शुक्रवार, 15 दिसंबर 2023

'ऊर्जा संरक्षण दिवस' का आयोजन किया

'ऊर्जा संरक्षण दिवस' का आयोजन किया 

संदीप मिश्र 
लखनऊ। प्रदेश के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा अभिकरण (यूपीनेडा) मुख्यालय पर 'ऊर्जा संरक्षण दिवस' का आयोजन किया गया। इस अवसर पर निदेशक यूपीनेडा अनुपम शुक्ला ने कहा कि ऊर्जा संरक्षण द्वारा ऊर्जा के पांरपरिक óोतो का दोहन कम किया जाए तथा विद्युत ऊर्जा की बढ़ती मांग को कम करने हेत रिन्यूवल एनर्जी एवं नवीन ऊर्जा óोतो का अधिकतम उपयोग किया जाए। उन्होंने बताया कि विभिन्न उद्योगो द्वारा परफॉर्म, एचीव एण्ड टेªड योजना के अन्तर्गत लगभग 29000 मिलियन यूनिट विद्युत समकक्ष ऊर्जा की बचत की गई, जिससे लगभग 240 लाख टन कार्बन उत्सर्जन में कमी आयी है। यूपीेनडा, जो ब्यूरों ऑफ एनर्जी एफिशिएन्सी द्वारा नामित स्टेट डेजिगनेटेड एजन्सी है, द्वारा ऊर्जा संरक्षण के लिए विभिन्न क्षेत्रों में किए जा रहे कार्यो के बारे में अवगत कराया। ऊर्जा संरक्षण बिल्डिंग कोड को लागू करने हेतु विभिन्न आर्किटेक्ट, बिल्डर आदि को प्रशिक्षत करते हुए जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि यूपीनेडा प्रशिक्षण केन्द्र चिनहट में सुपर ईसीबीसी भवन का निर्माण किया जा रहा है।
इस अवसर पर सचिव एवं मुख्य परियोजना अधिकारी यूपीनेडा,  गौरव शुक्ला ने निदेशक यूपीनेडा एवं सभी प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए कहा कि ऊर्जा संरक्षण दिवस, हमे ऊर्जा संरक्षण के उपायों को अपनी दैनिक जिंदगी में लाने की प्रेरणा देता है। उन्होंने कहा कि आप सब लगातार ऊर्जा की खपत में कमी लाने के लिए कार्य कर रहे है, ऊर्जा दक्षता एवं कार्बन उत्सर्जन कम करने के प्रति आपकी प्रतिबद्धता की सराहना करता हूं।
विभिन्न उद्योगों के प्रतिनिधियों ने अपने अपने उद्योगों में किए जा रहे ऊर्जा संरक्षण कार्यक्रमों के बारे में अवगत कराया गया। विभिन्न संस्थानों के प्रोफेसर्स एवं फेकल्टी मेम्बर्स ने भवनों में ऊर्जा बचत से सम्बन्धित परियोजनाओं के बारे में विचार व्यक्त किए। इसरे के पदाधिकारी श्री समीर श्रीवास्तव ने एअर कंडीशनिंग में ऊर्जा बचत, श्री संदीप वर्मा ने ऊर्जा दक्ष भवनों एवं ई मोबलिटी के बारे में प्रस्तुतिकरण दिया।  आलोक मिश्रा, जोनल हेड, ईईएसएल नेईईएसएल द्वारा ऊर्जा संरक्षण हेतु किए जा रहे कार्यक्रमों के बारे में अवगत कराया। कार्यक्रम का संचालन  गिरीश कुमार, वरिष्ठ ऊर्जा सलाहकार द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अंत में  राम कुमार, इन्चार्ज, यूपीएसडीए द्वारा सभी प्रतिभागियों का धन्यवाद करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया।

न्यायाधीश पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया

न्यायाधीश पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में तैनात एक महिला न्यायिक अधिकारी ने प्रधान न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ को पत्र लिखकर एक जिला न्यायाधीश पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है और उनसे अपना जीवन ‘सम्मानजनक तरीके से’ समाप्त करने की अनुमति मांगी है। इसके बाद प्रधान न्यायाधीश चंद्रचूड़ ने जांच की स्थिति पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय प्रशासन से रिपोर्ट मांगी।
महिला न्यायिक अधिकारी ने अपने दो पन्नों के पत्र में, प्रधान न्यायाधीश से बाराबंकी में अपनी पदस्थापना के दौरान उनके (महिला न्यायिक अधिकारी) साथ हुई बदसलूकी और उत्पीड़न के बाद अपना जीवन समाप्त करने की अनुमति मांगी है। सोशल मीडिया पर यह पत्र प्रसारित हो रहा है, जिसमें लिखा है, ‘‘मुझे अब और जीने की तमन्ना नहीं है। मैं पिछले डेढ़ साल से जिंदा लाश की तरह हूं। अब मेरे जीवित रहने का कोई उद्देश्य नहीं है। कृपया मुझे मेरा जीवन सम्मानपूर्ण तरीके से समाप्त करने की अनुमति प्रदान करें।’’
शीर्ष अदालत के सूत्रों के अनुसार, उच्चतम न्यायालय के महासचिव ने प्रधान न्यायाधीश के आदेश पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार जनरल से महिला न्यायिक अधिकारी की शिकायत पर विचार कर रही आंतरिक शिकायत समिति के समक्ष कार्यवाही की स्थिति के बारे में जानकारी देने को कहा है।
महिला न्यायाधीश ने पहले शीर्ष अदालत में याचिका दायर की थी, जो न्यायमूर्ति ऋषिकेश रॉय और न्यायमूर्ति संदीप मेहता की पीठ के समक्ष सुनवाई के लिए आई थी। पीठ ने यह कहते हुए याचिका खारिज दी थी कि आंतरिक शिकायत समिति के पास मामला विचाराधीन है और एक प्रस्ताव पारित किया गया है, जिस पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की मंजूरी की प्रतीक्षा है।

एचसी के आदेश में दखल देने से इनकार किया

एचसी के आदेश में दखल देने से इनकार किया 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकृष्ण जन्मभूमि विवाद पर विवादित परिसर के सर्वे के लिए कोर्ट कमिश्नर को नियुक्त करने के इलाहाबाद हाई कोर्ट के आदेश में दखल देने से इनकार कर दिया है।
कोर्ट ने कहा है कि मस्जिद पक्ष की वह याचिका उसके सामने है, जिसमें श्रीकृष्ण जन्मभूमि विवाद से जुड़े मुकदमों को इलाहाबाद हाईकोर्ट ट्रांसफर करने को चुनौती दी गई है। कोर्ट ने कहा कि वह इस पर नौ जनवरी को सुनवाई करेगा और फिलहाल कोई अंतरिम आदेश जारी करने की जरूरत नहीं है।

सीएम ने 'गंगा जल आपूर्ति' योजना का उद्घाटन किया

सीएम ने 'गंगा जल आपूर्ति' योजना का उद्घाटन किया

अविनाश श्रीवास्तव 
नवादा/पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को नवादा जिले के कादिरगंज के पौरा गांव में महत्वाकांक्षी गंगा जल आपूर्ति योजना (जीडब्ल्यूएसएस) का उद्घाटन किया। पटना जिले के मोकामा में हाथीदह से पाइपलाइन के माध्यम से राजगीर (नालंदा), गया और नवादा जैसे पानी की कमी वाले स्थानों पर स्वच्छ और सुरक्षित पेयजल की आपूर्ति करने के लिए "जल जीवन हरियाली अभियान" के तहत जीडब्ल्यूएसएस की परिकल्पना की गई थी।
मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार यह परियोजना गंगा जल की आपूर्ति करके नवादा में पीने के पानी की मांग को पूरा करेगी। अब शहरवासियों को उनके घरों तक पवित्र गंगाजल मिलेगा। जिले के विभिन्न संस्थानों, अस्पतालों, स्कूलों और होटलों को भी गंगा जल उपलब्ध कराया जाएगा। कुमार ने पिछले साल गया और राजगीर में जीडब्ल्यूएसएस के पहले चरण का उद्घाटन किया था।
बयान में कहा गया है, “परियोजना के माध्यम नवादा में प्रत्येक घर में प्रत्येक व्यक्ति के लिए प्रतिदिन 135 लीटर शुद्ध एवं पेय गंगा जल की आपूर्ति की जाएगी।" राज्य के इन तीन शहरों में गंगाजल पहुंचाने के लिए लगाई गई पाइपलाइन की कुल लंबाई 190.90 किलोमीटर है। उद्घाटन के अवसर पर उपस्थित अन्य लोगों में राज्य के मंत्री संजय कुमार झा और समीर कुमार महासेठ और जल संसाधन विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद शामिल थे।
जीडब्ल्यूएसएस के पहले चरण को मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड द्वारा निष्पादित किया गया था। कुमार की अध्यक्षता में दिसंबर 2019 में गया में आयोजित मंत्रिमंडल की विशेष बैठक में इस योजना को मंजूरी दी गई थी।

भजनलाल को सीएम के रूप में शपथ ग्रहण कराई

भजनलाल को सीएम के रूप में शपथ ग्रहण कराई 

नरेश राघानी 
जयपुर। राज्यपाल के हाथों शपथ ग्रहण करने के साथ ही भजनलाल शर्मा की राजस्थान के 14वें मुख्यमंत्री के तौर पर विधिवत ताजपोशी हो गई है। डिप्टी सीएम के रूप में दीया कुमारी एवं डॉक्टर प्रेमचंद बेरवा को भी गवर्नर द्वारा पद एवं गोपनीयता की शपथ ग्रहण कराई गई है। केंद्रीय नेतृत्व की हरी झंडी मिलने के बाद अब मंत्रियों की नियुक्ति की जाएगी। शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी विधान मंडल दल की बैठक में नेता चुने गए राज्यपाल ने राज्य के 14वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण कराई है। 
दीया कुमारी एवं डॉक्टर प्रेमचंद बैरवा ने भी राज्यपाल के हाथों पद एवं गोपनीयता की शपथ ग्रहण की है। आज आयोजित किए गए शपथ ग्रहण समारोह में केवल मुख्यमंत्री एवं दो डिप्टी सीएम को राज्यपाल द्वारा शपथ ग्रहण कराई गई है। मंत्रियों की नियुक्ति अब केंद्रीय नेतृत्व की हरी झंडी मिलने के बाद ही की जाएगी। शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा राज्य के मुख्यमंत्री रहे चुके अशोक गहलोत भी जयपुर में पहुंचे थे।  समारोह स्थल पर तैयार किए गए 3 मंच में से एक मंच पर देशभर से आए साधु संतों को बैठाया गया था, वहीं दूसरे मंच पर सभी राजनीतिक नेता विराजमान थे। तीसरा मंच मुख्यमंत्री एवं डिप्टी चीफ मिनिस्टर की शपथ के लिए बनाया गया था, जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा राज्यपाल और शपथ लेने वाले मुख्यमंत्री एवं दोनों डिप्टी चीफ मिनिस्टर बैठे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री रहे अशोक गहलोत के साथ केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे आपस में हंसी मजाक करते हुए दिखाई दिए थे। उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले ही केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की याचिका पर अशोक गहलोत के खिलाफ मानहानि का केस चलाने का फैसला हुआ है।

संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की: एडीएम

संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की: एडीएम 

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य एवं अधिकारियों के भ्रमण के दृष्टिगत बैठक 

कौशाम्बी। अपर जिलाधिकारी अरूण कुमार गोंड द्वारा उदयन सभागार में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग, भारत सरकार के सदस्य एवं अधिकारियों के जनपद भ्रमण के दृष्टिगत संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की गई। 
बैठक में जिला प्रोबेशन अधिकारी नीरज कुमार ने बताया कि दिनांक 20 दिसम्बर 2023 को राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग, भारत सरकार के सदस्य एवं अधिकारियों द्वारा जनपद के ऑगनबाड़ी केन्द्रों, विद्यालयों, जिला चिकित्सालयों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं एनआरसी आदि का निरीक्षण व बैठक किया जाएगा तथा दिनांक 21 दिसम्बर 2023 को सदस्यगण की अध्यक्षता में शिकायत निवारण कैम्प का आयोजन किया जाना प्रस्तावित है। अपर जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग, भारत सरकार के सदस्य एवं अधिकारियों के जनपद भ्रमण के दृष्टिगत अपने से सम्बन्धित सभी तैयारियॉ समय से सुनिश्चित कर लिया जाएं तथा किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाएं। उन्होंने कहा कि जनपद का आकांक्षात्मक विकास खण्ड कौशाम्बी एवं मंझनपुर के ऑगनबाड़ी केंद्रों, विद्यालयों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र आदि पर विशेष ध्यान देते हुए सभी तैयारियॉ कर लिया जाएं।
राजकुमार पत्रकार

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-56, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. शनिवार, दिसंबर 16, 2023

3. शक-1945, माघ, कृष्ण-पक्ष, तिथि-चतुर्थी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:36, सूर्यास्त: 05:18।

5. न्‍यूनतम तापमान- 16 डी.सै., अधिकतम- 24+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू  पंकज कपूर  देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गय...