बुधवार, 6 अक्तूबर 2021

नवदुर्गा: 7 अक्टूबर से आरंभ होगी शारदीय नवरात्रि

अकांशु उपाध्याय       

नई दिल्ली। शारदीय नवरात्रि 7 अक्‍टूबर गुरुवार से आरंभ हो रहे हैं। इस बार मां दुर्गा डोली में सवार होकर धरती पर आ रही हैं। शास्‍त्रों के अनुसार मां का डोली में आगमन शुभ नहीं माना गया है। वहीं हाथी पर विदाई को शुभ माना गया है। हाथी पर मां की विदाई होने से अच्‍छी बारिश होती है और धन-धान्‍य बढ़ता है। देश में शान्ति का वातावरण रहता है। शारदीय नवरात्रि 15 अक्टूबर 2021 को समाप्त होगी।

नवरात्रि में घट स्थापना या कलश स्थापना का विशेष महत्व होता है। शारदीय नवरात्रि में घटस्थापना का शुभ समय सुबह 06 बजकर 17 मिनट से सुबह 07 बजकर 07 मिनट तक ही है। स्थापना और पूजा के लिए मां दुर्गा की फोटो, आरती की किताब, दीपक, फूल, पान, सुपारी, लाल झंडा, इलायची, बताशा, मिसरी, कपूर, उपले, फल, मिठाई, कलावा, मेवे, हवन के लिए आम की लकड़ी, जौ, वस्त्र, दर्पण, कंघी, कंगन-चूड़ी, सिंदूर, केसर, कपूर, हल्दी की गांठ और पिसी हुई हल्दी, पटरा, सुगंधित तेल, चौकी, आम के पत्ते, नारियल, दूर्वा, आसन, पंचमेवा, कमल गट्टा, लौंग, हवन कुंड, चौकी, रोली, मौली, पुष्पहार, बेलपत्र, दीपबत्ती, नैवेद्य, शहद, शक्कर, जायफल, लाल रंग की चुनरी, लाल चूड़ियां, कलश, साफ चावल, कुमकुम, मौली, माचिस और माता रानी के सोलह श्रृंगार के सामान की जरूरत पड़ेगी।

कार्यक्रम के तहत किये गये कार्यों की समीक्षा की

अश्वनी उपाध्याय      

गाजियाबाद। नेहरू युवा केंद्र गाजियाबाद के तत्वावधान में चलाए जा रहे स्वच्छ भारत कार्यक्रम के अन्तर्गत नोडल अधिकारी परियोजना निदेशक डीआरडीए पीएन दीक्षित ने स्वच्छ भारत कार्यक्रम के तहत किये गये अभी तक के कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान उन्होंने नेहरू युवा केन्द्र गाजियाबाद के जिला युवा अधिकारी देवेन्द्र कुमार और लेखा एवं कार्यक्रम सहायक मुकन्द वल्लभ शर्मा से अभी तक जनपद में हुए कार्य की प्रगति ली। इस सम्बन्ध में जिला युवा अधिकारी देवेन्द्र कुमार ने बताया कि ब्लाक स्तर पर कार्य करने वाले राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवकों की सभी खंड विकास अधिकारियों के साथ बैठक करा दी गई है तथा सभी बीडीओ ने ग्राम प्रधानों को सहयोग के लिए पत्र जारी कर दिया गया है। इस सम्बन्ध में लेखा एवं कार्यक्रम सहायक मुकुन्द वल्लभ शर्मा ने बताया कि नगर पालिकाओं के ईओ से भी सम्पर्क किया गया है। जिसमें लोनी नगरपालिका की तरफ से पत्र भी जारी कर दिया गया है।

स्वच्छ भारत कार्यक्रम के नोडल अधिकारी पीएन दीक्षित ने कहा कि जो प्लास्टिक कचरा साफ है, उसे अभी रखा जाये और जो कचरा दूषित अथवा रखने योग्य नहीं है, उसे साथ साथ डिस्पोज कर दिया जाये तथा एक दैनिक संग्रह का डाटा रखने के लिए रजिस्टर बना लिया जाये। ताकि मालूम रहे कि कितनी प्लास्टिक का संग्रह हुआ और कितना डिस्पोज कर दिया गया और कितना शेष रहा।

साथ ही उन्होंने कहा कि रिपोर्टिंग के लिए एक पीपीटी भी तैयार कर लिया जाये। जिसमें सभी सम्बंधित गाइडलाइन, प्राप्त पत्र, और सलैक्टेड फोटोग्राफ लगाये जायें। नेहरू युवा केन्द्र के राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवक तालिब, शिवम, लोनी भानू तोमर, गौरव भोजपुर, रेनू मुरादनगर, प्राची व नेहा रजापुर के नेतृत्व में सिंगल यूज प्लास्टिक का संग्रह किया गया।

बिहार: पूर्व राज्यसभा सदस्य शिवानंद ने बयान दिया

अविनाश श्रीवास्तव        

पटना। राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यसभा सदस्य शिवानंद ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे अब पार्टी में नहीँ हैं। उन्हें राजद से निष्कासित कर दिया गया है। पार्टी का सिंबल लालटेन इस्तेमाल करने से रोक दिया गया है।
कन्हैया कुमार के कांग्रेस में जाने को लेकर शिवानंद ने मजाक उड़ाया तथा कहा- कांग्रेस को बचाने की ऐतिहासिक जबाबदेही निभाने को वह कांग्रेस में गए हैं। कन्हैया को मेरी बधाई है। बिहार में उपचुनाव पर राजद-कांग्रेस में खींची तलवार पर शिवानंद तिवारी ने तंज कसा। कहा कि राज्य में पिछले विधानसभा चुनाव में महागठबंधन की 70 सीटों पर कांग्रेस लड़ी, क्या हुआ ? उत्तरप्रदेश में कांग्रेस ने अखिलेश को डुबाया। बिहार, उत्तर प्रदेश, बंगाल, तामिलनाडु जैसे प्रदेश में कांग्रेस ड्राइविंग सीट चाहती है। सवाल यह है कि क्षेत्रीय पार्टिया कहाँ जाएंगी। उन्होंने कहा कि रामविलास के वारिस चिराग ही होंगे। असली लोजपा चिराग गुट है। शिवानंद तिवारी ने कहा कि तेजप्रताप पार्टी में है कहां? उन्होंने नया संगठन भी बनाया है। वह पार्टी में नहीं है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वह है कहां पार्टी में। वह तो अपने आप निष्कासित हो चुके हैं। उन्होंने जो संगठन बनाया है उसमें तो उन्होंने लालटेन का सिंबल लगाया था तो उनको पार्टी ने कह दिया कि आप इसे नहीं लगा सकते हैं। उन्होंने खुद कबूल किया है कि भाई हम को मना कर दिया गया है। यह तो मैसेज क्लियर है।

राजद के अंदर तेजस्वी-तेजप्रताप में मचे घमासान के सवाल पर शिवानंद तिवारी ने चौंकाने वाला खुलासा किया। विवाद के सवाल पर शिवानंद तिवारी ने बताया कि तेजप्रताप यादव को पार्टी के बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। शिवानंद तिवारी ने खुलासा किया की तेजप्रताप यादव को पार्टी के आधिकारिक चिन्ह लालटेन के इस्तेमाल की भी मनाही कर दी गई है।

बिहार: पासवान पर सनसनीखेज आरोप लगाया

अविनाश श्रीवास्तव       

मुज्जफरपुर। मुज़फ़्फ़रपुर जिला पुलिस बल की एक महिला सिपाही ने टाउन थाना में तैनात एएसआई जितेंद्र पासवान पर गम्भीर और सनसनीखेज आरोप लगाया है। पीड़िता ने राष्ट्रीय महिला आयोग, दिल्ली, अध्यक्ष राज्य महिला आयोग, बिहार पटना और वरीय पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर इसकी शिकायत की है। इसमें एएसआई पर शादी का झांसा देकर तीन साल तक यौन शोषण करने का आरोप लगाया है।

बताया की तीन साल पूर्व वह कांटी थाना में सशत्र बल में तैनात थी। उसी दौरान एएसआई भी मुंशी के पद पर कार्यरत थे। कांटी थाना में दोनों की पहचान हुई थी। इसके बाद एएसआई की गलत नज़र उस पर पड़ी। उसने सिपाही का पीछा करना शुरू कर दिया। बेवजह दबाव डालकर उसे परेशान करने लगा। इसके बाद पीड़िता ने एमआईटी के समीप किराये पर कमरा लेकर रहना शुरू कर दिया। यहां भी एएसआई ने पीछा किया। अचानक से कमरे पर आया और उसे कुछ सुंघा कर अचेत कर दिया। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म करने लगा। जब पीड़िता ने विरोध किया तो उसकी मांग में सिंदूर डाल दिया और कहने लगा की मैं अविवाहित हूँ, तुमसे शादी करूँगा। जब वह अचेत हुई तभी उसने अश्लील तस्वीर भी खींच लिया और वीडियो भी बना लिया था। इसके बाद लगातार उसके साथ सम्बन्ध बनाता रहा।

सुम्मारी लाल को गिरफ्तार कर बाइक बरामद की

बृजेश केसरवानी      
प्रयागराज। पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रयागराज सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के द्वारा अपराध एवम अपराधियो के विरुद्ध चलाये गये अभियान के क्रम में पुलिस अधीक्षक गंगापार अभिषेक कुमार अग्रवाल सीओ सोरांव के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक थाना नवाबगंज संजय कुमार द्विवेदी के कुशल नेतृत्व में गठीत पुलिस टीम उपनिरीक्षक विनय कुमार शुक्ला चौकी प्रभारी आनापुर व का. प्रदीप दुबे चौकी आनापुर द्वारा अभियुक्त मुनेश कुमार पुत्र सुम्मारी लाल उर्फ बंगाली निवासी भीटी पट्टी रजई थाना नवाबगंज जनपद प्रयागराज को गिरफ्तार कर कब्जे से चोरी की मोटर साइकिल बरामद कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गयी।

7 अक्टूबर तक चलाया विशेष वरासत अभियान

बृजेश केसरवानी       
प्रयागराज। जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री के निर्देश पर जनपद में 7 अक्टूबर तक विशेष वरासत अभियान चलाया जा रहा है। मुख्य राजस्व अधिकारी ने बताया कि वरासत अभियान के अन्तर्गत समस्त लेखपाल, राजस्व निरीक्षक अपने-अपने क्षेत्र के गांव में जाकर, ऐसे किसान जिनका देहांत हो चुका है। उनके वारिसों का विवरण प्राप्त कर आनलाइन आवेदन करा रहे है और किसानों का नाम खतौनी में दर्ज करा रहे है। उन्होंने कहा कि जो भी इस तरह के प्रकरण है। ऐसे लोग इस सम्बंध में सूचना एवं आवश्यक अभिलेख अपने क्षेत्र के लेखपाल को उपलब्ध करा दें। जिससे कि वारिस के रूप में उनका नाम खतौनी में दर्ज किया जा सके और अभियान को सफल बनाया जा सके।

सरकार द्वारा उठाये गए कदमों का नतीजा मिला

नरेश राघानी        
जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि उनकी सरकार हर दुष्कर्मी को जल्द से जल्द कठोरतम सजा दिलाकर पीड़िता को न्याय दिलायेगी और हाल में एक अपराधी को सुनाई गई बीस साल की सजा के फैसले में सरकार द्वारा उठाये गए कदमों का नतीजा भी नजर आ रहा है।
गहलोत ने जयपुर के कोटखावदा में नौ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म मामले में दुष्कर्मी को बीस साल की सजा सुनाये जाने के बाद अपनी प्रतिक्रिया में सोशल मीडिया के जरिए यह बात कही। उन्होंने कहा कि यह राजस्थान सरकार की पीड़िता को न्याय दिलाने की प्रतिबद्धता का उदाहरण है।
राज्य सरकार हर दुष्कर्मी को जल्द से जल्द कठोरतम सजा सुनिश्चित कर हर पीड़िता को इंसाफ दिलाएगी। इसके लिए हमारी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का नतीजा ऐसे फैसलों में दिखता है। उन्होंने कहा कि 26 सितंबर को कोटखावदा में हुए नौ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने तेरह घंटे में आरोपी को गिरफ्तार कर अगले पांच घंटे में अदालत में चालान पेश कर दिया था। चार कार्य दिवस में एफएसएल रिपोर्ट तैयार हुई और पांच कार्य दिवस में पॉक्सो कोर्ट ने अपराधी को बीस साल जेल की सजा सुनाई है।

चैम्पियनशिप के मैच में जीत दर्ज करना चाहेगी टीम

ढाका।  बांग्लादेश की 10 खिलाड़ियों की टीम से 1-1 से ड्रा खेलने के बाद भारतीय फुटबॉल टीम के आत्मविश्वास पर असर पड़ा होगा। लेकिन टीम जल्द ही इससे उबरकर गुरूवार को यहां श्रीलंका के खिलाफ सैफ चैम्पियनशिप के दूसरे मैच में जीत दर्ज करना चाहेगी। भारत को बांग्लादेश के खिलाफ पिछले मैच में निराशा हाथ लगी जिसके खिलाफ उसने ज्यादातर समय दबदबा बनाया हुआ था और कप्तान सुनील छेत्री की बदौलत बढ़त भी हासिल कर ली थी जिसे देखते हुए उसे जीत दर्ज करनी चाहिए थी।
लेकिन ऐसा नहीं हो सका जिससे भारतीय टीम टूर्नामेंट की पहली जीत दर्ज करने के लिये बेताब होगी। श्रीलंका के खिलाफ उसने रिकार्ड सात बार जीत हासिल की है। ‘ब्लू टाइगर्स’ के मुख्य कोच इगोर स्टिमक हाल में भारत के मैचों में जीत दर्ज करने में विफलता के कारण आलोचनाओं से घिरे हुए हैं और गुरूवार को वह काफी दबाव में होंगे। बांग्लादेश के खिलाफ निराशा के बावजूद भारत को निचली रैंकिंग की श्रीलंकाई टीम के खिलाफ जीत का भरोसा है जो अभी तक टूर्नामेंट में जूझती नजर आयी है।
उसने अभी तक दोनों मैच गंवाये हैं जिसमें उसने चार गोल खाये और दो गोल किये हैं। छेत्री ने पिछले मैच में भारत को बढ़त दिला दी थी जिसके बाद बांग्लादेश के बिश्वनाथ घोष को दूसरे हाफ में रेड कार्ड दिखा दिया गया। यासिर अराफात ने बाद में अपनी टीम के लिये गोल कर मैच ड्रा कराने में अहम भूमिका निभायी।
यह भारतीय करिश्माई फुटबॉलर फिर गोल करके अपने गोल की संख्या बढ़ाना चाहेगा। छेत्री अंतरराष्ट्रीय गोल के मामले में ब्राजील के सुपरस्टार पेले की बराबरी से महज एक गोल पीछे है। श्रीलंका के खिलाफ उनके लिये अपने चमकदार करियर में एक और उपलब्धि करने का मौका होगा। लेकिन ऐसा करने के लिये उन्हें टीम से सहयोग की जरूरत होगी, तभी वह मैच में पूरे अंक दिला पायेंगे। बांग्लादेश के खिलाफ ड्रा की निराशा के बाद स्टिमक ने अपनी टीम को दोषी ठहराया था।

हत्यारों को बचाने का प्रयास कर रहीं सरकार: सीएम

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या की गई और अब सरकार हत्यारों को बचाने का प्रयास कर रही है। केजरीवाल ने संवाददाता सम्मेलन में आज यहाँ कहा कि दिन-दहाड़े किसानों को गाड़ी से कुचल दिया गया और इस मामले में दोषियों को अब तक गिरफ़्तार नहीं किया गया। इस मामले में हत्यारे को जिस प्रकार बचाया जा रहा है वैसा तो हिंदी फ़िल्मों में देखने को मिलता था। पूरी सरकार हत्यारे को बचाने में लगी।
उन्होंने कहा कि कोई नेता हो या बड़ा आदमी हो तो क्या वह किसी को कुचल देगा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि पूरा देश लखीमपुर खीरी का सच जानना चाहता है इसलिए आपको किसानों का दर्द बाँटना और सच्चाई को सामने लाने देना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा क्या छुपाया जा रहा है घटनास्थल पर विपक्ष के नेताओं पत्रकारों को जाने से रोका जा रहा है।
उन्होंने कहा पूरा देश एक तरफ़ आज़ादी का अमृत महोत्सव मना रहा है वहीं दूसरी तरफ़ पीड़ित किसानों से मिलने जो जा रहे हैं उनको गिरफ़्तार किया जा रहा है। केजरीवाल ने कहा कि एक साल से किसान सीमा पर बैठे हैं उनमें से छह सौ किसानों की मौत हो गई है और अब उनपर गाड़ी चढ़ाकर मारा जा रहा है आख़िर किसानों से इतनी नफ़रत क्यों है। उन्होंने कहा कि लखीमपुर में किसानों को नहीं कुचला गया बल्कि पूरी व्यवस्था को कुचला गया है।

राजनीति: भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं राहुल

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं और उनका गैर जिम्मेदाराना रवैया हिंसा को भड़काने का काम कर रहा है। गांधी ने बुधवार को लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर एक संवाददाता सम्मेलन में केंद्र सरकार पर हमला बोला जिसके बाद भाजपा प्रवक्ता संम्बित पात्रा ने यहाँ संवाददाता सम्मेलन में पलटवार करते हुए कहा कि जब लखीमपुर खीरी हिंसा मामले की जांच चल रही है , तब  गांधी इस तरह के बयान नहीं दे जिससे जांच पर असर हो। वह लोगों को भड़काने का काम कर रहे है।
उन्होंने कहा , “ लखीमपुर में जो भी हुआ वह दुखद है। किसानों और प्रशासन के बीच में समझौता हुआ है। हमने उसके पश्चात देखा है कि चाहे किसान संगठन हो, चाहे प्रशासन दोनों ने मिलकर बातचीत कर रहे हैं। दोनों के बीच समन्वय हुआ। दोनों ने बातचीत करके कुछ निष्कर्ष निकाल लिया।
मुख्यत: जो निष्कर्ष था वह एक निष्पक्ष जांच का था। पोस्टमार्टम पर किसी ने यदि सवाल नहीं उठाए, तो गांधी उसके विशेषज्ञ न होने के बावजूद भी उस पर भ्रम फैलाकर वातावरण को अशांत करने का प्रयास कर रहे हैं।” भाजपा प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि गांधी परिवार का किसानों से कोई लेना देना नहीं। इस परिवार का व्यापारियों से, हिंदुस्तान के किसी वर्ग से कोई लेना-देना नहीं है।

गांधी परिवार का केवल और केवल अपने परिवार से ही लेना-देना है। लखीमपुर खीरी में जो हुआ उसको एक राजनीतिक अवसर के रूप में देखना निंदनीय है। उल्लेखनीय है कि आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने केंद्र और उत्तर सरकार पर हमला करते हुए कहा कि लोकतंत्र खत्म हो चुका है। किसानों को लखीमपुर में कुचला गया है लेकिन अब तक केंद्रीय मंत्री पर कोई कार्रवाई नहीं की गयी।

याचिका: प्रतिबंध के खिलाफ सुनवाई करेगा एचसी

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने बुधवार को कहा कि दिवाली के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में पटाखों की बिक्री, भंडारण और इस्तेमाल पर पूर्ण प्रतिबंध के खिलाफ याचिका पर वह 22 अक्टूबर को सुनवाई करेगा। साथ ही उसने कहा कि वह इस मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय की सुनवाई के नतीजे का इंतजार करेगा। 
मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने राहुल सांवरिया और तनवीर की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा, ”हमें इंतजार करने दीजिए कि उच्चतम न्यायालय क्या निर्देश दे रहा है।” याचिकाकर्ताओं ने दावा किया कि दिल्ली सरकार का पूर्ण प्रतिबंध लगाने का फैसला ”अधिकार से परे” हैं क्योंकि उच्चतम न्यायालय ने राष्ट्रीय राजधानी में पटाखों की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का कभी आदेश नहीं दिया।
मुख्य न्यायाधीश ने कहा, ”तो आप कह रहे हैं कि यह (प्रतिबंध) उच्चतम न्यायालय की अवमानना है? फिर अवमानना का मामला दायर कीजिए।” याचिकाकर्ताओं की ओर से पेश वकील गौतम झा ने कहा, ”मैं इस पर इतना जोर नहीं दे रहा हूं। मैं सिर्फ यह कह रहा हूं कि उच्चतम न्यायालय का आदेश इसकी अनुमति नहीं देता।
दिल्ली सरकार के वकील संतोष कुमार त्रिपाठी ने कहा कि यह मुद्दा सुनवाई के लिए उच्चतम न्यायालय के समक्ष आया है। झा ने कहा कि उन्होंने 15 सितंबर के आदेश में सुधार का अनुरोध किया है जिसमें प्रदूषण की चिंता के कारण दिवाली के दौरान सभी तरह के पटाखों के भंडारण, बिक्री और जलाने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। उन्होंने कहा कि पूर्ण प्रतिबंध के कारण प्राधिकारी हरित पटाखों का विकल्प चुन सकती थी। याचिकाकर्ताओं ने दावा किया कि यह प्रतिबंध मनमाने, अतार्किक और अतिशय है।

जनरल एश्वर्या भाटी की दलीलों को रिकॉर्ड में रखा

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। केंद्र ने उच्चतम न्यायालय को बुधवार को बताया कि विद्यार्थियों के हितों को ध्यान में रखते हुए, यह तय किया गया है कि नीट-सुपर स्पेशियलिटी परीक्षा के पैटर्न में किए गए बदलाव अकादमिक सत्र 2022-23 से लागू किए जाएंगे। न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमू्र्ति विक्रम नाथ और न्यायमूर्ति बी वी नागरत्न की पीठ ने अतिरिक्त सॉलीसिटर जनरल एश्वर्या भाटी की दलीलों को रिकॉर्ड में रखा और उन विद्यार्थियों की याचिकाओं का निपटान किया जिन्होंने इस वर्ष से नीट-सुपर स्पेशियलिटी के परीक्षा पैटर्न में बदलावों को लागू करने के केंद्र के पहले के फैसले को चुनौती दी थी। पीठ ने कहा कि परीक्षा के पैटर्न में किए गए बदलावों की वैधता के सवाल पर वह कुछ नहीं कह रही है। मंगलवार को, शीर्ष अदालत ने केंद्र को “अपने तरीके में सुधार” लाने का और नीट-सुपर स्पेशियलिटी परीक्षा 2021 में किए गए बदलावों को वापस लेने पर निर्णय लेने का केंद्र को एक आखिरी मौका दिया था।
नाराज शीर्ष अदालत ने कहा था कि चिकित्सा पेशा और शिक्षा एक व्यवसाय बन गया है, और अब, चिकित्सा शिक्षा का नियमन भी उस तरह से हो गया है जो देश की त्रासदी है। जुलाई में परीक्षा के लिए अधिसूचना जारी होने के बाद अंतिम समय में बदलाव करने के लिए केंद्र, राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड (एनबीई) और राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग (एनएमसी) द्वारा दी गई दलील से शीर्ष अदालत संतुष्ट नहीं थी।
शीर्ष अदालत उन 41 स्नातकोत्तर चिकित्सकों और अन्य की याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी, जिन्होंने 13 और 14 नवंबर को होने वाली परीक्षा के लिए अधिसूचना जारी होने के बाद पाठ्यक्रम में अंतिम क्षणों में किए गए बदलाव को 23 जुलाई को चुनौती दी थी।

सुरक्षा के बजाय लाभ को तरजीह देने का आरोप

वाशिंगटन डीसी। फेसबुक की पूर्व डेटा वैज्ञानिक फ्रांसिस हौगेन ने सोशल नेटवर्क पर सुरक्षा के बजाय लाभ को तरजीह देने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस से कहा कि उनका मानना ​​है कि सख्त सरकारी निरीक्षण से ही बच्चों को हो रहे नुकसान से लेकर राजनीतिक हिंसा को भड़काने से लेकर गलत सूचनाओं को बढ़ावा देने के मुद्दों को हल किया जा सकता है। हौगेन, आयोवा की 37 वर्षीय डेटा विशेषज्ञ हैं, जिनके पास कंप्यूटर इंजीनियरिंग में स्नातक डिग्री और हार्वर्ड से व्यवसाय में परास्नातक डिग्री है।
फेसबुक में काम करने से पहले, उन्होंने 15 साल तक उसने गूगल, पिंट्रेस्ट और येल्प सहित टेक कम्पनियों में काम किया। फेसबुक पर चुनाव को प्रभावित करने वाली कोई गतिविधि न हो, इसके लिए फ्रांसिस हौगेन को ‘प्रोडक्ट’ प्रबंधक के पद पर नियुक्त किया गया था। हौगेन ने उपभोक्ता संरक्षण पर सीनेट वाणिज्य उपसमिति के सामने अपना पक्ष रखते हुए फेसबुक की काफी निंदा की।

उन्होंने आरोप लगाया कि आंतरिक शोध में कुछ किशारों को नुकसान पहुंचने की बात सामने आई थी, लेकिन इसके बावजूद इंस्टाग्राम बदलाव करने में विफल रहा और नफरत एवं गलत सूचना फैलाने के खिलाफ सार्वजनिक लड़ाई में भी खरा नहीं उतर पाया। कम्पनी की सामाजिक शुचिता इकाई की नौकरी छोड़ने से पहले हौगेन ने आंतरिक अनुसंधान दस्तावेजों के हजारों पृष्ठों की प्रति निकाल ली थी, जो हौगेन के आरोपों को सही साबित करते हैं।

हौगेन ने साथ ही फेसबुक के सोशल मीडिया मंचों को कैसे सुरक्षित बनाया जा सकता है, इस बारे में भी विचार पेश किए। हौगेन ने इसके लिए मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मार्क जुकरबर्ग के साथ ही कम्पनी की ‘प्रॉफिट-ओवर-सेफ्टी’ (सुरक्षा पर लाभ को तरजीह देने) की रणनीति को सबसे अधिक जिम्मेदारी ठहराया, लेकिन साथ ही उन्होंने फेसबुक की दुविधा को लेकर सहानुभूति भी व्यक्त की।
हौगेन ने कहा कि फेसबुक के मंच किशोरों को नुकसान पहुंचा रहे हैं, विभाजन को बढ़ावा दे रहे हैं और हमारे लोकतंत्र को कमजोर कर रहे हैं। कम्पनी का नेतृत्व जानता है कि फेसबुक और इंस्टाग्राम को कैसे सुरक्षित बनाया जाए, लेकिन वे आवश्यक परिवर्तन नहीं करेंगे क्योंकि उन्होंने लोगों से अधिक अपने लाभ को तरजीह दी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की कार्रवाई जरूरी है। वे इस संकट से आपकी मदद के बिना नहीं निपट सकते हैं।

श्रद्धालुओं ने गंगा मैया में आस्था की डुबकी लगाई

हरिओम उपाध्याय      
गजरौला। पितृ विसर्जन अमावस्या पर सैकड़ों श्रद्धालुओं ने पतित पावनी गंगा मैया में आस्था की डुबकी लगाई। बृजघाट और तिगरी गंगा घाट पर भोर की पहली किरण से ही स्नान का दौर शुरू हो गया। एक तरफ श्रद्धालु पितरों के तर्पण के लिए स्नान कर रहे थे वहीं दूसरी ओर हाईवे पर लंबा जाम लग गया। करीब 6 किलोमीटर तक वाहनों की लाइन लगी रही। जिससे राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।
बुधवार को पितृ विसर्जन अमावस्या पर श्रद्धालुओं ने ब्रजघाट और तिगरी गंगा घाट पर स्नान कर पुण्य कमाया। अपने पितरों की याद में गंगा घाट पर पूजन किया और तर्पण कर आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। हिंदू धर्म में पितृ विसर्जन अमावस्या का खासा महत्व है। गंगा किनारे श्रद्धालुओं ने पूजा पाठ कर दान पुण्य किया।
अधिकांश श्रद्धालु मंगलवार की शाम को ही बृजघाट और तिगरी पहुंच गए बुधवार की सुबह से ही स्नान का दौर शुरू हो गया। स्नान के चलते हाईवे पर लंबा जाम लग गया जिससे लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा हाईवे के अलावा गजरौला तिगरी मार्ग पर भी जाम रहा। जाम को लेकर पुलिस के पसीने छूटते रहे।

संविधान की भावनाओं का उल्लंघन, आरोप लगाया

राणा ओबराय     
चंडीगढ़। कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पार्टी नेता प्रियंका गांधी वाद्रा को हिरासत में लेने पर उत्तर प्रदेश पुलिस पर बुधवार को हमला बोला और पुलिस पर संविधान की भावनाओं का उल्लंघन करने का आरोप लगाया। सिद्धू ने पिछले दिनों पंजाब इकाई के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था, हालांकि उसे पार्टी ने अभी तक स्वीकार नहीं किया है।
सिद्धू ने मंगलवार को भी चेतावनी दी थी कि यदि उनकी पार्टी की नेता प्रियंका गांधी वाद्रा को बुधवार तक नहीं छोड़ा गया और किसानों की हत्या के सिलसिले में केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे को गिरफ्तार नहीं किया गया, तो कांग्रेस की पंजाब इकाई उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के लिए कूच करेगी।
सिद्धू ने बुधवार को ट्वीट किया, ” 54 घंटे हो चुके हैं। प्रियंका गांधी जी को अदालत के समक्ष पेश नहीं किया गया। गैरकानूनी तरीके से 24 घंटे से अधिक समय तक हिरासत में रखना मौलिक अधिकारों का स्पष्ट उल्लंघन है। भाजपा और उत्तर प्रदेश पुलिस आप संविधान की भावना का हनन कर रहे हैं, हमारे बुनियादी मानवाधिकारों को ठेस पहुंचा रहे हैं।”

गौरतलब है कि पिछले रविवार को लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया इलाके में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को किसानों द्वारा काले झंडे दिखाए जाने के मामले में भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी।

वाद्रा सोमवार तड़के पार्टी के वरिष्ठ नेता दीपेंद्र हुड्डा तथा कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत कुछ नेताओं के साथ मृतक किसानों के परिजन से मिलने के लिए लखीमपुर खीरी जा रही थीं, लेकिन उन्हें रास्ते में सीतापुर जिले में हिरासत में ले लिया गया था।

विश्व कप आयोजित करने की योजना का विरोध किया

बर्लिन। जर्मनी के पूर्व कप्तान फिलिप लाम ने विश्व फुटबॉल की सर्वोच्च संस्था फीफा के हर दो वर्ष में विश्व कप आयोजित करने की योजना का विरोध किया है। लाम ने कहा कि मेरा मानना है कि वर्तमान व्यवस्था पूर्ववत बनी रहनी चाहिए। मैं मानता हूं कि एक खिलाड़ी के रूप में आप हर दो वर्ष में टूर्नामेंट की उम्मीद कर सकते हैं लेकिन मुझे लगता है कि अन्य प्रतियोगिताओं को भी सुर्खियों में रहने का अधिकार है।
उन्होंने कहा कि इसलिए मैं वर्तमान व्यवस्था को बरकरार रखने के पक्ष में हूं। एक खिलाड़ी के लिये भी यह सहज व्यवस्था है। मैं इस बारे में केवल अपने विचार रख सकता हूं।” लाम ने यूरो 2024 के प्रतीक चिन्ह को जारी किये जाने के अवसर पर आयोजित समारोह में कहा कि एक प्रशंसक के तौर पर मुझे लगता है कि इस तरह की प्रमुख प्रतियोगिताओं का हर दो वर्ष (विश्व कप या यूरो में से कोई एक) में आयोजन अच्छा है और इसलिए मैं चीजों को वर्तमान की तरह बनाये रखने के पक्ष में हूं।

यूपी: 2 मुख्यमंत्रियों के संग लखनऊ पहुंचेंगे राहुल

हरिओम उपाध्याय          
लखनऊ। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी दो मुख्यमंत्रियों के संग यूपी की राजधानी लखनऊ पहुंचेंगे। शासन द्वारा लगाई गई 144 धारा को लेकर राहुल ने कहा कि यह 5 लोगों को रोकती है हम तीन लोग मृतकों के परिजनो से मिलने जायेंगे। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी पर भी तंज कसा है।
मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस के पूर्व सांसद राहुल गांधी ने शासन से लखीमपुर और सीतापरु जाने की अनुमति मांगी थी। लेकिन शासन ने इस अनुमति को नहीं स्वीकार किया। बताया जा रहा है कि दिल्ली हाईवे अड्डे के अफसरों से भी शासन ने कहा कि उन्हें नहीं आने दिया जाये। कप्तान और जिलाधिकारी ने भी उन्हें राहुल को रोकने के लिये कहा क्योंकि वहां कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी है। वहां पर राहुल गांधी और उनके कार्यकर्ताओं के आने से काननू व्यवस्था में खलल पैदा हो सकती है।
राहुल गांधी ने दिल्ली में आयोजित की गई पत्रकार वार्ता मे कहा कि वह दो मुख्यमंत्री के संग यूपी की राजधानी लखनऊ जायेंगे। इसके बाद वह लखीमपुर खीरी जायेंगे। राहुल गांधी ने कहा कि प्रियकां के साथ जो धक्का-मुक्की हुई, उससे हमे कोई फर्क नही पड़ता। हमारा संघर्ष जारी रहेगा चाहे हमे मार दिया जाये, गाड़ दिया जाये। यह किसानों को मुद्दा है हम उनके न्याय के लिये संघर्ष करते रहेंगे। इसी दौरान राहुल गांधी ने सरकार पर तानाशाही और किसानों की हक अनदेखी का आरोप लगाते हुए कहा है कि किसानों को जीप के नीचे कुचला जा रहा है, उनका मर्डर किया जा रहा है। मंत्री के बेटे वह किसानों की हत्या के आरोपी पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी में धारा 144 लगा दी है, यह सिर्फ 5 लोगों को रोकती है। हम सिर्फ तीन लोग वहां जा रहे हैं, हमने उनको पत्र दे दिया है। हम किसानों की आवाज उठाने जा रहे हैं, जिससे उन्हें जल्द से जल्द न्याय मिल सके। राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि प्रधानमंत्री लखनऊ आये लेकिन हादसे मृतकों के परिजनो से लखीमपुर खीरी नहीं गये।

किसान महापंचायत में शामिल होगें दर्जनों नेता

पंकज कपूर      
हल्द्वानी। जसपुर में बुधवार को किसान महापंचायत होने जा रही है। इसे लेकर किसान अंतिम तैयारी में जुटे हैं। कृषि उत्पादन मंडी के मैदान में होने वाले इस किसान महापंचायत में किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत सहित दर्जनों किसान नेता शामिल होंगे। रविवार को लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में किसानों की मौत के बाद यह महापंचायत बेहद अहम मानी जा रही है।
कृषि कानूनों के विरोध में करीब 10 महीने से किसान धरने पर बैठे हैं। इसे लेकर भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत देशभर में किसान महापंचायत कर सरकार को चेताने का काम कर रहे हैं। किसान नेताओं का कहना है आंदोलन में मारे गए 600 से अधिक किसानों की बलिदान को जाया नहीं जाने दिया जाएगा। जब तक केंद्र सरकार इस कृषि कानून को वापस नहीं लेती, तब तक जहां भी भाजपा की सरकार है, वहां किसान यूनियन पहुंचकर भाजपा को उखाड़ फेंकने का काम करेगी। इसी के तहत जसपुर में कल किसान आयोजन किया जाएगा, जिसमें सैकड़ों की संख्या में किसान शामिल होंगे।

पीएम मोदी करेंगे ‘स्वामित्य योजना’ की शुरुआत

मनोज सिंह ठाकुर       
भोपाल। ग्रामीण इलाकों में संपत्ति के स्वामित्व से संबंधित महत्वाकांक्षी ‘स्वामित्य योजना’ की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से करेंगे। मोदी मध्यप्रदेश के तीन जिलों के हितग्राहियों के साथ संवाद भी करेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हरदा जिले में आयोजित कार्यक्रम में मौजूद रहकर वहीं से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम में जुड़ेंगे।
राज्य के 19 जिलों के 3 हजार ग्रामों में एक लाख 71 हजार हितग्राहियों को ‘अधिकार अभिलेख’ का वितरण स्वामित्व योजना के माध्यम से किया जाएगा।  मोदी इस दौरान सीहोर, हरदा और डिंडोरी जिलों के योजना से संबंधित हितग्राहियों से संवाद करेंगे। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार राज्य में 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चलाए जा रहे जनकल्याण और सुराज अभियान के तहत स्वामित्व योजना की शुरूआत की जा रही है।
योजना को जिन 9 राज्यों में प्रायोगिक आधार पर लागू किया गया है, उनमें मध्यप्रदेश भी शामिल है। मध्यप्रदेश में स्वामित्व योजना का क्रियान्वयन तीन चरणों में 10-10 जिलों को शामिल कर क्रमबद्ध रूप से प्रारंभ किया गया है। योजना में सर्वे ऑफ इंडिया की सहायता से ग्रामों में बसाहट क्षेत्र पर ड्रोन के माध्यम से नक्शे का निर्माण तथा डोर-टू-डोर सर्वे कर अधिकार अभिलेखों का निर्माण किया जा रहा है। अभी तक मध्यप्रदेश के 42 जिलों में सर्वेक्षण की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है, जिसके तहत 24 ड्रोन 24 जिलों में कार्य रह रहे हैं।

इनमें से 6500 ग्रामों में ड्रोन कार्य पूर्ण किया जा चुका है। हितग्राहियों को योजना का अधिक से अधिक लाभ प्रदान करने के लिए सर्वे के नियमों को वर्तमान आवश्यकता के अनुसार सरल बनाया गया है। इस प्रक्रिया को राष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली और अन्य राज्यों ने इसे अपने यहां लागू करने के लिए प्रक्रिया का अवलोकन किया है। इस योजना के तहत ग्राम की आबादी भूमि में अपना मकान बनाकर रहने वाले ग्रामवासियों को अपने घर का मालिकाना हक मिल सकेगा।
आबादी भूमि के कागजात मिल जाने से कानून का सहारा मिलने लगेगा। मनमर्जी से घर बनाने और अतिक्रमण की समस्या से निजात मिलेगी। इसके अलावा सम्पत्ति का रिकार्ड हो जाने से बैंक लोन लिया जा सकेगा। भूमि संबंधी विवाद भी नियंत्रित होंगे। जमीन एवं भवन के नामांतरण एवं बंटवारे आसानी से हो सकेंगे। सरकारी भवन भी योजनाबद्ध तरीके से निर्मित किये जा सकेंगे। गाँव में आबादी की भूमि को लेकर भ्रम की स्थिति खत्म होगी।

ताइवान और व्यापार सहित कई मुद्दों पर मतभेद

वाशिंगटन डीसी। राष्ट्रपति जो बाइडन राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन को चीन के विदेश नीति सलाहकार यांग जिएची के साथ वार्ता के लिए स्विट्जरलैंड भेज रहे हैं। दोनों देश के बीच ताइवान और व्यापार सहित कई मुद्दों पर मतभेद चल रहा है। यह बैठक ज्यूरिक में बुधवार को होगी। इससे पहले व्हाइट हाउस ने सोमवार को ताइवान के समीप चीन की सैन्य गतिविधि को उकसावे वाली करार दिया था।
व्हाइट हाउस ने कहा था कि वह ताइवान के समीप चीन की उकसावे वाली सैन्य गतिविधि को लेकर चिंतित हैं, जो क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता को कमजोर कर रही है। व्हाइट हाउस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की प्रवक्ता एमिली हॉर्न ने एक बयान में बताया कि पिछले महीने राष्ट्रपति शी चिनफिंग और बाइडन के बीच फोन पर बातचीत के बाद यह मुलाकात हो रही है।
व्हाइट हाउस ने इस सप्ताह चिंता जाहिर की थी कि बीजिंग अपनी ‘उकसाने वाली’ कार्रवाई से क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को कमजोर कर रहा है। हाल के दिनों में, चीन ने दर्जनों लड़ाकू विमान ताइवान की ओर भेजे हैं, जिसमें सोमवार को सर्वाधिक 56 विमान भेजे गए। अमेरिकी व्यापारिक मामलों की प्रतिनिधि कैथरीन ताय ने सोमवार को एक बयान में कहा था कि वह शुल्क युद्ध खत्म करने के उद्देश्य से एक अंतरिम व्यापार सौदे के बारे में बीजिंग में अधिकारियों के साथ स्पष्ट बातचीत की योजना बना रही हैं।
ताय ने कहा कि वह ”चीन के साथ व्यापार तनाव को बढ़ाना नहीं चाहतीं’, लेकिन उनकी टिप्पणियों से संकेत मिलता है कि बाइडन अपने पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रंप द्वारा चीन के खिलाफ लागू किए गए सख्त शुल्क को जारी रखेंगे।

गाजीपुर बॉर्डर होते हुए सीतापुर रवाना हुए सचिन

अकांशु उपाध्याय     
नई दिल्ली। राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट बुधवार सुबह सड़क मार्ग से उत्तर प्रदेश के सीतापुर रवाना हो गए जहां कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा को हिरासत में रखा गया है। सूत्रों ने बताया कि पायलट आज सुबह जयपुर से हवाई मार्ग दिल्ली पहुंचे और फिर सड़क मार्ग से गाजीपुर बॉर्डर होते हुए सीतापुर रवाना हो गए।
कांग्रेस नेता के करीब एक सूत्र ने बताया, ”सचिन पायलट सीतापुर जाएंगे और फिर लखीमपुर खीरी जाकर पीड़ित किसान परिवारों से मुलाकात करने का प्रयास भी करेंगे।” लखीमपुर खीरी के तिकोनिया क्षेत्र में हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के बाद वहां जाने के दौरान रास्ते में हिरासत में लीं गईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा सोमवार सुबह से पुलिस अभिरक्षा में हैं।
गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

लखीमपुर हिंसा को लेकर सरकार पर हमला किया

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर यूपी और केंद्र सरकार पर हमला किया। इसके बाद बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि राहुल जी  वोटों की खेती करने का प्रयास कर रहे हैं, इससे आप बचिए। वह भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे और जो भ्रम फैलाने का काम उन्होंने किया है। उसको खत्म करने का काम हमारा है।
 संबित पात्रा ने कहा कि लखीमपुर में जो भी हुआ वो दुखद है। किसानों और प्रशासन के बीच में समझौता हुआ है। पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी ने पोस्टमार्टम पर सवाल उठा दिए क्या वो एक्सपर्ट है जब किसी ने सवाल नहीं किया तो राहुल ने सवाल क्यों उठाए। लखीमपुर हिंसा का क्या है मामला
रविवार को केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के गावं में कुश्ती प्रतियोगिता थी। इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में किसान विरोध करने
के लिए पहुंचे थे। किसानों ने आरोप लगाया है कि किसानों के प्रदर्शन से नाराज होकर मंत्री के बेटे के काफिले की गाड़ियों ने किसानों को कुचला दिया। इस हादसे में चार किसानों की मौत हो गई।

कारोबार में 100 अंक से अधिक चढ़ा 'सेंसेक्स'

कविता गर्ग     
मुंबई। अमेरिकी शेयरों में सकारात्मक रुख और एचडीएफसी, एसबीआई एवं बजाज फाइनेंस के शेयरों में तेजी के साथ सेंसेक्स बुधवार को शुरुआती कारोबार में 100 अंक से अधिक चढ़ गया। 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 131.76 अंक या 0.22 प्रतिशत बढ़कर 59,876.64 पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह निफ्टी 46.75 अंक या 0.26 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,869.05 पर पहुंच गया।
सेंसेक्स में एमएंडएम के शेयर एक प्रतिशत से अधिक की बढ़त के साथ शीर्ष पर थे। इसके बाद एसबीआई, एनटीपीसी, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी, अल्ट्राटेक सीमेंट और पावरग्रिड का स्थान रहा। दूसरी ओर, टाइटन, इंडसइंड बैंक, डॉ रेड्डीज, मारुति और रिलायंस के शेयर नुकसान में रहे।
पिछले सत्र में, 30 शेयरों वाला सूचकांक 445.56 अंक या 0.75 प्रतिशत की तेजी के साथ 59,744.88 पर और निफ्टी 131.05 अंक या 0.74 प्रतिशत बढ़कर 17,822.30 पर बंद हुआ था। विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) पूंजी बाजार में शुद्ध विक्रेता थे और शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार उन्होंने मंगलवार को 1,915.08 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।
एशिया के दूसरे शेयर बाजारों में हांगकांग, सियोल और टोक्यो के शेयर मध्य सत्र सौदों में घाटे के साथ कारोबार कर रहे थे। शंघाई का शेयर बाजार छुट्टियों की वजह से बंद था। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.25 प्रतिशत फिसलकर 82.50 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

पूर्व तेज गेंदबाज की मीडिया पर वीडियो वायरल

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज की सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वह पुराने अंदाज में तेज बोलिंग करते नजर आ रहे है। इस वीडियो को उनके फैंस खूब पंसद कर रहे हैं और विभिन्न प्रकार की कमेंट बॉक्स में टिप्पणी कर उनकी प्रशंसा कर रहे है। इस वीडियो पर खबर लिखे जाने तक 10 लाख से अधिक व्यूज आ चुके हैं।
पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट इंस्टाग्राम पर अपना एक वीडियो अपलोड किया है। इस वीडियो में वह पुराने अंदाज में बॉलिंग करते दिखाई दे रहे हैं। इस वीडियो में वह ब्लैक ड्रेस पहने हुए हैं। पिच पर गेंद डालकर ऐसे ही अपील कर रहे हैं, जैसे वह अंतराष्ट्री मैचों में अपील करते थे। इस वीडियो को शेयर करते वक्त शोएब अख्तर ने लिखा है कि इस्लामाबाद क्लब के इस ख़ूबसूरत नए मैदान पर लंबे समय बाद पीठ झुकाने में मज़ा आया। इस वीडियो को देख उनके फैंस विभिन्न प्रकार की टिप्पणी कर उनकी वीडियो की तारीफ कर रहे है और इसके साथ-साथ इमोजी भी शेयर कर रहे हैं।
गौरतलब है कि शोएब ख्तर ने अपना आखिरी इंटरनैशनल मैच 2011 में खेला था। सबसे तेज गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाले अख्तर ने पाकिस्तान के लिए कुल 46 टेस्ट, 163 वनडे और 15 टी20 इंटरनैशनल मैच खेले हैं। उनके खाते में 178 टेस्ट, 247 वनडे और 19 टी20 इंटरनैशनल विकेट दर्ज हैं। उन्होंने अपनी गेंदबाजी से दुनिया के कई दिग्गज बल्लेबाजों को परेशान किया है और साथ ही काफी को चोटिल भी किया है। अख्तर ने अपना इंटरनैशनल करियर 1997 में शुरू किया था। अपने करियर के दौरान अख्तर इंजरी से काफी परेशान रहे हैं। 2011 वर्ल्ड कप के बाद शोएब अख्तर ने इंटरनैशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।

एमपी सरकार ने 404 लंबे हाईवे को मंजूरी दी

मनोज सिंह ठाकुर     
भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार ने 404 लंबे हाईवे को मंजूरी दी है। इसके निर्माण के लिये शासकीय भूमि व निजी भूमि की चेंज करने की अनुमति भी मिल गई है। बताया जा रहा है। इस निर्माण में जिससे जमीन ली जायेगी, उसे दोगुना कीमत अदा की जायेगी।
मध्य प्रदेश सरकार ने 404 किलोमीटर लंबे हाईवे को मंजूरी दी है। यह हाईवे राजस्थान, मध्यप्रदेश और यूपी से जोड़ेगा। मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हाईवे एनएचएआई द्वारा तैयार किया जायेगा। कलोमीटर लंबे अटल प्रगति पथ के निर्माण के लिए निजी भूमि की शासकीय भूमि से अदला-बदली की मंजूरी भी मिल गई है। बताया जा रहा है कि अधिग्रहीत संपत्तियों का दोगुना मूल्य उसके मालिकों को दिया जाएगा।
भारत सरकार द्वारा अटल प्रगति पथ को भारतमाला परियोजना में शामिल किया गया है। परियोजना के अंतर्गत फोर लेन सड़क निर्माण के लिए प्रदेश की तरफ से मुफ्त जमीन मुहैया कराई जानी है। परियोजना के लिए भूमि हस्तांतरित करने का काम इस वर्ष के अंतिम माह दिसंबर तक पूरा किया जाना है।

गैस सिलेंडर की कीमतों में 15 रुपए का इजाफा

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। आम आदमी की जेब पर मंहगाई का भार बढ़ता ही जा रहा है। पेट्रोल-डीजल के बढ़ने से हर तरफ से मंहगाई बढ़ती है। वहीं आज गैस सिलेंडर के दाम बढ़ने से जनता की कमर तोड़ दी है। घरेलू गैस सिलेंडर की कीमतों में15 रुपए का इजाफा हो गया है। वहीं 1 अक्टूबर को 19 किलो वाले कामर्शियल गैस सिलेंडर की कीमतों में वृद्धि हो ही चुकी है।
देश की राजधानी दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई समेत सभी महानगरों में रसोई गैस सिलेंडर महंगा हो गया है। 14.2 किलो वाले नॉन-सब्सिडी गैस सिलेंडर गैस सिलेंडर के दाम दिल्ली – 899.5 रुपए, कोलकाता – 926 रुपए, मुंबई – 899.5 रुपए, चेन्नई – 915.5 रुपए, पटना में 1000 रुपये के करीब पहुंच चुके हैं।
वहीं पटना में एलपीजी सिलेंडर का भाव 998 रुपए हो गया है। एक सितंबर को 14.2 किलोग्राम के गैर-सब्सिडी वाले घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम में 25 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी। इससे पहले पेट्रोलियम कंपनियों ने 18 अगस्त को गैस सिलेंडर की कीमतों में 25 रुपये का इजाफा किया था।

समानता व संबंधों और समुदाय के लिए काम किया

नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी। अमेरिका पश्चिम ह्यूस्टन में एक डाक घर का नाम बदलकर भारतीय-अमेरिकी सिख पुलिस अधिकारी संदीप सिंह धालीवाल के नाम पर रखा गया है। जिनकी 2019 में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। धालीवाल (42) को 27 सितंबर 2019 में उस वक्त गोली मारी गई जब वह ड्यूटी पर थे। धालीवाल ने ट्रैफिक सिग्नल पर एक वाहन को रोका था, जिसमें सवार एक व्यक्ति ने उन्हें गोली मार दी थी।
इससे पहले, धालीवाल 2015 में सुर्खियों में आए थे, जब वह पगड़ी पहनने और दाढ़ी रखने का अधिकार पाने वाले टेक्सास के पहले सिख पुलिस अधिकारी बनने थे। उनकी याद में मंगलवार को एक समारोह आयोजित किया गया, जहां अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में नाम बदलने का प्रस्ताव लाने वाली महिला सांसद लिज़ी फ्लेचर ने कहा कि 315 एडिक्स हॉवेल रोड स्थित डाकघर का नाम उनके नाम पर रखना उपयुक्त है, क्योंकि उन्होंने समुदाय की सेवा के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए थे। फ्लेचर ने कहा, ” धालीवाल के निस्वार्थ सेवा वाले उल्लेखनीय जीवन को यादगार बनाने में एक भूमिका निभाकर, मैं सम्मानित महसूस कर रही हूं। उन्होंने हमारे समुदाय का बेहतरीन प्रतिनिधित्व किया, उन्होंने दूसरों की सेवा के माध्यम से समानता, संबंधों और समुदाय के लिए काम किया। इस इमारत का नाम बदलकर ‘डिप्टी संदीप सिंह धालीवाल पोस्ट ऑफिस’ रखने के वास्ते विधेयक पारित करने के लिए, मुझे द्विदलीय प्रतिनिधिमंडल, हमारे सामुदायिक भागीदारों और सिख समुदाय के लोगों के साथ काम करके खुशी हुई।
धालीवाल के पिता प्यारा सिंह धालीवाल ने ह्यूस्टन के लोगों के समर्थन के लिए उनका आभार व्यक्त किया। सिंह ने कहा, ” हिंसा के एक कृत्य में मेरे बेटे को उसके परिवार से जुदा कर दिया गया, हमें ह्यूस्टन समुदाय से काफी समर्थन और प्यार मिला है। हम बहुत आभारी हैं एवं सम्मानित महसूस कर रहे हैं कि संदीप को इस तरह से याद किया जा रहा है। वह हमेशा के लिए शहर का हिस्सा बन गया है, उसने ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का निर्वाह किया।
इस बीच, अमेरिकी डाक सेवा की जिला निदेशक जूली विल्बर्ट ने कहा कि डाकघर का नाम बदलना कोई सामान्य अवसर नहीं है और ऐसा कुछ लोगों के लिए ही किया जाता है। ‘सिख अमेरिकन लीगल डिफेंस एंड एजुकेशन फंड’ (एसएएलडीईएफ) के दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र के निदेशक बॉबी सिंह ने कहा कि संदीप सिंह धालीवाल एक पथप्रदर्शक बनने के लिए सेवा में नहीं आए थे, उन्होंने बस दिल से, एक उदार भावना से लोगों को एक साथ लाने के इरादे से काम किया।
महिला सांसद लिज़ी फ्लेचर के ‘एचआर 5317’ डिप्टी संदीप सिंह धालीवाल डाकघर विधेयक को 2020 में पारित किया गया था और तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस पर हस्ताक्षर किए थे। इससे पहले, राजमार्ग 249 के पास बेल्टवे-8 के एक हिस्से का नाम बदलकर भी उनके नाम पर रखा गया था।

कार की ट्रक से टक्कर हुईं, कई पुलिसों की मौंत

मनोज सिंह ठाकुर         
भोपाल। मध्यप्रदेश में आरोपियों की अरेस्टिंग के लिये जा रहे पुलिस टीम की कार की ट्रक से टक्कर हो गई। इस दौरान कार में सवार व ड्राइवर सभी पुलिस वालों की मौत हो गई।
मिली जानकारी के अनुसार चोरी के एक मामले में पुलिस टीम आरोपियों की अरेस्टिंग के लिये मुरैना जा रही थी। पुलिस टीम की ग्वालियर में दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से सभी पुलिसकर्मियों एवं ड्राइवर की मृत्यु हो गई है। पुलिस टीम में उप निरीक्षक मनीष कुमार चौकी प्रभारी बेसवा, आरक्षी पवन कुमार, आरक्षी रामकुमार व मुख्य आरक्षी सुनील कुमार शामिल थे।

नामक त्वचा की स्थिति से पीड़ित हैं यामी गौतम

कविता गर्ग            
मुबंई। यामी गौतम ने खुलासा किया है कि वह केराटोसिस पिलारिस नामक त्वचा की स्थिति से पीड़ित हैं। उन्होंने कहा कि वह किशोरावस्था के दौरान इस रोग से पीड़ित हुई थी। इसका कोई इलाज नहीं है। यामी ने ट्विटर पर अपनी त्वचा को दिखाते हुए कई तस्वीरों को साझा किया। फोटो शेयर करते हुए, यामी गौतम  ने लिखा, ‘नमस्कार दोस्तों, मैंने हाल ही में कुछ फोटो के लिए शूटिंग की है। जब वे केराटोसिस-पिलारिस नामक मेरी त्वचा की स्थिति को छिपाने के लिए पोस्ट-प्रोडक्शन (एक सामान्य प्रक्रिया) के लिए जाने वाली थीं, तो मैंने सोचा, कि मैं इस तथ्य को स्वीकार क्यों नहीं कर लेती। इसके साथ मैं सहज हूं।
केराटोसिस पिलारिस एक ऐसी स्थिति है जो त्वचा पर खुरदुरे पैच और छोटे, मुंहासे जैसे धक्के बनाती है। यामी ने कहा,  मैंने आपके साथ अपनी सच्चाई साझा करने का साहस दिखाया है। मुझे अपने फॉलिकुलिटिस को एयरब्रश करने या अंडर-आई को चिकना करने या कमर को थोड़ा और आकार देने का मन नहीं था। मैं जैसी दिख रही थी वह बेहतर और सुंदर थी। उन्होंने खुलासा किया कि वह कई सालों से इससे निपट रही है और अब उन्होंने इससे जुड़े अपने सभी डरों को दूर करने का फैसला किया है। यामी ने बताया कि ‘मैंने अपनी किशोरावस्था के दौरान इस त्वचा की स्थिति विकसित की थी, और इसका अभी भी कोई इलाज नहीं है। मैंने कई वर्षों से इससे निपट रहीं हूं, और आज आखिरकार, मैंने अपने सभी डर और असुरक्षाओं को दूर करने का फैसला किया। मेरे हिसाब से मेरे फैन अभी भी मुझे प्यार करेंगे और मेरी ‘कमियों’ को तहे दिल से स्वीकार करेंगे।

नीट एसएस 2022 की परीक्षा की जाएंगी आयोजित

अकांशु उपाध्याय           
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय में बुधवार कहा है कि चिकित्सा से संबंधित सुपर स्पेशियलिटी में दाखिले के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट एसएस 2021) बदले हुए पाठ्यक्रम के अनुसार नहीं होगी। न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष सरकार ने कहा कि बदले हुए पाठ्यक्रम के मुताबिक नीट एसएस 2022 की परीक्षा आयोजित की जाएगी।
मेडिकल की स्नातकोत्तर के 40 डॉक्टर छात्रों ने याचिका दाखिल कर सरकार द्वारा अचानक पाठ्यक्रम में बदलाव को चुनौती दी थी।
केंद्र सरकार ने मंगलवार को हलफनामा दाखिल कहा था कि नवंबर में आयोजित होने वाली नीट एसएस-2021 की परीक्षा 10-11 जनवरी 2022 को आयोजित की जाएगी।
याचिकाकर्ताओं का कहना था की परीक्षा से ठीक पहले पाठ्यक्रम में बदलाव किए जाने के कारण उन्हें तैयारी करने का बहुत कम समय मिलेगा। सुनवाई के दौरान सरकार ने परीक्षा की तारीख करीब दो महीना आगे बढ़ाने के फैसले की जानकारी अदालत को दी थी। लेकिन इससे याचिकाकर्ता सहमत नहीं थे। अब सरकार ने पुराने पाठ्यक्रम के अनुसार परीक्षा आयोजित करने का फैसला लिया और इस बारे में आज अदालत को अवगत कराया।

यूपी: शासन ने प्रोजेक्ट अलंकार की शुरुआत की

संदीप मिश्र              
बरेली। वर्षों से मरम्मत के अभाव में जर्जर हो चुके स्कूल भवनों की दशा सुधरने वाली है। इसके लिए शासन ने प्रोजेक्ट अलंकार की शुरुआत की है। प्रोजेक्ट के अंर्तगत राजकीय माध्यमिक कॉलेजों में भवन सुधार के साथ ही विद्युतीकरण भी कराया जाना है। इस योजना के तहत स्कूलों में भवन सुधार के लिए अगले माह तक धनराशि आवंटित हो जाएगी। प्रदेश में कुल 2272 राजकीय कॉलेज हैं, इनमें से कई जर्जर स्थिति का सामना कर रहे हैं। 
शासन द्वारा निर्धारित रूपरेखा के मुताबिक इस योजना पर 100 करोड़ की धनराशि खर्च होगी। सामान्य बजट में पुराने कॉलेजों के पुर्ननिर्माण का प्रावधान न होने से वहां मूलभूत सुविधाएं भी उपलब्ध नहीं कराई जा सकी हैं। शासन से डीआईओएस को मिले पत्र के अनुसार अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला ने प्रोजेक्ट अलंकार योजना को साकार करने के लिए जिलाधिकारी समेत जिला विद्यालय निरीक्षक को पत्र जारी कर दिया है। इसके मुताबिक जिले में जनपदीय समिति के जिलाधिकारी अध्यक्ष, मुख्य विकास अधिकारी सदस्य, जिला विद्यालय निरीक्षक सदस्य सचिव व अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग तकनीकी सदस्य होंगे। डीएम की ओर से राजकीय निर्माण एजेंसी का प्रस्ताव उपलब्ध कराया जाएगा। कालेजों की स्थिति का निरीक्षण करने के लिए उपसमिति बनी है। उपसमिति कालेजों का निरीक्षण करके डीआइओएस के माध्यम से जिला समिति को प्रस्ताव भेजेगी।



भाजपा का दामन छोड़ कोलकाता पहुंचे विधायक

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। सोशल मीडिया अकाउंट ट्विटर पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में भाजपा विधायक मुंडर कराते हुए नजर आ रहे हैं और इसके बाद वह कांग्रेस का दामन थाम लेंगे।
त्रिपुरा से विधायक सुरमा आशीष दास ने भारतीय जनता पार्टी का दामन छोड़कर कोलकाता पहुंचे। उन्होंने वहां पहुंचकर हवन कराया और इसके पश्चात उन्होंने मुंडन कराया। बताया जा रहा है कि त्रिपुरा से विधायक सुरमा आशीष दास ममता बनर्जी की तृणूल कांग्रेस में शामिल होंगे।

राहुल को इजाजत देने के बाद प्रियंका को रिहा किया

हरिओम उपाध्याय     
लखनऊ। लखीमपुर खीरी की घटना के बाद लखीमपुरी पहुंचने के लिये निकली प्रियंका गांधी को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया था। लेकिन राहुल गांधी को इजाजत देने के बाद प्रियंका गांधी को भी सरकार ने रिहा करा दिया है।
मिली जानकारी के अनुसार सरकार ने मीटिंग के बाद राहुल को तीन लोगों के साथ लखीमपुर खीरी पहुंचने की अनुमति दे दी। इसके बाद सरकार ने प्रियंका गांधी को भी रिहा कर दिया है। बताया जा रहा है कि राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी लखीमपुर खीरी जायेंगी। राहुल गांधी के संग लखीमपुर खीरी पंजाब और छत्तीसगढ़ के सीएम भी पीड़ित परिवार से मिलने जायेंगे।

35 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, बढ़ोतरी की

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। तेल उत्पादक देशों के शीर्ष संगठन ओपेक के मांग के अनुरूप तेल उत्पादन नहीं बढ़ाने से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में उबाल जारी रहने के दबाव में बुधवार को लगातार लगातार दूसरे दिन देश में पेट्रोल 30 पैसे प्रति लीटर और डीजल 35 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया। लगातार चार दिनों की तेजी के बाद सोमवार को इन दोनों की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया था लेकिन मंगलवार को इसमें बढोतरी की गयी। बुधवार को फिर से इसमें बढोतरी हुयी जिससे राजधानी दिल्ली में इनकी कीमतें अब तक के रिकार्ड स्तर पर पहुंच गयी। इस वृद्धि के बाद राजधानी दिल्ली में पेट्रोल अब तक के रिकार्ड उच्चतम स्तर 102.94 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल भी सर्वकालिक उच्चतम स्तर 91.42 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। पिछले एक सप्ताह में पेट्रोल 1.75 पैसे महंगा हो चुका है। डीजल भी 10 दिनोें में से 2.80 रुपये प्रति लीटर चढ़ चुका है।
ओपेक देशों की बैठक में प्रतिदिन चार लाख बैरल तेल उत्पादन बढ़ाने का निर्णय लिया गया था जबकि कोरोना के बाद अब वैश्विक स्तर पर इसकी मांग में जबरदस्त तेजी दिख रही है। इस निर्णय के बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में जबरदस्त तेजी आ रही है। कल अमेरिकी बाजार में कारोबार बंद होने पर ब्रेंट क्रूड 1.30 डॉलर प्रति बैरल की तेजी लेकर 82.56 डॉलर प्रति बैरल और अमेरिकी क्रूड 1.11 डॉलर की बढ़त के साथ 78.73 डॉलर प्रति बैरल पर रहा।
तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल 102.94 रुपये प्रति लीटर और डीजल 91.42 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। इस बढोतरी के बाद दिल्ली एनसीआर के नोएडा में पेट्रोल 100.24 रुपये प्रति लीटर और डीजल 92.04 रुपये प्रति लीटर पर है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-417 (साल-02)
2. ब्रहस्पतिवार, अक्टूबर 7, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 06:11, सूर्यास्त 06:13।
5. न्‍यूनतम तापमान -25 डी.सै., अधिकतम-33+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया

एसडीएम ने किसानों का धरना समाप्त कराया आदर्श श्रीवास्तव लखीमपुर खीरी। अपनी बदहाली सेे लडता किसान गणतंत्र की गहरी खाई में जा पहुंचा हैं। मध-म...