उत्तर भारत लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
उत्तर भारत लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 31 दिसंबर 2020

बर्फीली हवाओं से थरथर कांप रहा हैं उत्तर भारत

हरिओम उपाध्याय  

नई दिल्ली। नए साल की तैयारियों के बीच राजधानी दिल्ली समेत पूरा उत्तर भारत कड़ाके की ठंड और शीत लहर की चपेट में है और फिलहाल दो दिन तक कोई राहत की उम्मीद नहीं है। उत्तर से पश्चिम की ओर बह रही बर्फीली हवाओं ने ठंड बढ़ा दी है। भारतीय मौसम विभाग (IMD) के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि पश्चिमी हिमालय से आने वाली ठंडी और शुष्क हवाओं के कारण मैदानी इलाकों में न्यूनतम तापमान में गिरावट आ रही है।दिल्ली में बुधवार को  न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री और अधिकतम तापमान 16.4 डिग्री सेल्सियस रहा। आज और कल शीत लहर रहेगा। मौसम विभाग ने न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई है।अगले सप्ताह बारिश के भी आसार हैं।

हरियाणा के नारनौल का पारा 2.4 डिग्री दर्ज किया गया। हिसार का रात का तापमान 3.7 डिग्री दर्ज किया गया है। हिसार के साथ लगते राजस्थान के जिले चुरू में तापमान माइनस में चला गया। चुरू में रात्रि तापमान माइनस 1.5 डिग्री दर्ज किया गया। मंगलवार को हिसार का पारा 0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। जम्मू कश्मीर में दिनभर धूप खिली रही, लेकिन भीषण ठंड का प्रकोप बना हुआ है। पुंछ से कश्मीर को जोड़ने वाले मुगल रोड और श्रीनगर-लेह राजमार्ग बीते दिनों भारी बर्फबारी के कारण बंद है। मौसम विभाग ने दो जनवरी से बारिश की संभावना जताई है।

हिमाचल प्रदेश के आठ स्थानों पर तापमान जमाव बिंदु से नीचे दर्ज किया गया है। शिमला, मनाली सहित दूसरे पर्यटन स्थलों पर हुई बर्फबारी के बाद पर्यटकों की तादाद बढ़ गई है। हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग के विभागाध्यक्ष मदन खिचड़ ने बताया कि हरियाणा में मौसम आमतौर पर 3 जनवरी तक खुश्क रहेगा।

शनिवार, 12 दिसंबर 2020

पहाड़ों में भारी बर्फबारी, कई राज्यो में बारिश

पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी, कई राज्यों में बारिश
पालूराम
नई दिल्ली। पहाड़ी इलाकों में तेज बर्फबारी के कारण देश के मौसम में तेजी से बदलाव हुआ है। बर्फबारी के के कारण तापमान में तेजी से गिरावट दर्ज की गई है। इसके अलावा दिल्ली समेत कई राज्यों में हो रही हल्की बारिश भी शुरू हो गई। आज 12 दिसंबर को दिल्ली समेत कई राज्यों में काफी बदलाव देखने को मिला। दिल्ली, यूपी, मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों में हल्की बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग का कहना है कि 12 दिसंबर को दक्षिण-दिल्ली, दक्षिण-पश्चिम दिल्ली, द्वारका और IGI हवाईअड्डे पर हल्की बारिश हो सकती है।
पश्चिमी विक्षोभ का असर
हिमालय क्षेत्र से पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने के चलते दिल्ली और इसके पड़ोसी शहरों में 11-12 दिसंबर को हल्की बारिश होने की संभावना है। जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी हो रही है। मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली के कुछ इलाकों में कोहरा, हल्की बारिश और बादल छाए रहे। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि दिल्ली में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहेगा। दिल्ली की हवा बीते कई दिनों से गंभीर श्रेणी में बनी हुई है। ऐसे में हल्की बारिश से प्रदूषण से भी राहत मिल सकती है।
बिहार को कोहरे से नहीं मिलेगी राहत
उत्तर भारत में बिहार सहित कई राज्यों में कोहरे की धुंध से विजिबिलिटी कम हुई है। कोहरे की घनी परत के कारण विजिबिलिटी जीरो होने से यातायात प्रभावित हुआ है। मौसम विभाग का कहना है कि फिलहाल अगले 2-3 दिनों तक कोहरे और धुंध से राहत नहीं मिलेगी। राजधानी पटना के मौसम विज्ञान केंद्र ने बिहार के सभी जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। अगले दो दिन पटना का अधिकतम तापमान 24 डिग्री और न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस पहुंच सकता है।
उत्तराखंड में 3 बारिश की संभावना
उत्तराखंड में भी मौसम ने करवट ली है। केदारनाथ गंगोत्री-यमुनोत्री समेत ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो रही है। वहीं राजधानी देहरादून समेत कई क्षेत्रों में रात से ही बारिश जारी है। तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। बारिश के कारण कई इलाकों की बिजली भी गुल हो गई है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन दिन प्रदेश में बारिश और बर्फबारी के साथ ही ओलावृष्टि भी हो सकती है।

तेलांगना कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने माफी मांगीं

हैदराबाद। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर के खिलाफ अपनी कथित अपमानजनक टिप्पणी को लेकर तेलांगना प्रदेश कांग्रेस कमेटी...