मंगलवार, 14 जून 2022

मदरसों में उलेमाओं के साथ पीस मीटिंग का आयोजन

मदरसों में उलेमाओं के साथ पीस मीटिंग का आयोजन

अश्वनी उपाध्याय              
गाजियाबाद। भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान के बाद कई राज्यों में बिगड़े हालातों को देखते हुए, गाजियाबाद पुलिस और प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। गाजियाबाद में किसी तरह की शांति व्यवस्था ना बिगड़े, इसको लेकर पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी ने धर्म-गुरुओं के साथ पीस मीटिंग कर वार्तालाप की हैं। इसी क्रम में गाजियाबाद स्थित लोनी एसडीएम संतोष कुमार राय और क्षेत्राधिकारी लोनी रजनीश कुमार उपाध्याय ने क्षेत्र के मदरसों में उलेमाओं के साथ एक पीस मीटिंग का आयोजन किया। 
जिसमें उन्होंने हाल के माहौल को देखते हुए वार्ता की और सभी को शासन की मंशा से अवगत कराया गया। लोनी सीओ रजनीश कुमार उपाध्याय ने मीटिंग मे आए सभी उलेमाओं से धार्मिक स्थलों पर आने वाले लोगों को सोशल मीडिया पर धर्म को लेकर चलने वाले मैसेज पर टिप्पणी ना करने की सलाह दी। वहीं इस मामले पर बात करते हुए लोनी उप जिलाधिकारी संतोष कुमार राय ने बताया कि थाना लोनी क्षेत्र के कस्बा चौकी के अंतर्गत सभी उलेमाओं के साथ बैठक कर बता दिया गया है कि किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान ना दें और क्षेत्र में शांति व्यवस्था बनाए रखें। वही क्षेत्राधिकारी रजनीश कुमार उपाध्याय ने इस दौरान आपसी भाईचारा व सौहार्द बनाए रखने की बात कही।

पुलिस की गोली लगने से 1 बदमाश घायल, दूसरा फरार

पुलिस की गोली लगने से 1 बदमाश घायल, दूसरा फरार

अश्वनी उपाध्याय     
गाजियाबाद। थाना लोनी बॉर्डर पुलिस ने मोटरसाईकिल सवार दो व्यक्तियों को बेहटा रेल अंडर पास के पास चैकिंग के दौरान रोका, तो वह दोनों व्यक्ति अपनी मोटरसाइकिल को तेज गति से पीछे मोड़कर पुलिस पर फायर करते हुए भागने लगें। जिस पर थाना लोनी बॉर्डर पुलिस टीम द्वारा अपने साहस का परिचय देते बदमाश की घेराबंदी की गई। बदमाशों के द्वारा पुलिस को लक्ष्य करके जान से मारने की नीयत से फायर किया गया।
वहीं, थाना लोनी बॉर्डर पुलिस टीम ने आत्मरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही में एक बदमाश को पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया, तथा दूसरा बदमाश मौके से फरार हो गया।
पूछताछ में पकड़े गए बदमाश ने अपना नाम शहजाद पुत्र इंतजार निवासी राम पार्क ट्रोनिका सिटी गाजियाबाद 30 वर्ष बताया, तथा भागे हुए अपने साथी का नाम राजू बताया है। अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है।

अभियुक्त का नाम व पता...
शहजाद पुत्र इंतजार निवासी राम पार्क ट्रोनिका सिटी गाजियाबाद 30 वर्ष

बरामदगी का विवरण...
1- एक अदद टी वी एस मोटरसाइकल चोरी की 
2- 01 तमंचा 315 बोर
3- 04 कारतूस- (02 खोखा 02 जिंदा अभियुक्त का अपराधिक इतिहास पकड़े गए। बदमाश शहजाद पर एक दर्जन से भी ज्यादा अभियोग पंजीकृत है। अभियुक्त को गिरफ्तार करने मैं थाना लोनी बॉर्डर की टीम मौजूद रही।

आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान के सामने घुटने टेके

आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान के सामने घुटने टेके

सुनील श्रीवास्तव 
इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान के 100 से ज्‍यादा सैनिकों की हत्‍या करने वाले आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान के सामने सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने घुटने टेक दिए हैं। चीन के दबाव में पाकिस्‍तानी सेना टीटीपी के साथ एक समझौता करने जा रही है। जिससे पाकिस्‍तान के अंदर एक ‘अलग’ इस्‍लामिक देश का रास्‍ता साफ होगा। टीटीपी आतंकियों के शासन वाले इस इलाके में शरिया कानून लागू होगा। वहीं, विश्‍लेषकों ने चेतावनी दी है कि पाकिस्‍तान और टीटीपी के बीच यह शांति समझौता आतंकियों के लिए एक बड़ी जीत की तरह से होगा।टीटीपी आतंकी पाकिस्‍तान की लोकतांत्रिक सरकार की जगह पर अपनी सत्‍ता चाहते हैं।
जो शरिया कानून पर आधारित होगी। टीटीपी आतंकी अगस्‍त 2021 से लेकर मार्च 2022 के बीच में अब तक कम से कम 119 पाकिस्‍तानी सैनिकों की हत्‍या कर चुके हैं। टीटीपी ने शांति समझौते को लेकर हो रही बातचीत को देखते हुए ‘अनिश्चित काल के लिए सीजफायर’ का ऐलान किया था। पाकिस्‍तान की सरकार टीटीपी के शीर्ष नेताओं और कमांडरों को जेल से रिहा करने पर सहमत हो गई है।पाकिस्‍तानी सेना और टीटीपी के बीच इस समझौते को तालिबानी गृहमंत्री सिराजुद्दीन हक्‍कानी ने कराया है। सिराजुद्दीन हक्‍कानी एक कुख्‍यात आतंकी है जिसका अलकायदा के साथ मजबूत रिश्‍ता है। अब हक्‍कानी टीटीपी को संरक्षण दे रहा है। संयुक्‍त राष्‍ट्र का अनुमान है कि अफगानिस्‍तान में 3 हजार से लेकर 5 हजार आतंकी मौजूद हैं। टीटीपी के साथ शांति समझौता होने पर इनमें से बड़ी संख्‍या में आतंकी पाकिस्‍तान आ सकते हैं। इससे पाकिस्‍तान का कबायली इलाका फाटा टीटीपी आतंकियों का गढ़ बन जाएगा।टीटीपी की प्रमुख मांग है कि उसके नियंत्रण वाले इलाकों में शरिया कानून लागू किया जाए। इसमें पाकिस्‍तान के खैबर पख्‍तूनख्‍वा कबायली इलाका जिसे फाटा कहा जाता था, शामिल है। यही नहीं टीटीपी फाटा को फिर से खैबर पख्‍तूनख्‍वा से अलग करना चाहता है। इस डील का विरोध कर रहे पाकिस्‍तानी नेताओं का मानना है कि टीटीपी फाटा को ठीक उसी तरह से ‘मिनी इस्‍लामिक अमीरात’ बनाना चाहता है, जैसे तालिबान ने सत्‍ता पर कब्‍जा करने के बाद अफगानिस्‍तान में बनाया है। उन्‍होंने चेतावनी दी कि अगर टीटीपी खुद को विघटित करने की पाकिस्‍तानी सेना की मांग को स्‍वीकार भी कर लेता है तो भी वह अफगान तालिबान की तरह से फाटा में शरिया कानून लागू करने वाला मुख्‍य संगठन होगा।

खैबर पख्‍तूनख्‍वा में सक्रिय अवामी नैशनल पार्टी के एक प्रमुख नेता ने कहा कि इस बातचीत से साफ हो गया है कि टीटीपी को हराया नहीं जा सकता है जिसे तालिबान का समर्थन हासिल है। उन्‍होंने कहा कि तालिबान के साथ पाकिस्‍तानी सेना के अच्‍छे संबंध हैं, इसलिए यह सेना की सीधे हार की तरह से है। इस बीच तालिबान के पिछलग्‍गू टीटीपी की बढ़ती क्षमता के पीछे चीन का भी समर्थन है। चीन बार-बार कह रहा है कि वह तालिबान के अपने इस्‍लामिक परंपरा के हिसाब से शासन करने के अधिकार का समर्थन करता है।

खैबर पख्‍तूनख्‍वा में सक्रिय अवामी नैशनल पार्टी के एक प्रमुख नेता ने कहा कि इस बातचीत से साफ हो गया है कि टीटीपी को हराया नहीं जा सकता है जिसे तालिबान का समर्थन हासिल है। उन्‍होंने कहा कि तालिबान के साथ पाकिस्‍तानी सेना के अच्‍छे संबंध हैं, इसलिए यह सेना की सीधे हार की तरह से है। इस बीच तालिबान के पिछलग्‍गू टीटीपी की बढ़ती क्षमता के पीछे चीन का भी समर्थन है। चीन बार-बार कह रहा है कि वह तालिबान के अपने इस्‍लामिक परंपरा के हिसाब से शासन करने के अधिकार का समर्थन करता है।

पाकिस्‍तान के एक नेता ने खुलासा किया कि चीन टीटीपी के साथ समझौता करने के लिए पाकिस्‍तान पर दबाव डाल रहा है। टीटीपी के आतंकियों ने हाल के दिनों में चीन के हितों, प्रॉजेक्‍ट और उनके लोगों पर कई हमले किए हैं। चीन के लिए यह जरूरी है कि पाकिस्‍तान टीटीपी की कुछ मांगों को मान ले ताकि सीपीईसी के खिलाफ हो रहे हमले ताकि बंद हो जाएं। टीटीपी ने इस डील के बाद चीन के खिलाफ हमले नहीं करने का वादा किया है।खैबर पख्‍तूनख्‍वा में सक्रिय अवामी नैशनल पार्टी के एक प्रमुख नेता ने कहा कि इस बातचीत से साफ हो गया है कि टीटीपी को हराया नहीं जा सकता है जिसे तालिबान का समर्थन हासिल है। उन्‍होंने कहा कि तालिबान के साथ पाकिस्‍तानी सेना के अच्‍छे संबंध हैं, इसलिए यह सेना की सीधे हार की तरह से है। इस बीच तालिबान के पिछलग्‍गू टीटीपी की बढ़ती क्षमता के पीछे चीन का भी समर्थन है। चीन बार-बार कह रहा है कि वह तालिबान के अपने इस्‍लामिक परंपरा के हिसाब से शासन करने के अधिकार का समर्थन करता है। पाकिस्‍तान के एक नेता ने खुलासा किया कि चीन टीटीपी के साथ समझौता करने के लिए पाकिस्‍तान पर दबाव डाल रहा है। टीटीपी के आतंकियों ने हाल के दिनों में चीन के हितों, प्रॉजेक्‍ट और उनके लोगों पर कई हमले किए हैं। चीन के लिए यह जरूरी है कि पाकिस्‍तान टीटीपी की कुछ मांगों को मान ले ताकि सीपीईसी के खिलाफ हो रहे हमले ताकि बंद हो जाएं। टीटीपी ने इस डील के बाद चीन के खिलाफ हमले नहीं करने का वादा किया है।

मूल मुकदमें की विचारणीयता पर फैसला नहीं सुनाएं

मूल मुकदमें की विचारणीयता पर फैसला नहीं सुनाएं

इकबाल अंसारी
बेंगलुरु। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने बेंगलुरु की एक अदालत को निर्देश दिया है कि वह एक स्थानीय मस्जिद का सर्वेक्षण करने के अनुरोध को लेकर दायर मूल मुकदमें की विचारणीयता पर अपना फैसला नहीं सुनाएं। बेंगलुरु में तृतीय अतिरिक्त सिविल अदालत टी. ए. धनंजय और बी. ए. मनोज कुमार की याचिका की सुनवाई कर रही है, जिसमें दावा किया गया है कि बेंगलुरु के निकट थेंका उलीपाडी गांव, मलाली में असैद अब्दुल्लाही मदनी मस्जिद के नवीनीकरण के दौरान ‘मंदिर जैसी संरचना’ का पता चला था।
उन्होंने इस दावे की पुष्टि के लिए मस्जिद का सर्वे कराने का अनुरोध किया है। उच्च न्यायालय में उन्हीं याचिकाकर्ताओं की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक रेड्डी ने दलील दी कि अदालत द्वारा नियुक्त आयुक्त द्वारा एक सर्वेक्षण किया जाना चाहिए और उसके आधार पर एक रिपोर्ट सौंपी जानी चाहिए, लेकिन निचली अदालत को इससे पहले इस तरह के मामले की विचारणीयता पर निर्णय लेने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।
उन्होंने दलील दी कि यदि निचली अदालत में याचिका को विचारणीयता के मुद्दे पर खारिज कर दिया जाता है, तो मस्जिद के अंदर की संरचनाओं को हटाए जाने या नष्ट किए जाने की आशंका है। उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति सचिन शंकर मगदुम की एकल पीठ ने सोमवार को मस्जिद के अधिकारियों को नोटिस जारी किया और निचली अदालत को मुकदमे की विचारणीयता पर अपना फैसला नहीं सुनाने का निर्देश दिया। मामले में अगली सुनवाई 17 जून को होगी। इससे पहले, निचली अदालत ने मस्जिद के अधिकारियों को विवादित ढांचे को नहीं हटाने का निर्देश दिया था।

बेहतर एक्सपीरियंस के लिए उपलब्ध, सुविधाएं

बेहतर एक्सपीरियंस के लिए उपलब्ध, सुविधाएं

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। ट्रूकॉलर सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला कॉलर आइडेंटिफिकेशन एप है। इस प्लेटफॉर्म पर जल्द ही नए फीचर्स देखने को मिलेंगे। यदि आप एंड्रॉयड यूजर्स है, तो आपको पांच नए फीचर्स मिलेंगे। कंपनी इन सुविधाओं को यूजर्स के बेहतर एक्सपीरियंस के लिए ला रही है। यह फीचर्स आईओएस के लिए कब रोलआउट होंगे ? इसकी जानकारी सामने नहीं आई है।
आइए जानते हैं, ट्रूकॉलर के आने वाले फीचर्स की डिटेल्स...
ट्रूकॉलर पर यूजर्स को वॉयस कॉल लॉन्चर फीचर मिलेगा। इसकी मदद से यूजर्स को पता चलेगा कि कौन-सा यूजर ट्रूकॉलर वॉइस पर उनसे बात करने के लिए उपलब्ध है। यह फीचर VoIP बेस्ड कॉलिंग पर काम करता है।
दूसरा फीचर एसएमएस के लिए पासकोड लॉक है। यूजर्स के एसएमएस प्राइवेसी को बनाए रखने के लिए ट्रूकॉलर यह सुविधा शामिल कर रहा है। यूजर अपने एसएमएस को पासवर्ड की मदद से लॉक कर सकेंगे। अगर आपका डिवाइस बायोमेट्रिक या फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन को सपोर्ट करता है, तो उसका इस्तेमाल भी कर पाएंगे।
ट्रूकॉलर पर लंबी कॉल लॉग्स मिलेंगी। लेटेस्ट वर्जन में यूजर्स को एक हजार कॉल लॉग्स की डिटेल्स मिलती है। नए अपडेशन में 6400 तक जानकारी मिलेगी।
यूजर्स को वीडियो कॉल आईडी के लिए फेस फिल्टर का विकल्प मिलेगा। प्लेटफॉर्म पर यूजर वीडियो कॉल को पर्सनलाइज्ड बना पाएंगे। वहीं एप में बिल्ट-इन-टेम्पलेट्स फीचर भी आने वाला है। जिसकी मदद से यूनिक कॉलिंग अनुभव मिलेगा।

फिल्म जुग-जुग जियो का गाना 'दुपट्टा' रिलीज

फिल्म जुग-जुग जियो का गाना 'दुपट्टा' रिलीज 

कविता गर्ग 
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता वरुण धवन और अभिनेत्री कियारा आडवाणी की आने वाली फिल्म 'जुग-जुग जियो' का गाना 'दुपट्टा' रिलीज कर दिया गया है। वरुण धवन और कियारा आडवाणी की फैमिली ड्रामा फिल्म जुग-जुग जियो का गाना दुपट्टा रिलीज कर दिया है। 2 मिनट 41 सेकेंड के इस गाने में वरुण धवन और कियारा आडवाणी डांस फ्लोर पर अपने शानदार डांस से समा बांधते हुए दिख रहे हैं।
जबकि मनीष पॉल और अनिल कपूर भी उनका खूब साथ दे रहे हैं। दुपट्टा तेरा सतरंग दा गाना को टी-सीरीज के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर रिलीज किया गया है। सुरजीत बिंद्राखिया द्वारा लिखे इस गाने को शमशेर संधू और श्रेया घोषाल ने आवाज दी है। निर्देशित फिल्म 'जुग-जुग जियो' की कहानी एक पंजाबी फैमिली के दो कपल के बीच तीखी नोकझोंक पर आधारित है, जिसमें दोनों ही तलाक के लिए संघर्ष करते हुए नजर आएंगे। करण जौहर के प्रोडक्शन हाउस धर्मा प्रोडक्शंस और वायकॉम 18 के बैनर तले बनी यह फिल्म 24 जून, 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

अभिनेत्री चक्रवर्ती ने इमोशनल पोस्ट शेयर किया

अभिनेत्री चक्रवर्ती ने इमोशनल पोस्ट शेयर किया 

कविता गर्ग  
मुंबई। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की दूसरी पुण्यतिथि पर अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने सोशल मीडिया पर उनकी याद में एक इमोशनल पोस्ट भी शेयर किया है। रिया ने इंस्टाग्राम पर सुशांत के साथ कई तस्वीरें पोस्ट कीं। थ्रोबैक इमेज में दिवंगत अभिनेता और रिया एक साथ कुछ खुशी के पल बिताते हुए दिखाई दे रहे हैं।
रिया ने इस पोस्ट में कैप्शन दिया, "दिल वाले इमोजी के साथ लिखा है, मिस यू हर दिन।"
वर्कफ्रंट की बात करें तो 29 वर्षीय अभिनेत्री रिया को आखिरी बार अमिताभ बच्चन-स्टारर 'चेहरे' में देखा गया था।
दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह ने 34 साल की उम्र में आत्महत्या कर ली थी। उनकी आखिरी फिल्म 'दिल बेचारा' मरणोपरांत एक स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई थी।

सीबीआई अदालत ने यादव का पासपोर्ट जारी किया

सीबीआई अदालत ने यादव का पासपोर्ट जारी किया 

अविनाश श्रीवास्तव  

पटना। पटना की सीबीआई अदालत ने मंगलवार को राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का पासपोर्ट जारी कर दिया। चारा घोटाले से जुड़े मामलों में केंद्रीय जांच एजेंसी ने लालू का पासपोर्ट जब्त कर लिया था। अदालत ने 6 जून को 75 वर्षीय वयोवृद्ध नेता की ओर से दायर एक याचिका पर सुनवाई के बाद पासपोर्ट जारी किया। सूत्रों ने कहा है कि लालू प्रसाद को अपने पासपोर्ट को नवीकरण कराना होगा क्योंकि इसकी अवधि समाप्त हो गई है।राजद नेता जल्द ही किडनी ट्रांसप्लांट के लिए सिंगापुर जाएंगे।

लालू प्रसाद किडनी और फेफड़ों में गंभीर संक्रमण सहित कई बीमारियों से पीड़ित हैं। उन्हें रक्तचाप से संबंधित जटिलताएं भी हैं।

पहल: पुलिस द्वारा विशाल भंडारे का आयोजन

पहल: पुलिस द्वारा विशाल भंडारे का आयोजन 

संदीप मिश्र

मुरादाबाद। मुरादाबाद पुलिस द्वारा हर मंगलवार को विशाल भंडारे का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में मंगलवार को गलशहीद थाना पुलिस द्वारा विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। इस भंडारे का शुभारंभ एसपी सिटी ने फीता काटकर किया। रोडवेज चौकी पर यह विशाल भंडारा आयोजित हुआ। जिसमें लोगों को भरपेट भोजन कराया गया। जनता के साथ पुलिस का संपर्क और हर सुख दुख में जनता के साथ पुलिस की भागीदारी के उद्देश्य को लेकर मुरादाबाद पुलिस ने एक अच्छी पहल की है। मुरादाबाद पुलिस की ओर से हर मंगलवार को एक विशाल भंडारे का आयोजन किया जा रहा है। इस भंडारे में लोगों को भरपेट भोजन कराया जा रहा है। इसी कड़ी में आज गलशहीद थाना पुलिस की ओर से विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। रोडवेज चौकी पर यह विशाल भंडारा आयोजित हुआ।

इस भंडारे का शुभारंभ एसपी सिटी अखिलेश भदौरिया ने फीता काटकर किया और लोगों को भोजन का वितरण भी किया। भंडारे के कार्यक्रम के विषय में जानकारी देते हुए एसपी सिटी अखिलेश भदौरिया ने बताया कि पुलिस का जनता के साथ संपर्क उनके सुख-दुख में पुलिस की भागीदारी। उन्होंने कहा कि आप देखते रहे है, कोविड के समय से ही पुलिस ने आगे बढ़कर लोगों की जो भी परेशानियां आई है। उनमे आगे बढ़कर हाथ बढ़ाया है, साथ ही प्रत्येक मंगलवार को पुलिस इस तरह का आयोजन कर रही है, एक भंडारे का आयोजन अलग-अलग थानों पर किया जा रहा है। मंगलवार को रोडवेज चौराहे पर थाना गलशहीद की ओर से इस विशाल भंडारे का आयोजन किया गया है।


भाजपा सरकार पर प्रतिशोध की राजनीति का आरोप

भाजपा सरकार पर प्रतिशोध की राजनीति का आरोप 

अकांशु उपाध्याय/दुष्यंत टीकम 
नई दिल्ली/रायपुर। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की पूछताछ के बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर विपक्षी नेताओं के खिलाफ प्रतिशोध की राजनीति करने का आरोप लगाया और दावा किया कि जब कोई नेता सत्तारूढ़ पार्टी में शामिल हो जाता है तो उसके खिलाफ मामले बंद कर दिए जाते हैं। बघेल ने कई कांग्रेस नेताओं के साथ ईडी कार्यालय के बाहर धरना दिया जिसके बाद उन्हें और अन्य नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।
मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया कि ईडी की कार्रवाई दुर्भावनापूर्ण है और भाजपा सरकार विपक्ष के खिलाफ प्रतिशोध की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर केंद्र सरकार यह उत्पीड़न जारी रखती है तो उसके खिलाफ प्रदर्शन जारी रहेगा। बघेल ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, केंद्र की भाजपा सरकार को यह बताना चाहिए कि क्या किसी भाजपा समर्थक नेता के खिलाफ पिछले आठ वर्षों में कार्रवाई की गई। कोई नेता जैसे ही भाजपा में शामिल होता है उसके खिलाफ दर्ज मामले बंद हो जाते हैं।

ट्रक से टकराईं कार, 2 पुलिसकर्मियों सहित 3 की मौंत

ट्रक से टकराईं कार, 2 पुलिसकर्मियों सहित 3 की मौंत

मनोज सिंह ठाकुर  
इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर जिले के सिमरोल थाना क्षेत्र में एक कार के ट्रक से टकरा जाने से 2 पुलिसकर्मियों सहित 3 लोगों की मौंत हो गई है। पुलिस सूत्रों ने आज बताया कि जिले के सिमरोल इलाके में कनाड़ गांव के पास एक कार कल देर रात एक ट्रक से टकरा गई। हादसे में पुलिस कर्मचारी धमेन्द्र सिंह और कुलदीप सिंह और देवास निवासी विनोद की मौत हो गई। दोनों पुलिसकर्मी इंदौर की जिला पुलिस लाइन में पदस्थ थे। सूचना मिलने पर पुलिस बल तत्काल मौकेे पर पहुंचा।
मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजे गए। बताया गया है कि एक पुलिसकर्मी की पत्नी को तबीयत खराब थी, जिसे लेकर पुलिसकर्मी कार से खंडवा जा रहे थे। तभी कार एक ट्रक में घुस गई और तीन लोगों की मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मिनी ट्रक को जब्त कर लिया है।

नए प्रमुख रक्षा अध्यक्ष की नियुक्ति जल्द की जाएंगी

नए प्रमुख रक्षा अध्यक्ष की नियुक्ति जल्द की जाएंगी 

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि नए प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) की नियुक्ति जल्द की जाएंगी और इसके लिए प्रक्रिया जारी है। गत आठ दिसंबर को एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में देश के पहले प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत के निधन के बाद से सीडीएस का पद रिक्त है। रक्षा मंत्री ने सशस्त्र बलों में भर्ती के लिए एक नई ‘अग्निपथ योजना’ शुरू करने के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में कहा सीडीएस की नियुक्ति जल्द की जाएगी। इसकी प्रक्रिया जारी है। इस महीने की शुरुआत में, सरकार ने शीर्ष पद पर नियुक्ति के संबंध में अधिसूचनाएं भी जारी की थीं।
इनके अनुसार, 62 वर्ष से कम आयु के कोई भी सेवारत या सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल, एयर मार्शल और वाइस एडमिरल प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) के पद के लिए पात्र होंगे।
सेना, नौसेना और भारतीय वायु सेना अधिनियमों में किए गए संशोधन के अनुसार, सेना, नौसेना तथा भारतीय वायु सेना के सेवारत प्रमुखों के साथ-साथ तीन स्टार श्रेणी वाले अधिकारी भी सीडीएस बनने के पात्र हैं। गौरतलब है कि जनरल रावत ने एक जनवरी 2020 को देश के समग्र सैन्य कौशल को बढ़ाने के लिए देश के पहले सीडीएस के रूप में कार्यभार संभाला था।

भारतीय सेना के द्वार खोलने हेतु आभार व्यक्त किया

भारतीय सेना के द्वार खोलने हेतु आभार व्यक्त किया

अकांशु उपाध्याय/पंकज कपूर
नई दिल्ली/देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ‘अग्निपथ योजना’ के माध्यम से नौजवानों के लिए भारतीय सेना के द्वार खोलने हेतु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि ‘अग्निपथ योजना’ के माध्यम से भारत की सैन्य ताकत को मजबूती मिलने के साथ ही युवाओं की कौशलता और प्रतिबद्धता में भी खासा सुधार आएगा।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को बलवीर रोड स्थित भाजपा प्रदेश कार्यालय में मीडिया से वार्ता करते हुए कहा कि भारतीय रक्षा व्यवस्था को लेकर पिछले कुछ सालों में कई बड़े सुधार देखने को मिले हैं। अग्निपथ योजना को लागू करने का जो निर्णय लिया गया है, उससे देश के नौजवान चार साल की सेवा सेना में दे सकेंगे। इस योजना से अग्निवीर तैयार किए जाएंगे, देश के नौजवान आर्म फोर्स में जा सकेंगे। उन्हें नई तकनीक से ट्रेंड किया जाएगा और देश को हाई स्किल आर्म फोर्स मिलेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय सेना को विश्व की बेहतरीन सेना बनाने की दृष्टि से यह ऐतिहासिक फैसला लिया गया है। युवाओं को चार साल के लिए सेना में भर्ती कराया जाएगा, इस दौरान अग्निवीरों को अच्छा वेतन मिलेगा। सेना की चार साल की नौकरी के बाद युवाओं को भविष्य के लिए अन्य अवसर दिए जाएंगे। चार साल की नौकरी के बाद सेवा निधि पैकेज मिलेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना के तहत जो जवान चार साल बाद यहाँ से निकलेंगे, उत्तराखण्ड सरकार ऐसे अग्निवीरों को पुलिस की भर्ती में प्राथमिकता से अवसर देगी। 17 साल 06 माह से 21 साल के युवा, 10/12वीं के छात्र आवेदन कर सकेंगे। अगर कोई अग्निवीर देश सेवा के दौरान शहीद हो जाता है, तो उसके परिजनों को सेवा निधि के अन्तर्गत 1 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि ब्याज समेत मिलेगी, इसके अलावा बाकी बची नौकरी का भी वेतन दिया जाएगा। वहीं अगर कोई अग्निवीर डिसेबल हो जाता है, तो उसे 44 लाख रुपए तक की राशि दी जाएगी, इसके अलावा बाकी बची नौकरी का भी वेतन मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हमेशा देश के सैनिकों का मनोबल बढ़ाने का कार्य किया है। सैनिकों की अनेक लंबित मांगों की स्वीकृतियां प्रदान की। आज भारत रक्षा के क्षेत्र में तेजी से आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ा है।

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी मारें गए

सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी मारें गए

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। श्रीनगर में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी नागरिक सहित लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘श्रीनगर शहर के बेमिना इलाके में श्रीनगर पुलिस ने मुठभेड़ में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को मार गिराया। मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी भी मामूली रूप से घायल हो गया।’’ उन्होंने बताया कि मुठभेड़ सोमवार देर रात हुई।
 महानिरीक्षक विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से बरामद दस्तावेजों और अन्य संदिग्ध सामग्री से मारे गए एक आतंकवादी की पहचान अब्दुल्ला गौजरी के तौर पर हुई है, जो पाकिस्तान के फैसलाबाद का निवासी था। अधिकरी ने कहा, ‘‘ ये वही लोग थे जो सोपोर मुठभेड़ में बच निकले थे। हम उनकी गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे।’’ उन्होंने बताया कि मारे गए दूसरे आतंकवादी की पहचान आदिल हुसैन मीर उर्फ सुफियां के तौर पर हुई है, जो अनंतनाग जिले का निवासी था। कुमार ने कहा, ‘‘ पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, वह 2018 में ‘विज़िट वीजा’ पर वाघा से पाकिस्तान गया था।

दिल्ली: न्यूनतम तापमान 31.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज

दिल्ली: न्यूनतम तापमान 31.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज 

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार सुबह न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 31.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग ने दिन में आमतौर पर बादल छाए रहने के साथ ही हल्की बारिश या बूंदा-बांदी का पूर्वानुमान लगाया है। जिससे लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है। सुबह साढ़े आठ बजे हवा में आर्द्रता का स्तर 40 प्रतिशत रहा। दिल्ली में सोमवार को भीषण गर्मी रही और कई मौसम केंद्रों में अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस या इससे अधिक दर्ज किया गया।
हालांकि, आने वाले दो दिन में गर्मी से थोड़ी राहत मिलने के आसार हैं।
मानसून पूर्व गतिविधियों के 16 जून से बढ़ने की उम्मीद है और अगले दो-तीन दिन में अधिकतम तापमान में सात से आठ डिग्री तक की गिरावट आ सकती है। विभाग के अनुसार, मंगलवार को अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में मंगलवार सुबह वायु गुणवत्ता ‘खराब’ श्रेणी में रही।
सुबह साढ़े नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 203 दर्ज किया गया। शून्य से 50 के बीच एक्यूआई ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है।

महत्व: 15 जून को मनाई जाएंगी 'मिथुन संक्रांति'

महत्व: 15 जून को मनाई जाएंगी 'मिथुन संक्रांति'

सरस्वती उपाध्याय
सूर्य का मिथुन राशि में प्रवेश करने की स्थिति सूर्य की मिथुन संक्रांति कहलाती है। मिथुन संक्रांति के दिन सूर्यदेव की पूजा का विधान है। वहीं, इस बार मिथुन संक्रांति 15 जून 2022 (बुधवार) को मनाई जाएंगी। एक साल में 12 संक्रांति होती हैं। जिसमें सूर्य अलग-अलग राशि और नक्षत्र में विराजमान होते है। सूर्य का मिथुन राशि में प्रवेश करने की स्थिति सूर्य की मिथुन संक्रांति कहलाती है। मिथुन संक्रांति के दिन सूर्यदेव की पूजा का विधान है। माना जाता है कि इसी दिन से वर्षा ऋतु की शुरूआत हो जाती है। साथ ही लोग इस दिन अच्छी फसल के लिए भगवान से अच्छी बारिश की मनोकामना करते हैं। इसे रज संक्रांति भी कहा जाता है।

त्योहार की तरह मनाई जाती है‌ मिथुन संक्रांति...

उड़ीसा में इस दिन को त्योहार की तरह मनाया जाता है। जिसे राजा परबा कहा जाता है। यहां ये चार दिन पहले से ही शुरु हो जाता है। जिसमें भू देवी यानी धरती माता की विशेष पूजा की जाती है। इस त्योहार में महिलाओं के साथ कुंवारी लड़कियां भी अच्छे वर की कामना के लिए हिस्सा लेती हैं। चार दिन तक चलने वाले इस पर्व में पहले दिन को पहिली राजा, दूसरे दिन को मिथुन संक्रांति या राजा, तीसरे दिन को भू दाहा या बासी राजा और चौथे दिन को वसुमती स्नान कहा जाता है।

क्यों की जाती है सिलबट्‌टे की पूजा ?
मान्यताओं के अनुसार जैसे महिलाओं को हर महीने मासिक धर्म होता है, जो उनके शरीर के विकास का प्रतिक है वैसे ही ये तीन दिन भू देवि यानी धरती मां के मासिक धर्म वाले होते हैं जो कि पृथ्वी के विकास का प्रतीक है। वहीं चौथा दिन धरती के स्नान का होता है। जिसे वसुमती गढ़ुआ कहते हैं।
सिलबट्‌टे को धरती माता का रूप माना गया है। इसलिए इन तीन दिनों में इसका उपयोग नहीं करना चाहिए। चौथे दिन सिलबट्‌टे को जल और दूध से स्नान कराया जाता है। फिर चंदन, सिंदूर और फूल से भू देवी यानी सिलबट्‌टे की पूजा की जाती है। इस दिन दान का बहुत महत्व है। गेहूं, गुड़, घी, अनाज आदि का दान करना चाहिए।

सीएम ने पेट्रोलियम पदार्थों की कमी का आरोप लगाया

सीएम ने पेट्रोलियम पदार्थों की कमी का आरोप लगाया

मनोज सिंह ठाकुर

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पूरे प्रदेश में पेट्रोलियम पदार्थों की कमी का आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार खरीफ की बोवनी के इस समय में पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति सुनिश्चित कराए। कमलनाथ ने अपने ट्वीट में आरोप लगाया कि प्रदेश की जनता को रोज संकटों में डालना भाजपा सरकार की आदत बन चुकी है। अब पेट्रोल पंपों पर तेल की आपूर्ति का संकट खड़ा कर दिया गया है। राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में पंप ड्राय होने लगे हैं।

जनता पेट्रोल-डीजल की किल्लत से जूझ रही है। आगे हालात और भी भयावह होने का भय है। उन्होंने कहा कि खरीफ की बोवनी के समय में डीजल की मांग लगातार बढ़ रही है और आपूर्ति अभी से बाधित होने लगी है। पूर्व से ही खाद, बीज और बिजली संकट की मार झेल रहे किसान अब डीजल की कमी की मार भी झेलने को मजबूर हैं। उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग की कि समय रहते तत्काल पेट्रोल डीजल की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित कराएं।

जम्मू-कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए

जम्मू-कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए 

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी/श्रीराम मौर्य   
नई दिल्ली/श्रीनगर/शिमला। जम्मू-कश्मीर में मंगलवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। यहां लेह इलाके में सुबह 7 बजकर 29 मिनट पर हल्का भूकंप आया। हालांकि, किसी तरह के जानमाल का नुकसान नहीं हुआ है। भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई।
नैशनल सेंटर फॉर सिस्मॉलजी के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के लेह से 186 किमी दूर उत्तर की ओर भूकंप का केंद्रबिंदु रहा। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.3 रही। इस लिहाज से हल्के झटके महसूस किए गए।
इससे पहले मंगलवार को हिमाचल प्रदेश में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। यहां सोमवार को दोपहर 12 बजकर 14 मिनट पर भूकंप के हल्के झटके महसूस हुए। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2.5 रही। जबकि इसका केंद्र जमीन के अंदर 5 किमी गहराई में रहा।

राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपनी संख्या अधिक मजबूत की

राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपनी संख्या अधिक मजबूत की

मनोज सिंह ठाकुर  
भोपाल। मध्य प्रदेश में अन्य दलों और निर्दलीय मिलाकर कुल तीन विधायकों के मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल होने के बाद सत्तारूढ़ दल ने अगले महीने होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए प्रदेश विधानसभा में अपनी संख्या अधिक मजबूत कर ली है। मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने पत्रकारों से कहा कि बसपा के संजीव सिंह कुशवाह (भिंड से विधायक), समाजवादी पार्टी के राजेश कुमार शुक्ला (बिजावर सीट से) और निर्दलीय विधायक विक्रम सिंह राणा (सुसनेर से) भाजपा में शामिल हो गए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और शर्मा ने विधायकों का भाजपा में स्वागत किया।
इन तीन विधायकों के शामिल होने के साथ ही 230 सदस्यीय राज्य विधानसभा में भाजपा विधायकों की संख्या 130 हो गई है। जबकि विपक्षी दल कांग्रेस के पास 96 विधायक हैं। इसके अलावा बसपा के पास एक और तीन निर्दलीय विधायक हैं। 
अब, मध्य प्रदेश में समाजवादी पार्टी का कोई विधायक नहीं है। पार्टी सूत्रों ने कहा कि 18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा का कुल वोट मूल्य इन तीन विधायकों के पार्टी में शामिल होने से बढ़ेगा। इसके साथ ही प्रदेश में चल रहे पंचायत और स्थानीय निकाय चुनावों में भी पार्टी की संभावनाएं मजबूत होंगी। तीन विधायकों को शामिल किए जाने के बाद प्रदेश भाजपा कार्यालय में शर्मा ने कहा कि तीनों विधायकों ने प्रदेश में मुख्यमंत्री चौहान और राष्ट्रीय स्तर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के नेतृत्व से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल होने का फैसला किया है।
शर्मा ने कहा कि ये तीनों विधायक बहुत लोकप्रिय हैं और अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में समर्पण के साथ काम करते हैं।इस मौके पर चौहान ने कहा कि 2018 के विधानसभा चुनावों के बाद भाजपा को 109 सीटें मिलीं लेकिन यह बहुमत (116 से) कम थीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास भी ‘‘जादुई आंकड़ा’’ नहीं था। चौहान ने इस मौके पर खुलासा करते हुए कहा, ‘‘इन दोस्तों ने उस समय भी भाजपा से संपर्क किया था लेकिन मैंने कहा था कि हमारे पास आवश्यक संख्या नहीं है इसलिए हमें सरकार नहीं बनानी चाहिए। वे (जिन्होंने समर्थन की पेशकश की थी) भी निराश थे। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘एक शासन (कांग्रेस के नेतृत्व में) सत्ता में आया, लेकिन यह सिर्फ 15 महीने तक चला। ये तीनों दोस्त विधानसभा और राज्यसभा चुनाव के दौरान भी भाजपा के साथ थे और लगातार भाजपा के संपर्क में थे, लेकिन अब वे हमारे साथ हैं और मैं खुश हूं। तथा पार्टी में उनका स्वागत करता हूं।

भर्ती करने के लिए दिए गए निर्देश को लेकर कटाक्ष किया

भर्ती करने के लिए दिए गए निर्देश को लेकर कटाक्ष किया

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी विभागों और मंत्रालयों में अगले डेढ़ साल के दौरान 10 लाख लोगों की भर्ती करने के लिए दिए गए निर्देश को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर कटाक्ष किया है। कांग्रेस ने कहा कि हर साल दो करोड़ नौकरी देने का वादा करने के बाद अब सरकार ने वर्ष 2024 तक सिर्फ 10 लाख नौकरी देने की बात की है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘वादा था दो करोड़ नौकरी हर साल देने का, आठ साल में देनी थीं 16 करोड़ नौकरिया। अब कह रहे हैं साल 2024 तक केवल 10 लाख नौकरी देंगे। 60 लाख पद तो केवल सरकारों में खाली पड़े हैं, 30 लाख पद केंद्र सरकार में खाली पड़े हैं। 

जुमलेबाजी कब तक?’’ प्रधानमंत्री मोदी ने विभिन्न सरकारी विभागों और मंत्रालयों से कहा है कि वे ‘‘मिशन मोड’’ में काम करते हुये अगले डेढ़ साल में दस लाख लोगों की भर्ती करें। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। पीएमओ ने कहा कि सभी सरकारी विभागों एवं मंत्रालयों में मानव संसाधन की स्थिति की समीक्षा के बाद प्रधानमंत्री का यह निर्देश आया है।

3-5 साल के लिए मुआवजे को जारी रखने का आग्रह

3-5 साल के लिए मुआवजे को जारी रखने का आग्रह

मिनाक्षी लोढी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री अमित मित्रा ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर उनसे वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के साथ राज्यों को मिलने वाले मुआवजे को इस महीने के बाद अगले 3-5 साल के लिए जारी रखने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्य के वित्त विभाग के प्रमुख मुख्य सलाहकार मित्रा ने कहा कि क्षतिपूर्ति व्यवस्था के विस्तार से राज्यों को बड़ी राहत मिलेगी।

मित्रा ने सोमवार को दो पन्नों के पत्र में लिखा, ‘‘यह निराशाजनक और अशुभ संकेतों वाला है कि केंद्र ने जुलाई 2022 से राज्यों के लिए वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) मुआवजे को वापस लेने का फैसला किया है। यदि ऐसा फैसला किया जाता है, तो यह जीएसटी को अपनाने की भावना के विपरीत है।उन्होंने कहा कि सभी राज्यों, सभी राजनीतिक दलों ने जीएसटी को इस शर्त पर अपनाने का फैसला किया था, कि केंद्र उन्हें पांच साल के लिए राजस्व नुकसान की भरपाई करेगा। मित्रा ने आगे कहा कि लेकिन 2016 में जब उक्त निर्णय लिया गया था, तो किसी ने नहीं सोचा था कि दुनिया कोविड महामारी की चपेट में आ जाएगी और अर्थव्यवस्था अभूतपूर्व तनाव में होगी।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 6,594 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 6,594 नए मामलें 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 6,594 नए मामलें सामने आए हैं। सक्रिय मामलों की संख्या 50,548 है। महामारी शुरू होने से अब तक देश में कुल 4,32,36,695 केस सामने आ चुके हैं। पिछले 24 घंटे में मामलों में कमी देखी गई है। इससे पहले लगातार दो दिन कोविड के 8 हजार से अधिक केस सामने आए थे। कल सुबह के अपडेट के मुकाबले नए मामलों में मंगलवार को 18 प्रतिशत कमी है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार हालांकि भारत में सक्रिय कोरोना मामले अब बढ़कर 50,548 हो गए है। मंगलवार सुबह मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटों में 4,035 मरीजों के ठीक होने के साथ कुल रिकवरी की संख्या 4,26,61,370 तक पहुंच गई है।
दैनिक संक्रमण दर 2.05 प्रतिशत है जबकि साप्ताहिक संक्रमण दर 2.32 प्रतिशत है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक भारत में कोरोना से ठीक होने की दर (रिकवरी रेट) अभी 98.67 प्रतिशत है। वहीं, देश भर में कोविड वैक्सीन की 195.35 करोड़ से अधिक डोज लगाई जा चुकी है।

पार्टी के सभी पदों एवं प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा

पार्टी के सभी पदों एवं प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा 

पंकज कपूर  
देहरादून। उत्तराखंड में आम आदमी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक बाली ने पार्टी के सभी पदों एवं प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देकर अचानक प्रदेश की राजनीतिक में खलबली मचा दी है। कर्नल अजय कोठियाल के इस्तीफे के बाद अचानक प्रदेश अध्यक्ष दीपक बाली के इस्तीफे से आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका बताया जा रहा है।
बताते चलें कि कुछ दिनों पूर्व आम आदमी पार्टी से मुख्यमंत्री पद के दावेदार रहे कर्नल अजय कोठियाल की ओर से दिए गए झटके से आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में अभी उबर भी नहीं पाई थी कि उसे एक और बड़ा झटका लग गया है। अब आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक बाली ने इस्तीफा दिया है।
उन्होंने अपने इस्तीफे में अरविंद केजरीवाल को लिखा है कि वे आम आदमी पार्टी की कार्यप्रणाली के साथ चलने में स्वयं को असमर्थ महसूस कर रहे हैं। माना जा रहा है कि बाली का यह इस्तीफा आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर है। उनके भी कर्नल कोठियाल की तरह भाजपा ज्वाइन करने की संभावना जताई जा रही है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-249, (वर्ष-05)
2. बुधवार, जून 15, 2022
3. शक-1944, आषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2079।
4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान- 34 डी.सै., अधिकतम-45+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

नगर निगम चुनाव में हर तरह के हथकंडे अपनाए

नगर निगम चुनाव में हर तरह के हथकंडे अपनाए अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। नगर निगम चुनाव की मतगणना के नतीजों पर अपनी खुशी जताते हुए...