बुधवार, 3 जून 2020

लोनी क्षेत्र के भ्रष्टाचार का नया अध्याय

आकांक्षा उपाध्याय 

गाजियाबाद। लोनी क्षेत्र सदैव सुर्खियां में बना रहा है क्योंकि  यहां की राजनीति और नीति भ्रष्टाचार से प्रेरित है। अभी-अभी  राशन वितरण में किए गए अप्रत्याशित भ्रष्टाचार की सरसराहट शांत भी नहीं हुई है। भाजपा पार्टी के कार्यकर्ताओं की एक नई भ्रष्टाचार गाथा जनता के सामने प्रस्तुत है। इस प्रकार की स्थिति में क्षेत्र की जनता ऐसे भ्रष्ट नेताओं से अपने विकास की कामना किस प्रकार से कर सकती है या ऐसे नेता जिनके पास नेतृत्व का दृष्टिकोण ही नहीं है। जो जनता को लूटने के अलावा और कुछ सोचते ही नहीं है। क्या ऐसे नेतृत्व से हम अपने विकास की अपेक्षा कर सकते हैं? मुझे लगता है नहीं,  लेकिन इसके बावजूद भी अपने इन जनप्रतिनिधियों को आप को झेलना ही होगा। क्योंकि आप भोली-भाली जनता है और आप कुछ भी नहीं जानती है और ना कुछ समझती है। आपके ही अधिकार का हनन हुआ है। आपके ही सामने आपके राशन पर डकैती डाली गई है और आप चुपचाप इस भ्रष्ट आचरण को सहन कर रहे हैं। हो सकता है कल आपके ऊपर  इस से भी बड़े अत्याचार किए जाए। उस समय आप चिल्ला- चिल्लाकर भी कहेंगे तो भी आपकी कोई सहायता नहीं कर सकता। क्योंकि जो स्वयं अपनी सहायता नहीं कर सकता, उसकी कोई भी सहायता नहीं कर सकता है। अत्यधिक आश्चर्य की बात है कि माननीय विधायक नंदकिशोर गुर्जर  जोकि भ्रष्टाचार व गलत काम करने वालों को व दलाली करने वालों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करते। आज वो ऐसे भ्रष्टाचारी के साथ नजर आ रहे है जिसने गरीब सफाई कर्मचारियों के हक़ के 500 रुपये में से 200 रुपये लेकर अपने निजी पार्टी के लिए डकार लिए। ऐसा भ्रष्टाचारी जिसके खिलाफ सबूत आंखों के सामने है। बावजूद उसके क्या उसे स्थानीय पुलिस इसलिए नहीं गिरफ्तार कर रही है कि यह व्यक्ति विधायक के साथ फोटो खिंचवाकर वायरल कर रहा है। विधायक इतना होने पर भी खामोश है, लोनी की जनता सब देख रही है।

सपा नेताओं ने एडीजी से की मुलाकात

पप्पू गंजिया को राजनीतिक मोहरा बनाए जाने पर सपा नेताओं ने एडीजी ज़ोन से करी मुलाक़ात

बृजेश केसरवानी

प्रयागराज। समाजवादी पार्टी का एक शिष्टमण्डल निर्वतमान ज़िलाध्यक्ष कृष्णमुर्ति सिंह यादव व निर्वतमान महानगर अध्यक्ष सै०इफ्तेखार हुसैन के साथ पुलिस महानिरीक्षक प्रयागराज परिक्षेत ज़ोन से मिल कर नैनी के जावेद अहमद उर्फ पप्पू गंजिया जिन पर लगभग 17वर्षों से कोई भी आपराधिक मुक़दमा नहीं है। जिनहे राजनैतिक विद्वेश की भावना से फंसाए जाने का आरोप लगाया।कृष्णमुर्ति सिंह ने बताया भाजपा सरकार में सपाईयों का उत्पीड़न ज़ोर शोर से जारी है।कहा लगभग सत्रह वर्षों से पप्पू गंजिया पर एक भी अपराधिक मुक़दमा पंजीकृत नहीं हुआ।श्री इफ्तेखार ने कहा की भाजपा सरकार और उसके कई दर्जन मंत्रीयों पर सैकड़ो मुक़दमे दर्ज हैं लेकिन उन पर उंगली उठाने वाला कोई नहीं वहीं17वर्षों से साधारण जीवन जी रहे जावेद अहमद उर्फ पप्पू गंजिया को राजनैतिक द्वेशवश फंसाया जा रहा है।नेताद्वय को पुलिस महानिरीक्षक ने आश्वासन दिया की किसी को फर्ज़ी नहीं फंसाया जाएगा। दोष सिद्ध न होने पर छोड़ दिया जाएगा। कृष्णमूर्ति सिंह व इफ्तेखार हुसैन के साथ ज़िला सचिव राकेश यादव व शहर उत्तरी विधान सभा अध्यक्ष रविन्द्र यादव रवि भी शामिल थे।

प्रवासी श्रमिकों को 10 -10 हजार देंं सरकार

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से प्रवासी श्रमिकों तथा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के खातोें में दस दस हजार रुपये हस्तांतरित करने का अनुरोध किया है। बनर्जी ने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के कारण लोगों से समक्ष उत्पन्न हुई स्थिति पर चिंता जताते हुए कहा, “ लोगों को महामारी के कारण आर्थिक कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।


मैं केंद्र सरकार से प्रवासी श्रमिकों तथा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के खातों में एक बार में दस दस हजार रुपये हस्तांतरित करने की अपील करती हूं। उन्होंने कहा कि इस काम में पीएम केयर्स की राशि का इस्तेमाल किया जा सकता है।


निसर्गः 3 राज्यों में 3 घंटों तक भूस्खलन

नई दिल्ली। चक्रवात ‘निसर्ग’ के कारण महाराष्ट्र, गुजरात और गोवा के तटीय जिलों में कम से कम तीन घंटे तक भूस्खलन होने की आशंका है। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल के प्रमुख एस.एन. प्रधान ने बुधवार को कहा कि एनडीआरएफ की 43 टीमों की मदद से तटीय इलाकों को खाली कराने का काम लगभग पूरा हो चुका है।


प्रधान ने कहा कि चक्रवात भारत के मौसम विभाग (आईएमडी) द्वारा घोषित पूर्वानुमान के साथ आगे बढ़ रहा था और चक्रवात के बनने का विज्ञान महाराष्ट्र के दक्षिणी जिले में स्पष्ट था। एनडीआरएफ के महानिदेशक ने कहा कि महाराष्ट्र के एक बंदरगाह शहर रत्नागिरि में लहरें तेज हो गई हैं। तेज हवाएं चल रही हैं और बारिश हो रही है। रायगढ़ जिले के अलीबाग तटीय शहर के दक्षिण में दोपहर 1 बजे के बाद लैंडफॉल शुरू हुआ, जैसा कि भविष्यवाणी की गई थी। इससे पहले प्रधान ने कहा था कि “चक्रवात से दोपहर 2 बजे और शाम 4.30 बजे के बीच कुछ समय के लिए भूस्खलन होने की आशंका है।” उन्होंने कहा कि कुल 43 एनडीआरएफ टीमों को काम पर तैनात किया गया और तटीय इलाकों को खाली कराने का काम सभी मामलों में पूरा हो गया है। एनडीआरएफ की 43 टीमों में से 40 तैनात हैं और तीन आरक्षित हैं। इनमें से अठारह गुजरात में, 21 महाराष्ट्र में, 2 दमन और दीव में और 2 दादर और नगर हवेली में तैनात की गई हैं। अधिकांश टीमों को अरब सागर का सामना करने वाले तटीय जिलों में तैनात किया गया है।


प्रधान ने कहा, “इसके अलावा, एहतियाती कदम भी उठाए गए हैं और चक्रवात आश्रय में लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लाइफ स्किल्स भी सिखाए जा रहे हैं। मेरा मानना है कि केंद्रीय एजेंसियों या राज्य एजेंसियों की ओर से चक्रवात का सामना करने के लिए सभी तैयारियां पूरी हैं। बहुत अच्छा समन्वय है।”पूर्वी तट को अम्फान द्वारा पस्त करने के बाद निसर्ग आया है। निसर्ग के उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तटों को रायगढ़ जिले के हरिहरेश्वर शहर और दमन के बीच एक गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में पार करने की संभावना है। मई 1961 के बाद, निसर्ग जून में महाराष्ट्र तट से टकराने वाला पहला चक्रवात होगा। भविष्यवाणियों के अनुसार, महाराष्ट्र के तटीय जिले, जैसे सिंधुदुर्ग, रत्नागिरि, ठाणे, रायगढ़, मुंबई और पालगढ़ भी इससे प्रभावित होंगे। मौसम ब्यूरो ने महाराष्ट्र के कम से कम सात तटीय जिलों के लिए रेड अलर्ट किया है। जबकि गुजरात के तट के साथ कई जिलों में भी भारी बारिश के आसार हैं।


जेसिका लाल हत्याकांड सुप्त, शर्मा रिहा

जेसिका लाल हत्याकांड: जेल में अच्छे व्यवहार के चलते सिद्धार्थ शर्मा उर्फ मनु शर्मा रिहा



नई दिल्ली। जेसिका लाल हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहे दोषी सिद्धार्थ शर्मा उर्फ मनु शर्मा मंगलवार को रिहा हो गए हैं। उपराज्यपाल ने यह फैसला उनके अच्छे व्यवहार के चलते लिया है। रिहाई पर अंतिम फैसला उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल पर छोड़ा गया था। सजा समीक्षा बोर्ड (एसआरबी) की बैठक में मनु शर्मा की समय पूर्व रिहाई की सिफारिश किए जाने के बाद मंगलवार को अंतिम मंजूरी के लिए फाइल उपराज्यपाल अनिल बैजल के पास भेज दी गई है, जहां से मनु शर्मा की रिहाई के आदेश दे दिए गए। बता दें कि हरियाणा के पूर्व मंत्री विनोद शर्मा के बेटे मनु शर्मा को दिसंबर 2006 में दिल्ली हाई कोर्ट ने 1999 में जेसिका लाल की हत्या के लिए उम्रकैद की सजा सुनाई थी।


गौरतलब है कि तिहाड़ जेल सूत्रों ने बताया है कि यह छठी बार है जब समय से पहले रिहाई के लिए मनु शर्मा की याचिका सजा एसआरबी के समक्ष रखी गई। दिल्ली के गृहमंत्री सत्येंद्र जैन की अध्यक्षता में सोमवार को एसआरबी की बैठक में मनु शर्मा की रिहाई की सिफारिश की गई। दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने कहा कि सोमवार को 37 मामले मेरिट के आधार पर एसआरबी के सामने आए। इनमें से 22 मामले निर्धारित मापदंड के आधार पर रिहाई के योग्य पाए गए।


16 साल से ऊपर सजा काट चुका है मनु शर्मा


तिहाड़ के सूत्रों की मानें तो मनु शर्मा अपने जुर्म की सजा पूरी कर चुका है। मनु शर्मा के व्यवहार में हुए बदलाव को देखते हुए पहले उसे सेमी ओपन जेल, फिर ओपन जेल में शिफ्ट कर दिया गया था। बता दें कि कुछ साल पहले जेसिका लाल की बहन सबरीना लाल ने भी दोषी मनु शर्मा को जेल से रिहा करने को लेकर कोई आपत्ति नहीं जताई थी। उनका कहना था कि मनु शर्मा को जेल से छोड़े जाने पर उन्हें कोई एतराज नहीं है।



उत्तराखंड में 23 नए मामले, 7 स्वास्थ्य

देहरादून। उत्तराखंड में बुधवार को पहले 18 घंटों में 23 नये कोरोना संक्रमित मरीज आये हैं, जबकि सात स्वस्थ हो गये हैं। इस प्रकार जहां कुल संक्रमितों की संख्या 1066 पहुंच गई है, वहीं आठ लोगों की मौत और चार लोगों के राज्य से बाहर चले जाने व कुल 259 के स्वस्थ हो जोन के साथ प्रभावी संक्रमितों की संख्या 795 हो गयी है। अच्छी बात यह भी है कि आज 1029 लोगों की जांच नकारात्मक आई है और 1128 लोगों के नमूने लिये गये हैं। आज सर्वाधिक नौ मामले हरिद्वार, चार मामले चमोली, सात मामले प्राइवेट लैबों से तथा नैनीताल, पौड़ी गढ़वाल तथा देहरादून में एक-एक नये व्यक्तियों में कोरोना की पुष्टि हुई है।


नशेड़ी ने पत्नी को पीट-पीटकर मार डाला


  • गुरुबख्शगंज थाना क्षेत्र के कोरिहर गांव का मामला

  • पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी


रायबरेली। उत्तर प्रदेश में रायबरेली जिले के गुरुबख्शगंज थाना क्षेत्र में एक शख्स ने अपनी पत्नी को इस कदर पीटा कि, उसकी मौत हो गई। पिटाई का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें आरोपी अपनी पत्नी को पीटते हुए नजर आ रहा है। वारदात के बाद से आरोपी फरार है। वहीं, पुलिस के सामने छह साल के बेटे ने अपने पिता की करतूत बयां की है। पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत है।


ये वारदात गुरुबख्शगंज थाना क्षेत्र के कोरिहर गांव की है। धर्मराज शराब पीने का आदी था। मंगलवार की शाम धर्मराज शराब पीकर घर आया। वह किसी बात पर पत्नी से उलझ गया और फिर उसे बेरहमी के साथ पीटने लगा। शाम से शुरु हुआ विवाद देर रात तक चलता रहा। सुबह ग्रामीणों को पता चला कि धर्मराज की पत्नी संगीता दुनिया में नहीं रही।


ग्रामीण रामकेवल बताते हैं कि हम अपने ट्यूबवेल पर थे, तभी हमें संगीता के चीखने चिल्लाने की आवाज मिली थी। रात को भी धर्मराज की पत्नी की गुहार सुनाई पड़ी। आज सुबह उसकी मौत की खबर मिली। एक अन्य ग्रामीण गुड्डू बताते हैं की धर्मराज ने शराब पीकर पत्नी को मारा। प्रतिदिन वो पत्नी से झगड़ा करता रहता था। मंगलवार की शाम शराब ज्यादा पीकर आया और मारने लगा। उसे कई बार मना किया गया, लेकिन नहीं माना। जिससे मौत हो गई। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए आरोपी पति की तलाश शुरू कर दिया है। एसपी स्वप्निल ममगई ने बताया कि तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलते ही केस दर्ज किया जाएगा। आरोपी की तलाश में पुलिस टीम लगाई गई है।


भाजपा सांसद के लापता होने के पोस्टर

चंदौली में भाजपा सांसद के लापता होने का पोस्टर लगा , ढूंढ कर लाने वाले को 5,100 रुपए इनाम की घोषणा


 सुनील मिश्रा 


वाराणसी। केंद्रीय मंत्री एवं चंदौली सांसद डॉ महेंद्र नाथ पांडे चंदौली जिले के पीडीडीयू नगर में लापता होने का पोस्टर लगाया गया हैं। सांसद को ढूंढ कर लाने वाले को 5 ,100 रुपए इनाम की घोषणा भी की गई है। सांसद चंदौली के लापता होने के पोस्टर लाल बहादुर पीजी कॉलेज के पूर्व अध्यक्ष अंकित कुमार यादव ने लगवाई है।अपने को सपा नेता बताने वाले पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि करोना जैसी महामारी 2 महीने से अधिक हो गया मगर सांसद अपने संसदीय क्षेत्र में दिखाई नहीं दिए।इस संबंध में सांसद के मीडिया प्रभारी हरवंश पटेल ने कहा कि यह सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए घटिया हरकत की गई है। आगे कहा कि सांसद लगातार चंदौली के साथ हैं।उन्होंने जिले के लिए पीपीई किट भिजवाई है। चंदौली में कोई भूखा न रहे इसके लिए लगातार रसद सामग्री बाटी जा रही है।


सॉलिसिटर जनरल की बर्खास्तगी की मांग

उठने लगी है सॉलिसिटर जनरल की बर्खास्तगी की मांग 

नई दिल्ली। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता अब हाईकोर्ट के न्यायाधीशों को धमकाने पर उतर आये हैं। शायद वे सोच रहे हैं कि सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस या जस्टिस लोया की संदिग्ध मौत जैसे मामले हैं प्रवासी मजदूरों के, जो मैनेज हो जायेंगे। तुषार मेहता की उच्चतम न्यायालय में की गयी अमर्यादित तीखी टिप्पणियों का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। तुषार मेहता ने दुर्दशाग्रस्त प्रवासी मजदूरों के प्रति जो अहंकारी असहिष्णुता दिखाई है, उससे उनकी कड़ी आलोचना हो रही है। देश के 19 हाईकोर्टों जहाँ कोविड-19 से सम्बन्धित मामलों की सुनवाई हो रही है, पर समानांतर सरकार चलाने के तुषार मेहता के आरोप को उच्च न्यायालयों को धमकाने का प्रयास माना जा रहा है। जब प्रवासी मजदूरों से सम्बन्धित सभी याचिकाओं में बिना शपथपत्र लिए उच्चतम न्यायालय ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता की सभी बातें मान लीं तो उनका अहंकार स्वाभाविक है।  

इंडियन एक्सप्रेस में तो तुषार मेहता की बर्खास्तगी तक की मांग शुरू हो गयी है। तवलीन सिंह के लेख में कहा गया है कि उच्चतम न्यायालय में तुषार मेहता द्वारा की गयी अमर्यादित टिप्पणियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार को इतना ज्यादा नुकसान पहुंचाया है, जितना विपक्ष भी नहीं पहुंचा सका है। इसका कारण यह है कि मेहता ने सड़क पर पैदल चलने वाले उन प्रवासी मजदूरों के प्रति अहंकारी असहिष्णुता दिखाई है, जिन्होंने कोविड-19 में अपना सब कुछ खो दिया है। प्रवासी मजदूरों का  जितना नुकसान कोविड-19 ने नहीं पहुंचाया उससे ज्यादा  कार्यपालिका की आपराधिक लापरवाहियों ने पहुंचा दिया है। प्रधानमन्त्री से तुषार मेहता को बर्खास्त करने की मांग की गयी है। 

मूडीजः भारत की रेटिंग को बताया कबाड़ा

मूडीज़ ने भारत की रेटिंग को सिर्फ ‘कबाड़’ से ऊपर रखा, बीजेपी सांसद ने कहा-चीनी साज़िश 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी ने सीआईआई के 125वें वार्षिक समारोह में मंगलवार को दावा किया कि भारत अपनी ग्रोथ रेट जल्द पा लेगा, लेकिन दुनिया इस दावे पर भरोसा करने को तैयार नहीं है। रेटिंग एजेंसी मूडीज़ इन्वेस्टर्स सर्विस ने भारत की रेटिंग बेहद कम कर दी है। इसे बीएए-2 से घटाकर बीएए-3 कर दिया गया है जो निवेश की दृष्टि से सिर्फ कबाड़ ग्रेड से एक दर्जा ऊपर है। एजेंसी के मुताबिक आने वाले दिनों में आर्थिक स्थिति भारत की और बिगड़ेगी। निम्न आर्थिक वृद्धि दर, बिगड़ी वित्तीय स्थिति और वित्तीय क्षेत्र के दबाव जोखिम कम करने की चुनौतियां होंगी। यह दो दशक में पहली बार हुआ है। इससे पहले 1998 में मूडीज़ ने भारत की रेटिंग को कम किया था।

मूडीज का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष के दौरान भारत की सकल घरेलू उत्पाद (GDP)में 4 प्रतिशत तक गिरावट आ सकती है। भारत के मामले में पिछले चार दशक से अधिक समय में यह पहला मौका होगा जब पूरे साल के आंकड़ों में जीडीपी में गिरावट आएगी। इसी अनुमान के चलते मूडीज ने भारत के विदेशी मुद्रा और स्थानीय मुद्रा की दीर्घकालिक इश्युअर रेटिंग को बीएए-2 से घटाकर बीएए-3 पर ला दिया गया है। ‘बीएए-3’ सबसे निचली निवेश ग्रेड वाली रेटिंग है। इससे नीचे दर्जे की रेटिंग निवेश लायक नहीं मानी जाता है।

मूडीज का कहना है कि सुधारों की धीमी गति और नीतियों की प्रभावशीलता में रुकावट ने धीमी वृद्धि में योगदान किया। यह स्थिति कोविड- 19 के आने से पहले ही शुरू हो चुकी थी और यह इस महामारी के बाद भी जारी रहने की संभावना है।

मूडीज ने इससे पहले नवंबर 2017 में 13 साल के अंतराल के बाद भारत की राष्ट्रीय क्रेडिट रेटिंग को एक पायदान चढ़ाकर बीएए-2 किया था। एजेंसी ने कहा कि नवंबर 2017 में भारत की रेटिंग को एक पायदान बढ़ाना इस उम्मीद पर अधारित था कि महत्वपूर्ण सुधारों का प्रभावी क्रियान्वरयन किया जाएगा और इससे अर्थव्यवस्था, संस्थानों और वित्तीय मजबूती में लगातार सुधार आएगा। तब से लेकर इन सुधारों का क्रियान्वयन कमजोर रहा और इनसे बड़ा सुधार नहीं दिखाई दिया। इस प्रकार नीतियों का प्रभाव सीमित रहने के संकेत मिलते हैं। दूसरी रेटिंग एजेंसियों,फिच रेटिंग्स और स्टैंडर्ड एंड पूअर्स ने हाल में भारत की रेटिंग को मूडीज से भी एक रेटिंग कम दिया है।

 

उधर, सत्ताधारी दल बीजेपी के नेता मूडीज़ के इस आकलन से भड़के हुए हैं। बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने प्रधानमंत्री मोदीको पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की है। उनका आरोप है कि मूडीज़ और दूसरी एजेंसियां भारतीय अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुँचाने के लिए चीन के इशारे पर ऐसा कर रही हैं। उन्होंने लिखा, ” … ये रेटिंग एजेंसियां ऐसे व्यवहार करती हैं जैसे ये भगवान हैं और हमारे देश को तीसरे दर्जे का देश मानती हैं। इसलिए भारत की सावरेन रेटिंग को लगातार नीचे रखा जाता है।”

आखिर पुलिस के चक्कर में फंस गए 'संबित'

रायपुर। कोरोना संकट के बीच बीजेपी नेता व राष्ट्रीय प्रवक्‍ता संबित पात्रा पुलिस के चक्‍कर में फंस गए हैं। राजधानी पुलिस ने उन्हें तीसरी बार नोटिस जारी किया है। संबित को पहले 20 मई, फिर 2 जून और अब 8 जून को रायपुर बुलाया गया है। लेकिन वो एक भी बार पेश नहीं हुए है। अब इस बार वो आएंगे या नहीं कुछ नहीं कहा जा सकता है। दरअसल सिविल लाइन थाना रायपुर में अपराध क्रमांक 200/2020 धारा 153ए, 298, 505(2) भादवि. पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। इस संबंध में संबित पात्रा से पूछताछ किया जाना है। इसलिए रायपुर पुलिस ने तीसरी बार नोटिस जारी कर 8 जून सुबह 11 बजे उपस्थित होने को कहा है।


बता दें कि संबित पात्रा ने अपने ट्विटर एकाउंट से सन् 1984 के सिक्खों के कत्ल, कांग्रेस पार्टी और उनके वरिष्ठ-दिवंगत नेताओं पर टिप्पणी की थी। इसी मामले में रायपुर पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है।


मेरठ में फूटा कोरोना बम, 20 नए संक्रमित

मेरठ। कोरोना मरीजों का बढ़ता ग्राफ बता रहा है कि जिले में संक्रमण अनियंत्रित हो चुका है। मंगलवार को 20 नए मरीजों के साथ आंकड़ा 463 पर पहुंच गया। वहीं, ब्रम्हपुरी की महिला की मौत भी हो गई। जिसकी रिपोर्ट में पाजिटिव मिली। स्वास्थ्य विभाग ने भी माना है मरीजों के आंकड़े अभी बढ़ते रहेंगे।सीएमओ डा. राजकुमार ने बताया कि मंगलवार को 227 सैंपलों की जांच की गई, जिसमें 14 में कोरोना मिला। इसमें युग अस्पताल से छह मरीजों में बीमारी की पुष्टि हुई। अस्पताल को 24 घंटे के लिए सील कर दिया गया है। पहली बार किसी अस्पताल से इतनी बड़ी संख्या में मरीज मिले हैं। इसमें कृष्णा नगर का 40 साल का व्यक्ति, रजपुरा की 36 साल की महिला, सूरजकुंड आर्यनगर का 30 साल का युवक, भोपाल विहार जयभीमनगर से 18 साल का लड़का, इंचौली उदयपुर का 30 वर्षीय युवक और 20 वर्षीय हसनपुरकलां माछरा का मरीज पाजिटिव मिला है। अस्पताल के छह लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। उधर, असौड़ा हाउस के एक मरीज के संपर्क में आकर मंगलवार को परिवार के ही छह लोग संक्रमित हो गए। इसमें चार पुरुष, दो महिलाएं हैं। अहमदनगर लखीपुरा के 23 साल के युवक व धनवंतरि अस्पताल में भर्ती कंकरखेड़ा की 50 साल की महिला में कोरोना मिला है। उधर, मेडिकल कालेज में भर्ती पांच लोगों में संक्रमण मिला है, इसके अलावा ब्रह्मपुरी की महिला का आंकड़ा भी मेडिकल ने अपनी रिपोर्ट में नहीं जोड़ा है। दो मरीजों का छह घंटे में भी पता नहीं लगा पाया स्वास्थ्य विभाग, माना जा रहा कि कोरोना संक्रमितों के आंकड़े अभी बढ़ते ही रहेंगे मुजफ्फरनगर के दाल मंडी में महिला पॉजिटिव मिलने के बाद उनके दो बच्चे और पति भी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। मंगलवार को आई रिपोर्ट में परिवार के तीन सदस्यों की पॉजिटिव की पुष्टि हुई है। डीएम सेल्वा कुमारी जे ने यह जानकारी दी है। वहीं बुलंदशहर में भी तीन नए केस मिले हैं। औरंगाबाद में मिला कोरोना वायरस केस, संक्रमित युवकों इलाज के लिए जेपी हॉस्पिटल चिता में भर्ती कराया गया है। नगर पंचायत द्वारा पूरे कस्बे को सैनिटाइज किया जा रहा है और युवक के परिवार के सदस्यों को कौन टाइम कर दिया गया है। अब जिले में कोरोना के पॉजिटिव केस की संख्या 133 हो गई है। पॉजीटिव केस मिलने के बाद औरंगाबाद की फल और सब्जी मंडी अग्रिम आदेशों तक बंद कर दी है।वार्ड 29 के कोरोना संक्रमित सफाई कर्मचारी के संपर्क में आने के बाद नगर आयुक्त डॉ. अरविंद चौरसिया का भी स्वास्थ्य विभाग ने सेंपल लिया था। साथ ही वह होम क्वारंटाइन हो गए थे। जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है।


भारत-बांग्लादेश सीमा पर भूकंप के झटके

नई दिल्ली। भारत-बांग्लादेश सीमा के पास भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं।नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक भारत-बांग्लादेश सीमा क्षेत्र में आज सुबह करीब 7 बजकर 10 मिनट पर भूकंप के तेज झटके आए। रिक्टर पैमाने पर इस भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई है।


इन दिनों भारत में भूकंप के लगातार झटके महसूस किए जा रहे हैं। देश की राजधानी दिल्ली में शुक्रवार(29 मई) को फिर एक बार भूकंप के झटके महसूस किए गए। पिछले करीब डेढ़ महीने के दौरान दिल्ली में पांच बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं। दिल्ली में शुक्रवार(29 मई) को आए भूकंप का तीव्रता  रिक्टर स्केल पर 4.6 मापी गई। हालांकि किसी भी जगह से जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं आई।भूकंप का अधिकेंद्र हरियाणा के रोहतक के अटायल गांव में था। दिल्ली में पिछले करीब डेढ़ माह के दौरान चार भूकंप पहले आ चुके हैं। पहला भूकंप 12 अप्रैल को आया था। उसके बाद 13 अप्रैल, 10 मई और फिर 15 मई को भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। इन भूकंपों की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2.2 से लेकर 3.5 तक रही। खास बात यह कि इन सभी भूकंपों का केंद्र उत्तर-पूर्वी दिल्ली में वजीराबाद और उत्तरी दिल्ली का वजीरपुर था।


इस बीच आज देश में चक्रवात ‘निसर्ग’ को लेकर अलर्ट जारी किया गया है।भारतीय मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक चक्रवात ‘निसर्ग’ के आज दोपहर से शाम के बी मुंबई से करीब 94 किमी की दूरी पर स्थित अलीबाग के पास टकराने की संभावना है।


लॉक डाउन-अनलॉक, योगीराज में अपराध

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि लॉकडाउन हो या अनलॉक भाजपा राज में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं, उन्हें खुली छूट मिली है। पुलिस कानून व्यवस्था संभालने के बजाय सत्ताधारियों के इशारे पर विपक्षियों को झूठे केसों में फंसाने में व्यस्त है। प्रदेश में भाजपा सरकार के चलते हर ओर अव्यवस्था और अराजकता है। चाहे वह कोरोना से बचाव के लिए स्वास्थ्य सेवाओं में लारवाही हो या गरीबों, श्रमिकों वसामान्य जन की सुरक्षा की बात हो।सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को जारी बयान में कहा कि प्रदेश में खूनी खेल चरम पर है और पुलिस तथा प्रशासन मौन धारण किए हुए है। कमिश्नरी व्यवस्था शुरू होने का भी कोई फायदा नहीं है। समाजवादी सरकार ने अपराध नियंत्रण की जो आधुनिकतम व्यवस्थाएं की थी उसे भाजपा सरकार ने ध्वस्त कर दिया है। पुलिस का आधुनिकीकरण रोक दिया है। प्रशासनिक शिथिलता और लापरवाही के कारण प्रदेश इस स्थिति को प्राप्त हो गया है।सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा राज में सबसे ज्यादा बदहाली किसानों की हुई है। क्रय केंद्रों का पता नहीं है। किसान अपने ट्रैक्टर ट्रालियां लिए खड़े हैं। न तो उनका गेहूं बिक रहा है और न ही चीनी मिलें उनका गन्ना ले रही हैं। सब्जी बोने वाले किसानों ने अपनी फसलें नष्ट कर दी हैं। मटर-चना उत्पादक किसानों को उत्पादन लागत भी नहीं मिली। कर्ज में डूबे किसानों को राहत देनेके बजाए भाजपा सरकार बैंकों और मिल मालिकों की मदद कर रही है।अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा राजनीतिक साजिश और षड्यंत्र करती रहती है। इससे जनता को सावधान रहना पड़ेगा। यूपी ने देश को प्रधानमंत्री दिया। भाजपा की सरकार ने 3 एमओयू किए हैं, लेकिन क्या सरकार बताएगी किस उद्योगपति ने निवेश किया और उद्योगपति को किस बैंक ने कितना लोन दिया है। मुख्यमंत्री जितने निवेश की बात कर रहे हैं अगर उतना हुआ होता तो अब तक उत्तर प्रदेश में करोड़ों लोगों को नौकरियां मिल चुकी होती। आज हालत यह है कि पुराने उद्योग धंधे डूब रहे हैं। तीन साल की भाजपा सरकार में एक भी नया कारखाना नहीं लगा। अब सरकार श्रमिकों को भ्रमित करने के लिए नया आयोग की बात कर रही हैं।


खंडपीठ ने भर्ती प्रक्रिया फिर अटकाई

लखनऊ। परिषदीय स्कूलों में 69000 सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया फिर अटक गई है। इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दी है। मामले की अगली सुनवाई 12 जुलाई को होगी। बता दे कि याचियों ने शिक्षक भर्ती के लिए आयोजित लिखित परीक्षा के 13 सवालों पर आपत्ति जताई थी।


याचिका का कहना था कि इन सवालों के उत्तर एनसीईआरटी की किताबों में कुछ और है जबकि बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा जारी की गई आंसर सीट में उत्तर कुछ और है। जिस पर हाईकोर्ट ने एक जून को सुनवाई करते हुए अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था। बुधवार को जस्टिस आलोक माथुर की बेंच ने अपना फैसला सुनाते हुए आदेश दिया कि अथ्यर्थी विवादित प्रश्नों पर अपनी आपत्तियों को एक सप्ताह के अंदर राज्य सरकार को भेजे और राज्य सरकार इन आपत्तियों को यूजीसी को भेजेगी। मामले की अगली सुनवाई के लिए 12 जुलाई की तारीख तय की गई है। कोर्ट के इस फैसले के साथ ही उत्तरमाला, संशोधित उत्तरमाला, परिणाम के लिए जिला विकल्प, जिला आवंटन, काउंसलिंग प्रक्रिया समेत सभी प्रक्रिया शून्य हो गई है।


बता दें कि हाईकोर्ट के इस फैसले से चयनित अभ्यर्थियों को झटका लगा है। बुधवार से प्रदेश के जिलों में काउंसलिंग शुरू हो गई थी और तीन से छह जून तक नियुक्ति पत्र भी दिए जाने थे। जब अभ्यर्थी काउंसलिंग के लिए पहुंचे तो उन्हें फैसले की जानकारी मिली। जिस पर काउंसलिंग सेंटर पर उनसे हस्ताक्षर करने और फिर वापस चले जाने के लिए कहा गया। दरअसल, प्रदेश की योगी सरकार भी भर्तियों को लेकर काफी उत्साहित थी और तप्परता दिखा रही थी लेकिन हाईकोर्ट के इस फैसले से सरकार को भी निराशा हुई है।


दो प्रदेश अध्यक्षों के नामों की घोषणा

अब होगी हरियाणा औऱ हिमाचल के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के नाम की शीघ्र घोषणा

राणा ओबराय

चण्डीगढ़। भाजपा आलाकमान करोना वायरस के चलते हरियाणा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा करने में पहले ही देरी कर चुका है। क्योकि वर्तमान अध्यक्ष का समय बहुत पहले ही पूरा हो चुका है। परंतु जैसे-जैसे देश और प्रदेश सामान्य गतिविधियों में हिस्सा लेने लगा है तो राजनीति कैसे पीछे रह सकती है। भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने बीते कल तीन प्रदेश अध्यक्ष को बदल कर संकेत दे दिए हैं की हरियाणा और हिमाचल में भी शीघ्र ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा होगी। हरियाणा भाजपा में यूं तो अनेकों प्रदेश अध्यक्ष पद के दावेदार हैं परंतु मुख्य रूप से मुख्यमंत्री मनोहर लाल अपने विश्वासपात्र वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला, सांसद संजय भाटिया व नायाब सैनी में से किसी एक को अध्यक्ष की कुर्सी पर बिठाना चाहते हैं। परंतु यदि जातिवाद औऱ तुजुर्बे की बात की जाए तो पूर्वमंत्री रामबिलास शर्मा, ओमप्रकाश धनखड़, कैप्टन अभिमन्यु पर आलाकमान भरोसा कर सकता है। यदि आलाकमान अनुसूचित जाति में से किसी को अध्यक्ष पद सौंपने की सोचता है तो कृष्ण बेदी मुख्यमंत्री और पार्टी की पहली पसंद होंगे। परन्तु हरियाणा भाजपा अध्यक्ष पद के लिए संघ की पहली पसंद पूर्व विधायक डॉ पवन सैनी भी हो सकते हैं। इतना तो तय माना जा रहा है कुछ ही दिन में भाजपा आलाकमान हरियाणा व हिमाचल प्रदेश अध्यक्ष कर ही देगी।

पुलवामा में 3 आतंकियों को ढेर किया

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का ऑपरेशन जारी है। बुधवार को पुलवामा में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया है। कंगन गांव में छिपे होने की सूचना के बाद यह एनकाउंटर शुरू किया गया था। एहतियातन पुलवामा में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। इससे पहले पुलवामा जिले के ही त्राल में सुरक्षाबलों ने मंगलवार को दो आतंकियों को मार गिराया था। अवंतीपोरा के साईमोह गांव में आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली थी। इसके बाद सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया। जवानों ने आतंकियों से हथियार डालने की बात कही थी, लेकिन आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी।


कई घंटों की फायरिंग के बाद सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया था। इनके पास से सुरक्षाबलों ने भारी गोला-बारूद बरामद किए थे। बताया जा रहा था कि दोनों आतंकी अंसार गजावत-उल-हिंद (एजीएच) आतंकी संगठन के लिए काम करते थे। सुरक्षाबलों ने पुलवामा में लगातार तीसरे दिन एनकाउंटर किया था। इससे पहले सुरक्षाबलों ने लाइन ऑफ कंट्रोल यानी एलओसी पर घुसपैठ की कोशिश करते 13 आतंकियों को सेना ने मार गिरा। 10 आतंकवादी मेंढर सेक्टर में और तीन आतंकवादी नौशेरा सेक्टर में मारे गए हैं। सेना ने आतंकियों के पास से 2 एके 47 , अमेरिका राइफल, चीनी पिस्टल और ग्रेनेड बरामद किए थे।






 





चीनी सैनिकों ने घुसपैठ नहीं कीः राहुल

अकाशुं उपाध्याय


नई दिल्ली। लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर भारत और चीन के बीच तनाव की खबरें आय-दिन आ रही हैं। चीनी सैनिकों के घुसपैठ के बाद से भारतीय सेना ने भी मोर्चा संभाल लिया है। इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार से सवाल पूछा कि क्या भारत सरकार इस बात की पुष्टि कर सकती है कि कोई चीनी सैनिक भारत सीमा में नहीं घुसा है?


इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा था कि चीनी सेना द्वारा भारतीय सीमा में घुसपैठ के दुस्साहस पर मोदी सरकार क्यों मौन बैठी है। भारत की सुरक्षा व क्षेत्रीय अखंडता से कोई समझौता स्वीकार नहीं किया जा सकता। तथाकथित तौर से ये घुसपैठ लद्दाख में गलवान नदी वैली और पांगोंग झील के इलाके में हुई है। दरअसल, नई सैटेलाइट इमेज आने के बाद एलएसी पर चीनी सैनिकों की बड़ी संख्या में घुसपैठ को लेकर अलग-अलग दावे किए जा रहे हैं। एक तरफ कहा जा रहा है कि ताजा जारी सैटेलाइट इमेज में बहुत अधिक संख्या में चीनी सैनिकों के घुसपैठ के आसार कम दिख रहे हैं, लेकिन दूसरी तरफ कहा जा रहा है कि 5,000 से अधिक चीनी सैनिक एलएसी पर आ गए हैं।


डिफेंस एक्सपर्ट अभिजीत अय्यर मित्रा का कहना है कि सैटेलाइट इमेज में जिस तरह से चीनी सैनिकों की हरकत सामने आई है। उससे लगता है कि बहुत ही कम संख्या में चीनी सैनिक सीमावर्ती क्षेत्र में सक्रिय हैं। ऐसे में एलएसी पर 5 हजार चीनी सैनिकों का पहुंचना वाजिब नहीं लगता है क्योंकि सैटेलाइज इमेज जारी करने वाले भी काफी पढ़-लिखे होते हैं।इससे पहले अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा था कि भारत-चीन बॉर्डर पर हालात तनावपूर्ण हैं। पिछले कुछ दिनों में चीनी सेना भारत के उत्तरी हिस्से की ओर बढ़ी है, लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर भारतीय बॉर्डर के पास चीनी सेना को देखा जा सकता है।


शराब घोटाले की निष्पक्ष जांच करें सरकार

पानीपत (मोहन लाल)। शिवसेना प्रदेश प्रमुख हरियाणा हरकेश शर्मा ने पत्रकार वार्ता में मनोहर सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि एक तरफ जहां लॉकडाउन में पूरा देश कोरोना से लडऩे की तैयारी कर रहा था। वहीं हरियाणा में भाजपा-जजपा सरकार में शराब माफिया बन्द गोदामों से शराब की तस्करी करने में लगा हुआ था। जब मीडिया ने खुलासा किया तो कमजोर जांच कमेटी बैठा कर पर्दा डालने का प्रयास किया जा रहा है। जबकि पूरा प्रदेश जानता है कि तकरीबन 8000 करोड़ के शराब घोटाले का मास्टरमाइंड कौन है। सरकार दोषियों पर कार्यवाही में देरी करके उन्हे बचाने का प्रयास कर रही है। वहीं सरकार राशन डिपो से मुफ्त राशन देने का ढोंग कर रही है और सरकार में बैठे विधायक पार्षदों तक को पता नही की डिस्ट्रैस कूपन कब और कहा मिल रहे है ऐसे में मजदूर को कहा से मालूम होगा। उन्होने कहा कि सरकार अपने आपको ईमानदार सरकार बताती है अगर वह वास्तव में ईमानदार है तो शराब घोटाले में शामिल सभी आरोपियों को सजा दिलवायें।

क्वॉरेंटाइन के नाम पर लूट रहे हैं भारतीय

युवा इनेलो के जिलाध्यक्ष नवीन नैन व रामनिवास पत्रकार वार्ता करते हुए।
पानीपत (विनोद पांचाल)। जिला के मतलौडा निवासी रामनिवास ने आरोप लगाया कि विदेशों से दिल्ली में इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर आने वाले भारतीयों को क्वारंटाइन के नाम पर लूटा जा रहा है। वहीं एयरपोर्ट पर कुछ लोग खड़े रहते है और वे अलग-अलग रेटों के अनुसार क्वारंटाइन के लिए होटलों के कमरे दिलवाने के नाम पर लोगों से रूपये वसूल रहे है। रामनिवास असंध रोड के भालसी में गंगा हैचरी पर इनेलो युवा जिला अध्यक्ष नवीन भालसी के कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। रामनिवास ने बताया कि वह 12 मई को सिंगापुर से एयर इंडिया की फ्लाइट से दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर आया था। एयरपोर्ट पर कुछ लोग खड़े थे और वे अलग-अलग राज्यों के लोगों से अलग-अलग होटलों में क्वारंटाइन करने की बात कर रहे थे। रामनिवास ने बताया कि उन लोगों ने बताया कि उनको 14 दिन होटल में क्वारंटाइन रहना पड़ेगा और उसके लिए होटलों में 1800-3100 व 4500 रूपये प्रतिदिन के हिसाब से कमरे मिलेगें। हालांकि हम कुछ लोगों ने इस बात का विरोध किया तो वे हमें एक साइड में ले गए और कहा कि आप लोग चुप रहो आपको फ्र ी में क्वारंटाइन में रख लेंगे। रामनिवास का आरोप है कि विदेशों से आने वाले भारतीयों को कोरोना के चलते लूटा जा रहा है जोकि सरासर गलत है। वहीं इनेलो युवा जिला अध्यक्ष नवीन नैन भालसी ने कहा कि दूसरे देशों से आने वाले अपने ही भारत के लोगों से इस तरह से एयरपोर्ट पर क्वारंटाइन के नाम पर लूटना गलत है। सरकार को ऐसे लोगों के खिलाफ  कार्रवाई करनी चाहिए।


मोदी-ट्रंप के बीच वार्तालाप, आमंत्रण दिया

नई दिल्ली/न्यूयॉर्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से फोन पर बातचीत की। इस बातचीत में राष्ट्रपति ट्रंप ने जी-7 समिट में शामिल होने के लिए पीएम मोदी को न्यौता दिया। पीएम मोदी ने कहा बातचीत के दौरान कोरोना वायरस संकट और दूसरे मुद्दों पर बातचीत हुई। भारत और चीन सीमा विवाद को लेकर भी दोनों नेताओं के बीच चर्चा हुई।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ''मेरे दोस्त राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के साथ गर्मजोशी से भरा और उपयोगी बातचीत हुई। हमने जी-7 को लेकर अमेरिका की अध्यक्षता, कोरोना वायरस महामारी और दूसरे मुद्दों पर बातचीत की।' इसके साथ ही पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि भारत-अमेरिका परामर्श की समृद्धि और गहराई कोरोना वायरस के बाद वैश्विक स्थिति के लिए महत्वपूर्ण स्तंभ बने रहेंगे। बता दें कि समूह-7 दुनिया की शीर्ष सात विकसित अर्थव्यवस्थाओं का समूह है। इसमें अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान और कनाडा शामिल हैं। जलवायु परिवर्तन, सुरक्षा और अर्थव्यवस्था सहित विभिन्न वैश्विक मुद्दों पर चर्चा के लिए इन देशों के प्रमुखों की हर साल बैठक होती है।

निर्जला एकादशीः छबील लगा शरबत बांंटा

गंगोह के मोहल्ला नीमतला में स्थित सत्संग भवन संचालित अन्नपूर्णा रसोई के सेवादार छबील लगाकर लोगों की मीठे शर्बत बाटते
महेश शर्मा

शामली/गंगोह। नगर एवं क्षेत्र में निर्जला एकादशी का पर्व श्रद्धा के साथ मनाया गया। इस अवसर पर अनेक जगह छबील लगाई गई तथा दान पुण्य भी किया।
मंगलवार को निर्जला एकादशी पर्व को परंपरागत रूप से मनाया गया। इस अवसर पर भी लोग गंगा दशहरा की तरह पवित्र नदियों में स्नान नही कर पाए। नदियों पर मंगलवार को भी पहरा रहा। मंगलवार को सुबह से ही अनेक संस्थाओं ने मीठे शरबत के कई जगह स्टाल लगाने शुरू कर दिए। गर्मी के बावजूद कहीं पर भी भीड़ जमा नहीं होने दी गई। शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखा गया।
पर्व पर लोग पूजा के अलावा दान पुण्य करते हैं तथा ककड़ी व खरबूजा पूजा के बाद दान करते हैं। मंगलवार को खरबूजा व ककड़ी काफी महंगी बिक गई। नीमतला स्थित गंगोह प्रेस क्लब द्वारा संचालित अन्नपूर्णा रसोई के 70 वें दिन ज्योति प्रज्जवलित अध्यक्ष अरविंद टेबक व महेंद्र पाहुजा ने की। इसके बाद सेवादार रमेष टेबक, बिजेंद सैनी, हर्शद बजाज, सागर कुमार, कुमार मानू टेबक, सत्यम गर्ग, रवि कष्यप, प्रभात पांचाल ने छबील लगाकर लोगों की मीठे शर्बत से प्यास बुझाई। ग्रामीण क्षेत्र में भी पर्व श्रद्धा के साथ मनाया गया।

27 जून को आएगा, 10-12वीं का रिजल्ट

अश्वनी पांडेय

लखनऊ। माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा का परिणाम 27 जून 2020 को आएगा। परीक्षा में कुल 4,80,591 परीक्षार्थी अनुपस्थिति रहे है। बोर्ड परीक्षा की उतर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन लगभग पूरा हो गया है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि हाईस्कूल परीक्षा में 3024632 और इंटरमीडिएट के 2586440 परीक्षार्थी सहित बोर्ड परीक्षा में कुल 56,11,072 पंजीकृत हुए थे। उन्होंने बताया कि हाईस्कूल में पंजीकृत परीक्षार्थियों में 1662334 छात्र व 1362298 छात्राएं हैं। वही, इंटरमीडिएट में पंजीकृत परीक्षार्थियों में 1464604 छात्र 1121836 छात्राएं हैं। उन्होंने बताया कि हाईस्कूल में 2,79,656 तथा इंटरमीडिएट में 2,00,935 सहित कुल 4,80,591 विद्यार्थी अनुपस्थित रहे। उन्होंने बताया कि उसके बाद ग्रीन जोन के 20 जिलों में 5 मई, ऑरेंज जोन के जिलों में 12 मई तथा रेड जोन के 19 जिलों में 19 मई से उतर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन शुरू किया गया। उन्होंने बताया कि हाईस्कूल की 1,80,19,863 तथा इंटरमीडिएट की 1,29,41,714 उतर पुस्तिकाओं सहित कुल 3,09,61,577 उतर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कराया गया है। 281 मूल्यांकन केन्द्र पर हाईस्कूल में 92,570 तथा इंटरमीडिएट 54,185 कुल 1,46,755 परीक्षकों की नियुक्ति की गई थी।

डॉ. शर्मा ने बताया कि कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी के चलते विषम परिस्थितियों में भी शासन एवं परिषद के अधिकारियों, जिला स्तरीय शिक्षाधिकारियों, शिक्षकों द्वारा सक्रिय सहयोग प्रदान करते हुए मूल्यांकन कार्य को सम्पन्न कराया गया। उन्होंने बताया कि परीक्षा परिणाम 27 जून को जारी किया जाएगा।

1 टीचर, 25 स्थानों पर अध्यापन, वेतन

अमेठी। यूपी बेसिक शिक्षा विभाग में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। शिक्षिका पर आरोप है कि वह एक दो नहीं बल्कि 25 जगहों पर एक साथ काम करती रही और वेतन लेती रही। मामले के खुलासे के बाद नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण तलब किया गया है। अमेठी के कस्तूरबा गांधी विद्यालय में तैनात शिक्षिका इस समय बेसिक शिक्षा विभाग में काफी चर्चित हो चुकी हैं। विज्ञान विषय की शिक्षिका पर आरोप है कि वह एक दो नहीं बल्कि 25 जनपदों में एक साथ काम कर रही हैं। जहां तक अमेठी जनपद का सवाल है तो जिम्मेदारों की माने तो पिछले वर्ष नवंबर में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय अमेठी में पूर्ण कालिक विज्ञान शिक्षिका के पद पर ज्वाइनिंग की थी। जिम्मेदार बताते हैं कि उक्त अवधि में शिक्षिका विद्यालय आती थीं और उन्हें छह माह का वेतन निर्गत किया गया है। फर्जीवाड़े के खुलासे के बाद बीएसए ने पत्र जारी कर मिलने की एक सप्ताह के भीतर शिक्षिका से उनके वास्तविक दस्तावेज तलब किया है। ऐसा ना होने की स्थिति में एफआईआर की भी चेतावनी दी है।

बीएसए विनोद कुमार मिश्र ने कहा कि मैनपुरी जिले के हसनपुर निवासी शिक्षिका अनामिका शुक्ला पर कई जनपदों में कूटनीतिक दस्तावेज लगाकर कार्य करने का आरोप है। संतोषजनक स्पष्टीकरण ना मिलने पर मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही रिकवरी की कार्रवाई की जाएगी।

बागपत पुलिस पर पक्षपात का आरोप

बागपत पुलिस पर पक्षपात का आरोप 

गोपीचंद सैनी 

बागपत। एक तरफ पूरे देश में लॉक डाउन लागू है। जिसमें सख्त ड्यूटी निभाने वाली पुलिस का विभिन्न प्रकार से सम्मान किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ बागपत पुलिस पर पक्षपात करने के आरोप लगाए जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र सिंघावली अहिर के अंतर्गत गांव फतेहपुर में 21 मई को ग्राम प्रधान कोमल देवी और अनिल पक्ष के बीच झगड़ा हुआ था। जिसमें प्रधान कोमल देवी की तहरीर पर स्थानीय पुलिस के द्वारा अभियोग पंजीकृत कर लिया गया। जबकि शराब के नशे में प्रधान पति के द्वारा अनिल पक्ष के घर जाकर छेड़छाड़ और मारपीट की गई है। इसके बावजूद भी पुलिस के द्वारा अनिल आदि की शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। सुमन देवी पत्नी अनिल ने छेड़छाड़ एवं मारपीट से संबंधित लिखित शिकायत थाने में दी। लेकिन उसकी शिकायत पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गई। उसके बावजूद प्रधान कोमल देवी के द्वारा थाने में दो लिखित तहरीर दी गई। दोनों तहरीरों में काफी अंतर है। दूसरी तहरीर में एक व्यक्ति अधिक और एससी एक्ट का भी जिक्र किया गया है। राजनीतिक दबाव के चलते स्थानीय पुलिस के द्वारा न्याय संगत कार्रवाई नहीं की गई। मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक से की गई है। शिकायत में निष्पक्ष जांच एवं न्याय उचित कार्रवाई की प्रार्थना की गई है।

कन्या पूजन के बाद, रसोई का समापन

गरीब की रसोई का हुआ समापन

अश्वनी उपाध्याय

गाजियाबाद। लोनी बॉर्डर क्षेत्र की उत्तरांचल कालोनी मे पिछले 27 मार्च से लगातार चलायी जा रही रसोई के समापन अवसर पर पंहुचे भारतीय जनता पार्टी की लोनी नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती रंजीता धामा व पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मनोज धामा। 

इस अवसर पर कालोनीवासियों ने रंजीता धामा व मनोज धामा का फूल-माला पहनाकर स्वागत किया। रंजीता धामा ने नौ कन्याओं को भोजन कराया तथा दान- दक्षिणा देकर आशीर्वाद लिया। इस अवसर पर लोनी नगरपालिका अध्यक्ष रंजीता धामा ने वार्ड में ड्यूटी कर रहे नगरपालिका कर्मचारियो ( कोरोना योद्धाओं) का फूल माला पहनाकर स्वागत किया तथा इस संकट की घडी मे लगातार जान हथेली पर रखकर अपने कर्तव्य का निर्वाह कर रहे सभी कर्मचारियो का सम्मान किया। उनके उत्तम स्वास्थ्य की कामना की । 

मनोज धामा ने रसोई का संचालन कर रहे सभी कालोनी वासियों को धन्यवाद देते हुये कहा कि ये कोरोना नामक बिमारी से पूरा संसार त्रस्त हो रहा है लाकडाउन के बढते समय को देखते हुये देशभर मे जिस प्रकार से सक्षम लोगों ने अपने से निम्न जनों के लिये अपने भंडार खोल दिये हैं वो वाकई मे काबिल-ए-तारीफ कार्य है। "

"वसुधैव कुटुबंकम" हमारे देश की प्राचीन सभ्यता रही है उसी का पालन करते हुये अनेको सामाजिक संगठनों, गैर राजनीतिक संगठनों ने इस महामारी के दौर मे जिस प्रकार से गरीब लोगों की सहायता की है वो सब संकेत है कि हम लोग जल्द ही इस बीमारी को हरा देंगे। क्योंकि भावना है कि जब हम एक होकर नेक भावना के साथ किसी कार्य को करते हैं तो उसकी साधना सिद्धि स्वंय ईश्वर करते हैं । 

इस अवसर पर सभासद सतपाल शर्मा, रूपेन्द्र तोमर, सुभाष पंडितजी, पवन मलिक, अमित तोमर, पंडित रामकुमार जी, अजमेर चौधरी,सुनीता, सुमन, रेखा त्यागी, सहित सैकड़ों की संख्या मे कालोनीवासी उपस्थित रहे ।

बागपतः डीएम ने की बैठक, दिए निर्देश

कोविड-19 की टीम 11 के साथ प्रतिदिन 11:30 बजे की जाए बैठक-
कंटेंटमेंट जोन में प्रतिदिन कराया जाए सेनेटाइज-
गोपीचंद सैनी


बागपत। जनपद बागपत की जिलाधिकारी श्रीमती शकुन्तला गौतम कोविड-19 समेकित कंट्रोल रूम बागपत में संबंधित अधिकारियों के साथ कोरोना वैश्विक महामारी के संबंध में बैठक कि और आवश्यक संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित की आरती  कंटेंटमेंट जॉन और बफर जोन का  हाऊस होल्डर सर्वे कराया जाए।  जिसमें हाउसहोल्डर की संख्या अवश्य लिखी होनी चाहिए। जिलाधिकारी ने डिप्टी कमिश्नर वाणिज्य नीरज सेंगर को निर्देशित किया कि होम स्टेप डिलीवरी कंटेंटमेंट ज़ोन व हॉटस्पॉट क्षेत्र में अवश्य होनी चाहिए। उन्होंने कहा प्रतिदिन सुबह 7:00 बजे से 8:00 बजे के मध्य दूध ब्रेड की सप्लाई बेहतर होनी चाहिए। होम स्टेप डिलीवरी की फोटो अक्षांश ,देशांतर के अनुसार प्रतिदिन होनी चाहिए।
जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि सप्लाई व सैनिटाइज के संबंध में कोविड-19 की टीम 11 की बैठक प्रतिदिन 11:30 बजे अवश्य की जाए। जो अधिकारी team11 की बैठक में अनुपस्थित रहे हैं ऐसे अधिकारियों से तत्काल स्पष्टीकरण लिया जाए।
जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को आने वाले प्रवासियों के  राशन कार्ड बनाए जाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी पीसी जायसवाल अपर जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह आदि उपस्थित रहे ।


नाबालिग से गैंगरेप, चार अरेस्ट, दो फरार

पटना। बिहार की राजधानी में अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे है। ऐसा ही मामला राजधानी पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र से सामने आया है। एक नाबालिक लड़की के साथ 6 बदमाशों ने गैंगरेप जैसी वारदात को अंजाम दिया है। वहीं घटना प्रकाश में आने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बलात्कार की घटना को अंजाम देने वाले 4 बदमाशों चिन्हित कर गिरफ़्तार किया है। बताया जा रहा है कि पीड़िता के माता-पिता सब्जी का व्यापार करते है। पीड़िता को पड़ोस के ही 6 युवकों ने अगवा कर एक किराए के मकान में ले गए। जहां बारी-बारी से सभी ने उसके साथ गैंगरेप किया है। वहीं पीड़िता की ओर से महिला थाना में मामला दर्ज कराया गया है। मामला दर्ज होते ही पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि दो अन्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही हैं।


तनाव से ग्रस्त प्रेमियों ने की आत्महत्या

कानपुर। देहात के जलिहापुर गांव के एक प्रेमी युगल ने मंगलवार सुबह खानपुर गांव के पास मालगाड़ी के आगे कूदकर जान दे दी। लड़का और लड़की आपस में दूसरे के समुदाय के थे। लड़की की शादी घरवालों ने दूसरे लड़के से तय की थी। उसकी शादी 28 जून को होनी थी। 25 वर्षीय दिलवर का गांव दूसरे समुदाय की 19 वर्षीय युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दिलवर खेती करता था। युवती गांव के ही डिग्री कालेज में बीएससी प्रथम वर्ष की छात्रा थी। युवती की डेरापुर क्षेत्र के एक गांव में शादी तय हुई थी। लॉकडाउन के कारण चार मई को होने वाली शादी की तारीख बढ़ाकर 28 जून कर दी गई थी।

इससे दोनों परेशान रहते थे। मंगलवार सुबह दोनों ने घर से तीन किमी दूर दिल्ली-हावड़ा रेल लाइन पर खनपुरवा गांव के सामने मालगाड़ी के आगे कूद कर जान दे दी। मालगाड़ी के लोको पायलट ने इसकी सूचना अंबियापुर स्टेशन में दी। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। दोनों के परिजन भी पहुंच गए। पुलिस ने दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए।

नाले का पानी पीने के लिए मजबूर

अम्बिकापुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के विधानसभा क्षेत्र अम्बिकापुर के अंतर्गत विकास खण्ड उदयपुर के नवीन ग्राम पंचायत बुले के कानाडाँड़ पारा में लोग आज भी नाला का गंदा पानी पीने को मजबूर हैं। शासन प्रशासन और नेता जी से दर्जनों बार अनुनय विनय करने के बाद भी इन ग्रामीणों की परेशानी दूर नहीं हुई है। ग्राम पंचायत बुले के कानाडाँड़ पारा  के जेठू घर पास लगभग 20 परिवार कई सालों से नाले का पानी पी कर अपना जीवन यापन कर रहे है।      

 

प्रशासन की पहल पर वर्ष 2020 में उक्त स्थल के लिए बोरिंग खुदाई की स्वीकृति भी हो गई पीएचई विभाग का बोरिंग गाड़ी भी गांव के मुहाने पर पहुंचा परंतु रास्ता नहीं होने का बहाना बनाकर गाड़ी वाला वापस चला गया जबकि बोर गाड़ी वाले के कहने पर ग्राम पंचायत द्वारा लगभग 20 हजार रुपये खर्च कर  सड़क बनवाने का कार्य भी जेसीबी के द्वारा कराया गया है। रोड बनने के बाद गाड़ी वाले और पीएचई विभाग का नया बहाना फिर सामने आना इस गांव के लिए परेशानी का सबब बनते जा रहा है। नया बहाना है की नदी में गाड़ी फंस जाएगी हम नहीं जा सकेंगे बोर करने। इस मोहल्ले के लोग 2 किलोमीटर की पैदल यात्रा करके  पड़की नाला से  पानी भरकर  प्रतिदिन  लाते हैं  तब जाकर इनकी प्यास बुझ पाती है। वाह रे प्रशासन और प्रशासन के लोग  जो विकास के दावों की डींगे तो हांकते है पर इन्हें ग्रामीण जनों की परेशानी दिखाई नहीं देती यहां पर लोग नाले का पानी पीकर अपना जीवन यापन कर रहे हैं।

इस बार सभी को आश जगी थी कि अब शासकीय योजना का लाभ मिलेगा और हैंडपंप खुदाई हो जाएगा लेकिन हैंडपंप गाड़ी वाला बिना खुदाई किये ही वापस अम्बिकापुर चला गया। जिस जगह पर हैंडपंप खुदाई किया जाना है वहां इस बरसात के बाद कभी भी हैंडपंप खुदाई नहीं हो सकता क्योंकि एक भूमि स्वामी के खेत से होकर गाड़ी खुदाई के लिए जाएगा। अब उस जगह पर अपनी खेत में जेसीबी के माध्यम से भूमि स्वामी द्वारा छोटा डेम बनाने  का काम चल रहा है जिसमें बरसात के मौसम में  पानी भर जाएगा एवं कभी भी वहां हैंडपंप खुदाई के लिए गाड़ी नहीं जा सकेगी। हैडपम्प गाड़ी के वापस चले जाने पर कानाडाँड़ के लोगों में आक्रोश है।

दिल्ली मेट्रो निर्माण की रफ्तार की रूकी

शशांक तिवारी की रिपोर्ट


नई दिल्ली। लॉकडाउन खत्म होने के बाद अब मेट्रो के निर्माण की रफ्तार बढ़ाने के लिए मजदूर नहीं मिल रहे हैं। इनकी कमी से मेट्रो का काम बुरी तरह प्रभावित है। लखनऊ से लेकर कानपुर तक मेट्रो परियोजना को मजदूरों की भारी कमी खल रही है।


यूपी मेट्रो रेल कॉरपोरेशन कानपुर में मेट्रो का निर्माण करा रहा है। जबकि लखनऊ में मेट्रो के डिपो के निर्माण की वजह से तोड़ी गई पीएसी की बैरक की जगह नई बैरक बनाई जा रही है। लॉकडाउन से पहले बहुत तेजी से काम चल रहा था। कानपुर मेट्रो का काम पूरा करने के लिए 2 वर्ष का समय निर्धारित था लेकिन यूपीएमआरसी ने इसे डेढ़ वर्ष में पूरा करने की तैयारी की थी। मगर अब इंजीनियरों के अरमानों पर पानी फिर गया है। पहले लॉकडाउन की वजह से काम बंद रहा और अब मजदूर नहीं मिल रहे।


कितना समय लगेगा, पता नहीं


मेट्रो की परियोजनाओं को पूरा होने में कितना वक्त लगेगा अभी इसका आकलन नहीं हो पाया है। मेट्रो के अधिकारी कहते हैं कि क्योंकि काफी समय काम बंद है और अब शुरू होने के बाद लेबर नहीं मिल रहे हैं। लेबर कब तक आएंगे यह भी तय नहीं है। जब तक पूरे लेबर नहीं आ जाते, तब तक काम पूरा होने की नई तिथि निर्धारित नहीं की जा सकेगी।


भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा, शवदाह गृह निर्माण

 कमल सिंह राठौर

महाराजगंज रायबरेली। महाराजगंज ब्लॉक मुख्यालय से 9 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्राम सभा बरहुआ में शासन की महत्वपूर्ण योजना गांव में लोगों को किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाने की स्थिति में किसी तरह की परेशानी ना हो उसके लिए शवदाह ग्रह का निर्माण किया गया। भारी भरकम राशि से बना यह शवदाह ग्रह किसी के भी काम तो नहीं आया। हां, इससे जुड़े लोगों की जेब में जरूर भर गई। मौके पर जाकर देखने से यह पता लगता है कि शायद ही इसका कभी उपयोग हुआ हो। मौके पर बकरियां आराम फरमाते हुए मिली। जहां शासन जनमानस की सुविधाओं को लेकर तमाम तरह की योजनाएं लाती व बनाती है। परंतु उसके निर्माण कार्य में बहुत तेजी से काम कर निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाता है। लेकिन उसके बाद उसका उपयोग हो रहा है या नहीं निर्माण कार्य सलामत बचा नहीं बचा यह देखने और सुनने वाला कोई है नहीं। ग्राम प्रधान को भी इस योजना से होने वाले लाभ की महत्वता गांव में बतानी चाहिए। लेकिन ग्राम प्रधान भी इसके निर्माण तक ही सीमित रह गए निर्माण में प्रधान व जुड़े कर्मचारियों की जेब भरने से मतलब मौके पर वीराना सा खंडहर नजर आता है। कुछ लोग बैठकर ताश खेल रहे हैं ऐसा लगा शवदाह ग्रह न होकर बरात घर बन गया हो या यूं कहें बकरी पालन की कोई योजना हो सरकारे योजनाएं बहुत लाती हैं। लेकिन जमीनी स्तर पर उनको पलीता लगाने वालों की कमी नहीं इसी प्रकार महाराजगंज बछरावां मार्ग पर स्टेडियम बना है ना कभी खेल हुए ना कोई खेलने जाता है। परंतु मेंटेनेंस का काम होता है जब कभी उसके अंदर कोई एक्टिविटी हुई ही नहीं तो मेंटेनेंस क्या खराब हो गया? केवल राम-राम जपना, सरकारी माल अपना। सारी एक्टिविटी निर्माण कार्य हो जाने और उसकी पेमेंट हो जाने तक ही होती है। बाद में कौन देखता है निर्माण का क्या उपयोग हो रहा।

पीएम पर गंभीर लापरवाही के आरोप

बिलासपुर। स्थानीय कांग्रेस भवन में कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष से लेकर जिला कांग्रेस अध्यक्ष तथा विधायक तक सभी ने पत्रकारों के सामने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कोरोना महामारी को लेकर गंभीर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने समय पर इससे बचने और सावधान रहने के उपायों की ओर दुर्लक्ष किया। जिसके कारण आज यह संकट पूरे देश को अपने आगोश में लेता दिखाई दे रहा है। कांग्रेस के सभी नेता बिलासपुर के कांग्रेस भवन में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इनमें प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष श्री अटल श्रीवास्तव,कांग्रेसी विधायक श्रीमती रश्मि सिंह, जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री विजय केशरवानी, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अरुण सिंह,नगर निगम के महापौर श्री रामशरण यादव, शहर कांग्रेस अध्यक्ष श्री प्रमोद नायक तथा अर्जुन तिवारी एवं श्री विष्णु यादव शामिल थे। इन सभी नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपने-अपने तरकश से एक के बाद एक आरोपों के तीर छोड़ते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने जनवरी के महीने में जब कोरोनावायरस की आहट शुरू हुई थी, तब का अति महत्वपूर्ण समय नमस्ते ट्रंप के आयोजन में बर्बाद कर दिया। जबकि यदि इसी समय इस भयंकर महामारी को गंभीरता से लिया जाता और विदेशी विमान सेवाओं को रोककर उनके यात्रियों की सख्त निगरानी की जाती तो यह संकट बहुत कुछ टाला जा सकता था।लेकिन प्रधानमंत्री ने ना तो इस संकट को भारत आने से रोकने की कोई कोशिश की और न ही इस संकट की गिरफ्त में हमारे देश के आने के बाद यहां के करोड़ों श्रमिकों और भारतवासियों की हिफाजत तथा उनके रोजी रोजगार और पेट की आग को शांत करने की दिशा में ही कोई सार्थक उपाय किए। वही लाकडाउन के चलते रोजगार से महरुम हुए देश के लाखों लाख श्रमिकों को उनके अपने गांव-घर पहुंचाने के कोई सम्मानजनक व्यवस्था करने की बजाय उन्हें भगवान भरोसे छोड़ दिया गया। कांग्रेस के नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह और भाजपा के नेता प्रतिपक्ष श्री धरमलाल कौशिक पर ऐसे संकट के समय प्रदेश में भ्रम फैलाने और ओछी राजनीति करने का गंभीर आरोप लगाया।उन्होंने यह भी कहा कि ना तो पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और धरम लाल कौशिक किसी कोरेन्टिन सेंटर में झांकने तक नहीं गए और वहां की मनगढ़ंत अव्यवस्थाओं को लेकर भ्रम फैलाने का प्रयास कर रहे हैं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


 जून 04, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-296 (साल-01)
2. बृहस्पतिवार, जूूून 04, 2020
3. शक-1943, ज्येठ, शुक्ल-पक्ष, तिथि- त्रयोदशी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:39,सूर्यास्त 07:21।


5. न्‍यूनतम तापमान 21+ डी.सै.,अधिकतम-38+ डी.सै.।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)


शराब: डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेंगा आस्ट्रेलिया

सिडनी/ बीजिंग। ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि वो उनके यहाँ बनी शराब पर चीन के शुल्क बढ़ाने के खिलाफ डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेगा। चीन ने पिछले...