शनिवार, 12 अक्तूबर 2019

भाजपा की 15 किमी संकल्प पदयात्रा

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद,लोनी। महात्मा गांधी की 150वी जयंती के उपलक्ष में भारतीय जनता पार्टी पूरे देश में गांधी संकल्प पैदल पद यात्रा की योजना बनाई गई है।
इस कार्यक्रम में लोनी विधानसभा बलराम नगर मंडल में केंद्रीय मंत्री व सांसद गाजियाबाद जरनल वी,के सिंह विधायक नंदकिशोर गुर्जर जिला अध्यक्ष बसंत त्यागी संकल्प पैदल पद यात्रा संयोजक संजीव शर्मा जी पूर्व चेयरमैन मनोज धामा, पवन मावी जिला महामंत्री, राजेंद्र बाल्मीकि जिला महामंत्री, अनूप बैसला जिला अध्यक्ष, सतपाल प्रधान युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष, सुनील चौधरी मंडल अध्यक्ष, प्रशांत कुमार मंडल अध्यक्ष, रविन्द्र पंवार मंडल महामंत्री, कपिल पांचाल मंडल महामंत्री, राहुल, श्याम सुंदर मंडल महामंत्री, हर्ष चोहान जिला संयोजक, डॉ रवीश शर्मा सहित मंडल अध्यक्ष युवा मोर्चा बूथ अध्यक्ष मोर्चो की टीम एवं सेकड़ो की संख्या पद यात्रा की गई ।
पैदल पद यात्रा में जरनल वी के सिंह एवं सभी कार्यकताओ ने 15 किलोमीटर की दूरी तय कीी। जिसमें इन्द्रपुरी मूवी मैजिक बलराम नगर डाबर तलाब लोनी तिराहा खन्ना नगर रामेश्वर पार्क पुस्ता चौकी होते हुवे इस दौरान संकल्प पद यात्रा में पुष्प वर्षा एवं पगड़ी पहनाकर, पटका पहनाकर विभिन विभिन स्थानों पर जोरदार स्वागत किया गया। वर्धमान सरस्वती शिशु मंदिर में वृक्ष रोपण किया गया वृक्षारोपण के पश्चात, इसी तरह स्थानीय लोगों को मुक्त जल सरक्षण, स्वच्छता अभियान चलाया गया। 
जरनल वी.के सिंह ने 150वी जयंती पर कहा कि महात्मा गांधी ने भारतीय संस्कृति, मूल्यों को विश्वभर में स्थापित किया
देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी,प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने जन जन और प्रदेश सरकार की सभी योजनाओं समाज मे लाने की फिक्र करते हुए किसान,दलित,युवाओं का हौसला बढ़ाया,महिलाओं की पूर्ण सुरक्षा,गरीबों को पूर्ण रूप से सभी जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ देना का कार्य किया
मैंने मंगल बजार वार्ड 34 पूजा कॉलोनी में वी. के जरनल सिंह ने आयुष्मान लाभ हारती,अकाश विकाश योजना दो लाख, पच्चास हजार रुपये लाभ हारती और बूथ अध्यक्ष का फूल मालाओं से स्वगत किया गया
मुख्य रूप से जिला अध्यक्ष बसंत त्यागी विधायक प्रतिनिधि ललित शर्मा  मंडल अध्यक्ष प्रशांत कुमार जिला अध्यक्ष सुनील चौधरी युवा मोर्चा जिला महामंत्री अनुज त्यागी मंडल अध्यक्ष रविन्द्र पंवार महामंत्री कपिल पांचाल मंडल महामंत्री डॉ प्रमोद पार्षद राहुल श्याम सुंदर मंडल महामंत्री हर्ष चौहान जिला संयोजक डॉ रविश शर्मा सत्ते पंडित चौधरी चेनपाल सिंह जिला मीडिया प्रभारी अंकुश पांचाल मंडल महामंत्री राकेश उपाध्याय मंडल अध्यक्ष, रणसिंह कश्यप, आरेन्द्र शर्मा सुषमा राठीी, ओमबीर बाल्मीकिि, सिवा तहसीलदार आकाश ठाकुर ,कमल शास्त्री, रामचंद्र चौहान ,राजेश कुमार सक्सेना  वरुण धामा ,अजय गर्ग, दिनेश ढेेडा, सुदेश भारद्वाज, दीपेश शर्मा, राहुल पांचाल ,अरविंद ठाकुर, राजेश सोम, रामनिवास विश्वकर्मा, राहुल चौधरी, विकाश बैसोया, दीपक कुमार, रोहित शर्मा, धर्मेंद्र त्याग ,अशोक त्यागी, सचिन चौधरी, सचिन गर्ग सचिन वर्मा, राहुल उपाध्यय, आकाश गौतम, राम प्रताप तिवारी, अजय कुशवाहा, महिला मोर्चा डॉ मकसुदी चौधरी शीला कुशवाहा, सोनिया नेगी, आरती मिश्रा, मिथलेश आदि सैकड़ों की संख्या मे मोजूद रहे। 


भाजपा के खिलाफ कांग्रेस का धरना

 देवेश शर्मा की रिपोर्ट
अमरोहा। कांग्रेस पार्टी के प्रदेश सचिव सचिन चौधरी आज अपने पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं के साथ कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचकर भाजपा सरकार की करनी व कथनी को लेकर जोरदार धरना प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि 24 घंटे में 8 निर्मम हत्याएं हो चुकी है। ये प्रदेश सरकार में क्या चल रहा है। सुरक्षा व्यवस्था बिल्कुल धवस्त हो चुकी है।
शनिवार को कांग्रेस प्रदेश सचिव सचिन चौधरी ने एक धरना प्रदर्शन के माध्यम से उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के शासन में कानून व्यवस्था ध्वस्त होने का मुद्दा उठाते हुए जिन लोगों को न्याय नहीं मिल पा रहा है। उनकी आवाज बुलंद की।
वही उन्होंने अपर जिलाधिकारी गुलाबचंद को एक शिकायती पत्र सौंपते हुए जनपद भर में हुई हत्याओं की जांच कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि आज हालात इतने बुरे हो चुके हैं कि लोगों का घर से बाहर निकलना दुश्वार हो चुका है। महिलाओं के प्रति अपराध दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। जिनमें अब बच्चों को भी अपराधी अपराध का निशाना बना रहे हैं। गजरौला के गांव ओसीता जगदेवपुर, डगरपुरी व क्षेत्र के अन्य बच्चों को हत्या कर दी गयी है। और दो बच्चों जो कि खुले में शौच करने गए हुए थे। उनकी बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गयी है। यह बेहद निंदनीय घटना है। जब सरकार दावे करती है कि पूरा अमरोहा जिला खुले में शौच मुक्त हो चुका है, तो फिर लोग आज भी खुले में शौच करने क्यों जा रहे हैं। यह एक गंभीर प्रश्न चिन्ह खड़ा करता है।
इस दौरान प्रर्दशन में सचिन चौधरी के साथ कांग्रेस पार्टी के भारी संख्या में पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।


सैकड़ों ने भाजपा छोड़ सपा ज्वाइन की

चौधरी रुद्रसैन व चौधरी इन्द्रसैन के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों ने भाजपा छोड़ सपा ज्वाइन की ।
गंगोह। गंगोह विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी चौधरी इंद्रसेन व उनके बड़े भाई चौधरी रूद्र सेन के धुआंधार प्रचार के चलते आज दर्जनों गांव के दौरे के  दौरान चौधरी बंधुओं के समक्ष सैकड़ों लोगों ने भाजपा छोड़कर सपा ज्वाइन की
सपा जिलाध्यक्ष चौधरी रूद्र सैन ने आज धला पड़ा शाम तक सहित कई गांव में सभाओं को संबोधित कर समाजवादी पार्टी में आए लोगों का स्वागत किया सरदार भजन सिंह सरदार दिलबाग सिंह मास्टर जय सिंह शर्मा सतीश शर्मा ओम प्रकाश शर्मा धीरज शर्मा कृष्ण पाल शर्मा अरुण वरुण शर्मा बीजेपी छोड़कर समाजवादी में चौधरी इंद्रसेन के समर्थन में आए ऋषि पाल अतर सिंह फूल सिंह हरदेव सिंह हिरदाराम समीर सिंह दलित समाज बसपा छोड़कर समाजवादी में चौधरी इंद्रसेन के समर्थन में आए भाई खेड़ी और बिलाल खेड़ी के बीजेपी वाले समाजवादी में शामिल हुए रामपाल शर्मा भाई खेड़ी सुरेश प्रजापति बाई खेड़ी मास्टर जयपाल शर्मा कृष्ण शर्मा धीरज शर्मा ओम प्रकाश शर्मा बॉबी शर्मा अरुण शर्मा बिलाल खेड़ी से सतीश शर्मा बिला खेड़ी सहित सैकड़ों लोगों ने भाजपा को कहा अलविदा।


40 लाख लोगों ने घर छोड़ा:हगिबीस

टोक्यो। जापान में सबसे ताकतवर तूफान हगिबीस की वजह से लोगों में भयावह की स्थिति है। जापान मीडिया के अनुसार अभी तक 42 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों भेजा गया है। तूफान शनिवार (आज) समुंद्र तट से टकराने की आशंका बताई गई है। 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं।


'हगिबीस' तूफान के असर से राजधानी टोक्यो का आसमान गुलाबी और बैंगनी (The sky of capital Tokyo is pink and purple) हो गया है। फिलीपींस ने इस तूफान को हगिबीस नाम दिया है। वहां की भाषा में इसका मतलब रफ्तार होता है। बतादें कि जापान में 1958 में इसी तरह के तूफान ने भारी तबाही मचाई थी।


तेज हवाएं मचा रहीं तबाही : उस समय भयंकर तूफान की वजह से 1200 लोगों की मौत हुई थी। 180 किमी की रफ्तार से चल रही हवाओं ने तबाही मचानी शुरू कर दी है। तेज हवाओं से कई वाहन सड़क पर चलते हुए पलट गईं। साथ में एक व्यक्ति की  मारे जाने की भी खबर है। जापान की सरकार ने बाढ़ और भूस्खलन की आशंका के चलते तटीय इलाकों को खाली करा दिया है। सभी हवाई सेवाओं को स्थगित कर दी गई है। जापानी कंपनियों ने 1929 अंतरराष्ट्रीय और घरेलू उड़ानें रद्द कर दी हैं। रेल नेटवर्क भी बंद दिए गए हैं। लोगों को घरों में रहने की सलाह दी गई है।


2.96 करोड़ ने दिखाई जीरो इनकम

नई दिल्ली। आंकलन वर्ष 2018-19 के लिए कुल 5,87,13,458 लोगों ने आयकर रिटर्न दाखिल किया है जिसमें से 2,96,80,223 लोगों ने शून्य कर देयता वर्ग के लिए रिटर्न दाखिल किया है। आयकर विभाग द्वारा इस संबंध में शुक्रवार को यहाँ जारी आँकड़ों के अनुसार, इस अवधि में मात्र नौ ऐसे लोगों ने रिटर्न दाखिल किया है जिनकी आय 100 करोड़ रुपये से लेकर 500 करोड़ रुपये के बीच है। 50 करोड़ रुपये से लेकर 100 करोड़ रुपये से कम आय वर्ग में 35 लोगों ने रिटर्न दाखिल किया है। 25 करोड़ रुपये से लेकर 50 करोड़ रुपये से कम आय वर्ग के लिए 106 रिटर्न भरे गये हैं जबकि 10 करोड़ रुपये से लेकर 25 करोड़ रुपये से कम आय वर्ग में 660 लोगों ने रिटर्न दाखिल किया है।
पांच करोड़ रुपये से लेकर 10 करोड़ रुपये से कम आय वर्ग के लिए 2,039 रिटर्न दाखिल किये गये हैं और एक करोड़ रुपये से लेकर पांच करोड़ रुपये से कम आय वर्ग में 46,279 रिटर्न दाखिल हुये। 50 लाख रुपये से लेकर एक करोड़ रुपये से कम आय वर्ग के लिए 121084 रिटर्न भरे गये। 25 लाख रुपये से लेकर 50 लाख रुपये से कम आय वर्ग के लिए 5,04,258 रिटर्न, 20 लाख रुपये से लेकर 25 लाख रुपये से कम आय वर्ग में 3,80,802 रिटर्न, 15 लाख रुपये से लेकर 20 लाख रुपये से कम आय वर्ग में 7,19,882 रिटर्न और 10 लाख रुपये से लेकर 15 लाख रुपये से कम आय वर्ग में 22,37,558 रिटर्न दाखिल किये गए।
9.50 लाख रुपये से लेकर 10 लाख रुपये से कम आय वर्ग के लिए 4,60,298 रिटर्न दाखिल हुये। 5.50 लाख रुपये से लेकर 9.50 लाख रुपये से कम आय वर्ग के लिए 81,55,335 रिटर्न भरे गये। इसी तरह से पांच लाख रुपये से लेकर 5.50 लाख रुपये से कम आय वर्ग के लिए 17,93,339 रिटर्न दाखिल हुए।


चलती ट्रेन से बस टकराई,9 की मौत

लापाज़। मैक्सिको में क्युरेतारो राज्य के सैन जुआन डेल रियो शहर में शुक्रवार को एक बड़ा हादसा हुआ है। यहां एक बस तेज रफ्तार से चल रही ट्रेन से जा टकराई जिसके कारण नौ लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए। इनमें से छह की हालत गंभीर बनी हुई है। स्थानीय मीडिया ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।
मिली जानकारी के मुताबिक यह दुर्घटना क्यूरेटारो प्रांत में उस समय हुई जब एक बस रेल की पटरी को पार करने की कोशिश कर रही थी तभी अचानक एक तेज रफ्तार वाली ट्रेन की चपेट में आ गई। घायलों में छह की हालत गंभीर बनी हुई है। घायलों में बस का चालक भी शामिल है, जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। मृतकों की संख्या बढऩे की आशंका है।
बता दें कि राज्य के रक्षा विभाग के मुताबिक, हादसे की तस्वीरों से पता चलता है कि रेलवे क्रॉसिंग पर चेतावनी लिखी हुई थी। हादसे के वक्त बस रेलवे ट्रैक को क्रॉस कर रही थी, इसी दौरान तेज रफ्तार ट्रेन से टकरा गई। मृतकों की संख्या बढऩे की आशंका है।


नेपाल के लिए रवाना चीनी राष्ट्रपति

नेपाल के लिए रवाना हुए चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग


पीएम मोदी भी दिल्ली वापस लौटे
मोदी-जिनपिंग ने आतंकवाद और कट्टरपंथ पर जाहिर की चिंता
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री सैर करने के लिए महाबलीपुरम के समुद्र तट पर पहुंचे, जहां गंदगी दिखने पर उन्होंने सफाई की।
मोदी-जिनपिंग महाबलीपुरम के ताज कोव रिजॉर्ट में बैठक की। दूसरी अनौपचारिक बैठक को खत्म करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं।भारत और चीन के बीच जारी प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत खत्म हो गई है। दोनों नेता ताज फिशरमैन होटल में कलाकृतियों और हथकरघा पर प्रदर्शनी में पहुंचे हुए हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने जिनपिंग को उनकी तस्वीर वाली शॉल तोहफे में दी। वहीं जिनपिंग ने मोदी को उनकी तस्वीर वाली पेटिंग तोहफे में दी।


श्रीनगर आतंकी हमले में तीन घायल

श्रीनगर। श्रीनगर के हरि सिंह हाई स्ट्रीट इलाके में शनिवार को आतंकवादियों ने नापाक हरकत की। यहां आतंकवादियों ने ग्रेनेड हमला किया। इस हमले में तीन स्थानीय नागरिक घायल हो गए हैं। सभी को उपचार के लिए अस्तपाल में भर्ती कराया गया है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।


इससे पहले दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने पांच अक्टूबर को ग्रेनेड हमला किया था। डीसी ऑफिस के बाहर किए गए हमले में एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी और एक पत्रकार समेत 14 लोग घायल हुए थे। सुरक्षा एजेंसियों के पास इनपुट है कि आतंकी घाटी के अन्य जिलों में भी भीड़भाड़ वाले स्थानों पर हमले कर सकते हैं। इसके मद्देनजर घाटी के लगभग सभी जिला मुख्यालयों और संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा पुख्ता कर दी गई है। सड़कों पर नाके लगाकर हर आने-जाने वाले की तलाशी ली जा रही है।


सोने की कीमत में तेजी का दौर

नई दिल्ली। धनतेरस-दीवाली से पहले सोने की कीमत में तेजी का दौर जारी है। सोना एक बार फिर से महंगा हुआ है। शुक्रवार को सोने की कीमत में 126 रुपए की तेजी आई। शुक्रवार को सोना 126 रुपए चढ़कर 39160 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गयाअमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में आई कमजोरी के चलते सोने की कीमतों में तेजी आई।


सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने की कीमत 39160 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। वहीं, इंडस्ट्री की ओर से बढ़ी डिमांड के चलते चांदी की कीमत में भी तेजी देखने को मिली। वहीं गुरुवार को 10 ग्राम सोने की कीमतें 39,034 रुपए रही। चांदी की कीमत 380 रुपए प्रति किलोग्राम बढ़ कर 46520 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गया।


बाजार जानकारों के मुताबिक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपए में आई कमजोरी की वजह से सोने की कीमत में तेजी जारी है। वहीं त्योहारों की सीजन होने की वजह से मांग बढ़ी है। स्थानीय ज्वैलर्स की ओर से बढ़ी मांग के कारण कीतम में तेजी आई है।फेस्टिव सीजन में ज्वेलर्स की बढ़ी डिमांड से भी सोने की कीमत पर असर पड़ा है। सोना महंगा हुआ है। दिल्ली में 24 कैरट सोने का हाजिर भाव त्योहारी सीजन की मांग बढ़ने और कमजोर रुपए से 126 रुपये चढ़ गया। वहीं वैश्विक कीमत की बात करें तो न्यूयार्क में सोना 1,502 डॉलर प्रति औंस पर था, जबकि चांदी 17.71 डॉलर प्रति औंस पर चल रही।


लोन पर एसबीआई वसूलेगा प्रोसेसिंग फीस

नई दिल्ली। अगर आप भी भारतीय स्टेट बैंक से होम लोन लेने की योजना बना रहे हैं तो आपको झटका लग सकता है। दरअसल, SBI ने होम लोन पर अब प्रोसेसिंग फीस वसूलने का फैसला लिया है।कुछ दिन पहले ही SBI ने बचत और FD पर ब्याज दरों को कम किया था। ऐसे में इस फेस्टिव सीजन एसबीआई ग्राहकों को दोहरा झटका लग सकता है।


इस तरह के लोन पर भी लगेगी प्रोसेसिंग फीस


केवल होम लोन ही नहीं, बल्कि SBI अब टॉप अप प्लान्स, कॉरपोरेट और बिल्डर्स तक को​ दिए जाने वाले लोन पर प्रोसेसिंग फीस वसूलेगा। एसबीआई की तरफ से यह फैसला एक ऐसे समय पर आया है जब रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) द्वारा नीतिगत ब्याज दरों (Policy Rate) में कटौती के बाद सभी बैंक ब्याज दरें कम कर रहे हैं।एसबीआई ने एक इंटर्नल सर्कुलर में कहा है, '31 दिसंबर से पहले फेस्टिव सीजन के दौरान प्रोसेसिंग फीस में छूट देने का फैसला वापस लिया जाता है।' फेस्टिव सीजन में प्रोसेसिंग फीस को माफ करने का ऑफर 16 अक्तूबर से समाप्त हो जाएगा।


एसबीआई अब होम लेन पर प्रोसेसिंग फीस वसूलेगा


मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से लिखा गया है कि 1 जुलाई 2019 को एसबीआई ने अपना लेंडिंग रेट रेपो रेट से लिंक किया था। इसके पहले एसबीआई मार्केट में सबसे कम रेट ऑफर कर रहा था। ऐसे में रेपो रेट से लिंक करने के बाद रेट में बड़ी कमी देखने को मिली।


गौरतलब है कि 11 जुलाई को एसबीआई ने एक खास सॉफ्टेवयर को लॉन्च किया था, जिसमें होम लोन पर ब्याज दरें ऑटोमेटिक तरीके से बदलने वाले रेट से तालमेल बिठा सके। हालांकि, एक माह बाद ही इसे वापस ले लिया गया।


विराट ने तोड़े रिकॉर्ड,पोंटिंग की बराबरी

पुणे। आखिरकार रनमशीन विराट कोहली के बल्ले से साल 2019 का पहला टेस्ट शतक आ ही गया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दिसंबर 2018 में पर्थ के मैदान पर अपना आखिरी शतक जमाने वाले कोहली ने 10 पारियों के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जारी पुणे टेस्ट के दूसरे दिन शतकों का सूखा खत्म किया। यह विराट के करियर का 26वां सैकड़ा था, इस सेंचुरी के साथ ही उन्होंने हमेशा की तरह एक के बाद एक कई रिकॉर्ड्स भी तोड़ दिए।


सबसे तेज 26 शतक जमाने वाले चौथे खिलाड़ी
दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज फिलेंडर की गेंद पर बेहतरीन स्ट्रेट ड्राइव से चौका जमाते ही विराट टेस्ट में 26 शतक जड़ने वाले दुनिया के 21वें और भारत के चौथे खिलाड़ी बन गए हैं। चीकू से पहले सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सुनील गावस्कर ही यह कारनामा कर चुके हैं।


सबसे तेज 26 शतक (पारी)


69 – डॉन ब्रैडमैन
121 – स्टीव स्मिथ
136 – सचिन तेंदुलकर
138 – विराट कोहली*
144 – सुनील गावस्कर
रिकी पोंटिंग के रिकॉर्ड की बराबरी
कोहली ने कप्तान के तौर पर टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में रिकी पोंटिंग के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। अब कप्तान के रूप में टेस्ट क्रिकेट में रिकी पोंटिंग और कोहली के नाम 19-19 शतक है। इस लिस्ट में सबसे आगे ग्रीम स्मिथ हैं, जिन्होंने कप्तान के रूप में टेस्ट क्रिकेट में 25 शतक लगाए हैं।


रोजगार-स्वास्थ्य पर फोकस: शिवसेना

आदित्य ठाकरे ने कहा कि हमारा घोषणा पत्र अलग-अलग क्षेत्रों के लिए भी था लेकिन मौजूदा घोषणा पत्र पूरे प्रदेश के लिए है। आरे हमारे मेनिफेस्टो में था। हमने मुंबई और थाने के लिए भी मेनिफेस्टो तैयार किया था। शिवसेना का वादा, कामकाजी महिलाओं के लिए बनेंगे सरकारी हॉस्टल। पार्टी ने कहा, रोजगार-स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों पर फोकस करेगी शिवसेना।


मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के मद्देनजर शिवसेना ने अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया है। आदित्य ठाकरे की अगुवाई में शनिवार को शिवसेना का घोषणा पत्र जारी किया गया। मेनिफेस्टो में बाला साहेब ठाकरे और उद्धव ठाकरे की तस्वीर है। मेनिफेस्टो में आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों की शिक्षा के लिए महाविद्यालय, हर जिले में एक महिला बचत घर, कामकाजी महिलाओं के लिए सरकारी हॉस्टल, रोजगार और स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों को दुरुस्त करने का वादा किया गया है।
मेनिफेस्टो लॉन्च करने के दौरान आदित्य ठाकरे ने कहा कि हमारा घोषणा पत्र अलग-अलग क्षेत्रों के लिए भी था लेकिन मौजूदा घोषणा पत्र पूरे प्रदेश के लिए हैै। आरे हमारे मेनिफेस्टो में था। हमने मुंबई और थाने के लिए भी मेनिफेस्टो तैयार किया थाा। अभी भी आरे को वन क्षेत्र बनाने पर हम अड़े हैं। मेनिफेस्टो जारी करने के दौरान शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमें क्षेत्रवादी और धर्मनिरपेक्ष कहा जाता था। दशकों पहले हमारे पास भूमि पुत्र का मुद्दा था। अब कांग्रेस और एनसीपी बेकार हो गए हैं, इसलिए वे भूमि पुत्र का मुद्दा उठा रहे हैं।


इसी बैठक में आदित्य ठाकरे ने कहा कि हमारा वचननामा (घोषणा पत्र) काफी रिसर्च के बाद तैयार किया गया है। अगले पांच साल में अलग अलग योजनाओं जैसे कि बिजली बिल घटाने, 10 रुपये में खाना मुहैया कराने पर कितना खर्च आएगा, इस पर भी घोषणा पत्र में जिक्र किया गया है। ठाकरे ने राम मंदिर के मुद्दे पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया। क्योंकि प्रदेश में चुनाव को देखते हुए आचार संहिता लागू है।


'अल्लाह' लिखी मछली के 5 लाख लगाएं

रिपोर्ट- गुलवेज सिद्दीकी 


यूपी के शामली में एक मछली लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गई है। इस मछली के पेट पर 'अल्‍लाह' लिखा हुआ है और इसी वजह से यह अद्भुत मछली चर्चा का विषय बन गई है।


मछली पर लिखा है 'अल्लाह', देखने को उमड़ी भीड़


शामली। उत्‍तर प्रदेश के शामली जिले के कैराना में एक मछली लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गई है और बड़ी संख्‍या में लोग इसे देखने के लिए पहुंच रहे हैं। आलम यह है कि इस मछली के लिए लोग 5 लाख रुपये देने को भी तैयार हैं। दरअसल, इस मछली के पेट पर 'अल्‍लाह' लिखा हुआ है और इसी वजह से यह अद्भुत मछली चर्चा का विषय बन गई है। कैराना में मछली का पालन करने वाले शबाब अहमद इसे अपने एक्वेरियम में पाल रहे हैं। उन्‍होंने बताया कि करीब 8 महीने पहले वह इस मछली को लेकर आए थे। एक्वेरियम में जैसे-जैसे यह मछली बड़ी हो रही है, उसके पेट पर पीले रंग में 'अल्‍लाह' लिखा नजर आने लगा है। शादाब ने बताया कि जब से यह मछली उनके घर में आई है, तब से उनके परिवार में काफी तरक्‍की हुई है।



अनोखी मछली देखने के लिए लोगों की भारी भीड़
शबाब ने बताया कि अब इस मछली की लाखों में बोली लगने लगी है। उन्‍होंने कहा, 'शामली के हाजी राशिद खान ने इस मछली की 5 लाख रुपये कीमत लगाई है। हालांकि मैं अभी और ज्‍यादा कीमत लगाए जाने का इंतजार कर रहा हूं।' शबाब कैराना के मोहल्ला आलकला में रहते हैं और इस अनोखी मछली को देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट रही है। दूर-दूर से लोग इसे देखने आ रहे हैं।


शबाब अहमद ने इस मछली के साथ एक्‍वेरियम में 10 अन्‍य मछलियों को भी रखा है। इस अनोखी मछली से अन्‍य मछलियां काफी छोटी हैं। उन्‍होंने कहा कि अल्‍लाह लिखी मछली कुदरत का करिश्‍मा है। हम इसे और अच्‍छे रेट मिलने पर ही बेचेंगे।


24 को चित्रकूट उपचुनाव की मतगणना

रायपुर। चित्रकोट विधानसभा उप निर्वाचन के तहत 24 अक्टूबर को मतगणना होगी। सबसे पहले सुबह 8 बजे से डाक मतपत्रों की गिनती होगी। उसके बाद साढ़े आठ बजे से कन्ट्रोल यूनिट मशीन से मतगणना प्रारंभ होगी। मतगणना के लिए महिला कर्मियों को नियुक्त किया गया है। इन कर्मियों को आज जगदलपुर कलेक्टोरेट के प्रेरणा कक्ष में पहले चरण का प्रशिक्षण दिया गया। दूसरे चरण में 23 अक्टूबर को मतगणना स्थल पर रिहर्सल कराया जाएगा।


मतगणना का सम्पूर्ण कार्य महिला कर्मचारियों द्वारा किया जाएगा। आज सम्पन्न प्रशिक्षण में मतगणना कर्मियों को मतगणना की सम्पूर्ण प्रक्रिया की विस्तार से जानकारी दी गई। मतगणना जगदलपुर के महिला पाॅलीटेक्निक काॅलेज में होगी। मतगणना स्थल पर अधिकृत व्यक्ति के अलावा अन्य कोई भी व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकेगा। मोबाईल फोन भी पूरी तरह प्रतिबंधित होगा। प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर्स श्री जीवन लाल शर्मा ने मतगणना के सभी वैधानिक पहलुओं की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मतगणना के लिए 14 टेबल लगाएं जाएंगे। प्रत्येक टेबल में अभ्यर्थियों के अभिकर्ता उपस्थित रह सकते हैं। उन्होंने कन्ट्रोल यूनिट मशीन का डेमो दिखाकर मतगणना की पूरी प्रक्रिया की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक मशीन में यह देखना जरूरी है कि उसमें क्लोज बटन दबा हो। यदि किसी कन्ट्रोल यूनिट मशीन में पीठासीन अधिकारी द्वारा क्लोज बटन नहीं दबाया गया है, तो इसकी सूचना तत्काल रिटर्निंग अधिकारी अथवा सहायक रिटर्निंग अधिकारी को दी जाए। प्रशिक्षण में मतगणना कर्मियों कीे विभिन्न शंकाओं का भी समाधान किया गया।


नेपाल सड़क हादसे में 11मौत,108 घायल

काठमांडू। नेपाल में एक यात्री बस शनिवार को अनियंत्रित होकर 50 मीटर गहरी खाई में गिर गई। हादसा राजधानी काठमांडू जाने वाले राजमार्ग पर हुआ। इसमें 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि 108 जख्मी हो गए। अधिकारियों के मुताबिक, बस में सवार यात्री दशईं त्योहार मनाकर काठमांडू लौट रहे थे।जिला अधिकारी गोमा देवी चेमजोंग ने बताया कि हादसे में 6 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं 5 लोगों ने अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में दम तोड़ दिया। एक घुमावदार मोड़ पर चालक ने बस से नियंत्रण खो दिया था।


नेपाल में सड़क दुर्घटनाएं आम
नेपाल के राजमार्गों पर दुर्घटना होना आम बात है। राजमार्गों का सही ढंग से रखरखाव नहीं होता। त्योहारों के समय बसों में भीड़ बढ़ने और सड़कें व्यस्त होने के कारण दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। काठमांडू जाने का रास्ता पहाड़ों से होकर गुजरता है। राजमार्ग पर कई घुमावदार मोड़ हैं, इसलिए यह दुर्घटनाओं के लिए संवेदनशील माना जाता है।


करणी सेना ने किया बिग बॉस का विरोध

मुंबई। करणी सेना ने फिल्म 'पद्मावत' और 'मणिकर्णिका' को लेकर खूब बवाल किया था। अब टीवी शो 'बिग बॉस' सीजन 13 का करणी सेना विरोध कर रही है। इसके चलते मुंबई पुलिस ने सलमान खान के गैलेक्सी अपार्टमेंट की सुरक्षा भी बढ़ा दी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक 20 लोगों को सलमान खान के घर के बाहर प्रोटेस्ट करते हुए गिरफ्तार भी कर लिया गया। अब पुलिस विश्व सनातन संघ के जनरल सेक्रेटरी उपदेश राणा को खोज रही है। पुलिस के मुताबिक उपदेश ही इस प्रोटेस्ट को लीड कर रहा है। बता दें, करणी सेना ने इंफॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्ट मिनिस्टर प्रकाश जावडेकर को अपनी शिकायत लिखित में दी थी। उन्होंने टीवी रिएलिटी शो बिग बॉस 13 के लिए कहा था कि यह शो हिंदू सभ्यता को भंग कर रहा है। रिएलिटी शो पर आरोप लगाया गया है कि यह शो 'लव जेहाद' फैला रहा है। जावडेकर को लिखे पत्र में आरोप लगाया गया है कि ये शो चीप भाषा और वलगैरेटी से भरा हुआ है, जो कि फैमिली शो में फिट नहीं बैठता।


समुंदर किनारे मिली 5 पाकिस्तानी बोट

कच्छ। गुजरात के कच्‍छ में समुद्र किनारे पांच पाकिस्‍तानी बोट को बरामद किया गया है। BSF की पेट्रोलिंग टीम को हरामी नाला बॉर्डर से पांच पाकिस्तानी फिशिंग बोट बरामद करने में सफलता मिली है।बीएसएफ ने मामले की जांच शुरू कर दी है। इलाके में सर्च ऑपरेशन भी चलाए जा रहे हैं।


 


कांग्रेस से आप ,आप से कांग्रेस

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी की पूर्व विधायक अलका लांबा कांग्रेस में शामिल हो गई हैं। उन्होंने दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको की मौजूदगी में ये सदस्यता ग्रहण की। वे पहले शुक्रवार को ही ये सदस्यता ग्रहण करने वाली थीं लेकिन कुछ कारणों से ये नहीं हो सका। बता दें कि लांबा ने एक माह पहले ही आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दिया है।


अलका लांबा पहले शुक्रवार को कांग्रेस में शामिल होने वाली थीं लेकिन कुछ कारणों से वे कांग्रेस में शामिल नहीं हो सकीं. अलका लांबा दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुईं। अलका लांबा ने कांग्रेस पार्टी के अकबर रोड स्थित पार्टी मुख्यालय में कांग्रेस की सदस्या ग्रहण की। अलका लांबा ने इस संबंध में एक ट्वीट भी किया है. अलका लांबा ने कहा कि कांग्रेस सदस्य बनने पर गर्व महसूस कर रही हूं।


चांदनी चौक की पूर्व विधायक और आम आदमी पार्टी(AAP) की पूर्व नेता अलका लांबा ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली है. अलका लांबा ने एक महीने पहले ही AAP से इस्तीफा दे दिया था। अलका ने ट्वीट कर बताया, 'आज कांग्रेस मुख्यालय 24 अकबर रोड पहुंच कर दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी श्री पी सी चाको जी, जिला चांदनी चौक अध्यक्ष उस्मान जी, जिला आदर्श नगर अध्यक्ष जिंदल जी व अन्य नेताओं की उपस्थिति में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। कॉंग्रेस सदस्य बनने पर गर्व मेहसूस कर रही हूं।'



 


विजय हजारे ट्रॉफी में संजू का दोहरा शतक

नई दिल्ली। विजय हजारे ट्रॉफी में संजू सैमसन ने दोहरा शतक जड़कर एक नया रिकॉर्ड कायम किया है। केरल और गोवा के बीच खेले जा रहे मैच में संजू ने केरल की ओर से यह पारी खेली। उन्होंने नाबाद 212 रन बनाए, जो विजय हजारे ट्रॉफी के हिस्ट्री का अब तक का सर्वश्रेष्ठ स्कोर हैं उन्होंने केवी कुशाल के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा। उन्होंने 202 रन बनाए थे, जो इस टूर्नामेंट का अभी तक का सबसे अधिक स्कोर था।


पहली ग्रेजुएट ऑनर्स भारतीय महिला

गूगल ने आज कामिनी राय के 155वें जन्म दिन पर उनका डूडल बनाकर उन्हें याद किया है। इस डूडल से साफ जाहिर हो रहा है कि कामिनी राय ने वैसा काम किया था जिसका हजारों महिलाओं पर असर पड़ा था।


आखिर कौन थीं कामिनी राय और क्या काम किया था उन्होंने, जानते हैं आप?


12 अक्टूबर, 1864 को तत्कालीन बंगाल के बेकरगंज जिले में जन्मी कामिनी राय एक कवियत्री थीं और समाजसेविका थीं। लेकिन ख़ास बात यह है कि ब्रिटिश काल के भारत में वह ग्रेजुएट ऑनर्स की डिग्री हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला थीं। ये हिस्सा अब बांग्लादेश में पड़ता है।


कामिनी राय ने संस्कृत में ऑनर्स के साथ ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल किया था। कोलकाता यूनिवर्सिटी के बेथुन कॉलजे से 1886 में ग्रेजुएट होने के बाद उन्हें वहीं पढ़ाने की नौकरी मिल गई थी। लेकिन महिलाओं के अधिकार से लिखी उनकी कविताओं ने उनकी पहचान का दायरा बढ़ाया।


कामिनी राय अमूमन कहा करती थीं, महिलाओं को क्यों अपने घरों में कैद रहना चाहिए।


उन्होंने बंगाली महिलाओं को बंगाली लेगिसलेटिव काउंसिल में पहली बार 1926 में वोट दिलाने की लड़ाई में भी हिस्सा लिया था। राजनीतिक तौर पर वे बेहद सक्रिय थीं। जीवन के अंतिम सालों में कामिनी राय तब के बिहार के हजारीबाग में जिले में रहने आ गई थीं, जहां 1933 में उनका निधन हुआ था।


जिले में औषधियों का क्रय-विक्रय बंद

कोण्डागांव जिले के किसी भी हाट बाजार में औषधियों का क्रय-विक्रय नहीं किया जा सकेगा


कोण्डागांव। कोण्डागांव जिला यू तो अनमोल, प्राकृतिक जड़ी-बुटियों की सम्पदा से परिपूर्ण जिला है। इन्हीं जड़ी-बुटियों की धरोहर को सहेजने एवं उन्हें विलुप्त होने से बचाने लिए जिला प्रशासन द्वारा पहली बार बड़ा कदम उठाया गया है। चूंकि जिले की विलुप्त हो रही जड़ी-बुटियों जैसे भुई भेलवा, जड़ी, चिनहुर जड़ी, अन्नंत मूल, सर्पगंधा, मैदाछाल, सतावरी, पैंग, ज्यौतिषमति फल, कोरियाछाल, रसना, जैसी विभिन्न प्रकार की औषधि पौधो को कथित बिचौलियों एवं व्यापारियों द्वारा खनन करके अथवा मंगाकर खरीदा जा रहा है, फलस्वरुप इन पौधो के अंधाधुंध दोहन से इनका अस्तित्व खतरे में पड़ गया है।


इसे देखते हुए जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम द्वारा प्रतिबंधात्मक आदेश जारी कर दिया गया है। इसके अनुसार दिनांक 10 अक्टूबर 2019 से कोण्डागांव जिले के किसी भी हाट बाजार में उपरोक्त औषधियों का क्रय-विक्रय नहीं किया जा सकेगा। परन्तु जिले के परम्परागत एवं मान्यता प्राप्त प्रशिक्षित वैद्यो द्वारा आमजनो के उपचार करने हेतु वन अधिकार समिति से अनुमति प्राप्त कर भुई भेलवा, जड़ी, चिनहुर जड़ी, अन्नंत मूल, सर्पगंधा, मैदाछाल, सतावरी, पैंग, ज्यौतिषमति फल, कोरियाछाल, रसना का उपयोग किया जा सकेगा। इसके लिए संपूर्ण कोण्डागांव जिले में दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 (2) एक पक्षीय प्रतिबंधात्मक आदेश लागू कर दिया गया है।


जीएसटी कलेक्शन दर में भारी कमी

नई दिल्ली। दो साल पहले जुलाई 2017 को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को लॉन्च किया गया था। ऐसे में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने इसकी सबसे बड़ी समीक्षा शुरू कर दी है। समीक्षा के तहत सरकार फिर से जीएसटी की स्लैब और दरें तय कर सकती है। जीएसटी कलेक्शन बढ़ाने के लिए और लीकेज को रोकने के लिए सरकार ने इसकी समीक्षा शुरू की है। इसके लिए एक बड़ी टीम भी बनायी है।


12 अधिकारियों की कमेटी करेगी समीक्षा का काम : जीएसटी की समीक्षा का काम केंद्र और राज्य सरकारों के 12 अधिकारियों की एक कमेटी को सौंपा गया है। शुक्रवार को राज्य के सचिवों पर जीएसटी को लेकर बातचीत प्रस्तावित है। ऐसी संभावना है कि मीटिंग के दौरान राज्यों से जीएसटी कलेक्शन बढ़ाने के लिए कहा जा सकता है


सरकार कर सकती है कई बदलाव
समीक्षा के लिए जिस पैनल का गठन किया गया है, उसका काम जीएसटी कलेक्शन बढ़ाने और इसमें धोखाधड़ी को रोकने का भी होगा।


सूत्रों के अनुसार, सरकार ऐसे नियम बना सकती है जिससे लोग खुद ही जीएसटी के दायरे में जुड़ना चाहें। इसके अतिरिक्त जीएसटी रिव्यू कमेटी सरकार को कुछ उत्पादों को जीएसटी स्लैब में लाने पर विचार करने को कह सकती है। जब जीएसटी को लागू किया गया था। तो सरकार 12% और 18% वाले स्लैब को मिला कर, एक नया स्लैब बनाने और सबसे अधिक जीएसटी वाले स्लैब में शामिल किये गये वस्तुओं की संख्या में कमी करने की सोच रही थी।


जीएसटी कलेक्शन में आयी है कमी
पिछले कुछ महीनों से जीएसटी कलेक्शन में कमी आयी है। मौजूदा वित्त वर्ष की पहली छमाही में जीएसटी कलेक्शन की ग्रोथ रेट 5% से कम रही है। जबकि इसका लक्ष्य 13 फीसदी से ज्यादा का था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह कमी ऑटो सेक्टर में आयी सुस्ती, बाढ़ और स्लोडाउन के चलते हुई हैै। सालाना 14 फीसदी से कम इजाफे की स्थिति में केंद्र सरकार ने राज्यों को भरपाई की बात कही है। मामले में विपक्षी सरकारों ने कहा है कि जीएसटी व्यवस्था में खामियों की वजह से कलेक्शन में कमी आयी है।


जीएसटी की खामियां दूर होंगी : वित्त मंत्री
पुणे : जीएसटी को लेकर के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि तमाम परेशानियों के बाद भी यह देश का कानून है, जिसका पालन सभी को करना है।


वित्त मंत्री ने कहा कि इसमें खामियां हो सकती हैं, जिनसे लोगों को परेशानी हो रही है और इसको दूर किया जायेगा। ससंद और राज्यों की विधानसभा में पास होकर अब यह देश का एक कानून बन चुका है। वित्त मंत्री ने पुणे में कारोबारियों, सीए और अन्य से बात करते हुए कहा कि मैं खुद पहले दिन से चाहती थी कि यह लोगों के अपेक्षाओं पर पूरी तरह से खरा उतरे।


दोनों देशों ने साथ काम की इच्छा जताई

कोवलम। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच करीब 5 घंटे तक मुलाकात हुई। इस दौरान करीब ढाई घंटे दोनों ने एक दूसरे के साथ बिताए। दोनों देशों के नेताओं ने मिलकर काम करने की इच्छा जताई और आतंकवाद और कट्टरता के खिलाफ एकजुट होने पर चर्चा भी की। साथ ही चीनी राष्ट्रपति ने ये भी कहा कि वो भारत की तरफ से किए गए स्वागत से खुश हैं।


विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच जो बातचीत हुई वो ज्यादातर खाने की मेज पर हुई। गोखले ने कहा, ”चर्चा काफी खुली और सौहार्दपूर्ण रही। दोनों नेता एकसाथ थे और बाकी के सभी प्रतिनिधि दूसरी जगह डिनर कर रहे थे। दोनों नेताओं ने अपनी सरकारों की प्राथमिकताओं और राष्ट्रीय विजन पर बात की। पीएम मोदी ने चर्चा के दौरान कहा कि उनका दूसरी बार चुनकर आना आर्थिक विकास की वजह से ही संभव हो पाया है।”


चीन के राष्ट्रपति ने जताई साथ काम करने की इच्छा
पीएम नरेंद्र मोदी के फिर से चुनकर आने की बात को सराहते हुए चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने आने वाले साढ़े 4 साल साथ मिलकर काम करने की इच्छा जताई।


विदेश सचिव ने कहा, ”दोनों नेताओं ने विकास को प्राथमिकता देने पर बात की। खासतौर से व्यापार और अर्थव्यवस्था से जुड़े मुद्दों पर बात की और कैसे भविष्य में व्यापार को बढ़ाया जा सकता है इस पर भी चर्चा की।


आतंकवाद दोनों देशों की समस्या
दोनों ही देशों में आतंकवाद और कट्टरता बड़ी चुनौतियां हैं। इस पर बात करते हुए दोनों देशों के नेताओं ने माना की चीन और भारत बहुत बड़े हैं और विविधता से भरे हुए हैं। कट्टरता दोनों देशों के लिए बड़ी चुनौती है और दोनों देश मिलकर कट्टरता और आतंकवाद के खिलाफ मिलकर लड़ेंगे। ताकि इससे दोनों देश के सामाजिक ताने बाने को कोई नुकसान न पहुंचे।


पीएम मोदी ने जिनपिंग को दिखाया ढलान पर टिका 250 टन का 'माखन लड्डू'
चीन के राष्ट्रपति भारत के स्वागत से खासा प्रभावित हुए। दोनों नेता इस इनफॉर्मल मुलाकात के दौरान ऐतिहासिक स्मारकों पर गए। पीएम मोदी ने शी जिनपिंग को भगवान गणेश के मंदिर की महत्ता के बारे में भी बताया। ये दूसरा मौका था जब दोनों नेता अनौपचारिक तौर पर मिले थे। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी चीन के वूहान में पिछले साल गए थे।


मतभेद झगड़े की वजह नहीं बनने देंगे

पीएम मोदी बोले- चीन से किसी मतभेद को झगड़े की वजह नहीं बनने देंगे


कोवलम। भारत दौरे पर आए चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने शनिवार को एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। दोनों दिग्गज नेताओं के बीच 1 घंटे तक बातचीत हुई। तमिलनाडु के कोवलम स्थित फिशरमैन कोव रिजॉर्ट में दोनों नेताओं ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की। इस बैठक के बाद पीएम मोदी ने कहा कि पिछले 2000 साल से भारत और चीन आर्थिक शक्तियों के तौर पर तेजी से आगे उभरे हैं। दोनों ही देश आपसी मतभेदों को किसी भी तरह का झगड़ा नहीं बनने देंगे। वहीं चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि मैं भारत की मेहमाननवाजी से अभिभूत हूं।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पिछले दो हजार साल में भारत और चीन दुनिया के सामने आर्थिक शक्तियों के रूप में उभरे हैं। इस शताब्दी में भी दोनों ही देश उसी तरह से आर्थिक शक्ति बनने की ओर आगे बढ़ रहे हैं। पिछले साल वुहान में हमारी अनौपचारिक बैठक में दोनों ही देशों के बीच हमारे संबंधों में गति आई है।


वहीं चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि मैं भारत के इस दौरे में मिली मेहमाननवाजी से बहुत अभिभूत हूं। यह दौरा मेरे लिए किसी यादगार पल से कम नहीं है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात में पीएम मोदी ने उन्हें एक कांचीपुरम सिल्क की शॉल तोहफे में दिया। इस शॉल में जिनपिंग के चेहरे की आकृति बनी हुई है। जिनपिंग ने भी पीएम मोदी को एक खास पेंटिंग भेंट की है।


नक्सलियों ने किया तीन का अपहरण

रायपुर। माओवादियों ने कल दोपहर दंतेवाड़ा में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के एक इंजिनियर, मनरेगा के एक टेक्नीकल असिस्टेंट समेत तीन लोगों का अपहरण कर लिया। पुलिस हालांकि, इसकी पुष्टि नहीं कर रही है। मगर ये जरूर मान रही है कि तीनों कल से गायब हैं। उधर, ग्रामीणों का कहना है कि बर्दीधारी नक्सली कल गांव में आए थे। इंजीनियर और टेक्नीकल असिस्टेंट रोड का इंस्पेक्शन करने आए थे। इस दौरान उन्हें अपने साथ ले गए।
ग्रामीणों ने पुलिस को इनपुट्स दिए हैं कि नक्सलियों ने अरनपुर के जंगलों में रखा है। वहीं, अपहरण की खबर के बाद पूरे दंतेवाड़ा क्षेत्र में सनसनी फैल गयी है। बताया जा रहा हैं कि शुक्रवार दोपहर इन तीनों का अपहरण किया गया था। इनमें एक कंस्ट्रक्शन कंपनी का कर्मचारी बताया जा रहा है। दंतेवाड़ा के मुलेर से कका़ड़ी तक सड़क बननी थी। इलाके में इसी के लिए कल तीनों गये हुये थे। तभी नक्सलियों ने अपहरण कर लिया।


पीएम की भतीजी का पर्स छीना

दिल्ली में बदमाश कितने बेखौफ हैं, इसका एक ताजा मामला सामने आया है। इसमें स्नैचर्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रिश्तेदार को ही अपना निशाना बना लिया।


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी के साथ स्नेचिंग का मामला सामने आया है। दिल्ली में बदमाश पीएम मोदी की भतीजी का पर्स छीनकर भाग गए। पर्स में कैश के साथ-साथ कई अहम दस्तावेज भी मौजूद थे। दिल्ली के पॉश इलाकों में से एक सिविल लाइन्स इलाके में बदमाशों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई की बेटी दमयंती बेन मोदी शनिवार सुबह अमृतसर से दिल्ली लौटीं। उनका कमरा सिविल लाइन्स इलाके के गुजराती समाज भवन में बुक था, लिहाज़ा पुरानी दिल्ली से ऑटो से वो अपने परिवार के साथ गुजराती समाज भवन पहुंचीं। गेट पर पहुंचकर वो ऑटो से उतर ही रही थीं कि तभी स्कूटी सवार दो बदमाश उनका पर्स छीनकर फरार हो गए। दमयंती बेन के मुताबिक पर्स में करीब 56 हज़ार रुपये, दो मोबाइल और तमाम अहम दस्तावेज थे। उन्होंने बताया कि उन्हें शाम को अहमदाबाद की फ्लाइट पकड़नी है, लेकिन उनके दस्तावेज गायब हो गए है। उन्होंने पुलिस से मामले की शिकायत कर दी है।


फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है, लेकिन सिविल लाइन्स इलाके की बात की जाए तो दिल्ली के वीवीआईपी इलाकों में से एक है। जिस जगह इस वारदात को अंजाम दिया गया वहां से चंद कदमों की दूरी पर दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर का घर है। दिल्ली के मुख्यमंत्री का आवास भी महज थोड़ी दूरी पर ही है। ऐसे में दिन के उजाले में इस तरह की वारदात कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े करती है।


जम्मू-कश्मीर में मोबाइल सेवा बहाल

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य हो रहे हैं, इसी के मद्देनजर प्रशासन ने पोस्टपेड मोबाइल सेवाएं बहाल करने का फैसला किया है। सोमवार दोपहर 12 बजे के बाद से 16 अगस्त से जारी मोबाइल सेवाओं पर पाबंदी हटा ली जाएगी। इस बात की जानकारी मुख्य सचिव रोहित कंसल ने दी है। रोहित कंसल ने कहा कि लश्कर-ए-तैयबा जैसे प्रतिबंधित संगठन घाटी में आतंक फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। प्रतिबंध घाटी में लोगों की सुरक्षा के मद्देनजर लगाया गया था।


सिमी सदस्य पुलिस के हत्थे चढ़ा

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से फरार सिमी सदस्य अजहरुद्दीन उर्फ अजहर की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही थी। अब जाकर वह 6 साल बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा है। रायपुर पुलिस को उसे हैदराबाद से गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। पुलिस उसे गिरफ्तार कर बीती रात को रायपुर लेकर आ गई है। पुलिस इस पूरे मामले का आज दोपहर को खुलासा करेगी।


एटीएस और सिविल लाइन पुलिस की टीम गुरुवार को हैदराबाद रवाना हुई थी। एटीएस टीम को दीप माला कश्यप और रायपुर पुलिस की टीम को सिविल लाइन सीएसपी त्रिलोक बंसल लीड कर थे। टीम ने हैदराबाद से उसे गिरफ्तार कर रायपुर ले आई है। प्रतिबंधित संगठन सिमी के सदस्य अजहरुद्दीन उर्फ अजहर से पूछताछ कर रही है।


शी जिनपिंग-मोदी की अनौपचारिक मुलाकात

महाबलीपुरम। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग दो दिन की भारत यात्रा पर महाबलीपुरम पहुंचे। जहां उनकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  से अनौपचारिक मुलाकात हुई। तमिलनाडु के तटीय शहर महाबलीपुरम में दोनों नेताओं के बीच शुक्रवार को करीब 5 घंटे तक आपसी बातचीत हुई। करीब दो घंटे तक चली डिनर, दक्षिण भारतीय व्यंजनों का लुत्फ उठाया।


पीएम मोदी और शी जिनपिंग के बीच रात्रि भोज में वार्ता जारी रही. प्रधानमंत्री और जिनपिंग के डिनर में पारंपरिक तमिल खाने के साथ साथ नॉन वेजेटेरियन डिश भी पेश की गईं। दोनों नेताओं को शानदार रात्रिभोज में अन्य व्यंजनों के साथ-साथ दालों से बनाया जाने वाला पारंपरिक दक्षिण भारतीय व्यंजन 'सांभर' भी परोसा गया। पिसी हुई दाल, विशेष मसालों और नारियल से तैयार की जाने वाली 'अराचु विट्टा सांभर' मेन्यू में आकर्षण का मुख्य केंद्र रही। इसके अलावा टमाटर से बनी थक्‍कली रसम, इमली, कदलाई कुरुमा और मिष्ठान में हलवा और अदा प्रधामन (केरल का मिष्ठान) समेत विभिन्न व्यंजन परोसे गए। चीनी राष्ट्रपति के लिए चुनिंदा मांसाहारी व्यंजन भी तैयार किए गए।


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर बताया कि पूरा दिन एक शानदार डिनर पर सुखद बातचीत के साथ समाप्त हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इस दौरान भारत-चीन की साझेदारी को और गहरा करने के बारे में बातचीत की।


सऊदी में अतिरिक्त सैनिक,उपकरण तैनात

वाशिंगटन। अमेरिका ने तेल सुविधाओं पर ड्रोन हमलों के मद्देनजर सऊदी अरब में 3,000 अतिरिक्त सैनिकों को तैनात करने की घोषणा की है। अमेरिका ने तेल भंडारण पर हुए हमलों के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। इस संबंध में अमेरिकी विदेशमंत्री माइक पोम्पियो ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि उनका देश 'अपनी रक्षात्मक क्षमताओं को बढ़ाने और ईरानी आक्रामकता के खिलाफ निरोध को बहाल करने में मदद करने के लिए' सऊदी अरब में अतिरिक्त बल और सैन्य उपकरण तैनात कर रहा है।


एक अन्य ट्वीट में पोम्पियो ने ईरान को सामान्य देश की तरह व्यवहार करने करने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि ईरानी शासन को अपना व्यवहार बदलना चाहिए अन्यथा उन्हें अपनी अर्थव्यवस्था को ढहते देखना होगा। अमेरिका ने इस प्रकार का कड़ा कदम तब उठाया है जब इसी माह तेल सुविधाओं पर ड्रोन हमला हुआ। अमेरिका ने इस हमले के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। इसके बाद तेल भंडारणों एवं सुविधाओं की सुरक्षा को लेकर अतिरिक्त सैनिकों और उपकरणों को सऊदी अरब भेजा जा रहा है।


सिक्योरिटी प्रमुख मैक्लेनन ने पद छोड़ा

वाशिंगटन। अमेरिका के कार्यवाहक होमलैंड सिक्योरिटी (मातृभूमि सुरक्षा) के प्रमुख केविन मैकलेनन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। अमेरिकी राष्ट्रति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार देर रात अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए यह जानकारी दी। हाल के दिनों में ट्रंप प्रशासन छोड़ने के लिए शीर्ष अधिकारियों की लंबी सूची में मैकलेन का नाम भी शमिल हो गया है।


अमेरिकी राष्ट्रपति ने मैकलेनन के उत्कृष्ट कार्यों का उल्लेख करते हुए लिखा कि “केविन मैकलेनन ने होमलैंड सिक्योरिटी के कार्यवाहक सचिव के रूप में उत्कृष्ट काम किया है। हमने बॉर्डर क्रॉसिंग के साथ मिलकर अच्छा काम किया है।”


ट्रम्प ने लिखा कि सरकार में कई वर्ष काम करने के बाद केविन अब अपने परिवार के साथ ज्यादा समय बिताना चाहते हैं। इसी लिए वह निजी क्षेत्र का रुख कर रहे हैं। उनके कार्यकाल में अच्छा काम करने के लिए राष्ट्रपति ने उन्हें बधाई दी।होमलैंड सिक्योरिटी के प्रमुख कर्स्टजेन नीलसन की जगह मैकलेनन को कार्यवाहक प्रमुख बनाया गया था। मैकलेनन सिर्फ छह महीने तक इस पद पर कार्यरत रहे। मैकलेनन के कम समय के कार्यकाल ने दौरान ट्रम्प प्रशासन ने होंडुरस, ग्वाटेमाला और अल सल्वाडोर के प्रवासियों के पलायन को रोकने के राष्ट्रपति की कठोर नीतियों की देखरेख की।मैकलेनन ने भी ट्वीट करते हुए लिखा कि 'मैं होमलैंड सिक्योरिटी विभाग के साथियों के साथ सेवा करने के अवसर के लिए राष्ट्रपति को धन्यवाद देना चाहता हूं। उनके साथ मिलकर पिछले छह महीने में हमने सीमा सुरक्षा और मानवीय संकट को करने में जबरदस्त प्रगति की है।हालांकि राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा कि अगले एक सप्ताह में नए होमलैंड सिक्योरिटी प्रमुख का ऐलान कर दिया जाएगा। फिलहाल अभी किसी नाम की घोषणा नहीं की है।


बड़ी धन हानि की आशंका है:मीन

राशिफल


मेष:-प्रयास सफल रहेंगे। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। नौकरी में नई जिम्मेदारी मिल सकती है। सामाजिक काम करने की इच्छा प्रबल होगी। मान-सम्मान मिलेगा। वाणी में संयम रखें। दूसरों के कार्य में हस्तक्षेप न करें। आय के नए स्रोत प्राप्त हो सकते हैं। कारोबार में वृद्धि होगी।


वृष:--घर में अतिथियों का आगमन होगा। किसी मांगलिक कार्य में भाग लेने का अवसर प्राप्त हो सकता है। दूर से शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। आत्मविश्वास बढ़ेगा। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। ईर्ष्यालु व्यक्तियों से सावधान रहें। धन प्राप्ति सु्गम होगी।


मिथुन:--भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। अप्रत्याशित लाभ के योग बनते हैं। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। किसी बड़ी समस्या का हल मिल सकता है। व्यस्तता के चलते स्वास्थ्य खराब हो सकता है। धनार्जन होगा।


कर्क:-किसी अपने ही व्यक्ति से कहासुनी हो सकती है। आय में कमी होगी। अप्रत्याशित खर्च सामने आ सकते हैं। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। चिंता तथा तनाव रहेंगे। आशा व निराशा के भाव रहेंगे। खर्च से हाथ तंग रहेगा। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेंगे। जोखिम बिलकुल न उठाएं।


सिंह:-बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। कारोबार में वृद्धि होगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। थकान व कमजोरी रह सकती है।



कन्या:-शत्रु सक्रिय रहेंगे। चुगलखोरों से सावधान रहें। वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। नई आर्थिक योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। काफी समय से रुके काम पूर्ण हो सकते हैं। मान-सम्मान मिलेगा। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा। प्रमाद न करें।


तुला:--घर-परिवार की चिंता रहेगी। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। शारीरिक कष्ट संभव है। पूजा-पाठ में मन लगेगा। तीर्थयात्रा की योजना बनेगी। कोर्ट-कचहरी व सरकारी कार्यालय के काम मनोनुकूल रहेंगे। आय में वृद्धि होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। जल्दबाजी से बचें!


वृश्चिक:--पुराना रोग उभर सकता है। वाहन, मशीनरी व अग्नि आदि के प्रयोग में लापरवाही न करें। शारीरिक हानि हो सकती है। किसी भी तरह के विवाद में भाग न लें। स्वाभिमान को चोट पहुंच सकती है। लेन-देन में सावधानी रखें। कुसंगति से बचें। महत्वपूर्ण निर्णय टालें।


धनु:--कुंआरों को वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। दांपत्य जीवन में आनंद रहेगा। कोर्ट व कचहरी तथा सरकारी कार्यालयों में रुके कार्य मनोनुकूल रहेंगे। आय के नए स्रोत प्राप्त हो सकते हैं। भाग्य का साथ मिलेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। प्रमाद न करें।


मकर:--आवश्यक वस्तु गुम हो सकती है। समय पर नहीं मिलेगी। तनाव रहेगा। घर के वृ‍द्धजनों के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। कोई बड़ी समस्या खड़ी हो सकती है। भय रहेगा। भूमि व भवन संबंधी बाधा दूर होकर उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। लाभ होगा।


कुंभ:--किसी मनोरंजक यात्रा का आयोजन हो सकता है। विद्यार्थी वर्ग अपने शिक्षण-अध्ययन संबंधी कार्य में सफलता प्राप्त करेगा। स्वादिष्ट भोजन का आनंद प्राप्त होगा। जल्दबाजी में कोई कार्य न करें तथा विवाद की स्थिति न आने दें। कोई अरुचिकर घटना संभव है।


मीन:--कोई बड़ी धनहानि की आशंका है। लापरवाही न करें। भावना को वश में रखें। मन की बात किसी को न बतलाएं। नौकरी में अपेक्षाएं बढ़ेंगी। धैर्यशीलता की कमी रहेगी। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी। भागदौड़ होगी।


कंप्यूटर का अर्थ अभिकलित्र

कंप्यूटर का अर्थ अभिकलित्र किस आधार से बताया गया है.? इतने कठिन शब्द का उपयोग छात्र और जन मानस कैसे कर पाएंगे? इसका हिंदी भाषी अभियंताओ को क्या लाभ होगा ? जो शब्द जिस भाषा से है उसे उसी भाषा में रखना उचित है। जैसे योग हिंदी शब्द है एयर हिंदुस्तान में इज़ाद हुआ है, अंग्रेजी में भी इसे योग ही कहते हैं और पूरी दुनिया इसे योग के नाम से ही जानती है। इसी में योग शब्द और योग विषय की भलाई है। हमें छात्रों को हिंदी भाषा में विषय को समझाने की जरूरत है न की विषय का ही नाम बदलकर उसे और कठिन बना देने कि ताकि उसे पढ़ने वाले छात्र दुनिया के अन्य छात्रों से पीछे रह जाये।


जैसा कि योग का उदाहरण दिया गया, यह एक मूल शब्द है, न कि यौगिक या व्युत्पन्न शब्द, अर्थात किसी अन्य शब्द या अन्य शब्दों के योग से बना या व्युत्पत्ति किया गया शब्द नहीं है। ऐसे दूसरी भाषा से आये शब्दों को जैसे का तैसा रखना ही उचित लगता है और ऐसी परम्परा या अभ्यास भी रहा है।


कम्प्यूटर एक यौगिक व्युत्पन्न शब्द है जो कम्प्यूट क्रिया से व्युत्पत्ति किया गया है। कम्प्यूट का अर्थ गणना करना है, अतः कई गणनाएं एक साथ करने वाला यंत्र संगणक हो सकता है। ऐसे शब्द को मूल भाषा में रखना आवश्यक नहीं लगता है। अभिकलित्र की योगविच्छेदन करने पर क्या अर्थ निकलता है, यदि कोई बताये तो उस पर भी विचार किया जा सकता है। ये वही है जैसे जनित्र = जनरेटर, शायद कोई योगविछेदन न कर पाये। इनके अलावा इस पर भी विचार किया जाना चाहिये कि 1:1 का अनुपात सर्वथा संभव भी नहीं है और इसे बाध्य भी किया नहीं जाना चाहिये। अंग्रेज़ी में वैल इसका उदाहरण है, जिसके लिये हिन्दी में कुआं एवं अच्छा, दो अर्थ निश्चित हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए सीधे सीधे संगणक और अभिकलित्र में से एक को दूसरे पर पुनर्प्रेषित किया जाना उचित है। अन्य स्थानों में दोनों में से कोई भी शब्द प्रयोग करने कि स्वतंत्रता रखी जाये।
इसके अलावा मूल लेख का क्या नाम हो, उसके लिये हम हिन्दी नाम अभिकलित्र चुन लें, जिसके प्रथम मुखवाक्य में ही बोल्ड में कोष्ठक में अन्य नाम दिये जा सकते हैं, जिनमें से प्रत्येक नाम को उस लेख पर पुनर्निदेशित कर सकते हैं।


गिध्द प्रजाति का 97 फ़ीसदी पतन

गिद्ध शिकारी पक्षियों के अंतर्गत आनेवाले मुर्दाखोर पक्षी हैं, जिन्हें गृद्ध कुल (Family Vulturidae) में एकत्र किया गया है। ये सब पक्षी दो भागों में बाँटे जा सकते हैं। पहले भाग में अमरीका के कॉण्डर (Condor), किंग वल्चर (King Vulture), कैलिफोर्नियन वल्चर (Californian Vulture), टर्की बज़र्ड (Turkey Buzzard) और अमरीकी ब्लैक वल्चर (American Black Vulture) होते हैं और दूसरे भाग में अफ्रीका और एशिया के राजगृद्ध (King Vulture), काला गिद्ध (Black Vulture), चमर गिद्ध (White backed Vulture), बड़ा गिद्ध (Griffon Vulture) और गोबर गिद्ध (Scavenger Vulture) मुख्य हैं।


ये कत्थई और काले रंग के भारी कद के पक्षी हैं, जिनकी दृष्टि बहुत तेज होती है। शिकारी पक्षियों की तरह इनकी चोंच भी टेढ़ी और मजबूत होती है, लेकिन इनके पंजे और नाखून उनके जैसे तेज और मजबूत नहीं होते। ये झुंडों में रहने वाले मुर्दाखेर पक्षी हैं जिनसे कोई भी गंदी और घिनौनी चीज खाने से नहीं बचती। ये पक्षियों के मेहतर हैं जो सफाई जैसा आवश्यक काम करके बीमारी नहीं फैलने देते।ये किसी ऊँचे पेड़ पर अपना भद्दा सा घोंसला बनाते हैं, जिसमें मादा एक या दो सफेद अंडे देती है।


पतन-यह जाति आज से कुछ साल पहले अपने पूरे क्षेत्र में प्रचुर मात्रा में पायी जाती थी। 1990 के दशक में इस जाति का 97% से 99% पतन हो गया है। इसका मूलतः कारण पशु दवाई डाइक्लोफिनॅक (diclofenac) है जो कि पशुओं के जोड़ों के दर्द को मिटाने में मदद करती है। जब यह दवाई खाया हुआ पशु मर जाता है और उसको मरने से थोड़ा पहले यह दवाई दी गई होती है और उसको भारतीय गिद्ध खाता है तो उसके गुर्दे बंद हो जाते हैं और वह मर जाता है। अब नई दवाई मॅलॉक्सिकॅम आ गई है और यह हमारे गिद्धों के लिये हानिकारक भी नहीं हैं। जब इस दवाई का उत्पादन बढ़ जायेगा तो सारे पशु-पालक इसका इस्तेमाल करेंगे और शायद हमारे गिद्ध बच जायें।


आयुर्वेदिक आहार मूंग दाल

मूंग बीन्स, मटर और दाल के रूप में एक ही पौधे के परिवार से छोटे और हरे रंग का एक प्रकार है जिसमें प्रोटीन, फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट्स मैंगनीज, पोटेशियम, मैग्नीशियम, तांबे, जस्ता और विटामिन बी का एक उच्च स्रोत पाया जाता है। हालांकि दुनिया के अधिकांश हिस्सों में ये अन्य दालों की तुलना में कम लोकप्रिय है। हजारों सालों से मूंग दाल भारत में पारंपरिक आयुर्वेदिक आहार का एक हिस्सा रही है। प्राचीन भारतीय अभ्यास में मूंग दाल को "सबसे अधिक पोषित खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है" जो लगभग 1,500 बी.सी के बाद से एक पारंपरिक औषधि बन गयी है।


मूंग दाल को हरी दाल भी कहा जाता है। हालांकि, इसे और भी कई नामों से बुलाया जाता है जैसे गोल्डन ग्राम, मूंग बीज। हरी मूंग दाल को एशिया के कई देशो में, यूरोप और अमेरिका में भी विभिन्न उद्देश्यों के रूप में उपयोग किया जाता है। भारत में प्रसिद्ध मुख्य डिश के अलावा हरी मूंग दाल का प्रयोग स्वास्थ्य के लिए भी किया जाता है।


हरी मूंग दाल चेहरे की त्वचा के लिए बहुत लाभकारी है। मूंग दाल खाने से आपके चेहरे पर छुपी झुर्रिया, दाग धब्बे, काले घेरे कम हो जाते हैं। इसके नियमित खानें से आपकी उम्र 30 की बजाये 20 की लगने लगेगी। महिलाओं के लिए एजिंग(बढ़ती उम्र) सबसे बड़ी चिंता का विषय होता है क्यूंकि उन्हें इस उम्र में अपनी त्वचा और बालों का ख़ास ख्याल रखना होता है। अगर आप बढ़ती उम्र में भी जवान दिखना चाहते हैं तो नाश्ते में मूंग दाल खाना शुरू कर दीजिये इससे आपके चेहरे पर चमक बनी रहेगी और आप स्वस्थ भी रहेंगे।


मूंग दाल के लाभ बालों के लिए -मूंग दाल में कौपर पाया जाता है जिससे बालों की जड़ें मजबूत होती हैं। कौपर हमारे शरीर में लोहा, कैल्शियम और मैग्नीशियम की मात्रा को पूरा करता है। मूंग दाल खाने से कौपर की आवश्यक मात्रा पूरी होती है। मूंग दाल से हमारे दिमाग में ऑक्सीजन बिना किसी रुकावट के सही ढंग से पहुँचता है और बालों की जड़ों को मजबूती प्रदान करता है जिससे आपके बाल घने, लम्बे और चमकदार दिखते हैं। मूंग दाल से आप बालों के लिए घर पर पेस्ट भी तैयार कर सकते हैं।


मूंग की दाल खाने के फायदे बढ़ाए मेटाबॉलिज्म -कई लोग अपने ख़राब मेटाबोलिज्म की वजह से बदहजमी और जलन की शिकायत करते रहते हैं। मूंग दाल में फाइबर पाया जाता है। जिसकी मदद से आपकी पाचन क्रिया अच्छी होती है और मेटाबोलिज्म रेट बढ़ता है। फाइबर आपकी पाचन क्रिया को बदहजमी होने से रोकता है और पेट को सही रखता है।


कछुए पराबैंगनी किरणें देख सकते हैं

कछुए (Turtles) या कर्म टेस्टूडनीज़ नामक सरीसृपों के जीववैज्ञानिक गण के सदस्य होते हैं जो उनके शरीरों के मुख्य भाग को उनकी पसलियों से विकसित हुए ढाल-जैसे कवच से पहचाने जाते हैं। विश्व में स्थलीय कछुओं और जलीय कछुओं दोनों की कई जातियाँ हैं। कछुओं की सबसे पहली जातियाँ आज से 15.7 करोड़ वर्ष पहले उत्पन्न हुई थीं, जो की सर्वप्रथम सर्पों व मगरमच्छों से भी पहले था। इसलिये वैज्ञानिक उन्हें प्राचीनतम सरीसृपों में से एक मानते हैं। कछुओं की कई जातियाँ विलुप्त हो चुकी हैं लेकिन 327 आज भी अस्तित्व में हैं। इनमें से कई जातियाँ ख़तरे में हैं और उनका संरक्षण करना एक चिंता का विषय है। इसकी उम्र 300 साल से अधिक होती है। कछुओं के रेटिना में असामान्य रूप से बड़ी संख्या में कोशिकाओं के होने से ये आसानी से रात के अंधेरे में देख लेते हैं। यह रंगों को देख सकते हैं और पराबैंगनी किरणों से लेकर लाल रंग तक को देख सकते हैं। कुछ भूमि में पाये जाने वाले कछुओं में तेजी की बहुत कमी देखने को मिलती है, इस तरह की कमी ज्यादातर शिकारियों में होती है, जो अचानक तेजी से शिकार को शिकार बना लेते हैं। हालांकि कुछ मांसाहारी कछुए अपने सिर को तेजी से स्थानांतरित करने में सक्षम हैं।


संकल्पमयी संसार की विशेषता

गतांक से...
 आओ मेरे प्यारो, मैं तुम्हें विशेष विचार नहीं देना चाहता हूं। विचार केवल यह है कि भगवान राम भयंकर वन में अपने 12 वर्ष के तप से अवऋन हो गए और अपने में विचार कर रहे हैं कि मैं अपने राष्ट्र को कैसा स्थापित करुं? जिससे राष्ट्र अपनी आभा में गतिमान होता हुआ और प्रत्येक राष्ट्र में रहने वाला मानव विचार विनिमय करने लगे। विचारवान बन करके परमपिता परमात्मा के अनूठे राष्ट्र में परिणत होकर के उधरवा में कल्पना करता चले जाए। भगवान राम ने यही कहा कि हम अपने में सुगंधी को ला सकें जैसे अग्नि प्रत्येक परमाणु का विभाजन कर देती है। उनमें वह तरंगों के रूप में परिणत हो जाते हैं। इसी प्रकार प्रत्येक राजा जब अपने राष्ट्र में उन्नत होने के लिए सदैव तत्पर रहेगा, तो वह उन्नत होना ही मानो मानवीयता आपमे रत हो जाएगा और राष्ट्र अपने में राष्ट्र कहलाएगा जैसे परमात्मा का राष्ट्र है। उसी में सूर्य है उसी में चंद्रमा है और उसी में पृथ्वी है और उसी में जल और अग्नि अपने अपने मे गमन कर रहे हैं। और प्राण सत्ता अपने में उग्र रूप धारण कर रही है और अंतरिक्ष में सब समाहित हो रहा है। विचार आता रहता है कि हमारा जीवन बेटा सुगंधित होना चाहिए। यदि जीवन में सुगंधी नहीं है तो वह जीवन नहीं कहलाता। राजा के राष्ट्र में सुगंध नहीं है तो राजा का राष्ट्र नहीं कहलाता। इसी प्रकार बेटा हम सुगंधी वाले बने। प्रत्येक ग्रह में वेदों की ध्वनि आनी चाहिए।ध्वनी मे ध्वनीत होना चाहिए। अनहद रूप में जब आती है अनहद रूप से उससे मानव अपनी मानवता को धारण करता हुआ। वह उसी ध्वनि से अपनी आंतरिक जगत की ध्वनि को धारण करता हुआ बेटा, वह ध्वनि एक योगिक ध्वनि कहलाती है और इसमें हमें ध्वनिया आती रहती है। विचार आता रहता है बेटा मैं दूर चला गया हूं। विचार यह प्रारंभ कर रहा था कि परमपिता परमात्मा का यह अनूठा जगत है। परमात्मा पुरोहित कहलाते हैं। इसलिए पुरोहितों के द्वारा प्रत्येक ग्रह में सुगंधी होनी चाहिए। राम ने 12 वर्ष का तप किया। जिसमें अन्न को त्यागते हुए उन्होंने सिल्लस्तन को प्राप्त किया। जिससे मन पवित्र बन कर के रजोगुण में जो एक दूसरे को मृत्युदंड देने की आभा का जन्म हुआ। उसे नष्ट करने के लिए उन्होंने तप किया। क्योंकि बिना तप किए कोई राष्ट्र को भोगने का अधिकारी नहीं होता है। तप उसे कहते हैं जो मानव जितेंद्रय बन करके अपने आत्मबल को उन्नत बनाता है। जो तपस्वी बनता है वह अन्नाद को पवित्र बना करके मन मस्तिष्क और बुद्धि को ऊंचा बनाता है। या यह कह दीजिए कि मन, प्राण और विचारों की उपलब्धि होकर के उन्हीं विचारों को महान बनाता रहता है। विचार विनिमय क्या है? बेटा मानव को तप करना चाहिए, क्योंकि बिना तप के राष्ट्र और समाज की उन्नति नहीं होती। वशिष्ठ मुनि महाराज और राम का जो उस काल का आध्यात्मिकवाद का प्रकरण है। वह बड़ा विचित्र रहा है, आज का हमारा उद्देश्य क्या रहा है। हमें तपस्वी बनना चाहिए और बिना तप के राज्य नहीं भोगा जाता। बिना तप के मुनीवरो समाज को उन्नत नहीं बना सकते। इसलिए प्रत्येक मानव को तपस्वी बनना चाहिए और तप करने के पश्चात अपने अधिकार का उपयोग करने वाला हो। परमपिता परमात्मा को साक्षी करता हुआ और परमपिता परमात्मा की अमृतधारा को जानने वाला बने। तो बेटा आज का विचार विनिमय क्या है कि हम परमपिता परमात्मा की आराधना करते हुए देव की महिमा का गुणगान गाते हुए। वेदों का उपदेश पाते हुए, हम इस सागर से पार हो जाए। बेटा,तपम् ब्राह्म: तपम रुद्रोभागा:, हे मानव,तू तपस्वी बन और तपस्वी बन करने के पश्चात बेटा राष्ट्र का अधिकार प्राप्त होता है। देखो राम ने ऐसा ही किया। राम तपस्वी बने और तप करने के पश्चात वह राष्ट्र को भोगने वाले बने। राष्ट्र में जो उनके विचार,गीत बने बने,उन विचारों को कल प्रकट कर सकूंगा। आज का वाक्य समाप्त होता है अब वेदों का पठन-पाठन होगा।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस


हिंदी दैनिक


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


October 13, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-70 (साल-01)
2. रविवार,13 अक्टूबर 2019
3. शक-1941,अश्‍विन,शुक्‍लपक्ष,तिथि- पूर्णिमा,विक्रमी संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:16,सूर्यास्त 06:05
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै.,अधिकतम-32+ डी.सै., हवा की गति धीमी रहेगी।
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


अभियान, सैकड़ों अरब डॉलर की परियोजनाएं: मंजूर

वाशिंगटन डीसी। दुनिया के सबसे संपन्न सात देशों (जी 7) के शिखर सम्मेलन में शनिवार को चीन मुख्य मुद्दा रहा। चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिला...