सोमवार, 1 जुलाई 2024

डीएम ने रैली को हरी झंडी दिखाकर, रवाना किया

डीएम ने रैली को हरी झंडी दिखाकर, रवाना किया

विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान जागरूकता रैली को डीएम ने दिखाई हरी झण्डी

कौशाम्बी। जिलाधिकारी मधुसूदन हुल्गी ने विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान जागरूकता रैली को कलेक्ट्रेट परिसर से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह रैली कलेक्ट्रेट परिसर से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र,मंझनपुर तक निकाली गई। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सुष्पेंद्र कुमार एवं जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. अनुपमा मिश्रा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे जनपद में विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान 01 जुलाई से 31 जुलाई 2024 तक संचालित किया जाएगा, जिसके अन्तर्गत जनपदवासियों को मच्छरों एवं संक्रामक रोगों से बचाव के उपायों के विषय में जागरूक किया जाएगा। 
स्वस्थ्य व्यवहार अपनाना है, संचारी रोगों को हराना है। मच्छरों से बचाव के लिए दरवाजों व खिड़कियों पर जाली लगवानें, नियमित मच्छरदानी का प्रयोग करनें, मच्छररोधी उपाय अपनाने, अनुपयोगी वस्तुओं में पानी इकट्ठा न होने देंने, पानी की टंकी पूरी तरह से ढक कर रखनें, पूरी बॉह वाली कमीज पैन्ट और मोजे पहननें, घर और कार्य स्थल के आस-पास पानी जमा न होने देने, कूलर व गमलों आदि को सप्ताह में खाली कर सुखाने एवं गड्ढ़ों में जहॉ पानी इकट्ठा हो, उसे मिट्टी से भर देंने आदि के प्रति जागरूक किया जाएगा। इसी प्रकार संक्रामक रोगों से बचाव के लिए नालियों में जल जमाव रोकने एवं नियमित सफाई करने, जानवर बाडे़ घर से दूर रखने, जंगली झाड़ियों को नियमित साफ करने, चूहे-छछूंदरों से बचनें, पीने के लिए इण्डिया मार्का के पानी का प्रयोग करने, खाने से पहले साबुन से हाथ धोनें, खुले में शौच न करने तथा नियमित शौचालय का प्रयोग करने आदि के प्रति जागरूक किया जाएगा।
    
दिमागी बुखार की रोकथाम के लिए क्या करें ?

जे0ई0 के टीके 02 वर्ष तक के बच्चों को नियमित टीकाकरण सत्र में लगवाएं। घरों के आस-पास साफ-सफाई रखें। मच्छरो से बचने के लिए पूरी बॉह वाली कमीज और पैंट पहनें। स्वच्छ पेयजल ही पिएं, आस-पास जल जमाव न होने दें। कुपोषित बच्चों को प्रति विशेष ध्यान रखें। बुखार होने पर बच्चों को बिना किसी देरी के उपचार के लिए सरकारी अस्पताल ले जाएं। 
दस्तक अभियान 11 जुलाई से 31 जुलाई 2024 तक संचालित किया जाएगा। दस्तक अभियान के अन्तर्गत आशा कार्यकत्री हर घर का भ्रमण कर संचारी रोगों से बचाव तथा इसके लक्षणों एवं उपचार सुविधाओं के प्रति जागरूक करेंगी। इसकें साथ ही डेंगू फाइलेरिया, मलेरिया, दिमागी बुखार एवं क्षय रोग के लक्षणयुक्त रोगियों की खोज कर जांच एवं उपचार के लिए सूची बनाएंगी।
गणेश साहू

विस्फोटक 'सेबेक्स 2' का सफल परीक्षण, सफलता

विस्फोटक 'सेबेक्स 2' का सफल परीक्षण, सफलता 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। भारत को दुनिया का सबसे पॉवरफुल गैर-परमाणु विस्फोटक बनाने में सफलता हासिल हुई है। विस्फोटक SEBEX 2 का सफल परीक्षण हो चुका है। इस गैर परमाणु विस्फोटक की विनाशकारी कैपेसिटी बहुत अधिक है।
किसी भी विस्फोटक की तबाही मचाने की क्षमता का आंकलन टीएनटी (ट्राइनाइट्रोटोलुइन) के आधार पर किया जाता है। उस पैमाने पर SEBEX 2 (सेबेक्स 2) का आंकलन किया गया। उसकी विस्फोटक कैपेसिटी टीएनटी से दोगुने से अधिक है। 

नौसेना कर चुकी है SEBEX 2 का परीक्षण

इस नई उप​लब्धि से भारत डिफेंस सेक्टर में एक कदम आगे बढ़ा है। भारतीय सेना की मारक क्षमता में बढ़ोत्तरी होगी और डिफेंस सेक्टर में निर्यात को भी बढ़ावा मिलेगा। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सेबेक्स 2 के परफॉर्मेंस से यह दुनिया के सबसे पॉवरफुल विस्फोटकों में से एक बना है, जो गैर परमाणु विस्फोटक है। नौसेना इसका परीक्षण भी कर चुकी है और यूज के लिए हरी झंडी भी दे दी है। 

क्या है सेबेक्स 2 की खासियत ?

सेबेक्स 2 नई विधि से तैयार किया गया है। यह बम की विस्फोटक कैपेसिटी बढ़ा सकता है। वह भी बिना वजन बढ़ाए। तोपखाने के गोले और वारहेड्स की विनाशकारी शक्ति में जबरदस्त इजाफा लाएगा। इसकी ताकत ऐसी है कि दुनिया के देश सेबेक्स 2 की डिमांड कर सकते हैं। मतलब रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में भारत के लिए एक नया मार्केट खुलने की उम्मीद है। वैसे भी इस वक्त दुनिया भर की ​ताकतों का ध्यान अपनी मौजूदा हथियार प्रणाली को घातक बनाने पर लगा हुआ है। 

भारतीय सेना की मारक क्षमता में होगा इजाफा

रिपोर्ट के अनुसार, यह विस्फोटक ब्रह्मोस मिसाइल के वॉरहेड में यूज होने वाले विस्फोटक से भी घातक है। मिसाइल के वॉरहेड में करीबन 1.50 टीएनटी का विस्फोटक यूज होता है। दुनिया भर के वॉरहेड में टीएनटी की तुलना में 1.25-1.30 कैपेसिटी का विस्फोटक यूज होता है। जानकारी के अनुसार, विस्फोटक उतना ही घातक साबित होगा, जिसकी टीएनटी ज्यादा होगी। सेबेक्स 2 तेजी से पिघलने वाले विस्फोटक के कंपोजिशन के आधार पर तैयार किया गया है। इससे युद्ध सामग्री की मारक क्षमता में इजाफा होगा। चाहे वह हवा से गिराए जाने वाले बम हों या फिर तोपखाने के गोले।

कौशाम्बी: 'एएसपी' की अध्यक्षता में बैठक आयोजित

कौशाम्बी: 'एएसपी' की अध्यक्षता में बैठक आयोजित 

मुहर्रम त्यौहार को लेकर ताजियादारो व संभ्रांत लोगों के साथ अपर पुलिस अधीक्षक ने की बैठक

कौशाम्बी। चरवा थाना में मुहर्रम त्यौहार को लेकर ताजियादारो व संभ्रांत लोगों की बैठक अपर पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में आयोजित हुईं। एएसपी ने लोगो से की शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की बैठक में शामिल लोगो से उनकी समस्या जानी साथ ही किसी प्रकार के उपद्रव व अराजकता के विरूद्ध कठोर कार्यवाही का पुलिस को निर्देश दिया गया। ताजियादारो को बताते हुए उन्होंने कहा कि ताजिया मानक के मुताबिक, होनी चाहिए। किसी भी प्रकार का फेर बदल नही किया जा सकता है, परंपरागत विगत वर्षो की भांति ही ताजिया जुलूस निकाला जाएगा, कोई नया बदलाव नहीं किया जाएगा। ताजिया की लम्बाई ऊंचाई की मानकों की भी चर्चा की गई। जिसमे लम्बाई का मानक चार से पांच फीट व ऊंचाई सात फिट रखने को कहा गया। ताजियादारो ने पुलिस के सामने अपनी समस्याओं में गली गली में लटके विद्युत तारों की समस्या के बारे बताया।
वहीं, सैयद सरावा गांव के ताजियादारों ने पुलिस को बताया कि उनके यहां बिजली की तार के साथ साथ रेलवे लाइन क्रॉसिंग की समस्या है। जिससे भीड़ में शामिल लोग रेलवे लाइन पार करने लगते है। जिससे बड़ी दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है। पुलिस प्रशासन को इस पर विशेष ध्यान देना होगा। अपर पुलिस अधीक्षक ने लोगो को हर सम्भव पुलिस प्रशासन द्वारा मदद का विश्वास दिया और नवागत थाना प्रभारी चरवा जगदीश कुमार को लोगो की बताई गई। समस्याओं को नोट कर उसके समाधान करने के लिए निर्देशित किया गया।
रजनीश कुमार

परमाणु हथियार, छठे नंबर पर पहुंचा 'भारत'

परमाणु हथियार, छठे नंबर पर पहुंचा 'भारत' 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। चीन और पाकिस्तान के खतरे को देखते हुए भारत भी परमाणु जखीरा को बढ़ा रहा हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले एक साल के अंदर भारत के परमाणु हथियारों में तेजी देखने को मिली हैं और भारत परमाणु हथियार रखने वाले देशों की लिस्ट में छठे नंबर पर पहुंच गया हैं।
रिपोर्ट के अनुसार, जनवरी 2024 तक भारत के पास 172 परमाणु हथियार हो गए हैं। जबकि जनवरी 2023 में भारत के पास 164 परमाणु हथियार थें। यानि की भारत भी अपनी परमाणु जखीरों को बढ़ाना शुरू कर दिया हैं। 
वहीं, दुनिया में चीन अपनी परमाणु शक्ति को तेजी से बढ़ा रहा हैं। जनवरी 2024 में चीन के पास परमाणु हथियारों की संख्या 500 पहुंच गई हैं। इतना ही नहीं चीन ने पहली बार कुछ परमाणु हथियारों को हाई आपरेशनल अलर्ट मोड पर भी रखा है।
रिपोर्ट की मानें तो भारत भविष्य में चीन के खतरों से निपटने के लिए अपनी परमाणु ताकत को बढ़ा रहा हैं। वर्त्तमान में भारत की परमाणु ताकत पाकिस्तान से हट कर चीन की तरफ सिफ्ट हो गई हैं। भारत को आने वाले समय में चीन से ज्यादा खतरा हैं।

गोवंश की निर्मम हत्या, 3 गिरफ्तार, एक फरार

गोवंश की निर्मम हत्या, 3 गिरफ्तार, एक फरार 

मनोज सिंह ठाकुर 
सिवनी। मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में एक बार फिर गोवंश की निर्मम हत्या करने का मामला सामने आया है। जहां चार लोगों ने मिलकर गाय को मौत के घाट उतार दिया। इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जबकि एक आरोपी फरार है। पुलिस ने केस दर्ज कर फरार आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। यह पूरी घटना छपारा थाना के केवलारी गांव की है। सिवनी में 50 से अधिक गोवंश की हत्या का मामला अभी थमा नहीं था कि एक और केस सामने आया गया। केवलारी ग्राम में चार आदिवासियों ने गौ की निर्मम तरीके से हत्या कर दी। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। 
जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। इस मामले में पुलिस ने गोवंश वध अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जबकि एक आरोपी फरार बताया जा रहा है।
फिलहाल पुलिस फरार आरोपी की सरगर्मी से तलाश में जुटी हुई है। आपको बता दें कि हाल ही में सिवनी के धूमा मझगवां और धनौरा में नदी और तालाबों के पास 50 से अधिक गोवंशों के शव मिले थे। मवेशियों के शव को देखकर लग रहा था कि उनकी हत्या की गई थी। इस मामले में प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने बड़ा एक्शन लिया। सिवनी कलेक्टर क्षितिज सिंघल और एसपी राकेश कुमार को तत्काल प्रभाव से हटा दिया था। साथ ही उच्चस्तरीय जांच के लिए टीम गठित की थी। 50 से ज्यादा गौवंश हत्याकांड मामले के तार महाराष्ट्र के नागपुर से जुड़े मिले थे। पुलिस ने 6 अन्य आरोपियों को चिन्हित कर उनके घरों पर दबिश दी। लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले सभी फरार हो गए थे। पुलिस ने फरार आरोपियों पर दस-दस हजार का इनाम घोषित किया था। आपको बता दें कि इस मामले में अब तक पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

'वैंकूवर नाइट्स' की कमान संभालेंगे रिजवान

'वैंकूवर नाइट्स' की कमान संभालेंगे रिजवान 

अखिलेश पांडेय 
इस्लामाबाद। पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने हाल ही में बाबर आजम की कप्तानी में T20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है। बाबर आजम की कप्तानी में पाकिस्तान की टीम का प्रदर्शन बेहद ही खराब रहा और पाकिस्तान की टीम इस T20 वर्ल्ड कप के पहले ही चरण से बाहर हो गई।
बाबर आजम जब से पाकिस्तान के कप्तान बने हैं तभी से इस टीम के बुरे दिन शूरु हो गए हैं और एक-एक करके टीम हर एक महत्वपूर्ण टूर्नामेंट में बुरी तरह से चोक कर जाती है। लेकिन अब बाबर आजम से जुड़ी हुई एक ऐसी खबर आ रही है, जिसे सुनकर उनके सभी समर्थक बेहद ही मायूस हो गए हैं।

बाबर आजम के हाथ से गई कप्तानी

हाल ही में कैरिबियाई सरजमीं पर खेले गए T20 World Cup में पाकिस्तान की टीम का प्रदर्शन बेहद ही निराशाजनक रहा है और इसी वजह से टीम को कई छोटी टीमों के हाथों बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है। इसी वजह से अब खबर आ रही है कि, बाबर आजम को कप्तानी की रेस से भी बाहर कर दिया गया है। दरअसल बात यह है कि, बाबर आजम को T20 कनाडा की टीम वैंकूवर नाइट्स ने अपनी टीम का कप्तान नहीं नियुक्त किया है।

इस खिलाड़ी को मिली बाबर आजम की जगह कप्तान

जब यह खबर आई थी कि, वैंकूवर नाइट्स की टीम ने बाबर आजम (Babar Azam) को टीम में शामिल किया है, उस वक्त यह कहा जा रहा था कि, आगामी समय यही टीम की कमान संभालते हुए दिखाई देंगे। मगर अब खबर आ रही है कि, वैंकूवर नाइट्स की मैनेजमेंट ने बाबर आजम की जगह पर उन्हीं के हमवतन विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान को मौका देने का फैसला कर लिया है। T20 के चौथे सीजन में अब वैंकूवर नाइट्स की कमान अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान संभालते हुए दिखाई देंगे।

ये दो पाकिस्तानी भी हैं टीम का हिस्सा

T-20 के चौथे सीजन के लिए वैंकूवर नाइट्स की मैनेजमेंट ने जिस स्क्वाड का चयन किया है, उसमें कई पाकिस्तानी खिलाड़ी शामिल हैं। वैंकूवर नाइट्स के स्क्वाड में बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान के साथ ही साथ मोहम्मद आमिर और आसिफ अली जैसे बेहतरीन खिलाड़ी भी हैं।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-255, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. मंगलवार, जुलाई 02, 2024

3. शक-1945, आषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि-एकादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:03, सूर्यास्त: 06:43।

5. न्‍यूनतम तापमान- 38 डी.सै., अधिकतम- 25+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...