गुरुवार, 18 नवंबर 2021

डीएम ने संगम क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया

डीएम ने संगम क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया
बृजेश केसरवानी           
प्रयागराज। जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री ने देव दीपावली पर्व को सकुशल सम्पन्न कराने के दृष्टिगत संगम क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने सुरक्षा, यातायात तथा पार्किंग स्थल की व्यवस्था जायजा लिया। 20 ब्लाकों में संगम क्षेत्र को बाटा गया है। 
जहां पर दीप प्रज्जवलित किया जाना है। वहां पर उन्होंने बनाये जाने वाले स्टेज एवं बैठने की व्यवस्था आदि का भी निरीक्षण किया। इस बार 5 लाख दीपों से संगम क्षेत्र को सजाया जायेगा। जिसका जनपद वासी इस अद्भूत दृश्य का लुफ्त उठा सकेंगे। इस पूरे कार्यक्रम को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए एडीएम प्रशासन श्री हर्ष देव पाण्डेय को इसका नोडल बनाया गया है। कार्तिक पूर्णिमा के स्नान के लिए पांच मजिस्टेªटों की ड्यूटी लगायी गयी है। यातायात तथा सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम किये गये है। गहरे पानी में कोई न जाने पाये, इसके लिए बैरिकेटिंग के अलावा जेटी की भी व्यवस्था की गयी है। 
इस कार्यक्रम के लिए जिला प्रशासन के साथ-साथ जनपद के सम्मानित लोगो को भी कार्यक्रम में सम्मिलित किया गया है। सेक्टर वाइज विभागों एवं अन्य लोगो को बांटा जायेगा। कार्यक्रम के आयोजन में कोविड-19 प्रोटोकाॅल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित किया जायेगा। उन्होंने मार्गों पर साइनेज तथा पार्किंग आदि की व्यवस्था को भी देखा। जिलाधिकारी ने कहा कि पार्किंग की व्यवस्था इस प्रकार रहे कि आमजन मानस को कोई समस्या न हो। 
यातायात व्यवस्था एवं सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस प्रशासन को दिशा-निर्देश दिये गये है। इस अवसर पर सैण्ड आर्टस आदि की व्यवस्था के साथ-साथ शहर के चैराहों को भी सजाया जायेगा। उन्होंने बिजली विभाग को निर्देशित किया कि देव दीपावली पर्व पर बिजली सुचारू रूप से चलती रहे। जिलाधिकारी ने नगर निगम को साफ-सफाई एवं पानी के टैंकर, मोबाइल ट्वायलेट आदि की व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने को कहा है। इस अवसर पर एडीएम प्रशासन श्री हर्ष देव पाण्डेय, एसडीएम मेला श्री संतराम श्रीवास्तव सहित सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

प्रयागराज: प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ किया
बृजेश केसरवानी
प्रयागराज। मण्डलायुक्त श्री संजय गोयल गुरूवार को उप निदेशक मत्स्य, प्रयागराज मण्डल कार्यालय स्थित मत्स्य चेतना केन्द्र में प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम के द्वारा आयोजित एक दिवसीय जागरूकता/प्रशिक्षण कार्यक्रम का दीप प्रज्जविल कर शुभारम्भ किया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य मत्स्य जीवी सहकारी समितियों को प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत संचालित परियोजनाओं का लाभ दिलाना है। इस अवसर पर मण्डलायुक्त ने कहा कि फिश फार्मर प्रोडयूसर आर्गनाइजेशन का गठन कर मत्स्य से सम्बंधित उत्पादों का वैल्यू एडीशन करके अधिक से अधिक पात्रों को लाभान्वित कराये। उन्होंने कहा कि मत्स्य पालन को एक व्यवसाय के रूप में अपनाकर आत्मनिर्भर व सफल व्यवसायी बनाने के उद्देश्य से ही भारत सरकार द्वारा यह योजना प्रारम्भ की गयी है। उन्होंने विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कराते हुए किसानों की आय बढ़ाने पर जोर दिया जाये। 
कहा, कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में इन योजनाओं से होने वाले लाभों के बारे में प्रतिभागियों को जानकारी दी जाये। इस योजना का मत्स्य पालकों को लाभ उठाना चाहिए। मत्स्य पालकों को लाभ प्रदान करने हेतु यह एक उत्तम योजना है। इस अवसर पर श्री पीयूष रंजन ने निषाद ने उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री योजना का मत्स्य पालकों को लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने योजना के बारे में अधिक से अधिक लोगो को जागरूक करने के लिए कहा, जिससे लोग योजना का लाभ उठा सके।    
कार्यक्रम में 100 से अधिक मत्स्य जीवी सहकारी समिति के सदस्य तथा मत्स्य पालकों द्वारा प्रतिभाग किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में समितियों हेतु संचालित योजनाओं की जानकारी श्री सुधांशु शर्मा क्षेत्रीय निदेशक एनसीडीसी द्वारा प्रदान की गयी। मत्स्य विभाग द्वारा संचालित योजनाओं यथा प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड तथा मछुआओं को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने हेतु मछुआ दुर्घटना बीमा की विस्तृत जानकारी श्री मुकेश कुमार सारंग उप निदेशक मत्स्य द्वारा दी गयी। तालाबों में मत्स्य उत्पादकता एवं मत्स्य उत्पादन बढ़ाने हेतु तालाब प्रबंधन, मत्स्य बीज, पूरक आहार एवं दवाओं आदि की जानकारी भी दी गयी। 
इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि श्री पीयूष रंजन निषाद, मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री एसआर यादव, मत्स्य निरीक्षक श्री इरफानुल्लाह खान, मत्स्य विकास अधिकारी श्री शेषनाथ, आयोजक श्री सुधांशु शर्मा क्षेत्रीय निदेशक, राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम, लखनऊ सहित अन्य सम्बंधित अधिकारीगण मौजूद रहे।

कौशाम्बी: लक्ष्मीबाई जंयती पर स्त्री दिवस मनाए
गणेश साहू         कौशाम्बी। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी प्रांत के द्वारा भरवारी नगर के कस्तूरबा गांधी बालिका इण्टर कॉलेज में 18 नवम्बर को एक संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर रानी लक्ष्मीबाई जयंती समारोह को स्त्री दिवस के रूप में मनाया गया है। इस मौके पर वक्ताओं ने रानी लक्ष्मीबाई की वीरता और बलिदान पर चर्चा की है। वक्ताओं ने कहा कि देश की आजादी में वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई का योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकता। वक्ताओ ने कहा कि देश की हर बेटी यदि रानी लक्ष्मी बाई बन गई तो विरोधियों के छक्के छुड़ा देगी। इस मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए रिचा पांडेय ने कहा कि रानी लक्ष्मीबाई का इतिहास वीरता से भरा पड़ा है। प्रत्येक नारी समाज को रानी लक्ष्मी बाई के जीवन से सीख लेने की जरूरत है। 
उन्होंने कहा कि रानी लक्ष्मीबाई ने जिस वीरता से अंग्रेजों से लोहा लिया था वह इतिहास के पन्नों में दर्ज है। उन्होंने कहा कि रानी लक्ष्मीबाई के जन्मदिवस पर उन्हें नमन करते हुए उनके जीवन से सीख लेने की जरूरत है।वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई के जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया गया है। इस मौके पर रिचा पाण्डेय प्रांत कार्यकारिणी सदस्य अभाविप दिव्यांशु शुक्ला, संगठन मंत्री एबीवीपी कृष्णा कपूर, प्रधानाचार्य कस्तूरबा गांधी, बालिका इण्टर कॉलेज भरवारी सहित तमाम शिक्षिकाएं बालिकाएं और गणमान्य लोग मौजूद रहे।

यूपी: अवैध प्लाटिंग को बुलडोजर ने ध्वस्त किया
अश्वनी उपाध्याय           गाजियाबाद। मोदीनगर के कादराबाद क्षेत्र में हो रही अवैध प्लाटिंग को गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के बुलडोजर ने ध्वस्त कर दिया। हैदराबाद में तीन स्थानों पर अवैध रूप से प्लॉटिंग की जा रही थी जिनका मामला जीडीए में विचाराधीन था। लेकिन, अवैध कॉलोनाइजर के खिलाफ कार्रवाई करते हुए जीडीए के बुलडोजर ने प्लॉटिंग की बाउंड्री वॉल कार्यालय व अन्य अवैध निर्माण ध्वस्त कर दिए। इसके अलावा मुरादनगर रेलवे रोड पर अवैध रूप से बने एक फार्म हाउस को भी जीडीए ने सील कर दिया। जीडीए की इस कार्रवाई के दौरान संबंधित लोगों द्वारा विरोध किया गया लेकिन पुलिस में लाठी फटकार कर भीड़ को खदेड़ दिया।
अवैध कालोनी व अवैध निर्माण के खिलाफ जीडीए के प्रवर्तन जोन-2 के मोदीनगर व मुरादनगर विकास क्षेत्र में बुधवार को पहले मामले में नारायण सिंह, कनक सिंह आदि द्वारा खसरा-194, ग्राम कादराबाद, मोदीनगर, गाजियाबाद पर लगभग 2200 वर्ग मीटर जमीन में की जा रही अवैध प्लाटिंग के लिये सड़क के किनारे चिनाई के कार्य, प्लाटों के डिमकेशन व बिजली के खंभे लगाने के कार्य को ध्वस्त किया गया।

वार्षिक परीक्षाओं को 2 चरणों में बांटा, प्रावधान

वार्षिक परिक्षाओं को 2 चरणों मे बांटा, प्रावधान 

श्रीराम मौर्य         धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने वार्षिक परीक्षाओं को दो चरणों में प्रवेश करने का प्रावधान किया है। शिक्षा बोर्ड ने यह प्रावधान राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत किया है। कोविड संक्रमित परीक्षार्थियों की परीक्षा बाद में ली जाएगी। हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने बताया कि 9वीं, 11वीं व 12वीं की परीक्षाएं 18 नवंबर से शुरू हुई हैं। 20 नवंबर से मैट्रिक की परीक्षा आरंभ होगी। टर्म-1 परीक्षाओं के लिए प्रदेश भर में 2113 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। 

नवमीं कक्षा की परीक्षा में लगभग 92075 परीक्षार्थी, मैट्रिक कक्षा की परीक्षा में 90635 परीक्षार्थी, जमा-1 की परीक्षा में लगभग 114402 परीक्षार्थी और जमा-2 परीक्षा में लगभग 87872 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। जबिक कोविड संक्रमित परीक्षार्थियों की परीक्षा बाद में ली जाएगी। उन्होंने बताया कि नकल रोकने के लिए उड़नदस्तों का गठन किया गया है, जो कि आग्रहपूर्वक परीक्षा केंद्रों में जाएंगे। हर परीक्षा केंद्र में सिर्फ दो उड़नदस्ते जाएंगे, तीसरा उड़नदस्ता नहीं जाएगा।

बोर्ड चेयरमैन ने बताया कि वार्षिक परीक्षाओं के लिए बोर्ड में एक इलेक्ट्रॉनिक वॉल क्रिएट की जाती है, जिसके माध्यम से एग्जामिनेशन की ऑनलाइन सर्विलांस की जाती है ताकि पता चल सके कि परीक्षा किस तरह से चल रही है। उन्होंमे कहा कि प्रशासन व शिक्षा विभाग का भी उड़नदस्तों में सहयोग मिल रहा है। हर स्कूल में एक टेक्निकल इनविजीलेटर की व्यवस्था की गई है, जोकि पूरी परीक्षा व्यवस्था को देखेंगे और उसका पूरा रिकॉर्ड रखेंगे।

बलौदाबाजार: एसपी ने चौकी प्रभारी को सस्पेंड किया

बलौदाबाजार। हथबंद पुलिस चौकी में तीन युवकों द्वारा खुद को पुलिस कर्मी बता कर चौकी प्रभारी के सामने दो मजदूरों की जमकर पिटाई की। और उनसे 20 हजार रुपए छीन लिए। मजदूरों ने विरोध किया तो दोनों को हथबंद पुलिस चौकी ले गए। वहां प्रभारी के सामने ही बेल्ट से पीटा। मामला सामने आने के बाद एसपी ने चौकी प्रभारी को सस्पेंड कर दिया है।

जानकारी के मुताबिक, घटना 16 नवंबर की रात करीब 11 बजे की है। हरियाणा निवासी हार्वेस्टर संचालक इंद्रजीत सिंह अपने दोस्त पर्छदीप के साथ काम से लौट रहा था। इसी दौरान हथबंद के तिगड्‌डा चौक पर तीन युवकों सत्य प्रकाश देवांगन, तरुण पांसे और गिरीश वर्मा ने उन्हें रोक लिया। खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए तीनों ने कहा कि तुम लोग बाइक चोरी करते हो। फिर पुलिस कार्रवाई का डर दिखाते हुए उनसे मारपीट शुरू कर दी।

हिमाचल: लिखित परीक्षा का रिजल्ट आउट किया

श्रीराम मौर्य        हमीरपुर। हिमाचल कर्मचारी चयन आयोग ने एक पोस्ट कोड का फाइनल और दो की लिखित परीक्षा का रिजल्ट आउट किया है। जूनियर ड्राफ्ट्समैन (इलेक्ट्रिकल) पोस्ट कोड 816 का फाइनल रिजल्ट घोषित कर दिया है। ये पांच पद अनुबंध आधार पर भरे गए हैं। इन पदों को भरने के लिए 22 दिसंबर 2020 को लिखित परिक्षा आयोजित की थी। लिखित परीक्षा की मेरिट के आधार पर 19 छात्रों को मूल्याकंन प्रक्रिया के लिए बुलाया गया था। मूल्यांकन प्रक्रिया 1 जुलाई को आयोजित की थी।

वहीं, ट्रेफिक इंस्पेक्टर पोस्ट कोड 819 की लिखित परीक्षा का भी परिणाम घोषित किया है। इसमें 22 सफल रहे हैं। सफल अभ्यर्थियों का 15 नंबर का मूल्यांकन 23 दिसंबर को आयोग के कार्यालय में होगा। ये 6 पद अनुबंध आधार पर भरे जाने हैं। पदों को भरने के लिए 22 अगस्त 2021 को लिखित परीक्षा हुई थी। 14,640 ने परीक्षा दी थी। आज आयोग ने लिखित परीक्षा का रिजल्ट आउट कर दिया।

जशपुर: घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई, कार्यवाई नहीं

जशपुर: घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई, कार्यवाई नहीं
दुष्यंत टीकम       
जशपुर। महिला के द्वारा उसके साथ हुए घटना की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराने के बावजूद उस पर कोई सुनवाई न हो तो ऐसे में पुलिसिया कार्रवाई पर सवालिया निशान उठना लाजमी है। ऐसा ही एक मामला जशपुर जिले के सन्ना थाना क्षेत्र में सामने आया है। जहां एक महिला के द्वारा अपने साथ हुईं घटना की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराई है।
सन्ना थाना की पुलिस ने बकायदा महिला की रिपोर्ट पर एफआईआर तक दर्ज की है। लेकिन आरोपी को गिरफ्तार करने में यहां की पुलिस कोई दिलचस्पी नही दिखा रही है। आलम यह है कि आरोपी खुलेआम घूम फिर रहा है और पीड़िता के घर तक पहुंच जा रहा है। किसी अनहोनी घटना के मद्देनजर अब पीड़िता ने एसपी दरबार की शरण लेते हुए आरोपी युवक के जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की गुहार लगाई है।अपने शिकायत पत्र में महिला ने कहा है कि श्यामलाल उर्फ लोला के निवासी कटघोरा, कोरबा, वर्तमान पता ग्राम तानाखार पोडी उपरोडा के खिलाफ पूर्व में सन्ना थाना में एफआईआर कर चुकी है। जिसमें पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ धारा 366, 376 का अपराध दर्ज भी किया है। इसके बावजूद आज तलक उसकी गिरफ्तारी नही की जा सकी है।
आरोपी खुलेआम घूम फिर रहा है और पीड़िता के घर आना जाना कर रहा है। जिससे पीड़िता ने अनहोनी घटना की आशंका को देखते हुए पुलिस अधीक्षक जशपुर को आवेदन देकर आरोपी की जल्द गिरफ्तारी करने की मांग की है।
इस तरह की अपराधिक घटना में एफआईआर दर्ज होनें के बाद भी अगर पुलिस के द्वारा अपराधियों को गिरफ्तार नही किया जाता है तो ऐसी स्थिति में लोगों का विश्वास पुलिस से उठने लगता है। पुलिस ने ऐसे मामलों में त्वरित कार्रवाई करते हुए अपराधियों की तत्काल गिरफ्तारी करनी चाहिए। बहरहाल देखना यह है कि पीड़ित महिला के द्वारा पुलिस अधीक्षक जशुपर को ज्ञापन सौंपने के बाद पुलिस इस मामले में आगे क्या कार्रवाई करती है।

मुंबई: हॉरर फिल्म 'छोरी' का ट्रेलर रिलीज किया

मुंबई: हॉरर फिल्म 'छोरी' का ट्रेलर रिलीज किया
कविता गर्ग      
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री नुसरत भरूचा की आने वाली फिल्म 'छोरी' का ट्रेलर रिलीज कर दिया गया है। नुसरत भरूचा की हॉरर फिल्म 'छोरी' का ट्रेलर रिलीज कर दिया गया है। यह फिल्म मराठी फिल्म 'लापाछापी' का हिंदी रीमेक है।
फिल्म में नुसरत भरुचा ने एक प्रेग्नेंट की भूमिका निभाई है, जिसे छिपने के लिए मजबूर किया जाता है और वह एक डरावने घर में पहुंच जाती है।
विशाल फुरिया निर्देशित फिल्म छोरी में नुसरत भरूचा के साथ मीता वशिष्ठ, राजेश जायस, सौरभ गोयल और यानिया भारद्वाज जैसे कलाकार भी नजर आने वाले हैं। विशाल फुरिया ने कहा, "छोरी एक विशिष्ट भारतीय कहानी है जो दर्शकों के सामने आने का इंतजार कर रही है। छोरी के साथ हमारा उद्देश्य इस डरावनी कहानी को फिल्म देखने वालों के एक व्यापक वर्ग तक ले जाना है और इस शैली के प्रशंसकों को पहले की तरह डरावनी अनुभव करने की अनुमति देना है। 
अभिनेत्री ने अकाउंट पर जानकारी साझा की
कविता गर्ग         
मुंबई। बॉलीवुड फिल्मों में एक बेहतरीन अभिनय से अपनी पहचान बनाने वाली अभिनेत्री प्रीति जिंटा ने वर्ष 1998 में फिल्म लिद से के जरिये बॉलीवुड में कदम रखा था और वर्ष 2018 में आई फिल्म मैयाजी सुपरहिट उनकी अंतिम मूवी थी। अभिनेत्री प्रीति जिंटा के घर में एक साथ दो खुशी आई हैं। प्रीति ने यह जानकारी अपने सोशल मीडिया अकाउंट के माध्यम से दी है।
अभिनेत्री ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट इंस्टाग्राम पर लिखा है कि उन्होंने केप्सन में लिखा है कि हाय सब लोग, मैं आज आप सभी के साथ अपनी अद्भुत खबर साझा करना चाहता था। जीन और मैं बहुत खुश हैं और हमारे दिल इतने कृतज्ञता और इतने प्यार से भर गए हैं कि हम अपने परिवार में अपने जुड़वां बच्चों जय जिंटा गुडएनफ और जिया जिंटा गुडएनफ का स्वागत करते हैं। हम अपने जीवन के इस नए चरण को लेकर बहुत उत्साहित हैं। इस अविश्वसनीय यात्रा का हिस्सा बनने के लिए डॉक्टरों, नर्सों और हमारे सरोगेट को दिल से धन्यवाद। ढेर सारा प्यार और रोशनी - जीन, प्रीति, जय और जिया।
गौरतलब है कि प्रीति जिंटा ने 10 वर्ष पूर्व अमेरिकन सिटिजन जेन गुडइनफ से 29 फरवरी 2016 को लॉस एंजिलस में हुई थी। उन्होंने अपनी शादी राजपूती अंदाज में की थी। उनकी शादी की तस्वीरें लगभग 6 महीने बाद मीडिया में आई थी। अब दोनों अमेरिका में ही रहते हैं।

समर्थन: पीएम मोदी ने बैंकों को प्रेरित किया

समर्थन: पीएम मोदी ने बैंकों को प्रेरित किया
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धन-संपत्ति एवं रोजगार के अवसर पैदा करने वालों का समर्थन करने के लिए बृहस्पतिवार को बैंकों को प्रेरित करते हुए कहा कि देश की बैलेंस शीट सुधारने के लिए उन्हें सक्रियता से काम करना होगा। मोदी ने ‘निर्बाध ऋण प्रवाह एवं आर्थिक वृद्धि के लिए सिनर्जी का निर्माण’ विषय पर आयोजित एक परिचर्चा को संबोधित करते हुए कहा कि बैंकों को कारोबारों के फलने-फूलने में मदद के लिए अब एक भागीदारी मॉडल अपनाना होगा और कर्ज की ‘मंजूरी देने वाले’ की सोच से खुद को दूर करना होगा।
प्रधानमंत्री ने बैंकरों का आह्वान करते हुए कहा, ”बैंकों को धन-संपत्ति का सृजन करने वालों और नौकरियां पैदा करने वालों का समर्थन करना है। वक्त आ गया है कि अब बैंक अपनी बैलेंस शीट के साथ ही देश की बैलेंस शीट भी सुधारने में मदद करें।” उन्होंने बैंकरों को कारोबारों और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) के लिए उनकी जरूरत के हिसाब से समाधान मुहैया कराने को भी कहा। उन्होंने कहा, ”आप ग्राहकों के बैंक आने का इंतजार न करें। आपको उनके पास जाना होगा।
प्रधानमंत्री ने पिछले पांच वर्षों में बैंकों की गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) सबसे कम होने और बैंकों के पास समुचित तरलता होने का जिक्र करते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी के बावजूद बैंकिंग क्षेत्र चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में मजबूत बना रहा। इसकी वजह से अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों ने इस क्षेत्र का परिदृश्य भी सुधारा है।
उन्होंने कहा कि हाल ही में गठित राष्ट्रीय परिसंपत्ति पुनर्गठन कंपनी (एनएआरसीएल) से दो लाख करोड़ रुपये मूल्य की दबावग्रस्त परिसंपत्ति के समाधान में मदद मिलेगी। मोदी ने कहा, ”पिछले छह-सात वर्षों में हुए सुधारों ने बैंकिंग क्षेत्र को आज मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया है। हमने बैंकों की एनपीए समस्या का समाधान निकाला है, बैंकों में नई पूंजी डाली है, दिवालियापन संहिता लेकर आए और ऋण वसूली न्यायाधिकरण को सशक्त किया है।
राज्यों के बीच परिसंपत्ति विवाद को लेकर बैठक 
पंकज कपूर      
देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दो दिन के लखनऊ दौरे पर है और आज उनकी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ दोनों राज्यों के बीच परिसंपत्ति विवाद को लेकर बैठक हुई। उत्तराखंड राज्य बनने के बाद उत्तर प्रदेश ने अभी तक उसे पूरी परिसंपत्तियां ट्रांसफर नहीं की है। आज हुई बैठक में मुख्यमंत्री धामी ने मुख्यमंत्री योगी ने कई लंबित मुद्दे पर चर्चा की। वहीं मुख्यमंत्री धामी के साथ कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद, मुख्य सचिव एसएस संधू और सचिव पुनर्गठन रंजीत सिन्हा भी लखनऊ में मौजूद हैं। दोनों नेताओं के बीच करीब 30 मिनट तक बैठक हुई।
सीएम धामी ने कहा कि यूपी- उत्तराखंड के बीच छोटे-बड़े भाई जैसा सम्‍बन्‍ध है। उन्‍होंने कहा कि सीएम योगी ने बहुत सहृदयता से धरातल की वास्‍तविकताओं को ध्‍यान में रखते हुए विवादों के निपटारे पर अपनी सहमति दी। उन्‍होंने बताया कि दोनों राज्‍यों का ज्‍वाइंट सर्वे होगा। इसके बाद यूपी के काम की सारी जमीन जिमसें 1700 मकान भी शामिल हैं, यूपी को दे दी जाएगी। जीर्ण-शीर्ण अवस्‍था में पहुंच गए उत्तराखंड के दो बैराज (वनबसा और किच्‍छा) का पुनर्निर्माण यूपी सरकार कराएगी। यूपी सरकार, उत्तराखंड परिवहन निगम को 205 करोड़ रुपए का भुगतान करेगी।
आवास-विकास की देनदारियों का भुगतान को दोनों राज्‍यों द्वारा 50-50 प्रतिशत साझेदारी के आधार पर किया जाएगा। इसके अलावा हरिद्वार स्थित अलकनंदा होटल एक महीने के अंदर उत्तराखंड को हैंडओवर हो जाएगा। किच्‍छा बस स्‍टैंड की जमीन उत्‍तराखंड को स्‍थानांतरित होगी। उत्तर प्रदेश सरकार उत्तराखंड वन विभाग को 90 करोड़ रुपए देगी। इसके अलावा थौरा बैकुंठनानक सागर गंग नहर में वॉटर स्‍पोर्ट्स और साहसिक पर्यटन की भी अनुमति मिल गई है। सीएम धामी ने दावा किया कि 21 साल से दोनों राज्‍यों के बीच जितने विवाद चले आ रहे थे, उन सबका निपटारा कर लिया गया है।

वेस्टलैंड कंपनी ने 'लाल सलाम' का प्रकाशन किया
अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अपनी पहली किताब ”लाल सलाम” के साथ ही अब लेखक के अवतार में भी आ गई हैं। यह किताब का प्रकाशन वेस्टलैंड नामक प्रकाशन कंपनी ने किया है। यह 29 नवंबर को बाजार में आएगी। यह पुस्तक अप्रैल 2010 में छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में हुई केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 76 जवानों की हत्या से प्रेरित है और यह देश सेवा के लिए, खासकर नक्सली इलाकों में जिंदगी खपाने वालों पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि है।
ईरानी ने अपनी इस पुस्तक के बारे में कहा, ”यह कहानी अक्सर मेरे दिमाग में घूमती रहती थी। अंततः मैं इसे लिखने से खुद को रोक नहीं सकी। मैं उम्मीद करती हूं कि पाठक इसका का लुत्फ उठाएंगे और उस चीज को समझ पाएंगे जिसके बारे में बहुत कम लिखा गया है।” ज्ञात हो कि राजनीति में आने से पहले ईरानी एक जानीमानी अभिनेत्री थीं।
लाल सलाम एक युवा अधिकारी विक्रम प्रताप सिंह की कहानी है जो अंदरखाने की राजनीति और भ्रष्टाचार में उलझे तंत्र की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों का मुकाबला करता है। प्रकाशक के मुताबिक यह विपरीत परिस्थितियों का साहस व संयम से मुकाबला करने वालों की कहानी है। वेस्टलैंड के वी के कार्तिक ने कहा, ”इस पुस्तक में रहस्य, रोमांच, एक्शन, यादगार चरित्र सब है। लाल सलाम एक ऐसी पुस्तक है जिसे पढ़ने वाला पन्ने पलटता रहेगा और इसे पूरा पढ़कर ही रूकेगा।

रेटिंग में पहले नम्बर पर दिल्ली सरकार का स्कूल
अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि देश भर के सरकारी स्कूलों की रेटिंग में दिल्ली सरकार का स्कूल पहले नम्बर पर है। सिसोदिया ने इंडिया स्कूल रैंकिंग्स 2021-2022 की लिस्ट साझा करते हुए आज ट्वीट कर कहा ‘’देश भर के सरकारी स्कूलों की रेटिंग में पहले नम्बर पर है दिल्ली सरकार का स्कूल। टॉप-10 स्कूलों में से चार सरकारी स्कूल दिल्ली के हैं।
दिल्ली की टीम एजुकेशन को भी बधाई।” उन्होंने कहा कि द्वारका स्थित सेक्टर दस की राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय रैंकिंग में पहले नम्बर पर है। वहीं रोहिणी सेक्टर 11 का राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय छठे नम्बर पर, द्वारका सेक्टर पाँच की राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय आठवें स्थान पर और यमुना विहार का राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय नौवें स्थान पर है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि यह दिल्ली के लोगों के लिए बेहद गर्व की बात है।

खेल: 5 विकेट की जीत में अहम भूमिका निभाईं

क्रिकेट: 5 विकेट की जीत में अहम भूमिका निभाईं

मोमिन मलिक       ब्रिसबेन। आस्ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड ने गुरुवार को कहा कि वह अगले साल उनके देश में होने वाले टी-20 विश्व कप के बाद संन्यास ले सकते हैं। वेड ने हाल में संपन्न टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में पाकिस्तान पर आस्ट्रेलिया की पांच विकेट की जीत में अहम भूमिका निभाते हुए 17 गेंद में नाबाद 41 रन की पारी खेली थी।

एशेज के लिए आस्ट्रेलियाई टीम में जगह बनाने की दौड़ में वेड को एलेक्स कैरी ने पछाड़ दिया और इस विकेटकीपर का लक्ष्य अब अगले साल स्वदेश में टी20 विश्व कप खिताब की रक्षा में मदद करना है। ‘क्रिकेट.कॉम.एयू’ ने वेड के हवाले से कहा, ”यह मेरी अगली प्रेरणा है- उम्मीद करता हूं कि उस विश्व कप में खेलने का मौका मिलेगा, खिताब का बचाव करेंगे और इसके बाद मैं संन्यास ले सकता हूं।”


विंटर में अपनी स्किन की केयर करनीं जरूरी
मो. रियाज        सर्दियों में अधिकतर स्किन रूखी और बेजान हो जाती है। इसलिए विंटर में हमें अपनी स्किन की ज्यादा केयर करनी पड़ती है। ऐसे में जड़ी-बूटियां स्वास्थ्य और सौंदर्य दोनों के लिए अत्यधिक लाभकारी सिद्ध हुई हैं। जड़ी बूटियों में शक्तिशाली उपचार गुण भी होते हैं। इनमें विटामिन, मिनरल, एंजाइम और अन्य मूल्यवान तत्व भी होते हैं। जो त्वचा और बालों के स्वास्थ्य और सुंदरता के लिए महत्वपूर्ण हैं। आइए जानते हैं कौन सी ऐसी जड़ी-बूटियां हैं जो स्किन केयर में काम आती हैं।
हल्दी: हल्दी प्राचीन काल से ये हमारे पारंपरिक औषधीय और सौंदर्य का एक हिस्सा है। ये त्वचा को मुलायम और ग्लोइंग बनाने के साथ-साथ दर्द और सूजन को कम करने में भी काफी मददगार होती है। अगर हल्दी का नियमित रूप से इस्तेमाल किया जाए तो ये टैन हटाने और त्वचा पर निखार लाने में मदद कर सकती है। टैन हटाने के लिए थोड़े से दही में एक चुटकी हल्दी मिलाएं और इसे रोजाना चेहरे पर लगाएं। 20 मिनट बाद इसे धो लें। तुलसी: तुलसी आमतौर पर घरों में कई प्रकार की बीमारियों के लिए इस्तेमाल की जाती है। ये सर्दी और खांसी का इलाज करने में मदद करती है, जो सर्दियों के दौरान काफी आम है। इसके अलावा ये त्वचा और स्कैल्प के लिए भी फायदेमंद है। तुलसी के पत्तों को पानी में उबाल लें और पत्तियों को ठंडा करके पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर लगाएं। ये सूजन को कम करने में मदद करेगा। इसके साथ ही ये त्वचा पर ग्लो लाता है। आंवला: ये आयुर्वेदिक उपचार में सबसे लोकप्रिय सामग्री में से एक है। ये सर्दियों के दौरान बहुत आसानी से उपलब्ध होता है और त्वचा और बालों को स्वस्थ बनाता है। इसलिए रोजाना एक गिलास पानी में एक कच्चे आंवले का रस मिलाकर पिएं। आंवला हेयर ऑयल बनाने के लिए, बस एक मुट्ठी सूखा आंवला लें, इसे दरदरा पीस लें और इसे 100 मिलीलीटर नारियल तेल में मिला लें। इस तेल को कांच की किसी एयरटाइट बोतल में भरकर करीब 15 दिन तक धूप में रखें। फिर तेल को छानकर स्टोर कर लें। जब भी मन करे इसे अपने बालों पर लगाएं।

मैगबोन: इमारत के ढहने से 4 लोगों की मौंत हुईं

मैगबोन: इमारत के ढहने से 4 लोगों की मौंत हुईं
सुनील श्रीवास्तव               
एबूजा। नाइजीरिया के मैगबोन शहर में एक निर्माणाधीन इमारत के ढहने से चार लोगों की मौत हो गई और पांच अन्य घायल हो गये। लागोस अग्निशमन सेवा की निदेशक मार्गेट अदेसेए ने बताया कि इमारत से पांच लोगों को बचाया गया है और अन्य फंसे लोगों को बचाने का प्रयास जारी है। उन्होंने बताया कि इमारत के ढहने से चार लोगों की मौत हो गई है। इससे पहले नवंबर के शुरुआत में लागोस में 25 मंजिला एक इमारत के ढहने से कम से कम 43 लोगों की मौत हो गई थी।

19 नवंबर को होगा साल का आखिरी 'चंद्र ग्रहण'
अखिलेश पांडेय            
वाशिंगटन डीसी। इस साल का आखिरी चंद्र ग्रहण 19 नवंबर 2021 शुक्रवार को है। इसके चंद्र ग्रहण के ठीक 15 दिन बाद 4 दिसंबर 2021 को एक सूर्य ग्रहण भी लगने वाला है। यह चंद्र ग्रहण 580 साल के बाद लगने वाला है जोकि सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। इस चंद्र ग्रहण की अवधि करीब साढ़े तीन घंटे की रहने वाली है। 
चंद्र ग्रहण की अवधि ज्‍यादा होने के बाद लोग ज्‍यादा देर तक इस अद्भुत खगोलीय घटना का अनुभव ले सकेंगे। भारत में यह चंद्र ग्रहण दोपहर को 12:48 बजे से 04:17 मिनट तक होगा। इससे पहले इतना लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण 1440 में लगा हुआ था, वहीं 19 नवंबर 2021 के बाद अब 8 फरवरी 2669 में इतना लंबा चंद्र ग्रहण होगा। यानी कि 648 साल बाद ऐसा ग्रहण होगा।
इस ग्रहण का सूतक काल नहीं लगेगा। क्योंकि ये एक उपच्छाया चंद्र ग्रहण है। ज्योतिष अनुसार इस ग्रहण को ग्रहण की श्रेणी में नहीं रखा जाता।
सैनिकों के साथ संघर्ष में 57 फिलिस्तीनी घायल हुए
सुनील श्रीवास्तव      
येरूशलम। यरूशलेम के समीप अल-इस्साविया में इजरायली सैनिकों के साथ संघर्ष में कम से कम 57 फिलिस्तीनी घायल हो गए हैं। समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार इजरायली सैनिकों ने आंसू गैस के गोले दागे जिससे ये फिलिस्तीनी घायल हो गये। इस बीच फिलिस्तीनियों ने गुरुवार को हड़ताल की घोषणा की है। इजरायल और फ़िलिस्तीन के बीच के संबंध दशकों से खराब चले आ रहे हैं।

कोविड-19 संबंधी पाबंदियों में ढील दीं: पीएम
इकबाल अंसारी             
सिंगापुर। सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सीन लूंग ने कहा कि देश में कोविड-19 संबंधी पाबंदियों में धीरे-धीरे ढील दी जा रही है और यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि हर कदम के साथ स्थिति सामान्य होती जाए। ली ने कहा, ” मैं अब पाबंदियों में थोड़ी ढील देने की कोशिश कर रहा हूं। यह सुनिश्चित किया जाए कि स्थिति सामान्य हो, फिर थोड़ी और ढील जाए और फिर स्थिति का आकलन किया जाए और फिर थोड़ी और ढील दी जाए।
” उन्होंने कहा कि इससे स्थिति पहले जैसी एकदम सामान्य तो नहीं हो पाएंगी, लेकिन उसके काफी करीब होगी। साथ ही परेशान करने वाली पाबंदियां भी फिर लगाने की जरूरत नहीं होगी। प्रधानमंत्री ने कहा, ” मुझे लगता है कि एक-एक करके ही कदम उठाने चाहिए। मुझे पूरा यकीन नहीं है कि मैं इसे बिना किसी गलत कदम उठाए कर सकता हूं, हो सकता है कि मुझे समय-समय पर ये कार्रवाई रोकनी पड़ी, लेकिन फिलहाल मेरी योजना यही है।
” सिंगापुर के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में बुधवार को कोविड-19 के 3,320 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 244,815 हो गई। वहीं 144 और लोगों की संक्रमण से मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 619 हो गई।



एससी के आदेश के विरुद्ध अपील दायर की

एससी के आदेश के विरुद्ध अपील दायर की
अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने बृहस्पतिवार को एक गैर सरकारी संगठन ने दिल्ली उच्च न्यायालय के एक आदेश के विरुद्ध अपील दायर करने की अनुमति दे दी। इस आदेश में उच्च न्यायालय ने आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना को सेवानिवृत्ति की तारीख 31 जुलाई से चार दिन पहले दिल्ली पुलिस आयुक्त बनाने के केन्द्र के फैसले को बरकरा रखा था।
न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना की पीठ ने कहा कि गैर सरकारी संगठन की याचिका और अपील पर 26 नवंबर को सुनवाई होगी। गैर सरकारी संगठन ‘सेंटर फॉर पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन’ (सीपीआईएल) की ओर से पेश हुए वकील प्रशांत भूषण ने पीठ से कहा कि अस्थाना की नियुक्ति के विरोध में उसकी याचिका न्यायालय ने 25 अगस्त को लंबित रखी थी और उच्च न्यायालय से इसी प्रकार की एक याचिका पर जल्दी फैसला लेने का आग्रह किया था।
भूषण ने कहा कि अब जब उच्च न्यायालय ने याचिका पर फैसला दे दिया है तो इस शीर्ष अदालत को इसका लाभ लेना चाहिए। मैं न्यायालय से अनुरोध करता हूं कि वह हमारी याचिका पर फैसला दे जो अस्थाना की नियुक्ति को चुनौती देती है। केंद्र सरकार की ओर से पेश हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने तकनीकी आधार पर प्रारंभिक आपत्ति दर्ज कराई कि यह एक रिट याचिका है और अगर भूषण उच्च न्यायालय के आदेश से असंतुष्ट हैं तो उन्हें इस शीर्ष अदालत की अनुमति से एक अपील दायर करनी चाहिए।

पीठ ने कहा कि पूर्व में ऐसे मामले सामने आए हैं जिनमें यदि कोई पक्ष उच्च न्यायालय से असंतुष्ट है तो वह न्यायालय की अनुमति से अपील दायर कर सकता है। पीठ ने कहा कि हम आपको अपील दायर करने की छूट प्रदान करते हैं और रिट याचिका तथा अपील दोनों पर एक साथ विचार करके फैसला करेंगे क्योंकि हमने ही 25 अगस्त के आदेश में आपको हस्तक्षेप करने वाले के रूप में उच्च न्यायालय जाने के लिए कहा था।
अस्थाना की ओर से वरिष्ठ अधिवक्त मुकुल रोहतगी ने कहा कि अगर न्यायालय गैर सरकारी संगठन को अपील दायर करने की अनुमति दे रहा है तो उसे रिट याचिका लंबित नहीं रखनी चाहिए। पीठ ने कहा कि वह 26 नवंबर को इस पहलू पर गौर करेगी। दिल्ली उच्च न्यायालय ने 12 अक्टूबर को अपने फैसले में अस्थाना को दिल्ली का पुलिस आयुक्त नियुक्त करने का केन्द्र का फैसला सही ठहराते हुए कहा था कि उनके चयन मे कोई भी अवैधता या अनियमित्ता नहीं है।

उच्च न्यायालय ने अस्थाना के चयन को चुनौती देने वाली जनहित खारिज करते हुए कहा था कि इस नियुक्ति के बारे में केन्द्र द्वारा बताये गये कारण ठीक हैं और इसमें न्यायिक समीक्षा की आवश्यकता नहीं है। उच्च न्यायालय ने यह भी कहा था कि प्रकाश सिंह मामले में शीर्ष अदालत का फैसला दिल्ली के पुलिस आयुक्त की नियुक्ति के मामले में लागू नहीं होता है और उसका उद्देश्य राज्यों में पुलिस महानिदेशक की नियुक्ति के संबंध में है।

भारत: 24 घंटों में 11,919 नए केस दर्ज किए 
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटों में 11,919 नए केस दर्ज किए गए हैं। वहीं 470 मरीजों ने इस दौरान कोरोना संक्रमण के चलते जान गंवाई है। पिछले 24 घंटों में 11,242 मरीज रिकवर भी हुए हैं। वहीं इस दौरान एक्टिव केसलोड 1,28,762 है। ये कुल मामलों का 1% से भी कम है। इस वक्त ये 0.37% दर्ज किया गया है, जो मार्च 2020 के बाद से सबसे कम है।
वहीं, दूसरी ओर भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने गुरुवार को कहा है कि देश की टेस्टिंग कैपिसिटी को बड़े पैमाने पर बढ़ाया गया है। 
देश में अब तक 62,82,48,841 कोविड-19 टेस्ट किए गए हैं। अब तक किए गए कुल टेस्ट में से पिछले 24 घंटों में 12,32,505 सैंपल्स को टेस्ट किया गया है। वहीं बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में 24 घंटों में 10,197 नए कोरोना​​ मामले सामने आए थे। राष्ट्रव्यापी वैक्सीनेशन अभियान के तहत अब तक 113.68 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन डोज दी जा चुकी हैं।
देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।
पिछले दिनों देश ने एक के बाद एक कई त्योहार मनाए हैं और उनमें घनघोर लापरवाही बरती गई। अब फिक्र ये उठ रही है कि हमने दिवाली और छठ तो धूमधाम से मना लिया, लेकिन क्या अब क्रिसमस भी वैसे ही मना पाएंगे? नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इकोनॉमिक एंड सोशल रिसर्च की एक रिपोर्ट में भारत में तेजी से संक्रमण बढ़ने का खतरा जताया गया है। रिपोर्ट में आर-वैल्यू को आधार बनाया गया है। जिससे ये पता चलता है कि एक संक्रमित से कितने व्यक्ति संक्रमित हो सकते हैं और इस लिहाज से चार राज्य ऐसे पाए गए हैं। जहां आर-वैल्यू पूरे देश के औसत से ज्यादा है।

एयर फोर्स का एमआई-17 हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ
अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। पूर्वी अरुणाचल प्रदेश में गुरुवार को एयर फोर्स का एमआई-17 हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। इस हेलिकॉप्टर में 2 पायलट और 3 क्रू मेंबर्स मौजूद थे। इस हादसे में किसी को कोई चोट नहीं पहंची। सभी सुरक्षित हैं।
बताया जा रहा है कि हेलिकॉप्टर ट्रेनिंग उड़ान पर था, तभी ये हादसा हुआ। एयरफोर्स सूत्रों का कहना है कि हादसे की वजह जानने के लिए जांच की जाएगी। घटना के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हुआ है। हादसे के बाद कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश दिए जाएंगे। 
2017 में भी एमआई-17 हेलिकॉप्टर हुआ था क्रैश
इससे पहले 2017 में अरुणाचल प्रदेश में एमआई-17-वी5 हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में 7 जवान शहीद हो गए थे। हादसे का वीडियो भी सामने आया था।
6 अक्टूबर 2017 को भारतीय वायुसेना का एमआई-17-वी5 हेलिकॉप्टर अपने रूटीन मिशन पर उड़ान भर रहा था, जो वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास यांगस्ते पोस्ट से बहुत दूर ईंधन ड्रॉप कर रहा था।
। बता दें कि वास्तविक नियंत्रण रेखा ही भारत और चीन के बीच सीमा मानी जाती है। हेलिकॉप्टर का पिछला पंखा ईंधन गिराए जाने के वक्त कंटेनर से टकरा गया है। क्षतिग्रस्त होने के बाद हेलिकॉप्टर का पिछला पंखा तुरंत टूटकर अलग हो जाता है और हेलिकॉप्टर क्रैश हो जाता है।
पेटीएम में पैसा लगाने वालों का मूड खराब 
अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। बड़ी उम्मीद के साथ पेटीएम में पैसा लगाने वालों का आज मूड खराब है। देश के सबसे बड़े डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म पेटीएम की पैरंट कंपनी वन 97  की आज शेयर बाजार में लिस्टिंग हो गई। कंपनी का शेयर डिस्काउंट के साथ शेयर बाजार में लिस्ट हुआ।पेटीएम के आईपीओ की लिस्टिंग कल या 19 नवंबर को हो सकती है और सभी निवेशकों की निगाहें इसकी तरफ लगी हुई हैं कि यहां पर लिस्टिंग गेन होता है या नहीं। देश का अभी तक का सबसे बड़ा आईपीओ लाने वाली पेटीएम के शेयरों का अलॉटमेंट बीते कल यानी 16 नवंबर को हो चुका है। हालांकि पेटीएम के शेयरों की लिस्टिंग अभी नहीं हुई है और इसके इसी कारोबारी हफ्ते में 18 नवंबर को होने की पूरी उम्मीद है। पेटीएम के आईपीओ (इनीशियल पब्लिक ऑफर) की बात करें तो इसकी कीमत 18300 करोड़ रुपये थी। आईपीओ को निवेशकों का अच्छा रिस्पॉन्स मिला और इसको 1.89 गुना बोलियां मिली थीं। पेटीएम के आईपीओ के समय इसका जीएमपी 150 रुपये के करीब था जो घटकर 30 रुपये के आसपास आ चुका था और कल की बात करें तो ये जीरो पर था। इसको देखते हुए कुछ मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि इसके साथ निवेशकों को ज्यादा लिस्टिंग गेन नहीं मिल पाएगा।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-31 (वर्ष-05)
2. शुक्रवार, नवंबर 19, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पूर्णिमा, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:42, सूर्यास्त 05:27।
5. न्‍यूनतम तापमान -13 डी.सै., अधिकतम-26+ डी.सै.। 
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक शिवाशुं व राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...