना है,जिनमें पौड़ी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में कहीं कहीं तीव्र बौछार व भारी बारिश का येलो अलर्ट रहेगा।
जबकि 16 सितंबर को कुमाऊं मंडल के पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं-कहीं तीव्र बौछार के साथ बारिश की संभावना, तथा गढ़वाल मंडल के भी कुछ क्षेत्रों में गरज चमक के साथ भारी बारिश के साथ आकाशीय बिजली गिरने की संभावना जताई गई है।

रविवार, 12 सितंबर 2021

यूपी: कानून बनाए जाने की मांग उठना शुरू हुआ

पंकज कपूर           
हरिद्वार। उत्तराखंड प्रदेश में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक लगाने के कानून बनाए जाने की मांग उठना शुरू हो गया है। स्वामी आनंद स्वरूप महाराज ने उत्तराखंड में एक समुदाय विशेष की लगातार बढ़ रही आबादी पर चिंता जताते हुए प्रदेश में गैर हिंदुओं के प्रवेश को रोकने के लिए कानून बनाने की मांग की है।
उन्होंने मांग करते हुए कहा है कि समुदाय विशेष के व्यक्तियों को उत्तराखंड प्रदेश में आने से रोकने के लिए स्थाई व अस्थाई निवास पर पूर्ण रूप से पाबंदी लगाई जाए। उनके अनुसार धर्म नगरी के संतों का मत है कि उत्तराखंड हिमालय में हिंदू देवी-देवताओं का वास है लेकिन कई वर्षों से पहाड़ से लेकर ऋषिकेश और हरिद्वार तक गैर हिंदुओं की आबादी तेजी से बढ़ी है ऐसे में प्रदेश में गैर हिंदुओं को प्रवेश को रोकने के लिए कानून बनाए जाने की आवश्यकता है

कांग्रेस कमेटी के सहप्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी

पंकज कपूर                  
देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की जिला/शहर/ब्लाक एवं नगर इकाइयों में संगठन की गतिविधियों की गहन समीक्षा हेतु प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा पार्टी के वरिष्ठ नेतागणों को जिला/शहर कांग्रेस कमेटी के प्रभारी एवं सहप्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
प्रदेश कांग्रेस महामंत्री संगठन एवं वरिष्ठ प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कांग्रेस पार्टी की जिला/शहर/ब्लाक एवं नगर इकाइयों में संगठन की गतिविधियों की गहन समीक्षा हेतु जिला कांग्रेस कमेटी अल्मोड़ा में नारायण पाल सिंह, प्रभारी एवं विनोद कोरंगा सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी रानीखेत में राजेन्द्र सिंह भण्डारी, पूर्व मंत्री प्रभारी एवं श्री चन्दन सिंह कानू, सहप्रभारी, जिला काग्रेस कमेटी बागेश्वर मे जोत सिंह गुनसोला, पूर्व विधायक प्रभारी एवं श्रीमती गंगा पंचोली सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी चम्पावत में दान सिंह भण्डारी पूर्व विधायक प्रभारी एवं नेत्र सिंह कुंवर सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी चमोली में ललित फस्र्वाण पूर्व विधायक प्रभारी एवं मनोज रावत, सचिव सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी देहरादून में शैलेन्द्र सिंह रावत पूर्व विधायक प्रभारी एवं अभिषेक राकेश, सहप्रभारी, महानगर कांग्रेस कमेटी देहरादून में जोत सिंह बिष्ट, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रभारी एवं सरिता नेगी सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी परवादून में फुरकान अहमद, विधायक प्रभारी एवं श्याम लाल आर्य सहप्रभारी, महानगर कांग्रेस कमेटी हरिद्वार में बलवीर सिंह नेगी, पूर्व विधायक प्रभारी एवं प्रदीप तिवारी महामंत्री सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी हरिद्वार ग्रामीण में मनोज तिवारी, पूर्व विधायक प्रभारी एवं नीनू सहगल, सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी रूड़की ग्रामीण मे सुरेन्द्र सिह नेगी, पूर्व मंत्री प्रभारी एवं मुकेश नेगी सहप्रभारी, महानगर कांग्रेस कमेटी रूड़की में गोविन्द सिंह कुंजवाल, विधायक प्रभारी एवं श्री अरूणोदय सिंह नेगी सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी नैनीताल में हरीश धामी, विधायक प्रभारी एवं कैलाश पाण्डेय सहप्रभारी, महानगर कांग्रेस कमेटी हल्द्वानी में मदन बिष्ट, पूर्व विधायक प्रभारी एवं राजीव कण्डारी सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी पौड़ी गढ़वाल में स0 इन्द्रजीत सिंह बिन्द्रा प्रभारी एवं गुल्जार अहमद सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी कोटद्वार में राजकुमार, पूर्व विधायक प्रभारी एवं श्रीमती शान्ति रावत सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी पिथौरागढ में करण महरा, उपनेता प्रतिपक्ष प्रभारी एवं दीप सती सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी डीडीहाट में हेमेश खर्कवाल, पूर्व विधायक प्रभारी एवं श्रीमती अंजु लुुठी सहप्रभारी, जिला काग्रेस कमेटी रूद्रप्रयाग में मयूख महर, पूर्व विधायक प्रभारी एवं शान्ति भट्ट सहप्रभारी, जिला काग्रेस कमेटी टिहरी गढ़वाल में विजयपाल सजवाण, पूर्व विधायक प्रभारी एवं बालेश्वर सिंह सहप्रभारी, जिला काग्रेस कमेटी देवप्रयाग श्रीमती ममता राकेश, विधायक प्रभारी एवं सुरजीत अग्निहोत्री सहप्रभारी, महानगर कांग्रेस कमेटी काशीपुर हेतु मंत्री प्रसाद नैथानी, पूर्व मंत्री प्रभारी एवं संजय किरोला सहप्रभारी, शहर कांग्रेस कमेटी रूद्रपुर में महेन्द्रपाल सिंह प्रदेश उपाध्यक्ष प्रभारी एवं मुशर्रफ अली टिहरी सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी उधमसिहंनगर में मनोज रावत विधायक प्रभारी एवं श्री बिट्टू कर्नाटक सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी उत्तरकाशी हेतु विक्रम सिंह नेगी, पूर्व विधायक प्रभारी एवं मदनमोहन शर्मा सहप्रभारी, जिला कांग्रेस कमेटी पुरोला हेतु मातवर सिह कण्डारी, पूर्व मंत्री को प्रभारी एवं सागर मनवाल को सहप्रभारी बनाया गया है।

आयोजित कार्यक्रम में भाजपा का दामन लिया

पंकज कपूर       
देहरादून। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव-2022 से पहले भाजपा ने कांग्रेस में सेंधमारी कर डाली है। पुरोला से कांग्रेस विधायक राजकुमार ने रविवार को नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा का दामन लिया है। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, सीएम पुष्कर सिंह धामी, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक सहित भारी संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में राजकुमार ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। राजकुमार 2007 में सहसपुर सीट से भाजपा के टिकट पर विधायक बने थे। 2012 में निर्दलीय चुनाव लड़े लेकिन उनको हार का मुंह देखना पड़ा था। इस चुनाव में भाजपा प्रत्याशी मालचंद ने राजकुमार को हराया था और वह दूसरे नंबर पर रहे थे। लेकि, 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में राजकुमार कांग्रेस के टिकट पर पुरोला सीट से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे थे। आपको बता दें कि इससे पहले उक्रांद नेता व धनौल्टी विधायक प्रीतम पंवार भी भाजपा में शामिल हो चुके हैं।
सूत्रों के मानें तो विधायक ने भाजपा केंद्रीय नेतृत्व के सामने देहरादून की एक सीट से टिकट देने की शर्त भी रखी थी। लेकिन, अंतिम फैसला पार्टी हाईकमान को ही करना होगा राजकुमार को इससे पहले शनिवार को ही भाजपा की सदस्यता ग्रहण करनी थी, लेकिन किसी कारणवश वो शामिल नहीं हो पाए थे। राजकुमार ने देहरादून के डीएवी पीजी कॉलेज से ग्रेजुशन किया है, लेकिन वह कभी भी छात्र राजनीति में सक्रीय नहीं रहे।

शनिवार, 11 सितंबर 2021

अभिनंदन के लिए जनता का आभार प्रकट किया

पंकज कपूर       
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि देवभूमि उत्तराखण्ड को देश की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि यह काम समाज, संतों और सरकार के संयुक्त प्रयास से ही पूरा हो सकेगा। योजना बनाई जा रही है कि अगले 10 वर्ष में उत्तराखण्ड को देश का नंबर–1 राज्य बनाया जा सके। यह बात उन्होंने टिहरी जिला मुख्यालय में आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए कही। टिहरी जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों के विकास के लिए महत्वपूर्ण घोषणाएं करते हुए उन्होंने शानदार अभिनंदन के लिए क्षेत्र की जनता का आभार प्रकट किया।
समारोह में उन्होंने 16431.72 लाख लागत की कुल 49 योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण, टिहरी यूथ क्लब का उद्घाटन, देवप्रयाग के वैष्णो माता ग्राम संगठन के हिलांस तुलसी चाय उत्पाद का अनावरण और पर्यटन आवास गृह सुनहरीगाड जाखणीधार की चाबी का हस्तांतरण किया। इसके अलावा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत लाभार्थियों को चेक भी वितरित किए। 

एससी ने आवास पर अपना अवैध खाली नहीं किया

पंकज कपूर           
नैनीताल। नैनीताल नगर पालिका ने मल्लीताल गोपाला सदन के एक करीब 30 वर्ष पुराने अवैध कब्जेदार से बड़ी जंग जीत ली है। देश की सर्वोच्च न्यायालय तक पहुंचे एक अवैध कब्जेदार सभासद मसरूर अहमद खान को, जो खुद अधिवक्ता भी हैं। सुप्रीम कोर्ट ने पालिका के आवास पर अपना अवैध खाली ही खाली नहीं कर दिया है। 
बल्कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर 11 लाख 13 हजार रुपए से अधिक का अवैध कब्जे की अवधि का किराया भी नगर पालिका में चुका दिया है। इसके बाद नगर पालिका के होंसले जहां बुलंद हैं, वहीं नगर पालिका के आवासों पर काबिज सैकड़ों अवैध कब्जेदारों में हड़कंप मचना तय है। अब उन पर भी न केवल अवैध कब्जा खाली करने, वरन उन पर भी अवैध कब्जे की अवधि का किराया भी चुकाने की दुधारी तलवार लटक गई है।

कई जिलों में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए

पंकज कपूर      

देहरादून। उत्तराखंड में आज सुबह करीब 5 बजकर 58 मिनट पर चमोली, पौड़ी, अल्‍मोड़ा आदि जिलों में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, जोशीमठ के निकट रिक्टर पैमाने पर 4.6 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए।

इसका केंद्र जमीन से 5 किलोमीटर नीचे बताया गया। झटके से लोगों में दहशत फैल गई। लोग घरों से बाहर निकल आए। हालांकि अभी भूकंप से नुकसान की कोई सूचना नहीं है।

जनपदों में 3 दिन भी बारिश की संभावना जाहिर की

पंकज कपूर            
देहरादून। उत्तराखंड के विभिन्न जनपदों में अगले तीन दिन भी बारिश की सम्भावना जाहिर की गई है। 12, 13 व 14 सितंबर को भारी से भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है और आम जनता से सावधान रहने की अपील की गई है। 
मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रपयाग, पिथौरागढ़, बागेश्वर में तीन दिनों में भारी से भारी बारिश हो सकती है। अल्मोड़ा में भी रूकर—रूक कर बारिश का अनुमान है, वहीं 13 और 14 को भी राज्य के चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़ जिलों में भारी बारिश, तीव्र बौछारें पड़ने की सम्भावना जाहिर की गई है। मौसम निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि मौसम का मिजाज कुछ दिनों तक स्थिर रहने की उम्मीद है। कहीं तेज व कहीं हल्की बारिश पहाड़ों में होते रहेगी।
इधर मौसम विभाग द्वारा जारी अलर्ट को देखते हुए समस्त जिलाधिकारियों ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को चौकस रहने के निर्देश दिये हैं। खास तौर पर प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्गों पर विशेश व्यवस्था की गई है। आम जनता को भी बिना विशेष कारण नदी—नालों के आस—पास नहीं जाने की हिदायत दी गई है।

पार्टी मुख्यालय में बीजेपी की सदस्यता लेंगे विधायक

पंकज कपूर         
देहरादून। विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उत्तराखंड कांग्रेस को एक बड़ा झटका लग सकता है। कांग्रेस के पुरोला से विधायक राजकुमार बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस विधायक राजकुमार कल दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में बीजेपी की सदस्यता लेंगे।
इससे पहले राजकुमार 2007 से 2012 के समय में सैदपुर से बीजेपी के विधायक थे, वहीं 2012 में पुरोला से राजकुमार ने टिकट मांगा था, लेकिन पार्टी ने राजकुमार को टिकट नही दिया, जिसके बाद राजकुमार कांग्रेस के टिकट पर 2017 विधानसभा चुनाव में पुरोला से जीतकर विधायक बने थे। वहीं सूत्रों से यह जानकारी मिल रही है कि वह एक बार फिर से अपने घर वापसी करने जा रहे हैं और कल दिल्ली में वह बीजेपी को शामिल होंगे।
पूर्व विधायक राजकुमार को बीजेपी में शामिल कराने की पिक्चर राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी का हाथ बताया जा रहा है, इससे पहले भी अनिल बलूनी ने धनोल्टी से निर्दलीय विधायक प्रीतम पंवार को बीजेपी की सदस्यता दिलाई थी। साथ ही कुमाऊँ से भी एक विधायक की भाजपा में जाने की चर्चाएं जोरों पर है।

टीकाकरण को लेकर प्रशिक्षित करने के निर्देश जारी

पंकज कपूर          नैनीताल। डॉ. बीसी कर्नाटक ने जनपद के समस्त पशु चिकित्साधिकारियों को ब्लॉक स्तर पर अपने अधीनस्थ स्टाफ को टीकाकरण को लेकर प...