गुरुवार, 4 अप्रैल 2024

परिवहन विभाग ने ग्रीन कार्ड अनिवार्य किया

परिवहन विभाग ने ग्रीन कार्ड अनिवार्य किया

पंकज कपूर 
देहरादून। चारधाम यात्रा को लेकर तैयारियां तेज है। चारधाम पर जाने वाले व्यावसायिक वाहनों के लिए परिवहन विभाग ने ग्रीन कार्ड अनिवार्य किया गया है। बिना ग्रीन कार्ड के यात्रा संभव नहीं होगी। ऐसे में वाहन चालक एक अप्रैल से ग्रीन कार्ड बनने शुरू हो गए है। हालांकि निजी वाहनों के लिए ग्रीन कार्ड-ट्रिप कार्ड की कोई बाध्यता नहीं है। 

आइए जानते है कैसे बनेगा ये कार्ड ?

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार चारधाम यात्रा के लिए ग्रीन कार्ड जरूरी है। इसके लिए इन वाहनों को आरटीओ कार्यालय में लंबे फिटनेस टेस्ट से गुजरना होगा। गुरुवार सुबह एआरटीओ ऋषिकेश कार्यालय में ग्रीन कार्ड बनाने के लिए एक काउंटर का संचालन शुरू किया गया। अब वाहन स्वामी आवेदन कर सकेंगे। इसमें कार्ड बनाने को इच्छुक वाहन स्वामियों को आवेदन-पत्र उपलब्ध कराने व आवेदन की समस्त प्रक्रिया से जुड़ी जानकारी दी जा रही हैं।
बताया जा रहा है कि ग्रीन कार्ड के लिए व्यावसायिक वाहन स्वामी greencard.uk.gov.in वेबसाइट पर जाकर आवेदन  कर सकते है। यह टेस्ट पास करने के बाद ही व्यावसायिक वाहनों को ग्रीन कार्ड मिलेगा। यह ग्रीन कार्ड पूरी अवधि के लिए मान्य होगा ग्रीन कार्ड बनवाने के लिए वाहन को आरटीओ कार्यालय में ले जाना पड़ता है।
इस कार्ड के बाद प्रत्येक ट्रिप के लिए वाहन स्वामी को ट्रिप कार्ड लेना होता है। इस ट्रिप कार्ड को भी परिवहन विभाग की वेबसाइट greencard.uk.gov.in पर दिए गए लिंक से ऑनलाइन प्राप्त किया जा सकता है। यहां पर वाहनों के समस्त कागज, आरसी, फिटनेस प्रमाण पत्र, बीमा प्रमाण पत्र, प्रदूषण नियंत्रण प्रमाण पत्र, परमिट, वाहन कर जमा करने का प्रमाण पत्र, चालक का लाइसेंस चेक किया जाता है।

विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़कर 6 हुई

विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़कर 6 हुई 

इकबाल अंसारी 
हैदराबाद। तेलंगाना के संगारेड्डी जिले में दवा बनाने वाली एक कंपनी के संयंत्र में लगे रासायनिक रिएक्टर में हुए विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़कर छह हो गई है। पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। जिले के हथनूर मंडल के चंदापुर गांव में स्थित एसबी ऑर्गेनिक्स लिमिटेड की फैक्टरी में बुधवार को हुए विस्फोट में चार लोगों की मौत हो गई थी और 16 अन्य लोग घायल हुए थे।
पुलिस ने बताया कि बृहस्पतिवार को फैक्टरी परिसर में मलबे के नीचे एक कर्मचारी का शव मिला और एक घायल व्यक्ति ने बुधवार रात उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था। पुलिस के मुताबिक, मृतकों में कंपनी के निदेशक और इकाई के कर्मचारी शामिल हैं। पुलिस ने बताया कि मृतक आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु और मध्य प्रदेश के रहने वाले थे।
पुलिस और दमकल विभाग के अधिकारियों ने बताया कि विस्फोट के बाद आग लग गई, जो फार्मा इकाई के परिसर में फैल गई। बाद में आग पर काबू पा लिया गया। घटना में घायल हुए 16 अन्य लोगों को इलाज के लिए विभिन्न अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कंपनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि विस्फोट के कारण की जांच की जा रही है।

मलेरिया का प्रकोप, हर हफ्ते 70,000 लोग संक्रमित

मलेरिया का प्रकोप, हर हफ्ते 70,000 लोग संक्रमित

अखिलेश पांडेय 
प्रिटोरिया। मच्छरजनित कई प्रकार की बीमारियों के कारण हर साल लाखों लोगों की मौत हो जाती है। हालिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इन दिनों कई अफ्रीकी देशों में मलेरिया के मामले तेजी से बढ़ते हुए देखे जा रहे हैं। स्थानीय मीडिया में छपी खबरों के मुताबिक पिछले कुछ महीने में इथियोपिया में मलेरिया के केस और मृतकों की संख्या में बड़ा उछाल आया है, यहां आठ महीनों में ही 32 लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं।
पूर्वी अफ्रीकी देश के विभिन्न हिस्सों में बीमारी के तेजी से फैलने को लेकर चेतावनी देते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा सभी लोगों को मलेरिया से बचाव को लेकर प्रयास करते रहने की जरूरत है। हर हफ्ते यहां करीब 70,000 लोग संक्रमित हो रहे हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस रोग के मामले अभी से काफी अधिक देखे जा रहे हैं। बरसात का मौसम बीमारी के प्रसार को और बढ़ा देगा, यह गंभीर संकट का समय हो सकता है, मलेरिया की रोकथाम को लेकर गंभीरता से प्रयास की आवश्यकता है। संयुक्त राष्ट्र कार्यालय ने कहा कि मौजूदा प्रकोप के परिणामस्वरूप इथियोपिया में मलेरिया से संबंधित मौतों की संख्या जनवरी में 611 से बढ़कर फरवरी में 764 हो गई है।

अफ्रीकी देशों में मलेरिया का प्रभाव

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इथियोपिया के अलावा कई अन्य देशों जैसे केन्या में भी इस रोग के तेजी से बढ़ने की खबरें सामने आ रही हैं। यहां भी पिछले कुछ महीनों में तेजी से मलेरिया के मामले और मौत की संख्या बढ़ी है।
कई अफ्रीकी देशों में मलेरिया के खतरे को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारियों ने अलर्ट जारी करते हुए इस बीमारी से होने वाली मौतों को कम करने के लिए त्वरित कार्रवाई करने की प्रतिबद्धता जताई है। विश्व स्तर पर मलेरिया से होने वाली 95% मौतें अफ्रीकी देशों में दर्ज की जाती रही हैं।

परजीवी के कारण होता है ये रोग

गौरतलब है कि मलेरिया रोग, संक्रमित मच्छरों द्वारा मनुष्यों में फैलने वाली एक जानलेवा बीमारी है। ये संक्रमण एक परजीवी के कारण होता है हालांकि एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, जिन हिस्सों में मलेरिया के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं वहां पर लोगों को मच्छरों के काटने से बचने के लिए गंभीरता से उपाय करने की जरूरत है।

मलेरिया की रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञ प्रभावित क्षेत्रों में बच्चों के टीकाकरण की सलाह देते हैं। इसी क्रम में वैज्ञानिकों की एक टीम ने नया टीका विकसित किया है, जिसके अच्छे परिणाम देखे गए हैं।

दो टीकों का सबसे ज्यादा इस्तेमाल

दशकों के शोध और परीक्षणों के बाद मलेरिया की रोकथाम को लेकर वैज्ञानिकों ने नया टीका विकसित किया है जिसे इस रोग की रोकथाम को लेकर प्रभावी साबित होने का दावा किया जा रहा है। जनवरी से ही कैमरून जैसे देशों में शिशुओं और पांच साल से कम उम्र के बच्चों को टीके दिए जा रहे हैं।

अध्ययनकर्ता कहते हैं, परीक्षण में इस वैक्सीन को मलेरिया की रोकथाम को लेकर काफी प्रभावी पाया गया है, उम्मीद है कि इससे मलेरिया की रोकथाम की दिशा में बड़ी कामयाबी मिल सकती है।

क्या कहते हैं स्वास्थ्य विशेषज्ञ ?

इससे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन ने आर21 वैक्सीन को दिसंबर में मंजूरी दी थी।। यह टीका पहले से ही कुछ अफ्रीकी देशों में इस्तेमाल किया जा रहा है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, टीकाकारण के साथ-साथ मलेरिया से बचाव के लिए पूरी आस्तीन के सुरक्षात्मक कपड़े पहनने, मच्छरदानी और कीटनाशकों के उपयोग के साथ मच्छरों के प्रजनन को रोकने के लिए उपाय करते रहने की जरूरत है।
स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, मलेरिया कुछ स्थितियों में घातक और जानलेवा हो सकता है इसलिए बचाव को लेकर निरंतर प्रयास किए जाते रहना चाहिए।

'मतदाता जागरूकता' कार्यक्रम का आयोजन

'मतदाता जागरूकता' कार्यक्रम का आयोजन
     
बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। क्षेत्रीय अभिलेखागार संस्कृति विभाग प्रयागराज एवं स्वीप प्रयागराज के संयुक्त तत्वावधान में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन क्षेत्रीय अभिलेखागार प्रयागराज कार्यलय में आयोजित किया गया। 
कार्यक्रम में क्षेत्रीय अभिलेखागार, उ0प्र0 राज्य मुक्त विद्यालय (पत्राचार संस्थान) तथा मनोविज्ञानशाला कार्यालय के अधिकारी और प्रवक्ताओं के साथ कर्मचारियों ने कार्यक्रम में शिरकत की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तथा स्वीप प्रयागराज के नोडल श्री अनुपम परिहार और टीम द्वारा मतदाता जागरूकता से सम्बन्धित जानकारी साझा करते हुए प्रयागराज में मतदान के प्रति स्वयं तथा अपने आस-पास परिचितों से मतदान बढ़ाने के लिए आवश्यक सुझाव तथा जानकारी प्रदान की गई। रवीन्द्र नाथ उप शिक्षा अधिकारी, पत्राचार संस्थान द्वारा महापर्व के प्रति सभी को योगदान देने के साथ ही अपने परिचितों को भी इस अभियान में जुड़ने का आहवान किया। राकेश कुमार वर्मा क्षेत्रीय अभिलेखागार प्रयागराज द्वारा बताया गया कि मतदान के प्रति स्वयं तथा अन्य सभी लोगो को जागरूक करने की आवश्यकता है। वरिष्ठ लोक कलाकार श्री श्याम बिहारी गौड जी और लोक गायिका प्रतिमा मिश्रा द्वारा  अपने गायन के माध्यम से मतदान के लिए लोगों को जागरूक किया। 
प्रयागराज के प्रसिद्ध मुछ नर्तक कलाकार राजेन्द्र तिवारी ‘दुकान जी‘ ने भी अपने माध्यम से मतदान के इस पर्व में मतदाता रूचि बढ़ाने के लिए अपने परिधान के माध्यम से योगदान दिया। इस अवसर पर उपस्थित सभी गणमान्य जनों को मतदाता शपथ दिलाकर मतदान करने का संकल्प दिलाया गया और मतदाता जागरूकता रैली भी निकाली गई। सभी अतिथियों का स्वागत एवम कार्यक्रम का संयोजन राकेश कुमार वर्मा प्राविधिक सहायक क्षेत्रीय अभिलेखागार प्रयागराज द्वारा किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ कवि रत्नेश द्विवेदी, अरविन्द गौतम, पवन सिंह, एच अहमद, प्रियंका यादव, कीर्ति पटेल, रीता यादव, हरिश्चन्द्र दुबे, शैलेन्द्र यादव, विकास यादव, रोशन लाल, शुभम कुमार सहित गणमान्य जनों की उपस्थिति रही।

धर्मगुरुओं एवं जिम्मेदार लोगों के साथ बैठक की

धर्मगुरुओं एवं जिम्मेदार लोगों के साथ बैठक की 

भानु प्रताप उपाध्याय 
मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने आगामी त्योहारों एवं लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्वक संपन्न करने के लिए धर्मगुरुओं एवं जिम्मेदार लोगों के साथ बैठक करते हुए आपसी भाईचारे के साथ त्यौहार मनाने का आह्वान किया। 
बृहस्पतिवार को आगामी त्यौहारों अलविदा जुम्मा व ईद आदि को जनपद में सकुशल सम्पन्न कराने, सुरक्षा व्यवस्था सुदृढ रखने तथा शांति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाये रखने के उद्देश्य से जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी एव वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह द्वारा जिला पंचायत सभागार में जनपद के सम्भ्रान्त व्यक्तियों व धर्मगुरुओं के साथ पीस कमेटी मीटिंग का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी एव वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह द्वारा मीटिंग में उपस्थित सभी गणमान्य लोगों से अपील की गयी कि सभी लोग एक दूसरे की भावनाओं का सम्मान करें, जनपद में शांति व्यवस्था बनाये रखें, शांतिपूर्ण तरीके से जुमे की नमाज अदा करे, साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाडने की कोशिश करने वालों/असामाजिक तत्वों/किसी भी प्रकार की आपराधिक अवंछित गतिविधियों दिखाई देने पर इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दें, किसी प्रकार की अफवाह पर ध्यान न दें बल्कि अफवाह की पुष्टि उच्चाधिकारियों से करे तथा जनपद में सौहार्दपूर्ण वातावरण का माहौल बनाये रखने में पुलिस व प्रशासन का सहयोग करें।  जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी एव वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने हिदायत देते हुए कहा कि सोशल मीडिया पर ऐसी कोई भी पोस्ट शेयर न करें जिससे किसी की धार्मिक भावनाएं आहत हों तथा किसी भी प्रकार की भडकाऊ/गलत/अशोभनीय पोस्ट शेयर न करें जिससे आपसी सौहार्द खराब हो साथ ही किसी भी हिंसात्मक अथवा कानून विरोधी गतिविधि का हिस्सा ना बनें तथा आगामी पर्व/त्यौहारों को सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाएं। मीटिंग के दौरान पुलिस अधीक्षक नगर सत्यनारायण प्रजापत, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण आदित्य बंसल, समस्त क्षेत्राधिकारीगण सहित अन्य प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी/ कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-167, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. शुक्रवार, अप्रैल 05, 2024

3. शक-1945, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-एकादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 07:13, सूर्यास्त: 06:52।

5. न्‍यूनतम तापमान- 27 डी.सै., अधिकतम- 15+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। इस समय देश में सभी देशवासियों का गर्मी से हाल बेहाल है और अभी...