सोमवार, 7 सितंबर 2020

सभी आईएएस असल में वो अधिकारी नहीं

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। सितम्बर माह चलेगा पोषण अभियान। जिलाधिकारी
भारत सरकार के द्वारा सितम्बर महिने को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। जिसके तहत सुपोषण को बढ़ावा देने के लिए सामुदायिक प्रोत्साहन हेतु पूरे माह विभिन्न प्रकार की गतिविधियाॅ आयोजित होगी। जिलाधिकारी जसजीत कौर ने आज पूरे माह चलने वाले पोषण अभियान का शुभारंभ कलेक्ट्रेट सभागार में फीता काटकर किया। इसके उपरांत जिलाधिकारी ने आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम का प्रमुख उद्देश्य यह है कि अतिकुपोषित बच्चों का चिन्हांकन किया जाए। ओर अधिक से अधिक कुपोषण वाटिका का निर्माण कराया जाये। कार्यक्रम में जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया कि पोषण माह को सफल बनाने हेतु लगभग 15 विभागों के अधिकारियों को इस सम्बन्ध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किये हैं।जिलाधिकारी ने पोषण माह से जुड़े संबंधित विभागीय अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि पोषण माह को सफल बनाने के संबंध में जो भी दायित्व पर गए हैं,उनका निर्वाहन प्राथमिकता से करें ताकि जिला प्रथम स्थान पर रहे।इसके अलावा परे माह में स्वास्थ्य एवं बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारियों द्वारा कुपोषित बच्चों की पहचान स्वास्थ्य जाॅच व जरूरी उपचार के साथ ही माताओं को बच्चें की बेहतर देखभाल एवं स्वयं के खान-पान से जुड़ी-विभिन्न प्रकार की जानकारियां उपलब्ध कराई जायेंगी।स्तनपान के साथ ही ऊपरी आहार से बच्चों मेें कुपोषण के स्तर को कम करने में मदद मिलती है। बच्चों के जीवन के प्रथम 1000 (एक हजार) अन्तर्गत 06 माह तक केवल स्तनपान, (पानी, शहद घुट्टी कुछ भी नहीं) सातवें माह से अर्द्धठोस आहार की शुरूआत, 02 वर्ष तक सतत स्तनपान जारी रखने व सुपोषित आहार से शिशु के शरीर को पर्याप्त पोषक तत्व मिलते हैं। जिससे उसका बेहतर शारीरिक व मानसिक विकास होता हैं। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियाॅं एवं आशाएॅ पूरे माह भ्रमण करके माताओं को जागरूक करेंगी।
आंगनबाड़ी कार्यकत्रियाॅ एवं आशाएॅ पोषण माह के दौरान महिलाओं को फल एवं हरी पत्तेदार सब्जियों के महत्व को भी बतायेगी तथा उन्हें अपने दैनिक आधार में सम्मिलित करने के लिए प्रेरित भी करेंगी। मौसमी फल, पत्तेदार सब्जी, बैंगन, टमाटर, भिन्डी, तोरई, लौकी, परवल, कद्दू, पुदीना, गाजर, सहजन एवं तुलसी अदरख, गिलोय आदि स्वास्थ्य वर्धक पौधों को लगाने का भी विशेष अभियान चलाया जायेगा।इस अभियान के अन्तर्गत आंगनबाड़ी केन्द्र एवं शासकीय भवन परिसरों में प्राथमिकता के आधार पर पौधरोपण होगा तथा लोगों को अपने आस-पास औषधीय पौधों को लगाने के लिए भी प्रेरित किया जायेगा। कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ती द्वारा अति कुपोषित बच्चों के चिन्हिकरण के दौरान कॉविड 19 के दृष्टिगत मुंह पर मास्क,सैनिटाइजर हमेशा अपने साथ रखा जाए।इसके अलावा उनके द्वारा कोरोना महामारी के संबंध में भी परिवार वालों को कोरोना से सुरक्षा हेतु मुंह पर मास्क लगाने, हाथों को बार बार साबुन पानी से धोने, एवं अनावश्यक बाजारों में जाने से बचने के लिए भी प्रेरित करना है,और यदि उस परिवार में किसी व्यक्ति बुखार या खांसी के लक्षण मिलते हैं तो उसकी भी जानकारी उपलब्ध कराई जाएं। ताकि समय से उसकी टेस्टिंग कराई जा सके।शिक्षा विभाग द्वारा विद्यालयों में किचेन गार्डन की स्थापना के निर्देश भी शासन स्तर से जारी किये गये है ताकि बच्चों को मध्यान्ह भोजन में ताजी एवं पोषक तत्वों से भरपूर सब्जियाॅ भोजन के रूप में मिल सकें।जिला कार्यक्रम अधिकारी संतोष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि सभी कार्यक्रम कोविड-19 के दृष्टिगत निर्धारित प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए आयोजित किये जायेगे।
पोषण माह की मुख्य गतिविधियाॅः
सर्वप्रथम गंभीर तीव्र कुपोषित बच्चों की प्रारंभिक पहचान।स्तनपान के साथ ऊपरी आहार को बढ़ावा देना। किचेन/न्यूट्री गार्डन हेतु पौधे लगाये जाने पर बढ़ावा। वृक्षारोपण का अभियान (‘‘पोषण के लिए पौधे‘‘)पोषण विषय पर आॅन-लाइन प्रतियोगिता।डिजिटल पोषण पंचायत। बेबिनार्स (वीडियों कान्फ्रेन्स)।बेस्ट प्रैक्टिस एवं सक्सेज स्टोरीज।समुदाय स्तर पर जन-सहभागिता। सैम बच्चों में कुपोषण के स्तर में कमी लाना। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शंभू नाथ तिवारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी संतोष कुमार श्रीवास्तव, सहित पोषण माह से जुड़े अधिकारी एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ती आदि उपस्थित रही।             


दुनिया के सबसे महंगें आम की कीमत

यहाँ उगाया जाता है दुनिया का सबसे महंगा आम, कीमत जानकार हो जाएंगे हैरान।


टोक्यो। इस दुनिया में बहुत सी ऐसी चीजें है जिन्हें आम लोगों का खरीदना बहुत मुश्किल है। लेकिन चीज की अपनी कीमत और विशेषताएं भी होती है। आज हम आपको दुनिया के सबसे महंगे आम के बारे में बताने जा रहे हैं आपने आम तो खूब खाए होंगे लेकिन ऐसा आम बिल्कुल भी नहीं खाया होगा जिसकी 1 किलो आम की कीमत लगभग 3-4 लाख रुपये है।
दुनिया का सबसे महंगा:
जापान के मियाजाकी प्रांत में ताईयो नो तामागो (एग ऑफ द सन) आम की एक ऐसी किस्म है, जिसे पूरे जापान में बेचा जाता है यहां हर साल सबसे पहले उगाए गए इस खास और महंगे आम की बोली लगाई जाती है।
जिसमें इनके दाम आसमान छूने लगते हैं।
साल 2017 में इस आम के एक जोड़े की बोली लगाई गई थी, जिसमें यह रिकॉर्ड 3600 डॉलर यानी करीब दो लाख 72 हजार रुपये में बिकी थी। प्रत्येक आम का वजन 350 ग्राम था। महज 700 ग्राम आम की कीमत जब ढाई लाख रुपये से ज्यादा है तो एक किलो खरीदने के लिए तो तीन लाख रुपये से ज्यादा ही खर्च करने पड़ेंगे।             


अमेरिकाः सोने-चांदी के रेट में गिरावट दर्ज

वाशिंगटन डीसी। आपको बता दें कि अगस्त महीने में अमेरिका में 13.71 लाख नौकरियां बढ़ी हैं, जिससे बेरोजगारी की दर गिरकर 8.4 फीसदी पर आ गई है। सोना के अलावा चांदी की कीमतों में भी तगड़ी गिरावट देखी गई है। महीने भर में चांदी करीब 10,000 रुपये तक गिर गई है। पिछले हफ्ते भर में चांदी की कीमतों में 1200 रुपये से भी अधिक की गिरावट देखने को मिली है।


सोने की कीमतों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। आखिरी कारोबारी हफ्ते में सोने की कीमत में काफी गिरावट देखने को मिली है। 3 दिनों में सोने की कीमत करीब 800 रुपये प्रति 10 ग्राम गिरी। और पिछले महीने के हिसाब से सोने की कीमतों में करीब 5500 रुपये तक की गिरावट आ चुकी है। फिलहाल सोना 50,690 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर आ चुका है। सोने के साथ चांदी की कीमतों में भी करीब 1200 रुपये तक की गिरावट देखे को मिली है। अगस्त में सोने की कीमत आसमान छू रही थी। अगस्त में प्रति 10 ग्राम सोने की कीमत 56,200 रुपये हो गई थी। लेकिन तब से लेकर अब तक इसमें करीब 5500 रुपये की गिरावट आई है। यानी कि महीने भर में सोना 10 फीसदी तक गिर गया। लेकिन सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर सोने की कीमत लगातार कम क्यों होती जा रहीं है। सोने में गिरावट की सबसे बड़ी वजह है अमेरिका का रोजगार का डेटा। इसकी वजह से अमेरिका डॉलर मजबूत हुआ है, जिसने सोने पर दबाव बढ़ा दिया है। इस बढ़ते दबाव के चलते सोने की कीमतों में भारत में गिरावट देखी जा रही है। आपको बता दें कि अगस्त महीने में अमेरिका में 13.71 लाख नौकरियां बढ़ी हैं, जिससे बेरोजगारी की दर गिरकर 8.4 फीसदी पर आ गई है। सोना के अलावा  चांदी की कीमतों में भी तगड़ी गिरावट देखी गई है। महीने भर में चांदी करीब 10,000 रुपये तक गिर गई है। पिछले हफ्ते भर में चांदी की कीमतों में 1200 रुपये से भी अधिक की गिरावट देखने को मिली है             


'सीएम' उद्धव को बम से उड़ाने की धमकी

मुंबई। महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के घर (मातोश्री) को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। बताया जा रहा था कि एक शख्स ने दुबई से सीएम उद्धव ठाकरे को फोन करके मातोश्री को बम से उड़ाने की धमकी दी थी। इस खबर के सामने आने के बाद ही मुंबई पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। इस बीच महाराष्ट्र सरकार में मंत्री अनिल परब ने दाऊद इब्राहिम से मुख्यमंत्री को आए फोन कॉल की पुष्टि की।


अनिल परब ने कहा कि मातोश्री निवास स्थान पर एक कॉल आया था। दाऊद का आदमी होने की उसने बात कही। मुख्यमंत्री से बात करने की मांग फोन करने वाले व्यक्ति ने की। इस कॉल में मातोश्री को उड़ानी कोई धमकी नहीं दी गई। हमने इस कॉल के बारे में पुलिस कमिश्नर को जानकारी दे रखी है। पुलिस अपना काम कर रही है, लेकिन ये कॉल सच या झूठ था इसकी जांच पुलिस कर रही है।            


मरीजों के ठीक होने ने तोड़ दिया रिकॉर्ड

राणा ओबराय


सोमवार को चंडीगढ में कोरोना ग्रस्त मरीजो ने ठीक होने का तोड़ा रिकॉर्ड


चंडीगढ़। हरियाणा, पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ में सोमवार को ठीक होने वालों ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है। पहली बार 215 लोग ठीक होकर घर लौटे हैं। वैसे हर रोज 200 से अधिक मामले आने शुरू हो गए हैं, लेकिन सोमवार को कुछ राहत मिली है। क्योंकि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या संक्रमित मरीजों से ज्यादा है। सोमवार को जहां 232 मामले आए हैं, वहीं पर कोरोनो ने तीन लोगों की जान ले ली। लेकिन सोमवार को 232 की जगह 295 मरीज ठीक होकर घर पहुंचे। इसी प्रकार शहर में सक्रिय मरीजों की सख्या 5995 हो गई है। जबकि मृतकों का आंकड़ा 74 पहुंच गया है।                   


नेशनल 'हाईवे' पर उड़े गाड़ी के परखच्चे

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
3 घायल, नेशनल हाईवें पर उड़े गाड़ी के परखच्चें


हापुड़। नेशनल हाईवें पर एक शिफ्ट कार और एम्बुलेंस की हुई भंयकर टक्कर में वाहनों के परखच्चें उड़ गए। जिससे तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।
जनपद हापुड़ के राष्ट्रीय राजमार्ग 9 पिलखुवा छिजारसी टोल पर रात्रि 11 बजें एक एंबुलेंस व स्विफ्ट डिजायर गाड़ी की तेज गति के कारण भंयकर रुप से भिड़ंत हो गई। जिससें शिफ्ट डिजायर कार में एक युवक व ड्राइवर सवार थे । जिनको काफी गंभीर चोट आई है। व एंबुलेंस के ड्राइवर की हालत भी नाजुक बताई गई है। आसपास के लोगों ने नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया।                 


विंटर यूनिफॉर्म के संबंध में डीएम की बैठक

भानु प्रताप उपाध्याय 


शामली। जिलाधिकारी जसजीत कौर की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के सभागार में निशुल्क विंटर यूनिफॉर्म के संबंध में क्रय समिति की बैठक आयोजित की गई। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी ने समिति के साथ जेम पोर्टल के माध्यम से परिषदीय स्कूलों में कक्षा 1 से कक्षा 8 तक के छात्र छात्राओं को निशुल्क विंटर यूनिफॉर्म क्रय किए जाने को लेकर समिति के साथ चर्चा करते हुए समय से कार्य को पूर्ण कराने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शंभू नाथ तिवारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी गीता वर्मा, वरिष्ठ कोषाधिकारी ज्ञानेंद्र पाण्डेय सहित समिति से जुड़े अधिकारी उपस्थित रहे।             


रेडीमेड शोरूम में आग 20 लाख का नुकसान

अतुल त्यागी/मुकेश सैनी


20 लाख का नुकसान शोरुम में लगी भीषण आग


हापुड़। आधी रात को पिलखुवा के एक रेडीमेड शोरुम में भंयकर आग लग गई। जिसे बुझानें के चक्कर में शोरूम मालिक अनुज तोमर झुलस गए। जिन्हें गंभीर हालत में गाजियाबाद एडमिट करवाया गया हैं। आग से दुकान में 20 लाख रुपये के नुकसान की आंशका जताई जा रही है।


जानकारी के अनुसार पिलखुवा क्षेत्र के मोदीनगर स्टैंड़ के पास रहनें वाले अनुज तोमर का स्टैंड़ के पास रेडिमेड गार्मेंट्स का शोरूम हैं। रविवार रात दो बजे अचानक शार्ट सर्किट से भीषण आग लग गई। आग की लपटें देख पडोसियों ने शोरूम मालिक और पुलिस को सूचित किया। आग की सूचना पर अनुज तोमर और फायरब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंची। आग बुझानें के चक्कर में शोरूम मालिक अनुज तोमर गंभीर रूप से झुलस गए । जिन्हें गाजियाबाद रैफर किया गया। फायरब्रिगेड ने कड़ी मशक्कत के बाद घंटों बाद आग पर काबू पाया।                   


अवैध शस्त्र निर्माता गिरोह का पर्दाफाश

अतुल त्यागी
शस्त्र बनाकर एनसीआर क्षेत्र के जनपदों में सप्लाई करने वाले गिरोह का पर्दाफाश
हाापुड़। थाना बहादुरगढ़ पुलिस/स्वाट टीम द्वितीय ने ऑर्डर पर अवैध शस्त्र बनाने/एनसीआर क्षेत्र के जनपदों में सप्लाई करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर बाद पुलिस मुठभेड़ 04 अभियुक्तों को किया गिरफ्तार, जिनके कब्जे से 11 पिस्टल, 21 तमंचे, 08 तमंचे अधबने, 04 रायफल, एक पौनी रायफल, 34 जिन्दा कारतूस, 04 खोका कारतूस, भारी मात्रा में शस्त्र बनाने के उपकरण एवं अवैध शस्त्रों की सप्लाई करने में प्रयुक्त ब्रेजा कार बरामद की गई है।


रोड रोलर के नीचे आकर किशोर की मौत

भानु प्रताप उपाध्याय


मुजफ्फरनगर। रोड रोलर के नीचे आने से निर्माणाधीन बाईपास पर कार्यरत किशोर की मौत जनपद शामली के नवनिर्माण बाईपास पर कार्यरत एक किशोर की रोड रोलर के नीचे आने से मौत हो गई। मृतक किशोर का नाम महतार पुत्र सनववर निवासी जोला मुजफ्फरनगर बताया जा रहा है। मृतक के मरने का कारण अभी मालूम नहीं हुआ, मौके पर पहुंची पुलिस मृतक के परिवार को जैसे ही मालूम हुआ। परिवार में कोहराम मच गया और परिवार मौके पर पहुंच गया थाना अध्यक्ष आदर्श मंडी मौके पर पहुंचे और लाश को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।             


दबाव डालने के प्रयासों को विफल करेंगे

मतदाताओं पर दबाव डालने के प्रयासों को विफल करेंगे: फेसबुक


नई दिल्ली। फेसबुक ने दोहराया है कि वह नवंबर, 2020 में होने जा रहे अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले मतदाताओं को प्रभावित करने या उन पर दबाव डालने के प्रयासों को नाकाम करेंगे। साथ अपने प्लेटफॉर्म पर गलत सूचना फैलाने वाली हर चीज को बाहर निकालेंगे।
रविवार को सीएनएन के साथ एक साक्षात्कार में फेसबुक के ग्लोबल अफेयर्स एंड कम्युनिकेशंस के वाइस प्रेसिडेंट निक क्लेग ने कहा कि “फेसबुक मतदाताओं पर दबाव बनाने प्रयासों को हटा देगा। अभी से लेकर नवंबर तक हम इसे और अधिक सख्ती से करने जा रहे हैं।”
फेसबुक ने हाल ही में अमेरिका में सबसे बड़े मतदाता सूचना अभियान के तहत एक नया मतदाता सूचना केंद्र शुरू किया है, जिसमें 4 मिलियन यानी 4 करोड़ मतदाताओं का पंजीकरण कराने का लक्ष्य है।
इस महीने की शुरुआत में, फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कहा था कि प्लेटफॉर्म चुनाव से पहले के एक सप्ताह में नए राजनीतिक विज्ञापनों को स्वीकार नहीं करेगा। साथ ही फेसबुक उन पोस्टों को भी हटा देगा जो यह दावा करते हैं कि वोटिंग में हिस्सा लेने पर लोगों को कोविड-19 संक्रमण हो जाएगा।
जुकरबर्ग ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा, “यदि कोई भी उम्मीदवार या अभियान परिणामों के आने से पहले ही जीत की घोषणा करने की कोशिश करता है, तो हम उनके पोस्ट में एक लेबल जोड़ेंगे। इस लेबल में लोगों को यह बताया जाएगा कि आधिकारिक परिणाम अभी तक नहीं आए हैं।”
कंपनी, 2020 के अमेरिकी चुनाव के दौरान प्रमुख राजनीतिक दृष्टिकोण पर फेसबुक और इंस्टाग्राम के प्रभाव को समझने के लिए एक रिसर्च करेगी। इसके लिए उसने एक कंपनी से साझेदारी की घोषणा की है।             


भारत की तस्वीर बदलने आए हैंः नड्डा

हम सत्ता हासिल करने नहीं, भारत की तस्वीर बदलने आए हैं: नड्डा।


नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी। नड्डा ने सोमवार को झारखंड प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में कार्यकतार्ओं को पार्टी के लक्ष्यों और सिद्धांतों की जानकारी दी। उन्होंने कहा, हम राजनीति में कोई सत्ता हासिल करने के लिए नहीं आए हैं। हम भारत की तस्वीर और तकदीर बदलने आए हैं।
जेपी नड्डा ने कार्यकतार्ओं को संबोधित करते हुए कहा, हम कार्यकर्ता कुर्सी पर बैठने के लिए नहीं हैं, हम बदलाव के दूत हैं। नड्डा ने राष्ट्रीय मुख्यालय से वीडियो कांफ्रेंसिंग से संबोधन में कहा, कार्यकर्ता वैक्यूम में काम नहीं करता, वो दिशा और दृष्टि लेकर काम करता है। ये दिशा और दृष्टि क्या है, ये हमें पता होना चाहिए। केंद्र सरकार की सभी नीतियों के बारे में आपको पूरी जानकारी होनी चाहिए।
भाजपा अध्यक्ष ने सोरेन सरकार में झारखंड की कानून व्यवस्था चरमराने का आरोप लगाया। कहा, आज झारखंड में नक्सलवाद और उग्रवाद फिर से दनदना रहा है। ये कमजोर सरकार और तुष्टिकरण की निशानी है।
कोरोना संकट काल में झारखंड के भाजपा कार्यकतार्ओं के सेवा कार्यों की उन्होंने सराहना की और कहा कि झारखंड में भाजपा ने करीब 12.74 लाख फूड पैकेट, 27 लाख राशन किट बांटे हैं, 42,000 लोगों ने मिलकर पीएम केयर्स में योगदान किया है। करीब 21 लाख फेस कवर और करीब 9 लाख सैनेटाइजर बांटे हैं।
नड्डा ने कहा कि केंद्र सरकार ने झारखंड को मुख्यधारा में लाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। सारी योजनाएं यहां लागू की हैं। प्रदेश के लिए एम्स दिया गया है। एम्स तैयार होने के बाद प्रदेश के किसी व्यक्ति को दिल्ली इलाज के लिए नहीं आना होगा, उसे वहीं बेहतर इलाज उपलब्ध होगा।
नड्डा ने वोकल फॉर लोकल के फामूर्ले पर आगे बढ़ने पर जोर दिया और कहा कि चाहे वो झारखंड में हमारी कलाकारी हो, या सांस्कृतिक विरासत के रूप में मिली कोई कला हो, उसे हमें आगे बढ़ाना है। कोरोना काल में मोदी सरकार के कार्यों की चर्चा करते हुए जे.पी. नड्डा ने कहा, हमारे यहां एक भी वेंटिलेटर नहीं बनता था, अब हमारे पास 3 लाख वेंटिलेटर भारत में बन चुके हैं। अब हमारे देश मे 4.50 लाख पीपीई किट रोजाना बन रहे हैं, जो हम दूसरे देशों को भी भेज रहे हैं।
उन्होंने कहा कि कोरोना संकट में विकसित देश भी खुद को असहाय महसूस कर रहे थे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने फ्रंट से कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ी और देश के करोड़ों लोगों की जान बचाई। जान है तो जहान है, को अपनाते हुए प्रधानमंत्री ने समय रहते देश में लॉकडाउन लगाया।             


मास्कः अभिषेक ने लोगों से की अपील

अभिषेक ने लोगों से की मास्क पहनने की अपील।


मुंबई। बॉलीवुड के जूनियर बी अभिषेक बच्चन ने सभी से कोरोना वायरस महामारी में मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की है। अभिषेक ने ट्वीट किया, “सभी लोग, कृपया सुरक्षित रहें, ख्याल रखें। कृपया मास्क पहनें और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें।”
गौरतलब है कि अभिषेक और उनके पिता अमिताभ बच्चन 11 जुलाई को कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अभिषेक की पत्नी ऐश्वर्या और बेटी आराध्या को भी पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन सभी ने कोरोना के खिलाफ अपनी लड़ाई जीत ली।                                 


कोरोना काल में 1-1 चीज पर किया काम

नीतीश की पहली वर्चुअल रैली, कहा- कोरोना काल में एक-एक चीज पर किया काम।


पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को अपनी पहली वर्चुअल रैली को संबोधित कर पार्टी के चुनाव प्रचार की शुरूआत की। पार्टी के अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म से वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना काल कब तक चलेगा कोई नही जानता
उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान एक-एक चीज पर काम किया गया है। उन्होंने कहा कि इस काल में लोगों को रोगजार उपलब्ध कराने का काम भी किया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विपक्ष के नेताओं पर तंज कसते हुए कहा कि जो लेाग कुछ नहीं जानते वे कुछ भी बोल देते हैं, लेकिन उन्हें जानना चाहिए।
उन्होंने कहा, हमलोग काम करते हैं, प्रचार नहीं करते हैं। जिन्हें कुछ जानकारी नहीं, वे कुछ भी बोलते रहते हैं।” उन्होंने दावा करते हुए कहा कि लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए लगातार काम हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में 14 करोड़ 71 लाख से ज्यादा मानव दिवस का सृजन किया गया है।
उन्होंने लोगों को सचेत करते हुए कहा कि आज भले ही कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आई है, लेकिन कल क्या होगा, कोई नहीं जानता। इस कारण लोगों को भयभीत नहीं सचेत रहने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने दावा करते हुए कहा कि आज एक दिन में 1़50 लाख से ज्यादा लोगों की कोरोना जांच कराई जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज आपदा राहत के लिए कई काम हो रहे हैं, लेकिन पहले क्या होता था? कुछ मिलता था क्या?
उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद बाढ़ प्रभावित इलाकों के प्रत्येक परिवारों को ग्रैच्यूटस रिलीफ के रूप में 6000 राशि दी जा रही है। उन्होंने दोहराते हुए कहा कि सरकारी खजाने पर आपदा पीड़ितों का पहला अधिकार है। इससे पहले उन्होंने जदयू के डिजिटल प्लेटफोर्म पर लाने वाले लोगों को धन्यवाद दिया।             


समस्याओं को दूर करता है 'सूखा मेवा'

कब्ज हो या लूज मोशन, दोनों समस्याओं को दूर करता है यह सूखा मेवा।


कोई कब्ज से परेशान रहता है तो किसी को बार-बार होनेवाले लूज मोशन ने परेशान कर रखा है। यहां जानें, इन दोनों ही समस्याओं से बचने का आसान तरीका…
यदि आप कब्ज की समस्या से जुझ रहे हैं, तब भी सेहत खराब होती है और लूज मोशन से जूझ रहे हैं तो कमजोरी से हालत खराब होती है। इन दोनों ही स्थितियों से बचने में चिरौंजी आपके लिए बहुत अधिक लाभकारी हो सकती है। बस आपको पता होना चाहिए कि किस समस्या में इस सूखे मेवे का उपयोग कैसे करना है…
कब्ज की समस्या से निजात दिलाए।
चिरौंजी एक ऐसा मेवा है, जो बहुत छोटे-छोटे दाल के दानों की तरह होता है। लेकिन ये दाने प्राकृतिक गुणों से भरपूर तेल से युक्त होते हैं। यही कारण है कि चिरौंजी खाने से कब्ज की समस्या में बहुत जल्दी लाभ मिलता है।
क्योंकि चिरौंजी हमारे पाचनतंत्र में जमा गंदगी और विकारों को दूर करते हुए हमारी आंतों की अंदरूनी त्वचा की मरम्मत करती है और आंतों की आंतरिक दीवारों को चिकनाहट देती है। जिससे कब्ज की समस्या में राहत मिलती है।
कब्ज से हमेशा के लिए राहत पाने का घरेलू तरीका। लूज मोशन (दस्त) दूर करने में कारगर।
चिरौंजी जहां कब्ज से राहत दिलाती है, वहीं इसका तेल दस्त यानी लूज मोशन की समस्या को दूर करने का एक प्रभावी उपाय है।
यदि किसी को लूज मोशन की समस्या अक्सर रहती हो तो उसे चिरौंजी के तेल में बनी खिचड़ी, दलिया, ओट्स इत्यादि खिलाने चाहिए। इससे दस्त की समस्या तो दूर होगी ही। मोशन स्मूद होंगे और शारीरिक कमजोरी दूर होगी।
आज के समय में चिरौंजी के लाभ।
फिलहाल हर तरफ केवल एक ही चिंता है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से कैसे बचा जाए। तो आपको बता दें कि इस चिंता को दूर करने में भी चिरौंजी बहुत अधिक सहायक सिद्ध होगी। क्योंकि चिरौंजी हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का कार्य करती है।
दस्त की समस्या से छुटकारा कैसे पाएं।
नियमित रूप से चिरौंजी का उपयोग किया जा सकता है। आप चिरौंजी को पीसकर दूध में मिलाकर उपयोग कर सकते हैं। ओट्स, दलिया, खीर या सब्जी में भी इसका उपयोग किया जा सकता है। यह शारीरिक कमजोरी दूर करने का एक सिद्ध उपाय है।
विटमिन्स का खजाना
चिरौंजी में विटमिन-बी1, विटमिन-बी2 और विटमिन-सी पाए जाते हैं। ये सभी विटमिन्स हमारी नसों को मजबूत करने, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और रक्त संचार को सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए बहुत जरूरी होते हैं।               


फलदार पेड़ों की 12 हजार किस्में बनीं

15 एकड़ की नर्सरी:नर्सरी में वैज्ञानिकों ने बनाई 17 फलदार पेड़ों की 12 हजार किस्में, इनके डेढ़ लाख पौधे बांटे।


महासमुंद के भलेसर में 15 एकड़ का बंजर प्लाट 5 साल में बनी नर्सरी, वह भी ऐसी कि दूसरे जिलों से सीखने आ रहे किसान
महासमुंद। राजधानी से 58 किमी की दूर महासमुंद जिले के भलेसर गांव में मनरेगा के तहत कृषि विज्ञान केंद्र ने 15 एकड़ की फलदार पौधों वाली नर्सरी बनाई है। इस नर्सरी से केवल ढा़ई साल में यहां 17 प्रकार के फलदार पेड़ों की उन्नत किस्में तैयार कर ली गईं। ढा़ई साल में यहां से 18 हजार से ज्यादा किसानों को एक लाख 63 हजार से ज्यादा फलदार पौधे दिए गए हैं। इससे करीब 400 परिवारों को अब तक 12 हजार से ज्यादा दिन का रोजगार भी मिला है। नर्सरी में मनरेगा के तहत काम करने वाले श्रमिकों को 20 लाख रुपए की मजदूरी दी जा चुकी है। वहीं, नर्सरी के वैज्ञानिकों के मुताबिक फलदार पौधों से छोटे-मध्यम किसान अतिरिक्त आमदनी के संसाधन पैदा कर रहे हैं।
यहां फलों का बगीचा भी तैयार किया गया है। कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों ने 17 किस्म के फलों के मातृवृक्ष तैयार किए हैं। इन वृक्षों से तैयार पौधे अनुवांशिक और भौतिक रुप से शुद्ध एवं स्वस्थ होने के कारण फलों का अधिक उत्पादन करते हैं। नर्सरी को मजदूरों के श्रमदान के जरिए 34 लाख रुपए में तैयार किया गया है। 15 एकड़ का ये प्लान पांच साल पहले तक बंजर था। मनरेगा के तहत नर्सरी बनाने का यहां काम शुरु होने के बाद मजदूरों की मेहनत से ये पूरा रकबा अब हराभरा भी बन गया है। यहां पर जमीन को चुनने के बाद शुरूआती चरण में पहले गैरजरूरी झाड़ियों की सफाई, गड्ढों की भराई और समतलीकरण जैसे काम हुए।
साल भर बाद इस परियोजना के दूसरे चरण में उद्यानिकी पौधों के रोपण के लिए ले-आउट कर गड्ढों की खुदाई की गई। इसमें वैज्ञानिक पद्धति अपनाते हुए गड्ढे इस तरह खोदे गए कि दो पौधों के बीच की दूरी के साथ ही दो कतारों के बीच परस्पर पांच मीटर की दूरी रहे। पौधरोपण के लिए एक मीटर लंबाई, एक मीटर चौड़ाई और एक मीटर गहराई के मापदण्ड को अपनाते हुए सभी गड्ढों की खुदाई की गई, जिससे की पौधों में बढ़वार आने के बाद भी उनकी जड़ों को जमीन के अंदर वृद्धि के लिए पर्याप्त जगह मिल सके। इसके बाद इनमें गोबर खाद, मिट्टी, रेत एवं अन्य उपयुक्त खादों को मिलाकर भराई की गई, जिससे पौधों को आवश्यक पोषक तत्व उपलब्ध हो सके।
इन 17 किस्मों के फलदार पौधे
कृषि विज्ञान केन्द्र ने उन्नत पौधशाला तैयार करने के लिए पूरे क्षेत्र को 15 भागों में बांटा। यहां अनार, अमरुद, नींबू, सीताफल, बेर, मुनगा, अंजीर, चीकू, आम, जामुन, कटहल, आंवला, बेल, संतरा, करौंदा, लसोडा एवं इमली के पौधों की रोपाई की गई। इनमें अमरुद की तीन किस्में इलाहाबादी सफेदा, लखनऊ-49 व ललित, अनार की भगवा किस्म, नींबू की कोंकण लेमन किस्म, संतरा की कोंकण संतरा किस्म, मुनगा की पी.के.एम.-1 किस्म, अंजीर की पूना सलेक्शन किस्म, करौंदा की हरा-गुलाबी किस्म और आम की इंदिरा नंदिराज, आम्रपाली एवं मल्लिका किस्म के पौधे शामिल हैं।
नर्सरी अब किसानों के लिए बागवानी का मॉडल स्कूल जैसी है। दूसरे जिलों से भी किसान यहां अाकर सीख रहे हैं। फलदार पेड़ किसानों की अतिरिक्त आय में मददगार हैं।             


निर्माण निगम के 4 अधिकारी निलंबित

बहराइच। उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में 200 करोड़ की लागत से निर्मित मेडिकल कॉलेज के निर्माण में भ्रष्टाचार और अनियमितता की शिकायत पर उप्र राजकीय निर्माण निगम के चार अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है जबकि एक सेवानिवृत्त लेखाकार के खिलाफ जांच के आदेश दिए गए हैं अधिकारी सूत्रों ने रविवार को बताया कि जिले में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने एवं चिकित्सा शिक्षा प्रदान करने के लिए कृषि फार्म की भूमि को अधिग्रहित कर करीब 200 करोड़ की लागत से मेडिकल कॉलेज की बिल्डिंग का निर्माण कराया गया था मेडिकल कॉलेज के विभिन्न विभागों की इमारतों के निर्माण के दौरान ही घटिया मटेरियल और घोटालों की खबरें जग जाहिर होने लगी थी अब 14 करोड़ का घोटाला प्रकाश में आया है जिस को संज्ञान में लेते हुए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने चार अधिकारियों को निलंबित कर दिया है।                 


200 सिख परिवार दिल्ली में होगें विस्थापित

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। अफगानिस्तान में इस्लामी आतंक के साए में तिल-तिल कर जीने को मजबूर थे कई सिख परिवार। बहुत कुछ सहते हुए झेल रहे थे। लेकिन गुरुद्वारे में हुए आतंकी हमले और इसमें मारे गए 27 लोगों की घटना ने इनके सब्र का बांध तोड़ दिया। भारत सरकार ने भी तब अपने लोगों की सुरक्षा को लेकर कदम उठाना शुरू किया।


अफगानिस्तान में रहने वालों सिखों को धीरे-धीरे वीजा प्रक्रिया और उसके बाद भारत वापसी के प्रयास किए गए। इसका नतीजा अब दिखने लगा है। पहली खेप में सिर्फ 11 सिख भारत आए थे। इनकी संख्या अब 200 परिवार की हो गई है।


ये सभी विस्थापित हैं, इस्लामी आतंक के सताए हुए हैं। जहाँ कभी इनके खून-पसीने के बनाए हुए घर थे, वो अब विदेश हो चुका है। अब इन 200 परिवारों का घर भारत है। इन्हें दिल्ली में बसाया गया है।


दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमिटी के गुरुद्वारों में इन विस्थापित सिखों को फिलहाल रहने के लिए छत मिला है। इनमें से 63 साल के बलबीर सिंह का कहना है:


“हमने वहाँ सब कुछ छोड़ दिया, घर-बार, जमीन-जायदाद सब कुछ। वहाँ हमारे जीवन को खतरा था, हम यहाँ सुरक्षित महसूस करते हैं।”


आपको बता दें कि अफगान सिख समुदाय द्वारा दूतावास से अपील करने और गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर 25 मार्च को गुरु हर राय साहिब गुरुद्वारे में हमले के बाद तत्काल निकासी और बचाव की माँग के बाद भारत सरकार की ओर से यह कदम उठाया गया। तब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी अफगानिस्तान में फँसे सिख परिवारों को भारत लाने की गुहार मोदी सरकार से लगाई थी।                   


घर में क्लेश, महिला ने लगाई फांसी

मुरादाबाद। ग्रह कलेश में फांसी लगाने वाली महिला की मझोला थाना क्षेत्र के एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई मझोला पुलिस ने पोस्टमार्टम कराके शव परिजनों को सौंप दिया रामपुर जिले के शाहबाद थाना क्षेत्र के गांव चौकोनी निवासी सुनीता पत्नी पिंटू को बीते शनिवार रात गंभीर हालत में दिल्ली रोड मझोला स्थित साईं अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उसकी मौत हो गई अस्पताल प्रशासन की सूचना पर मझोला पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे सुनीता के ससुर राजेंद्र ने बताया कि वह अपनी जमीन बेचकर दूसरी जगह जमीन खरीदना चाहते थे जमीन बेचने की बात बहू को पता चली तो वह विवाद करने लगी थी इसी बात को लेकर घर में कहासुनी हो गई जब सभी लोग अपने अपने काम पर चले गए तो सुनीता ने कमरे में जाकर फांसी लगा ली।             


घर में घुसकर युवक को मारी गोली

रामपुर। घर में घुसकर युवक को गोली मारकर घायल करने के मामले में पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है सिविल लाइंस के थाना क्षेत्र सैनी बस्ती अजीतपुर निवासी निधिका का आरोप है कि रविवार सुबह पति राजू बाल्मीकि घर में सो रहा था पास के ही रहने वाले चार लोग महिला के घर में घुस गए और पति को गोली मार दी गोली की आवाज सुनकर महिला को आता देख आरोपी लोग मौका पाकर फरार हो गए घायल को आनन-फानन अस्पताल में भर्ती कराया बाद में महिला की तहरीर पर सिविल लाइंस पुलिस ने चार लोगों पर जानलेवा हमला सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।             


निजीकरण के विरूद्ध जारी रहा प्रदर्शन

'पूर्वांचल विद्युत' वितरण निगम लिमिटेड के पृथक्करण एवं निजीकरण के विरुद्ध जारी रहा विरोध प्रदर्शन
 रिपोर्ट बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। विद्युत कर्मचारी मोर्चा संगठन प्रयागराज उत्तर प्रदेश के केन्द्रीय निर्देशानुसार को वर्क टू रूल का अनुपालन करते हुए भोजनावकाश में भोजन त्याग कर, मुख्य अभियंता (वितरण) प्रयागराज क्षेत्र, प्रयागराज के कार्यालय पर लगातार पांच वे दिन, संगठन के पदाधिकारियों एवं सदस्यों द्वारा, पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के पृथक्करण एवं निजीकरण के विरुद्ध संगठन के जनपद अध्यक्ष अनुपम रॉय चौधरी की अध्यक्षता में धरना-प्रदर्शन किया गया। सभा का संचालन विनय चौरसिया द्वारा किया गया। सभा में अखिलेश शर्मा, कार्यवाहक क्षेत्रीय अध्यक्ष बी. के. पांडेय, क्षेत्रीय प्रमुख सचिव, अभय नाथ राय, क्षेत्रीय सचिव, संजय पांडेय, जनपद सचिव,अभिषेक दास, हेमंत त्रिपाठी, अभिषेक गुप्ता, अनुपम श्रीवास्तव अजय कुमार शुक्ला, मोनिका श्रीवास्तव, गजाला, गीता, दशरथ कुमार, चन्द्रशेखर, श्रवण कुमार, कमल चंद्र, गुंजन आदि सहित संगठन के आदि सदस्यों ने अपने विचार रखे , साथ ही जोनल सचिव अभय नाथ राय  ने उत्तर प्रदेश सरकार एवं निगम प्रबंधन को आगाह किया कि जब तक राज्य सरकार द्वारा *पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के पृथक्करण एवं निजीकरण की कार्यवाही रोकी नहीं जाती है, तब तक यह आंदोलन अनवरत चलता रहेगा।


पत्रकारो लिए आईजी-एडीजी को ज्ञापन

पत्रकारो की समस्या को लेकर पत्रकारों ने एडीजी व आईजी से मुलाकात की


बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। पत्रकारों की समस्या को लेकर संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष के नेतृत्व में संघ का एक प्रतिनिधि मंडल एडीजी प्रयागराज व आईजी रेंज से मुलाकात की। सोमवार को पत्रकारों की समस्या को लेकर अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन प्रेम प्रकाश एवं पुलिस महानिरीक्षक प्रयागराज परिक्षेत्र कविंद्र प्रताप सिंह से भारतीय पत्रकार संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष उमेश चंद्र द्विवेदी के नेतृत्व में प्रयागराज के पत्रकारों ने मुलाकात की। इस दौरान अध्यक्ष ने जिले के वरिष्ठ अधिकारियों से पत्रकारों की समस्या से अवगत कराया। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु दिशा निर्देश दिए। इस मौके पर रूप नारायण तिवारी वली उल्लाह प्रफुल्ल श्रीवास्तव नितिन कुमार तिवारी प्रवीण द्विवेदी राम सागर विश्वकर्मा राहुल पांडे आदि पत्रकार मौजूद रहे।                   


जबरन अपहरण का 24 घंटे में खुलासा

नई दिल्ली। फिल्मी अंदाज में आरोपी सोनू और कफील अहमद ने कार में युवती को जबरन अपहरण कर काठगोदाम ले जाया गया जहां पुलिस ने 6 टीमें इस केस में लगाकर अलग-अलग एंगल से जांच की तो जानकारी मिली कि अपहृत युवती को कार में बंधक बनाकर ले जाने वाले दोनों युवक उसके जाने वाले हैं। लेकिन कल उन्होंने इस घटना को अचानक अंजाम दिया। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले में छानबीन कर रही है अपहृत युवती के परिजनों की भूमिका और अन्य सवालों के जवाब अभी जांच में मिलने बाकी है फिलहाल एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने कहा है कि 24 घंटे के भीतर पुलिस ने इस मामले का खुलासा किया लिहाजा आई जी कुमाऊ द्वारा ₹5000 और एसएसपी द्वारा ढाई हजार रुपे का इनाम पुलिस टीम को दिया गया है अभी आरोपियों से पूछताछ जारी है।                                           


53 साल पुरानी अशरा-ए-मजलिस पर रोक

कोरोना के कारण 53 साल पुरानी अशरा ए मजलिस पर लगा ग्रहण


शिया धर्रमगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद सहित देश विदेश के ओलमा पढ़ा करते थे मजलिस
मजलिस में हज़ारों लोग होते थे शामिल
बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। सुलतानपुर भावा स्थित इमामबाड़ा इक़बाल हुसैन में दस दिवसीय अशरे की मजलिस पर कोरोना महामारी का ग्रहण लग गया।इस वर्ष अशरा ए मजलिस के आयोजक ताशू अलवी ने सामुहिक्ता वाले आयोजन को मात्र पाँच लोगों की उपस्थिती में ऑनलाईन कराने का फैसला ले कर लोगों को अवगत कराते हुए अज़ादारी डॉट कॉम और फेसबुक पर लाईव देखने की अपील जारी की।धार्मिक एवं सामाजिक संस्था उम्मुल बनीन सोसाईटी के महासचिव सै०मो०अस्करी के मुताबिक़ उक्त अशरा ए मजलिस में प्रत्येक वर्ष हज़ारों लोग शामिल हुआ करते थे।कोविड १९ के मरीज़ों में लगातार इज़ाफा हो रहा है ऐसे में सामूहिक आयोजन से इस वबा से बचने का एक मात्र उपाय एक दूसरे से दूरी बनाना महत्वपूर्ण है।अस्करी ने बताया की उक्त मजलिस की शहर में काफी ख्याती थी इसमें स्व मौलाना सै०इब्ने हसन नौनहरवी,स्व मौलाना सै०मो०मेंहदी ज़ैदपुरी,स्व मौलाना कल्बे आबिद लखनऊ,स्व मौलाना सै०यूशा फैज़ी ज़ंगीपुरी आदि मजलिस पढ़ा करते थे वहीं बुज़ुर्ग मौलाना सै०हमीदुल हसन,मौलाना सै०कल्बे जव्वाद और मौलाना सै०फरक़लीता अली हुसैनी जैसे देश विदेश के ओलमा पूर्व वर्ष में दस दिवसीय अशरे की मजलिस पढ़ने प्रयागराज के सुलतानपुर भावा स्थित इमामबाड़ा इक़बाल हुसैन अलवी में आते रहे हैं।वहीं मजलिस में शबीहे ताबूत भी निकाला जाता था और शहर की अन्जुमन हाशिमया,अन्जुमन हुसैनिया क़दीम,अन्जुमन ग़ुन्चा ए क़ासिमया व अन्जुमन अब्बासिया नौहा और मातम का नज़राना पेश करा करती थी।लेकिन इस वर्ष कोविड १९ की वजहा से मजलिस को मात्र पाँच लोगों की मौजूदगी में ऑनलाईन कराया जा रहा है।जिसमें घर के लोग ही शामिल हो रहे हैं।


सीमित लोगों की उपस्थिति में इमामबाड़ा मेंहदी रज़ा में हुई मजलिस


अज़ाखाना मेंहदी रज़ा बैदन टोला में सालाना मजलिस में मौलाना जव्वाद हैदर जव्वादी ने सीमित लोगों की उपस्थिती में मजलिस को सम्बोधित करते हुए शाहे शहीदाँ हज़रत इमाम हुसैन और उनके अन्सारो अक़रबा की शहादत का मार्मिक अन्दाज़ में ज़िक्र किया।मौलाना जव्वाद हैदर ने पढ़ा की करबला के मैदान में शहादते इमाम हुसैन के बाद खैमों में आग लगाने के साथ यज़ीदी लश्कर ने सैदानियों के सरों से चादर छीनने के साथ बीबी सकीना के कान के गोशवारे भी नोंच लिए ।मजलिस में शामिल लोग मसायबे अहलैबैत सुन कर सिसकियाँ लेने लगे।आँखों से अश्कों की धारा बहने लगी।अन्जुमन ग़ुन्चा ए क़ासिमया के नौहाख्वान शादाब ज़मन,अस्करी अब्बास,शबीह अब्बास जाफरी,अखलाक़ रज़ा,यासिर ज़ैदी,ज़हीर अब्बास,ऐजाज़ नक़वी,कामरान रिज़वी,अली रज़ा रिज़वी,असद आदि ने तालिब इलाहाबादी का लिखा ग़मगीन नौहा पढ़ कर पुरसा पेश किया।मजलिस में मिर्ज़ा अज़ादार हुसैन,सै०मो०अस्करी,ज़ामिन हसन,अली रज़ा,अली रिज़वी आदि शामिल रहे।


डीएम-सीडीओ करेंगे पंचायतों की समीक्षा

आलोक कुमार


मैनपुरी। ग्राम पंचायतों में हो रहे विकास कार्यों में लापरवाही के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इसके बाद अब जिलाधिकारी और मुख्य विकास अधिकारी खुद पंचायत वार इसकी समीक्षा करेंगे।
सोमवार को जिलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह और मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया विकास भवन के आंबेडकर सभागार में पंचायतों की समीक्षा करेंगे। इसमें पंचायत सचिवों के साथ बैठक कर 12 बिुंदुओं पर समीक्षा की जाएगी। इसमें शासन की प्राथमिकता वाले कार्यों के साथ ही मनरेगा व कोरोना से बचाव संबंधी कार्य भी शामिल किए गए हैं।
प्रथम पाली में सुबह 11 बजे से दोपहर एक बजे तक विकास खंड बेवर, किशनी, सुल्तानगंज, मैनपुरी और जागीर के सचिवों के साथ बैठक की जाएगी तो वहीं दूसरी पाली में दो बजे शाम पांच बजे तक विकास खंड करहल, कुरावली, घिरोर और बरनाहल के सचिवों के साथ बैठक की जाएगी। इन बिंदुओं पर होगी समीक्षा।


असली व नकली किन्नरों में हुई मार-पीट

हरदोई। पाली क्षेत्र के मुंडेर गांव में असली व नकली किन्नरों में जमकर मारपीट हुई। असली किन्नरों ने नकली किन्नर बने युवकों का सर मुंडवा कर पुलिस को सौंपा है। मामले में पुलिस ने एनसीआर दर्ज की है।


पाली थाना क्षेत्र के मुंडेर गांव में किन्नर बनकर ठगी आये युवकों व असली किन्नरों के बीच जमकर मारपीट हुई। नकली किन्नर बने युवकों के सर मुंडवा कर पुलिस को सौंपा गया है। किन्नर बने युवकों के विरुद्ध किन्नर गुंजा निवासी मोहल्ला शेख सराय पाली की तहरीर पर थाने में एनसीआर दर्ज की गई है। किन्नर गुंजा ने दी तहरीर में आजाद पुत्र सद्दीक मोहल्ला आबिद नगर, वीरपाल, मुन्ना, बाबू उर्फ सलमा पर गाली गलौज व मारपीट का आरोप लगाया है। पुलिस ने किन्नर गुंजा की तहरीर पर एनसीआर दर्ज की है।                 


15 दिनों में मंदिर तोड़ने की दूसरी घटना

15 दिन मे मंदिर तोड़ने की दूसरी घटना


हिन्दू मंदिरों को निशाना बनाना कायरता - हिन्दु शक्त्ति सेवा संगठन
दुर्ग। सिविल लाईन शीतला तालाब में स्थित बारह ज्योतिर्लिंग मंदिर परिसर में दूसरी बार हिन्दू देवी देवताओं की प्रतिमा को खंडित व चोरी किया गया। लगभग 15 दिन पूर्व भी इसी परिसर में देवताओं की प्रतिमा को खंडित किया गया था जिसकी शिकायत हिन्दू शक्त्ति सेवा संगठन के प्रदेश अध्यक्ष तामेश तिवारी ने प्रशासन से किया था लेकिन प्रसाशन के द्वरा खाना पूर्ति बस किया गया । और कल दुबारा उसी मंदिर परिसर में स्थित शिवलिंग , माता पार्वती , गणेश जी और कार्तिक जी की संगमरमर की प्रतिमा को तोड़ कर चोरी कर लिया गया है। जिसकी पुनः शिकायत करते हुवे हिन्दू शक्त्ति सेवा संगठन ने प्रशासन को अंतिम चेतावनी देते हुवे उग्र आंदोलन की बात कही है। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष तामेश तिवारी ने मीडिया से बात करते हुवे बताया कि इन सारे प्रकरण में  शासन प्रशासन की कही न कही कमी दिख रही 15 दिन के अंदर एक ही जगह पर दूसरी बार मंदिरो को तोड़ा जाना बताता है कि शाशन और प्रशासन किस तरह से काम कर रहा है। दुर्ग ही नही पूरे छत्तीसगढ़ में हिन्दू देवी देवताओं के मंदिरों को निशाना बनाया जा रहा है यहाँ धर्म परिवर्तन होना , हिन्दू धर्म पर अघात पहुँचाना आम बात होते जा रही है इस तरह की कायराना हरकत की संगठन घोर निंदा करता है और साथ ही शासन प्रशासन से निवेदन करता है कि दोषियों को जल्द से जल्द पकड़ कर कड़ी से कड़ी सजा दिया जाए अन्यथा सभी हिन्दू मिल कर उग्र आंदोलन करेगा। इन सारे प्रकरण मे रमेश शर्मा , डॉ राजेश चंद्राकर , टामेंद्र सिन्हा , जगन्नाथ , अमर ,बद्रीनाथ तिवारी आदि शामिल थे।               


छत्तीसगढ़ में हुआ भारी बारिश का अलर्ट

रायपुर। मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार एक चक्रवाती परिसंचरण दक्षिण-पूर्व और निकटवर्ती अरब सागर के निचले और मध्य ट्रोपोस्फ़ेरिक स्तरों पर बना हुआ है और एक पूर्व-पश्चिम क्षेत्र निचले ट्रोपोस्फ़ेरिक स्तरों पर प्रायद्वीपीय भारत में लगभग 10°अक्षांश के साथ आगे बढ़ रहा है। उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में अलग- अलग स्थानों पर भारी से अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है।


पूर्व मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, असम और मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, कोंकण और गोवा, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम और तेलंगाना में अलग-अलग स्थानों पर आंधी तूफान के साथ बिजली गिरने की संभावना है। दक्षिण-पश्चिम अरब सागर के ऊपर तेज हवा (गति 45-55 किमी प्रति घंटे तक) और दक्षिण-पूर्व अरब सागर में और केरल-लक्षद्वीप क्षेत्र के में हवाएं (45-55 किमी प्रति घंटे तक) चलने की संभावना है। मिली जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ के लिए 7 सितम्बर से लेकर 10 सितम्बर तक यलो अलर्ट जारी किया गया है।           


कार ने मारी टक्कर 5 को रौंदा,1 की मौत

पुणे। DSP रैंक के एक अफसर ने इतनी शराब पी की वे बेकाबू हो गए | यहाँ तक मामला ठीक था, लेकिन इन साहब ने ड्राइवर के बजाये खुद ड्राइविंग सीट पर कब्ज़ा कर लिया | इसके बाद साहब की तर्ज पर उनकी कार भी बेलगाम हो गई | तेज रफ़्तार इस कार ने कई राहगीरों और वाहनों को अपनी चपेट में लिया | मामला महाराष्ट्र के पुणे का है | जिले के इस पुलिस अधिकारी ने खुद ही यातायात कानून की सारी सीमाएं लांघ दीं। सड़क पर कई राहगीर कराहते नजर आये | बालेवाड़ी इलाके में इस पुलिस अधिकारी के नशे का ऐसा कहर बरपा की लगभग आधा दर्जन लोग उसकी गाड़ी की चपेट में आये | इसमें पांच लोगों को गंभीर चोट आई है, जबकि इस टक्कर में एक व्यक्ति की मौत हो गई। पुणे के पुलिस उपायुक्त पंकज देशमुख ने कहा कि कार चालक 58 वर्षीय संजय निकम पर मामला दर्ज किया गया है | उनके मुताबिक चतुश्रृंगी पुलिस ड्रिंकिंग एंड ड्राइविंग मामले की जांच कर रही है। जोन तीन के पुलिस उपायुक्त पंकज देशमुख ने कहा कि ‘निकम नशे की हालत में कार चला रहा था। पहले उसने एक मोटरसाइकिल को टक्कर मारी और इसके बाद अन्य वाहनों को टक्कर मारी। उन्होंने बताया कि आरोपी अफसर को गिरफ्तार कर लिया गया है |             


उड़ीसाः 13 साल की लड़की के साथ गैंगरेप

भुवनेश्वर। देश में महिलाएं अ 13 साल की लड़की के साथ किया गैंगरेपब सुरक्षित नहीं ये कहना गलत नहीं होगा। आए दिन देश में महिलाएं-बच्चियां हवश के दरिंदों का शिकार हो रही हैं। हर दिन के साथ देंश के किसी न किसी हिस्सें में महिलाएं और बच्चियां हैवानियत और दरिंदगी का शिकार हो रही हैं। इस बीच ओडिशा के भुवनेश्वर से एक और शर्मसार कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है।


ओडिशा के भुवनेश्वर की एक महिला ने शिकायत दर्ज कराई है कि मार्च और अप्रैल के बीच उसकी 13 साल की बेटी के साथ 8 लोगों ने बार-बार सामूहिक बलात्कार किया। इन 8 आरोपियों में 2 मीडिया हाउस के कर्मचारी हैं। इसके अलावा एक पुलिस अधिकारी, 2 उसके परिचित और दो सुरक्षाकर्मी शामिल हैं।


शिकायतकर्ता ने कहा कि आरोपियों ने मार्च और अप्रैल के महीने में उसकी नाबालिग बेटी के साथ बार-बार यौन उत्पीड़न किया और उन्होंने उसे इसके बारे में किसी को न बताने की धमकी भी दी। पीड़ित बच्ची ने हाल ही में अपने माता-पिता को अपनी आपबीती सुनाई। इसके बाद उसकी मां ने महिला पुलिस स्टेशन का दरवाजा खटखटाया और 30 अगस्त को शिकायत दर्ज करवाई।


भुवनेश्वर शहर के पुलिस उपायुक्त उमाशंकर दाश ने कहा कि पीड़िता ने आरोपियों का कुछ विवरण दिया है और उन्हें पहचानने और पकड़ने के लिए पुलिस के प्रयास जारी हैं। मामले की जांच एक विशेष टीम द्वारा की जा रही है। बयान दर्ज कराते हुए उसने आरोप लगाया है कि आरोपियों में से दो एक मीडिया संगठन से हैं जबकि अन्य एक पुलिसकर्मी और उसके दो सहयोगी और दो सुरक्षाकर्मी हैं। उसकी चिकित्सकीय जांच की गई है।             


हरियाणा के कईंं क्षेत्रों में बारिश का अलर्ट

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़। हरियाणा के कई इलाकों में तेज और कई इलाकों में सामान्य बारिश को लेकर भारत मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के फरीदाबाद और बल्लभगढ़ में अगले दो घंटे में तेज बारिश होने की संभावना है। वहीं देश के अन्य जगह नोएडा, ग्रेटर नोएडा में मध्यम से भारी बारिश होगी। इसके अलावा हरियाणा के काफी इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश का भी अलर्ट जारी किया गया है। जिसमें गुरुग्राम, आदमपुर, हिसार, भिवानी, पानीपत, रोहतक, चरखी दादरी, महम, कोसली, बावल, भिवाड़ी,होडल, नूंह, अलीगढ़, खैर, मथुरा, डीग और पूरी दिल्ली के क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश होगी।             


किसानों का धरना जारी, षडयंत्र का सच

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद/लोनी। मंडोला विहार योजना से प्रभावित किसानों का धरना जारी रहा एवं किसान प्रतिनिधियों की वार्ता भी अपर जिला अधिकारी ( भू-अर्जन ) की अध्यक्षा में हुई। करीब दो घंटे चली वार्ता में एक बहुत बड़ा षडयंत्र उजागर हुआ है। जिसका इस्तेमाल परिषद के तत्कालीन भ्रष्ट अधिकारियों ने किसानों की उपजाऊ एवं बहुफसलीय जमीन को हड़पने में किया है। खुलासा हुआ जो भूमि अधिग्रहण अधिनियम की धारा 7/17 को लेकर है।


अपर जिला अधिकारी ने किसान प्रतिनिधियों से कहा कि मंडोला विहार योजना के लिए अधिग्रहीत जमीन पर अपातकालीन धारा 7/17 कभी लगाई ही नहीं गई है। जबकि किसान प्रतिनिधियों ने परिषद द्वारा दिए गए आधिकारिक पत्र में उक्त धारा लागू होने की तारीख दिखाई तो अपर जिला अधिकारी ने अपने स्टाफ से इस बाबत जानकारी ली। यही पता चला कि उक्त भूमि अधिग्रहण में आपातकालीन धारा 7/17 को लागू नहीं किया गया। इस तरह का षडयंत्र तत्कालीन सरकारी व्यवस्था एवं सरकार पर सवालिया निशान खड़े करता है। किसान प्रतिनिधि इतने बड़े फर्जीवाड़े को देखकर दंग रह गए।                    


लोनी में सडक़ गड्ढे बढ़ाओ अभियान जारी

लोनी में सड़क गड्ढे बढ़ाओ अभियान जारी


मोमीन


गाजियाबाद। लोनी क्षेत्र भ्रष्टाचार का गढ़ बन गया है। दिल्ली सीमा से ट्रॉनिका सिटी तक दिल्ली-सहारनपुर रोड की हालत दयनीय बनी हुई है। हाईवे में बड़े-बड़े गड्ढे हादसों को दावत दे रहे है। दिल्ली-सहारनपुर राजमार्ग से लाखों वाहनों का आवागमन प्रतिदिन होता है। वहीं पश्चिमी उत्तर प्रदेश की लाइफ लाइन कहे जाने वाले राजमार्ग की दुर्दशा पर अफसोस के अलावा कुछ बाकी नहीं रह गया है। इंद्रपुरी से लेकर पाभी पुस्ता मार्ग तक सड़क की सूरत किसी से छिपी नहीं है। सड़क के बड़े बड़े बड़े गड्ढे स्थानीय जनप्रतिनिधित्तव की योग्यता और जन कल्याण की भावना का ताजा उदाहरण है। दूसरी तरफ स्थानीय प्रशासन गूूंंगा-बहरा बनकर मुख दर्शक बना हुआ है। जनता की समस्याओं के प्रति इतनी उदारता किस लिए ?                


जशपुरः पूर्ण लॉकडाउन की अफवाह गलत

जशपुर। कलेक्टर महादेव कावरे ने आम नागरिक को कहा कि जशपुर जिले में पूर्ण लाकडाउन की अफवाह गलत है। उन्होंने कहा कि जिन विकास खंड और ग्राम पंचायत में कोरोना पाजिटिव निकले हैं सिर्फ उन्हीं जगह को कनटेनमेन जोन घोषित किया गया । और उसी क्षेत्र सीमा की दुकानें बंद की गई उन्होंने कहा कंनटेनमेनजोन जोन में लोगों की सुविधा को देखते हुए दूध रसोई गैस मेडिकल दुकानें पेट्रोल पंप चालू रहेंगे । कलेक्टर ने कहा है कि जहां कंनटेनमेनजोन नहीं बना है उन क्षेत्र की सभी दुकानें सप्ताह के सभी दिन खुले रहेंगे। कलेक्टर ने कहा कि सोशल मीडिया में गलत अफवाह फैलाने वाले पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।         



कोरोना के मद्देनजर केंद्रीय टीम करेगी दौरा

त्रिपुरा में कोरोना के बढ़ने के मद्देनजर केंद्रीय टीम करेगी दौरा।


अगरतला। त्रिपुरा में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का प्रकोप तेज होना जारी है। राज्य में इस खतरनाक वायरस का प्रसार कम होने का नाम नहीं ले रहा है और ...
त्रिपुरा में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का प्रकोप तेज होना जारी है। राज्य में इस खतरनाक वायरस का प्रसार कम होने का नाम नहीं ले रहा है और हर दिन संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इसे ध्यान में रखते हुए, एक केंद्रीय टीम जल्द ही पूर्वोत्तर राज्य का दौरा करेगी। वह स्थिति का अध्ययन करेगी और वायरस को फैलने से रोकने के लिए राज्य सरकार को सुझाव देगी। यह जानकारी शनिवार रात त्रिपुरा के कानून और शिक्षा मंत्री रतन लाल नाथ ने दी।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के तीन या चार विशेषज्ञों वाली एक केंद्रीय टीम जल्द ही त्रिपुरा का दौरा करेगी और कोविद -19 से संबंधित स्थिति की जांच करेगी और राज्य सरकार को वायरस के प्रसार को रोकने का सुझाव देगी। त्रिपुरा के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के प्रभारी मुख्य सचिव संजय कुमार राकेश ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को कोरोनावायरस की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया है। नाथ ने मीडिया को बताया कि त्रिपुरा भारत में प्रति 10 लाख परीक्षणों की संख्या, रोगियों की मृत्यु और मृत्यु दर के मामले में कई राज्यों से बेहतर है।
शनिवार की रात तक, त्रिपुरा में 14,731 सकारात्मक मामले दर्ज किए गए, जिनमें से 8,745 मरीज बरामद हुए हैं। 9 जून को कोरोना से पहली मौत के बाद से अब तक 144 मौतें हुई हैं। मंत्री ने कहा, "स्थिति की गंभीरता को देखते हुए, त्रिपुरा सरकार ने शनिवार और रविवार को राज्य में पूर्ण तालाबंदी का सुझाव दिया है, लेकिन केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अभी तक इस मुद्दे पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।"
कुल 14,531 सकारात्मक मामलों में से, 5,217 मामले केवल पश्चिम त्रिपुरा जिले में पाए गए, जो कि राजधानी अगरतला के बहुत करीब है। साथ ही इस जिले में कुल 144 मौतों में से 65 प्रतिशत मौतें भी हुई हैं। अगरतला नगर निगम क्षेत्रों में लगभग पाँच लाख लोग रहते हैं। इसके 49 वार्डों में से, केवल दस वार्डों ने शहर में कुल कोरोना मामलों का 70 प्रतिशत पाया है। स्थिति को देखते हुए, सी और डी समूह के कर्मचारियों के 50 प्रतिशत को सरकारी कार्यालयों में जाने की अनुमति दी जा रही है। सुबह 8 से शाम 5 बजे तक कर्फ्यू लगाया गया है।           


हथियार और गोला बारूद बरामद किए

दिल्ली में दो खूंखार आतंकवादी गिरफ्तार, भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद।


नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के हाथ आज बड़ी सफलता उस वक्त लगी जब उसने एक मुठभेड़ के बाद आतंकी संगठन बब्बर खालसा इंटरनेशनल के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया।
पुलिस सूत्रों ने बताया कि जानकारी के आधार पर उसने दो संदिग्धों का पीछा किया। जिसमें आतंकवादियों ने पुलिस पर फायर ख़ोल दिया और जिसके बाद मुठभेड़ में दिल्ली पुलिस ने भूपेंदर ऊर्फ दिलावर सिंह निवासी लुधियाना और कुलवंत सिंह निवासी लुधियाना को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है।
इन आतंकवादियों के पास से बड़ी संख्या में हथियार व गोला-बारूद बरामद किए गए हैं। इनके पास से छह पिस्टल और 40 गोलियां भी बरामद हुई हैं। यह दोनों पंजाब में कई मामलों में वांटेड चल रहे हैं। माना जा रहा है कि राजधानी में कोई बड़ी वारदात करने के मकसद से ये आतंकवादी आए थे।             


बिल्डर से परेशान रेजिडेंट पहुंचे कोतवाली

देविका स्काइपर्स के निवासी बिल्डर से परेशान, बिजली पानी बंद होने पर पहुँचें थाने।


अश्वनी उपाध्याय


गाज़ियाबाद। जनपद में राजनगर एसटेनशन की देविका स्काइपर्स के मेंटिनेंस स्टाफ लापता होने की वजह से सोसायटी की बिजली, पानी और लिफ्ट सब बंद हो गए। रविवार को गुस्साए निवासियों ने सिहानी गेट थाने में हंगामा किया और मेंटिनेंस विभाग के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
सोसायटी निवासी सुमित मल्होत्रा, पंकज त्यागी, चंद्रशेखर यादव, ओमप्रकाश गुप्ता आदि ने बताया कि सोसायटी के 18 सुरक्षाकर्मियों को पिछले छह माह से वेतन नहीं मिल रहा है। शनिवार की सुबह सोसायटी के सुरक्षाकर्मी अनशन पर बैठे थे। रविवार को मेंटिनेंस के अधिकारियों को भी यहां से हटा लिया गया है। जाने से पहले मेंटिनेंस के कर्मचारी बिजली, पानी और लिफ्ट सब बंद कर गए।
सुमित मल्होत्रा ने बताया कि टावर-2 के सामने सीवर का पानी जमीन से निकल रहा है। जनरेटर पर धुएं की चिमनी नहीं लगी है। सोसायटी में आरडब्ल्यूए नहीं बनाई गई है। एडवांस में मेंटिनेंस चार्ज दिया जा रहा है। इसके बाद भी सोसायटी के कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया गया। काफी दिन से सोसायटी में सफाई नहीं हो रही है। दो अज्ञात युवक सोसायटी में घूम रहे हैं।  बिल्डर के खिलाफ प्रदर्शन करने पर वह उन्हें धमकी देते हैं।
इस संबंध में मेंटिनेंस और बिल्डर कंपनी के अधिकारी से बात करने की कोशिश की गई, मगर उनका नंबर बंद था। एसएचओ कृष्ण गोपाल शर्मा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।                


2.50 लाख करोड़ का भारी नुकसान

भारत के बैन से पबजी को हुआ 2.50 लाख करोड़ का भारी भरकम नुकसान ।


नई दिल्ली। भारत सरकार ने कई चाइनीज मोबाइल एप्स को बैन कर दिया। जिसके चलते इन्हें बनाने और चलाने वाली कंपनियों को तगड़ा झटका लगा है।
बैन होने वाले एप्स में सबसे ज्यादा चर्चा पबजी मोबाइल गेम की ही हो रही है। दरअसल, चीनी कंपनी टेनसेंट पबजी मोबाइल का स्वामित्व रखती है और इसकी सेहत पर पबजी के भारत में बैन होने से तगड़ा असर पड़ा है। भारत में पबजी की रेवेन्यू हिस्सेदारी पांच फीसदी से भी कम है लेकिन पबजी पर प्रतिबंध लगाने से कंपनी को तगड़ा झटका लगा है। अब कंपनी को इससे उबरने का रास्ता नहीं सूझ रहा है।
गौरतलब है कि भारत में पबजी के बैन होने से टेनसेंट का बाजार पूंजीकरण लगभग 2.50 लाख करोड़ रुपये कम हो गया है। जो इस साल की दूसरी सबसे बड़ी गिरावट है। इससे पहले कंपनी को तब झटका लगा था जब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उसके एप वीचैट पर प्रतिबंध लगाया था। उस दौरान कंपनी को 4.81 लाख करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। पबजी के 2020 तक भारत में सबसे ज्यादा यूजर्स थे। दुनिया के कुल यूजर्स में से भारत के 24 फीसदी यूजर्स हैं, वहीं चीन में 16 फीसदी है जबकि अमेरिका में यूजर्स का आंकड़ा 6.4 फीसदी है।                 


दिल्ली की युवती से वृंदावन में गैंगरेप

लिफ्ट देने के बहाने दिल्ली की युवती से वृंदावन में गैंगरेप।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के वृंदावन में एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। घटना के संबंध में पीड़ित द्वारा तीन नाम और दो-तीन ...
उत्तर प्रदेश के वृंदावन में एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। घटना के संबंध में पीड़ित द्वारा तीन नाम और दो-तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। पुलिस ने दो युवकों को हिरासत में लेकर जांच शुरू कर दी है।
दिल्ली निवासी द्वारा कोतवाली में दर्ज कराई गई रिपोर्ट के अनुसार, वह शुक्रवार को लगभग 10 बजे भरतपुर मोड़ पर हाईवे पर खड़ी थी। तभी कार में तीन युवक आए और उसे लिफ्ट देने के नाम पर वृंदावन ले आए। आरोप है कि कार में तीनों युवक उसे एक गेस्ट हाउस में ले गए। कुछ समय बाद, उसके दो-तीन साथी वहां आए। इन लोगों ने उसके साथ जबरन बलात्कार किया। बताया कि वे उसे सुबह गेस्ट हाउस में छोड़कर फरार हो गए। जब उसने आरोपी के जाने के बाद शोर मचाया तो स्टाफ और गेस्ट हाउस के लोग मौके पर जमा हो गए।
घटना की सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंची। इस संबंध में पीड़िता ने दो अज्ञात युवकों के खिलाफ कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है, जिसमें ओमप्रकाश, रामेश्वर और मोनू शामिल हैं। पुलिस द्वारा गेस्ट हाउस और आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। सीओ सीओ सदर रमेश कुमार तिवारी ने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर तीन नामजद सहित तीन अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में है।             


बस्ती में लगी आग, सैकड़ों झुग्गिया राख

कोलकाता में बस्ती में लगी आग, सैकड़ों झुग्गियां जलकर राख।


कोलकाता। कोलकाता के नरकेलदंगा कैनाल के पूर्वी सड़क इलाके में सोमवार को झुग्गी-झोपड़ियों की एक बस्ती में भयानक आग लग गई जिसमें करीब 100 झुग्गियां जल कर खाक हो गईं। घटनास्थल पर आग बुझाने के लिए दमकल की 10 गाड़ियों को बुलाया गया। करीब 2 घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।
पश्चिम बंगाल के फायर ब्रिगेड के मुताबिक, आग चगोलपट्टी क्षेत्र में एक ट्रांसफॉर्मर में शॉर्ट सर्किट से लगी। आग ने देखते देखते पूरे इलाके को अपनी चपेट में ले लिया। मंत्री सुजीत बोस ने घटनास्थल का दौरा किया और कहा कि 25 झुग्गियां ही आग में जल कर खाक हुई हैं।             


एमपी में रेप के बाद हत्या, मिला शव

भोपाल। मध्य प्रदेश के रतलाम जिले में एक 10 वर्षीय नाबालिग से रेप के बाद हत्या करने का मामला सामने आया है। मामला पलाश पंचायत के एक गांव का बताया जा रहा है। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।


शनिवार देर शाम एक नाबालिग अपने घर से किराना का सामान लेने गई थी। काफी देर बाद जब वह नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी खोज शुरू कर दी। परिजनों ने दुकानदार से भी उसके बारे में पूछा तो दुकानदार ने कहा वह काफी पहले ही समान लेकर निकल गई थी।           


लोनी में अवैध नशीला पाउडर बरामद हुआ

सरताज खान


गाजियाबाद/लोनी। थाना ट्रोनिका सिटी पुलिस ने चैकिंग के दौरान नशे के 1 शातिर अवैध तश्कर को गिरफ्तार किया है। जिसके कब्जे से भारी मात्रा में अवैध नशीला पाउडर बरामद कर पुलिस ने जेल भेज दिये है।जो 2 दिन पहले दर्ज मुकदमे में वांछित चल रहा था।


एसएचओ ओपी सिंह ने बताया कि बीती रात पुलिस चौकी पचायरा क्षेत्र में उच्चाधिकारियों के निर्देश पर अवैध नशा तश्करो की धरपकड़ हेतु गश्त/ चैकिंग कर रही थी। उसी दौरान उन्होंने करीब साढ़े 9 बजे बदरपुर रोड नाले के पास से 1 शातिर तश्कर को गिरफ्तार किया है। जिसके कब्जे से पुलिस को 110 ग्राम नशीला पाउडर एलप्राजोलम बरामद हुआ। पुलिस पूछताछ में उसने अपना नाम नरेश पुत्र चमन सिंह निवासी पचायरा थाना ट्रोनिका सिटी बताया। एसएचओ ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त बहुत ही शातिर तश्कर है। जो नशीला पाउडर व अवैध शराब तस्करी कर घर का खर्च चलाता है तथा 2 दिन पहले अवैध शराब तस्करी के दर्ज मामले में वांछित चल रहा था। जिसे जेल भेज दिया है।                 


मामूली विवाद में जान से मारने की धमकी दी

मोमीन


गाजियाबाद/लोनी। 3 दिन पहले हुए मामूली विवाद के बाद दबंगो के इस कदर हौसले बुलंद है कि जबरन घर मे घुसकर परिवार पर अवैध असलाह तानकर भय व्याप्त किया और मारपीट करते हुए माफी न मांगने पर जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने तहरीर लेकर गम्भीरता से जांच शुरू कर दी है।


पीड़ित बाकर के अनुसार बीती रात वह घर मे सो रहे थे। करीब साढ़े 12 बजे उनके घर के दरवाजे पर दस्तक हुई। उनके बेटे द्वारा दरवाजा खोलने पर 5 लोग जिनमें से 3 के हाथों में तमंचे थे जबरन घर मे घुस गये और उनके बेटे की कनपटी पर तमंचा सटाकर गन्दी गन्दी गाली देते हुए मारपीट करने लगे। जब शोर सुनकर उसकी आंख खुली और वह बेटे को बचाने उठा तो उसके साथ भी मारपीट करने लगे। गनीमत रही कि गृह स्वामी बाकर ने अपने बेटे को जबरदस्ती कमरे में बन्द कर कुंडी लगा दी।आरोप है कि उसके बाद दबंगो ने सो रहे अन्य बच्चों को लात मारी और 3 दिन पहले हुए विवाद में विपक्षियों से जल्दी माफी न मांगने पर जान से मारने की धमकी दी। उसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गये। पीड़ित ने बताया कि उसने उसी समय 112 नम्बर पर कॉल कर पुलिस कंट्रोल र को सूचना दी और थाने जाकर पुलिस को घटना की तहरीर दी। एसएचओ ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि दोनो पक्ष रिश्तेदार है ,जिनमे पैसों के लेनदेन को लेकर आपसी विवाद है। पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।                


कंगना को मिली, वाई कैटीगरी की सुरक्षा

कंगना रनौत को मिली वाई कैटिगरी की सुरक्षा, कहा- भारत की एक बेटी के आत्मसम्मान की लाज रखी।   


मुंबई। कंगना रनौत को गृह मंत्रालय की तरफ से वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। कंगना को मुंबई में वापस न आने की मिली तमाम धमकियों के बाद उनके पिता ने हिमाचल प्रदेश सरकार से पुलिस सुरक्षा मांगी थी। वह 9 सितम्बर को मुंबई जानेवाली हैं। अब कंगना ने इस सुरक्षा के लिए ट्वीट कर अमित शाह को धन्यवाद कहा है और लिखा- ये प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा।
बता दें कि कंगना ट्विटर पर आने के बाद से ही एक बार फिर से चर्चा में हैं। मुंबई पुलिस को लेकर बयान के बाद से कंगना को लेकर शिवसेना हमलावर हो गई है। शिवसेना ने कंगना को लेकर अपने तेवर काफी तीखे कर लिए हैं और इन हालात को देखते हुए कंगना के पिता ने हिमाचल प्रदेश सरकार से पुलिस सुरक्षा की मांग की थी। अब खबर है कि गृह मंत्रालय की ओर से अब कंगना को वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।
कंगना ने खुद को मिली इस सुरक्षा को लेकर खुशी जताते हुए गृह मंत्री अमित शाह को टैग करते हुए लिखा, ‘ये प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा,मैं अमित शाह जी की आभारी हूं। वो चाहते तो हालातों के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा, हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज रखी, जय हिंद।’
हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने डीजीपी को दिया निर्देश
हिमाचल के प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा, ‘कंगना रनौत के पिता ने लिखित में पुलिस सुरक्षा की मांग की है। मैंने इस संबंध में डीजीपी को निर्देशित किया है। कंगना को यहां सुरक्षा दी जाएगी। हम चर्चा कर रहे हैं कि हिमाचल प्रदेश के बाहर उन्हें सुरक्षा देने के लिए क्या किया जा सकता है क्योंकि वह 9 सितंबर को मुंबई के लिए रवाना हो रही हैं।’
कंगना बोलीं- किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले
कंगना रनौत ने ट्वीट किया है, मैं देख रही हूं कई लोग मुझे मुंबई वापस न आने की धमकी दे रहे हैं इसलिए मैंने तय किया है कि 9 सितंबर को मुंबई आऊंगी। मैं मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंचकर टाइम पोस्ट करूंगी, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले।
‘मुंबई मराठी मानुष के बाप की ही है’
शिवसेना सांसद संजय राउत ने ट्वीट कर कहा, ‘मुंबई मराठी मानुष के बाप की ही है, जिन्हें यह मंजूर नहीं वह अपना बाप दिखाएं। शिवसेना महाराष्ट्र के दुश्मनों का श्राद्ध किए बगैर नहीं रहेगी, प्रॉमिस जय हिंद जय महाराष्ट्र’।
‘पीओके जाएं, खर्चा हम देंगे’
संजय राउत ने कहा कि जिस तरह की भाषा का वह प्रयोग कर रही हैं हम लोग नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘वह जिस थाली में खा रही हैं, उसी में थूक रही हैं। कुछ राजनीतिक दल उनका समर्थन कर रहे हैं। अगर वह पीओके जाना चाहती हैं तो दो दिन के लिए चली जाएं। हम ही पैसा दे देंगे। एक बार देख लें पीओके क्या है। वहां कैसा है।’
‘कंगना मानसिक रोग की शिकार हैं ‘
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता अमेय खोपकर ने भी कंगना रनौत के बयान पर नाराजगी जताते हुए तीखी टिप्पणी की है। उन्होंने कहा कि कंगना के खिलाफ महाराष्ट्र सरकार देशद्रोह का मामला दर्ज कर उनको गिरफ्तार करे। कंगना को शर्म आनी चाहिए कि जिस शहर ने उनको सब कुछ दिया उस शहर को और उस शहर की पुलिस को कंगना बदनाम कर रही है। अगर कंगना रनौत इस मुद्दे पर माफी नहीं मांगती हैं और इसी तरह के बयान देना जारी रखेंगी तो महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना की महिला विंग उन्हें सबक जरूर सिखाएगी। कंगना मानसिक रोग की शिकार हैं इसलिए सोशल मीडिया पर ऐसे पोस्ट लिखती रहती हैं।           


3 रॉकेट के हमलें से 4 कारें क्षतिग्रस्त

बगदाद एयरपोर्ट पर तीन रॉकेट से हमले, चार कारें क्षतिग्रस्त।


बगदाद। बगदाद एयरपोर्ट पर तीन कत्यूषा रॉकेट से हमले की जानकारी सामने आई है। इसकी जानकारी इराकी सेना ने दी। हमले में चार कारें क्षतिग्रस्त हो गईं हैं।
समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इराकी जॉइंट ऑपरेशन कमांड (जेओसी) के मीडिया कार्यालय ने एक बयान में कहा कि बीते दिन शाम को बगदाद के सिटी सेंटर के पश्चिम में अबू गरीब क्षेत्र से यह रॉकेट दागे गए, जो हवाई अड्डे से टकराए। जेओसी ने कहा कि रॉकेट में से एक हवाईअड्डे पर कार पार्क में जा गिरा, जिससे नागरिकों के चार कारों को नुकसान पहुंचा।
किसी भी समूह ने अब तक रॉकेट हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। बता दें कि इराक में बगदाद एयरपोर्ट, इराकी सैन्य ठिकानों, अमेरिकी सैनिकों के ठिकानों साथ-साथ ग्रीन जोन में बने अमेरिकी दूतावास को भी बार-बार मोर्टार और रॉकेट हमलों के जरिए निशाना बनाया जा रहा है।
इस इस्लामिक स्टेट में आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में इराकी बलों का समर्थन करने के लिए इराक में 5 हजार से अधिक अमेरिकी सैनिकों को तैनात किया गया है, जो कि मुख्य तौर पर इराकी बलों को प्रशिक्षण और सलाह दे रहा है।                        


गतिविधियां बढ़ाने के लिए खुलेगी अकादमी

पहाड़ पर खेल गतिविधियों को बढ़ाने के लिए खुलेंगी खेल अकादमी : दीपक मेहरा।


नई दिल्ली। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) के काउंसलर दीपक मेहरा कुमाऊँ के दौरे पर हैं। वह आज चंपावत पहुंचे। जहां क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ चंपावत के कार्यालय में जिला पदाधिकारियो ने उनका स्वागत किया। काउंसलर दीपक मेहरा ने कहा कि पहाड़ में खेल गतिविधियों को बढ़ाने के लिये सीएयू की और से जो संभव मदद होगी वो की जायेगी। काउंसलर मेहरा ने उसके बाद चंपावत में जीआईसी के खेल मैदान का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश स्तर पर जल्द ही खेल गतिविधियां शुरू हो सकती है। उन्होंने ब्लॉक स्तर पर पदाधिकारियो की नियुक्ति कर खेल को बढ़ावा दिया जा सकता है। साथ ही पहाड़ में मैदान की कमी होने से युवा क्रिकेटर को उचित माध्यम नही मिल रहा है। सीएयू पूरे प्रदेश के पहाड़ और मैदान के क्षेत्रो में क्रिकेट एकेडमी भी खोलने पर विचार कर रही है। साथ ही पूरे प्रदेश में जिन खिलाड़ियो ने रजिस्ट्रेशन नही कराया है वे 7 सितंबर तक रजिस्ट्रेशन करवा लें।
इस मौके पर क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ चंपावत के सचिव नीरज वर्मा, कोषाध्यक्ष कुलदीप वर्मा, हेमन्त वर्मा, क्रिकेट एशोसिएशन ऑफ बागेश्वर के अध्यक्ष सुरेश सोनियाल, सचिव रमेश दानू, जिला नैनीताल क्रिकेट एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष कमल पपनै, किशन अनेरिया, प्रदीप गड़िया, रामचंद्र पांडे, विकास साह, रोहित बिष्ट, हिमांशु वर्मा, दीपक जोशी, मयुख चौधरी, तुषार वर्मा, तरुण वर्मा, कपिल खर्कवाल, नरेंद्र अधिकारी, महेश नाथ मौजूद थे।             


समस्या के समाधान की कोई योजना नहीं

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार देश को संकट में तो पहुंचा देती है लेकिन समस्या के समाधान की उसके पास कोई योजना नहीं होती है।


राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि यह सरकार समस्या का समाधान ढूंढने का प्रयास करने की बजाय गलत दौड़ में शामिल हो जाती है और गलत तरीके से अपनी उपलब्धियां गिनाने लगती है। कोरोना महामारी और वस्तु तथा सेवा कर-जीएसटी में भी वह यही कर रही है।


उन्होंने ट्वीट कर कहा , “मोदी सरकार देश को संकट में पहुंचाकर समाधान ढूंढने की बजाए शुतुरमुर्ग बन जाती है। हर गलत दौड़ में देश आगे है- कोरोना संक्रमण के आंकड़े हो या जीडीपी में गिरावट।”इसके साथ ही उन्होंने एक खबर भी पोस्ट की जिसमें लिखा है, “कोरोना के बिगड़ते हालात, कफन के लिए लग रही है कतार, बेचने वाले बोले, जीवन में ऐसा पहली बार देखा।”                      


शिक्षा नीति में प्रभाव कम होना चाहिए

शिक्षा नीति में सरकार का दखल और प्रभाव कम से कम होना चाहिए: मोदी।


नई दिल्ली। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद की मौजूदगी में सोमवार को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर आयोजित राज्यपालों की कांफ्रेंस में बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि शिक्षा नीति में सरकार, उसका दखल और प्रभाव कम से कम होना चाहिए। उन्होंने केंद्र, राज्य सरकारों और स्थानीय निकायों की शिक्षा व्यवस्था से जुड़ी जिम्मेदारियों पर भी चर्चा की।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, देश की आकांक्षाओं को पूरा करने का महत्वपूर्ण माध्यम शिक्षा नीति और शिक्षा व्यवस्था होती है। शिक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी से केंद्र, राज्य सरकार, स्थानीय निकाय, सभी जुड़े होते हैं। लेकिन ये भी सही है कि शिक्षा नीति में सरकार, उसका दखल, उसका प्रभाव, कम से कम होना चाहिए।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि शिक्षा नीति से जितना शिक्षक, अभिभावक जुड़ेंगे, छात्र जुड़ेंगे, उतना ही उसकी प्रासंगिकता और व्यापकता, दोनों ही बढ़ती है। देश के लाखों लोगों ने, शहर में रहने वाले, गांव में रहने वाले, शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों ने, इसके लिए अपना फीडबैक दिया था, अपने सुझाव दिए थे। दो लाख से अधिक लोगों के सुझाव लेकर शिक्षा नीति का ड्राफ्ट तैयार हुआ था। इसलिए नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति का स्वागत हो रहा है। इसकी स्वीकार्यता देखने को मिली है।               


8 पर गिरी आकाशीय बिजली दो की मौत

नई दिल्ली। देश के अलग-अलग हिस्सों में इन दिनों लगातार भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। इस बीच महाराष्ट्र में आकाशीय बिजली गिरने से कई लोग उसकी चपेट में आ गए। जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र के पालघर जिले के वाडा और दहानू में भारी वर्षा के बीच आकाशीय बिजली गिरने की दो घटनाओं में दो लोगों की मौत हो गई। वहीं, इस हादसे में छह लोगों के घायल होने की भी खबर है। दहानू के तहसीलदार राहुल सारंग ने बताया कि तावा के नामपदा गांव में 20 वर्षीय नितेश तुंबडा नाम का शख्स बिजली बिजली की चपेट में आ गया। बिजली गिरने से नितेश की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दो अन्य घायल हो गए। दूसरा हादसा वाडा में अंबिस्ते खुर्द में हुआ जहां बिजली गिरने से शांताराम दिवा (17) की मौत हो गई और चार लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनका उपचार किया जा रहा है। पालघर के जिला आपदा प्रकोष्ठ के प्रमुख विवेकानंद कदम ने इस बात की जानकारी दी है।                          


गर्भवती से कोरोना टेस्ट के नाम पर दुष्कर्म

गर्भवती महिलाओं से कोरोना टेस्ट के नाम पर दुष्कर्म,आरोपी स्वास्थ्यकर्मी गिरफ्तार।


राजिम। गर्भवती महिलाओं के साथ कोरोना टेस्ट के नाम पर दुष्कर्म के मामले मेंं आरोपी स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। कोरोना जांच के नाम पर तीन दिनों तक महिलाओं के घर जाता रहा। महिलाओं को अलग कमरे में ले जाकर उनके साथ अश्लीलता की। शुरूआत में इस घटना से डर चुकी महिलाओं ने चुप्पी साधे रखी मगर बाद में पतियों को इसकी जानकारी दी। रविवार को इस मामले में पुलिस ने आरोपी स्वास्थ्य कर्मी को गिरफ्तार कर लिया। राजिम थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी शत्रुघन सेन राजिम का रहने वाला है। यह सुरसाबांधा गांव के उपस्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्यकर्मी के पद पर पदस्थ है। इस गांव में एक घर से कुछ लोग कोविड पॉजिटिव पाए गए। इन लोगों को कोविड सेंटर मे भेज दिया गया था। इसके बाद परिवार के बाकी लोगों की जांच होनी थी। आरोपी शत्रुघ्न सेन 2 सितम्बर उसी घर में पहुंचा। यहां 3 महीने और 9 माह की गर्भवती महिलाएं थीं। इन्हीं के साथ आरोपी ने अश्लीलता की। इसके बाद वो 3 और 4 सितंबर को भी जांच के नाम पर घर गया और घटना को दोहराने लगा।                                 


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...