गुरुवार, 5 मई 2022

गांव में बिताए पल, मां के चरण स्‍पर्श कर रवाना

गांव में बिताए पल, मां के चरण स्‍पर्श कर रवाना
हरिओम उपाध्याय/पंकज कपूर  
लखनऊ/देहरादून। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने पैतृक गांव पंचूर से दो दिवसीय प्रवास के बाद रवानगी की तैयारी की। उन्‍होंने गाय को ग्रास खिलाकर दिन की शुरुआत की। हेलीकाप्टर के जरिये वह हरिद्वार के लिए रवाना होंगे। जनपद पौड़ी गढ़वाल के यमकेश्वर प्रखंड स्थित अपने पैतृक गांव पंचूर से दो दिवसीय प्रवास के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गांव से रवाना हो गए। इससे पहले वह अपने कक्ष से सीधे निकले, आंगन में बैठी मां के पास पहुंचे। आशीर्वाद लेने के बाद आगे बढ़ गए। बिथ्यानी हेलीपैड तक कार से रवाना हुए।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पांच साल बाद बीते मंगलवार को अपने पैतृक गांव पंचूर पहुंचे थे। इससे पूर्व उन्होंने गुरु गोरखनाथ महाविद्यालय में अपने गुरु महंत अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण कर यह कार्यक्रम को संबोधित किया था।गांव के अपने ही घर में सीएम योगी ने रात्रि प्रवास किया था। रोजमर्रा की तरह गुरुवार की सुबह 4:00 बजे वह उठ गए थे। 
उन्होंने सुबह पहले काढा पिया। नित्य कर्म के बाद पूजा अर्चना की।उन्होंने घर की गौशाला में गाय को रोटी खिलाई। उसके बाद वह अपने भाई शैलेंद्र सिंह बिष्ट, महेंद्र सिंह बिष्ट, और बहनोई पूर्ण सिंह पयाल के साथ घर के खेत की तरफ चले गए। वहां खड़े होकर वह दूर तक खेतों को निहारते रहे। नास्ते में उन्होंने लौकी की सब्जी, सूखे चने, दलिया और रोटी खाई।

दुकानों पर काम करते 13 बच्चें मुक्त कराएं

दुकानों पर काम करते 13 बच्चें मुक्त कराएं

संदीप मिश्र  
बरेली। श्रम विभाग की टीम ने दुकानों पर काम कर रहे 13 बच्चों को मुक्त कराया। उन्हें दुकान से घर भेजा। संबंधित दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की। जिला अधिकारी के निर्देश के बाद श्रम विभाग ने बाल श्रम रेस्क्यू एंड जागरुकता अभियान चलाया। इसमें बाल कल्याण समिति, एएचटीयू. महिला कल्याण विभाग, डीसीपीयू, चाइल्डलाइन की टीम भी शामिल रही।
संयुक्त टीम ने गुरुवार को अभियान की शुरुआत अय्यूब खान चौराहा की दुकानों से की। 

इसके बाद मिशन मार्केट, पंजाबी मार्केट, इस्लामिया, कुतुब खाना, बड़ा बाजार, कोहड़ापीर, राजेंद्र नगर, 100 फिटा रोड पर दुकानों का निरीक्षण किया। दुकानदारों को बच्चों से काम न करने की हिदायत दी। टीम को सबसे ज्यादा मेडिकल स्टोर और कपड़े की दुकानों पर बाल मजदूरी करते बच्चे मिले।
अभियान के दौरान टीम ने 13 बच्चों को चिन्हित कर उनसे काम कराने वाले दुकानदारों के चालान किए। अब दुकानदारों के विरुद्ध बाल एवं किशोर श्रम अधिनियम 2016 के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी। टीम में श्रम प्रवर्तन अधिकारी महीप सिंह, बी राम, पवन चौधरी, राकेश कुमार शामिल रहे। इस दौरान तकनीकी रिसोर्स पर्सन नया सवेरा के जीशान अंसारी, सौरभ सिंह, अरुण, सनी चौधरी, दृगपाल सिंह, भूपेंद्र, राहुल विकल, बाल कल्याण समिति से मोनिका व राखी, चाइल्ड लाइन से रवि और राखी मौजूद रहीं।

जिले को निर्देश, सप्‍ताह में बंटे स्मार्ट फोन-टैबलेट

जिले को निर्देश, सप्‍ताह में बंटे स्मार्ट फोन-टैबलेट

हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन और टैबलेट का वितरण योगी सरकार ने पहले कार्यकाल में ही शुरू कर दिया था। विधानसभा चुनाव हो चुके, दोबारा भाजपा की सरकार बन गई, लेकिन कई जिलों में इनके वितरण की गति अभी भी धीमी है। इसे लेकर मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने नाराजगी जताई है। निर्देश दिया है कि एक सप्ताह में शत प्रतिशत स्मार्ट फोन और टैबलेट का वितरण हो जाए।
मुख्य सचिव ने कल देर शाम सभी मंडलायुक्त, जिलाधिकारी और अन्य वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग की। शासन की प्राथमिकता के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए उन्होंने टैबलेट व स्मार्ट फोन के वितरण का भी जिलेवार ब्योरा लिया। वहीं, जनसमस्याओं के शीघ्र व प्रभावी निस्तारण को शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता बताते हुए कहा कि जनसमस्याओं के निस्तारण के लिए तहसील, ब्लाक व थाना दिवस में वरिष्ठ अधिकारी अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें। 

श्रीकृष्ण जन्मस्थान मामला, जमीन ट्रस्ट को सौंपे

श्रीकृष्ण जन्मस्थान मामला, जमीन ट्रस्ट को सौंपे
श्रीराम श्रेष्ठ उपाध्याय  
मथुरा। श्रीकृष्ण जन्मस्थान मामले में अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री की ओर से दाखिल वाद पर आज जिला जज राजीव भारती की अदालत में सुनवाई हुई। वादी पक्ष ने श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान द्वारा शाही मस्जिद ईदगाह कमेटी से किए गए समझौते को रद करने की मांग की।जबकि उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड और शाही मस्जिद ईदगाह कमेटी ने भी अपने तर्क प्रस्तुत कर वाद खारिज करने की मांग की। सभी पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने फैसला सुरक्षित कर लिया।डीजीसी शिवराम सिंह तरकर ने बताया कि अदालत 19 मई को ये फैसला सुनाएगी कि ये वाद आगे चलने लायक है या नहीं ?
लखनऊ निवासी अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री ने वाद दायर कर श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर से शाही मस्जिद ईदगाह को हटाकर पूरी 13.37 एकड़ जमीन श्रीकृष्ण जन्मभूमि ट्रस्ट को सौंपने की मांग की है।आज इस मामले में अदालत में करीब दो घंटे तक सुनवाई की गई। इस दौरान शाही मस्जिद ईदगाह कमेटी के सचिव तनवीर अहमद भी मौजूद रहे।वादी पक्ष का तर्कवादी पक्ष के अधिवक्ता हरिशंकर जैन और विष्णु शंकर जैन ने कहा कि श्रीकृष्ण जन्मस्थान की जमीन श्रीकृष्ण जन्मभूमि ट्रस्ट के नाम है। जबकि शाही मस्जिद ईदगाह कमेटी से श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान ने 1968 में समझौता किया था। जमीन ट्रस्ट के नाम पर होने से संस्थान को समझौता करने का अधिकार ही नहीं है, ऐसे में ये समझौता रद किया जाए और पूरी जमीन ट्रस्ट को दी जाए।

गाजियाबाद में हत्या, होटल के कमरे में मिला शव

गाजियाबाद में हत्या, होटल के कमरे में मिला शव

अश्वनी उपाध्याय   
गाजियाबाद/अलीगढ़। अलीगढ़ की महिला की गाजियाबाद में हत्‍या कर दी गई। महिला का शव होटल के कमरे में मिला है। जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। गाजियाबाद की पुलिस ने अलीगढ़ में मृतक महिला के स्‍वजनों को जानकारी दे दी है। सूचना मिलने के बाद स्‍वजन अलीगढ़ से गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए हैं।
गाजियाबाद नगर कोतवाली क्षेत्र के बजरिया स्थित एक होटल में महिला की हत्या कर दी गई। महिला का शव बृहस्पतिवार सुबह कमरे में मिला। मृतका की पहचान अलीगढ़ निवासी प्रियंका देवी पत्नी व्यापारी सिंह के रूप में हुई है। महिला कल देर रात होटल में आकर रूकी थी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। डाक्टरों का पैनल महिला के शव को पोस्टमार्टम करेगा। इधर अलीगढ़ में जानकारी मिलने पर अनेक रिश्‍तेदार व परिचित मृतक महिला के घर पहुंच गए और शोक संवेदना व्‍यक्‍त की।

अतिक्रमण हटाओ अभियान, जनता का उत्पीड़न

अतिक्रमण हटाओ अभियान, जनता का उत्पीड़न

आमिर खान  
अलीगढ़। व्यापारी संघर्ष समिति द्वारा समद रोड स्थित एक रेस्टोरेंट में आज एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए समिति के अध्यक्ष अनिल सेंचुरी व महामंत्री मनीष अग्रवाल वूल ने कहा कि समाचार पत्रों व व्यापारियों के माध्यम से पता चला कि 6 मई से नगर निगम द्वारा बाजारों में अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जाएगा। अलीगढ़ व्यापारी संघर्ष समिति भी अतिक्रमण की विरोधी है किन्तु एक बड़ा प्रश्न यह भी है कि क्या बाजारों में अतिक्रमण केवल दुकानदारों द्वारा ही किया जाता है, जो न केवल नगर-निगम को बल्कि सरकार को भी भारी भरकम राजस्व देता है।
बाजारों व महानगर के प्रत्येक मार्ग पर शहर की सूरत बिगाड़ने वाले सब्जी विक्रेताओं, ठेल-ढकेल व फुटपाथ विक्रेताओं के लिए आज तक नगर-निगम वैंडिंग जोन भी विकसित नहीं कर पाया है। लेकिन अतिक्रमण हटाओ अभियान की आड़ में बार-बार दुकानदारों का उत्पीड़न किया जाता है।  अलीगढ़ व्यापारी संघर्ष समिति के पदाधिकारी माँग करते हैं कि अतिक्रमण अभियान चलाने से पहले नगर निगम पहले अपने गिरेबान में झाँककर देखे कि गृहकर के बदले जितनी सुविधाऐं नगर-निगम को देनी चाहिए,पहले नगर-निगम अपनी व्यवस्थाओं को दुरूस्त करे तथा व्यापारी संगठनों के साथ सार्थक बातचीत कर पहले सर्वमान्य मानक व ठोस कार्य योजना तय किये जाऐं। महामंत्री हरिकिशन अग्रवाल व वरिष्ठ सलाहकार सुशील मित्तल ने कहा कि व्यापारियों से 5 गुना गृहकर वसूल कर भी कोई सुविधा न देने वाले नगर निगम को अपने फंड से अपने मानकों के अनुसार नाली के ऊपर का निर्माण स्वयं कराना चाहिए। स्मार्ट सिटी के नाम पर आया हुआ सारा धन सिविल लाइन क्षेत्र में खर्च किया जा रहा है जबकि पुराने शहर की स्थिति अभी भी नारकीय बनी हुई है। वरिष्ठ उपाध्यक्ष अन्नू बीड़ी व उपाध्यक्ष संजीव अग्रवाल ने कहा कि 10 मिनट की बारिश में रेलवे रोड, मैरिस रोड सहित महानगर के अधिकांश हिस्सों में नाले-नाली उफन कर बाहर आ जाते हैं। सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है।  व्यापारी संघर्ष समिति के समस्त पदाधिकारी नगर आयुक्त से इस प्रेस वार्ता के माध्यम से आग्रह करते हैं कि जब तक सरकारी अतिक्रमण न हटा लिए जाएं तथा व्यापारी संगठनों के साथ व्यापारियों की समस्याओं पर अतिक्रमण हटाने पर सहमति ना बने तब तक इस अभियान को स्थगित किया जाए, जिससे अतिक्रमण अभियान के विरोध की स्थिति ना बने। 
अन्यथा की स्थिति में अलीगढ़ व्यापारी संघर्ष समिति सम्पूर्ण व्यापारी समाज व आम जनता को साथ लेकर नगर-निगम के विरूद्ध वृहद जनान्दोलन छेड़ने को विवश होगी। जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी नगर-निगम के अधिकारियों की होगी।

मेरी ख्वाहिश है कि मैं फ़रिश्ता हो जाऊं...

मेरी ख्वाहिश है कि मैं फ़रिश्ता हो जाऊं...
हरिओम उपाध्याय  
लखनऊ। विधानसभा चुनाव 2022 से पहले प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के दोबारा मुख्यमंत्री बनने या भाजपा की सरकार बनने पर उत्तर प्रदेश को छोड़ने की बात कहने वाले प्रख्यात शायर मुनव्वर राना का हृदय परिवर्तन हो गया है। शायर राना ने गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोटो को शेयर कर एक शेर पेश किया है। फोटो में सीएम योगी आदित्यनाथ अपनी मां का चरण स्पर्श पर उनका आशीर्वाद ले रहे हैं।
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के दौरान भारतीय जनता पार्टी तथा सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ बड़ा अभियान छेडऩे वाले शायर मुनव्वर राना ने तो यह घोषणा कर दी थी कि योगी आदित्यनाथ के दोबारा सीएम बनने पर उत्तर प्रदेश को छोड़ दूंगा। उस समय खासे चर्चित रहे शायर मुनव्वर राना की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर अब इस शायरी के अलग मायने-मतलब निकाले जा रहे हैं।

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ, माँ से इस तरह लिपट जाऊँ कि बच्चा हो जाऊं।

जनहित याचिका पर केंद्र व दिल्ली सरकार को नोटिस

जनहित याचिका पर केंद्र व दिल्ली सरकार को नोटिस 

अकांशु उपाध्याय       

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों के लिए बीमा अनिवार्य रूप से जारी करने के निर्देश संबंधी जनहित याचिका पर केंद्र और दिल्ली सरकार को अपना पक्ष रखने के लिए गुरुवार को नोटिस जारी किया। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश विपिन सांघी और न्यायमूर्ति नवीन चावला ने संबंधित मामले की सुनवाई के बाद केंद्र और दिल्ली सरकार को अपना जवाब प्रस्तुत करने के आदेश दिये हैं।

न्यायालय ने इस मामलें की सुनवाई 20 अक्टूबर तक के लिए स्थगित कर दी है। याचिका में कहा गया है कि देश में इलेक्ट्रिक वाहनों का चलन तेजी से बढ़ रहा हैं और खरीदार को यह चिंता हो सकती है कि उन्हें उपयुक्त इलेक्ट्रिक वाहन बीमा कहां मिल सकता है। याचिका में यह भी कहा गया है कि इलेक्ट्रिक वाहन चलाने वालों को हेलमेट पहनने के साथ ही बीमा कवर लेनी चाहिए।

₹333 की कीमत के साथ नए प्रीपेड प्लान लॉन्च

₹333 की कीमत के साथ नए प्रीपेड प्लान लॉन्च  

अकांशु उपाध्याय          

नई दिल्ली। जियो अपने ग्राहकों के लिए एक बार फिर से कुछ ऑफर लेकर आया है। दरअसल, जियो ने 333 रुपये की शुरुआती कीमत के साथ नए प्रीपेड प्लान लॉन्च कियें हैं। इसमें यूजर्स को अनलिमिटेड कॉलिंग, फ्री SMS और डेटा के साथ-साथ Disney+ Hotstar का फ्री सब्सक्रिप्शन मिल रही है। इसमें यूजर्स को अनलिमिटेड कॉलिंग, एसएमएस की सुविधा के साथ-साथ डेली डेटा भी मिल रहा है। इतना ही नहीं कंपनी इन प्लान्स के साथ फ्री में लोकप्रिय ओटीटी प्लेटफॉर्म Disney+ Hotstar का सब्सक्रिप्शन भी दे रही है।

बता दें Disney+ Hotstar के साथ पाटनर्शिप से जियो अपने प्रीपेड यूजर्स को चुनिंदा रिचार्ज प्लान पर Disney+ Hotstar मोबाइल का फ्री सब्सक्रिप्शन दे रहा है। इस नए प्रीपेड प्लान में यूजर्स को कई और सुविधाएं भी मिल रही हैं। 333 रुपए के इस प्लान में यूजर को हर रोज 1.5जीबी हाई स्पीड डेटा, अनलिमिटेड कॉलिंग और रोजाना 100 एसएमएस की सुविधा भी मिल रही है। इसकी वैलिडिटी 28 दिन है।
56 दिन की वैलेडिटी के साथ दूसरा प्लान 583 रुपये का और 84 दिन की वैलिडिटी के साथ 783 रुपये के प्लान में भी यह सारी सुविधाएं हैं।

स्कूल बस की चपेट में आने से एक छात्र की मौंत

स्कूल बस की चपेट में आने से एक छात्र की मौंत

गोपीचंद
बागपत। उत्तर प्रदेश के बागपत में गुरुवार सुबह एक छ: वर्षीय छात्र की स्कूल बस की चपेट में आने से मौत हो गई। सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया और स्कूल परिसर में जाकर जमकर हंगामा किया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाने का प्रयास किया लेकिन परिजनों पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया।
जानकारी के अनुसार चामरावल निवासी अरुण का छह वर्षीय पुत्र आयुष पांची- चमरावल मार्ग के एक पब्लिक स्कूल में यूकेजी कक्षा का छात्र था। गुरुवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे वह स्कूल पहुंच गया था।
स्कूल परिसर में ही स्कूल की बस को बैक करते हुए वह छात्र बस के टायर के नीचे आ गया, जिसमें उसकी मौके पर ही मौत हो गई । सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। जिसके बाद परिजनों ने स्कूल परिसर में जमकर हंगामा किया और गाड़ी ड्राइवर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हत्या करने का आरोप लगाया।
परिजनों ने हंगामा करते हुए एसपी और डीएम को मौके पर बुलाने की मांग की। डीएम व एसपी को बुलाने की मांग को लेकर पांची-चमरावल मार्ग पर छात्र का शव रखकर जाम लगा दिया। इस दौरान प्रबंधक की गाड़ी में तोड़फोड़ भी की गई।

16 मई को लगेगा साल का पहला 'चंद्र ग्रहण'

16 मई को लगेगा साल का पहला 'चंद्र ग्रहण' 

डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत   
नई दिल्ली। वैशाख पूर्णिमा के दिन साल का पहला चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। यह पूर्ण चंद्र ग्रहण है। चंद्र ग्रहण 16 मई 2022, सोमवार को लगेगा। सोमवार का संबंध चंद्रमा से है। साथ ही सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित है। भगवान शिव अपने सिर पर चंद्रमा को धारण करते हैं। इसके अलावा इस दिन वैशाख पूर्णिमा भी है। इस तरह इन सभी कारणों से यह चंद्र ग्रहण बेहद खास होने जा रहा है।

चंद्र ग्रहण का समय और सूतक काल...
साल का पहला चंद्रग्रहण 16 मई 2022 सुबह 08:59 बजे शुरू होगा और करीब डेढ़ घंटे बाद सुबह 10:23 बजे खत्‍म होगा। यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण दक्षिणी-पश्चिमी यूरोप, दक्षिणी-पश्चिमी एशिया, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका के ज्यादातर हिस्सों, दक्षिण अमेरिका, प्रशांत महासागर, हिंद महासागर, अटलांटिक और अंटार्कटिका में दिखाई देगा। चूंकि यह चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा इसलिए इसका सूतक काल मान्य नहीं होगा।
वैशाख पूर्णिमा 2022 पर जरूर करें यह काम
वैशाख पूर्णिमा और चंद्र ग्रहण एक ही दिन होने से इस दिन कुछ बातों का ख्‍याल रखना बहुत जरूरी है। इस दिन पवित्र नदी में या पवित्र नदी के जल मिले पानी से स्‍नान करें। ग्रहण खत्‍म होने के बाद दान अवश्‍य करें। ग्रहण के दौरान कुछ खाएं-पिएं नहीं। साथ ही इस दौरान जितना हो सके भगवान की आराधना करें। मंत्र जाप करें। दरअसल, ग्रहण के दौरान नकारात्‍मक शक्तियां सक्रिय हो जाती हैं। लिहाजा इस नकारात्‍मकता से बचने के लिए अपनी सोच को सकारात्‍मक रखें और अपना ध्‍यान भगवान की भक्ति में लगाए।

'फैटी लिवर डिसीज' बीमारी के लक्षण, जानिए

'फैटी लिवर डिसीज' बीमारी के लक्षण, जानिए   

सरस्वती उपाध्याय        
'फैटी लिवर डिसीज' एक ऐसी बीमारी है, जिसमें लिवर की कोशिकाओं में बहुत ज्यादा फैट जमा हो जाता है। यह बीमारी आज के समय में काफी आम हो चुकी है। रिपोर्ट में बताया गया है कि आज हर 3 में से 1 इंसान इस बीमारी का सामना कर रहा है। इस बीमारी के कारण लिवर सही तरीके से काम नहीं कर पाता और कई समस्याएं होने लगती हैं। कई लोगों का मानना है कि जो लोग शराब आदि का सेवन ज्यादा करते हैं, केवल उन्हें ही इस समस्या का सामना करना पड़ता है, जबकि ऐसा नहीं है‌। जो लोग शराब नहीं पीते, उन लोगों में भी यह बीमारी हो सकती है।
लेकिन यह कहना गलत नहीं होगा कि जो लोग अधिक मात्रा में शराब का सेवन करते हैं, उन लोगों में यह समस्या अधिक देखी जाती है। जिन लोगों ने कभी भी शराब का सेवन नहीं किया है, उनमें भी यह समस्या देखने को मिलती है और इसके कई कारण हो सकते हैं। जैसे: हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल, डायबिटीज, स्लीप एपनिया, अंडरएक्टिव थाइरॉयड आदि। अधिकतर मामलों में शुरुआत में इस बीमारी का पता नहीं चल पाता। नॉन-अल्कोहल फैटी लिवर डिसीज एक ऐसी स्थिति है, जो शराब के कारण नहीं होती, लेकिन अगर ऐसे में शराब का सेवन किया जाए तो यह और भी बढ़ सकती है।

बढ़ता हुआ वजन हो सकता है कारण...
ब्रिटिश लिवर ट्रस्ट के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर पामेला हीली का कहना है कि कई लोगों को यह तक पता नहीं होता कि इंसान का बढ़ता हुआ वजन भी फैटी लिवर के जोखिम को बढ़ा सकता है।  लिवर हार्ट की ही तरह महत्वपूर्ण ऑर्गन है, लेकिन लोग इसे स्वस्थ रखने की बिल्कुल कोशिश नहीं करते।
लिवर के बारे में कई सारे मिथक भी फैले हुए हैं। उदाहरण के लिए बहुत से लोग मानते हैं कि लिवर की बीमारी उन लोगों को होती है, जो शराब का सेवन करते हैं। लेकिन इसके अलावा भी कुछ लोग ऐसे हैं जो शराब का सेवन नहीं करते लेकिन फिर भी उन्हें बढ़े हुए वजन के कारण फैटी लिवर डिसीज का खतरा होता है।

शुरुआत में नजर नहीं आते लक्षण...
हर इंसान के लिवर में फैट की कुछ मात्रा होती है, लेकिन जैसे-जैसे लिवर में फैट की मात्रा बढ़ती जाती है, उसे हाई ब्लड प्रेशर, किडनी प्रॉब्लम्स और डायबिटीज का खतरा बढ़ने लगता है।
शुरुआत में फैटी लिवर डिसीज के कोई लक्षण नजर नही् आते, लेकिन अगर इसे कंट्रोल नहीं किया जाए तो गंभीर लक्षण सामने आ सकते हैं। इसके बाद यह यह नॉन-अल्कोहॉलिक स्टीटोहेपेटाइटिस या NASH नामक एक और गंभीर स्थिति में परिवर्तित हो सकती है, जिसमें लिवर में काफी सूजन आ जाती है। जैसे-जैसे समय बीतता जाता है, यह सूजन ब्लड वेसिल्स और लिवर दोनों को प्रभावित करने लगती है। हो सकता है नॉर्मल इंसान को यह भी पता न चले कि उसके लिवर में समस्या पैदा हो चुकी है।

फैटी लिवर डिसीज वाले लोगों में दिखते हैं ये लक्षण...

अगर किसी को फैटी लिवर डिसीज की समस्या होती है तो उनमें ये लक्षण नजर आ सकते हैं।
पेट के ऊपरी दाएं भाग में दर्द (पसलियों के नीचे)
अत्यधिक थकान।
जरूरत से ज्यादा वेट लॉस।
कमजोरी।
लिवर को जब सालों से नुकसान पहुंच रहा हो तो वह सिरोसिस में बदल जाती है। सिरोसिस के कारण लिवर को जो नुकसान होता है, उसे सही नहीं किया जा सकता। ऐसी स्थिति के बाद ये लक्षण नजर आते हैं।
त्वचा का पीलापन।
आंखों का सफेद होना।
त्वचा में खुजली।
पैर, टखने या पेट में सूजन।
लाइफस्टाइल में करें बदलाव।
एक्सपर्ट कहते हैं कि इस बीमारी से बचने के लिए सबसे पहले लाइफस्टाइल में बदलाव करना काफी जरूरी है। एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी में लिवर रिसर्च के हेड प्रोफेसर जोनाथन फॉलोफील्ड कहते हैं, नॉन-अल्कोहॉलिक फैटी डिसीज के मरीज 2030 तक 5 प्रतिशत से बढ़कर 7 प्रतिशत तक हो जाएंगे। ज्यादातर लोग नहीं जानते कि उन्हें फैटी लिवर डिसीज हो चुका है। ये अक्सर ऐसे लोग होते हैं, जो बाहर से पतले दिखते हैं लेकिन उनके लिवर पर फैट होता है। उनके पेट के चारों ओर चर्बी जमी होती है और थकान भी होने लगती है‌।
फैटी लिवर डिसीज से बचने के लिए कुछ चीजों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है। एक्सपर्ट कहते हैं कि ऐसे लोगों को 7 से 10 प्रतिशत वजन घटाने की कोशिश करनी चाहिए। एरोबिक एक्सरसाइज या हल्की वेट ट्रेनिंग से भी लिवर की सेहत को फायदा होता है। इसके लिए डॉक्टर डायबिटीज कंट्रोल करने की भी सलाह देते हैं। शरीर में कॉलेस्ट्रोल लेवल को भी घटाने की कोशिश करनी चाहिए।

सुनवाई: 2 साल की सजा, 5 हजार का जुर्माना

सुनवाई: 2 साल की सजा, 5 हजार का जुर्माना  

भानु प्रताप उपाध्याय
मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर की एक अदालत ने लूट के आरोपी पर गैंगस्टर एक्ट के तहत सुनवाई करते हुए दोषी को 2 साल की सजा सुनाई है। कोर्ट ने दोषी पर 5 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है।
महिला और एक युवक से हुई थी लूट
अभियोजन अधिकारी संदीप सिंह, विशेष लोक अभियोजक राजेश शर्मा एवं दिनेश सिंह पुंडीर ने बताया कि 17 अगस्त 2019 को नई मंडी क्षेत्र में सुजाता नाम की महिला अपने पति के साथ मोटरसाईकिल पर सवार हाे कर रक्षा बंधन के पर्व पर अपने भाई के पास जा रहीं थी।
बागोवाली चौराहे के पास शाम 7 बजे के लगभग दो बदमाश सुजाता से 5 हजार रुपये और आभूषण लूटकर फरार हो गए थे। इसके बाद दूसरी घटना में वादी सनव्वर से 8 अक्टूबर 2019 को एक्सिस बैंक से वापस आते समय बझेड़ी गांव के पास मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने तमंचा लगाकर 1500 रुपये सहित पर्स लूट लिया था और फरार हो गए थे।
कई लुटेरों पर गैंगस्टर में हुई थी कार्रवाई
पुलिस ने नौशाद पुत्र मीरहसन निवासी 24 दक्षिणी कृष्णापुरी थाना कोतवाली सहित अन्य चार अभियुक्तों रशीद निवासी सरवट, उस्मान निवासी नसीरपुर, शानू उर्फ शाहनवाज निवासी सरवट और आमिर निवासी बढ़िवाला थाना छपार को गिरफ्तार कर लूट की उक्त घटनाओं का अनावरण किया।
तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक नई मंडी दीपक चतुर्वेदी ने इन अभियुक्तों के विरुद्ध गेंगेस्टर की कार्यवाही की, तथा विवेचक वीरेंद्र कसाना ने आरोप पत्र कोर्ट में दाखिल किया। नौशाद की पत्रांवली प्रथक कर सुनवाई उपरांत गेंगेस्टर एक्ट कोर्ट जज बाबूराम ने अभियुक्त नौशाद को 2 साल तीन माह की सजा और 5 हजार रुपये जुर्माने से दंडित किया।

भारत सरकार के खिलाफ साजिश का आरोप

भारत सरकार के खिलाफ साजिश का आरोप  

अकांशु उपाध्याय/दुष्यंत टीकम   

नई दिल्ली/रायपुर। भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर, राष्ट्रीय कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर भारत सरकार के खिलाफ साजिश करने का आरोप लगाया है। इसकी शिकायत कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव ने जगदलपुर थाने में की है। उन्होंने 3 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया है। 
मंत्री सिंहदेव ने कहा कि राष्ट्रीय कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की छवि धूमिल करने के उद्देश्य से भाजपा नेता ने ट्वीट किया है। सिंहदेव ने जगदलपुर पुलिस थाने में निरीक्षक एमन साहू को शिकायत पत्र सौंपा‌। 
इस दौरान युवा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष , पूर्व महापौर जतिन जायसवाल और जिला कांग्रेस के पदाधिकरी मौजूद रहे।

परीक्षा केंद्र में छात्रों पर मधुमक्खियों का हमला

परीक्षा केंद्र में छात्रों पर मधुमक्खियों का हमला
दुष्यंत टीकम  
भिलाई। छत्‍तीसगढ़ के भिलाई इस्पात संयंत्र के सेक्टर-10 स्थित इंग्लिश मीडियम हायर सेकेंडरी स्कूल में सीबीएसई दसवीं कक्षा की परीक्षा आयोजित की गई थी। यहां पर डीपीएस भिलाई के बच्चों को परीक्षा केंद्र दिया गया था। करीब 400 छात्र-छात्राएं अपने पालकों के साथ परीक्षा देने पहुंचे थी।
परीक्षा केंद्र में प्रवेश के लिए जा रहे विद्यार्थियों के ऊपर प्रवेश द्वार पर अचानक मधुमक्खियों ने हमला कर दिया।
इससे कई छात्र-छात्राएं घायल हो गई थोड़ी देर के लिए हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई। सभी लोग इधर-उधर भागने लगे। करीब 12 बच्चों को मधुमक्खी ने काट लिया। इससे वे काफी असहज महसूस करने लगे इसकी जानकारी होते ही शक तो नहीं ना अस्पताल से एंबुलेंस में बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण करने के लिए डॉक्टरों का एक दल पहुंचा जिनके द्वारा प्राथमिक उपचार के बाद सभी को परीक्षा के लिए रवाना कर दिया गया।
पहले भी हो चुकी है घटना
सेक्टर-10 स्थित इसी स्कूल में पिछले साल भी इस तरह से मधुमक्खियों के काटने की घटना हो चुकी है। इसके बाद संयंत्र प्रबंधन ने टाउनशिप के सभी सार्वजनिक भवनों की जांच करा कर मधुमक्खियों के छातों को हटाने के लिए कहा था । इसके लिए टेंडर भी जारी हुआ था और मधुमक्खियों के छत्ते को निकाला गया था ।
पालकों को भी किया घायल
सेक्टर 10 इंग्लिश मीडियम हाई सेकेंडरी स्कूल में अपने बच्चों को परीक्षा के लिए छोड़ने वाले कई अभिभावकों को मधुमक्खी ने काट लिया। मधुमक्खियों के डंक से घायल पालक परीक्षा होने तक परेशान रहे।

औद्योगिक क्षेत्र में कटौती, विनिर्माण सुधार में देरी

औद्योगिक क्षेत्र में कटौती, विनिर्माण सुधार में देरी 
सुनील श्रीवास्तव 
नई दिल्ली/सिडनी/बीजिंग/जकार्ता। कोयला एक जीवाश्म ईंधन है। भारत के बिजली उत्पादन में कोयले का महत्वपूर्ण योगदान है। लेकिन खदानों से बिजली संयंत्रों तक कोयला पर्याप्त नहीं पहुंच पाने की वजह से  बिजली उत्पादन पर भी असर पड़ने की संभावना है। इसको देखते हुए रेलवे ने विभिन्न बिजली संयंत्रों में कोयले की ढुलाई के लिए अपने 86 प्रतिशत खुले वैगनों को तैनात करने की बात कही थी। आईसीआरए लिमिटेड की अर्थशास्त्री अदिति नायर ने कहा कि अगर औद्योगिक क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति में कटौती की जाती है, तो यह विनिर्माण क्षेत्र में कम से कम एक और तिमाही में सुधार में देरी कर सकता है।
भारत करीब 200 गीगावॉट बिजली यानी करीब 70% बिजली का उत्पादन कोयले से चलने वाले प्लांट्स से करता है, लेकिन इस समय ज्यादातर प्लांट्स बढ़ती हुई बिजली की मांग और कोयले की कमी की वजह से कम बिजली सप्लाई कर पा रहे हैं। देश के कोयले से चलने वाले बिजली प्लांट्स के पास पिछले 9 सालों में सबसे कम कोयले का भंडार बचा है। यानी बिजली की डिमांड ज्यादा है, लेकिन कोयले की कमी की वजह से प्लांट्स जरूरत के मुताबिक बिजली का उत्पादन नहीं कर पा रहे हैं। कोल इंडिया बिजली प्लांट्स के लिए रोजाना 16.4 लाख टन कोयले की सप्लाई कर रहा है, जबकि कोयले की मांग प्रतिदिन 22 लाख टन तक पहुंच गई है। कोयले की खपत इस साल 8% बढ़ी है, लेकिन कोल इंडिया ने कोयले का उत्पादन नहीं बढ़ाया है। देश में कोयले का 80% उत्पादन कोल इंडिया ही करता है।
देश में पीक आवर में बिजली की डिमांड इस साल कोरोना महामारी की वजह से दो साल बाद बढ़ी है। रॉयटर्स के मुताबिक, अप्रैल के पहले 27 दिनों में बिजली सप्लाई डिमांड से 1.88 अरब यूनिट यानी 1.6% कम रही। ये पिछले 6 वर्षों में किसी एक महीने में सबसे ज्यादा बिजली की कमी है। देश में पिछले हफ्ते 62.3 करोड़ यूनिट बिजली की कमी हुई। यह पूरे मार्च महीने में हुई बिजली की कमी से भी ज्यादा है। यही वजह है कि जम्मू-कश्मीर से लेकर आंध्र प्रदेश तक देश के लगभग हर हिस्से में 2-8 घंटे तक की बिजली कटौती झेलनी पड़ रही है। सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी के मुताबिक, देश के कोयले से चलने वाले 150 बिजली प्लांट्स में से 86 में कोयले का स्टॉक बेहद कम हो गया है। इन प्लांट्स के पास अपनी सामान्य जरूरतों का 25% स्टॉक ही बचा है। इस समय देश भर में स्थित थर्मल बिजली प्लांट्स में 2.12 मिलियन टन कोयला उपलब्ध है, जोकि सामान्य स्तर 6.63 करोड़ टन से काफी कम है।
पिछले साल अक्टूबर में भी कोयले की कमी की वजह से बिजली संकट पैदा हुआ था, लेकिन इस बार ये संकट गर्मियों के महीने में पड़ने की वजह से और ज्यादा गहरा है। बिजली संकट की एक और वजह कोयले की ढुलाई न हो पाना है। दरअसल, कोयला कंपनियों से बिजली प्लांट्स तक कोयला पहुंचाने के लिए रेलवे के पास पर्याप्त कोच नहीं थे। बिजली संकट गहराने पर बिजली प्लांट्स तक कोयला ले जाने वाली ट्रेनों को रास्ता देने के लिए रेलवे ने ट्रेनों के 670 फेरे रद्द कर दिए हैं। रेलवे बिजली प्लांट्स तक कोयला पहुंचाने के लिए 415 कोच उपलब्ध करवा रहा है। हर मालगाड़ी से करीब 3500 टन कोयला ले जाया जा सकता है। कोयला ढुलाई में कमी के आरोपों के बीच रेलवे का कहना है कि उसने वित्त वर्ष 2022 में कोयले के ट्रांसपोर्टेशन में 11.1 करोड़ टन की बढ़ोतरी करते हुए 65.3 करोड़ टन कोयला ढोया। साथ ही रेलवे ने अप्रैल के पहले दो हफ्ते में कोयला ढोने वाले कोचों की संख्या को 380 से बढ़ाकर 415 कर दिया है।
इस संकट की एक और वजह है कोयले का आयात घटना। दुनिया के दूसरे सबसे बड़े कोयला आयातक भारत ने पिछले कुछ वर्षों से लगातार अपना आयात घटाने की कोशिश की है। लेकिन इस दौरान घरेलू कोयला सप्लायर्स ने उतनी ही तेजी से अपना उत्पादन बढ़ाया नहीं है। इससे सप्लाई गैप पैदा हुआ। अब इस गैप को सरकार चाहकर भी नहीं भर सकती क्योंकि रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से इंटरनेशनल मार्केट में कोयले की कीमत 400 डॉलर यानी 30 हजार रुपए प्रति टन के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई हैं।
देश में कोयले के उत्पादन के अतिरिक्त सालाना करीब 20 करोड़ टन कोयला इंडोनेशिया, चीन और ऑस्ट्रेलिया से आयात होता है। लेकिन अक्टूबर 2021 के बाद इन देशों से आयात घटना शुरू हो गया और अब भी इन देशों से आयात पूरी तरह प्रभावित है। इसका नतीजा ये हुआ कि बिजली कंपनियां कोयले के लिए अब पूरी तरह कोल इंडिया पर ही निर्भर हो गईं।
इस संकट की एक और प्रमुख वजह ये है कि राज्यों ने कोल इंडिया को जरूरत से एक महीने पहले कोयले की मांग ही नहीं भेजी। साथ ही कई राज्यों ने निर्धारित समय पर कोयले का उठाव भी नहीं किया। गर्मी बढ़ने से बिजली की खपत भी तेजी से बढ़ी और कोयला कम पड़ने लगा और अचानक बिजली संकट खड़ा हो गया। इस संकट के अगले दो महीने तक बने रहने की आशंका है। दरअसल, राज्यों का कोल इंडिया के साथ सालाना करार होता है। इसी के अनुसार हर राज्य को हर महीने निर्धारित कोयले का उठाव करना होता है। लेकिन ऐसा नहीं किया गया। कई राज्यों पर तो कोयले का उठान नहीं करने के लिए कोल इंडिया ने जुर्माना भी लगाया। सभी राज्य आने वाले 3-4 महीनों में कोयले की आवश्यकता का आकलन करने में चूक गए।

बुजुर्ग ने भेंट किया, बड़े चाव से खाया: छत्तीसगढ़

बुजुर्ग ने भेंट किया, बड़े चाव से खाया: छत्तीसगढ़
दुष्यंत टीकम  
बलरामपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को ग्राम डौरा में समूह की महिलाओं ने तेंदू, कोयनार भाजी, महुआ लड्डू, कसार लड्डू, ठेठरी, खुरमी, कच्चा आम भेंट किया। जिसे उन्होंने बड़े चाव से खाया। बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के डौरा में आयोजित भेंट मुलाकात कार्यक्रम में 67 वर्षीय बुजुर्ग महिला कबिलासो उस वक्त भावुक हो गईं जब उनकी मांग पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि अभी इसी वक्त बुजुर्ग महिला का राशन कार्ड बनाकर दीजिये। मुख्यमंत्री के निर्देश पर आधे घँटे के भीतर ही महिला का राशनकार्ड बन गया। मुख्यमंत्री ने राशनकार्ड देते हुए बुजुर्ग महिला से पूछा अब तो खुश हो दाई। मुख्यमंत्री के इतना कहते ही कबिलासो भावुक हो उठी और उनके दोनों हाथ आशीर्वाद देने के लिए मुख्यमंत्री के सर पर रख दिये । मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता देखते ही चौपाल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठी।

3 मासूमों को फंदे पर लटकाया, आत्महत्या की

3 मासूमों को फंदे पर लटकाया, आत्महत्या की
नरेश राघानी
चित्तौड़गढ़। राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले के कपासन थाना क्षेत्र के ग्राम कछिड़ाखेड़ी में एक पोल्ट्रीफार्म परिसर में रतलाम जिले के शिवगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम घोड़ापल्ला निवासी एक महिला ने पहले अपने तीन मासूम बच्चों (दो पुत्रियां व एक पुत्र) को फांसी के फंदे पर लटकाया। इसके बाद खुद ने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बच्चों की हत्या करके खुद के फांसी लगाने का कारण पता नहीं चल पाया है। कपासन पुलिस मामले की जांच कर रही है। ने नईदुनिया से दूरभाष पर चर्चा में बताया कि भूरालाल निवासी ग्राम घोड़ापल्ला थाना शिवगढ़ (रतलाम, मध्यप्रदेश) ग्राम कछियाखेड़ी में आरएनटी कालेज के पास स्थित पाेल्ट्रीफार्म में नाैकरी करता है। वह अपनी पत्नी 28 वर्षीय रूपा ने बड़ी पुत्री सात वर्षीय शिवाना, छह वर्षीय पुत्र रितेश व तीन वर्षीय किरण के साथ गांव में रहता है। बुधवार रात भूरालाल दूध लेने बाजार गया था। वहां से रात करीब साढ़े नौ बजे वापस लौटा तो तीनों बच्चे व पत्नी फांसी के फंदों पर लटके हुए थे। उसने आसपास के लोगों को बुलाया व पुलिस को भी सूचना दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच की व चारों के शव पोस्टमार्टम के लिए कपासन के सरकारी अस्पताल भिजवाये। भेरूलाल के स्वजन व रूप के मायके वालों को भी सूचना दी गई। वे गुरुवार दोपहर करीब तीन बजे अस्पताल पहुंचे। चारों के शवों का पोस्टमार्टम मेडिकल बोर्ड की टीम से कराया जाएगा। किया नाम रोशन पहले बड़ी बेटी, फिर बेटे व छोटी बेटी को फांसी के फंदे पर लटकाया, पुलिस के अनुसार आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे चेक किए गए है। कैमरों के फुटेज के अनुसार रूपा ने पोल्ट्रीफार्म के टीन शेड पर लगे पाइप पर रस्सी से फंदा बांधा और पहले बड़ी बेटी शिवानी को फांसी के फंदे पर लटकाया, इसके बाद छोटे बेटे रितेश को भी लटका दिया। इसके बाद सबसे छोटी बेटी किरण को भी फंदे पर लटकाया और उसके बाद खुद भी फंदे पर लटक गई। भेरूलाल करीब सात वर्ष से पोल्ट्रीफार्म पर पत्नी व बच्चों के साथ रहकर वहां नौकरी कर रहा है। उसे वहां रहने के लिए दो कमरे दिए गए। सूत्रों के अनुसार भेरूलाल व उसकी पत्नी रूप व बच्चे अच्छे से रहते थे। आसपास के लोगों ने पुलिस को बताया कि उनके बीच कभी किसी ने झगड़ा होते नहीं देखा। उधर, भेरूलाल ने पुलिस को बताया कि उसे भी पता नहीं कि रूपा ने यह कदम क्यों उठाया। उनके बीच कभी विवाद नहीं हुआ। हां, वह कभी-कभी शराब पी लेता था। रूपा को शराब पीना पसंद नहीं था, लेकिन इसे लेकर भी उनके बीच कभी कोई विवाद नहीं हुआ। अचानक रूपा ने यह कदम क्यों उठाया, यह जांच के बाद ही पता चल पाएगा।

कर्तव्य: 10 मिनट बाद देखा तो पापड़ सिक गए

कर्तव्य: 10 मिनट बाद देखा तो पापड़ सिक गए
अखिलेश पांडेय  
नई दिल्ली/इस्लामाबाद। बीकानेर में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर जवानों ने गर्मी का प्रचंडता दिखाने के लिए अनूठा प्रयोग दिया। इसका उन्होंने वीडियो भी बनाया। वीडियो में दो जवान हाथ में 2-2 कच्चे पापड़ लिए नजर आते हैं। जवानों ने इन पापड़ को रेत में दबाया। 10 मिनट बाद मिट्‌टी हटाकर देखा तो पापड़ सिके हुए थे। जवानों ने एक पापड़ को तोड़कर भी दिखाया। प्रयोग का मकसद क्या: इस वीडियो में एक जवान बोलता है कि वो आम जनता को बताना चाहते हैं कि सीमा पर सैनिक किन विषम परिस्थितियों से जूझते हुए देश सेवा के लिए जुटे रहते हैं। 

जवानों के लिए भी इस गर्मी में संसाधन जुटाने की अपील की गई है ताकि उन्हें भी गर्मी से बचाया जा सके। बीएसएफ डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह का कहना है कि यहां हर बार इतनी गर्मी पड़ती है। हमारे जवानों के हौसले गर्मी से भी ज्यादा सख्त है। गर्मी का लेवल: पश्चिमी राजस्थान के सभी जिले गर्मी और लू की चपेट में आ गए हैं। बीकानेर में तापमान 47 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया है। कई किलोमीटर में फैले रेगिस्तान में शहरों की तुलना में ज्यादा गर्मी पड़ रही है। वहां तापमान रिकॉर्ड करने का कोई साधन नहीं है, लेकिन कई लोगों का अनुमान है कि यहां तापमान 50 डिग्री से ज्यादा हो सकता है। गर्मी में सेना की क्या तैयारी: बीएसएफ ने जवानों को गर्मी से बचाने के लिए मचान पर कूलर लगा दिए हैं। इससे छह घंटे की सख्त ड्यूटी करने वाले जवान को कुछ देर के लिए आराम मिलता है। ये कूलर हर मचान के पास लगाया गया है, जहां पानी डालने की व्यवस्था भी की गई है। जवानों को इससे काफी हद तक राहत मिली है। इन कूलर्स को चलाने के लिए सोलर सिस्टम लगाया गया है।
नई दिल्ली/इस्लामाबाद। बीकानेर में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर जवानों ने गर्मी का प्रचंडता दिखाने के लिए अनूठा प्रयोग दिया। इसका उन्होंने वीडियो भी बनाया। वीडियो में दो जवान हाथ में 2-2 कच्चे पापड़ लिए नजर आते हैं। जवानों ने इन पापड़ को रेत में दबाया। 10 मिनट बाद मिट्‌टी हटाकर देखा तो पापड़ सिके हुए थे। जवानों ने एक पापड़ को तोड़कर भी दिखाया।
प्रयोग का मकसद क्या: इस वीडियो में एक जवान बोलता है कि वो आम जनता को बताना चाहते हैं कि सीमा पर सैनिक किन विषम परिस्थितियों से जूझते हुए देश सेवा के लिए जुटे रहते हैं। जवानों के लिए भी इस गर्मी में संसाधन जुटाने की अपील की गई है ताकि उन्हें भी गर्मी से बचाया जा सके। बीएसएफ डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह का कहना है कि यहां हर बार इतनी गर्मी पड़ती है। हमारे जवानों के हौसले गर्मी से भी ज्यादा सख्त है।
गर्मी का लेवल: पश्चिमी राजस्थान के सभी जिले गर्मी और लू की चपेट में आ गए हैं। बीकानेर में तापमान 47 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया है। कई किलोमीटर में फैले रेगिस्तान में शहरों की तुलना में ज्यादा गर्मी पड़ रही है। वहां तापमान रिकॉर्ड करने का कोई साधन नहीं है, लेकिन कई लोगों का अनुमान है कि यहां तापमान 50 डिग्री से ज्यादा हो सकता है।
गर्मी में सेना की क्या तैयारी: बीएसएफ ने जवानों को गर्मी से बचाने के लिए मचान पर कूलर लगा दिए हैं। इससे छह घंटे की सख्त ड्यूटी करने वाले जवान को कुछ देर के लिए आराम मिलता है। ये कूलर हर मचान के पास लगाया गया है, जहां पानी डालने की व्यवस्था भी की गई है। जवानों को इससे काफी हद तक राहत मिली है। इन कूलर्स को चलाने के लिए सोलर सिस्टम लगाया गया है।

संदिग्धों को पकड़ा, बीकेआई से संबंध: आतंकी

संदिग्धों को पकड़ा, बीकेआई से संबंध: आतंकी

राणा ओबरॉय
चंडीगढ़। हरियाणा के करनाल में पुलिस की बड़ी कार्रवाई हुई है। यहां से चार संदिग्धों को पकड़ा गया है। इनके पास से बड़ी मात्रा में गोलियां और बारूद के कंटेनर मिलने की बात सामने आ रही है। यह बारूद RDX हो सकता है, ऐसी आशंका जताई गई है। इनके पास इतनी गोलियां और बारूद मिला है। जिससे ये लोग कई जगहों पर बड़ी वारदातों को अंजाम दे सकते थे। बताया जा रहा है कि चारों का संबंध पंजाब के आतंकी संगठन बब्बर खालसा इंटरनेशनल (BKI) से है। इनको पकड़ने के लिए IB पंजाब पुलिस और हरियाणा पुलिस ने ज्वाइंट ऑपरेशन चलाया था।
पकड़े गए चारों संदिग्ध आतंकियों की उम्र 20-25 साल के आसपास है। ये लोग पंजाब से महाराष्ट्र के नांदेड जा रहे थे। ये लोग हरविंदर सिंह उर्फ रिंडा से जुड़े बताये जा रहे हैं। रिंडा के वॉन्टेड आतंकी है, जो फिलहाल पाकिस्तान में छिपा है।
मिली जानकारी के मुताबिक, करनाल के बसताड़ा टोल से पुलिस टीम ने एक इनोवा गाड़ी को पकड़ा था और चार लोगों को हिरासत में लिया था। फिलहाल यह गाड़ी मधुबन पुलिस थाने में खड़ी है। वहां बम निरोधक दस्ता मौजूद है। सीनियर अधिकारी भी वहां पहुंच रहे हैं।
पकड़े गए संदिग्ध आतंकियों से हथियार, बड़ी मात्रा में गोलियां और बारूद के कंटेनर बरामद हुए हैं। पुलिस के मुताबिक, बरामद बारूद आरडीएक्स हो सकता है। फिलहाल पुलिस की कई टीमें जांच में जुटी हैं।

30 हजार किमी पदयात्रा की घोषणा की: पटना

30 हजार किमी पदयात्रा की घोषणा की: पटना
अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने राजनीति में एंट्री करने के संकेत दिए हैं। उन्होंने बिहार में बदलाव के लिए तीन हजार किमी की पदयात्रा की घोषणा की है। प्रशांत किशोर ने पटना में गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी प्लानिंग शेयर की।
प्रशांत किशोर ने क्या कहा
प्रशांत किशोर ने कहा कि "बिहार आज 30 साल के लालू और नीतीश के राज के बाद भी देश का सबसे पिछड़ा और गरीब राज्य है। विकास के कई मानकों पर बिहार आज भी देश के सबसे निचले पायदान पर है। बिहार अगर आने वाले समय में अग्रणी राज्यों की सूची में आना चाहता है तो इसके लिए नई सोच और नए प्रयास की जरूरत है।
उन्होंने ये भी कहा कि "2 अक्टूबर से मैं स्वयं पश्चिमी चंपारण गांधी आश्रम से 3000 किलोमीटर की पदयात्रा शुरू करूंगा... बिहार के जिन लोगों से मिलना जरूरी है उनसे मुलाकात की जाएगी। उन्हें जनसुराज की परिकल्पना से जोड़ने का प्रयास करेंगे।
पीके ने कहा कि "अगर हम पार्टी बनाने की तरफ बढ़ते भी है तो वो प्रशांत किशोर की पार्टी नहीं होगी... अगले 3-4 महीनों में हमने बिहार में जिन 17-18 हज़ार लोगों को चिन्हित किया है, वे साथ में आकर तय करते हैं कि पार्टी बनाने की जरूरत है तो उस समय ये फैसला लिया जाएगा।
सियासी पारी या कुछ और...
राजनीतिक जानकारों की मानें तो प्रशांत किशोर ने भले ही राजनीति में एंट्री का सीधा एलान न किया हो लेकिन यह तैयारी राजनीतिक पारी के जैसी ही है। पदयात्रा के जरिए वह अपनी जमीन मजबूत करेंगे और इसके बाद सही वक्त पर सियासी पारी की घोषणा करेंगे।
नई पार्टी के नाम का कयास
प्रशांत किशोर ने फिलहाल किसी मंच या फिर पार्टी की बात से इंकार किया है। लेकिन बिहार के वरिष्ठ पत्रकारों की मानें तो पिछले दिनों उन्होंने जन सुराज के जरिए जनता से जुड़ने की बात कही थी। उनके इस ट्वीट से अंदाजा लगाया जा रहा है कि उनकी नई पार्टी का नाम जन सुराज हो सकता है।

विधवा पर फेंका तेजाब, जिद पर अड़ा था युवक

विधवा पर फेंका तेजाब, जिद पर अड़ा था युवक
संदीप मिश्र  
कानपुर। यूपी के कानपुर के बिधनू थाना क्षेत्र में बुधवार को एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक विधवा महिला से शादी की जिद लिए एक युवक कई दिनों से युवती को परेशान कर रहा था। जब कुछ न हुआ तो ड्यूटी पर जाती युवती पर आरोपी ने तेजाब डाल कर उसे जला दिया। इससे पीड़िता गंभीर रूप से झुलस गई और उसे सीएचसी में भर्ती कराया गया है। इसके बाद यूपी पुलिस की लापरवाही सामने आई है। पुलिस ने तड़पती अर्धनग्न महिला का पुलिस ने बयान लिया और उसका वीडियो बनाया। कुछ ही देर बाद ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। पीड़िता महिला ने बताया कि उसके पति की मौत को एक साल हो गया है और पिछले पांच महीने से अजय नामक युवक उसको परेशान कर रहा था। उससे शादी करने की जिद पर अड़ा था। उसे रास्ते में रोका करता था और जबरन उसके घर में भी घुस जाता था। महिला के परिवार ने भी कई बार उसे समझाया, लेकिन उसने नहीं माना। पीड़िता ने बताया कि बुधवार को जब वह ड्यूटी पर जा रही थी तो अचानक अजय ने उसे रास्ते में रोक कर तेजाब डाल दिया। वहीं पुलिस का कहना है कि उसने मामले में एफआईआर दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

2 से ज्यादा लाइसेंसी शस्त्र रखने पर पूर्णत: पाबंदी

2 से ज्यादा लाइसेंसी शस्त्र रखने पर पूर्णत: पाबंदी

अश्वनी उपाध्याय/अकाक्षुं उपाध्याय 

नई दिल्ली/गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश शस्त्र लाइसेंस धारकों को सरकारी तंत्र ने एक बार फिर चेताया है। 2 से ज्यादा लाइसेंसी शस्त्र रखने पर पूर्णत: पाबंदी हैं। नियमों का पालन न करना भारी मुश्किल में डाल देगा। यदि अभी भी आप 3 में से 1 शस्त्र सरेंडर नहीं करते तो कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार रहिए। दरअसल केंद्र सरकार के आदेश का अनुपालन सुनिश्चित हो सके, इसके मद्देनजर जिला प्रशासन को पुन: सख्त रूप अपनाना पड़ा है। अपर जिलाधिकारी (नगर) गाजियाबाद विपिन कुमार ने इस बावत दिशा-निर्देश जारी किए हैं। वर्तमान में निजी सुरक्षा से ज्यादा शौक एवं टशन दिखाने को लाइसेंसी शस्त्र रखने का चलन है।

इसके चलते शस्त्र लाइसेंस की डिमांड बढ़ रही है। वैसे जिस व्यक्ति की जान को खतरा है, उसे प्राथमिकता पर शस्त्र लाइसेंस देने का प्रावधान है। केंद्र सरकार द्वारा (आयुध) संशोधन अधिनियम-2019 के तहत प्रत्येक व्यक्ति को 3 के स्थान पर सिर्फ 2 शस्त्र रखने की अनुमति दी गई है। यदि किसी व्यक्ति के पास पहले से 3 शस्त्र हैं तो उसे नियमानुसार 1 शस्त्र सरेंडर करना अनिवार्य है। ऐसा न करने पर कानूनी कार्रवाई संभव है। इस सिलसिले में गाजियाबाद में पूर्व में फरवरी 2020 से नवम्बर 2020 के मध्य तक 4 बार सर्कुलर जारी किया जा चुका है। 18 फरवरी, 11 मार्च, 25 जून और 23 नवम्बर 2020 में जारी आदेश में सभी शस्त्र लाइसेंस धारकों को नए नियम का पालन करने की नसीहत दी गई थी। 13 दिसम्बर 2020 तक अतिरिक्त शस्त्र जमा कराना अनिवार्य किया गया था। प्रशासन को अब पांचवीं बार फरमान जारी करना पड़ा है।

अपर जिलाधिकारी (नगर) विपिन कुमार का कहना है कि जिस व्यक्ति पर अभी भी 3 शस्त्र हैं, उसे अपने तीसरे शस्त्र को तत्काल सरेंडर कर देना चाहिए। अन्यथा यह माना जाएगा कि तीसरे शस्त्र को अवैध तरीके से रखा गया है। तदुपरांत संबंधित लाइसेंसी के विरूद्ध नियमानुसार कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

केंद्र सरकार दिल्ली को कूड़ा-कूड़ा करने में लगी

केंद्र सरकार दिल्ली को कूड़ा-कूड़ा करने में लगी 
अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार पूरी दिल्ली को कूड़ा-कूड़ा करने में लगी हुई है। भुगतान नहीं मिलने के कारण एक के बाद एक कंपनियां कूड़ा उठाना बंद कर रही हैं। पहले मेट्रो वेस्ट नाम की कंपनी ने कूड़ा उठाना बंद किया और अब ए.जी. इनवायरो नाम की कंपनी ने भी कूड़ा नहीं उठाने को लेकर एमसीडी को पत्र लिख दिया है। आम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार से जल्द से जल्द कूड़ा उठाने की व्यवस्था को सही करने की मांग की है।
आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में कूड़े की स्थिति बहुत गंभीर होती जा रही है। कल हमने बताया था कि किस तरह से करोलबाग के लगभग 7 वार्डों में पिछले 10 दिनों से कूड़ा नहीं उठाया जा रहा है। उसका कारण यह है कि मेट्रो वेस्ट नाम की एक कंपनी, जो कूड़ा उठाने का काम करती है, उसका भुगतान नहीं किया जा रहा है। आज ए.जी. इनवायरो नाम की एक दूसरी कंपनी ने भी कूड़ा उठाने से हाथ खड़े कर लिए हैं।
उन्होंने कहा कि कंपनी ने एमसीडी को पत्र लिखा है कि यदि आप हमारा भुगतान नहीं करेंगे तो हमें भी कूड़ा उठाना बंद करना पड़ेगा। दिल्ली के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि एक-एक करके दिल्ली में जितनी भी कूड़ा उठाने वाली कंपनियां हैं, पैसा नहीं मिलने के कारण वह अपने काम से पीछे हट रही हैं। ध्यान होगा जब तीनों निगमों के एकीकरण का काम हो रहा था तो भाजपा के लोग कह रहे थे कि अब एमसीडी केंद्र सरकार के पास है तो अब दिल्ली की सभी समस्याएं खत्म हो जाएंगी। अब न पैसों की और न ही कोई अन्य समस्या आएगी। अब समय पर भुगतान होगा क्योंकि अब एमसीडी केंद्र सरकार के पास चली गई है। लेकिन स्थिति यह है कि पहले तो किसी तरह से भुगतान होता भी था लेकिन अब उतना भुगतान होना भी बंद हो गया है।
एमसीडी प्रभारी ने कहा कि यदि यही स्थिति बनी रही तो अगले एक से ढेढ़ महीनों में दिल्ली की जितनी भी कूड़ा उठाने वाली कंपनियां हैं, सभी या तो अपना काम वापस ले लेंगी या तो कहीं और काम शुरू कर देंगी। अगर ऐसी स्थिति बनती है तो जैसे आपने करोलबाग के सातों वार्डों की स्थिति देखी, वहां पर पैदल चलना मुश्किल हो गया है। हर तरह बदबू है। उसी तरह से पूरी दिल्ली को एक महामारी की तरफ ढकेला जा रहा है। भाजपा के नेता मिलकर इसकी पूरी योजना बना रहे हैं कि दिल्ली को कूड़ा-कूड़ा कर दिया जाए। भाजपा की केंद्र सरकार से हमारी एक ही मांग है कि कूड़ा नहीं उठने के कारण दिल्ली के नागरिकों को इससे बहुत परेशानी हो रही है इसलिए दिल्ली में कूड़ा उठवाने का काम जल्द शुरू करवाइए। समाज कल्याण मंत्री कार्यालय*इस दौरान जिले के 3011 के अन्य रोटरी गणमान्य व्यक्तियों के साथ-साथ क्लब के सदस्यों ने भी भाग लिया। इस दौरान नताशा चोपड़ा मौजूद रहीं।

पीएम उम्मीदवार, चीन की जासूस से मुलाकात

पीएम उम्मीदवार, चीन की जासूस से मुलाकात 
मनोज सिंह ठाकुर  
भोपाल। सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस पर हमला बोला है, उन्होंने कहा राहुल गांधी की विदेश यात्रा देश के लिए एक संकट है।  एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 18-18 घंटे काम कर देश को विश्व गुरु बनाने का काम कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ पीएम के उम्मीदवार नेपाल के पब में शराब पीते राहुल गांधी हाथ में गिलास लिए चीन की महिला जासूस से मुलाकात करते हैं। सांसद प्रज्ञा 1.25 करोड़ की लागत से बने नवनिर्मित रेलवे स्टेशन भवन का उद्घाटन करने सीहोर पहुंची थी।
सांसद प्रज्ञा ने लाउडस्पीकर विवाद पर कहा कि पूजा करने की आजादी सभी को है लेकिन चिल्लाने से पूजा नहीं होती है। हनुमान चालीसा का पाठ इसी क्रिया की प्रतिक्रिया है। उन्होंने राजस्थान में कांग्रेस की सरकार पर भी नाराजगी जताते हुए कहा कि राजस्थान सरकार ने प्राचीन मंदिरों को नष्ट कर दिया। अगर आपमें हिम्मत है तो मजार को हाथ लगाकर बताए औकात समझ आ जायेगी। कांग्रेस का डीएनए खराब है। 
दरअसल बुधवार को भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के सीहोर स्टेशन पर नवनिर्मित स्टेशन भवन का उद्घाटन करने पहुंची थी। उन्होंने कार्यक्रम में कहा कि कोरोना के बाद लगभग सभी ट्रेनें शुरू हो गई हैं और मुझे सीहोर में कुछ ट्रेनों को रोकने के लिए कहा गया है, उस पर कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही लोगों को इसका लाभ मिलेगा।

मेरे लिए यह रिश्ता पवित्र और अहम: मलाइका

मेरे लिए यह रिश्ता पवित्र और अहम: मलाइका
कविता गर्ग  
मुंबई। बॉलिवुड में कई बिग फैट वेडिंग हो चुकी हैं और कई होने वाली हैं। कटरीना-विक्की, रणबीर-आलिया जैसे फेमस कपल सात फेरे ले चुके हैं तो अथिया शेट्टी-केएल राहुल, तारा सुतारिया-आदर जैन, सिद्धार्थ मल्होत्रा और कियारा आडवाणी सहित कई जोड़ियों का अभी दूल्हा-दुल्हन बनना बाकी है। इन सबके बीच लोगों की निगाहें मलाइका अरोड़ा और अर्जुन कपूर की शादी पर भी टिकी हुई हैं। अब मलाइका ने इस पर खुलकर बात की है। उन्होंने कंफर्म कर दिया है कि दोनों इस बारे में सोच रहे हैं। अब दोनों प्लान कर रहे हैं कि आगे क्या करना है।
मलाइका अरोड़ा ने अर्जुन कपूर संग अपने रिश्ते और अभी वो किस स्टेज पर हैं, इस पर बात करते हुए हमारे सहयोगी को दिए इंटरव्यू में कहा, 'सबसे जरूरी बात ये है कि अगर हम जानते हैं कि हम एक साथ फ्यूचर चाहते हैं। अगर आप ऐसे रिश्ते में हैं, जहां आप अभी भी चीजों को समझ रहे हैं और कह रहे हैं, 'ओह, मुझे नहीं पता...।' ये वो जगह नहीं है, जहां मैं अपने रिश्ते में खड़ी हूं। ये मेरे लिए पवित्र और अहम है। मुझे लगता है कि हम एक ऐसी जगह पर हैं, जहां हम कहां हैं और आगे क्या करना है, वाले हिस्से के बारे में सोच रहे हैं। हम चीजों पर बहुत डिस्कस करते हैं। हम एक ही विचारों और आइडिया के साथ सेम प्लेस पर हैं। हम वास्तव में एक-दूसरे को पा चुके हैं।
मलाइका ने आगे कहा, 'हम मैच्योर स्टेज पर हैं, जहां अभी भी कई डिस्कवरी के लिए जगह खाली है, लेकिन हम फ्यूचर को एक साथ देखना पसंद करेंगे और देखेंगे कि हम इसे यहां से कहां ले जा सकते हैं। हम इसके बारे में हंसते और मजाक करते हैं, लेकिन हम बहुत सीरियस भी हैं। आपको अपने रिलेशनशिप में पॉजिटिव और सिक्योर महसूस करना होगा। मैं बहुत खुश और पॉजिटिव हूं। अर्जुन मुझे वो कॉन्फिडेंस और श्योरिटी देता है, लेकिन ये दोनों तरफ से है। हां, मुझे नहीं लगता है कि हमें एक साथ सभी कार्ड खोलने चाहिए। हम अभी भी अपने जीवन और रोमांस को हर दिन एक साथ प्यार करते हैं। मैं उसे हमेशा करती हूं कि मुझे तुम्हारे साथ जीना है। हम बाकी का पता लगा लेंगे, लेकिन मुझे पता है कि वो मेरा मैन है।
मलाइका अरोड़ा अर्जुन कपूर
मलाइका और अर्जुन सालों से एक-दूसरे को डेट कर रहे हैं। पहले तो उन्होंने अपना रिश्ता छिपाया, लेकिन धीरे-धीरे सोशल मीडिया पर एक-दूसरे के लिए प्यार जाहिर करने लगे। अब वो खुलकर अपने रिश्ते पर बात करते हैं। हालांकि, इस रिश्ते की वजह से दोनों ही ट्रोल का शिकार होते हैं, क्योंकि दोनों की उम्र में लंबा फासला है। इसके बावजूद वो इन सब बातों का ध्यान दिए बिना अपनी लाइफ इंजॉय कर रहे हैं।
19 साल का है बेटा
मलाइका अरोड़ा ने सलमान खान के भाई अरबाज खान से शादी की थी, लेकिन सालों बाद उनका तलाक हो गया। दोनों का एक बेटा है, जो 19 साल का है। दोनों अक्सर अपने बेटे के लिए साथ नजर आते हैं।

शुगर: पता नहीं चलता, बॉडी में पानी की कमी

शुगर: पता नहीं चलता, बॉडी में पानी की कमी

सरस्वती उपाध्याय     
डायबिटीज के मरीजों को अपना विशेष ख्याल रखना होता है, क्योंकि पहले ही उनका जीवन दवाइयों के सहारे चलता है। ऐसे में अगर ब्लड शुगर बढ़ने के अलावा और कोई दिक्कत मरीजों को हो जाए तो उनकी परेशानी बढ़ सकती है। इन परेशानी में पानी की कमी भी हो सकती है। जैसा की सभी जानते हैं कि गर्मी का मौसम है और ऐसे में बॉडी में पानी की कमी नहीं होनी चाहिए, लेकिन कई बार डायबिटीज मरीजों को यह पता नहीं चल पाता है कि उनकी बॉडी में पानी की कमी हो रही है। तो आइए जानते हैं कि ऐसे कौन-से लक्षण हैं, जिनसे पता चलेगा कि आपकी बॉडी में पानी की कमी हो रही है।
पानी की कमी के चलते होता है डिहाईड्रेशन
जैसा ही सभी जानते हैं कि डायबिटीज मरीजों में पानी की कमी के चलते कई बर गंभीर परेशानियां हो सकती है।  बॉडी में पानी की कमी के चलते मरीजों को डिहाईड्रेशन होने लगता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा क्यों होता है। दरअसल, इसके पीछे कई वजहें होती हैं।
क्यों होता है डिहाईड्रेशन
सबसे पहले तो कम पानी पीने की आदत से भी बॉडी में डिहाईड्रेशन होने लगता है। इसकी वजह मरीजों की बॉडी में पानी की कमी होती है। ऐसे में मरीजों को दिनभर में कम से कम 7-8 गिलास पानी पीना चाहिए।
– कई बार मरीजों का ब्लड शुगर बढ़ रहता है, जिसके चलते भी डिहाईड्रेशन की समस्या होती है। तो ऐसे में मरीजों को अपना विशेष ख्याल रखना पड़ता है।
– खराब डाइट भी डिहाईड्रेशन की वजह हो सकती है। इसलिए मरीजों को अपनी डाइट पर खास ध्यान देना होता है, ताकी किसी भी प्रकार से आपकी बॉडी डिहाईड्रेट न रहे।
पानी की कमी होने के 5 बड़े लक्षण
1. अगर आपको बहुत अधिक प्यास लगने के साथ-साथ बार-बार टॉयलेट जाना पड़चा है तो आपकी परेशानी बढ़ सकती है। इससे आपकी बॉडी को नुकसान हो सकता है, क्योंकि बार-बार टॉयलेट जाने से आपकी बॉडी में पानी की कमी हो सकती है।
2. थकान बनी रहना दूसरा कारण है। अगर आपकी बॉडी से थकान जाने का नाम नहीं ले रही है तो आपको अलर्ट रहने की जरूरत है। यह भी शरीर में पानी की कमी का संकेत है‌।
3. इसके अलावा अगर आपके हाथ-पैर सुन्न हो जाते हैं तो भी आपको थोड़ा अलर्ट रहना होगा। क्योंकि इससे भी आपकी परेशानी बढ़ सकती है।
4. बार-बार वजन घटना या बढ़ना भी बॉडी में पानी की कमी का संकेत हो सकता है। इसे भी आप नजरअंदाज न करें।
5. कई बार मरीजों को दिखना भी कम शुरू हो जाता है। यदि आपको भी ऐसा महसूस हो रहा है तो अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

मुस्लिम लड़की से लव मैरिज, शख्स की हत्या की

मुस्लिम लड़की से लव मैरिज, शख्स की हत्या की
इकबाल अंसारी  
हैदराबाद। हैदराबाद से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक शख्स की मुस्लिम लड़की से लव मैरिज करने पर हत्या कर दी गई। जानकारी के मुताबिक शख्स अपनी पत्नी के साथ रात करीब 9 बजे बाइक से गुजर रहा था। तभी महिला के भाइयों ने शख्स पर हमला कर दिया।
इसी साल हुई थी दोनों की शादी
जानकारी के मुताबिक, बिलापुरम नागराजू नाम के शख्स ने इसी साल सैयद अश्रीन सुल्ताना नाम की लड़की से लव मैरिज की थी। वो दोनों कॉलेज के दिनों से एक-दूसरे को चाहते थे। शादी के बाद सुल्ताना ने अपनी मर्जी से अपना नाम पल्लवी रख लिया था।
पुलिस ने बताया कि बुधवार को जब दोनों पति-पत्नी बाइक से जा रहे थे, तभी सुल्ताना के भाइयों ने शहर के एलबी नगर इलाके में एक चौराहे पर लोहे की रॉड से हमला किया। इस हमले में शख्स की मौत हो गई।
पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए गठित की टीम
पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए विशेष टीमों का गठन किया है। लाल बहादुर नगर के एसीपी श्रीधर रेड्डी के अनुसार, ‘शख्स की दो लोगों ने हत्या कर दी। मृतक अपनी पत्नी के साथ बाइक पर यात्रा कर रहा था। हाल ही में उनकी शादी हुई थी और दोनों अलग-अलग समुदायों के थे। मृतक की पत्नी के भाइयों ने नागराजू के साथ मारपीट की और फिर उस पर रॉड से वार किया, जिससे शख्स की हत्या हो गई।

केजीएफ चैप्टर 2, सिनेमा में नया इतिहास रचा

केजीएफ चैप्टर 2, सिनेमा में नया इतिहास रचा
कविता गर्ग  
मुंबई।  कन्नड़ अभिनेता यश ने रॉकी भाई बन फिल्म केजीएफ चैप्टर 2 से भारतीय सिनेमा में नया इतिहास बनाया है। पिछले महीने रिलीज हुई यह फिल्म दुनियाभर के बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई कर रही है। वहीं सिनेमा हॉल के बाद यश के फैंस और दर्शक केजीएफ 2 के ओटीटी पर रिलीज होने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। जिसके जल्द रिलीज होने की संभावना है।
इस बीच केजीएफ 2 के ओटीटी पर रिलीज होने को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। इतना ही नहीं यश की इस फिल्म के ओटीटी राइट्स भी काफी महंगे बिके हैं। जिसने खुद में नया रिकॉर्ड बनाया है। फिल्म केजीएफ चैप्टर 2 के ओटीटी राइट्स कथित तौर पर 320 करोड़ रुपये के बिके हैं। जिसे एक बड़े ओटीटी प्लेटफॉर्म ने खरीदा है।
हालांकि केजीएफ 2 के मेकर्स और न ही किसी ओटीटी प्लेटफॉर्म की ओर से आधिकारिक घोषणा हुई है, लेकिन यश के फैंस केजीएफ 2 को ओटीटी पर देखने के लिए काफी एक्साइटेड हैं। यह फिल्म 27 मई को ओटीटी पर रिलीज हो सकती है। यह फिल्म 14 अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज हुई है, जो लगातार शानदार कमाई कर रही है। केजीएफ चैप्टर 2 ने अपने ओपनिंग डे पर रिकॉर्ड तोड़ कमाई की है। इस फिल्म से ग्लोबली अपने पहले वीकेंड में 552 करोड़ रुपये की कमाई।
अब तक इस फिल्म ने ग्लोबली 1000 करोड़ रुपये से ज्यादा की कमाई कर ली है। इसके साथ ही केजीएफ चैप्टर 2 भारत की चौथी फिल्म बन गई है जिसने 1000 करोड़ रुपये से ज्यादा की कमाई की है। केजीएफ चैप्टर 2 अभी भी लगातार कमाई कर रही है। इस फिल्म को दर्शक हर भाषा में पसंद कर रहे हैं। केजीएफ चैप्टर 2 को केरल में अपने पहले दिन सबसे ज्यादा कमाई की है।
आपको बता दें कि केजीएफ चैप्टर 2 में अभिनेता यश के अलावा बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता संजय दत्त और अभिनेत्री रवीना टंडन भी मुख्य भूमिका में हैं। फिल्म में इन दोनों कलाकारों की एक्टिंग को भी खूब पसंद किया जा रहा है। केजीएफ का पहला चैप्टर साल 2018 में आया था। इस फिल्म को भी बॉक्स ऑफिस दर्शकों को काफी प्यार मिला था। जिसके बाद से केजीएफ चैप्टर 2 का दर्शक इंतजार कर रहे थे।

रेलवे भर्ती के माध्यम से 1,033 पदों पर भर्ती

रेलवे भर्ती के माध्यम से 1,033 पदों पर भर्ती
अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की ओर से अपरेंटिस पदों के लिए इच्छुक और योग्य उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इस रेलवे भर्ती के माध्यम से संगठन में कुल 1,033 पद भरे जाएंगे। एसईसीआर रेलवे की ओर से अपरेंटिस भर्ती के लिए पंजीकरण लिंक सक्रिय कर दिया गया है।
रेलवे अपरेंटिस भर्ती में आवेदन करने की अंतिम तिथि 24 मई, 2022 को समाप्त होगी।दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की अपरेंटिस भर्ती में चयनित उम्मीदवारों को एक वर्ष की अवधि के लिए प्रशिक्षुता प्रशिक्षु से गुजरना होगा और उन्हें सरकार के नियमों के अनुसार वजीफा यानी स्टाइपेंड दिया जाएगा।

पात्रता, चयन प्रक्रिया और अन्य विवरण यहां देखे जा सकते हैं। उम्मीदवारों को नीचे दिए गए चरणों का पालन करके अपरेंटिसशिप इंडिया या दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की आधिकारिक वेबसाइट apprenticeshipindia.gov.in और secr.indianrailways.gov.in और पर खुद को पंजीकृत करवाना होगा।

रेलवे भर्ती 
पद नाम पदों की संख्या
डीआरएम कार्यालय, रायपुर डिवीजन 696 पद
वेल्डर गैस और इलेक्ट्रिक 119 पद
टर्नर 76 पद
फिटर 198 पद
इलेक्ट्रीशियन 154 पद
स्टेनोग्राफर (अंग्रेजी) 10 पद
स्टेनोग्राफर (हिंदी) 10 पद
कंप्यूटर ऑपरेटर और प्रोग्राम असिस्टेंट 10 पद
हेल्थ एंड सेनेटरी इंस्पेक्टर 17 पद
मशीनिस्ट 30 पद
मैकेनिक डीजल 30 पद
मैकेनिक रिपेयर और एयर कंडीशनर 12 पद
मैकेनिक और ऑटो इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स 30 पद
वैगन रिपेयर शॉप, रायपुर 337 पद
वेल्डर 140 पद
टर्नर 15 पद
फिटर 140 पद
इलेक्ट्रीशियन 15 पद
मैकेनिक 20 पद
स्टेनोग्राफर (हिंदी) 2 पद
कंप्यूटर ऑपरेटर और प्रोग्राम असिस्टेंट 5 पद
चयन प्रक्रिया
न्यूनतम आवश्यक योग्यता के तहत छात्रों ने कक्षा 10वीं की परीक्षा न्यूनतम 50 फीसदी अंकों के साथ उत्तीर्ण की हो।
उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से संबंधित ट्रेड में आईटीआई कोर्स पास होना चाहिए।
आवेदन करने के लिए न्यूनतम आवश्यक आयु 15 वर्ष है और ऊपरी आयु सीमा 24 वर्ष है।
मैट्रिक और आईटीआई दोनों पाठ्यक्रमों में उम्मीदवारों द्वारा प्राप्त प्रतिशत अंकों का औसत लेकर मेरिट सूची तैयार की जाएगी।

महाराष्ट्र इकाई की महिला शाखा की प्रमुख नियुक्त

महाराष्ट्र इकाई की महिला शाखा की प्रमुख नियुक्त
कविता गर्ग 
मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने बृहस्पतिवार को पूर्व विधान पार्षद विद्या चव्हाण को पार्टी की महाराष्ट्र इकाई की महिला शाखा का प्रमुख नियुक्त किया। राकांपा ने एक बयान में कहा कि राज्यसभा सदस्य और पार्टी की महिला इकाई की राष्ट्रीय अध्यक्ष फौजिया खान ने इस नियुक्ति की घोषणा की।
इस अवसर पर चव्हाण ने कहा कि वह अपने कार्यकाल के दौरान मूल्य वृद्धि और महिलाओं से संबंधित मुद्दों को उठाएंगी। खान ने नागपुर, अमरावती, मराठवाड़ा, पश्चिमी महाराष्ट्र, कोंकण, ठाणे और उत्तरी महाराष्ट्र क्षेत्रों के लिए महिला इकाई की संभाग प्रमुखों की नियुक्ति की भी घोषणा की। बयान में कहा गया है कि पार्टी अतीत में महिला इकाई के लिए जिला प्रमुखों को नियुक्त कर चुकी है, लेकिन यह पहली बार है कि उसने संभाग प्रमुखों की नियुक्ति की है।

एमेज़ॉन, भारतीय निर्यात दोगुना करने की प्रतिज्ञा

एमेज़ॉन, भारतीय निर्यात दोगुना करने की प्रतिज्ञा 
पंकज कपूर  
देहरादून। एमेज़ॉन ने एक्सपोट्र्स डाइजेस्ट 2022 का अनावरण करते हुए घोषणा की। कि एमेज़ॉन ग्लोबल सेलिंग प्रोग्राम पर भारतीय निर्यातक द्वारा कुल निर्यात 5 बिलियन डॉलर के जादुई आंकड़े को पार करने की राह पर है। शुरुआत में 1 बिलियन डॉलर के लक्ष्य को हासिल करने में लगभग 3 साल लगे। परंतु 2 बिलियन डॉलर का लक्ष्य मात्र 17 महीनों में पूर्ण हुआ है। यह कार्यक्रम देश भर में हर आकार के व्यवसायों के बीच उल्लेखनीय रूप से अपनाया जा रहा है और 2015 में इसके लॉन्च होने के बाद से 1 लाख से अधिक निर्यातक इस कार्यक्रम से जुड़ चुके हैं। ये निर्यातक दुनिया भर में यूएसए, यूके, यूएई, कनाडा, मैक्सिको, जर्मनी, इटली, फ्रांस, स्पेन, नीदरलैंड, तुर्की, ब्राजील, जापान, ऑस्ट्रेलिया और सिंगापुर जैसे देशों में एमेजॉन की 18 अंतर्राष्ट्रीय वेबसाइटों के माध्यम से ग्राहकों को लाखों मेड इन इंडिया उत्पादों का प्रदर्शन एवं बिक्री कर रहे हैं। इस कार्यक्रम के विकास से उत्साहित होकर, एमेज़ॉन निर्यात को दोगुना करने की प्रतिज्ञा दोहराते हुए 2025 तक भारत को 20 बिलियन डॉलर के निर्यात में सक्षम करेगा।
इस अवसर पर बोलते हुए नारायण राणे यूनियन मिनिस्टर ऑफ़ माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (एमएसएमई) ने कहा एमएसएमई भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं जो भारत के सकल घरेलू उत्पाद में लगभग एक तिहाई का योगदान करते हैं एवं देश के लगभग आधे निर्यात में एमएसएमई का योगदान है भारतीय एमएसएमई की निर्यात क्षमता को बढ़ाना एक प्रमुख सरकारी प्राथमिकता है और भारतीय एमएसएमई को अंतरराष्ट्रीय बाजारों में उनकी सफलता के लिए समर्थन देने के प्रयास किए जा रहे हैं एमएसएमई निर्यात की हिस्सेदारी बढ़ाने की दिशा में एमेज़ॉन के निरंतर प्रयास सराहनीय हैं और 2025 तक 20 बिलियन डॉलर के निर्यात को सक्षम करने की उनकी प्रतिबद्धता समयानुरूप है मैं एमेज़ॉन और सभी एमएसएमई को आत्मानिर्भर भारत के दृष्टिकोण को साकार करने में मदद करने के लिए निर्यात-आधारित विकास को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए बधाई देना चाहता हूं।

जिग्नेश और नौ अन्य को मामले में दोषी ठहराया

जिग्नेश और नौ अन्य को मामले में दोषी ठहराया
इकबाल अंसारी  
अहमदाबाद। गुजरात के मेहसाणा की एक मजिस्ट्रेट अदालत ने गुरुवार को वडगाम के विधायक जिग्नेश मेवानी और नौ अन्य को पुलिस की अनुमति के बिना रैली करने के एक मामले में दोषी ठहराया। कोर्ट ने उन्हें जुलाई 2017 में मेहसाणा शहर से रैली करने के लिए अवैध रूप से इकट्ठा होने के आपराधिक मामले में दोषी ठहराया। 
सभी दोषियों को तीन महीने की कैद और एक-एक हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई गई है। दोषी ठहराए गए आरोपियों में जिग्नेश मेवानी के अलावा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) की नेता रेशमा पटेल भी शामिल हैं।

गृहमत्री ने सीमा प्रहरी सम्मेलन को संबोधित किया

गृहमत्री ने सीमा प्रहरी सम्मेलन को संबोधित किया
अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि सरकार सीमाओं की रक्षा के लिए मजबूती से डटे सीमा सुरक्षा बल के जवानों को हर मुमकिन सुविधा देने के लिए संकल्पबद्ध है। पश्चिम बंगाल के दौरे पर गए शाह ने गुरूवार को भारत-बांग्लादेश सीमा की हरिदासपुर चौकी पर ‘सीमा प्रहरी सम्मेलन’ को संबोधित किया।
इससे पहले उन्होंने सुंदरबन के दुर्गम क्षेत्र की सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार द्वारा बनवाई गयी नर्मदा, सतलुज तथा कावेरी फ्लोटिंग सीमा चौकियों का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा , “ इन फ्लोटिंग सीमा चौकियों से हमारे सीमा सुरक्षा बल के जवानों को सीमा की निगरानी व सुरक्षा करने में बहुत सहायता मिलेगी।”
शाह ने उद्घाटन के पश्चात नर्मदा, सतलुज और कावेरी फ्लोटिंग सीमा चौकियों का भ्रमण कर जवानों की सुविधाओं का निरीक्षण भी किया। उन्होंने कहा कि सरकार सुंदरबन के इस अत्यंत चुनौतीपूर्ण क्षेत्र में पूरी सजगता से देश की रक्षा करने वाले सीमा सुरक्षा बल के जवानों को हर मुमकिन सुविधा देने के लिए संकल्पबद्ध है। केन्द्रीय गृह मंत्री ने फ्लोटिंग सीमा चौकियों पर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए बोट एम्बुलेंस का भी शुभारंभ किया। किसी भी आपातकालीन स्थिति में ये बोट एम्बुलेंस बहुत सहायक सिद्ध होगी।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-209, (वर्ष-05)
2. शुक्रवार, मई 6, 2022
3. शक-1944, वैशाख, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2079। 
4. सूर्योदय प्रातः 05:38, सूर्यास्त: 06:57।
5. न्‍यूनतम तापमान- 27 डी.सै., अधिकतम-39+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
              (सर्वाधिकार सुरक्षित)   

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया 

एससी ने सभी महिलाओं को 'गर्भपात' का हक दिया  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। गुरुवार को देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्...