गुरुवार, 27 अगस्त 2020

चीन ने भारत को 'युद्ध' की धमकी दी

नई दिल्‍ली। चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने भारत के खिलाफ चीनी सेना के मिलिट्री एक्शन को लेकर चीनी लोगों से राय मांगी है। उसने ट्वीट करते इस बारे में जानकारी दी है कि पीएलए को चीनी नागरिकों का भरपूर समर्थन मिली है। ट्वीट में कहा गया है कि अखबार द्वारा किए गए सर्वे में 90 फीसदी चीनी लोगों ने भारत पर सैन्य कार्रवाई किए जाने का समर्थन किया।


ग्लोबल टाइम्स और चाइना इंस्टीट्यूट ऑफ कंटेम्परेरी इंटरनेशनल रिलेशंस (CICIR) ने हाल ही में चीन में 1,960 प्रतिभागियों के चीन-भारत संबंधों पर एक सर्वेक्षण किया और परिणामों से पता चला कि 70 प्रतिशत से अधिक लोगों का मानना है कि भारत ने चीन के खिलाफ दुश्‍मनों वाली नीति अपनाई है और सरकार को भारतीय उकसावों के खिलाफ जोरदार पलटवार करना चाहिए।                       


राष्ट्रपति ने सरकार के प्रस्ताव को ठुकराया

भोपाल। मध्य प्रदेश में काम करने वाली महिलाओं के लिए राहत की खबर है। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मध्य प्रदेश सरकार के अध्यादेश को खारिज कर दिया है। जिसमें महिलाओं को रात की पाली में काम करने के लिए बाध्य किया गया था। अब जबकि राष्ट्रपति ने अध्यादेश को मंजूरी नहीं दी है, राज्य सरकार ने अध्यादेश पर आपत्तियों को दूर करने के लिए एक नई अधिसूचना जारी की है। नए नियम के तहत महिलाओं के लिए नाइट शिफ्ट में काम करना जरूरी नहीं होगा।


बता दें कि मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने फैक्ट्रीज एक्ट के तहत महिलाओं को नाइट शिफ्ट में काम करने की अनुमति देना अनिवार्य करने का प्रस्ताव तैयार किया था।                 


2 देशों के झगड़ों में कौन किसके साथ है ?

अंकारा/ एथेंस। पिछले कुछ हफ़्तों से पूर्वी भूमध्य सागर में तनाव बढ़ रहा है। इसकी शुरुआत ऊर्जा संसाधनों की एक साधारण सी दिखने वाली होड़ से हुई। तुर्की ने नौसेना की सुरक्षा के साथ एक गैस खोजी अभियान चलाया। यहां पर तुर्की का ग्रीस के आमना-सामना हो चुका था मगर अब फ्रांस भी ग्रीस के पक्ष में उतर आया है।


इसी बीच यूएई की ओर से ग्रीस का साथ देने लिए कुछ एफ़-16 विमान क्रेटे एयरबेस पर भेजने का एलान किया गया।हालांकि, इसे एक रूटीन तैनाती बताया जा रहा है। उधर तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन का कहना है कि 'तुर्की एक क़दम भी पीछे नहीं हटेगा।'


लेकिन आख़िर यहां क्या हो रहा है?               


नई दिल्ली से लंदन तक रोड ट्रिप का मजा

लंदन। रोडट्रिप्स का अपना ही मजा है, खासकर लंबी रोड ट्रिप्स का अगर ऐसी की एक रोड ट्रिप दिल्ली से लंदन तक हो तो कैसा रहे? पढ़कर हैरान हैं लेकिन ऐसा संभव है। आप बस के जरिए दिल्ली से लंदन तक की दुनिया की सबसे लंबी रोड ट्रिप का मजा ले सकते हैं। यह बस जर्नी मई 2021 में शुरू होने वाली है और इसे करा रही है।


दिल्ली से लंदन तक की बस यात्रा में 20000 किमी की दूरी कवर होगी। यह सफर 70 दिनों में पूरा होगा। यात्री चाहें तो पूरी यात्रा के लिए बुकिंग कर सकते हैं या फिर इसके 4 लैग्स में से चुनाव कर सकते हैं, जिनमें दक्षिण पूर्व एशिया (11 रातें, 12 दिन), चीन (15 रातें, 16 दिन), मध्य एशिया (21 रातें, 22 दिन) और यूरोप (15 रातें, 16 दिन) शामिल हैं।             


अमेरिका-रूस के बीच झड़प का मामला

मास्को/ वाशिंगटन डीसी/ डमस्कस। दुनिया की दो महाशक्तियों अमेरिका और रूस के सैनिकों के बीच युद्धग्रस्‍त पूर्वी सीरिया में जोरदार झड़प का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि रूसी सैनिकों ने तेजी से आगे बढ़ते हुए अपने आर्मर्ड वीइकल से अमेरिकी सैनिकों को टक्‍कर मार दी। इस झड़प में कम से कम 4 अमेरिकी सैनिक घायल हो गए हैं। इस घटना के वीडियो में नजर आ रहा है कि रूस ने अपने हेलिकॉप्‍टर का भी इस्‍तेमाल किया।
अमेरिकी सेंट्रल कमांड ने एक बयान जारी कर‍के कहा है कि यह घटना 25 अगस्‍त सुबह 10 बजे की है। उन्‍होंने कहा कि उत्‍तरपूर्वी सीरिया में उनके सैनिकों और रूसी सैनिकों का आमना सामना हो गया। इस दौरान विवाद हो गया और एक रूसी आर्मर्ड वीइकल ने अमेरिका के आर्मर्ड वीइकल को टक्‍कर मार दी। इससे कुछ सैनिक घायल हो गए। तनाव को कम करने के लिए हम उस इलाके से हट गए।               


रूस ने सबसे शक्तिशाली परमाणु बम गिराया

मास्को। अमेरिका के साथ तनाव के बीच रूस ने दुनिया के सबसे बड़े परमाणु बम विस्फोट का वीडियो जारी किया है। यह परमाणु बम विस्फोट दुनिया में अब तक का सबसे शक्तिशाली परमाणु विस्फोट है और अमेरिका कभी भी इतना बड़ा परमाणु बम नहीं बना सका है।


'इवान' नाम के इस परमाणु बम की ताकत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यह जापान के हिरोशिमा में गिराए गए परमाणु बम से 3333 गुना ज्यादा विनाशकारी था। वीडियो में दी गई जानकारी के अनुसार, रूस ने 30 अक्टूबर 1961 को शीत युद्ध के दौरान बैरट सागर में अपने जार बाम्बा (ज़ार बोम्बा) उपकरण का परीक्षण किया। यह लगभग 50 मेगाटन भारी था और यह 50 मिलियन टन के पारंपरिक विस्फोटकों के बराबर था।             


श्रद्धालुओं के भंडारे में 'आहुति' अर्पित की

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। गुरु गोरखनाथ श्रद्धालुओं द्वारा भंडारा आयोजित किया गया। जिसके मुख्य यजमान जुगमैंदर सिंह प्रदेश संरक्षक हरियाणा हिंदू युवा वाहिनी द्वारा आहुति प्रदान की गई।
करनाल रोड स्थित 'बालाजी' धाम मंदिर के पीछे बाबा भवानी 'नाथ' सिद्ध पीठ समाधि पर महंत श्री शेर नाथ जी की सहमति पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए गुरु गोरखनाथ के श्रद्धालुओं द्वारा हिंदू युवा वाहिनी हरियाणा प्रदेश संरक्षक जुगमैंदर सिंह का फूल मालाओं से लादकर जोरदार स्वागत किया गया। इसके बाद एक हवन का आयोजन किया गया जिसमें पंडित लक्ष्मण कौशिक ने वैदिक मंत्रोच्चारण से मुख्य यजमान जुगमेंदर सिंह हरियाणा प्रदेश संरक्षक हिंदू युवा वाहिनी से यज्ञ संपन्न कराया आयोजित भंडारे में श्रद्धालुओं ने  प्साद ग्रहण कर धर्म लाभ उठाया इस अवसर पर श्री सिंह ने कहा बाबा भवानी नाथ की समाधि सिद्ध पीठ है। अगर व्यक्ति सच्चे मन से 40 दिन तक दीया जलाकर मन्नत मांगता है। उसकी इच्छा पूर्ण होती हैंl उन्होंने कहा भारत में करोना की महामारी फैल रही है। इसलिए आम नागरिकों अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों पालन करें इस अवसर पर बिट्टू कुमार  जिला प्रभारी ,चौधरी रविंदर सिंह कॉलखंडे  जिला संयोजक, अरविंद कौशिक  जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष ,सुधीर राणा प्रदीप निरवाल  अनुज गोयल जिला उपाध्यक्ष ,अभिषेक मलिक, राकेश ,प्रवीण ,आशीष निर्वाल, निशांत  सरोहा जिला मीडिया प्रभारी ,अनुराग गोयल जिला मंत्री, पंकज गुप्ता नगर प्रभारी, उपेंद्र द्विवेदी नगर संयोजक, मनोज रुहेला नगर अध्यक्ष, महेश गोयल नगर महामंत्री, मांगेराम नामदेव  नगर संगठन मंत्री, अभिषेक मलिक  ,मोनू मलिक, प्रवीण दरोगा जी,  भानु प्रताप उपाध्याय ,सन्नी निरवाल ने कार्यक्रम की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए कहा हम गुरु गोरखनाथ जी से प्रार्थना करते हैं की इस संसार में फैल रही कोरोना महामारी को खत्म कर प्रत्येक नागरिक का स्वास्थ ठीक रखें सभी ने आम नागरिकों से अपील की इस महामारी के चलते हुए बाजारों में भीड़ ना लगाएं एक जगह इकट्ठे ना हो बार-बार हैंड वास करें मुंह पर मार्क्स लगाएं मोटरसाइकिल पर बेवजह सड़कों पर ना घूमे  क्योंकि आप लोगों का स्वास्थ्य अनमोल है। इसका विशेष ध्यान रखें।               


गाजियाबादः दस मोबाइल टॉयलेट 'गायब'

अश्वनी उपाध्याय


गाज़ियाबाद। नगर निगम द्वारा स्वच्छ भारत मिशन के तहत खरीदे गए 50 लाख रुपये कीमत के दस मोबाइल टॉयलेट कहीं गायब हो गए हैं। इस मामले में नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने स्वास्थ्य विभाग के एक जोनल अधिकारी, वरिष्ठ स्वास्थ्य निरीक्षक और बाबू के खिलाफ जांच बैठा दी है। जांच का जिम्मा अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार को सौंपा गया है जो तीन दिन में अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। जांच के आधार पर एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। यदि जांच में नगर निगम के कर्मचारियों की संलिप्तता पाई जाती है तो संबंधित अधिकारियों और बाबू से रिकवरी भी होगी।










आपको बता दें कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगर निगम ने 28 मोबाइल टॉयलेट खरीदे थे। एक मोबाइल टॉयलेट की कीमत करीब पाँच लाख रुपये थी। स्वच्छ सर्वेक्षण के दौरान इन मोबाइल टॉयलेट को शहर के विभिन्न स्थानों पर लगाया गया था। ताकि लोग खुले में शौच न करें। शौच करने के लिए मोबाइल टॉयलेट का प्रयोग करें। नगर आयुक्त ने बुधवार रात स्वास्थ्य विभाग की बैठक ली तो पता चला कि इनमें से 10 मोबाइल टॉयलेट शहर में नहीं हैं। कहाँ गए किसी को नहीं पता। मिलीभगत कर मोबाइल टॉयलेट गायब करने की आशका पर इस मामले में अपार नगर आयुक्त को जांच सौंपी गई है। दो अधिकारी और एक बाबू को आरोपित बनाते हुए जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। इन आरोपितों को मौका दिया गया है कि जांच पूरी होने तक मोबाइल टॉयलेट को तलाश लाएं।           









हापुड़ः आतंक फैलाने वाले 8 पर लगी गेंगस्टर

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


हापुड़ आंतक फैलानें वाले आठ पर लगी गैंगस्टर


हापुड़ जनता में भय व्याप्त करना,गौकशी व अन्य मामलों ने पुलिस ने विभिन्न आठ लोगों को गैंगस्टर में निरुद्ध किया है।
सिम्भावली पुलिस. ने गौकशी व आंतक फैलानें पर पांच गौतस्करों नूर लयन,शमशाद, इरफान, इबजर,शहनाज निवासी सिम्भावली को गैंगस्टर में निरूद्ध किया है।
हापुड़ कोतवाल सुबोध सक्सेना ने बताया कि चोरी,आंतक फैलानें के मामलें में पुलिस ने हापुड़ निवासी तीन बदमाशों राहुल राजीव विहार , अभिषेक व तरुण ,छज्जूपुरा को गैंगस्टर निरुद्ध किया है।                 


हापुड़ः चंडी रोड़- कलेक्ट्रेट में आया कोरोना

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


चंड़ी रोड़ और कलेक्ट्रेट में आया कोरोना, 5 मिलें


हापुड़। जनपद में आज कलेक्ट्रेट व चंड़ी रोड़ सहित पांच कोरोना मरीज मिलनें से हड़कंप मच गया। 24 घंटें के लिए कलेक्ट्रेट बंद कर सैनाटाइज की जा रही है।
प्रशासन के अनुसार बृहस्पतिवार को हापुड़ कलेक्ट्रेट में दो लोग व हापुड़ के चंड़ी रोड़ पर दो करोना व एक अन्य मिलनें से हड़कंप मच गया। प्रशासन ने कलेक्ट्रेट को 24 घंटें के लिए बंद कर सैनाटाइज की जा रही है।             


हापुड़ः 3 जेई हुए संक्रमित, एचपीडीए सील

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


कोरोना का वार, 3 जेई हुए संक्रमित, HPDA हुआ सील


हापुड़। सरकारी कार्यालयों में कोराना की लगातार एन्ट्री के बाद अब कोरोना ने हापुड़ पिलुखवा विकास प्राधिकरण पर वार करते हुए तीन जूनियर इंजीनियर को संक्रमित कर दिया। जिस कारण प्राधिकरण कार्यालय को बंद कर सैनाटाइज किया जा रहा हैं।
कोरोना आम लोगों के साथ साथ अब सरकारी कार्यालयों में भी कहर मचा रहा है।विकास भवन, पुलिस, स्वास्थ्य ,शिक्षा,आरटीओ व अन्य विभागों के बाद प्राधिकरण पर वार किया ।
हापुड़ पिलुखवा विकास प्राधिकरण में तैनात तीन जेई को कोरोना ने अपनी चपेट में लेकर.कोरोना पोजेटिव बना दिया हैं। जिससेंं प्राधिकरण में हड़कंप मच गया।
प्राधिकरण को अग्रिम आदेशों तक सील कर सैनाटाइज करना शुरू कर दिया।             


परिवार का मुंह नहीं देख पाएगें 'भारतीय'

नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी। भारत और अमेरिका की दोस्ती इस महामारी के दौर में भी कायम रही और दूसरे देशों को भी एकजुट होने का सबब देती रही। लेकिन अब अमेरिका ने भारत के खिलाफ कठोर कदम उठाया है। ट्रंप प्रशासन ने नागरिकों को भारत न जाने की सलाह दी है। हालांकि अमेरिका ने भारत के लिए जारी की गई इस एडवाइजरी की वजह नहीं बताई है। इस तरह की सलाह केवल आतंकवाद, गृहयुद्ध, संगठित अपराध और महामारी जैसे कारणों से ही दी जाती है।


भारत की यात्रा न करने की सलाह
इसके साथ ही अमेरिका ने भारत की यात्रा के लिए रेटिंग 4 निर्धारित की है, जोकि बेहद खराब मानी जाती है। इसी रेटिंग में अमेरिका ने युद्धग्रस्त सीरिया, आतंकवाद के केंद्र पाकिस्तान, ईरान, इराक और यमन जैसे देशों को रखा हुआ है।           


51 लोगों का हत्यारा, सजा 'आजीवन कैद'

क्राइस्टचर्च। न्यूजीलैंड में अबतक के सबसे बड़े आतंकी हमले के मामले में कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है।न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों पर अंधाधुंध फायरिंग करने वाले ब्रेंटन टॉरेंट को 51 लोगों की हत्या, 40 की हत्या की कोशिश और आतंकवादी हमले का दोषी माना है और उसे पूरी जिंदगी अब जेल में ही बितानी होगी।


न्यूजीलैंड में मौत की सजा पर रोक


टैरेंट ने इस आतंकवादी नरसंहार के समय इसकी लाइव स्ट्रीमिंग भी की थी, जिससे पूरी दुनिया में दहशत फैल सके. उसके इन खतरनाक कामों को देखते हुए उसे जज ने सनकी और जानवर तक कह दिया।             


युद्ध हुआ तो पाक भी मेदान में कूदेगा

जालंधर। लद्दाख की गलवान घाटी में LAC पर हुई हिंसक झड़प के बाद भारत और चीन के बीच बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने इस बारे में कहा है कि अगर भारत और चीन के बीच जंग के हालात बनते हैं तो फिर ऐसे में पाकिस्तान भी जंग करने के लिए मैदान में आ जाएगा। उन्होंने कहा कि 1962 के युद्ध में जिस तरह से भारत ने चीन को करारा जवाब दिया था, उसी तरह की कार्रवाई एक बार फिर होनी चाहिए।


मीडिया की एक रिपोर्ट में कैप्टन ने कहा, "मेरी बातों को याद रखिएगा, अगर चीन के साथ जंग हुई तो इसमें पाकिस्तान भी शामिल हो जाएगा। चीन के सैनिक कोई पहली बार गलवान नहीं आए हैं।           


दिल्ली-नोएडा का सफर होगा आसान

सौरभ पांडेय, अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। भविष्य में गाजियाबाद के सिद्वार्थ विहार से दिल्ली के साथ-साथ नोएडा का सफर भी आसान हो जाएगा। दरअसल, सिद्धार्थ विहार में बसी कॉलोनियों से राष्ट्रीय राजमार्ग एक्सप्रेस-वे को जोड़ने के लिए सर्विस रोड बनाई जाएगी। आवास विकास परिषद के मुताबिक, तकरीबन तीन करोड़ रुपये से इस सर्विस रोड और अप्रोच रोड का निर्माण किया जाएगा। इसका प्रस्ताव पूरी तरह तैयार है। अधिकारियों का यह भी कहना है कि बारिश का मौसम खत्म होने के बाद आवास विकास परिषद इस सर्विस रोड और अप्रोच रोड का काम शुरू देगा, जिसकी तैयारी शुरू हो चुकी है।


रोजाना हजारों लोगों को होगा फायदा


यह सर्विस रोड हजारों लोगों के लिए लाइफलाइन बनेगी। दरअसल, सिद्धार्थ विहार के रास्ते रोजाना हजारों वाहन चालक दिल्ली और नोएडा का सफर सफर तय करते हैं। बता दें कि सिद्धार्थ विहार से नोएडा और दिल्ली लोगों का आना जाना होता है, लेकिन एनएच-9 के चलते अब लोगों को थोड़ी दिक्कत पेश आ रही है। ऐसे में यह सर्विस रोड दिल्ली, गाजियाबाद और नोएडा के वाहन चालकों की राह आसान होगी।             


'स्वच्छ मिशन' में गाजियाबाद हुआ फेल

 अश्वनी उपाध्याय


साहिबाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की थी तो उनका लक्ष्य हर शहर को खूबसूरत बनाना था। गाजियाबाद के अधिकारियों ने भी एक से बढ़कर एक दावे किए। परिणाम यह हुआ कि स्वच्छ मिशन 2018-19 में गाजियाबाद को देश के सबसे साफ शहरों की श्रेणी में 13वां स्थान मिला। फिर शुरू हुआ निगम अधिकारियों और कूड़ा उठाने वाली एजेंसियों का खेल। खेल ऐसा कि सड़कों पर जहां-मलबा-कूड़ा फैला है। शिकायत करते रहिए कोई सुनवाई नहीं होती। यही कारण है कि स्वच्छ मिशन 2019-20 के शुरुआती परिणामों में गाजियाबाद 13वें से खिसककर 19वें स्थान पर जा पहुंचा है। दरअसल, स्वच्छ मिशन को कामयाब करने के लिए गाजियाबाद नगर निगम ने कई योजनाएं बनाई थीं। इनमें से एक महत्वपूर्ण योजना थी जिसमें निर्माणाधीन मकानों का मलबा उठाने के लिए एक निजी कंपनी को अधिकृत भी किया गया। इस दौरान जोर-शोर से नगर निगम अधिकारियों ने इसका प्रचार भी किया कि अब गाजियाबाद मलबा मुक्त हो जाएगा। हालांकि समय बीतते-बीतते निगम का यह अभियान ध्वस्त हो गया है। नगर निगम के कुछ अधिकारियों की मिलीभगत के चलते कंपनी काम ही नहीं कर रही है। गाजियाबाद की वसुंधरा, वैशाली, साहिबाबाद, शालीमार गार्डन आदि इलाकों में सड़कों पर मलबे के ढेर लगे हुए हैं। निगम का निर्माण विभाग मलबा फेंकने वालों का चालान तो कर देता है लेकिन उसे उठाने की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जाता है। जब स्वच्छ सर्वे होता है तो गाजियाबाद के अंक कट जाते हैं। लगातार गिर रही स्वच्छता रेटिग: 2020 की शुरुआत में ही स्वच्छ सर्वेक्षण शुरू हुआ तो निगम की रेटिग भी गिरनी शुरू हो गई है। जगह-जगह कूड़े मलबे के ढेर लगे हैं। लोग शिकायत करते हैं लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होती। ट्रांस हिंडन आरडब्ल्यूए फेडरेशन के अध्यक्ष कैलाशचंद्र शर्मा ने बताया कि मलबे की शिकायत के बाद भी सेक्टर पांच में एक माह से कार्रवाई नहीं हुई है। निगम के अधिकारी कोई जवाब ही नहीं देते। एजेंसी को 440 रुपये प्रति टन के हिसाब से पेमेंट दिया जा रहा है। इसके बाद भी सफाई नहीं हो रही। निगम के कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से यह हो रहा है।             


चीन के खिलाफ अमेरिका की बड़ी कार्रवाई

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। अमेरिका कोरोना को लेकर सिर्फ और सिर्फ चीन को जिम्मेदार मानता हैं। इसी बीच एक बड़ी खबर आ रही हैं की अमेरिका ने चीन को आर्थिक रूप से कमजोर करने के लिए चीन पर बड़ी कारवाई की हैं। जिससे चीन में खलबली मच गई हैं।


खबर के मुताबिक अमेरिका ने उन 24 चीनी कंपनियों और उनसे जुड़े अधिकारियों पर बुधवार को प्रतिबंध लगाया है, जिन्होंने विवादित दक्षिण चीन सागर में कृत्रिम द्वीपों के निर्माण में शामिल रहे हैं। अमेरिका के इस कारवाई से चीन की बहुत ही कंपनियां डूब सकती हैं और उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ सकता हैं। साथ ही साथ इससे चीन की अर्थव्यवस्था को भी गहरा झटका लगेगा।


अमेरिका के इस कारवाई के बाद चीन बौखलाया हुआ हैं तथा अमेरिका को अंजाम भुगतने की धमकी दे रहा हैं।               


बिहारः साल 2021 में डीजल-गाड़ी होगें बंद

पटना। बिहार की राजधानी पटना में बढ़ती प्रदूषण को देखते हुए सरकार ने बड़ा निर्णय लिया हैं। मिली जानकारी के मुताबिक साल 2021 से चरणबद्घ तरीके से पटना और इसके आसपास के इलाकों में डीजल से चलने वाले ऑटो गाड़ियों पर प्रतिबंध लगाया जायेगा। बिहार परिवहन विभाग इसकी तैयारी कर रहा हैं।


खबर के अनुसार परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि परिवहन विभाग के अन्तर्गत शहरी क्षेत्र की परिवेशीय वायु गुणवत्ता में सुधार एवं प्रदूषण रहित परिवहन व्यवस्था के लिए चरणबद्घ तरीके से डीजल से चलने वाली गाड़ियां बंद की जाएगी।


उन्होंने कहा है की 31 जनवरी, 2021 के मध्य रात्रि से पटना नगर निगम तथा 31 मार्च के मध्य रात्रि से दानापुर नगर परिषद्, फुलवारीशरीफ नगर परिषद, खगौल नगर परिषद क्षेत्र में डीजल चालित ऑटो पर प्रतिबंध लगाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है।                   


कर्मचारी को एससी से मिली 'स्थायी राहत'

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। रिटायर्ड कर्मचारी केरल सरकार के अलग-अलग सरकारी विभागों में 32 वर्ष सेवा दे चुका था, लेकिन राज्य सरकार उसे पेंशन के योग्य नहीं मानती थी।


सुप्रीम कोर्ट ने केरल सरकार को 8 हफ्तों के अंदर याचिकाकर्ता को पेंशन का 13 साल का बकाया ब्याज समेत देने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा कि पेंशन की राशि इच्छा के आधार पर दी गई कोई रकम नहीं बल्कि सामाजिक कल्याण की दिशा में लिया गया एक महत्वपूर्ण फैसला है जो संकट की घड़ी में किसी कर्मचारी के काम आता है।                 


सितंबर को 'पीएम' मोदी करेगें उद्घाटन

दुनिया की सबसे लंबी रोड टनल भारत में बनकर तैयार हो गई है। ऐसा माना जा रहा है कि सितंबर के अंत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका उद्घाटन करेंगे। इस टनल की वजह से लद्दाख सालभर पूरी तरह से जुड़ा रहेगा। साथ ही इसके चलते मनाली से लेह के बीच करीब 46 किलोमीटर की दूरी कम हो जाएगी।


खासियत



  • 10,171 फीट की ऊंचाई पर बनी इस अटल रोहतांग टनल को रोहतांग पास से जोड़कर बनाया गया है, यह दुनिया की सबसे ऊंची और सबसे लंबी रोड टनल है।

  • यह करीब 8.8 किलोमीटर लंबी है और 10 मीटर चौ़ड़ी है।

  • मनाली से लेह जाने में 46 किलोमीटर की दूरी कम हो गई, अब आप यह दूरी सिर्फ 10 मिनट में पूरी कर सकते हैं।

  • यह टनल सिर्फ मनाली को लेह से नहीं जोड़ेगी बल्कि हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पिति में भी यातायात को आसान कर देगी। यह कुल्लू जिले के मनाली से लाहौ़ल-स्पिति जिले को भी जोड़ेगी.

  • इस टनल का सबसे ज्यादा फायदा लद्दाख में तैनात भारतीय फौजियों को होगा क्योंकि इसके चलते सर्दियों में भी हथियार और रसद की आपूर्ति आसानी से हो सकेगी, अब सिर्फ जोजिला पास ही नहीं बल्कि इस मार्ग से भी फौजियों तक सामान की सप्लाई हो सकेगी।

  • इस टनल के अंदर कोई भी वाहन अधिकतम 80 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चल सकेगा।

  • यह टनल इस तरीके से बनाई गई है कि इसके अंदर एक बार में 3000 कारें या 1500 ट्रक एकसाथ निकल सकते हैं।

  • इसे बनाने में करीब 4 हजार करोड़ रुपए की लागत आई है। टनल के अंदर अत्याधुनिक ऑस्ट्रेलियन टनलिंग मेथड का उपयोग किया गया है। वेंटिलेशन सिस्टम भी ऑस्ट्रेलियाई तकनीक पर आधारित है।

  • इस टनल का डिजाइन बनाने में DRDO ने भी मदद की है ताकि बर्फ और हिमस्खलन से इस पर कोई असर न पड़े।

  • इस टनल के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे जो स्पीड और हादसों पर नियंत्रण रखने में मदद करेंगे।

  • टनल के अंदर हर 200 मीटर की दूरी पर एक फायर हाइड्रेंट की व्यवस्था की गई है, ताकि आग लगने की स्थिति में नियंत्रण पाया जा सके।           


हाईकोर्ट के सुझाव पर होगा 'लॉकडाउन'

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट के लॉकाडउन के सुझाव पर योगी सरकार ने विचार करने की बात कही है। हालांकि सरकार की तरफ से ये दलील दी गई है कि कोरोना के मामलों में उत्तर प्रदेश की स्थिति देश के अन्य राज्यों के मुकाबले बेहतर है, ऐसे में लॉकडाउन जैसे हालात नहीं हैं।


योगी सरकार कर ही विकल्पों पर विचार
यूपी सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा, ''आबादी के हिसाब से सूबे के हालात काफी बेहतर हैं।पूरे देश में सबसे कम मृत्यु दर उत्तर प्रदेश में है। सरकार ने तमाम इंतजाम कर रखे हैं।           


यात्रियों के लिए बदले क्वारंटाइन के नियम

उत्तर प्रदेश सरकार ने यात्रियों के लिए बदले क्वारंटीन के नियम


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने राज्य में आने वाले अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को सात दिनों के अनिवार्य इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन से छूट दे दी है। इसके साथ ही अन्य राज्यों से काम के लिए आने वाले भारतीय यात्रियों को भी कोविड-19 प्रोटोकॉल में छूट दी है।               


दंगों पर लिखी किताब की रिकॉर्ड बुकिंग

दिल्ली दंगों पर लिखी किताब की रिकॉर्ड बुकिंग


नई दिल्ली। बीजेपी ने दिल्ली दंगों पर आने वाली किताब ‘दिल्ली रायट्स 2020 : द अनटोल्ड स्टोरी’ को घर-घर बांटने की तैयारी की है। ब्लूम्सबरी प्रकाशन की ओर से छपाई से इनकार करने के बाद किताब को खासी ख्याति मिलने के कारण, इसकी रिकॉर्ड बुकिंग हो रही है।             


दंगों के आरोपी हुसैन की सदस्यता खत्म

दिल्ली दंगों के आरोपी ताहिर हुसैन की सदस्यता खत्म, बीजेपी ने बताया जीत।


नई दिल्ली। दिल्ली दंगों के मुख्य आरोपी और आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन की सदस्यता को पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने खत्म कर दिया है। पूर्वी दिल्ली नगर निगम की बीते बुधवार को हुई बैठक में ताहिर हुसैन की सदस्यता समाप्त करने का प्रस्ताव पास कर दिया गया था। जिसके बाद गुरुवार को सदस्यता रद्द करने की जानकारी निगम की ओर से सार्वजनिक की गई। ताहिर हुसैन पर हुई इस कार्रवाई का भाजपा ने स्वागत किया।             


सहकारी समितियों से यूरिया हुआ गायब

दूसरे जिले से यूरिया उर्वरक लाने को मजबूर हुए किसान


सहकारी समितियों से गायब हो चुकी है उर्वरक और बाजार के व्यापारियों द्वारा की जा रही है उर्वरक की ओवर रेटिंग


कौशाम्बी। उर्वरक की कालाबाजारी और ओवर रेटिंग से किसान की हालत खराब हो रही है सहकारी समितियों से उर्वरक गायब हो चुकी है और बाजार के व्यापारियों द्वारा बेखौफ तरीके से खुलेआम उर्वरक की ओवर रेटिंग की जा रही है व्यापारियों के यहाँ यूरिया उर्वरक सत्तर रुपए बोरी अधिक कीमत पर मिल रही है फिर भी कृषि अधिकारी ने चुप्पी साध रक्खी है


ओवर रेटिंग के बाद ही जिले में उर्वरक यूरिया की उपलब्धता बरकरार नहीं है जिस से परेशान किसानों ने पड़ोसी जनपद से यूरिया उर्वरक लाना शुरू किया है प्रतापगढ़ जनपद में 50 रुपये बोरी ओवर रेटिंग पर उर्वरक यूरिया मिल रही है जिससे 20 रूपया बोरी यूरिया उर्वरक में उन्हें ओवर रेटिंग कम देनी पड़ रही है आखिर उर्वरक ओवर रेटिंग में लिप्त व्यापारियों पर शासन प्रशासन का चाबुक कब चलेगा किसानों के हाथ ओवर रेटिंग में उर्वरक बेचकर व्यापारी मालामाल हो रहे हैं।


सरकार बार बार जोर दे रही है कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए उपाय किये जायें लेकिन जमीनी हकीकत में यूरिया खाद इस समय किसानों के लिए मुसीबत का सबब बनी हुई है। इस पर सरकार और उनके नुमाइंदे कोई विचार नहीं कर रहे है। कौशांबी जिले के तहसील सिराथू अंतर्गत ब्लॉक कड़ा में यूरिया खाद के लिए किसान दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। फिर भी किसानों को खाद उपलब्ध नहीं हो पा रही है। मजबूरन किसानों को दूसरे जिले प्रतापगढ़ से खाद लाने पर मजबूर होना पड़ रहा है और ज्यादा कीमत भी उन्हें चुकानी पड़ रही है। अगर यही हाल रहा तो किसानों की आय दुगनी कैसे होगी। सरकार इस विषय में भी गंभीरता से सोचे और खाद जल्द से जल्द उपलब्ध कराने की ब्यवस्था कराए।


अनुराग द्विवेदी 


भारी गीता का पन्ना पलटते हैं 3 लोग

दुनिया की एकमात्र सबसे भारी गीता जिसका पन्ना तीन लोग मिलकर पलटते है, गीता के बारे में जानकर उड़ जाएंगे आपके होश
 
गीता को हिंदू धर्म में सबसे पवित्र ग्रंथ माना जाता है। यह है श्री कृष्ण की वाणी मानी जाती हैं। कृष्ण जी ने जीवन के पुण्य और पाप कर्म के बारे में बताया गया है। उसके हर एक श्लोक व्यक्ति को संकट से बचाने का मार्ग बताते हैं। आइए जानते हैं दुनिया की सबसे वजनी गीता के बारे में।
अंतर्राष्ट्रीय कृष्णभावनामृत संघ जिसे इस्कॉन के नाम से जाना जाता है।
उन्होंने गीता के श्लोकों का ऐसे पुस्तक पर उतारा जो कि दुनिया की सबसे भारी गीता बन चुकी है। यह इस्कॉन मंदिर में स्थित है,और खुद नरेंद्र मोदी भी यहां पर विमोचन के लिए आए थे।
पूरी गीता का भार 800 किलोग्राम है जिसके एक पन्ने को पलटने के लिए चार व्यक्ति की आवश्यकता होती है। दुनिया की सबसे वजनी गीता को इटली में बनाया गया था। अब आप सोच रहे होंगे कि यह भारत मे कैसे आया तो बता दे समुद्र के रास्ते उसको जहाज से लेकर आया गया है और इसको बनाने में लगभग 2 पॉइंट 5 साल लगे।             


केंद्रीय राज्य मंत्री गुर्जर कोरोना संक्रमित

केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर कोरोना संक्रमित।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। केंद्र सरकार के एक और मंत्री कोरोना संक्रमित हुए हैं। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। उन्होंने गुरुवार को यह जानकारी दी है।
केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों को गंभीरता से लेते हुए मैंने कोरोना टेस्ट करवाया जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
चिकित्सकों के परामर्श पर अब इलाज चलेगा। जितने भी लोग पिछले दिनों मेरे संपर्क में आएं हैं, कृपया वह कोरोना को गंभीरता से लेते हुए अपना कोरोना टेस्ट करवा लें। केंद्रीय मंत्री के कोरोना संक्रमित होने के बाद अब उनके स्टाफ के सभी लोग टेस्ट कराने की तैयारी में है। पिछले एक हफ्ते के बीच संपर्क में आने वाले लोगों से मंत्री ने होम आइसोलेशन में जाने की अपील की है। कृष्णपाल गुर्जर मोदी सरकार के छठे मंत्री हैं, जिनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पूर्व गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल और श्रीपद नाइक कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से गृहमंत्री अमित शाह कोरोना की जंग जीत चुके हैं।           


धरनारत किसान करेंगे तालाबंदी और घेराव

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद की मंडोला विहार योजना से प्रभावित मंडोला,नानू, पंचलोक,नवादा,अग्रोला,मिलक बामला आदि गांव के धरनारत किसानों ने शासन प्रशासन,जनप्रतिनिधियों व परिषद द्वारा अनदेखी करने से नाराज होकर अपने आंदोलन के क्रम में दिनांक 7/9/2020 को मंडोला विहार योजना में स्थित परिषद के कार्यालय का घेराव करके ताला बंदी करने का निर्णय लिया है। भूमि अधिग्रहण से प्रभावित मंडोला समेत छह गांव के किसान 2 दिसम्बर 2016 से अपनी अधिग्रहीत उपजाऊ एवं बहुफसलीय जमीन का मुआवजा भूमि अधिग्रहण अधिनियम 2013 से दिए जाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन करते आ रहे हैं कई दौर की वार्ता भी हुई लेकिन सार्थक परिणाम नहीं निकलने पर किसानों ने धरने का नेतृत्व कर रहे किसान नेता मनवीर तेवतिया का साथ छोड़ दिया और अपने धरने की बागडोर पूर्व सांसद एवं जदयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी के हाथ में सौंप दी। केसी त्यागी ने धरने की कमान संभालते ही सबसे पहले क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि सांसद जनरल वी०के०सिंह व विधायक नंदकिशोर गुर्जर से किसानों का सामंजस्य बैठाने का काम किया । 
लेकिन पीड़ित किसानों की किसी ने सुध नहीं ली जिसके चलते किसानों को परिषद कार्यालय की तालाबंदी करने का फैसला लेना पड़ा । किसानों का कहना है कि 7 सितम्बर तक किसानों की मांगों पर सहमति नहीं बनाई गई तो किसान परिषद कार्यालय के मुख्य द्वार पर ताला जड़ कर वहीं  अपना तम्बू लगाकर बैठ जाएंगे और मांग पूरी होने से पहले वहां से नहीं उठेंगे । आज किसानों द्वारा बनाई गई रणनीति से जैसे ही के० सी० त्यागी जी को अवगत कराया तो उन्होंने कहा कि यदि मुझे भी आना पड़ा तो मै भी ताला बंदी के समय मौजूद रहूंगा उन्होंने कहा कि मै किसी भी कीमत पर किसानों को न्याय दिलाकर रहूंगा । आज किसानों के धरने पर सैकड़ों लोग मौजूद रहे ।


सपा नगर कार्यकारिणी का किया गठन

 अश्वनी उपाध्याय 


गाजियाबाद। सपा नगर अध्यक्ष हस्मुदीन इदरीसी ने जिला अध्यक्ष राशिद मलिक और महा नगर अध्यक्ष राहुल महासचिव वीरेन्द्र यादव ग़ाज़ियाबाद के साथ लोनी स्थित मालिक मैरिज होम में सोशल डिस्टेन्स का ख्याल रखते हुए मीटिंग कर नगर कमेटी की घोषणा की। जिसमे उम्मेद पहलवान और सपा के लोग सामिल रहे। नगर अध्यक्ष पद पर हस्मुदीन महा सचिव रमेसचंद्र यादव उपाध्यक्ष इरशाद रिजवाज जयवीर कश्यप अरविंद यादव साकिर मीडिया प्रभारी फुरकान कुरैशी कोषअध्यक्ष हुसैन आलम सचिव अशोक सलाउद्दीन सोमवीर कश्यप अंकित यादव सिराजुद्दीन इमरान विशाल कार्यकारणी सदस्य नुर हसन वकील शादाब राजेन्द्र सत्तार साहब को नगर कमेटी की जिम्मेदारी दी गई हैं सभी लोग समाजवादी पार्टी के लिए काम करेंगे और पार्टी की नीतियों को जन जन तक पहुंचाने का कार्य करेंगे।


उत्तराखंडः हर 2 दिन में 1000 का आंकड़ा

उत्तराखंड- हर 2 दिन में एक हजार का आंकड़ा पार कर रहा है कोरोना, जानिए क्यों है सतर्क रहने की जरूरत।


देहरादून। उत्तराखंड में कोरोनावायरस कोविड-19 अब बेकाबू हो रहा है। लिहाजा तेजी से लोग इस संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। कम्युनिटी स्प्रेड का रूप ले चुका कोरोनावायरस हर 2 से 3 दिन के बीच 1000 का आंकड़ा पार कर रहा है। लिहाजा अब तक राज्य में 16549 मामले सामने आ गए हैं,कोरोनावायरस कोविड-19 के घातक प्रभाव का असर इस बात से देखा जा सकता है,कि पिछले 26 दिनों में 9366 लोग इस संक्रमण की जद में आए हैं।जबकि इससे पहले साड़े 4 महीने में केवल 7183 मामले थे।
कोरोना संक्रमण से सतर्क रहने की इसकी आवश्यकता है,कि पिछले 3 हफ्तों से राज्य में मौत का आंकड़ा भी लगातार बढ़ता जा रहा है। बुधवार को राज्य में साथ संक्रमित मरीजों की मौत हुई है इसके साथ ही उत्तराखंड में यह आंकड़ा 219 तक पहुंच गया है।यही नहीं राज्य की राजधानी देहरादून में अब तक 107 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि नैनीताल में यह मौत का आंकड़ा 44 है और हरिद्वार में 35 लोग इस संक्रमण की चपेट में आकर जान गंवा चुके हैं,और उधम सिंह नगर में अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है।अभी भी राज्य में 14882 सैंपल ऐसे हैं जिनकी जांच रिपोर्ट आनी है।लिहाजा अब उन लोगों को पहले से ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है।क्योंकि हर दिन कोरोनावायरस और तेजी से फैल रहा है।             


जांच के बिना शुरू हुआ 'खतरे का सफर'

शाहजहांपुर। कोरोना संक्रमण की वजह से परिवहन विभाग ने रोडवेज बसों में महज 55 सवारी बैठाने के निर्देश दिए थे। करीब एक माह तक विभागीय अधिकारियों ने इस पर अमल भी किया। लेकिन अब बिना थर्मल स्क्रीनिग के ही सवारियों को बस में बैठाया जा रहा है। यहीं नहीं 55 के बजाय 65 से 70 सवारियां भी बैठाकर कोविड 19 की गाइड लाइन का भी उल्लंघन किया जा रहा है। कोविड हेल्प डेस्क पर भी सन्नाटा पसरा है। रोडवेज से प्रतिदिन 10 हजार से अधिक यात्री सफर कर रहे हैं। ऐसे प्रशासन की लापरवाही लोगों पर भारी पड़ सकती है।                       


गृहमंत्री शाह की हालत में हो रहा है सुधार

अमित शाह की हालत में सुधार, अस्पताल से जल्द मिल सकती है छुट्टी


नई दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में पिछले दिनों भर्ती कराये गये केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। सूत्रों ने बताया कि अमित शाह का स्वास्थ्य अब पहले से बेहतर है और उसमें धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। सूत्रों का यह भी कहना है,कि अगर अमित शाह के स्वास्थ्य में इसी गति से सुधार होता रहा तो उन्हें अस्पताल से जल्द ही छुट्टी दे दी जायेगी।               


परीक्षार्थियों के रहने-खाने का इन्तजाम करें

परीक्षार्थियों के रहने खाने का इंतजाम करे सरकार : अखिलेश


लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कोरोना संक्रमण काल में प्रतियोगी परीक्षाओं के आयोजन के सरकार के फैसले को बेतुका करार देते हुए कहा कि सरकार को छात्रों के स्वास्थ्य की परवाह नहीं है,साथ ही मांग की कि जेईई और नीट परीक्षा में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों के लिये परिवहन की व्यवस्था और रहने खाने का इंतजाम सरकार को करना चाहिये।भाजपा के खिलाफ खुले पत्र में श्री यादव ने गुरूवार को लिखा कि भाजपा की तरफ से हास्यास्पद और तर्कहीन बातें फैलायी जा रही है,कि जब लोग अन्य कामों से घर से बाहर निकल रहे है, तो परीक्षा क्यों नहीं दे सकते। उन्होने कहा कि ऐसी बाते कहने वालों को पता होना चाहिये कि लोग मजबूरी में घरों के बाहर निकल रहे है,जबकि सरकार परीक्षा के नाम पर उन्हे घर से बाहर निकलने पर विवश कर रही है।उन्होने कहा कि परीक्षा देने निकले किसी परीक्षार्थी अथवा अभिभावक को कोरोना संक्रमण हो जाता है,और उनके संपर्क में आये घर के बुजुर्ग भी संक्रमित हो जाते है तो क्या सरकार उसकी कीमत चुकायेगी।
सपा अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना और बाढ की वजह से ट्रेन बसे बाधित है।और बाहर रहने और खाने की बेहद दिक्कत है, ऐसे मे अगर परीक्षा कराई जाती है तो छात्रों के आने जाने, रहने और खाने पीने की व्यवस्था कराई जानी चाहिए।
श्री यादव ने कहा कि भाजपा सरकार समझ चुकी है,कि बेरोजगारी से त्रस्त युवा और बाढ काेरोना से रोजी रोजगार गंवा चुका मध्यम वर्ग उसे वोट नहीं देगा और यही कारण है कि सरकार युवाओं से बदला ले रही है। वह अच्छी तरह जानती है कि सत्ता में वह दोबारा नहीं लौटेगी। उन्होने नारा दिया “ जान के बदले एग्ज़ाम, नहीं चलेगा, नहीं चलेगा।”             


रासुका के तहत की कार्रवाई, दिए निर्देश

लखीमपुर: छात्रा की रेप के बाद हत्या के आरोपी पर रासुका के तहत कार्रवाई, योगी ने दिए निर्देश


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर खीरी जिले में छात्रा की दुराचार के बाद हत्या की घटना को गंभीरता से लेते हुए अपराधियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिये हैं।योगी ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए पांच लाख रूपये की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की और कहा कि सरकार मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में करा कर अपराधियों को जल्द से जल्द सजा दिलाएगी। इस बीच लखनऊ परिक्षेत्र की पुलिस महानिरीक्षक लक्ष्मी सिंह ने आज लखीमपुर खीरी पहुंच कर मामले की पड़ताल की।
गौरतलब है कि पिछले मंगलवार को नीमगांव क्षेत्र में पुलिस को एक लापता छात्रा का शव उसके घर के पास तालाब के किनारे मिला था। इस मामले में दिलशाद नामक युवक को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि लव जेहाद में नाकाम रहने पर उसने छात्रा के साथ बलात्कार कर हत्या कर दी थी।                             


पूर्व न्यायाधीश ए.आर. लक्ष्मणन का निधन

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश ए.आर. लक्ष्मणन का निधन।


तिरुचिरापल्ली। उच्चतम न्यायायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति ए आर लक्ष्मणन का गुरुवार सुबह यहां एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह 78 वर्ष के थे। न्यायमूर्ति लक्ष्मणन एक निजी अस्पताल में आयुजनित रोगों का उपचार करा रहे थे। उनके परिवार में दो बेटे और दो बेटियां हैं। उनकी पत्नी मीनाक्षी अच्ची का शिवगंगा जिले के कराईकुडी में दो दिन पहले निधन हो गया था। उनके एक बेटे ए आर एल सुंदरेशन मद्रास उच्च न्यायालय में वरिष्ठ अधिवक्ता हैं।
न्यायमूर्ति लक्ष्मणन का जन्म शिवगंगा जिले के देवकोट्टाई में वर्ष 1942 में हुआ। उन्होंने तिरुचिरापल्ली में सेंट जोसेफ कॉलेज से स्नातक किया था और मद्रास लॉ कॉलेज से 1966 में कानून की डिग्री हासिल की थी। न्यायमूर्ति लक्ष्मणन ने 20 दिसंबर 2002 से 21 मार्च 2007 तक उच्चतम न्यायालय में अपनी सेवाएं दी। इससे पहले, न्यायमूर्ति लक्ष्मणन मद्रास उच्च न्यायालय और केरल उच्च न्यायालय में न्यायाधीश रहे थे। उन्होंने आंध्र प्रदेश और राजस्थान में भी मुख्य न्यायाधीश के रूप में अपनी सेवा दी थी।
उच्चतम न्यायालय से सेवानिवृत्त होने के बाद वह देश के 18वें विधि आयोग के अध्यक्ष रहे और देश की न्यायिक प्रणाली में सुधार के बारे में एक साल में उन्होंने सरकार को 32 रिपोर्ट सौंपी। न्यायमूर्ति लक्ष्मणन ने अपनी एक रिपोर्ट में चेन्नई सहित देश के चार क्षेत्रों में सर्वोच्च न्यायालय के क्षेत्रीय पीठों की स्थापना की भी सिफारिश की थी।
वह वर्तमान में शीर्ष अदालत द्वारा नियुक्त मुल्ला पेरियार पैनल में तमिलनाडु के मौजूदा प्रतिनिधि थे। न्यायमूर्ति लक्ष्मणन का अंतिम संस्कार आज उनके पैतृक स्थान देवकोट्टाई में किया जाएगा। पूर्व वित्त मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदम्बरम सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया।           


जाधव ने 'सीएम' को सौंपा अपना इस्तीफा

महाराष्ट्र में परभणी से शिवसेना सांसद संजय जाधव ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को सौंपा अपना इस्तीफा


मुंबई। महाराष्ट्र के परभणी से शिवसेना सांसद संजय जाधव उर्फ बंडू जाधव ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। दरअसल जाधव के इस्तीफे को महाराष्ट्र में शिवसेना और एनसीपी तथा कांग्रेस की मिली जुली सरकार बनने के बाद से जमीनी स्तर पर आपसी सामंजस्य की जगह चलने वाली सियासी खींचतान का ही परिणाम माना जा रहा है। श्री जाधव परभणी में जिंतूर कृषि उत्पाद बाजार समिति (एपीएमसी) के अहम पद पर शिवसेना कार्यकर्ताओं की नियुक्ति चाहते थे। लेकिन ऐसा नहीं हो पाया और इस नियुक्ति में एनसीपी ने बाजी मार ली। इससे क्षुब्ध शिवसेना सांसद बंडू जाधव ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को एक पत्र भेजकर अपनी व्यथा बताने के साथ-साथ इस्तीफा भी सौंप दिया है। श्री जाधव ने कहा है,कि परभणी की कृषि समिति के गैर प्रशासक पद पर हुई नियुक्ति मेरे लिए बहुत तकलीफदेह होने के साथ ही शिवसेना कार्यकर्ताओं के लिए अपमानजनक है। ऐसी स्थिति में शिवसेना कार्यकर्ताओं के साथ मै न्याय नहीं कर पा रहा हूं और इसलिए अपना इस्तीफा आपको भेज रहा हूं।             


चीन ने किया 2 मिसाइलों का परीक्षण

बीजिंग। चीन की सेना ने दो मिसाइलों का परीक्षण किया है। इनमें से एक को 'कैरियर मिसाइल' कहा जा रहा है, जो अमेरिकी सेना पर हमले को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है।


चीन का डबल गेम


चीन ने अपने दक्षिणी द्वीपीय प्रांत हैनान और पार्सल आईलैंड्स से दोनों परीक्षण किए। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट अखबार ने ये दावा किया है। हालांकि चीन ने इस मामले में अपनी प्रतिक्रिया नहीं दी है। चीन ने डीएफ-26डी को किंझाई से, तो झेजियांग से डीएफ-21डी का परीक्षण किया।


दक्षिण चीन सागर पर है भारी विवाद


दक्षिण चीन सागर दुनिया का सबसे व्यस्त व्यापार मार्ग है।इसपर चीन अपना कब्जा जताता रहता है, जबकि अमेरिका इस इलाके को इंटरनेशनल लॉ के तहत सभी देशों को लिए खुले रहने दाना चाहता है। यही वजह है कि अमेरिका और चीन इस जगह पर अक्सर आमने-सामने आ जाते हैं। यही नहीं, चीन की अपने पड़ोसी देशों से भी इस मुद्दे पर विवाद है।               


फरीदाबाद में चोरी हो रहे 'कारों के टायर'

फरीदाबाद। शहर में टायर चोर गिरोह की हरकतें रुक नहीं पा रही हैं। जब लोग गहरी नींद की आगोश में होते हैं, तो चोर कारों के टायर चुरा ले जाते हैं। बीती रात भी एनआईटी एक और फ्रूट गार्डन से चोरों ने आधा दर्जन कारों के टायर चुरा लिए।


शहर में चोर कारों से टायर चुरा रहे हैं।


सबसे ज्यादा टायर चोरी की घटनाएं एनआईटी एक, पांच और फ्रूट गार्डन में हो रही हैं।


बीती रात एनआईटी एक में 4 कारों के टायर चोरी हो गए।


फ्रूट गार्डन इलाके से भी 2 कारों के टायर चुरा लिए गए।


इनमें एक कार डॉ. रीमा कपूर की है।


सुबह जब लोग जाकर घरों से बाहर आए तो कार के टायर गायब मिले।


कार ईंट या जैक पर खड़ी मिली।


20-21 अगस्त की रात भी टायर चोरी


इससे पहले 20-21 अगस्त की रात को भी टायर चोरी की कई घटनाएं हुई थीं।


आधी रात को हो रही झमाझम बारिश भी कार के टायर चोरी करने वाले गिरोह के बदमाशों को अपने काम से नहीं रोक पाई।


चोरों ने एनआइटी व कोतवाली थाना क्षेत्र में 20-21 अगस्त की रात घर के बाहर खड़ी तीन कार के टायर चोरी कर लिए।


एनआइटी-5ई में गुरमीत सिंह ने अपनी क्रेटा कार को घर के बाहर पार्किग में खड़ा किया था। सुबह नींद से जागे, तो देखा कार जैक पर खड़ी थी और चारों पहिये गायब थे।


कोतवाली थाना एरिया में भी एनआइटी-1ए मार्केट स्थित सरताज फर्नीचर वालों की वरना कार घर के बाहर खड़ी हुई थी।


रात में चोर चारों टायर खोलकर कार को ईंटों पर खड़ा करके चले गए।


इसी क्षेत्र में चोरों ने भगतां दी हट्टी वालों की कार के भी चारों पहिए चोरी किए।           


इजरायल से 2 'आसमानी आंख' खरीदेंगे

बीजिंग/ जेरुसलम। चीन और पाकिस्तान से बढ़ते खतरों के बीच भारत जल्द ही दो आसमानी आंखों को खरीदने जा रहा है। इनकी मदद से भारत के खिलाफ दो फ्रंट पर मोर्चा खोलने की तैयारी कर रहे देश के दुश्मनों पर पैनी नजर रखी जा सकेगी। भारतीय रक्षा मंत्रालय इसे लेकर जल्द ही इजरायल के साथ समझौते को अंतिम रूप दे सकता है।


इजरायल से खरीदे जाएंगे दो अवाक्स सिस्टम
इस समझौते के तहत इजरायल भारत को दो फाल्कन एयरबॉर्न वॉर्निग एंड कंट्रोल सिस्टम (अवाक्स) की सप्लाई करेगा। पहले भी इस डील की कीमत को लेकर भारत और इजरायल के बीच कई बार बातचीत हो चुकी है। हालांकि, दोतरफा खतरे को देखते हुए इस समझौते को जल्द से जल्द अंतिम रूप देने के लिए भारत पर दबाव बढ़ता जा रहा है।             


हमारे देश पर होगा 'चीन' का कब्जाः ट्रंप

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं। ट्रंप ने डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन और चीन पर बड़ा निशाना साधा है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपने ट्वीट में लिखा, "चीनी की सरकारी मीडिया और चीन के नेता चाहते हैं कि बिडेन "अमेरिकी चुनाव" जीतें. अगर ऐसा होता है (जो कि होगा नहीं) तो हमारे देश पर चीन का कब्जा होगा और रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचे हमारे शेयर बाजार बुरी तरह धड़ाम हो जाएंगे!" 


इससे पहले, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा कि केवल ट्रंप ही चीन और उसकी घातक आक्रामक प्रवृत्ति से निपट सकते हैं। भाषा की खबर के मुताबिक, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने अमेरिकी जनता से कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ही एकमात्र ऐसे व्यक्ति हैं जो चीन और उसकी घातक आक्रामक प्रवृत्ति से लोहा ले सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप तब तक चैन से नहीं बैठेंगे जब तक वह अमेरिका और दुनिया में कोरोना वायरस के माध्यम से मौत और आर्थिक तबाही फैलाने को लेकर इस कम्युनिस्ट देश के विरूद्ध न्याय नहीं होता।               


मेरठ में पत्रकार और परिवार पर हमला

मेरठ। जागृती विहार कॉलोनी में बुधवार रात करीब 10 बजे घर में घुसे दबंगों ने गली गलौज करते हुए जानलेवा हमला बोल दिया। इस हमले में स्थानीय अख़बार के पत्रकार नवीन सिंह चोटिल हो गए, जबकि बड़े भाई अविनाश सिंह को गंभीर चोटें आई हैं। मामले में पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया, जबकि अन्य की तलाश जारी है।               


नोएडा में युवक ने नाबालिग से किया रेप

नोएडा। जनपद गौतम बुद्ध नगर के थाना इकोटेक-3 क्षेत्र के एक गांव में शर्मनाक घटना सामने आई है। 19 बर्षीय युवक ने प्लाट में खेल रही बच्ची को अकेला देख उसके साथ दुष्कर्म  की वारदात को अंजाम दिया। यह मामला बुधवार करीब 12 बजे का है। आरोपी ने नकाब पहन रखा था, ताकि उसे कोई पहचान न सके। लेकिन पुलिस ने उसे ढूंढ निकाला और गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। फिलहाल नाबालिग बच्ची खतरे से बाहर है, जिसका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।                       


'मुआवजे' को लेकर बड़ी उथल-पथल

नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवा कर (GST) काउंसिल की 41वीं बैठक 27 अगस्त यानी आज होने जा रही है। इस बार की बैठक काफी गर्मागर्म बहस वाली हो सकती है। चर्चा का सबसे बड़ा मसला यही होगा कि कोरोना संकट में आर्थिक तंगी से जूझ रहे राज्यों को जीएसटी का मुआवजा कैसे दिया जाए।


जीएसटी काउंसिल के सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में राज्यों को मुआवजा देने के लिए फंड जुटाने के कई प्रस्तावों पर विचार हो सकता है। राज्यों को मई, जून, जुलाई और अगस्त यानी चार महीने का मुआवजा नहीं मिला है। सरकार ने हाल में वित्त मामलों की स्थायी समिति को बताया है कि उसके पास राज्यों को मुआवजा देने के लिए पैसे नहीं हैं।क्यों दिया जाता है मुआवजा
गौरतलब है कि नियम के मुताबिक जीएसटी कलेक्शन का करीब 14 फीसदी हिस्सा राज्यों को देना जरूरी है। जीएसटी को जुलाई 2017 में लागू किया गया था। जीएसटी कानून के तहत राज्यों को इस बात की पूरी गारंटी दी गई थी कि पहले पांच साल तक उन्हें होने वाले किसी भी राजस्व के नुकसान की भरपाई की जाएगी। यानी राज्यों को जुलाई 2022 तक किसी भी तरह के राजस्व नुकसान के लिए मुआवजा दिया जाएगा।           


20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान

नई दिल्ली। कोरोना महामारी से अर्थव्यवस्था पर होने वाले असर को देखते हुए मई महीने में सरकार ने 20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान किया था। पाँच चरणों में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पैकेज का पूरा विवरण देश के सामने रखा था।


पैकेज में 5.94 लाख करोड़ रुपए की रकम मुख्य तौर पर छोटे व्यवसायों को क़र्ज़ देने और ग़ैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों और बिजली वितरण कंपनियों की मदद के नाम पर आबंटित करने की घोषणा की गई थी।


3.10 लाख करोड़ रुपए प्रवासी मज़दूरों को दो महीने तक मुफ़्त में अनाज देने और किसानों को क़र्ज़ देने में इस्तेमाल के लिए और 1.5 लाख करोड़ रुपए खेती के बुनियादी ढाँचे को ठीक करने और कृषि से जुड़े संबंधित क्षेत्रों पर ख़र्च करने की बात कही थी ।इसके अलावा कोयला क्षेत्र, खनन, विमानन, अंतरिक्ष विज्ञान से लेकर शिक्षा, रोज़गार, व्यवसायों की मदद और सरकारी क्षेत्र के उपक्रमों के लिए सुधार की बात कही गई थी। पैकेज के ऐलान को तीन महीने हो चुके हैं, अधिकतर जगहों पर बाज़ार खुल गए है, आर्थिक गतिविधियाँ चालू हो रही हैं, लेकिन कोरोना को लेकर अनिश्चितता अभी भी बनी हुई है और अर्थव्यवस्था की हालत ख़राब है, इसे संभालने के लिए लोग सरकार से उम्मीद लगाए बैठे हैं।


सेंटर फ़ॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनॉमी यानी सीएमआई के आँकड़ों के मुताबिक़ 23 अगस्त को ख़त्म हुए हफ़्ते में बेरोज़गारी दर 7.46 प्रतिशत थी। शहरी इलाक़ों में ये दर 9.98 प्रतिशत और ग्रामीण इलाक़ों में 6.32 प्रतिशत दर्ज की गई।


आर्थिक मामलों के जानकार आलोक जोशी बताते हैं, “अप्रैल महीने में क़रीब 15 करोड़ लोग बेरोज़गार हो गए थे, इनमें से 12 करोड़ लोग असंगठित क्षेत्र के थे। इनमें से 11 करोड़ लोगों को अब रोज़गार मिल गया है। ये वो लोग थे जो कोई भी काम कर सकते हैं। शहर से गाँव गए, तो वहाँ मनरेगा का काम मिल गया है, इन्हें कुछ काम मिल गया है, यानीसरकार ने जो रोज़गार के लिए पैसे दिए, वो इनके पास पहुँचे और इनका फ़ायदा हो गया। इसके अलावा कोरोना के दौरान कृषि क्षेत्र में उत्पादन में कमी नहीं आई, इसलिए असंगठित क्षेत्र के लोग जो वापस भी लौट गए, उन्हें खाने-पीने की समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ा।


लेकिन मिडिल क्लास और सैलरी वाले लोगों की परेशानियाँ बढ़ गईं, सैलरी पर गुज़ारा करने वाले क़रीब एक करोड़ लोग बेरोज़गार हैं। आलोक जोशी के मुताबिक, “इन्हें जॉब मिलना मुश्किल है, इस कारण से गंभीर संकट का सामना करना पड़ सकता है, हालात के और ख़राब होने के आसार दिख रहे हैं।


इसके अलावा रेस्तराँ और मॉल में दुकान चलाने वाले या उनमें काम करने वाले लोगों को भी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है। बड़ी कंपनियाँ भी लोगों को निकाल रही हैं। म्यूचल फ़ंड, शेयर मार्केट, इंटरेस्ट रेट में भी लोगों को नुक़सान हुआ है, कई लोग पहले से कम सैलरी में काम कर रहे हैं।


यह एक कारण है कि दुकानें और फ़ैक्टरियों के खुलने के बाद भी डिमांड की कमी है। जानकार मानते हैं कि सरकार ने छोटे और मँझले उद्योगों को लोन देकर काम शुरू करवाने में मदद की, कॉरपोरेट टैक्स में भी छूट दी गई। इन सबका फ़ायदा उत्पादन में तो हुआ, लेकिन लोगों के पास पैसे नहीं होने के कारण डिमांड नहीं बढ़ी।


आर्थिक मामलों के जानकार आलम श्रीनिवास ने बीबीसी को बताया, “सरकार ये सोच रही है कि प्रोडक्शन शुरू होगा, लोगों के बीच में डिमांड है, लोग ख़रीदना चाहते हैं और बाहर जाना चाहते हैं। लेकिन अगर उपभोक्ता के हाथ में पैसा ही नहीं है, तो इनका कोई मतलब नहीं बनता। वो लोग, जिन्हें इस दौरान पहले की तरह पैसे मिलते रहे हैं, वो भी भविष्य को लेकर असमंजस में है, इसलिए पैसे ख़र्च करने की प्रवृत्ति में कमी आई है, बाज़ार में डिमांड तभी बढ़ेगी जब लोगों के अंदर भरोसा हो।


श्रीनिवास कहते हैं, “लोगों के हाथ में पैसे पहुँचाने का सबसे आसान तरीक़ा है, टैक्स में कटौती करना , सरकार ने कॉरपोरेट टैक्स कम किया तो वो उपभोक्ता के लिए भी टैक्स घटा सकती थी। सरकार ने लॉकडाउन के समय लोन पर मोरेटोरियम की सुविधा दी थी, इस प्रावधान से लोगों को छह महीनों के लिए लोन भुगतान को टालने का विकल्प मिला था। लेकिन इस कारण मासिक किस्तों की संख्या बढ़ गई, ब्याज के भुगतान पर कोई छूट नहीं दी गई थी।


आर्थिक मामलों के जानकार आलोक जोशी मानते है कि लॉकडाउन का बैंकों पर क्या असर पड़ा है, ये आने वाले कुछ समय में स्पष्ट होगा। वो कहते हैं, “अभी तो सरकार ने ब्याज पर छूट दे रखी है, बैंको को भी नहीं पता कि जब ये छूट हटेगी तब क्या होगा, कितने लोग हैं जो दे पैसे दे पाएँगे।


जानकार मानते हैं कि लोगों के हाथ में पैसा पहुँचाना ज़रूरी है और इसके लिए सरकार को क़दम उठाने चाहिए। आलोक जोशी कहते हैं कि हो सकता सरकार सही समय का इंतज़ार कर रही है।


उनके मुताबिक इकॉनॉमी को वापस लाने के लिए सरकार को ख़र्च करना पड़ेगा, कंस्ट्रक्शन जैसी चीज़ों पर ज़ोर देना होगा. वो कहते हैं, “ऐसा लगता है सरकार अभी फँसी हुई है, वो एक और पुश दे सकती है लेकिन तब जब बीमारी का असर कम होगा, अगर ऐसे समय में पैसे लगाए जाएँ, जब हालात सुधरने की आशंका कम है तो बहुत ज़्यादा फ़ायदा नहीं होगा।


लेकिन क्या सरकार इस स्थिति में है कि वो कोई पैकेज का ऐलान कर सके?


जानकार आलम श्रीनिवास का मानना है कि सरकार ने हाथ खड़े कर दिए हैं। वो कहते हैं, “सरकार कह चुकी है कि उसके पास आय की कमी है, मुझे लगता है वो जितना दे सकते थे, पिछले पैकेज में दे चुके हैं। श्रीनिवास के मुताबिक़ सरकार ने जिन सुधारों की बात की है, उन्हें ज़मीन पर उतरने में बहुत समय लगेगा, फ़िलहाल ज़रूरत है कि सरकार जल्द कुछ क़दम उठाए, उनके मुताबिक़ सरकार के लिए अब रिस्क लेना बहुत ज़रूरी हो गया है।                 


दादा ने अपनी पोती से किया दुष्कर्म

मुरादाबाद। शहर के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में दादा ने अपनी ही ढाई साल की पोती के साथ दुष्कर्म किया। आरोपी ने बहू के मायके में आकर वारदात को अंजाम दिया। पीड़िता ने एसएसपी से गुहार लगाई। मामले में सिविल लाइंस पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


थाना सिविल लाइंस के हरथला चौकी क्षेत्र निवासी महिला की शादी कुन्दरकी थाना क्षेत्र के गांव में हुई है। महिला इस समय मायके में है। महिला के अनुसार घटना 20 अगस्त की है। उसके ससुर मायके आए थे। आरोप है कि दोपहर करीब ढाई बजे महिला का ससुर उसकी ढाई साल की बेटी को खिलाने के बहाने छत पर ले गया। वहां आरोपी ने बच्ची के साथ अप्राकृतिक कृत्य किया।                 


उत्तर-भारत में भारी बारिश की चेतावनी

नई दिल्ली। भारतीय मौसम विभाग ने अगले 4 दिनों तक उत्तर भारत के कई हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के ताजा बुलेटिन के मुताबिक मध्य प्रदेश विदर्भ और छत्तीसगढ़ के निर्जन इलाकों में भारी बारिश  हो सकती है। वहीं उत्तर प्रदेश , राजस्थान और उत्तराखंड के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।


भारी बारिश की चेतावनी
मौसम विभाग के मुताबिक उत्तराखंड , जम्मू , हिमांचल प्रदेश, पंजाब , हरयाणा, दिल्ली , उत्तर प्रदेश, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और उड़ीसा में भी संभावित तेज बारिश को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है।               


तमिलनाडुः सेमेस्टर को छोड़, परिक्षाएं रद्द

चैन्नई। TN ने अंतिम सेमेस्टर को छोड़ कर स्नातक और प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों की अन्य परीक्षाओं महामारी के मद्देनजर रद्द कर दी गई हैं। मुख्यमंत्री के। पलानीस्वामी ने कहा कि अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाओं को छोड़ कर अन्य सेमेस्टर से जुड़े विषयों के लिए शुल्क का भुगतान करने वाले और परीक्षाओं का इंतजार कर रहे छात्रों को परीक्षा देने से छूट प्राप्त होगी और उन्हें अंक दिए जाएंगे। 



पलानीस्वामी ने एक बयान में कहा कि छात्रों के कल्याण को ध्यान में रखते हुए उनके अनुरोध को स्वीकार किया गया। एक उच्च स्तरीय समिति की सिफारिशों के मुताबिक फैसला लिया गया है। उन्होंने इस बात का जिक्र किया कि यह कदम विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के दिशा-निर्देशों के अनुरूप उठाया गया है।


विस्तृत सरकारी आदेश जारी करने का निर्देश
पलानीस्वामी ने कहा कि उन्होंने उच्चतर शिक्षा विभाग को इस विषय पर एक विस्तृत सरकारी आदेश जारी करने का निर्देश दिया है।                 




गलत तरीके से बन रहा है पंचायत भवन

प्रयागराज के कोरांव तहसील के अंतर्गत ग्राम पंचायत भवानीपुर में बनाया जा रहा है गलत तरीके से पंचायत भवन।


प्रयागराज। प्रयागराज के कोरांव तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत भवानीपुर में पंचायत भवन की बुनियाद भूमि संख्या, 132 रकवा 0.3060 हेक्टेयर नवीन परती के खाता संख्या 269 में अंकित है। जिसमें प्राइमरी विद्यालय एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय बना हुआ है परंतु विद्यालय के नाम भूमि ना होने से पंचायत भवन की बुनियाद लगभग 20 दिन पहले खुदाई कर दी गई थी।उसके बाद ग्राम प्रधान संतोष कुमार भवानीपुर की प्रेरणा से हल्का लेखपाल भवानीपुर से भूमि संख्या 305 ख रकवा 0.0460 हेक्टेयर पर पंचायत भवन निर्माण कार्य करवाना चाहते हैं। जोकि गांव के आखिरी में ग्राम प्रधान के घर के पास जोकि जंगल के बगल पहाड़ी के पास मेंबर पंचायत भवन बनवाना चाहते हैं। जबकि गांव के मध्य में पंचायत भवन बनवाना जाना चाहिए जिस के संबंध में एंटी करप्शन कमेटी एलियंस भ्रष्टाचार निर्मूलन समिति के वीरेंद्र कुमार मिश्रा ने 18 अगस्त 2020 को उप जिलाधिकारी कोरांव से मुलाकात कर शिकायत पत्र कार्यवाही किए जाने के लिए दिए तथा मौखिक वार्ता भी किए पंचायत सचिव कानूनगो हल्का लेखपाल से मोबाइल के माध्यम से भी बात भी किए उसके बाद दिनांक 24 अगस्त 2020 को हल्का लेखपाल अतुल तिवारी भवानीपुर गांव में आए जहां पर नवनिर्वाचित सदस्य गण , मतदाता गढ़ मौजूद थे,जिस पर ग्राम वासियों की उपस्थिति में पूर्ण सहमत पर भूमि संख्या 49 रकवा 0.046 हेक्टेयर को देखा गया जो जगह खाली गांव के मध्य में है l जहां रास्ता ना होने पर संदेह जाहिर किए जाने पर गांव के काश्तकारों द्वारा अपनी लगानी भूमि में बिना किसी शुल्क के श्रमदान के माध्यम से रास्ता बनवाने का संकल्प ग्राम वासियों ने लिया जो कि दिनांक 25 अगस्त 2020 को रास्ता बना दिया गया है।जहां पर पंचायत भवन निर्माण कार्य हेतु भूमि संख्या 49 नवीन परती पर रखवा 0.046 हेक्टेयर सर्वसम्मति के पास से की गई है। जहां पर पंचायत भवन बनाया जाना न्याय संगत होगा l         


सांस्कृतिक एवं धार्मिक आयोजन पर रोक

लखनऊ। सार्वजनिक स्थान पर सांस्कृतिक एवं धार्मिक आयोजन पर रोक जारी, उल्लंघन करने वालों पर होगी कार्रवाई। मुख्यमंत्री सार्वाजनिक स्थान पर सांस्कृतिक एवं धार्मिक आयोजन पर रोक जारी, उल्लंघन करने वालों पर होगी कार्रवाई। मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार ने फिर कहा है, कि सार्वजनिक स्थानों पर धार्मिक एवं सांस्कृतिक आयोजन एवं कार्यक्रम किए जाने की अनुमति नहीं है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है,कि ऐसा पाए जाने पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी उन्होंने कोविड 19 प्रोटोकॉल का पूर्णता पालन किए जाने के साथ ही सोशल मीडिया पर सतर्क नजर रखने और अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए मुख्यमंत्री ने अपने सरकारी आवास से वरिष्ठ पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान यह निर्देश दिए हैं। उन्होंने मुहर्रम गणेश उत्सव अनंत चतुर्दशी के मद्देनजर पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों को पूरी सतर्कता बरतने और सभी आवश्यक सुरक्षा उपाय सुनिश्चित करने को कहा उन्होंने कहा कि अपराध और अपराधियों के प्रति राज्य सरकार की जीरो टॉलरेंस की नीति है अराजकता एवं अव्यवस्था फैलाने वालों लोगों पर कार्यवाही की जाए जिले के टॉप टेन एवं थाना स्तर पर टॉप टेन की सूची में दर्ज अपराधियों पर कार्यवाही की जाए बीट प्रणाली को सुदृढ़ किया जाए। लगातार फुट पेट्रोलिंग की जाए समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी तत्वों के खिलाफ समय से कार्यवाही की जाए।               


शरीर के अंगों को प्रभावित करता है 'वायरस'

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। एम्स के विशेषज्ञ डॉक्टरों और वैज्ञानिकों की टीम ने एक रिसर्च के बाद पाया कि कोरोना का वायरस इतना घातक है कि वो शरीर के सभी अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है।इसलिए सिर्फ संक्रमितों ही नहीं बल्कि आम लोगों को भी इससे सचेत रहने की जरुरत है।



उन्हें हर हाल में मेडिकल गाइडलाइन का पालन करना होगा। अपनी इम्युनिटी पॉवर बढ़ाने पर जोर देना होगा। दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के विशेषज्ञों ने को कहा कि कोविड-19 न केवल फेफड़े को बल्कि करीब सभी अंगों को प्रभावित कर सकता है। ये प्रारंभिक लक्षण छाती की शिकायत से बिल्कुल अलग तरह के हो सकते हैं।


उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि अन्य अंगों को शामिल करने के लिए, बस सांस के लक्षणों के आधार पर हल्के, मध्यम और गंभीर श्रेणियों में मामलों के वर्गीकरण पर फिर से विचार करने की जरूरत है। उनके मुताबिक इस दिशा में लगातार रिसर्च जारी है।


शराब: डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेंगा आस्ट्रेलिया

सिडनी/ बीजिंग। ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि वो उनके यहाँ बनी शराब पर चीन के शुल्क बढ़ाने के खिलाफ डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेगा। चीन ने पिछले...